बीएफ सेक्सी चूत में

छवि स्रोत,सेक्सी बी पी कुत्र्याची

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़कों लड़कों की बीएफ: बीएफ सेक्सी चूत में, मगर मैं बेटे को परेशान नहीं करना चाह रही थी क्योंकि वो सुबह से शाम तक ड्यूटी करके आता था.

आदिवासी सेक्सी फोटो वीडियो

मैंने भी जब अपनी जवान होते शरीर को महसूस किया, तो मामा की बेटी के साथ ही चूची दबा कर मस्ती की थी. इंडियन हॉट सेक्सी गर्ल्सफिर मैंने कॉन्डम चढ़ा कर उस की चूत में लंड दे दिया और उस औरत की चुदाई करने लगा.

ये कह कर उसने मेरा दुपट्टा हटा दिया और बाहों में लेकर बोला- हाय क्या मस्त माल है तू … बस मुझे तेरी बहन सुल्ताना के साथ सोना है. सेक्सी वीडियो अंग्रेजी सेक्स वीडियोगुरी उसको किस करके थोड़ी देर शांत किया और अपना कमर को हिलाना जारी रखा.

यह थी मेरे ख्वाब की काल्पनिक कहानी, जिसमें मैंने जैक की बीवी जेनिफर को चोद लिया था.बीएफ सेक्सी चूत में: रात को जब वो सो जाता था, तो हम दोनों दूसरे कमरे में आकर चुदाई कर लेते थे.

मेरी टीचर सेक्स कहानी के पिछले भागट्यूशन टीचर दीदी की वासना-1में अब तक आपने पढ़ा कि दीदी मेरे साथ बातें कर रही थीं.सिम्मी के शरीर पर जोरदार कम्पन हुई और उसने अपना पानी मेरे मुँह में छोड़ दिया.

तेलगु सेक्सी तेलगु सेक्सी तेलगु सेक्स - बीएफ सेक्सी चूत में

वो मेरे ऊपर चढ़ गईं और लंड को पकड़ कर चुत में डालने की कोशिश करने लगीं.एक तरफ तो किसी को पता नहीं था कि हम भाई बहन के बीच में क्या रिश्ता है.

इसी बीच उसका बर्थ-डे आ गया, तो मैंने उसका बर्थ-डे बहुत अच्छे से सेलिब्रेट किया. बीएफ सेक्सी चूत में मैं- जेनिफर जैसी हमारे नसीब नहीं है, वो तो तुम बहुत लक्की हो … जो जेनिफर जैसी जीवन संगिनी मिली.

चाची की चूत में दर्द हो रहा था और मैंने उसको कम करने के लिए चाची के बदन को सहलाना शुरू किया.

बीएफ सेक्सी चूत में?

मेरी मामी की उम्र 28 साल है और वो देखने में बहुत ही ज्यादा आकर्षक लगती है। मुझे साइज़ की तो ज्यादा जानकारी नहीं है पर उनके चूचे बहुत मोटे हैं और गांड भी बहुत पीछे निकली हुई है. रात का खाना होने के बाद मैंने सोनिया से कहा कि वो नीचे सो जाये और मैं ऊपर सो जाती हूं. उसकी आंखें मुझे ऐसे लग रही थीं, जैसे वो मुझसे बहुत सवाल करना चाहता हो.

मैंने 7 या 8 मिनट ही उसकी चूत को चूसा होगा कि वह झड़ गई और निढाल सी होकर लेट गई. उसने वैसा ही किया।मैंने आव देखा ना ताव … वासना की गर्मी से वशीभूत एक ही बार में पूरा लन्ड भाभी की चूत में डाल दिया. थोड़ी ही देर में मां बहुत ज्यादा चुदासी हो गयी और दस मिनट की चुदाई के बाद मां की चूत ने पानी छोड़ दिया.

वो कभी मेरे लंड के सुपारे को चूम रही थी तो कभी उसको लॉलीपोप के जैसे मुंह में लेकर चूस रही थी. मोनिका बाथरूम से आ गई और उसने मुझे नंगा लेटा देखा, तो वो भी नंगी ही मेरे ऊपर चढ़ गई और मेरे होंठों पर किस करने लगी. मुझे मूक होता देख भैया ने अपनी बात फिर से दोहराई- क्या तुम्हें स्वीकार है?मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

खुद ही अपने हाथ पीछे ले जाते हुए भाभी ने अपनी ब्रा का हुक खोल दिया … और कबूतर के तरह उनके चूचे उछल कर बाहर आ गए. अब मैं एक हाथ से उसके बूब्स को दबा रहा था और दूसरा हाथ कभी उसकी चूत पर छूकर आता तो कभी उसकी पीठ, कभी पेट और गांड को दबा कर वापस से उसकी चूचियों पर पहुंच जाता था.

