कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ

छवि स्रोत,चुदाई चाची की

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स ब्लू चुदाई: कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ, तो मैंने कहा- ऐसा क्यों भाभी?उन्होंने कहा- पागल, इतना बड़ा किसी का नहीं होता.

வில்லேஜ் ஆன்ட்டி செக்ஸ் வீடியோஸ்

कामिनी ने मेरे हाथ कसके पकड़ रखे थे और लंड चूत में अन्दर रगड़ खाने लगा था. क्सक्सक्स+वीडियोसफिर अपने छेद के चारों तरफ कुछ ज्यादा सी चिकनाई लगा कर गांड को तैयार कर लिया.

वो तो अच्छा था कि मोबाइल बजने से पहले ही मैंने साइलेंट कर दिया और कॉल कटते ही मैंने मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया. भाई और बहन xxxचूंकि इस वक्त किसी के भी आने का खतरा था तो मैंने जल्दी से उनकी कुर्ती को ऊपर उठाया और उनके दूध पीने लगा.

विक्रम मेरे साथ वाली चेयर पर था, वो खाना खाते खाते कभी मेरी चूची दबा देता और कभी मेरी चूत पर हाथ मार देता.कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ: शायद लौड़े के बड़े और मोटे होने के कारण पूरा अन्दर तक लेने में उसको तकलीफ हो रही थी.

कुछ देर बाद चाची भी नीचे से गांड उठा उठा कर मेरे हर शॉट का जवाब देने लगी थीं.मैंने उत्तेजना में मामी के बाल कस के पकड़ लिए और मामी के मुँह में लंड और अन्दर डालने लगा.

செக்ஸ் வீடியோ லைவ் - कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ

इमरान ने कहा- इसकी मां का यार मारूं … साली क्या गजब की चालू छोरी है.फिर जब मैं बुआ की चुदाई करके झड़ने को हुआ तो उन दोनों ने मेरे लंड का माल अपने ऊपर निकलने को कहा.

उन्होंने मुझसे कहा- तुम्हारे चाचा की दो दिन बाद नाइट शिफ्ट आएगी, तो उस वक्त तुम आ जाना. कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ उसकी न मना करने वाली मना पर मैं भी समझ गया कि ये भी मूड में आ गई है.

कमरे में लाते ही मैंने आंटी को बेड पर पटक दिया और झट से उल्टी करके गांड को चाटने लगा.

कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ?

वो गर्म आहें भरने लगी थीं- आह आह आह आह मैं झड़ रही हूँ राजा … आह अन्दर तक पेलो. मैं सोफे पर बैठकर आंटी के एक चूचे को दबाने लगा और उनको उत्तेजित करने लगा. सुकेश की मैच्योरिटी से मैं बहुत प्रभावित हुई और मुझे पता ही नहीं चला कब हमारी दोस्ती प्यार में बदल गई.

जब वो अपनी जीभ से मेरे जिस्म को चाट रहे थे … तो ऐसा मजेदार अनुभव मैंने जिन्दगी में कभी नहीं लिया था. मॉम की उंगलियां आंटी की चूत के गर्म पानी से गीली हो चुकी थीं और फच फच की आवाज़ को मैं सुन रही थी. इस सबके बाद बहन ने अपनी चूचियां हिलाते हुए कहा- सभी लोग सात आठ दिन के पहले नहीं आने वाले हैं.

फिर उसने कच्छी के ऊपर से ही मेरी बुर की फांकों पर एबीसीडी तक अपनी उंगली से बिना किसी पैन के लिखी, जिससे मुझे इतना मजा आया कि मैं बोलने वाली थी कि आयुष एक बार और लिख दे मेरी बुर पर एबीसीडी. मगर भाभी और मैंने इस मीठे दर्द को सहन करते हुए एक दूसरे का साथ देना जारी रखा. ज्योति को इस वक्त हम दो मर्दों की मर्दानगी का मज़ा मिल रहा था।वैसे भी किसी औरत की चूत पर किसी के तपते होंठ हों जो उसकी जवानी का रस चूस रहे हों तो मज़ा वैसे ही दुगना हो जाता है।ज्योति की चूत से रिस रहा पानी मेरे मुंह में आ रहा था उसे मैं अपने अंदर पिए जा रहा था, मैं उसको भोगने के लिए पागल होता जा रहा था.

