बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी ब्लू फिल्म देखना चाहते हैं

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी झवाझवी मराठी: बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ, मैं बस आपके मनोरंजन के लिए सेक्स कहानी लिखता हूँ ताकि आप सेक्स का मजा लेकर अपना लंड हिलाएं और लड़कियां भाभियां आंटियां अपनी चूत में उंगली करें और शांत हो जाएं.

जनानी की सेक्सी

मैं गांड मारने वाला होने के बावजूद उसनेमुझे कैसे चोदा, अगर आप ये जानना चाहते हैं तो प्लीज़ मुझे मेल करें … बॉटम गे लव स्टोरी के नीचे कमेंट करें. हिंदी फिल्म वीडियो सेक्सी हिंदीये एडल्ट सेक्सी चैट ऑन फोन दो साल पहले की उस समय की है, जब मैं इक्कीस साल का था.

ट्रेन में भाभी की चुदाई की ये स्टोरी आपको पसंद आई हो तो मुझे इसके बारे में जरूर लिखें. हिंदी आवाज़ में सेक्सी मूवीमैं अपने दोनों हाथों से आपके दोनों बड़े बड़े मम्मों को दबाऊंगा और उनका मजा लूंगा.

बुआ भी जोर जोर से सिसकारियां लेते हुए कह रही थीं- अअअ … आहह समीर बस करो.बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ: उस वक्त उसने नीले रंग की सलवार कमीज पहनी थी, जिसमें उसके चूचे बेहद गोल मटोल लग रहे थे.

एक दिन मैंने उसकी चूचियां देख लीं तो मैं उसकी चुदाई के लिए तड़प उठा.मैं भाभी की बात मानकर पहले बाथरूम में गया और पेशाब करके अपने लंड को साफ कर लिया.

हिंदी सेक्सी बिहार वाला - बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ

अब हरी होंठों से लेकर नाभि तक जीभ को घुमाता जा रहा था और सुमन खड़ी हुई मज़े ले रही थी.वो मेरे लम्बे मोटे लंड को पागलों की तरह पाकर कर हिलाने लगी और मेरे लंड पर लगभग टूट सी पड़ी.

मेरी गांड की खुजली के कारण मैं अपने चोदू दोस्त से मिलने गोदाम में पहुंच गया जहां वो काम करता था. बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने कहा- अगर आपको ज्यादा दिक्कत है तो मैं आपका सामान आपके रूम तक भी छुड़वा सकता हूं.

बहुत दिनों के बाद चूत चोदने के लिए मिली थी इसलिए मैं कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रहा था.

बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ?

संध्या मौसी से मैंने कह दिया था कि मौसी जी आप आराम करो मौसा जी को खाना मैं खिला दिया करूंगी. उधर सुरेश क्लिनिक पहुंच गया था और जैसे कल तय हुआ था, मीता भी तैयार होकर पहुंच गई थी. इस पर मुझे गुस्सा आ गया और मैं बोली- बहन के लौड़े, मेरी मां के बारे में कुछ मत बोल!इस पर आदिल मुझे एक थप्पड़ मारा और बोला- बहन की लौड़ी चुप रह.

मेरी सास कह रही थीं- दीदी लड़का कैसा लगा?वो मेरी तरफ देखते हुए बोलीं- अच्छा है … परंतु अभी पांच दिन तक परीक्षा लेनी है. पूरे लॉकडाउन में हम दोनों नए नए तरीकों से चुदाई का मजा लेते रहे थे. मैं बोला- मेरी गर्लफ्रेंड बनोगी भाभी?भाभी ने मादकता भरे स्वर में कहा- मैंने कब मना किया!इतना सुनते ही मैंने उनके गालों और होंठों पर चुम्बनों की झड़ी लगा दी.

पर कहते हैं ना, जो आपके नसीब में होता है, वो खुद चलकर पास आ जाता है. तभी मामी बोली- अरे रुक ना पूजा! जब ये कह रहा है तो जरूर कुछ मजेदार ही होगा. मैं पहले राउंड में उसे शान्ति से ही चोदना चाहता था … ताकि अगले राउंड में उसे सही से चोद सकूं.

