एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,तारक मेहता का उल्टा चश्मा सेक्सी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाबी सरदार सेक्स: एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी, मैं उस दिन अपनी बहन के पास कॉपी लेने गया था, लेकिन वो अपनी क्लास में नहीं थी.

बेटे ने मां को चोदा सेक्सी

इससे कुसुम की मादक सिसकारियां निकलने लगीं- आह उंह आह ऐसे ही रोहन … और कसके दबाओ … आह कर लो अपने मन की मुराद पूरी. मुट्ठ मार सेक्सीतभी नजर नीचे गयी, तो जांघों के बीच में उनका लंड एकदम काले नाग जैसा फुंफकार रहा था.

यह थी जुआ के अड्डे से पोर्न स्टार का सफर मेरी कुछ ही महीनों में सेक्स मूवी इंडिया में एक एडल्ट साइट पर दिखेगी, इसकी शूटिंग विदेश में हो गयी है. கேரளா sexमेरे ज्यादा फोर्स करने पर वो मान गईं, पर सिर्फ़ एक किस करने के लिए.

जेठजी के अंडकोष से उनका गाढ़ा वीर्य मेरी गर्भवती होने के लिये तैयार चुत में लंड के सुपारे के जरिए मेरी बच्चेदानी में अंडे को पूरी तरह भिगो रहा था.एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी: उसकी चुत से काफी सारा पानी निकलने लगा जिससे मुझे धक्का लगाने में आसानी हो गई.

राज ने हामी भर दी और मैं तुरंत राज़ के लंड पर बैठ कर लंड की सवारी करने लगी.मैंने कहा- आप कुछ कहना चाह रही थीं?उसने कहा- खाना खत्म करो फिर बताती हूँ.

এক্স টারজান - एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी

जेठजी के लंड को मैंने दोनों हाथों में कसके पकड़ा और जेठजी के सुपारे के ऊपर चुम्बन कर दिया.इतनी देर से प्रिया मेरे लंड को चूसने में लगी हुई थी और दूसरी तरफ मुझे उसकी चूत का स्वाद भी मिल रहा था.

उसके बाद सुनील ने ज़ोर-ज़ोर से अपना लौड़ा मेरी दीदी की चूत में देना शुरू कर दिया. एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी पिछले भागमेरी बढ़ती कामवासना ने मुझे पागल कर दियामें अब तक आपने पढ़ा था कि सत्यम नाम का एक जवान लौंडा मेरी जवानी पर मर मिटा था.

जीजू ने फिर से लिप किस किया और बोले- देखा!मैंने अंडरवियर नीचे सरका दी और लंड देख कर पागल हो गया.

एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी?

तभी ज़रीना ने आसिफा को अलग हटा दिया और वो खुद मेरे लंड के ऊपर आ गयी. मैं जब अपना लंड उसकी चुत में डालने लगा, तो मुझे बिल्कुल कुंवारी चुत का अहसास हुआ. पहले तो उनके पति कुछ दिन दिखे लेकिन 4-5 दिन बाद भाभी अकेली दिखने लगीं.

धीरे धीरे वो एक दूसरे की चूत में उंगलियां डाल कर सिसकारियां निकाल रही थीं. उन्होंने कहा- आप शायद दिल्ली के पास कहीं की रहने वाली हैं?उनका ये तुक्का किस तरह से सही लगा था, मुझे समझ ही नहीं आया. चुदाई के दौरान जब मैं उससे अपनी पसंद की बात कहता हूँ, तो वो हंस कर मुझसे कहती है- यार तुम्हें गर्म करने के लिए ही तो मैं अपना सामान दिखाती हूँ.

मैंने मंजू के कमीज की चेन को खोल दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा. कुछ देर बाद मैंने मंजू को सोफा पर लिटा दिया और उसके पूरे नंगे बदन को चाटने लगा. कुछ मिनट बाद उसी पोज में मेरे छोटू चोदू भगत ने अपने अन्दर की आग का लावा बिल्लो रानी की चूत में पूरा भर दिया.

