हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी विडियो सोंग्स

तस्वीर का शीर्षक ,

पुरी सेक्सी व्हिडिओ: हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ, मेरी पिछली सेक्स कहानीडॉक्टर और नर्स की चुदाईके दो भाग आए थे, जिसका लिंक मैं ऊपर दे चुका हूँ.

नंगी सीन सेक्सी हिंदी

कुछ देर यूं ही करने के बाद हैरी ने मेरी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया और मेरे गले पर जगह जगह चूमने लगा. सेक्सी देसी मारवाड़ीउसने लंड लोअर से निकाला और लंड को देखते ही उसके मुँह से निकला- ओ माय गॉड … इतना बड़ा मोटा लंड … मेरी तो फट जाएगी.

अभी 15 दिन पहले की बात है, मैं एक सवारी को छोड़ने बाईपास के नजदीक गया था. बीपी सेक्सी चोदामंदिर में पंडित जी ने हम दोनों को शादी के बंधन में बांधा और आशीर्वाद दिया.

… और चूसो!रोहित उसकी ठोड़ी के नीचे किस कर रहा था; वो उससे कह रहा था- अभी तो शुरुआत है जान, आगे आगे देखना हवा में उड़ने लगोगी तुम!अब मैंने उसे बैड पर लेटने को बोला तो ज्योति बैड पर लेट गयी.हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ: फिर मेरी बहन बोली- अपना नाम तो बताओ?उन दोनों ने अपने अपने नाम बताए.

मंजू यह देखकर बोली- रोहित क्या देख रहे हो, वो तुम्हारी बुआ सासू मां हैं, पैर छूकर प्रणाम करो.मैंने उनकी पैंटी की नीचे कर दिया तो देखा मामी की चूत एकदम गोरी और सफाचट थी.

सेक्सी भाभी गांव वाली - हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ

संजना आह आह करती और अपने हाथों को मेरे बालो में लगातार फेरती जा रही थी.उसकी चूत से भी फच फच की आवाजें आ रही थीं और फहीमा बीच बीच में अपनी चूत को एक हाथ से रगड़ने लग जाती, जिससे उसकी आहों की आवाजें और ऊंची हो जातीं.

वो सिसकारियां लेने लगी- आह अहह!मैंने सोनल की पैंट के बटन को खोलकर उसकी पैंट उतार दी और जैसे ही पैंट अलग की, मैंने अगले ही पल उसकी चड्डी को भी उतार दिया. हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ इस धुंआधार चुदाई के बाद हम दोनों ही थक चुके थे और काफी देर तक बिस्तर पर लेटे रहे.

मैं कहा- बड़ी होशियार हो गई … किस किस का लंड चूस चुकी है?वो हंस दी और बोली- ब्लू फिल्म देख कर सीखा है … आप बस मेरा मुँह चोदो.

हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ?

गे बॉयज सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे अपने पड़ोस की आंटी पसंद थी, मैं उसे चोदना चाहता था. मंजू मस्ती से बोली कि देखो बुआ तुमको देख कर लंड महाराज भी सर उठा रहे हैं. मन ही मन सोच रहा था, चुदने का मन है ना छिनाल तेरा, मज़ा आया होगा चुद कर रंडी.

मेरी मोटी गांड वाली आंटी की चुदाई स्टोरी आपको कैसी लगी, मुझे मेल कर बताएं. मैं मकान के गेट पर पहुंचा और गेट की स्थिति से पता लग रहा था कि गेट अन्दर से लॉक नहीं था. उसके पैर मुश्किल से फ्लोर को छू रहे थे और उसके दोनों टखनों को बांस की डेढ़ फ़ीट के बल्ली के दोनों कोनों पर बांधा गया था.

फिर मैंने देखा कि सभी ने आयशा को भी रंग लगाया लेकिन अमन जो उसे पहली रात चोद चुका था … वो रगड़ रगड़ कर रंग लगा रहा था. मैंने उनकी पैंटी की नीचे कर दिया तो देखा मामी की चूत एकदम गोरी और सफाचट थी. गे गे सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने खुद को लड़की मान कर एक आदमी से शादी करके गांड मरवाई.

