टीचर्स बीएफ

छवि स्रोत,आना सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

నేపాల్ సెక్స్ వీడియోస్: टीचर्स बीएफ, मुझे जोर से खाँसी आ गई और तभी बेचारा विजय डर गया, उसने झट से पानी का जग भरकर मुझे दिया.

सेक्सीsexy

उसके सख्त लंड का टोपा मेरी गांड में मेरी पेंटी सहित घुस ही गया होता, जो मैं आगे को ना खिसकी होती. लाल लिपस्टिकमेरी पिछली चुदाई कहानीमेरी जवान भानजी ने कुंवारी बुर का तोहफा दियामें आपने पढ़ा कि कैसे मेरी सगी भानजी ने अपनी कामुकता के अधीन हो कर के मुझ से अपनी कुंवारी बुर की चुदाई करवा ली.

पूरी रात में गुलशन जी ने 5 बार अपने लंड का रस सुमन की चुत में भरा और सुमन का तो पता नहीं कितनी बार पानी निकला होगा. ओपन द फोनफिर तुरंत ही मैंने उस की पैंटी भी निकाल दी। मैं तो उस की कच्ची चूत देख कर पागल ही हो गया.

फिर एक एक करके सभी लड़कों ने अपना पानी हमारे अंदर भर दिया।अब जाकर हमें थोड़ा आराम मिला। हम दोनों वहां पे पड़ी कुर्सियों पे बैठकर आराम करने लगी.टीचर्स बीएफ: मैं कभी राईट निप्पल को तो कभी लेफ्ट निप्पल को जोर-जोर से चूस रहा था.

पापा- तेरे जैसी हसीन और जवान बेटी जो अब बीवी बन चुकी है तो कैसे कंट्रोल करूँ.मैं बिस्तर पर लेटा हुआ था और जैसे ही वो आई, मेरी नजर उससे टकरा गई, वो भी मेरी आँखों में झांकते ही दीदी से कुछ कहते-कहते रुक सी गई.

हॉस्पिटल की चुदाई - टीचर्स बीएफ

संजय- झूठ बोल रही हो तुम… अगर वो अच्छा होता तो अपनी बेटी के साथ छी… मुझे तो बोलते हुए भी शर्म आ रही है.और आज तो उसने मैक्सी के अन्दर कुछ नहीं पहना यानि वो खुद तुझे मज़ा देना चाहती है.

फिर मैंने शीशे के सामने ही रेखा को एक मेज से सहारा देकर खड़ा कर दिया और अपना घुटने के बल नीचे बैठ गया. टीचर्स बीएफ ”भभी मेरा लंड पूरा अंदर तक जा रहा है ना?”हां राहुल… पूरा अंदर है! बस तुम मुझे चोदते जाओ!”कोई दस मिनट की चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था और इस बीच भाभी भी एक झड़ चुकी थीं.

मोना- नीतू अच्छे से दबाना, तब तक मैं नहा कर आती हूँ और गोपाल जब तक मैं नहीं आ जाऊं.

टीचर्स बीएफ?

दस मिनट तक लंड चूसने के बाद सागर ने मुझे बेड पर लिटा दिया और वो मेरी चुत चाटने लगा. ऐसी गर्म चुत के आगे वो कब तक टिक पाते, अब उनका लावा भी बहने को तैयार था. उसके बाद कमरे में सिर्फ भाई-बहन की सिसकारियां तब तक गूँजती रहीं, जब तक दोनों थक कर गिर नहीं गए.

और मेरा सर पकड़ कर नीचे धकेल दिया- एक बार और चुत चूस ले…मैंने भी नीचे जा कर उसकी चूत का टपकता जूस पिया और फिर होंठों को किस करके उसे पिलाया. जब संजय ने पूछा तो टीना ने शॉर्ट में कहानी सुना दी और नई चुत की बधाई भी दे दी. मेरा लंड अभी भी पूरा खड़ा था और चड्डी की बगल से थोड़ा बाहर निकल आया था.

तो ये थी दोस्तो मेरी लम्बे लंड से चुत चुदाई के मजे की कहानी, उम्मीद करती हूँ कि आपको पसंद आएगी. उनके बाथरूम में जाते ही चाचाजी ने पीछे से मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे मम्मों को दबाते हुए मेरी गरदन को चूमना शुरू कर दिया. मैंने चुपके से एक वियाग्रा की टेबलेट खाई और मैं भी उस के पीछे बेड रूम में चल पड़ा.

हाँ भाई…सुरेश- मैं काजल की चूत देख सकता हूँ प्लीज? मैंने आज तक किसी लड़की की चूत नहीं देखी. मेरा आधा लंड उसकी गांड में घुस गया और साथ ही उसकी हल्की सी सिसकी निकल गई.

