जंगली बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,नौकर मलकिन के बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

नीरज सेक्सी वीडियो: जंगली बीएफ हिंदी, वो दर्द से कराहने लगी और बोली- एक महीने से पति चोद रहे हैं, तब तो इतना दर्द नहीं हुआ पर तुम्हारा लंड जाते ही चूत कांपने लगी.

गांव की साड़ी वाली बीएफ

वो शीशे में खुद को देख कर थोड़ा मुस्करायी और फिर ड्राइंग रूम में जाकर उसने ड्रिंक के लिए गिलास बोतल सजा दिए. बूढ़ा बूढ़ी का बीएफनीता के जाते ही गीता ने मुझे अपनी बांहों में कस लिया और बोली- हर्षद मुझे पूरा भरोसा है, तुम मुझे प्रेग्नेन्ट बनाकर ही जा रहे हो.

फिर जब मेरी दोस्त लड़की आई तो मैंने उसे लेने गया और उसे अपने कमरे में लेकर आ गया. बीएफ फुल एचडी बीपीमूवी में मां बनी औरत की उम्र 40 साल की रही होगी और वो अपने 19 साल के जवान बेटे का लंड चूस रही थी.

मैंने भी सोचा कि भाभी का टेस्ट लिया जाए, अगर बात बन जाती है, तो मेरे लिए भी फायदा हो जाएगा.जंगली बीएफ हिंदी: मेरा लंड भी अब बिना किसी दिक़्क़त के उसकी गीली चूत में सरपट दौड़ने लगा था.

उसने बताया- मैं पहली बार किसी स्टोरी को पढ़कर उसके रचनाकार को मेल करने की हिम्मत जुटा पाई हूँ.इस प्रयास से उसके दर्द में बढ़ोतरी न होने से वो और रिलैक्स हुई तो मैंने धक्कों को थोड़ा बढ़ाया.

बीएफ वर्सेस - जंगली बीएफ हिंदी

पास पड़ी रीना की पैंटी उठाकर मैंने उसे जोर से रीना के फ़टे हुए भोसड़े में भर दी और अन्दर से पूरी चूत सुखा दी.काम करते हुए कितनी बार मेरा हाथ मैं उसकी पीठ पर रखता, उसकी पीठ को सहलाता.

नंदा ने अपने दोनों घुटने के बल चूत को हिलाने लगी और दोनों हाथ मेरे कंधों और पीठ के पीछे ले गई. जंगली बीएफ हिंदी मैं फौरन अपने रूम की तरफ निकल पड़ी कि कहीं ऐसा ना हो जाए कि मेरी गीली लोवर की वजह से जहां पर मैं बैठी थी, वहां पूरा एक दाग बन जाए और इन तीनों हरामियों को मेरी गीली फुद्दी का अंदाजा हो जाए.

वो सोचने लगी कि क्या वो सचमुच इतनी खूबसूरत और सेक्सी है कि अर्णव, जो उससे उम्र में काफी छोटा भी है और हैंडसम भी है, उसे पाने के लिए पागल हो जाएगा.

जंगली बीएफ हिंदी?

उसके बाद चाय पीते वक्त वह कुछ संजीदा हो गई और कहने लगी- मेरा भी बहुत दिल करता है कि कोई मेरे साथ प्यार करे … और मेरे साथ रहे. तीसरे दिन मैं सो रहा था तो मैंने पाया कि रानू दीदी का हाथ मेरे लंड के ऊपर है और वो उसे मसल रही है. उसका लंड एकदम से हाथी की सूंड की तरह ऊपर नीचे झूलते हुए मेरे सामने खड़ा था.

पूरा लंड साथ पेला तो वो एकदम से छटपटाने लगीं और रोने लगीं- आंह बेटा नहीं … गांड में नहीं … ऐसा मत कर. जैसा कि मैंने पहले ही बताया कि जब से मैंने क्लासेज में पढ़ाना शुरू किया, तब से मैं और सोनी सामान्यतः मिल नहीं पा रहे थे. उसके बाद से हमारी बातें तो होती हैं मगर हम कोरोना के चलते मिले नहीं हैं.

