बीएफ भेजो भोजपुरी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

माँ रिंगटोन डाउनलोड: बीएफ भेजो भोजपुरी, 5 इंच है, जिसने कई लड़कियों और भाभियों की चूत को फाड़ कर उन्हें संतुष्ट किया है.

बिपि विडियो

”मैंने पूरी नंगी होकर उन दोनों के लंड खड़े करते हुए गाउन पहना और कहा- अब तुम मुझे किस कर सकते हो, फिर मैं अन्दर जाती हूँ. बीपी सेक्सी मराठी मराठीअब उसकी भी मज़ा आने लग गया था और वो भी मज़े से लंड ले रही थी और चुदाई का मज़ा ले रही थी।उसने कहा- जीतू, और जोर से चोदो! इतने दिनों से क्यों तड़पा रहे थे!और मैं उसे और ज़ोर से चोदने लगा.

पकौड़े बहुत अच्छे थे और फ्रूट चाट में मसाला बहुत अच्छा था; बहुत ही स्वादिष्ट. बिहार की भाभी की चुदाईमैं पूरी कॉल गर्ल बन गई और खुद ही उन लोगों के रिफरेन्स से कस्टमर ढूँढने लगी… जिन्होंने मेरी चुत में अपना लंड डाल कर हिलाया था.

भाबी का पानी निकलते ही वे उठ कर कहने लगीं- देव, अब जल्दी से पेल दो अपना लंड.बीएफ भेजो भोजपुरी: फिर मैंने भी उसको पटाने के लिए तरकीब लगाते हुए कह दिया कि पता नहीं कैसे लोग इतनी सुंदर सुंदर लड़कियों को अकेला छोड़ कर चले जाते हैं.

इस बीच अचानक भाभी ने सर उठा कर एक अजीब सा सवाल पूछ डाला- आप दूध पिएंगे?मैंने भी मौका देखकर कहा- आपको जो अच्छा लगे वो पिला दीजिये, मैं सब पी लूंगा.रहने दो!” रानी बनावटी गुस्से से बोली- अब ध्यान आया है अपनी रानी का… जब मेरे स्तनों को कुचल रहे थे तब ध्यान ना आया तुमको… और मेरे भीतर जो अपना मूसला घुसेड़कर मेरे अंदर का मलीदा बना दिया तब भी ना ख्याल आया अलका रानी का… अब हाल पूछ रहे हैं.

एक्स एक्स बांग्ला वीडियो - बीएफ भेजो भोजपुरी

अभी तो रोज चुदाई हो रही है मेरी और लण्ड की तो बल्ले बल्ले हो गई![emailprotected].उस बुड्डे की उम्र मेरे दादा जी से भी बड़ी थी, मगर यहाँ मैं सिर्फ एक चूत की मालकिन थी, जिसको वो चूसना चाहता था.

प्रवेश द्वार पर सजे-सजीले मिक्की माउस और डोनाल्ड डक का अभिवादन स्वीकार कर हम लोग मैक डोनाल्ड के अन्दर आ गए. बीएफ भेजो भोजपुरी मेरे बहुत कहने पर उसने ये सब मेरी मम्मी को भी बताया तो मम्मी भी थोड़ा गुस्सा हुईं लेकिन उसको अपने कमरे में ले गईं.

बिंदु माँ ने मेरी चूत के होंठों को खोल कर अपने बेटे को परोसा और उसका बेटा मेरी चूत की फांकों में अपना लंड रख कर सहलाने लगा.

बीएफ भेजो भोजपुरी?

’ निकला और मॉम ने अपने पैर हवा में फैलाकर अपनी आँखें बंद कर लीं और ‘ऊह आह. मैंने उनको अपनी बांहों में कस लिया था और ज़ोर से उनको चोदने लगा था. उसके घर से जाने के बाद भी मैं और मकान मालिक हम दोनों लोग फ़ोन पर भी बातें करते रहते थे.

उसके संग चुत चुदाई और खुला सेक्स करने के बाद खुद को मुठ मार कर शांत कर लेता था. चाची मेरा मजाक बनाते हुई बोली- मार ली चाची की गांड? चल हट मेरे ऊपर से!चाची सीधी होकर बिस्तर पर लेट गई और मुझे अपने ऊपर लेते हुए अपनी चुत में मेरा लंड घुसवा लिया. ना जाने कब मेरे दिमाग़ में सेक्स का ख्याल आने लगा और मैं सोचने लगा कि काश कोई मिल जाता, जो मेरी सर्दी दूर कर देता.

