वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी झवाझवी चालू

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ विदेशी मूवी: वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी, ऊपर से मेरे सामने उसके दो तने हुए मम्मे मुझे ललचा रहे थे, जिनके ऊपर जालीदार ब्रा उसके आमों की खूबसूरती में चार चांद लगा रही थी.

लड़की और कुत्ते की सेक्सी दिखाइए

जिस टाइम मेरी उनसे बात होती थी, उस टाइम वो आपने पति से बहुत दुखी थीं क्योंकि उनके पति का बाहर किसी और से चक्कर चलता था. नौकरानी की सेक्सी विचुत ने लंड को जड़ तक निगल लिया और चुत की गर्मी और कसावट दोनों लंड को पिघलाने को तैयार थी.

मैंने भी उसकी चूत की चुदाई और तेज कर दी और दोनों ही मस्ती के सागर में गोते खा रहे थे. देवर भाभी की सेक्सी पिक्चर भेजोमैंने भी देर नहीं की और अपना 6 इंच का मोटा लंड उसकी चुत पर सैट कर दिया.

लेकिन मैंने अपने मन को मारा और अपने लन्ड को कंट्रोल करते हुए चुपचाप पूजा को रसोई के पास उतार दिया.वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी: उनकी बात सुनकर ही मेरे तो मुँह में जैसे लड्डू आ गया कि अब तो अंकिता चुदाई के लिए तड़प रही होगी.

ये कहते हुए उन्होंने सबसे पहले उस जॉकी को ही धोने के लिए उठाया और वो उस पर लगे वीर्य को देखा, जो सूख कर कड़क सफेद हो चुका था.मम्मी अचानक हुए हमले से उनसे छूटने की कोशिश कर रही थीं, पर संपत जी ने उनकी पूरी लिपिस्टिक चूस ली और खा गए.

फुल एचडी सेक्सी गाना - वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी

मैं अपना मुँह उसकी चूत पर रख जीभ अन्दर-बाहर करने लगा। पिंकी मेरी हरकत से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ करने लगी।कुछ देर के बाद मैं अपना लंड पिंकी की पिंकी के अन्दर डालने लगा.तो कभी बाईं तरफ अपना चेहरा रगड़ता और कानों के पास मस्ती भरे शब्द फुसफुसाता आह.

मैं तो जैसे पागल हो गया … मजा सजा बन गया था।फिर उसने अचानक मेरी अंडरवियर उतार दी. वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी यह अपने परिवार को लेकर ही नहीं, और भी कई लोगों के लिए बाबा ने सच्ची बातें बताई हैं। सोचने समझने की बात तो है अगर उन्होंने कोई संकट बताया है तो हम उसका इलाज करें क्योंकि उन्होंने कहा था कि अगर तुम सूझबूझ से काम लोगे तो उस संकट से बचा जा सकता है.

इधर मेरे दिमाग की बत्ती भी भक्क से जल उठी; सामान वाले बंद कमरे में मैं और अदिति बहूरानी … मतलब बंजारिन को चोदने का पूरा इंतजाम खुद ब खुद हो गया था.

वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी?

मेरा पानी निकलने वाला है, कहाँ निकालूँ?मामी बोलीं कि मेरी गांड में ही अपना पानी निकाल दो. वे अपने एक हाथ से अपनी एक चूची को मसल रही थीं और दूसरे हाथ से चूत में लम्बा वाला बैंगन डाल रही थीं. मामी ने मुझे बहुत धमकाया कि मैं तुम्हारे मामा को बता दूँगी कि तुमने मेरी ऐसी वीडियो बनाई है.

पता नहीं क्यों मेरे अन्दर से बात निकल गयी और मैंने उसे उत्तर दे दिया कि सोच कर बताऊंगी. वो अपने शब्दों को सँभालते हुए आगे बोला- अरे पर हमारी बात अलग है… आप हमसे से चुदवाना चाहती थी और हम आपको बड़े दिनों से चोदना भी चाहते थे. हम दोनों कभी कभी रात भर एक दूसरे से फ़ोन पर बातें करते रहते थे और कभी कभी तो हम लोग एक दूसरे से मिले बिना बेचैन हो जाते थे.

पेड़ों की छांव में दोपहर काटी, वहीं जो खाना साथ ले गए थे, सबने बैठ कर खाया और प्रकृति का आनन्द लिया. साले बहुत बड़े रोड ठेकेदार हैं करोड़पति हैं, उनसे जरूर अपनी गांड चुदाई करवा लेना वन्द्या. इसको पढ़कर जहाँ आपके लंड खड़े हो जायेंगे वहीं आपकी आँखों से आंसू भी बह निकलेंगे.

