सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू

छवि स्रोत,नंगी सीन नंगी सीन

तस्वीर का शीर्षक ,

पानी में बीएफ: सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू, मैं मन ही मन सबको कोस रहा था कि सालो निकल भी जाओ अब ताकि मुझे कुछ करने का मौका मिले.

xxx ভিডিও

उसने वैसलिन को अपने लंड पर लगा लिया और थोड़ी सी मेरी गांड के छेद पर लगा दी. मारवाड़ी चुदाई की वीडियोमोनू बोला- फिर तुम मेरे पास जाओ इस बार बेबी!मैंने सीमा से कहा- साली देख ले, तेरा पार्टनर तो फ़िदा हो गया मुस्कान पर! कहीं वो न पटा ले इसे?सीमा तुरंत बोली- कोई बात नहीं, मैं आपको पटा लूंगी.

कुछ देर बाद मामला ठंडा हुआ, तो संजय ने परिचय करवाया- ये मेरा दोस्त रजत है. राजस्थान ब्लू फिल्मउसने झुककर ममता के मम्मे चूसे और चूत में गाड़ी चलाते समय ही उंगली करी.

अब उसने अपना मुँह कम्बल में करके मेरी पैन्ट से मेरा लंड बाहर निकाल कर अपने मुँह में भर लिया.सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू: हां एक दो बार उसको बालकनी में कपड़े या तौलिया सुखाते हुए जरूर देखा था मैंने.

मैं अपने भैया के आगे आगे चल रही थी और इसी बीच भैया के मन में पता नहीं क्या आया कि उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया.जब लगभग पूरा बाहर चला गया उसने अचानक फिर से धक्का मार दिया मेरे मुँह से चीख निकल गयी.

पॉर्न विडियो - सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू

उन्होंने कहा- मैंने पहले ही कहा था कि मैं सेक्स के लिए राज़ी नहीं हूँ.उसने मेरी हरकत की तरफ से अपनी चुप्पी तोड़ी और बोलने लगी- ये आप क्या कर रहे हैं सर?राहुल- कुछ नहीं अलका.

सोनम- मादरचोद केवल माल झाड़ने आया था भोसड़ी के …लड़के को गाली देते हुए सोनम अपने दूध को मसल रही थी. सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू अब हम दोनों ही बहुत तेजी से दीदी को चोदने लगे और दीदी भी उसी तेजी से हमें गालियां बकने लगीं- आहह उउहह चोदो रे हरामजादियों साली रंडियों … आज तो मजा ही आ गया … वाहह ईईस्स स्सेस और और और तेज …दीदी अकड़ने लगीं और उन्होंने जोश में आकर मेरी कमर को पकड़ लिया.

परमीत ने जब डिल्डो निकाला, तो पक्क की एक आवाज आई … और मेरा दिल धक से हो गया.

सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू?

अपनी तारीफ सुनकर मैं और मचलने लगी और परमीत ने भी दीदी की बातों के बाद अपनी हरकतों में तेजी ला दी. चूत से निकल रही एक मदभरी सी आवाज कमरे में फैल रही थी ‘फच फच …’उनका पूरा लंड मेरी चूत की गहराइयों में उतर रहा था. अर्चना के बारे में जानने के लिए आप मेरी पिछली सेक्स कहानीभाभी की चुदास और चूत चुदाईपढ़ें.

उनमें से एक अंकल तो इतने खूबसूरत लग रहे थे कि उन्हें देखकर मैं अपने आपको रोक नहीं पा रहा था. पाठकगण! मैं अपने व्यक्तिगत अनुभव से कहता हूँ कि शैया पर अभिसार में काम-रमणी की ‘हाँ’ तो ‘हाँ’ होती ही है … ‘न’ भी नखरे वाली ‘हाँ’ ही होती है. इससे मैं चूत को पूरा पूरा फील करता हूँ।थोड़ी देर तक मैं बिना हिले ऐसे ही रोजी के ऊपर पड़ा रहा और उसके दूध पीने लगा.

साथ ही भाबी ने हंस कर जता दिया कि शाम को तुमको कुछ नहीं मिलेगा, अपना लंड अपने हाथ से ही हिला लेना या किसी कॉल गर्ल के पास जाकर आना. और वो भी शांत हो गयी मेरी साथ! शायद उसे भी पूर्ण चुदाई सुख की अनुभूति हो चुकी थी. रानी को मज़ा आने लगा था और वो मस्त धीमे धीमे नितम्ब मटका कर गांड मरवा रही थी.

