सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ

छवि स्रोत,सास की चुदाई वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

गणपति बीएफ: सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ, मैं भी शांत हो गयी थी और बाबूजी मेरी चूचियों में मुंह देकर लेटे हुए थे.

𝐚𝐮𝐧𝐭𝐲 𝐛𝐫𝐚 𝐝𝐢𝐤𝐡𝐞

दोस्तो, उस रात मैं केवल यही सोचता रहा कि काश दिव्या की चूत मुझे चोदने के लिए मिल जाती. हिंदी में नंगी सेक्सी पिक्चरभाभी की न्यू सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने शादी में मोटी गांड वाली भाभी को पटा कर उसे कार में नंगी करके लंड चुसवा कर गर्म करके चोदा.

कमरे में आकर हम दोनों ने कपड़ों को निकाल दिया और उसने मुझे एक गिलास दूध पकड़ा दिया. कंडोम दिखाओवहां चौकीदार ने हमारे लिए गेट खोला और नीरव ने गाड़ी अंदर तक ले जाकर पार्क कर दी।चौकीदार ने हम सभी का अभिवादन किया और नीरव ने मेरा और मानव का सामान ऊपर के कमरे में पहुंचाने के लिए बोल दिया।नीरव ने मुझे पहले ही बता दिया था कि उसके बंगले में 8 कमरे हैं जो पूरी तरह फर्निश्ड हैं और उसका इरादा मेरी चुदाई हर कमरे में करने का है।खैर हम लोग खाना पहले ही खा चुके थे.

उस जंगल में अन्दर जाने बाद एक लाइन में 3 से 4 घर कमरों जैसे बने थे.सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ: दोस्तो, मैं मोंटू चूत में लंड की कहानी के अगले भाग के साथ हाजिर हूँ.

कुछ देर पूरा लंड घुसाते हुए चोदने के बाद मैंने उसको घोड़ी बनने के लिए कहा.मैंने बोला- सब हो जाएगा, बस आपको रेगुलर आना पड़ेगा और जैसा मैं बोलूं, वैसा ही करना है.

हिंदी सेक्सी साड़ी वाली वीडियो - सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ

माया दीदी ने हंसते हुए मेरे भाई का लौड़ा पकड़ा और बोलीं- क्या मस्त लौड़ा है तेरा.मेरा देवर तो जेठानी जी को देख कर ही बावला हो गया और बोला- मैं भी मज़ा लूंगा.

अगर मां जाग जाती और उनको ये पता लग जाता कि मैं उसकी बहन की बेटी के साथ ये सब कर रहा हूं तो मेरा बुरा हाल हो जाना था जबकि दिव्या तो किसी तरह से बच भी जाती. सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ आज बहुत दिन बाद किसी ने मेरे मम्मों को मसला था तो मेरे मम्मे एकदम से कड़क हो उठे.

अब आगे:तभी जेठानी जी बोलीं- रानी, अब तुम रवि की गांड चूसो और अपनी उंगलियां का भी यूज करो.

सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ?

इसके बाद उसने मेरे लंड को हाथ से सहलाना शुरू कर दिया और बोली- ये तो मर गया. बाल साफ हो जायेंगे।मगर उस समय तक मेरी चूत में उतने बाल नहीं उगे थे कि कभी साफ करने की जरूरत होती। बस हल्के हल्के भूरे रोम ही उगे हुए थे। मैंने उससे कहा कि आज पहली बार में ही तो ये सब नहीं होगा न? आज तो बस बातें होंगी।रूपा बोली- पगली अगर वो चोदने के लिए बोले तो चुदवा लेना. मुझे मजा तो बहुत आ रहा था लेकिन फिर भी मैंने मन मार कर हिम्मत करके जेठजी के हाथ को अपनी पैंटी से बाहर खींचा.

मैंने पूछा- चक्कर क्या था?उसने बताया कि तेरे ये अंकल और बाकी लोग अक्सर कॉलेज की लड़कियों को, जो आस पास रहती हैं. उसके बाद तीन-चार धक्कों के बाद ही मेरे लंड से मेरा वीर्य छूट पड़ा और मैंने अपनी बहन की चूत को अपने वीर्य से भर डाला. आखिरी बार जब मैंने उसकी चूत मारी तो मैंने उसकी चूत में ही अपना वीर्य निकाला.

