स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी बिल्कुल नंगी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर भाभी सेक्सी व्हिडीओ: स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी, मैंने अपने मुँह से महेश का लंड बाहर निकाल दिया और जोर से चिल्ला उठी- उई माँ … मर गई … निकालो मुझे बहुत दर्द हो रहा है.

नोएडा का सेक्सी वीडियो

जैसे ही मैं नेहा के ऊपर आया, तो पहले तो वो हल्का सा कसमसाई … मगर फिर उसने खुद ही अपने पैरों को फैलाकर मुझे अपनी जांघों के बीच में ले लिया. सेक्सी ओपन वीडियो नंगीइतनी देर तक नीना के सानिध्य में रहे प्रशांत के फनफनाए हुए लौड़े को नीना की चूत में आराम की दरकार थी.

मैंने लंड को उनकी मांग पर लगा कर अपने राजपूतानी वीर्य से आंटी की मांग भर दी. देसी बीपी फुल सेक्सीवो फिर बोली- जाओ पहले राहुल को छोड़ आओ, फिर सुरभि के जाने के बाद ब्रेकफास्ट पे बात करेंगे.

कुछ देर तो भाभी अब ऐसे ही कराहती रहीं, मगर फिर धीरे धीरे उनकी‌ कराहें सिसकारियों में बदल गईं और उनकी चुत में अब फिर से संकुचन सा होना शुरू हो गया.स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी: अब मेरे पति अपना लम्बा और मोटा लंड हाथ से हिलाते हुए मेरी चुत में डालने के लिए करीब को आये, तो मैंने उनको मेरी चुत में लंड डालने के लिए मना कर दिया.

एक तो उसने ब्रा नहीं पहनी हुई थी और दूसरा उसकी टी-शर्ट का गला भी काफी गहरा था, जिसके कारण‌ मुझे उसकी चूचियों की घाटी और उस पर निकले हुए हल्के हल्के काले भूरे रंग निप्पल स्पष्ट नजर आ रहे थे.पहले उसने दो उंगलियों से मेरी चूत को चोदा और फिर पांच मिनट के बाद जब मेरी चूत का दर्द कुछ हल्का पड़ता दिखाई दिया तो उसने मेरी फूली हुई चूत में अपनी तीन उंगलियां डाल दीं.

सुहागरात की सेक्सी वीडियो 2020 - स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी

वो भी दर्द से चीख उठी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मार दिया!वो मेरा लंड लील गई और मुझसे लिपट गई.मैंने अब देर ना करते हुए अपने सुपारे को सही से उसके प्रवेशद्वार पर लगाया और एक जोर का धक्का लगा दिया.

अब कुछ पल बाद वो फिर से गर्म हो गईं और उनकी कमर ने हिल कर मेरे लंड को इशारा दिया. स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी जैसे ही में रूपा के पैरों की तरफ आया, रूपा ने अपनी टांगों को घुटनों से मोड़ कर उठा लिया और दोनों को विपरीत दिशा में फैला दिया.

इसलिए मालती आज मुझको छोड़ना ही नहीं चाहती थी … वो चाहती थी कि मैं हर रोज लंड के लिए तैयार रहूँ.

स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी?

लेकिन इसके बाद न जाने क्यों वो मेरे दिल में मेरी दीदी नहीं, एक मस्त औरत बन के आने लगी. नमस्कार दोस्तो,सबसे पहले मैं अन्तर्वासना के सभी लेखकों को धन्यवाद देना चाहूँगा; आप सबकी कहानी पढ़ कर ही मुझे अपने पहले सेक्स अनुभव को आपके साथ साझा करने का मौका मिला. फिर सुमन उठी और मेरे चिपक गई, बोली- भाभी, आज मुझे बहुत मजा आया … इतने दिन से मैं खुद से करती थी तो मजा नहीं आता था।सुमन मुझे फिर से चुम्बन करने लगी.

मैं धीरे-धीरे किस करता हुआ उसकी फुद्दी के पास आया और उसको चूम लिया. तुमने कहा था हाय राम, तुम्हारा तो बहुत बड़ा है, ये तो मेरी छोटी सी मुनिया को फाड़ देगा?मैंने कहा था कि पहली बार तुम्हें दर्द होगा तो जरूर … लेकिन उसके बाद शायद तुम स्वर्ग की सैर करोगी. मैं पेशाब करने चला गया, फिर वापिस आया तो देखा भाभी का गाउन घुटनों से और ऊपर आ गया था.