करीब 15 मिनट तक मैंने भाभी की चूत को चोदा और फिर उसकी चूत में ही झड़ गया.

उस समय जब मैं शुरू शुरू में इस रास्ते पर चली थी या यूं कहें कि समय और किस्मत को यही मंजूर था, या फिर ईश्वर ने मेरे बेटे को यह पाप करने के लिए मजबूर किया था, उस वक्त इन सभी बातों को लेकर मैं बहुत ही ज्यादा परेशान रहती थी.

भूरे घुंघराले बालों से भरी चूत के लबों को फैलाकर मैंने अपने लण्ड का सुपारा रख दिया और दिव्या से चूतड़ ऊपर उठाने को कहा. मुझे भी काफी तड़प हो रही थी उससे मिलने के लिए लेकिन मैं सब्र रखे हुए था. और एक बार एडवांस में थैंक्स जो तुम मुझे मिलने के लिए जगह देती हो!मैं- कोई बात नहीं यार … तुम मेरे दोस्त हो.

वो भी मजा लेने लगी और आंखें बंद करके अपने बूब्स को अपने ही हाथों से मसलने लगी. तो मैंने भी देर ना करते हुए अपनी जीन्स और अंडरवीयर घुटनों तक उतार दी।उसने कहा- पूरा उतार दो. आकाश उसकी कमर को सहलाते हुए बोला- ये बात तुम्हारे और मेरे बीच में ही रहेगी.

मगर रोहित ने उसकी चूचियों को दबा दिया और उसके होंठों को अपने होंठों से लॉक करके उसके ऊपर लेट गया.

वो बोला- तो तुम ही कहती थी कि मेरी बेटी की शादी करो इसलिए मैंने उसके साथ एक निशानी तो पैदा कर ही दी है. करीब 15 मिनट तक मैंने भाभी की चूत को चोदा और फिर उसकी चूत में ही झड़ गया. मैंने हंस कर पूछा- क्यों?वो भी हंस कर बोला- बस यूं ही कुछ बेकरारी थी.

मां की आंख खुली तो वो बोली- क्या हुआ, तुम इतनी टेंशन में क्यों हो?मैं बोला- कोई बात नहीं. देखते ही देखते उसने अपनी शर्ट खोल दी और उसको निकाल कर एक ओर डाल दिया. बस दिव्या, ज्यादा देर नहीं लगेगी!” कहते हुए मैंने दिव्या का कुर्ता ऊपर उठाकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया.

बहुत मस्त माल थी वो … मैं सोच रहा था कि इसकी चूत मिल जाए तो … मुझे उस सेक्सी माल की चूत मिली भी! कैसे? पढ़ें इस कहानी में!हैलो फ्रेंड्स, अन्तर्वासना पर आपका स्वागत है.

अन्तर्वासना साइट पर चूंकि यह मेरी पहली कहानी है इसलिए मुझसे यदि कोई गलती हो जाये तो मैं आप लोगों से पहले ही क्षमा चाहता हूं और निवेदन करता हूं कि उस पर ध्यान न दें. मैं इस वक्त भाभी के बाल पीछे से पकड़े हुए उनको ताबड़तोड़ चोद रहा था और उनको गालियां भी दे रहा था.

बीएफ सेक्सी चूत में अब आसिफ जान बूझ कर अपनी बहन की टांग पर तेल मलने में ज्यादा से ज्यादा समय लगाने की कोशिश कर रहा था. रिया जी- तो आज हो जाए?मुझे तो ऐसा लग रहा था कि उसी टाइम बेड में लिटा कर चोद दूं … लेकिन आराम से बात करते हुए मैंने बात को आगे बढ़ाया.

बीएफ सेक्सी चूत में ये देख कर उसने अपनी मैक्सी की डोरी को ढीला कर दिया जिससे उसके मदमस्त दूध दिखने लगे. और इस बार उसकी ब्रा ऊपर को उठा कर उसके दोनों मम्में ब्रा की कैद से आज़ाद कर दिये और अपने हाथों में पकड़ लिए।और जब दबाये ‘आह …’ साली पराई औरत के जिस्म में एक अलग ही कशिश होती है।मैंने उसके दोनों मम्मों को सहलाया तो उसने अपना सर मेरी ओर घुमाया.