उसकी चूत को सहलाते हुए मैंने उससे कहा- अपने साथ इस वीडियो के जैसे कोई लड़का होता … तो कितना मज़ा आता. अपने पति की बेरुखी का नाटक करके उसने मुझे ये भरोसा भी दिलाया था कि वो जल्द से जल्द उसे छोड़कर मेरे पास आना चाहती है. मैंने अपने एक हाथ से रोहन के बालों को जकड़ रखा था और दूसरे हाथ से उसके कंधे को पकड़ा हुआ था और हम किस किये जा रहे थे।मेरा मन रोहन को नाखून मारने का कर रहा था मगर मैंने खुद पर काबू रखा था। मुझे काफ़ी अच्छा महसूस हो रहा था। कुछ देर में ही मैं झड़ गयी।इन मामलों में लोकेश किसी काम का नहीं था। उसको लड़की के जिस्म खेलना बिल्कुल भी नहीं आता था.

करीब दस मिनट तक गांड चुसाई के बाद मेरे भाई ने माया दीदी को सीधा लिटा दिया और मेरी जिठानी माया दीदी की टांगों को फैलाते हुए उनकी चूत पर अपना लंड रख दिया. मैं दिन में घर से बाहर टहलने निकलती, तो कुछ परिचितों से मुलाकातें भी होती रहती थीं.

मैं 36 साल की हूं और मेरी दो शादियां हो चुकी हैं और मेरे दोनों ही पति की डेथ हो चुकी है.

[emailprotected]इंडियन गांड Xxx चुदाई कहानी का अगला भाग:कॉलेज गर्ल की गांड चुदाई.

चाचा ने थोड़ा नीचे होकर अपनी गांड को नीचे किया और मां की गांड के छेद में लंड का प्रवेश करा दिया. मैंने उससे उसके बारे में पूछा, तो उसने बताया कि मैंने इंजीनियरिंग की हुई है और दिल्ली में जॉब करती थी. मैंने लंड को उसकी गांड के छेद पर सेट करके धीरे धीरे लंड को धकेलना शुरू किया.

वो मां की चिकनी चुत देख रुक ही नहीं सका और उसने झट से अपनी दो उंगलियां डालकर उनकी चूत को चोदने लगा. करीब 10 से 15 मिनट के बाद जब दिव्या थोड़ी सी शान्त हुई तब मैंने उसे चोदना शुरु किया. दोस्तो, पहली बार सेक्स कहानी लिखी है, गलतियों को नजरअंदाज कर देना और कमेंट में जरूर बताना कि मेरी हिंदी भाभी सेक्स स्टोरीज़ कैसी लगी.

मैंने अल्पना और सनी से आपस में बात करने के लिए बोल दिया था, चूंकि वो दोनों एक दूसरे को चोदने के लिए मचल रहे थे, तो उन्हें खुला छोड़ देना ही इस चुदाई को अंजाम तक पहुंचा सकता था.

सेक्स विद BF स्टोरी में पढ़ें कि एक रात मेरा बॉयफ्रेंड मेरे कमरे पर आ गया. वो जब मेरे कमरे में नंगी आई, तो बोली- मैं तो तेरे साथ कबसे चुदने को राजी थी. उसका भरा हुआ बदन देखते ही मेरे मुँह से हल्की सी सीटी निकल गई कि यार ये माल चोदने के लिए मिल जाए, तो इधर आना सफल हो जाएगा.

तो अमित बोला- भाई, मेरी मॉम अब तुम्हारी ही है … ये रंडी तुम्हारी ही है … तुम कुछ भी करो. उसकी मॉम ने गप से लंड मुँह में ले लिया और खूब मजे लेते हुए लंड चूसने लगीं. हम दोनों ने तो इतना मस्त लेस्बियन किया था कि कुछ नई पोजीशन्स का भी ईजाद कर दिया था.

उसी पल माया दीदी ने मेरी मैक्सी खींच कर उतार दी और मेरी चुत पर अपने होंठ लगा दिए.

आप यकीन नहीं करोगे, उस वक़्त भी मेरे मम्मे बाकी लड़कियों से काफी बड़े थे. दोस्तो, ये थी मेरे दोस्त की बीवी की चुदाई सेक्स कहानी, आपको कैसी लगी.

सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ उसने मेरे नितम्बों को नीचे की ओर दबाया और अपने चूतड़ों को ऊपर उठा कर इशारा किया, तो मैंने अपने नितम्बों को उसकी चूत पर धीरे धीरे से पहले और दबाया. फिर वो कहने लगा- अगर तू नहीं चला मेरे साथ तो मैं तुझसे दोबारा मिलने नहीं आऊंगा.

सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ उस दिन अंकल ने दिन में कुछ नहीं किया और फिर रात में मेरे पास आकर मुझे चूमने लगे. मैंने भाभी को छेड़ा- क्या करूं … साफ़ साफ़ बोलो न … मेरी समझ में नहीं आ रहा है.