ऐसे तो तुम दोनों का ये रिश्ता नहीं चल पाएगा और तुम दोनों के ही घर वाले नहीं चाहेंगे कि यह रिश्ता टूटे. मेरी देसी चूत का पानी फव्वारे की तरह निकला जब तीन लड़के मेरे नंगे बदन के साथ खेल रहे थे. वो मेरे ऊपर ही लेट गईं और हांफती हुई बोलीं- आंह जान, मेरा काम हो गया.

राजीव बोला- हां लेकिन कैसे?तो सनी हंसते हुए बोला- ऊपर वाले की मेहर है. हम दोनों 9 बजे शिमला पहुंच गए और जाकर रिट्ज होटल में कार पार्क की और लिफ्ट से होटल चले गए.

मेरी ऐसी हालत थी कि मेरी चूत, गांड, चूतड़, बूब्स, हाथ, पेट और मेरे फेस पर काटने और नौंचने के निशान बन गए थे और मेरे पूरे बदन में बहुत जलन हो रही थी.

अपना पूरा लंड अन्दर डाले मैं कभी उसके होंठ चूसता और कभी उसके चूचे चूसता ताकि लंड अन्दर अपनी जगह बना ले और चुदाई के खेल में हम दोनों को पूरा मजा आए.

शाम 5 बजे हम ईशा के पीजी पर पहुंचे तो उसने कहा- तुम्हें कहीं होटल में रुकना पड़ेगा क्योंकि यहां आंटी बहुत खड़ूस है. उस विफल प्रयास के बाद मुझे अहसास हो गया कि मैंने पिछली बार जल्दबाजी कर दी थी और अब मैं आगे मिलने वाले मौके को छोड़ना नहीं चाहता था. इस वक्त जो अम्मी मेरे साथ रह रही है, वो मेरी नहीं … पर मेरी दो छोटी बहनों की अम्मी है.

मेरे हां करते ही पिंकू बहुत खुश हो गई और उछल कर मेरे गले लग गई।उसके बदन की मदमस्त खुशबू ने मुझे अपना दीवाना बना लिया, मैंने अपने दोनों हाथ उसके पिछवाड़े पर रखकर हल्का सा दबा दिया।मैंने मन में बोला- चल पिंकू, चुदाई से पहले तुझे मार्केट घुमा के लाता हूं।फिर मैं और पिंकू तैयार होकर मार्केट की तरफ निकल गए. मेरी पिछली कहानी थी:एक शाम गर्लफ्रेंड और उसकी भाभी के साथजो पाठक नए हैं या मुझे नहीं जानते हैं, मैं उन्हें अपना परिचय दे दूँ. यह Xxx गर्ल ओरल सेक्स कहानी आपको मजेदार लगी या नहीं? आप मुझे मेल करें और प्लीज़ कोई गंदे कमेंट्स न करें.

उसकी चूत की मादक खुशबू मेरे नथुनों में समा रही थी और मुझे मदहोश किए जा रही थी.

अम्मी को जब ब्रा और पैंटी नहीं मिलीं, तो उन्होंने मुझसे पूछा कि तूने मेरी ब्रा पैंटी देखी हैं क्या?मैंने अम्मी से कहा- अम्मी, तुम्हारे निप्पल्स कितने काले और मस्त हैं. मैं थोड़ा दूर हुआ तो उसने मेरे कॉलर पकड़ कर मुझे करीब खींच लिया और होंठों पर होंठ लगा दिए. ये सुन कर मैं अन्दर ही अन्दर बहुत खुश हुआ कि ये यहां आएगी तो शायद कुछ बात बन जाए.

अब मैं सिर्फ रेड ब्रा और पेटीकोट में फिर से बाहर आई और जाकर रोहण की गोद में बैठ गयी. पिंकू अपनी दो उंगली लगातार की चूत में अंदर बाहर कर रही थी।उसके मुंह से फक-मी फक-मी की आवाजें निकलने लगी. मैं उसे समझाता कि आजकल लोग नौकरी छोड़ कर अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर रहे हैं क्योंकि उन्हें पता होता है कि नौकरी करने वाले इंसान को एक मशीन के जैसे काम करना पड़ता है.

उसके अलावा और किसके साथ किया है, वो भी बता देना … भले अभी नहीं, कभी फुर्सत से बता देना.

वो दर्द के कारण कसमसा रही थी, मैं दूसरे हाथ से उसका बूब दबा रहा था. काफी दिनों से मैंने चुदाई नहीं की थी इसलिए मेरे अन्दर उस वक्त ज्यादा ही उतावलापन था.

