बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर

छवि स्रोत,मां की सेक्सी स्टोरी

तस्वीर का शीर्षक ,

आज की ताज़ा ख़बर सेक्सी: बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर, मैं कभी किसी से कुछ नहीं कहूंगी और ना ही मैं तुम तीनों को कभी भी मना करूंगी.

भाभी सेक्सी चित्र

मैंने बूब्स चूसते हुए एक हाथ से उनकी चूत को भी सहलाना शुरू कर दिया था. पाकिस्तानी चुदाई सेक्सीकुछ ही देर में उसने अपनी बीवी की चुदी-चुदाई चूत और उसकी उंगलियां चाट कर अच्छे से साफ़ कर दीं.

मैंने तो पहले उसकी कमर को पकड़ लिया और अपनी दोनों टांगों से उसकी टांगों को दबाने लगा. हीरोइन सेक्सी एचडीचूंकि मेरी चूत गीली थी इसलिए उसका मोटा लंड आसानी से मेरी चूत में घुसता चला गया.

शालिनी स्नेहा के आगे जाकर बैठ गयी और अपनी चूत को स्नेहा से चटवाने लगी.बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर: आपको मेरी हॉट सेक्सी भाबी की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके बताएं, मैं अगली बार भाभी के साथ सेक्स की आगे की दास्तान सुनाऊंगा.

बल्कि भाभी ने मेरे पूरे लंड पर अपना सर रख लिया और मेरे लंड की गर्मी महसूस करने लगीं.वो अर्णव से छूट कर अपने बेडरूम में आ गयी और शीशे के सामने खड़ी हो अपनी सांसों को संयंत कर ही रही थी कि तभी अर्णव ने पीछे से आकर फिर से उसे अपनों बांहों में भर लिया और लगातार उसकी गर्दन और कान को चूमने लगा.

सेक्सी बात करने का - बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर

क्या तुम अभी मुझे अपना लंड दिखा सकते हो?वो मेरे मुँह से सीधे लंड शब्द सुनकर एकदम से गर्मा गया और उसने अपना सर हां में हिलाकर खुले दरवाजे की तरफ देखा.अब आगे फक़ मी कहानी:मैं बगल वाली आंटी के घर गयी, उनको खीर का कटोरा पकड़ा दिया और काफी देर उनके साथ बैठ कर बातें की.

उधर सोनी अपनी पढ़ाई में लगी थी और इधर मेरे घर वाले मेरे लिए लड़की देखने लगे थे. बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर मैंने उससे पूछा कि क्यों क्या हुआ?उसने मुझे पहले एक टॅबलेट दी और बोला- इसे खा लो.

उसके बाद आइसक्रीम खाते हुए लिविंग रूम में बैठकर हम सब बातें करने लगे.

बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर?

आप जैसी खूबसूरत और समझदार लड़की की जिंदगी में इतना दर्दनाक हादसा सुनकर मुझे बहुत बुरा लग रहा है. मैंने देखा कि लोहा गर्म है, तो मैंने धीरे से उसकी चूत की फांकों को चाटना शुरू किया. मेरा मन तो उसकी आज ही चुदाई करने का था, पर कुछ जुगाड़ नहीं बन रहा था.

इसी के साथ साथ उसके मुँह से लगातार निकल रहा था- आह … सी … ई … बेबीईई … आह … करते रहो … अह … आ … ऐसे ही … अच्छा लग रहा है. फिर मैंने जो देखा, देखते ही मेरे होश उड़ गए, दिल पर बिजली गिरने लगी, बादल गरजने लगे. मेरी साली की वजह से आज मुझे स्नेहा की गांड मारने का मौका मिल गया था.

मैंने उन दोनों से कहा कि मुझे उनका बाथरूम इस्तेमाल करना है क्यूंकि पूरी बिल्डिंग में और कोई नहीं है, जिनके यहां मैं जा सकूं. उसकी 30 इंच की मादक कमर और 38 इंच की गांड किसी के भी लंड को खड़ा कर सकती थी. तब नीता ने उसे अपनी जकड़ से आजाद कर दिया और वो बाजू होकर गीता की गांड सहलाने लगी.