पांच मिनट बाद मैंने भाभी के सामने लंड लहराया और उनको लंड चूसने के लिए इशारा किया. उस अद्भुत नजारे को छूने के लिए रोहन के हाथ अपने आप बढ़ गए और उसने अपना एक हाथ मॉम के एक चूतड़ पर रख दिया.

उसी दौरान मुझे एक दिन अपनी गांड में उंगली करने का मन हुआ और धीरे धीरे मैं अपनी गांड में भी उंगली चलाने लगी.

अंजलि अब बेकाबू हो गयी और बोली- रमेश, अपना लंड मेरी चुत में पेल दो.

नवाब ने जल्दी जल्दी चार पांच बार लंड चुत में अन्दर बाहर किया तो इस धकापेल से उसका लौड़ा मेरी बच्चेदानी से टच हो गया. मैंने उसके दोनों पैरों को चौड़ा कर दिया और दोनों टांगों के बीच बैठ गया. इधर मुझे ऐसा लग रहा था जैसे किसी कुतिया ने अपने दांतों में मेरे लंड के टोपे को जकड़ रखा हो.

पूरी चादर खून से लथपथ हो चुकी थी और उसकी टांगें हिल ही नहीं रही थीं. लंड चुत में पेलने के बाद उसने मुझे मेरी गांड से पकड़ कर उठाना और बिठाना शुरू कर दिया था. अब कुछ समझा बुद्धुराम या नहीं?मैं लवली के सारे लेक्चर को ध्यान से सुन रहा था।अभी मेरा बीज नहीं निकला था जबकि लवली झड़ चुकी थी।अचानक मुझे ध्यान आया कि एक बार खाली पीरियड में कुछ शरारती लड़के ब्लू फिल्म देख रहे थे तो थोड़ी सी फ़िल्म मैंने और अजय ने भी देखी थी.

मेरा लंड भी अब तक पूरा तन गया था और शायद इस बात का अंदेशा आंटी को हो गया था.

उसका जिस्म सफेद दूध की तरह है, उस पर गुलाबी निप्पल्स … मेरे ऊपर क़यामत ढा रहे थे. उनका लन्ड करीब 7 इंच का था। इतना बड़ा लंड मैंने कभी किसी मर्द का नहीं देखा था. मैंने उससे पूछा- तुम कितने लंड देख चुकी हो?वह कुछ देर सोचते हुए बोली- मैंने अपने पति के अलावा मेरे मायके में एक लड़के का देखा था, वो मुझे चोदता था.

फिर उन्होंने अपना मुँह पीछे किया और मुझे उसको किस करने का इशारा किया. वो पहले मुझे बहुत ज्यादा गर्म करना चाहता था और मेरी पहली चुदाई का पूरा मजा लेना चाहता था. ऐसा नहीं था कि मैं अपनी चूत पहली बार चुदवा रही थी लेकिन अब तक जिन जिन से भी चुदवाया था उन सबका लौड़ा इतना बड़ा नहीं था जितना सागर का है.

फिर जब रात गहरा गई, तो मैं उठा और दबे पांव बेहन के कमरे में चला गया.

मेरे होंठ सरकते हुए अब उसके चिकने पेट पर आ चुके थे और अपने होंठों से में उसके पेट को चूम रहा था, चूस रहा था. लेकिन मेरा ब्वॉयफ्रेंड काफी हॉट था, सो उसने उस आदमी की परवाह नहीं की और मेरे मम्मों को दबाता रहा.

एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी फिर वो अपनी बीवी को लेकर होटल आ गया और हम चारों एक मॉल में घूमने चले गए. मैंने कहा- सेकंड राउंड का टाइम है?वो बोली- नहीं, अभी कुछ देर बाद मम्मी आने वाली होंगी.

एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी क्या ये वही है … नशीली आंखें, गोरा रंग, पतली लंबी इकहरी देह की मंजू मस्त माल लग रही थी. इस गजब की वनीला आइस-क्रीम चुदाई के बाद हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और जाने को रेडी हो गए.

