बीएफ की चुदाई वाली

छवि स्रोत,हिंदी सेक्सी वीडियो कुंवारी लड़कियों का

तस्वीर का शीर्षक ,

সেক্সি গানে: बीएफ की चुदाई वाली, मैंने उसे अपना लंड हिला कर इशारा किया तो झट से उसने मेरा लंड मुँह में भर लिया और 5 मिनट तक लंड चूसा.

सेक्सी वीडियो मेरठ

हमने एक एक पैग और सिगरेट पी और फिर उसने मुझे मेज़ पर लिटा दिया बोली- आज पूरा बदला ले कर रहूँगी. सेक्सी वीडियो चूत वीडियो सेक्सीमैंने भी अब सोचा कि शायद वो मेरा वहम था, इसलिए कुछ देर बाहर की बातें सुनने के बाद मैं वापस अपने बिस्तर पर आकर लेट गया.

आने दो कल तुम्हारे भैया को, अब वो ही खबर लेंगे तुम्हारी?” सुलेखा भाभी ने अपने आपको छुड़ाने की कोशिश करते हुए कहा. करीना करीना सेक्सी वीडियोलेकिन अब हम दोनों लोग के बीच गर्लफ्रेंड ब्वॉयफ्रेंड की तरह बातें होने लगीं.

ऊपर की तरफ देखिए तो बड़े ही आकर्षक बूब्स … जिन्हें देखकर तो उन्हें खा जाने का मन करता.बीएफ की चुदाई वाली: वो समझ गया कि उसकी बहन की चूत की खुजली मिटाने वाला लंड उसे मिल गया.

तो क्या तुम मेरे साथ भी वो सब करोगे?उनकी जरूरत समझ कर मैंने कहा- आप अपना नम्बर दे दो, मैं आपको बाद में बताता हूं.नेहा ने उस दिन दूध वाले को छेद से देखता हुआ जान लिया था, तो वो अपनी सफाचट चूत और बड़े बड़े मम्मों को मसलते हुए दूधवाले की नजरों की हवस जगाने लगी.

पुलिस में सेक्सी वीडियो - बीएफ की चुदाई वाली

फिर मैंने देर न करते हुए उसके दोनों स्तनों को पकड़ कर आख़िरी धक्के मारे जोर लगा कर और ढेर सारा वीर्य उसकी चूत में गिरा दिया।और सच में नहीं बता सकता, क्या मजा आ रहा था मुझे, आज मैंने अपनी एक पुरानी इच्छा पूरी की थी मैं अत्यधिक प्रसन्न था.मैं रेवती की आँखों में देख रहा था कि उसकी मां की आवाज ने मेरा ध्यान भंग किया- आज तो छुट्टी है सरस, यहीं आराम कर लो.

सुशीला और मानसी हैरान हो रही थी हमारी बात सुन के!दीपक- साली, खड़ी क्यों है? आ खड़ा कर मेरे लंड को चूस के … तेरी माँ को फिर से चोदना है. बीएफ की चुदाई वाली मैंने भाभी को अपनी तरफ खींच कर बारी बारी से उनकी दोनों आंखों को चूम लिया.

यह सुनने के बाद मैं मजबूर होकर सोने की कोशिश करने लगा लेकिन नींद नहीं आ रही थी.

बीएफ की चुदाई वाली?

मयूरी- बात तो एकदम पते की है माँ… क्या सोच है आपकी…और दोनों नंगी माँ-बेटी जोर से खिलखिला कर हंसने लगी. थोड़ा सब्र तो कर।” पूरा अंदर डालने के बाद रोहित उसकी पीठ से एकदम चिपक गया था।थोड़ी देर तक दोनों वैसे ही खड़े रहे, फिर आरजू एक हाथ पीछे कर के उसके नितम्ब को थपकते हुए बोली- सारा नशा तोड़ दिया तेरे लंड ने. इसमें मैंने अपनी दीदी की सहेली को कैसे चोदा, इसके बारे में लिखा है.

मैंने आराम से सारे कपड़े उतार दिए और बस अपनी चड्डी ही अपने शरीर पर रहने दी. मैंने अपनी वासना को शांत करने के बाद उससे बात की, तो बोली- मुझे इतना दर्द हो रहा था और तुम और अन्दर किये जा रहे थे. उस दिन मैं दोपहर में घर पर ही कोई काम कर रहा था, तभी मुझे किसी अज्ञात नंबर से व्हाट्सप्प पर मेसेज आया- हेल्लो!मैंने भी हेलो लिख कर रिप्लाई कर दिया.