इतना बताना ठीक है ना … या आप लोगों को और कुछ जानना है?हां ठीक है भई … बताती हूँ … मैंने नीले रंग की प्रिंटेड ब्रा पहनी थी और काले रंग की पेंटी, जो मैं सामान्य ढंग से रेग्युलर पहनती हूँ. नैनीताल में दो जवान लड़कियां एक साथ चोदी-1में आपने पढ़ा कि मेरा भाई अपने तीन दोस्तों के साथ नैनीताल घूमने गया.

कल तुम चारों बिना कपड़े के घूमोगी और हम कल जब चाहें, तब तुम्हारी चुदाई कर सकते हैं.

ये पहला अनुभव था राजन के लिए इस तरह का … मस्ती भी हो रही थी, डर भी लग रहा था.

मेरा लंड इस टाइम बेकाबू हो रहा था, लेकिन मुझसे ज्यादा तो आंटी की हालत रही थी. आओ अपनी आशा को पूरा प्यार करो मेरे राजा। उम्म म्मह आऽऽह सीईई आह मजाऽ आऽ गयाऽमैंने भी देर न लगा कर कहा- मेरी डार्लिंग आज मैं तुझे नहीं छोडूंगा।अब मेरा लण्ड उसकी दोनों टांगों के बीच में घुसने को तैयार था. मैंने प्रीति से पूछा- क्या बात है जान … आज बड़ी हॉट लग रही हो … तुमने इतना हॉट कपड़े क्यों पहने हैं? मैं तुम्हारे मुँह से सुनना चाहता हूं.

इसीलिए तो युगों-युगों से राधेश्याम, सीताराम, उमाशंकर एक ही संज्ञा है. मैं बोली- हां कहिए न … क्या बात है?देखो मैं जो भी बात करने जा रहा हूं … तुम वादा करो कि केवल अपने तक ही रखोगी. मैं मन ही मन सोच रहा था कि काश ये अंकल मुझे मिल जाएं, तो मुझे जन्नत का सुख मिल जाएगा.

उसने मेरी चूत को मसल दिया मेरी तो सिसकारी निकल गयी। मैं उसका लन्ड तेजी से दबाने लगी.

काम के तीव्र आवेश के कारण वसुंधरा के मुंह से निकलने वाली ऊँची-ऊँची काम-कराहों से सारा कमरा गुंजायमान था. मीना सोफे के हत्थे पर बैठ गयी और कुणाल के हाथ से सिगरेट लेकर कश मार दिया. शायद इरफ़ान नपुंसक था, लेकिन पैसे वाला था इसलिए वो अपनी बीवी को दूसरे लंड से चुदवा कर खुश रखता था.

मैंने बिना लंड निकाले, उसे अपने ऊपर लिया और अब वो मेरे ऊपर आ गई थी. मैं- कोई बात नहीं क्रिया। हर लड़की की अपनी मर्जी होती है उसका सम्मान करना चाहिए।इतना कहकर मैं उसकी चूत पर लन्ड घिसने लगा और क्रिया ने अपने हाथ से मेरा लन्ड पकड़ कर चूत पर रख दिया।मैंने उसकी चूत पर धक्का लगाया लेकिन लन्ड फिसल गया।क्रिया- आह क्या कर रहे हो? दर्द होता है ना … प्लीज़ धीरे करो ना।मैंने एक बार फिर उसकी चूत पर लन्ड घिसा और क्रिया के लाल लाल होंठ जकड़ लिए. इसके बाद मैं आपको अपनी कहानी में बताऊंगा कि कैसे उसकी मैंने गांड मार कर मजा लिया है.

हमने नंबर एक्सचेंज किये, अगले स्टॉप पर वो उतर गया।पर मेरी वो हालत कर गया था कि पूरी रास्ते मेरी टांगें कांप रही थी।आगे की कहानियों से जल्द ही रूबरू करूँगी आपको। तब तक के लिए विदा, खुदा हाफिज।दोस्ती, कैसी लगी आपको ये कहानी? अपनी प्रतिक्रिया दें.

अचानक से उसने अपना मुंह छुड़ाया और बोली- तुम्हारे उंगली डालने से मुझे दर्द महसूस हो रहा है. इतना बताना ठीक है ना … या आप लोगों को और कुछ जानना है?हां ठीक है भई … बताती हूँ … मैंने नीले रंग की प्रिंटेड ब्रा पहनी थी और काले रंग की पेंटी, जो मैं सामान्य ढंग से रेग्युलर पहनती हूँ.

सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू अंशी और मेरा, हम दोनों का चुदाई करने का बहुत मन हो रहा था, पर कहीं मौका नहीं मिल रहा था. मैंने आंखें खोलीं, तो देखा नीरज मेरी बीवी या यूं कहूँ कि अपनी बहन, जो कि गहरी निद्रा में सोई हुई थी, के पास आ गया था.

सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू एक फिल्म एक्ट्रेस सी लड़की जब खुद ही चुदने को कह रही हो, तो आप समझो कि लड़के पर क्या बीतती है. उफ़ बिखरे बाल, उछलती चूचियां चूत से बहता रस और सिल्क की सिसकारियां ‘ईइइशश … अआहह्ह्ह … ईइइशश … अआआह्ह …’सिल्क की इस अदा ने आग में घी का काम किया और मैं उत्तेजना के कारण पागलों की तरह जोर जोर से अपनी कमर को हिलाकर की आवाज करने लगा ‘उफ्फ आह्ह हिस्स आह आह आआ आए उह उह!’सिल्क का मेरे लण्ड पर उछलना जारी रहा.

कोई 5 मिनट तक ऐसे ही लंड चुसवाने के बाद मैंने उन्हें बेड पर पटक दिया और उनकी चूत सहलाने लगा.

देहाती मम्मी की चुदाई

हां एक बात और बताना तो मैं भूल ही गया, उसने अपनी भौंहें (आइब्रो) भी नहीं बनावाई थीं. कुछ ही देर बाद उस का जिस्म अकड़ने लगा और वसुंधरा के मुंह से अजीब-अजीब सी आवाजें निकलने लगी. मैं पूछने लगी- मेरे जीजा ने और क्या बताया है आप लोगों को मेरे बारे में?अभय बोला:हम लोग एक दिन ऐसे ही दारू पी रहे थे.

वो एक प्रेमिका की तरह मेरी गर्दन, होंठों, गाल और छाती पर किस करने लगी. तभी दीदी आवाजें देने लगी थीं और वो हमें अन्दर जाकर खाना बनाने को बोलीं. फिर सर ने मुझे सीधा करके मेरे मुँह में अपने लंड का सारा माल खाली कर दिया और लेट गए.

मैंने गुस्से में कहा- तू मेरी ब्रा और पैंटी क्यों लेकर गया है? तुम्हें शर्म नहीं आती है क्या? मुझे मेरी ब्रा और पैंटी वापस करके जाना.

मैंने इस बार कोई बीस मिनट तक चाची की चुत को ठोका और जल्दी से अपना माल उनकी चूत से लंड खींच कर उनके पेट पर टपका दिया. ऐसा न हो कि चुदाई देखते हुए वो भी गरमा कर चुद ले … उसकी चुदाई में तो कोई ऐतराज़ नहीं न होगा आपको. आशना अब मेरे लोड़े को ऊपर से रगड़ रही थी।मैंने उसकी चूचियां ‌करीब पांच मिनट तक दबा के चूसी। उसके बाद मैं लेट गया.

मैं बोला- थकूंगा नहीं तो और क्या होऊंगा … एक दिन में दो दो चुत की चुदाई की है. चित्रा- हां डैड वो दोनों शादी करना चाहते हैं और शायद हमें उन दोनों की शादी करवा देनी चाहिए. कान में धीमी आवाज़ में फुसफुसाई- राजे तू खुद ही है न इतना बड़ा तोहफा … और किसी तोहफे की क्या ज़रूरत थी राजे … वैसे मैंने अंदाज़ लगा लिया कि तू क्या गिफ्ट लाया है.

विक्की बोला- कहां गई थी?मैं बोली- शहद लेने गई थी … बस तुम चुप रहो और लंड चुसाई का मजा लो. मेरे ऐसा करने से आशा की सांस रुकने लगी और उसकी आंखों से आंसू निकलने लगे.

मुझे नहीं पता कि कहानी में उसने अपना नाम गीत रखने के लिए क्यों कहा, पर जुबां पर इस नाम के आते ही मेरी धड़कनों ने गुनगुनाना शुरू कर दिया. मुझे मेरी फ्रेंड्स सेक्स के फायदे बताती थीं कि पहली बार चुदाई से दर्द तो बहुत होता है, पर मज़ा भी बहुत आता है. अब पोजीशन ऐसी थी कि लंड उसके पेट में घुसने को हो गया था इसलिए उसको दर्द हो रहा था.

अब मैं संजू को सैंडविच चुदाई के लिए किसी नीग्रो के साथ चुदवाने की सोच रहा हूँ.

तो प्रीति भी बोल पड़ी- राज भैया, शीला को लेकर आइए!मैंने प्रीति को पहले ही शीला के बारे में बता दिया था. परमीत हसन के सामने लंड चूसने बैठ गई थी, जबकि रजत भी उसी के समीप खड़ा हो गया. ‌शबनम मुस्कुराते हुए बोली- हां मुझे पता तो है … पर सीखी से क्या मतलब है … मैंने कभी कुछ किया ही नहीं है.