आंटी की पूरी चूत मेरे वीर्य से भर कर थी और वीर्य चुत से बहने लगा था.

कॉलेज की लड़की का सेक्स वीडियो

अब सत्यम ने मेरा पल्लू नीचे कर दिया और मेरी दोनों चुचियों के बीच में ब्लाउज के ऊपर से ही मुँह डालकर चूमने लगा. इससे वो उछल गई क्योंकि मेरी बहन रिया की गांड और चुत दोनों अभी तक सीलपैक थीं. मैंने जैसे ही दरवाजा खोला, तो मैंने देखा कि सुनील और सुरीली बाहर खड़े हैं.

सुरीली को इतना मज़ा आ रहा था कि वो अपनी आवाज़ काबू नहीं कर पा रही थी. इधर धीरे धीरे मेरे अरमान ठंडे हो रहे थे कि रानी मेरी तरफ सर उठाकर भी नहीं देखती. कुछ देर बात हुई मैंने उससे उसका नाम पूछा, तब उसने अपना नाम लिली बताया.

अपनी मॉम की चूचों को रोहन बारी बारी से अपने मुँह में लेकर चूस रहा था.

वो बोले- ठीक है तुम सुबह साढ़े सात बजे तैयार रहना, मैं तुमको लेने आ जाऊंगा. मैंने खुद को बगुला की तरह एक टांग पर खड़ा कर रखा था कि कभी तो मछली फंसेगी. पेग निबटा कर लकी ने सारा को डांस के लिए कहा और कहा कि हम दोनों देखेंगे और फिर ज्वाइन करेंगे.

मैंने अपनी साली के साथ कई बार सेक्स किया था, वो मेरी बीवी से भी मस्त माल है. फिर कुछ देर के बाद जब मैं जाने लगी तो सत्यम बोला- एक बार गले तो लगा लो. अब मेरा लौड़ा सटासट सटासट अंदर बाहर करने लगा।उसकी चूत में नशा था … जितना चोदो, उतना ही और मचल रही थी।आहह … ओहह उहह उम्माह हह की आवाज से मेरा जोश बढ़ गया.

सरिता भाभी को अपनी गर्म चुत पर ठंडी आइसक्रीम का अहसास हुआ तो वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी. उसकी चंचल निगाहें मुझे समझ आ रही थीं कि लौंडिया चुदने को मचल रही है.

फिर आपा ने मेरी बीवी को फ़ोन लगाया और इधर उधर की बात करके उससे सीधे सुहागरात की बात पूछ डाली. मैंने अब अपना जो वास्तविक काम था, उस पर आगे बढ़ने का निश्चय किया और हौले हौले उसके चिकने पेट को सहलाने लगा; साथ ही साथ उसके एक हाथ को अपने दूसरे हाथ से थामे रखा. ऐसा लगता था कि भाभी को आज बहुत दिनों बाद चुदाई का इतना ज्यादा मजा मिला था, तभी वो इतनी शांति से सो रही थीं.

रोहन का लंड ये सोचकर पत्थर हो गया था कि आज के बाद वो कुसुम को कभी भी चोद सकता था.

दोनों की दोस्ती लगभग शुरू ही हुई थी, कुछ दिन जब तक वो दोनों नए नए दोस्त बने थे, तो उन दोनों में अच्छी बनी. ख्यालों तक चुदाई ठीक थी पर हकीकत में उसे चोदना मेरे बस की बात नहीं थी. मैं सोफे पर पहले बैठ गया, फिर मैंने सीमा को मेरे लौड़े पर बैठा लिया.

उसने मम्मी की ब्रा मेरे हाथ में थमा दी और साथ ही अपनी कुर्ती निकाल दी. दस मिनट बाद आंटी ने मेरी चड्डी को भी उतार दिया और मेरा लंड पकड़ कर हिलाने लगीं.

मैंने कहा- बता न!वो बोली- पहले तू ये बता कि अपना वो हिलाते समय ‘सरीना सरीना. वो कहने लगे कि पहले वो वहां पर जम लेंगे और उसके बाद मुझे भी वहीं बुला लेंगे. ऐसा कहते हुए मेरे खड़े लौड़े को उसने अपनी होंठों से चूम लिया और पूरा का पूरा लौड़ा अपने मुँह में ले लिया.