जंगली बीएफ हिंदी अब BDSM लॉन्ग सेक्स की कहानी में पढ़ें कि उसके बाद मेरा एक आशिक और हुआ. राकेश ने एक हाथ को मेरी कमर पर लगाया और अपने औजार को मुझ पर दबाने लगा.

जंगली बीएफ हिंदी फिर अगले दिन उसने बताया- मैंने मेरे घर पर बोला है कि मैं अपनी कॉलेज की एक सहेली की साथ वृन्दावन जा रही हूँ. क्लोज से मेरा मतलब कि एक दूसरे की पसंद नापसंद और सीक्रेट भी शेयर करने लगे.

चूत की फांकों ने शायद इसीलिए मेरे लंड को कैद कर लिया था क्यूंकि पाटिल जी के वीर्य की गर्मी से रेशमा की चूत फिर से थोड़ा पानी छोड़ने लगी थी.

ब्लू सेक्सी एचडी वीडियो

कुछ ही समय में मैं और पॉल तो संतुष्ट हो चुके थे, पर रीना की भोसड़ी का पानी अभी निकलना बाकी था. उसने धक्का लगाया तो चूत गीली होने से उसके लंड का सुपारा मेरी चूत में आसानी से घुस गया. मैं फिर से जोश में आ गया, मैंने अपनी पूरी जीभ उसकी चूत में डालकर अन्दर बाहर करके चोदने लगा.

एक संडे को जिम से वापिस आते हुए मोहिनी ने लिफ्ट निकलते हुए अर्णव का हाथ पकड़ कर खींच लिया और उसे अपने फ्लैट में कॉफ़ी पिलाने के लिए ले आयी. लेकिन उसको दर्द सच में काफी हो रहा था इसीलिए वह इस सेक्स का ज्यादा मजा नहीं ले पाई. अचानक हुई इस बात की वजह से मैं चिल्ला पड़ी और मुझे बहुत ही ज्यादा तकलीफ सहन करनी पड़ी.

एक मिनट तक हिलाने के बाद लंड की चमड़ी को पीछे करके अपनी जीभ से लंड के टोपे को चाटने लगीं.

मैंने कहा- रागिनी, तुम मुझे कितना प्यार करती हो!वह बोली- बहुत ज्यादा. मेरा लंड फिसलता हुआ और अंदर बच्चादानी तक जाने लगा।अब मैंने भी अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और जल्दी जल्दी अंदर बाहर करने लगा. वहां भैया ने मेरी फ्रॉक का हुक भी ख़राब कर दिया, जिस वजह से अब मेरी पीठ पूरी तरह से नंगी हो गई.

मैंने घड़ी में समय देखकर नीता से कहा- अभी साढ़े सात बजे हैं, कितनी देर का रास्ता और समझें. मैंने भी उसे खुश करने की सोची और अपने होंठों को बिना अलग किए हल्का सा खड़ा होकर उसके साइड में आते हुए उसे अपनी गोद में बैठा लिया. मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उनके पेट और चूचों पर अपने लंड का पानी निचोड़ दिया.

कुछ देर बाद मैं झड़ गया और मैंने अपना वीर्य चूत में नहीं बल्कि नीचे गिरा दिया. उसके बाद मैं बाथटब में जोजोबा आइल डाल कर लेट गयी और रिलेक्स करने लगी.

सामने से आवाज आई- हैलो?मैंने कुछ नहीं कहा तो फिर से उन्होंने कहा- हैलो. मुझे भी उसकी यह बात सही लगी इसलिए मैंने भी उससे इस बात के लिए हां कर दी. वो सीढ़ी लगा कर पोतने लगी और ऊपर से बाथरूम की छत न होने से वो अन्दर झांकने लगी.

हम सब एक साथ ही रहने वाले थे, तो मेरे घर वालों को इस बात से कोई परेशानी भी नहीं हुई.

जब सुपारा चूत के बाहर आने वाला होता था, तब रुक कर वापिस चूत को संकुचित रख कर लंड को चूत में लेने लगती थी. वो भी रेखा की गूँ गूँ की आवाज कर रही थी, उसके मुँह में भी रेखा की चुत लगी थी. मैंने उसकी लटकी हुई ब्रा उतार दी और उसके दोनों चूचों को आजाद कर दिया.

