सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,ब्लू बीएफ वीडियो ब्लू बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी सेक्सी चाइनीस: सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ, अब हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं और हम दोनों की ये रासलीला काफी समय से चल रही है.

भाई और बहन की बीएफ

तभी आंचल ने कहा- पायल मैं तुझे अच्छी तरह जानती हूँ, तू शैतानी मत कर … वो हमारे मेहमान हैं. गुजरात बीएफतब अम्मी ने कहा- अगर तू बुरा ना माने, तो एक बात कहूँ बेटा?मैंने कहा- हां कहो न अम्मी.

मैंने कहा- क्या बात है, अभी दिल नहीं भरा?इतना कहकर मैंने नीरा की चूची पर हाथ रखा तो चौंका, अभी तो इतनी टाइट थीं, अब ढीली कैसे हो गईं?मैंने नीरा से कहा- यार, मैं नशे में तो नहीं हूँ लेकिन कुछ गफलत में जरूर हूँ. सेक्सी बीएफ बुर चोदते हुएफिलहाल इतना ही, शबाखैर।आपके कंमेंट्स का इंतेजार रहेगा।[emailprotected].

मेरी पत्नी और सलहज के जाते ही मैंने पिज्जा ऑर्डर कर दिया और कोकाकोला की बॉटल व दो गिलास लेकर गिन्नी के बगल में बैठ गया.सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ: फिर स्नेहा भाभी पीछे की तरफ मुड़ीं, तो उनके पीछे मुड़ते उनकी अधनंगी दूध सी गोरी पीठ मेरी नजरों में गड़ गई.

वो बोला- फिर?उसके पूछते ही मैंने उसको पकड़ कर अपनी ओर खींच कर उसके होंठों को जोर से चूम लिया.सुनील बोला- ज्यादा नौटंकी मत कर, मैं एक घंटे से बाहर खड़ा हुआ अपना लंड सहला रहा हूँ.

बीएफ फिल्म वीडियो ब्लू फिल्म - सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ

इस बीच मेरी बहन ने चादर उठा कर अपने शरीर पर डाल ली थी और वो अपने यौवन को छुपाने की नाकाम कोशिश कर रही थीं.उनकी बाहर आती चुत को देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने फिर से उनकी चुत में जीभ दे दी.

रूम बुक किया। रविवार से लेकर बुधवार तक हम दोनों को वहीं रहना था।आप सोच रहे होंगे कि इतने दिन तक के लिए क्यों।तो वो इसलिए क्योंकि मैं उसको पूरी तरह से संतुष्ट करना चाहता था. सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ कोई 20 मिनट तक चाची की गांड चोदने के बाद भी जब मेरा लंड ठंडा नहीं हुआ, तो मैंने लंड को बाहर निकाला और चाची को दीवार से सहारे खड़ा करके उनकी चुत चोदने लगा.

फिर जब स्कूल में सहेलियों से मुलाकात हुई, तब हमारे मिलने का अंदाज अलग था.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ?

मैं- हां तुम्हारी बुर गीली हुई?वो- क्या!मैं- हां … मतलब जब मैं तुम्हारी चूचियों को चूसूंगा तो बुर गीली होनी है. उन्होंने जैसे तैसे करके मेरी जींस और पेंटी उतार दी … और खड़े होकर मेरी चुत निहारने लगे. वो नीचे बैठा और संजू की नाभि में अपनी जीभ घुसा कर उसे चाटने लगा और कमर से लेकर पूरा पेट को अपने जीभ से चाट गया.

तो मैंने पूछा- जब पहली बार हो रहा है तो तुम्हें कैसे पता कि मेरा लण्ड बहुत बड़ा है?गिन्नी ने बताना शुरू किया:मिनी की शादी के बाद जब मिनी का जन्मदिन पड़ा तो उसके बुलावे पर मैं गुड़गांव गई. मुझे भी बहुत इच्छा थी उसका पानी पीने की!तो मैं मुंह खोल कर बेड के नीचे बैठ गई और वह मेरे मुंह पर मुठ मारने लगा. 1 घंटे तक रिया की गांड मारने के बाद रमेश ने अपना पूरा माल रिया की गांड में गिरा दिया.

रिंकी अपने मुँह से विशाल का लंड निचोड़ रही थी और विशाल रिंकी के मम्मों की गोलाई नाप रहा था. संजू बेड पर लेटते हुए पीठ के बल दीवार से सट गई और उसने अपनी गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया. जब मैंने पहली बार राज का लंड देखा, तब मुझे थोड़ा झटका सा लगा कि राज का लंड अविनाश के लंड से भी बड़ा है.

