भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स

छवि स्रोत,नासिक की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉट सेक्सी वीडियो मजेदार: भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स, मैंने पीठ के बल लेटकर अपने पांव छाती की तरफ करके अपने घुटने पकड़ लिए.

भाई मां की सेक्सी वीडियो

अब दीदी भी अपने दर्द को भुलाकर अब उसका साथ खुलकर देने लगी थी और अब वो दोनों खुलकर एक दूसरे को धक्के देकर मज़े देने और लेने लगे. मारवाड़ी चूड़ियांजलालुद्दीन आलिम ने मुझे कपड़े उतारने को कहा तो मैंने तुरंत उतार दिये.

वो बोली- इट्स ओके, पर तुम मेरा नाम कैसे जानते हो? मैं तो तुम्हें नहीं जानती और ना तुमसे पहले कभी मिली?मैंने कहा- मैं तो आपको जानता हूं. ব্রাদার এন্ড সিস্টার সেক্সअब सलवार को जिस्म से अलग करके मेरा अगला टार्गेट शबाना की रेशमी बालों वाली चूत थी.

मैंने फिर से मुठ मार कर मामी के कपड़ों में रस झाड़ दिया और ब्रा से लंड को साफ़ कर दिया.भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स: चचेरी बहन होने के नाते छोटी बुआ ने बबली बुआ को भी शादी में बुलाया था.

रोहित अपना लंड मंजू के चूतड़ों के पीछे ले गया और लंड पेल कर जोरदार धक्का लगा दिया.उसकी चमकती हुई चमड़ी देख कर माधुरी मेरे लंड से बोली- आज तुम्हारा कुंवारापन मैं खा जाउंगी.

सनी लियोन की सेक्सी मूवी एक्स एक्स एक्स - भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स

शेखर के होंठ मेरे होंठों पर थे, जीभ मेरे मुंह के अंदर थी और हाथ मेरे दोनों स्तनों पर थे.भाभी बोली- आराम से करो अमन! मुझे पता है कि हम दोनों ही प्यासे हैं पर फिर भी आराम से करो.

कोमल के मुँह से ‘आह … आह्ह … ओह्ह …’ की कामुक सिसकारियों की आवाज़ें निकलने लगीं. भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स मम्मी बोलीं- तो तुमने कुछ नहीं देखा?मैंने पूछा- क्या नहीं देखा?मम्मी- इतने भोले मत बनो, सच सच बोलो तुम क्या कर रहे थे … या तुम्हारे पापा को बताऊं कि किचन में तुम मेरे पीछे खड़े होकर मेरे साथ क्या करते थे?मैं- सॉरी मम्मी, मैं अब से ऐसा नहीं करूंगा.

फिर मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया रखा, जिससे उसकी चूत का छेद सही तरीके से खुल जाए और लंड सैट हो जाए.

भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स?

काफी देर तक यह क्रिया करने के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत में पेलने के लिए झटका दे दिया. वो कहने लगा- हां हां दिखाता हूँ मेरी जान, पहले भाभी जी से बात तो कर लेने दे. मैं कहां रूकने वाला था, जोश में आकर कुछ झटके जोर से लगा दिए और उसकी बुर को फाड़ डाला.

मैंने पूछा- अच्छा! इसके अलावा भी कुछ होता है? वो सब कैसे पता चलेगा?तभी मेरी आपा कमरे से निकल कर आई और जीजू से बोली- तुम भी ना, बेकार ही बच्ची को परेशान कर रहे हो. उनका सामान रख कर मैं जाने लगा तो आंटी बोलीं- रुको, मुझे तुमसे कुछ काम है. वो हँसते हुए बोले- साली रंडी, चुदना खुद को है और नाम जिन्न का बदनाम कर रही है.

और दूसरी तरफ माधुरी ने भी न जाने कितनी दफा मेरे मुँह में अपनी जुबान डाल कर मुझसे चटवाई, ये उसे भी याद नहीं था. फिर मैंने अपनी जीभ को गोल करके उसकी चूत में डाल दिया और उसकी चूत का रस पीने लगा. उसकी चूचियां ऐसे ऊपर नीचे हो रही थीं मानो कोई सिपाही जंग में खड़ा ललकार रहा हो.