कविता की नजर मुझ पर 2 सेकेंड बाद जब पड़ी, तो वो जल्दी से लड़के को हटा कर शर्ट को नीचे करने लगी. मैंने थोड़ी सांस ली और सिर उठा कर माइक को देखा उसने तुरंत अपना लिंग बाहर खींच लिया और पास में पड़े चिकनाई वाली डिब्बी उठा ली. और उसकी इस हरकत ने मेरी उत्तेजना को सातवें आसमान पर पहुँचा दिया और मेरे होंठों से भी सिसकारी फूट पड़ी.

‌ शायद वो‌ कुछ सोचने‌ लगी थीं … मगर अगले ही पल वो मुझे अजीब ही नजरों से घूर घूर कर देखने लगीं. इसलिए कि जब जब स्टीव अपनी टांगें जरा सी खोलता, तो उसका सुन्दर गोरा लंड बीवी को नजर आ जाता.

मगर उस दिन खाली खाली घर को देखकर मेरा वहां से भाग जाने को दिल कर रहा था.

मैंने तब पूजा की कमर को अपने दोनों हाथों से कस कर पकड़ ली और उसकी गांड में दनादन अपना लंड पेलने लगा.

थोड़ी देर बाद हम तैयार हो कर खाना खाने के लिए ऐसे निकले, जैसे कोई कपल हों. मैं- चाची मेरा एक काम कर दोगी?चाची- कैसा काम?मैं- मुझे बड़ी चाची को भी चोदना है … किसी तरह आप चुदवा दो न. बाकी मेरे रहने और खाने की चिंता उन्हें सता रही थी, तो मेरे दोस्तों के ये कहने पर ही कि उनके रिश्तेदार उसी जगह रहते हैं, किसी तरह की कोई समस्या नहीं रहेगी, घर वालों ने मुझे जाने की इजाजत दे दी.

मुनीर की जीभ के पानी से मेरी योनि गीली हो गयी थी, पर अब मेरी योनि में भी नमी सी आने लगी थी. शीतल को अपनी गांड और चूत दोनों में एक साथ दर्द हुआ, वो चीख पड़ी- आह… मर गई… तुम्हारा लंड तो बहुत मोटा है कुत्तो… उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे बहुत दर्द हो रहा है. पूछने पर उसने बताया कि कंपनी ने उसे दूसरी फैक्ट्री में ट्रांसफर कर दिया जो दूसरे रास्ते पे थी और वहां मॉर्निंग में टाइम पे पहुँचना काफी मुश्किल लग रहा था उसे.

और उसकी इस हरकत ने मेरी उत्तेजना को सातवें आसमान पर पहुँचा दिया और मेरे होंठों से भी सिसकारी फूट पड़ी.

तो दोस्तो, आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी, मुझे जरूर बताना ईमेल करके … और कुछ गलती हो गयी हो तो वो भी बताना ताकि आगे कभी कोई स्टोरी होगी तो ध्यान रख सकूँ!धन्यवाद. मैं कभी जीभ से निप्पल छेड़ता तो कभी मम्मे को मुँह में लेके चूसता, तो कभी हल्के से काट लेता. फ्लाइट में उन्होंने मुझसे कहा कि बंगलोर में जो हुआ … उसको बंगलोर में ही छोड़ देना.

तभी नीचे जगत अंकल मेरी चूत में बहुत जोर जोर से धक्का लगाने लगे और बोले- वोहहह वन्द्या गजब की चूत है तेरी बेहद टाइट और गर्म. कुछ देर बाद मुझे अहसास हुआ कि मेरा होने में अभी काफी समय है तो मैंने उसे उठाया और उसके मुंह में अपना लंड डाल दिया जिसे वह पागलों की तरह चूसने लगी. उसने भी उत्तेजना के आधिक्य में नताशा के सिर को थाम लिया और सटाक-सटाक गहरे धक्के लगाता हुआ अपने लंड को मेरी बेचारी धर्मपत्नि के मुंह का जबरदस्त चोदन करने लगा.

मनीष ने दोनों हाथों से भाभी की गांड फैला रखी थी, जिससे उनकी चूत पूरी फ़ैल गई थी और भाभी को पूरा मजा आ रहा था.

मैंने अब धीरे से प्रिया के कमरे के दरवाजे को खोलना चाहा मगर दरवाजा अन्दर से बन्द था. मीतू- तू उस दिन भी मेरे बूब्स देख रहा था ना?मैं- हां अब हैं ही इतने बड़े, तो नजर तो जाएगी ही न!मीतू- कल नहीं देख पाएगा, क्योंकि मैं नया टॉप लायी हूँ.

बीएफ की चुदाई वाली मुझे तो बस यही था कि जिससे मेरी शादी हो वो इतना तगड़ा हो, जो मेरी फुद्दी की आग को रोज़ रात को ठंडी कर सके. मैं गांड की तरफ से उनके सीने से चिपक गयी, अब उसका लंड मेरी गांड को स्पर्श कर रहा था और मैंने उनके हाथ पकड़कर अपने बूब्स पर रख दिए.