अब आकाश ने अपने कपड़े उतार लिये और उसने मेरी चूत पर अपने लंड को रगड़ने लगा.

थाईलैंड का देह व्यापार

मैंने उसकी आंखों में आंखें डालते हुए पूछा- क्यों सम्भालना है?वो बोली- अब इनको किसी और की तरफ देख कर नहीं दबना चाहिए. वह मदद के बाद एक बार फिर सेजल के पास गया लेकिन सेजल ने उसको बहुत सुनाया और उसे बोला कि चुपचाप उसके पैसे वापस करें वरना बहुत बुरा हश्र होगा. मैंने अब चुप रहना ठीक नहीं समझा क्योंकि मुझे भी उसकी चुदाई पंसद थी.

और चाटते चाटते उसने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया।मैं अपना एक हाथ उसकी नंगी मांसल पीठ पर रखा और सहलाने लगा। भरी हुई चर्बी वाली पीठ!लंड चूसते चूसते वो उठी और बिल्कुल मेरे सामने मेरी दोनों टाँगों के बीच आ कर बैठ गई. अब धीरे धीरे वो भी बिल्कुल खुल कर अपने पिता के लंड से अपनी चुदाई करवाने लगी. धीरे धीरे उन दोनों के बीच की ये कशिश और चाहत दोनों को एक दूसरे के करीब ले आयी.

फिर 5-7 दिन के बाद उसने फोन किया और बोली- तू मेरे बारे में ऐसा सोच भी कैसे सकता है? मैं एक शादीशुदा औरत हूं और मेरा एक परिवार भी है.

तब भी उस शाम मैंने एक पॅकेट कंडोम का ले लिया और मन ही मन भाभी की चुदाई के ख्यालों में खो गया. मैंने उसे अपने घर लाकर कैसे उसकी चूत चुदाई की?देसी सेक्स स्टोरी का पिछला भाग:वासना अंधी होती है-2वो मदमस्त मेरे बिस्तर पर बिछ गई।मैं दूसरी तरफ जाकर बेड पर टेक लगा कर बैठ गया और उसकी बाजू पकड़ कर अपनी ओर खींचा. मैंने उसको कह दिया कि मैं कॉलेज से लौटने के बाद शाम के समय में ही उसके पास आ पाऊंगा.

मैंने उन्हें इस तरह देखा … तो वहीं मैंने अपने कपड़े बदलने शुरू कर दिए. हम दोनों किस्मत से पहली बार सेक्स कर रहे थे और हम दोनों को ही ज्यादा नॉलेज नहीं थी. पांच मिनट बाद मैं पलंग से नीचे उतरा और भाभी को भी पलंग के कोने में खींच लिया.

भाभी गरमा गई और बोली कि बस अब करो यार … प्लीज अब नहीं रहा जा रहा है … तुम अपना 8 इंच का लंड मेरी चुत में पेल कर इसे फाड़ दो. हमारी प्लानिंग कामयाब भी हुई और नशे में मैंने अपनी मां की चूत चोद ही दी.

मैं बहुत बड़ी समस्या में हूं कि भाई-बहन के बीच में अगर ये रिश्ता हुआ तो समाज क्या बोलेगा. फिर हमने वहा एक फोल्डिंग और कुछ कपड़े देखे, तो उस फोल्डिंग पर बैग रख दिए. यदि स्पर्श साधारण तौर पर या गलती से किया गया होता है तो उसको पता लग जाता है.

रीना की नजर डेरिक पर गयी तो उसे भी मालूम चल गया कि मेरा दोस्त उसके बूब्स को घूर रहा है.

कुछ मिनट चुत चूसने के बाद भाभी झड़ गईं और रोने लगीं … क्योंकि मैंने इतने मस्त तरीके से चूसा था कि भाभी को मजा हद से ज्यादा आने लगा था. अगर शिवम भी साथ में था तो इसका मतलब ये ही हुआ कि रिंकू से मेरी बहन प्यार नहीं करती है और रिंकू भी सपना से प्यार नहीं करता है. पांच तारीख को प्रभा आंटी भोर में ही जाग गईं और नहाकर छह बजे तैयार भी हो गईं।आंटी ने होटल के रिसेप्शन पर फोन करके पूछा- आसपास शंकर जी का कोई मन्दिर है क्या?रिसेप्शन से जवाब मिला कि करीब डेढ़ किलोमीटर दूर है.

