माधुरी की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,पियका चोपडा सेकसी

तस्वीर का शीर्षक ,

मुठ मारने वाली सेक्सी: माधुरी की सेक्सी बीएफ, वो और भी गर्म हो गयी, उसने अपनी टांगें फैला दीं और बुर की रगड़वाई का पूरा मजा लेने लगी.

दुनिया की सबसे बड़ी सेक्सी

अगली सुबह उसका गुड मॉर्निंग का मैसेज आया, उस टाइम व्हाट्सैप नहीं था. गाना वाला सेक्सी वीडियो एचडीअबकी बार मैंने पूजा को कोई सहारा नहीं दिया और पूजा बड़े आराम से मेरे लंड को अपनी चूत से कभी धीरे धीरे और कभी जोर जोर से चोदने लगी.

उसके बारे में क्या बताना दोस्तो… लगता था कि ऊपर वाले ने उसे बड़ी ही तसल्ली से बनाया था. पेटीकोट में भाभी की फोटोउसके बारे में क्या बताना दोस्तो… लगता था कि ऊपर वाले ने उसे बड़ी ही तसल्ली से बनाया था.

नाभि में मेरी नुकीली जीभ के स्पर्श से वो एकदम से चिहुंक उठी और अपने दोनों हाथ से मेरे सिर को पकड़ लिया.माधुरी की सेक्सी बीएफ: मित्रो, हमारी शादी को 19 साल हो गए है लेकिन सुहागरात से लेकर आज तक हमारी चुदाई जारी है.

शीतल मुस्कुराते हुए- अच्छा? बता चल… क्या आईडिया आया है तेरे दिमाग में?मयूरी- देखो… आपकी बात सही है… अगर आप घर के बाहर किसी भी मर्द से चक्कर चलाते हो तो बदनामी तो होगी.उनका बेटा शायना भाभी के साथ रहने लगा, तरुण भैय्या ने शायना भाभी को छोड़कर उस रंडी लड़की के साथ शादी कर ली.

बेड मेट एप्स - माधुरी की सेक्सी बीएफ

मनीष और भाभी बेड पर बैठ कर बातें कर रहे थे, मनीष भाभी का सर सहला रहा था.जब वो चलती हैं, तब उनके चूतड़ मस्त थिरकते हैं, जिन्हें देख कर मेरा लंड जोश से भर जाता है.

मैंने एकता भाभी की कुंवारी गांड पर लंड टिकाया और इतनी ज़ोर से धक्का दे मारा कि एकता भाभी के आंसू निकल आए, पर कुछ ही पल में उन्हें दर्द कम हो गया और हम दोनों गांड चुदाई का मज़ा लेने लगे. माधुरी की सेक्सी बीएफ मैं पूजा की बातों पर ना ध्यान देते हुए उसकी गांड में अपना लंड पेलता रहा.

मैंने देर ना करते हुए एक जोरदार धक्का सविता की चूत में लगाया, मेरा आधा लंड सविता की चूत में समा चुका था, सविता के मुंह से हल्की सी आह निकली लेकिन नीरू ने पहले ही उसकी कमर को कस कर पकड़ा हुआ था तो सविता की एक न चली और मैंने अपना लंड थोड़ा बाहर खींचकर एक जोरदार धक्का सविता की चूत में लगाया तो मेरा पूरा लंड सविता की चूत में समा चुका था सविता के मुंह से कराहट निकल उठी.

माधुरी की सेक्सी बीएफ?

बहुत फोन आने लगे, लेकिन मेरी फीस ज्यादा होने के कारण जल्दी कोई तैयार ही नहीं हो रहा था. मैं वहीं बेड पे बैठ गया, वो भी ठीक मेरे पास आकर बैठ गयी और मुझे अच्छे से पढ़ाने लगी. और यह कहते हुए नीरू ने सविता की सलवार में अपना हाथ डालकर उसकी चूत के ऊपर रख दिया और नीरू बोली- अरे सविता, तेरी चूत तो बहुत उभार लिए हुए है, इसमें बहुत फंस कर जाएगा और तुझे बहुत मजा आएगा.

फिर हिम्मत जुटा कर मैंने उनके हाथ पर अपना हाथ रखा, उन्होंने कुछ नहीं कहा तो मुझमें थोड़ी हिम्मत आ गई. अगर सुलेखा भाभी को सब पता चल ही गया है तो फिर अभी तक वो मुझसे, या फिर नेहा व प्रिया से कुछ कह क्यों नहीं रही थीं. मुझे मुन्ना अंकल ने मेरी स्कर्ट और टॉप उठा कर दी और बोले- वन्द्या ऐसे ही जल्दी से पहन लो.