बस फिर क्या था, मुखिया ने सुमन की कमर को पकड़ा और लौड़े को ज़ोर से पेलने लगा. फिर मैंने उसके पुराने स्कूल से पता किया, तो मालूम चला कि वो किसी सर के साथ सैट थी.

सुमन- अच्छा … उसकी उम्र कितनी होगी?मुखिया- यही कोई 45 साल का होगा साला.

मैंने पोर्न में देखा था, गांड में लंड लेने से भी बहुत मजा आता है, लेकिन वो अगली बार लूंगी.

मैडम जी मेरे सामने घोड़ी बनी हुई अपनी चूत चुदाई का पूरा मजा ले रही थीं। लगभग 10 मिनट तक इसी आसन में चोदने के बाद मैंने उनको आसन बदलने के लिए बोला।उनसे मैंने बोला- आप इस तरह से अपनी ही जगह पर घूम जाओ कि लंड बाहर न निकलने पाए।मैंने इसमें उनकी मदद की।उनको मैंने अपने हाथों के बल अपना शरीर रोकने को बोला और उनके एक पैर को उठाकर ऊपर कर दिया. लंड चुत की फांक के साइज से ज्यादा बड़ा होने से अन्दर लेने में दर्द होता ही है. मेरी हाइट 5 फीट 10 इंच है और लंड का साइज भी ख़ासा मस्त है, ये 7 इंच लम्बा 3 इंच मोटा है.

मैं पूरी ताकत से धक्के लगा रहा था और भाभी नीचे से गांड उठा-उठाकर मेरा पूरा साथ दे रही थीं. मैं नीला भाभी से एक फैमिली फंक्शन में मिला था, पहली ही मुलाकात में मुझे वो भाभी पसंद आ गयी थी और शायद मैं भी उसे. चाचा बोलने लगे- क्या बेटा, तुम्हारा तो मेरे से भी ज्यादा मोटा और लंबा लग रहा है.

मैं सेक्स कहानी में आगे बढ़ने से पहले आपको इन भाभी के बारे में बता दूं.

मैं बोला- तो सोनिया से आपने बात की?भाभी बोली- हां, रात में वो मेरे साथ ही सोती है. अब्बू ने अम्मी की गांड पर हाथ फेर कर कुछ इशारा किया, तो उसके बाद अम्मी चित लेट गईं. देसी फैमिली सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी मौसी के घर गया तो मेरा मन बहकने लगा.

मुखिया- अच्छा ये बात है … जा अभी तू जा, देख आज शाम तक तेरी बकरी तो मैं ले ही जाऊंगा … साथ साथ तेरे बाप को भी उस झोपड़े से धक्के मारके निकाल दूंगा. फिर भाभी बोलीं- तुम्हारा माल तो बहुत ज्यादा निकलता है और बहुत गाढ़ा और टेस्टी भी है. मां छटपटाने लगी- ओह मादरचोद … निकाल बाहर … दर्द हो रहा है!मैं उनकी चूचियों को दबाने लगा.

इस तरह से जब तक भैया नहीं आये, तब तक मैं भाभी की चुदाई लगातार करता रहा और वो भी मौका पाते ही मेरे लंड से चुदवाने लगी थी.

मैं- कैसी रही रात … मजा आया?शबाना- मेरी हालत देखो … चलने तक में तकलीफ हो रही है. अगर तुम उसमें पास हो गए, तो हम तुम्हें अपना दामाद स्वीकार कर लेंगे.

बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ उसकी पतली कमर के नीचे एकदम नुकीली चुत जो एकदम क्लीन चमचमाती हुई थी. अचानक उसी रात को पता चलता है कि लॉक डाउन 21 दिन के लिए बढ़ गया है, ये सुन कर सिमरन थोड़ा चौंक गई.

बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ राहुल ने अब अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी और मेरी जीभ को अपने होंठों से बाहर खींच कर चुभलाने लगा. वो उससे कह रहे थे- अब तू वहीं मर जा … तेरी वजह से हम लोग भी परेशान हो गए हैं.

