हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई

छवि स्रोत,नेपाली मां बेटा सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ जानवर वाला सेक्सी: हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई, मुझे देखते ही उनके चेहरे पर मुस्कुराहट आ गयी। आंटी अपने छोटे बेटे को बाहर बैठा कर पढ़ा रही थी।मैं अपने घर के अंदर गया और कुर्सी ले कर आया.

छोटू दादा गन्ने का रस वाला

कुछ देर बाद क्या दिमाग में आया कि मैंने उसे एक संदेश भेज दिया और लिखा- तुम बहुत बदमाश हो. सेक्सी पिक्चर हिंदी राजस्थानीऔर मेरे पास अपनी पड़ोस की प्यारी सी लड़की पूजा से अच्छा कोई विकल्प भी नहीं था।अब मैं हर दम मौके की तलाश में रहता!अपने दोस्तों से पूजा की निजी जिंदगी की कुछ जानकारी लेने के कुछ दिन बाद एक दिन मौका देख कर मैंने पूजा को प्रपोज़ कर ही दिया.

लेकिन जब कोई घर में नहीं रहता था, उस वक़्त मैं उसकी जमकर चुदाई करता था. पतंजलि योगमैंने प्रमिला आंटी की कमर पकड़ कर जोर-जोर से धक्के मारना शुरू किया तो धक्कों के कारण मेरी जांघें प्रमिला आंटी की गदराई हुई गांड से टकरा रही थी.

फिर एक ही बार में उसे अपने मुँह में भर कर फिर से चूसने लगी कि जैसे वो मेरे लंड को पूरा का पूरा निगल जाएगी.हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई: पिछले दिनों आई फिल्म ‘वीरे दी वेडिंग’ में भी चार सहेलियां सेक्स मस्ती के लिए फुकेट थाईलैंड घूमने जाती हैं और वहां ज़म के मस्ती करती हैं.

मेरे लंड का साइज 7 इंच और 3 इंच मोटा है और मैं किसी भी लड़की व औरत को संतुष्ट कर सकता हूँ.मैंने अपने पैंट शर्ट उतारी, अंडरवियर भी उतार दिया और उन पर चढ़ बैठा.

सेक्सी अंग्रेजी वीडियो में - हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई

मेरी इस बात से भाभी हल्के से मुस्कुरा दी और बोली- जाने दो … मैं निकाल लूंगी.शायद भाभी ने मुझे आवाज भी दी होगी लेकिन मुझे पानी के शोर के कारण कुछ सुनाई ही नहीं दिया.

दूसरी बार करीब हमने 1 घंटे से ज्यादा देर तक सम्भोग किया था और अब इतनी थकान थी कि मैं दोबारा सो गई. हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई फिर मैं साहब के कमरे में गई तो साहब ने कहा कि पहले आलोक के लिए खाना बना दो.

मैंने छोटी बहन को चोदा … कैसे? पढ़ें इस कहानी में! हम भाई बहन अकेले थे घर में … हम मजाक में एक दूसरे के सामने नंगे हो चुके थे.

हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई?

मैंने बहुत सी लड़की और गर्म भाभी को चोदा है।यह कहानी मेरी दीदी की पड़ोसन गर्म भाभी की चुदाई की है, जिसे मैंने चोदा।मैं अपने कुछ काम से अपनी दीदी के घर गढ़वाल गया हुआ था। मेरी दीदी किराये के घर में रहती थी. उसे शायद मेरी योनि का द्वार नहीं दिख रहा था, इसलिए उसने लिंग को पकड़ कर सुपारे से मेरे छेद को टटोलने सा किया और लिंग टिका दिया. मैं मैम को गौर से देख रहा था, क्योंकि आज वंदना मैम ने बड़े टाइट कपड़े पहने थे.

मेरा लंड 6 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है जो कि किसी भी लड़की या औरत को खुश कर सकता है।मेरी पिछली कहानीदोस्त की गर्लफ्रेंड की चुत और गांड की चुदाईआपने पढ़ी थी. तो ये थी कुंवारी चूत चुदाई की कहानी!उस दिन सुबह मैं कोचिंग भी नहीं गया. वो चुप हो गई, लेकिन उसने सिर्फ इतना कहा- अगले हफ्ते से मैं भी ट्यूशन आ रही हूँ.