उन्होंने देर ना करते हुए मेरे अंडरवियर को भी उतार दिया और मुझसे कहने लगीं कि अरे भैया जी ये आपका लंड है या हथौड़ा. मेरी उम्र अभी इक्कीस साल है और मेरे लंड का साइज़ सवा छह इंच है, लंड की मोटाई तीन इंच है.

मुझे अंदाज़ा लग गया था कि वो लंड घुसते ही जरूर चीखने की कोशिश करेंगी.

मैं उसे देख कर एकदम से उत्तेजित हो कर सोचने लगा कि क्या माल है और ऐसा लग रहा है कि जैसे ये भी मेरे साथ मस्ती करना चाहती है.

”मैं उनके पीछे जाकर उनसे सट के खड़ी हो गयी। एक साथ धक्का देने से टहनी थोड़ा सा खिसक तो गयी पर मेरा बदन उनके नंगे बदन पर रगड़ने की वजह से मेरी कामवासना जागृत होने लगी। मेरे स्तन उनकी पीठ में घुस गए थे, मुझे पूरा भरोसा था कि अंकल भी उत्तेजित हो गए होंगे।नीतू … थोड़ा और जोर लगाना होगा, तुम पीछे से ज्यादा जोर नहीं लगा सकती। एक काम करो तुम आगे हो जाओ, मैं तुम्हारे पीछे से जोर लगाता हूँ. वैसे मुझे उन चारों से कोई रंज नहीं था, उन्होंने मुझे गांड चुदाई का एक नया अनुभव दिया था जिसका दर्द भरा आनन्द मैंने भी लिया था. यह बात आपने मेरी प्रिय वेबसाइट अन्तर्वासना पर मेरी पहली कहानीऐसे बना चंद्र प्रकाश से चंदा रानीमें पढ़ी थी.

मैंने तो उन्हें जब से देखा है, तब से ही फिदा हूँ और उनके नाम की रोज बेनागा मुठ मारता हूँ. तभी वो अपनी दो उंगलियां मेरी पीछे तरफ मेरी जांघों को थोड़ा फैला कर जहाँ सुराख था, उसमें डालने लगा तो मुझे गुदगुदी सी हुई. मैंने अपने लंड पर भी थूक लगा लिया और फिर से उसकी गांड में अपना लंड डाल कर मुस्कान की गांड मारना चालू कर दिया.

एक तो प्रिया की इतनी मस्त कमर और ऊपर से उसकी गोरी गांड देख कर मन कर रहा था कि बस उसकी चुदाई करता रहूँ.

मैंने हिमानी को बेड पर लिटाया और उसकी टांगों को खोल कर चूत को चौड़ी करके देखा. ”लंड पर लंड की घर्षण, चेहरे पर चेहरे की घर्षण होने से मैं उत्तेजित हो गया. फिर वो बोली- मगर दीदी कभी दिल में यह ख़याल ना लाना कि मैं अभी भी उन पर नज़र रखती हूँ.

मामी ने करवट बदली, खुद ऊपर से नीचे आ गयीं और मुझे नीचे से अपने ऊपर कर लिया. बस एक दिन पहले ही सभी को बताया ताकि उसके बेटे को कोई बता कर उसके रंग में भंग ना डाल दे. मेरा पानी निकलने वाला है, कहाँ निकालूँ?मामी बोलीं कि मेरी गांड में ही अपना पानी निकाल दो.

और मुझे पिंकी कहते हैं, तुम?मैंने अपना नाम पीटर, दिल्ली का रहने वाला बताया।तो पिंकी बोली कि वह भी दिल्ली में ही रहती है और किताब मेरे हाथ से छीन ली।पढ़ते पढ़ते ही हम लोग बातचीत में भी मशगूल रहे और परिचय बढ़ा लिया। उसने पूछा कि क्या मैं उसका दोस्त बनना पसंद करुंगा?तो मैंने कहा- कोई बेवकूफ ही इतना अच्छा आफ़र ठुकरा सकेगा.

मैंने समझ लिया कि शायद आज इनका चुदने का मन है, इसलिए ये मेरे पास आई हैं. मैं यूपी के गाजियाबाद का हूँ, अच्छा ख़ासा मस्त जिस्म वाला लड़का हूँ.

वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी मैंने मदर डेयरी पर टोकन खरीदा और लाइन में लग गया, लेकिन मैंने देखा कि मेरे आगे सरिता भी दूध की लाइन में लगी हुई थी. वो कभी कभी मेरी गांड को भी जोर से दबा दे रहा था और कभी कभी मुझे अपने ऊपर लेकर मुझे चोद रहा था.

वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी उसने मस्ती में अपनी आँखें बंद कर रखी थीं, जिसे मेरे कई बार खोलने के लिए कहने पर भी उसने नहीं खोला. उसकी कसी हुई ब्रा में से किसी पर्वत के सामान उठे हुए चूचों को मैंने जैसे ही आजाद किया.

अगले ही पल मौसी मेरे 7 इंच के लंड को चूस रही थीं और मैं मौसी के मुँह को ही चुत समझ कर चुदाई करने लगा.

मधु वीडियो

मैंने उनको सीधा चित लेटने को कहा, पर वे बोलीं कि नहीं मुझे घोड़ी बन कर ही मजा लेना है. बस एक दिन पहले ही सभी को बताया ताकि उसके बेटे को कोई बता कर उसके रंग में भंग ना डाल दे. वो- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?मैं एकदम से चौंक गया क्योंकि किसी कस्टमर ने आज तक मुझसे ऐसा नहीं पूछा था.

हमारी टैक्सी लाल किले के निकट पहुंच रही थी; किले की गुम्बदें साफ़ दिखाई देने लगीं थीं इधर कम्मो की जांघों के बीच छुपा लालकिला भी मुझे ही पुकार रहा था जिस पर मुझे चढ़ाई करके जीतना था पर सुरक्षित जगह की वजह से पता नहीं जीत भी पाऊंगा या नहीं. मैं ये देख कर गनगना उठा और चाची की चूत के फांक में अपना अंगूठा रगड़ रगड़ कर चाची को बेहाल करने लगा. मैंने जैसे ही ये किया और मेरी गर्म सांसों ने उसकी गरदन को छुआ, वो एकदम से सिहर उठी.

दिनेश के द्वारा मेरी चूत में उंगली करने और चूत चूसने से मैं जोर जोर से हांफने लगी, मेरी सांसें तेज होने लगीं.

रजत ने दरवाजा खोला और बिना कुछ बोले वापिस आकर हॉल के सोफे पर बैठ गया और टीवी देखने लगा. अब जिधर दादी लेटी थी, उधर अंकित हो गया और दूसरे साइट में अंकल लोग लेटे थे, बीच में मैं हो गई. हमें कुछ नहीं करवाना है आपसे न कुछ दिखाना है आपको, बस!” कम्मो अभी भी जिद पर अड़ी थी.

उसने मेरा नाड़ा पकड़ लिया, मुझे पता भी नहीं चला और उसने एक झटके में नाड़ा खोल दिया. स्नेहा भी अत्यंत चुदासी थी, वो मेरे सिर को अपने मम्मों पर दबाने लगी. एक दिन वो मेरे घर आया और मैं अपने बेडरूम में थी तो वो मेरे बेडरूम में चला आया.

मैंने उसकी जुबान मेरे होंठों से खींच कर अपने मुँह में ले ली और उसकी जुबान को चूसना शुरू कर दिया. फिर वो बोली- जीजू फिर कब मिलोगे?मैंने बोला- तुम फिर कब आओगी? शाम को फिर आओ ना …!वो हंस के बोली- आई विल ट्राय बट जीजू … तुम अकेले ही रहना, मैं सिर्फ आप के लिए आऊंगी.

दूसरी आंटी को देखकर मैंने अपने दोस्त से इशारे में पूछा- कैसी है?तो उसने भी इशारे में जवाब दिया- मस्त माल है।तब तक शबाना आंटी पानी लेकर आई. अगर मैंने कुछ पहल दिखाई और उसने मना कर दिया तो मैं उससे फिर नज़र नहीं मिला पा सकूँगी. मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था, फिर भी समझा गया कि दीदी सेक्स चाहती है.

पूर्वी- टाइम?मैं- दो बजे से पांच बजे तक के बीच बुक कर दीजिए अगर आपको सूट करता हो तो!पूर्वी- ठीक है, मैं कर देती हूँ.

आज तुम मेरे साथ रहना।फिर हम एक बिल्डिंग में गए, कार पार्क की और लिफ्ट से साक्षी के घर गए। अन्दर आते ही साक्षी ने गेट बंद किया और बोली- रोबिन जाओ बेटे रूम में. मैं प्रत्येक धक्के को महसूस करके बड़ी नजाकत और सुकून में धीरे धीरे उन्हें पेलने लगा. मैं एकदम फिट और आकर्षक बदन का मालिक हूँ क्योंकि मैं रोज अपने घर पर ही कसरत करता हूँ और आकर्षक, हैंडसम बॉय हूँ.