कुछ देर बाद अम्मी की चूत से पानी निकला गया, तो मैंने अम्मी से पूछा- अम्मी, कुछ मज़ा आया?अम्मी- उउममम … आह … आदिल अहह बेटा … आह …अम्मी की चूत गीली होने पर मैंने बिना थूक लगाए ही मेरा 8 इंच का लंड अम्मी की चूत के मुँह पर सैट किया और एक जोर का झटका देते हुए कहा- लव यू अम्मी जान. पोर्न चूत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि शादी के बाद पति से चुदाई का मजा ना मिलने से मैंने पराये मर्दों को पटाना शुरू कर दिया था.

उस दिन के बाद Xxx ब्रदर ने मुझे काफ़ी बार चोदा है और मुझे आज तक कोई बॉयफ्रेंड बनाने की ज़रूरत नहीं पड़ी. मामा मामी से कुछ भागे भागे से रह रहे थे, बार बार किसी का फ़ोन आता और वो फोन पर बात करने लगते. मैं मन ही मन सोचने लगा कि पिंकू तुझे अभी कहां सोने दूंगा, अभी तो तेरी मस्त मस्त चुदाई बाकी है।तो मैं भी टीवी ऑफ करके कमरे में चला गया और पिंकू से सटकर बगल में लेट गया.

सेक्सी नंगी बीपी वीडियो

ये सब सोच कर मेरे अन्दर एक अजीब सी सिरहन दौड़ गई और मैंने आने वाले कल के लिए खुद को तैयार कर लिया.

वो बहुत ही ज्यादा उत्तेजना से मुझे चोद रहा था और अपने दांतों से मेरे बूब्स को खाते हुए उनपर निशान बना रहा था. मैं अपनी चूत को समझाने लगी कि साली रंडी जरा तसल्ली रख ले … तेरा पानी मेरा ब्वॉयफ्रेंड रोहित जल्दी ही मेरे ऊपर चढ़ कर जल्दी-जल्दी ठोक कर निकालने वाला है. कभी मोहिनी अर्णव की गाड़ी में ऑफिस जाती, तो कभी अर्णव मोहिनी कार में साथ जाता.

उन्होंने टांगें फैला दीं और मैं पेटीकोट के अन्दर घुस कर चूत के दाने को मसलने लगा. अदिति ने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ा और मेरे लंड के चिकने सुपारे को अपनी गांड के छेद और चूत पर मारने लगी. बीएफ वाली लड़कीमैंने सेक्स कहानी में ये पढ़ा था कि अगर कोई लड़की, लड़के का लंड चूसती है, तो वो लड़का खुद को संभाल नहीं पाता और खुद भी बेचैन हो जाता है.

हम दोनों एक दूसरे से इतना खुले हुए थे कि मैं उनसे सेक्स के बारे में भी पूछ लिया करता था. उसने मुझसे कहा- चाची आप ये क्या कर रही हैं?उसकी आवाज सुनते ही मैं हड़बड़ा गई और खुद को ठीक किया.

कुछ देर बाद मैं भाभी के हाथ की बनी चाय पीकर और उनकी तारीफ़ करके वापस आ गया. तीसरी बार मिस्टर इन्द्रेश की बेटी कशिश की शादी की समस्या चल रही थी, उसका एनआरआई पति उसे छोड़ देना चाहता था. मैंने जैसे ही भैया के लंड को थामा, उनके लंड की फूली हुई नसें मुझे गड़ने लगीं.

वो मेरी लंड कभी पूरा गले तक ले लेती तो कभी सिर्फ सुपारा चूसने लगती. सप्ताह में 2 या 3 बार ऑन्टी के पतिदेव का फोन आता था जिस कारण अक्सर ऑन्टी का हमारे घर आना जाना लगा रहता था. अर्णव भी फ्रेश होकर किचन में आ गया और पीछे से मोहिनी को अपनी बांहों में भर लिया.

जब मैं उसे फ्लैट में नहीं पाता और उसे फोन करता तो वो बिंदास कह देती कि मैं जॉन के साथ फिल्म देखने आई थी.

रीना के दर्द की परवाह किए बिना मैंने फिर से मेरा लौड़ा सुपारे तक उसकी चूत से बाहर खींचा और उसी ताकत से अन्दर घुसा दिया. अब मैं बिस्तर पर बैठकर ही उसके बड़े प्यारे मम्मों को बारी बारी से चूस रहा था.