अपनी अगली कहानी में मैं आपको बताऊंगी कि मेरे आम तरबूज में कैसे बदल गए और मैंने अपनी चुदास की बीमारी का इलाज किन किन तरीकों से जारी रखा. कपड़े मशीन में डालकर मैंने वापस ट्रे उठाई और कमरे में दाखिल हुआ, तो देखा बेड पर आंटी मेरी टी-शर्ट और बाक्सर में क्या गजब लग रही थीं.

खैर … मुझे बस उसकी आंखें दिख रही थीं तो मुझे पता नहीं चला कि ये जान कर उसकी क्या प्रतिक्रिया थी.

जिससे मेरे खड़े लंड का उभार साफ साफ दिखने लगा जिसे उसने देख लिया और घूरने लगी.

तापोश- मैं 4 दिनों के लिए टूर पर जा रहा हूँ, टूर से वापस आकर मैं 3 दिन तुम लोगों के साथ रहूँगा. तभी एक हट्टा-कट्टा बांका सजीला नौजवान भी कंधे पर बैग टाँगे दौड़ता हुआ आया और सामने से निकलती ट्रेन को देख कर जोर से हाँफते हुए बोला- बाप रे, ट्रेन तो निकल गई. उनकी भरी हुई चूचियों पर कड़क और ब्राउन कलर के निप्पल बड़े मस्त लग रहे थे.

लेकिन जैसे ही उसको यह लगा कि कोई उसे देख रहा है, उसकी नजर मेरी तरफ गई. आप मुझे बताएं कि आपको मजा आ रहा है या नहीं कहानी पढ़ कर?[emailprotected]देसी वर्जिन गर्ल चुदाई कहानी का अगला भाग:. मैंने अन्तर्वासना में बहुत सी कहानियाँ पढ़ी, तो मेरे मन में भी विचार आया कि मैं भी अपनी कहानी अन्तर्वासना पर आप सबसे साझा करूं.

पता नहीं मुझे क्या नशा हुआ कि मैंने अपने बदन को ढीला छोड़ दिया और उसकी हरकतों का मजा लेने लगी.

लेकिन जब चाचा को उनकी खूबसूरत बहू के पर-पुरुष सम्बन्धों के बारे में पता चला तो अनुभवी कुणाल चाचाअपनी सेक्सी बहू सविता के साथ क्या करते है?जानने के लिए देखें सविता भाभी वीडियो की 25वीं कड़ी- सविता भाभी बनी आदर्श बहू : जब चाचा घर आए. Xxx गांड पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि मैं लड़की बनकर अपनी गांड मरवा कर सुहागरात मनाना चाहता था. अब चूंकि दोनों के ही एक कपड़े उतार चुके थे और वो गेम के साथ थोड़ा सहज हो गयी थी.

‘उफ्फ’ निकल गयी उसके मुंह से!मेरा आधा लन्ड उसकी चूत में जा चुका था. एक बोतल अन्दर करने के बाद मैंने खाना खाया और सिगरेट पीने छत पर चला गया. उधर मेरा 4 इंच मोटा लंड खड़ा हो रहा था और वो भी पैंट में अटक सा रहा था.

उसकी आवाज सुनकर मैंने गति बढ़ाना शुरू कर दी और कुछ मिनट के बाद मेरे लंड में तनाव बढ़ने लगा.

मैंने मेनगेट को बाहर से लॉक कर दिया और पीछे के रास्ते से अन्दर आ गया ताकि कोई हमें बाहर वाला डिस्टर्ब न करे. रिया अमित को छोड़कर मेरे पास आयी तो मैंने उसे इशारे से मोहित के चूतड़ फैला कर पकड़ने को कहा.

भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स आशा है कि आगे भी वो प्यार और स्नेह मुझे आप लोगों से मिलता रहेगा ताकि मैं आगे भी ऐसे ही रोचक कहानियाँ लेकर आप सबका मनोरंजन करती रहूँ।वैसे तो मुझे बहुत सारे लोगों के मेल आते हैं मगर अभी कुछ दिन पहले मुझे मेरे एक प्रशंसक ने मेल किया जिसमें उसने एक कविता लिखी है. अगले दिन सुबह फिर से चाची ने मुझसे कहा- राकेश साथ चलो, आज खेत में जाना है.

भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स मैं बिलबिला उठी और कसमसा कर बोली- मंजू साली कुतिया तू मुझे जान से मार देगी. हमारे बीच बातें साफ़ होने लगी थीं और जवानी की तपिश हम दोनों को ही जलाने लगी थी.

हिजड़े ने गर्म पानी से मेरा बदन साफ़ किया, मेरी जांघों पर जम गया खून साफ़ किया और मेरी फटी हुई गांड पर दवाई लगाई.

ओपन सेक्सी व्हिडिओ मराठी झवाझवी

ऐसा कह कर मैं बेड के किनारे पर आकर बैठ गया और अपने दोनों पैरों को ज़मीन पर रखकर चाची को अपनी ओर खींच लिया. उसके गोरे चिकने बदन को छूते ही मानो मेरे अन्दर आग सी लग गई और मैं मदहोश हो गया. हम दोनों ने साथ बैठकर कॉफी पी और उसी बीच मैंने होटल में ऑर्डर किया हुआ खाना भेजने का फोन कर दिया.

तब चाचा जी ने अपने छोटे बच्चे के लिए एक नौकरानी लगा रखी थी जो सारे दिन घर पर रहा करती थी. कोमल अपने हाथ बेड को पकड़े हुई थी और उसकी एड़ियां बेड के गद्दे पर थीं. पूनम आंटी मस्तियाने लगीं और बोलीं- ये मज़ा तो आज तक तेरे अंकल भी ना दे पाए.

फिर मैंने सामने से उसकी एक टांग अपने ऊपर रख कर लंच को चूत की फांकों पर रगड़ने लगा जिससे वो बिन पानी की मछली की तरह मचलने लगी.

बीवी के जाने के बाद उसी दिन एक गाय ने बगिया के सारे फूल खराब कर दिए थे. और इस तरह से रवि ने दीदी की चुदाई करीब आधे घंटे तक बहुत मज़े लेकर बहुत अच्छे तरीके से की. फिर मेडिकल स्टोर जाकर 5 कंडोम के बड़े वाले पैकेट लिए और सेक्स की गोलियों की एक पूरी डिब्बी ले ली.

मैंने कहा- आंटी, मैं गर्मी में लोअर नहीं पहनता और इनमें क्या दिक्कत है. मैंने ड्राइवर को अपनी बांहों में कस लिया और नीचे से जोर का धक्का उसके लंड पर मार दिया. दोस्तो, यह एक सच्ची घटना है, जिसे मैं सेक्स कहानी के रूप में आपको सुना रहा हूँ.

उसने मेरे आंसू पौंछे, मुझे उठाकर बिस्तर पर बैठाया और मेरी सफाई करने लगी. यह सब करने में मुझे बहुत मजा आ रहा था, मुझे पता था कि भाभी भी मजे ले रही थीं.

मैंने चालाकी से उनके व्हाट्सएप से फोटो खुद को सैंड की और फिर बॉस को भेजी. मुझे आज ये लग रहा था कि अगर आज कुछ नहीं किया तो फिर कभी नहीं हो पाएगा. मैं खेत में पहुंचा तो देखा कि वहां कुछ चरवाहे थे जो अपनी गायों को चारा चरा रहे थे और उनके पीछे कुछ औरतें थीं.

बस फिर क्या था … मैंने मीनू का हाथ पकड़ा और उसकी कमर में हाथ डाल कर अपनी तरफ खींच लिया.