बीएफ की चुदाई वाली कुछ ही देर में मैं झड़ने लगी औऱ मेरे फूटे लावे से उसका लंड भी छूटने लगा. मैं बहुत असमंजस में थी और स्वयं निर्णय नहीं कर पा रही थी कि जो मेरे साथ हो रहा, उसे रोकूं या होने दूँ.

मनीष ने दोनों हाथों से भाभी की गांड फैला रखी थी, जिससे उनकी चूत पूरी फ़ैल गई थी और भाभी को पूरा मजा आ रहा था.

हिंदी सेक्सी वीडियो छोटी लड़की की

फिर थोड़ा लंड बाहर खींच मैंने दोबारा धक्का लगाया तो मेरा पूरा लंड नीरू की चूत में समा चुका था. इतना कहते हुए सतीश बाहर निकल गया और तभी दूसरा जो जवान लड़का था हिमांशु, वो अन्दर आया. फिर मैंने रेखा के कुर्ते में हाथ डाल दिया और उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाना शुरू कर दिया.

थोड़ी देर और चूसने के बाद उसने माइक से कहा कि तुम्हारा हथियार तैयार हो गया है. मेरी बुर में वीर्य पूरी तरह से भर गया था और ऐसा लग रहा था कि अब मेरी की बुर में अंकल के वीर्य के अलावा कुछ भी नहीं है. मम्मी की पुरानी आदतों के कारण से सब मेरे घर को वेश्यालय ही समझते हैं.

बस मीना और मोनिका ने बाय बोलते हुए जाने का कहा और दम साध कर एक तरफ को खड़ी हो गईं.

दस सेकेन्ड बाद मैंने दूसरा धक्का लगा दिया जिससे वो बिलबिला पड़ी, उसकी आँखों में आंसू आ गए और वो रोने लगी. वो उम्म्ह… अहह… हय… याह… करने लगी, कुछ देर बाद मैंने उसे उठाया और उसका गाऊन निकाल दिया. मैं सोचने लगी तारा और मुनीर शायद शुरू से ही पूरी तैयारी के साथ आये थे कि मुझे इस विशालकाय सांड के साथ संभोग करवाना है.

मेरी कार में अंधेरा था और मेरी सासू मोहिनी मेरे बाजू वाली सीट पर बिंदास बैठी थीं. थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि मेरी दीदी की सास किरण जी ने अपना एक हाथ और एक पैर मम्मी के ऊपर रख लिया और थोड़ी देर बाद वो धीरे धीरे मम्मी के ब्लाउज के बटन खोलने लगीं. नीरू भी अपनी चुदाई का पूरा मजा ले रही थी, उसे देख कर ऐसा नहीं लग रहा था कि वह पहली बार चुदाई करा रही है.

फिर धीरे धीरे उसे सहलाने शुरू हुआ, तो मेरी पत्नी ने बिस्तर की चादर को कचोटना शुरू कर दिया. मैं- आपका लंड इतना कड़ा क्यूँ है?अंकल- तुम्हारी चुची पीने से और होंठों को चूसने से, लंड कड़ा हो गया है.

मैं अपना मुँह उसके कान के पास लेके गया, उससे बोला- नीता, तुम्हारी चूत बहुत सुन्दर है, एक भी बाल नहीं है. इधर मेरा लन्ड मीता की चूत के छल्लों में फंसकर और कठोर हो गया था और बस पेंटी फाड़कर अंदर समा जाने को आतुर हो रहा था. वो बोले- यार तू दिखती है बहुत छोटी उम्र की … पर बहुत ही खूबसूरत है.

मेरा भाई मेरे निप्पल को उमेठ रहा था, मैंने पूछा- ऐसा क्यों कर रहा है?तो वह बोला- दीदी, मुझे आपका दूध पीना है।मैंने कहा- मुझे अभी दूध नहीं आता!तो वह बोला- क्यों? आपको दूध क्यों नहीं आता दीदी?तब मैंने उसको दूध आने की पूरी प्रक्रिया बताई।मेरी बात सुनने के बाद वह बोला- मुझे तो आपके दूध पीने हैं तो पीने हैं.

प्रशान्त का घर मेरे घर के पास ही में है। जिन दीदी(दुल्हन) की शादी में मैं आयी थी, उनकी मम्मी का प्रशान्त के घर आना जाना है, प्रशान्त भी कभी-कभी दीदी के घर आ जाता था. बायोलॉजी पढ़ने का सब्जेक्ट नहीं है क्या?फिर मैंने और थोड़ा कड़क होते हुए कहा- चलो चलो. कुछ कुछ बोले जा रही थी, उसे होश नहीं था। कभी कहती- आशु आई लव यू … ऐसे ही करते रहो। लव मी मोर!कभी कहती- मैं पागल हो जाऊंगी। मैं उड़ रही हूँ.

