बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी सेक्सी गाना वाली सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी लौडा: बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ, मैं पूरे उन्माद के साथ उसके चेहरे, गालों और होंठों को चूमने और चूसने लगा.

सेक्सी वीडियो देहाती भाभी के साथ

मैंने बेशर्म बनते हुए अपने हाथ थोड़े नीचे ले जाकर उसकी ड्रेस धीरे धीरे ऊपर करनी शुरू कर दी. सेक्सी विडीओ मेंएक तो ब्लू फिल्म के वो गरमागरम सीन और दूसरा अंकल का स्पर्श मेरे बदन में कपकपी पैदा करने लगा.

ये सेक्स कहानी मेरी और दूर के रिश्ते में बुआ के साथ हुई मेरी पहली चुदाई की है. सेक्सी वीडियो फुल रोमांसये सुनकर यश ने मेरी एक चूची के निप्पल को अपने होंठों में दबा कर जोर से खींचते हुए छोड़ा और बोला- हो जाने दे मेरी जान … आज तेरी चूत का भोसड़ा बना कर ही दम लूंगा.

वो बहुत तेज चीखी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ लेकिन घर में किसी के न होने की वजह से उसकी चीख वहीं दब कर रह गयी.बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ: दस मिनट बाद वो झड़ऩे लगी, तो वो भी अपनी कमर को जोर से मेरे मुँह पर घिसने लगी और मैं भी अपनी कमर जोर से हिलाने लगा.

उनके दोनों स्तन बहुत ही बड़े हैं, जो साड़ी से साफ उभरे हुए दिखाई देते हैं.कुछ दिनों बाद उसने आकर मुझसे पूछा- तुम मुझसे ज़्यादा बात क्यों नहीं कर रहे हो?मैंने कहा- तुमको खुद ही मुझसे बात करने की इच्छा नहीं थी, तो मैं क्या करता?वो बोली- ये तुम कैसे कह सकते हो?मैंने कहा- जब तुम्हारे पास मोबाइल था और तुमने मुझे नम्बर नहीं दिया, तो मुझे लगा कि तुम्हें दोस्ती करने में कोई दिलचस्पी नहीं है.

मारवाड़ी सेक्सी कॉम - बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ

पिछले 6 महीनों से मैं इस बात को लिखने के लिए मेहनत कर रहा था कि कैसे मैं अन्तर्वासना पर भाभी के संग अपनी चुदाई की कहानी लिखूँ.मैंने उससे उसकी नंगी फोटो मांगी तो उसने नंगी पिक्स देने से मना कर दिया.

उसके जाते ही सबसे पहले मैंने अन्दर जाकर मुठ मारी, तब जाकर मेरा लंड शांत हुआ. बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ मैंने पूरे लंड को अन्दर रखते ही कुछ हिलना शुरू किया, तो उसको मजा आने लगा.

उसके बाद हमारा प्यार कैसे परवान चढ़ा?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम सैम है और मैं चंडीगढ़ शहर का रहने वाला हूं.

बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ?

मैंने महसूस किया कि इस क्रम में बड़ी भी मेरे चूतड़ों के साथ लेस्बियन वाला मजा ले रही थी. फिल्मों को आधार बना कर प्यार मुहब्बत की बातें होने लगीं, जिनमें साफ़ साफ़ इशारा हम दोनों के बीच पनपने वाला प्यार झलकने लगा था. अंकल कहने लगे- यार, तुम तो बहुत बड़ी वाली माल हो, आओ थोड़ा सा मन भर दो.

उनकी चुम्मियों के साथ उनकी वो आवाज भी निकली, जिससे मुझसे समझ आ गया कि बेटा राजवीर तूने नहीं, तुझे ही भाभी ने सैट किया है. थोड़ी देर बाद हम दोनों ने कपड़े पहने और उसने मुझे अपना नंबर दिया और घर का पता दिया. उनकी बात सुनकर एक तेज झटका लगा और मेरे सारे अरमान कांच की तरह बिखर गए.