चुदाई के साथ ही मैं प्रिया के होंठों का रस चूस रहा था … जिससे उसकी आवाज नहीं निकल सकी. मौसी स्टोर रूम की सफाई कर रही थीं, मैं भी स्टोर रूम में जाकर उनकी हेल्प करने लगा और इसी बहाने उन्हें टच भी करता रहा.

तभी उन्होंने इधर उधर देखकर अपना पेटीकोट भी उतार दिया और मेरी और पीठ करके खड़ी हो गईं. इस बात पर वो हँसने लगीं और मेरे करीब आकर बोलीं- इतने साल से तो कुछ कर नहीं पाया. इसलिए अगर मर्द और औरत एक अच्छी गति और सनसनी के साथ संभोग कर रहे हों, तो उन्हें रुकना नहीं चाहिए क्योंकि इसी समय दोनों के बदन एक साथ काम करते हैं.

धांसू शायरी

वो भी मेरे मुंह में अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा और कुछ देर के बाद वो झड़ गया और अपना माल बाहर निकाल दिया.

हां मगर पहले नाम अपना ही रखना ताकि यह ना समझा जाए कि मेरे मन में कोई खोट है. मेरी बीवी को सामान मंगाने का ऑर्डर दिए चार दिन हो गए थे, लेकिन पायल आ नहीं सकी थी. उसकी बातों से मुझे लगा कि मेरी दाल नहीं गलेगी, क्योंकि वो काफी स्ट्रेट लग रहा था.

वैसे तो मामी मेरे बारे में कभी ऐसा वैसा नहीं सोचती थीं, लेकिन मैं हमेशा से उनको चोदने का मौका खोजता रहता था और अपनी कोई हिंदी सेक्स कहानी बनाना चाहता था. मैंने उसको एक किस किया और धक्के लगाना चालू किया और नॉनस्टॉप ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. कुमारी लड़की की सेक्सी पिक्चरमैंने भी थोड़ा सा गिरने का नाटक किया तो वे स्टूल के बजाय मेरी कमर को पकड़ के मुझे संभालने लगे.

फिर धीरे से वो मेरे पेट को चूमते हुए मेरी झांटों तक पहुंचा और उसने अपने दांतों से खींचते हुए मेरे शॉर्ट्स को उतार दिया. एक मिनट तक मेरी गांड के फूल को सहलाने के बाद उन्होंने अपनी बीच वाली लम्बी उंगली मेरी गांड में घुसा दी.

अंकल के लंड की चमड़ी सुपारे के पिछले हिस्से पर से जैसे ही पीछे को हुई कि सुपारा एक मस्त टमाटर सा दिखने लगा. मेरे जिस्म में अब कोई दर्द नहीं था, सिर्फ और सिर्फ सेक्स की प्यास थी. मैं एक हाथ से अपने लंड को पकड़ कर थोड़ा सा आगे की तरफ झुक गया और अपने सुपारे को उसकी चुत की दरार पर लगा दिया, जिससे प्रिया ने एक आह … भरी और अपनी टांगों को थोड़ा और फैला लिया.

आज मेरा सपना पूरा होने वाला था दोस्तो … मैं उनके कपड़े ऊपर से निकालने लगा, तो उन्होंने मना कर दिया. उनका फिगर 36-34-37 का एकदम ठंसा हुआ है, अभी तक इनके कोई औलाद नहीं हुई थी. मैं अपने बॉयफ्रेंड के साथ चुदवाती थी तो मुझे अब चुदवाने का मन करने लगा.

चोद कर थकने के बाद जब उसका लंड पानी छोड़ने वाला था तो उसने अपना लंड उसकी गांड से निकाला और मयूरी को पलट कर सीधा किया और अपना लंड सीधा अपने बेटी के मुँह में जबरदस्ती डाल दिया.

मैंने कहा- हां, कुछ मैंने रख लिये हैं ताकि तुम किसी को ये ना बता पाओ कि इस बारे में मुझे पता था. वो मयूरी से बोला- मयूरी, अंदर चलें बेटा?मयूरी- क्यूँ पापा?अशोक- इनको रंगे हाथ पकड़ते हैं और फिर जोरदार चुदाई करेंगे… खुले में… सबके साथ…मयूरी- आज नहीं पापा… कल… यही तो मेरे जन्मदिन का तोहफा होगा… भूल गए?अशोक- अच्छा, चलो फिर कमरे में… तुम्हें तो चोद लूँ जी भर के… ये सब देखकर मेरा लंड उफान मार रहा है.