उन भाभी की चुत चुदाई के लिए मैं यूपी गया और जब उनका पति कहीं बाहर गया था, तब मैंने उनके रूम पर जाकर कैसे उनकी चूत की बैंड बजाई, वो सब आपको मस्ती भरी सेक्स कहानी में बताऊंगा.

सपने में मरी हुई मां से बात करना

वो मेरे हाथ को हटाने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने मामीजी के बोबे पर से हाथ नहीं हटाया। अब मैंने उनकी चूचियों को दोनों हाथों में भींच लिया और जोर से दबाने लगा. तो भाभी ने पूछा- कहां जा रहे हो?मैंने बोला- मैं अपने घर जा रहा हूँ. भाभी न्यूली मैरिड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे चचेरे भाई की शादी हुई तो भाभी मुझे बहुत अच्छी लगी.

आंटी आंख चमका कर बोलीं- वो कैसे?अम्मी ने आंटी से कहा- यार, यहां पर कुछ लड़के ऐसे हैं, जो एक बार का एक हजार रुपए देते हैं. चुदाई का खेल चलते हुए रात के बारह बज गए थे मगर हम दोनों में से कोई भी पीछे हटने को तैयार नहीं था. डॉक्टर मेरे अन्दर बहुत सेक्स भरा पड़ा है, लेकिन मैं कुछ कर नहीं पाता हूँ.

वो बेड पर पेट के बल लेट गयीं और मैं उनकी कमर और पीठ पर हल्के हाथ से मसाज देने लगा.

मैं उसके होंठों को चूसते हुए उसकी लार को अपनी जीभ से अपने मुंह में खींचने लगा और वो मेरी लार को पीने लगी. मैं बाहर बैठ कर उन दोनों के चिल्लाने और गालियों की आवाज सुन कर मजे ले रहा था. मैंने करीब जाकर उससे पूछा- क्या हुआ मैम?आप तो जानते है कि मैं होटेलियर हूँ.

जबकि मुझे इन बातों से अरुचि होती थी अतः मेरी ट्यूनिंग किसी लड़की से कभी बन ही नहीं पाई. दोस्तो, जब तक मेरी पत्नी मुझसे चुदने के लिए सही कंडीशन में नहीं आ गई, तब तक समीक्षा ने मेरी सेक्स की जरूरत पूरी की. भीतर वाले रूम में पहुंचते ही उन्होंने मुझे दबोच लिया, मैंने भी कोई प्रतिवाद नहीं किया.

हम दोनों की उठने की हालत नहीं थी, पर किसी तरह उन्होंने मुझे अपने ऊपर से हटाया और मुझे बाथरूम में ले गईं. मेरा लन्ड उनकी मखमली चूत में घुसने के लिए दबाव बना रहा था। अब मैं थोड़ा नीचे सरका और उनके गोरे-गोरे गले पर किस करने लगा। मुझे गले में किस करने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। वो बस विरोध जताने के लिए चेहरे को इधर उधर कर रही थी।अब मैंने उनकी साड़ी का पल्लू ब्लाउज के ऊपर से हटा दिया। उनके बड़े बड़े पपीते जैसे स्तन मेरे सामने थे और मैं उन पर टूट पड़ा.

दोस्तो क्या बताऊं! उसकी गर्म गर्म चूत में जब मेरा सख्त लौड़ा जा रहा था तो मैं जैसे स्वर्ग में था. मैं जोर जोर से लंड को हिला रहा था और चूत को देखकर सिसकारियां ले रहा था. मैंने भी उसे आंख मारते हुए कहा- साले चुतिए पानी भी निकलवाता हूँ तेरा, तू थोड़ी देर रुक जा.

इसलिए आख़िर उसने मुखिया को साफ साफ कह दिया कि ये वॉल नहीं खुल रहा है.