मैं बैठा था और अंधेरा भी था, तो मैंने उसकी कमर पर एक हाथ और एक हाथ उसके कपड़े के ऊपर से चूत पर रगड़ा. सरस्वती- ही … ही … ही … हम दोनों को एक साथ … तेरी हालत पतली हो जाएगी राजा. तुम्हारा वह दोस्त अनिल तो बहुत नखरे करता है।उन्होंने एक जोरदार धक्के के साथ पूरा पेल दिया.

फिर भाभी ने पूछा- कितनी गर्लफ्रेंड बना रखी हैं तुमने कॉलेज में?मैंने कहा- एक ही थी भाभी, उससे भी ब्रेक-अप हो गया है. फिर एक उंगली अपने मुंह में डाल कर निकाली और वह थूक से भीगी उंगली मेरी गांड में डाल दी और उसे गोल गोल घुमाने लगे.

कहानी के पहले भागप्रिंसीपल मैडम के साथ कार सेक्स-1में आपने पढ़ा कि मैं अपने मैनेजर के कहने अपने अपनी मैडम यानि प्रिंसीपल साहिबा को उनके मायके में छोड़ने के लिए जा रहा था.

वो भी मेरी नजर पर नजर रखे हुए थी और शायद कुछ जानबूझकर नीचे झुक रही थी ताकि मैं उसके चूचों के उभारों को देख कर उत्तेजित हो सकूं.

उस रात में मैंने मैडम को चार बार चोदा और वैसे ही हम दोनों किस करते हुए कब सो गए, पता ही नहीं चला. चोद दो ना राजा!उसके मुंह से ऐेसे शब्द सुन कर मन करने लगा था कि उसकी चूत को ऐसे ठोकूं कि उसकी चूत के चिथड़े हो जायें. हम दोनों पढ़ाई की बातें करते थे और पूरा कॉलेज इसे लव का नाम देने लगा था.

मैंने उसकी गर्दन को पकड़ लिया और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उनको चूसने लगा. छिपते छिपाते हुए मैं चुपके से उन दोनों की करतूत की वीडियो बनाने लगा. कभी कभी मेरा मन करने लगता था भाभी की चोदाई करने का!पढ़ाई में उसने स्नातक किया हुआ है.

मैंने कहा- तो फिर देर किस बात की है?वो बोली- पहले कुछ खा लेते हैं उसके बाद शुरू करेंगे.

मैं और संजय हम दोनों ने एक दूसरे को किस किया और उसके बाद मैं घर का काम करने लगी. मैंने धीरे धीरे अपना हाथ उनकी चूत की तरफ बढ़ाया और चुत पर उगी लंबी लंबी झांटों पर फेरने लगा. वो मेरी आंखों में आंखें डाल कर बोला- बताओ न क्या नाम है इसका?मैंने भी उसकी आंखों में आंखें डाल कर कहा- मुझे तुम्हारा लंड देखना है.

एक एक कड़ियां खुद जोड़ने लगी, क्यों मैं सरस्वती और सुरेश पर ज्यादा ध्यान देती थी, क्यों विमला से उनके बारे में सुनना चाहती थी, क्यों एक समय के बाद मुझे सरस्वती से जलन सी होने लगी थी. मैं गांड हिलाते हुए लंड लेने लगी और मैंने भैया से कहा- मार और जोर से … और तेज मार … फाड़ डाल. भाभी ने कहा- मैं भी बहुत खुश हूँ कि तुम जैसा साथी मुझे मिला, जिसने मुझे इतनी खुशी दी है.

जिन्हें देखकर मेरा लण्ड मोसी को तुरंत चोदने के लिए उतावला हो रहा था.

उसने शुरू किया था, पर जब मेरी नींद टूटी, तो मुझे उसे रोकना चाहिए था. अब दीदी तड़पते हुए उसको चूत में लंड डालने के लिए जैसे भीख सी मांग रही थी.

हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई सुरेश को बहुत मजा आ रहा था और जैसे वो कराह रहा था और मेरे स्तनों और चूतड़ों को मसल रहा था, उससे मुझे लगने लगा था कि जल्द ही झड़ जाएगा. कुछ मिनट बाद अनिल ने अपना लंड निकाल लिया और मॉम को किनारे पर कुतिया बना कर सैट कर दिया.

हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई इतना हो जाने पर भी जब माँ की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई, तो मेरी हिम्मत बढ़ गई. वह अपने कपड़े वापस पहनने के लिए बढ़ी लेकिन जॉयश ने मंगल को बोल कर उसके कपड़े एक तरफ रखवा दिए और कहा- आपने ऐसे ही रहना है आज!सब औरतें खिलखिला कर हंसने लगी और फिर उसके बाद बारी बारी से सब अपने कपड़े उतारने लगी.

मेरा लंड पूरे परवान पर था, क्योंकि इसका ज़रीना की प्यासी जवानी चखने का सपना जो पूरा होने वाला था.

सिल पेक सेकसी विडियो

शायद आंटी के दिल में भी मुझसे चुदने की इच्छा थी, पर वो कह नहीं पा रही थीं. दोस्त मैं आपको एक बात बताना भूल गया कि आंटी की उम्र 45 साल की रही होगी लेकिन वो देखने में 30-32 से ज्यादा की नहीं लग रही थीं. अगर आपकी बहन आपसे कुछ इंकार भी करे, तो मान लेना क्योंकि उन्हें इन सबकी आदत नहीं होती है.

मैंने उससे कहा- ऐसा क्या है मोनिषा आंटी में … जो तू उसे चोदना चाहता है?उसने कहा- भाई इस टाइम मोनिषा को देखा है तूने … कितनी हॉट और सेक्सी हो रही हैं. सबके हाथ बरबस अपनी अपनी चूत पर चले गए और सब अपनी चूत और बूब्स को सहलाने लगी और एकता और मंगल की अश्लीलता और उत्तेजना से भरी हुई चुदाई देख रही थी. रागिनी- अभी तक कितनी लड़कियों के साथ किया है?मैं- बहुत सारी … कुछ शादीशुदा थीं, कुछ सिंगल, कुछ विधवा … पर ज़्यादातर शादी शुदा ही मेरे साथ रहीं.

मुझे उसके मम्मों को चूसने में बड़ा ही मजा आ रहा था क्योंकि मैं पहली बार उसके मम्मों को चूस रहा था.

मैंने पूछा- कहां पर?तो वे थोड़ा रुक गए, फिर आंखें नीची करके बोले- प्राईवेट पार्ट में. इसके बाद सोमेश भैया 6 महीने तक दीदी को रोज़ जिम के जब चाहे एक-दो घन्टे तक रोक लेते और मुझे जाने के की कह देते. चूंकि मुझे भी नशा हो गया था, तो मैंने उस पंजाबी लड़की को किस कर दिया.

हम मोसी भानजा ने उस रात में तीन बार चुदाई की और फिर सो गए।सुबह जब हम उठे तो नाश्ता करने के बाद हम नहाने चले गए जहाँ हमने नंगे होकर एक बार चुदाई की।इस तरह मैं अब करीब करीब रोज ही अपनी मोसी की चुदाई करता हूँ।दोस्तो आशा करता हूँ कि आप लोगो को मेरी मोसी की चुदाई की कहानी पसन्द आयी होगी।धन्यवाद।[emailprotected]. वे एक डेढ़ घंटे पहले ही अनिल की मार चुके थे अतः थके हुए थे, जल्दी ही हांफने लगे. फिर उन्होंने फोन काटा और मेरे से बोलीं- कैसा लगा मेरी गांड का स्वाद?मैंने बताया- आंटी बहुत अच्छा लगा, मैं तो हमेशा आपकी गांड के नीचे रहना चाहता हूं.

मेरी कजिन सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने चाचा की हॉट जवान बेटी की कुंवारी बुर की चुदाई की. मम्मी पापा दोनों एक साथ ड्रिंक करते थे और मेरी मॉम पापा के साथ सिगरेट आदि भी पीती रहती थीं.