फोरप्ले करते हुए मुझे भी बहुत मजा आता है और मैं मायरा को भी इसका पूरा आनंद अनुभव करवाना चाह रहा था. मेमरानी ने भी अपनी गांड आगे पीछे करते हुए मेरे धक्कों से धक्के मिलाये.

एकाएक संजू बोली- अब बेडरूम में चलें?ये सुनकर रोहित उठा … और ये क्या … उसने झट से संजू को अपने गोद में उठा लिया और बेडरूम में ले जाने लगा.

अब मैं उसके लंड को मुंह में लेने के लिए नीचे झुकने लगा कि तभी वहां पर जय आ गया.

उसने बोला- हैलो आंटी … कैसी है आप?मैंने उससे ठीक है लिखते हुए उसका हाल चाल पूछा और उससे बाय बोल दिया. मेरे होंठों को चूसने के बाद उन्होंने मेरी मैक्सी में दिख रही मेरी वक्षरेखा पर अपने होंठों को रख दिया. फिर वो फ़ाइल दिखाने को बोला तो मैं जैसे ही उसकी तरफ झुकी, उसने पीछे से मेरी गांड पर हाथ मारा और मेरी गांड दबाने लगा.

ऐसा लग रहा था कि मेरा पूरा लंड छिल चुका है तो मैं भी शांत रुका रहा।मैंने उसे काफी जोर से पकड़ रखा था और वो रोने के चिल्लाने लगी- आह आह आह … मम्मी … मार डाला! मुझे नहीं मरवानी गान्ड! निकालो बाहर इसे!तब तक मेरा पूरा लंड मेरी गर्लफ्रेंड की गान्ड के अंदर जा चुका था. इस पर प्रतिभा तपाक से बोल पड़ी- मैं हूँ ना! मैं बनूंगी तुम्हारी पार्टनर!अब मेरे पास कोई बहाना नहीं बचा, तो मैं सर खुजाने लगा. मेरे पास आकर वो बोली- क्या लेना पसंद करोगे? व्हिस्की या वोडका?मैंने कहा- व्हिस्की ही ठीक है.

लेखक होने के साथ साथ ज्ञान जी नारी तन की बारीकियों के ज्ञाता भी हैं.

मेरा दिल किसी अनजानी बात को सोच कर धड़कने लगा, मैं बिना वक़्त गंवाए तुरंत ही भाभी के कमरे के सामने जाकर खड़ी हो गयी दरार से झांक कर देखने की कोशिश की. मैं विनय फिर हाजिर हूँ आपकी खिदमत में!आपने मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भागमें पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी क्लासमेट और गर्लफ्रेंड तान्या की सील तोड़ी और आंटी की चूत चाटी।मैं अगले दिन कॉलेज नहीं गया. जब मेरे लण्ड से फव्वारा छूटा तो आशा बोली- तुम चोदते हो तो लगता है कि तुम्हारा लण्ड बच्चेदानी के अन्दर तक चला जायेगा और जब डिस्चार्ज करते हो तो पूरी चूत भर जाती है जबकि अशोक तो दो तीन बूंद वीर्य टपकाता है.

रोशन उस लड़की के मम्में दबा रहा था और वो लड़की हल्का सा विरोध करते हुए उसे रोकने की कोशिश कर रही थी. पर उसने मेरे लिंग को हाथों में थामते हुए कहा- सर आप मेरी उम्र की बात कर रहे थे ना? तो सचमुच मेरी उम्र अभी 23 की ही है, और मैंने अपने बॉयफ्रेंड के साथ सिर्फ चार बार किया है।इतना कहते हुए उसने लिंग को थोड़ा आगे-पीछे किया और चुम्मी दे डाली. शादी के इतने साल बाद और एक बच्चा पैदा करने के बाद भी दुल्हन बनते ही वही शर्माती औरत, शायद सुहाग की साड़ी में ही औरत भी दुल्हन बन जाती है.

अब तक सुनील और विशाल दोनों ही कंडोम से सेक्स करते थे ताकि बच्चे की जिम्मेदारी से बचा जाए.

तू अगर अपनी मां, अपनी बहन, अपनी सास और अपनी होने वाली बेटी को भी लेकर आएगी, तो तेरे साथ साथ तेरे ही बिस्तर पर तुझे भी नंगी करके उनकी भी गांड और चूत चोद दूंगा. हमारे जिस्म फिर से गर्म हो उठे थे और एक बार फिर से गांड चुदाई का मूड बन गया था.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ चुदवा रही हो तो खुलकर चुदवाओ ताकि तुम्हारा उद्देश्य तो पूरा हो सके. ऐसा करते हुए मेरा लौड़ा फिर से खड़ा हो गया था जिसे चाची देख भी रही थीं और मुस्करा भी रही थीं.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ मैंने भाभी को सोने की अंगूठी भी दी लेकिन भाभी ने उसको पहनने के लिए मना कर दिया. जबकि मेरे बोबे कसे हुए पर उनसे थोड़े छोटे हैं।रोहित का जवाब सुनकर रोहन ने उसे छेड़ते हुए कहा- हाय मम्मी के आशिक!और दोनों हँसने लगे।फिर रोहन ने अपने मोबाइल पर एक पोर्न लगाई और दोनों उसे देखने लगे.