नीना और मैंने रवि के कमरे में सेक्सी ब्रा पैंटी और राजकुमारी वाला गाउन पहना, मेकअप किया. मेरी नाक की नोक जैसे ही माधुरी की गीली पैंटी पर आई, उसके मुँह से ‘आहा मर गई …’ की मादक सिसकारी निकली. वो बोली- जी मूड तो मेरा भी है, मगर कहीं फिर से गड़बड़ हो गयी तो?मैं बोला- यार कुछ नहीं होगा, वो नीचे नशे में टुन्न पड़ी रहेगी, इधर अपन अपनी चोदा चोदी कर लेंगे, प्लीज अब मान जाओ.

जिस स्टॉल पर कोमल भाभी डिनर लेने का प्रयास कर रही थी, मैं वहां आया और मैंने उससे उसकी मदद के लिए पूछा. अब प्रिंस ने उसकी कुर्ती को उसके गले तक उठा दिया और उसकी चूचियों से खेलने लगा.

अभी बस इतना ही दोस्तो, अब इससे आगे क्या हुआ, ये सब सेक्सी वाइफ सेक्स कहानी के अगले भाग में बताऊंगा. फिर मैंने लंड को उनकी गांड की दरार में अच्छे से सैट किया और रगड़ने लगा. वो गुस्से में जोर जोर से जिन्न को गलियां देने लगे- मादरचोद ले, अपने लण्ड से आज तेरे दो टुकड़े कर दूंगा, फाड़ दूंगा तुझे रंडी!उनका लण्ड इतना बड़ा था कि मेरे गले को फाड़े दे रहा था.

सेक्सी वीडियो साड़ी उतारने वाली

मैंने नीना का सर सहलाकर पुचकाकर कर कहा- गांड ढीली छोड़ो, विश्वास करो उंगली से भी मजा आएगा.

मैं- अब दोनों चार हाथ पांव पर चलकर पलंग तक जाओ और पलंग पर पीठ के बल हाथ पांव फैलाकर बाजू बाजू लेट जाओ. जब मैं अपने पड़ोस में रहने वाले लोगों से मिल रहा था तब मैंने पहली बार आशू भाभी को देखा था. सलीम मेरी गोरी चिकनी गांड पर थप्पड़ मारते हुए और किस करते हुए बोलने लगे- आह सलमा बेगम, आज तुझे पूरा मजा देंगे हम दोनों, मैं और हारून आज से तुम्हारे पति हैं.

हालांकि चूत की हालत बता रही थी कि ये चुदी हुई नहीं है और यदि चुदी हुई भी है तो एक दो बार से ज्यादा बार नहीं चुदी होगी. सहसा मुझे याद आया कि चिकनाई पर्याप्त नहीं होगी तो उठकर टेबल पर से वैसलीन जैली को उठाया और लंड पर कायदे से लगाने लगा. सेक्सी फिल्में गांव कीसोमवार को प्रोजेक्ट सबके सामने पेश होने वाला है, इसलिए आज कैसे भी कर के प्रोजेक्ट के सारे मसले हल करना थे.

वो मेरा लंड चूसने लगीं और अपनी गोरी चूत से मेरे मुँह पर चाशनी टपकाने लगीं. बुआ को चोदते चोदते मैं उनकी गांड को हाथ से सहारा देकर खड़ा हो गया और बुआ अपने दोनों हाथ मेरे गले में डालकर लंड पर ऐसे कूदने लगीं जैसे कोई घोड़ी मखमली गद्दे पर कूद रही हो.

मैंने उसकी शंख जैसी चूचियों को पीने लगा था और वो अपनी गांड मेरे लंड पर घिसने लगी थी. जब 1200 रूपए मिले तो मैंने सारा पैसा दारू पीकर और खाना वगैरह खाकर दोस्तों में उड़ा दिया था. मैंने हंसते हुए कहा- अरे बहनचोद … इन चूतियों में तो दर्द बर्दाश्त करने की गजब की क्षमता है.

उन्होंने सफेद रंग की पैंटी डाल रखी थी, जिसमें से उनकी चूत का छेद साफ दिख रहा था. उसे आगोश में भरकर मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे सारी कायनात मेरी बांहों में हो. कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद मैंने मॉम की दोनों टांगें फिर से अपने कंधों पर रख लीं और मैं उनकी चूत में करारे धक्के लगाने लगा.