उनकी चूत में ही लंड रस टपकाने के कारण अभी भाभी प्रेग्नेंट हैं इसलिए वो अपने मायके गई हैं. मैं डर भी रही थी कि कहीं मेरे पति को मेरी फटी चूत का पता ना लग जाए.

फिर उन्होंने कपड़े पहने और बाहर जाने से पहले मेरे पूरे जिस्म को चूमा और कहा- बेटा, तुम्हारी आंटी को गए पूरे हुए दस साल हो चुके हैं.

हम तुम्हारी आंटी के घर चलेंगे, वहां कोई नहीं होगा और हम वहां चुदाई का खेल खेलेंगे.

बिना बहस किए अरुणिमा झुक गई और शमशुद्दीन जी ने उसकी चूत में अपना लंड घुसेड़ दिया. अचानक चूमते चूमते वो मेरी चूत पर आ गया और मेरी चूत को ऊपर से चूमने लगा. उसके मुँह से निकली मादक आवाजें निकल रही थीं और चुदाई की आवाजों से पूरा रूम गूंज रहा था.

मैंने उसके होंठों को किस किया और कहा- जान … तुम्हारी गांड बहुत मस्त लग रही थी. दस मिनट तक लंड चूसने के बाद मैंने कहा- भाभी, मेरा पानी मुँह में ही पियोगी क्या?वो बोलीं- हां, मेरे मुँह में ही रस निकाल दो. वो बोला- यार, तेरा लंड तो मस्त खड़ा होता है, फिर भी तुझे गांड मारने की इच्छा नहीं होती, कमाल है?मैं बोला- मेरा लंड गांड मराते समय झड़ता भी है.

कुछ मिनट में ही हम दोनों एक साथ झड़ गए और एक दूसरे के पानी को पी गए.

कुछ दिन बाद मैंने मौका देख कर अपनी मम्मी से अपने ब्वॉयफ्रेंड के बारे में बात की. अब हर रोज रात को सोने से पहले लंड की पहले खूब एक्सरसाइज करता और वह तेल लगाकर खूब मालिश करता और सो जाता. मेरी बुआ के बेटे की अभी लॉकडाउन में शादी हुई थी परन्तु मैं लॉकडाउन के कारण शादी में जा नहीं सका था.

कहानी के पिछले भागकॉलबॉय कॉलगर्ल बनने के लिए क्या कियामें अब तक आपने पढ़ा कि मैं आंटी के ट्रेनिंग सेंटर में आ गया था. मैंने कहा- चलो फिर!हम लोग बाजार गए और अंडे ले लिए … साथ में मसाले आदि लेकर हम दोनों भाई के घर की ओर चल दिए. उनमें से एक ने बोतल मेरे मुँह में लगा दी और बोला- ले नीट ही पी ले हरामजादी … साली तू तो अभी से मर गई.

” दीपक अपने बिछाए जाल से फिसलती मछली नहीं देख सकते थे।तभी मुझे सहारा दिए लड़कों में से एक बोला- सर, क्या इसे अंधेरे में अकेले बिठाना ठीक होगा, इस वक्त सभी टुन्न हैं, कोई ऊंच नीच हो गई तो?दीपक झेंप के बोले- मुझे तुम दोनों पर गर्व है, लड़कियों की सुरक्षा के बारे में सोचना, बहुत अच्छा ख्याल है.

पायल सिर्फ सीत्कार कर रही थी- आआह निखिल … और ज़ोर से चूसो ना … आह पी लो मेरे जोबन को. वो मेरे कहने के अनुसार लेट गयी, मैं नीचे उतर कर उसके चूतड़ों के पीछे आ गया.

कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ रात में मैंने अजीब सी आवाजें सुनी तो देखा कि अंकल और आंटी सेक्स कर रहे थे, पागलों की तरह एक दूसरे में लगे हुए थे. अब आगे वाटर सेक्स स्टोरी:उनकी पार्टी शुरू हुई दारू और बीयर चलने लगी.

कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ तो मैंने उसे अपने लन्ड की अलग अलग एंगल से 3-4 फोटो क्लिक करके भेज दी. धीरे धीरे हमारी बातें मिलने पर पहुंच गई, पर मिलने के लिए वो साफ मना कर जाती थी.

