अंग्रेजों का बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,सेक्सी इमेज पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

ससुराल बहू का सेक्सी: अंग्रेजों का बीएफ सेक्स, थोड़ी देर बाद मैंने आहिस्ता आहिस्ता उनके ब्लाउज के बटन खोलना चालू कर दिया.

डब्लू डब्लू सेक्सी पिक्चर मराठी

इस बात को लेकर मैं थोड़ा सा उत्साहित हो रहा था क्योंकि कहीं न कहीं मेरे मन में भी इस बात को लेकर एक जिज्ञासा थी कि जब एक जवान लड़की घर में साथ में रहने के लिए आ रही है तो फिर थोड़ा सा टाइम पास तो मेरा भी हो ही जाने वाला था. सेक्सी माधुरी दीक्षित वीडियोरसोई में नीचे बैठ कर भाभी जब कोई काम करती है तो पीछे से उनके चूतड़ मुझे आकर्षित करते रहते हैं.

कुछ मिनट के धक्कों के बाद मैंने भाभी के साथ उनकी चूत में ही अपने वीर्य की बाँध को बहने के लिए छोड़ दिया. हॉर्स का सेक्सी वीडियोउसका लंड देखकर मैं समझ गया कि अब मेरी मॉम की ताबड़तोड़ चुदाई होने वाली है.

काफी देर तक अपने ससुर से अपनी चूत चुदवाने के बाद उसने एक लंबी आह भरी और उसी के साथ उसका बदन अकड़ा और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया।महेश ने उसे अपनी पकड़ से आज़ाद कर दिया लेकिन नीलम निढाल होकर शेल्फ पर ही पड़ी रही … उसे परमानन्द का अनुभव हो रहा था.अंग्रेजों का बीएफ सेक्स: वो देख कर हंसने लगी और बोली- ये क्या हो रहा है?रजू बोली शर्म से लाल होकर कहने लगी- दीदी, ये राज मान नहीं रहा था.

हमारे बेडरूम में से ही अन्दर वाले कमरे का दरवाजा बना हुआ था जिसमें अनीता सोती थी.चाची- तुम दोनों के जितने बड़े मेरे मम्मे भी हो जाएंगे … मेरे बेटे की वजह से.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी फुक्किंग वीडियो - अंग्रेजों का बीएफ सेक्स

अब मैंने मौके का फायदा उठाने की सोची और उससे कहा- इसका मतलब तो आपको मेरे वाला आइडिया पसंद आ गया था! मैंने ही तो आपको बताया था कि मैं मोबाइल में पॉर्न देख कर अपने आप को संतुष्ट कर लेता हूं.अगले दिन मैं अनिल के ऑफिस में बाकी की फॉर्मेलिटी पूरी करने के लिए चला गया.

मैंने एक जोरदार धक्का मारा और मेरा पूरा लंड भाभी की चूत में समा गया. अंग्रेजों का बीएफ सेक्स लेकिन आनन्द के बार बार बोलने पर मैं मान गया और उसे चिंता मुक्त होकर जाने को कहा.

उसको ये भी मालूम था कि विशाल सर अब नहीं हैं और वो मेरी जवानी का रस चखने की फिराक में था.

अंग्रेजों का बीएफ सेक्स?

मैं भाभी को थोड़ा और तड़पाना चाहता था इसीलिए लंड को उनकी चुत पर रख के ऊपर नीचे फिराता रहा और कभी हल्का सा अंदर डाल के फिर बाहर दाने पर मार मार के चुत पर रगड़ने लगता। इससे भाभी के सब्र का बाँध टूट गया और उनकी आग भड़क उठी।जैसे ही मैंने दुबारा लंड का मुंह चुत के अंदर डाला, भाभी ने एकदम से मुझे पकड़ा और नीचे से जोर का झटका मारा। लंड एकदम से चुत को चीरता हुआ भाभी के अंदर घुस गया और बच्चादानी से जा टकराया. मैंने उसकी टांग को उठाकर अपनी पीठ पर सेट किया और उसके होंठों को काटते हुए अपना लौड़ा उसकी चूत पर लगा कर रगड़े लगा. दिल्ली से आने के बाद जैसे ही मैं ऑफिस पहुंचा, तो उस वक़्त मेरे और उसके सिवा कोई नहीं था.

काटे नहीं कटते ये दिन ये रातकहनी थी तुमसे जो दिल की बात …और थिरकने लगी. मैंने बारहवीं अच्छे नंबरों से पास किया और मेडिकल की तैयारी के लिए कोटा आ गया, एक नामी कोचिंग संस्थान में एडमिशन ले लिया. मैं उठा और उठ कर उसके मुँह में अपना लंड डाल दिया, जिसे वो तुरंत चूसने लगी.