चाची मुस्कुरा दीं और बोलीं- शादी के बाद तेरी दुल्हन को कितना बुरा लगेगा, जब वो ये बात जानेगी कि उसका पति नशा करता है.

मैंने कहा- ये देखो इन भोसड़ी वालों को … कैसे गांड मरवाने के लिए उतावले हुए जा रहे हैं. अचानक ही उसका पानी छूट गया और उसने अपने गरमागरम वीर्य की ना जाने कितनी पिचकारियां मेरे गले के अंदर उतार दीं.

सुधा तो देखने में 25-27 साल की लड़की लगती थी जबकि रम्भा का बदन थोड़ा सा भरा पूरा था. इसी बीच उसके चूचे देखने की वजह से मेरा लौड़ा टाइट हो चुका था जो शायद उसने देख लिया था पर अनदेखा कर दिया था।फिर हम करीब 30 मिनट तक बात करते रहे. इसके बाद मैंने सबसे पहले अपने लंड को अच्छी तरह धोया, अपनी झांट के बाल साफ किए और लंड पर एक डिओ लगाया.

मैंने जल्दी जल्दी कॉफी खत्म की और हिना से घर जाने की कह कर मैं उठ खड़ी हुई. शबाना पर क्लिप का काफी असर हो चुका था, सो वो दांतों से होंठ काटती हुई बोली- बिना अहसान उतारे?मैं समझ गया कि लाइन एकदम क्लियर है, सो मैंने आगे बढ़कर हाथ को ऐसे पकड़ा कि शबाना के बूब्स को हाथ टच कर जाए. इसके बाद मैंने सबसे पहले अपने लंड को अच्छी तरह धोया, अपनी झांट के बाल साफ किए और लंड पर एक डिओ लगाया.

भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स मैंने मोहित से कहा- क्या हुआ मेरी जान … अभी तो सिर्फ डिल्डो का टोपा ही अन्दर गया है. अब रुकना मेरे लिए मुश्किल था, मैंने उसको सीधा लिटाया और उसकी टांगों के बीच आ गया.

सेक्सी 212

अभी तक भाभी के पांव भारी नहीं हुए थे, शायद भैया-भाभी परिवार नियोजन कर रहे थे. मेरा लौड़ा अभी थोड़ा सा ही गया था कि उसकी चीख निकल पड़ी और वह मुझसे अलग होने के लिए छटपटाने लगी. जिसे भैया ने बड़ी गौर से देखा और मेरी बुर को एक कपड़े से साफ करके मेरी बुर पर किस करना शुरू कर दिया.

मेरे सीनियर ने कहा- इसका लंड किसी काम का नहीं है, ये तो साला रंडी है. ये इन्फैचुएशन सेक्स कहानी मेरी और एक सेक्सी भाभी कोमल की है, जिनसे मेरी मुलाकात अनायास ही हुई थी. देशी इंडियन सेक्सीXxx हिंदी भाभी कहानी के चौथे भागसेक्सी भाभी के जिस्म को छूने का मजामें अब तक आपने पढ़ा था कि माधुरी ने मेरी पैंट को चड्डी समेत नीचे खींच कर उतार दिया था.

मेरी आदत शराब पीने की हो गई और मैं आए दिन अपने सबसे अच्छे दोस्त नितिन के साथ शराब पीने लगा.

उसकी मादक सिसकारियां मुझमें जोश भर रही थीं ‘उम्म्म आ आ आ उऊँ आह …’दस मिनट की चुदाई के बाद मैंने उसको घोड़ी बनने को कहा. कुछ ही देर में गांड की गर्मी से बर्फ के टुकड़े ने हार मान ली और पिघल गया.

फिर सविता ने इसके लिए क्या क्या किया?क्या सविता इस काम में सफल हो पाई?शादी के बारे में आयुष का मन कैसे बदलेगी सविता? यह जानने के लिए सविता भाभी एपिसोड 35 का वीडियो देखें।. मैं अकेले में बैठी सोच रही थी कि शायद यही कारण होगा कि पहले जमाने में जल्दी शादी कर दी जाती थी. सब लड़कियों ने मेरा इशारा समझ लिया और लड़कों के जिस्म पर मोम गिराना शुरू कर दिया.