नताशा भी चुदने के लिए पूरी तरह से मूड में थी, इसलिए उसको इसका कोई असर नहीं हुआ. फिर दीदी ने नीचे घुटने के बल बैठकर मेरे पेन्ट को निकाला और इस काम में मैंने भी उनकी मदद की.

जब किसी बहुत सुंदर मूर्ति या चित्र को कलाकार अपनी कल्पना से बनाता है, तब उसकी कल्पना में ऐसी ही कोई अपसरा की छवि मुद्रित रहती होगी. हम जैसे ही उसमें घुसे तो वहाँ कार्यक्रम पहले ही चल रहा था।हम दोनों ने उनको सॉरी बोला और बाहर निकल आये. इस वक्त तक मेरा लंड पूरी तरह खड़ा हो चुका था।धीरे से मैंने मामी का हाथ उठाकर अपने लंड पर रख दिया और मैं अपने पैर से उनके बूब्स को दबाने लगा.

महिला पुलिस का सेक्सी वीडियो

कुछ दिन बाद मेरे बोर्ड के एग्जाम भी पास आ रहे थे, तो मैंने भी प्रियंका को मनाना छोड़ा और अपनी पढ़ाई पर ध्यान देने लगा.

मैं- कहां पर मिलोगी?वो बोली- डीबी मॉल के सामने 11:00 बजे आकर मुझे कॉल कर लेना, मैं वहीं मिलूंगी. मैं सुहास के होंठों को चूसे जा रही थी और वो भी मुझे चूसे जा रहा था. इसमें से ज्यादातर से बस बात होती थी या घूमना फिरना, शॉपिंग वगैरह ये सब ही होता था.

मुझे समझ में तो आ गया था कि ये मेरे मम्मों को एक लड़की के मम्मे कैसे होते हैं, ये समझने की कोशिश करके देखता है. मैंने जितनी बातें ऊपर लिखी हैं, उनमें से सारी खूबी मेरी गीत के उन्नत उभारों में मौजूद थे, मैंने उसकी संपूर्ण गोलाई को महसूस किया, उसके काल्पनिक स्पर्श के अहसास मात्र ने ही मुझे अन्दर तक रोमांचित कर दिया, लंडदेव ने उसकी सुंदर घाटी में सैर करने की इच्छा जाहिर करते हुए फुंफकार मारी, तो मेरे होंठों और हाथों की उंगलियों में उसके आकर्षक चूचुकों को सोचकर थिरकन हो गई. सेक्सी फिल्म नंगी वालीथोड़ी देर में प्रीति परम सुख आनंद में सराबोर हो गई और कहने लगी- संजय, मेरी जवानी अब तुम्हारी है.

अभी भी वही जोश और कामुकता बनी हुई है और मैं चुदाई का जैसे दीवाना सा हूं. उन्होंने कहा- खाने में क्या बना रही आज … जो भी बना रही हो ज्यादा बना लेना … क्योंकि मैं आज ऑफिस नहीं जा रहा हूँ … और मेरा खाना बनाने का मन नहीं हो रहा है.

मैं रूमानी जी की दोनों चूचियां मसलते हुए उनकी गांड पर लंड के घस्से लगाने लगा. न … न करो! … नई … ईं … ईं … ईं … ईं … ! तुम्हें मेरी कसम … सी … ई … ई … ई … !”हा. जीजा जी- चुप साली … रांड भैन की लौड़ी … लंड खा और चुप रहा कमीनी कुतिया.

अब आप बोलो कि अगर आप मुझे आधे घंटे का टाइम दो तो, तो मैं फटाफट नीचे से कुछ सामान लाकर आपको ड्रिंक के साथ कुछ नाश्ता देती हूँ और फिर रात को गरमा गर्म खाना. ‌शबनम ने मेरे चेहरे पर अपनी एक उंगली फिराते हुए कहा- पर किसी को पता चल गया तो?‌मैंने भी उसकी बांह को सहलाते हुए कहा- क्यों तुम किसी को बताने वाली हो क्या?‌शबनम- मेरे चेहरे पर अपनी गरम सांस छोड़ते हुए बोली- ना जी ना … मैं क्यों किसी को बताने जाउंगी … मरना है क्या मुझे. उन्होंने मेरे लंड को अपने रूमाल से साफ़ किया और हम दोनों ने कपड़े ठीक कर लिए.

कैसे हमने इन चार दिन में चुदाई का आनन्द लिया, कैसे हम जीजा-साले ने दो मदमस्त लड़कियों यानि अपनी-अपनी बहनों को एक चुदक्कड़ औरत बना दिया.

उनको देख कर मैं और दिव्या उठ कर अपने कपड़े ढूंढने लगे और भाई अभी भी नंगा का नंगा वहीं पर बेसुध सा पड़ा हुआ था. तभी उसने एक हाथ मेरी पीठ पर रखा और मुझे टेबल पर झुका दिया और मेरी साड़ी को पेटीकोट के साथ पकड़ कर कमर तक उठा दिया.