मैंने तुम्हें फोटो दिखाई थी, लालजी ने भी तुम्हें कुछ कुछ सोनू के बारे में बताया था. इस मीटिंग के तकरीबन चार हफ़्तों के बाद किसी क्लाइंट के साथ बंगलोर में मीटिंग थी, तो हमारे डिपार्टमेंट से हमारे बॉस जाने वाले थे. वे लड़के मुझसे मौसी के यहां की शादी में आने की बात कर रहे थे, जिसमें वे अपने साथ एक या दो नीग्रो को लाने के लिए भी कह रहे थे.

श्यामा ने मुझसे कहा कि वो आज जगेश (उस ऑफिसर का नाम) को अपने घर पे ले जा रही है, अगर तुमको भी साथ चलना हो तो चलो. ’ और उन्होंने मेरे शरीर को इतने ज़ोर से जकड़ लिया कि मुझे लगा जैसे मेरी साँस ही रुक जाएगी.

लगातार 20 झटकों के साथ अपना सारा वीर्य मैंने अपनी मीता की चूत में उड़ेल दिया, समर्पित कर दिया.

वे साले सब मुझसे रोज़ उनकी गांड का उसके फिगर का फोटो मांगते थे पर मैं नहीं देता था क्योंकि किसी लड़की की इज़्ज़त ही उसका सब कुछ होता है.

तो इस पर वो बोलीं- वैसे भी बेटा … अब इस उम्र में मेरे पास तुम्हें दिखाने लायक कुछ है भी नहीं. रानी बोली- हप्प … कोई चैलेन्ज नहीं कर रहा आपको। अपने अरमान काबू में रखो. मुझे लगा कि अब शो को समाप्त करना ही उचित होगा, क्योंकि मेरी अर्धांगिनी बुरी तरह थक कर चूर हो चुकी थी.

मैंने उसको अपने नीचे लिया और लंड को चूत के छेद पर लगा कर जोर से उसकी चुत में पेल दिया. हमारे लंडों में 440 वोल्ट का करंट भर गया और हमारे लंड पत्थर की तरह कठोर होकर नताशा के गर्म मुंह के अन्दर झटके मारने लगे!अब रशियन गोरी को पूरा यकीन हो गया कि दोनों लंड पूरी तरह से तप चुके थे और उसने एक हाथ से नीचे से दोनों लंडों के पकड़े रह कर ऊपर से अपनी गांड का दबाव देना शुरू कर दिया. मेरा हाथ उसकी जांघों के जोड़ पर जा पहुंचा और अपनी मंजिल को सलवार के ऊपर से ही छू लिया और धीरे से मसल दिया.

मुझे लंड चूसते हुए बोली- मैं पहली बार किसी आदमी का लंड चूस रही हूँ.

मैं तो बस चुपचाप नीचे लेटा लेटा तुम्हारी चूत के धक्के ख़ाता रहूँगा. ये कह कर राज अंकल फिर से तेजी से अपनी उंगलियां मेरी चूत में चलाने लगे. लम्बे से डाइनिंग टेबल के एक तरफ मयूरी खड़ी थी और उसके बगल में उसके पापा और बाकी सारे लोग टेबल के दूसरी तरफ खड़े थे मयूरी के एकदम सामने.

तभी पापा ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझे रोक दिया- नीतू बेटा, अच्छी बच्ची हो ना तुम, ऐसा कोई बोलता है अपनी मम्मा को, से सोरी टू हर, आगे से ऐसी गलती मत करना!पापा मुझे गले लगाते हुए शांति से बोले तो मेरा गुस्सा थोड़ा कम हुआ।सॉरी मम्मा सॉरी डैड, अब आगे से ऐसा नहीं होगा. मैं तुम्हें काफी दिनों से नोटिस कर रही हूँ, आज तो मैं ये जानकर ही रहूंगी. तभी नीरू ने सविता से पूछा- पहले तेरी चूत में डलवा दूँ या थोड़ा प्रैक्टिकल करके तुझको हम दोनों दिखलाएं कि चूत में लंड किस तरह घुसाया जाता है?सविता ने कहा- नहीं, पहले आप दोनों करो, आपको देख कर मैं भी मजा लूंगी.

क्या सोचने लगे अंकल जी?” वो मुझे चिकोटी काट कर बोलीकम्मो मैं सोच रहा था कि अब आगे हमारा रिश्ता और मजबूत कैसे होगा?” मैंने चुदाई की बात स्पष्ट न कह कर यूं दूसरे ढंग से कहीं.

मैंने धीरे से पूजा को घुमा दिया, जिससे मुझको उसके साइड और आगे और पीछे का रूप दिख सके. उन्होंने मेरी जांघ को सहलाया और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी जांघ पर रख दिया.

