बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए

छवि स्रोत,माधुरी दिक्षित सेक्स व्हिडीओ

तस्वीर का शीर्षक ,

वेश्याव्यवसाय पुणे: बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए, हालांकि मैं दफ्तर में अपनी छवि साफ बनाए रखना चाहती थी पर थ्रीसम का भूत भी सवार था और इन दोनों मर्दों की लालसा देख मेरी चूत भी गीली हो चली थी।बस के करीब आते ही दीपक ने अपना हाथ मेरी कमर से हटा लिया.

मराठी सेक्सी ॲटम

मैंने पूछा- कौन किसके साथ सेक्स करना चाहता है?मोहित ने आयेशा की तरह इशारा किया और पुलकित और अमन ने मेरी तरफ इशारा किया. এক্সএক্সএক্সএক্সএক্সअब वो दिन भी करीब था, जब उसकी चूत में लगी आग को लंड का पानी मिलने वाला था.

संजना को थोड़ा दर्द हुआ पर जल्दी ही उसकी गांड ने दूसरी उंगली के लिए भी जगह बना ली. सेक्सी वीडियो 40 वर्षनेहा की आवाज सुनकर मुझे और बाकी लड़कियों को समझ नहीं आया कि आखिर इसके साथ हुआ क्या है.

अब आगे हॉट गर्ल फ्री चुदाई:दवा खाने के दस मिनट बाद मेरा लंड खड़ा होने लग गया और मेरा दिमाग बिल्कुल काबू में न रहा.बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए: हर बार मैं आगे होने का कोशिश करती और वह हर बार कमर पकड़ कर चोदता जा रहा था.

मुझे इतना मजा आ रहा था कि 3सम ना होने का गम नहीं था।मैं अपनी गांड आगे पीछे हिला हिला के दीपक से उसकी रण्डी की तरह चुद रही थी।दीपक भी मेरी चूत के पूरे मजे ले रहे थे.उसने पहले अपनी जीभ को नुकीला करके मेरे सुपाड़े के मुँह में घुसाना शुरू कर दिया, फिर लंड के सुपारे से लेकर लंड की जड़ तक जीभ से चाटने लगी.

सेक्सी कहानियां नई - बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए

लेकिन पति ने भी साथ में अपना लंड उसी चूत में घुसाना चाहा तो …कहानी के पिछले भागदोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी को चुदवायामें आपने पढ़ा कि पति अपनी बीवी की चूत अपने दोस्त से चुदवा चुका था.मैंने उठ कर कम्बल हटाया और उनकी सलवार का नाड़ा खोल कर उनकी सलवार को नीचे करके उनकी गांड देखने लगा.

यह सोचकर आश्चर्य भी हो रहा था कि यह वही लड़की है जिसने कभी लंड चूसने को साफ इंकार कर दिया था और आज कैसे मज़े लेकर लंड चूस रही है. बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए मैंने अन्दर वाले रूम के पीछे की खिड़की से बाहर निकल कर अम्मी का पीछा करने सोच लिया.

मैंने बाथरूम में रखी शैम्पू की शीशी ली और बहुत सारा शैम्पू हाथ में लेकर संजना की गांड में लगा दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए?

मैं सोने से पहले रोज़ अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ता हूँ, उस पर मुझे बहुत सी कहानी भाई बहन की चुदाई दिखीं. हॉट कजिन सेक्स कहानी मेरी उस चचेरी बहन की है जिसे मैं पहले भी चोद चुका था. ये कह कर बाबा चला गया और अम्मी तब से और ज्यादा टेंशन में रहने लगीं.

मैं अपने कपड़े लेकर जल्दी जल्दी में उठा और आसिफा के कमरे में भाग गया. मैं अभी भी उसी को देखे जा रहा था लक्की ने मुझे अपने आपको निहारते हुए देख लिया था. बहुत से हाथ मुझे मेरी कमर और नाभि पर महसूस हुए।तभी किसी ने मेरी चूचियां भींच दी, मैं अपने दो हाथों से कितने हाथों को रोकती.