मैंने उसके चेहरे की तरफ देखा, तो वो मेरी चुत के नमकीन अमृत से सराबोर था. जब मैं नहाने में आलस करता था, तो वे मुझे गोद में बिठा कर मेरा लंड हाथ में लेकर सहला देती थीं. अब मैंने एक बोबे को हाथ में पकड़ा और दूसरे बोबे को चूसने लग गया। उनके बोबे को मुंह में लेते ही मुझे तो मज़ा आ गया। एकदम मुलायम रसदार चूचे थे, जैसे उनमें मीठा दूध भरा हो.

मैंने उससे सेक्स की बात नहीं बोली, बस यही कहा कि उसको कोई और पसंद आ गया था. वो जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … इमरान … ऊईई … आह्ह … उफ्फ … हाए।इतने में ही मैंने फिर से भाभी के होंठों को अपने होंठों में लॉक कर लिया और जोर से पीने लगा.

जेठ और बहू की चुदाई की स्टोरी में पढ़ें कि चाचा को उनकी बहू की चुदाई करते देख मेरा मन भी उसकी जवानी भोगने को करने लगा. मैं उन्हें कमर के ऊपर से हाथ लेकर दबा रहा था। मैं उनके ऊपर झुक कर मामी के भूरे बूब्स को जी भर कर पी रहा था। अब मैं मामी की चूत में लौड़ा डाल देना चाहता था।मैं दोबारा उनकी सीट पर आया और लौड़ा चूत में लगा दिया. मैंने इस बारे में सीधा कहने की बजाए कई बार उसे उकसाने की कोशिश की है, लेकिन वह मानता नहीं है.

लड़कियां कैसे पेशाब करती हैं

दोनों गिलास में बियर डालते हुए उसने कहा- पहली बार पी रहे तुम, इसलिए नाक बंद करके घूंट लेना.

मुझे न जाने क्या मस्त अनुभूति सी होने लगी कि मैं उस मजे को लिख ही नहीं पा रही हूँ. फिर धीरज ने मेरी अम्मी की लैगी भी उतार दी और अम्मी ने धीरज की पैंट और अंडरवियर दोनों उतार दीं. कुछ देर तक मैं ऐसे ही पूजा भाभी की पीठ वाले हिस्से के साथ खेलता रहा.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने उनको नीचे पटक दिया। मैं उनको बेतहाशा चूमने लगा और उन्होंने अब अपने आप को मेरे हवाले कर दिया था।मैं लगातार उनके चेहरे को चूम रहा था। अब मैं थोड़ा सा नीचे की ओर सरका और गर्दन पर चूमने लगा. सुमन- खुद ही तो मेरी नींद खराब करने आ गए थे, चलो अब कोई बहाना मत करना. सेक्सी बीपी नवीन व्हिडीओआह मुझे बहुत मजा आ रहा है साले जोर से चोद मुझे … अअअआआ साले बहनचोद च.

रोशनी मेरे पास पूछने आई- तुमसे एक तरफ ले जाकर क्या बोल रहा था?मैंने कहा- कंडोम दे रहा था … तुम बस ज्यादा शोर ना मचाना. अगर किसी को इस बात के बारे में पता चल गया तो मेरी बहुत बदनामी होगी.

बुआ ने अपने हाथ से लंड को पकड़ा और चुत की फांकों में सैट करके इशारा कर दिया. फिर वो उसकी चुत को देखकर मन में सोचने लगा कि हो ना हो ये जो भी है, मीता को नंगी करके बुरी तरह चूसता है … मगर इसके साथ सेक्स नहीं करता है. उसे मेरे सुमन भाभी और रुक्मणी भाभी तथा आकांक्षा के साथ सेक्स रिश्तों के बारे में सब पता है.

मैं- कैसी रही रात … मजा आया?शबाना- मेरी हालत देखो … चलने तक में तकलीफ हो रही है. धीरज मेरी अम्मी की चुत में अपनी पूरी जीभ डाल कर मजे से चुत चूस रहा था. ये साला कैसे बदल गया?कालू- बस पूछो मत मालिक, इसकी कमजोर नस मेरी पकड़ में आ गई है.