फिर मैंने उसको दीवार के पास खड़ा किया और उसकी झुकाते हुए उसकी चुत को पीछे की ओर निकाल लिया. मैं भी उन्हें मजे में चोद रहा था और बोल रहा था- हां मॉम … मेरी रंडी मॉम … मैं तुम्हें इसी तरह रोज चोदूंगा, तुझे अपनी रंडी बनाकर रखूंगा. क्या बताऊं … वो इतनी गजब की खूबसूरत लग रही थी कि मेरा लंड खड़ा हो गया.

मैंने फिर से एक और झटका मारा, तो मेरा पूरा का पूरा लंड आंटी की चूत में चला गया. हालांकि खेल का पीरियड होने के कारण एक घंटे तक इधर किसी को आने की संभावना नहीं थी। मैं उसे बांहों में भर कर चुम्बन करने लगा। वह सिसकारियां भरने लगी।मेरा लंड खड़ा हो चुका था, मैंने झट से उसकी सलवार खिसका कर दीवाल के सहारे झुका दिया। उसकी बुर की फांक को अलग कर लंड को अपने थूक से चिकना कर हल्का झटका मारा.

अब सागर कुछ और ना कह पाया और बोला- अब जो करना है मेरा लंड ही करेगा … करने दो इसको.

मेरी गांड की आग शांत हो चुकी थी, पर मेरे लंड की प्यास अभी रह गई थी.

ऐसा अनेक बार होता है और जब सबके पार्टनर बदल जाते हैं तो दूसरा राउंड शुरू होता है जिसमें बोतल नीचे रख कर घुमाई जाती है. मैं उसके बाल सहलाते हुए उसके कान पे किस करने लगा, जिससे वो सिहर उठी और अपनी चुत को लंड पर दबाने लगी. इससे उसके शरीर में एक सिहरन सी दौड़ गयी उम्म्ह… अहह… हय… याह…उसने अपनी टांगों को पूरा खोल कर मुझे आमंत्रण दिया कि हाँ उसे ये सब बहुत अच्छा लग रहा है.

मैं समझ गया कि मेरी गर्लफ्रेंड की बुर अब मेरे लंड के वार सहने के लिए तैयार हो चुकी है. जैसा कि आप सब लोगों ने मेरी एक कहानीवाइफ की गांड चुदाई इनकम टैक्स ऑफिसर सेमें आपने पढ़ा होगा कि मेरी वाइफ को की गांड इनकम टैक्स ऑफिसर ने मारी थी. नतीजा सबका एक सा रहा कि एक बार रात को चुदाई हुई और एक बार सुबह उठते ही …अब बेशर्मी तो आ ही चुकी थी तो सीमा ने अपने मम्मे उघाड़ दिए, बोली- जालिम ने तो चूसते चूसते, देखो, नील भी डाल दिया.

फिर मैंने मौका देख कर शालिनी की चूत पर लंड रखा और एक धक्का दे दिया.

मैंने आंटी की पैंटी की तरफ हाथ बढ़ाया और पैंटी को खींच कर एक तरफ कर दिया तो आंटी की चूत के दर्शन मुझे हो गये. मैंने बोला- किस टाइम?तो उसने कहा- रात को 9 से 10 के बीच में फोन करूंगी. जब हमारा 12वीं का पहले छमाही का रिजल्ट आया, तब उसने मुझसे प्रॉमिस किया कि अगर वो इंटर में पास हो गयी तो मुझसे मिलेगी.

मैं चिल्लाने को हुआ, लेकिन अंकल ने फ़ौरन ही मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया और लंड को धीरे धीरे मेरी गांड में घुसाते चले गए. लेकिन मैंने चूत तक हाथ पहुंचने से पहले ही अपने हाथ को बीच में ही रोक दिया. मेरे इसी चुदक्कड़पन की वजह से मैं पुणे में घर होने के बावजूद रूम खोज रहा था, ताकि मैं पढ़ाई के साथ साथ हर रोज कोई नया लंड चूस सकूं.

मेरे चेहरे पर थकान देख कर दीदी ने मुझसे कहा कि आकाश तुम अब आराम कर लो, हम कल बात करेंगे.

चूंकि तुम मेरे पति के दोस्त हो इसलिए मैं आगे नहीं बढ़ना चाहती थी लेकिन आज जब घर पर मैं तुम्हारे साथ अकेली थी तो मैं भी खुद को रोक नहीं पाई. मैंने उठते ही पति के लंड को अपने मुंह में लेकर उनका लंड गीला कर दिया.

अंग्रेजों का बीएफ सेक्स आज मेरी मॉम और मेरे बाप राजनाथ के 2 और औलादें हैं और वो बहुत खुश हैं. ”अच्छा?” उसकी आँखों की चमक तो ऐसे थी जैसे किसी अंधे को आँखें मिलने वाली हो।तुमने आज नाश्ते में क्या खाया?”कुछ नहीं.

