इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ

छवि स्रोत,परिंदा फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

जापानी चुदाई बीएफ: इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ, मुझे नहीं पता कि वो ध्यान भी दे रहे थे या नहीं! लेकिन मैं बार बार उनके सामने जाती रहती थी.

ब्लूटूथ मे सेक्सी

उसकी नाभि को चाटते हुए मैंने उसके पेट को भी हल्के से काटना शुरू कर दिया. सेक्सी फिल्म द सेक्सी फिल्मजिस कंपनी में मैं काम करता हूं, वह कंपनी एक साल पहले किसी प्रोजेक्ट पर काम कर रही थी.

फिर मैं उसके मुँह में ही झड़ने लगी। उसने मेरी चूत से निकल रहे अमृत की एक-एक बूँद को चाटकर पी लिया।फिर चूत को छोड़ कर वो उठकर वापस ऊपर की ओर आ गया. डाउनलोड इंग्लिश सेक्सी वीडियोमेम के जिस्म को देख कर मैं सोच रहा था कि काश जिया आकाश की बजाय मेरी बीवी होती.

मेरी लंबाई 5 फीट 6 इंच है और मेरे लंड की लंबाई 5 इंच और मोटाई 2 इंच है।बात उस समय की है जब मैं फर्स्ट ईयर में पढ़ता था। उस समय मेरे घर में बहुत सारे किराएदार लोग रहते थे। उन किरायेदारों में से एक लड़की का नाम निशा था।निशा 6 महीने से मेरे घर में किराये पर रह रही थी।वो कमरे में अकेली ही रहती थी.इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ: तो सुमन आयी हुई थी और हम तीनों लोग अलग अलग कमरों में सोते थे क्योंकि नीचे तीन कमरे बने हुए हैं.

इसके बाद मैंने दराज से सिगरेट की डिब्बी निकाली और उसको देते हुए कहा- उस तरफ से लाईटर उठा कर एक सिगरेट जलाना.भारी होने के बाद भी मैंने उसे अपनी गोद में उठाकर, उसकी टांगों को अपने कंधों पर रखकर, खड़े होकर.

आदमी और जानवर का सेक्सी वीडियो - इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ

बिजली बंद करने जैसे ही मैं बिस्तर से उठा … मेरे लंड से मेरी बीवी की चूत से निकल गया और उसकी चुत से खून गिरने लगा.थोड़ी देर बाद जब मैंने उनसे पूछा- भाबी, कैसा लगा मेरे लंड का मज़ा?तब उन्होंने कहा- आज से मैं तुम्हारी हुई.

जिस दिन ग्राहक नहीं मिलता था तो उस दिन पैसे का जुगाड़ नहीं हो पाता था. इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ कई बार मैं उसको ‘आई लव यू’ भी कहा करता था लेकिन सच कहूं तो मुझे पता ही नहीं था कि प्यार क्या होता है।अब मैंने माया से दूरी बनाने का फैसला कर लिया था.

भाभी ने नीचे से ब्रा नहीं पहनी थी और उनके स्तन झूल कर एकदम से बाहर लटकने लगे.

इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ?

अब जल्द ही मिलेंगे एक नई सेक्स कहानी और नए रोमांचक फैंटेसी के साथ … तब तक के लिए अलविदा. मैं तो आज ही फिर से उसकी चुदाई करने वाला था और रोज ही उसको चोदने वाला था. मैंने रोबोट ईवा की तरफ देखा, तो वो हम दोनों के लिए वाइन और सामान लेकर आ गई.

दोस्तो, मैं सुनील अपनी अंतर्वास्सना हिंदी कहानी का अंतिम भाग आपके लिये लाया हूं. मैंने पूछा- तुम मेरे लिये नहीं लाई?वो बोली- क्यूं, तुम एक प्लेट मेरा झूठा नहीं खा सकते क्या? वैसे भी खाने के बाद मुझे बर्तन कम साफ करने पड़ेंगे इसलिए एक ही निकाला मैंने।फिर पहला निवाला मैंने ही खाया. मैंने उनका हाथ पकड़ लिया और सॉरी बोला, तो उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा- किस लिए?मैंने कहा- कल रात जो हुआ, उसके लिए.

फर्स्ट टाइम सेक्स हिंदी स्टोरी के बारे में अपनी राय देना बिल्कुल न भूलें और यदि आपके साथ भी पहली चुदाई का ऐसा ही कुछ अनुभव हो तो मुझे भी बतायें. मगर मैं खुश भी था क्योंकि तीन महीने के बाद मैं फिर से अपनी चचेरी बहन श्वेता और अपनी गायत्री चाची से मिलने वाला था. मुझे उसका यह अंदाज बहुत पसंद आया और उसे थैंक यू बोला।अजय मेरे लिए कई घंटे का ट्रेन से सफ़र करके आ रहा था.

