मालकिन की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,माधुरी भाभी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

भूत कार्टून: मालकिन की सेक्सी बीएफ, यह बात रोमा आंटी को नहीं मालूम थी, पर हां उन्हें कुछ अंदेशा था कि हम दोनों के बीच बहुत कुछ गहरा है.

लोकल सेक्सी वीडियो दिखाइए

मैंने मंजू के होंठों को अपने होंठों से बंद कर लिया था तो उसकी आवाज नहीं निकल पाई थी. सेक्सी भाभी की चूत दिखाओआंह फाड़ मेरी इस भूखी बुर को … चोद चोद कर मुझे ठंडी कर दो मेरे भाई … आंह मैं बहुत तड़फी हूं इस चुदाई के लिए.

वो अपनी बहन की चूची दबाते हुए बोला- नेहा तुम्हारा ये शारीरिक बदलाव मुझे बहुत पसंद आया. एक्स एक्स एक्स पंजाबी वीडियो सेक्सीमैं- देखो दिव्या, मैं कुछ दिनों के लिए आया हूँ, जल्दी ही वापस नौकरी के लिए लौट जाऊंगा और शायद ये हमारी आखिरी मुलाक़ात हो क्यूंकि तुम्हारी शादी होने वाली है.

इसके बाद कुछ ऐसा हुआ कि मैं अंकल के साथ उनके घर में ही दारू पार्टी करने लगा.मालकिन की सेक्सी बीएफ: मैंने अपने हर पति के साथ यौन क्रीड़ा के समय पूछा- आपको संगीता जो सब्जी बेचती है, क्या बहुत सेक्सी लगती है?विक्रम, सुनील, अनिल, मोहन ने स्वीकार किया कि उनको संगीता बहुत सेक्सी लगती है, उसको याद करके उन सभी ने मुठ मारी है.

लंड का सुपारा चूत पर महसूस करते ही वो आंह करती हुई बोली- साले, जल्दी से अन्दर पेल दे … भैनचोद अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है.तब एक बोला- उस लौंडिया की फोटो है?अम्मी ने फोन से दीदी की फोटो दिखाई.

कुत्ते मोहब्बत में गाना - मालकिन की सेक्सी बीएफ

फिर मैंने पूछा- तुमने मेरी हालत ये कैसे की?उसने बताया कि मैं तुम्हारे रूम में तुम्हें जगाने आई थी.व्हिस्की पीते समय सुनील ने गुलाम वाला का वीडियो लगाया, उसमें गुलाम की नीलामी होती है.

उस रात मैंने भैया बहन सेक्स की तीन स्टोरी पढ़ीं और बहुत ज्यादा गर्म हो गई. मालकिन की सेक्सी बीएफ मॉम डैड सेक्स वोयूर स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अक्सर अपने मामी पापा को चुदाई करते देखा है.

विनी का कॉल आया तो वो बोली- अभी तो अकेले ही हो ना!मैंने कहा- हां मेरी सेक्सी बहना जी … अकेला ही हूँ … बोलो.

मालकिन की सेक्सी बीएफ?

अब हम दोनों ही नंगे बदन एक दूसरे से चिपक गए और एक दूसरे को चूमने चाटने लगे. वो मेरे पास आई और मुझसे बोली- मुझे आपकी बात मंजूर है मगर मेरी भी कुछ शर्त है. इस दरम्यान कब मेरा हाथ उनकी कमर पर गया या शायद उन्होंने मेरा हाथ खींच कर अपनी कमर पर रखा.

मैंने कभी सोचा नहीं था कि विश्वेश्वर जी और बाकी लोग अरुणिमा को अपनी रखैल समझने लगेंगे. मैं गाड़ी चलाते चलाते चोदने की कोशिश करूंगा क्योंकि इस रास्ते में गांव वाले आते जाते रहते हैं, रुकी गाड़ी में ये सब करना ठीक नहीं होगा. भाभी एकदम से पूरी हिल गईं और उन्होंने वाइब्रेटर को धीमा करने को कहा.