अंग्रेजों का बीएफ सेक्स दो-तीन चक्कर मेरे चारों तरफ काटने के बाद वो मेरे पीछे की तरफ गये और मेरी गांड को दबा दिया. मगर मैं तो पूरी गर्म थी, मैं सामने बड़े सारे शीशे में अपने नंगे बदन को देख देख कर अपनी फुद्दी में खीरा करने लगी। मेरी रफ्तार और मज़ा दोनों बढ़ने लगे.

दीदी ने मेरे कान में बोला- आकाश, प्लीज मेरी 6 महीने की प्यास बुझा दो.

बीएफ देना बीएफ वीडियो

हिना- उम्म्ह… अहह… हय… याह…चाची- हहह आआआय्य …परवीन- ऊऊम्म … मादरचोद काट मत. परीशा ने पापा का लंड और बॉल्स चाट चाट कर साफ कर दिए।अब मुकुल राय बोले- परीशा मेरी जान, अब तू कुतिया बन जा। अपने इन जानलेवा चूतड़ों के दर्शन भी तो करा दे. इसलिए बेटी के जन्म दिन की तैयारी के लिए भी मैंने अपने चोदू यारों को ही इस्तेमाल किया था.

उन्हें देख कर मुझे लग रहा था कि खाना पीना बाद में देखा जाएगा … इस साली को पहले यहीं पर पटक कर चोद दूं. वीना आंटी जोर से चिल्ला दीं- आह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… वरुण आराम से … दर्द हो रहा है … धीरे धीरे कर. मगर उनके गले के नीचे यह बात नहीं निकल पा रही थी क्योंकि उनकी नज़र मेरी पूरी तनख़्वाह पर थी.

जब डॉक्टर मेरी बीबी की चूत को भरपूर चूस चुका तो बोला- बोला हो गई क्लीन तो!लेकिन मेरी वाइफ की चूत सुलग चुकी थी, वो बोली- ऐसे कैसे पता कि क्लीन हुई या नहीं?यह कहते हुए उसने अपनी चूत में उसके चेहरे को भींच लिया.

मैंने उससे पूछा- पहले कभी लंड देखा है?उसने कहा- हाँ मूवी में देखा है. चयन के बहुत ज़िद करने पर मैंने जोर जोर से दबा कर चयन के निप्पलों को भी चूसना स्टार्ट कर दिया. यह मेरे लिए अच्छा संकेत था कि आंटी मेरे लंड के लिए गर्म हो चुकी है.

सीमा के मन में हुआ कि वो राजीव को ढूंढे और उससे कहे कि ग्रुप सेक्स करना है! पर …पिंकी और राजीव सबसे अलग पूरी मस्ती में थे. रंग का गोरा था लेकिन मुझसे थोड़ा कम। हमारी दोस्ती काफी समय पहले से थी लेकिन उस वक्त मैंने उस पर कभी ध्यान नहीं दिया था. मैंने उसको पहले ही बता दिया था कि मैं तुमसे शादी नहीं कर सकता और वो भी उस चीज के लिए पहले से ही तैयार थी.

मैंने देखा मॉम राजनाथ की बांहों में थीं और राजनाथ मेरी मॉम को चूम रहा था. मुश्ताक ने धीरे से सीमा को ऊपर गोदी में उठाया और बाथरूम में जाकर खड़ा कर दिया शावर के नीचे.

उसके कहने पर मैं उसके लंड को अपने मुंह में लेकर अपने थूक से गीला करने लगी तो उसने मेरे सिर को पकड़ लिया. यह सुन कर मैंने फिर से लौड़ा थोड़ा तेज़ी के धक्के के साथ अंदर किया जिससे संजना की गांड में मेरा आधे से ज्यादा लौड़ा चला गया और गांड अंदर से छिल गयी और शायद मेरा लंड भी।फिर भी मैंने इस बार आखरी धक्का देने के लिए लंड को थोड़ा पीछे खींच कर एक और धक्का दे दिया जिससे पूरा 6. ” ज्योति से अपने भैया का गम देखा नहीं गया इसीलिए उसने अपनी नाइटी को उतारकर अपने भैया को अपनी गोद में लिटा दिया।समीर ने अपनी बहन के सर को पकड़कर उसके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और दोनों भाई बहन सारी बातें भूल कर एक दूसरे के आगोश में खो गये और नॉनवेज काम में लीन हो गए।इधर महेश अपनी पत्नी के सोते ही अपने कमरे से निकलकर अपनी बहू के पास उसके कमरे में जाने लगा.

मेरी मां विनय पर बहुत भरोसा करती थी इसलिए उनको भी उसके होने से किसी तरह का डर नहीं था.