दिल कर रहा था कि एक ही बार में उनकी सारी हुक निकाल दूं। लेकिन हिम्मत नहीं हो रही थी क्योंकि चाची मुझे अपने बेटे जैसा मानती थी. इससे अच्छा है कि हम ये सब कल करेंगे।और वो लोग सो गये और मैं भी अब उस घड़ी का इंतज़ार करने लगा।अगला दिन हुआ. फिर उसने पूरा लंड एकदम से अपने मुँह में ले लिया और उसको ऐसे चूसने लगी, जैसे वो कोई लॉलीपॉप चूस रही हो.

कुछ देर के बाद रानी ने कहा- मेरे राजा मुझे गांड चुदाई करवाने में ज्यादा मजा नहीं आ रहा है. आप मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी ये सेक्स कहानी आपको कैसी लगी … ताकि मुझे अगली सेक्स स्टोरी लिखने की हिम्मत मिले.

यार ऊम्म्म्ह जरा सीधी हो जा!मैं सीधी हुई और वो मेरे ऊपर आकर मेरी चूत की चुदाई करने लगा.

मैंने उसके हाथ से संतरा लेने के लिए हाथ बढ़ा कर बोला- मीठा हो तो ही देना.

थोड़ी देर बाद में मैंने देखा कि वो अकड़ने लगी और मेरे ऊपर ही गिर पड़ी. भाभी भी मेरे इशारों को समझ चुकी थी लेकिन शायद कुछ बोलना नहीं चाह रही थी. इसी दौरान कई ऐसे मौके मिले, जब मैंने किसी न किसी बहाने से उनके दूध टच किए या अपना लंड उनकी पीछे या उनकी बॉडी से टच किया … जिसका उन्होंने भी भरपूर मजा लिया.

चाची के स्तनों को मैं इस तरह से पी रहा था जैसे उनसे दूध निकालने की कोशिश कर रहा था. टीवी न्यूज चैनल, अखबार और अन्य मीडिया साधनों में मैंने आज तक यही सुना था कि औरत ही मर्द की वासना का शिकार होती है. तब मैं उसी तरह उसकी चूचियों को दबातें हुए उसे सीढ़ी के किनारे के पास रेलिंग तक ले आया।वो नीचे की तरफ देख रही थी और मैं उसे किस करते हुए उसकी चूचियों को दबा रहा था।तभी उसकी मम्मी ऊपर आने लगी तो हम दोनों एक दूसरे से अलग होकर बातें करने लगे।उसकी मम्मी चाय लेकर ऊपर आयी थी.

जीन्स और टॉप पहने वो बैड पर लेटी किसी अप्सरा से कम नहीं लग रही थी और मैं उसके इस यौवन का रस पीने को बिल्कुल तैयार था.

रानी मेरे हाथों को अपने चूचों पर दबवाने लगी और मैंने फिर खुद ही उसकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया. कुछ देर बाद मैं नहाने चला गया और मैं बाथरूम में नहाते समय उसके नाम की मुठ मारने लगा. भाभी ने भी सोने का नाटक करते हुए अनजान बनते हुए अपना एक हाथ मेरे लंड पर रख दिया.

फिर मैंने उसकी टांगों को चौडी़ कर दिया और उसकी चूत में मुंह रख दिया. ऋचा बोली- यार, तू कितनी लकी है कि तुझे किस्मत ने अपनी प्यास बुझाने का इतना अच्छा चान्स दिया है और तेरे हज़्बेंड भी शहर से बाहर रहते हैं. यहां पर अगर ये कहूं कि मैं एक नंबर का चूत का आशिक़ हूँ, तो इसमें कोई दो राय नहीं हैं, मैं सच में चूतों का दीवाना हूं.

भाभी- आह … आह … उफ्फ उइ माँ … और जोर से चोद … आह और जोर से!मैंने बहुत तेज रफ्तार से भाभी की चूत चुदाई शुरू कर दी.

बस दस मिनट के इस चुत लंड की चुसाई के मजे के बाद हम दोनों फिर से चुदाई करने में लग गए. अपनी लोअर को मैंने तुरंत नीचे किया और उसके मुंह में अपना लंड दे दिया.

बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ मुझे इस दौरान भाभी जी की नजरें कुछ इस तरह से दिखने लगी थीं, जैसे वो मुझे देख कर शरमा रही हों. तभी भाभी बोली- अब बस भी करो … और मत तड़पाओ मेरे सनम … मुझसे अब नहीं रहा जाता … जल्दी से मुझे चोद दो.

बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ ऐसे ही चूसते हुए मैंने भाभी के मुंह में ही माल छोड़ दिया क्योंकि मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ. मैं भी अपने रूम में जाकर इतना खुश हो गया मानो मुझे कोहिनूर हीरा मिल गया हो.

उसके बाद मैंने ब्रा के ऊपर ही से उनकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया.

बेवफा सेक्सी बीएफ

जल्द ही पापा ने अपना पूरा लंड मेरी चुत की जड़ तक पेल दिया और अब वो धीरे धीरे धक्के मारने लगे थे. देवा, तुमने इस तरह से चूत को चाटना कहां से सीखा है?मैं बोली- बस भाभी ऐसे ही पोर्न सेक्स वीडियो देख कर सीखा है. मेरी अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी आपको कैसी लगी आप मुझे मेरे ईमेल पर मेल करके भी ज़रूर बताइएगा.

सुहागरात की सेज पर पहुंचने से पहले ही शेरवानी की पजामी में तन गया था. मुझे इस सेक्सी स्टॉकिंग में देखकर पापाजी का लंड उनके अंडरवियर में खड़ा हो गया था. अब मैंने एक पल भी नहीं गंवाया और झटके से उसकी हाफ पैंट नीचे खींचते हुए उतार दी.

वो मेरे बदन पर हाथ फिराते हुए पूरे शरीर से लिपट चुकी थी उसका मुलायम सा हाथ लोवर के ऊपर से ही मेरे लण्ड को टच कर रहा था। सुमन का पूरा बदन गर्म होकर जैसे तप रहा था.

अगर कहानी आपको पसंद आ रही हो तो मैं आपके लिए आगे की कहानी भी लिखूंगा. अपनी बात आगे बढ़ाते हुए उसने कहा- मैंने अभी तक खुद को रोक कर रखा था. मैंने मॉम के मुँह पकड़ कर लंड थोड़ा अन्दर डाल दिया और आगे पीछे करने लगा.

उनकी मस्त गोल चूचियों को देखते हुए मेरी नजर उनके पूरे जिस्म का नाप ले रही थी. मेरी पिछली कहानीसुहागरात में फटी बीवी की फटी चूत का इलाजको आपने इतना प्यार दिया उसके लिए आप लोगों को बहुत बहुत धन्यवाद. जितनी अच्छी तरह से मैं उसकी चुत चाट रहा था, उतनी ही बेदर्दी से वो मेरा लंड चाट रही थी.

आगे दूसरी बार में अंजलि की चुदाई की कहानी फिर से बताऊंगा … जिसमें उसकी गांड का छेद भी खुलेगा. हम दोनों मेरे रूम पर आए और गेट खुलते ही देखा कि कमरे की हालत एकदम बिखरी हुई थी, जोकि मेरे जैसे कुंवारे लड़के की गन्दी आदत की वजह से थी.

जब मैंने सिगरेट जलाने के लिए लाइटर निकालना चाहा तो जेब में लाइटर भी नहीं था. इंस्पेक्टर ने गुर्राते हुए कहा- साली वेश्या, मुझे मत सिखा, मैं जब भी किसी को चोदता हूं तो अपना गर्म गर्म माल हमेशा ही छेद के अंदर ही निकालता हूं. किसी का बड़ा दिल है तो इसका मतलब ये नहीं कि वो हमसे बदले में कुछ चाहता हो.

हिम्मत करके मैंने धीरे से चाची की चूचियों अपने दोनों हाथों में थाम लिया.