तो वो कहने लगी- जब इसमें इतना दर्द हुआ तो उस में तो बहुत ज्यादा होगा.

फिर मैं बैंगन को गांड के छेद पे रख कर अंदर की ओर ठेलने लगी लेकिन बैंगन में वेसलिन लगी होने के कारण बार बार फिसल जाती थी बहुत कोशिश करने के बावजूद बैंगन थोड़ी से भी अंदर ना घुस पाई और आख़िरकार बैंगन टूट गयी.

अर्चना को देखने के बाद मेरे मन में कसक उठने लगी थी, इसलिए उसको ढूँढते हुए मैं भाईयों के कमरे में गया परंतु मेरी चुदक्कड़ बहन वहां नहीं थी. वही रंग रूप, वही तने हुए मम्में, केले के तने जैसी चिकनी जांघे और उनके बीच काली झांटों में छुपी उसकी गुलाबी चूत. दोस्तो, सुमनभाभी की चुत चुदाई की कहानीके आगे के हिस्से में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे भाभी को मैंने राजी किया और उनकी चुत की बखिया उधेड़ दी.

बहूरानी ने लंड को फिर से चूमा और फिर से इसे चूस चूस कर लाड़ प्यार करने लगी साथ में दूसरे हाथ से अपनी चूत भी सहलाती मसलती जा रही थी. एक साथ दोनों लंड का मज़ा ले लेना, एक चुत में घुसा रहेगा और दूसरा गांड में मजा देगा, तभी तो पार्टी में रोमांच आएगा. मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए और उसके ऊपर चढ़ गया, मैं लंड हिला कर बोला- अब तुम्हारी बारी है.

मैंने पेंटी उतार दी और अपनी आँखें बंद करते हुए उंगलियों से चुत को सहला दिया.

उसने बिना देर करते हुए मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. वह मजे से चिल्ला उठी और जोर से बोली- चोदो…मैंने उस की कमर पर चढ़े चढ़े उसे चोदना शुरू किया और अपने लटक रहे हाथों से उस के मम्मे जोर जोर से मसलने लगा. तभी शमशेर ने जोर जोर से ठाप लगाई और 25-30 कस के ठापें मारीं और शांत हो गया.

अन्तर्वासना की हिंदी सेक्स स्टोरीज मुझे बहुत पसंद हैं, इन्हें पढ़ने के बाद मेरी भी इच्छा हुई कि मैं भी अपने जीवन की सच्ची सेक्सी घटना आप सब लोगों के साथ शेयर करूँ. मेरे हाथ बढ़कर उन दोनों लड़कियों की चुत तक पहुँच गए और मैंने अपने हाथ से ही ऐसा जलवा दिखाया कि उनकी चीखें निकलने लगी. पूरा लंड मेरी चुत में घुसा देने के बाद जय रुक गया और मेरे मम्मों को मसलते हुए बोला- क्यों भाभी, मजा आया ना?मैंने कहा- देवर जी, तुम बड़े बेरहम हो.

उसने किसी तरह अपना होंठ मेरे होठों से मुक्त कराया और इतने देर में पहली बार बोली- प्लीज लीव मी.

पूरे 20 मिनट की धकापेल चुदाई के दौरान आंटी 3 बार झड़ चुकी थीं, फिर भी मैं आंटी को चोदता रहा. सब लड़के अलग-अलग बैठ गए और लड़कियां एक साथ बाथरूम में अपने आपको साफ करने चली गईं.

टीचर्स बीएफ चैन से बैठने भी नहीं देती और हाँ तुम निकल जाना, मैं एक घंटे में आ जाऊंगा. फिर मैंने जब पहला शॉट मारा तो मेरा आधा लंड माही की चुत में जा चुका था.

टीचर्स बीएफ उसकी उम्र 32 साल है और उसको 2 लड़के हैं, एक 5 साल का और दूसरा 3 साल का. संजय- अब ये नहीं तो क्या है, बता ना?पूजा- ऐसे नहीं, पहले आप जल्दी से अपने कपड़े निकालो.

फिर सास मेरे कमरे की तरफ आई और देखने लगी कि कोई जग तो नहीं रहा है।और फिर अपने कमरे में जाकर सो गई और मैं भी सो गई।अगले दिन सुबह मैं उठी और अपना काम करने लगी फिर मैंने देखा कि मेरी सास बाथरूम में है, वह नहाने गई है.

बेन टेन कार्टून सेक्सी वीडियो

उस रात पप्पू से चुदवाने के बाद रूपा सहेली के घर जाने की बजाय वापस अपने घर गई. पर इसका दिल आ गया यानि के मेरी छुट्टी?फ्रेंड मतलब?”उसने कहा- मेरी एक सहेली है. अब ज़बरदस्त चुसाई शुरू हो गई और सुमन की चुत का सारा दर्द गायब हो गया.