कुछ देर में हम दोनों थक गए थे और अब शायद हमारा रस भी मिल जाने को आतुर था. आज फहीमा एक घरेलू औरत की तरह नहीं बल्कि एकदम रंडी की तरह लंड को चूसे जा रही थी. संजना ने आंख बंद करके अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया और सहलाने लगी.

इधर कमरे में हम दोनों अपना लगभग 20 मिनट तक बिना रुके चुदाई करते रहे. हालांकि बाद में जब देसी चाची की चुदाई पुरानी हो गयी तो मैं 7 के बजाए उनको 20 से 25 मिनट आराम से चोदने लगा.

एक हाथ से में उनकी चूचियां दबा रहा था और दूसरा हाथ ले जाकर उनके साड़ी के ऊपर से ही धीरे-धीरे उनकी चूत को मसलने लगा.

अंकल ने दूसरा झटका दिया और अपना पूरा लौड़ा मेरी पिक्की में पेल दिया.

ये दोस्त Xxx राज़ मेरे और सुलेमान के बीच हमेशा हमेशा के लिए बना हुआ है. मेरी मम्मी ने अपनी चुदाई उनके स्कूल स्टाफ के एक सर महेश के साथ की थी. अब आगे यंग गर्ल पिंक एस सेक्स कहानी:सुबह 4 बजे हम दोनों ही सोए और सुबह 11 बजे तक सोते रहे.

जब वो हंसती तो गालों पर पड़ते प्यारे से डिंपल उसकी खूबसूरती को दुगना कर रहे थे. इस बार फिर हम दोनों ने बाथरूम में काफी देर तक खूब जम कर चुदाई की और मैंने चाची के तीनों छेद को अच्छे से पेला. वो कुछ और सैट लेने नीचे झुकी तो चाची मुझे एक जाली वाली ब्रा दिखाती हुई बोलीं- ये कैसी रहेगी?मैंने कहा- मैं क्या कह सकता हूँ.

दोस्तो, जब तक मेरी शादी नहीं हुई थी तब तक उन तीनों ने ही मेरी प्यास बुझाई थी.

वो बोली- मेरी जान मार ही डालोगे क्या, आराम से करो, मैं कहाँ भागी जा रही हूँ?मैं- मेरी रानी अब कंट्रोल नहीं होता, अब तेरी बुर का भोसड़ा बनने दे. कुछ देर बाद मैंने अपनी चूत में लंड को झेल लिया था और मादक आवाजें निकालती हुई अपनी ब्लू-फिल्म बनवाने लगी. वहां नीचे मेरा लंड सख्त होकर दर्द करने लगा था क्योंकि उसे अभी तक अपने रंग दिखाने का मौका नहीं मिला था.

मैंने लंड मुँह से बाहर निकाला और मुस्कुरा कर बोली- हां आपका प्रसाद समझ कर पी लूंगी. फिर मैं नहा कर बाहर आया और हम लोग मंदिर मन्नत पूरी करके कमरे में वापस आने लगे. उतनी देर में उसका भूरा लंड, गुलाबी सुपारा मुझे अन्दर तक गीला कर चुका था.

नीचे से नंगी।आसपास खड़े सभी लड़के मुझ नंगी अप्सरा के साथ नाचने लगे.

अब आगे हॉट गर्ल फ्री चुदाई:दवा खाने के दस मिनट बाद मेरा लंड खड़ा होने लग गया और मेरा दिमाग बिल्कुल काबू में न रहा. मैंने पीछे से संजना की चूत में अपना लंड डाल दिया और कुछ देर रुका रहा.

बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए मैं करीब 10:00 बजे के गुंटूर स्टेशन पहुंच गया, वहां पर साक्षी मेरा इंतजार ही कर रही थी. उसने कहा- क्यों घर में कोई नहीं है क्या जो तुम चाय बनाओगे?मैंने कहा- हां यार, आज मैं घर में अकेला रहने वाला था … तो बोर न होऊं, इसलिए तुझे बुला लिया था.

बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए प्रिया मुस्कुराती हुई बोली- कैसा?मैं- मुझे तुम्हारे साथ आयल सेक्स करना है. आपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लग रही है, प्लीज़ फ्री में चुदाई की कहानी पर अपने विचार अवश्य बताएं.

कुछ देर बाद मैंने उसको उठा कर खड़ी किया और उसको गाड़ी के बोनट पर ले जाकर पलट दिया.

फेसबुक पर फोटो दिखाओ

मैंने भाभी की चूचियों को मसलते हुए नीचे से झटके लगाना शुरू कर दिया. मैं मन ही मन में तो काफी खुश था कि आज चाची के साथ लेटने का अवसर मिलेगा. इस वक्त हम दोनों ही बहुत थक चुके थे, तो भाभी मेरे बगल में लेट गईं और बोलीं- अब पी लो.

‘आह … आह हह हह … तेज कर …’मैंने गति तेज की, उसका शरीर कड़ा होने लगा. फिर संजय ने मुझे अपनी सच्ची कहानी शुरू से बताई, उसकी सहमति से ही मैं उसकी गे सेक्स कहानी लिख रहा हूँ. पहले वो इतनी सेक्सी नहीं दिखती थी, मगर जबसे शहर पढ़ाई करने गयी है, उसके बाद से उसके बूब्स काफी बड़े हो गए हैं और चहरे पर एक अलग ही निखार दिखने लगा हैं.

मैं एक पल को चौंका और बोला- क्या मतलब?‘मैंने और कुछ नहीं पहना, अब मैंने नहीं उतारनी बस … तू चाहे और कुछ करने को बोल दे!’उसने फरमान सुनाते हुए कहा.

पिछली कहानीमेरा छठा पति बड़े लंड वाला निकलामें अब तक आपने पढ़ा था कि मुझे अपना छठा पति चौधरी मामा के रूप में मिल गया था. मैंने नीचे आकर उनकी चूत पर जैसे ही अपनी जीभ को रखा, उन्होंने जोर की सिसकारी ली- आह मर गई राजा … ये सब बाद में भी कर लेना … अभी मेरी प्यास बुझा दो, पहले मुझे चोद दो. ये मेरी फंतासी थी और कमाल की बात ये है कि तेरी बीवी को ये सब करवाने में मजा आ रहा है.

मैंने उनसे पूछा कि क्या आप मुझे जानती हैं?उन्होंने ना में उत्तर दिया. यानि कि जिसने गोटी काटी है, वो सामने वाले को अपनी मर्जी से टास्क देगा, जो उसे पूरा करना होगा. कमरे में घुसते ही हमने एक दूसरे को बांहों में भर लिया और चूमना चाटना शुरू कर दिया.

भाभी के मम्मों से दूध की धार मेरे मुँह में आने लगी और मैं उनके दोनों मम्मों को बारी बारी से चूसकर खाली करने लगा. मुझे चूत से गर्म गर्म पानी निकलने का अहसास हो रहा था लेकिन इतनी हिम्मत नहीं हो रही थी कि उसे साफ कर सकूं.

मगर अब मैंने सोच लिया था कि मुझे अपनी चचेरी बहन पावनी को चोदना ही है. कुछ पांच मिनट बाद मोहन बोले- मेरा निकलने वाला है, तुम वीर्य पी लेना. उसकी पेशाब बहुत ज्यादा गर्म थी और मेरा लंड में लगने से बहुत ही अद्भुत सुख मिल रहा था.

मैंने उसकी तरफ देखा तो उसने कहा- दो लाख है इसमें … उस लड़की की कीमत समझ ले.

मगर उस वक़्त मैंने मेरे गुस्से पर काबू रखा और नार्मल होकर बाहर आ गयी. भाभी बोलीं- ऐसा है, तू पहले नहा ले … क्योंकि तेरे शरीर से स्मैल आ रही है और किचन में से कुछ खा ले. मेरे प्लान सुनकर नेहा ने कहा- यार ऐसे तो उनकी सच में माँ चुद जाएगी.

