मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी स्टोरी marathi

तस्वीर का शीर्षक ,

दिल्ली में सेक्सी बीएफ: मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ, हॉट बहू की अन्तर्वासना कहानी में पढ़ें कि जब मैं अपने पति से संतुष्ट नहीं हुई तो मैंने अपने जेठ की तरफ देखा.

सेक्सी बिहारी का

उस एक्टर को देखते ही पब्लिक मानो पागल हो गई और इसी वजह से उस होटल में काफी भीड़ हो गयी थी. उड़ने वाली सेक्सी फिल्मइस समय उसके आउटफिट एक नॉर्मल सलवार कुर्ती में भी गजब का आकर्षण खिल रहा था.

तभी अंकल ने मेरी नाइटी की डोरी सामने से खोल कर उसको नीचे गिरा दिया और मैं एक बार में ही पूरी नंगी उनके सामने खड़ी हो गई थी. सेक्सी वीडियो चाहिए साड़ी वालामैंने बिना कुछ सोचे समझे मैम को पीछे से ही अपनी बांहों में भर लिया और उनकी गर्दन पर अपने होंठ रख दिए.

अब मुझे आशीष के लंड पर रश्क होने लगा था कि ये हम तीनों बहनों की चुत चुदाई का मजा ले रहा है.मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ: फिर एक दिन हम साथ में कॉलेज आये, उस दिन सुबह से ही मेरा पढ़ने का मन नहीं था.

अब्बू ने अपना कुर्ता निकाल दिया और पूरी तरह से नंगे होकर मुझसे लिपट गये.शरद को खुश करने के लिए मैं हर मुमकिन कोशिश करने में लगी थी और काफी हद तक उसमें सफल भी हुई थी.

सेक्सी व्हिडीओ चाहिए भोजपुरी - मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ

बैकलेस ब्लाउज पहनने की वजह से मैंने आज कोई ब्रा नहीं पहनी थी, तो मेरे दोनों बूब्स अब शरद के हवाले थे.मैंने पूछा- लंड डालकर करूं या उंगली से!दीदी हंस पड़ीं और बोलीं- अपने मोटे लंड से मेरी चुत की मालिश करो.

सोढ़ी रोशन की गांड को अपने दोनों हाथों से सहला रहा था कि तभी अचानक गोगी अपने कमरे से बाहर निकला. मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ अशी गमन के पीछे पड़ी रही और गमन उससे पीछा छुड़ाने की कोशिश करने लगा था.

मैडम ने सपाट शब्दों में पूछा कि व्हिस्की पीते हो?मैंने हां में सर हिला दिया.

मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ?

मैं कॉलेज के समय से ही अन्तर्वासना पर प्रकाशित सेक्स कहानी पढ़ता आ रहा हूँ. उसने- तुम साड़ी ही पहनती हो या कभी जींस टॉप या मिडी स्कर्ट भी पहना है!मैं- जी, सिर्फ साड़ी ही पहनती हूँ. उनकी कामुक सीत्कार निकलना शुरू हो गई थी और उन्होंने अपना सिर मेरे कंधे के ऊपर रख दिया था.

मैंने उसकी पीठ पर हल्का सा दबाव बनाया, जिससे हम दोनों के होंठ अब चिपकने ही वाले थे. सिस्टर की गांड की कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी चचेरी बहन मुझसे सेक्स के लिए उतावली थी. उसको देखते ही मेरा लंड एकदम से तन गया और मेरी तौलिया से बाहर से साफ दिखाई देने लगा.

[emailprotected]हॉट बहू की अन्तर्वासना कहानी का अगला भाग:जेठजी संग मस्ती भरी सुहागरात- 2. पैरों में सफ़ेद जूते पहन कर मैंने खुद को आईने में देखा, तो आज मैं बहुत सेक्सी और कड़क माल लग रही थी. मैं- हैलो, मैंने आपका एड देखा है आपको सेक्रेटरी की जरूरत है!सामने से जवाब आया- जी हां है.

उसी दिन मैंने टॉयलेट करते समय अपना पूरा लंड उसकी तरफ करके ही पेशाब की. इतना कहते हुए अंकल ने मेरे हाथ से मेरा मोबाइल ले लिया और बोले- अगर तुम्हारा कोई अफेयर नहीं है तो मुझे अपना मोबाइल चैक करने दो.