उसके कमल के फूल जैसे होंठों को मैं बेदर्दी से चूस रहा था और एक हाथ से उसके मम्मों को भी दबा रहा था. क्या फूफा जी का लंड नहीं लेती हो?मैं बोली- वो बात नहीं है … एक तो उनसे रोज होता नहीं है और उस पर उनका इतना मोटा भी नहीं है.

मैं क्या आज की रात तुम्हें संगीता के नाम से बुला सकता हूँ?मैं बोली- आप मुझे आज रात संगीता के नाम से ही बुलाएं, इसमें इस खेल में मजा आएगा.

आयेशा ने कहा- बता न, क्या करने वाली है?मैंने कहा- अब ये डिल्डो पर मिर्च लगाकर उसकी गांड में डालूंगी, तो साले की गांड में ज्वालामुखी फट जाएगा.

उधर जाकर देखा तो वो एक बला की खूबसूरत 24-25 वर्ष की शादीशुदा औरत, अपनी खराब हो चुकी कार की डिग्गी को ओपन किए हुए आधी भीगी हुई अपनी गाड़ी में बैठी हुई थी. जबकि उसकी अम्मी ने जल्दी से गाउन पहन लिया और वो गेट की तरफ चली गईं. फिर उन्होंने मुझसे पूछा- तुझे तो घर पर ही रहने को बोला था ना, तू वहां क्या कर रहा है?मैंने कहा कि क्योंकि अरुणिमा घर पर नहीं थी, तो मैं ऐसे ही तफरीह करने निकला था और मुझे आपके फार्महाउस के आगे एक पिकनिक स्पॉट पर जाना था.

मुझे जोर लगाने की कोई जरूरत नहीं हो रही थी लंड अपने आप फिसलता हुआ अन्दर जा रहा था और प्रिया बस एक ही शब्द बोले जा रही थी ‘मम्मीई ईईई आआह … धीरे आंह …’जल्द ही मेरा मूसल जैसा लंड उसकी गांड के छेद को फाड़ता हुआ पूरा अन्दर समा गया. मैंने अपनी ड्रेसिंग के दर्पण में देखा तो मेरा चेहरा लाल हो चुका था. अंकल ने मेरी दोनों टांगें फैलाईं और मेरी फुद्दी के होंठ खोल कर चाटने लगे.

वो बस मुझसे ‘चोदो आअहह आआआ अम्मम्म म्मम मेरी जान चोद दे मुझे …’ कह रही थी.

कुछ ही देर में उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया, जिसे मैंने पूरा पी लिया और उसकी चूत को चाट चाट कर पूरा साफ कर दिया. आंख पर पट्टी बांधकर लंड चुसाया जाता और पीटते हुए उसकी गांड मारी जाती, बाद में मूत्र पिलाया जाता है. फ्रॉड बाबा सेक्स कहानी में पढ़ें कि सहेली के कहने से मेरी अम्मी एक बाबा के चक्कर में फंस गयी.

वो बारी बारी से मेरे दोनों दूध पीने लगी और वो भी तुम्हारी तरह मजे लेने लगी. एक बार बीच में रिंकी बीमार हो गई तो उसकी मम्मी ने यानि मेरी काकड़ी ने मुझसे बोला- तू चला जा और उसको गाड़ी में बिठा देना. मगर एक बार चूत चुसवाने के बाद मैंने कभी अपने अंग में किसी के हाथ नहीं लगाने दिया था.

अब मुझसे रुका नहीं जा रहा था, मैंने लंड चूत में लगाया और अन्दर डालने लगा.

मैं अब जानबूझ कर तेज और गहरे झटके लगाने लगा था जिससे आसिफा की तेज आवाज निकले. मैंने अपने पति की इच्छा को पूरी करने के लिए ही नीग्रो से चूत चुदाई की थी.

हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ देसी चाची की चुदाई कहानी में मेरी चाची ने मुझे चूत चुदाई सिखा कर अपनी चूत मरवा कर मजा लिया. अब आगे गे गे सेक्स कहानी:मदन जी बोले- अभी रात के 9 ही बजे हैं, तुम चाय बनाकर ले आओ, फिर बातें करेंगे.

हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ Www Xxx Hindi Chudai कहानी मेरी बीवी की कामवासना की है जो कभी शांत नहीं होती. ‘ईईई … आह … आह …’वो झड़ने वाली थी, मैंने अपनी उंगलियों की गति थोड़ी धीमी की.

बस आज अपनी भाभी को जितना मन उतना चोद लो और तुम्हारा साथ देने वाला भी है आज.

ब्लू मूवी बीएफ सेक्सी

सविता भाभी वीडियो की 18वीं कड़ी में भाभी प्राइवेट ट्यूटर के रूप में हैं. दोस्त Xxx कहानी में पढ़ें कि जब मुझे पति से ना सेक्स का मजा मिला, ना सन्तान सुख तो मेरी नजदीकियां अपने एक कुलीग से बढ़ती गयी. उसके मम्मी पापा के आने के कुछ दिन पहले मैंने दोनों बहनों को एक साथ एक ही पलंग पर चोदा था.

अब तक आंखों आंखों में क्रोध से, याचना से, निमंत्रण से, समर्पण तक का सफर तय हो गया. सुबह 9:30 मुझे ऑफिस जाना था तो जल्दी करते हुए मैं तैयार हुआ और घर से लाए हुए नाश्ते को खाकर ऑफिस चला गया. मैं- भाभी लल्ला तो बगल वाले रूम में सो रहा है न?भाभी मुस्करा कर- अरे प्यारे, मैं वाइब्रेटर की बोल रही थी.

फिर आपने उस आदमी से झूठ क्यों कहा? कौन था वो आदमी?अरुणिमा ने तुरंत कहा- भड़वा है साला भोसड़ी वाला! नाम भर पर पति है.

चुदाई के समय अपनी ही ब्लू फिल्म आईने में देखना … और ज्यादा उत्तजेना पैदा करता है. उस दिन मैं दुल्हन के भेष में इतनी सुंदर लग रही थी कि कोई भी लड़की को जलन हो जाए. लक्की मेरे आगे आगे चल रही थी और मैं उसके बदन को एकटक देखे जा रहा था क्योंकि उसने एक झीनी सी शिफ़ोन की साड़ी पहन रखी थी जो बारिश में भीगने के कारण उसके शरीर से सांप की केंचुली की तरह लिपट गई थी.

वो धक्के भी काफी ज़ोर से लगा रहा था जिससे अरुणिमा कराह रही थी मगर उसके चेहरे पर दर्द की शिकन भी नहीं थी. मुझे उन सबकी कोई बात समझ नहीं आ रही थी तो मैं उठा और अन्दर चला गया. मैं संजना के पास गया और उसको गले से लगाने के लिए अपनी बांहें पसार दीं.

अनुपम ने अम्मी को पूरी उल्टी लेटा दिया और कार्तिक ने बहन को सोफ़े पर लेटा दिया. उसने आज सलवार सूट पहना था, कमीज के ऊपर से ही उसके छोटे छोटे मम्मे दबाने लगा.

जल्द ही कविता ने मेरा लंड चड्डी के बाहर निकाल लिया और आगे पीछे करने लगी. अरुणिमा ने भी गौर किया और कहा- आप दोनों के लिए चाय लाऊं या थन से सीधा दूध पियोगे?एक तो झेंप गया पर दूसरा बोला- दूध भी पी लेंगे, फिलहाल चाय ले आइए. मुझे पता था कि भाभी दो साल से चुदी नहीं है, तो उनको थोड़ा दर्द होगा.

वो दोनों एक ही क्लास में थे और दोनों हमेशा एक दूसरे के साथ ही अपना समय व्यतीत करते थे.

नेहा की आवाज सुनकर मुझे और बाकी लड़कियों को समझ नहीं आया कि आखिर इसके साथ हुआ क्या है. एक दिन पढ़ाई के वक्त उसकी चूचियों को देखकर मेरे मन में ऐसा लगा जैसे अभी उसके नाइटी को फाड़कर उसकी रसीली चूचियों को चूस लूं. उठी तो सुबह के चार बज रहे थे, मैं अब भी दीपक की बगल में नंगी पड़ी थी, मुझे मेरी नग्नता अच्छी लग रही थी।मैं रात की चुदाई सोचते सोचते उंगली करने लगी.