मैंने कई बार सोचा कि अपनी खुशी तुझमें खोज लूँ लेकिन आगे बढ़ नहीं पाई. एक तो मेरा लंड काफी मोटा था और जिया मेम की गांड का छेद काफी छोटा था.

मैंने अपना लंड निकाल कर मम्मी के मुँह में डाल दिया और उनके मुँह में ही झड़ गया.

इस तरह डेढ़ दो घंटे तक मेरी चुदाई चली और सबने क्रम से मेरी योनि में अपना वीर्य छोड़ा.

कुछ देर बाद मैंने उनसे बोला- आप मेरे मुँह पर बैठ जाओ … मुझे आपकी चूत चाटनी है. पहले बंदे ने अपने लंड को रानी के मुँह में दे दिया और मेरी बहन की फिर से चुदाई होने लगी. मैंने आंटी से कहा- आंटी आपकी गांड मुझे बहुत अच्छी लगी … क्या आपकी कोई फ्रेंड है, मुझे उनकी भी गांड मारनी है.

शायद आज मां जल्दी सो गई थी। मैं धीरे से मां के रूम की तरफ बढ़ा।मैंने धीरे से रूम का दरवाजा खोला. उसके बाद मैं जब भी कॉलेज जाती, तो बस में किसी के लंड की तलाश में ही बनी रहती. हिंदी सेक्स चैट स्टोरी में पढ़ें कि एक हाई प्रोफाइल लेडी ने मुझसे बातचीत में अपने ससुर के साथ हुए सेक्स की बात बतायी.

तभी चम्पा सुंदर के कान में फुसफुसाते हुए- जंवाई बाबू, देखो अपनी सासू मां को … क्या कातिल जवानी है.

तभी उन्होंने मुझे धक्का दिया और मुझे बाहर जाने के लिए बोलते हुए कहा- रात को मैं कॉल कर दूंगी, तब आ जाना. वो आकर मुझे गले से लग गईं और बोलीं- थैंक्स जान … तुमने आज इस प्यासी चूत की खुजली मिटा दी. फिर भी मुझे रहना, तो इसी फैमिली में था और माया दीदी (जेठानी) और महेश जी (जेठ जी) के साथ सुरेश जी (मेरे पति) का नेचर इतना अच्छा था कि मुझे पता ही नहीं चला कि कब मैं उन दोनों की वाइफ बन गयी.

फिर मैंने उसको एक लार्ज पैग बना कर दिया और बाकी अपने गिलास में डाल कर बोतल खत्म कर दी. ऐश्वर्या- उहह आह … ओह उम्मह …ऐश्वर्या की कामुक आवाजें मुझे उत्तेजित कर रही थीं. आज मैं आपको अपने दोस्त की नवविवाहिता बीवी की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूँ.

अगर आप चाहते हैं कि मैं इससे आगे की सेक्स कहानी लिखूं कि कैसे मैंने उस मोटी नंगी लड़की को जिम के बाथरूम और उसके घर में चोदा और उसकी गांड मारी, तो मुझे मेल करके जरूर बताएं.

अब बारी इस शो को और ज्यादा रोमांचक बनाने की थी … साथ में डांस करने की स्थिति बन गई थी. मैं एक क्रॉस ड्रेसर हूं यानि कि मैं शरीर से तो एक लड़का हूं मगर मन से औरत हूं.

इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ उनका लंड पूरी तरह से खड़ा था और लंड का सुपाड़ा सांप के फ़न की तरह फुंकार मार रहा था। मैं भी अपना सपना पूरा होते देख बहुत खुश हो रही थी. मामी के मुंह से दर्द भरी कराहटें निकल रही थीं लेकिन उनको मजा भी पूरा आ रहा था जो उनके चेहरे पर साफ दिख रहा था.

इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ ऐसे में उनके जाने के बाद घर में मेरे और मेरी सास के अलावा कोई नहीं रहता है. निशा अपनी कमर हिला हिला कर मुझसे चुदवा रही थी।लगभग 20 मिनट तक मैं उसकी चूत में धक्के लगाता रहा.

मां की चूचियों से खेलने के बाद जब उन दोनों ने मां की चुत में हाथ लगाया, तो वे समझ गए कि इसकी चुत लंड मांग रही है.