मैं उसके मुँह को चोद रहा था। मेरे मुँह से भी सिसकारियां निकलने लगीं। जल्द ही मेरे लंड पर मेरा काबू न रहा और वो बुरी तरह से अकड़ गया और साथ में मेरा शरीर भी.

आज तुझे जो मजा आएगा, उसके लिए तू मेरी सारी उम्र कर्जदार रहेगी … देख लेना. कभी डाइनिंग टेबल पर उसे चोद देता, तो कभी किचन की स्लैब पर चुदाई शुरू हो जाती थी.

सेब जैसे कड़क चूचे, जिनपर छोटे छोटे से भूरे रंग के निप्पल और पतली कमर के नीचे एकदम नोकदार चुत, जो एकदम क्लीन चमचमाती हुई थी. जब सरजू की तरफ़ से कोई हलचल नहीं हुई, तो उसने धीरे धीरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया. भाभी चुदासी सी बोल पड़ीं- जब नीचे आग लगी होती है, तो तेज तो होना ही पड़ता है.

मैंने देखा कि उसकी आंखें बंद हैं, अपने होंठ दांत में दबाए हुए वो ‘ऊ ऊ ऊ … आह आह …’ कर रही थी. उसके बाद मैंने उसकी शर्ट खोलनी शुरू की और उसकी ब्रा को भी उतार दिया. जब शाम के 7 बजे के आसपास मेरी नींद खुली और मैं अपने रूम से बाहर आया.

बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ आप तो खेतों में अपनी जवानी बिता रहे हो, पत्नी से प्यार करने का आपका दिल नहीं करता क्या!रणजीत- क्यों मैं मर्द नहीं हूँ क्या … लेकिन क्या करूं, खेतों में इतनी मेहनत करके घर आने के बाद थकान से नींद आ जाती है. झड़ने के बाद लगभग पांच मिनट तक मैं उनके ऊपर ही लेटा रहा। फिर उठकर उनके बगल में ही लेट गया.

पावर रेंजर

मैं उसकी बुर में जीभ डालने लगा और एक उंगली को उसकी बुर में अन्दर बाहर करके लंड के लिए जगह बनाने लगा. वहां पर हमारे एक करीबी रिश्तेदार का घर भी है और हमारा एक निजी मकान भी है. भाभी ने कहा कि वो मुझसे बहुत प्रभावित हैं और इसी वजह से उन्होंने मुझसे बात करना पसंद की थी.

मेरी चूत और मेरी गांड दोनों से ही खून और वीर्य का मिश्रण निकल रहा था. वो मेरा सर अपने पैरों से दबा कर जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं- ओह हाय … आह समीर चाट ले … ऐसे ही मेरी चूत को खा ले … और मुझे संतुष्ट कर दे. தமிழ் வில்லேஜ் ஆன்ட்டி செக்ஸ்तभी अशोक जोर से चिल्लाने लगा और गालियां देते हुए उसने नीला की चुत को पानी से सींच दिया, पूरा भर दिया.

एक उसे दे दी और बोला कि इसे पी ले … तो तुझे गांड फटने का दर्द कम महसूस होगा.

बस इसी बात का फायदा उठा कर मुखिया उसके करीब को हो गया और धीरे धीरे उसकी पीठ पर हाथ फेरने लगा. उस रात दोनों पागलों की तरह सेक्स के मजे ले रहे थे क्योंकि करीब दो महीने बाद वो दोनों सेक्स कर रहे थे.

उसकी सिहरन से मुझे यकीन हो गया था कि इसकी कमसिन जवानी का रसपान अभी तक किसी ने किया ही नहीं है. थोड़ी देर में वो नॉर्मल हो गयी और मैं धीरे धीरे उसकी गांड को चोदने लगा. अम्मी के दूध मसलते हुए हल्के से कान में बोले- क्या बात मेरी जान, चूत के बाल कब साफ किए.

कई बार सुबह जब मैं सोकर उठता था तो मेरा लंड मेरे पजामे में तना हुआ होता था.