मैंने कहा- ठीक है … एक महीने में मैं उससे ही खुद को प्रपोज करवा लूंगा. लेकिन तभी रिज़वाना ने पूछा कि आसिफा से कब से संबंध है तुम्हारे?मैंने बोला कि करीब 5-6 महीने से मेरी बहुत ही अच्छी दोस्त है।रिज़वाना ने कहा- उसके साथ क्या क्या किया??मुझे एकदम समझ नहीं आया कि क्या कहूँ … मैं आसिफा से प्यार करता हूँ, उसके साथ कुछ भी गलत नहीं किया।मेरी बात बीच में काट कर बोली- ज़रीना के साथ जो भी तुमने किया.

भूमिका को बहुत मजा आ रहा था और वह अपना पैर गुरी की गांड पर मार रही थी. किसी तरह बहाना बना कर मैंने झूठ का सहारा लेकर बात को संभालने की कोशिश की. सुराज अपनी बीवी की चूचियों को मसलकर गर्म करके उसकी गांड में लंड लगाने लगा.

फोकी में लंड

उन लोगों ने मेरी बहन को एकदम नंगी कर लिया और उसके ऊपर एक लड़का चढ़ गया.

इसके बाद सुबह 10 बजे मम्मी किचन में व्यस्त थी, मम्मी को बॉय कहकर मैं कॉलेज के लिए निकली. सुराज ने अपने दोनों हाथों से मनुषा की मस्त गांड को सहलाना शुरू कर दिया. भूरे घुंघराले बालों से भरी चूत के लबों को फैलाकर मैंने अपने लण्ड का सुपारा रख दिया और दिव्या से चूतड़ ऊपर उठाने को कहा.

मुझे समझ आ गया था कि ये दोनों आपस में प्लान बना कर ये सब कर रहे हैं और आज मेरी चूत का कबाड़ा करके ही छोड़ेंगे. मैंने यह बात रात को ही सनी को बोल दी कि कल तुम मेरे घर आ जाना।अगले दिन 2 बजे मैंने कॉल किया- आ जाओ. आई वाली सेक्सीनाज़िमा मेरा लंड चूसते टाइम बहुत सारी लार टपका रही थी, जो मेरे लंड से होते हुए मेरे पोतों पर जा रही थी … जिसे अमित चाटे जा रहा था.

जब मैं 19 साल का था, तब मुझे जैनब (काल्पनिक नाम) नाम की एक लड़की पसंद आ गयी. यदि स्पर्श साधारण तौर पर या गलती से किया गया होता है तो उसको पता लग जाता है.

मैंने उससे कहा- मैं पैग बनाता हूँ, तुम कमरे से सिगरेट की डिब्बी ले आओ और कुछ चखना लगा लाओ. मैं खुश हो गया और पूछा- कैसे मिलेगी??वो बोली- मेरी बहन को कोई प्रॉब्लम नहीं है … इसके बारे में उसको सब पता है. मैंने सिर्फ इतना कहा- मैं आसिफा को खुश देखना चाहता हूँ बस।उसके बाद मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी ने मेरी जांघ पर हाथ रख कर पूछा- किस तरह खुश रख सकते हो?अंदर ही अंदर डर भी लग रहा था और लंड तन गया, जिसको रिज़वाना ने भाम्प लिया और कहा- जब मैं फोन करूं तो आ जाना।और मुझे जाने को कहा.

उसे ऐसा देख कर मन कर रहा था कि इसे पकड़ कर अभी चोद दूं … लेकिन मैंने खुद पर कंट्रोल किया और उसके सामने बाथरूम में जाकर मुठ मार कर आ गया. वो बोली- क्या मतलब भाईजान?मैं बोला- कुछ नहीं … तुम अन्दर जाओ … मैं बाद में बताऊंगा. मनु घर पर केवल पतली बनियान और अंडरवियर में ही रहता था जिसकी वजह से मुझे बहुत बार उसका लंड दिख जाता.

मैं और मेरा दोस्त आगे बैठे थे और मेरे दोस्त की बीवी यानि मेरी भाभी पीछे की सीट पर बैठी थी.

इसीलिए तो वो अन्जान शहर में अकेले ही उसके साथ रहने के लिए चली आई है. वो कहने लगी कि मेरी टांगों में और बाकी शरीर में बहुत दर्द हो रहा है.