मेरा रंग एकदम गोरा और 34d-28-36 का फिगर है, जो मेरे लंबे कद की वजह से मुझ पर खूब जंचता है.

जब मैंने उसके मुँह से ये सुना कि ये भी मेरे साथ सेक्स में शामिल होना चाहती है, तो मुझे यकीन ही नहीं हुआ.

इस अचानक हुए हमले से मम्मी घबरा गईं और अंकल से खुद को छुड़ाने की कोशिश करती रहीं. लेकिन मेरे कुछ कहने पर वो मेरी बात बदल देती … और कह देती- तुम फालतू में शक कर रहे हो!इस बात पर हमारे बहुत झगड़े भी होते. वो मेरे मुँह के पानी को ऐसे चूस रहे थे, जैसे उन्हें कोई मीठा शर्बत का झरना मिल गया हो.

मैंने एक दिन हिम्मत करके अशी से उसके और गमन के बारे में पूछ ही लिया. मैंने झट से अपना हाथ उसके मम्मों पर रख दिया और धीरे धीरे दबाने लगा. उसकी गांड उठ रही थी और वो जल्द से जल्द लंड चुत में लेने की आतुरता दिखा रही थी.

फिर भी आपको इतना दर्द क्यों हुआ?तो उन्होंने कहा- मेरे केपति का लंडछोटा है.

मुझे उम्मीद नहीं थी कि वो ऐसा कुछ करने वाली है।वो मेरे पास आयी और मेरा हाथ अपने हाथ में लेकर अपनी चूचियों पर रखवा दिया. किस करते करते रघु ने अपना एक हाथ उसकी ब्रा में डाल दिया और उसका एक दूध बाहर निकालकर चूसने लगा. भाई ने अलग-अलग सेक्स साईट से गांड मारने की पोजीशन देख देख कर मुझे चोदा था.

फिर उसकी स्कर्ट के अन्दर हाथ डालकर मैंने उसकी गांड को मसलना शुरू कर दिया. अब उसको कंपनी जॉइन किये 2 महीने हो चुके थे, हम दोनों बहुत एक दूसरे से घुलमिल चुके थे. वो पूरे मज़े ले रही थी और इधर मेरा बेचारा लंड ऐसी सजा काट रहा था, जैसे भूख से तड़प रहा था.

अब तक चूंकि मैम पूरी भीग चुकी थीं, तो साड़ी हटाने में उनका कोई विरोध नहीं हुआ.

अंकल जी समझ गए थे कि अब मुझे मज़ा आ रहा है तो वो अपनी गांड जोर जोर से हिलाने लगे और मुझे ताबड़तोड़ चोदने लगे. इतना कहकर सलमा बेड पर लेट गई, उसने अपनी टांगें घुटनों से मोड़कर फैला दीं जिससे काले घुंघराले जंगल के बीच उसकी बुर के गुलाबी होंठ चमकने लगे.

मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ ” मैं मुस्कुराते हुए बोला और उसकी बांहों को पकड़कर अपने ऊपर लेटा लिया. उन्होंने भी आव देखा ना ताव … फटाक से मुझे नंगा करके अपने बिस्तर में लेटा दिया.

मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ उसने बड़ी तेजी से मेरी पैंटी को मुझसे अलग किया और सीधे नीचे जाकर मेरी गीली चुत को चूमने लगा. सेक्स कहानी व्यक्त करने के लिए ऐसे शब्दों का चयन करना ही पड़ता है, जिन्हें चयन किए बिना दृष्य और भावनाओं को व्यक्त नहीं किया जा सकता है.

डाइवोर्सी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोस्ती एक तलाकशुदा लड़की से हुई.

बीएफ चुदाई वाला पिक्चर

वो बिस्तर से नीचे आ गई और दूध नहीं था तो पानी का गिलास देकर बोली- राम राम चौधरी सा. मैंने देखा कि साली को इतना कॉन्फीडेंस था कि मैंने उसे मस्ती करते देखा ही नहीं होगा. मैंने धीरे से अपना लंड पीछे को लिया और जोर से अन्दर की तरफ ठांसा तो उसके मुंह से ‘आह्ह अअह …’ निकल गया.