’ की आवाज आ रही थी और पीछे से मेरी हर चोट पर थप थप का मधुर संगीत कमरे में गूँजने लगा. परंतु मुझे डर भी रहा था कि कहीं आंटी जाग गईं तो डांट ण पड़ जाए इसलिए बेबी के सोने के कुछ पल बाद मैं भी सो गया. सुमन- आह… उई नहीं… आह… दुख़्ता है पापा आह… ससस्स बहुत दर्द हो रहा है.

उसने अपने लंड की तरफ़ इशारा करते हुए कहा- भाभी, ये मुझे बहुत ही परेशान करता है.

तभी माँ ने दीदी को इशारा किया तो दीदी ने मेरे लंड को पकड़ कर मुझे अपने ऊपर लिटा लिया और अपने दूध को चुसवाने लगीं. ये तो मैं जान गया था कि स्टार मूवी की ए श्रेणी की फिल्म देखने वाली साली अब हल्ला नहीं करेगी, पर अपनी गांड फटी हुई थी. फिर उसने अलमारी से 20 हजार रुपये निकाल कर मुझे दिए और बोली- प्लीज़ ना मत करना.

उसके बाद उसने मेरे दोनों मम्मों को मसलते हुए अपने लंड के सुपारे को मेरी चुत पर रगड़ना शुरू कर दिया. क्या मैं मेरी घर वाली से कोई विश्वासघात तो नहीं कर रहा था?मैंने शीला से ये बात पूछी तो उसका जबाव था. भाभी के पीछे मेरा 7 इंच का लंड भी अपने पूरे ताव में था और पीछे सुमन भाभी की गांड से भिड़ा हुआ था.

तो भाभी को मैंने बोला कि भाभी ये 7 इंच का मोटा लंड कैसे सह पाओगी?तो बोलने लगी- प्लीज़ छोड़ दो संदीप. मैं उनकी चुत में निकल गया था … जिसका अहसास मुझे बाद में हुआ कि मुझे बाहर निकलना चाहिए था.

अरे हुक टूटा तो क्या हुआ? जब यहाँ से जायेगी तो जान तू क्या सीने पे पल्लू नहीं लेगी? उम्म बड़ा गर्म माल है तू. एक दिन मम्मी ने मुझे एक पैकिट दिया और कहा कि बेटा इसे अपने कचरे के ढेर में फेंक आओ, तो मैं उसे लेकर गया लेकिन मेरा शैतान दिमाग कुछ और ही कह रहा था तो मैंने उसे खेला तो देखा कि उसमें कुछ बालों का गुच्छा सा था जो कम से कम मम्मी के सिर के तो नहीं थे. थोड़ी देर बाद संजय ने पूजा के पैरों को उल्टी दिशा में मोड़ दिया और उसकी चुत पर लौड़ा टिका कर एक झटके में लौड़ा घुसा दिया.

अब जब इनके लंड को तेरी कुँवारी बुर की जरूरत है तो नखरे करती है? अब चलो और जिस लंड से तुम पैदा हुई हो, उस लंड का पानी अपनी बुर में ले लो.

मैंने पूछा- शीतल, क्या ये अच्छी बात है?उस ने मुझ से कहा- इसमें कोई बुरी बात नहीं है. चूँकि मैं उसकी दोस्त का दोस्त था इसलिए भी वो मेरा लिहाज कर काफी सलीके से पेश आती थी और मैं तो उसको अपने लंडजाल में फँसाना चाहता था इसलिए कुछ ज्यादा ही शराफत से पेश आता था. जरा दिखा तो वो क्या है?” ये कहते हुए वो मेरे पास आ गईंमैंने वो चीज निकाल कर मम्मी को दिखाई तो मम्मी उसे देखते ही चौंक गईं और बोलीं- बेटा, ये तुझे कहां से मिली है?मैंने बताया कि मम्मी यह तो अपने तूड़ी वाले छप्पर के पास पड़ी थी.

आत्मा- अच्छा अब बुरा लग रहा है और रात को जब उसके मज़े लिए, तब बुरा नहीं लगा? उसके नाम की मुठ मारी तब बुरा नहीं लगा और अनिता के साथ किया तब नहीं सोचा. शिशिर ने मेरे जम्फर के बटनों को खोल दिया और मेरी संतरे के बराबर चुचियों को नंगा कर दिया.