मैंने भी जल्दी से अपने सारे कपड़े निकाल दिये और हम दोनों के बदन अब बिल्कुल नंगे हो गये थे. वो बोली- सब सो रहे हैं और पापा भैया हॉस्पिटल गए हैं, वे सुबह ही आएंगे. मेरे अंदर की आग और भड़क गई और मैंने अमित को और कस कर पकड़ लिया। मेरी तरफ से हरी बत्ती मिलने पर उनका भी जोश बढ़ गया और वे और जोर से मेरे नाजुक अंग मसलने लगे।युवराज नीचे बैठ गया और मेरी साड़ी ऊपर कर के मेरी जांघे चूमने मसलने लगा तो ऊपर अमित ने मेरा पल्लू नीचे गिराकर मेरे स्तन मसलने लगा। इस दोहरे हमले से मैं पूरी चुदासी होने लगी थी।सस्सऽऽ… आह…” मेरे सीत्कार उनमें और जोश भर रहे थे.

अब मैंने उसको पकड़ कर पलंग के किनारे कुतिया की पोजीशन में खड़ा कर दिया. मैंने उससे पूछा- मजा आया?तो बोली- मजा तो बहुत आया लेकिन थोड़ा दर्द भी हो रहा है।मैंने कहा- थोड़ी देर होगा दर्द और फिर ठीक हो जाएगा।हमने आंटी जी के कमरे का दरवाजा खोल दिया और सोफे पर जाकर बैठ गए। उसे बैठने में थोड़ी तकलीफ़ हो रही थी।कुछ टाइम बाद आंटी जी आ गयी और सुलक्षणा फिर चाय बनाने रसोई में चली गयी.

चाची चीख रही थीं- वो मैं झड़ गई … आआआह … ऊऊऊउफ…इतनी ज़ोर की चुदाई में चाची झड़ गईं. फिर जिस दिन सब लोग शादी में चले गये तो मैं चाची के वहां खाना खाने के लिए गया हुआ था. प्रिंस मुझे और मंजू को गौर से देखता हुआ बोला- बिल्कुल … क्यों नहीं.

छत्तीसगढ़ी वाला बीएफ

वो मेरा इशारा समझ गई पर उन्होंने नाक सिकोड़ कर मुँह में न लेने का इशारा किया।मैंने जबरजस्ती नहीं की।जो कामक्रिया स्वेच्छा से हो वही करनी चाहिए।मैं फिर फर्श पर बैठ गया और उन्हें बेतरतीबी से सभी जगह चूमने लगा। हम दोनों का शरीर अब लंड और चूत का मिलन माँग रहे थे।देर न करते हुए मैंने उनके पैर फैलाये और लंडराज को उनकी गुफा के मुहाने पर रख दिया। मध्यम ताकत के धक्के से मेरा लंड आधा उनकी चूत में घुस गया.

फिर मुझे कई लड़कियां फेसबुक पर रिक्वेस्ट और मैसेज सेंड करने लगीं, जिससे मेरी बात उनसे मैसेज में होने लगी. उसने फिर कहा- अगर मेरे मां बाप ना माने, तो मैं खुद तुम्हारी मां की तरह से तुम्हारा कन्यादान करूँगी. खैर … मुझे क्या … मुझे तो बसभाभी की जवानीभोगने की बात ही दिमाग में चल रही थी.

मैंने सारिका की चूत को लंड के निशाने पर लिया और उसके मम्मे पकड़ कर लंड ठोक दिया. दस बीस धक्के के बाद वो भी अब नीचे से गांड उठाते हुए ऊपर को झटके देने लगी. यूपी देहाती सेक्सी वीडियोमन तो कर रहा था कि साली को पूरा जोर लगा कर ठोक डालूं लेकिन अभी ज्यादा तेजी दिखाना ठीक नहीं था.

पर वह कुछ मिनट बाद ही फिर वापस आया। उसके हाथों में तेल की शीशी थी।उसने मुझसे लोअर उतारने को कहा, मैंने बिना कुछ बोले लोअर उतार दिया। मेरी अंडरवियर उसने खुद पीछे से उतारी। उसने मुझे बेड पर झुका दिया औऱ खुद नीचे से मेरी गांड में तेल की शीशी पलटने लगा, तेल मेरी गांड के छेद से रिसता हुआ मेरी टांगों के रास्ते बिस्तर और फ़र्श पर फैल रहा था।उसने अपनी एक उंगली तेल में डुबो कर मेरी गांड के छेद में डाल दी. आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी, कमेंट करके बतायें या फिर मेरी मेल-आई डी पर अपने मैसेज भेज कर प्रोत्साहित करें.