फहीमा ने फुर्ती से खड़े लौड़े को अपनी गांड से हटाया और तुरंत लपक कर मेरे लौड़े को मुँह में लेकर चूसने लगी. यह बात रोमा आंटी को नहीं मालूम थी, पर हां उन्हें कुछ अंदेशा था कि हम दोनों के बीच बहुत कुछ गहरा है.

इससे वो और भी मस्त होने लगी और बोली- समीर, आज क्या अपनी इस बेगम की जान ही ले लोगे, मेरी चूत पानी पानी हो रही है. मैंने आसिफा को घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में लंड पेलना शुरू कर दिया. मेरे शैतानी मन में ख्याल आ रहा था कि ऐसी लड़की अगर मुझे चोदने मिल जाए तो कसम से रात भर पटक पटक कर इसकी बुर का भोसड़ा बना दूँ.

शेर वाली बीएफ

उस टाइम वो किसी ब्लूफिल्म की हीरोइन से भी ज्यादा मस्त माल लग रही थीं.

बाथरूम में घुसते ही वह तुरंत कमोड पर बैठकर मूतने लगी और उसकी चूत से सीटी बजने की आवाज आने लगी. आखिर तड़प कर फहीमा बोली- प्लीज समीर, मेरी चूत की आग बुझाओ, मेरी चूत में आग लगी है … मैं पागल हो जाऊंगी. करीब एक घंटा तक दोनों ने वहीं खड़े होकर बात की, फिर वो लड़का चला गया.

इधर मैं भाभी की चूत में जीभ अन्दर बाहर करने लगा और वो ‘ऊई ऊईई आआहह …’ करती हुई मेरे मुँह में झड़ गईं. कहानी के पांचवें भागपुत्रवधू की छोटी बहन खुल कर चुदीमें आपने पढ़ा था कि रात भर की चुदाई के बाद प्रिया और मैं दोनों ही बुरी तरह से थक चुके थे. मेरा पेट दुख रहा हैमैंने अपना एक हाथ उसके सिर के पीछे रख उसे थामा हुआ था और दूसरा हाथ उसके टॉप के भीतर उसके स्तन को सहलाने लगा.

वो मेरे चेहरे को बुरी तरह से चूम रहे थे और दनादन चुदाई किये जा रहे थे. उसने कहा- क्यों घर में कोई नहीं है क्या जो तुम चाय बनाओगे?मैंने कहा- हां यार, आज मैं घर में अकेला रहने वाला था … तो बोर न होऊं, इसलिए तुझे बुला लिया था.

फिलहाल इस कहानी पर जिसमें मैंने गरम चाची को चोदा, पर अपने कमेंट जरूर दें. ’कहते हुए उसने मेरी जांघों पर दो-तीन मुक्के मारे, जो उसकी झल्लाहट दर्शा रहे थे. वो दोनों पति पत्नीमेरी कहानियाँपढ़ते हैं; सेक्स करने से पहले मेरी कोई एक कहानी पढ़ते हैं, फिर वैसे वैसे ही सेक्स करते हैं।उन्होंने मुझे ईमेल करके बातचीत शुरू की और धीरे धीरे हम वटसऐप पर आ गये और फिर मेरी और उनकी बातचीत फोन पर भी शुरू हो गयी।अब मैं आपकी जान पहचान उस कपल से करवा दूँ.

मैंने अपनी जासूस को फोन किया और कहा- ज़रा पता तो लगा कि कहानी क्या है?उसने बताया कि मामी की बदनामी हो रही थी, लोग बार बार सवाल कर रहे थे मेरे बारे में कि वो आजकल दिखता नहीं. जब वो चूमाचाटी से संतुष्ट हो गया, तो उसने अरुणिमा को अपने पैरों के पास बैठने को बोला. उसका लंड वैसे तो साफ था लेकिन अपनी चूत चुदवाने के लिए मुझे ये सब भी करना पड़ेगा, मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था.

वो दोनों अम्मी और बहन की गांड पर थप्पड़ मार रहे थे और मजा ले रहे थे.