बेड पर गिरते ही मैं घूम गई और मेरी पीठ उनकी ओर करके मैं मुस्कुराने लगी. मैंने अब तक सिर्फ अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों में ही पढ़ा था कि गोरी चुत होती है. जब हम दोनों जगह अदल बदल करने लगे तो जगह की अल्पता कहो या उसकी कामुकता … वो मेरे शरीर से पूरा रगड़ता हुआ मेरी जगह आ गया.

जब पापा शाम को घर आए, तो झोले में दारू की बोतल और मुर्गा लेकर आए थे.

चूंकि इस बार अर्शिया बहुत दिनों बाद मेरे घर आई थी, तो उसका मन लग गया और उसने अपनी मम्मी के साथ अपने घर वापस जाने से मना कर दिया. सेक्सी हॉट भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं एक भाभी के घर ए सी ठीक करने गया तो उन्होंने बड़े हंसमुख और दोस्ताना तरीके से बात की. दस मिनट बाद मैं ज़ीनिया के मुँह में ही झड़ गया और वो मेरे लंड का सारा रस पी गयी.

एक नया शो शुरू होने वाला है, उसमें कुछ अच्छे रोल हैं … लेकिन उसका डायरेक्टर हरामी है. मेरे इस काम से सलमा चूतड़ उचकाने लगी तो मैंने उसकी बुर के लबों को फैला कर सुपारा रखा और एक धक्का मारा. मेरा रंग एकदम गोरा और 34d-28-36 का फिगर है, जो मेरे लंबे कद की वजह से मुझ पर खूब जंचता है.

मेडिकल स्टोर से गोली और डॉटेड कॉण्डोम का बड़ा पैक लेकर आंटी के पास पहुंच गया. इस तरह से मुझे कुछ थकावट सी होने लगी थी तो मैंने उसको फिर से बिस्तर पर लिटा दिया और दोनों पैरों को फैला कर हवा में उठा कर चुत चोदने लगा.

मैंने दरवाजा बन्द किया और जैसे ही मुड़ी, जेठ जी ने मेरा हाथ पकड़ लिया. मैं भी लंड में क्रीम लगाकर दीदी को लिटा दिया और उसकी दोनों टांगों को फैला कर उनकी चूत में लंड रगड़ने लगा. मेरे सामने आतीं, तो पौंछा लगाते सामने अपनी साड़ी का पल्लू जानबूझ कर नीचे गिरा देती थीं और फिर वैसे ही दूध दिखाती हुई पौंछा लगाने लगती थीं.

मेरी चूत इस समय इतनी ज्यादा गीली और रसीली हो चुकी थी कि उसका पूरा लंड एक बार में ही अन्दर तक घुसता चला गया.

इस मुलाकात में मैंने एक बात पर गौर किया कि उसकी मम्मी मुझे छुप छुपकर बड़े ही सेक्सी अंदाज से देख रही थीं. कौन है यह सलमा? और काहे को कबाब में हड्डी बन रही है?”अरे कबाब में हड्डी नहीं है, बहुत दुखों की मारी हुई है, कभी साल छह महीने में आ जाती है, दो चार घंटे के लिए. चल मादरचोद उल्टी लेट जा साली … तुझे भी मजा आएगा और मैं भी खुश हो जाऊंगा.

बचपन से ही पढ़ाकू रही हूँ और साथ ही साथ अपनी निजी जिंदगी में भी अब तक मैंने भरपूर मज़े लिए हैं. हमारे होंठ आपस में जुड़े हुए थे, तो अलीज़ा की आवाज़ मेरे मुँह में ही दब कर रह गई.

कोहनी के नीचे से लेकर कलाई तक उसका हाथ मेरे नंगे पेट पर पूरे दबाव से चिपक रहा था. मैंने पर्दे की ओट से देखा कि विराट भी सब कुछ भूल कर अपना 8 इंच का लंड वहीं हिलाने और मसलने लगा था. पिछली कहानीसरिता भाबी को लंड की जरूरत थीमें आपने पढ़ा था कि किस तरह से मोहल्ले के दो युवा लड़कों ने सरिता भाभी की गांड और चुत दोनों में एक साथ लंड पेल कर उसको सैंडविच चुदाई का मजा दिया था.