करीब दस-बारह मिनट उसकी रेशमी जांघों को सहलाने के बाद मैंने उसके होठों को अपने होठों में लिए हुए ही उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत पर अपनी उंगलियां पहुँचा दीं. की आवाज करती रही थी। मैं अपनी पूरी ताकत व तेजी से धक्के लगा रहा था और मेरे हर धक्के के साथ ममता जी उऊम्म ह्हह… उऊँऊँ ह्हहँ… उऊँओ ह्हह… उऊऊह्ह… हुँअ. मैंने कल ही देखा था कि उस ड्रेस को कल ही साफ करके आयरन करके तैयार की थी, पर उसके पायजामा में कुछ लोचा था.

हिंदी सेक्सी फिल्म नंगी चुदाई

और इसका एक सबसे बड़ा कारण हुआ है मोबाइल कैमरा की क्रांति की वजह से और खुद के खींचे हुए फोटो और वीडियो कैमरे से की हुयी रेकॉर्डिंग को अब प्रिंट या लोड करवाने के लिए फोटो स्टूडियोज नहीं जाना पड़ता, खुद ही फोटो और वीडियो बनाओ और तुरंत ही देख लो और दूसरों को भी दिखा दो.

उसके बाद दीपक के पास गई, वो आराम से मुझसे मिला तो मुझे लगा यही महेश है. बरखा की बात सुनकर टीना और फ्लॉरा ने एक-दूसरे को देखा फिर आँखों ही आँखों में इशारा किया. मैंने भी आठ दस धक्के पूरी ताकत से लगाये; बहूरानी अपनी बांहों और टांगो से मुझे जकड़े थी जिससे मेरे धक्कों से उसका बदन उठता और गिरता था लेकिन वो मुझसे चिपटी रही और कुछ ही पलों में लंड जैसे फटने को हुआ और रस की फुहारों से चूत को भरने लगा और शीघ्र ही वीरगति को प्राप्त होकर निढाल बाहर निकल गया.

अंजलि मेरा इशारा समझते हुए लंड के ऊपर बैठ गई और जोर-जोर से ऊपर-नीचे होने लगी. पहले तो मैं डर गया कि कहीं अर्चना मुझे पकड़ कर सबके सामने ले जाकर रात वाली बात न बता दे. प्यासी पड़ोसनदो मिनट में ही कविता के दोनों निप्पल किशमिश से अंगूर हो गए यानि उसके निप्पल काफ़ी टाइट और खड़े खड़े हो गये थे.

क्यों नहीं, हम भी देखें तुम में वो कौन है जो हमें कुतिया जैसा महसूस कराएगा. मैंने कहा- भाभी, बीवी भले ही मायके चली जाए मगर हम तो आपके साथ खुश रह लेंगे.

फिर काजल, सुरेश के ऊपर चढ़ गई, उसके पेट पर बैठ कर उसको हेड मसाज देने लग गई. नीता के सामने बैठ कर उसका कमसिन जिस्म निहारते हुए पप्पू बोला- नीता अगर तुझे लड़कों ने इस ड्रेस में देखा तो टूट पड़ेंगे तुझ पर, तेरी जैसी मस्त लड़की उन्होंने कभी देखी नहीं होगी और ना देखेंगे. मुझे पता था कि बिजली आने की कोई गुंजाईश नहीं है… तो मैंने मामी को यही बोला कि लाइट नहीं आने वाली, आप अपना शर्ट उतार दो.

तो ससुर जी ने मम्मी का पल्लू हटा दिया और उनकी बड़ी-बड़ी चूचियां ब्लाउज के ऊपर से दबाने लगे. उसके अनुभव से ऐसा लग रहा था कि वो अपने हाथ और मुँह से मेरे लंड को निचोड़ने की ठान चुकी थी. मैं सुबह से काम करके थक चुका था तो थोड़ी रेस्ट करने के लिए बिस्तर पर लेट गया.

उनके मुँह से हल्की सी आह… निकली और उन्होंने लंड का मजा लेना शुरू कर दिया.

मैंने बिल्कुल बेशरम होकर अंकल की जाँघ पर हाथ रख दिया और उनकी जीन्स के ऊपर से ही मैं उनके लंड को सहलाने लगी. सागर सेक्स में बहुत अच्छे हैं, सागर की सबसे अच्छी बात है कि उसका लंड सच में 8 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है.

फिर तुरंत ही मैंने उस की पैंटी भी निकाल दी। मैं तो उस की कच्ची चूत देख कर पागल ही हो गया. तुम चाहे जितना भी चीखोगी या चिल्लाओगी मैं तुम्हारी एक भी नहीं सुनूंगा क्योंकि इसी तरह की चुदाई में औरत को मजा आता है और वो अपनी पहली पहली बार की चुदाई को सारी जिन्दगी याद करती है. पूजा ने दर्द के मारे रीतिका के चूतड़ पर दाँत गाड़ दिए, उस वजह से रीतिका ने मेरे सीने पर दाँत गाड़ दिए और मुझे रोक दिया.