अनिल भैया ने जैसे ही मुझसे कहा, मैं अपनी पतली सी कमर को मटकाते हुए भाग कर गया और सब सामान लेकर आ गया.

गुरुकुल सेक्सी

अब जब तक मेरा पानी नहीं छूटेगा, तब तक तुम्हें आज कोई नहीं बचा सकता. बारिश, बादल, हवा, अँधेरा, एकांत और प्रियतम का साथ … यह सब कामदेव और रति की सत्ता स्थापित होने के इशारे हैं. अपनी कई सहेलियों से सुने उनकी चुदाई के किस्से मेरे कानों में गूंजने लगे, इस बीच जीजू अपना हाथ मेरे ब्लाउज में डालकर मेरे निप्पल्स से छेड़खानी शुरू कर चुके थे.

मैं दीदी के मुँह से अपने बारे में सुनकर मस्त हो रहा था और मुझे दीदी के रूप में अलीना दिख रही थी. अनिल भैया ने जैसे ही मुझसे कहा, मैं अपनी पतली सी कमर को मटकाते हुए भाग कर गया और सब सामान लेकर आ गया. अपनी बायीं हथेली में बचा हुआ तेल अपनी दोनों हथेलियों पर मल कर मैंने अम्मी के चूतड़ों की मालिश कर दी.

उनकी चुत चाटते हुए मैं कभी कभी अपनी जीभ की नोक से उनके दाने को रगड़ देता था तो वो और भी तड़प जाती थीं.

आप सबके प्यार के लिए थैंक्स।कुछ लोगों ने मेरी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स करने की बात भी कही. इस सेक्सी कहानी के पहले भागमम्मी चुद गई फार्म हाउस पर-1में आपने पढ़ा कि कैसे मेरी मम्मी मेरे मामा के दोस्त से फार्महाउस पर चुदी. मैंने मम्मी की चूचियां चूसते हुए कहा- आहह मम्मी तुम्हारा जिस्म बहुत सेक्सी है मम्मी.

अपने नये पाठकों से मेरा विनम्र निवेदन है कि मेरी नई कहानी से ठीक से तारतम्य बिठाने के लिए पहले मेरी पुरानी कहानियों को एक बार पढ़ लें. मैंने उसके पूरे चिकने मदमस्त बदन को चूमते हुए धीमे से उसकी गीली पैंटी निकाल दी. फिर खुशी की ही याद में कब कुछ मिनट गाड़ी में गुजरे और मैं पहले वाले होटल में पहुंच गया, इसका पता ही नहीं चला.

मैं- बस तुम्हारी बुर को चूमकर अपनी जीभ निकाल कर चाटूंगा और अपने होंठों से तुम्हारी बुर चूसना शुरू कर दूंगा. शायद कहीं पर एक बाल नहीं था।मुझे देखते हुए उसने मुस्कुराते हुए अपना जूड़ा बनाया.

मैं जैसे ही उठने लगी, जीजू मेरे ऊपर सवार हो गए और बोले- अब कहां जाओगी साली साहिबा!तो मैं बोली- जीजू छोड़ो ये सब गलत है. जब मैं जवाहर से मिला था तो उसके कुछ महीने के बाद ही मैं अपने पैतृक शहर वापस आ गया था. चौथे दिन मैं दोपहरी में कॉलेज आने के बाद नहाकर आई और मैक्सी पहन कर बेड पर आराम करने लगी.

मैं उसकी गोद में बैठ कर बोली- हैप्पी बर्थडे टू यू माय सन!वो मुझे अपनी बांहों में लेते हुए बोला- थैंक्स मॉम … यू आर सो स्वीट.

कोमल- एक बार कोशिश की थी, लेकिन तब मुझे बहुत दर्द हो रहा था … इसलिए मैंने उसको मना कर दिया. वो मेरी तरफ देखते हुए बोलीं- ऐसा क्या कर दिया रे तूने?मैं उन्हें ऐसा बोलता देख थोड़ा कन्फ्यूज था. तभी आंटी ने खुशी को जरा घूम आने को कहा और वह कुछ दूरी पर गार्डन में घूमने लगी.