मैंने अपनी सासू माँ से कहा कि आप इतनी दूर क्यों बैठी हो?वो बोलीं- नहीं आपका कोई भरोसा नहीं … मैं आपके पास बैठूं और कहीं आपने नशे में मेरी बेटी के सामने कुछ ग़लत हरकत कर दी तो!मैंने कहा- आप टेंशन मत लो, आपकी बेटी समझदार है. विवान भैया मेरी चूत चाट रहे थे तो मैं और भी ज्यादा कामुक हो रही थी. उधर सागर के घरवालों ने तो यह कह दिया- जो चाहो करो, हम यही समझेंगे कि हमारा कोई बेटा नहीं था, जिसका नाम सागर था.

तूने इससे पहले भी इतने मर्दों के साथ इतने लंड एक साथ लिये हैं क्या? क्या तूने कभी इतना मजा लिया है?मैंने कहा:हां, मैं दो बार इस तरह से मजा ले चुकी हूं. लेकिन कहते हैं न कि एक ही काम बार-बार किया जाये तो फिर बोरियत हो जाती है. फिर शिवानी ने मेरी चूत पर मुँह मार कर उसका जो रस निकल रहा था, उसे पीना शुरू किया.

और फिर से मुझे सेक्स का खुमार चढ़ने लगा, मैंने तुरंत ही उसको बालों से पकड़ कर खींचा और उसके होंठों से होंठों को सटा दिया.

नीचे उसने पिंक कलर की पैंटी पहन रखी थी, जो कि उसकी चूत के रस से बिल्कुल गीली हो गई थी. परवीन- कहां जा रही है? कब आएगी? मुझे बुला कर अब अकेली छोड़कर जा रही है.

बीच में चूत का छेद का स्टॉप पड़ता तो उसमें जीभ थोड़ी लपलपा देता।ऊपर मेरे दोनों फावड़े जैसे हाथ उनके स्तनों का मर्दन कर रहे थे. जैसे जैसे मेरा लंड चाची की अनचुदी चूत में उतर रहा था तो चाची को दर्द होता जा रहा था. मेरे मुँह में परवीन आंटी के चूचे थे, तो चाची ने अपने मम्मों को परवीन आंटी के मुँह में रख दिया.

उसी समय यकायक मेरी निगाह मेरे फोन पर गई जो कि साइलेंट मोड पर था, उसकी लाइट जल बुझ रही थी. परवीन- क्या देख रहा है?मैं- आपका जिस्म … आप बहुत ही सेक्सी हो आंटी. अब मुझे समझ आया कि मैं जिस लंड को पूरा अन्दर जा चुका मान रही थी, दरअसल वो अभी शायद आधा ही गया था.

अंग्रेजों का बीएफ सेक्स तभी मैंने देखा कि वो अपने घर के लिए कुछ सामान ले रही थी और अचानक से उसकी नज़र मुझ पर पड़ गयी. मैं अपने कमोबेश अपने चरमोत्कर्ष पर था, परन्तु दोस्तों से सुना था कि अगर एक बार पुरुष स्खलित हो गया, तो दुबारा तैयार होने में बीस मिनट का वक़्त लग जाता है और मेरे पास इतना इंतज़ार करने का वक़्त नहीं था.

घड़ी के बीएफ

वो बोला- तुमको मज़ा आया?मैंने कहा- हां मजा बहुत आया, पर दर्द भी हुआ. उसका परिणाम ये हुआ कि क्लास में भी मैं अब बार-बार घड़ी की तरफ देखता रहता था. वो मेरे लंड को सहलाते हुए पॉर्न मूवी देख रही थी और मैंने अपनी भतीजी को नंगी करना शुरू कर दिया था.

अब मैंने उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगाया और उसके पैर खोल कर उसके बीच में आ गया. उसने धीरे से बोला- आज पहली बार मैंने वीर्य का स्वाद चखा है और वो भी तेरा!मैं खुश हो गया. लड़कों की सेक्सी लड़कों कीमैंने उसकी पैंटी को निकाल कर नीचे खींच दिया और अपनी मुंह उसकी चूत पर रख दिया.

मैंने थोड़ा सा दबाव डाला, तो मेरा लंड उसकी कुंवारी चूत में सैट हो गया.

इस तरह के कामुक ख्यालों में डूबा हुआ जब मैं अपने खड़े लंड को पैंट के ऊपर से सहलाने लगा तो पता चला कि लंड ने अंदर ही अंदर फ्रेंची का एक बड़ा हिस्सा गीला कर दिया है. अब मैं भी सागर की कुछ ज़्यादा ही जासूसी करने लगी कि कहीं यह शिवानी की चूत पर फिसलता है या नहीं.