लेकिन अब मेरा ध्यान तो सिर्फ मौसी के ऊपर ही था कि कब रात हो और मैं मौसी की चुदाई करूँ. हम सिनेमा के लिए हमारी सोसायटी से थोड़े दूर ही निकले थे कि एक फ़ौरचूनर कार आई. लेकिन अब मेरा ध्यान तो सिर्फ मौसी के ऊपर ही था कि कब रात हो और मैं मौसी की चुदाई करूँ.

यह कह कर टीचर जब उठे, तो उनका तौलिया गिर पड़ा या उन्होंने जानबूझ कर गिरा दी. थोड़ी देर ऐसे ही मयूरी के टॉप के ऊपर से ही उसकी चूचियों को मसनले के बाद अशोक उसकी टॉप को थोड़ा ऊपर कर दिया पर उसको निकाला नहीं!चूँकि मयूरी ने बिल्कुल ढीला-ढाला टॉप पहना हुआ था वो भी बिना ब्रा के तो इस हिसाब से उसके टॉप को निकलने की कोई जरूरत भी नहीं थी, थोड़ा सा ऊपर करते ही वो पूरी तरह दिख भी रहा था और पकड़ा भी जा सकता था, लगभग उसके उतार देने जैसी ही बात थी. इस बार मैंने उसकी चुत पर थोड़ा थूक लगाया और अपना लंड उसके मुँह में देने को किया.

वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी वो बोलीं- हां इस हालत में आपके घर से निकलकर अपने घर जाऊँगी, तो आस पास वाले लोग बोलेंगे कि ये बिन मौसम कहां से भीग आयी. उसके बाद मैंने उस रात उसकी एक बार और चुदाई की क्योंकि मुझे अगले दिन रेशमा रानी की भी चुदाई करनी थी क्योंकि मैं तो वहां रेशमा रानी के लिए ही गया था, मैं उसे नाराज नहीं कर सकता था.

दिल्ली कॉलेज की सेक्सी वीडियो

अशोक- जरूर मेरी जान… अब तो मैं तुम्हें रोज़ ही चोदूँगा… और कल तेरी गांड का दरवाजा भी खोल दूंगा. तो कम्मो का यूं अपनी टाँगें चौड़ी कर देना क्या मेरे लिए आमंत्रण था या वो सिर्फ अपने कम्फर्ट के लिए पैर ऐसे किये बैठी थी?यह सोचते हुए मैं किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाया. ये सुनते ही मैंने पूरा का पूरा माल उसके मुँह में डाल दिया और उसने एक घूँट में ही मेरा पूरा माल पी लिया.

पहली चुदाई की कोशिश चादर ओढ़ कर की, जिससे होटल के अन्दर छिपे कैमरे से बच सकें. उस दिन उसने शॉर्ट फ्रॉक पहनी हुई थी, जिसकी वजह से उसकी चिकनी टांगें पूरी साफ़ दिख रही थीं. सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो चुदाई कातभी मुन्ना अंकल उधर पीछे दरवाजे के पास चौकीदार की तरह खड़े अंकित को बोले- अबे साले अंकित, उधर क्या ताक झांक कर रहा है.

भाभी की गोल चुचियां, सपाट चिकना पेट, गहरी नाभि, केले की तरह चिकनी लम्बी टाँगें और उनके बीच में छुपी वो चिकनी गुफा, जिसके पीछे पूरी दुनिया पागल है.

अब मैं उनके खड़े हुए टाइट निप्पल को अंगूठे और उंगली के बीच लेकर ज़ोर ज़ोर से कुरेदते हुए मसलने लगा. कुछ देर बाद मैं एक लड़की के पास गई और उससे बोली- मुझे तुमसे कुछ पूछना है.

मैं उसको चूमे जा रहा था और प्रिया ने मुझे धक्के देकर हटाने की कोशिश करते हुए कहा- नहीं … मुझे नहीं करना … आईईई … मम्मीईईई … इसे तुम बाहर निकाल लो … प्प् …प्लीज!लेकिन मैं अपने लंड को प्रिया की चुत में घुसाये हुए उससे लिपटा रहा और उसके गालों को चूमने चाटने लगा. यह तो आपके घर पर बिना सॅलरी के भी काम कारने को तैयार है, अगर रात को रहने दिया जाए और खाना पीना भी मिले तो इसको सब जंचेगा. मेरे लंड के झटके के साथ आंटी अपने मुँह से मादक सिसकारियां निकालते हुए मुझे साथ देने लगीं.