कम उम्र वाली सेक्सी पिक्चर

अविनाश- डैड को इस समय सेक्स की जरूरत है, जो मॉम नहीं पूरी कर सकती हैं. इस बार 25 मिनट चुत चोदने के बाद मेरी बेटी की चूत में उसने अपना पानी छोड़ दिया. मैं सोच रही थी कि चोट तो ऐसी जगह लगी है, जहां तो अब चाह कर भी ध्यान नहीं रख सकती.

थोड़ी देर बाद उसने अपने लंड बाहर निकाला, तो लड़की जोर जोर से सांस लेने लगी. मैंने उसका हाथ अपने कच्छे में डलवा दिया और खुद उसकी पैंटी में हाथ दे दिया. नेहा- आहह आअह्ह्ह सब लोग हमको देख कर अपना लंड हिलाएंगे जान … मजा आयेगा … आह्ह्ह आहह और जोर से चोदिये.

शमशेर बोला- आंह … साली क्या मस्त लौड़ा चूस रही है … मैं अब तक बहुत सी रंडियों के पास गया, तेरी जैसी रांड अब तक नहीं मिली.

जब मुझे ये समझ आ गया, तो मैंने भी प्यार-व्यार के चक्कर में पड़ना ठीक नहीं समझा और लड़कों को इस्तेमाल करना शुरू कर दिया. उसके मुँह से जोर की चीख निकलने वाली थी, मैंने उसके मुँह को कसके दबा दिया और उसके ऊपर लेट कर रुक गया. पूरन, विश्वजीत, मनोहर और दो वर्जिन लड़के रोहन और सनी, ये पाँचों अब मेरी चूत में अपना-अपना लंड डालने को तैयार थे। पाँचों मेरी चूत चुदाई कैसे और किन पोजीशन में करते है- मेरे ग्रुप सेक्स स्टोरी का मज़ा लें।मेरी कहानी के पिछले भागदुनिया ने रंडी बना दिया- 5में आपने पढ़ा कि मैं रोहन और सनी को समझा रही थी कि चूत में लंड डालने पर चुदाई होती है.

इस समय उसने साड़ी पहनी हुयी थी और साड़ी भी उसके जिस्म से एकदम कसके बांधी गई थी. पेटीकोट खुलने के बाद वो अपने आप नीचे गिर गया और मेरी बीवी अब सिर्फ ब्रा पेंटी में खड़ी थी. मैं उसे अपने ऊपर से धक्का देकर हटाने लगी, पर उसने मेरी एक न सुनी … और जोर जोर से झटके मारने लगा.

उन दिनों मुझे अक्सर आटा चावल दाल आदि लाने के लिए अपने गांव जाना पड़ता था. मैं हामी भर दी और ननदोई के लंड से चुदने की बात सुनकर अपनी चुचियों को मसलने लगी.

धीरे धीरे मैं अपनी बीवी के नंगे जिस्म को सहलाने लगा, जिससे मेरी बीवी और उत्तेजित होने लगी. मैंने पूछा- बताओ न बेबी … क्या चाहिए? तुम्हें क्या करना है?मेरी बीवी को अफ्रीकन पॉर्न मूवी बहुत पसंद हैं और वह ग्रुप सेक्स की वीडियो बहुत देखती है. कभी मेरे कंधों पर तो कभी मेरी छाती पर किस करके वो मुझे तड़पा रही थी.

वो अक्टूबर का महीना था, हमारे घर मेरी दूर की मौसी की लड़की की शादी का कार्ड आया था.

ये ब्लाउज के आपकी रौनक बिगाड़ देगा … फिर आप पेटीकोट भी बहुत ऊँचा बांधती है. मैंने चाय नाश्ते की ट्रे टेबल पर रखी और माया दीदी की गांड में चपत लगाते हुए बोली- क्या दीदी आप भी ना! पहले मेरे भाई को थोड़ा आराम तो कर लेने दो. उनके घर जाकर मैंने अनु से पूछा- आंटी कहां हैं?वो बोली- बाहर गयी हुई हैं.

फिर उधर से वापस आने से पहले दोनों ने एक एक बार अपना लंड रानी को चुसवाया. मैंने पूछा- क्या आपने खा लिया है?उन्होंने कहा- मुझे अभी भूख नहीं है.

आधा माल उन्होंने अंदर गिराया और बाकी का आधा मेरे मुंह पर ऊपर छोड़ दिया. पर जब तेरे घर से उसके मायके छोड़ने के बहाने से लेकर आया था, तब मना भी तो कर सकती थी. मेरी चूत बहुत दिनों से प्यासी थी इसलिए मुझे बहुत मजा आ रहा था अपनी चूत को अपने हाथ से रगड़ते हुए.