मैंने इसका कारण पूछा तो वह बोली- मेरी बरसों की आरजू आज पूरी होने जा रही है. मैंने थोड़ा आगे झुकते हुए उसकी बगल से पानी की टोंटी के नीचे करके हाथ धोना शुरू किया तो वो साइड में हटने के लिए सरकी मगर मेरी दूसरी टांग से टकराने के कारण उसकी गांड मेरे खड़े हुए लंड से आ सटी. वो सुमन से कहने लगा- दीदी, ये सब क्या हो रहा है?सुमन बोली- तुम भी आ जाओ.

मेरी पिछली कहानीमेरी चूत को बड़े लंड का तलबके लिए मुझे बहुत से मेल मिले.

फिर उऩ्होंने अपना लंड मेरी मैक्सी पर मेरी चूत के पास सटा दिया और फिर मेरी गांड के पीछे हाथ ले जाकर उसको पकड़ लिया. सास मजे लें भी क्यों नहीं … कई साल से उनकी चुत में मेरे ससुर का लंड नहीं गया था. तभी मैंने फैसला कर लिया था कि मुझे तुम्हारी निशानी चाहिए और इसीलिए मैंने ये सब किया।फिर हमारी कुछ और दिन बात हुई और फिर हम हमेशा के लिए अलग हो गए।आज मुझे उससे अलग हुए तीन साल हो गए है लेकिन आज भी जब मैं अकेला होता हूँ तो मुझे उसकी याद तड़पा के चली जाती है। ऐसा लगता है वो यहीं कहीं मेरे आसपास ही है और अभी कहीं से आकर मुझे अपने गले से लगाकर बोलेगी- बाबू आई लव यू शोना।पर यह महज़ एक ख्याल है.

कांड सेक्सी वीडियोलड़कियां आज शॉर्ट्स में थीं और रेड नेल पेंट और रेड लिपिस्टिक में गजब ढा रही थीं. बड़े घर कि लड़कियों के साथ घूमना उसका भी शौक था पर चूमा-चाटी के अलावा ज्यादा उसके बारे में कुछ अफवाह नहीं थी.

एक्स एक्स एक्स ब्लैक बीएफ

मेरे मुंह से बस सिसकारियां निकलने ही वाली थीं लेकिन मैंने खुद को रोका हुआ था. उसके गाउन के अंदर से पीछे उसकी कमर पर ब्रा की पट्टी नज़र नहीं आ रही थी. मैंने अपने चेहरे की घबराहट छुपाते हुए उससे कहा- कुछ नहीं!पर शायद वो जान चुकी थी, उसने तुरंत ही कहा- मेरा नंबर ले लो, फिर हम फोन पे बातें करते हैं.

इस पोज़ में उसने मुझे 5 मिनट चोदा और मेरी चूचियों को चूस चूस कर लाल कर दिया. धीरे धीरे हमारी बातें प्यार में बदलने लगीं और फिर थोड़े दिन बाद हम दोनों सेक्स चैट करने लगे थे. मेरी मकान मालिक की बीवी, जिनको मैं भाभी बुलाता था, दूध की तरह गोरे बदन एक नंबर की परी सी हैं.

मैंने उसको जांघों से पकड़ कर बेड पर घुमाया और मुँह उसकी जांघों के बीच में दे दिया. बस वही मित्र मेल करें, जो मेरा हौसला अफजाई करें, मेरे बारे में और मेरी फ्रेंड्स के बारे में जानने की कोशिश करने वाले मेल ना करें. उसके पिताजी की ज़िद के चलते हमारी शादी नहीं हो पायी, इस बात का मुझे आज तक मलाल है.

राहुल अपने कॉलेज में तैराकी में चैंपियन होने के साथ ही स्विमिंग कोच भी था. साथ ही मैं अपने हाथ की कलाई को उनकी गांड के छेद के ऊपर मल रहा था, जिससे वो तड़प उठीं.

मुझे देखते ही ऋतु ने उसकी जांघ से अपना हाथ हटा लिया और मैं भी ऐसे बर्ताव करने लगा जैसे मुझे दिखाई ही न दिया हो.

गाड़ी रोक कर हम उससे उतर कर भाग गये और पुलिस वाले हमारी गाड़ी को थाने में ले गये. लाइव देसी सेक्सी वीडियोये बात उन दिनों की है जब कॉलेज की छुट्टी के दौरान मैं अपने मामा के यहां कुछ दिन रहने के लिए गई हुई थी. बिहार की नई सेक्सीउसका बदन कसरती था और उसका लंड खड़ा होकर पैरों के बीच डौल रहा था। मैं उसे देखती रही और वो मेरे करीब आने लगा. विवान भैया तो मुझे होटल में ले जाने के लिए बोलते थे, बोलते थे कि होटल में आराम से सेक्स करेंगे.

लेकिन मेरी लड़कियों से बात न कर पाने की वजह से ऐसा कुछ नहीं हुआ और मैं हवस की आग में जलता रहा.

