हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ गुजरात

तस्वीर का शीर्षक ,

मुस्लिम गर्ल बीएफ: हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो, मैं बड़े प्यार से उसके दोनों होंठों को अपने होंठों के बीच में रखकर चूसने लगा.

बाथरूम करती हुई लड़की की वीडियो

तुम्हारे भैया जान गए कि उसके भाई ने ऐसी हरकत की है … तब क्या होगा, जानते भी हो? मैं तुम्हारे भैया से कह दूंगी. चूत की चुदाई मस्तमैंने एक एक करके सारे बटन खोल दिए और टॉप को उसके बोबों के आगे से हटा दिया.

अर्शिया अपने मुँह से एकदम धीमी आवाज में कामुक सिसकारियां निकाल रही थी- आअह्ह् … आआअ ह्ह्ह … भैया आराम से करो … आअ ह्ह्हह. सनी लियोन की सेक्सी हिंदी वीडियोदो दिन बाद की बात है, मैं अपने रूम में खाना खाने के बाद लेटकर चुदाई की कहानी पढ़कर अपने लौड़े को सहला रहा था.

करीब 3 मिनट के बाद मुझे महसूस हुआ कि उसके मुंह से दर्द की सिसकारियां कम होने लगी थीं.हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो: लगभग 30 मिनट बाद उसका मैसेज आया- सो गई?मैंने जवाब दिया- नहीं, नींद ही नहीं आ रही है.

वो अंकल का पूरा लंड अपनी चुत में अन्दर तक लेने की कोशिश कर रही थीं.फिर मेरे मुँह के तरफ अपना मुँह करके लंड में अपनी गांड रखकर बैठ गई और मेरा खड़ा लंड सरकता हुआ उसकी गांड के अन्दर चला गया.

बीएफ नंबर - हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो

नन्दिनी मेरे लंड के ऊपर अपनी मस्त गोल गांड उछाल रही थी और मैं उसकी गांड को अपने दोनों हाथों से मसल रहा था और चांटे मार रहा था.एक दिन पढ़ाते समय उसकी मां आई और वो अपनी बेटी से बोलीं कि तेरी सहेली आई है, जाकर मिल आ.

अब हमारे बीच सिर्फ सेक्स होना बाकी रह गया था जो कि हमारे रिलेशन में कभी भी हो सकता था. हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो दुकान क्या एक काफी बड़ा अहाता था, जिसके अलग अलग कमरों में अलग अलग आइटम का भण्डार था.

मैंने फोन अपने दाएं हाथ में पकड़ा और अपना बायां हाथ नीचे घुसाकर उसकी जांघ पर टिका दिया.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो?

उसकी गर्म सांसों ने जैसे ही मेरी चूत को छुआ, मेरा तो बहुत बुरा हाल हो गया था. रास्ते में मुझे शरारत सूझी तो मैंने लंबा और सुनसान रास्ता ले लिया और जानबूझ कर ब्रेक ले-लेकर बाइक चलाने लगा. कुछ देर बाद मैडम ने आंखें खोलीं और मेरे सर पर हाथ फेरते हुए बोलीं- अब हटो … मुझे सुसु जाना है.

बाथरूम से जब मैं बाहर आया था तो मैंने बिना अंडरवियर पहने ही पजामा पहना था. उत्तेजना के चरम उल्लास में शीना की योनि रस से डूबे, मेरे लंड ने स्पीड और बढ़ा दी. मैंने अपने ऑफिस से आधा दिन की छुट्टी ले ली और फ़ौरन ही मौसी के घर पहुंच गया.

हमारे होंठ एक बार फिर एक दूसरे से जुड़ गए और इस बार मैंने अपनी जीभ को उसके मुंह में डाल दिया. ये गति इतनी सूक्ष्म और बस की गति के अनुकूल थी कि मुझे नहीं लगता, किसी ने इसे नोटिस किया होगा. पति की आमदनी से बस किसी तरह से घर चल ही पाता था, कभी मौज मस्ती या शौक पूरे नहीं हो पाते थे.