नेहा ने कहा- पक्का ना?विकास ने कहा- हां बाबा पक्का, तुम कुछ भी पूछो. मैंने भाभी से पूछा- भाभी, माल कहां लेना चाहोगी?भाभी मुझे किस करती हुई बोलीं- जान मेरी चूत को आज हरी भरी कर दो, मैंगर्भ निरोधक गोलीले लूंगी. एक दिन पहले ही मैंने अपने बदन को चिकना किया था तो मेरी स्किन पर बहुत ही चमक थी.

अचानक मुझे ख्याल आया कि क्यों ना अपनी रंडी बीवी अरुणिमा को ही चुदवा दूँ. मेरे मन में ‘दिल सम्भल जा ज़रा …’ गाना बजने लगा, एक साथ दिमाग़ में कई सवाल घूमने लगे.

फिर हमने एक दूसरे को खूब रगड़ रगड़ कर नहलाया और फिर जाकर बिस्तर पर ऐसे ही नंगी सो गयी।लेस्बियन सिस डर्टी मस्ती पर अपने विचार अवश्य बताएं.

आप मेरी इस साधारण मगर रसभरी नंगी चाची भतीजा सेक्स कहानी के लिए अपने विचार मेल से भेजें.

मेरे लंड के सुपारे को उसके गले की गर्मी का अहसास हुआ तो लंड झनझना गया. चोदने वाला अपना संतुलन बनाये रखने के लिए वो अरुणिमा के मम्मों पर अपने दोनों हथेली रखे हुए था. इधर वो मेरे सीने में और जहां जहां उसके हाथ जाते, वहां वो शैम्पू लगाती जा रही थी.

यह उसकी चूत गांड की भी वास्तविक चुदाई थी क्योंकि वह अपने मरहूम शौहर की साथ ऐसी चुदाई का कभी मजा नहीं ले पायी थी. वो भी सफ़ेद की पैंटी और ब्रा में मस्त लग रही थी लेकिन उसका बदन मेरे जैसा गदराया हुआ नहीं था. एक जोर की आवाज करने ही वाली थी पर उसके होंठ बंद करके आवाज को दबा लिया.

मोटी भाभी की टाइट चुत में लंड पेला मैंने! वो मेरे पड़ोस में रहती थी.

मैं अनजान बन कर बोला- किससे करवा दूँ, लड़का कौन है?तब अम्मी ने कार्तिक और अनुपम के बारे में बताया. वो भी मेरे सर पर हाथ फेर रही थी, उसके मुँह से मदभरी आवाज निकल रही थी. मुझे ऑफिस का भी काम था, मैंने फहीमा को मालरोड पर थोड़ी देर घूमने के लिए कहा और डिनर करने का प्लान किया.

फिर नेहा बोली- विकास, आज मैं तुमसे खुलकर बातें करना चाहता चाहती हूं … क्या तुम्हें कोई दिक्कत है?विकास उसके हाथों को मसलते हुए बोला- नेहा, हमारे बीच कुछ भी शर्म की दीवारें नहीं है. अब मुझे समझ आया कि चौधरी जी की दूसरी बीवी क्यों गांड मराने की शुरुआत होते ही भाग गयी थी. वहां क्या क्या कारनामे हुए … वो कहानी फिर कभी।तब तक के लिए विदा लेती हूं, अपना प्यार बरकरार रखियेगा।सेक्स इन बस का मजा आपको भी मिला होगा? कमेंट्स में लिखें.

दोस्तो, मेरी पहली सेक्स कहानीपत्नी की बेरुखी से मेरे कदम डगमगा गएआप सबको कैसी लगी.

मैंने उसके कमरे की तरफ देखा तो दरवाजा खुला हुआ था और प्रिया अन्दर कमरे में ही थी. चूँकि वो मेरे रिश्ते में फुआ लगती थी, इस वजह से मैं उस पर ज्यादा ध्यान नहीं देता था.

मालकिन की सेक्सी बीएफ मैंने कहा- फिर क्या उंगली से काम चलाती हो?वो- हां साहब … मैंने बहुत बार खीरा भी मेरी चूत में डाला था, मैंने बहुत कुछ किया है अपनी चूत को शांत करने के लिए … मगर बिना लंड के इसे चैन कहां मिलता साहब. वो तो पहले से ही नंगी थी तो उसने मुझे कुछ करने का मौका नहीं दिया, उसने मेरे कपड़े उतारने शुरू किए.