अब मैंने मेडिकल स्टोर से विटामिन की गोलियां लीं और कुछ सिरप भी ले लिए. कुछ देर मुझे पेलने के बाद वीरू भैया भी मेरी चूत में ही झड़ गए और मेरे ऊपर ही लेटे हुए थे. जब मैं घर पहुंची तो उसका मैसेज था ‘घर जाते ही बता देना, फ़िक्र नहीं होगी.

अब नताशा दो सांडों के बीच फंसी किसी बछिया की तरह कराहने लगी- ऊऊऊऊऊ… आआआआ… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आख… ओए! आआआ… आउच!अब तक आर्थर का बेलेस्टिक राकेट डराने वाले साइज़ में परिवर्तित होकर टनटनाने लगा था. मैं वापस उनके ऊपर आया और किस करते हुए भाभी को सब जगह किस करते हुए उनकी चुत को फिर से गीला किया.

यह बात आंटी ने भी नोटिस कर ली थी।बात शुरू करने के लिए आंटी ने पूछा- क्या करते हो?मैंने आंटी को सब कुछ बता दिया कि क्या करता हूँ, कहाँ से हूँ.

क्या क्या देखा?मैं- कितने प्यार से चोद रहा था आपको… और आप भी उसका साथ दे रही थीं.

पोर्न वीडियो देख कर मेरी हालत खराब हो जाती है, अन्तर्वासना पर सेक्सी कहानियां भी चार पांच पढ़ी थी।तभी बालू ने मोबाइल पर एक इंडियन पोर्न वीडियो निकाल कर लगा दिया जिसमें एक लड़की बहुत स्लिम मेरी तरह और तीन बहुत लम्बे चौड़े काले नीग्रो… तीनों ने लड़की के कपड़े उतार दिए और अपने भी मैंने आंखें बंद कर ली. शायद चाची को भी इस बार भांग की मस्ती में अपनी खुमारी खुलने का अंदाज हुआ और उन्होंने मेरी बात को पूरी तरफ से मान लिया और ये तय हो गया कि होली में तेज भांग की ठंडाई सबको पिलाई जाए. ”हाँ चलो दिखाओ, अगर सही होगा तो ये चेतना निकाल देगी मक्खन, निकालेगी क्या चाट चाट कर खाएगी.

मैं एक हाथ से उनकी गांड सहला रहा था और दूसरे हाथ से उनकी चुचियां दबा रहा था. मैं भाभी को औंधा करके रंडी की तरह चोदता रहा और उसकी चूचियां को भी दबाता रहा. मैं बाईसेक्सयुअल हूँ, मतलब मुझे आदमी के लंड और औरत की बुर, दोनों ही पसंद है.

मैं ऊपर को उठकर थोड़ा सा टेढ़ा हो गया, जिससे मेरी गांड उनकी तरफ हो गई.

इसके बाद हम दोनों उसके स्टडी बेड पर ही एक दूसरे से मजाक में झगड़ने लगे. जल्दी ही दरवाजे पर लगी घंटी बज उठी और हमारे मेहमान हाथों में सुर्ख गुलाबों के बुके लिए हुए प्रकट हुए. इस देसी सेक्स कहानी के पहले भागसील पैक देसी लड़की को खण्डहर में चोदामें अपने पढ़ा कि मैं अपने गाँव गया हुआ था, वहां मुझे मेरी हमउम्र एक देसी लड़की मिली, मैंने उसकी कामवासना जगा कर उसे चुत चुदाई के लिए तैयार किया, फिर गाँव के पास के किले के खंडहरों में उसे ले जा कर चोदा.

वो जिस स्थिति में सोई हुई थी, उसमें उसके नितम्ब और उनके बीच में छुपी उसकी गांड दीख रही थी. बाद में आप अपनी गांड को ऐसे बाहर कर के खड़े हो गए कि मुझसे रहा ही नहीं गया, कण्ट्रोल ही नहीं हुआ. मैं दीदी की शादी में गयी थी और उनका देवर भी आया था शादी में! दीदी ने मुझे अपने देवर से मिलवाया.

इस अंदाज़ में वह काफ़ी चोदू लग रहा था और मुझे लग रहा था कि मेरे साथ जोर आजमाइश होने वाली है.

मैं भी अपनी साड़ी ठीक करके घर पहुंचने का इंतजार कर रही थीअब सुबह के 6 बजे थे और ट्रक गांव में आ गया था. ”समझी, मतलब कि आप दोनों ही मास्को से परिचित नहीं हैं… और अगर ये कोई सीक्रेट नहीं है तो क्या मैं एक सवाल पूछ सकती हूँ?” नताशा ने जिज्ञासा दिखाई- आप करते क्या हैं?कोई सीक्रेट नहीं है.