ऐसे करते करते मैंने सुहानी की गांड में उंगली डाल दी, जिससे सुहानी की आंखें खुल गईं. उसकी चूत की मादक खुशबू मेरे नथुनों में समा रही थी और मुझे मदहोश किए जा रही थी.

कभी कभी मजाक में उसको जानेमन, जान और गुलबदन जैसे शब्द से संबोधित करता, तो वो शरमा कर मुस्कुरा देती.

हालांकि मैं चुदासी थी और उन तीनों से चुदना भी चाहती थी, मगर अपने जीवन में ये सब पहली बार होने की वजह से मुझे थोड़ा भय लग रहा था.

तभी दीदी ने दूसरा मुद्दा छेड़ दिया और बोली- ओए राकेश, तू क्यों रोज रोज लड़ता है. अब हम दोनों स्खलन के लिए तैयार थे, दोनों ही पूरी ताकत से पिलाई करने लगे. हिंदी सेक्स की इस गर्म कहानी में पढ़ें कि सौतेले माँ बेटे को कई महीनों के बाद चुदाई का अवसर मिला तो उन्होंने इसका फायदा उठाया.

मैं और रीना एक दूसरे के आमने-सामने आ जाने से रीना ने फिर से अपना मुँह मेरे तरफ बढ़ाते हुए अपने गुलाबी होंठ मेरे होंठों पर चिपका दिए. अब अर्णव देर नहीं करना चाहता था; वो जल्दी से मोहिनी को उसके शरीर पर बचे इस आखिरी कपड़े से भी आज़ाद कर देना चाहता था. अजीब सा था वो सब … कुछ देर बाद जब सलीम झड़ने को हुआ तो उसने लोड़ा वापिस बाहर निकाल लिया, वो झड़ना नहीं चाहता था।वो मेरी गांड बोतल से मारता रहा, वो चाहता था कि मैं गर्म रहूं.

एक कॉलेज की छात्रा यानि जवानी से छलकती लौंडिया मेरे लंड को चूस चाट रही थी और मुझे मेरे लौड़े में बेहद सनसनी हो रही थी.

मैंने उससे पूछा- अच्छा … देने का क्या लेती हो?वो इठला कर अपने बालों में उंगली से रोल बनाती हुई और कमर हिलाती हुई बोली- बस उतने ही लूंगी, जितना लेती हूँ. कुछ मिनट की किसिंग के बाद मैं पहले उसके गालों को, फिर गले पर फिर कंधे पर किस करते हुए नीचे आने लगा. उसने बड़े प्यार से कहा- दीदी, आप घबराओ मत … हमारी ये बात किसी को पता नहीं चलेगी.

मैं धीरे धीरे उनकी बुर में लंड को पेलने लगा और उनके दूध को चूसने लगा. नगमा बानो ने फ़ज़लू को एक लड़की की तस्वीर दिखाते हुए कहा- इससे मिलोगे … पहली बार की माल है. जॉन ने अपने दूसरे हाथ को मेरी बीवी की पैंटी में हाथ डाल दिया और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

मैंने अभी अपने एक हाथ को अपने भाई के जिस्म पर लपेटा था और मैं उसके रिएक्शन का इन्तजार कर रही थी.

क्योंकि जीजा जी तो काम से बाहर रहते थे और वो हफ्ते में सिर्फ एक बार ही संडे को घर आते थे और दीदी की चुदाई करते थे. ऐसे हमारी जान पहचान बढ़ने लगी और इंस्टाग्राम के जरिए हम बात करने लगे.

बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर मैंने अपने हाथ से उसकी सलवार का नाड़ा खींचा और सलवार को ढीला कर दिया. यदि दादी की तबीयत ठीक नहीं हो तो मैं आपकी मदद कर दूं, अस्पताल ले जाना हो तो मैं रेडी हूँ.

बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर मैंने आधा लंड बाहर निकाला और फिर से देसी माल लड़की की चूत के अन्दर पेल दिया. कुछ देर बाद जब दोनों की सांसें नियंत्रित हुईं, तब मैंने सोनी की किस किया और उससे पूछा.