बिना शादीशुदा होकर भी सब जानते हो कि औरत को क्या चाहिए और उन्हें कैसे खुश करना है … ये कोई तुमसे सीखे. फिर मैं जब यहां नहीं थी, तब शालिनी ने भी मेरे पति के साथ सेक्स किया है, तो मैं ऐसा क्यों नहीं कर सकती और वैसे भी मेरी शालिनी से बात हो चुकी है. [emailprotected]होटल रूम चुदाई स्टोरी का अगला भाग:बहन की चुदक्कड़ जेठानी को खूब पेला- 3.

वो किसी प्यासे की तरह मेरे होंठों को जोर जोर से चूस चूस कर अपनी प्यास बुझाता रहा. मेरी मम्मी बोलीं- पागल हो क्या … ये तुम क्या कह रही हो, कुछ तो शर्म करो!मेरी मम्मी ने आंटी से कहा- ये क्या अंट-शंट बोल रही हो!आंटी बोलीं- अरे यार, मैं तो तुमको बता रही हूँ, कोई ये थोड़ी कह रही हूँ कि मैं उससे चुदाई करवाना चाहती हूँ. आप मुझे मेल करें कि आपको यह बहन चोद कहानी कैसी लगी?[emailprotected].

जंगली बीएफ हिंदी मैंने अपने हाथ कमर से हटाकर बुआ की बड़ी बड़ी मस्त चूचियों पर रख दिए और दबाने लगा. वैसे तो अंकित अपने रूम में ही रहता पर मैं उसी के रूम में चली जाती या उसे दूसरे रूम में बुला लेती कि मैं अकेली हूँ.

पकड़ो और करो

खाना खाकर हम तीनों बाहर बने गार्डन में गप्पें मार ही रहे थे कि मुझे मेरे मोबाईल पर मेरे एक पुरानी जुगाड़ को कॉल आ गया जो संयोग से गोवा के आसपास ही थी. हम दोनों एक ही कमरे में थे और वो हसीन रात हम दोनों को सुलगा रही थी. अपनी जीभ उसके होंठों पर फेरते हुए मैं उसे किस कर रहा था और हम एक दूसरे में खो चुके थे.

वो भी अपने घर से इसी भवन में रहने आ गया था जबकि उसका घर इसी गांव में था. मुझे इंटरनेट की दुनिया में कई लोग ऐसे मिले, पर उनसे मिलने का मन कभी हुआ ही नहीं. ऐसी बीएफ दिखाओमैंने उसे कॉल करके कहा- तुम्हारा घर कहां है? मैं बतायी हुई जगह पर आ चुका हूं.

होटल वाले को इंटरकॉम से कॉफी बिस्किट मंगवाए, तब तक नंदा ने अपने सूटकेस से नए कपड़े निकाले.

तभी अंकित एकदम रूम में आ गया और उसने मुझे सिर्फ़ अंडरगार्मेंट्स में देखा. अब BDSM लॉन्ग सेक्स की कहानी में पढ़ें कि उसके बाद मेरा एक आशिक और हुआ.

वैसे भी उन तीनों के लौड़े बाहर ऐसी हालत में फुदकियां मार रहे थे कि वह कम से कम 7 से 8 इंच के तो रहे होंगे. मैं उससे ओके बोलकर अपने फोन में ऐसे ही देखने लगा, पर मेरा ध्यान उसके ऊपर से हट नहीं रहा था. मैंने भी वही नुस्खा अपनाया और ऑफिस को बाय बाय बोलकर सीधा एक महंगी परफ़्यूम की दुकान में आ गया.

बीच बीच में मैं बुर को अपने पूरे मुँह में भी भरने की कोशिश करता या फिर चूत के होंठों को अपने होंठों से खींच लेता.

आज से पहले मेरी चूत ने इतना पानी कभी नहीं छोड़ा था, मैं बस सब कुछ भूल कर उसी पल में रहना चाहती थी. ऐसे ही एक बार मम्मी सुबह से ही बहुत उत्तेजित हो रही थीं और प्यार भरे गीत गुनगुना कर काम कर रही थीं. पॉल ने भी रीना को देख अपनी टी-शर्ट को उतार दिया और अपनी बीवी के पास आ गया.