इसके बाद हम दोनों के बीच अब तक तीन बार और सेक्स हुआ, पर हर बार वो अगले दिन ऐसे रहता, जैसे कुछ हुआ ही नहीं. फिर एक रात बात करते हुए उन्होंने पूछा- तुम रात को ब्रा पेंटी पहन के सोती हो?तो मैंने बताया- ना!उन्होंने कहा- तो क्या पहना है अभी?मैंने बोला- शॉर्ट्स और टॉप!वे बोले- बहुत सुन्दर लग रही होगी!तो मैंने अपनी एक पिक खींच के भेज दी.

मैं कभी ट्रक में चढ़ी नहीं थी, तो मुझे ऊपर चढ़ने में काफी दिक्कत आ रही थी. जिस तरह उन्होंने मेरी मालिश की थी, उसी तरह मैं भी उनकी मालिश करता रहा. मैंने कहा- दीदी, मैं भी एक शादीशुदा आदमी हूँ, तो मैं आपको समझ सकता हूँ.

सेक्सी भीलवाड़ा

बंगालन भाभी Xxx स्टोरी में जानें कि एक शाम शराब के नशे में भाभी के मन में मेरे लिये दबी भावनाएं बाहर आने लगीं और हम दोनों ने एक दूसरे को गर्म करना शुरू कर दिया.

वो बोले कि रात में तीन बार हो चुका है और कितना बार चुदवाओगी … क्या पक्की चुदक्कड़ हो गयी हो … हटो कमजोरी हो जाएगी. वो जानबूझ कर पेंटी पहन कर नहीं आयी थीं, सो उनका साफ सुथरा छेद मेरे सामने था. मेरे दिमाग़ में ख्याल आ गया कि मैं दीदी के ससुर को अभी के अभी चांटा मार दूं.

नज़रों-नज़रों में एक-दूसरे के अंतर तक उतर जाने वाली निग़ाह से हम दोनों कितनी ही देर दो-चार होते रहे. हम सभी एक दूसरे की बात सुनकर मुस्करा रहे थे और फिर पैग मारने में लग गए. एचडी बीएफ पिक्चर हिंदी मेंएक खलासी ने मुझे अपनी गोद में बिठाया और एक खलासी मेरे सामने बैठ गया, दोनों मेरे बदन से खेलने लगे.

बस अपनी पढ़ाई में लगी रहती थी।फिर मैंने जब स्कूल बदला तो वहाँ मेरी दोस्ती कुछ हरामी लड़कियों से हो गयी. थोड़ी देर मेरी चूत को सहलाने के बाद उसका धीरज टूट गया … और वो हल्का सा खड़ा हो कर मेरी चनिया को निकालने लगा.

दरअसल मैं देखना चाह रहा था कि जो आग मेरे अंदर लगी हुई है, क्या वो आग उसके अंदर भी लगी हुई है या नहीं?दीप्ति जिस तरीके से मुझे छेड़ती थी उससे मुझे थोड़ा विश्वास तो होने लगा था कि शायद उसके अंदर भी वही भावनाएं जन्म ले चुकी हैं जो मेरे अंदर हैं. वो कभी मेरे लंड के सुपारे पर जीभ फिरा कर मजा देने लगती तो कभी मेरे लंड की गोटियों को चूसने लगती. उनकी नजरों में अजीब सी कशिश थी और वो मुझे रंडियों की तरह देख रही थीं.

उसके लेटने के बाद मैंने हल्के से आंख खोल कर देखा तो उसने मेरी तरफ पीठ की हुई थी. लण्ड का सुपारा हनी की चूत पर रखकर मैंने उसकी कमर पकड़ी और लण्ड धकेलता चला गया. पहले केवल मर्द लोग ही घर का बना कुछ ले आते, पर धीरे धीरे औरतें भी आकर दे जातीं.

तभी मैंने अपने पेंट की जेब से कंडोम के कुछ पैकेट निकाल कर उसे दिखा दिए.

हो सकता है कि आपको ऊपर दिये गये जोड़ों के बारे में कन्फ्यूज़न लगे लेकिन याराना को शुरू से पढ़ने वाले पाठकों को परेशानी नहीं होगी. दो तीन बार ऐसा करने के बाद चाचा फिर मेरी टांगों के बीच आ गये और अपने लण्ड को हिलाने लगे.

अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो पा रहा था, तो मैंने भी उसके निप्पलों को सहलाना चालू कर दिया. भाभी ने हंसते हुए कहा- पहले तो तुझे कुछ उस तरह की मूवी देखनी चाहिए. एक तरफ मुझे चूत में गुदगुदी सी हो रही थी कि आज गैर मर्द के साथ सम्भोग की प्यास बुझेगी.