मैं दिखने में भी बहुत सेक्सी हूँ और बहुत मजबूत इरादे वाली लड़की हूँ. सुशीला चुप हो गई और मानसी का ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा … इसी बहाने अब मैं अपने हाथ को चूत के ऊपर से सहलाने लगा था.

मैंने चरम पर आते हुए मयूरी भाभी से पूछा- बोल साली, कहां लेगी मेरा माल?तभी एकता भाभी ने कहा- इसकी चुत और दूध पर डाल दे, हम तेरा माल साफ़ कर देंगी. मैंने पैसे लेने से मना कर दिया और कहा कि आप खुश हो, वही मेरे लिए बड़ी बात है. प्रिय पाठको, मुझे आशा है कि आपको इस हसीन और प्यासी भाभी की रंगीन जवान चूत चुदाई कहानी मजा दे रही है.

uu सेक्सी वीडियो

भाभी को मेरा लंड बहुत पसंद आया, क्योंकि लंड एकदम कड़क था और अपनी 6 इंच की लम्बाई लेकर पूरा तन्ना रहा था.

उसकी फुद्दी एकदम गोरी चिट्टी थी, मैंने उसकी फुद्दी के छेद पर लंड लगाया और धक्का दे मारा. जो दर्द होना था वो हो गया।मैं उसके स्तनों का मर्दन करने लगा तो उसने थोड़ी राहत की सांस ली। मुझे लगा कि उसका दर्द कम हो गया है तो मैं धीरे-धीरे उसे चोदने लगा। फिर उसे भी मजा आने लगा, अब वो भी कूल्हे उठा-उठा कर मेरा साथ देने लगी।वो बोलने लगी- आह्ह … अब मजा आ रहा है. हम खाना खाके सो गये।आधी रात को मेरी नीन्द खुली, मानसी पास में सो रही थी, उसके साइड में सुशीला!सुशीला नींद में थी, उसकी चूचियाँ सांस के साथ ऊपर नीचे हो रही थी.

मैं- अगर आप किसी कुशल आदमी के साथ ट्राई करेंगी तो पहली बार जितना दर्द सेक्स करते समय होता हैं उससे बहुत कम दर्द एनल सेक्स करते टाइम होता हैं. जब बात करते करते काफी देर हो गयी तो उसने मेरे से पूछा- आपको नींद नहीं आ रही क्या?मैं बोला- मुझे अकेले नींद नहीं आती!तो वो मेरे पास आते हुए बोली- कोई बात नहीं, हम आपके पास आ जाते हैं. गर्लफ्रेंड ब्वॉयफ्रेंड सेक्सीअब मैंने उसे सीधा लिटाकर उसके नीचे तकिया लगा दिया और अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

चाची का लड़का यानि मेरे भैया सर्विस में हैं, वो बीवी बच्चों के साथ बाहर शहर में रहते हैं. आज मैं आपके सामने अपनी सासू माँ की और अपनी आप बीती डर्टी कहानी पेश करने जा रहा हूँ.

सच में तेरी गांड से मस्त गांड दुनिया की किसी मॉडल की भी नहीं होगी, न किसी हीरोइन की होगी. पूछने पर उसने बताया कि वो वहीं फैक्ट्री में जॉब करती थी जो मेरी फैक्ट्री के बिल्कुल पीछे थी. कुछ ही देर में मुझे भी मजा आने लगा और अब जीजू और मैं हम दोनों जीजा साली पूरी मस्ती से सम्भोग का मजा ले रहे थे.

वो बोला- और क्या चाहिए…चुदाई वाली…मूवी?मैंने पूछा- तू देखता है क्या?वो बोला- और क्या…मेरे पास तो कई सारी हैं. जैसे उंगलियां चूत में घुसीं, मुझे बहुत ही अजीब लगा और मैं उछल पड़ी. मेरी पत्नी अब झड़ रही थी, बोल रही थी- मैं तो गई … मैं तो गई … मेरा हो चुका!नीरू का भी होने वाला था, वो बोली- जीजू, मेरा शरीर अकड़ रहा है, और जोर से चोदो मुझे … मैं जा रही हूं!मैंने अपनी पत्नी से पूछा- मुझे अपना माल कहां निकालना है? मेरा भी होने वाला है!मेरी पत्नी ने कहा- आप अपना सारा माल अपनी साली की चूत के अंदर ही उड़ेल दो, कोई दिक्कत नहीं! मैं इसको गोली खिलवा दूंगी, बच्चा नहीं रहेगा.

फिर उनका लंड चूत में ही सिकुड़ गया और बहुत छोटा हो गया, तब जगत अंकल ने मुझे छोड़ा और उठ गए.