उसने हाथ को वापस खींचना चाहा लेकिन मैंने उसके हाथ को अपने लंड पर चलवाना शुरू कर दिया. फिर एकदम से मेरा कंट्रोल छूट गया और मैंने भाभी के मुंह को अपने माल से भर दिया. उसे बेइन्तहा मज़ा आने लगा था और वो मेरे सर को पकड़ कर चूत की तरफ धकेलने लगी.

तो दोस्तो, अब पहली किटी पार्टी से शुरू होते होते यह आगे कहाँ तक पहुँची, ये बहुत ही दिलचस्प कामुक और उत्तेज़क वाकया है जो मेरी वाइफ ने मुझे बताया.

छिपते छिपाते हुए मैं चुपके से उन दोनों की करतूत की वीडियो बनाने लगा. आपने अब तक इस गांडू कहानी के प्रथम भागगांडू मास्टर साहब और दो चेले-1में पढ़ा कि मास्टर साहब के लंड और उनके दो शिकारों की छिली हुई गांड का इलाज करने के बाद मास्टर साहब मुझे फुसला रहे थे कि किसी तरह से मेरा अहसान उन पर से उतर जाए. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:प्रिंसीपल मैडम के साथ कार सेक्स-2.

मैं वाशबेसिन पर झुका था, वे मेरे चूतड़ सहलाने लगे, बोले- यार तू क्या मस्त चीज है. काफी देर हो चुकी थी और सुरेश के लिंग से पतली पानी की तरह बूंदें बार बार आने लगी थीं.

फिर अपना लंड दस्तूर की चूत के छोटे से छेद पर रख कर एक ज़ोर सा झटका दे मारा. मैंने पूछा- क्या हुआ?पूर्वी बोली- मेरे बदन में हल्की सी गुदगुदी हो रही है. उसने मेरे रस को पी लिया और मेरे होंठों से अपने होंठों को पौंछ दिया.

नेपाली स्टेटस

जब उसकी थैली पूरी खाली हो गयी, तो वो मेरे ऊपर से लुढ़क कर नीचे गिर गया.

उस टाइम तक उसकी चूत पूरी गीली हो चुकी थी और पच पच की आवाज़ भी आने लगी थी. प्रमिला आंटी की चुत थोड़ी काली थी तथा उनकी चुत के लिप्स खुले हुए थे. कुछ देर इसी पोजीशन में चोदने के बाद मैंने उसको सीधी किया और स्लैब पर बैठा दिया.

अब मुझे अपनी चूत पर उसकी जीभ की जगह उसका पूरा मुँह महसूस हो रहा था. इस मामी सेक्स स्टोरी हिंदी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी चाची की भाभी यानि मेरी मामी को चोदा. తెలుగు బ్లూ ఫిలిమ్స్मेरी गोद में आते ही हम दोनों के होंठ एक दूसरे के मुंह से कोल्ड ड्रिंक का मिठास चूसने लगे.

यह मेरी पहली कहानी है अगर कोई गलती हो मुझसे … तो आप मुझे माफ़ कर देना, यह कहानी बिल्कुल सच्ची है. सोनू को पढ़ाने के बारे में सोचते ही मेरा मन उसके सेक्सी बदन के सपने देखने लगा और मैंने तुरंत हां कर दी.

मैं और भी जोश में आ गया और जोर जोर से मोनिषा आंटी की चूत को चूसने लगा. उसके बाद मामा से जब रहा न गया तो उन्होंने उनकी चूत से जीभ को हटा लिया और अपना कच्छा निकाल दिया. वो मुझ पर गुस्सा होने लगीं कि किसी और कि निजी सामग्री तुम्हें नहीं देखनी और लेनी चाहिए.

मोनिषा आंटी ने जब उसका लंड देखा, तो लंड देखते ही उसको अपने मुँह में लेकर चूसने लगीं. मोनिषा आंटी पागल हो गईं और मेरे सर को पकड़ कर अपनी चूत की तरफ दबाने लगीं. सरस्वती- इतना समय था भी कि चोपा देती और लेती?चोपा का यहां मतलब था मुखमैथुन यानि लिंग और योनि को मुँह से सुख प्रदान करना.