अब से दो साल पहले मेरे पति को उसके ऑफिस से उसके ट्रांसफर की खबर मिली. तभी मैंने देखा तो पाया कि मेरे कमरे का दरवाजा हवा से कुछ इस तरह खुल गया जिससे मुझे बाहर हॉल का नजारा साफ दिखने लगा.

कुछ साल पहले मेरे साथ एक रोमांटिक घटना हुई थी, जिसे मैं यहां गांड फाड़ चुदाई कहानी में लिखने जा रहा हूँ.

तब भी लता को बहुत बहुत धन्यवाद, जो उसने मुझे इस तरह के आनन्द की अनुभूति करायी.

ऐसी ही नजरों से मन की बात करते हुए बुआ की लड़की की शादी कब हो गई, पता ही नहीं चला. फिर ऐसे ही हमारी रोज बात होने लगीं, इस तरह मेरी मुंतजिर से दोस्ती हो गयी थी. तभी उन्होंने मेरा हाथ अपने मम्मों पर रख दिए और एक पल के लिए होंठ हटा कर बोलीं- ये बहुत पसंद हैं न आपको … आज से आपके हुए.

अब जब भी क्लास में टीचर नहीं होते तो मैं उसकी गोद में ही बैठ जाती थी और उसके हाथ की उंगलियां मेरी चुत के छेद में अन्दर बाहर होती रहती थीं. उसने- तुम्हारे बच्चे क्यों नहीं हैं?मैं- जी, मैं माँ नहीं बन सकती हूँ इसलिए. मैंने देखा कि इनबॉक्स में उसके सीनियर गमन के साथ उसकी चैट रोज़ होती थी और उस चैट में वो दोनों ‘आई लव यू’ भी लिखते थे.

वो बोल रही थी- सागर जी, लाइफ में पहली बार ऐसी चुदी हूँ और इतना बड़ा लंड देखा है.

किसी का भी ज्यादा ध्यान ना देने का प्रमुख कारण हम दोनों का उम्र अंतराल भी था. दस मिनट बाद मैंने उसे उठाकर लंड पर बैठा दिया और नीचे से गांड उठा कर उसकी चूत को चोदने लगा. बस में भीड़ देखकर एक पल के लिए तो मैं घबरा गई, पर ये आखिरी बस थी तो जैसे तैसे मुझे जाना ही था … नहीं तो फिर अपना पर्सनल ऑटो करके जाना पड़ता, जो कि इस ढलती शाम में मुझे ज्यादा सुरक्षित महसूस नहीं हो रहा था.

फिर हम दोनों ने नंगे ही किचन में जाकर खाना गर्म किया और उसे वापस अपनी गोदी में बिठाकर मैं उसे खाना खिलाने लगा. पूरी तरह से दुल्हन जैसी सजने के बाद मैंने अपने आपको शीशे में देखा तो वाकयी मैं किसी हूर से कम नहीं लग रही थी. दोस्तों के साथ टाइम का पता ही नहीं चलता!तब उन्होंने मुझे गुस्से से देखा और बोली- आज के बाद तुम मुझे चाची कभी नहीं कहोगे.

मैंने मेरी चारों उंगलियां अब अर्शिया की चड्डी में डाल दी थीं और उसकी चुत को सहला रहा था.

मैंने धीरे से बुदबुदाते हुए कहा- ऐसी महक लगाने से तो मन करता है कि गुलनिहाल … मैं तुझे खा ही जाऊं. किसी का भी ज्यादा ध्यान ना देने का प्रमुख कारण हम दोनों का उम्र अंतराल भी था.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो इस बीच मेरी चाची एक बार झड़ चुकी थी; उनकी चूत और मेरे लंड की टकराहट से चप चप की आवाज आना शुरू हो गई थी. साथ ही उन दोनों का लड़का गोगी को भी मैंने इस सेक्स कहानी में एक रोल दिया है.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो उसकी मदमाती चूचियों और हिलती हुई गांड को देख कर मेरा लंड खुद भी कई बार पानी पानी हो चुका है. मैं सोचने लगा कि अब तो बीवी साहिबा के साथ बोर हो चुका हूं, अब मजा तो इसी की मारने में आएगा.

उसका लंड सात इंच का एकदम कड़क हो चुका था और वो किसी भी तरह से अपनी बीवी रोशन को चोदने की फिराक में था.