रोमांटिक सेक्सी वीडियो रोमांटिक

मैंने खुद को बगुला की तरह एक टांग पर खड़ा कर रखा था कि कभी तो मछली फंसेगी.

विजय यह देख कर सोच में पड़ गया कि सरिता की चूत का छेद लाल था और चूत काली थी. जब मुझसे और रहा नहीं गया, तो मैंने जेठजी के थूक की लार को निगल लिया. उसके बाद मैं उठा और उसका पेटीकोट उतारा तो उसने भी पैंटी नहीं पहनी थी.

अचानक मेरा ध्यान उसकी हरकतों पर गया, तो मैंने देखा कि उसका एक हाथ उसके पजामे के अन्दर था और वो मस्ती में चूर होकर अपनी चूत को रगड़े जा रही थी. वो भी मेरी उत्तेजना को देखते हुए अपनी नुकीली जीभ को किसी तलवार की तरह बना कर मेरी दुश्मन की छाती रूपी चूत में घुसाने लगा. सेक्सी ओपन इंग्लिश व्हिडिओमैं और मेरी वाइफ भी बड़े दिनों बाद मिले थे, इसलिए वो भी सेक्सी अंदाज से ताड़ रही थी.

उसका लंड एकदम इसी तरह गरम लोहा था और मेरी चूत की गर्म भट्टी और उससे निकले पानी मेरे बुर का कामरस उसे ठंडा करने को व्याकुल था. इस बार मेरे लंड ने उसकी गांड के छल्ले को भी कुछ ढीला महसूस किया था.

साले इस कोरोना के चक्कर में बहुत दिनों से कोई नई चूत ही चोदने को नहीं मिली. दीदी बोली- मजा आ रहा है क्या?मैंने सिसकारते हुए कहा- हां दीदी, बहुत अच्छा लग रहा है. हुआ ऐसा था कि दिल दिल ही मेरी किराएदार भाभी मुझे पसंद करने लगी थीं, जिसकी मुझे थोड़ी सी भी भनक नहीं थी.

उसने भी मुझे देखा था और न जाने कितनी ही बार वो मुझे टच भी कर चुका था. फिर रमेश भी मेरी बीवी की चापलूसी करने लगा कि भाभी जी आपकी फिगर तो वाकयी बड़ी मस्त है. मैंने ओके कहा और अन्दर बेडरूम में ले जाकर समीक्षा को बेड दिखाकर बोला- तुम इधर रेस्ट करो, मैं अभी आता हूं.

मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि मामी के पेट से मेरा बच्चा निकला है.

उनको नंगी देख कर मेरा लौड़ा खड़ा हो गया … जिसे मॉम ने नोटिस कर लिया था. आपको तो समझ आ ही गया होगा कि मुझे जो चाहिए था, वो शायद आज मुझे मिलने वाला था.

अपनी बीवी के मुँह से ये सब सुन कर मुझे ऐसा लगा कि जैसे मेरे पैरों के नीचे से ज़मीन खिसक गयी हो. दीदी बोली- मजा आ रहा है क्या?मैंने सिसकारते हुए कहा- हां दीदी, बहुत अच्छा लग रहा है. उसने कहा- यार, मेरी इंग्लिश थोड़ी सी वीक है … क्या तुम मुझे इंग्लिश सिखा सकते हो.