उसने मेरी मॉम के मुँह में लंड डाल दिया और मेरी मॉम एक रंडी की तरह अनिल का लंड चूसने लगीं.

उस दिन जब मैं बहू के मायके के शहर में पहुंचा तो उसके घर वाले स्टेशन पर उसको छोड़ने के लिए आये हुए थे क्योंकि वापिसी की ट्रेन आधे घण्टे बाद की ही थी. अबकी बार वो बोली- क्या इरादा है तुम्हारा?मैं बोला- मैं कुछ समझा नहीं.

मैंने फिर शरारती अंदाज़ में बोला- मेरे पास एक तरकीब है, जिससे दोनों की समस्या हल हो सकती है. मैंने उसे बाथरूम के फर्श पर ही लिटा दिया और उसके गालों को चूसने लगा. मैंने कहा- वो तो ठीक है … लेकिन मेरी मॉम की गांड मारने के बाद तुम वहां से क्यों चले गए थे?वो बोला- मैं जानता था कि तुम आने वाले हो, इसीलिए चला आया.

ज्योति मेरे बालों में अपना हाथ फिरा रही थी और मेरे मुँह को अपने स्तनों पर जोर-जोर से दबा रही थी. जब माँ अपनी नाईटी उठा कर दूध निकालने बैठतीं, तो उनकी कसी हुई नाईटी में उनके बैठने पर जिस्म की बड़ी गोल आकृति बनती. मेरा लंड एकदम फौलादी और कठोर है, जिसने अभी तक कई हसीनों को पानी पिलाया है.

हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई आह्ह … स्सस … उफ्फ … ओह्ह … करते हुए मैं मामी के मुंह में लंड को पेलने लगा. मैंने पूछा- मैडम घर पर कोई नहीं है क्या?मैडम ने कहा- हां … घर पर तो कोई भी नहीं है.

बुलु पिचार

मुझे पहले तो पहचान में नहीं आई मगर फिर जब उसने फोन किया तो उसने अपनी ड्रेस के रंग के बारे में बताया. अफगानी पठान होने के कारण अरमान एक बहुत ही गोरा और लंबे कद वाला लड़का था. ऐसा लग रहा था कि जैसे मैं अपनी चाची के दूध की बनी चाय ही पी रहा होऊं.

हालांकि वो रोज़ मेरी चुदाई करते हैं, पर सोते वक्त सीधा गाउन उठा कर चोदने लगते हैं … लेकिन 5 मिनट में झड़ जाते हैं और मैं अधूरी रह जाती हूं. मैंने सोचा कि बंदा खुद ही मुझे मिलने वाला है तो मैं क्यों कोशिश करूं. पिंक साड़ीसबने पूछा भी सही कि वह ड्रेस क्या होगी? और कौन देगा?तो जॉयश ने जवाब दिया- उसकी जिम्मेदारी मेरी है, आप लोग तो अपने फॉर्मल कपड़ों में ही किटी पार्टी में आना.

फिर संजय मोनिषा आंटी की चूत की तरफ बढ़ा और जोर जोर से उनकी चूत को चूसने लगा.

वो बाइक में मुझसे बिल्कुल सट कर बैठी थी, उसके हाथ मेरी बांहों में लिपटे हुए थे. मेरे दोस्त आयुष ने मुझे धन्यवाद बोला और कहा कि अब इसमे सॉफ्टवेयर भी इनस्टॉल कर दे.

फिर अब जाकर मुझे मौका मिला कि मैं आपको अपने साथ हुई घटना से अवगत करा दूँ. वो बहुत तेज़ रोने लगी और चिल्लाने लगी … पर मैंने इस बार उसकी एक ना सुनी और झटके मारता रहा … वो रोती रही. फिर अपनी योनि की दरार में ऊपर नीचे रगड़ा ताकि मेरी योनि से निकल रहे रस से सुपारे का मुँह गीला और चिकनाई से भर जाए.

मैंने नीचे की तरफ करके मोबाइल की टॉर्च को जलाया और हल्के से देखा कि संध्या कहां है.