शुरू शुरू में नेहा को अजीब लगा लेकिन वक्त के साथ नेहा अपनी गांड पीछे को धकेल देती और अपने भाई के खड़े लंड का मजा लेने लगती. रिया ने मुझसे कहा- क्या हुआ … अभी तो मज़ा आना शुरू हुआ था, तूने अभी से क्यों रोक दिया?मैंने कहा- आज रात को हमें लड़कों की गांड मारनी है तो क्यों ना उसकी प्रैक्टिस की जाए.

मैं अपने कपड़े लेकर जल्दी जल्दी में उठा और आसिफा के कमरे में भाग गया. चाची भी कमाल की गर्म हो गई थीं, मेरे चूत चाटने से कुछ ही देर में झड़ गईं. मैंने कहा- साली, लंड से चूत फट रही होती तो औरतें बच्चों को कैसे पैदा करतीं.

मस्टरबेशन

मेरे स्तनों की साइज 34 सी है, ये इतनी उम्र में मेरे ही कमाल से हो गए हैं.

हम दोनों का पूरा मूड बन गया था लेकिन फिर भी मैंने उससे कहा- ये सब ठीक नहीं है मयंक. लेकिन मुझे एक बात अभी तक समझ में नहीं आई है कि पूरी जिंदगी भाभी ने दो मर्दों के बीच में निकाल दिया था. फिर मैंने डिल्डो नेहा के मुँह से निकाला और नेहा को बिस्तर पर धक्का देकर लेटा दिया.

फल सब्जी की दुकान से जो मुनाफा होता है, वह हम सातों में बराबर बंटता है. तभी मेरे एक जान पहचान वाले कांट्रेक्टर आए और उन्होंने गुस्से में मेरी टेबल पर फाइलों का बंडल पटक दिया. ఉప్పెన sexमैंने सोचा नहीं था कि प्रिया मेरे लंड को चूसेगी मगर वो मेरे मोटे लंड को अपने मुँह में लेकर बड़े प्यार से चूस रही थी.

ये सब सुनने के चक्कर में मैंने भाभी की चूत में उंगली करना बंद कर दिया था, तो भाभी बोलीं- क्या हुआ, तुम क्यों रुक गए?मैंने तुरंत उनको नंगी किया और उन्हें घोड़ी बना कर फिर से चोदने लगा. संजना ने नीले रंग की साड़ी पहनी हुई थी, हाथों में मेहंदी भी लगी थी और उसने अपनी कलाईयों में चूड़ियां पहनी हुई थीं.

हम किस में मशगूल थे कि तभी मैंने अपनी उंगलियां उसके निप्पल के गिर्द फिराईं और निप्पल को उनमें फंसा लिया. और आज हमारे रूल के हिसाब से तू आज किसी भी लड़के को मना नहीं कर सकती. मैं अपने घर की तरफ बढ़ ही रहा था कि कुछ दूर जाने के बाद मेरी एक और बुकिंग आ गई.

मैंने बोला- ये क्या कर रही हो … सब देख रहे हैं?वो बोली- मुझे दुनिया से कुछ लेना देना नहीं है. नेहा बहुत ही समर्पण भाव से बोली- हमें अपनी आग शांत करने के लिए एक दूसरे की बहुत जरूरत है. फिर कुछ दिन बाद अम्मी ने बाबा नाजिर को फोन किया और सब बोलीं- बाबा, मुझे ऐसा लगता है कि नींद में कोई साया आता है.

तभी मेरे एक जान पहचान वाले कांट्रेक्टर आए और उन्होंने गुस्से में मेरी टेबल पर फाइलों का बंडल पटक दिया.

उसके बाद तो मैंने चाची को न जाने कितनी बार चोदा और अभी भी चोदता हूँ. उसके बड़े बड़े गोरे चूतड़ों को बहुत गौर से देखते हुए मैं उसे चोद रहा था.