मैंने उसकी टिकट चैक की तो पता चला उसकी सीट क्लीयर नहीं हुई।ज्यादातर लोग सो रहे थे।मैंने उससे पूछा- आप कहां जाओगी?तो उसने कहा- भोपाल! भोपाल से 60 km दूर मेरा गांव है।मैं भी नींद में था तो फिर से लेट गया।तभी वो बोली- सुनिए, क्या मैं थोड़ी देर बैठ सकती हूं?हां बोल कर में सो गया।थोड़ी देर बाद टीटी आया उसने कहा- मैडम आपकी सीट क्लीयर नहीं हो पाएगी. रानी ने गिरने के डर से अपनी दोनों बांहें मेरे गले में डाल दी थीं और जोर से पकड़ लिया था … ताकि वो गिरे नहीं. फिर उसने कुसुम से पूछा- क्या तुम भी रोहन से साथ सेक्स करना चाहती हो?इस पर कुसुम शेखर से इतना ही बोल पाई- शेखर, मैं आपको धोखा नहीं देना चाहती.

एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी दरअसल मुझे तभी मालूम हो गया था … जब पहली बार मैंने बाथरूम का दरवाजा खटखटा कर आपको बाथरूम से बाहर निकाला था. फिर मॉम लंड की गोटियां चाटते हुए बोलीं- तेरा वीर्य बड़ा स्वादिष्ट है.

क्लोरोफॉर्म के उपयोग

फिर उस बाजू वाली भाभी का हाथ मेरी जांघ के ऊपर आ गया और वो मेरी जांघ को सहलाने लगी. मामी बोली- ये क्या कर रहा है अमन तू … ये क्या हरकत है? मुझे नहीं पता था कि तू इतना बिगड़ चुका है. इस वजह से ज़्यादा बार मुझे आकृति उसी वक़्त अपनी चूत चुदवाने के लिए बुला लेती थी.

पीयूष रुका नहीं, उसने एक और झटका दे दिया और उसका पूरा लंड उसकी बहन की बुर के अन्दर चला गया. शायद उसको डर रहता था कि कहीं मैं दोबारा से उसको देख न लूं और उसके घरवालों को इस बारे में बोल दूं कि उनकी बेटी अभी से ये सब करने लगी है. सेक्सी साड़ी वाली मराठीसुरीली के कातिल शरीर ने मुझे उस टाइम की याद दिला दी, जब मैं मेरी बहन को शुरू में चोदता था.

आपको अब तक की बहन की गांड की सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें.

क्योंकि एग्जाम मार्च में होने थे और मामी को जनवरी में आना था तो ठंड बहुत थी उस समय।जब वो अपने घर से चलीं तो मम्मी ने बोला था कि उनको जाकर बस स्टेशन से रिसीव कर लेना. फिर …सभी दोस्तो को मेरा हैलो, नमस्ते, प्रणाम।मेरा नाम प्रतीक है। मैं अन्तर्वासना का पुराना पाठक हूं.

तभी किसी के पैरों की आहट हुई और हम दोनों अलग होकर जल्दी से लेट गये. अगर मैं चुपके से खोलूंगी भी … तो कोई न कोई जाग जाएगा, इतना बड़ा गेट है, खुलने में आवाज करेगा. ऐसा उसे इसलिए लगा क्योंकि इतने सालों में कुसुम ने पहली बार शेखर को सामने से अपनी चूत चोदने के लिए बोला था.

मैंने उनके कंधे को सहलाना शुरू कर दिया और वो मेरे लंड को मेरी लोअर के ऊपर से ही सहलाने लगीं.

मेरा लंड का साइज़ 6 इंच से थोड़ा सा कम है, लेकिन चुत को संतुष्ट करने के लिए बहुत है. मैंने लंड को चुत की फांकों में सैट किया और उससे कहा हाथ से लंड पकड़ कर चुत पर घिस जरा. उसी समय कुसुम को अपनी गांड पर कुछ अहसास हुआ, तो वो अचानक से घूम गई.

தெலுங்கானா செக்ஸ் வீடியோफिर उसने एक बैग लिया और बाथरूम चली गई।जब वापस आई तो उसने नाइटी पहन रखी थी. लंड चुत में घुसवाने के बाद मुझे बेहद दर्द हो रहा था लेकिन चुदाई की आग इतनी प्रबल थी कि मैं उससे लंड बाहर निकालने को नहीं बोल पाई.