माधुरी की सेक्सी बीएफ वो भी गाली देते हुए बोला- साली बहन की लौड़ी … बता तो कितने लंड चोदते है तुझे रोज?मैं बोली- कोई नहीं … सिर्फ अपने पति से ही चुदती हूँ. वो पागल हुए जा रही थीं, उन्होंने अपने दोनों पैरों से मेरे सर को जकड़ रखा था.

माधुरी की सेक्सी बीएफ मेरे राजा आज से में तुम्हारी गुलाम हो गयी, तुम जो बोलोगे, वो करूँगी. फिर मैं तेज़ तेज़ उसको चोदने लगा, जिससे पूरी कार हिलने लगी थी, पर मुझे तो चुत का नशा चढ़ा था.

विक्रम- जी पापा…और विक्रम केक हाथ में लेकर लेटी हुई मयूरी की सभी अंगों पर लगाने लगा.

तुम सेक्स वीडियो

समय बीतता गया मेरी पढ़ाई पूरी हो गयी और मुझे घर के पास ही जॉब मिल गई, जिसके कारण मैं घर पर रहने लगा. आने दो कल तुम्हारे भैया को, अब वो ही खबर लेंगे तुम्हारी?” सुलेखा भाभी ने अपने आपको छुड़ाने की कोशिश करते हुए कहा. चूत के पानी से नहाए हुए लंड को मैंने जानबूझ कर खिड़की की तरफ कर दिया ताकि बड़ी चाची आराम से मेरा पूरा लंड देख सकें.

क्योंकि मुझे बायोलॉजी में बहुत ही कम मार्क्स मिले थे, जिसकी वजह से मेरे ओवरआल परसेंटेज ज्यादा नहीं आए थे. शायद रीना को समझ आ गया था कि मुझे उसकी बातों में मजा आ रहा है, तो उसने मेरी गांड पर हाथ मारते हुए कहा- एक बार दूसरे लंड के मजे तो लेकर देख … बहुत मजा आता है. वो बहुत ही मुलायम गाऊन था और मुझे प्यार के समय मुलायम चीज़ पसन्द है.

थोड़ी देर आराम करने के बाद नेहा मैडम फिर से मेरे लंड से खेलने लगीं.

इतनी अच्छी चूत चटाई और लंड चुसाई के बाद मयूरी के शरीर का भोग करने से तो स्वयं भगवान् भी मना नहीं कर सकते थे, ये तो फिर भी दो सामान्य इंसान थे. फिर भाभी ने मुझे पकड़ के नीचे लिटा दिया और खुद मेरे ऊपर आकर बैठ गईं. लन्ड अपनी कठोरता को प्राप्त करते हुए चूत के भीतर की दीवारों पर अपना कसाव बढ़ाते जा रहा था और मीता की चूत ढेर सारा काम रस बहता हुआ मेरी लन्ड के कसाव को सुगम बनाता जा रहा था और तभी मीता अचानक अत्यंत मादक सिसकारी भर उठी क्योंकि मेरा लन्ड एकदम से कठोर होकर एकदम भीतर जाकर मीता की बच्चेदानी को चूमने लगा था.

फिर वो गिड़गिड़ाने लगी- प्लीज़ ऐसा मत करो … जब मेरा होने वाला रहता है … तो तू क्यों रुक जाता है. शाम को ऑफिस से छुट्टी होने के बाद वो मेरे पास आ कर बोली- मैं निकल रही हूँ तुम उसी होटल में 10 मिनट के बाद आ जाना, जहां उस दिन कॉफी पी थी. उसके दोनों बेटे भी उसकी चूचियों से धीरे-धीरे खेल रहे थे और उसकी जांघों को सहला रहे थे.

बचपन और बाद में स्कूल और कॉलेज में पढ़ाई के दौरान कर कुछ सेक्सी हरकत कर लेती रही, पर अपने अन्दर पनप रही कामाग्नि को खुल कर कभी हवा न दे सकी. यही करूँगी। मैं भी अब और नहीं झेल पाऊंगी।”क्रमशःकहानी के बारे में अपने विचारों से मुझे जरूर अवगत करायें। मेरी मेल आईडी हैं[emailprotected]फेसबुक: https://www.

मैं थोड़ी देर बाद भाभी के कमरे में झाँकने की कोशिश करने लगा, अन्दर ऋषि सोया हुआ था. थोड़ी देर में रजत अपना एक साथ मयूरी की जांघों से होते हुए उसकी चूत तक ले गया और उसकी चिकनी चूत जो पहले से ही गीली हो चुकी थी, को धीरे धीरे अपने उँगलियों से छेड़ने लगा. फिर मैंने शिवानी से कहा- बेटी, तेरे पापा के बाद अब तेरा भैया ही मुझे खुश करता है.