रूम खाली होने की वजह से सिर्फ मेरी और मनीषा की सिसकारियों से गूँज रहा था.

अगर गौर से देखो तो उसकी चूत का दाना भी उसकी खुली दरार से नज़र आ ही जाता. हां इतना जरूर करूंगा कि कहीं कोई मौका देख कर चूमा चाटी हो जाय और कम्मो के मम्में दबाने सहलाने को मिल जायें बस. साथ ही भाभी की चूत में अपने लंड के लम्बे लम्बे धक्के मारता हुआ उन्हें चोदे जा रहा था.

सेक्सी वीडियो माल गिराने वालामैं बहुत उत्सुक हो गयी, तभी किसी ने दरवाजा खटखटाया … तो मैंने तुरंत मोबाइल बन्द कर दिया और दरवाजा खोला. पर मेरा अभी आधा लंड ही अन्दर गया था और उसकी चूत से खून निकल रहा था.

चुत मे लवडा

मेरी दीदी का देवर मेरे कपड़ों के ऊपर से मेरी चूची को दबा रहा था और कुछ देर के बाद वो मुझे किस करने लगा. कुछ ही दिनों में हमारा आपस में मिलना या एक दूसरे को देखना भी ख़त्म हो चुका था क्योंकि वो किसी दूसरे शहर में जा चुका था. अन्त में कम्मो झिझकते हुए मान गयी और उसने डार्क ब्राउन कलर का फोन सेलेक्ट कर लिया.

तब अंकल ने मेरे सिर के पीछे अपना हाथ लगा कर मेरी नाक को अपने लंड के सुपारे के काफ़ी पास ला दिया, लेकिन मैं अब भी उसे सूंघ नहीं रही थी. मैं उसके गले में किस करने के साथ उसके मस्त गोल बूब्स को कपड़े के ऊपर से दबा रहा था. शाम को मेरी मामी से कहा गया कि वो मुझे लेकर घर चली जाएं क्योंकि घर पर कोई नहीं था और सुबह सबके लिए खाना बना कर मेरे साथ फिर हास्पिटल आ जाएं.

अब मेरी जवानी भी कूदने लगी और मेरी चूत भी उसका लंड लेने को बेताब हो गई. चाचा मुझसे लिपटे लिपटे बोले कि चल वन्द्या डार्लिंग अब लेट जा, अब अपन मस्त चुदाई का खेल शुरू करते हैं. पायल के बारे में भी कुछ लिख दूँ, ताकि आपको भी उसकी सुन्दरता का भान हो जाए.

मयूरी ने वादा किया था कि वो सबको अपने घर में हुए दोनों भाइयों और पिता के साथ चुदाई की कहानी बताएगी. फिर बहुत जोर देने पर उसने बताया कि उसके अब्बा ने ही उसकी सील तोड़ी और अब घर में रोज़ खूब चुदाई चलती है.

जैसे ही चाचा ने अपनी एक उंगली को चाची की चूत में घुसाया कि चाची का पूरा बदन सनसना उठा और वो अपने बदन को ऐंठते हुए चूतड़ उछालते हुएऔर बड़बड़ाने लगीं- ओह.

फिर आयेशा और साहिल उठकर बाहर चले गए और कमरे का गेट बाहर से बंद कर दिया. सेक्सी फिल्म हाथी घोड़ामैं उससे टिक गई तभी वो समझ गया कि लौंडिया राजी हो गई है और इसी के साथ उसका एक हाथ मेरे सूट के अन्दर चला गया. सेक्सी इमेज देसीवो अपनी गांड को जोर जोर से पीछे धकेल रही थी, जिससे मुस्कान की गांड में मेरा लंड पूरा अन्दर तक चला जाता. थोड़ी देर तक उसकी यह हरकत चलती रही और फिर अचानक मेरी चूत में अपनी उंगली डाल दी.

फिर भी टीचर और ज़ोर लगा के अन्दर डालने की कोशिश कर रहे थे और इसमें मैं भी उनका साथ देने की कोशिश कर रहा था.