मां बेटी के सेक्सी वीडियो

मैंने गेट बंद करते हुए कहा- तेरी दीदी अभी मुझसे चुदवा कर नींद की गोली खा कर सो गई है. कुछ देर बाद हम दोनों ने औपचारिक बातें की और अपनी पहली मुलाक़ात को दिल से महसूस किया. उस हॉट लड़की ने कहा- तुम सीधे लेट जाओ और मैं तुम्हारे मुँह के अन्दर पेशाब करूंगी.

मैंने पूछा- कब?वो बोली- एक बार बाथरूम में ले जाकर किया था … दो बार छत पर और एक बार तो बहुत लम्बा किस किया था, उस समय लाइट चली गयी, तो सीढ़ी में दो मिनट तक वो मुझे किस करता रहा था. मैंने प्रिया को बिस्तर पर लिटा लिया और टीशर्ट के ऊपर से उसके स्तनों को दबाने लगा. जीजू को मैंने पता नहीं चलने दिया कि मैं उनके साथ वाले कमरे में हूँ.

आज भी वो हॉट लेडी मेरे साथ सेक्स करती है और बोलती है कि जय तुम्हारा लौड़ा बहुत मस्त है. अब वो केवल स्कर्ट और टॉप या हल्के कपड़े ही पहनकर काम करती थी।कई दिन से दीदी कह रही थी उसको अपने सिर में तेल की मसाज करवानी है।एक दिन मेरी छुट्टी थी और दीदी ने नहाने के बाद मुझे अपने रूम में बुलाया और उसके सिर की मसाज करने के लिए कहने लगी. चूसते चूसते सारा बोली- अब दिन है ध्यान से देख लो, तुम्हारी बीवी चुद रही है, कभी तुम अभी भी ऑफिस वाली के सपने देख रहे हो.

अगली सेक्स कहानी में मैं आपको अपनी बहन और मॉम की एक साथ हुई चुदाई की कहानी लिखूंगा. मैं जब अपना लंड उसकी चुत में डालने लगा, तो मुझे बिल्कुल कुंवारी चुत का अहसास हुआ.

उन्होंने हम दोनों के बारे में पूछा, तो मैंने आकृति आंटी को बस इतना बताया कि काम सैट हो गया है.

उन्होंने भी बताया कि भैया सरकारी दफ्तर में इंजीनियर है और अधिकांशत: मुम्बई से बाहर ही रहते हैं. सेक्सी चुरानाइस बार मैंने उसकी चूत में दो उंगलियां डाल दीं और अन्दर बाहर करने लगा. नौकर और नौकरानी की सेक्सीबस इसी विषय को सोचते हुए मेरी आंखें वासना से भर गईं, जिसे मेरी मॉम ने भी नोटिस कर लिया था. मेरा मन तो कर रहा साली को पूरी की पूरी कच्ची खा जाऊं … मैं बस उसे ही देखने लगा.

इकबाल नीलम बाई से बोला- नीलम बाई, तू इन सबको सब कुछ अच्छे से समझा दो और काम पर लगा दो.

साथ ही भाभी मुझे महीने में पांच हजार रूपए खर्चे के लिए देने लगी थीं. जब वो अपनी चुदाई की कहानी सुना रही थी, उस दौरान मैं उसकी चूचियों को चूसता रहा और उसकी चूत में उंगली डाल कर कभी उसकी भगनासा को रगड़ देता, जिससे वो चिल्लाने लगती. मैं सोच रही थी कि नवीन के पास खूब पैसा है, तो मुझे अब किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं रहेगी.

विजय ने अपना वीर्य सरिता भाभी के मुँह में छोड़ दिया और सरिता भाभी भी उस मलाई स्वाद लेते हुए पी गई. दोस्तो, मैं राज सोलंकी जयपुर से हूँ और इस साइट पर सेक्स कहानी लिखने का ये मेरा प्रथम प्रयास है. मैंने पूछा- कभी प्रेगनेंट भी हुई?उसने बताया कि हां एक बार हुई थी, मगर हमने जाकर इलाज करवा कर सफाई करवा ली थी.