हिंदी सेक्सी वीडियो छोटी छोटी

फिर मुझे उल्टा लिटा दिया गया और मेरी गांड पर पूजा आंटी एक जैल क्रीम लगाने लगीं.

देख मैं कह रही हूँ न … अब नहीं निकलेगा तेरा पानी जल्दी से, ले आ … और खूब मजे ले अपनी चाची चूत की चुदाई करके।उन्होंने मेरा लण्ड फिर से पकड़ा और मुश्किल से एक मिनट हिलाया और इस बार मेरा लौड़ा और ज्यादा कड़क और मोटा हो गया. कमरे का दरवाजा बंद करके मुझसे बोला- अब घरेलू औरत की तरह व्यवहार मत कर, जल्दी से कपड़े उतार दे. जिया मेम- आर यू नर्वस? (तुम्हें घबराहट हो रही है?)मैं- यस मेम।जिया मेम- एक्चुली मैं भी थोड़ी नर्वस हूं.

मेरी आंख 10 बजे खुली और मैंने पाया कि मेरे बदन पर मेरी अंडरपैंट और बनियान थी. यह सोच कर रोमांच पैदा हो रहा था कि घर में सब होते हुए मैं और मेरे जेठजी वासना का यह खेल गली में खेल रहे थे।उस वक्त कोई अगर गली में आ जाता और हम दोनों को इस हालत में देख लेता तो बहुत बड़ी गड़बड़ हो जाती. नौकर सेक्सी वीडियोलंड का माल पीने के बाद मैं उठकर सोफे पर बैठ गई।हम दोनों एक-एक बार झड़ चुके थे और सोफे पर निढाल होकर पड़े थे।आपको कहानी कैसी लग रही है? आप मुझे ईमेल करके बता सकते हैं.

लंड मोटा था तो उसकी कसी हुई चुत में दर्द होने लगा और उसकी तेज आवाज निकल गई. इतने में सनी का रिप्लाई आया … जिसमें वो पूरी तरह मेरे जाल में फंस चुका था.

हम दोनों लडकियां बाहर निकलीं और पीछे के दरवाजे से घर के बाहर निकल गईं।आसमान में चांद की रोशनी आज कुछ ज्यादा ही तेज थी। जल्दी जल्दी चलते हुए कुछ ही समय में हम दोनों उस खण्डहर तक पहुँच गए। उस समय मैंने सलवार कमीज पहना हुआ था और दुपट्टे से अपने सर और मुँह को ढक रखा था. अब जब भी उसका मन करता है वो मेरे पास आ जाती है और उसकी चूचियों में भरा हुआ दूध मुझे पिला कर अपने बूब्स खाली करवा लेती है. तभी मैंने एकदम से उनको पलट दिया। अब मामी जी की भारीभरकम गांड मेरे सामने पड़ी थी और मेरा लन्ड मामी जी की गांड पर निशाना लगाए बैठा था।गजब नज़ारा था यारो, जो मामी थोड़ी दर पहले चूत देने के लिए तैयार नहीं हो रही थी, अब वो मेरे नीचे थी और मैं उस पर चढ़ा हुआ था.

जैसे ही मैंने दरवाज़ा खोला, तो देखा कि उनकी कुर्ती थोड़ी सा ऊपर उठी हुई है, जिसकी वजह से उनकी कमर दिख रही थी. मेरा मिजाज काफी मजाकिया है, जिस वजह से ज्यादातर लड़कियां मुझसे बात करना पसंद करती हैं. ट्रेन में 4 लोग थे, मां-पापा, पापा के दो दोस्त जीतेन्द्र और अशोक साथ में थे.

तब तक अल्पना ने बियर की दो कैन खोल कर एक मुझे दे दी और एक खुद अपने होंठों से लगा कर बियर का मजा लेने लगी.

अब उसका मुँह मेरे गांड की छेद पर था और वो अपने जीभ से मेरी गांड को चाट रही थी. अंकल ने इधर का दरवाजा खोला और मुझसे कहा- साहब आ रहे है अन्दर, ठीक से खुश करना.

अंकल ने अपने दोनों हाथ मेरी गांड के नीचे लगा लिए और हल्के हल्के दबाते हुए मेरी चूत का रस पीते रहे।दोस्तो क्या बताऊं, कितना गजब का अहसास था वो!कुछ देर और चाटने के बाद वो हटे और अपनी लुंगी खोलने लगे. अम्मी की बात सुनकर मैं रिलेक्स हुआ और पूछा- अम्मी किस लिए?तो उन्होंने कहा कि मुझे उनसे कुछ काम है. क्लिप बस में अमिता की चुदाई की पूरी रिकार्डिंग थी, जिसमें आवाज नहीं आ रही थी, पर मैं साफ दिख रहा था.