मालकिन की सेक्सी बीएफ अब मैं उसे चोदता हुआ गालियां देने लगा- भैन की लौड़ी … साली रांड … आज तो तेरी चूत को फाड़ ही दूंगा तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा. मैंने एक बार उससे कहा भी कि जरा दूर रह … मुझे कुछ हो जाएगा, तो तू झेल नहीं पाएगी.

वो भी किसी रांड की तरह मेरे लंड का पूरा पानी पी गयी और उसने मेरे लौड़े को अच्छे से चाट कर साफ कर दिया.

सेक्सी वीडियो डाउनलोड की

सुनील आनन्द में आकर सीत्कार भर रहे थे, बोले- आंह … बहुत मजा आ रहा है. ऐश्वर्या राय जैसी आँखें और बड़े चूतड़ों में छिपी गांड मटका जब चलती है तो पीछे से मटकते चूतड़ देखकर पूरी सेक्सी लगती है. भाभी अभी भी गर्म थीं तो वो बोलीं- अरे यार अब ऐसे बीच रास्ते में मत छोड़ा करो.

यार मेरे से भी अब नहीं रहा जाता, तेरे और लल्ला दोनों को एक साथ खेले काफी टाइम हो गया. जब आंटी को देखा तो वो नाइटी में ही थीं, उसके बड़े बड़े मम्मे देखकर मेरा लंड खड़ा हो चुका था. तभी वो डंडी नुमा चीज़ मेरी चूत के मुहाने पर आ गयी और हल्के हल्के से उससे मेरी चूत सहलाई जाने लगी.

मैं धीरे से बिस्तर पर चढ़ गया और भाभी की फैली हुई जांघों के बीच आ गया.

मैंने उसके दाने को सहलाना शुरू किया, उसने मुँह से भी आवाज़ें आने लगीं. फिर जब हम दोनों को बेटा प्राप्त हुआ, तब हमारी ज़िन्दगी और भी ज्यादा ख़ुशी से गुजरने लगी. X आंटी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी दुकान के ऊपर घर में मालिक के भाई भाभी रहने आये.

सुबह हमारे बीच भड़की आग अब तक बुझी नहीं थी।रोशनी और मैं 69 में हो गयी और एक दूसरी की चूत चाटने लगी. पर आज वो मेरे सामने सफ़ेद बिना स्लीव की क्रॉप टॉप और छोटी सी सफ़ेद और काली रंग की प्रिंटेड स्कर्ट पहन के आयी थी, जिसके नीचे उसने काली कैप्री पहनी थी. कुछ समय मैं उसे देखता रहा, फिर मैंने उसे उठाया और वो अपनी चड्डी ब्रा और गाउन पहनकर बाथरूम चली गई.

कटी सब्जी और खाना सप्लाई से जो मुनाफा होता, मदन जी उसका हिसाब रखते, आधा मुनाफा वह मुझको दे देते. अंत में मैंने उसी से पूछा- मैं कैसे बदला लूँ?आयेशा ने कहा- मोम का बदला मोम से!मैंने कहा- मतलब?आयेशा ने कहा- जैसे उसने तेरी चूत में मोम डाला था, वैसे ही तू उसकी गांड में मोम डाल देना मगर मॉम गांड के छेद में अन्दर जाना चाहिए.

अब मैंने उसे घोड़ी बनाया और घोड़ी बनाकर फिर से चोदना आरम्भ कर दिया. मैं लंड को उसकी चूत में डालने लगा, तो लंड चूत के बाजू में फिसल गया. मैं- भाभी … लेकिन दोनों एक साथ?भाभी ने बच्चे को दूर किया और मेरे सामने आ गईं.

वो भी एक बार में कभी सन्तुष्ट नहीं होते हैं, उन्हें कम से कम दो बार तो पक्के में लेना होता है और मूड बना तो तीन बार भी चोद लेते है.

किसी के दो हाथ मेरे दोनों मम्मों पर आ गए और वो उन्हें जोर जोर से दबाने लगा या यूँ कहें कि वो भोसड़ी वाला मेरी चूचियों से दूध निकालने की नाकाम कोशिश करने लगा. मुझे भी लगा कि अगर मैं इसे ऐसे ही मना करती रहूंगी तो बाद में ये मेरी ज़िन्दगी नरक ना बना दें, तो एक दिन मैंने चुदवा ही लिया और अब मेरा हाल ऐसा हो गया है कि मैं बिना सेक्स के रह नहीं पाती. उसको खोलने के बाद मैं उसे सहारा देकर बाहर लाया और उसके कपड़े के बारे में पूछा.