अब रिया जी दुबारा चार्ज हो गई थीं और खुद उछल उछलकर मेरा साथ दे रही थीं. फिर नाश्ता खत्म करके मैं और जीजा जी हॉल में बैठ गए और दीदी नहाने के लिए कमरे में चली गईं. मैं कुछ बताने की स्थिति में नहीं हूँ कि भाभी के मुँह में लंड देकर मुझे कैसा लग रहा था.

मैंने भी नीचे से गांड उठा उठा कर उसकी चूत में लंड को पेलना शुरू कर दिया. मेरी गर्लफ्रैंड है पर हम चुम्मा चाटी के अलावा कुछ कर नहीं पाए। गाँव गया तो ताऊ की बहू यानि चचेरी भाभी से मेरी दोस्ती हो गयी. मैंने कहा- शिवम से गांड चुदाई करवाती हो तो तुमको दर्द नहीं होता है? शिवम तो तुम्हारी गांड बहुत बड़ा प्रेमी हो चुका है.

बीएफ सेक्सी चूत में मैंने भाभी की ब्रा को खींच कर फाड़ दिया और उसकी चूचियों को मसलते हुए उन्हें बारी बारी से मुंह में भर कर पीने लगा. उसके होंठों का स्पर्श पाते ही मानो मेरे बदन में जैसे बिजली सी दौड़ गई थी.

दोस्त की मां

मैंने उसकी बात मान ली और कहा- मुझे डर लगता है इसलिए तुम मेरे पास को आ जाओ. हैलो फ्रेंड्स, मैं हरजिंदर सिंह, रोपड़ पंजाब से, एक बार फिर आप सबका अन्तर्वासना पर स्वागत करता हूं. मेरे अन्दर आते ही उसने दरवाजा बन्द कर लिया और मेरा हाथ पकड़ कर सीधे अपने रूम में ले गई.

वो बहुत परेशान रहती थी कि उसका शौहर उसके साथ सही से सेक्स कर नहीं पाता था. आप सोच सकते हैं कि घर में ही जिम भी बनाया गया है तो कितनी पैसे वाली पार्टी होगी. शिवपुरी की सेक्सी वीडियोउसकी चुचियां बिल्कुल तनी हुई और कसी हुई थीं, किसी बॉल की तरह गर्म थीं.

अपनी चुदासी बहन की सेक्स कहानी के पिछले भागमेरी बहन पड़ोसी लड़के और उसके दोस्त से चुदीमें मैंने आप लोगों को बताया था कि कैसे मेरी बहन अंजलि ने दूध वाले, पड़ोसी लड़के और उसके दोस्त से चुदवा कर अपनी हवस को शांत किया था.

हर कुछ झटकों के बाद मैं लंड उसके मुँह से निकाल देता, तो वो गहरी सांस ले लेती. इस तरह वो चुदाई की चरम सीमा में पहुंच गयी और 7-8 झटके देते हुए जोर जोर से झड़ गयी.

जेनिफर- तो हमारी होने वाली भाभी कैसी है?मैं- अभी तो पता नहीं, जब मिलेगी, तब पूछ लूंगा. किंतु प्रोफाइल अकाउंट असिस्टेंट की थी इसलिए मेरे मन में यह मुझे पहले से पता था कि इस इंटरव्यू के लिए लड़कियों की संख्या ज्यादा रहने वाली है. लेकिन मैंने देखा कि सिम्मी ने पेंटी नहीं पहनी है।उसकी ये दशा देखकर मेरे मुंह से एक कातिल मुस्कान निकल गयी.

शिवम ने मेरी बहन की चूत में मुंह लगाया हुआ था और वो उसकी चूत को चाटने में लगा हुआ था.

मैंने उसका टॉप खींच कर निकाल दिया और स्कर्ट फाड़ दी और अंदर उसने हॉफ ब्रा पहनी थी. इधर विपिन की धड़कनें सामान्य हो रही थीं और वजन भी 100 किलो से कम होते होते प्रतीत हो रहा था कि लगभग 50 किलो का हो गया है. फिर मैंने एकदम से हाथ को हटा कर उसकी चूत पर अपना मुंह ही लगा दिया और उसकी चूत को चाटने लगा.

लिखने की सेक्सीमैंने कहा- ठीक है … एक महीने में मैं उससे ही खुद को प्रपोज करवा लूंगा. मैंने उससे कहा कि तुमने बहुत सही किया कि अपने बॉयफ्रेंड के बारे में किसी को नहीं बताया.