मैं वैसे हमेशा 3-4 कंडोम अपने पास रखता था, पर उस दिन नहीं ले गया था. उसको अपनी पकड़ में लेकर मैंने एक जोर का धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड रीमा मैडम की चूत को फाड़ता हुआ पूरा अन्दर घुस गया. उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थीं- आह्ह … राज … मेरे राजा … खा ले मेरी चूत को … आह्ह … बहुत मजा देता है रे तू … मेरे पति … आह्ह मैं तेरी पत्नी … तेरी चुदाई की दीवानी … चोद दे … फाड़ दे।आंटी ने ऐसे कहते हुए इतनी जोर से मेरे मुंह को अपनी चूत पर दबाया कि मेरी सांस ही रुक गयी.

जानवर का पिक्चर सेक्सीउफ्फ … कितनी गर्म हो चुकी थी उनकी चूत!धीरे से मैंने उनकी चूत में एक उंगली डाल दी और अंदर तक दे दी. सुमन- तो क्या हुआ, मैं प्यार भी नहीं कर सकती क्या इसको?सुरेश- कर लो मेरी जान … आह ये तुम्हारा ही तो लंड है.

लिपस्टिक सेक्सी

सुरेश- बस थोड़ी देर देख लो, उसके बाद तुम अपना लंड मीनू के मुँह में घुसा देना और बाद में इसकी चुदाई तुम्हें ही करनी है. लंड पर हल्का सा तेल लगा कर हाथों को तेजी से चलाते हुए लंड को झाड़ने की कोशिश में लगा रहा. दूसरी गर्लफ्रेंड के बेक्रअप के बाद आज पहली बार सेक्स करने का मौका मिला था.

जैसे कभी भाभी मुझे मज़ाक में छेड़ती थीं और हंसकर भागती थीं, तो मैं भी उनके पीछे पीछे भागता और उन्हें पीछे से अपनी बांहों में पकड़ लेता था. मेरे पापा भी काम से बाहर गये हुए थे और खाना हम लोग मौसी के यहां पर ही खाकर आ गये थे. मैं एक गांव से हूँ, लेकिन मैं गांव में कम और शहर में ज्यादा रहा हूँ.

कुछ देर तक मैं ऐसे ही उनकी चूत में उंगली करता रहा और वो टांगें फैलाकर पड़ी रहीं. मेरे मुंह से अनायास ही ‘मौसा जी और जोर जोर से चोदो मुझे … आह आज फाड़ डालो मेरी चूत को!’ निकल गया और मैं चरम पर जा पहुंची और झड़ने का आनंद पाकर सो गई. उसकी गांड मेरे मुँह पर थी, जिसे सैट करते हुए उसने अपनी फुद्दी को मेरे मुँह पर लगा दिया और मेरे होंठों पर रगड़ने लगी.

मैंने रवि का दूसरा हाथ अपने कंधे पर डाला और हम दोनों उसको बेडरूम की ओर ले जाने लगे. अब्बू की दुकान पर मोबाइल की बिक्री और रिचार्ज ही होता था, रिपेयरिंग का काम नहीं होता था.

उसके बाद फिर सर के साथ मेरी चुदाई में मैंने क्या क्या मजे किये और सर ने कितनी बार मेरी चूत और गांड का बाजा बजाया वो मैं आपको अपनी किसी और कहानी में बताऊंगी.

मैं जितना ज्यादा चीखती, वो उतना ही स्पीड में मेरी गांड में लंड पेलने लगता. ஓல்ட் செக்ஸ்कोई इंसान का काम होता, तो कुछ निशान तो मिलता, किसी एक आधे की लाश ही मिल जाती. चाइनीस सेक्सी वीडियो डाउनलोडशादी में से वापस आने के बाद सुजाता का ख्याल मेरे दिमाग से निकल ही नहीं रहा था. आपको यह सेक्स विद रोमांस स्टोरी कैसी लगी, इस पर भी आप मेल जरूर कीजिएगा.

वो सोफे पर रेंगने लगी और उसने जींस के अन्दर चूत में अपना हाथ डाल दिया.