उन्होंने नीचे ब्लैक कलर की पैंटी पहनी हुई थी, जिसमें वो मस्त लग रही थीं. वो अपना मुँह मयूरी की चुत के पास ले जाकर उसको सूंघने लगा और मयूरी ने अपनी चुत की झाँटें आज ही साफ़ की थी तो उसका योनिक्षेत्र एकदम साफ़ सुथरा था. उसके कमरे का एक दरवाजा भाभी के कमरे में खुलता था, जिसे वह बंद रखती थी और दूसरे दरवाजे के बाहर एक कवर्ड बरामदा था, जिसमें से सीढियाँ नीचे उनके ड्राइंगरूम में जाती थी.

थोड़ी देर बाद वो व्यक्ति भी उठा और माइक की तरफ देखते हुए बोला कि आपकी पत्नी मुनीर कमाल की औरत है, काश उसकी पत्नी भी वैसी ही होती. मेरी चूत अभी तक चुदी नहीं थी, इसलिए इसे चुदाई के लिए कोई सख्त लंड चाहिए था. इसलिए मैं भी तुमको पूरा नंगा देखूंगी… फिर मुझे बराबर लगेगा… तुम समझ रहे हो न?रजत घबरा भी रहा था और शर्मा भी रहा था.

पति को प्यार से बुलाने वाले नाम

मेरे इतना कहते ही समाली अंकल ने कस के मुझे पकड़ लिया और मेरे मुँह में अपने मुँह को रखकर मेरे जीभ को चूसने लगे. चूंकि मैं ज़्यादातर हॉस्टल में ही रही थी, इसलिए मुझे घर का काम, खास कर रसोई का तो बिल्कुल भी नहीं आता था. मैंने झटके मारने शुरू कर दिए और हर झटके से उसकी सिसकारियां निकलने लगीं.

वो तुरंत फोन काट कर से मेरे घर आ गया और मुझसे चिपक कर मुझे चूमने लगा.

पायल- प्लीज ऐसी बात मत करो ना, दस बार से तो मेरी हालत खराब हो जायेगी, मेरे बारे में भी सोचो ना.

फिर उसने मेरे पजामे को नीचे कर दिया, अब मैं मेरे आशिक़ के सामने ऊपर उठा शमीज, उसके अंदर नीली ब्रा और काली चड्डी में थी. फिर उसने मेरे पजामे को नीचे कर दिया, अब मैं मेरे आशिक़ के सामने ऊपर उठा शमीज, उसके अंदर नीली ब्रा और काली चड्डी में थी. अमेरिकन सेक्सी हिंदीअभी तक तो मैंने पूजा की सहेली को नहीं चोदा है, पता नहीं कब पूजा उसे मुझसे चुदवायेगी.

तो मैंने पूछा कि मामी इस वीडियो का क्या करूँ?तो मामी बोलीं- इसको रखे रहो. मैंने उसी दिन सोच लिया था कि अब तुम से चुदने के बाद ही वे चोदेंगे!उसके बाद मैंने बाकी लंड जोर से धक्के के साथ डाला और उनके मुंह से चीख निकल गई और चेहरे पर दर्द का भाव भी आया. फिर थोड़ी ही देर में उसने अपने एक हाथ से शीतल के एक हाथ को अपने लंड के ऊपर रख दिया.

वो अपनी आंखें बन्द करके कसक सी रही थी और मेरे धक्का लगाने के डर से अपने शरीर को कड़ा किए हुए थी. भड़वे साले ओहहहह आहहह मार ही डालोगे क्या?मुन्ना ने पूरा लंड मेरे मुँह में भर कर ठूंस दिया.

फिर मैं खुद ही सुपारे की गंध सूंघने लगी और ऐसा देख कर अंकल ने अपना हाथ मेरे सिर से हटा लिया और मुझे खुद ही सुपारा सूंघने दिया.

अभी मेरी उम्र 25 साल है, कैसे मैंने मेरी पड़ोस वाली भाभी को चोद कर उसकी बरसों की तमन्ना पूरी कर दी. वो मुझे चोद रहा था और मैं सिसकारियां ले रही थी- आह आह जानू चोदो मेरी चूत को … उम्म्ह… अहह… हय… याह… आज शांत कर दो मेरी चूत की प्यास बुझा दो … बहुत दिन से चुदी नहीं है आह आह आह…मेरे मुख से ऎसी आवाजें निकल रही थी. फिर मैंने उनकी गर्ल फ्रेंड को कैसे चोदा, ये मैं अगली कहानी में बताऊंगा.