लेकिन कर्म तो मेरे ही थे जिन्होंने मुझे इस सिचुएशन तक पहुंचाया… इसमें भगवान का क्या दोष!ये सब सोच कर मैं रोता हुआ उससे बोला- यार प्लीज… मैं दूसरा फोन दे दूंगा. टाइम निकलता गया और मैं बस भाभी के नाम की मुठ मारता रहता, सोचता कब इनके नग्न बदन के दर्शन होंगे. अब सुमन शांत हो गई थी मगर ये अहसास कि उसके पापा उसका रस चाट रहे हैं, उसको और अधिक रोमांचित कर रहा था.

टीचर्स बीएफ सुमन- दीदी, ये आप क्या बोल रही हो? मैंने संजय का क्या बिगाड़ा जो वो मेरे साथ ऐसा कर रहा है और मेरे पापा की और कौन बेटी है? नहीं नहीं, ये ग़लत है!टीना- ये तो अंकल ही बता सकते हैं मगर भगवान का लाख लाख शुक्र है कि वक़्त रहते मैंने उनकी बातें सुन लीं, नहीं तो वो तुम्हें रंडी बना देते. जब वो पप्पू के सामने से गुजरी तब पप्पू उसका गीला जिस्म बड़े ध्यान से देखते हुए आँखों में भरने लगा.

कैटरीना की हॉट सेक्सी वीडियो

हम करीब तीन चार किमी चले होंगे कि अचानक ही तीन आदमी एक डोल पर बैठे थे, जिन्हें देख कर मम्मी भी एकदम ठिठक गईं और रूक गईं. मैं बोली- ऐसा क्या सरप्राइज है, जो आप घर पर ही रख कर आए हो, यही ले कर आ जाते. मैंने यश की पेंट निकाल दी, यश अब अंडरवियर में था और उसका लंड उन्द्र्वीय्र फाड़ कर बाहर निकलने को था.

फिर काजल, सुरेश के ऊपर चढ़ गई, उसके पेट पर बैठ कर उसको हेड मसाज देने लग गई. भाभी जी का एकदम गोरा रंग और गदराया हुआ बदन था। उनकी हाईट भी लगभग 5 फुट 2 इंच थी। बहुत ही सुंदर गोल चेहरा, सुन्दर बड़ी बड़ी आँखें, बड़ी बड़ी चूचियाँ, सुन्दर चिकना पेट और अच्छे भरे भरे चूतड़ थे। उनकी स्कर्ट में से उनकी गोरी, मोटी और चौड़ी गुदाज पिंडलियाँ और घुटने दिखाई देते रहते थे। जब वे झुकती थी तो पीछे से उनके पट काफी दिखाई दे जाते थे और आगे झुकती थी तो खुले गले के टॉप से मस्त मम्मे दिखाई देते थे. योनि चाटने वाला सेक्सदोस्तो, मेरा नाम अमित शर्मा है, मैं जयपुर राजस्थान का रहने वाला हूँ.

मेरा लंड रेखा के रानों के बीच में से बाहर को निकल कर उसके पेट से टच कर रहा था.

जैसे ही मैंने उसे चूमना शुरू किया, उसने मेरे लंड को पैन्ट के ऊपर से पकड़ लिया और मसलने लगी. मुझे मजा सा आने लगा था और नशे में मुझे ग्रुप सेक्स की फ़िल्में याद आने लगी थीं.

अगले ही पल मेरी दो उंगलियां उसकी चुत में चली गईं और अंगूठा उसकी गांड में चला गया. मैंने बस शरमाते हुए उनके पेशानी पे किस किया, जिससे वह समझ गए कि मैं भी यही चाहती थी. मेरी बांहें खुद ब खुद उठ गईं उधर उसकी बांहें भी साथ साथ उठीं और हम दोनों एक दूजे के आगोश में समा गए.

मुझे देखना है आपने मेरी चुत का क्या हाल किया है?पापा- हट तो जाऊंगा बेटा.

मैंने उस के होठों को चूसना शुरू किया जो लगभग गुलाबी से सूज कर नीले हो गए थे. अंजलि ने चुत को अच्छे से साफ किया हुआ था और शायद कोई अच्छा डीओ लगाने के कारण चुत से अच्छी खुशबू आ रही थी. मैंने जोर की चीख मारी और उसने मेरे मुंह पर हाथ रख लिया और दूसरे हाथ को जमीन पर सहारा बनाते हुए वो अपना लौड़ा मेरी गांड में उतारने लगा.