तभी उसी पोज में नीरज संजू को पकड़कर सोफा पर बैठ गया और संजू को गोद में बिठाकर उसके चुचों को मसलने लगा. तेरे जैसा माल हमें कभी सपनों में भी मिलेगा हमने नहीं सोचा था। बंध्या तुझे अब कुछ चिंता करने की जरूरत नहीं. सुबह बस में बैठ कर कुछ घंटे के सफर के बाद मैं गांव वाले घर में पहुंच गया.

और जब मैं झड़ने को हुआ तो मैंने प्रतीक्षा से कहा कि मैं अब झड़ने वाला हूँ. फिर आठ दस जोरदार शॉट के बाद अपना सारा वीर्य प्रीति के चूत में डाल दिया और प्रीति भी साथ में ही झड़ गई. एक बार नानी की तबीयत खराब होने के कारण माई को 10-12 दिनों के लिए अपने मायके जाना पड़ा.

सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू कुणाल बोला- बोलो मेरी जान, तुम्हें क्या चाहिए?मीना ने एक बार फिर डीप किस कुणाल को दिया और कहा- मुझे तुम्हारे साथ यू एस का ट्रिप चाहिए. मुझे जॉब सर्च करने में ज्यादा परेशानी नहीं हुई क्योंकि मैं पहले दिल्ली के अच्छे नामी हॉस्पिटल में जॉब कर चुका था.

हिंदी वाली बीएफ हिंदी वाली बीएफ

मीना ने एक टैक्सी रात तक के लिए बुला ली और रवि को लेकर उस एक्सपोर्ट हाउस के ऑफिस चल दी. वो सेना से रिटायर थे और अब अपना खुद का एक बिजनेस चलाते थे इसलिए वो यहाँ आये थे।बातों ही बातों में उन्होंने मुझसे पूछा- अगर आपकी ट्रेन नहीं मिल पाई तो क्या करेंगी आप?मैंने कहा- मेरी एक सहेली रहती है इटारसी में … उसके यहाँ चली जाऊँगी।शाम के 5 बज चुके थे मगर इटारसी अभी बहुत दूर ही था. हालांकि मुझे उम्मीद नहीं थी कि वो मेरा लंड चूसने को राजी हो जायेगी पर वह मान गयी और उसने मेरा लंड मुझ के अंदर ले लिया और चूर चूस के पूरा गीला कर दिया.

वो कभी मेरे लंड को चूसती, कभी चूमती कभी मेरी गोटियों को चूसती … या फिर कभी मेरे लंड के टोपे को अपने होंठों पर लिपस्टिक की तरह फेरती. फिर उसने मेरे ब्लाउज के हुक खोल दिए और उसके दोनों पल्लू बगल में सरका दिए. हिंदी चुड़ै पिक्चरफिर धीरे धीरे उसकी चूत पर आ गया तो प्रतीक्षा और संयोगिता को मेरे लंड और पोते चूसने में दिक्कत होने लगी।मैंने उन तीनों को बोला- मैं सीधा पीठ के बल सीधा लेट जाता हूँ जिससे प्रतीक्षा और संयोगिता को मेरे लंड और पोते चूसने में कोई तकलीफ नहीं होगी.

वो आम रास्ता नहीं था फिर भी खेतों की तरफ आने वाले लोग आसपास हो सकते थे.

तुम पागल हो गए हो या मुझे रंडी समझ रखा है … मैं ये सब नहीं करने वाली, इन्हें यहां से भगाओ … नहीं तो हम दोनों यहां से जा रही हैं. दिन में तो कहीं भी जाया जा सकता था, पर संजय ने रात को ही बुलाया था.

उन्होंने बताया कि मम्मी यहां सीढ़ी से गिर गई हैं और उन्हें चोट लग गई है. मेरा 9 इंच का लंड उसकी चूत को चीरे जा रहा था और वो मस्ती में चिल्लाए जा रही थी- अर्जुन आह्ह … आह आहआह जोर से … और … हां मजा आ रहा है अर्जुन!मैं भी बहुत तेज़ी से अपनी सेक्सी गर्लफ्रेंड की चूत को चोदे जा रहा था. वसुंधरा के जिस्म में गुज़रती सिहरन की एक लहर को स्पष्टतया मैंने अपने जिस्म में अनुभव किया.

मैं आपको अपनी सेक्सी चुदक्कड़ बहन की सेक्स कहानी को पूरे विस्तार से लिख कर बताऊंगा.