बीएफ भेजो भोजपुरी मैंने उसे समझाया- मैं कौन सा असली में कर रहा हूँ? ये तो बस मस्ती है पगली ताकि तुमको मज़ा आ जाये।मंजू- मुझे कोई मज़ा नहीं लेना, मैं नहीं चाहती कि कोई हमारे बीच आये, मैं बस तुमसे प्यार करती हूं।उसके मुंह से ऐसा सुनकर मुझे खुशी और अफसोस दोनों हो रहे थे. अब नीलम भाभी उठीं और भाभी ने मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चुत के मुँह पर टिका लिया, फिर भाभी एक झटके के साथ लंड के ऊपर बैठ गईं.

बीएफ भेजो भोजपुरी उसकी शादी के बाद मैं फरवरी 2017 को जयपुर में मेरे मामा के घर गया था. कामिनी की आवाज आ रही थीं ‘आआह्ह… आअह्ह क्या पेल रहे हो… क्या लौड़ा है मेरी जान…’विवेक में चुदाई का जबरदस्त स्टैमिना था.

ऊपर से पानी में तैर कर ऊपर उठती हुई उसकी स्कर्ट, और गीले होने के कारण कपड़ों से झांकती हुई ब्रा, और उस पर तीखी तनी हुई निप्पल!सच बताऊँ दोस्तो, उस दिन पहली बार हुआ जब मैं खड़े खड़े ही झड़ गया, शायद अधिक उत्तेजना के कारण पर पानी के अन्दर होने क कारण इज्ज़त बच गयी.

बीएफ पिक्चर वीडियो बताइए

समय के साथ साथ हमारे बीच आकर्षण बढ़ता गया और एक दिन हम दोनों ने मिल कर आपस में एक दूसरे को आई लव यू बोल दिया. इस बार की कहानी में, मैं अपने और अपने पुराने साथी (बॉयफ्रेंड) के साथ बिताए प्यार के कुछ पल बांटने जा रही हूँ. तभी करीब दस मिनट बाद ज्योति तैयार होकर आ गई और उसने मेरे सीत्कारने की आवाज़ सुनी तो वो अन्दर वाले कमरे के गेट के सहारे खड़ी होकर हमारी रासलीला देखने लगी.

मैं- क्या?भाभी ने इशारे में दिखाया, उसकी पेंट की पीछे से सिलाई निकली हुई थी और अन्दर उसने कुछ पहना नहीं था. वो बोली- जीजू आधे घंटे से तो आपका लंड मेरी चुत के अन्दर है और आप बोल रहे हो कि बड़ी जल्दी खत्म हो गई. मैंने मोहन को बांहों में लिया था और मोहन मुझे बाजारू रंडी के जैसे चोद रहा था.

तभी एक दिन अचानक मेरा ध्यान उसकी गांड पर से खिसके हुए शर्ट पर गया, जिसके कारण उसकी रेड लैगी में उसकी गांड की पूरी शेप नजर आ रही थी.

मैंने भी उनकी चाह को पूरा सम्मान दिया और अपने होंठ फिर से उनकी चुत पर धर दिए. भाभी भागने लगी और मैं भी उनके पीछे उनकी गांड देखते देखते भागने लगा. यह बात 2 साल पहले की है जब मैं एक इवेंट कंपनी में मार्केटिंग की जॉब करता था जो साउथ दिल्ली में है.

इसके बाद दीदी और जीजाजी दोनों सो गए लेकिन मेरे को नींद नहीं आ रही थी, मैं जीजाजी का लौड़ा अपनी चूत में लेने के सपने देख रही थी और इसके लिए प्लान बना रही थी. पर खुद सोचा कि कहाँ यार एक बार भी सेक्स करने को नहीं मिलता, यहाँ खुद ही मौके और जगह बनती जा रही है. पर वो नहीं मानी, वो बोलीं- आपकी जो भी फ़ीस होगी, मैं उससे ज्यादा दे दूंगी.

मैंने उससे बोला कि अगर तू बुरा ना माने तो मैं भी तेरी चादर में आकर लेट जाऊं. इन एजेंसियों में पैसा लेने का स्वार्थ होता है, फिर चाहे उनको क्रिमिनल लोगों को भी सदस्यता क्यों न देनी पड़े.

मैं थोड़ा सवालिया सा हुआ, तब उसने बताया कि अब मेरे पति बच्चा करने की बोल रहे हैं. मोहन फाल्के पे था और मैं नीचे बैठी थी इसलिए मेरा सर सीधा मोहन की जाँघों में घुस गया था. मेरा दोस्त उसके बड़े बड़े दूध मसल रहा था और साथ में उसे दबादब चोद भी रहा था.

दीदी ने कहा भाई अब और मत तड़पाओ… जल्दी से डाल दो अपना लंड मेरी चुत में…मैंने कहा- ठीक है दीदी…मैं अपना हाथ लंड को पकड़ कर उसकी चुत पर लगाने लगा और जोर से झटका मारा.