बीच बीच में वो ‘ओह समीर … उफ़्फ़ आह ऊहह … अम्मी मर गई …’ जैसी आवाजें निकालती, जिससे मेरी उत्तेजना और बढ़ जाती. मैंने उससे पूछा कि उसके और उसके बॉयफ्रेंड के बीच कितनी बार संबंध बने थे और उसके और किसी के साथ भी तो संबंध नहीं थे. संजना बोली- मुझे आपसे कुछ कहना है जो बात मैं आपसे फोन में कह नहीं पाई थी.

वो बोला कि मैं तो सिर्फ वीडियो देखता ही हूँ, जबकि मेरे फ्रेंड्स तो वीडियोज में जो होता है, वो सब कर भी चुके हैं. करीब 15 मिनट बाद ही मुझे अन्दर से प्रिया की सिसकारियां सुनाई देने लगीं. विकास ने उसे चूमा और उसकी एक चूची दबाते हुए कहा- मैं भी बहन का लंड बनने को राजी हूँ.

बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए उस एक पल में उनके मुँह की भाप की गर्मी से लगा कि मेरा लावा पिघल जाएगा. मैं जैसे जैसे पोज बदल कर उसे चोद रहा था, वो और ज्यादा मजे लेकर चुद रही थी.

जबरदस्ती चुदाई

नेहा के मुँह में पूरा डिल्डो नहीं जा रहा था मगर जितना हो सकता था, उतना डिल्डो मैंने उसके मुँह में डाल दिया. शायद वो भी अपनी बेटी की चुदाई देख कर बहुत ही ज़्यादा गर्म हो चुकी थीं इसलिए उनकी गीली चूत में सट से लंड घुस गया. मैं बाहर को गया तो देखा कि आसिफा की अम्मी उसी गाउन में ऐसे ही बैठी टीवी देख रही थीं.

खैर इतने में रिया ने कहा- बहनचोद, ये तीनों रंडियां तो हार्डकोर का मज़ा लेंगी और मेरी चूत ऐसी शांत रहेगी. उसने कविता की जांघों को सहलाते हुए मुझसे कहा- यार, तुझे तो एकदम टाइट माल चोदने को मिली है. होली कार्डहुआ ये कि हम दोनों मनाली में अपनी छुट्टी खत्म करके वापस पुणे जाने के लिए तैयार हो गए थे.

मामी आइसक्रीम को बाहर निकालने की कोशिश कर रही थीं, लेकिन मैं उनकी टांगों को फैलाकर उनके ऊपर चढ़ गया.

अंकल ने दूसरा झटका दिया और अपना पूरा लौड़ा मेरी पिक्की में पेल दिया. मैंने बिना कुछ किए हुए भाभी को देखा क्योंकि मुझे लगा कि कही उनकी सास ने कुछ करते हुए देख लिया तो रायता फ़ैल जाएगा.

वो इशारा कर रही थी- बहन है मेरी … रहम करके चोदो प्लीज़ … मुझमें और उसमे बहुत फर्क है. अब नेहा थोड़ा रिलैक्स हुई और अन्दर सांस भरती हुई वो अपने भाई के और करीब आ गई. शादी से पहले भी और शादी के बाद मैं अपनी सेक्स लाइफ से ज्यादा संतुष्ट नहीं थी.

शायद भाई उनको संतुष्ट नहीं कर पाते थे तो मेरे दो बार के प्रयास में मैं भाभी की चुदाई में सफल हो गया.

लेकिन मैं तब तक यही जानता था कि बस घुसेड़ दिया जाना ही चुदाई होती है. इस पर रोमा आंटी ने कहा- दोस्तों कोई आंटी बोलता है क्या?मैंने कहा- अब आपकी बेटी भी तो मेरी दोस्त है. मैंने देखा कि वो लड़का बिस्तर पर प्रिया के ऊपर लेटा हुआ था और प्रिया केवल ब्रा और चड्डी में ही थी.