मन ही मन मैंने सोचा कि इसका लंड सुमित के लंड से काफी मस्त है और मेरी चूत की खुजली मिटाने के लिए इसका लंड जल्द ही चूत में लेना होगा.

किन्नर का सेक्सी पिक्चर

अब आगे की रण्डी की चुदाई की कहानी:सिंह साहब नाम के उस आदमी ने एक दूसरे आदमी से कहा- चलो सिन्हा साहब, किचन से एक छोटा राऊंड मार कर आते हैं. और फिर नीचे से मेरी साड़ी और पेटीकोट को मेरी कमर पर लाकर मेरी पैन्टी के ऊपर से ही मेरी चूत पर थोड़ी देर तक हाथ फिराते रहे।मैं उनके स्पर्श को अपने ऊपर इस तरह पाकर बहुत ही रोमांचित होने लगी. एक रात में ही मैंने भाभी से कुछ ज्यादा ही खुल कर बातें कर लीं … क्योंकि ज्यादा गोल गोल घुमाना मुझे भी पसंद नहीं था.

कॉलेज में मेरा ब्वॉयफ्रेंड मेरी चूत मुफ्त में मांगता है, मगर मैंने दी नहीं. बोले- कुछ हुआ क्या?मैं बोली- नहीं, आगे बढ़ो।उसने दूसरा धक्का दिया और बोले- कुछ हुआ?चाचू का लंड अंदर नहीं जा रहा था. मेरी इंडियन गांडू सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे अंकल ने मुझे गांड मरवाने की आदत लगा दी थी.

मैंने भी अगले 5 से 10 शॉट बहुत ही अन्दर तक ठोकर लगा कर उसकी चूत में अपना पूरा लोड खाली कर दिया.

मेरा लम्बा लंड आंटी के मुँह में पूरा अन्दर तक घुस गया और अनलोड होने लगा. तो मैंने उसकी ओर देखा तो जिस उंगली को उसने मेरी चूत के अन्दर डाला था, मुझे दिखाते हुए उसे अपनी जीभ से चाटते हुए बोला- भाभी, मजा इसी सब बातों में है। तुम मेरा चूसो, मैं तुम्हारी चूसूँ।धत्त … कहते हुए मैं उसके कमरे से बाहर आ गयी।देवर भाभी रोमांस सेक्स स्टोरी आपको कैसी लग रही है?[emailprotected][emailprotected]देवर भाभी रोमांस सेक्स स्टोरी जारी रहेगी. मैंने दीपक और प्रकाश के बारे में पूछा तो उसने बताया कि वो दोनों उसके पौत्र हैं.

मैंने उसके कपड़े और अपने कपड़े उठा लिए और बोला- चलो, मेरे कमरे में चलते हैं. आंटी से मैंने कहा- आंटी बड़ी प्यास लग रही है प्लीज़ फिर से अपनी पेशाब पिलाओ न!उन्होंने हंस कर बोला- साले कुत्ते … तू ये सब बहुत पीता है … चल बाथरूम तुझे टट्टी भी खिलाऊंगी. ऐसे में मैं आप लोगों से पूछना चाहती हूं कि मैं भला अपने आपको कब तक रोक कर रखती और कब तक अपने आप को शांत रख पाती?मैंने अपनी चूत की प्यास बुझाने के लिए बहुत दिमाग दौड़ाया.

वो आकर मुझे गले से लग गईं और बोलीं- थैंक्स जान … तुमने आज इस प्यासी चूत की खुजली मिटा दी. अब एक ही बेड पर हम दोनों देवरानी जेठानी अपने देवर और ननदोई से चुद रही थीं.

फिर तुम मेरी मलाई चाट लेना!कहकर वो मेरे पैरों की तरफ आया और उस गीली जगह पर अपनी जीभ लगा दी।मैं सनसना गयी, मेरा जिस्म अकड़ गया- क्या कर रहे हो रोहित?मेरी कांपती हुयी आवाज से शब्द निकल रहे थे. अनचाही अनसुनी ख्वाहिशें जगीं, पर जब आजमाने का मौका आया, तब उसकी असलियत मेरे सामने आयी. फिर रात को मैंने सोते समय उसकी नाइटी ऊपर करके उसकी गांड और चूत मारी.

और जैसे आसमान में जब बिजली कड़कती है, वैसे ही एक भीषण गर्जना के हम दोनों एक ही साथ झड़ गए- आआह … ओह्ह या ऊऊईईईई … आआह … ओह्ह या ऊऊईईई!! अह्ह्ह माआआ आआआ आह्ह!मेरी पूरी चूत को अजय ने अपने लंड के रस से भर दिया और मेरी प्यासी चूत को कामतृप्त कर दिया.