कुछ पल बाद मैं बेड से नीचे आकर खड़ा हो गया और अपनी भाभी की टांगों को अपने कंधों पर रखकर चूत में लंड के झटके देने लगा.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी में

चाची ने कुछ पल तक अपने दोनों हाथों से मेरे लंड को आगे पीछे करना चालू रखा. उनमें से एक पाठिका मेरी सहेली बन गई और उसी की कहानी मैं आज आप लोगों के सामने रख रही हूँ. मेरे पापा मम्मी मुझ पर बहुत विश्वास करते हैं इसलिए उन्होंने मुझे अपनी पढ़ाई के लिए बाहर रहने दिया.

उसने लिखा था- आई लव यू राज,मेरी चूत की प्यासबुझाने के लिए थैंक्स … मैं तुम्हें कल फिर से कॉल करूंगी, तो आ जाना, हम दोनों फिर से मज़ा करेंगे. मैं ख़ुशी से झूम उठा और नीचे भाभी को देखने चला गया कि वो क्या कर रही हैं. अब शर्मा अंकल की ही मेहरबानी से मुझे चार नए जवान लंडों से चुदवाने का मौका मिल रहा है, तो इसे अपने हाथ से क्यों जाने दूं.

comपर जाएं और Savita Bhabhi Video” खोजें।आप पहले परिणाम में आधिकारिक सविता भाभी वीडियो साइट देखेंगे।या आप सीधे ट्रेलर वीडियो के अंत में बताई गई वेबसाइट पर जा सकते हैं।.

इसके बाद रिया मेरी पीठ पर अपनी जीभ चलाने लगी और नीचे मेरी कमर पर भी बहुत चूमा. कुछ देर तक चूत चाटने के बाद सलोनी भाभी मेरे ऊपर आ गईं और मुझे किस करने लगीं. दूसरे दिन भाभी कल के जैसे ही बाथरूम में झुक कर कपड़े धो रही थीं और उसी समय मुझे मूतने जाना था.

पायल उस गुच्छे को जैसे ही उठाने के लिए नीचे झुकी, तो मुझे उसके बूब्स दिख गए. सीखने वाले/ वालियों को अभिनय करना था कि उन्हें मज़ा आ रहा है, साथ ही ग्राहक के मज़े का ख्याल रखना था. इतने लंबी चुदाई के दौर के बाद थककर हम दोनों एक दूसरे की बांहों में नंगे ही सो गए.

मैं- अरे क्या इसी पानी में ही चोदोगे या बाहर भी निकलना है?राजेश- मेरी रानी, आज मैं तेरी चूत पानी के अन्दर ही चोदूंगा. कितना सलोना लंड था मेरे भाई का … इतना बड़ा उसका 8 इंच का लंड 3 इंच मोटा लौड़ा देख कर मुझे सच में मजा आ गया.

आंटी दोनों हाथ ऊपर कर के मेरे बाल गाल और सिर सहलाने लगीं, बोलीं- फिर से तैयार होना पड़ेगा. मैं भी भूखे शेर की तरह उस पर टूट पड़ा और अपने लंड को चूत में डालकर ऊपर नीचे शुरू करने लगा. मैं लगातार भाभी की चूत चोदने के बाद उनकी गांड में लंड डालने लगा तो भाभी एकदम से खड़ी हो गईं.

चाची तड़फ कर बोलीं- रुके क्यों?मैं बोला- सांस तो लेने दे साली रंडी …चाची पलट कर बोलीं- हां मादरचोद … ले ले पूरी सांस … और फिर से शुरू हो जा.

वो मादक सिसकारियां भरने लगी थीं- आह विकास अब चोदो मुझे … मेरी चूत की आग को ठंडी कर दो. उसके चूचे एकदम सफेद थे, जिन पर मटर के दाने के बराबर के ब्राउन निप्पल थे, जो उत्तेजना में कड़क हो गए थे. मेरी इस बात पर भाभी बोलने लगीं- हां मुझे पहले से पता है कि आप मुझे पसंद करते हैं और इसलिए आप मेरी इतनी मदद करते हैं.