तो उसकी रसीली चूत से मादक पच पच फच फच की आवाजें पूरे बेडरूम में गूंजने लगी थीं.

बीएफ फिल्मी रिंगटोन डाउनलोड mp3

मैं अपने दोनों हाथों से अदिति की कसी हुई और बाहर निकली हुई गांड को मसलने लगा. पॉल के बालों को खींचती हुई वो उसका मुँह उस वीर्य के पास ले गयी और पॉल का सर बिस्तर पर दबा दिया, जहां उसका वीर्य जमा हुआ था. वो मुझे देखने लगा और बोला- तुम तो बहुत ही बड़ी रंडी लगती हो, कितने लंड डलवा चुकी हो इस चूत में?मैं बोली- पता नहीं भाई कितने लोगों से चुदवा चुकी हूँ.

वो घर के बाहर आई और बोली- अभी क्यों बुलाया मुझे?मैंने कहा- मुझे भी वो सब करना है, जो मामा के साथ तुम करती थी. वो सब कैसे हुआ, मैं पोर्न स्टूडेंट सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगी. मालूमात हुई कि श्वेता एक प्रोफेशनल इंटरेनट कंटेंट क्रिएटर है और मॉडलिंग करती है.

अपने नौ इंची के लंड पर ज्यादा सा थूक लगा कर शीरीं की चूत की गोरी गुलाबी दरार पर लगा बैठा.

उसे पता चल गया था कि मैं अब तैयार हूं और वो मौका गंवाना नहीं चाहता था. मैंने भी देर न करते हुए अपने लंड को उसकी चूत पर सैट किया और अन्दर डालने लगा. अब मुझे कहां पता था भाभी? आप लेने से पहले कह देतीं … तो मैं सम्भल कर करता.

हम दोनों ने बाथरूम जाकर खून की सफाई की और फिर से चुदाई के लिए हॉल में आ गए. मैंने उसकी बातों को अनसुना करके उसे कस लिया और लंबे लंबे धक्के देना शुरू कर दिए. उधर पिक्चर जैसे ही एक डरावने सीन की तरफ चली, मैं डर के एकदम से भैया कर चिपक गयी.

मैं भी घर पर बोर हो रही थी तो मैंने कहा- मैं भी चली जाऊं क्या, यहां थोड़ा अजीब सा लग रहा है. उन्होंने मुझे अपने से चिपका लिया और मुझे किस करने लगी, कहने लगी – मुझे प्यार कर बेटा!मैंने मां को सीधा लिटाया और उनके ऊपर चढ़ गया.

मैं गर्म था इसलिए जोर-जोर से मुठ मारने लगा और कुछ देर बाद झड़ गया।पहले मेरे मन में पिंकू के लिए गंदे विचार नहीं थे लेकिन मैंने जब से पिंकू को बिना कपड़ों में देखा तभी से वह मेरे दिमाग में घूमने लगी. मैंने जब उसके हाथ पर हाथ रख कर अपने शरीर का वजन उस पर डाला, तब उसने मुझे स्वीकार करते हुए कहा- आज बहुत सालों बाद किसी मर्द के साथ बैठी हूँ. राज मैं मर जाउंगी ऊईई ऊईईई बचाओ मर गई मम्मी बचाओ मर गई … मर गई बचाओ.

वो मुस्कुराती हुई बोली- अच्छा! मुझे पता है, तुम कुछ और ही देख रहे थे.

तभी रीना ने अपना नकली लंड पॉल की गांड से निकाला और पॉल के मुँह की तरफ आकर उसने इशारा किया. तब मेरे मुँह से बस आहहह निकली जो मैं छुपा भी नहीं सकी और मैं डर से कांपने लगी. इसी दौरान कभी हैंडल सही करने और कभी हॉर्न और इंडिकेटर बताने के लिए मैं अपने हाथ उसकी साइड से आगे ले जाता और उसकी चूचियों से मेरा हाथ टकरा जाता.