फिर पेन्टी के अन्दर छुपी हुयी मेरी चूत को चाटते हुए मेरी नाभि, पेट, चूचियों के बीच की घाटी को, फिर ठुड्डी को, कान को, गाल को, फिर मेरे दायें कान को, गाल को और फिर उसी क्रम में चाटता हुए दूसरे पैर के पंजे तक पहुंचा।मैं आनन्द के सागर में गोते लगा रही थी।फिर उसने मुझे हल्के से करवट दिलायी और फिर मेरे पीछे के हिस्से को चाटने लगा. वो सिर्फ बोल रही थी- भाईजान, मुझे नींद नहीं आ रही है … क्या करूं?मैंने कहा- एक मिनट रुको, मैं तुम्हें कॉल करता हूँ. मैंने बहेन की चुदायी शुरू करते हुए धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में डालना शुरू किया.

उसके बाद मैं उसकी चूत को चाटने लगा। उसकी चूत ने अमृत छोड़ना शुरू कर दिया और मैं उसे चाटने लगा। वह अपनी चूत मेरे मुंह की ओर धकेल रही थी। फिर मैंने उसे एक साइड में खड़ा किया और मैं उसके आगे जाकर खड़ा हो गया और अपना लंड उसकी चूत में डालने लगा।इस बार वह ज्यादा जोर से चिल्लाई नहीं क्योंकि उसकी सील पहले ही टूट चुकी थी। उसे दर्द तो हुआ लेकिन उतना नहीं. जिया मेम के गुलाबी होंठों पर किस करते हुए मैं एक अलग ही दुनिया में पहुंच गया था.

भाभी बोलीं- मेरी गांड और मारो रुक क्यों गए? मैंने अपनी गांड आज तक पति को भी नहीं दी … तू प्लीज मेरी गांड इतनी ज्यादा मारो कि इसका गू निकल जाए. अब मैंने शैली की कमर पकड़कर धीरे धीरे आगे पीछे करना शुरू किया जिससे मेरा लण्ड शैली की चूत के अन्दर बाहर होने लगा. इतने में दूसरी एक लड़की किसी मर्द साथ अन्दर आयी और मेरी बेटी से बोली- जा उस रूम में चली जा.

क्सक्सक्स से वीडियो

मेरी मां रानी एक बार फिर से चुदाई के मजे लेते हुए आनंद में गोते लगाने लगी.

चूत दिखाते हुए मैं पैंटी के ऊपर से ही उसे सहलाने लगी और उसे कामुक नजरों से ताड़ने लगी. मौसी की गर्म सांसें मेरी गर्दन के आसपास थीं और चूत की गर्मी मेरे लण्ड के आसपास. कुछ ही सेकेण्ड में शटर के बंद होने की आवाज आई और उसके कुछ ही देर बाद प्रकाश मेरे पास खड़ा था.

मस्तचुदाई की Xxx काहनी में पढ़ें कि मेरे बॉयफ्रेंड के साथ मुझे मजा नहीं आ रहा था. फिर वो भी पारुल के पास उस जगह पर गई जहाँ वो तीनों मेन हॉल में सोफे पर बैठे हुए थे. रियल क्रिकेट 19 गेम डाउनलोडवो अपना लंड मेरे मुंह के सामने लाया और मुझे आ … करने को बोला।मैंने आ… किया और उसने हल्के से मेरे मुंह में मूत दिया.

मैंने पूछा- मां सच बताना, आपको चाचू के अलावा किसी और लड़के ने भी चोदा है क्या?मां बोली- तुझसे अब क्या छिपाना. जब मर्द के लंड से गर्म गर्म माल चूत में छूट कर गिरता है तो वो दुनिया का सबसे सुखद और कामुक अहसास होता है.

इसके बाद भी वो मेरे जिस्म से ऐसे खेलता रहता था कि मैं चुदाई से पहले ही एक बार झड़ जाती थी।विकास मेरे कपड़े मुझे खुद कभी उतारने ही नहीं देता था। वो इंच इंच कपड़े खींचता था और धीरे धीरे नंगे होते जिस्म का पहला स्वागत अपने होंठों से करता था।तो उस रात विक्रम ने जब मुझे नंगी होने के लिए कहा तो मैं समझ गयी थी कि अब विक्रम मेरी चुदाई करेगा. रात को मैं अपने कमरे में बैठकर यही सोच रही थी कि आज रात मैं अपने पति के डैड के साथ सेक्स करने वाली हूँ. मैंने पूछा- ये कहां से सीखा?वो बोली- सहेलियों के साथ सेक्स वीडियो देख कर.