चेन्नई चाट

मैं बोला- अभी तुम ये सारी बात भूल जाओ और मेरे साथ चुदाई का मजा ले लो. मैं थोड़ी देर ऐसे ही उनको चोदता रहा, फिर मैंने उनको आगे पलटा दिया और उनके मम्मे पीते हुए उनको चोदने लगा. मैंने भी सोचा कि यह अच्छा मौका है … लिली को घर बुला कर चोदने का सुनहरा मौका मिल रहा है.

मैं बस उसकी चूत में लंड के धक्के लगा रहा था और वो आराम से चुदने का अब मजा ले रही थी.

थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि वह लड़की छत पर गई और अपने कपड़े उतारने लगी.

इसी बातचीत के साथ ही रमेश ने दोबारा झटका मारा और अपना लंड चुत में अन्दर तक घुसा दिया. आपको ये चुदाई का मजा कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करके जरूर बताएं. नाईन मराठीमम्मी ने पूछा- किधर जा रहे हो?मैंने कहा- एक दोस्त का फोन आया है उसके घर जा रहा हूँ.

पर उसको बहुत तेज़ दर्द हो रहा था और छटपटाहट में उसने मुझे धक्का दे दिया. मैंने अपनी पकड़ कुछ ढीली की, जिससे जेठजी मेरे ऊपर से जोर जोर मेरी चूत में अपने लंड को आगे पीछे करके मुझे चोदें. मैंने दोनों हाथों से जेठजी के सर पकड़ कर ज़ोर से अपने सीने पर दबा दिया.

मुझे भी उसके घर के पास में ही कुछ दूसरे काम भी थे तो सोचा वहीं से उसे कॉपी देते हुए निकल जाऊंगा. वो मस्ती में आकर सिसकारने लगी- आह्ह … राजा … आह्ह … कितने दिनों के बाद ये सुख मिला है … चोद राजा … आह्ह … चोद मुझे … ओह्ह … घुसा दे पूरा … फाड़ दे छेद … चोद दे मुझे।मैं भी वासना में सिसकार रहा था- हां मामी … तुम्हारी गर्म चूत में मेरा लंड … ये चोद देगा तुम्हें … ओह्ह … कितना मजा है चूत चोदने में … मेरी रखैल बन जाओ मामी … मैं आपको खुश रखूंगा.

जंगल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं बहाने से अपनी सबसे छोटी मामी को अपने साथ जंगल में ले गया.

वो बोलीं- अरे अभी भी जाग रहे हो?मैंने बोला- हां … आप भी तो अभी तक जगी हुई हो?आंटी बोलीं- हां आज पता नहीं क्यों नींद नहीं आ रही है. उस वक़्त मैं एक लड़की को काफ़ी पसंद करता था लेकिन उस लड़की की लाइफ में कोई और था, तो उस लड़की से मेरी फोन पर बस ऐसे ही बातें चलती रहती थीं. लेकिन शायद अभी तक उन्होंने मेरा नंबर सेव नहीं किया था, जिससे मुझे उनकी तस्वीर नहीं दिखी.

हिंदी सेक्सी वीडियो लड़की का उसके होंठ और चूचों को किस करते हुए मैंने उसके दर्द को कम करने व भुलाने का प्रयास किया. लिहाजा मैं हर समय उनको पाने की सोच में डूबा रहता था लेकिन मैंने ये सब किसी के सामने जाहिर नहीं किया.

एक बार रॉय ने मेरी चुत का रस चाटा था और एक बार जॉन के मुँह में चुत का रस निकला था. फिर मैंने जिस भाभी को अपनी गोद में लिया हुआ था, उसे ऐसे ही उठाया और सीट पर लिटा दिया. तुमसे किसने कहा?मैं उसकी उठी हुई चूचियों को बदस्तूर ताड़ते हुए बोला- मुझे सब पता चल गया है मैडम … मुझसे झूठ नहीं चलेगा.

वेस्टइंडीज की सेक्सी वीडियो

बीस मिनट की चुदाई के बाद मैंने चाची की चूत में अपने लौड़े का रस भर दिया. उसकी कुंवारी गांड में मोटे लंड को एकदम से पेलने से मेरे लौड़ा भी छिल गया. पहले तो मुझे उबकाई आने लगी … क्योंकि उसका लंड इतना मोटा था कि मेरे गाल मानो फटने लगे थे.