उसके सपाट पेट के ऊपर उसकी चूचियां ऐसी लगती थीं जैसे अलग से चिपका रखी हों. उसको मजा आने लगा लेकिन वो नाटक करने लगी- मुझे जाने दे अविकार, ये सब ठीक नहीं है. एक दिन जब मैं अपना बदन नोंचवाकर घर पहुंची तो घर के सामने एक कार खड़ी थी.

इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ मैं मेरी फ्री हिंदी सेक्स कथा पहली बार लिख रहा हूं, अगर कोई गलती हो जाए तो मुझे माफ कीजिएगा. ये बात उन दिनों की है, जब मैं कॉलेज खत्म करके यूं ही फ्री घूमता था एवं छोटे-छोटे काम कर लिया करता था.

700 साल की सेक्सी वीडियो

कोई 15 मिनट तक किस करने के बाद मैंने उसके चुचे दबा दिए और उसके चुचों को बेदर्दी से चूसने लगा. मैं सोच रही थी कि चोट तो ऐसी जगह लगी है, जहां तो अब चाह कर भी ध्यान नहीं रख सकती. फिर मैंने भी ज़्यादा देर ना करते हुए सोचा कि कहीं कोई आ ना जाए, इसलिए मैंने बहन की चूत की सील तोड़ने का प्रोग्राम स्टार्ट कर दिया.

गुलाब के फूलों से बिस्तर के बीचों बीच दिल के आकार का डिजायन बना हुआ था. https://thumb-v4.xhcdn.com/a/B6czqg0nPkpga3QFaT28SQ/016/493/684/526x298.t.webm. अच्छी लड़कियों की सेक्सीमेरा पहले साल वाला प्रोजेक्ट बहुत अच्छा गया था इसलिए इस साल मेरे कई दोस्त मेरी हेल्प लेना चाह रहे थे.

उन दोनों को मैंने वहीं रोक दिया और कहा- आप दोनों पहले अपनी अपनी चूत के बाल साफ करो क्योंकि मुझे चूत पर एक भी बाल पसन्द नहीं है.

10-12 मिनट की चुसाई के बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए।उसकी चूत का पानी पी गया मैं. फिलहाल मैं इतने पैसे भी नहीं रख कर लायी थी कि चांदी का छल्ला ही खरीद लूं.

अब मैं भाभी को सीट पर चित लिटा कर उनके नीचे आ गया और उनकी चूत पर जीभ रख दी. पापा ने मां की चूचियों से खेलने के बाद अब उनकी चूत की सवारी करने का प्रोग्राम चालू कर दिया. अमित बता रहा था कि उसकी मॉम अब तक एक बुड्ढे से चुदवाती रही हैं, जो उसके गांव से आता था.

अपनी सारी ख्वाहिशें पूरी कर ले आज।फिर क्या था … मैं सर और मैडम के बेडरूम की ओर चल पड़ी.

मैं एक मंझा हुआ इंडियन गांडू हूं। मेरा नाम अश्विन है जो कि मेरा असली नाम है. लण्ड को चूत के अन्दर फँसाये हुए ही मैंने करवट लेकर शैली को ऊपर कर लिया और मैं पीठ के बल लेट गया. बहुत मस्त स्वाद था उसकी चूत के नमकीन पानी का। वो नीचे से कमर उठा उठा कर चूत चटवा रही थी और मेरे सिर को पकड़कर अपनी चूत पर दबा रही थी.

ఇండియన్ బ్లూ ఫిలిమ్స్उसके बाद भी मेरे साथ इस दौरान काफी कुछ हुआ लेकिन वो अभी नहीं बता रही हूं. मेरे भाई को बीच-बीच में व्हिस्की भी पिलाई जा रही थी और उसकी गांड भी चोदी जा रही थी.

सेक्सी मिनी

भाभी को कहीं घुमाने क्यों नहीं ले जाते?पापा ने कहा- अभी नहीं, कुछ समय बाद कहीं घूमने जायेंगे. दोस्तों आप सबको पता ही होगा, मेरा लंड 8 इंच का है … और मुझे गंदी चुदाईयां बहुत पसंद हैं. मुझ पर उसके व्यक्तितव का न जाने कैसा असर हो गया था कि मैं मना न कर सकी और टेबल तक चली गई.