मैं उसकी गर्दन, गालों और आंखों पर किस करता हुआ उसके पूरे बदन को सहलाने लगा. हम लोग जब उनके घर पहुंचे, तो मौसा, मौसी नन्द ननदोई से बातचीत होने लगी. शाम को मैं डिनर बना रही थी और माया दीदी अपने रूम में मेरे पति और जेठ जी के लिए ड्रिंक की व्यवस्था कर रही थीं.

मैंने उससे पूछा- पहले कभी सिगरेट पी है?वो नशे में बोझिल सी बोली- हां फ्रेंड्स के साथ पी लेती हूँ.

मेरी प्यासी मामी मेरे सामने खेत में नंगी पड़ी है जिसके पूरे बदन पर सरसों के फूल पत्ते चिपक हुए हैं और आसपास पक्षियों के चहचहाने की आवाज आ रही है. फिर कुछ देर में रोहन का भी लंड भी पानी छोड़कर शांत हो गया। उसके बाद कुछ वक्त तक हम वहीं लेटे रहे.

मैंने जिस जिस अंग से जो उतारा, वहां वहां पर अपने होंठों से चूम लिया. बीच-बीच में कभी मेरे गालों को चूमता तो कभी मेरी पलकों को तो कभी मेरे होंठों को चूम लेता. फिर अपनी जीभ को मेरी रसीली प्यार चूत पर लगा दिया जैसे उसे स्वर्ग जाने का द्वार मिल गया हो.

बिना मेरे विरोध की परवाह किये उन्होंने मेरे स्तनों पर अपनी पकड़ और तेज कर दी. मैं सोचती थी कि जब हाथ लगाने से ये हाल है तो इन्हें पहनने के बाद कैसा लगेगा?अगले दिन मैं और जल्दी चली गई. मेरी बेटी उसे एक घर में ले गई और मैं पीछे के रास्ते से उस घर के पीछे चली गई.

सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ मैंने उसके दूध सहलाए, तो उसने अपने एक मम्मे को मेरे मुँह में दे दिया और मम्मे चुसवाते हुए मुझसे बोली- लो साब, थक गए होगे, दूध पी लो. शाम को वो मुझसे बोली कि तुम मेरे हॉस्टल में आ सकते हो … लेकिन अगर कोई पूछे तो कह देना कि सोनम मेरी बुआ की लड़की है.

बड़े बूब्स वाली आंटी

मेरा दिमाग खराब हो रहा था कि वो इस उम्र में भी ऐसी हरकतें कर रहे हैं. दोस्तो, अभी कोरोना वायरस के चलते आप सभी लोग घर पर ही रहें और सुरक्षित रहें. मगर कार में कम जगह होने के कारण और भाभी ने अपनी कमर से अपनी साड़ी को चुस्त बांधा हुआ था, जिस वजह से उनकी साड़ी ऊपर नहीं जा रही थी.

तो मैंने हिम्मत करके बॉस की बीवी …नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम मानव है और मेरी उम्र 22 साल है. मेरी चूत को काफी देर देर तक चाटने के बाद उसने मुझे इससे आगे बढ़ने पर मजबूर कर दिया था. मंगलसूत्र की मोती की डिजाइनउसके बाद हम कहां कहां मिले और हमने कैसे कैसे चुदाई का मजा लिया वो मैं आपको फिर अगली कहानियों में बताऊंगा.

पांच मिनट के धक्कों के बाद ही उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और मेरी गर्दन पर काटते हुए मेरे लंड पर गर्म गर्म पानी छोड़ दिया.

तुम्हें दिक्कत क्या है?मैं प्यार का मारा, मैंने उस नाजायज रिश्ते को भी कबूल कर लिया. जितना मजा मुझे उस वक्त आ रहा था वो मैं यहां शब्दों में नहीं बता सकता.

मेरा ई-मेल आईडी है[emailprotected]फैंटेसी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:बॉस की बीवी की चुदाई का सपना-2. मैं- साली मादरचोद रंडी … सिर्फ लंड को चुसेगी या इससे चुदेगी भी सुहागरात में?नेहा- आपकी रंडी बीवी तैयार है चुदवाने के लिए. प्रिया के मुंह से सीत्कारें फूट पड़ीं- आह्ह … आशू … ईईई … मम्मी … आह्हहस्स … ऊईई … आह्ह … ओह्ह … मर जाऊंगी मैं आशू … स्टॉप इट … आह्ह … ओ माय गॉड … फक मी आशू … आह्ह फक मी बेबी … मैं और नहीं रुक सकती.

पर इतना भरोसा हो चला था कि सोनम जल्द ही मेरे लंड के नीचे आकर खेलेगी.