शिवांगी की सेक्सी वीडियोथोड़ा रुक कर मैंने अपने होंठों को उसके होंठों के पास लाकर थोड़ी दूरी बनाए रखते हुए उसकी आँखों में देखते हुए कहा- आई लव यू. मैंने बोला- क्या है ये?दीदी बोलीं- ये वो गोली है, जिसके खाने से तेरा लंड कल सुबह तक कड़क ही रहेगा.

सेक्सी मूली

ये मैं अपनी तारीफ नहीं कर रहा हूँ, अक्सर सभी मेरे लिए ऐसा कहते हैं, इसलिए कहा है. फिर दोनों ने आखिर शॉट लगाया और अपने गर्म गर्म वीर्य मेरी चूत में छोड़ दिये. हम तीनों वहीं नंगे ही सो गए, करीब शाम पांच बजे मामी ने हम दोनों को जगाया.

कहती- मेरी फुद्दी नू शांत कर दे अज्ज… उस कंजर दी लाई अग्ग अज्ज बुज्जा दे… उह्ह…मैंने लंड निकाला और चुत में पूरा पेल कर 5-7 झटके मारे और उसकी चुत के अन्दर ही झड़ गया. लड़के ने भी चूत की पूरी इज्जत करते हुए बुर प्रदेश को पोंछ पांछ के चाट लिया. वो बनावटी गुस्से में आकर मुझसे बोली कि चलो अब हटो, बहुत बातें हो गई.

अपनी बहन के होंठों को चूसते हुए मैं उसकी कमर, चूचे गांड सभी अंगों को मसलने लगा, जिस कारण से वो भी गर्म होने लगी और फिर उसका विरोध भी कम हो गया. ”मुझे आंटी की तरफ से ग्रीन सिगनल मिल चुका था इसलिए मैं भी बिना देर किए उनके चूचे एक एक करके चूसने लगा. ऐसे तीन चार बार करने से मेरी कोशिश रंग लायी और मेरा सुपाड़ा बहू की चूत में घुसने में कामयाब हो गया.

मैंने सोचा कि क्लास के किसी लड़के से चुदाई करवा लूँ लेकिन डरती थी कि साला मुझे रण्डी ना बना दे. शायद मेरे इसी व्यवहार से उसने रात को मुझे वो तोहफा दिया जो एक पत्नी अपने पति को देती है.

मैं रुक गया… इन्तजार करने लगा कि मेरी बेटी की बुर का दर्द कुछ कम हो जाए.

पसीने से ब्लाउज भी तरबतर होने से उसमें से रूपा की ब्रा दिखाई दे रही थी. सेक्सी देखना चाहते हैंबाकी जो दो अंकल एक ड्राइवर के बगल से और एक हमारी सीट में ही किनारे में बैठे थे, दोनों बोले- कहां कब्जा कर लिया यारो? कुछ बताओ?तभी चाचा बोले- सिन्धु, रोहित सो गया या जग रहा है?रोहित आगे वाले अंकल की गोद में बैठा था!अंकल बोले- ये तो गाड़ी चलने के थोड़ी देर में ही सो गया था. ओरल सेक्स फोटोआंटी मेरी तरफ घूम गईं और अब मैंने ब्रा सही करने के बहाने उनके मम्मों को सहलाने लगा. उसकी चूत तो इतनी टाइट लग रही थी कि देख कर कोई भी बता देगा कि इससे पहले वो चुदी ही नहीं थी.

वो मुझे बोली- आपको नींद नहीं आ रही?मैंने कह दिया- हाँ आ तो रही है लेकिन आपकी बांहों में सोने का मन कर रहा है.

फिर हम दोनों बाथरूम में जा कर साथ में नहाए और रात भर साथ में नंगे सोए थे. मेरी तो जैसे पूरी थकान गायब हो गई और उसे देख कर मैं बहुत खुश हो गया. बस यही ख़याल बार बार आ रहा था कि कल कोई मुझे भी प्यार करेगा और मुझे भी आनन्द मिलेगा.

मैं चाची के पेट में हाथ फेरते हुए बोला- प्लीज दिखाओ ना चाची अपनी नुन्नू. रीतिका भाभी ने पूछा- पूजा, आज से पहले किया है किसी के साथ या आज पहली बार में ही पकड़ी गई?पूजा कहती- नहीं भाभी, आज पहली बार है. संजय ने बरखा को अपना लंड चुसवाया ताकि वो गीला हो जाए और उसकी चुत में ठीक से घुस जाए.