उसके बाद साहब ने अपनी जेब से एक 2000 रूपये का नोट निकाला और दिखाते हुए बोले- अगर यह भी चाहिए तो चुपचाप मेरे कमरे में चलो. उसके बाद हम उसने मेरे ब्लाउज को उतार दिया और मेरे चूचों को दबाने लगा. उसने हमारे लिए नाश्ते में आलू का परांठा बनाया था, जो वो साथ टिफ़िन में लाई थी.

मराठी सेक्सी एचडी पिक्चरउसने न तो मेरे हाथ को हटाने की कोशिश की और न ही खुद को पीछे करने की कोशिश की. एक पल चुत की फांकों का जायजा लिया और धीरे से उंगली को चुत के अन्दर डालने लगा.

तेलुगू सेक्सी रोमांस

रतलाम आते ही उसने मुझे वो गिफ्ट मेरी दुकान पर आकर दिया, मैंने भी उसको एक गिफ्ट दिया. वह भी चिल्ला रही थी- भोसड़ी वाले मादरचोद … मेरी चूत को अंदर तक खा लेना! नहीं तो मैं तेरी गांड में डंडा घुसा दूंगी. इससे मॉम के मम्मों पर ढकी तौलिया बार बार मेरे हाथों में फंस रही थी.

अब उसने फिर से लिंग पकड़ कर मेरी योनि की छेद पर टिका कर हल्के हल्के अन्दर धकेलना शुरू किया. आप इससे प्यार से पेश आइएगा और अगर आपने मेरा काम पूरा कर दिया, तो आप जो कहेंगे मैं करूँगा. उधर वो आउट ऑफ कंट्रोल होने लगी … इधर मेरा लंड लोअर में से ही उसकी बुर में घुसने को मरा जा रहा था.

शाम को जब भाभी बच्चों को लेने आईं, तो मैंने उन्हें छत पर आने का इशारा किया. मैं- क्यों तुम्हारी पत्नी कुंवारी नहीं थी क्या, जो इतनी टाइट लग रही थी वो. जब मैं मॉम की पीठ पर तेल लगा रहा था, तब उनके मम्मों तक हाथ ले जाता था.

मेरे मुंह में उसकी चूत के बाल चले गये जिनको मैंने फिर बाहर थूक दिया. फिर जब तक मैं वहां रहा उसने अपनी चूत चुदवाई लेकिन उसने कभी दोबारा चूत की चुदाई में चूत में वीर्य नहीं गिराने दिया.

मैंने कहा- यार सॉफ्टवेयर वाली सीडी मेरे पास नहीं है … तू बाजार से ला दे, तो मैं इनस्टॉल कर दूंगा.

मैंने पूछा- कहां पर?तो वे थोड़ा रुक गए, फिर आंखें नीची करके बोले- प्राईवेट पार्ट में. फोकी फोटोवो बोली- डार्लिंग आपने मुझे इस स्वर्ग में भेजा हो, मुझे ऐसा लग रहा था. ब्रेजा सेक्समेरी आंखें बंद हो गई थीं और मैं ये सोचते हुए मुठ मार रहा था कि प्रीति उस बेड पर मेरे साथ सेक्स कर रही है. मैंने भी लोअर ही पहनी हुई थी इसलिए लंड अलग से तना हुआ दिखने लगा था.

ज्योति मेरे बालों में अपना हाथ फिरा रही थी और मेरे मुँह को अपने स्तनों पर जोर-जोर से दबा रही थी.

अब मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसके एक निप्पल को मुँह में लेकर चूसा और दूसरे को मसला. लाइन में दूसरे सिरे पर खड़ी एकता को इसी तरह उत्तेजक प्यार करने लगा. अन्दर आंटी एक सीट पर बैठ गईं, मैं भी उनका बैग लेकर उनके पीछे पीछे आ गया और मैं भी बैठ गया.

मैं करीबन 5 साल से एक वयस्क साइट की सदस्य हूँ और ये मैंने जाना कि कौमार्य अब कोई मायने नहीं रखता. मैं कंडोम का पैकेट निकाला तो नंगी लड़की विद्या ने मेरे हाथ से कंडोम का पैकेट छीन कर दूर फेंक दिया. कजरी मस्ती से बोल रही थी- आह बाबू आपका बहुत मोटा है … लेकिन थोड़ा जल्दी करो … मेरी चुत अभी रेडी भी नहीं है … पर आपकी खुशी के लिए चुद रही हूँ.