जिसमें से माइक का गाढ़ा वीर्य रिस रिस कर उसकी जांघों तक बहने लगा था. आपने मेरी पिछली कहानियाँगांव की रिश्ते की साली को चोदागांव वाली साली की सहेली को चोदाके दो दो भागों को पढ़ा, मुझे काफी मेल मिले.

उसके चूतड़ों की ये थिरकन देख कर लौंडों के लंड हिनहिना कर खड़े हो जाते थे. उन्होंने मेरी टांगें खोलीं और बीच आकर अपनी जुबान को मेरी चूत की फांकों पर लगा कर छेड़ा, तो मैं वासना की आग में जलने लगी. उसने भी विज्ञान विषय ले रखा था और वो भी मेरी तरह डॉक्टर बनना चाहती थी.

लेकिन मेरा फायदा क्या होगा?आंटी मेरी बात समझ गईं, प्यार सर मोड़ कर मेरी आंखों में देख कर कहा कि तुमको एक हजार रूपये दूंगी. मुनीर ने तारा की पीठ को सहलाना शुरू किया और तौलिये से दोनों के पसीने पौंछने लगी. मैंने उसकी बगल में हाथ ले जा कर उसका दायां वाला स्तन सहलाते हुए पूछा.

बीएफ की चुदाई वाली फिर एक गहरी साँस लेकर अंकल मेरे ऊपर से हटे और उन्होंने एक झटके से अपने लंड को मेरी बुर से बाहर खींच लिया. बोल मंजूर है?ठाकुर की बातों से उसका कान्फीडेन्स देखकर मम्मी का विश्वास टूट गया और बोलीं- आज के जमाने के बच्चे कुछ भी कर सकते हैं, पर अभी वो छोटी है उसे जाने दो.

ट्रिपल एक्स सेक्सी टीचर

मैंने अपने मम्मी पापा से बात करके वाराणसी से दिल्ली के लिए ट्रेन पकड़ी और अगली सुबह दिल्ली पहुंच गया. इस एपिसोड के बाद तो मनीष भाभी को कई बार चोदा और उनकी मदद से पिछले चार सालों में उसने भाभी की सहेली और मेरी बीवी को भी चोदा. जैसे ही मैं हाथ धोकर वहां से जाने लगा, तो मेरी जांघ से भाभी की गांड रगड़ खा गयी.

अब रेवती की चूत से बाहर आने वाले वीर्य में हम दोनों का वीर्य शामिल था. मगर मैं कभी ऑफिस में किसी से अपने रिश्ते की बात नहीं करती क्योंकि कोई भी अपनी प्राब्लम सॉल्व करने के लिए कह सकता है. मयूर सेक्सीबस में सबके टिकट बन जाने के बाद जब ड्राइवर ने लाइट बन्द कर दी, तब मैंने धीरे से उसके ऊपर हाथ रखा तो उसने मुस्कुरा कर अपना सिर आगे की सीट पर टिका लिया एवं अपनी शाल आगे से खोल दी.

अब मैंने उसकी ब्रा को निकाल कर एक तरफ फेंक दिया क्योंकि मैं यह चाहता था कि वह पूरे समय बिना कपड़ों के ही रहे.

अंग्रेज से चुद कर वो अंग्रेजी में ही बोली- आई फील लाइक ए न्यू वूमेन. चाची अपनी चेहरा बिगाड़ बिगाड़ कर सीत्कार भरती हुई चूत में धंसते हुए लंड को देखे जा रही थीं- आह क्या मस्त चोदता है रे तू … साले तूने तो मुझे जिन्दा स्वर्ग में पहुंचा दिया … आह … चुदाई का असली मजा दे रहा है तू.

उसकी ये बात सुनकर मुझे थोड़ी हंसी जरूर आयी, पर मेरे ख्याल से उसकी बात सही थी. दो तीन ठेकेदार और सेठ तो मानिकपुर से तक आके तेरी मम्मी की ले चुके हैं. उसकी ये बात सुनकर मैं तभी से तुमको पटाने की कोशिश कर रही थी, पर तुम हो कि सर नीचे किये ही चले जा रहे थे.

इसके बाद नताशा ने चहकते हुए दीमा के बारे में बताना शुरू कर दिया कि वो बहुत अच्छी पियानो बजाता है, गाता भी बहुत मीठा था.

इसलिए मैं भी पूरे जोश में भर कर उनकी चूचियों को अपने मुँह में लेकर जोर से चूसने लगा. अकेले में दूर तक कोई आवाज नहीं, गर्म मसाज हो तो कोई भी हो, पिघलेगा ही. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:गांव वाली साली की सहेली को चोदा-2.