अब किसी की चूत पर ताला तो नहीं लगा सकते, इसलिए तुमने इसकी चूत को चोद कर सही किया. मुझसे तो रहा नहीं गया और बड़े ही प्यार से मैं बारी-बारी दोनों ही निप्पलों को चूसने लगा. इतने में ही जीजा ने मेरा टॉप उतार कर मुझे ऊपर से नंगी करना शुरू कर दिया.

मैं- चाची कैसे लगा?चाची- बहुत मस्त लगा जीशान … मुझे इतना मज़ा कभी नहीं मिला. उनको चूत मरवाने का तजुरबा भी बहुत होता है और कोई नखरा भी नहीं करतीं. मैंने आंटी से बोला- अब तो छोड़ दो यार … पहले खाना खा लेते हैं मेरी जान, फिर तो मैं आपका ही हूँ.

देवी का बीएफ

झड़ने के कुछ देर बाद तक मैं उसके ऊपर लेटा रहा और फिर मैंने अपना लंड बाहर निकाला। लंड वीर्य से सन चुका था। मैं एक तरफ लेट गया और उसने लंड मुंह में लेकर साफ किया और हम दोनों थोडी देर ऐसे ही लेटे रहे। फिर हमने कपड़े पहने, एक-दूसरे को किस किया और बाहर आ गये. मेरा इशारा वो समझ गयी थी लेकिन उसने ना में गर्दन हिलाते हुए मेरा लिंग चूसने से मना कर दिया. उन्होंने मेरे हाथ से बीयर की बोतल लेके एक सिप मारके साइड में रखी और कंडोम के पैकेट से एक कंडोम निकाल कर मेरे लंड पे चढ़ाने लगीं.

अगर तेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड होता और आज तुझे देखता तो अपने आप को रोक नहीं पाता। आज तू बहुत अच्छी लग रही है.

मैं सुबह उठ कर बाथरूम में गया, तो पीछे से यशिमा आ गई और मेरे गले लग कर रोने लगी.

मैंने कहा- लेकिन … प्रशांत … वो दीदी …वो बोला- वो तो अपने कमरे में सो रही है. मैं ये तो नहीं जानता था कि काजल की तरफ मेरा ये झुकाव प्यार था या महज आकर्षण के पीछे छिपी हुई वासना! मगर जो भी था, बड़ा ही बेचैन करने वाला अहसास था जो हर दिन प्रबल होता जा रहा था. om सेक्सीउन्होंने मेरे सीने पर जोर से काट लिया और मेरे सीने से लिपट कर मुँह छिपा लिया.

रीना बोली- क्या हुआ?मैंने कहा- तुम्हें दर्द हो रहा है … मुझे अच्छा नहीं लग रहा. तभी मैंने उस से मजाक करते हुए बोल दिया- चारू तुमने अपने पति को तो कुंवारी चूत दी थी, जबकि उसने तुम्हें कुछ खास मज़ा भी नहीं दिया था. चूंकि मेरे इम्तिहान भी खत्म हो चुके थे इसलिए मैं अब उसकी चूत चोदने के लिए मचल रहा था.

लेकिन अगर तुम कहीं जाना चाहो तो तुम आज़ाद हो, मेरी तरफ से तुम कोई भी रोक टोक, बंदिश, पाबंदी कुछ भी नहीं होगी।’मैं उठा और उसे अपनी बांहों में भर कर चूम लिया और कहा- ठीक है जान, जैसा तुम कहो।फिर वो उठ कर गयी और एक छोटी सी सिंदूर की डिबिया ले कर आई और मेरे सामने बढ़ा दी. बॉस अब मुझे हर शनिवार को कहीं ले जाने लगा था और मेरी खूब चुदाई करता था.

जब मैंने अपने अंडरवियर को नीचे खिसका कर देखा तो उसमें मेरे वीर्य के साथ उसमें मेरे लौड़े की चमड़ी के फटने के कारण लण्ड से निकला हुआ खून भी लगा हुआ था.

मैंने शराब पीने से इंकार किया, पर उन्होंने मुझे मना लिया और कुछ ड्रिंक्स पिला दी. मैंने उसे गले लगाते हुए कहा- क्या सच में तुम अभी तक कुंवारी हो?उसने कहा- हां मेरे राजा … आज मैं तुमसे ही अपनी सील तुड़वाऊंगी. ये कहानियां इतनी अधिक कामुक और मनभावन होती हैं कि मेरा भी मन हो गया.

मराठी महाराष्ट्र सेक्सी व्हिडिओ वो बोल रही थीं- आह शिवा … और तेज चोदो मुझे … फाड दो मेरी चूत को … आह … बना दो इसे भोसड़ा …फिर मैंने उन्हें डागी स्टाइल में चोदा. मेरी चड्डी में मेरे गुर्राते हुए शेर को देख कर उसने झट से मेरे अंडरवियर के अन्दर हाथ डाल दिया.