मुझे संजना की चूत को चोदते हुए लगभग 15-20 मिनट से भी ज्यादा हो गए थे. मुझे तुम्हारी बनाई मेंहदी तुरंत ही धोनी पड़ेगी।तो हीना ने बेचैनी से पूछा- क्या हुआ सर, मेंहदी की डिजाइन पसंद नहीं आई क्या?तो मैंने कहा- अरे ऐसी बात नहीं है, डिजाइन तो तुमने बहुत खूबसूरत बनाई है पर मुझे जोर सो शुशु लगी है, तो कपड़े खोलने से पहले मेंहदी तो धोनी पड़ेगी ना!हीना का चेहरा एकदम से उतर गया. अब बारी थी नीरज की, इसलिए वो अपनी बहन नताशा के बारे में सोच रहा था.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ इसके बाद मैंने सुहास की शर्ट के बटन भी खोल दिए और उसकी शर्ट उतार दी. मेरा दोस्त भी मेरी इस दरियादिली पर बहुत खुश हो गया। थोड़ी देर साथ में किताब पढ़ने के बाद हम भी अपने अपने घर के लिए निकल लिये।अगले दिन मैं टाइम से पहले जाकर सपना का इंतजार करने लगा। थोड़ी देर में वो आ गयी। मैंने उसे अपने बगल में बैठाया और उसका हाथ अपने हाथों में लेकर उससे प्यार मोहब्बत की बातें करने लगा।कुछ ही दिनों की मुकालात में मैं उसे अपने शीशे में उतार चुका था.

सेक्सी चुदाई बताएं वीडियो

वैसे तो मैंने बहुत लड़कियों और भाभियों की चुत मारी है, पर ये कहानी कुछ अलग हट कर है. अब तक की मेरी इस मस्त ग्रुप सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि कल रात जीजा ने अपनी बहन आलिया की गांड मारी, तो आकाश ने मेरी बहन चित्रा की गांड बजाई. ख़ुशी- नहीं ऐसा मत करो मेरे लंड का पानी बेकार मत करो, सारा पानी मुझे पीना है.

फिर दोनों ने अपनी पोजीशन बदली और दूसरे वाले काले अंकल ने नीचे लेट कर मम्मी को अपने ऊपर बिठा लिया और लंड उनकी चूत में डाल दिया. 5 इंच मोटा है।इस साइट पर यह मेरी दूसरी कहानी है आशा करता हूं कि आप सबको पसंद आएगी. हिंदी बीएफ इंग्लिश सेक्सीइसके लिए तुम मुझे कहीं भी हाथ लगा सकते हो … लेकिन कपड़े के ऊपर से ही.

अब सुधा भी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी- आह … और जोर से चोदो प्लीज़ … मुझे और मज़ा दो … आह आज तो जन्नत में ही जाना है.

दीपिका ने एक सिप ली और उसी गिलास को अपने हाथ से पकड़ कर मेरे होंठों से लगा दिया. मेरा रंग गोरा है मैंने आपको अपने बारे में सब बता दिया है ताकि आप मेरे जिस्म का अंदाजा लगा सके कि मैं कैसी दिखती हूंगी।जब मेरी शादी हुई तो मेरे पति मुझे बहुत प्यार करते थे। घर में मुझे सभी से बहुत अच्छा प्यार मिला.

एक बार तो मन किया कि दरवाजे को वापस बंद कर लूं लेकिन ज्ञान की जीन्स में कसी उसकी सुडौल मांसल जांघों पर नजर गयी तो मन बहक गया. रिंकी और विशाल ने गले लगकर सुनील को बधाई दी तो सुनील बोला- रिंकी आज तो मेरा किस बनता है. उसकी पैंटी भी गीली हो गई थी, जो मुझे उसका लोअर उतारने के बाद पता चला.

ऊपर नीचे होने से मेरे मम्मे भी उछल रहे थे और उसके सीने से रगड़ खा रहे थे.

भाभी ने अपने फोन से भाई को फोन किया और पूछा- आप कहां हो … कब तक आओगे?उन्होंने बोला- मैं 8:00 बजे तक आऊंगा. जब देखा मेमरानी लंड से खेल रही है तो बेबी रानी मटक के बोली- ओह हो ओह हो … क्या बात है पिंकी … लगता है हमारा आशिक़ तुझे पसंद आ गया?मेमरानी ने हंसकर कहा- हाँ आ गया … इसका नाम मैंने रुस्तम रख दिया है और इसके हथियार का नाम नाग … और ये मुझे मेम रानी कहा करेगा. इससे मेरी टांग उनकी दोनों बाजुओं के बीच कैद हो गयी और फिर नीचे झुककर मेरे होंठों को चूमते हुए अपने लण्ड को मेरी चूत के अंदर बाहर करने लगे।हमारी जिह्वायें एक दूसरे के मुख को खंगाल रही थी और गीले होंठों की तपिश … पुच पुच की आवाज़ें कर रही थी.