हिंदी बीएफ चोदा चोदी हिंदीवह जब भी मेरे मुँह में लंड अन्दर तक डालता, उसका मोटा लंड मेरे हलक तक चला जाता. पिंकू को लगता था कि या भाई-बहन के बीच का प्यार है लेकिन मेरी प्यारी पिंकू को कहां पता था कि उसका भाई उसकी धमाकेदार चुदाई और उसकी मचलती जवानी का रसपान करने वाला है।अब मैं पिंकू को चोदने का प्लान बनाने लगा लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं।एक दिन की बात है वह कमरे में झुक कर झाड़ू लगा रही थी.

xxx hd फोटो

उस समय ब्लू फिल्म की सीडी का जमाना हुआ करता था और मैं काफी किस्म की सीडी देख चुका था. मैंने अपनी चूत में उंगली करते समय अपनी पैंटी को नीचे कर दिया था और जब मैं अपनी गुलाबी चूत में उंगली कर रही थी, तो वो सीन उसे साफ साफ दिख रहा था और वो मेरी चूत को भी देख रहा था. बल्कि भाभी ने मेरे पूरे लंड पर अपना सर रख लिया और मेरे लंड की गर्मी महसूस करने लगीं.

तेरी मां को भी चोद दूंगा रंडी साली … मैं तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा … मैं तेरी गांड में अपना लौड़ा घुसा कर इतना चोदूंगा कि तेरी चाल बदल जाएगी छिनाल कुतिया मेरी रंडी कहीं की. मैं भी काफी ज्यादा उतेजित हो गया था और मैं भी अपनी चड्डी उतार कर अपने लंड को उसके सामने मसलने लगा. पूरी रात दोनों रंडियां सच में किसी बाजारू पैसे लेकर चुदनेवाली रंडियों की तरह चुदती रहीं.

मैंने भी उसको किस किया और सॉरी बोल कर कहा- ठीक है जान और कुछ नहीं करूंगा. मैंने प्यार से उसे उठाया और अपने आगोश में ले लिया और उसके होंठों को चूसने लगा. उस वक्त हम दोनों इतने करीब आ गए थे कि उनके निप्पल मुझे मेरी छाती पर महसूस हो रहे थे.

ये सुनने के बाद मैंने कहा- हां ये तो मुझे मालूम था, मैंने समझा कि तुम्हें मालूम होगा. रंडी के घर में जाने से पहले मैंने मुँह पर रूमाल रख लिया ताकि कोई हमें पहचान ना पाए.

मैंने लंड निकला तो कुणाल ने अपने लंड का पानी स्नेहा के मुँह में छोड़ दिया.

मैंने ऐसी बात अपने दिमाग में ठान ली और मैं अपने छोटी सी निक्कर और ऊपर से बस एक छोटा सा टॉप पहन कर ऊपर की फ्लोर पर जाने के लिए निकलने वाली थी. बीएफ वीडियो में सनी लियोनमैं अपनी इच्छा के विरुद्ध सोचने लगी थी कि मैं आज किसी भी हाल में चाहे जो हो जाए, यहां से चुद कर ही अपने कमरे में जाऊं. बीएफ सेक्स नंगा वीडियोशैली के मुँह से कामुक आवाजों की मधुर ध्वनि निकलने लगी- आआ ह्ह्ह!मैंने अपने होंठ उसके जिस्म से अलग कर दिए और उसे थोड़ा ऊपर उठा लिया. मेरे पैर रखने से उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई, तब मैंने अपना एक हाथ सीधा उनके चूचों पर रख दिया.

मैं बोली- बदमाश कहीं के … और कितना चोदोगे … थकते नहीं हो क्या?मंयक बोला- तेरी जैसी माल को देखकर लोगों की थकावट दूर हो जाती है.

वो हंसने लगी और बोली कि मैंने पढ़ा था तुमने फ़रियाल के यहां भी जाते ही खाना खाया था. मैं पहले भी सेक्स कहानीरिश्ते की बहन की सीलपैक चूत की चुदाईलिख चुका हूं. वो नीचे से गांड उठा उठा कर मचलने लगी और मेरे सर को कसके पकड़ रही थी.