उसके बाद लम्बे लंड वाला कोच जमीन पर लेट गया और मुझे उसके लंड पर बैठने के लिए कहा. सोनू अब नीचे हुआ और उसने मां के चुचे पर अपना मुंह लगा दिया और उसने मां के ब्रा को खोल दिया. मगर मेरे साथ एक दिक्कत ये थी कि मेरे लंड में गुदगुदी होकर माल निकलने को हो जाता था और फिर से रह जाता था.

मैंने उनसे बोला- दुकान थोड़ी दूर है, आप चाहें, तो मैं आप लोगों के साथ चल सकता हूँ. मैंने पूछा- दर्द हो रहा है क्या?उसने कहा- नहीं, लेकिन 3 महीने से चुदाई नहीं हुई है … इसलिए.

वो कहे जा रही थी- हाय जानू तुम पहले क्यों नहीं मिले … इसमें मुझे बड़ा मजा आ रहा है. वो बोला- क्या आप मेरी वाइफ के साथ सेक्स भी करोगे?मैंने बोला- सर वो मेरा काम नहीं है … पर मसाज के दौरान अगर आपकी वाइफ का मूड हुआ और वो बोलेंगी … और आपको कोई दिक्कत ना हुई, तो मैं एक्सट्रा में ये भी कर सकता हूँ … वरना कोई बात ही नहीं है. उसने थोड़ा सा थूक मेरी चूत पर लगाया और थोड़ा अपने लंड के टोपे पर लगाया.

एक्स एक्स एक्स नेपाली बीएफ

बताओ ना कैसा लगा … पसन्द आया न!”इस पर मैंने सिर्फ हां में सर हिलाया.

मेरा लंड 7 इंच के करीब है और मैंने एक ही झटके में चाची की चूत में अपना लंड पेल दिया. फिर शायद भाभी से रहा नहीं गया और उन्होंने मेरे कान में बोल ही दिया- बस दिखाते ही रहोगे कि अन्दर भी डालोगे?मैंने बोला- आपको पसंद आया?तो भाभी बोलने लगीं- इतना बड़ा और मोटा लौड़ा मैंने आज तक नहीं देखा … बस कुछ भी नहीं करो, पहले सीधे मेरी चूत में डाल दो जल्दी से. रंग की थोड़ी सांवली हूँ और मेरे बूब्स खूब मोटे और टाइट हैं और मेरी गांड भी खूब भारी है.

वो बोली- बैठो न … तुम नहीं पियोगे?मैंने उसके चूचे देखते हुए कहा- मैं पानी नहीं … कुछ और पीता हूँ. वैसे भी अगले दिन संडे था, तो मेरे बेटे को भी स्कूल की कोई दिक्कत नहीं होनी थी. दीया मिर्जा सेक्सीमम्मी दर्द में ही बोली- अरे कोई बात नहीं, आज के बाद से तो मैं आपकी हूं.

जैसे ही मैंने उसकी चूचियों को टच किया तो उसके मुंह से आह्ह करके एक मादक सिसकारी सी निकल गयी. जिससे उनकी चूत से पानी निकलना और तेज हो गया, जिसे मैं चाट चाट कर पीने लगा.

डॉक्टर और नर्स की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, प्लीज़ मुझे ईमेल करके जरूर बताइएगा. थोड़ी देर बाद जब वो और गर्म हुई … तो उसने मेरे लंड को मेरे लोवर के ऊपर से ही पकड़ लिया और लंड से खेलने लगी. एक मोटा गर्म लंड मेरी गांड से भिड़ गया। लंड के आकार से ही मैं समझ गई कि ये तो ननदोई जी हैं।ननदोई जी ने मेरे कान के पास अपना मुँह किया और बोले- देखो दुल्हनिया … हम अभी नहीं सोये नहीं थे.

मैं उसके साथ एकदम सामान्य था, लेकिन कहीं न कहीं वो ये भी जानती थी कि मैं उसके बारे में क्या सोचता हूं. बड़ी का ब्लाउज छोटा होने के कारण उसमें मात्र चार बटन थे, जबकि छोटी के ब्लाउज में पांच थे. मैं चुत देखता रहा … अनाड़ी आदमी जो था … क्योंकि ये मेरापहला सेक्स अनुभवथा.