फिर रविन्द्रनाथ ने अपना काला मोटा लंड निकाला और मां को घोड़ी बना कर उनकी गांड के छेद पर घिसना शुरू कर दिया. उसको ये सब कौन सिखा रहा है या फिर चाचू ऐसा क्या कर रहे हैं जिनको देख कर मेरा भाई ये सब सीख रहा है?मैंने मां से पूछा कि चाचा की कोई गर्लफ्रेंड है क्या जो वो बार बार शादी से मना कर रहे हैं?मेरे इस सवाल पर मां ने कहा कि उनकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है, उनको जब सही लड़की मिलेगी तो वो शादी कर लेंगे. इसके बाद शिवम ने चुदाई की पोजीशन बनाई और नम्रता की चूत में अपना लंड पेल दिया.

उसके बाद वो थोड़ा सा रुका और उसने फिर धीरे धीरे पूरा लंड मेरी गांड में उतार दिया. आकर्षित क्या, ये कह सकते हैं कि उनको देखकर ही मेरी पैंट में हलचल हो जाती है और पत्नी के सोने के बाद अपने लंड को उनकी चूत में घुसा हुआ महसूस करने लगता हूँ. मैं भी कब तक चाची के सामने टिक पाता और मैंने पूरा जोर लगाते हुए सारा माल चाची की प्यासी चूत में उड़ेल दिया।अब मेरा लौड़ा ढीला पड़ चुका था.

मैंने पूछा- तो?उन्होंने कहा- हर फिल्म में नायक नायिका तो होते ही हैं, चाहे ब्लू फिल्म हो या छत्तीसगढ़ी फिल्म. मैं बेड के किनारे पैर लटकाकर बैठ गया और सामने खड़ी शैली की मुसम्मियों का रसपान करने लगा.

इसी बीच एक दिन उनका देवर फिर से आया और मैंने कुछ देर बाद सुना कि आंटी ने अपने देवर से झगड़ा कर लिया था.

तभी मैं सरिता मामी के ऊपर चढ़ गया।मैंने मामी जी के गुलाबी रसीले होंठों पर मेरे गरमा गरम होंठ रख दिए। अब मैं फिर से मामी जी के होंठों को पीने लग गया। मुझे होंठों को काटने में बहुत मज़ा आ रहा था। मामी जी टांगों को इधर उधर करने लगी। तभी मेरी टांगों ने मामी जी की टांगों को फंसा लिया।बहुत मजा आ रहा था. छत्तीसगढ़ी सेक्सी वीडियो मूवीपहले अपने पति के बाहर जाने पर जो मुझे घर में ही मिलने बुलाती, वो अब पति 2-3 दिन कहीं चला जाए … तो भी नहीं बताती. व्हिलेज सेक्सी व्हिडिओफिर एक बंदा मेरे मुंह के पास आकर मेरे होंठों से अपना लण्ड छुआने लगा. फिर मैंने अपने लंड को पीछे से उसकी चूत में लगा दिया और उस पर झुकता चला गया.

मैंने उस समय तो फोन नहीं उठाया क्योंकि मैं शालिनी की चुदाई कर रहा था.

मगर रवीन्द्रनाथ मेरी मां की दर्द भरी चीखों को सुनकर और मस्त हो गए थे. उसने पूरा सर्कस देखा और हैरानी से बोला- ये सब क्या हो रहा है?रवि को अभी भी भांग का फुल नशा था, तो रिया दी बोलीं- भाई तू देख, मेरे पति और इन दोनों रंडी भाभियों ने तेरी बहन स्नेहा की इज़्ज़त लूट ली है. शायद समय के साथ गिर गई थी और छत से चांद की रोशनी भीतर आ रही थी।मोहित मुझे एक कमरे में ले गया.

मामी की चूत और मेरे लंड के बीच अब बस कुछ ही पलों का फासला रह गया था. मैंने उसके चेहरे की मासूमियत को ध्यान से देखा, फिर एक पल के लिए मेरी निगाह उसके तने हुए मम्मों पर ठहरी. वो बोला- भैया से क्या कह दोगी?मैंने- यही कि मैं विशाल की बीवी बनने के लिए राजी हूँ.