श्रद्धा कपूर नंगी फोटो

हम दोनों भाई बहन अधूरी चुदाई करने के बाद थोड़ी देर यूं ही चिपके हुए लेट कर आराम करते रहे और फिर दुबारा गर्म होने तक एक दूसरे की बांहों में आकर मूवी देखने लगे. उन्होंने ज्यादा मना ना करते हुए बोला- ठीक है कल ऑफिस से घर आकर मैं तुझे कॉल करती हूं, तब तू घर आ जाना. तेल लगा होने की वजह से उसका समूचा लंड एकता की चूत में गहराई तक घुस गया और उसके मुंह से महा उत्तेजक चीख निकली- उम्म्ह… अहह… हय… याह…लेकिन साफ पता पड़ रहा था कि उसे जन्नत मिल गई थी.

मैंने पूछा- पहले कभी चुदी हो?उसने कहा कि नहीं … चाहा तो बहुत से लड़कों ने था, लेकिन इज़्ज़त की वजह से और घर में पता न चल जाए, इस वजह कभी नहीं चुदी.

एक दिन मैंने उसकी सहेली हुमा से पूछा- ये सुशी इतनी मुस्कुराती क्यों है?तो वो बोली- सुशी आपको पसन्द करती है.

कुछ देर के बाद उर्वशी किचन के अंदर से चाय के दो कप ट्रे में लेकर वापस आई. वैसे मैंने कभी अपने दोस्त की माँ के बारे में ऐसे विचार नहीं सोचे थे … मगर एक दिन मैं अपने दोस्त के घर गया और मैंने घर पर मेरे दोस्त को आवाज दी. इंग्लिश पिक्चर सेक्सी वालीउनकी भी नजर मेरे पर पड़ी और वे मुझे देख कर न जाने क्यों मुस्कुरा दीं.

वहां की प्रिंसिपल को देख पहले दिन से ही मेरे मन में उसकी चुदाई के अरमान मचलने लगे थे. मैंने कई मिनट तक उसके लंड को चूसा तो उसने मुझे हटा दिया और फिर नीचे फर्श पर गिरा लिया. मेरा लंड बड़ा और मोटा था, जिस वजह से मुझे लग रहा था कि ये दोनों नहीं तो एक तो मान ही जाएगी.

फिर मैंने उसकी सहेली से दोस्ती की और उसके साथ सोनम को पार्क में बुलाया. मैंने उसके कंधे पर अपना सिर रखा और दोनों हाथ पीछे ले जाकर कपड़े खोलने लगा.

आंटी कह रही थीं- आह जोर से चोदो … और जोर से चोदो … मजा आ गया … उम्म्ह … अहह … हय … ओह … ऐसे ही चोदते रहो.

मैं अब पूरी तरह संभोग के लिए तैयार हो चुकी थी और इधर सुरेश भी तैयार होकर लिंग से फुंफकार मार रहा था. इसके बाद धीरे धीरे मैं उनके गले को चूमते हुए मम्मों को गाउन के ऊपर से ही चूसने लगा. उसने मेरी मॉम के मुँह में लंड डाल दिया और मेरी मॉम एक रंडी की तरह अनिल का लंड चूसने लगीं.

বেঙ্গলি এক্স शादी से पहले और शादी के बाद भी मैंने बहुत सी औरतों और लड़कियों की जवानी का रस पिया है. मामी ने बिना कहे ही मेरे लंड को मुंह में भर लिया और मस्ती से मेरे मोटे लौड़े को चूसने लगी.

धक्का इतना जोर से था कि उसकी चीख निकल गयी ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह …’मैं डर गया कि कोई सुन ना ले … फिर मैंने उसके लिप्स को अपने लिप्स में दबाते हुए जोर से लिप्स को काटा ताकि वो होंठों के दर्द के अहसास में खो जाए और बुर के दर्द दर्द का अहसास न हो. अगर भईया को पता चला कि मैंने किसी और से अपनी कमर की मालिश कराई है, तो बवाल हो जाएगा. एक बात बता दूँ कि अगर एक मजदूर औरत चोदने को मिल जाती है, तो उस ग्रुप की सारी औरतें और लड़कियों की चुत भी कम मेहनत में ही मिल जाती हैं.