मैंने दोबारा माइक की ओर देखा तो अभी भी मेरे स्तनों को ललचाई नजरों से घूर रहा था.

मैं अगली बार यह कहानी यहां से आगे बताऊँगा कि कैसे मैंने पूजा की ससुराल जा कर पूजा, उसकी जेठानी रेश्मा, देवरानी सविता और ननद शिल्पा. मेरी पत्नी ने मुझको इशारा किया कि अब धीरे से इसकी चूत के अंदर अपना सुपारा डालो. तब मैं बोला था कि मेरे एक अंकल हैं, उनको भी ले आऊं? तो वन्द्या बोली थी कि जिनको जिनको लाना है ले आओ, उस वक्त उसने बहुत मस्त बात की थी, तब लालजी इसकी चूत चाट रहा था और एक इसकी बहन का लड़का पीयूष भी इसके साथ बिस्तर में था.

इस बार उसने मेरे दोनों होंठों को अपने मुँह में भर लिया और उन्हें जोरों से चूसते हुए काटने लगी. तभी नीरू ने उसको साफ साफ कह दिया- देख पायल, मैं तेरी सहेली हूं, तू मुझ पर विश्वास कर … अगर तू किसी से कुछ ना कहे तो मैं तुझे बहुत मजे दिलवा सकती हूं.

चिराग ने मेरे मम्मों को ब्रा में से निकाल दिया और मेरे मम्मों को चूसने लगा. वो जोर से चीख पड़ी- आह्ह … ऊउइईई मां … स्सस्स … मर गई … प्लीज़ निकालो इसे … मुझे बहुत दर्द हो रहा है … प्लीज़ निकालो!उसके दर्द को देखकर मैं थोड़ी देर ऐसे ही उसके ऊपर चढ़ा रहा और उसके होंठों को चूमने लगा. पहली पहली बार इसकी चुदाई हुई है, इसकी चूत को अपने माल से भर दो!मैंने अपनी पत्नी की आज्ञा का पालन करते हुए अपना सारा माल उसकी चूत में उलट दिया.

ಕನ್ನಡ ಬಿಎಫ್ ಸೆಕ್ಸ್

कुछ दिन तक मैं उसे सिर्फ छुप छुप कर ही देखता था, कभी हिम्मत ही नहीं हुई कि उससे सीधी नजर मिला लूँ.

उस टाइम मैंने टीवी पर भूत वाली हॉरर फ़िल्म लगा रखा थी क्योंकि मैं जानता था कि भाभी भूत से और अँधेरे से डरती थीं. अभी भी हल्के नशे में मेरा दिल कर रहा था कि बस अभी उनकी गांड खोल कर चाट लूँ और मार लूँ. मैंने बेख़ौफ़ होकर आंटी की चूत को जोरों से चाटना शुरू किया, मैं पूरी ताक़त से अपनी जीभ चूत के अन्दर बाहर करने लगा और नीता आंटी सिसकारियां भरने लगीं ‘अहह आआ आअह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आअम्म्म्म ओह्ह्ह ओह शशीई … कम ऑन!अब मैं पूरी ताक़त से आंटी की चुत को चूसे जा रहा था, मुझे वो बहुत ही मस्त लग रही थी.

मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं थी बल्कि मुझे लगा कि शायद मेरी किस्मत चमकने वाली है. मैं अब चुपचाप पड़ा रहा और सुलेखा भाभी ने मेरी जांघों पर बैठे बैठे ही मेरे लोवर को पकड़कर नीचे खिसका दिया. नंगी हीरोइनयह तो कहीं से कहीं तक रंडी लगती ही नहीं है … यह तो अभी लिटिल माल है … पर गजब है.

तभी वो सीधी हो गयी तो मैं उससे थोड़ी दूरी बना कर लेट गया।वो मेरे से बात करने लगी. इसी तरह मैं अब धीरे धीरे अपने लंड का दबाव बढ़ाता गया‌ और अपना सारा सुपाड़ा उसके मुँह में घुसा दिया.

इस पर मुनीर ने कहा- अब शर्माओ मत … इतने दिनों के बाद मिली हो, थोड़ा देखने तो दो … आखिर मुझे भी तो जानना है कि तुम्हारा स्वाद कैसा है. आज मैंने उससे कहा तो उसने कहा- आज तुम अपना लंड मेरी चुत में धीरे से अन्दर डालना. ऐसे चार पांच मिनट तक वह अन्दर-बाहर मेरी गांड में अपना लंड डालते निकालते रहे.