रविवार का दिन तय हुआ और उसके अफसर लगभग दो बजे दोपहर में पहुंचने वाले थे. ”जब उन्होंने ये कहा तो मैंने उनकी तरफ़ नज़र उठा कर देखा, उनका चेहरा गंभीर था.

मैंने उस लंड की प्यासी हसीना का मुँह पकड़ा और कहने लगा- आह … जल्दी जल्दी चूस साली … गटक ले पूरा माल. सुबह की सेक्स ऑडियो से उमड़ी चुदास भी तो शांत करनी थी।मन तो किया बस के ड्राइवर के लोड़े पे बैठ जाऊं!पर इतना वक्त नहीं था कि पहले लोड़ा खड़ा करो और फिर उससे चुदो।इसीलिए मैं अपनी सीट पे गई, खिड़की की तरफ बैग अटकाया … किसी और का बैग अपने बाएं ओर रखा, अपनी तंग पजामी में हाथ डाला और उंगली करने लगी. मैंने उनकी एक चूची को फिर से रगड़ने लगा था और अपने लंड को हिलाते हुए उनकी बुर के ऊपर रगड़ने लगा.

पंजाबी घरेलू सेक्सी वीडियो

आयेशा को नेहा की आवाज सुनकर कुछ होश आया तो उसने अपनी आंखें खोल दीं.

कभी कभी मैं थोड़ा ऊंचा होकर उसके कंधे के पास से मोबाइल को देखता, जिससे मेरी छाती उसकी पीठ से रगड़ खाती. उम्मीद के अनुसार बिल्कुल नंगी ही थी और हाथ में ट्रे थी, जिसमें शराब और चखना आदि सामान रखा था. वैसे मेरे चाचा की 3 लड़कियां है और मैंने तीनों को ऊपर ऊपर से मजे दिए हैं.

वो लंड देखने लगी और बोली- एक बात बताओ, तुम लगते तो पतले से हो लेकिन ये इतना बड़ा और मोटा कैसे है?मैंने कहा- कभी कभी मुझे जैसी किस्मत वालों को ही ऐसा लंड मिलता है. तभी मुझे समझ आया कि शायद आसिफा ने अम्मी को हमारे बारे में सब बताया हुआ है, तभी वो इस समय आसिफा से डरे बिना अपनी चूत का काम मेरे लंड से करवा रही हैं. देसी हिंदी सेक्सी पोर्न वीडियोप्रिया- बोलिए क्या बात माननी होगी?मैं- सोच लो शायद तुम मना कर दो!प्रिया- नहीं, मैं मना नहीं करूंगी.

वो मेरे लौड़े पर सवार हो गई और लंड चूत में अन्दर करके चुदाई शुरू कर दी. फिर आयेशा ने मेरे बाल पकड़कर मेरे मुंह में जोर जोर से डिल्डो डालना शुरू कर दिया.

एक ही जगह काम करने से और एक सी समस्या से जूझने के कारण मेरी और सुलेमान की नज़दीकियां बढ़ती गईं. मतलब जैसे कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड को कौन से शॉट लगाता हूं और कौन से शॉट में क्या पोजीशन रहती है?अब जब हम लोग खुलने लगे तो कभी-कभी हम दोनों व्हाट्सएप पर रोल-प्ले भी कर लिया करते थे. जैसे ही वो झुकती, उस सेक्सी लड़की की पतली कमर मेरे सामने होती, जिसे देखकर ही उसे पकड़कर ऊपर उठाने को मन करने लगा कि उसी पोजीशन में उठाकर उसकी गांड पर मुँह लगा कर चूस डालूँ.

अरुणिमा बिना बहस किए उसका लंड चूसने लगी और वो आंख बंद करके मज़ा लेता रहा. उस वक्त वो किसी से फोन पर बात कर रही थी और किसी फौजिया का नाम ले रही थी. सीमा को मेरे सामने उससे बात करने को झिझक हो रही थी इसलिए उसने मुझे बाहर जाने बोला.