बीएफ साउथ का

जहां जहां उनके होंठ मुझे छू रहे थे, वहां मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे वहां के मेरे रोंगटें खड़े हो रहे हों. अब मैंने भी उसको लिटा कर करीब 20 मिनट उसकी चूत को चूस चूस कर उसका पानी निकाल दिया. अब आगे पड़ोसन Xxx कहानी:सरिता भाभी की जिन्दगी में रोमी, सोनू और दूध वाले की तरह एक एक करके कई मर्द आते रहे और सरिता भाभी की चुत लंड लेती रही.

मुझे वक़्त का भी अंदाज़ा नहीं कि कितनी देर तक मैं वैसे ही राजीव से चुदती रही. अब्बू ने अपने कुर्ते से अपना लण्ड पोंछा और फिर से मेरी बुर पर रखा, मेरी चूचियों को मुँह में लिया और धीरे धीरे लण्ड को अन्दर धकेलने लगे. मेरी मौसेरी बहन अर्शिया की चूचियों को देख कर उसकी ब्रा का साइज 30 इंच का तो पक्का होगा.

सक्सेना मेरी जवानी को घूरता हुआ बोला- सब ठीक से इंटरव्यू लिया ना … और इसे सब बता दिया था!मैनेजर बोला- जी साहब.

उसके साथ मैंने कैसे मजा लिया?दोस्तो, मेरा नाम रिंकी है, मैं 23 साल का हूं और मैं मध्यप्रदेश का निवासी हूं. पहले तो मैंने छूटने की कोशिश की लेकिन फिर मुझे अच्छा लगने लगा, मेरी बुर में चींटियां रेंगने लगी थीं. मॉम ने मेरे लन्ड पर हाथ रखा और सुपारे पर जीभ फेरने लगी और मेरा लौड़ा गपक लिया.

उसकी आंखें लाल हो गई थीं और वो किसी रंडी की तरह मेरा लंड चूस कर मुझे मदहोश करती जा रही थी. वो देसी हॉट गर्ल दिल्ली की जरूर थी लेकिन उसने अपनी बुर की ओपनिंग मुझसे ही करवाई थी. मैं कोमल को सहारा देकर अपने कमरे में लेकर आ गया और उसको सोफे पर लिटा दिया.

कुछ ही देर अब मेरा वीर्य बाहर निकलने वाला था तो मैंने बोला- अब कैसे करोगी आप … मेरा माल निकलने वाला है. वो मेरी चूचियों की तरफ देखता हुआ बोला- हां सच में बहुत प्यास लग रही थी.

मैंने अपनी ठरकी नजर से पता कर लिया था कि वह जरूर अपने बोबों से छोटी साइज की ब्रा पहनती होंगी. मैं- क्या हुआ, क्या देख लिया?सुशी जी- मां और पापा चुदाई कर रहे थे … मां पापा के लंड को चूस रही थीं. मजा तो मुझे भी उतना ही आ रहा था लेकिन मन में एक डर भी था कि कहीं किसी समय उसके घरवाले ही न टपक जायें.

अब वो अपनी टांगें चौड़ी करके मेरे सामने लेट गई और बोली- ये आज सिर्फ तुम्हारी ही है.

मैं तड़फ उठी थी और चीखने ही वाली थी कि नरेंद्र ने अपने होंठों का ढक्कन मेरे होंठों पर कस दिया. मैंने अपनी चड्डी और कैपरी भी खोल दी और अर्शिया के पैरों के बीच बैठ कर अर्शिया की चुत पर लंड को रगड़ने लगा. मैंने एक हाथ ऊपर ले जाकर उसके एक निप्पल को अपने अंगूठे और उंगली के बीच में पकड़ लिया और दबाने लगा.

उसने अपने दोनों पैर मेरे चूतड़ों से लपेट दिए और चुत में लंड लेने लगी. वो अपने हाथ से मेरे सर को पकड़ कर मुझे अपनी चुत पर दबाने लगी और चुत चाटने का इशारा देने लगी.

इस बार मैं लेट गया और आंटी को अपने मुँह पर बिठा लिया जिससे उनकी पूरी चुत मेरे मुँह पर लग गई. जब मैं कमरे से बाहर निकला तो देखा बैठक में रंगोली झुककर झाड़ू लगा रही थी. मैंने सिगरेट जलाई और उसका स्मोक मैं लेकर किस करते करते उसको दे देता था.