मेरे प्रिय दोस्तो, मेरा नाम रेनिश है, मैं गुजरात के अहमदाबाद सिटी में रहता हूँ. फिर एक ने कहा- यार, बहुत ही जबरदस्त माल है … पर बहुत छोटी लग रही है. मुझे मालूम था कि चूत में लंड जाते ही ये फिर से चिल्लाएगी, इसलिए मैंने पहले ही अपने हाथ से उसकी आवाज रोक ली, जो बहुत तेज निकली थी.

मैंने कार का गेट खोलकर बेबी को अपने बगल वाली सीट पर बिठाया और कार लेकर हाई स्पीड में चलने लगा.

अपने मुँह से थूक लेकर उसके गांड के होल पर लगाया और उंगली से होल थोड़ा ढीला किया. मैंने अपना मुँह उनके एक मम्मे पर रख दिया और धीरे धीरे उसे चूसना शुरू किया.

दीमा उठ कर नताशा के नजदीक पहुंचा और उसने अपनी सीधे हाथ की उंगली से उसकी गांड में मसाज करनी शुरू कर दी. जब वो थोड़ी नार्मल हुई तो मैंने उससे कहा- सब यहीं करना है या बिस्तर पर चलें?वो मुस्कराई और बोली- अब क्या करना है … मेरा तो हो गया. मैंने पायल से कहा- पायल, तुझे कैसा लग रहा है?पायल ने गर्दन हिला कर अपनी हामी भरते हुए कहा- हां जीजू, मुझे ये देख कर मजा आ रहा है.

अब फ़ोन पे भी हमारी बात दिन में और रात को भी होने लगी और खूब रोमांटिक बातें भी करते. सामान्यतया मैं ऐसे ही किसी की तारीफ नहीं करता; पर फोटो देख कर मेरी उंगलियाँ अपने आप ही उनकी तारीफ़ में शब्द ढूँढने लगी और जो समझ में आया, टाइप करने लगी. किस करने के बाद उसने मेरी पूरी छाती को किस किया, दांतों से मेरी छाती की घुंडियों को काटा.

माधुरी की सेक्सी बीएफ थोड़ी देर बाद मुझे लगा कि पूजा के सारे बदन में कम्पकपी सी होने लगी है. मैंने कहा- सुन बता रहा हूँ, अब भाभी के सामने तो नहीं बता सकता था न … तू एक काम कर, कोई एक बुक ले आ, फिर बताता हूँ.

ತೆಲುಗು ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೊ

मैंने कहा- तो बोला क्यों नहीं … पहले मैं तुम्हारी इच्छा पूरी करता, फिर खाने पीने का काम करते. मुझे उसने संभलने का एक मौका भी नहीं दिया और पूरा लिंग मेरी योनि की गहराई में घुसा दिया. अंकित पीछे से बोला- हां मैं शम्भूदीन अंकल को जानता हूं, बगल से आगे थोड़ी दूर पर ही मकान है.

पिछली कहानी में आपने जाना था कि मैंने कैसे अपनी दीदी की सहेली की चुदाई की थी. तभी रीना ने बाहर से मेरी गोरी गोरी टांगों को पकड़ा और बोली- साली माल तो मस्त है. बुंदेलखंडीसच कहूं मुझे बहुत दर्द हो रहा था, जब वो मेरी चूची दबा रहा था मगर उस दर्द से कहीं ज्यादा मज़ा भी आ रहा था.

पर मेरी बैचैनी खत्म नहीं हो रही थी और मेरा हाथ स्वयं ही योनि पे चली गया.

फिर दूसरे दिन उसने मुझे अपने घर पर शाम को सात बजे बुलाया और बताया कि आज उसका बर्थडे है. मगर तभी बाहर से सुलेखा भाभी की आवाज सुनाई दी‌- तुम‌ आकर यहीं बैठ गयी क्या?जिससे मैं चौंक गया और मेरी पकड़ ढीली हो गयी.

उसके बाद मैंने नीरू की चुदाई की और सविता को भी और एक बार झाड़ कर संतुष्ट किया. जब उसने मेरी चूत में जीभ घुसा कर घुमाई, तो मैंने उसके बालों में हाथ फेरते हुए उसके सर को चूत पर दबा लिया. मैंने उस रात उन्हें 2 बार और चोदा और उनकी गांड भी मारी और सुबह होने से पहले अपने घर वापिस आ गया.

इससे पहले की मौका हाथ से निकल जाता, मैंने सोचा क्यों ना गरम लोहे पे हथौड़ा मार दिया जाए.