कभी काजल सुमिना के चूचों को चूस लेती तो कभी सुमिना आशा के चूचों को मुंह में भर रही थी. अब चूंकि शबनम ने राहुल के गले में बाहें डाल दी थी तो उसका टॉप काफी उठ चुका था. उसने फिर कहा- अगर मेरे मां बाप ना माने, तो मैं खुद तुम्हारी मां की तरह से तुम्हारा कन्यादान करूँगी.

काजल राघवानी की बीएफ सेक्सी वीडियो

अब जब हम दोनों गाड़ी में अकेले थे तो लंड में जोश भी दोगुना था मगर लंड मुट्ठ मारने के बाद दुख रहा था. राहुल से शबनम ने हंस कर कहा- जीजू, आज तो मुझे भी फ्रेंच किस दे ही दो. मैंने अपने मकान-मालिक को बोल दिया कि मैं आज रात अपने किसी दोस्त के यहां रहूँगा और सुबह ही आऊंगा.

इस तरह से दो तीन महीने तक हम लोग एक दूसरे की चूत का रसपान करते और मज़े करते. मैं और वेरोनिका पहले कभी मिले तो नहीं थे, परन्तु उसके साथ व्हाट्सप्प और फेसबुक पर मेरी बहुत बार बात हो चुकी थी.

मेरी आवाजें आने लगी थीं- आह … आई … उह ओह शीउई!कुछ देर तक मेरी कुंवारी बुर चूसने के बाद उसने मेरी टांगों को उठाकर मुझे बोला कि इनको पकड़ो.

थोड़ी देर बाद उन्होंने खाँसने की आवाज की, तो हम दोनों ठीक होकर बैठ गए. मैंने तीन-चार धक्के जोर से लगाये और आंटी की चूत को भी अपने माल से मालामाल कर दिया. मैं अपने रूम में जाने लगा तो उसने कहा कि आपका कमरा कभी देखा नहीं है.

मुझसे तो वो ड्रामा झेला नहीं गया इसलिए उठ कर अपने कमरे में आ गया और बेड पर लेट कर फोन हाथ में उठा लिया. परवीन आंटी तो चौंक ही गईं- और कितनी कलाएं हैं तेरे पास?मैं धीरे से अपना लंड चाची के चुत में घुसेड़ने लगा. मैं समझ गया था कि लोहा अब एकदम से पूरा गर्म हो ही चुका है और अब अपना वार करने का टाइम भी हो गया है.

तब मुकुल राय का का लंड परीशा की कुँवारी गांड को फाड़ने के लिए तैयार हो जाता है।मुकुल राय- बेटी, पहले तेरी गदराई गांड से तो जी भर के प्यार कर लूँ।वो बस देखने लगता है अपनी बेटी के गान्ड की खूबसूरती … उफफ्फ़ … क्या नज़ारा था.

अंग्रेजों का बीएफ सेक्स: मैंने भाभी के कूल्हों को पकड़ कर लंड अन्दर धीरे धीरे डालना चालू किया. संजना रोज योगा करती है तो उसका फीगर एक बेटा के होने के बाद भी परफेक्ट है अभी तक.

मैं मेरी गर्लफ्रेंड को शिमला घुमाने ले या तो उसकी चचेरी बहन हमारे साथ आई थी. आज सच में मुझे ऐसा लग रहा था, मैं पहली बार किसी मजबूत मर्द के साथ हूँ. वीना आंटी को भी चुदने में अब मज़ा आने लगा था- आ ह आह आह और जोर से वरुण … फाड़ दे मेरी ये चूत तू आज … साली बहुत तड़पाती है मुझे.

मैं दिखने में अच्छा हूँ और मैंने अपना शरीर भी मैंने फिट करके रखा हुआ है.

वैसे तो दीदी के बूब्स का साइज भी 32 ही था लेकिन उनके बूब्स की शेप बहुत गोल थी. मेरे बर्थडे वाले दिन हम लोग पार्टी कर रहे थे तो मेरे दोस्त बीयर ले आये थे. ये लड़की कौन बैठी थी तुम्हारे साथ हॉल में?” मैंने सहजता से पूछा।काजल… मेरे कॉलेज की दोस्त है। हम दोनों एक ही क्लास में हैं।”‘ओके’ इससे ज्यादा न तो मैंने कुछ कहा और न ही सुमिना से कुछ और पूछने के लिए मेरे पास अभी था। वो कहते हैं न कि ‘ठंडा करके खाना चाहिए…’ बस उसी नीति का ख्याल आ गया था।मैं हॉल में जाकर टीवी देखने लगा.