हिंदी सेक्सी बीएफ साड़ी

सुबह के 10 बजे अपने घर से निकल कर मैं अपनी एक परिचित की दुकान पर गया और उधर से सामान लेकर मैं मुंतज़िर के घर पर आ पहुंचा.

ये बात आप खुद सोचिये कि एक खुले ब्लाउज में से कोई रांड किस्म की औरत अपने दूध किसी मर्द के चेहरे के करीब लाकर दिखाएगी तो उस मर्द का लंड खड़ा क्यों नहीं होगा. पहले दिन मैंने उससे पूछा कि तुमने क्या पहना है?वो बोली- इस समय मैं एक नाइटी पहनी हूँ. मैं उसके लंड पर एकदम से झपट पड़ी और उसके लंड के सुपारे की चमड़ी को पीछे करती हुई उसके लाल सुपारे को सूंघने लगी.

कभी क्रिकेट का कोई मैच होता, तो किरणदीप और सुरजीत भी आते थे और हम चारों मिलकर मैच का आनन्द उठाते थे. मैं तो डर ही गया और कमरे में जाकर जल्दी से मैंने उन्हें मैसेज किया कि मैं 5:30 बजे तक आपके घर आ जाऊंगा. भाभी और देवर का सेक्स बीएफउम्मीद है कि आपको लेस्बियन गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी में मजा आया होगा.

” सोढ़ी ने ऐसा बोलते हुए फिर से रोशन को सोफे पर कुहनियों बल पर झुका दिया और खुद घुटनों के बल बैठ कर रोशन की चूत चाटने लगा. वह मुस्कुराने की इमोजी के साथ बोले- मेरे साथ दो और लोग भी आएंगे, जो तुम्हारे पापा के दोस्त हैं.

पिछले भागभाई के दोस्त को जिस्म दिखा कर पटायामें अब तक आपने पढ़ा था कि अंकल मेरी जवानी का मजा लेने के लिए व्याकुल हुए जा रहे थे और मैं उन्हें परेशान होती हुई खुश हो रही थी. 2 मिनट बाद भाभी आयी तो मैं उनसे नजर चुरा के ड्राइविंग सीट पे बैठ गया. हम दोनों लगभग रोज़ रात को घंटों फ़ोन पर बात करते थे और कभी कभी हम फोन सेक्स की किया करते थे.

मैंने अन्वेषी भाभी को बेड पर चित लिटा दिया और चूत पर थोड़ी देर तक लंड फिराया. मैंने बुआ का ब्लाउज खोल दिया और उनकी 36 साइज की चूचियां खोल कर हाथ से सहलाने लगा. हाउस मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं घर में अकेला था और अपनी गर्लफ्रेंड को बुलाने की सोच रहा था.

उसने कहा- क्यों?मैंने कहा- अंदर डालूँगा तो कंडोम अलग कर ही डालूँगा.

न सब के बीच में पता नहीं कब मेरा हाथ रमा की साड़ी में चला गया और मैं पैंटी के ऊपर से ही उनकी चूत पर हाथ फेरने लगा. मुझे लगा शायद किसी ने देख लिया होगा, पर फिर उसने धीरे से अपनी गांड को मेरी तरफ किया.

आज पहली बार मुझे एक साथ दो सुंदर लड़कियों की चूत चोदने का मौका मिल रहा था. ऐसा दस मिनट तक होने के बाद राजू ने मेरी बीवी के मुँह में पानी छोड़ दिया. कार्तिकेय ने मुझे उसी पल अपनी बांहों में भर लिया और हम दोनों अपनी चुदाई की आग बुझाने के लिए एक दूसरे पर एकदम से झपट पड़े.