मां बेटे की सेक्स बीएफ वीडियो

उसने मेरी शर्ट उतारी और मैंने उसकी कुर्ती। फिर उसने मेरी पैंट खोली और मैंने उसकी पजामी।वो ब्रा पैंटी में आई तो मैंने उसके बदन को कसकर चूमना शुरू कर दिया.

मैंने असीम को कुछ पैसे दिए और कहा कि मुझे देर हो सकती है, तो तुम कुछ खा-पी लेना और मेरे फ़ोन का इंतजार करना. ओमी अंकल ने तो एक बार मेरी गांड पर भी हाथ फेर कर मुझे शाबाशी दी थी. मैं सारा दिन मां को घूरता रहता उनके भरे जिस्म देखकर रोज़ मुठ मारता.

मेरी समझ में ही नहीं आ रहा था कि उससे क्या और कैसे बात शुरू करूं, तो मैंने खाना खिलाने की बात से उससे बात करनी शुरू कर दी. चाय की ट्रे को रखने के लिए मौसी जैसे ही झुकीं, तभी अचानक से मेरी नज़र उनके गाउन के गले से दिखतीं उनकी बड़ी-बड़ी चुचियों पर जा पड़ी. सेक्सी सेक्सी वीडियो ऑनलाइन”बहुत दुख हैं विजय!”आंटी बताने लगी:सलमा और उससे छोटी आसमां, दो बहनें है.

नीचे आकर मैंने नाज को थोड़ा पुराना गुड़ देते हुए कहा- थोड़ा यहीं खा ले, थोड़ा घर जाकर खा लेना, तुम्हारा महीना हो जायेगा. मौका भी था और दस्तूर भी … क्योंकि आग दोनों तरफ अब बराबर की लग चुकी थी.

मैंने अपना हाथ, जो उसकी गर्दन पर था … उसको नीचे लाते हुए उसकी पीठ पर ले आया और उसकी पीठ को अपने हाथों से सहलाने लगा. उसने कहा- दोपहर में चलेंगे, तब भीड़ नहीं होती है, उस समय हॉस्पिटल भी खाली रहेगा. तो मैंने जवाब में मना कर दिया क्योंकि मैं तो उसके प्यार का भूखा था.

सोढ़ी रोशन की गांड को अपने दोनों हाथों से सहला रहा था कि तभी अचानक गोगी अपने कमरे से बाहर निकला. उन्होंने बात का रुख बदलते हुए कहा- अरे अपने बॉयफ्रेंड से कर रही होगी, क्यों कोई तो होगा ही!अब तक मुझे समझ आ गया कि इस तरह से अंकल बात आगे बढ़ाना चाहते हैं. उसके कान पर किस किया, गाल पर चुम्बन किया और धीरे धीरे नीचे आकर उसकी नाभि को चाटने लगा.

अब तो मुझे अपने आपको रोकना बहुत ही मुश्किल हो गया था … क्योंकि किसी भी आदमी का लंड जब कोई औरत अपने नर्म और मुलायम होंठों से चूसती है, तो बहुत मजा आता है.

मैंने उससे कहा- मिलने से पहले क्यों न हम दोनों कुछ खुल कर सेक्स चैट करें?वो एकदम से राजी हो गई और बोली- हां, मैं भी पहले यही चाहती हूँ. काफ़ी लड़कियों से मिल चुका हूँ और कुछ बार चुदाई करने का मौका भी मिला.

मैंने कहा- ये तुम्हारी नशीले आंखें, इनको देखते ही मैं इनमें डूब जाता हूँ. मुझे लगा शायद किसी ने देख लिया होगा, पर फिर उसने धीरे से अपनी गांड को मेरी तरफ किया. लेकिन लाख कोशिशों के बावजूद भी मैं रात होते ही फिर से अपने आपको अकेला महसूस करने लगती.