मैं तुरंत उठा और जल्दी से अपने कपड़े पहन कर अपने रूम में जाकर मोबाइल देखा.

यह सुनकर मोहित ने मेरे बूब्स दबाने शुरू कर दिया और बोला- हां मेरी जान, लगता है तेरी चूत में ज्यादा आग है, तो आज तेरी चूत की आग शांत करता हूँ. फिर मैं सोचा कि जब चौधरी जी की पहली बीवी उनके हब्शी लौड़े से मजे से अपनी गांड मरवाने का आनन्द ले सकती थी, तो मैं भी ले सकूंगी.

अब आगे मॉम चुत चुदाई कहानी:मैं- अब समझी ना मॉम … आप अपने बेटे के प्यार को. मेरी वाइफ के मम्मे बड़े बड़े हैं, उसके मुकाबले मेरी बहन के दूध बहुत छोटे छोटे से हैं. आप लोग भी सोच रहे होंगे कि साला ऐसा क्या कभी ऐसा हो सकता है?पर मेरे साथ हुआ था दोस्तो.

मैंने उसकी चूत की फांकों को फैला कर उसकी गहराई में अपनी जीभ पेल दी और उसे चोदने लगा. अब आगे गांड X कहानी:मेरी और संजना की सुहागरात रायपुर के एक 5 स्टार होटल में हुई थी. वो बहुत प्यार से लंड को ऊपर नीचे करती जा रही थी और मैं उसे देखे जा रहा था.

मालकिन की सेक्सी बीएफ ” मैं रूपा के दोनों कंधे पकड़कर बोला।पहले शर्त तो सुन लो!” वह बोली।सुनाओ?” मैं उत्साह में भरकर बोला।ड्यूरिंग सेक्स तुम दोनों एक दूसरे से बात नहीं करोगे। जैसे ही जुबान से कोई शब्द निकला, खेल बंद।” वह बोली।मंजूर है. मॉम अब मेरे लंड को अपनी जीभ से चाटने लगीं और लंड के गोटे चूसने लगीं.

भोजपुरी सेक्सी वीडियो बताएं

इसके पहले से ही जब भी कुछ किराना या कुछ और सामान मंगाना होता तो आंटी मुझसे ही कहती थीं. फिर अनायास ही भाभी का दूसरा हाथ मेरी जांघों के बीच में आ गया और वो उधर सहलाने लगीं. मगर उसने मुँह से पैंटी निकाल दी और बोली- इधर सुनने वाला कोई नहीं है.

दीपक अपना लंड मेरे गले तक अंदर कर अपना वीर्य मेरे गले में गिराने लगे।मैंने चेहरा ऊपर उठाया और देखा कि रोशनी अब भी चूस रही थी. फिर देसी गर्लफ्रेंड फक़ का एक दौर फिर शुरू हुआ, इस बार मैंने उसे अपनीगोद में बैठा कर चोदा. रश्मिकाxxxनेहा बहुत ही समर्पण भाव से बोली- हमें अपनी आग शांत करने के लिए एक दूसरे की बहुत जरूरत है.

मेरी फ्री वाइफ सेक्स कहानी पर आप किसी भी प्रकार की राय देने के लिए स्वतंत्र हैं और मेल पर मुझसे संपर्क कर सकते हैं.

मेरी चचेरी बहन, बुआ की लड़की टीना के साथ ज्यादा रहती थी और मुझे पता था कि मेरी बुआ की लड़की बिगड़ी हुई है. मैं उसके टॉप के गले से बाहर झांकते हुए उसके मम्मों को ताड़ रहा था और धीरे धीरे शराब के सिप लगा रहा था.

मेरे मुँह से उतना खुला खुला सुनकर वो मेरी तरफ बड़े प्यार से देख रही थी. पावनी देखने में एकदम गोरी है, उसका शरीर एकदम स्लिम है और तब उसका फिगर 30-28-32 का रहा होगा. अजीब चूतिया किस्म के लड़के हो बे तुम!मेरी बात सुनकर रिया ने मेरा हाथ दबा दिया.

उसने अपनी छोटी छोटी चूचियों को थोड़ा बड़ा कर लिया था जो एकदम टाइट थीं.