बारी बारी से मैं उस जवान लड़की के स्तनों को मुंह में लेकर चूस रहा था. मैंने अपने कमरे में गुलाब की पत्तियों से अपने बिस्तर को सजा दिया था. शुरू में अशोक के लंड से मां को अपनी गांड में दर्द सा हुआ मगर मेरी रंडी मां ने दर्द को सहकर अपनी गांड मरवाने लगीं.

डाउनलोड्स खोलोजैसे तैसे मैंने गिलास खत्म किया और अपने बदन को अपने हाथों से छुपाकर बैठी रही. बस ऊपर ऊपर से ही मजा लेना है क्या?सुंदर रत्ना के पैरों के पास बैठ कर धीरे से उसका पेटीकोट उठाने लगा और वो अपनी सास की पिंडलियों पर अपने हाथ फिराते हुए रंग लगाने लगा.

गांव की भाभी के साथ सेक्स वीडियो

क्या दीदी भी आपके साथ जा रही हैं?उन्होंने कहा- नहीं मैं अकेले ही जा रही हूँ और तुम घर पर ही रह कर अपनी बहन का ख्याल रखना. मैंने कहा- क्यों नहीं … पर क्यों ना आज हम दोनों भी वो सब करें, जो कल तुमने किया था … मगर तुम्हारी प्यास बुझ नहीं पाई थी. फिर पता नहीं कब तेरा चाचू आ गया और पता नहीं वो कब से मुझे देख रहा था.

रात में उन्होंने फोन करके बताया कि उन्होंने सब से बात की है और अपने सोर्स से सारी सी. जब आप पूरी तरह बंधे हों तो उस समय लंड को चूसने का अलग ही मजा होता है. मैंने इतना सुना तो देर न करते हुए मीना को अपनी बांहों में लेकर किस करना शुरू कर दिया.

हम दोनों सोफे पर ही बैठे हुए किस कर रहे थे। हमारी किस समाप्त हुई तो पूरन ने फौरन ही मेरी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया। मेरे बड़े-बड़े चूचे उसकी नज़रों के सामने थे। वो चूचों की ओर हाथ बढ़ाने लगा तो मैंने रोक लिया. सर बेड से बाहर था। उसने इस पोजिशन में लंड डालना शुरू किया और मेरे निप्पल चूसने लगा।वो मेरा निप्पल चूसने लगा और अपना लंड मेरे मुंह में पेलने लगा. मैंने पूछा- वो अगली बार कब आएगी?वो हंस दी- बेताब हो गए हो?मैंने कहा- हद से ज्यादा.

उसने मेरी नजरों का पीछा किया और झुक कर अपने मम्मों की फिल्म मुझे दिखाने लगी. फिर मैंने लाइट बंद की और कम्बल में घुस गया।मैंने उसके कान में कहा- आई लव यू कविता।ये सुनकर वो मुझसे चिपक गई।3 बज चुके थे। उसके बाद हम सो गए।तो दोस्तो, ये थी मेरी सच्ची कहानी। आप यकीन कीजिये इसमें सिर्फ नाम बदले है। बाकी सब कुछ रियल है।अगले दिन मैं अपने हॉस्टल चला गया.

उसके बूब्स मेरी छाती पर बार बार टच हो रहे थे लेकिन मैं उनको छू भी नहीं पा रहा था अपने हाथों से.

सुभाष ने सबसे पूछा- रात में मजा किये या नहीं?सबने कहा- बहुत मजा आया. न्यूड गर्ललंड अकड़ा जा रहा था तो मैं जींस के ऊपर से ही अपने लंड को सहलाने लगा. होटल नियर मेंमेरी देसी सेक्स इंडिया कहानी कैसी लग रही है? मेरी इस कहानी पर अपनी राय और कमेंट्स देना न भूलें. लेकिन जो मजा किसी अपने के साथ आता है वो मजा कही और नहीं आ सकता।इस साइट पर मैं 1 साल से कहानियाँ पढ़ रहा हूँ। कुछ सच्ची मालूम होती हैं और कुछ काल्पनिक। लेकिन जो भी हो पढ़ कर मजा तो आ ही जाता है।दोस्तो, आप यकीन करें या न करें लेकिन ये मेरी टीनएज गर्ल सेक्स कहानी 100% सत्य है.

खेत में आसपास कोई नहीं था और हम दोनों के किस करने से पुच…पुच की आवाज आ रही थी.

आपने मेरी पिछली हिंदी हॉट कहानीकॉलेज वाली टीचर की चुदाई की कहानीतो पढ़ी ही होगी. आपका हरीश दुबे[emailprotected]पड़ोसन आंटी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:पड़ोस की एक जवान लड़की ख़ुशी से चुद गयी. कुछ देर मैंने टीवी देखा और एक मूवी खत्म होने के बाद तक 8 बज चुके थे.