उसने अपने खड़े लंड को हाथ में लिया और मुझे उठकर लंड पर बैठने को कहा. मेरी चूत के अन्दर भी हल्की सुरसुराहट होने लगी, एक अजीब सी सिहरन और मज़ा भी आने लगा था.

तब विक्रम मॉम के साइड में आया और मॉम की गर्दन और कंधों पर प्रेशर दिया और पूछा- आंटी यहां दर्द है?मॉम ने कहा- हां है. ब्लॉक में एक अधिकारी थी ताहिरा … जो बहुत ही गजब की खूबसूरत और मस्त चूचियों की मालकिन थी. मेरी गांड के नीचे तकिया लगा होने के कारण मेरी गांड ऊपर को उठी हुई थी.

बीएफ पिक्चर बीएफ दिखाओ

पहले को दबाता और दूसरे को चूसता, फिर दूसरे को दबाता और पहले वाले को चूसता.

इधर अपना लंड उसकी गांड में डालने जैसी ताकत लगाते हुए हाथों को आगे ले जाकर उसके चूचों का मर्दन करने लगा. मेरी उम्र 25 साल है और मेरे लंड का साइज़ साढ़े सात इंच लंबा और तीन इंच मोटा है. मेरी पिछली कहानी थी:सहकर्मी की पत्नी की प्यासी चूत की चुदाई का आनन्दइस बार मैं अपनी प्रिय पाठिका दिशा राजपूत की गैंग बैंग सेक्स फंतासी को आपके सामने रख रहा हूँ.

मैं एक बच्चा ही दिखता हूँ, जिससे कम उम्र की लड़कियां मुझसे बहुत जल्दी आकर्षित हो जाती हैं. ये सुनकर भाभी थोड़ी शान्त हो गईं और बोलने लगीं- मुझे तुम पर पूरा भरोसा है प्रवीण. ஆன்ட்டியின் செக்ஸ்चाची सास- हां वो तो मुझे पता है, पर कुछ कर भी रहे हो!मैं- कुछ नहीं.

दीदी मेरे कंधे पर सिर रखकर बोलीं- मुझे प्यार हो गया है तुमसे, तुम्हारा नहीं पता. वो मादक सिसकारियां भर रही थी- आह … आह … उम … उम …उसने मुझे भी नंगा कर दिया और मेरे लंड को हाथ से मसलने लगी.

मैंने आंटी से कहा- चल मेरी एक दिन की रानी … मेरा लंड बाहर निकालकर चूस!आंटी ने कच्छा उतारते ही चौंकने जैसा नाटक किया और कहने लगीं- इतना मोटा?मैंने कहा- साली नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली … ज्यादा ड्रामा न कर … अब जल्दी से केला मुँह में ले ले. वो एकदम से चिल्ला उठीं और बोलीं- आशु, इतना लंबा लंड तो तेरे अंकल का भी नहीं है. उसने अपने मुँह से लंड निकाल कर कहा- जान कलाई छोड़ो ना!मैंने कलाई छोड़ दी और वो शमशुद्दीन जी की कमर पकड़ कर अच्छे से उनका लंड चूसने लगी.

ये ऑफिसर सेक्स कहानी उन दिनों की है जब मैं कोई भी काम नहीं करता था और काम की तलाश में इधर-उधर भटकता रहता था. फिर चाची ने मेरा लंड चुत के मुँह पर सैट किया और ऊपर की ओर उठ कर धब्ब से मेरे लंड के ऊपर बैठ गईं. मुझे माल निकलते वक्त जैसा महसूस होता है, वैसा महसूस हुआ बस!अब मैं पूरी तरह से थक गया था.

तो मैंने कहा- ठीक है नम्रता, अब से तुम भी मुझे आप कह कर मत बुलाया करो.

फिर बारी बारी से उन सभी के लंड चूस चूस कर साफ करने के साथ फिर से लौड़े जवान कर दिए. ये सुनकर मुझे झटका लगा कि इसे ये सब कैसे पता चला और आश्चर्य भी हुआ कि मेरी सगी बहन मुझसे सेक्स करने के लिए बोल रही है.