अचानक ही प्रिया अपने दोनों हाथों से मेरी बनियान को ऊपर को खींचने लगी. भाभी मादक आवाज़ में कहे जा रही थीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… और अन्दर तक चोद दे. मैं बोला- कंपनी की गाड़ी बुलाई थी क्या?‘अब से ये कार ही लेने आएगी, विवेक बाहर गए थे, वो आ गए हैं.

जब मैं उठी तो रात भर की चुदाई से मेरी टाँगें पूरी तरह से खड़ी नहीं हो पा रही थीं. अनामिका- अरे मैंने उसको हमारे बारे में सब बता दिया है और वह अब हमारे साथ सेक्स करने के लिए एकदम पूरी तरह से तैयार है क्योंकि उसका पति उसकी हवस नहीं मिटा पाता है और उसने रोते हुए मुझे सब बताया तो मैंने उसको सब बता दिया कि मैं कैसे अपने पति के साथ और तुमसे चुदाई करवाती हूँ, पिछले 2 साल से तुम्हारे पास आकर मेरी भूख को मिटा रही हूँ.

मैं रोज ऐसा ही मेकअप करके मोहन के खेत में काम पर जाती हूँ और मोहन को पटाने की कोशिश करती हूँ. करीब 11 बजे जब मैं सोने लगी तो भाईजान ने कहा- जूही, तू आराम से लेट कर सो जा. जब फोन किया तो उधर से आवाज़ आई कि बहन बताओ क्या हुआ?मैंने उससे अपने पर जो बीती थी, बताई तो उसने कहा- ठीक है, मैं तुमसे कल सुबह बात करता हूँ.

जवान लड़की का सेक्सी वीडियो बीएफ

प्रिया के पसीने की खुशबू के साथ साथ प्रिया के पसीने का का हल्का सा नमकीन स्वाद साथ में शायद डियो का कसैला सा स्वाद था.

अब वो मुझे अपने नीचे आती दिख रही थी, जब मैंने थोड़ी देर तक उसे कोई जवाब नहीं दिया. अब मैंने ज़ोर ज़ोर से चुदाई शुरू कर दी, जब मैं उनको चोद रहा था तो वो ज़ोर ज़ोर से बोलने लगीं कि चोदो चोदो. एक दिन सुबह बहुत बारिश हो रही थी और जाना भी ज़रूरी था तो हमने बारिश मैं जाने का फ़ैसला किया.

उसका लंड पहले से ही झटके मार रहा था, मेरे मसल देने से वह पगल सा हो गया और मुझे अपनी बाँहों से अलग करते हुए जोश में मुझे जोर से दबाते हुए अपने सामने नीचे बिठा दिया और और जब तक मैं कुछ समझ पाता उसने अपनी चेन से अपना फनफनाता लंड निकाला और मेरे चहरे पर अपने लंड से मारने लगा. हेलो फ्रेंड्स, मेरी पिछली सेक्स कहानियां पढ़ने के लिए और मुझे रिप्लाई करने के लिए धन्यवाद!आपके मेल ही मुझे नई नई सेक्सी कहानी लिखने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।जैसे आप सब लोग जानते ही हैं कि मेरा नाम नीतू पाटिल है, मैं महाराष्ट्र की रहने वाली हूँ, मेरी उम्र 24, हाइट 5’4″, साइज 32-28-36 है, मेरा रंग गोरा है और दिखने में बहुत सुन्दर हूँ, मैं हमेशा ट्रेंडी और अट्रक्टिव रहती हूँ. एक्स एक्स एक्स वीडियो सनी लियोन एचडीहम लोगों ने बातें करना शुरू की, उन्होंने मुझे बताया कि आज उनका बर्थडे है और उनके पति को उनकी कोई फिक्र ही नहीं है.

आज मैं भी शरारत के मूड में थी- क्या बात है जनाब, आज आप चूमेंगे नहीं हमें?मुझे क्या पता था कि वो तो तैयार है. मेरा मतलब है तुम अचानक चले जाओगे तो घर में कामकाज की दिक्कत हो जाएगी.

वो बोला- सर आगे से आपको किसी भी शिकायत का कभी कोई मौका नहीं मिलेगा. भाबी झट से तैयार हो गईं और मैं भैया भाबी तीनों एक ही बाइक पर बैठ कर चल दिए. लेकिन मैंने समय की नज़ाकत को समझते हुए उसे यूनिवर्सिटी चलने को कहा और फिर हम दोनों बाइक से उसके कॉलेज जा ही रहे थे कि रोड पर गड्ढे होने के कारण मैंने उसे पकड़ने को कहा.