बिना चूत में डलवाये हुए लिंग ऐसा मजा दे रहा था तो सोचो अंदर जाने के बाद तो कितना मजा देता होगा. हालांकि मैं पहली बार चुदाई नहीं कर रहा था, फिर भी मुझे बहुत मजा आ रहा था. ऐसे ही एक दूसरे के बदन से खेलते हुए हम दोनों में फिर से चुदाई का जोश भरने लगा.

ब्लू फिल्म दिखाएं हिंदी वीडियो

उन्होंने कुछ देर बैठने के बाद मुझे अपनी गोदी में बैठने के लिए कहा … मैं झट से बैठ गयी. मैं- तो क्या अपने पापा को बता दिया है कि मैं आपको चोद चुका हूँ?मम्मी- नहीं. मगर रोहन ने रोकते हुए कहा- ऐसे नहीं, तुझे तेरी आंखों पर पट्टी बांधनी होगी, तभी मजा आयेगा सरप्राइज का।लोकेश बोला- तुझे जो करना है कर, मगर जल्दी मिलवा यार उससे। मैं रुक नहीं सकता.

मैंने कहा- डाल दूं क्या जान?वो बोली- अब तुमने नहीं डाला तो मैं तुम्हारे इस औजार को चाकू से काट लूंगी.

इस तरह से उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और मेरे होंठों को जोर से चूसने लगी.

[emailprotected]देसी सेक्स इंडिया कहानी का अगला भाग:मेरी पहली चुदाई खण्डहर में- 2 (बिंदास ग्रुप). मैं एक ओर ये सोच कर उत्साहित हो रहा था कि जिया आज मेरे साथ में कुछ अलग ही करने वाली है. रितेश सेक्सीअशोक बोला- शालिनी मेरी जान … चिल्लाओ मत … तेरी इसी मखमली गांड को मारने के लिए मुंबई आया हूँ.

मैंने कहा- क्यों नहीं … पर क्यों ना आज हम दोनों भी वो सब करें, जो कल तुमने किया था … मगर तुम्हारी प्यास बुझ नहीं पाई थी. उसके बड़े बड़े मम्मे उसके ब्लाउज के बटन तोड़कर बाहर आने की कोशिश कर रहे थे. मुँह खोल कर एक कीमत बताने भर की देर होती और ये लोग वो कीमत उसी टाईम पर अदा कर देने को तैयार रहते थे.

फिर एक बार मैंने उससे उसका नम्बर मांगा और उस दिन उसने मुझे अपना नम्बर दे दिया. अगले दिन मैंने योगेश जी से कह दिया कि मैं होटल पूनम में नहीं जाऊंगी दोबारा.

मैंने नीचे झुक कर अपनी जीभ निकाली और उस बूंद को अपनी जीभ से चाट लिया.

नेहा- मुझे नंगी कर दीजिये और जो देखना हो देख लीजिये … मेरा सब आपका है जान. जब मैंने उनसे कहा कि मैं अपने भाई से सेक्स कर लेती हूँ, तो दीदी कुछ देर के लिए चुप हो गई थीं. पहले मुझे आपकी एक बार ओर लेनी है।मामी जी- नहीं, बस बहुत हो गया, अब और नहीं।ये कहकर मामी जी काम करने के लिए खेत में जाने लगी.

प्रिंसेस डायना एक दिन मैं मम्मी को किचन में चोद रहा था, तभी रीता अचानक से कब अन्दर आ गई, हमें पता ही नहीं चला. वो बोली- तो सुना दीजिए न!मैंने पूछा- कौन सी सुनोगी?वो बोली- जो आपको ठीक लगे.

फिर मैंने उसकी कमर पर हाथ फेरा और उसकी पैंटी की इलास्टिक में उंगलियों को फंसाते हुए उसकी पैंटी भी उतार दी. इतने में वो बोली- विशू जी, आप कहाँ खो गए और ऐसे क्या देख रहे हैं? अब आप यहाँ मुझे ऐसे ही घूरते रहोगे या घर के अंदर भी आओगे?मैं ख़्वावों की दुनिया से बाहर आया और अपने आपको सँभालते हुए कहा- हां, ओके ओके … चलिए. से थोड़ा आगे ही एक खड्डा बचाने के लिए अचानक से ड्राइवर ने तेजी से ब्रेक लिए जिससे कुछ लड़कियां आगे की तरफ गिरीं.