भाभी बोलीं- आओ प्रियांश बैठो, तुम खाना खाओगे न!मैंने कहा- नहीं भाभी, मैं खाना खाकर आया हूँ. मैंने जोर से किस करना चालू कर दिया और उनके मम्मे दबाने लगा, तब जाकर चाची की आंख खुली. चाची ने वैशाली को पकड़ लिया और उन्हें सब पता चल गया कि वो किससे बात कर रही थी.

वहां भाभी ने मेरे साथ क्या किया?प्रिय पाठको, कैसे हैं आप सब!आपने मेरी पिछली कहानीट्यूशन पर सेक्सी कुंवारी लड़की की चुदाईपसंद की. उसने मुझसे पूछा- तुमने अभी खाना खाया या नहीं?मैंने उससे कहा- तुमने खाने के लिए टाइम ही नहीं दिया यार … सुबह से भूखा हूँ. इस वजह से मेरा लंड खड़ा होकर टाइट हो गया था और उसकी चूत पर कपड़ों के ऊपर से ही रगड़ खा रहा था.

कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ विक्रम बोला- आंटी क्या हुआ, मैं एक डॉक्टर हूं … मुझे इलाज से पहले सब चैक करना पड़ता है. पर मेरे लन्ड का उभार आंटी ने देख लिया था।वो मुस्कुरा रही थीं।हम दोनों लोग काम करते करते पसीने से भीग गए थे.

बंगाल का बीएफ हिंदी

भाभी ने हंस कर कहा- जो आपने मेरे और मेरे परिवार के लिए किया है, उसके लिए मैं आपकी सदा के लिए आभारी रहूंगी. वो होली की छुट्टियों में घर आया था और बाद में लॉकडाउन के कारण ये सब हुआ था. अब जब भी हम दोनों को मौका मिलता है, हम दोनोंचुदाई की मस्तीलेने लगते हैं.

इसलिए जब कॉल करूं, तब आना, मैं आगे का गेट खुला छोड़ दूंगी।अब तक 1-30 बज चुके थे और सुबह से मैं भूखा था और चूत चोदने की भूख वो अलग लग रही थी. आंटी मेरा चूतड़ दबाए पड़ीं थीं हाथों से!उन्होंने एक एक बूंद ले ली चूत में।लन्ड निकलते ही मुझे पेट पे, लन्ड पे चूमने लगीं, मेरी छाती चूमने लगीं और रोने लगीं. देवर भाभी की चुदाई बताओमैंने उसकी फ्रॉक के अन्दर आहिस्ते आहिस्ते अपना हाथ डाला और उसकी चिकनी जांघों पर चलाने लगा.

फ्रेंड्स सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको चाची की चुदाई का फाइनल शॉट लिखूँगा.

जैसा कि आपने मेरी सेक्स कहानीनए फ्लैट में दोस्त की मम्मी को चोदामें पढ़ा था कि मैंने अपने दोस्त वरूण की मम्मी की जी भरके चूत चोदी थी. अब विक्रम अपना लंड सहलाता हुआ बोला- देख कुतिया, अब मैं तेरी चूत का क्या हाल बनाता हूं.

मैंने सोचा कि साला जब शिकार खुद ही शेर के पंजों में फंसना चाहता है, तो मुझे क्या पड़ी. मुझे हर रोज चाची जॉब से आते ही कुछ ना कुछ काम के बहाने अपने घर बुला लेती थीं और चाचा देख ना लें, इस बात का पूरा ख्याल रखती थीं. कुकोल्ड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब पति ने अपने दोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी को उसके लंड का मजा लेने को कहा तो गर्म बीवी ने क्या किया?कहानी के पिछले भागहॉट बीवी को दोस्त के लंड से चुदवाने की तमन्नामें आपने पढ़ा कि पति ने अपने दोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी के सामें दोस्त का नंगा लैंड पेश कर वदिया और चूसने को कहा.

ये सुनकर मेरे कान खड़े हो गए और मैं और ज्यादा ध्यान से उसकी बातों को सुनने लगा.

अब उसने हल्के हल्के धक्के लगाने शुरू किए, तो मैं धीमी आवाज में आहें भरने लगी और चुदाई का मजा लेने लगी. मैंने अब चाची को अपने बाजू में धक्का दे दिया जिससे चाची सीधी लेट गईं. नमस्ते, कैसे हो आप सब, मेरा नाम जॉर्डन है, ये आप सबके सामने मेरी पहली सेक्स कहानी है.