நியூ ஆண்ட்டி செஸ் வீடியோये कहते हुए पिंकी भाभी ने भाभी को कसके पकड़ा और जोर के झटके देने लगीं. मैंने उसे मीडियम पर ही कर दिया और भाभी को डॉगी स्टाइल में खूब चोदा.

वाटर डिस्पेंसर

इधर रूबी भाभी बार बार फोन करके पूछ रही थीं कि रूम की व्यवस्था हुई कि नहीं. मैं पूरी टूट चुकी थी क्योंकि आज से पहले मैंने कभी इतना दर्द नहीं सहा था. भाभी ने हाथ नीचे करके वाइब्रेटर को बंद कर दिया और मुझसे ऐसे ही बात करने लगीं- आज पहली बार दोनों छेदों में मैं एक साथ लेकर झड़ी हूं, बहुत मजा आया.

मंदिर में पंडित जी ने हम दोनों को शादी के बंधन में बांधा और आशीर्वाद दिया. अम्मी भी मादक आवाजों में सीत्कार भर रही थीं- आआह … बाबा जी … और तेज चोदो … आआह और जोर से पेलो!बाबा भी भोसड़ी का इस वक्त किसी पहलवान की तरह मेरी अम्मी की चूत में लंड टिका कर दंड पेलता हुआ उन्हें जम कर चोद रहा था. मैंने बोला- कहां छोड़ना है?जया बोली- ये मेरी पहली चुदाई है, मैं पहला रस अपनी बुर में ही लूंगी.

बड़ी हसीन लाइफ थी दोस्तो, याद करता हूं तो रो पड़ता हूँ की क्या कभी दुबारा ऐसा होगा, वो मेरे पास वापिस आएगी भी या नहीं. अब हम तीनों एक साथ बाथरूम में गए, वहां से फ्रेश होकर वापस बिस्तर पर आ गए. तो मैंने उसके चूतड़ पकड़े और फैला दिए जिससे उसकी गांड का छेद दिखाई देने लगा.

मैं कमरे में आया और अपनी जेब का कंडोम एक पैक टॉयलेट में और दूसरा कमरे में बनी अल्मारी में रख दिया. फिर हम दोनों ही एक दूसरे से बुरी तरह लिपट गए और एक दूसरे को अपने बदन से रगड़ने लगे.

हम लोग तो ऊपर वाले से दुआ करती हैं कि कभी ऐसा मौका मिले, जब रात में कोई मेरा बॉयफ्रेंड मुझे पूरा मसल कर चोद दे.

कुछ देर में वो लड़का दीवार कूद कर अन्दर आ गया और दोनों कमरे में चले गए और दरवाजा लॉक कर लिया. சகிலா செக்ஸி சகிலா செக்ஸிमैं रानी मुख़र्जी की भारी आवाज़ वीडियो देखकर नक़ल करती और अपनी आवाज़ रिकॉर्डिंग करके सुनती. আনুশকা সেক্সअमित ने डेयर चुना तो मोहित ने कहा- फेहमिना को नंगी करो, हम भी तो देखे तूने कैसे माल को चोदा है. जब तक मदन जी वापस नहीं आते हैं, तब तक हफ्ते में रोज एक जन मेरे साथ सोएगा.

वह बोली- हाय मेरे चाचू देवर … तू साला अपनी बेटी के बराबर लड़की की बुर में लण्ड पेलना चाहता है। तेरे जैसा मादरचोद और कमीना कोई और आदमी नहीं होगा.

भाभी- अरे अब खड़े क्यों हो, मन नहीं है क्या?पिंकी भाभी- अरे यार आज बहुत दिन बाद लंड लेने का मौका मिला है, मना मत करना. स्कार्पियो पहचानने में गलती तो हो ही नहीं सकती थी क्योंकि विधायक का लाल बोर्ड स्कार्पियो के आगे लगा हुआ था, जो दूर से ही दिख रहा था. उसके बाद मैंने उससे फिर से कहा- एक बार फिर से सोच ले, तू रोने न लग जाना.