उन अंकल ने मुझे देखा और बोले- मेरे समधी साहब आ रहे हैं, जरा नीचे हैं. अब मैंने भी कल के लिए ज्यादा सोचना छोड़ दिया था, आज जो होगा, आज जो है. रूम के अन्दर जाते ही मैंने उन्हें दबोच लिया और उनके बड़े से मम्मों को दबाने लगा और मेरा 7 इंच का लंड लोहे की रॉड बनने लगा.

jiopay खोलोकभी वो अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल कर अच्छे से घुमाते हुए मजा ले रही थीं. ज …ज जी …” डर के कारण मेरे मुँह से बस अब इतना ही निकला था कि तब तक सुलेखा भाभी मेरे बिस्तर के पास आ गईं.

एक्स वाई एक्स

यह सुनकर तो मेरे मन में एक खुशी की लहर दौड़ गई, पर उसे इसका अन्दाजा नहीं था कि आज उसके साथ क्या होने वाला है. मैंने पूछा, तो बोली कि जब मैंने तुम्हारा निक्कर उतारा था, तो देखा कि उसमें सिगरेट है. मैं- तो क्यों आयी फिर?बेबी- क्योंकि मुझे भी तुम्हारा लंड फिर से चाहिए था.

मैडम के स्तन चूसते चूसते ही मैंने उनकी लटकती ब्रा को उनके जिस्म से अलग कर दी. अंकल जी, आओ तो जल्दी ही आना; क्योंकि डेढ़ दो महीने बाद मेरी शादी होने वाली है; उसके बाद कोई पक्का नहीं कि मैं मिल भी सकूंगी या नहीं; लड़की जात की मजबूरियां तो आप समझते ही होगे” वो अपनी एक अंगुली से मेरे सीने पर कुछ लिखती हुई सी बोली. हमारी इस गुत्थमगुत्था की लड़ाई में सुलेखा भाभी की साड़ी और पेटीकोट उनकी पिंडलियों तक ऊपर हो गए थे.

थोड़ी देर के बाद तेजी से धक्के मारते हुए पूरा लंड अन्दर करके बॉडी टाइट करने लगा. उसने भी उत्तेजना के आधिक्य में नताशा के सिर को थाम लिया और सटाक-सटाक गहरे धक्के लगाता हुआ अपने लंड को मेरी बेचारी धर्मपत्नि के मुंह का जबरदस्त चोदन करने लगा. लेकिन आपसे मैं जब भी बात करती हूँ, तो लगता है कि किसी अपने से बात कर रही हूँ.

उन पर एक पर मैं और मेरी छोटी भान्जी, एक पर रेखा और उसके मामा की लड़की और उनकी बगल में मेरी बहनें सोई हुई थीं. भाभी की आवाज आयी- तुम्हारा मन पिक्चर में नहीं लग रहा है?मनीष- क्यों क्या हुआ?भाभी- तुम मुझे डिस्टर्ब कर रहे हो.

नीरू बोली- जीजी, मुझे नहीं मालूम … लेकिन मैं तो मजे के मारे मरी जा रही हूं.

मैंने चूत में उंगली डालकर थोड़ी चिकनी की और लंड के सुपारे पर लगाकर उसको चिकना किया. क्सक्सक्स तेंतकिओं लिरिक्स बादइस दौरान उसके हिलते और उछलते मम्मे मेरे हाथों और होंठों के शिकार बने रहे. चेस्ट बढ़ाने के तरीके इन हिंदीमैंने बाहर से चाँद से आती हुई रोशनी में उन्हें देखा तो वो एकदम परी लग रही थीं. अगर बाहर वालों के सामने मुझे भैया को पापा बोलना पड़ेगा तो मैं बोलूंगी.

हम दोनों लोग के किस करने से सेक्स का माहौल बन गया और जीजू मेरे सारे कपड़े निकालने लगे.

और चुम्बन लेते हुए ही मैंने मीता की पेंटी के इलास्टिक में उंगलियां फंसाई और उसे नीचे सरकाता चला गया. हम अपने मेहमान समेत बहुत उत्तेजित हो चुके थे और हमारे हाथ अपने-अपने लंडों को मसल रहे थे. वो बिस्तर में आकर बोला- मैडम आप तो बहुत मस्त चुदवाती हैं, हमने कार में सब देखा है.

उसका मुँह पूरा भर गया, वो पूरा रस निगल गई।मैंने पूछा- ये तूने क्या किया? निगल गई?तो वो बोली- तेरा तो बहुत स्वादिष्ट है।फिर हम दोनों 15-20 मिनट निढाल होके पड़े रहे और फिर धीरे-धीरे उसने मेरे लण्ड के साथ छेड़छाड़ चालू की। लण्ड धीरे-धीरे खड़ा होने लगा। अबकी बार मैं उसके स्तनों के साथ खेलने लगा। उसके स्तन गजब के थे. वो दिन छुट्टी का था, मॉम ने आकर कहा कि तेरे डैड और मैं जरूरी बात कर रहे हैं, दूसरे कमरे में हैं. इधर मुझे भी उसके बदन से मर्दानगी की महक चरम सुख की और धकेलती जा रही थी.