नंगी सेक्सी बढ़िया वाली

ऐश्वर्या- अविनाश का इतना बड़ा है और मेरे ससुर का इससे थोड़ा छोटा है. मैंने उसको उल्टा कर दिया और उसके पीछे खड़ा होकर चूत में अपने लंड घुसा दिया. मम्मी- आह … चोद दे मादरचोद अपनी मां को चोद दे … बड़ी खुजली थी न … चोद भोसड़ी के … जिस चुत से निकले हो … उसी चुत को चोद मादरचोद.

मैं बोला- मामी जी बस एक बार और करने दो। उसके बाद मैं अपने घर चल जाऊंगा। फिर आपको परेशान नहीं करूंगा।मामी जी- नहीं, अब मैं तुम्हें कोई मौका नहीं दूंगी। तुम अपनी ये हरकतें बंद करो।मामी जी की बात सुनकर मैं चुप हो गया। मैंने सोचा अगर मामी जी अभी नहीं चुदवा नहीं रही है तो कोई बात नहीं, अभी तो मौका बाकी है। कुछ ही देर में वैसे भी हमें खेत पर जाना है. मन तो कर रहा था कि आकाश और शेखर दोनों का लंड एक एक हाथ में पकड़ लूं लेकिन किसी तरह खुद को रोके रही.

वो मस्ती से न जाने क्या क्या बड़बड़ाने लगी और अपनी कमर जोर से हिलाने लगी.

यह तभी की बात है।फिर आपने पूछा था कि यह इसमें दिल के आकार का लॉकेट कहां से आया तो मैंने कहा था कि यह मेरे पास बहुत पहले से था. मैंने माया दीदी से पूछा, तो वो बोलीं- रिया बहुत नकचड़ी है … और चुदाई में खुली नहीं है. उसकी नीली जीन्स में उसकी कसी हुई गांड भी एकदम कयामत बनकर कहर ढहा रही थी.

जब तक जारा कुछ समझ पाती, तब तक शमशेर ने जारा की कसी हुई गांड में लंड पेल दिया और उसकी गांड मारने लगा. शैली के होंठ चूसते चूसते मैंने उसकी टाँगें फैलाकर चौड़ी कर दीं और उसकी कमर पकड़कर झटके से अपनी ओर खींचा तो मेरे लण्ड के सुपारे ने शैली की चूत में जगह बना ली. मैंने उससे कहा कुछ नहीं, बस मुस्कुरा दी और लंड का मजा लेते हुए हंसते हुए उसे दूध पिलाने लगी.

मेरी इस दशा से रूबरू हो चुके कोई साथी हों तो प्लीज मुझे मेल करके बताएं कि मैं क्या करूं.

सेक्सी बीएफ मराठी बीएफ: अब मैं भाभी को सीट पर चित लिटा कर उनके नीचे आ गया और उनकी चूत पर जीभ रख दी. मैंने पूछा- तुम मेरे लिये नहीं लाई?वो बोली- क्यूं, तुम एक प्लेट मेरा झूठा नहीं खा सकते क्या? वैसे भी खाने के बाद मुझे बर्तन कम साफ करने पड़ेंगे इसलिए एक ही निकाला मैंने।फिर पहला निवाला मैंने ही खाया.

मैंने कहा- ठीक है … तुम वापस अपने कमरे में जाओ और अपने लैपटॉप को लेकर आ जाओ. मैं अपने भरे हुए चूचों को मसलते हुए विशाल के लंड की कल्पना करने लगी. मैंने उन्हें वासना से देखा … तो उन्होंने वापस लंड को मुँह में ले लिया और अब वो मुँह बिगाड़ते हुए लंड को चूसने लगी थीं.

वो समझ गयी और अपना लैपटॉप ऑन करके एक पोर्न साईट को खोला और मेज पर रख दिया.

मामी जी की उठी हुई गांड को देखकर मेरे तो तन बदन में आग लग गई। मेरा लन्ड फुंफकार मारने लग गया।मैंने तुरंत मेरी टीशर्ट उतार दी और एक ही झटके में मेरा पजामा भी खोल दिया। अब मैं सिर्फ अंडरवियर में ही था। अंडरवियर को मेरे लंड ने गीला कर दिया था और मेरे कड़क गर्म लंड ने मेरे अंडरवियर को पूरा तंबू बनाया हुआ था. मेरे गांव जाने के लिए शहर से 18 किलोमीटर एक छोटा सा कस्बा पिपराइच है, जहां से ऑटो बदलनी पड़ती थी. लेकिन उन दोनों ने उधर ही मेरी नानी को जमीन पर घोड़ी बनाया और मेरी मां के सामने ही नानी का पेटीकोट ऊपर करके नानी की चिकनी गांड को सहलाने लगे.