हनुमान सेक्सीडार्लिंग, मैं भी तुम्हारे बॉयफ्रेंड की तरह जड़ तक अन्दर घुसेड़ना चाहता हूँ…” कहते हुए मैंने अपनी पत्नि का सिर पकड़कर लंड को जड़ तक उसके हलक में ठेल दिया. उसके लंड के धक्के से मेरी चूत में पानी आने लगा और मैं चुदासी आवाज निकालते हुए चुदाई का मजा लेने लगी.

ओपन सेक्सी आर्केस्ट्रा

मैंने आगे हाथ बढ़ा कर दूध दबाने को सोचा तो दी ने पीछे हट कर रुकने का इशारा किया. फिर उसकी आंखें अपनी नग्नी सुन्दरता को देखकर चमक उठीं और वो शरमाना छोड़ धीरे धीरे मुस्कुराने लगी. सुलेखा भाभी ने मुझे इतनी जोरों से अपनी चुत पर दबा लिया था कि मेरा दम सा घुटने लगा था.

मेरी कार में अंधेरा था और मेरी सासू मोहिनी मेरे बाजू वाली सीट पर बिंदास बैठी थीं. मेरी पत्नी ने तुरंत मेरा लंड अपनी चूत में घुसा लिया और ऊपर बैठकर ताबड़तोड़ धक्के लगाने शुरू कर दिए. मैं- धर्मेन्द्र जी मेरे बूब्स को दबा सकते हो आप?वह- हाँ मगर एक बार ही.

दूध वाला कुछ नहीं बोला, लेकिन मैं उन दोनों की बातें सुन कर मन ही मन मुस्कुरा रहा था. मैं मम्मी को ऐसे उदास देखकर उदास हो गया था लेकिन किया भी क्या जा सकता था. मेरा नाम अमित है, मैं नागपुर का रहने वाला हूँ और यहाँ अकेला ही रहता हूँ.

भरपूर चुदाई के बाद पूर्ण संतुष्टि हुई और रात को देर से हम दोनों घर लौटे. मुझसे सब्र नहीं हो रहा था, मैंने नीरू से कहा- यार इसकी ब्रा पेंटी भी निकालो ना ताकि मैं इसकी छोटी सी बंद बुर का दीदार कर सकूं और उसको जीभ से चाट सकूं!नीरू ने कहा- जीजू सब्र रखो, सब्र का फल मीठा होता है.

मैंने देखा कि उसने अपनी चुचियों को एक काले रंग की छोटी सी ब्रा से ढका हुआ था.

उसके अंगड़ाई लेने से उसके चिकने पेट और खमदार पतली कमर की मादकता और बढ़ गयी और उसके पेट के पोर पोर पर मैंने अपने चुम्बनों की छाप अर्पित कर दी. www.com फुल सेक्सीहम जैसे ही बाहर निकले, एक वैगनार कार सामने खड़ी थी, उसमें एक अंकल उन्हें पहले कभी नहीं देखा था, वो गाड़ी चला रहे थे. बिहार का सेक्सी बीपी वीडियोफिर अबकी बार मैंने एक जोरदार झटका दिया, तो मेरे लंड का आधा हिस्सा चुत के अन्दर चला गया. मेरे मन में ऐसा महसूस होने लगा, जैसे मैं उसके लिंग को योनि से दबोच लूँ और बाहर न जाने दूँ.

मैंने उन्हें उसी पोजीशन में अपने पैरों के ऊपर उनके बेड पर बिठाया और उनके ब्लाउज़ के ऊपर से उनके बूब्स मसलने लगा.

मम्मी बोलीं- इतनी देर से? शाम हो रही है … कल दिन में चलेंगे, तो सब खरीददारी आराम से हो जाएगी. जूस तो पी के जा!यह कहते हुए रिया भाभी ने मुझे हाथ पकड़ कर रोका और उन्होंने मुझे ‘ले, संतरा जूस पी ले. फिर मेरे लंड को देखते हुए पूजा मुझसे बोली- लगता है कि तुम्हारे लंड में अभी काफ़ी दमखम है और तुम अभी भी शरारत करने के लिए तैयार हो.

मैं अपने जीवन में पहली बार किसी लड़की के दूध दबा रहा था सो मुझे होश ही नहीं रहा कि इसमें दर्द भी हो सकता है, मैं बहुत तेज दबाने लगा तो मौसी दर्द से कराहने लगीं. शीतल- अब अगर मुझे इजाजत हो तो मैं अपना स्नान पूरा कर लूँ?रजत- हाँ बिल्कुल… पर उसके पहले तुम्हें मेरा लंड चूसना पड़ेगा. टाटा कर लेना चाहिये था। नया चेक करती, कोई तो काम का निकलता।”पहले एक ही बनाया था, बाद में चेक करने-करने में तीन हो गये। बस टाटा किसी को नहीं किया कि नेट पे इन्हीं के सहारे थोड़ा टाईमपास हो जाता है।”तो मतलब अट्ठाईस तक कुंवारी ही हो।”इस बार जवाब देने के बजाय वह हंस पड़ी। निगाहें झुक गयीं और कहते हुए शब्द थोड़े लहरा गये- नहीं.