செக்ஸ் வீடியோ தெலுங்கு செக்ஸ் வீடியோउधर वो चारों भी जोर जोर बोले जा रहे थे कि साली की क्या चूत है … आह फाड़ देंगे … आज ती इसकी चुत का भोसड़ा बना कर दम लेंगे … आह आह …वो सब जानवरों की तरह मुझे बेदर्दी से चोद रहे थे. ‘वाह चाची आपने अच्छा किया, वर्ना आज सुबह मॉम मुझे ऐसे ही पकड़ लेतीं.

चेन्नई का बीएफ वीडियो

मामी बोलीं- क्या ऐसी स्कर्ट मैं पहन लूं?तो मैंने बोला- आप पहले से ही हॉट हो स्कर्ट में तो और ज्यादा हॉट दिखोगी. वो मेरी गांड को देखते हुए बोला- हां यार, तेरी गांड ने मेरा पूरा लंड अन्दर ले लिया है. मैंने आंटी से पूछा- आंटी आपने कभी थ्री-सम सेक्स किया है?आंटी बोलीं- थ्री-सम ही नहीं मैंने बहुत बार कंपनी के बिजनेस के कारण गैंग बैंग भी कराया है.

प्रिया भाभी को बाथरूम जाना था, वो उठने लगीं मगर उनसे उठा ही नहीं जा रहा था. वो अब अक्सर मेरे आस पास ही मंडराने लगी थीं जिससे मैं समझ गया भाभी का चुदने का मूड बन गया है. फिर मैंने धीरे धीरे बातें करते हुए उससे उसके बॉयफ्रेंड के बारे में पूछने लगा.

राजेश- जीजाजी, बिल्कुल सही कहते थे, तू तो एक नंबर की गर्म माल है ललिता. मैंने कहा- जिसने सब कुछ सौंप दिया, अब उसकी गहराई क्या देखना!वो बोलीं- हां ये तो है. दोस्तो मैं अपनी इस Xxx चुदाई की कहानी के अगले भाग में आपको बताऊंगा कि किस तरह से सोनल मेरे लौड़े से चुदी और मेरी बीवी नैना के बारे में उसने क्या खुलासा किया.

लगभग बीस मिनट तक मैंने स्वाति की गांड मारी और अपना पानी स्वाति की गांड में डाल दिया. इसी कारण से चाची ने शाम को 9 से 11 तक मुझसे रोज फोन पर बात करना शुरू कर दिया.

अरुणिमा अभी भी कुतिया स्टाइल में ही थी और शमशुद्दीन जी मजे से उसे चोदने में जुटे थे.

मेरा लंड अंडरवियर के अन्दर से पूरा तना दिख रहा था और स्वाति साड़ी में थी. ब्लू सेक्स सेक्स ब्लूमैं कुछ ज्यादा ही जल्दी गर्मा गया था तो मुझसे रहा नहीं गया और मैं भाभी के मुँह में ही झड़ गया. ब्लू पिक्चर सेक्सी दिखने वालीआंटी ने बस से नीचे आकर मुझे गले लगा लिया और फिर चल दी।चुदाई का दौर ऐसा चला कि वो मुझे शिमला अपने घर बुला लेती थीं. यदि मैं शेयर बाजार को थोड़ा सीख कर इसमें काम करूं, तो क्या मेरे ग्रह नक्षत्र इसकी इजाजत देते हैं?सर ने कहा- हां क्यों नहीं.

हॉट MILF सेक्स कहानी मेरे दोस्त की गदरायी मम्मी की गांड चुदाई की है.

मुझे शर्म सी आयी और गुस्से में मैंने उसकी चूची के दाने को पकड़ कर मरोड़ दिया. मैंने चाची के कपड़ों के ऊपर से ही उनकी गांड में लंड घिसा, तो चाची थर्रा गईं. कुछ देर बाद दीदी जोश में आ गईं और बोलीं- आंह अब चला अपनी गाड़ी तेज और फाड़ दे अपनी दीदी की गांड.