हमने एक दूसरे की आंखों में देखा और फिर से एक दूसरे के चेहरे को, गर्दन को, कंधों को किस करते हुए आगे बढ़ने लगे. रीना ने भी मेरे टट्टों को अपने हाथ से मसलते हुए अपना मुँह पूरा खोल दिया. शैली खड़ी हुई और बोली- लाओ, मैं कोल्डड्रिंक सर्व कर देती हूँ, तुम ईशा के पास बैठो.

सर का सेक्सी वीडियो

वो कुछ समझी नहीं, तो मैंने उससे कहा- मेरी हाइट कम है, तो मैं तुमसे ज्यादा दूर नहीं बैठ पाऊंगा और वो तुम्हें थोड़ा असहज लगेगा. एक दिन मेरे मामा जी को किसी बड़ी साइट का ऑर्डर मिला जो शहर से दूर था … इसलिए उन्हें कुछ दिन वहीं रहना था. शुरू के एक दो दिन तो उसके घर में व्यस्त रहने से यूं ही निकल गए, कुछ पता ही नहीं चला और न ठीक से बात हुई.

मैंने जबरदस्ती उसकी सलवार को नीचे सरका दिया और पैंटी के अन्दर उसकी चूत में उंगली को डाल दिया.

जैसे ही मैंने निप्पल को जीभ से चाटा, शैली छटपटाने लगी और उसके हाथों ने मुझे उसके दूध के बीच में दबा दिया.

मैं जोर जोर से आपा को चोदने लगा और उनके बड़े बड़े चुचों को काटने लगा. मैंने सोचा कि वो सो गई होगी, तो मैं उठा और चुपचाप गेट खोल कर छत पर चला गया. हिंदी में बीएफ सेक्सी नईहम दोनों की सांसें तेज हो चुकी थीं और हम भूल चुके थे कि हम कहां हैं.

वो उठ कर बैठ गई और मुझसे पूछने लगी- क्या हुआ, आपने चुदाई बंद क्यों कर दी?मैंने कहा- यह चीज दो लोगों की सहमति और सहयोग से होती है. मैं अच्छी तरह जानता था कि ये बात भाभी भैया को जरूर बताएंगी क्योंकि कोई भी औरत कोई भी बात पचा नहीं सकती और धीरे धीरे ये बात सबको पता चल जाएगी. जब तुमको बेंगलोर फ्लाइट का टिकट भेजा, उसी समय मन में पक्का सोच रखा था कि तुम कैसे भी होओगे, तब भी मैं तुमसे चुद लूंगी.

उसने नीचे उतर कर देखा, तो पिछली कार का काफी नुकसान हो गया था, उसका बम्पर टूटकर लटक गया था. इस डंगरी में मेरे चूतड़ बाहर को निकले दिख रहे थे और सामने से बटन लगाने के बाद भी बहुत कुछ खुला था.

मैंने अम्मी की कमर पकड़कर अम्मी की आंखों में देखते हुए कहा- नगमा, मैं और मेरा हथियार इतना बड़ा हो गया है कि बिस्तर पर रात भर तेरी चीखें निकलवा सके.

हम दोनों का बैलेंस नहीं बन पाया और हम दोनों उन समेटी हुई दरियों पर ही गिर गए. राकेश का भी ये मौका पहला था और मैं भी गांड उठा उठा कर उसका साथ दे रही थी. मैंने अपनी जैकेट निकालकर नीता को दे दी और उससे कहा- तुम इसे पहन लो.

बीएफ सेक्सी चोदा चोदी का मुझे देखकर अंकल बहुत खुश हुए और मुझे उन्होंने जल्दी से लपक कर दुकान के अन्दर ले लिया. इतने दिन में उसके लण्ड को ऊपर से मसलते हुए मुझे यह तो पता चल चुका था कि उसका लण्ड मेरे लण्ड से छोटा है।पहले तो उसने मना किया लेकिन कुछ देर बहस करने के बाद मैंने कहा- या तो मैं उसके लण्ड और गांड को देखूंगा या वह मेरा लण्ड चूस देगा वरना आज उसको घर नहीं जाने दूंगा।वह कुछ देर सोचता रहा, फिर बोला- ठीक है भैया.