ये सब उधेड़बुन मेरे दिमाग में चलती रही और मैं फ्रेश होकर नीचे खाने के लिए चला गया. इन प्यार के पलों में उसका मुझे यूँ छोड़ना मुझे पसन्द नहीं आया और मैं नाराज होकर पीछे वाली सीट पे चली गई. मुझे भी अब इस बात का एहसास हो चला था कि वो मुझसे इतनी सीनियर हैं और अब उनकी शादी भी होगी, तो थोड़ा अपसैट रहने लगा था.

मेरी किस्मत भी क्या है, जिसके लिए यह सब किया, वो ही मुझे आज चोद रहा है.

इन एजेंसियों में पैसा लेने का स्वार्थ होता है, फिर चाहे उनको क्रिमिनल लोगों को भी सदस्यता क्यों न देनी पड़े. शायद वो अपनी ननद को देख कर मन ही मन सोच रही थी कि आज तो उसकी ननद की चुत चुद ही गई होगी.

मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि निप्पल मुँह में लू या बुर में मुँह लगा कर रस चूस लूँ. जैसे ही उसने मेरी चड्डी नीचे की, तो मेरा लंड स्प्रिंग की तरह उछल कर उसके लबों से जा टकराया. मैंने पूछा- कब से चल रहा है ये सब?तो वो बोली- जी सिर्फ दो महीनों से ही.

मुझे देखते ही नीना ने डॉक्टर साहब से बड़ी गर्मजोशी के साथ मेरा परिचय कराया। डॉ. मैं एक दिन मुंबई से अहमदाबाद स्लीपिंग क्लास की बस से सफ़र कर रहा था. तो मॉम अपने घुटनों को ज़मीन पर रखकर नवीन के ऊपर झुक गईं और अपने दोनों हाथों से नवीन की लुंगी.

बीएफ भेजो भोजपुरी वैसे हाँ, लेकिन वो बहुत बिजी है अपने काम में, सिर्फ सन्डे और छुट्टियों में ही खाली रहता है. मेरे ये कहने से वो थोड़ा डर गई और मुझसे विनती करने लगी- नहीं जीजू, मैंने कुछ नहीं किया है, आप प्लीज़ किसी को कुछ मत बताइए.

बीएफ सेक्सी दिखाएं इंग्लिश में

दोस्तो, मेरी इस हिंदी सेक्स स्टोरी में मजा आ रहा है ना? तो मुझे ईमेल जरूर कीजिएगा. मैं भाभी को किस करते हुए नीचे आने लगा और मम्मों को किस करते हुए उनकी टांगों के बीच बैठ गया. बीच बीच में मैं अपने मुंह में पानी भर कर उसकी चूत में तेज़ धार छोड़ देता.

उनके नाखून बहुत बड़े थे, उन पर उन्होंने नेवी ब्लू रंग की नेलपेंट लगा रखी थी, आंखों में काजल डाल रखा था, डार्क रेड रंग की लिपस्टिक लगा रखी थी. वो दोनों हाथ पीछे डाल के मेरी गांड के गोले किसी आवारा जानवर की तरह दबाने लगा. इंडियन एक्सएक्सएक्स वीडियोमैं आगरा से वीशु कपूर नाम का 25 वर्षीय एक सजीला नौजवान हूँ, अहमदाबाद में एक मसाज पार्लर में मसाज ब्वॉय की हैसियत से काम कर रहा हूँ.

वो कहने लगी- आज तो मेरी चूत की खैर नहीं!और वो मेरे लंड को अपने हाथों में लेकर खेलने लगी.

मेरी मॉम की अपने नौकर के साथ मस्तचुदाई की हिन्दी कहानीके लिए आपके ईमेल आमंत्रित हैं. युवक हमारी मेज के पास रुक कर हमसे वहां बैठने की इजाजत मांगने लागे, और हमने उन्हें सहर्ष अनुमति प्रदान कर दी.

इसके बाद दो दिन बस एक दूसरे को देखना, मुस्कराना, नजरों के तीर झेलना, छूकर चले जाना, इसी में समय जाता रहा!तीसरे दिन किसी काम के चलते वो मेरे घर शाम को आई! उस समय पर मेरे घर पे कोई नहीं होता तो उस दिन भी कोई नहीं था! सब आठ बजे के बाद लौटते थे, हमने काम की बातें की और काम ख़त्म कर दिया. नमस्ते दोस्तो, मेरी जीवन की पहली कहानी अन्तर्वासना पर प्रकाशित हुई तो मुझको बहुत अच्छा लगा. और जिस दिन आपने मेरी सील तोड़ी थी, तब मैंने आपको प्रॉमिस किया था कि मेरा पहला बच्चा आपका ही होगा.