तब दोनों मिलकर मुझे सताने के लिए एक दूसरे से मज़ाक करती हुई कहने लगी थीं. प्रिया भाभी बस ब्रा और पैंटी में रह गई थीं और मैं कच्छे में रह गया था. इससे वो और ज्यादा तेज़ सांस लेने लगी और ‘आन्ह … या … ओह्ह ह’ ऐसी आवाजें निकालने लगी।फिर मैंने उसको गोदी में उठाया और बाथरूम से ले जाते हुए बैड पर पटक दिया.

हिंदी में बीएफ भेजना बीएफ

उसने रफ्तार बढ़ानी शुरू कर दी और जल्द ही पूरा पलंग जोर जोर से हिलने लगा. हॉट पंजाबी सेक्स कहानी मेरी बीवी की है जिसे मैंने अपनी तमन्ना पूरी करने के लिए अपने सामने किसी गैर मर्द के लंड से चुदवाया. आप मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी सेक्सी मामी Xxx कहानी कैसी लगी.

अब मैं उनसे आंखें नहीं मिला पा रही थी और वह मुझे देखकर हल्के से मुस्कुरा रहे थे.

अवचेतन मन था भाई … मेरा ध्यान चूची पे जाता था, देखता था किसने कैसी ब्रा पहन रखी है, पीछे सूट में ब्रा झलक रही है या नहीं!या यह देखता था कि किसने ब्रा नहीं पहनी है.

जैसे ही पैंट उतरी, मैं पीछे से हाथ फेर कर उनकी गांड की गोलाई को सहलाने लगा. सारा खून नीचे जाकर लंड में जमा हो गया था, वह छह इंच लम्बा और तीन इंच मोटा हो गया था. सेक्सी वीडियो कंपनीइसके पहले जब मैं उनके घर गया था, तब जब भाभी पहली बार प्रेगनेंट थीं.

अवचेतन मन था भाई … मेरा ध्यान चूची पे जाता था, देखता था किसने कैसी ब्रा पहन रखी है, पीछे सूट में ब्रा झलक रही है या नहीं!या यह देखता था कि किसने ब्रा नहीं पहनी है. आखिरकार मैंने उसकी पैंटी को भी उतार कर दूर फेंक दिया और उसकी बिना बाल वाली गुलाबी बुर देख कर मैं पागल हो गया. उसे बिल्कुल भी गंदा नहीं लग रहा था और उसके चूमने चाटने से मेरा मजा कई गुना बढ़ गया था.

दीपक रह रह कर धीरज को मेरा जिस्म टटोलते हुए देख रहे थे।धीरज बेसुध पड़ी मुझे चूम रहा था, चाट रहा था. उसके बाद मैंने रात को भाभी के बारे में सोच सोच कर मुठ मारी और मन पक्का कर लिया कि भाभी को पेलना ही है.

मैंने तुरंत अपना लंड निकाला और मां की चूत में एक जोदार झटके के साथ पेला दिया.

अगले दिन वंदना अपने पति के दुकान जाने के बाद उसने मुझको फोन करके बुला लिया. मदहोशी में हम दोनों इतने ज्यादा खो गए थे कि पता नहीं चला कि कब भाभी ने पानी छोड़ दिया. मैंने अनुज के हाथ आंटी को सौंप दिया और उससे कहा- ले कर ले, जो करना है.

गांड मारते मेरी पिछली कहानी थी:दोस्त की शादी में कुंवारी चूत के मजेयह नई सेक्स कहानी मेरी अभी नए साल की एक सच्ची घटना पर आधारित है. मैंने बिना किसी को बताए होली की कुछ फोटो और वीडियो बनाई थी, याद रखना.

मैंने उसका लंड अपने चूतड़ों में जकड़ कर हल्के से ऐसे दबाया, जैसे बस के झटके के कारण उसका लंड अन्दर आ गया हो. परन्तु शारीरिक सुख और हार्ड चुदाई क्या होती है, ये मुझे एक साल पहले तक बिल्कुल पता नहीं था क्योंकि मेरे पति इस मामले में बहुत ही सीधे और पुराने जमाने के हैं. उसने मॉम के निप्पल चूसने छोड़ दिए और पूछा- आंटी कैसी लगी ये मालिश?मॉम कुछ नहीं बोलीं.