अब हम दोनों एक दूसरे का जिस्म चाट रही थी तो मज़ा भी दोगुना आ रहा था. मैं- अभी ले मेरी जान!मैं उसके ऊपर आ गया और उसकी फुद्दी पे अपना लंड लगाया और एक जोर का धक्का लगा दिया.

वो इंटरनेट चलाने वाली लड़कियों में से थी, तो दुनिया के खेल को समझने लगी थी. मैंने उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी आग सी तपती बुर में अपनी जीभ रख दी और उसकी पैंटी में लगे कामरस को चाटने लगा. फिर हमने एक दूसरे को खूब रगड़ रगड़ कर नहलाया और फिर जाकर बिस्तर पर ऐसे ही नंगी सो गयी।लेस्बियन सिस डर्टी मस्ती पर अपने विचार अवश्य बताएं.

आपको लोगों को तो पता ही है, जब किसी की भी अगर कम उम्र में अगर सरकारी नौकरी मिल जाए, तो लोगों का बर्ताव आपके प्रति और भी अच्छा हो जाता है. प्रिया मुस्कुराती हुई बोली- कैसा?मैं- मुझे तुम्हारे साथ आयल सेक्स करना है. मैं धीरे धीरे मज़ा ले रहा था और वो भी थोड़ी थोड़ी देर में अपनी गांड को हिला कर मुझे सिग्नल दे रही थीं.

हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ मेरी Xxx डिजायर की कोई सीमा नहीं … मेरी एक इच्छा पूरी होती तो मन में दूसरी कोई कामना उपज जाती है. ब्यूटीशियन ने मदन को बताया कि शरीर के बाल वैक्सिंग से निकाल सकते हैं, पर थोड़े दिन बाद फिर बाल वापस आ जाएंगे.

बीएफ सेक्सी पिक्चर एक्स

मेरी चूचियों को भैया ने भी अपने सीने में महसूस किया और वो पीछे को झुक कर मुझे अपने सीने पर लगभग लिटा कर मुझे महसूस करने लगा. हम दोनों कमरे से बाहर निकले और सबसे पहले हम अमन और आयेशा के रूम में गए तो देखा कि वो दोनों नंगे एक दूसरे से जुड़े थे. भाभी अभी भी गर्म थीं तो वो बोलीं- अरे यार अब ऐसे बीच रास्ते में मत छोड़ा करो.

फिर उसने अपने दोनों हाथों से मेरे चूतड़ों को फैलाकर लंड छेद में लगाया और अन्दर करने लगा. फिर हम साथ में बैठ कर वैसे ही एक दूसरे की लाइफ के बारे में बातें करने लगे. गांव की लड़की का सेक्सी वीडियोकुछ मिनट के बाद जब आइसक्रीम की ठंडक से मामी कुछ नॉर्मल हुईं, तब उनकी कसमसाहट कुछ कम हुई.

तेरे शौहर की हवस पूरी नहीं होगी और उसका काला साया ऐसे ही तेरे घर पर बना रहेगा.

उसके गुलाबी गाल इतने गोरे और मुलायम लग रहे थे कि अगर कोई उंगली भी मार दे, तो गाल लाल हो जाएं. फिर हम जाने लगे तो वो बोला- तू चिंता मत कर, आज तेरी सारी आग मिटा दूंगा.

हमें ऐसे लग रहा था जैसे आज का समय यहीं रुक गया है और शाम भी ज़ल्दी होने में नहीं आ रही है. तभी रिया ने मुझसे पूछा- साली तू क्यूं इतना चीख रही है, ये सब तो हमारे साथ भी हुआ था न … हम तो ऐसे नहीं चीखी थीं. आपकी हॉट गर्ल वांट सेक्स[emailprotected]हॉट गर्ल वांट सेक्स का अगला भाग:मेरे भैया ने मेरी कुंवारी बुर चोद दी- 2.

फिर उसने आयेशा को उठाया जो कि अभी तक नंगी पड़ी थी और उसको उठाकर किस करना शुरू कर दिया.