बहुत बदमाश हो आप!” कहते हुए वसुंधरा ने मुस्कुराते हुए मेरे दायें कंधे पर अपने बाएं हाथ से एक हल्का सा मुक्का मारा और फ़िर खुद ही शरमा कर मेरे गले लग गयी. मैं अपने आप नहाना चाह रही थी, पर बाबू अपना पूरा प्यार मुझ पर लुटा रहे थे. वो समझ गया, उसने अपना लन्ड आजाद कर दिया।उसका लन्ड मस्त था, मैं पागलों की तरह उसे चूमने लगी। बड़े दिनों बाद लन्ड मिला था, लन्ड की महक ने मुझे पागल कर दिया था। मैं उसे खा जाना चाहती थी। मैंने जी भर कर उसका लन्ड चूसा पर चूत में भी तो आग लगी थी।मैं खड़े खड़े ही चूत पर लन्ड सेट करने लगी.

hindi एक्सएक्सएक्सअब परमीत के बर्थडे वाले दिन मैं सुबह से उसके घर उसे बधाई देने पहुंची, तो वह उदास बैठी थी. मैं बोली- बाबू ये कहो न कि तेरे लंड में ताकत नहीं बची है … मेरी गांड के छेद को भेदते हुए अन्दर जाने का दम ही नहीं है.

हिंदी बीएफ सेक्स मूवी

साथ में जीभ से चूत के दाने को सहलाते रहे, चूसते रहे, हल्के होंठों से दबाते भी रहे. मैं भाभी को यूं ही जकड़े हुए जोर जोर से उसकी गांड में झटके मारने लगा. अब मुझे लगा शायद मामी भी जग रही हैं और वे भी इस सब का आनंद लेना चाहती हैं।अब मैं पेंटी के ऊपर से मामी की चुत को रगड़ने लगा और वे भी मेरे निकर के ऊपर से मेरे लंड को अपने हाथ से सहलाने लगी।मुझसे रहा नहीं गया तो मैं सीधा होकर उनकी तरफ मुंह करके लेट गया.

अनिषा- ठीक है, तो हम लोगों को भैंस के तबेले पर छोड़ देना, वहां से दूध और भैंस का चीक भी लेना है. अब आगे:कुछ ही देर में मेरी बीवी की गांड का दर्द पूरी तरह से गायब हो गया था और अब वो मजे ले कर अपने भी से गांड मरवा रही थी. फूलों फलों से लदे पेड़ों के नीचे कब हमारा समय व्यतीत हो जाता था, कुछ पता ही नहीं चलता था.

दूध वाला मेरे पास आ गया और मुन्ना को अनिषा के पास देते हुए बोला- ठीक है. मैं उसका असली नाम यहां पर शेयर नहीं करना चाहता, इसलिए उसका काल्पनिक नाम जॉली रख रहा हूँ. मैंने उनकी चुदास देखी तो जल्दी से लंड को चाची के पेटीकोट से पौंछा और लंड उनके मुँह में दे दिया.

उसने कुछ नहीं पहना था अंदर से।और फिर मैं उसकी चुचियों पर आ गया।उसकी मोटी मोटी चुचियाँ मुझे पागल कर रही थी, मैं खूब जोर जोर से आशना की चुचियों को मसल रहा था। वो आहें भर रही थी।अब मैंने उसकी एक चूची अपने मुंह में भरी और चूसने लगा. मैंने उसकी कमर को पकड़ा और उसकी चूत में लंड को फिर से जोर लगा कर धकेलने लगा.

लेकिन एक मिनट बाद उसने मुझे रोक दिया और फिर सेक्सी स्माइल करके चली गई.

लेकिन बढ़ती उम्र के साथ रसूखदार घरों की लड़कियों पर पाबंदियां भी बढ़ने लगती हैं. लड़की पेशाब करती हैयह नजारा देखते ही मेरा लण्ड खड़ा हो गया और उसकी नींद में ही मैं लंड चूत पे लगा के अंदर डालने लगा।वो अचानक उठी और हमने सुबह की एक फ्रेश चुदाई भी की।फिर वो बोली- चलो देखते हैं कि सरीना और अक्षय की रात कैसी रही. सेक्स में ब्लू फिल्मपरमीत ने केक काटने के बाद सबसे पहले संजय को एक टुकड़ा केक खिलाना चाहा, पर संजय ने मना कर दिया. जैसा कि मैंने आप सबको पहले ही बताया कि मैं अपने जेठजी के आफिस में उनके कामों में मदद करती हूं और इस वजह से मैं उनके साथ काफी टाइम व्यतीत करती हूं.

तब मैं तो जरा डर गया पर उनसे कहा- कुछ प्रोब्लम नहीं ना होगी?तो वो बोली- नहीं होगी.