डाइवोर्सी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोस्ती एक तलाकशुदा लड़की से हुई. करीब पांच मिनट बाद उसने अपना पानी गिरा दिया और मेरा लंड उसकी चुत से बाहर आ गया. शायद मेरा बेटा भी अपनी मम्मी की इतनी कड़क लाइव ब्लूफिल्म देखकर मस्त था.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो मैंने उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन उनके उस दोस्त ने मुझे बेड की तरफ धक्का दे दिया और मेरी गर्दन पर किस करने लगा. इतनी मेहनत के बाद मैं थोड़ा ज्यादा हैंडसम हो जाता हूँ … इतना तो मुझे पता था पर मैं चाहता था कि कोमल भी मेरी हैंडसमनैस को नोटिस करे … तो थोड़ा ज्यादा मेहनत करके तैयार हुआ.

हिंदी में जीजा साली की बीएफ

लॉकडाउन में मैं अपनी सेक्सी हॉट वाइफ की खूब चुदाई करता था। एक दिन मेरे दोस्त ने हमें सेक्स करते नंगे देख लिया। मैंने अपनी बीवी से पूछा कि वो मेरे दोस्त से चुदेगी?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम अनिल है। मैं चंडीगढ़ का रहने वाला हूँ।मैं आज अपनी सेक्सी हॉट वाइफ की चुदाई की कहानी लिख रहा हूँ. मैंने आंटी के होंठ चूसते चूसते अपनी जींस और जॉकी उतार दी और आंटी का हाथ अपने लण्ड पर रख दिया. वो सोढ़ी के सीने पर अपना सर रखकर कभी सोढ़ी की छाती की घुंडियों से खेलने लगती तो कभी उसकी छाती के बालों से खेल रही थी.

इस बात पर उन्होंने शर्माने वाली स्माइल पास करते हुए थैंक्स बोल दिया. पिछले भागभाई के दोस्त को जिस्म दिखा कर पटायामें अब तक आपने पढ़ा था कि अंकल मेरी जवानी का मजा लेने के लिए व्याकुल हुए जा रहे थे और मैं उन्हें परेशान होती हुई खुश हो रही थी. छक्कों का बीएफबातों बातों में उन्होंने मुझसे पूछा कि शरद के तबादले के बाद तुम अपने आपको कैसे संभाल रही हो?मैंने उन्हें अपनी सारी बातें बेझिझक बता दीं.

वो मेरे लंड पर ऐसे उल्टी टंग गई, जैसे उसकी गांड में खूंटा पर टांग दी हो.

उधर अन्दर हॉल में किसी शूटिंग का सैट लगाया हुआ था; एक कैमरा मैन और डायरेक्टर के अलावा दो और लोग थे. रूम तो बन्द था तो मैंने खिड़की से देखा तो मां और पापा एक नंगे होकर एक दूसरे के ऊपर हो रहे थे.

मुझे दिल्ली में 10 दिन रुकना पड़ा, तो मैंने सोचा कि मैं थोड़ा घूम भी लेता हूं. लेकिन असली जिगोलो क्लब ढूंढ़ने के चक्कर में मेरे काफी पैसे और समय बर्बाद हो गए. मैंने उसको समझा दिया कि तुम्हारी तन की प्यास मैं बुझाता रहूंगा और धन के लिए तुम अपने पति को अपने साथ बनाए रखो.

मुझे उम्मीद है कि ये स्लीपिंग सिस्टर सेक्स कहानी आपको काफी पसंद आएगी.

पहले जो चूत की तितलियां अन्दर थीं, वो लाल होकर बाहर आ गयी थीं और अन्दर का छेद एकदम से फैल कर बड़ा होकर एकदम कत्थई लाल हो चुका था. मैंने महसूस किया कि वो अंडरवियर नहीं पहने हुए थे चूंकि अभी नहा कर आए थे. जब दर्द कम हुआ तो वो बोली- राज, तुम मस्त चोदते हो … और तेज़ करो।मैं जोश में आ गया और उसको घोड़ी बनाया और पीछे से ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा।अब समारा की आवाज पूरे कमरे में गूंजने लगी थी और मैं तेज़ तेज़ चोदने लगा.

हिंदी सेक्सी चोदाचुत के लिसलिसे पानी से लंड चुत में सटासट चलने लगा और कुछ दसेक मिनट बाद मैं भी उसकी चुत में झड़ गया. हमारी टीचर ने बुक के लिए बोला तो मैंने अपनी एक बुक उसकी तरफ सरका दी.