मगर अचानक मुझे लेटे लेटे एक आईडिया आया तो मैं आयेशा के पीछे बाथरूम में चली गयी. मैंने पूछा- बोल भाभी … तेरी सुहागरात कैसे मनी?वो बोली- उस दिन पीरियड चल रहा था. थोड़ी देर बाद उसने उसे रोका और उसे बिस्तर के किनारे खड़ी होकर झुकने को कहा.

तेलगू हीरोइन सेक्स ट्रिपल एक्स बीपी हॉटमैंने कहा- इसीलिए मैंने जब आपकी चूत में अपना लंड डाला था तो आपको दर्द नहीं हुआ था. मेरी नंगी बीवी ने मेरे लंड को पैंट के ऊपर से पकड़ा और खींचते हुए एक कुर्सी तक ले गई.

कच्ची जवानी बीएफ

फिर मैंने बायां हाथ उनकी कमर पर से सरकाते हुए उनकी गांड के उठान पर रखा. इस बार अनुपम ने मेरी बहन को सोफ़े पर डॉगी बना दिया और कार्तिक मेरी अम्मी को बेड पर घोड़ी बना दिया. मामी के स्तन उनके छोटे और कसे हुए बड़े गले के ब्लाउज से बाहर आने को तड़फ से रहे थे.

मैंने उसका टॉप उठाया और उसे पहनने को कहा- ये ले, कुछ मत उतार इसे वापस पहन ले. ऐसे ही उसके पैरों को चूसते चूमते और चाटते हुए मैं उसकी जांघों तक पंहुचा. [emailprotected]इन्स्टाग्राम: Vrinda_venusXxx डिजायर कहानी का अगला भाग:होली, चोली और हमजोली- 3.

मैं समझ गया कि मॉम ने कंडोम उठा लिया है क्योंकि वो मुझे वॉशरूम में कहीं नहीं मिला. उसकी सिसकारियां चीखों में बदल गयी थी- आह्ह अर्जुन … आह्ह ह्ह ऐसे ही … करते जाओ … मज़ा आ रहा है!और कुछ देर बाद वो ‘मैं गयी’ चीखती हुई स्खलित हो गयी. तभी आसिफा की अम्मी मुझसे कमरे में चलने को कहने लगीं लेकिन मैंने मना कर दिया; उनको वहीं पर चोदने का मन बना लिया.

जांघें जांघों में रगड़ खा रही थीं और लंड चूत एक दूसरे को निहारते हुए कभी कभी एक दूसरे को छू रहे थे. उन्होंने अपनी दो मोटी उंगलियां मेरी फुद्दी में घुसा दीं और जीभ से चाटने लगे.

फिर गुरबचन जी हवलदार से बोले- प्यारेलाल तेरा नंबर आ गया, जा ऐश कर!हवलदार अन्दर गया और थोड़ी देर में अरुणिमा की आवाज आई- भैया तेरा मूसल ना तो मेरी चूत में घुस पाएगा और ना मेरी गांड ले पाएगी.

बैठे ही मैंने उसे नीचे की ओर झुकाया और उसकी गांड को हाथ से थाम होंठ रखकर चूम लिया. रूसी सेक्सी पिक्चरदोस्तो, मुझे समझ में नहीं आ रहा है कि हम दोनों में वास्तव में प्यार ही है या हवस थी. चोपड़ा की सेक्सी मूवीभाभी मेरी जांघ पर अपना हाथ फेरने लगीं और अपने होंठों को भींचने लगीं. पर मेरा ध्यान सुलू की तरफ़ लगा था और तभी रंजीता को उसकी सहेलियां बुला ले गईं.

मुझे चुदाई की इतनी बुरी लत लग गई थी कि अगर हम लोगों को 10 मिनट का भी वक़्त मिलता, तो चुदाई कर लेते.

इससे अमन और आयशा एकदम से चौकन्ने हो गए और दरवाजे की तरफ देखने आने लगे. मैंने नीचे हाथ लगा कर देखा तो वास्तव में फहीमा की चूत बहुत गीली हो चुकी थी. मैंने ज्योति की नाईटी को उसके कंधों से नीचे किया और उसकी गर्दन पर हाथ से सहलाने लगा.