विद्या बालन के सेक्सी व्हिडीओ

सारिका मेम की चुत से पानी निकलने लगा था और चॉकलेट सीरप में मिलकर बड़ा टेस्टी लग रहा था. मैं उनके एक निप्पल को चुटकी से मसलता और दूसरे को मुँह में लेकर चूस रहा था. दीदी भी अब उछल उछल कर अपनी गांड मरवा रही थीं, उनकी भी मज़ा आ रहा था.

शिशिर अपने लंड को मेरे मुँह में अन्दर बाहर करते हुए मेरे मुँह को ही चोदने लगा.

इतना कह कर रवि ने अंशु के रसीले होठों को चूसना शुरू कर दिया और उसके हाथ अंशु की चूचियों को निचोड़ रहे थे, उसके लंड के झटके तेज होने लगे थे और अंशु भी किसी खिलाड़ी की तरह उसके हर शॉट का जवाब दे रही थी।कैसी लगी मेरी सेक्सी कहानी?[emailprotected].

वो थोड़ा और झुक गई, जिससे सुरेश को उसके चूचे और ज्यादा सामने से नज़र आने लगे. विवश होकर आप मेरे ऊपर चढ़ गए और मुझमें बलपूर्वक मेरी इस में समा गए जैसे ही आपका विशाल लिंग मेरी प्यासी योनि में घुसा था, मैं समझ गयी थी कि मैं छली जा चुकी हूँ, कि मेरे साथ मेरा पति नहीं कोई और ही है क्योंकि आपके बेटे का लिंग आपसे बहुत छोटा और पतला सा है. सेक्सी ब्लू पिक्चर देखना हैइतने में मामी बोलीं कि यह तो गलत बात है कि एक सहेली मालपुआ खाए और सब देखते रहें.

आंटी मुस्कुराती हुई बोली- कर ले आज तू अपने मन की…मैंने वहीं पास में रखा हुआ सरसों का तेल उठाया और अपने लंड पर लगा कर उसको चिकना कर लिया. पूरा लंड घुसा देने के बाद जय ने निशा की कमर को जोर से पकड़ लिया और बहुत ही जोर जोर के धक्के लगाते हुए उसकी चुदाई करने लगा. और चुदाई देखने के लिए कल कुछ आईडिया कर लेना।सुबह हुई और उनके पति काम पर चला गए। आंटी ने मुझसे बात की और खाना खिलाया।मैं इंतज़ार करने लगा कि कब चूत रानी देखने को मिलेगी। जैसे ही वो नहाने गईं मैं जल्दी से दरवाज़े से झाँकने लगा। लेकिन मेरे किस्मत खराब निकली.

मैंने नेहा की गांड में अपनी एक उंगली डाली तो नेहा बोली- उई जीजू नहीं, यहाँ मत करो प्लीज़…मैंने कहा- देखो बेबी, मैं ध्यान से करूँगा, अगर तुझे मजा न आए या पेन हो, तो मैं नहीं करूँगा. तभी पूजा कहती- भाभी मुझे भी इसका स्वाद चखना है, मुझे भी चूसने दो प्लीज़.

पप्पू का प्लान सुन कर रूपा खुश हुई और प्लान के मुताबिक चलने का वादा किया.

उसने लॉन्ग कोट पहना हुआ था घुटनों तक का… अंदर आते ही सबसे पहले उसने अपना लॉन्ग कोट उतार कर टांगा. की आवाजें करते हुए भैंसों को पानी से बाहर हांकने लगा।5 मिनट बाद भैंसें पानी से बाहर आ गईं और हम घर की तरफ चल पड़े।भैंसों को बांध कर हम घर आ गए जहां रवि के साथ मैंने खाना खाया था. कुछ कपल तो लाइव वीडियो के समय मुझ से पूछते हैं कि अरुण बताइये आज मैं क्या क्या दिखाऊँ और कैसे कैसे दिखाऊँ.

मिया खलीफा ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी हम दोनों ही होते हैं।उसने अपने जाने की बात पायल दीदी को शायद बताई नहीं और वो घर से चली गई। थोड़ी देर बाद. करीब 10 मिनट बाद मेरा शरीर ऐंठने लगा और मैं झड़ गई और शांत पड़ गई।फिर से अंशुल ने दो धक्के लगातार मारे और मेरी बुर में उसका पूरा लंड घुस गया था क्योंकि उसकी गोलियाँ मेरी गांड के छेद पर टकरा रही थी.

अब मैं खुद ही उसका लंड अपनी घायल गांड में लेने के लिए बेचैन होने लगा, मेरी गांड उसके लंड की तरफ दबाव बनाती हुई उसकी जांघों के बीच में जाकर अंदर की तरफ घुसने लगी, वो मेरी गर्दन को चूमने लगा. अब मैं अपने लंड का सुपारा मौसी की गांड पर टिका कर घिसने लगा और धीरे से धक्का दे मारा. बोल लंड चूसना चाहेगी क्या?नीतू- नहीं दीदी मुझे सुनकर ही घिन आती है.