ब्लू सेक्स वीडियो सेक्स वीडियो

धीरे धीरे मनीष अपने हाथ पीठ से होते हुए नीचे बूब्स की मालिश करने लगा. अन्दर हम एक हाल में पहुंचे, वहां पर पहले से ही 5-6 औरतें थीं, जिनकी उम्र लगभग मेरे बराबर की थी. अब मैंने भी और इंतजार ना करते हुए अपना लंड थोड़ा बाहर खींचकर एक और जोरदार धक्का मारा तो मेरा लंड पूरा नीरू की चूत में समा चुका था नीरू की चूत से अब हल्का हल्का खून निकल रहा था और वह चिल्ला रही थी.

हम दोनों मदहोश होकर सेक्स कर रहे थे और गर्मी के कारण हम दोनों के शरीर से पसीना निकल रहा था.

फिर मैंने शीतल को कपड़े पहनने के लिए कहा और खुद भी पहने और शीतल को नीचे भेज दिया.

मैं खुद सम्हाल नहीं पाया और मैं मानसी के ऊपर चढ़ गया और उसकी चूचियों को चूसने लगा।उसकी आँख खुल गयी और वो मेरा साथ देने लगी।कुछ देर बाद उसने अपने आप से ही मेरे लंड को चाटना चूसना शुरु कर दिया. थोड़ी देर बाद ही वो मुझे हाथ में प्लास्टिक की थैली लेकर आती दिखी जिसमें बियर और एनर्जी ड्रिंक था. लिपस्टिक डिजाइनमैंने चाची को फिर से बिस्तर पर चित लेटा कर अपना लंड उनकी चूत में घुसा कर चाची के ऊपर छा गया.

वह मुझे अपने कमरे में ले गया और बोला लो कर लो जो चाहो, मैं आधे घंटे के लिए तुम्हारे हवाले हूँ. उन्होंने मेरी बात अपने पति से करवाई और मुझे कमरा देने के लिए वो राज़ी हो गए. जब मेरा लौड़ा भाभी की चूत में पूरा चला गया, तो उन्होंने मुझे होंठों पर बहुत ज़ोर से किस किया और उछल-उछल कर लौड़ा अन्दर बाहर करने लगीं.

होंठ रखते ही उसे गीला सा लगा तो बोला कि यार इसकी पेंटी तो गीली सी है, लगता है वन्द्या की चूत बह रही है. मुझसे रहा नहीं गया, मैंने कहा- जानू, प्लीज़ इसको पी लो ना!मैंने कमलेश के सिर को अपने बूब्स पर दबा दिया और वह ज़ोर से मेरे दूध को पीने लगा.

यह कहते हुए रिया भाभी ने आगे आकर मेरा खड़ा लंड अपने मुँह में ले लिया.

बहुत टाईट गांड है और मुझे गांड में लंड पेलने में बहुत मज़ा आ रहा है. फिर अपनी ब्रा भी उतार दी और बोली- अब अच्छे से करो और इसका सारा दूध पी लो. वन्द्या तू आराम से उठ के बाथरूम चली जा और फ्रेश हो ले, तब तक तेरे कपड़े हम कार से ला देते हैं.

श्रीदेवी सेक्सी फिल्म रूम में जाते ही मैंने उसे पीछे से उठा लिया और प्यार से बिस्तर पे लिटा कर उसकी साड़ी निकालने लगा. मैं समझ गया कि अब पूर्वी क्या चाहती है और मैं भी लंड की धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा और अपनी स्पीड भी बढ़ाने लगा.

बस उसके ये कहते कहते ही उसके लंड का गरम गरम लावा मेरी गांड के अन्दर घुसने लगा. मैं उन्हें अपने अंदाज में इस मंच तक पहुंचा रहा हूँ। आपके पास भी कुछ ऐसा है तो मेल या फेसबुक पर मुझसे शेयर कर सकते हैं। मेरा ईमेल एड्रेस और फेसबुक एड्रेस है[emailprotected]https://facebook. उसका बदन तो पहले से ही कामाग्नि से धधक रहा था, पर अब उसके दिलो दिमाग से भी सही दिशा मिलनी शुरू हो रही थी.

ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो चुदाई

नेहा और प्रिया की चुदाई करते करते मुझे रात के तीन बज गए थे और मैं काफी थक‌ भी गया था. उससे भी रुका नहीं गया और मेरी टांगें उठा उसने लंड मेरी फुद्दी पर रख दिया. मैंने सुझाव दिया- यह मर्द और औरत के बीच स्वाभाविक आकर्षण की क्रिया है.