देवर भाभी सेक्सी सेक्सी सेक्सी

वो मेरी उभर चुकी चूचियों का जायज़ा अपनी आंखों से लेते और अपने पेंट में उभरते अपने टूल को सहला लेते. उस कमरे में एक किंग साइज बेड था, उस पर ही हम तीनों आराम से सो सकते थे. मैं कुछ समझ पाता कि उसने मेरा लंड मुँह में भर लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

जब सुबह उठे तो 9 बज गए थे और बेडशीट को देखा तो वो पूरी खून से गीली हो गई थी.

वो पूरा पसीने से भर गया था, उसके माथे से पसीना चेहरे, सीने, पेट से होता हुआ उसके लिंग के सहारे मेरी योनि के किनारों से लगता हुआ बिस्तर पर गिरने लगा था.

अब तो मुझे भी सेक्स स्टोरी पढ़ने का शौक लग गया था और हाथ से हिलाने का … पर उन दिनों ऐसी किताब जल्दी नहीं मिलती थी और खरीदने की हिम्मत नहीं होती थी. मान लो मम्मी या कोई घर में हैं, उनको मौका नहीं मिल रहा है तो पढ़ाने के बहाने से तीन चार, पांच घंटे तक बैठे रहते थे. सेक्सी चित्र ओपनमैं सोच में पड़ गया, कभी भाभी को कोसता कि क्यों इधर रहने आ गईं, कभी बहन के दिमाग को कोसता कि अजीब पगली है, कभी डैड को कोसने लगता कि उन्होंने क्यों कहा कि अपने झगड़े अपने तक रखो.

इसके बाद मैं अपने दोनों ब्वॉयफ्रेंड्स से अलग हो गयी और अब अपनी जिन्दगी में अकेली रहने लगी. तो मैंने हाथ से चूत को थोड़ा सा खोला और लंड को पकड़ कर अन्दर करने लगा. वहीं पास ही एक कोल्ड क्रीम पड़ी थी, उसने वो उठा कर मुझे दी तो मैंने थोड़ी क्रीम उसकी चूत पर और थोड़ी अपने लंड पर लगाई.

फिर भाभी बोली- अब सो जा!फिर हम दोनों उसकी हालत में ही सो गए।रात को मेरी आँख खुली तो भाभी जाग रही थी और मुझे बड़े प्यार से देख रही थी।मैंने पूछा- क्या हुआ भाभी?वो बोली- तू बहुत प्यारा लग रहा है इसलिए तुझे देख रही हूँ।मैंने भाभी को किस किया और हमने फिर चुदाई की और सो गए।इस तरह मेरी पहली चुदाई खत्म हुई और चुदाई की सिलसिला शुरू हुआ।आप अपने कमेंट लिखकर मुझे बताइये आपको मेरी इंडियन सेक्स कहानी कैसी लगी. अब हम दोनों बेड पे साथ में लेटे हुए थे, बात करते करते मैं उसे छू रहा था, पकड़ रहा था.

अब तक की चुसाई से पूजा की चूत ने मीठा मीठा पानी छोड़ना शुरू कर दिया था और मैं अपनी जीभ से पूजा की चूत खूब जोर जोर से चाट रहा था और चूस रहा था.

जीजू ने कुछ देर तक मेरी चूत को चाटने के बाद अपना लंड मेरी चूत में अन्दर पेल दिया और मजे से अन्दर बाहर करने लगे. एक दूसरे के बारे में जानकारी करने के बाद मैंने उसका नम्बर माँगा तो बोली- नम्बर का क्या करोगे?मैंने कहा- दोस्ती की है, तो नम्बर तो देना ही पड़ेगा. मेरी पत्नी ने मुझको इशारा किया कि अब धीरे से इसकी चूत के अंदर अपना सुपारा डालो.

मालिश करने वाली सेक्सी पिक्चर मैं बोली- ठीक है बुला लेना … आज तक मैंने पहले कभी किसी विदेशी का नहीं लिया … बस ब्लू फिल्में में उनका लंड देखा है. उस दिन उसने साड़ी पहनी थी, तो करवट लेते ही उसका पल्लू साइड में हो गया और उसके रसीले चुचे मेरे सामने आ गए.

नेहा समझ रही थी कि मैं ये सब क्या कर रहा हूँ इसलिए उसने बिना कुछ कहे चुपचाप करवट बदलकर अपना मुँह मेरी तरफ कर लिया. मुझसे वो गुस्से में बोली- क्यों नहीं चोद रहे मुझे आप अब? प्लीज चोद डालिये मुझे … रगड़ कर रख दीजिए मेरी चूत को! और मैं भी आज आपके इस लन्ड महाराज को खा जाऊंगी देखिएगा. चाची पेट के बल सोई हुई थीं और मैं उनकी विशाल गांड को मसल मसल कर बार बार चूतड़ों पर थपकी लगा रहा था.