सेक्सी ब्लू पिक्चर पुरानी

मैं रात को मोटरसाइकिल से भाभी के घर पहुंचा और घर के बाहर ही रुककर उसे कॉल किया. तभी मैडम बोलीं- जल्दी उठो यार … तुम तो झड़ गए … अब हम दोनों को तो करने दो. उसकी ड्रेस निकाल कर एक तरफ डाली और उसके बदन पर केवल एक ब्रा और पैंटी रह गयी.

भाभी खुद मुझे रिझाने लगी थीं और शायद हम दोनों को चुदाई के किसी मौके की तलाश थी. ये सुन देखकर मेरा लंड खड़ा होना शुरू हो गया। मैं और नीचे बढ़ा उसके पेटीकोट को ऊपर उठाया और उसकी फुद्दी में उंगली करने लगा. दो मिनट के बाद जब मैंने होंठों को हटाया तो उसके मुंह से दर्द की बजाय कामुक सिसकारियां निकल रही थीं- आह्ह … गुड … ओह्ह … और चोदो… और जोर से.

मैंने दीदी से कहा- दीदी, अब आपको और करवाना है क्या?कोमल दीदी बोलीं- नहीं शिव अब तुम राधिका की चूत का मज़ा लो … मैं बाहर चली जाती हूं. मुझे अपने कमेंट्स के जरिये बताना न भूलना कि आपको मेरी यह इन्सेस्ट सेक्स स्टोरी कैसी लगी. मेरी गर्लफ्रैंड है पर हम चुम्मा चाटी के अलावा कुछ कर नहीं पाए। गाँव गया तो ताऊ की बहू यानि चचेरी भाभी से मेरी दोस्ती हो गयी.

इसलिए मैं भी इस नये समाज के साथ अपने आप को जोड़ने की कोशिश कर रही थी लेकिन कभी कभी अपने किये फैसले से परेशान हो जाती हूं. कुछ देर के लिए तो उसके धक्के सहपाना मेरे लिए मुश्किल हो गया लेकिन धीरे-धीरे मुझे मजा आने लगा।फिर मैंने राज को अपनी बांहों में भर लिया, अपनी दोनों टांगें उठा कर उसके ऊपर रख ली और उसकी कमर पर अपने दोनों हाथ चलाने लगी जैसे मैं उसको उत्साहित कर रही हूँ।और तेज चोदने के लिए और वह मेरे होठों को अपने होंठों में डालने लगा.

मैं- साली भैन की लौड़ी … बहुत परेशान किया है … बहुत परेशान किया है … तुझे तो मैं शादी में ही चोद देना चाहता था … लेकिन नहीं कर पाया.

दोनों बहुत दिनों के बाद मिले थे इसलिए दोनों के अंदर ही बहुत ज्यादा जोश आ रहा था. देसी गुजराती सेक्सी मूवीमैंने उसकी तरफ देखा, तो उसने मुझे आंख मारी और मेरी तरफ सिगरेट बढ़ा दी. पंजाबी सेक्सी फिल्म सेक्समैं एकदम से उठ कर अपने शार्ट्स के नीचे खड़े लंड को दबा कर दरवाजा खोलने के लिए गया. बहन गुस्से में बोली- मुझे रंडी शब्द से नफरत है … तुम बार बार रंडी कह रहे हो … क्या मैं तुमको रंडी दिखती हूँ?ये कहते हुए उसने हसित के लंड पर एक हल्का सा थप्पड़ दे मारा.

मैं अपना पूरा लंड मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी की चूत के अंदर डाल कर रुक गया.

तभी मैंने दूसरा धक्का भी मार दिया और पूरा लंड भाभी की चूत में फंसा दिया. प्रतीत होता है कि कामुकतावश व पकड़े जाने के भय से विपिन ने अधिक विलम्ब करना उचित नहीं समझा और मेरे 50 किलो के शरीर के ऊपर अपना 65 किलो का शरीर डालकर उसने मेरी 5 फीट 4 इंच की लम्बाई को अपनी 5. अब हाल में केवल मैं और रिज़वाना बचे थे बाकी बच्चे स्कूल और आसिफा के अब्बू नौकरी पर गए थे।रिज़वाना ने पूछा- ये सब कब से चल रहा है?मैंने पूछा- आप किसकी बात कर रही हैं?तो उन्होंने गुस्से में तेज आवाज में फिर दोहराया.