मैंने आगे पीछे कुछ नहीं देखा कि ये लोग मुझे अपनी रखैल बनाएं चाहें यह मुझे अपनी रंडी बनाकर रखें. इतनी बातें होने के बाद उसने मुझसे पूछा- तुम कोटा कब आ सकते हो?मैंने भी लिख दिया- अगर तुम्हारा मन है, तो अभी आ जाता हूं. मेरी बुर में अब चुनचुनी होने लगी थी, दर्द भी काफी हद तक थम सा गया था.

राजस्थानी रंडी की चुदाई

कहानी के पिछले भागबेचारी कुंवारी गर्लफ्रेंड की बुर फट गयीमें आपने अब तक पढ़ा था कि सोनी को चुदाई में मजा आ गया था और उस दिन हम दोनों ने दो बार चुदाई का मजा लिया था. आपको ये न्यू भाभी की चूत की कहानी कैसी लगी, ईमेल द्वारा अपना सुझाव भेजिए. इस दौरान मुझे पता चला कि दो दिन बाद राकेश का बर्थडे है, तो मैंने मन ही मन प्लान बना लिया था.

हॉट Xxx सेक्स कहानी में दो शादीशुदा लड़कियों की जवानी का नंगा खेल है. रेन सेक्स का मजा मैंने लिया अपनी सेक्सी हॉट मामी के साथ जब मैं उनके घर रहने गया था.

सोनी फिर से मेरे और शिल्पा के बारे में सोच कर असहज होने लगी थी और बात बात पर मुझ पर कटाक्ष करती और कहती- सेक्स करने के लिए टाइम है तुम्हारे पास … और ऐसे मिलने के लिए टाइम नहीं है.

पॉल के बालों को खींचती हुई वो उसका मुँह उस वीर्य के पास ले गयी और पॉल का सर बिस्तर पर दबा दिया, जहां उसका वीर्य जमा हुआ था. जैसा कि मैंने आपको अपनी रूचि बताई कि मुझे शादीशुदा लड़कियां ज्यादा पसन्द आती हैं इसलिए ये फॅमिली फक़ स्टोरी भी मेरी सगी मामी की चुदाई की कहानी है. उस समय फोन काटने के बाद वह सारी यादें मेरे दिमाग में घूमने लग गईं कि वह एक खूबसूरत और चुलबुली लड़की थी जिसका नाम अंजलि (परिवर्तित नाम) है.

पॉल को ये एक तरह का इशारा था कि उसे अब मेरा लौड़ा मुँह में लेकर चूसना है. मैंने ये जाहिर करते हुए उसको अपना मोबाइल दे दिया कि मुझे ज़्यादा जानकारी नहीं है, कैसे भेजते हैं, तुम भेज दो. अपना पूरा लंड अन्दर डाले मैं कभी उसके होंठ चूसता और कभी उसके चूचे चूसता ताकि लंड अन्दर अपनी जगह बना ले और चुदाई के खेल में हम दोनों को पूरा मजा आए.

मैं तो उसको इतने पास से ऐसे देखकर पागल हो गया था और मैंने मन में ठान ही लिया था कि एक दिन इसको पटक पटकर चोदूंगा.

जंगली बीएफ हिंदी: वो सीढ़ी पर खड़ी थी और मैं बाथरूम में नंगा नहा रहा था और अपना लंड सहला रहा था. उसे पता था कि जो चीज़ आज मैं देख और महसूस कर रहा था, वो एक सपना नहीं हक़ीक़त थी.

अब लाइट में देखने के बाद मुझे और भी बहुत चीजें मालूम पड़ीं कि मम्मी को सेक्स में क्या क्या पसंद है. अगर कोई लौंडिया ज्वाइन करना चाहेगी, तोथ्रीसम सेक्स की कहानीबन जाएगी. पता चला कि ज्यादा जोर से चूमने से उसके होंठों में दर्द होने लगा था.

लड़के की गांड की कहानी में पढ़ें कि मेरा चेहरा लड़कियों के जैसा मासूम है.

दोनों ने इतना अच्छे से लंड चूसा कि कुछ ही देर में मेरे लंड से फव्वारा निकल गया. मैंने कहा- मैं क्या पकड़ कर खोलूं, गेट का हैंडल तो टूटा हुआ है, कुछ पकड़ने को है ही नहीं. उसके निप्पल एकदम गुलाबी थे। आज पिंकू क्या क़यामत लग रही थी।यह नजारा देख मेरा लंड इतना बड़ा हो गया कि मानो अभी पैन्ट फाड़ के बाहर निकल आएगा.