यह मेरी दूसरी सेक्स कहानी है इस फ्री चूत चुदाई की कहानी का आप ना सिर्फ आनन्द लें बल्कि महसूस करें कि एक छोटा सा सफर कितना हसीन हो सकता है. लल्ला का असली मजा तो तेरे साथ ही है, काश पिंकी भी साथ में होती तो और मजे आते. मैंने निश्चय कर लिया था कि मैं इस रुक रुक कर चोदने की कला को अपने बाक़ी पांच पतियों को भी सिखाऊंगी बिना चौधरी जी का नाम लिए.

मारवाड़ी सेक्सी मूवीसएक ही बार में मेरी चूत की फांकें अंकल के लंड के सुपारे में सैट हो गईं. थोड़ी देर में बुआ उठकर मेरे ऊपर आ गईं और मेरे लौड़े पर अपनी चूत रखकर बैठ गईं.

सेक्सी इंडियन सेक्सी हिंदी

143गर्ल गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:होली का रंग चूत चुदाई के संग- 8. मैंने फहीमा से कहा- मुझे भी बहुत तेज मूत आ रही है … बताओ मैं कहां करूं?उसने मुझे पास बुलाया और मेरे आधे खड़े लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. हम दोनों अपने जॉब से फ्री होकर शॉपिंग करते, सिनेमा देखते, कभी रात का डिनर बाहर किसी रेस्तरां में करते.

फॅमिली रंडी सेक्स कहानी मेरी अम्मी और बहन की पैसों के बदले चुदाई की है. जान क्या हुआ … मुझे तो मालूम चला था कि तुम्हें कोई दूसरा प्यार करने वाला मिल गया था?”वो बोली- तुमसे ऐसा किसने कहा?मैंने कहा- बस मुझे यूं ही लगा. आपने कभी सोचा कि हमारी भाभी अपनी फ़ीगर इतनी अच्छी कैसे रखती है?क्या सविता को जिम की भी जरूरत है?शायद नहीं … पर भाभी जिम जाती है!अपना जिस्म फिट रखने के लिए भाभी को एक्सरसाइज की नहीं बल्कि सेक्सरसाइज की जरूरत है.

नहाते हुए फिर से मैंने उसकी गांड चोदी और उस पूरी रात में 4 बार मैंने उसे चोदा. वहां से उनके रूम को आसानी से देखा जा सकता था कि अन्दर क्या हो रहा है. फिर मैंने डिलडो लिया और एक झटके में पूरा डिलडो उसकी चूत में डाल दिया.

मैं- ले हुस्न की मलिका … चुद … चुद … चुदक्कड़ हसीना … चुद ले … टपका अपनी जवानी मेरे मुँह में टपका दे … देख मेरा लौड़ा भी तभी छोड़ देगा … जब तेरी चूत से पहली धार मेरे मुँह में आएगी साली. अब अमित की झांटें मेरी नाक के नथुनों में लगने लगीं, मुझे सांस लेना भी भारी हो रहा था.

सुलेमान अपनी बीवी से खुश क्यों नहीं है?ये सब बातें करते करते रात के 12 बज गए थे.

उनके लंड से भी पानी निकल रहा था जिससे उनकी चड्डी सामने से गीली हो गई थी. सेक्सी बिहारी देसीपहले धीरे धीरे … फिर लंड चूसने की स्पीड बढ़ाकर वो तेजी से लौड़ा चूसने लगी. सेक्सी वीडियो भोजपुरी 2021उसका सुपारा भी अपने दो छोटे छोटे छिद्रों से प्रीकम की बूंदें छोड़ने लगा था, जिसे चाटने में मुझे बड़ा ही मजा आ रहा था. उनके लंड से भी पानी निकल रहा था जिससे उनकी चड्डी सामने से गीली हो गई थी.

उसकी दूध जैसी गोरी कमर और उस कमर पर पड़ती हुई पतली सी सिलवट किसी को भी अपना दीवाना बना ले रही थी.

मैंने मन ही मन सोचा कि आज इन्हें कर लेने दो, कल इनकी अच्छी तरह से माँ चोदूंगी. मेरी नजर आसिफा की अम्मी पर पड़ी, पहले तो मेरी गांड फट गई … लेकिन मैं इस बार उनको नजर अंदाज करके और तेजी से आसिफा को चोदने लगा. उस दिन के बाद से चाची ने मोहल्ले के लौंडों को घास डालना बंद कर दिया.