मंजू यह देखकर बोली- रोहित क्या देख रहे हो, वो तुम्हारी बुआ सासू मां हैं, पैर छूकर प्रणाम करो. मैं राजस्थान के श्री गंगानगर जिले के छोटे से गांव का रहने वाला हूँ. एक जोर की आवाज करने ही वाली थी पर उसके होंठ बंद करके आवाज को दबा लिया.

मोनालिसा का बीएफ सेक्सी

‘आ … आ … आह …’ कराहती हुई उसने अपनी कमर ऊपर उठायी और सिर पीछे को झुका लिया. मैंने उसका हाथ पकड़ कर कहा- साली जी आपकी प्यास बुझाने आज मैं रेडी हूँ. वो दोनों नहा कर तैयार हुए थे।मैंने कहा- हैलो डीयर, कैसे हो आप दोनों? अब कुछ खाने या पीने को मंगा लें?तो रोहित बोला- अरे भाई, खा पी तो बहुत लिया.

जब मैं उनको रोमा आंटी बुलाता था तो वह कभी-कभी मजाक में बोलती थीं- मैं तुम्हें आंटी किस एंगल से लगती हूं?मैं इस पर बोलता कि आप मेरी फ्रेंड की मम्मी है इसीलिए तो आपको आंटी ही बुलाना पड़ता है.

विकास और ज्यादा खुलता जा रहा था और नेहा उसकी बातें ध्यान से सुन रही थी.

मॉम- बेटा ये क्या है?मैं- कुछ नहीं मॉम वो बस ग़लती से हो गया … सॉरी. मैंने पहले देखा कि मॉम ने मेरे हाथ से चुचे सहलाने से कुछ परहेज नहीं किया तो मेरी हिम्मत बढ़ गई और अब मेरा लंड मानो उनकी सलवार को फाड़ता हुआ उनकी गांड को टच करने लगा था. ஸ்கூல் செக்ஸ்ய் வீடியோअगले दिन एक बजे के आस पास मेरे कांट्रेक्टर दोस्त ने मुझे कॉल करके एक बियर बार में बुलाया.

उसको बहुत मजा आ रहा था और मैं भी खुले आसमान के नीचे किसी पराई औरत की चूत को मजे से चाट रहा था. कुछ देर के बाद भाभी सही होकर बैठ गई और उसके घर में उसकी ननद के आने की आवाज आई. मैंने उसकी ओर देखा और बोला- प्रॉमिस करो कि जो मुझे चाहिए, वो तुम दोगी.

मेरी पिछली सेक्स कहानीडॉक्टर और नर्स की चुदाईके दो भाग आए थे, जिसका लिंक मैं ऊपर दे चुका हूँ. वीडियो बनाते बनाते उसने दूसरे आदमी से कहा- एक हजार रुपए वसूल हुए या नहीं? चोदने में मज़ा आया ना!वो कुछ नहीं बोला, बस हंस दिया.

पिंकी मेरा मुँह देख कर हंसने लगी और बोली कि कैसा लगा?मैंने भी तुरंत उसे लिटा कर, उसकी सलवार को ऊपर किया और उसकी चूत में उंगली करने लगी.

मैंने उनसे पूछा- चाची, पिछवाड़ा किसने खोला था?वो हंस दीं और बोलीं- सब कुछ एक दिन में ही जान लेगा क्या?मैंने कहा- ओके मत बताओ मगर अब आपके छेदों पर मेरा ही राज चलेगा. मैंने सोचा हुआ था कि जो मेरा पेमेंट क्लियर करवा देगा उसको एक परसेंट दे दूंगा. मैं झंडू होना का मतलब ठीक से नहीं समझा क्योंकि मेरे लिए तो वो 2 मिनट बुर में लंड पेल के पड़े रहना ही चुदाई की पीएचडी थी.

देसी भाभी की सेक्सी चूत मैंने कहा- तू उस दिन लंड मांग रही थी न … आज तेरी चूत को लंड मिलेगा. फिर कुछ ऐसा हुआ कि खुद मुझे भी पता नहीं चला कि ऐसी लड़की मुझे मिल जाएगी.