चाची खुश हो गईं और उन्होंने मुझसे कहा- आज से तुम ही मेरे पति हो … मेरे देवता हो. अच्छा तुम ये बताओ कि तुम कब तक मुझे ऐसे ही चोदोगे?अनंग- फिक्र मत करो मेरी जान, आज तुम्हें मैं वो मज़ा दूंगा कि कोई मर्द तुम्हें ऐसा मज़ा नहीं दे पाएगा क्योंकि मैंने आज तुम्हें चोदने के लिए एक टेबलेट खाई है और मैं अभी एक घंटा तक थकूंगा ही नहीं.

इस सबके चलते मैंने सोचा कि क्यों ना आज मैं अपनी चुदाई की कहानी लिख कर आपको भी मजा दे दूँ. लेकिन हफ्ज़ा पैंटी नहीं पहनती थी तो मैं उसको पेटीकोट में ही रहने को कहा. वो बाथरूम में चली गई और जब वो वापस आई तो मैं उसकी मदमस्त जवानी देख कर मदहोश हो गया.

बीएफ हिंदी में चालू

वो बोलीं- क्या कर रहा है?मैंने कहा- गर्लफ्रेंड किधर से हॉट है, उसे ये बता रहा हूँ.

यार मैं क्या करूं, उसके पास कोई छोटा पैक था ही नहीं और न ही उसके पास खुले पीस थे. अनंग- सॉरी चाची मैंने इतनी जल्दी खुद को झाड़ दिया और आपके अन्दर ही रस डाल दिया, इससे कोई दिक्कत तो नहीं होगी न … आप प्रेग्नेंट तो नहीं होंगी ना?मैंने कहा- नहीं, क्योंकि मैं कभी प्रेग्नेंट हो ही नहीं सकती और इसी लिए तुम्हारे चाचा मुझे इतना नहीं चोदते थे. कोठे की वेश्याएंशीरीं के कमरे के बाहर कान लगा कर दोनों की आवाज सुनतीं और हंसती हुई बातें कर रही थीं कि आखिर फ़ज़लू मियां ने शीरीं की चूत को अपने नौ इंची लौड़े के शीशे में उतार ही लिया है.

जब सब लोग शाम में घर आए होते और उस वक्त कभी कभी हम दोनों खेत घूमने निकल जाते थे. उसने जंगली अंदाज़ में मेरी बीवी की पैंटी फाड़ दी और उसके एक दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. ब्लू सेक्सी पिक्चर फिल्म ब्लूमैं अपने टीचर से कैसे चुदी?दोस्तो, मैं आपकी चुलबुली सी सीना चतुर्वेदी एक बार पुन: अपनी सेक्स कहानी के माध्यम से आपका मनोरंजन करने हाजिर हूँ.

बाथरूम में अन्दर अंकिता के अभी के बदले हुए ब्रा और पैंटी रखे हुए थे जो गीले नहीं थे. बाहर लिविंग रूम में आने पर पता चला कि रात में ही दोनों भाई जरूरी काम से इंदौर चले गए हैं.

[emailprotected]लेखक की पिछली कहानी:भैया और पापा ने मुझे चोदकर प्रेग्नेंट किया. मेरा यह कहना था कि उनमें से एक ने सीधा मेरी चूत पर हाथ रखा और उसे अपनी मुट्ठी में पकड़ कर दबा दिया. थोड़ी ही देर में उसका बदन अकड़ने लगा और वो एक लंबी आह के साथ भलभला कर आ गयी … मतलब वो एक बार स्खलित भी हो गयी.

मैंने ओके कह दिया और काजल के मादक जिस्म को याद करके अपने लंड को सहलाने लगा. मैं बोला- यह खजाना आज से तेरा है जो चाहे कर!इतना सुनते ही पिंकू मेरे लंड को जोर जोर से चूसने लगी. मैंने उससे कहा- अंजलि, अब तुम शर्म त्याग कर मेरे साथ सेक्स करोगी, तभी तुम्हें मजा आएगा.

आप मुझे मेल करें कि आपको मेरे ब्रो सिस फिज़िकल लव स्टोरी कैसी लग रही है.