गाने वाली बीएफ सेक्सी

जिससे शीना की गीली चूत ने फच्च फच्च फक्च फचाक की आवाज से चुदना चालू कर दिया था. उन्होंने अपने सवाल का जवाब न पाया तो दुबारा टोका- आप कौन!मैंने सकपकाते हुए अपने होश ठीक किए और उन्हें अपना परिचय दिया कि मैं फरमान हूँ … आपका फोन आया था. मैंने वहीं पर अपना लंड निकाल लिया और उसकी जांघों और बूब्स के उभार को देखते हुए मुठ मारने लगा.

चार दिन बाद मेरे घर से सबको फिर से बाहर जाना था, उस दिन फिर से मैंने जुगाड़ लगाया कि मैं घर पर ही रुक जाऊं और दिन भर आशीष का लंड चुत में लूं. मैंने रानी को एक बार फिर से अपनी बांहों में उठाने के लिए अपनी बांहें खोल दीं- अगर मैडम की इजाजत हो, तो मैं उठा लूं. मैंने जल्दी से लंड निकाला और उसकी ब्रा में उसकी चूचियों का नजारा याद करके मुठ मारने लगा.

फिर अचानक मैंने महसूस किया कि उन दो हाथों के अलावा मेरे बदन पर दो हाथ और चल रहे थे, जो शायद मेरे जिस्म को मसल रहे थे. कुछ मिनट चूत चूसने के बाद मैंने उठकर लोअर उतारा और उनसे कहा कि अब आप लॉलीपॉप के मजे लो. दादू चोकर भरने में लग जाते थे और मैं आपकी गोद में बैठ जाती थी, आप मुझे टॉफी खिलाते थे.

मैंने पूछा- तुम्हारा पति इतना बड़ा आदमी है … तो कोई नौकर क्यों नहीं?उसने बोला- तुम आने वाले थे इसलिए मैंने उन सबको छुट्टी दे दी है. वो मेरे दोस्त साहिल से चुदकर एकदम नंगी लेटी थी और उसके साथ सेल्फी ले रही थी.

फिर मैंने पैंटी के ऊपर से ही अपने हाथ दीदी की गांड पर रख दिए और उनकी गांड की मालिश करने लगा; दीदी के मोटे चूतड़ों को खूब दबा दबा कर मालिश की.

मैं लंड के झटके मुँह के अन्दर तक मारने लगा और वो गपागप गपागप चूसने लगी. क्सक्सक्सी सेक्सएक दिन आंटी ने कहा- तुम मेरे बच्चे को ट्यूशन देने लगो तो उसकी पढ़ाई सुधर जाएगी. ડબલ્યુ સેક્સ વીડિયોआशीष का नंगा शरीर और उसका ताकतवर लंड देख कर मैं उसी सोफे पर पेट के बल लेट गयी और आशीष को सामने से पैरों को फैला कर बैठने को बोला. दस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद वो अकड़ने लगी, उसका बदन थरथराने लगा.

मैं समझ चुका था कि ये लंड की भूखी है और इसे एक जवान मोटे लंड की तलाश है.

अब सरोज की रफ्तार कम होने लगी, तो मैंने उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उसके पैरों को मोड़कर चोदने लगा. चूंकि आज हम दोनों दिन भर बहुत घूमे थे और नहाने के समय काफी मस्ती की थी, तो काफी थक गए थे. मैंने उतावलापन दिखाते हुए अपनी कमर ऊपर को उठाते हुए उसके लंड को चुत में लेने की कोशिश की.

मेरे पड़ोस में मेरी एक प्यारी सी लड़की रहती है, जिससे मैं बचपन से प्यार करता आ रहा हूँ … लेकिन उसे अपना प्यार जताने की मेरी कभी हिम्मत नहीं हुई. हम दोनों चुदाई के नशे में डूब गए थे और लंड ने चुत की ताबड़तोड़ चुदाई शुरू कर दी थी. बॉस सेक्रेटरी सेक्स कहानी में पढ़ें कि पति की मौत के बाद गुजारे के लिए मैंने जॉब करनी चाही.