अगर मुझे तेरे बारे में पता होता कि तू ऐसी निकलेगी तो मैं अपने माधो की शादी तेरे साथ कभी न होने देती.

मॉम ने बोला- हट नालायक … कोई अपनी मॉम को ऐसा बोलता है क्या?मैं उनके मम्मों को दबाने लगा. मैंने उनकी बांह को पकड़ा, तो वो उठकर मेरी गोद में आकर बैठ गईं और मुझे किस करने लगीं.

मैं सोच भी नहीं सकता था कि मेरी बहन इतनी चुदक्कड़ हो चुकी है कि वो चौकीदार से भी चूत चुदवा बैठेगी. मैं बोला- अज़रा जी, आज की दुनिया में कोई अकेला नहीं होता। भगवान साथ होते हैं सबके।फिर मैंने उन्हें चुप करवाया और चलने के लिये बोला. धीरे धीरे लंड को चुत के अन्दर बाहर करते हुए अंकल एक स्पीड से मुझे चोदने लगे.

वहां पर स्थानीय कपल से मिलना और अदला-बदली वाले सेक्स का आनंद ले पाना बहुत कठिन था. मैंने मामी की साड़ी निकाल दी, ब्लाउज खोल दिया तो वो केवल ब्रा और पैंटी में आ गई. मैंने उसके मम्मों को ललचाई निगाहों से देखा और कहा- लो नीतू पहले मिठाई खा लो, फिर पानी पी लो.

बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ मैंने उससे पूछा कि मेरे साथ किसी दिन अकेले किसी रूम में मिलना चाहोगी. मेरा लंड पूरा का पूरा उसकी चूत में अंदर जा रहा था और फिर मैं पूरा ही बाहर निकाल रहा था.

बीएफ मेरठ

मैंने देखा तो उसे आते समय भी था, लेकिन तब मेरी नजरों में उसकी ये छवि नहीं बन सकी थी. जब कभी मेरी वासना ज्यादा उफान पर होती तो मैं अपनी उंगली चूत में लेकर चूत की गर्मी निकालने की कोशिश करती थी. मैंने अपनी शर्ट पेंट उतार दी और उनके सामने सिर्फ एक निक्कर में हो गया.

यह एकदम अनोखा, अनुपम और अद्भुत दृश्य था जिसका आनंद वे पति ही ले सकते हैं जो अपनी प्रियतमा, अपनी जीवन संगिनी से निःस्वार्थ प्रेम करते हैं. जिस तरह से भंवरे फूलों के आस-पास मंडराने लगते हैं वैसे ही स्त्री पुरुष एक दूसरे के इर्द गिर्द चक्कर काटने लगते हैं. चीन का सेक्सी वीडियो ओपनमैं मामी की गांड पर चांटा मारता, मामी की चुचियों को रगड़ता, उनके होंठों को पागलों की तरह चूसता.

मेरी गर्म सेक्स कहानी के पिछले भागसेक्सी लड़की को जॉब देकर चोदा-1में आपने पढ़ा कि एक जवान सेक्सी लड़की को देख कर मेरा दिल जवां हो गया था.

मैं भी समझ सकता था कि ऐसी औरत को अगर लंड न मिले तो वो ज्यादा दिन तक खुद को रोक नहीं सकती है. अजय बोला- नहीं, तुझे तो मैं ऐसा चोदूँगा कि तू हफ्ते भर तक चल भी नहीं पाएगी.

मेरी पति की मम्मी ने दूसरी शादी कर ली थी और वो आपने पति के साथ रहती है. Pati Ka Lund Desi Bhabhiब्रा और पैंटी में मैं बाबा के सामने थी और वो मेरे बदन को हवस भरी नजरों देख रहे थे. मैंने पूछा- पढ़ना नहीं है क्या?वो बोली- मेरा पढ़ाई में मन नहीं लग रहा है कल पढ़ा देना.

बताओ ना कैसा लगा … पसन्द आया न!”इस पर मैंने सिर्फ हां में सर हिलाया.