मैंने इस बार उसकी तारीफ नहीं की, बस उसके साथ खड़ा होकर बस का इंतजार करने लगा. मैंने कहा- तो क्या तुम हमारी गांड मारोगे अंकल?वह बोला- नहीं गांड नहीं मारूंगा.

अम्मी ने कहा- बेटा अम्मी हूँ तेरी … ये सब मेरे साथ करेगा … तू कहे तो तेरे लिए तेरी ममेरी बहन हिना को बुला लेती हूँ. मौसी- तुम मुझे जानते हो? कभी हमारी मुलाकात हुई है?मैं- नहीं, बस आपकी आवाज सुन कर अच्छा लगा, तो सोचा कि आपसे दोस्ती करूं. फिर अर्णव एक हाथ से हल्के से मोहिनी के दूध को मसलने लगा; अपनी दो उंगलियों में एक चूचुक को मींजने लगा.

नेहा मादक सिसकियां लेने लगी ‘उम्म … उम्म … उम्म …’वो अपने होंठों को काट रही थी. मम्मी ने मुझसे कहा- क्या तुम मामी के यहां जाकर कुछ दिन रह सकते हो? मेरे घुटनों में दर्द है, तो मैं वहां नहीं जा सकती. जिन्हें रिश्तों में चुदाई पढ़ना अच्छा नहीं लगता, उनसे कहना चाहूंगी कि वो लोग अभी कहानी पढ़ना बंद करके कोई दूसरी कहानी को पढ़ सकते हैं.

बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर एक हाथ से मेरा लौड़ा पकड़ते हुए रीना बोली- पूरा निगल जा इसे भोसड़ी के, ऐसे मर्दों के लंड के माल पीने के लिए ही तू पैदा हुआ है रंडी की औलाद. वहां से आते समय मामा जी ने पहले कुछ शॉपिंग की और घर में खाने पीने के लिए मिठाई आदि भी ले लिए.

सेक्सी बीएफ जंगल का सीन

अब आप ही सोचिए कि इतने दिनों से बिना लौड़ा लिए मैं बिल्कुल अकेली रह रह गई थी और वह मजे में अपना लौड़ा हिला कर खुद मजे ले लेता था, पर मुझे अपना लौड़ा नहीं दे रहा था. मगर हम तीनों को क्या पता था कि रेखा की आवाज उनकी मां को इधर बुला देगी. फिर मैंने भी आगे बढ़ कर उन दोनों के पैंट अंडरवियर सहित नीचे खींच दिए.

प्रिय पाठको,अपने मेरी कहानी के पहले भागवासना से भरी मेरी छोटी बहन को नंगी देखामें पढ़ा कि मैं अपनी बहन को पसंद करता था और उसे वासना की नजर से देखता था. मैंने आहिस्ता से अपना लंड नीता की गांड से बाहर निकाला और बेड के नीचे खड़ा हो गया. लड़का लड़की चोदा चोदी सेक्सीअंकल ने हमेशा की तरह कागज में लपेट कर छुपाकर मुझे एक नई किताब दे दी.

राजीव ने सनी को मेरी शादी से पहले की कहानी बताई कि किस तरह उसने मुझसे इंस्टीट्यूट में मजे लिए.

उसने लगातार मेरे दोनों गोटों को मुँह में लेकर चूसा और उसने आखिरी बूंद निकलने तक मेरे गोटों की मालिश करना जारी रखा था. थोड़ी देर बाद मैंने मामी छत पर अपने बेटे को लेने को आईं, वो ठंड से कांप रहा था.

कुछ देर बाद हाथ हटाया, तब वो नशे में बोली- धीरे पेल साले, क्या मैं गधे के लंड जैसे को भी सहन कर सकती हूँ?मैं चुपचाप पड़ा रहा. मैं अपनी इस लम्बी कहानी में बता रही हूँ कि मेरी बुर की चुदाई की शुरुआत किस तरह से हुई और मैं एक के बाद एक लंड से चुदती चली गई. अब आपा ने गाली देते हुए कहा- बहनचोद, अब देख क्या रहा है … डाल ना अन्दर अपना लंड भोसड़ी के!आपा की बहुत सारी फैंटेसी में से एक ये भी था कि चुदते वक्त वो गंदी गंदी गालियां देती थीं.