बीएफ चुदाई सुहागरात वाली

फिर उसने कैसे मेरी सीलबंद चूत फाड़ी? आप मजा लें कुंवारी चूत का!हैलो फ्रेंड्स, मैं मानसी रावत अपनी BF GF सेक्स कहानी के पिछले भागक्लास का नया लड़का मुझे भा गयामें आपको अपने ब्वॉयफ्रेंड के संग अपनी बहनों की चुदाई की कहानी में लिख रही थी कि मैं अपने आशिक आशीष के साथ खुलने लगी थी. मैंने उसको कहा- कल तुम विवेक के साथ सेक्स कर लेना तो उसको शक नहीं होगा. तब मम्मी और भाई के जाते ही पापा ने मुझसे हॉल की बड़ी वाली लाइट बन्द करने को बोला.

उधर अन्वेषी भाभी मुझसे अभी चुदने के लिए उतावली हो उठीं थी क्योंकि दो महीनों से भाभी को न अनिकेत ने चोदा था … न किसी अन्य मर्द के लंड ने चुत को टच किया था.

अब जब भाभी मेरे पास खड़ी हुई, तो हमारी नज़रें भी बार बार मिल रही थीं.

क्योंकि मैं बाइक से आया था तो मैं बारिश और हल्की होने का इन्तजार करने लगा या ये कहो मेरे मन में चोर आ गया था. उसने भी मुझे देखा और उसने भी अपने दांतों होंठ दबा कर शर्माने का इशारा कर दिया. बीएफ इंग्लिश में चोदा चोदीइस बार उन्होंने मेरे लंड को हाथ लगाया और पकड़ते हुए बोलीं- ये तो बहुत ही मोटा और कड़क है.

थोड़ी देर तो मैं चुप रहा मगर तभी बाई अपना पिछला हिस्सा ऊपर नीचे करने लगी. साथ ही उन दोनों का लड़का गोगी को भी मैंने इस सेक्स कहानी में एक रोल दिया है. ”रोशन के सामने ही गोगी ने अपने नंगे पेट पर हाथ फिराते हुए बोला जबकि रोशन का ध्यान तो उसके खड़े हुए लंड पर था.

उसके गोरे बड़े मम्मों पर काले काले अंगूर से कड़क निप्पल ऐसे मस्त लग रहे थे, जैसे रस से लबालब भरे हों. मैंने उसे काफ़ी देर लंड पर टांगे रखा और उसे उछाल उछाल कर उसकी गांड मारने लगा.

’‘आप भी तो एक लड़की के साथ ये सब कर रही हैं!’‘नहीं … कुछ बाईसेक्सुअल लोग भी होते हैं, जिन्हें दोनों पसंद होते हैं … लड़का भी और लड़की भी.

उनकी फिर से तेज सीत्कार निकल गई और मुझे जालिम जानवर कह कर वो अपनी गांड उठाने लगीं. उस शाम के लिए मैंने एक बेहद आकर्षक काले रंग की साड़ी पहने का सोचा था और उस पर उसी रंग का एक बेहद ही सुंदर बैकलेस और स्लीवलेस ब्लाउज पहना था. मैं- अरे असीम, शरद कहां है? और ये सब क्या है, किसके बैग्स हैं ये?असीम- मैडम, वो भैया को अभी सुबह ही कॉल आया था कि उन्हें आज शाम को नहीं, अभी ही तुरंत निकलना होगा.

एचडी बीएफ सेक्सी वाला मैंने उसकी चूचियों को खूब चूसा और फिर उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से ही रगड़ने लगा. शरद के बैग्स कार में रखने में मैंने असीम की मदद की और एक आखिरी किस के साथ वो कार में बैठ कर निकल गया.

मैं उनकी दुकान से पारले जी बिस्कुट लेने गया था जो ऊंचाई के ऊपर रखे हुए थे. दोस्तो, गर्लफ्रेंड मॉम रेखा आंटी की चुत चुदाई का मजा कैसे ले सका और साथ में मैं अपनी गर्लफ्रेंड की मामी को रगड़ कर चोद दिया. नाज की चूत शबाना के मुँह पर टिकाकर मैंने शबाना की चूत में अपना लण्ड पेल दिया.