सेक्सेक्सेक्स

भाभी इतनी अधिक कमनीय और मस्त दिखती हैं कि उनको देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए. शिफा भी उठ खड़ी हुई और उस तरफ देख कर बोली- साली सीधा कह ना कि उससे चुदवाने को मरी जा रही है, अगर उसका लंड लेना है, तो शादी का इंतज़ार क्यों कर रही है. उसकी नोक से निकलती बूंदें किसी शेर की जीभ से शिकार देख कर टपकने लगती हैं … ऐसे लग रही थीं.

ऐसे खूसट किस्म के गांडुओं ने मेरी गांड कम मारी थी, मुझे उनकी गांड उनके मजे के लिए मारना पड़ी थी. तभी वो मेरी तरफ देख कर मूतने लगा और हंस कर लंड हिलाता हुआ वापस ट्रक में आ गया.

प्रमोद और मेरी बात हो रही थी, तो वो भी बीच में बोलने लगी, उससे भी थोड़ी बात हुई.

बातें करते करते मैडम कभी कभी मज़ाक में हंसते हंसते मुझे धौल मार देतीं … और कभी धक्का देतीं. पर कभी सोचा नहीं था कि प्रमिला आंटी भी मुझे इतनी मोहब्बत करेगी।मैं उनके ख्यालों में ही था कि प्रमिला आंटी मेरे रूम में आ गयी और मेरी रजाई में आ गई और मुझसे लिपट गयी. अब वो जब भी मेरे घर आता है, तो हम दोनों भाई बहन की चुदाई का मजा लेते हैं.

वो मुझ पर चिल्लाते हुए बोली- क्या कर रहे हो? तुम्हें हो क्या गया है? अब ठीक से गाड़ी चलाना भी भूल गये क्या?मैंने अपनी लार को अपने अंदर गटका और दोबारा से गाड़ी स्टार्ट की. कोई पांच मिनट बाद मैंने कहा- मेरा छूटने वाला है रेनू … मैं क्या करूं?भाभी बोली- चिंता मत करो मेरे राजा … मेरी चूत में ही अपना माल निकाल दो. जब मैं उसकी चुत में उंगली डालने लगा, तो उसने अचानक मेरा हाथ पकड़ लिया.

साथ ही आपसे कहना चाहता हूं कि थोड़ा समय निकाल कर कहानी पर अपना फीडबैक भी दें.

हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी चुदाई: मगर यहां पर एक बात यह भी थी कि भाभी को नहीं पता था कि मैं उठ गया हूं. मैंने कहा- सॉरी यार … तुम बहुत चेंज हो गयी हो, इसलिए नहीं पहचान पा रहा था.

हालांकि वो रोज़ मेरी चुदाई करते हैं, पर सोते वक्त सीधा गाउन उठा कर चोदने लगते हैं … लेकिन 5 मिनट में झड़ जाते हैं और मैं अधूरी रह जाती हूं. जैसे ही सोनम की चुत का रस झड़ा, मैंने अपनी जीभ से सड़ाके मार मार कर उसकी चुत का सारा रस पी लिया. तब राजशेखर ने मुझसे कहा- जब तक निर्मला मुझे तैयार करती है, मुझे अपना दूध पिलाओ.

घर के काम में उलझी रहती हूं इसलिए अन्तर्वासना पर नई कहानी लिखने का समय नहीं मिल पाया था.

मैं भी आपको पहले दिन से चोदने की फिराक में था लेकिन कभी कहने की हिम्मत नहीं हुई. फिर मैंने सोचा कि जो होगा देखा जाएगा … मान गईं तो ठीक, नहीं तो सालियों के सामने ही मुट्ठ मार लूँगा. मैं अपने लंड को सहलाते हुए कजरी के ख्यालों में खो गया कि आज अगर बात बन गई, तो कजरी की कजरारी चुत के दीदार हो जाएंगे और उसे चोदने में अलग ही मज़ा आएगा.