आलिया भट्ट की सेक्सी वीडियो चुदाई हम लोग खाना खा चुके थे, लेकिन बारिश बन्द होने का नाम ही नहीं ले रही थी. फिर सर मेरी टांगों से किस करते हुए मेरी गांड के पास आए और उन्होंने मेरी गांड खोली.

कुछ मिनट यूं ही मौसी के चिपके रहने के बाद मौसी ने उठने का कहा तो मैं उनके ऊपर से हट गया. इतने में फिर से किसी ने दरवाजा खटखटाया तो अंकित अंदर से बोला- मैं लेट्रिन कर रहा हूं 15 मिनट बाद आना!मैं बिल्कुल डर गई कि अब क्या होगा? अंदर हम दोनों को कोई देख लेगा तो मैं तो किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं बचूंगी. उसकी इस मस्ती पर मैं शरमा गया और हंस कर बाहर बंगले के पार्किंग में उसकी स्कूटर थी, जिस पर सामान की थैलियाँ रखी थीं, वो उठाने लगा.

सोला बरस की बाली उमर को सलाम

लगभग 15 मिनट के बाद हम उठे, तो वो बेड पर गिरे खून के निशान देखकर घबरा गई. इस पर वो बहुत खुश हो गई और बोली- यार दोस्त हो तो कोई तुम्हारे जैसा, वरना यहां तो सब साली हरामजादियां ही हैं. ध्यान रखना कोई भी कमरे में न आने पाये, बहू के चढ़ावे के गहने भी वहीं संदूक में रखे हैं.

मैं 5 फुट 11 इंच की हाइट का एक बहुत ही गोरा और एथलीट बॉडी का मालिक हूँ. मैं कुछ समझ पाता उससे पहले ही बोलीं- कितने दिन बाद आये और भाभी के हाथ की चाय पिए बिना ही वापस आ गए.

मैंने मुस्कान से बोला- तुम्हारे पास कोई तेल या क्रीम है?वो बोली- हां है.

सर मेरी लुल्ली को हिलाने लगे, थोड़ा सा हिलाते ही मेरी लुल्ली लंड बन कर बड़ी हो गई. मुझे इस तरह से बड़ा मजा आया और मैंने इस तरकीब से आगे भी खेलने का मन बना लिया. मैंने अपना लंड फिर से उसके चुत पे टिकाया और धीरे धीरे अन्दर डाल दिया.

यह बात उन दिनों की है, जब मैं 19 साल का हो चुका था, मेरा कलर फेयर और बॉडी स्लिम थी और आज भी है. मुझे थोड़ा यकीन आया क्योंकि मेरे घर वाले तारा से मिल चुके थे, तो बाहर जाने से मना नहीं करेंगे. उस रात को सोते समय भी मैंने डर के मारे मौसी को टच नहीं किया, लेकिन तभी मेरा ध्यान स्नेहा की तरफ गया.

कहानी के अगले भाग में बताऊँगा कि कैसे छोटी चाची की गांड की चुदाई की और कैसे बड़ी चाची को भी चोदने के लिए गरम कर डाला.

वीडियो बीएफ एचडी सेक्सी: माइक ने भी तारा को पकड़ अपनी ओर खींचा और स्तनों को मुँह से चूसना शुरू किया. राजा जी, मैं चोद रही हूँ तो कैसा लग रहा है?चाचा- बहुत मजा देती हो तुम.

मैंने टंकी में से पानी निकाला और डालने लगा, तो अचानक मेरा हाथ फिसला और आधी बाल्टी पानी उनके ऊपर गिर गई और भाभी पूरी भीग गईं. मैंने भी उनका भरपूर सहयोग किया, मैं भूल गया था कि मैं एक छोटे से कस्बे से निकलकर भोपाल पढ़ने आया हूँ. उसने जानबूझ कर यह सब कहा होगा ताकि वो उसकी चूत पर जल्दी से अपना लंड डाले.

कम्मो भी टैक्सी की दूसरी ओर की खिड़की के पास खिसक गयी और मजे से वो सब क्सक्सक्स नंगे फोटो और चुदाई के वीडियो देखती रही.

एक दिन वो मेरे घर आया और मैं अपने बेडरूम में थी तो वो मेरे बेडरूम में चला आया. मैं पूरा न्यूड होकर मनीषा के ख्यालों में खोकर रज़ाई में सोते सोते मुठ मार रहा था. उसका इतना अधिक पानी निकला कि मेरे ऊपर, जिस कुर्सी पर वो बैठी थी उस पर, उसकी जाँघों से लेकर नीचे पैर तक और ज़मीन पर उसका पानी ही पानी फ़ैल गया था.