उसका चेहरा अपनी ओर करते हुए उसके गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रख दिए. उनके गाल और होंठ चूसने के बाद उनकी गर्दन चूमी, तो वो मज़े के कारण नागिन जैसी ऐंठ गईं. उसने झट से मेरा सर पकड़ा और मेरे होंठ से अपने होंठ सटाकर चूसने लगी.

ज्योति वाला सेक्सी

लेकिन जब से वह शहर आई थी, तब से वह देख रही थी कि विकास में भी धीरे-धीरे उसके प्रति बदलाव आया था. वो बोली- बहनचोद इसमें क्या मज़ा आ रहा है तुम चूतियों को … सालो हमारा सारा जिस्म जल रहा है. मैं पूरी जान लगाकर उन्हें चोदने लगा और वो मेरे ऊपर चढ़ कर मेरा पूरा लंड अपनी चूत में लेने लगीं.

मेरी उम्र 55 साल की है और मैं अपनी सरकारी नौकरी से रिटायमेंट लेकर अब अपनी खेती पर ध्यान देता हूँ.

झड़ जाने से बाबा का लंड मुरझा गया था तो अम्मी फिर से बाबा का लंड हिलाने लगीं.

उसने पीछे मुड़कर देखा तो मेरा लंड पूरे उफान मारते हुए कच्छे में टेंट बनाकर बैठा था. नेहा ने खुद को छुड़ाया और बोली- साली बहनचोद ये क्या था?आयेशा ने कहा- ये मेरी नींद ख़राब करने की सजा थी!नेहा एकदम से भौचक्की रह गयी. सेक्सी सेक्स चुदाई वीडियोमेरी स्पीड को देख कर भाभी समझ गईं कि मैं थक गया हूँ, तो वो मुझे लिटा कर खुद मेरे ऊपर लेट गईं और आगे पीछे होने लगीं.

मीनू के मुँह से बस ये निकला- वाओ उई धीरे सीई ईईई उई मां राज धीरे से करो प्लीज धीरे करो ना … बहुत दर्द हो रहा है प्लीज धीरे से … उई मां!मैं उसकी चूत में लंड पेलता गया और मस्त XX गर्ल सेक्स हुआ. यह देख कर मुझसे भी रहा नहीं गया; मैंने भी अपनी लॉन्ग टी-शर्ट उतार दी और मैं भी नंगी हो गई. समय बीतता गया और मैंने इस जहर के घूंट को पी लिया कि चाची मेरा पैसा खा गई.

उन्होंने मुझे उस लड़की की फ़ोटो भी दिखाई, जिसके साथ हुई चुदाई कहानी आप लोगों ने पढ़ी थी. वो अपनी आंखें बंद करके सिसकारी लेती हुई मेरे हाथों से अपने चूचियों को दबवाने लगी.

जब तक मैं वहां पहुंचा गुरबचन जी एक बेड पर लेट गए थे और अरुणिमा उनके लंड पर बैठ कर उसे अपनी चूत में ले चुकी थी.

अगले तीन घंटे में चार बार मैंने घर जाकर झांका और अरुणिमा को लगातार चुदवाते हुए पाया. मगर वो लंड पुलकित का था, तो मोहित ने मेरे चूतड़ पर थप्पड़ मारकर कहा- साली, आज तेरी हार्डकोर चुदाई होगी. मेरा खड़ा लंड उसकी पैंटी के ऊपर से उसके चूतड़ों की घाटी में रगड़ मार रहा था.

राजस्थानी आंटी की सेक्सी उसका लंड इतना मोटा था कि मैं जोर से चिल्ला पड़ी- ऊऊ ऊईई ई माँआआ … मर गई … आराम से करो!मोनू थोड़ा बेरहम था, उसने मुझे गाली देते हुए कहा- साली मादरचोद, इतनी रात में चुदवाने आई है और अब गांड फट रही तेरी … रोज गांव में अपनी जवानी दिखाती थी. मैं मीनू को सहारा देकर अपने कमरे में लेकर आ गया और उसको बेड पर लिटा दिया.