मूवी बीएफ सेक्सी मूवी बीएफ

दरअसल बुआ और नीलिमा कॉलेज से अच्छी सहेली थीं और उन दोनों ने मिलकर बहुत बार लेस्बियन सेक्स किया था. मैं अपने रूम में आ गया।आप मुझे ईमेल करके बताना कि मेरी आपबीती कपल थ्रीसम सेक्स कहानी आपको कैसे लगी, आप नीचे कमेन्ट भी कर सकते हो।आपका दोस्तरवि स्मार्ट[emailprotected]. बस इन्तज़ार है वापस घर जाने का!यह थी मेरी और मेरी बेस्ट फ्रेंड के साथ लव सेक्स की, पहली चुदायी की कहानी!समय मिला तो जल्द ही आप सभी को जरूर बताऊंगा कि मेरी सबसे प्यारी चीज़ यानि उसकी गांड की चुदायी के लिए मैंने उसे कैसे मनाया।तब तक के लिए इजाजत दें.

मैंने मां को कुतिया बनाया और उनकी साड़ी ऊपर करके पीछे से अपना लंड मां की चूत में डाल दिया. आपको मेरी लेस्बियन पोर्न कहानी कैसी लगी, मेरी ईमेल आईडी पर मेल करके बताइए.

जैसे ही मेरे होंठों ने उसके लंड के सुपारे को छुआ, मैं वासना के सातवें आसमान पर पहुंच गई.

मुझे लंड चूसना बहुत गंदा लग रहा था लेकिन वो नशे में कुछ नहीं समझ रहे थे, वो तो बस मेरे मुँह में लंड को आगे पीछे करने में लग गये थे. हुसैना भाभी ने कहा- अगर तुम अब भी इसे अपनाने को तैयार हो तो मैं अपने भाई से तुम्हें आज़ादी भी दिलाने को तैयार हूँ. मैंने रणवीर से कहा- थोड़ा धीरे से!रणवीर ने जल्दी से कंडोम पहना और धीरे धीरे अपना पूरा लंड मेरी गांड में डालकर मेरे ऊपर लेट गया.

कभी वो मेरे स्तन जोर से मसलता तो कभी होंठों पर काटने लगता, निप्पल पर तो उसने जोर से काट ही दिया था. मुझे भाभी की चूत कैसे मिली?दोस्तो, मैं कई दिनों से अन्तर्वासना फ्री सेक्स कहानी पढ़ रहा हूँ. कुछ ही मिनट में मुझसे सहा नहीं गया और मैं झड़ने को तैयार हो गया था.

चूत का खट्टा कसैला स्वाद और लड़की का अपने पैरों से मेरे सर को दबाना.

कोलकाता का सोनागाछी का बीएफ: मैंने पजामे के ऊपर से ही उसकी गांड के छेद में उंगली घुसेड़ना शुरू कर दी. उन्होंने बस इतना कहा कि आज शाम को वापस आ जाना … और एक दिन मत रुक जाना.

उन्होंने भी मेरे सारे कागजात चैक किए कि मेरा आधार कार्ड कहां का है और बाकी मेरी ड्राइविंग आदि के बारे में सब कुछ जाना. मैंने एक एक करके सबको समझाया और जिनको आबंटन हुआ था, उनको कॉल करके निर्देश देने शुरू किया. वैसे तो मैं हर दिन सुबह चाची के घर उनके नहाने के समय पर जाता था और छुपकर उन्हें साड़ी बदलते देखता था.

अब वो कामुक आवाजें निकालने लगीं- ओह ह्म्म … आह और जोर से चोद साले और ज़ोर से पेलो, मुझे तुम्हें अन्दर तक लेना है.

उसकी बात सुन कर मैं अचंभित हो गया और मैंने उससे पूछा- तुम गे तो नहीं हो ना!तो किशन बोला- नहीं भैया, मैं गे नहीं हूँ … लेकिन ब्लूफिल्म देख देख कर ये सब सीख गया हूँ. मेरे मोबाइल पर तुम दोनों की रिकॉर्डिंग हो गयी है, मैंने वो सुनी है. मैंने कमरे का दरवाजा बंद किया और उनके पास जाकर उनके होंठों पर होंठ रख दिए.