किन्नर एक्स एक्स एक्स बीएफउसे देख कर ऐसा लग रहा था कि किसी कलाकार ने संगमरमर की मूरत को मेरे सामने एकदम नग्न खड़ा कर दिया हो. फिर थोड़ी देर रूकी और बोली- कल रात में घर में कोई नहीं रहेगा, आप कहें, तो उन चारों बैचलर को बुला लेती हूं, उनके चार दोस्त और भी हैं.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो नंगी पिक्चर

मैंने उनकी पैन्टी में हाथ डाल दिया और चुत को अपनी उंगली से छूने और रगड़ने लगा. उसके रसीले होंठों को चूसने लगा और साथ ही उसके टाइट मम्मों को मसलने लगा. ज़ेबा के लिए मेरी चाहत और प्यार को देख वो कुछ सोचने पर मजबूर हो चुकी थीं.

हालांकि अभी तक हमारी बातें कभी सामान्य बातों से ऊपर जा ही नहीं पा रही थीं. फिर मैंने अपने हाथ से भाभी के पेट को थोड़ा सा दबाया और फिर भाभी से बोला- अब अपनी गांड को खुला छोड़ दो. अभी मैं कुछ और करता कि तभी चाची ने सोने का कहा और उठ कर अपने कमरे में जाने लगीं.

” अब मेरे पास हामी भरने के अलवा और क्या कोई रास्ता कहाँ बचा था।रात को मैं कोई नो बजे होंगे उसका फ़ोन आ गया। वह डिनर पर बुला भी रही थी और उलाहना भी दे रही थी- प्रेमजी! क्या हुआ? आप तो आये ही नहीं अभी तक मैं कब से वेट कर रही हूँ!हाँ. सुबह ज़ेबा जाग चुकी थी और बच्चे के लिए दूध का फीडर तैयार कर रही थी. मुझे तो सबसे ज्यादा मजा अपनी दीदी को गर्लफ्रेंड बनाकर चुदाई करने में आया था.

अब मेरा एक हाथ उसके एक दूध पर था दूसरा हाथ उसके चूतड़ों को सहला रहा था. रुस्तम यार मेरा तो फिर से मूड बन रहा है … क्या बोलता तू? हो जाए एक और राउंड?”रानी ने खड़े हो चुके लौड़े की खाल को पीछे सरका कर सुपारा नंगा कर दिया और दूसरे हाथ से झांटों में उंगलियां घुमाने लगी.

घर जाकर फोन पर बताता हूं।और इस तरह मैं बाहर आ गई, बाहर अभी भी बच्चे खेल रहे थे और आस पास कोई नहीं था। यह देखकर मैंने चैन की सांस ली और घर वापिस आ गई।तो दोस्तो, ये थे मेरी जिंदगी के कुछ मजेदार हसीन पल।कैसी लगी आपको गाँव के खेतों में मेरी ये देसी चुदाई की कहानी, आप मुझे[emailprotected]पर बतायें।आप मुझे फेसबुक पर komal advicer पर भी कांटेक्ट कर सकते हैं।.

दो मिनट तक नज़मा को लंड चुसवाने के बाद जीजा ने जब लंड उसके मुंह से बाहर निकाला तो उनका लंड पूरा का पूरा थूक में लिपटा हुआ था. एक्स एक्स बीएफ भेजिएदीप्ति की नजर मेरे लंड पर थी और मेरी नजर उसकी चूत से नहीं हट रही थी. इंडियन लड़की की चुदाई बीएफतभी डोरबेल की आवाज़ सुनाई दी और जिया दरवाजा खोलने के लिए खड़ी हो गई. मैं लंड चुसवाते हुए चाची को गाली दे रहा था- आह रंडी … अब दिखा साली अपनी आग … सुबह से चुदवाने फिर रही थी, तो चुद ले … आह आज तेरी चुत का भोसड़ा बना कर ही रहूंगा.

अम्मी बोल रही थीं- हम्म … बस तुम्हारा हो गया … झड़ गए … मेरी आग अब कौन शांत करेगा?अब्बू कुछ बोले नहीं और वैसे ही पड़े रहे.

आपको मेरे लंड से बहू की चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं. नाचने के नाम पर मैंने आज तक केवल होली और बारातों में ही थोड़ा बहुत डांस किया है. रिंकी ने प्रिया को देख एक बार कस के उसको चूमा और फिर दोनों कपड़े पहन कर सो गयीं.