यही सब बातें होने लगीं, तो धीरे धीरे मेरे लौड़े में सख्ती आने लगी थी. उसके बाहर सिक्युरिटी गार्ड थे, उन्होंने मुझसे पूछा- किससे मिलना है?तब मैं बोली- जी मैं इंटरव्यू देने आयी हूँ. फिर मैंने हौले से साड़ी को किनारे कर अपनी गहरी सुरंगी नाभि में उंगली घुसा कर इशारों में पूछा- तुम ही थे, जिसकी उंगलियां मेरी नाभि में खेल रही थीं और मैं उन्हें कीड़ा समझ बैठी थी?सर हिलाकर उसने इशारे से हां में जवाब दिया.

मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ फिर सरोज ने मुझे खड़ा किया और वो अपने मुँह में लंड अन्दर तक घुसा कर गपागप गपागप चूसने लगी और मेरी पीठ को सहलाने लगी. मेरा मुँह चूसने के साथ साथ वो अपने दोनों हाथों से मेरे बोबों को जोर-जोर से दबाने लगे थे.

हिंदी में बीएफ चुदाई वाली

लेकिन इन बातों से मुझे कभी भी ऐसा नहीं लगा था कि रूपा भाभी भी मुझे निहार रही हों. मैंने उसे अपनी बांहों में ले लिया और जल्दी ही नंगी अलीज़ा मेरे लंड के नीचे आ गई थी. वो लंड देख कर कहने लगी कि य…ये क्या है … इतना बड़ा और सख्त!मैंने कहा- ये मेरा औजार है और इसे लंड भी कहते हैं.

पता नहीं क्यों मुझे चीटिंग गर्लफ्रेंड सेक्स की ये कल्पना बड़ा सुख का अनुभव देती थी. जैसे ही मेरे टांगें बिस्तर के किनारे पर आईं, उसने मेरी दोनों टांगों को फैलाया और मेरी चुत में एक बार फिर से अपना मुँह घुसा दिया. बुआ भतीजी की सेक्सी वीडियोये सुनकर मैंने अपने लोअर को भी घुटनों तक नीचे किया और लंड को बाहर निकाला.

मेरे दोस्तों की क्या गलती, जब मेरा खुद उसे चोदने का मन करने लगा था.

वो इतना चिकना था कि किसी बेलगाम सांड की तरह वो मेरी चूत की गहराई में फ़िसलते हुए घुस गया. मैं अर्शिया की ब्रा के पास हाथ ले गया और धीरे धीरे ब्रा के ऊपर से उसके मम्मों को सहलाने लगा.

कोमल को राहत मिली और वो अपनी कोहनियों पर आते हुए मेरी तरफ ऐसे देखने लगी, जैसे उसको भरोसा न हो. पर मैं भी फ्रेश हो गया और कोमल को इण्टरकॉम पर कॉल करके आगे का प्लान बनाने लगा. उसने मेरी पीठ पर हाथ फेरते हुए मेरे कान में कहा- चलो कपड़े उतारते हैं.

अब आगे डर्टी सेक्स विद वर्जिन गर्ल स्टोरी:मैंने अपने होंठों को जोर जोर से उसकी चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया.

डायरेक्टर ने उसके सारे कपड़े ड्राइवर के सामने खोले और चूचे दबाने लगा और लंड पेल कर दो चार मिनट में झड़ गया. झटपट से खड़ा होकर वो मेरे घुटनों से घुटने रगड़ता सीट से बाहर निकलने लगा. जैसे ही अंडरवियर नीचे आया … मेरा लम्बा लंड फट से झूलता हुआ बाहर आ गया.

xxxदेहाती सेक्सीजब अब्बू अपनी बालों से भरी छाती मेरी चूचियों पर रगड़ते तो मेरे जिस्म में करंट दौड़ जाता. मैंने आपको अपनी पिछली सेक्स कहानी में अपने एक प्रशंसक दोस्त से चुदवाकर अपनी चुत चुदाई का पूरा मजा दिया था.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीपी मराठी

हाथ हटाने के बहाने मैं अपनी उंगली की टपोरियां उसकी लिंग पर जड़ से रगड़ती हुई लिंग के मुख तक ले आई. लंड करीब 4 इंच अन्दर ही जाकर रूक गया था और नील की आवाज उसके गले में ही घुट कर रह गयी थी. शरद भी राजीव सर को अच्छे से जानते थे तो उन्होंने इस बात पर कोई ऐतराज़ नहीं जताया.