मैंने पापाजी से पूछा- क्या देख रहे हैं पापाजी बार बार?वो बोले- बहू तुम्हारी गांड का छेद बड़ा हो गया है. मेरे दिमाग में कुछ नहीं चल रहा था, मैं बस उसकी चूचियों का आनन्द ले रहा था. फिर मैंने उस नर्स को चोदा कैसे?नमस्ते दोस्तो, आपने डॉक्टर और नर्स की चुदाई की कहानी के पहला भागडॉक्टर और नर्स की चुदाई-1में पढ़ा कि कैसे मैंने नर्स की बुर चुदाई की.

सेक्सी सुहागरात हिंदी वीडियोजब मुझे लगता कि मेरी उत्तेजना ज्यादा बढ़ गयी है तब धक्के लगाना रोक देता और उसकी चूचियाँ को मसलने लगता था. बिस्तर पर काजल इतनी सेक्सी मैक्सी में और इतना मस्त पोज़ में बैठी थी … कि लंड आन्दोलन करने लगा.

एक्स वाला बीएफ

मैंने उसके होंठों को चूसते हुए एक जोर का धक्का दे दिया और उसकी चूत से पुच… की आवाज हुई और लंड आधा उसकी चूत में घुस गया. तन्वी मैम का बेड सैट करवाते हुए मैम मेरे साइड से बेड का एक कोना पकड़े हुए थीं. वहां पर बहुत से खेल होते रहते हैं और वहां पर स्विमिंग भी सिखाई जाती है.

अगले दिन दर्द से कराहती पत्नी की चूत की जांच के लिए डॉक्टर के पास गये. अब अंकल मेरे शरीर पर गिर पड़े, उनके चौड़े सीने के नीचे मेरी चुचियां दब गईं, नीचे उनका लंड मेरी चुत में सटासट वार कर रहा था. तभी अचानक मेरी सेक्सी सना ने एक ही झटके में पेटीकोट का नाड़ा खींच दिया और पेटीकोट एकदम उसकी जांघों से सरक कर नीचे गिर गया.

मैं उसको देखता रहा और अपना लंड मसलता रहा, पर जब वो मेरी तरफ देखती, तो मैं मुस्कुरा देता. मैंने अपना सारा माल मामी की चूत में ही डाल दिया और ऐसे 10 मिनट तक लेटे रहे. सास के तानों से मैं इतनी तंग आ गयी थी कि मैं कुछ भी करने के लिए तैयार हो गयी थी.

तभी अंदर से मुझे कुछ खटपट की आवाज आई और वहां से फिर मेरा दोस्त विशु निकला। मेरे पैरों तले जमीन ही खिसक गई. फिर पापा जी बोले- हमारे लाडले साहब जायेंगे या नहीं?मैंने कहा- पापा जी, मैं कॉल करके पूछ लेती हूँ.

फिर एक लाल कलर की पैंटी और काले रंग की ब्रा भी निकाल कर मेरे सामने ही रख दी.

जब आपका मन हो मुझे नंगी करके चोद लेना आप!फिर मैंने पापाजी से कहा- क्या मैं आपको आपके नाम से बुला लूं?तो पापाजी बोले- बहू, ये सही नहीं है. हिंदी सेक्सी व्हिडिओ दिसणारेमैंने आव देखा न ताव और उसकी चूत में तुरंत बाद ही दूसरा धक्का लगा दिया. सेक्सी भेजना व्हिडीओमैंने अंदाजा लगाया कि मां की कोल्ड ड्रिंक के अंदर जरूर कुछ मिलाया होगा. कपड़े हटाने के बाद मैं फिर से उसके ऊपर आ गया और मैंने फिर उसके मम्मों को चूसना शुरू कर दिया.

कमरे में लाकर अंकल ने मुझे अपने बेड पर हल्के से लिटा दिया और मेरी तरफ देखने लगे.

मैं तो पहले ही चुदाई के कयास लगाये बैठा था इसलिए लंड चुसवाने का मजा लेने लगा. वो बंदा इस तरह से मेरी चूची चूस रहा था कि मुझे एकदम से ऐसा लगने लगा था कि मानो मैं सचमुच की भैंस हूँ. उसने मेरे लंड से निकले वीर्य की आखरी बूंद भी अपनी चूत में ले ली, फिर वो बोली- आह्ह मजा आ गया.