काम मेरा भी होने ही वाला था तो मैंने पुनः उनके मम्मों को चूसना शुरू कर दिया. उसकी जांघें भी कुछ ज्यादा ही भरी हुई व काफी सुडौल थीं, जिससे उसकी चुत दोनों जांघों के बीच बिल्कुल छुपी हुई थी.

सुनो लड़को…” नताशा ने काफी देर से चल रहे पोज़ को समाप्त करते हुए कहा- क्या तुम लोग इस तरह से लेट सकते हो कि तुम्हारे शानदार लंड आपस में इस तरह से जुड़ जाएँ कि मैं उनके ऊपर अपनी गांड को पैर पर जुराब की भान्ति पहना दूँ?क्यों नहीं हमारी पोर्न क्वीन!” मैंने संक्षिप्त उत्तर दिया.

फिर सबका घर जाने का टाइम हो गया, पर हम अभी भी एक दूसरे को चूम रहे थे और कह रहे थे कि ये दिन ज़िन्दगी का सबसे खूबसूरत दिन साबित हुआ. उनसे कुछ इधर उधर की बात करने के बाद मैंने भाभी से पूछा- अब आप बताओ आपके उधर का क्या हाल चाल है?वो बोलीं- मेरा हाल तो आप समझ ही सकते हो?यह कह कर वो मेरे पास सरक आईं, मेरा हाथ अपने हाथ में लेकर अपनी जांघों को मेरी जांघों से सटा दिया. तब पूजा मेरे मुरझाए लंड को अपने हाथों से सहलाते हुए बोली- हां … मुझे गांड मरवाने में बहुत मज़ा आया, लेकिन पहले लग रहा था कि मेरी गांड फट ही जाएगी.

अचानक मनीष ने नीचे से धक्का मार दिया, पूरा लंड एक बार में चूत में घुस गया. तू चोद दे आज मुझे!उसके इतना कहते ही मैंने उसका गाउन निकाल दिया, वो अब मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी, उसने पेंटी भी नहीं पहनी हुई थी. वो बोली- लेकिन!मैंने कहा- चुप … अब पढ़ाई पर ध्यान दे, मॉम आकर देखेगी कि तूने कितना काम किया है.

आपसे बातों बातों में मैं तो उसका ज़िक्र करना ही भूल गया, उसकी वास्तविक उम्र लगभग 20 वर्ष रही होगी और फिगर 34-30-36 की थी, जो एक आकर्षक बदन के लिए पर्याप्त है.

माधुरी की सेक्सी बीएफ: तब मुनीर ने कहा कि भारत में ऐसा बहुत कम दिखता है, पर विदेशों में खासकर फिलीपीन्स, थाईलैंड जैसे देशों में आम बात है. तो मेरी इच्छा हुई कि आपकी सुंदरता के लिए आपको कुछ इनाम दूँ, तो मैंने दे दिया.

थोड़ी देर आराम करने के बाद जब दोनों की सांसें थोड़ी धीमी हुई तो मयूरी ने बातचीत शुरू की- माँ!शीतल- हाँ?मयूरी- थैंक्स माँ… मुझे बहुत मजा आया… आपके साथ ये करके!शीतल- मुझे भी बहुत मजा आया बेटा… किसी लड़की या औरत के साथ मेरा भी ये सेक्स का पहले अनुभव था… पर तुम बहुत कमाल की हो… पता है, तुम जिस भी आदमी को पत्नी के रूप में मिलोगी, तुम्हारा ये शरीर पाकर वो आदमी धन्य हो जायेगा. अब तू देख ले और तुझे करवाना है तो मुझे बतला? बहुत मजे कराआऊंगी … अपना मन बना ले! वह कौन है, यह तुझको तभी बताऊंगी जब तेरा चुदवाने का मन होगा. मैंने हैडफ़ोन कान में लगाया तो आवाज आई ‘अभी मत जाना … हम कुछ और देर मजे करेंगे.

मैं जैसे ही पास आया, उसने मुझे खींच के तुरंत अपनी बांहों में भर लिया.

बाद में उसने बताया कि उसकी नई-नई शादी हुई है और उसका पति हमेशा काम के चलते बाहर रहता है. मैंने सोचा कि ऐसा मौका कब मिलेगा, तो मैंने टीवी चालू किया और सोफे पे बैठ गया. उसने बिल्कुल नयी गुलाबी रंग की ही ब्रा पैंटी पहनी थी जो शायद आज ही पहनने के लिए ही ख़रीदी थी।मैंने उसको गोदी में उठा कर डबलबैड पर लिटा दिया.