सोती हुई मालती की टांगों को खोल कर मैंने एक झटके में उसकी चूत में लंड घुसा दिया और तेज़ तेज़ चोदने लगा. मैंने पूछा- सब खैरियत तो है? एसी में कोई दिक्कत आ गई है क्या, जो सुबह से ही बंदे को याद कर लिया. लौंडे की स्पीड कम हो गयी थी और धीरे से उसने अपना लंड निकाला और मेरी बहन के गांड के गुलाबी छेद से वीर्य बाहर बहने लगा.

BF GF सेक्स कहानी मेरी पहली चुदाई की है कि कैसे मैंने एक लड़के को पटाया, उसका लंड चूसा. मेरे सामने एक बला सी खूबसूरत युवती टू पीस में थी और मैं उसके दूध चूस चुका था. कंपनी आजकल 8 घंटे चल रही थी तो मैं अपने रूम में हिंदी सेक्सी कहानी पढ़ने में ही लगा रहता; कभी रेखा आंटी से फोन में सेक्सी बातें कर लेता.

मैं- लव यू सेक्सी डॉल!निशा- आआहह … मसल दे साले …मैं- गंडमरी आज मैं तेरी छोटी सी इस चूत को फाड़ दूंगा. मैंने उसी समय अपनी दोनों टांगों से उनको जकड़ लिया ताकि वह तेज धक्के ना लगा सकें.

मैंने धीरे से अपना लंड पीछे को लिया और जोर से अन्दर की तरफ ठांसा तो उसके मुंह से ‘आह्ह अअह …’ निकल गया.

पीछे पीछे बुआ भी आईं, उन्हें लगा कि मैं कमरे के बाथरूम में जाकर छुपा हूँ तो उन्होंने प्लेट में रखी हल्दी को थोड़ी सी अपने हाथ में ली और बिस्तर पर प्लेट रख कर बाथरूम की तरफ बढ़ने लगीं. आदिवासी सुदाइ सेक्सी वीडियोसेक्स के खेल में सबसे ज्यादा जरूरी बात ये है कि आप जिसकी भी चूत चोदकर चबूतरा बनाना चाहते हैं, उस लड़की की मान मर्यादा और इज्जत का विशेष ख्याल रखें तथा प्राइवेसी बनाकर रखें. देवर भाभी सेक्सी मराठीमैं तड़फ उठी थी और चीखने ही वाली थी कि नरेंद्र ने अपने होंठों का ढक्कन मेरे होंठों पर कस दिया. मैंने जैसे ही उसे पहली बार देखा … मेरी नज़रें उस पर ही टिक ऐसे गईं मानो समय रुक सा गया हो और आस पास का शोर गायब हो गया हो.

जैसा कि मैंने आप लोगों को अपनी सेक्स कहानीसांवली सी एक लड़की सेक्स की दीवानीमें बताया था कि पहले मैं सोचता था कि इन्टरनेट पर मिलने वाली सेक्स कहानियां शायद काल्पनिक होती हैं.

मैंने कहा- ठीक है मैडम … मुझे आपको मंथली कितना पेमेंट देना होगा!उन्होंने बताया कि मैं पैसे नहीं लूंगी, तुमको वैसे ही पढ़ा दिया करूंगी. कभी कभी वो लंड निकाल कर अपने लंड से मेरे मुँह पर थप्पड़ से मार रहा था. मैंने झट से अपना हाथ उसके मम्मों पर रख दिया और धीरे धीरे दबाने लगा.

बस सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं भीड़ भरी बस में चढ़ी तो मेरे साथ क्या हुआ. सिक्युरिटी गार्ड ने अन्दर किसी को कॉल किया और दस मिनट बाद अन्दर जाने को बोला. निशा की नजर सीधे मेरे पजामे पर पड़ी और बिना कुछ हाव-भाव लाए वह अन्दर आ गयी.