हिंदी सेक्सी फिल्में एचडी

वो धीरे धीरे बहुत गर्म होती जा रही थी और जोर जोर से सिसकार रही थी- आह्ह … आह्ह … ओह्ह … स्स्स … आह्ह … निलेश … ओह्ह … आह्ह।मैं अपनी शर्ट खोलने लगा. उसकी गुलाबी रंग की चूत कई महीनों से चुदी नहीं थी। पैरों के नीचे से हाथ ले जाकर मैंने उसके बूब्स पकड़ लिए और मजबूती से उसके बूब्स पकड़ कर उसकी चूत चाटने लगा।वो मछली की तरह तड़पने लगी। थोड़ा थोड़ा रुक रुक कर मैं अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर तक डाल रहा था। उसकी चूत हल्का हल्का पानी छोड़ रही थी. बॉस की बीवी के साथ सेक्स करने के ख्याल से ही मैं रोमांचित हो रहा था.

हम लोग जब उनके घर पहुंचे, तो मौसा, मौसी नन्द ननदोई से बातचीत होने लगी.

मैंने कहा- अगर मैं लाया होता, तो पक्का सेक्स करने देती?वो बोली- हां.

मैंने प्रीति को अपने आगोश में ले लिया और एक बार फिर से उसके होंठों का रस पीने लगा. मतलब इस ड्रेस में मेरी बीवी की चूत और मम्मों के दीदार फिलहाल कुछ देर के लिए बंद थे. बहू और ससुर की सेक्सी वीडियो हिंदी मेंउस वक़्त उसने एक महरूम कलर की नाइटी पहनी हुई थी, जिसमें से उसके मम्मों की लकीर साफ दिख रही थी.

जब मैंने उसे सेक्सी फिटिंग का ब्लाउज बनवाने की बात की तो …हैलो फ्रेंड्स, मैं सुदीक्षा आपके सामने अपनी टेलर सेक्स कहानी का अगला भाग रख रही हूँ. मैं जानना चाहती थी कि ये हरकत कौन कर रहा है इसलिए मैंने ये जाहिर नहीं होने दिया कि मेरी नींद खुल चुकी है. शहर आकर मुझे अमिता को छूने का बिल्कुल मन नहीं करता था, इसलिए नहीं कि उसकी जवानी उतर गई थी.

फिर मैंने नजमी से कहा कि तुम फ्रिज से ठंडा पानी, गिलास … और कुछ नमकीन वगैरह ले आओ. फिलहाल मेरी चूचियां उतनी छोटी तो रह नहीं गई थीं कि किसी को चूचियों से मस्ती न चढ़े.

पांच मिनिट के बाद वो वापस मेरे बगल में आई और बोली कि भाभी अब आप चढ़ जाओ.

मां जी ने शेखर को आवाज लगा क्र कहा कि बहू को उसके मायके तक छोड़ दे. मैं अपनी चूत पर पूरन के मुंह से निकल रही गर्म सांसों को महसूस करके और भी उत्तेजित हो रही थी. अनीता भाभी ने खुद को ऐंठाते हुए कहा कि आह और जोर जोर से चोद दे भोसड़ी के … मजा आ रहा है … आह हरामी चोद मादरचोद.

సెక్స్ సినిమాలు తెలుగులో मैं बोला- मामी जी बस एक बार और करने दो। उसके बाद मैं अपने घर चल जाऊंगा। फिर आपको परेशान नहीं करूंगा।मामी जी- नहीं, अब मैं तुम्हें कोई मौका नहीं दूंगी। तुम अपनी ये हरकतें बंद करो।मामी जी की बात सुनकर मैं चुप हो गया। मैंने सोचा अगर मामी जी अभी नहीं चुदवा नहीं रही है तो कोई बात नहीं, अभी तो मौका बाकी है। कुछ ही देर में वैसे भी हमें खेत पर जाना है. आज एक फिर मैं आप लोगों के लिए नई गन्दी कहानी हिंदी में लेकर आया हूँ.

रजनी अब अपनी गांड चलाने लगी। मैं समझ गया इसका दर्द अब कम हो गया है। फिर मैंने उसकी चुदाई दोबारा स्टार्ट की। अब उसे भी पूरा मजा आने लगा. दोस्तो … मेरी इस फेमिली सेक्स स्टोरीहोली पर मेरी ससुराल में घमासान सेक्स- 4में अब तक आपने जाना कि रिया दी ने अपनी छोटी बहन स्नेह की चुदाई से परेशान होकर अपने पति दीपक जी सहित मुझे और जेठानी जी को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया था. मैंने उसके सर को छोड़ा, तो वो मेरे लंड को मुँह से निकाल कर जोर जोर से सांस लेने लगी.

हिंदी में सेक्सी चुदाई देहाती

मैंने मुस्कुरा कर उन दोनों को अन्दर लिया और रवि के रूम में बैठा दिया. इस दिन ही मैंने सबसे पहली बार जिया मेम के बारे में सोच कर मुठ मारी थी. उसके बाद वो सभी अपने कॉलेज पर उतर गई और मैं भी अपने दोस्त के घर पहुँच गया.