सुरेश- कहां खो गई, कुछ तो बोलो!सुमन- फिर भी ये नाइटी बहुत सेक्सी है. वहां पता चला कि राहुल और मुझे थोड़ी ही देर में फार्म हाउस में शिफ्ट किया जाएगा, जहां मेरे और राहुल के अलावा बस एक मेड रहती थी. फिर मैंने उसको नीचे लिटा लिया और उसके बदन पर चुम्बनों की बारिश कर दी.

उस चुदासी लेडी की चूत में धक्के मारते हुए मैं उसकी चूचियों को जोर जोर से भींच रहा था. होस्टल के बाहर पहुंचकर उसकी सहेली ने गेट पर आ कर ज़ूबी को अपने साथ लिया और अंदर ले गयी. मैंने एक फ्लैट देख लिया था मगर उसके पोजेशन में कुछ दिन लगने थे क्योंकि पेंट वगैरा का फाइनल टच बाक़ी था अभी तक मैं रेंट पर ही रहा था.

एक्स वीडियो 2020 डीजे सॉन्ग

अब आगे की रोमांटिक सेक्स स्टोरी:टीवी पर न्यूज देखते हुए उसने कहा- अब मैं 21 दिन तक क्या करूं?मैंने कहा- अभी सो जाते हैं, कल बात करेंगे. ये पहली बार था जब मैं किसी लड़की को पटाकर उसकी चूत के साथ खेल रहा था. एकदम मस्त माल … गांड का उभार देख कर लग रहा था कि कमर बार्बी डॉल जैसी हो.

फिर वो अलग होकर बोली- मेरी पैंटी के साथ क्या क्या करते थे तुम, अभी करके बताओ.

संगीता- सिर्फ संगीता कहो, तो भी चलेगा, वैसे भी तुम रिश्ते में मुझसे बड़े हो.

जब वो बैठी हुई थी तो उसके घुटनों के बीच में दबे उसके बूब्स उभर कर बाहर आ रहे थे. मेरा लंड आधा तनाव में आ चुका था और 6 इंच का होकर मेरे बनियान के नीचे आधा बाहर लटकता दिख रहा था. हंसिका मोटवानी xxxफिर हमारे घर के लोगों ने उनसे बातचीत की और रिश्ता लगभग पक्का हो गया.

गांड में गैस बनने लगी थी और नीचे अवनी मेरे आंडों में मुंह दिये हुए पड़ी थी. कासिब ने मेरे दोनों चूचे अपने हाथ में ले लिए और जोरों से मसलने लगा. बुआ भी जोर जोर से सिसकारियां लेते हुए कह रही थीं- अअअ … आहह समीर बस करो.

दोस्तो, मैं पिंकी सेन अब इस सेक्स कहानी की समाप्ति की तरफ बढ़ रही हूँ. इस अहसास ने मुझसे रहा नहीं गया और मेरे मुँह से हल्की सी दर्द भरी सी आवाज निकली- आह भाभी!भाभी ने अपना मुँह ऊपर उठा कर कहा- क्या हुआ राजा!मैं कुछ नहीं बोला और मैंने अपना अंडरवियर घुटनों तक कर दिया.

उधर 2 बजे रघु अपनी पत्नी मीनू को लेकर क्लिनिक आ गया और जैसा तय हुआ था, सुरेश ने क्लिनिक आगे से बंद कर दिया और पीछे के दरवाजे से अन्दर आ गया.

मेरे पापा ने मुझे आगे की पढ़ाई के लिए गुजरात से बाहर पुणे भेज दिया था. जरा सब्र से काम लो, इसकी चूत का भोसड़ा भी तुम दोनों के लंड ही बनाएंगे. कुछ ही देर में हम दोनों ने खाना खत्म कर लिया और भाभी बर्तन साफ करने लगीं.

धोबन सेक्सी समीना उसकी चूचियों को पी रही थी और मैं उसकी कुंवारी चूत को जीभ से चोद चोदकर मजा दे रहा था. मुखिया- अरे नहीं नहीं डॉक्टर बाबू, आप करो … मैं तो बस इधर से गुजर रहा था, तो सोचा आपके हाल चाल पूछता जाऊं.