पूरा मजा लेने के लिए मैंने दीप्ति को अपनी गोद में उठाया और उसको छत वाले कमरे में लेकर चला गया. मेरी बीवी की पूरी पेशाब रोहित की छाती से लेकर उसके पेट को भिगो गया था. उन्होंने कहा- आज हमने सेक्स किया है, तो हो सकता है कि बच्चा ठहर जाए.

जयपुर की चुदाई सेक्सी

लौंडे गांड मरवाने के लिए तैयार तो हो जाते हैं लेकिन फिर बीच में चिल्लाने लगते हैं. इसके लिए मैं तुम्हें सिर्फ 5 मिनट देती हूं, जिसमें अगर तुमने मुझे गर्म करके चुदने के लिए मजबूर कर दिया, तो मैं तुमसे चुद जाऊंगी. उन्होंने रात में पहनी जाने वाली एक पारदर्शी मैक्सी पहन ली थी, जिसमें से उनका शरीर साफ़ दिख रहा था.

मैंने दूसरा धक्का देते हुए अपना पूरा लंड भाभी की चूत में डाल दिया और धक्के मारने लगा.

पम्म पम्म पम्म के साथ ही ताल के साथ तीन ज़बरदस्त धक्के … धम्म धम्म धम्म तो तीन और पावरफुल शॉट … छम्म छम्म छम्म पर तीन वैसे ही भयंकर ठोक.

ये कहते हुए मैंने भाभी का हाथ अपने लंड पर रख दिया, जो जोश में फनफना रहा था. उसने मेरा पैंटी को नहीं निकाला … पर अब उसने अपना कुर्ता और पज़ामा निकाल दिया. मियां खलीफा बीएफ सेक्सकोमल- हम्म … फिर से मुझसे प्यार हो गया!मैं- बहुत ज्यादा!कोमल- और वो तुम्हारी रिया!मैं- क्यों … क्या मैं दो गर्लफ्रेंड नहीं बना सकता!कोमल- तुम्हें बता दूं कि मैं किसी की बीवी हूँ.

चाची के मुँह से ये सुनते ही मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और गोली की रफ्तार से चाची को चोदने लगा. कुछ पल बाद मैंने उंगली में ढेर सारा थूक लिया और चाची की गांड के टाइट छेद में उंगली पेल दी. इस बार मैंने सोचा कि ज्यादा टाइम चूमा-चाटी में नहीं लगाऊंगा और थोड़ा किस करने के बाद लंड को सीधा चूत में डाल दूंगा.

अब रोहन उठा और उसने रोहित को अपने नीचे लेटाकर उसके शरीर से खेलना शुरू कर दिया. उस दिन के बाद मुझे कभी भी अपनी दीदी या उनकी ननद आलिया की चुदाई का मौका नहीं मिला.

मैंने अपनी दोनों हथेलियों में दीपिका के बड़े बड़े चूचों को पकड़ लिया और उन्हें सहलाने लगा.

उन्होंने कहा- और पगली! देखा नहीं कि उनका लिंग कितना बड़ा और मोटा है?मैंने कहा- हाँ भाभी, कमरे में बिल्कुल अँधेरा था. तो मैंने बिस्तर पर एक तौलिया बिछाया जहां पर मेंहदी गिरने की संभावना थी. अब पायल ने आंखें नचाते हुए कहा- हां तो समधी जी, कल संगीत पर आप किस गाने में परफार्म करेंगे.

बीएफ मां बेटा [emailprotected]सेक्सी कहानी का अगला भाग:सहेली का अन्तर्वासना और पहला सेक्स-2. उसकी गांड खुद ही ऊपर आ आकर उसकी चूत को जीजा के मुंह में घुसाने लगी थी.

फिर मैंने उन्हें मना नहीं किया और उन्होंने मेरी चूत में ही अपना पानी निकाल दिया और मेरे ऊपर लेट गए थक कर!हम दोनों काफी देर तक एक दूसरे से ऐसे ही चिपके रहे. मेरा लोअर मेरे हिप्स पर से तो नीचे हो गया लेकिन आगे से लण्ड खड़ा होने के कारण इलास्टिक में फंस गया. मैंने थोड़ा सा अपने को उठाया और एक बार फिर से उसकी मस्त चूचे कस के मसलने कुचलने लगा.