मैं फिर अब जोश के साथ लण्ड को चूत में आगे पीछे करने लगा। सुमन भी उतने ही जोश में आहें भर रही थी ‘आह … ओह … आहा …’ओह-या … ओ-याह … करते हुये नीचे से गांड उछाल उछाल कर पूरे मजे से लण्ड को अपनी चूत में जाने दे रही थी. आह्ह… चुदती रह साली।अब मैं उसके बाल पकड़ कर मैं उसकी चूत में लंड को धकेलने लगा. मैंने बड़ी मुश्किल से उसे समझाया- पहली बार में थोड़ा ही दर्द होता है … बाकी बाद में बहुत मज़ा आता है.

बीएफ सेक्सी देवर भाभी की सेक्सी

दो-तीन मिनट तक उसकी चूत को चोदने के बाद मैंने लंड निकाल लिया और उसे उठने के लिए कहा. रानी भाभी मेरे लंड को ऐसे चूस रही थी जैसे वो लंड न हो बल्कि कोई लॉलीपोप हो. मैंने अपनी जेब से रंग की पुड़िया निकली और भाभी के पास आकर बैठ गया और रंग हाथ में लिया.

मैं सेकंड फ्लोर पर गया, हर कमरे के पास कान लगाया क्योंकि उन्हें गए हुए तकरीबन 10 मिनट हो गए थे, कुछ बात होगी तो आवाज अंदर से जरूर आएगी.

वो पहले तो धीरे धीरे और फिर एकदम पागलों की तरह मेरे होंठों को चूसने लगा.

घोड़ी के पोजीशन में अंकल ने मां की चूत और तेल लगाया और और उन्होंने मां को बालों से पकड़ा और बिल्कुल ऐसे चोदा जैसे कि किसी ब्लू फिल्म में चोदते हैं. मेरी इस हरकत को देखते हुए उसने बात बनाते हुए कि आज कल सड़कों पर गड्डे कुछ ज्यादा ही हो गए हैं. सेक्सी व्हिडिओ चित्रमैंने उसके लंड पर अपनी चूत रखी और धीरे धीरे उसका लंड अन्दर करके बैठ गई.

अभी थोड़ी दूर चले ही थे कि अचानक एक अंधेरी जगह पर गाड़ी रोककर दोनों पेशाब करने लगे. इससे मुझे लगता है कि आपको भी बुआ की चुदाई की कहानी में मजा आ रहा होगा. मैंने उससे पूछा- निकल जाऊं?उसने कहा- कंडोम हटा कर मेरे मुँह में निकलो.

जब से मेरी दीदी और जीजा जी इस दुनिया में नहीं रहे तब से वो बहुत अकेला हो गया है. पता ही नहीं चला कि कब अंकल ने अपना हाथ मेरी पैंटी के अन्दर घुसा दिया.

मेरे मोटे और लम्बे लंड को देख कर आंटी ने मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया और उसको दबाकर देखते हुए बोली- इतना बड़ा लंड!कृष्णा आंटी वहीं पर बैठ गयी और मुंह खोल कर मेरे लंड को चूसने लगी.

ऐसे ही करते करते एक बार मैंने महसूस किया कि जब मैं उसकी गोद में बैठी हुई थी तो मुझे मेरी गांड पर उसका लंड महसूस हो रहा था. मैंने लंड हटा कर चूत में थोड़ा थूक लगाया और पेल कर अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. जबकि उस समय भी मेरी नजरों में बस उसकी हिलती चुचियां और ठुमकती गांड ही नज़र आ रही थी.

सेक्सी वीडियो जंगली हिंदी गप्प की आवाज से मामी की चूत में लंड चला गया और मामी एकदम से सिहर उठीं. साड़ी भी मैंने नाभि के नीचे बांधी और गहरे लाल रंग की लिपस्टिक और खूब सारा मेकअप किया.