उसने कोई बहस नहीं की, तो मैंने उससे कहा कि वो अपने बदन की वैक्सिंग कर ले और शेविंग कर ले. दोस्तो, आज मेरी कुंवारी गांड में एक शादीशुदा मर्द का लंड जाने वाला था. पर विजय बोला कि उसे हनीमून का डेस्टिनेशन फाइनल करना है तो वो उसे लैपटाप में कुछ फ़ोटोज़ दिखाएगा और कुछ शादी की प्लानिंग भी डिस्कस करनी है.

अमेरिका की सेक्सी वीडियो चुदाई

फिर थोड़ी देर बाद लौड़े के पानी झड़ने के डर से मैंने लौड़े को चूत से निकाल कर उसकी गांड में घुसेड़ दिया और ऐसे ही चूत और गांड के छेद बदल बदल कर चोदने लगा. अब तक आंखों आंखों में क्रोध से, याचना से, निमंत्रण से, समर्पण तक का सफर तय हो गया. मैं समझ गया कि उसका कोई बॉयफ्रेंड होगा क्योंकि आजकल इस उम्र में ऐसा होना कोई बड़ी बात नहीं है.

मेरी अम्मी ने दूसरे दिन बाबा को कॉल किया और उससे बोलीं- बाबा नाजिर बोल रहे हैं?सामने से आवाज आई- जी हां … मैं बाबा नाजिर बोलता हूँ. उनके आने के बाद उसी रात रसिका की चुदाई करके दिन में हम दोनों मियां बीवी अपने घर आ गए थे.

मेरे पति को पुणे में काम था इसलिए वो मुझे होटल में छोड़ कर ट्रैवेल एजेंट के पास हमारी टिकट की जानकारी लेने चले गए.

गांड X कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी दोस्त को घोड़ी बनाकर चोद रहा था तो मैंने उसकी गांड में उंगली कर दी. ‘आह … आह हह हह … तेज कर …’मैंने गति तेज की, उसका शरीर कड़ा होने लगा. इसके बाद मदन जी ने मुझको सीधा लिटा दिया, मेरी कमर के नीचे तकिया लगा दिया.

मैं कोमल जी को धन्यवाद देना चाहती हूँ कि उन्होंने मेरी कहानी पोस्ट करने के लिए अपनी रजामंदी दी. वो बेहद कसमसा रही थी, मगर मैंने उसकी तरफ ध्यान न देते हुए एक दूसरा धक्का दे दिया. बातों बातों में इतना पता चल गया था कि उसका कोई बॉयफ्रेंड नहीं था और मैंने भी उसको जानबूझ कर बता दिया था कि मेरी भी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है.

उसकी चूत को देखते ही पता चल रहा था कि वो न जाने कितने मर्दों का लंड ले चुकी थी, जिससे उसकी चूत का भोसड़ा बन चुका था.

मालकिन की सेक्सी बीएफ: मैं अपने इन चाचा के घर अब ज्यादा नहीं जाता इसलिए उनको हैरानी हुई थी. मंजू मेरे लैपटॉप में पहले से चल रही ब्लू-फिल्म देख रही थी जो मैं चलती हुई छोड़ दी थी.

चूँकि वो मेरे रिश्ते में फुआ लगती थी, इस वजह से मैं उस पर ज्यादा ध्यान नहीं देता था. मुझे भी लगा कि अगर मैं इसे ऐसे ही मना करती रहूंगी तो बाद में ये मेरी ज़िन्दगी नरक ना बना दें, तो एक दिन मैंने चुदवा ही लिया और अब मेरा हाल ऐसा हो गया है कि मैं बिना सेक्स के रह नहीं पाती. इस वजह से मुझे कुछ काम नहीं रहा गया था, बस पूरे दिन पॉर्न देख कर मुठ मारने लगा था.

थोड़ी ही देर में मेरी कजिन सेक्स का मजा लेती हुई उन्ह उन्ह आह करती हुई अकड़ने लगी.

वो मुझे ही देख रही थी, उसी पल मैंने बीच वाली उंगली एक ही बार में उसकी चूत में उतार दी. फेसबुक पर मेरी कई लड़कियों से बात हुई मगर इसमें बहुत सी आईडी मेरी आईडी की तरह फर्जी थीं. होटल के रिसेप्शनिस्ट ने हमें हनीमून रूम दे दिया और वेटर हम दोनों का सामान रूम में ले जाने लगा.