देसी हिंदी बीएफ मूवी

मैंने एक मिनट तक पेशाब की और आखिरी एक एक बूँद निकलने तक ऐसे ही खड़ा रहा. पर डरती थी ये सोच कर कि ज्यादा एडवांस होने से राजू को शक हो जाएगा कि उसे ये सब कैसे मालूम!पर उसकी किस्मत अच्छी थी।राजू ने तो बहुत पॉर्न फ़िल्में देखी थी तो उसने खुद अपना लंड गौरी के मुंह में आहिस्ता से दे दिया।वो सोच रहा था कि गौरी मुंह में लेने को मना कर देगी।पर गौरी ने उसके अनछूए लंड को खूब लोलीपॉप की तरह चूसा. मेरे इतना बोलते ही सुशी जी ने भी सहमति में सर हिला दिया कि आप बात तो ठीक कर रहे हो.

मैंने सलमा के निप्पलों को मसलते हुए पैसेंजर ट्रेन की रफ्तार से अपनी मंजिल की दिशा पकड़ी. अब मैंने भी उसको लिटा कर करीब 20 मिनट उसकी चूत को चूस चूस कर उसका पानी निकाल दिया.

देखिए न आज बादल भी लगे हुए हैं … अगर बारिश हुई तो हम दोनों बारिश का पूरा मज़ा उठाएंगे.

इस बात पर मुझे हंसी आ गई और मैंने भाभी के बोबों पर हल्का सा दबाव डाला, तो उन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और मेरा हाथ अपने दूध पर पूरी ताकत से दबा दिया. एक मिनट बाद ही उसकी कामुक सिसकारियां निकलने लगी और वो अब गर्म आवाजों के साथ बड़बड़ाने लगी- आह इईई … उउहह अऔर तेज करो … संजू मजा आ रहा है … आह और जोर से चोदो … आह आज मेरी बुर को फाड़ ही दो … अआआह. मैंने कहा- क्यों भूख क्यों नहीं लगी?वो बोली- तुमको भूख लगी होगी, चलो मैं पहले तुम्हारे लिए कुछ खाने के लिए लेकर आती हूँ, फिर बात करेंगे.

मुझे भी मौका मिल गया, तो मैंने उसी के सामने अपनी शर्ट का बटन खोल कर उतार दी और वहीं टांग दी. गुलाबी सूट में उसका कमसिन, दूध सा गोरा बदन देखकर मेरा लंड सलामी देने लगा. आगे के कमरे में उनके मां पापा सोते थे, उन तक हमारी आवाज नहीं जाती थी.

नन्दिनी ने भी आह की सीत्कार की मगर अगले ही पल उसने दर्द से भींचे हुए होंठों के साथ मेरे लंड पर अपनी कमर चलानी शुरू कर दी.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ एचडी वीडियो: मैं बोली- अंकल कुछ प्राब्लम तो नहीं हो जाएगी?अंकल जी बोले- कुछ नहीं होगा. तो उन्होंने मुझे समझाया कि ये सामान्य सी बात है कुंवारी लड़कियों की चुत की सील टूटने के कारण ऐसा होता है.

मैं ये सुनकर अपना हाथ उनके ब्लाउज़ के बटन पर ले गया और जैसे ही खोलने लगा. निशा ने तुरन्त ही मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठों को बेतहाशा चूसने लगी. मौसी धीरे से बोलीं- कितना सारा था रे ऋषि … कब से सम्भाल के रखा था!मैंने कहा- आपको देख कर कुछ ज्यादा ही उत्तेजित हो गया था मौसी.

उसकी शादी कहीं और हो गई और मेरी कहीं और … भले ही हमारे बीच अब चुदाई नहीं हो पाती है लेकिन हमारे बीच आज भी प्यार है.

मैं तो बस उनकी ओर देख रही थी कि कितना शांत किस्म का मर्द है ये आदमी … और कोई होता तो अब तक झपट्टा मारकर मेरे जिस्म को नौंचने लगता. एक रविवार हम सब क्लास में बैठ कर पढ़ रहे थे कि अचानक बहुत तेज़ बारिश होने लगी. अधेड़ का हाथ मेरे सामने वाली सीट पर रखे लड़के के हाथ पर पड़ा और उस लड़के ने सीट से हाथ हटा कर अनजान बनने का नाटक करते हुए उस हाथ से कसकर मेरा दायां बोबा मसल दिया.