मायावती की सेक्सी वीडियो

मैं- तुम्हारा कोई ब्वॉयफ्रेंड है?प्रिया समझ गई और आंख नचाते हुए ऊपर नीचे देखते हुए बोली- ब्वॉयफ्रेंड … हूँ … ऐसा तो कोई नहीं है. कमरे में एक शख्स बिस्तर के पास खड़ा था और कुछ सेकंड बाद ही वो बिस्तर पर चढ़ कर दूसरे शख्स के साथ लेट गया. सच कहता हूँ दोस्तों! कुछ मुस्कुराहटें होती ही इतनी दिलकश हैं कि पूछिए मत.

जब उसका लंड मेरी गांड में पूरा घुस गया, तो उसने तेल की शीशी का मुँह मेरी गांड पर लगा कर टपकाना शुरू कर दिया. सीमा- क्या करें … वीना है ही बजाने की चीज़। अच्छा हुआ। क्या बताऊँ, मेरे लिए तो रोज की बात है।रकुल- मैं भी तुम्हारा दर्द समझ सकती हूं वीना। जो हेवी डाइट तुम्हें रात में मिली उसी का नाश्ता मैंने सुबह किया है.

भाभी बोली- सचिन, एक बात और बोलूं?मैं- हां भाभी बोलिए।भाभी- किसी से कुछ कहोगे तो नहीं? वादा करो.

कुछ देर बाद मैंने पूरा पानी भाभी के मुंह में छोड़ दिया। भाभी उसको पूरा पी गई. वो मुझसे खूब बातें करने लगी थी और अब मेरे पास उसका फोन नम्बर भी आ गया था. ” कहते हुए उसने मेरी ओर तिरछी नज़रों से देखा।मुझे लगा वह मुझे निरा पपलू (अनाड़ी) समझ रही है।अब उसे क्या मालूम किचन में जब प्रियतमा नंगी होकर खाना बना रही होती है तो उसके पीछे खड़ा होकर उसे बांहों में भर कर उसके नितम्बों में अपना खडा लंड डालने में कितना मज़ा आता है मेरे से ज्यादा भला कौन जान सकता है।प्रिय पाठको और पाठिकाओ, आप सभी तो बहुत गुणी और अनुभवी हैं.

उसने मेरे लंड को अपने दोनों हाथों में लिया औऱ उस पर 3-4 चुम्बन जड़ दिए. मैंने उससे कहा- क्यों अब तुझे गर्लफ्रेंड की जरूरत नहीं होती क्या? मेरे बेटे की गर्लफ्रेंड तो मेरे घर तक आती है. भाई ने मेरा सर पकड़े रखा था और तब तक नहीं छोड़ा, जब तक आखिरी बूंद मेरे मुँह में नहीं गिर गई.

जीजू अब मेरी चुचियों को अपने दोनों हाथों से मसल रहे थे … और मेरे गालों पर होंठों पर चुम्मियों की बरसात किए जा रहे थे.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ बीएफ बीएफ: आप सभी मुझे मेल करके जरूर बताएं कि इस सेक्स कहानी का आपको सबसे ज्यादा कौन सा सीन पसंद आया है. मैंने फिर कहा- घबरा मत डार्लिंग, प्रियंका से पूछ कर देख कितना मज़ा आता है.

मेरे जीजा ने उसकी जांघों को दोनों हाथों से फैलाया हुआ था और उसकी चूत में जीभ देकर मस्ती में ऐसे चाट रहे थे जैसे किसी मीठे फल का रस चूस चूस कर निकाल रहे हों. बिना वक्त गंवाए मैंने अंडरवियर को नीचे कर दिया और उसके लम्बे मोटे लंड को मुंह में भर कर चूसने लगी. रोहित अब चुची को मुँह में भरकर पीने लगा और दूसरी सुडौल चुची को निकाल कर उसका मर्दन करने लगा.

पर आज हम तीनों ही जानवर बनना चाहते थे और जानवर होने की सारी हदें तोड़ देना चाहते थे.

अब वो भी मेरी बातों और हरक़तों से गर्म होने लगी थी और किसिंग में मेरा पूरा साथ देने लगी थी।एक दिन मैंने उससे कहा- यार अब नहीं रहा जाता, मैं तुम्हें अब खुल कर प्यार करना चाहता हूं। तुम्हारे इस जिस्म को जी भर कर निहारना चाहता हूं। अब ऐसे बाहर ही बाहर से सहलाने भर से मेरा मन नहीं भर रहा है। मुझे तुम्हारे पूरे जिस्म को बिना कपड़ों के सहलाना, चूसना व चाटना है. फिर उन्होंने और जोर लगाया और पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया और हल्के हल्के से धक्के लगाने लगे. उसने मेरी चूत के दाने को अपनी जीभ से दो-तीन बार ही चाटा होगा कि मैं अपनी चरम सीमा पर पहुंच गयी.