मैं दोनों पांव चेयर पर ही रख कर ऐसे बैठा था कि मेरे लंड का नजारा भाभी को हो जाए. फिलहाल मैं 27 साल का एक आकर्षक युवक हो चुका हूं। चलिए अब अपने अनुभव की ओर ले चलता हूं आपको।उस दिन उसने एक आसमानी रंग का चिकन सूट पहना था. कुछ ही देर में वो मेरे लंड को हिलाने लगी और मैं उसकी चड्डी में चूत को रगड़ने लगा.

नंगी सेक्सी चुदाई बीएफ

फिर मैं बाहर गयी और पापा जी को बता दिया कि पति पार्टी में नहीं चलेंगे. वहां उसकी वार्डरोब में कुछ कपड़े थे, जो साइज़ में कुछ ढीले हो रहे थे. सास के तानों से मैं इतनी तंग आ गयी थी कि मैं कुछ भी करने के लिए तैयार हो गयी थी.

मैंने उसकी सुन्दरता की तारीफ़ की, तो उसने मुझे बताया कि जन्मदिन की तस्वीरों में वो अच्छी दिखना चाहती थी. उसकी चुत का गर्म गर्म चूत रस, मेरे चूतड़ों अच्छी तरह से महसूस कर रहा था.

जिस अस्पताल में ऑपरेशन हुआ, वो मेरे घर से बहुत करीब था और मेरी ससुराल से काफी दूर.

मेरी हिंदी सेक्सी स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी बुआ के बेटे ने मेरी कुंवारी चूत की चुदाई करके मुझे सेक्स का मजा दिया. उसने मेरी तरफ देखा, तो मैंने आंखें बंद कर ली थीं, ताकि वो खुल कर अपने बच्चे को दूध पिला सके. मैंने धीरे से कमर को उठाया, तो देखा कि इनिषा ने मेरा लंड मुँह में लिया था और वो उसको लॉलीपॉप की तरह चूस रही थी.

मैंने कहा- ठीक है, आप तैयार रहना फिर!अगले दिन दोपहर में जब वो सामने आई तो ऐसा लग रहा था जैसे मानो मेरे लिए ही सज कर आई हो. उसकी चूचियों पर हाथ से सहलाते हुए मैंने कहा- मैंने आज तक किसी लड़की की चूत को छुआ तक नहीं है. मैंने कहा- आह्ह मेरी जान … आज तो तुम्हें देखकर मेरे मन में हवस का तूफान सा उठ गया है.

इंस्पेक्टर ने मुस्कराकर कहा- बको?मैंने एक ही सांस में सारा वाकया सुना दिया.

बिहारी सेक्सी ब्लू बीएफ: इसके बाद मैम ने नंगे ही किचन में जाकर कॉफ़ी बनाई और मेरे साथ एक ही मग में हम दोनों कॉफ़ी का मजा लेने लगे. कृष्णा बोली- साली रंडियों, यहां बाथरूम में ही चूत फड़वानी है क्या, चलो निकलो यहां से बाहर.

वो मुझे अपनी आपबीती बता रही थी और मैं मजे ले लेकर उसकी बातें सुन रहा था. मेरी समझ में आ गया था कि रानी का मन ब्रून के लंड से चुदने का मन बन गया था. थोड़ी देर देर बाद भैया का लंड बिल्कुल खड़ा हो गया था और उनकी चड्डी के बाहर से साफ़ दिख रहा था.

अगले ही पल उसने अपना मुंह खोल कर मेरे लंड को मुंह में भर लिया और चूसने लगी.

प्रशांत- पर वो हमारी मम्मी हैं, उनके बारे में ये सब सोचना ठीक नहीं है. दो चार धक्कों के बाद ही मेरे लंड से वीर्य की गर्म गर्म पिचकारी निकल कर रानी की चूत में गिरने लगी. उसके घर के अंदर जाकर उसने मुझे गले से लगा लिया और बोला- जान, कल रात को कुछ हुआ तो नहीं तुम्हारे साथ? मुझे जब से पता लगा है कि तू बिमला की बेटी है मुझे डर लग रहा था कहीं तेरे साथ कुछ गलत न हो जाये.