जब वो नॉर्मल हुई तो मैं धीरे धीरे धक्के लगाने लगा और वो भी चूतड़ उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी.

विवेक ने उसको ऐसे ही काफी देर उछालने के बाद उसको पलट कर बेड पे डाल दिया और उसकी एक टांग कंधे पे रख कर उसकी चूत में धक्के देने शुरू कर दिए. मैं- अरे… यह तुम क्या बोल रही हो? पागल तो नहीं हो गयी हो ना? अगर किसी चौथे को यह बात पता चल गई तो बाहर के लोगों को भी यह बात पता चलने में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा. ‘पिंकी तुम पहले अपनी टी-शर्ट उतारो और विक्की तुम पिंकी के टमाटर को दबा दबा कर उसकी रसभरी को चूसो, इससे तेरी एक्सरसाइज भी हो जाएगी और पिंकी के टमाटर भी फूलने लगेंगे.

देसी भाभी की चूत चुदाईजो औरत अपने पति से शारीरिक रूप से संतुष्ट नहीं होती है, उसे जिगोलो संतुष्ट करता है मतलब वो उस औरत के साथ सेक्स करता है और बदले में वो उस औरत से अपनी मेहनत की फीस लेता है. उसने मुझसे बोला कि वो मुझे बहुत पसंद करता है और वो मुझे अपनी गर्लफ्रेंड बनाना चाहता है.

बीएफ सेक्सी डिजाइन

मुझे देखते ही दोनों अपने अपने कपड़ों की तरफ भागे और जल्दी से कपड़े पहनने लगे. दोस्तो मैं इस किस्से को फिर कभी बताऊंगा कि उसने जो मेरे लिए ढूँढा था उसे मैंने कैसे चोदा और इस बार गांड मारने का भी मजा लिया, वो नया वाला कांटा भी एकदम कुंवारी सील पैक माल थी. मैंने उसे ये भी बताया कि मैं अन्तर्वासना पर अपनी कहानियां लिखने का भी शौकीन हूँ.

मैं उसको थूकना चाहती थी मगर अशोक मेरे को लंड का वीर्य पिलाना चाहता था. जब उसने लंड पेला तो मुझे दर्द तो हुआ लेकिन बहुत अच्छा भी लगा क्योंकि मेरे पति कभी ऐसा नहीं करते थे. भाभी के बदन से नाईटी को निकाल कर दूर फेंका तो देखा भाभी ने भी अन्दर कुछ नहीं पहना था.

तभी अचानक मेरे घर की कॉलबेल बजी तो मैंने दीदी को अन्दर वाले कमरे में भेज दिया और अपना पजामा ऊपर करके मैं मेनगेट खोलने चला, लेकिन दीदी के द्वारा मेरा लंड चूसने से मेरा लंड लोहे की गरम रॉड की तरह तन गया था, जिसे मैंने बैठाने की बहुत कोशिश की. दीदी मुझे कोने में ले गई और मोबाईल में रानी दीदी की तस्वीरें दिखाने लगीं. मैंने बोला- ऐसे कैसे दिखाओगी अपनी सील, ऐसे थोड़े ही मुझे कुछ दिखेगा.

’उसका मैसेज देखकर मुझे थोड़ा अच्छा जरूर लगा, फिर सोचा झूठी फ़िक्र दिखा रहा है. मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने हाथों में पकड़ कर अपने कंधे पर रख लिया.

खैर… हम मंदिर जाने लगे तो बाहर जितने भी लोग थे, बस हम दोनों को ही देख रहे थे.

बहुत मस्त होठों को चूसती है यार!कुछ देर हम किस करते रहे और फिर हम लोग बेड पर लेट गये, मैंने मैक्सी पहनी हुई थी और अन्दर ब्रा पैन्टी रेड कलर की और पूनम ने साड़ी पहनी हुई थी. विदेशी सेक्स दिखाओउसके बाद तो नेहा और उसकी सास को हमेशा साथ साथ ही चुदाई करता था और वो दोनों मुझ से इतना खुश थी कि हर चुदाई के बाद मेरे लाख मना करने के बाद भी 2000 रुपया दे ही देती थी. जलेबी बाई वेब सीरीजमादक स्वाद से भेजा भन्ना गया, शरीर में चुदास की ज़ोरदार तरंगें अपना ज़ोर मारने लगीं. पूनम के मुँह से एकदम से चीख निकली- हाय मर गई… बहुत बड़ा लंड है… प्लीज़ बाहर निकालो… मैं मर जाऊंगी.

केवल 40 सेकंड के अन्दर ही मेरा लंड पूरी तरह खड़ा होकर भाभी को सलामी दे रहा था.