रवीना टंडन की सेक्सी बीएफ

मैं आशा करता हूं कि आप लोगों को मेरी यह चाची चुदाई सेक्स स्टोरी बहुत ही अच्छी लगेगी. ”कंडक्टर की तेज आवाज से बगल में बैठे अधेड़ मेरे हम उम्र आदमी की नींद टूटी. वो सिसकारियां भरने लगी- ऊईई ईईई हाह ईईई ऊईईई ईश्श!मैंने कहा- तुम तो शादीशुदा हो, फिर भी दर्द?वो बोली- मेरे इनका लौड़ा छोटा है और ये बहुत कम चुदाई करते हैं।मैंने पास में रखी तेल की शीशी उठाई और उसकी चूत में लन्ड पर लगाकर जोर से धक्का लगाया.

मैं आफताब आपको अपनी गांड फाड़ सेक्स कहानी के पहले भागपड़ोसी की कामुक निगाह मेरी कमसिन गांड परमें सुना रहा था कि पड़ोसी जुनैद भाई ने मेरी गांड को किस तरह से ढीला करने की ट्रेनिंग शुरू कर दी थी.

मेरा लंड धीरे धीरे कड़क होने लगा था और उसे पैंट में से चुभने लगा था.

मेरी मौसेरी बहन अर्शिया की चूचियों को देख कर उसकी ब्रा का साइज 30 इंच का तो पक्का होगा. फिर मैंने बात बदलते हुए उससे पूछा- तुमने कुछ खाया या नहीं!वो बोली- मन ही नहीं हुआ, बस आते ही सो गई थी. सऊदी अरबिया सेक्सीमैंने और नवीन ने पूरे एक हफ्ते तक मजा किए, जब तक सक्सेना नहीं आ गया.

मैं ये बहुत ही हल्की आवाज में बोला था लेकिन शायद उन्होंने सुन लिया था. तभी अंकल ने मम्मी को प्यार से समझाया और कहा- सुशीला, तुम्हें मालूम है कि मैं तुमसे प्यार करता हूं. सबेरा हुआ तो भाभियां पूछने लगीं कि क्या हुआ, कैसे हुआ?मैं करीब एक महीना वहां रही, एक महीने में उसनें सिर्फ मेरी कमर को छुआ और हर रोज गांड मारी.

दोस्तो, अगली कहानी में मैं आपको अपनी मां और पापा के दोस्त अंकल के बीच हुई धुआंधार चुदाई लिखूंगा, जिसमें मैंने अपनी मां को एक पोर्न ऐक्ट्रेस की तरह चुदते हुए देखा था. वो घबरा गईं और बोलीं- तुझे बिल्कुल डर नहीं लग रहा है?मैंने कहा- नहीं, जब मां साथ हैं यहां पर … तो डर किस बात का.

तभी दीदी ने मुझे देखा और पूछा कि अरे तुम … कैसे आना हुआ?मैंने बोला- मैं लता (जीएफ) से मिलने आया था … वो कहां है?तब तक रेखा आंटी यानि जीएफ की मम्मी ने और दीदी ने एक साथ बताया कि वो कोई बुक लेने बाजार गयी है.

उत्तेजना के चरम उल्लास में शीना की योनि रस से डूबे, मेरे लंड ने स्पीड और बढ़ा दी. वो शायद मेरे इसी इशारे का इंतजार कर रहे थे, जो मैंने उनको अनजाने में दे दिया था. मैंने उसी समय बाथरूम में जाकर उस ब्रा-पैंटी को पहना, तो मेरे चूचे और चुत साफ़ दिख रहे थे.

सेक्सी सेक्सी व्हिडिओ साडीवाली मेरी सांसें तेज तेज चल रही थीं क्योंकि मैंने पहली बार किसी मर्द का लंड देखा था. चुदासी लड़की सेक्स स्टोरी मेरी गर्लफ्रेंड की चचेरी बहन की चूत चुदाई की है.

मैंने पूछा- तुम अपने पति के अलावा किसी और से चुदवाती हो?वो बोली- मेरी ससुराल में पति तीन भाई हैं. इतने दिनों से बाहर भटकता हुआ बाकी का लंड भी सिस्टर की गांड के अन्दर घुस गया. अब तक मेरे मन में मौसी के लिए कोई ख्याल नहीं थे क्योंकि वो उम्र में मुझसे काफी बड़ी थीं और उनके एक 5 साल का पोता और 3 साल की पोती भी थी.