उसके चहरे को देख कर लगता था कि ये शहर जाकर बहुत बड़ी चुदक्कड़ लौंडिया बन गई है. मैंने झट से उन्हें कंडोम का पैकेट दे दिया और मन में सोचा कि आंटी की आज तो लगने वाली है. हम दोनों एक दूसरे से लिपट कर लेट गए और दोनों की सांसे तेजी से चलने लगीं.

मुसलमान लड़की की फोटो

फिर हम साथ में बैठ कर वैसे ही एक दूसरे की लाइफ के बारे में बातें करने लगे. उसके बाद हम दोनों बारी बारी से नहाए और दोपहर का खाना खाने के बाद सो गए. आयेशा ने मेरे बाल पकड़ लिए और मुझे सच में किसी रंडी की तरह ही चोद रही थी.

एक बार का आवेश सोच कर मैंने आप सबके कहने पर उसे अहसास करवाया कि मेरी मर्जी शामिल थी.

फिर वो बारी बारी से मेरे दोनों नर्म चूचों को मुँह में लेकर चूसने लगा, खींचने लगा.

ऐसा सुनकर वो तुरंत बाथरूम में जाकर बुर्का उतार कर उस ट्रांस्परेंट सैट को पहन कर बाहर आ गई. वो अपनी बहन की चूची दबाते हुए बोला- नेहा तुम्हारा ये शारीरिक बदलाव मुझे बहुत पसंद आया. मां को जबरदस्ती चोदामोहन ने एलोवेरा जैल लंड पर लगाई और मेरी गांड की घमासान चुदाई करने लगे.

उधर वह भी पूरी रांड बन गई थी और मुझे गालियां दे रही थी- आह मादरचोद साहब … चूसो मेरी गांड भोसड़ी के बहुत मजा आ रहा है … आह ऐसा मजा मुझे कभी किसी ने नहीं दिया. बस फिर क्या था … वो एकदम जोर से कराहती हुई बिन पानी मछली की तरह तड़पने लगी. मैं भी औरों की तरह सामान्य लड़का था, चाची को सम्मान की नज़र से देखता था.

यह बात रोमा आंटी को नहीं मालूम थी, पर हां उन्हें कुछ अंदेशा था कि हम दोनों के बीच बहुत कुछ गहरा है. उन्हें शायद मेरे साथ चुदाई में परहेज नहीं था लेकिन वो अपनी इज्जत को लेकर डर रही थीं.

जब तक मम्मी पापा आ नहीं गए, तब तक मैंने दोनों को एक साथ ही लेता कर चोदना आरम्भ कर दिया था.

मेरी अम्मी और बहन उन दोनों की क्या मस्त मालिश कर रही थीं, ऐसा लग रहा था कि जैसे दोनों पक्की रंडी हों. दो चुदाई के बाद मैंने उसकी गांड को भी चोदा और मंजू की गांड चोद कर ढीली कर दी. सच में वो इस वक्त हद से ज्यादा कामुक लग रही थी और मुझे उसे चोदने का दिल करने लगा था.

मां बेटे की हिंदी सेक्सी स्टोरी अब मिशनरी पोजीशन में एक बार फिर मैंने उसकी बुर में अपनी गन डाल दी और और दनादन फायरिंग शुरू कर दी. फिर ख्याल आया कि इसके ज़रिए ममता भाभी तक आराम से पहुंच सकता हूँ, तो ये सोच कर मैंने हा कर दी.

अंकल ने मेरी दोनों टांगें फैलाईं और मेरी फुद्दी के होंठ खोल कर चाटने लगे. इतने में नितिन कविता के पीछे आ गया और उससे लिपट गया कुछ देर बाद उसने अपना लंड कविता की गांड में लगाया और एक झटके में अन्दर तक पेल दिया. मैं मकान के गेट पर पहुंचा और गेट की स्थिति से पता लग रहा था कि गेट अन्दर से लॉक नहीं था.