सनी लीओन के सेक्सी बफ

उसकी बात सुनकर मैं ऊपर को उठ कर आया और अपना 7 इंच का लंड बुर पे सैट कर दिया. अब तक आपने मेरी इस हिंदी सेक्स कहानी के पहले भागमॉम-डैड का सेक्स और बहन की चुदाई-1में पढ़ा था कि मेरी बहन मुझसे जानना चाहती थी कि मेरी भाभी का पेट कैसे फूल गया है. तब उन्होंने मुझसे मेरी चॉइस पूछी, तब मैं बोला कि छोड़ो भाभी जाने दो.

उसने ना ना कही, ना हामी भरी, बस अपनी दोनों टांगें फैला दीं और अपने हाथों से अपनी चूत की पंखुड़ियों को खोल कर साफ करने लगी. पर मैं तो अपना सुपारा रगड़े जा रहा था, क्योंकि दोस्तो, लड़की को जितना अधिक तड़पाओगे, उसे उतना ही मज़ा आएगा.

तो रीना ने एक जोर से मेरी गांड पर तमाचा मारा और बोली कि एक बार ट्राय करने में क्या हर्ज है?मैंने रीना को बोला कि सोच कर बताती हूँ … अभी मैं कुछ नहीं बोल सकती हूं.

तकरीबन नौ इंच का गोरा गुलाबी रंग का लंड देख कर मेरी बीवी की चूत का वो हाल हो रहा था, जैसे किसी मरुस्थल के प्यासे का हाल कुएं के पास हो जाता है. साली ले अब सहन कर … आज तू देख साली … आज तेरी चुत को भोसड़ा न बना दिया तो कहना … आह ले … साली लंड खा … हरामिन चुपचाप सहन कर … कुतिया आज से तू मेरी रांड है. साथ ही मैं अपने लंड का दवाब उसकी नंगी चुत पर डालने लगा और ऊपर नीचे होने लगा.

तीनों लोग शीतल के कमरे में पहुंचे जहाँ पिछली रात को मयूरी ने अपने बाप से खूब चुदवाया था. कुछ देर तो ऐसे ही रुक कर बस चूत में लंड अन्दर जाने का मज़ा लेता रहा, उसके बाद मैंने धीरे धीरे धक्के मारना शुरू किए. कुछ 15 मिनट में वो खाना ले आईं तो मैंने कहा- खाना बहुत जल्दी तैयार कर लिया?उन्होंने कहा- तैयार तो पहले ही कर लिया था, अभी तो जरा गर्म किया है.

अब तक आपने पढ़ा था कि मैं एक मॉल में थी, मेरी चूत और गांड में उस मॉल के दो वर्कर लड़कों के लंड घुसे हुए थे.

बीएफ की चुदाई वाली: मैं चुदास से तड़प रही हूं साले … मुझे अभी चुदवाना है … किसी को भी भेज दो … नहीं तो मैं ऐसे ही तड़पती रहूंगी. 30 पे उसका कॉल आया पूछने के लिए मैं कब तक निकलूंगा फैक्ट्री से!मैंने ‘पांच मिनट’ बोल कर फ़ोन काट दिया.

अब मुझे इतना भरोसा तो हो ही गया था कि इसको बता सकूँ कि इसे क्या बोलते हैं. जब तक मैं उसको कम्प्यूटर सिखाता रहा … उतने दिन तक रोज ही ये सब चलता रहा. इतना बोलते ही उन्होंने मेरी नज़रों में नज़रें डाल कर देखा और एक मिनट देखती रहीं.

उसके बाद तभी पुनीत ने अंग्रेजी में मैक से बोला, तो मैक ने मेरे लहंगा को मेरी कमर से खींचते हुए पूरा नीचे कर दिया.

सतीश बोला- हम किसी को बाहर जरा सा भी कहने जाएंगे तो बाहर गड़बड़ हो जाएगी. तभी रिया भाभी ने कहा- हाय जानेमन, कहो तो मैं तुम्हारी आग बुझा दूँ?एकता भाभी ने कहा- आग तो मुझे भी लगी है, क्या ये हम तीनों की आग बुझा पाएगा?रिया भाभी ने कहा- जवान तैयार है, इशारा करेंगे तो सबकी कामवासना बुझा देगा. थोड़ी देर ऐसे ही रहने के बाद थोड़ा दर्द कम हुआ, तो फिर से एक बार झटका मारा और इस बार पूरा लंड अन्दर डाल दिया.