अब आगे:तभी परमीत मुझसे थोड़ा अलग हुई और उसने मुझे पांव की उंगलियों से चूमना और चाटना शुरू कर दिया. मैं नजरें गड़ाये बैठा था, जैसे ही आंटी निकलीं, मैं सुमन के पास पहुंच गया. ऐसे ही लगभग बीस मिनट और चुदाई के बाद पहले रजत ने अपने गाढ़े वीर्य से मेरी चूत को लबालब कर दिया, जो मेरी जंघाओं के मध्य बह गया.

फिर परमीत ने कहा- साफ-साफ बताओ … तुम कहना क्या चाहते हो?तब संजय ने कहा- यार परमीत तुम हर बार चुदाई के समय कहती हो ना … काश तुम्हारे तीनों छेदों को शानदार लंड मिले … तो लो आज मैंने तुम्हारी इच्छा पूरी कर दी. लड़की- चुदाई कैसे होती है?लड़का- जब लड़का-लड़की नंगे हो कर, लड़की की बुर में लड़का लंड डालता है और आगे पीछे करता है, तो लड़का लड़की दोनों को बहुत मज़ा आता है. उसकी लेगी चूत के पानी से गीली हो चुकी थी और वो अपना सिर मस्ती की वजह से इधर उधर करने लगी। उसका बदन मस्ती के मारे काम्प रहा था.

जवान लड़की का बीएफ

मैंने सीमा को उल्टा किया और सतीश ने सीमा के मुंह में अपना लौड़ा डाल दिया. जैसे मेरे अंदर परम-रचियता खुद बोल उठा- अपने होश कायम रखते हुए मज़बूती से थाम ले इस क्षण को, लीन हो जा इस पल में … यही है जीवन का वर्तमान एंवम इकलौता जीवंत क्षण. खैर … अगर वो हमारी उम्र के भी होते, तब भी हमारा व्यवहार वैसा ही होता जैसा उनके साथ था, रूखा और काम से काम रखने वाला.

इस बार उसने मोर्चा संभाला और मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे होंठों को चूसने लगी.

थोड़ी देर बाद वो चला गया, तब मैं आदी के रूम में गई और बोली- तुमने उसे मेरे बारे में सब बताया है क्या?आदी- नहीं दीदी … लेकिन वो तुम्हें देख कर तुम्हारी तारीफ कर रहा था.

पिछली सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मैंने कैसे अपनी बीवी को एक दूध वाले कमसिन लड़के रोहित से चुदवाया था. मलाई जैसे मुलायम चिकने और बेहद हसीन पैरों के स्पर्श से मेरी चुदास कई गुना बढ़ गई और मैंने दीवानावार रानी के पैरों को चाटना शुरू कर दिया. ब्लू सेक्सी ब्लू सेक्सी ब्लूउसके इस अंदाज को देख कर कहीं से नहीं लग रहा था कि वो कमसिन चुत वाली है.

मैं मनु के साथ लेस्बियन कर चुकी थी उसके बावजूद मैं उससे नजर नहीं मिला पा रही थी. स … बस … झड़ गयी … आह … मेरी चूत तुम्हारे … लंडों … पे झड गयी मेरी जवानी … का रस निकाल गया तुम्हारे जवान लंड के … आगे आई उई … ब. मैं चाची को चोदने के बाद उनके ऊपर से उठा और अपने कपड़े पहन कर वहां से निकल आया.

अब तक की मेरी सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि मेरा भाई आदी को लड़के पसंद थे. इतनी उम्र की होने के बाबाजूद आंटी की चूत अभी भी काफी टाइट थी।अब मैं अपनी रफ्तार बढ़ाने लगा था जिसकी वजह से आंटी आआ हहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… हऊऊह जैसी आवाजें निकाल रही थी.

मेरी चूत पर चुम्मी लेते हुए बोले- पहला रूल ये कि चुदायी में जज्बात पर रोक नहीं लगाना, जो मुँह में आए बोल देना.

उस दिन मुठ मारने का एक अलग ही मज़ा आया और कब सो गया, मुझे पता ही नहीं चला. अलका ने कुछ ही देर लंड सहलाया होगा, मैंने उसको लंड चूसने को कहा, जिसे सुनते ही अलका के चेहरे की जैसे हवाइयां उड़ गईं. मैंने उससे मिलने के लिए बोला तो उसने हां लिख कर बोला- मैं टाइम निकाल कर प्लान बनाती हूँ.

सेक्सी वीडियो मां बेटे का सेक्स का बहुत शौक़ीन था विशाल … उसकी मजबूरी थी कि बीवी को छोड़कर यहाँ रहना पड़ रहा था. चाची की चुचियां साफ़ ऊपर नीचे होती दिख रही थीं और उन्हें देखकर मैं उत्तेजित हो रहा था.