पंजाबियों की सेक्सी फिल्म

मैंने पक्का करने के लिए दुबारा घंटी की, तो ये बात सही थी कि फोन सोनी ही कर रही थी. मैंने नीलिमा से पूछा कि ये तो स्लीपर कोच है, अब एक ही बर्थ से कैसे सफ़र करेंगे, गाड़ी में एक लेडी हैं, आप उनसे आप बात करो ना कि वो आपके साथ एडजस्ट कर लें. ले अब पूरा चूस)मैंने मन ही मन कहा- आज तो बुरा फंस गया बजाज… ये नहीं छोड़ेगा आज…धक्के मारते हुए वो मेरे मुंह को चोदने लगा… लंड बार-बार मेरे गले में फंस रहा था जिससे मेरी सांस रुकने लगी और उल्टी होने लगी.

दोनों 69 की पोजीशन में एक दूसरे को चाट कर शांत करने की कोशिश करने लगे. अब मैंने पूरी तरह खुद को उनके हवाले कर दिया था, वो सब मुझे चूम रहे थे, नोंच रहे थे.

वैसे संजय जैसे लड़के के साथ ऐसा ही होना चाहिए, जो नादान लड़की और खास कर फैमिली मेंबर्स के साथ ऐसा घिनौना काम करता है.

सुमन- ओह पापा… आप कितने अच्छे हो इस्स… इतना प्यार कर रहे हो मुझे बहुत अच्छा लग रहा है… उई… काटो मत ना पापा. पप्पू बोला- अरे तो इसमें क्या गंदा बोलते हैं? गोरी टाँगें और जाँघें क्या गंदा है? वैसे भी देख तू गोरी है तो गोरा तो बोलेंगे ही ना? मैंने तेरा बाकी जिस्म देखा है अब बस अन्दर की जन्नत देखनी है तेरी. मैंने देवर के लंड को अपने मुँह में ले लिया और तेजी के साथ चूसने लगी.

करीब 10 मिनट तक उसने मेरा लंड चूसा फिर मेरे बिना कुछ कहे बिस्तर पर टांगें फ़ैला कर लेट गई और कहने लगी कि सारे मज़े तुम ही लोगे या मुझे भी दोगे?मैं उसके चेहरे पर फुद्दी मरवाने की वासना साफ देख सकता था, उसे चुदने की आग लगी हुई थी. इस बीच वो बहुत गर्म हो चुकी थी, जिसका अनुमान उसकी साँसों के फूलने और पैरों के फैलने से लगाया जा सकता था. दोस्तो आपने मेरी देसी हॉट सेक्स स्टोरी में अब तक पढ़ा कि मेरी चचेरी बहन मेरे साथ बिस्तर में थी और मैं उसकी गांड के छेद को चाट रहा था जबकि वो मेरे लंड को चूसने में नखरे कर रही थी.

जल्दी से मैंने अपनी शॉर्ट्स और पेंटी निकाल दी और मोबाइल पे वीडियो देखने लगी.

टीचर्स बीएफ: उफ्फ्फ… वो अहसास उनके मस्त बड़े बड़े चूचे एकदम नर्म और मुलायम, दूध से भरे हुए. शाम को वो दोनों अकेली अपने रूम में लेटी थीं और लैपटॉप पर कुछ देख रही थीं, तभी मैं अन्दर घुसा तो मेरी नजर लैपटॉप पर पड़ी.

मामी एक बार झड़ चुकी थीं, उनकी चुत से निकलता काम रस मेरी उत्तेजना बढ़ा रहा था. बहुत सारा थूक लगा कर दीपक ने रीना की गांड में लंड पेल दिया, जो धीरे धीरे सरकते हुए पूरा गांड में समां गया. अपने हसीन सपने से जगकर मैं भी घबरा कर पीछे की तरफ छिपकर नीचे बैठ गया.

वो धीरे से मुझे चुम्बन करने लगी और अपने होंठों को मेरे होंठों के साथ सटा कर उसने एक लम्बा चुम्बन किया.

अरे एक ही चूत को चोदकर अगर तुम्हें कुछ अच्छा नहीं लग रहा तो मैं अपनी एक फ्रेंड को बुला लूँ?”मैं चौक गया. मैंने उनकी पेंटी भी उतार दी और उनकी गोरी चुत पर चॉकलेट सीरप लगाया कर चाटने लगा. मैंने अजय को पैसे दिए और कहा- अजय, ये 500 रुपए ले और दो घन्टे से पहले घर मत आना.