एक बार उसकी इच्छा से मैंने उसकी गांड भी मारी और इस बार उसे बहुत कम दर्द हुआ.

अब आगे फक़ मी कहानी:मैं बगल वाली आंटी के घर गयी, उनको खीर का कटोरा पकड़ा दिया और काफी देर उनके साथ बैठ कर बातें की. बैग से निकले सामान को देख कर मुझे पता चला कि आज रीना भी अपने पति की गांड चोदने के मूड में है. इसलिए आज मैं अभी हाल ही में हुई एक लाजवाब सेक्स कहानी के बारे में सुनाता हूं.

सेक्सी व्हिडीओ दीपिका पादुकोणपहले तो बुर की महक और स्वाद थोड़ा अजीब सा लगा, पर जल्दी ही वो महक और स्वाद मेरा पसंदीदा बन गया. वो मेरे सर को अपने दूध पर दबा रही थी, जिससे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

सेक्सी बीएफ बंगाली में

जिस तरफ से मेरी नजर उस पर पड़ रही थी, वहां से मुझे उसकी चूत तो नहीं दिख रही थी लेकिन उसकी गांड की गोलाई और उसके मोटी मोटी जांघें देख मेरा लंड खड़ा हो गया था. कुछ देर बाद बुआ की Xxx गांड में मेरा लंड अन्दर ही पिचकारी छोड़ने लगा. मोहिनी ने अपना लैपटॉप बंद किया और पियून को बोला कि बैग नीचे कार में रखवा दे.

उसने मुझसे सॉरी कहा और बोला- मुझको लगा कि संगीता है, इसलिए मैंने आपको मारा था. वो मुझसे बोली- मेरे राजा अब और न तड़पाओ … जल्दी अपने लंड को मेरी चूत में घुसा दो. मेरे साथ चल रही चुम्मा-चाटी से और चुदाई के ख्याल से रीना के चूचुक तन कर उभर गए थे.

मैं उनकी गांड के ऊपर हाथ फिराने लगा और पीछे से ब्लाउज के ऊपर से ही हाथ फेरने लगा. जैसा कि मैंने बताया कि वह बूढ़े अंकल उस दुकान में किताबें वगैरह बेचा करते थे. ये वही लड़की थी जिसको मैं कोचिंग में बहुत लाइन मारा करता था पर उससे मेरी कभी आगे बात नहीं बढ़ पाई थी.

तो उसने भी फुर्ती दिखते हुए मेरे लौड़े को कच्छे से बाहर का रास्ता दिखाते हुए अपने मुँह में भर लिया. उसने कहा- अभी तो दो चूतें मेरे सामने नंगी पड़ी हैं, इन्हें खुश करना है.

इससे हुई गुदगुदी के मारे सोनी उछल पड़ी और उसने मेरे चेहरे को पकड़ कर हटा दिया.

लेकिन उनको मैं कहना चाहता हूँ कि मैं कोई दल्ला नहीं हूँ, जो आप लोगों के लिए सैटिंग करता फिरूँ. कॉलेज सेक्सी व्हिडिओ सेक्सी व्हिडिओहम दोनों दुनिया की फिक्र छोड़ कर खूब मस्ती से ट्यूबवेल के पानी में नहाए. सेक्सी नवा पिक्चरइस बार जब फ़ज़लू मियां के हाथ में सट्टे से मिली बड़ी रकम थी तो वो मूड बना कर कोठे पर लंड हिलाता हुआ आ गया. मैं गीता के स्तन, कमर, चुत, जांघें और गांड सहलाकर पानी से गीला कर रहा था.

मैं तो उसके इस रुख से एक बार को तो डर ही गई कि उसने ऐसा क्यों किया.

फिर वो मुझे किस करने लगी और मेरी टी-शर्ट निकाल कर मेरी छाती को चूमने लगी. उससे पहले हम हर दूसरे तीसरे दिन किसी ना किसी रेस्टोरेंट या कॉफ़ी शॉप पर मिल जाते थे. मैंने भी उसकी चूत में अपनी उंगली घुसा दी जिससे उसके मुँह से मादक आवाज में ‘आह आह उई मां उई मां …’ की कराह निकल गई.