वो घोड़ी बनी और मेरे लंड पर एक चुम्मी लेकर बोली- मेरे अच्छे साहब जी. थोड़ी देर यही सिलसिला चलता रहा, फिर वो चारों अंकल घूमते घूमते पार्क के और अन्दर जाने लगे. फिर ऐसे ही मस्ती करते करते बहुत दिन निकल गए तो एक दिन मुझे राजीव ने अपने केबिन में बुलाया.

सास और ससुर की चुदाई

अब तू होटल का नाम बोल?बेबी रानी ने कहा- देख कुत्ते … वैसे तो मुझे हर होटल में 50% का डिस्काउंट मिलता है … लेकिन मुझे दिल्ली का मौर्य बहुत पसंद है … ठीक रहेगा न वह होटल?मैं- ठीक रहेगा … तू मेरे लिए भी रूम बुक करवा देना जान … मुझे 50% डिस्काउंट नहीं मिल सकता … पेमेंट मैं कर दूंगा. वहां बिलकुल अँधेरा था तो हमें देखने वाला कोई नहीं था क्योंकि अब रात के बारह बजे के आस पास का समय था. सच में उस साधारण सी फोटो में भी कोमल भाभी क्या मस्त माल लग रही थी यारों … मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया था.

हांलाँकि सोनू शादी के पक्ष में नहीं था।शादी हो गयी, मेहमान भी अपने घर चले गये।एक दिन मेरी बहू सायरा ने मुझसे अपने मायके जाने के लिये अनुमति मांगी। मैंने भी खुशी-खुशी इस शर्त के साथ सायरा को उसके घर भेज दिया कि वो जल्दी वापिस लौटकर आयेगी. मेरा नाम रॉकी राज है, मैं लखनऊ में माता-पिता और दादा-दादी के साथ रहता हूं.

मैं सारे दिन जॉब पर गया और बस आंटी की चुदाई के बारे में ही सोचता रहा कि इस बार आंटी को नहीं छोडूंगा.

जैसी ही मेरे किसी हाथ की कोई भी उंगली वसुंधरा की पीठ पर नीचे … और नीचे किसी नए बिंदु को स्पर्श करती, वसुंधरा के शरीर में झुरझुरी की लहर दौड़ जाती. उस दिन मौसम बहुत खराब था तो ऑफिस नहीं गया और जाना भी नहीं चाहता था. मैं भी उसके बालों को पकड़ कर ज़ोर ज़ोर से उसके सर को लंड पर दबाने लगा.

’ ये बोल कर नीतू ने मुझे सोफे पर बिठा दिया और अपनी उंगलियों में अपना थूक लेकर मेरे लंड पर मलकर मुँह में लंड लेकर चूसने लगी. फिर दिव्या ने बताया कि जिस बोट पर वो गई थी उस बोट वाला लड़का भी उसके साथ गंदी हरकत कर रहा था. उसने सोनम के होंठों को लॉक करते हुए एक जोर का धक्का दिया और लंड बुर में पेल दिया.

क्या मैं ये सब तुम्हारे मम्मी पापा को बताऊं?यह सुन कर तो मैं काफी डर गया और बोला- नहीं नहीं आंटी … ऐसा मत करना.

सेक्सी बीएफ वीडियो तेलुगू: वैसे सुरक्षित यौन संबंधों के लिए कंडोम का इस्तेमाल होना ही चाहिए, पर सुरक्षा की परवाह इस वक्त किसे थी. मैं बहुत तेज तेज हांफ रही थी ‘आह सुहास आह!’वो मेरी चुत को अन्दर तक चूसे जा रहा था.

मेरे साथ आकाश भी नताशा की गीली चुत चाटने लगा और आखिर में नीरज भी चुत में लग गया. शीला बोली- आज तो सिर्फ चाय मिलेगी पर कल से चाय के साथ गर्म गर्म नाश्ता भी मिलेगा. दीदी शायद समझ गई थीं कि मैं क्या करने वाली हूँ और वो इस चीज के लिए तैयार भी थीं.

कुणाल जैसे ही अपना सर ऊपर उठाया, मीना ने उसके होंठों पर एक चुम्बन जड़ दिया.

खाना खाकर बस पूरी रात अब आपके साथ ही गुजारनी है।मैं उसकी तरफ देखकर मुस्कुरा दी। मैंने कहा- ठीक है, तुम बैठो! मैं अपने लिए और तुम्हारे लिए खाना बनाती हूं. मैंने भी देर न करते हुए एक जोरदार झटका लगाया और मेरा पूरा लंड अंकल की गांड में घुस गया. भैया बोले- क्या उसको हमारे तुम्हारे बारे में पता है?दीदी बोली- नहीं … ये नहीं बताया … बाकी सब जानती है.