फिर सूसू करके मैं अपनी पैंटी और सलवार ऊपर करने लगी, तो देखा उसने अपने बैग में से एक सिगरेट निकाली और लाईटर से जला कर कश लेने लगी. मैंने अपनी उंगली पर तेल लगाया और उसकी गांड में उंगली करते हुए उसकी गांड को चिकनी करने लगा. बहुत ही मुश्किल से भाभी को पटाने की कोशिश थोड़ी कामयाब हुई थी मगर मैंने खुद ही अपनी उस मेहनत पर पानी फेर दिया.

रवीना टंडन नंगी फोटो

ये रसीली चुदाई की कहानी यहां पर पूरी होती है … और अब तक आपने मेरी पिछली कहानियां नहीं पढ़ी हों, तो प्लीज़ जरूर पढ़िएगा. इधर मैं मां की चूचियों को ऊपर से ही रगड़ रहा था और मां से कह रहा था कि इन्हीं चूचियों को पीकर मैं जवान हुआ हूं. कुछ देर बाद उस मिस्त्री ने मेरी बीवी को उसकी दोनों टांगों में हाथ डाल कर उसे अपनी गोद में ऊपर उठा लिया और वो खड़ा हो गया.

उसके सामने ट्रांसपेरेंट नाइटी और अन्दर में ट्रांसपेरेंट ब्रा पैंटी पहने हुए एक हुस्न की परी जैसे खड़ी थी.

भाभी ने अपना पल्लू ऊपर किया और बोलीं- अभी दस प्रतिशत ही चैक हुए हो … शादी तक पूरी ट्रेनिंग देनी पड़ेगी.

मैं उसे आंखें बंद कर खाने लगा कि अचानक मुझे कविता की होंठों का स्पर्श मिला और मैं बहुत उत्साहित हो गया।कविता को मैंने बांहों में भर लिया. नसरीन की फांकों में लंड का सुपारा जैसे ही फंसा, चोपड़ा ने एक शॉट मार दिया. मोनालिसा की हॉट सेक्सीमैंने धीरे से एक हाथ से उसकी साड़ी, जो कि कमर में पेटीकोट के नीचे दबी होती है, उसे खींच कर निकाल दिया और पैरों से ठेल कर नीचे कर दिया.

इस बीच मेरी मैसेज चैटिंग होती रही सनी से!सनी और सोना का कॉलेज क्लास में अकेले मिलना भी होता रहा. दीपा भाभी मेरी तरफ देखते हुए बोलीं- तुम ऊपर वाली फ्लोर पर रहते हो?मैंने हामी भरी तो बोलीं- ठीक है … यहीं रूको … मैं लेकर आती हूँ. फिर मैडम ने पेंट की जिप से लंड बाहर निकाला और मुँह में डाल कर चूसने लगीं.

मैंने वहीं सोफे पर रीना को लिटाना चाहा तो उठ खड़ी हुई और अन्दर वाले कमरे में आ गई. सोनिया बोली- हां करते होगे लेकिन दिन-रात तो तुम मां के साथ ही होते हो.

मैं भी जोश में आकर उसकी चूत को पेलते हुए बहुत ही तेज रफ्तार से उसकी चूत का भरता बनाने लगा.

मुझे मजा आया लेकिन मैं सोच रही थी कि क्या ये ठीक है?मैं मीरा हूं और अपनी जिन्दगी की असलियत को आपके साथ बांट रही हूं. स्मृति ने अपने बैग में से टिफिन निकाला और एक चम्मच हलवा मेरे मुंह में डालकर बोली- मैंने खुद बनाया है और भगवान को भोग लगाकर आई हूँ. मैं अब सोच रहा था कि कैसे रिंकू सिंह और शिवम सिंह मेरी बहन के संगमरमर जैसे जिस्म के मजे इतने दिनों से लूट रहे थे.

ब्लू सेक्सी वीडियो बीपी सेक्सी पांच मिनट तक दीदी मजे से मेरे लंड को चूसती रहीं, फिर दीदी अपनी सेक्सी ड्रेस उतारने लगीं और मैंने भी अपनी पैंट निकाल दी. मैं अगली सुबह राधिका के फोन का इंतजार करता रहा, पर उसका फोन नहीं आया.