कुछ देर तक गांड का छेद चाटने के बाद उसने मेरा लंड मुँह में ले लिया.

यह सुनकर शेखर ने टेक्सी में से एक मोटा कम्बल निकाल कर घास पर बिछाया और मुझे लेटा दिया. उसके बाद मैंने सुहागचूड़ा हाथों में पहना और पैरों में पायल पहनकर नहाने के लिए बाथरूम में चली गई. फिर एक बार मेरे जिस्म ने चार-पांच तेज तेज झटके लिए, मेरी गुच्छी से फिर एक बार रस की फुहार निकली और मैं शांत हो गई.

விதேஒஸ் செஸ்हमने देखा कि सब लड़कों के लंड चड्डी के अन्दर खड़े होने शुरू हो चुके थे यानि सबके लंड अब सलामी दे रहे थे. मुझे इस तरह घूरते देख उसने अपनी बांहों से अपने स्तनों को ढकना चाहा.

सेक्सी कॉलेज वाली सेक्सी

फिर मैंने अपने होंठ चाची के चूचों पर लगाए, तो चाची ने एकदम से ‘आआहह … उम्म …’ की मादक आवाज निकाली. वो मादक आवाजें निकाल रही थी ‘उम्म्म आ आ उम्म आ आह …’कुछ मिनट तक मैं उसके मम्मों को चूसता रहा. तीसरी बारलंड का पानीनिकला, तो उसने कहा- मेरे भाई थोड़ी देर में आते ही होंगे.

मैं बहुत बार उन सुंदर महिलाओं के बूब्स भी देख लेता था, जब वो नीचे खड़ी होती थीं और मैं कुछ ऊंचाई पर खड़े होकर उनके घर में काम कर रहा होता था. मैं भी पूरे मूड में आ चुका था सो पजामे का नाड़ा खोल कर नीचे गिरा दिया. उस दिन नशे में तो मैंने कह दिया था लेकिन बाद में गांड फटने लगी कि अब क्या होगा.

मैंने खाला के फोन में पोर्न साइट्स देखी थी तो पता था कि वे चुद जायेंगी. उस तेज बारिश में न जाने कैसे मेरा फोन खराब हो गया और स्विच ऑफ हो गया. दरअसल में मीना के घर रह कर ही पढ़ाई कर रही थी मेरे बड़े भाई की गर्लफ्रेंड।।उसका नाम मीना था.

यह सामान्य बात थी अक़्सर ही मैं इस तरह मित्र के घर चला जाता था तथा यदि मित्र घर पर न भी हो तो कोई भी मिल जाए, उससे बतियाता रहता था. उसकी चमकती हुई चमड़ी देख कर माधुरी मेरे लंड से बोली- आज तुम्हारा कुंवारापन मैं खा जाउंगी.

कुछ देर ऐसा ही चला, फिर मैंने उसके टॉप में हाथ डाला और उसकी पीठ सहलाने लगा.

मम्मी भी जल्दी से बाहर आ गईं, मम्मी ने मुझे देख लिया और पूछा- यहां क्या कर रहे हो?मैंने बोला- कुछ नहीं. वीडियो हिंदी सेक्सी देहातीउसकी आग मुझसे ज्यादा है क्योंकि मैं तो अपनी बीवी और गर्लफ्रेंड को चोदता ही रहता हूं. సెక్స్ మూవీ తమిళ్ సెక్స్ మూవీफिर मैंने उनकी ब्रा को खोला और उनके गोल चूचे मेरे सामने नंगे हो गए. मैंने उनका दर्द समझा और थोड़ा रुक गया लेकिन मेरा लंड अभी भी उनकी चूत में आधा घुसा हुआ था.

चूंकि एक गली छोड़ कर दूसरी गली में उसका घर था तो सब जानते थे, किसी को दिख जाने का खतरा था.