हालांकि जब भी मैं उससे मिलता तो कभी अपने जज्बात बाहर नहीं आने देता था. मेरी पिछली कहानी थी:लॉकडाउन में ससुर बहू की चुदाई की मस्तीमैं हमेशा ही कोशिश करती हूं कि आप लोगो तक सबसे अच्छी कहानियां पहुंचाऊं. मैंने बूब्स चूसते हुए एक हाथ से उनकी चूत को भी सहलाना शुरू कर दिया था.

बीएफ सेक्सी फिल्म वीडियो देहाती

रूमी बोली- रुको यार, तुमने मुझको पूरी नंगी कर दिया, अब मैं भी तो तुमको नंगा करूंगी. मेरे कंधे पर पैर रखते ही सोनी की बुर की दरार खुल सी गयी और मैंने बुर के निचले हिस्से में अपनी जीभ को नुकीला बना कर घुसेड़ दिया. गाँव की लड़की की चूत चुदाई कहानी अच्छी लगी होगी … टिप्पणी जरूर कीजिएगा!आपका प्यारा सा गुड ब्वॉय[emailprotected].

फिर अगले दिन से मैंने उस स्टोरी के हिसाब से सब काम करना शुरू कर दिए.

राकेश का दरी पट्टी समेट कर रखने का नंबर बर्थडे वाले दिन से दो दिन बाद आने वाला था.

दो तीन बड़े बड़े घूँट पीने के बाद ही बोतल मुझे देती हुई बोली- लो तुम भी पी लो. अब मैं उसी बारे में सोचने लगी कि क्या ऐसा होता है, क्या एक भाई अपनी ही सग़ी बहन के साथ सेक्स कर सकता है, क्या ये सही है. हॉलीवुड सेक्सी वॉलपेपरमैं उसके चूचे की बिटनिया को जब भी काटता, तब वो मेरे सर को पकड़ कर अपने दूध पर टिकाए रखती.

उसने बताया कि उसकी जेठानी के दो लड़कियां हैं और दोनों सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं. करिश्मा खुश हो गई और उसने मुझे बताया कि शिमला पहुंच कर एक सरप्राइज भी है. स्नेहा मेरा पूरा 7 इंच का लंड मुँह में लेती और बाहर निकालती, फिर मुँह में लेती और बाहर निकालती.

हम तीनों भी किसी को कुछ परेशानी ना हो, इस कारण से चुप रहतीथी और उन तीनों की हरकतों को टाल दिया करती थी. वंदना ने कहा- हां … पर वो पूछेगा क्या?वो- मैंने साहिल से बोला है कि अगर तुम घर में किसी से नहीं बताओगे तो मैं वंदना को तुमसे चुदवा दूँगा.

नहाने के बाद मैं बस एक टॉवल बांध कर बाहर आई और रोहण को अपने मदमस्त जिस्म का नजारा देती हुई नीचे किचन में आ गई.

फ़िर विपिन धीरे धीरे अपने हाथ मेरे बूब्स पर ले गया और उन्हें हल्के हल्के दबाने लगा. यह सब हो रहा था तब मेरी फुद्दी पूरी तरह से गीली हो चुकी थी और मेरे लोवर को भी गीला कर रही थी. फिर मैंने भाभी को बेड पर लिटा दिया और आकाश को देखा तो वह अपना लंड बाहर निकाल कर मसल रहा था.

सेक्सी वीडियो अकाउंट सुबह उठने के बाद वो जब देखतीं, तो उनकी साड़ी पर, बूब्स और चेहरे पर दाग दिखाई देते थे. फिर कुछ दिनों में दीवाली आने वाली थी तो पिताजी ने पुताई करने के लिए हमारे खेत में काम करने वाली हफ्ज़ा को बुलाया था.