हिंदी बीएफ देहाती गांव वाली

वो लड़का कैसा होता क्या पता … ये तो अच्छा है कि आशीष जाना पहचाना है, कुछ गलत नहीं होगा. जब मैंने मैम से उनके पति के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि वो एक हफ्ते के लिए बाहर गए हैं … और घर पर उनके अलावा कोई नहीं है. डायरेक्टर खिड़की की तरफ़ आया और दरवाजे खोल कर देखने लगा कि क्या हुआ था.

मैंने पेटीकोट के ऊपर से ही अर्शिया की चुत पर हाथ रखा और धीरे धीरे सहलाने लगा. न सब के बीच में पता नहीं कब मेरा हाथ रमा की साड़ी में चला गया और मैं पैंटी के ऊपर से ही उनकी चूत पर हाथ फेरने लगा.

वो मेरी बीवी की चचेरी बहन थी, कुंवारी थी और अपनी पहली चुदाई का अनुभव लेना चाहती थी.

वो झट से कुतिया बन गईं और मैंने पीछे से लंड पेल कर उन्हें ताबड़तोड़ चोदना चालू कर दिया. हम दोनों के बीच बस कभी-कभी थोड़ी बहुत चुम्मा चाटी, उनकी चूची दबाना … यही कुछ कर पाते थे. फिर अपने एक करीबी दोस्त के समझाने पर आखिर मैंने हिम्मत कर ही ली और आज मैं आप सबके लिए अपनी ज़िन्दगी के कुछ मज़ेदार किस्सों को इस सेक्स कहानी के माध्यम से सुना रही हूं.

मैंने अपना हाथ निकाला और एक एक करके उनके सामने अपनी दोनों उंगलियों को चखा और आंख दबा दी. ये सुनकर मैं खुश था कि मैं हरियाणा की तीन तीन जाटनी बहनों को चोदने वाला बन जाऊंगा. मेरे मुंह से ये बात सुनके कोमल थोड़ा मुस्कुराती हुई बोली- तुम भी कुछ कम नहीं लग रहे हो.

फिर मैंने तरकीब लगाई और उसकी सास, जो कि लगभग 50-55 साल से ज्यादा की रही होगी, उनसे कहा कि वो मेरी सीट पर बैठ जाएं … मैं खड़ा हो जाता हूँ.

मूवी हिंदी सेक्सी बीएफ: जैसे वो बैठी थी, तो अन्दर घुसाने में दो तीन बार उसके मुँह पर भी लंड लग गया था. मैम मुझे रोक तो रही थीं लेकिन मेरी इन हरकतों का उन पर प्रभाव भी पड़ रहा था, जो उनकी सहनशक्ति को धीरे धीरे कमज़ोर कर रहा था.

वो मेरे होंठों के पास अपने होंठ ले आए और मेरे मेरे मुँह के अन्दर अपनी जीभ से मेरे मुँह की चुसाई करने लगे. उसने शर्मा कर पूछा कि चुत माने क्या?मैंने उसकी चूत की ओर इशारा करते हुए उसे बताया कि चुत इधर होती है. उसके होंठों को जोर से चबा कर लौड़े से एक करारा धक्का मारा और लंड से पानी की बौछार उसकी चुत में गिरने लगी.

मैंने कुछ देर आंटी के चूचे दबाए पर कुछ देर बाद आंटी ने मेरा हाथ झटके से हटा दिया और मेरी नींद खुल गई.

मेरी माँ की चूत की कहानी में पढ़ें कि कैसे एक दिन मैंने अपने पापा के दोस्त को मेरी माँ की चूत चुदाई करते हुए देखा अपने ही घर में. फिर आधा घंटे बाद उसने पीछे से मेरे लंड पर हाथ रखा और फिर से मेरे लोवर में हाथ डाल कर लंड बाहर निकाल कर सहलाने लगी. जब मैं कॉलेज पहुंची तो सीधे क्लास में गयी और उसी लड़के के बाजू में जाकर बैठ गयी.