उन्हें कोई नहीं देख रहा है, इस विश्वास के साथ दोनों एक बार आलिंगन बद्ध हुए और थोड़ी देर एक दूसरे से चिपके रहे. कभी मैं ऊपर की तरफ़ रगड़े मारता, कभी हल्के जोर से लंड का टोपा उसकी चूत में घुसाने की कोशिश करता. मैं उसे ड्रेसिंग टेबल के करीब लाया और उधर से नारियल के तेल की शीशी उठा ली.

उनके गालों की दीवारों पर बनती हुई मेरे लंड की आकृति बार बार मुझे उत्तेजित कर रही थी. इधर मायके में जैसे ही मिष्टी पहुंची, उसने पहले अपनी साड़ी चेंज करके एक काले रंग का सूट पहन लिया और अपने जीजा के आने का इंतजार करने लगी. हर रोज नई सेक्स कहानियाँ पढ़ कर आज मुझे भी अपनी सेक्स कहानी को साझा करने का मन हुआ.

सेक्स भाभी सेक्सी भाभी

मीना के दूध बहुत बड़े बड़े थे और ऐसे हिल रहे थे मानो मुझे आमंत्रित कर रहे हों चूसने के लिए. वो मादक आवाजें निकाल रही थी ‘उम्म्म आ आ उम्म आ आह …’कुछ मिनट तक मैं उसके मम्मों को चूसता रहा. मुझे भैया ने सीधा लेटा दिया और मेरे ऊपर लेटकर मेरे दोनों हाथों को अपने हाथों से फांस लिया.

वो जैसे जैसे मेरे लंड पर बैठ रही थी, मेरा लंड साक्षी की वर्जिन ऐस के छेद को चीरता हुआ अन्दर जा रहा था.

सारा दिन मैं मीना को चोदने का प्लान बनाता रहा और मन ही मन खुश होता रहा.

उधर वॉशरूम से निपट कर जब मैं कमरे में पहुंचा तो वहां का नजारा ही कुछ अलग सा था, पोर्न क्लिप की आवाज़ सुनाई दे रही थीं. उसने कोई विरोध नहीं किया और छोटी सी स्माइल देकर मेरे गाल पर किस कर दिया. सेक्सी व्हिडिओ पिक्चर हिंदीदोस्तो, मेरा नाम राज है, उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ और अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ.

इससे मेरे बदन में करंट सा दौड़ रहा था और मेरी चूत बस पानी छोड़ती जा रही थी. भाई ने अपना लंड निकाल कर मेरे मुँह में डाल दिया और अपना वीर्य मेरे मुँह में छोड़ दिया. उसकी स्पीड बढ़ती जा रही थी और पूरी मस्ती में गांड को उचका उचका कर वो चुद रहा था.

उसकी चूत में से ऐसी जबरदस्त खुशबू आ रही थी कि मेरा पागलपन और बढ़ गया था. मुझे भी आभास हो गया था कि भैया ने मुझे देख लिया था, मैं उससे नजरें नहीं मिला पाती थी.

पर हम दोनों इतने ज्यादा थक गए थे कि एक दूसरे के नंगे जिस्मों से चिपके हुए ही बेड पर पड़े रहे.

मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और 15-20 ज़ोरदार धक्कों के साथ मैंने अपना सारा माल चाची की गांड में छोड़ दिया. अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था, मैं सोच रहा था कि आज मॉम को चोदने का सही मौका है. मैंने भी बोला- अरे माधुरी तुम … मैं गाड़ी चला रहा हूँ इसलिए फ़ोन देख नहीं पाया … बोलो न!तो उसने कहा- सॉरी मैं तुम्हें कल मैसेज नहीं कर पायी क्योंकि अब दुकान शिफ्ट करनी है, तो मैं थोड़ा बिजी थी.

सेक्सी हिंदी चूत चुदाई आज मुझे लगा कि अपने साथ हुई एक बहुत ही मज़ेदार सेक्स कहानी को लिखूं. अब मेरा लंड फनफनाता हुआ चूत में अन्दर बुआ की बच्चेदानी तक जाने लगा था.