मगर उसको कहाँ सुनना था, वो तो मुझको एक ही झटके में गिरा कर मेरी चूत में अपना लंड डाल कर ही माना. पर मैंने उसके होंठों पर कोई रहम नही किया… मैं ज़ोर ज़ोर से उसके होंठ चूम रहा था और वो भी ज़ोर ज़ोर से मेरे होंठों को अपने मुख में ले रही थी. अंकुश की मम्मी के जाने के बाद इतने साल से मैं भी अकेला रोज़ रात को अपने हाथ से ही काम चला रहा हूँ.

मैं अब जब भी अपनी सहेली को ऑफिस ले जाने के लिए जाती थी तो मकान मालिक मुझे अपने रूम में बुलाकर मुझे किस करता था और उसके बाद में मैं और मेरी सहेली हम दोनों लोग ऑफिस जाते थे. वो भी मेरे बदन से चिपकने के मज़े लेती, लेकिन मैं कुछ इससे ज्यादा ही पाने की सोच में था. एक दिन मेरे रूम के दरवाजे पर दस्तक हुई, जैसे ही मैंने दरवाजा खोला तो 3 आदमी गन लिए हुए अन्दर घुस गए और मेरी कनपटी पे बंदूक रख दी.

वीडियो फिल्म बीएफ सेक्सी

उसने मेरे दोनों बूब्स जम कर दबाना और चूसना शुरू कर दिया। और लंबी लंबी सांसें लेने लगा. अगर बेटा यह काम तुम आज करवा दो तो मैं तुम्हारा एहसान जिन्दगी भर नहीं भूलूँगा. वो थोड़ा ऊपर को उठीं और मेरा लंड अपनी गांड की दरार में सैट करके फ़िर से बैठ गईं.

मैंने कहा- बाहर चला जाऊं मैं?कामिनी बोली- नहीं, जाना नहीं है… मुर्गा बन जल्दी.

तभी उसने अपनी कड़क आवाज से मुझको लंड चूसने का हुकुम दिया और एक झापड़ मेरे गाल पर जड़ दिया.

मैंने काफी देर बात की और कल मिलने की सोच कर मेरे लंड महाराज तनने लगे. नगमा एकदम दूध से धुली अप्सरा लग रही थी उसने सलवार कमीज पहना था जिसमें उसने गहरे गले की कमीज पहन रखी थी जिससे उसके गोरे-गोरे चूचे झलक रहे थे. गांव वाली भाभी की सेक्सी वीडियोरश्मि ने बताया कि उसने रात बड़ी मुश्किल से करवटें बदल बदल कर काटी है, उसने कई बार उंगली से चूत को चोदा परंतु तसल्ली नहीं हुई.

आज तुम्हारी चुदाई हम तीनों एक साथ मिल कर करेंगे ताकि तुम भी देख सको और चुदाई को देखने के पूरे मज़े लो. वहां बैठी एक 30 साल की बहुत ही सेक्सी औरत ने मुझे चाभी दी और कहा- दूसरी मंजिल, रूम नंबर 104 में मजे करो. रूम पार्टनर- तेरा काम हो गया हो तो चलें?मैं- हाँ, चल यार रूम पर चलते हैं.

मैं उसकी चुत को तुम्हारे सामने ही चैक करवा कर देखूंगा कि वो अनचुदी है या पहले भी चुद चुकी है. उसने मुझसे दूध पिलाने का कहा तो मैं उसकी छाती पर चढ़ गई और उसको अपने चूचे चुसाने लगी.

कुछ देर बाद उसने कहा- अब शायद तुम्हें तुम्हारी जोरदार कहानी मिल गई होगी.

मैंने भी सोचा कि किसी और दिन लंड चुसवा लूंगा, आज तो मुझे बस उसकी चूत फाड़नी थी. टॉवेल से मेरा शरीर साफ करके मुझे गोद में उठा लिया और अपने बेडरूम में ले गए. मैं वहीं बेड के पास घुटनों पर बैठ गई और उनके पजामे को थोड़ा नीचे करके उनके लंड को अपने मुंह में ले लिया और उसे प्यार से चूसने लगी.

देवर भाभी की सेक्सी फिल्में मैंने उसे अपनी तरफ लेते हुए उसके सिर को अपने छाती पर रख लिया और उसे चुप कराने लगा. उसने दुबारा कोशिश की, पर चूतड़ इतने टाइट थे कि अब उंगली चूतड़ों में घुसाने में उसको परेशानी होने लगी.