पैंटी उतरते ही मैं कुछ कहने को हुई मगर उस वक्त उसने मेरा मुँह अपने होंठों में दबाया हुआ था तो मैं कुछ कह ही न सकी. मैंने उससे कहा- अभी मैं और मेरी पत्नी नीचे रेस्टोरेंट में जाएंगे, तब तक तुम रूम को हनीमून कपल के लिए सजवा देना. मैंने जैसे ही अन्दर जाने को कदम बढ़ाया, वहां बैठे हवलदार ने डपटा- कहां चले जा रहा है.

सेक्सी बीएफ चुदाई चुदाई वाली

फिर करीब 10 दिन बाद, जब उसने अपने बच्चे को दूध पिलाना शुरू किया, तो बच्चा सही से दूध नहीं पी पा रहा था. पापा अपनी जीभ को मम्मों की घाटी में ले जाकर अधनंगे दूध को चूसने और चूमने लगे. तो मैंने उसे कहा- कहां ले जा रहा है?उसने कहा- बस मेरी जान, अब मुझसे और ज्यादा बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

उसने कच्छी साइड कर दी और अपनी उंगली अंदर डाल दी।मैं जोर जोर से आहें भरने लगी. नेहा ने खुद को छुड़ाया और बोली- साली बहनचोद ये क्या था?आयेशा ने कहा- ये मेरी नींद ख़राब करने की सजा थी!नेहा एकदम से भौचक्की रह गयी.

सिमरन- तुम्हारे चेहरे को देखकर भी पता लगता है कि तुम उसकी खूब चुदाई करते हो और उसकी गांड का भी बाजा बजा चुके हो.

अब वो एक अच्छी लेस्बियन की तरह मेरी चूत चूस चूस कर साफ़ करने लगी।कुछ देर में मैं भी उसके मुंह में झड़ गई।हम दोनों निढाल हो नंगी एक दूसरी से लिपटी हुई कुछ देर लेटी रही।जब आठ बजे फोन का अलार्म बजा तो लगा बहुत देर हो गई. मैं संजना के गालों, आंखों, माथे को चूमते हुए उसकी गर्दन को चूमने लगा. मैं अभी इतना सोच ही रहा था कि उन्होंने अपना हाथ मेरी जांघों पर रख दिया और सहलाने लगीं.

नेहा सिर्फ ये बोली- तू ऐसा क्यों सोचती है!लेकिन यह बात उसके मन में और ज्यादा ज्वाला भड़का गई थी. उनको चिंता हुई कि कहीं मैं भी उनकी दूसरी बीवी की तरह कमरे से भाग न जाऊं. फिर वो मेरी चूत छूती हुई बोली- यार तेरी चूत में जब मोम गिराया था तो कैसा लगा था?मैंने कहा- याद मत दिला.

मैं ये सब सोच ही रहा था कि चाची एक इंच अन्दर लेने के बाद लंड से चूत को ऊपर ले जाने लगीं.

हिंदी बीएफ सेक्सी देहाती बीएफ: चुदाई ज्यों ज्यों आगे बढ़ रही थी, नेहा का दर्द अब आनन्द में बदलने लगा था. वो बोली- अब दर्द क्यों हो रहा है … कार में तो इतना दर्द नहीं हुआ था.

योजना के अनुसार जब चारों खाना खाने आए तो मैंने अपनी ब्रा, पैंटी बाथरूम के वाशबेसिन के पास टांग दी. मैंने उसी उत्तेजना में उसे अपनी बांहों में ले लिया तो वो भी मेरी बांहों में ऐसे आ गया, जैसे वो भी यही चाहता हो. मैंने कहा- देख, वैसे तो मैंने कभी गिने नहीं मगर हां, अंदाजे से बताऊं तो लगभग 30 या 35 के आसपास लिए होंगे.

मेरी अम्मी को चुदाई की आदत हो गई थी और उनके साथ सबीना को भी लंड की लत लग गई थी.

मुझे तो जैसे उसकी सफ़ेद ब्रा में कैद हिमालय की दो ऊंची ऊँची पहाड़ियाँ दिख गयी. मेरी सेक्स लाइफ शादी के बाद कुछ सालों तक ठीक रही लेकिन अभी पांच साल से कुछ भी अच्छा नहीं चल रहा है. इस तरह मैंने अपनी फ्रेंड और उसके बीएफ के साथ चूत चुदाई के मजे ले लिए.