उधर साक्षी मेरे लंड को अपनी चूत में रख कर उस पर अपनी कमर हिलाकर लंड की रगड़ से चूत की खुजली मिटा रही थी. वो नशीली आवाज में बोली- तो पका दो न!मैंने कहा- पकाने में बड़ी मेहनत लगती है मेरी जान. उसने कहा- तुमने बताया नहीं, आज मैं कैसी लग रही हूँ?मैंने कहा- तुम तो हमेशा से सुन्दर लगती हो.

वीडियो सेक्सी देसी चुदाई

लड़के बुरी तरह से सहम गए उन्हें शायद उनके द्वारा किए हुए काण्ड याद आने लगे थे. समारोह अच्छी तरह से चला और उस दौरान मैंने उसके स्तन को छूने या उसके मम्मों की दरार को देखने का एक भी मौका नहीं छोड़ा. मेरी जीभ उसकी चूत को चाटने में लग गई थी और वो मेरे सर को अपनी चूत पर दबाए जा रही थी.

मेरी बुरी तरह फट चुकी गांड अभी भी दुःख रही थी लेकिन गांड के अंदर बाहर हो रहे लण्ड का अहसास इस दर्द को काफी हद तक कम कर रहा था. माधुरी बाहर गयी और अन्दर आते ही उसने दुकान शटर अन्दर से बंद कर दिया.

मैं बिस्तर पर लुंगी पहने लेटा हुआ था और कविता मेरे पैरों के पास बैठकर लुंगी को मेरे घुटनों के ऊपर तक हटा दी और घुटनों पर तेल लगाने लगी.

कुछ देर बाद मैंने बुआ को फिर से उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उनके पैर उनके चुचों पर कर दिए. उसकी सांसें तेज चल रही थीं जिससे उसके आम ऊपर नीचे होकर प्रिंस के लंड की हालत खराब कर रहे थे. वह अपना पूरा लंड बाहर खींचता था और फिर फचाक से पूरा लंड अंदर ठेल देता था.

पिछली बार उनका वीर्य पीकर मुझे बहुत अच्छा लगा था इसलिए इस बार भी मैंने लपक कर उनका लंड अपने हाथों में पकड़ लिया और सहलाने लगी. उनके बदन से हमेशा एक मीठी सी महक आती रहती थी, जिसकी वजह से मैं हमेशा उत्तेजित हो जाता था. कोमल को ब्लैक कलर की ब्रा और पैंटी में देखकर मेरा लंड घोड़े के जैसा खड़ा हो गया था.

फ्रेंड्स, मैं संदर्श एक बार फिर से शादी में मिली मदमस्त हसीन कोमल भाभी की चुदाई की कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हुआ हूँ.

भोजपुरी बीएफ एचडी वीडियो में सेक्स: उसी समय उसने अपने लंड को दोनों हाथों से मुट्ठी में जकड़ा और उसका लंड भी फट पड़ा. जब शादी तय हुई, मेरी होने वाली सास मुझे और अपनी लड़की को लेकर गुरूजी के आश्रम में गुरूजी की सहमति लेने गयी.

उसने मेरे लंड पूरा अन्दर गले तक भर लिया और मेरे लंड की गोटियां दबाने लगी. मेरे नथुनों में मेरी सबसे पसंदीदा छेद की महक मुझे उत्तेजित कर रही थी. मैं उसके पास गया और पास जाते ही वो मुझको देख कर एकदम से घबरा गयी और गुस्सा से बोली- तुम कौन हो और यहां क्यों आए हो?मैं बोला- कुछ नहीं, बस मैं ऐसे ही आया हूँ.

लेकिन शाम होते होते अचानक मुझे अपना बदन भारी लगने लगा, मैं समझ गई कि अब मुझे फिर से दौरे पड़ने वाले हैं तो मैंने खादिमों को आवाज देकर बुलाया.

चाची की मादक सिसकारियां बढ़ने लगीं और वो ‘उईई ऊईईई आह आह …’ करने लगीं. माँ उई माँ … ओह और तेज चोदो भैया मजा आ रहा है … चोदो और चोदो … मुझे बहुत मजा आ रहा है. शुरू शुरू में कुछ तकलीफ होती है लड़की को लेकिन बाद मैं बहुत मजा आता है.