मैंने किरण के बाल खींच कर और उसके चूतड़ पीट पीट कर उसकी गांड मारना जारी रखा. मैंने किरण का मुँह रेशमा के मुँह पर दबाकर फिर से अपना लौड़ा रेशमा के मुँह में ठूंस दिया और किरण की गांड फ़ैलाकर उसकी चूत को अपनी उंगलियों से चोदने लगा. फिलहाल मेरा भाई मेरे दूध अपने मुँह में पूरा भर कर चूस रहा था और ज़ोर से मसल रहा था.

बीएफ टैबलेट

मेरे दिमाग में अब भी फिल्म का सीन ही चल रहा था और मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था. वो उन तीन दिनों में घर में एकदम अकेली थी तो वो बेफिक्र होकर मुझे अपने रूम में बुला सकती थी. हमारी कक्षा के कुछ हरामी लौंडों की वजह से मुझे भी इस बात का पता चला और मैंने भी उन किताबों को देखने में रुचि लेनी शुरू कर दी.

भैया ने मुझे देखा तो मैंने बोला कि अब और कोई उपाय भी नहीं है, तो ठीक है. वो आगे बोली- अब अगर ये बात मैं अपने पति को बोलती हूँ कि उनमें कोई कमी है, तो आपको भी पता है कि क्या होगा.

मुझे उस पर बहुत ज्यादा गुस्सा आ रहा था पर हॉट चुत वांट फक़ … मैं अब कुछ कर भी नहीं सकती थी.

वो मछली सी मचलने लगी और उसने अपनी दोनों टांगों से मेरे सर को जकड़ लिया. दोस्तो, हॉट देसी न्यूड गर्ल सेक्स कहानी अगली कड़ी में मैं आपको अपनी चूत गांड चुदाई की कहानी को आगे लिखूंगी. मैं दरवाजा बंद करके आपा के ऊपर चढ़ गया और आपा को अपनी बांहों में भर लिया.

जब तक मैं उसकी चूत चाट कर उसका पानी निकालता, उससे पहले ही वो लंड चूस कर मेरा पानी निकाल देती. मैं उसके दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और साथ साथ दूसरे दूध को हाथ से सहलाने लगा. मैं उनके मुँह में जीभ डाल कर घुमा रहा था, वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थीं.

पेटीकोट के नीचे ऑन्टी ने पैंटी नहीं पहनी थी इसलिए ऑन्टी अब पूरी तरह नंगी हो गईं और मेरे बगल में लेट कर अपनी दो उंगलियां अपनी योनि में फिराने लगीं.

बीएफ हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर: उस समय मेरा भाई मेरे मुँह को पकड़ कर मेरे मुँह में ही धक्के लगाने लगा. दोस्तो, इसके आगे की घटना मैं यहाँ नहीं लिख सकता क्योंकि वो इस साईट के नियमों के अनुरूप नहीं है.

मैंने उससे कहा- घड़ी देखो, हम जिस काम से आए हैं, पहले वो काम कर लेते हैं. अब मेरा रास्ता बिल्कुल साफ हो चुका था, जो चीज मैं लच्छो से चाहता था उसके लिए वो तैयार हो गई थी. फिर वो लंड पर चूत फंसा कर बैठ गई और अपनी गांड उठा उठा कर आह हहआ हहह करके मेरा लंड अन्दर बाहर लेने लगी.

चाय पीते हुए मोहिनी ने अर्णव से कहा- तुम मेरे एकमात्र दोस्त हो और मेरे पति के सिवाए सिर्फ दूसरे मर्द हो, जिसने मेरे शरीर को भोगा है.

उसका वही कातिल फिगर जो लगभग 34-32-36 का उस वक्त था, उसने अभी भी मेंटेन करके रखा हुआ था. वैसे तो मैं अब तक कई बार सेक्स का मज़ा ले चुका हूँ, पर सेक्स में हर बार एक अलग ही नशा रहता है … ये तो आप जानते ही हैं. यह सेक्स कहानी मेरी शादी से कुछ साल पहले की उस समय की है जब मैं एक अमीर घर की बिगड़ैल और अय्याश लड़की थी, जिसे ना अपनी परवाह थी और ना अपने मां बाप की.