खुद ही दबा लेती हो अपने!मैं- ऐसा नहीं है यार … नैचरल हैं ये!विवेक- लगता है आज भाग्य भी मेहरबान है मुझ पर! अभी तक अल्पना आई नहीं, उसकी सहेली के बूब्स देखने को मिल गए. ठीक है?वो मान गई।मैंने नहा धोकर तैयार होकर 11 बजने से 5 मिनट पहले गाड़ी निकाली और सलोनी को लेने चल पड़ा।मैं सोच रहा था कि जिस औरत को मैंने आज तक भाव नहीं दिया, ढंग से उसकी तरफ कभी देखा भी नहीं, आज मुझे उसकी चूत मारने के लिए चाव चढ़ा हुआ है।खैर मैं उसे चुपके से उठा लाया और घर आ कर गाड़ी खड़ी करी. मैंने कहा- आप तो मामा के यहां जाने वाली थी, क्या हुआ?मां बोली- मेरी बस छूट गयी.

ब्लेयर आइवरी

चुत चाटने से इतनी गीली हो गई थी कि मेरा लंड सरसराता हुआ अन्दर तक पूरा चला गया और मैंने अपनी बीवी के मुख से एक बनावटी सिसकारी महसूस की, पर शायद ये मेरा वहम हो. बार बार जीभ का घर्षण चूत में होने से वो सिहर गयी और उसकी चूत अब ज्यादा मात्रा में रस छोड़ने लगी. वो घर की ओर भागे मगर रास्ते में ही दोनों के दोनों पानी में पूरे तर हो गये थे.

इनके अलावा भी भाभी ने भी मुझे बोला था कि उनकी एक फ़्रेंड भी है, जिसको मैंने तुम्हारा नम्बर और नाम दे दिया है, वो तुमको कॉल करेगी. मुझे उस समय ये आभास नहीं था कि यह क्रिया भी यौन क्रियाओं से ही संबंधित है.

मैंने उसके दोनों पैर पूरी तरह से फैला दिए और उसकी चुत को देखने लगा.

उसे देख कर तो मेरा लौड़ा उसे 21 तोपों की सलामी दे रहा था और पैंट में से बस आज़ाद होना चाह रहा था. बेटे से मैंने कहा- पहले कुछ बातें हैं उनके बारे में कुछ विचार कर लें उसके बाद तुम जहां कहोगे वहां हम घूमने के लिए चल पड़ेंगे. उसने अपनी प्रोफाइल में फोटो नहीं लगा रखी थी, तो एक दिन मैंने उसको फोटो दिखाने के लिए बोला.

एक मिनट बाद मिस्त्री ने जब अपना लंड चुत से बाहर निकाला, तब चुत का मुँह एकदम खुल चुका था. अगर मैं ज्यादा बात करूं, तो सभी लड़के अपनी सेक्स की शुरुआत एक दूसरे की गांड मारने से ही करते हैं. एक दिन उसने मुझसे कहा कि मुझे प्रोजेक्ट के बारे में कुछ पता नहीं है.

और ज्यादा हैरानी की बात यह है कि जीजा जी ने ही मुझे उनकी बीवी यानी मेरी दीदी की चुदाई करने को कहा था.

बीएफ सेक्सी चूत में: जो भूमिका अब तक खांस खांस के परेशान थी, अब अपनी चूत में गुरी की जीभ महसूस करके एकदम मजा लेने लगी. उसकी आंखों में वासना देख कर मैंने एक जोरदार धक्के के साथ लंड चुत में अन्दर तक घुसा दिया.

सम्भवत: इसी कारण मैं अंग्रेजी व हिंदी को बाकी सब हमउम्र छात्रों से अधिक अच्छे से पढ़ पाता था. मैं भाभी को यूं ही किस करते हुए नीचे आने लगा और उनके एक दूध को पहले तो धीरे से काटा, फिर दांतों के बीच में लेकर प्यार से मसला और चूसना शुरू कर दिया. मैंने कहा- तो वो लोवर के अन्दर क्या था … वो तो बताओ?दीदी बोलीं- अरे कपड़ा था वो.

कोई भी लड़का उसे चोदना चाहे, ऐसा माल थी।फिर मैंने देखा उन दोनों में चुम्बन के बाद धीरे धीरे कपड़े उतारना शुरू हो गए.

मैं बोला- तुम नाराज तो नहीं हो?पूजा बोली- नहीं, मैं तो बहुत खुश हूं जो तुमने इसे ऐसी रंडी बना दिया. इसलिए सोचा कि कोई भाभी से सेक्स चैट करूं जिसका फिगर मेरी मोटी गांड वाली माँ जैसा हैं. इश्ह्ह …चूचियों के निप्पल मसले जाने से उनकी कामुक सिसक और तेज़ हो गयी.