ड्रीम गर्ल मूवी

कुछ ही देर में उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया, जिसे मैंने पूरा पी लिया और उसकी चूत को चाट चाट कर पूरा साफ कर दिया. हमारे बीच की चुप्पी तोड़ते हुए उसने कहा- आगे खेलें अब!मैंने हामी भरी और फ़ोन आगे रखा. तभी धीरज ने दीपक को ऊंचे स्वर में कहा- उस तरफ तो काफी अच्छी मनमोहक दृश्य आ रहे हैं, क्या तुम मेरे साथ अपनी सीट बदलोगे?दीपक की लॉटरी लग गई।धीरज ने मुझे जगाया कि उन्हें उस तरफ जाना है, थोड़ी जगह दूं.

वो मेरे सामने थी और मैं पीछे थोड़ा हटकर बैठा था ताकि आगे का खेल सकूं,उस तरफ से पहली बार मैंने उनके स्तनों का फुलाव देखा, जिसे आज तक मैं नहीं देख पाया था. अगर बनाने वाला भाभी जैसी मस्त चूची और पिंकी भाभी जैसी चूत दे तो वो दुनिया की सबसे मस्त सेक्सी औरत होगी.

इतने में मैंने देखा कि पुलकित ने रिया की चूत में लंड डालकर चुदाई करनी शुरू कर दी थी.

उसकी कुंवारी बुर में लंड कैसे घुसा?हैलो फ्रेंड्स, मैं रॉकी आपको लूडो के खेल से चुदाई के खेल वाली मादक सेक्स कहानी सुना रहा था. उसने मेरे कपड़े नीचे करके लंड को आजाद कर दिया और जल्दी ही अपनी जींस नीचे करके चूत खोल कर लंड पर रख दी. दोनों बातों के सम्मिलित प्रभाव से पहले तो उनके प्रति सम्मान लुप्त हुआ और अपमानित किए जाने की वजह से उनके प्रति बदले की भावना जागृत हुई.

रंजीता ने मेरे वहां आने जाने पर अपनी पैंटी पहनना छोड़ दी थी क्योंकि मेरी नानी का घर और उसका घर सट के ही था. दोनों तरफ से वासना की आंधी चलने लगी, तो न जाने कब हम दोनों के कपड़े उतरते चले गए और हम दोनों पूरे नंगे हो गए. मुझे न जाने क्यों ऐसा लगने लगा था कि जैसे वो अपनी चूचियों को खुद दिखाना चाह रही हो.

मैं अपने घर की तरफ बढ़ ही रहा था कि कुछ दूर जाने के बाद मेरी एक और बुकिंग आ गई.

बीएफ सेक्सी वीडियो हिंदी में दिखाइए: मैं आज की चुदाई से बहुत बुरी तरह से थक चुकी थी और मुझसे चलते भी नहीं बन रहा था. मैं अपने आपको लड़की महसूस कर रहा था, मुझे लग रहा था कि मैं सजनी ही हूँ.

बीवी साथ में ना हो, तो बिस्तर में या बाथरूम मुझे खुद को गिरा कर ठंडा करना पड़ता है. अब मुझसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था क्योंकि मुझे चुदाई किए जमाना हो गया था और मेरा दिल कविता को देख देखकर पागल हो रहा था. मैंने उनसे पूछा- चाची, पिछवाड़ा किसने खोला था?वो हंस दीं और बोलीं- सब कुछ एक दिन में ही जान लेगा क्या?मैंने कहा- ओके मत बताओ मगर अब आपके छेदों पर मेरा ही राज चलेगा.

इसके बाद मेरे अपने लंड को उसकी चूत पर सैट करके एक जोर का झटका मारा और मेरे लंड का सुपारा उसकी चूत को चीरता हुआ अन्दर चला गया.

फिर बोली- मेरा गिफ्ट?मैंने उसको गिफ्ट में जो चॉकलेट ले गया था, वो दे दी. फिर मैंने उससे कहा- शादी के बाद तुम मेरे साथ रहने के लिए एक अलग फ्लैट में रहना. मुझे एक के बाद एक झड़ने का अनुभव होने लगा।धीरज और दीपक की पेला पेली में मैं तीन बार झड़ चुकी थी.