एक दिन उन्होंने मुझे दोपहर में कॉल किया और बोलीं- यार आज मेरा तुम्हारे साथ सेक्स करने का बहुत मन कर रहा है. सब कुछ रेडी हो जाने के बाद वो खुद दुल्हन बनकर बेड पर रोहन के आने का इंतजार करने लगी.

केवल फोन पर ही लंड चुत चुदाई की बात होती रहती थी और मैं बैठ कर लंड हिला कर ठंडा हो जाता था.

कार्तिक ने मुझे बांहों में ऐसे भर लिया था कि हमारे बीच में से हवा निकल ही न सके. कुछ देर बाद वो मेरे ऊपर चढ़ गई और मेरे लंड को अपनी चूत की फांकों में सैट करके धच्च से बैठती चली गई. वो कुछ देर बाद बोली- सिर्फ़ निप्पल ही चूसोगे या और कुछ भी करोगे!मैं बोला- करूंगा ना … अभी तो पूरी रात बाकी है.

भाभी की मोटी गोरी जांघों को देखकर मुझसे रहा नहीं गया और मैं उनकी जांघों को बहुत बुरी तरीके से चाटने लगा. बड़े गले का टॉप पहने होने के बावजूद भी पूरी नीचे को झुक कर लूडो खेल रही थी. थोड़ी देर बाद मैंने जेठजी का सर अपने हाथों से छोड़ दिया और जेठजी के बड़े बड़े हाथों के ऊपर रख कर उनके हाथों को अपने हाथों से दबाने लगी ताकि जेठजी मेरे स्तनों को और जोर जोर से मसलें.

इतने में वर्षा भाभी ब्लाउज पेटीकोट मैं छत पर कपड़े सुखाने के लिए आईं.

एक्स एक्स एक्स सी बीएफ हिंदी: फिर उसने मेरे मुंह से अपनी चूत हटा ली और मुझे भी अपने साथ नीचे लिटा लिया. मैंने सोचता था कि इस लेडी की चूत मिल जाए तो …दोस्तो, मेरा नाम आकाश है और मैं उत्तर प्रदेश के एक छोटे से शहर का रहने वाला हूँ.

फिर मेरे नाना ने मुझे भी वहीं रोक लिया क्योंकि रिया की देखभाल अच्छे से हो जाती. अब आंटी के बदन में आग जलने लगी, आंटी बोली- राज, मेरा गिफ्ट कहां है?मैं चुप हो गया क्योंकि जल्दी जल्दी में गिफ्ट लाना भूल गया था. उसने लंड को अपने मुंह में लेकर थूक से गीला कर दिया और वो मेरे लौड़े पर आ गई.

अब मामा ने फिर से पेलमपेल चालू कर दी और मीनू की चूत में फिर से लंड के धक्के लगाने लगे।कुछ देर के बाद मीनू फिर से मजे में सिसकारने लगी- आह्ह … आआह् … चोदो … आह्ह … चोदो मामाजी … आह्ह … और जोर से … आह्ह आईई … आह्ह स्स … चोदते रहो।मामा जोर से उसके बूब्स को मसल रहे थे और दूसरे हाथ से उसकी टांगों को थामे हुए उसकी चूत को पेल रहे थे.

वे मुझसे पूछने लगे- क्या हुआ!मैंने ना कह कर जवाब दिया कि कुछ नहीं हुआ. उसने अपने बैग से एक कागज निकाला और जल्दी से अपना मोबाइल नम्बर लिख कर दे दिया और बोली- चलिए फोन पर बात करते हैं. मुझे देख कर मैडम बोली- अरे तुम तो सिक्योरिटी गार्ड हो, क्या हुआ कैसे आए?मैं उसकी चूचियां देखते हुए बोला- तुम यहां धंधा चलाती हो, मैं इस बात की शिकायत करूंगा.