… लेकिन मुझे ड्रिंक करवा दी थी, इसीलिए मैं विरोध नहीं कर पाया … पर अब तो मुझे बहुत अच्छा लगने लगा है. अब आप ही बताएं कि कोई शादीशुदा औरत अपने ही भाई के मोटे लम्बे लंड पर सवारी कर रही हो, वो कैसे आंखों से आंखें मिला सकती है!फिलहाल थोड़ी देर बाद मुझे महसूस हुआ कि मेरी मैक्सी में 2 हाथ घुसे हैं … और उन हाथों से मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे मम्मों को मसलते हुए आज़ाद कर दिया … और मेरे निप्पल मरोड़े जाने लगे.

पास ही में रखी कोल्ड क्रीम, मैंने उसके शरीर पर लगाई और उसकी ब्रा का हुक खोल दिया.

वो बोला- ले मेरी रंडी … आज 500 टिप के भी पकड़ … तूने मुझे खुश कर दिया. मैंने उसे अपनी बांहों में कस लिया और उसके होंठों के पास अपने होंठ ले जाकर उसके होंठों से चिपका दिया. मेरी सांसें तेज तेज चल रही थीं और मुझे उसकी वासना से भरी निगाहें अब तक मेरे मम्मों पर गड़ती हुई महसूस हो रही थीं.

वो बोली- विक्की क्या कर रहे हो?मैंने पीछे मुड़ कर देखा तो अनु खड़ी हुई थी. इससे पहले इतनी उत्तेजित मैं कभी नहीं हुयी थी। मेरे अन्दर की गर्मी एक तरल पदार्थ के रूप में बहते हुए पेन्टी से चिपक गयी और रोहित की उंगली उसी गीली जगह को ही सहला रही थी।फिर मेरा देवर अपनी उंगली मुझे दिखाते हुए बोला- आपकी चूत ने मेरे लिये मलाई छोड़ दी है. इतना रस बह रहा था कि मेरा पूरा हाथ गीला हो गया। मैंने धीरे धीरे तीन उँगलियाँ अपनी बीवी की चूत में डाल दीं और दोनों नंगे होकर एक दूसरे से चिपके रहे।मेरा इस बीच एक बार और निकल गया।बीवी ने फिर धीरे से मेरे कान में कहा- आज ही शाम 4 बजे हम दोनों ने प्यार किया है।ये सुनकर तो मेरी वासना चरम पर पहुंच गयी कि मेरी बीवी ने हरी के साथ कुछ खेल खेला है.

मैं उसे किस करने में इतनी ज्यादा खो गई कि मुझे पता ही नहीं चला कि कब मैंने उछलना बंद कर दिया। हमने किस करना बंद किया और मैं तब फिर से उसके लंड पर उछलने लगी। कुछ 8-10 बार और उछलने के बाद उसने मुझे लंड से नीचे उतार दिया।मेरी चूत में आग लगी हुई थी और मैं अब तक झड़ी नहीं थी.

इंडियन बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ: अगले दिन रवीन्द्रनाथ ने नाना को किसी काम से बाहर भेज दिया और दोपहर में नानी के घर आ गए. एक दिन ऑफिस जाते हुए मैंने देखा कि आशू को उसके साथी गधा बना कर उसके ऊपर खेल रहे थे.

और ये मोटा भी कुछ ज्यादा है, जो किसी भी लड़की या औरत को संतुष्ट करने में एकदम परफेक्ट है. मां बोलीं- यार, मैं कहां मना कर रही हूँ … मगर आराम से गांड मारो न!उसके बाद अशोक मां की चिकनी गांड को सहलाने लगा और अपना मोटा लंड पूरा का पूरा मां की चिकनी गांड में डाल दिया. उसके घर के आंगन में एक लंबी और गोरी लगभग 45 साल की औरत सफेद साड़ी और ब्लाउज में खड़ी थी.

शैली एक दिन मेरे लिए खाने की थाली लेकर आई तो मैंने उससे कहा: शैली, बैठो.

आधे घंटे तक लेटे रहने के बाद मेरा मन फिर से उसे चोदने के लिए करने लगा था. किसी को नहीं पता चलेगा कि आप और मैं कल रात भर बिना कपड़ों के सोए थे. जिस आदमी एक महीने पहले शादी हुई हो, उसकी वाईफ बगल के कमरे में तीन लोगों के साथ हो.