भाभी ने मुझे काफ़ी देर तक टाईटली हग किए रखा और इतना कसे हुए थीं, ऐसा लग रहा था… जैसे वो मुझमें समाने की कोशिश कर रही हों. फिर थोड़ी देर में आंटी झड़ गईं और उनका पूरा रस मेरे मुँह में चला गया, जो नमकीन और टेस्टी था. एकदम से मोटा लंड घुस जाने से ऋतु की आँखों से पानी गिरने लगा और वो कराहने लगी.

सेक्सी पिक्चर पंजाबी बीएफ

शादी अगले ही महीने हो गई और शादी के बाद विक्रम मुझे कई जगह घुमाने के लिए ले गया. बीच बीच में मम्मों को काटता भी जा रहा था, जिससे उसके दांतों के निशान भी पड़ गए होंगे, मगर मैं उन निशानों को अभी देख तो सकती नहीं थी सिर्फ महसूस कर रही थी कि क्या हुआ होगा इन बेचारे मम्मों के साथ. मैं उसका लंड पकड़े रहा तो उसने मेरे हाथ पर हाथ रख कर अपना हाथ हिलाया.

कहाँ तो बेटा अपनी माँ की इज्जत को बचाने के लिए अपनी गर्दन कटवा लेता है और कहाँ मेरा बेटा खुले आम अपनी माँ यानि मेरी इज्जत को नीलाम कर रहा था, अपने ही सामने और लूटने वाले के साथ मिल कर मुझे चोद रहा था. उनमें से इतनी मादक और मस्त खुशबू आ रही थी कि मैं 5 मिनट तक तो उनको सूंघता ही रहा, फिर मैंने ब्रा को अपने लंड पर रख कर मुठ मारी.

एक पल के लिए हम दोनों की आँखें मिली और उसके चेहरे पर शरारत भरी स्माइल आ गई। खैर मैंने अपनी आँखों पर काबू किया और पढ़ाने लगा.

कैसी लगी मेरी कहानी कि कैसे मैंने भाभी का सेक्स पूरा किया, आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते हैं. आप जानेंगे तो मदहोश होकर पागल हो जायेंगे, खुद पर कंट्रोल नहीं कर पायेंगे… और मुझे देखने के बाद तो आप रह ही नहीं पाओगे! यह दावा है मेरा!मेरी हॉट सेक्स कहानी आपको कैसी लगी? आप मुझे मेरी मेल आईडी पर मेल कर के बता सकते हैं।[emailprotected]. कुछ ने तो मुझसे मिलने की इच्छा भी जाहिर की, लेकिन मेरी पहली कहानी की घटना के बाद तो जैसे लाइफ ही बदल गई.

ये सुनकर मैं दंग रह गया और मैंने उसे ये कहकर टाल दिया कि वो देख रही थी मैं तो नहीं देखता. मैंने धीरे से उसके कान के पास जा कर पूछा- सोनिया, क्या मज़ा आ रहा है?तो उसने हां में गर्दन हिला दी. उसके मुंह से ऊँऊँऊँऊँऊँ… ऊँऊँऊँऊँ की ध्वनि निकली- ‘क्या करते हैं… प्लीज़ तंग न करिये ना.

करीब 5 मिनट रुकने के बाद अंकल दुबारा से आगे पीछे होने लगे और मुझे चोदने लगे.

बीएफ भेजो भोजपुरी: यह मेरा पहला अवसर था, जब मैं किसी लड़की का दूध पी रहा था… वह भी अपनी बहन का! सच में बहुत मजा आ रहा था. मैंने हामी भर दी और दीदी ने गिफ्ट देने के लिए मामाजी से 5000 रुपए भी ऐंठ लिए.

यहाँ मैं अभी एक जल्द ही घटित हुयी सच्ची कहानी के बारे में बताने जा रहा हूँ. इस तरह उसने अपने हाथ धीरे धीरे ऊपर की ओर बढ़ाए और मेरे चूतड़ सहलाने लगा. मैंने सोच लिया था कि अब मैं मौसी की मदद करूंगा और जब मौसी खुद ही कह रही तो इसमें कोई पापा भी नहीं!इस तरह से मैंने अपने दिल को झूठी सच्ची दिलासा दिलाई और मौसी की चुदाई करने की सोच ली.

सुबह मेरी नींद खुली तो दिन निकल आया था, मैं नंगा नंगी मौसी की बगल में लेटा था.

मुझे अपनी इस फंतासी को पूरा करने का मौका मिला, जब मुझे बस से बंगलोर जाना था. मेरा हाथ सीधा मेरी चुत पे चला गया और मैंने अपनी चुत में उंगली शुरू कर दी. अनुज ने उसकी टांग उठाई और धीरे धीरे लन्ड चूत में डालना शुरू कर दिया, सेक्टरी को दर्द होने लगा मगर अनुज धीरे धीरे लन्ड डाल रहा था.