वो मेरे करीब आकर बैठ गया और उसने अपना लंड मेरे चेहरे के सामने कर दिया. मैंने उनके पैरों को मोड़ दिया और साड़ी और पेटीकोट को ऊपर उठा दिया। साड़ी को ऊपर उठाते ही उनकी गोरी चिकनी जांघें मेरे सामने आ गईं। अब मैंने उनकी एक टांग को मेरे कंधे पर रख लिया और दूसरी को चूमने लगा. मामी के 34 के आकार के बूब्स उनके बदन की खूबसूरती में चार चांद लगा रहे थे.

लड़के ने लड़की को चोदा

ये तो सेक्स कहानी का पहला पार्ट था, जो फोन सेक्स में ही खत्म हो गया. कई बार आंख खुलती थी तो सुजाता उस वक्त कमरे में सफाई कर रही होती थी. फिर धीरे धीरे से नीचे होते हुए मेरे लंड पर बैठती चली गई और मेरा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया.

मैंने आंटी को बेड पर लिटा लिया और उसके होंठों पर होंठों को रख दिया. तब तक रजिया मेरे होंठों को चूसने लगी और मैं उसकी चूचियों से खेलता हुआ सोनिया की चूत को चोदता रहा.

मेरे पति से नजरें बचा कर मैंने एक बार फिर से समधी जी को अपने मम्मों की झलक दिखा दी थी.

मैं पीठ के बल बेड पर गिरा था और संगीता मुँह के बल मुझ पर गिरी हुयी थी. वो पागल हो गयी और मेरे सिर को दबाते हुए सिसकारी लेकर बोली- आह्ह … जय … ये क्या हो रहा है मुझे … आह्ह … ऊफ्फ … कुछ कर जल्दी … मेरी चूत में कुछ बड़ा सा डाल … आह्हह … मुझे चोद दे भाई. दोस्तो, हमारे देश में गोरे रंग को लेकर लोग बहुत ज्यादा खर्चा करते हैं.

इसको खाने से भाईसाहब का लंड कम से कम आधे घंटे तक टनटना कर खड़ा रहेगा. बाहर आकर मैंने आकांक्षा को कॉल किया, लेकिन उसने पिक नहीं किया … शायद किसी काम में बिजी होगी. मतलब अभी आपने एक फूल यानि नीला और पहले माली यानि मेरे लंड की चुदाई की कहानी का मजा लिया था.

बीवी की टाइट चूत चोदते हुए अब मुझे भी मजा आ रहा था और मैं अब धीमे नहीं कर सकता था.

बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ: झुककर उसने मेरी चूत पकड़ ली और तेजी से मेरे मुंह में लंड पेलता हुआ मेरे मुंह को चोदने लगा. उसने बताया- इस जींस के बारे में सिर्फ उसकी दीदी जानती है … या अब मैं.

मेरे मन में हमेशा यही विचार चलते रहते थे कि चाची को कैसे चोदा जाये. लगभग बीस मिनट बाद धीरज ने अपने लंड का पानी मेरी अम्मी की चूत में छोड़ दिया और उनके ऊपर ढेर हो गया. मैंने अपना हाथ भाभी की चुत पर रख दिया और साड़ी के ऊपर से ही उनकी चुत को सहलाने लगा.

थोड़ी देर लंड चुसवाने के बाद रणजीत ने लंड को मुँह से निकाला, तो मुनिया उसको देखती रह गई.

हम दोनों खुल कर सेक्स करना चाहते थे, पर चुदाई करने के लिए जगह नहीं मिल रही थी. उसने मुझे हग किया, उसके चेहरे पर नीला को चोदने की खुशी साफ दिखाई दे रही थी. मेरा पूरा रोम-रोम उसके सेक्स के आनंद में डूब गया।मैंने इसके पहले कभी भी गांव की लड़की की जवानी का भोग नहीं किया था। गांव की लड़कियों में शहर की लड़कियों की अपेक्षा ज्यादा सहन शक्ति होती है.