मैंने भाभी को पहली बार सामने से देखा था, क्योंकि मैं मेरी बुआ के लड़के की शादी में जा नहीं पाया था. मैं तो पागल वैसे ही थी, जब से कार में जगत अंकल लोगों ने मुझे चोदना शुरू किया था. मैंने नुपूर को बेड पर लिटा दिया और उसकी चुत पर मुँह लगा कर उसका रस पीने लगा.

इधर मेरी काम वासना भी इतनी बढ़ती जा रही थी कि मैं सुखबीर के आगे झुकती जा रही थी. बिल्कुल जीरो फिगर और मस्त गोल गोल चूचे, ऊपर से नुकीले निप्पल देखकर मेरा मन मचल रहा था.

मैं- चाचा का लंड ऐसा नहीं है क्या?चाची- नहीं रे, तुम्हारे चाचा का लंड इतना लम्बा नहीं है.

मम्मी पलट कर मुड़ीं, मम्मी के सीट के जस्ट पीछे थी, तो मम्मी को सिर्फ मेरा चेहरा दिखाई दिया.

उसी समय मैंने सोच लिया कि इसका मतलब ये हुआ कि मेरी पत्नी भी उसकी ओर धीरे धीरे आकर्षित हो रही है. सब पता है मुझे … पिछले दो दिन से देख रही हूँ … वो रोज रात को अपने बिस्तर से गायब रहती है …” नेहा ने बनावटी सा गुस्सा दिखाते हुए कहा. फिर जगत अंकल ने पीछे तरफ से मेरी स्कर्ट को ऊपर उठा दिया, तो मेरी गांड तक मैं बिल्कुल नंगी सी हो गई.

फिर वो नीचे की तरफ झुक कर मेरे लंड को मुंह में लेने के लिए राज़ी हो गई और मेरे लंड को अपने गर्म मुंह के अंदर लेकर चूसने लगी. मैं उसकी साइड में आके उसके बूब को चूसने लगा और एक हाथ मैंने उसकी पैंटी में डाल के उसकी चूत पे फिराने लगा. उधर चाची आँखें बंद करके हल्के स्वर में मादक सिसकारियां सी ले रही थीं.

फिर मैंने चलती बात पर सोनू से पूछा- क्या मुझसे फ्रेंडशिप करोगी?सोनू नीचे देखने लगी, उसने कोई जवाब नहीं दिया.

जैसे ही मैं थोड़ी सी उठी तो जगत अंकल ने अपना गमछा आधी अपने जांघों पर डाले रखी, आधी मेरे तरफ ऐसे कर दी जिससे जब मैं बैठूं या खड़ी होऊं तो किसी को कुछ समझ ही नहीं आए … और दिखे तो बिल्कुल भी नहीं. दोस्तो, मैं नेहा गुप्ता आप लोगों के लिए एक नई कहानी लेकर आई हूँ जो मेरी आपबीती है। कहानी की शुरुआत करने से पहले मैं बता दूँ कि मेरी उम्र 21 साल है और मेरी फिगर 32-28-34 है।मैंने अपनी बारहवीं की परीक्षा पिछले साल ही पास की थी और मैंने उसके बाद कॉलेज में दाखिला ले लिया था. मैंने कहा- निकालो अपना टेंकर और उड़ेल दो दूध मेरे मुंह में!वह- हो सकता है मेरा लंड आपको पसंद नहीं आये.

मैंने पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत पे किस किया, तो नैना सिहर उठी और आह करने लगी. नेहा के होंठों और गालों पर अब भी मेरा वीर्य लगा हुआ था और उसके मुँह से भी मेरे वीर्य की महक आ रही थी. मेरे हाथ से भी ज्यादा मोटा और करीब 10 से 12 इंच से भी लंबा लंड फनफना रहा था.

मैंने जो भी देखा था, मुझे उस पर विश्वास नहीं हो रहा था … पर सब सच था.

मैंने अपनी जांघ और पैर सिकोड़ लिए कि उनका हाथ मेरी चूत पर न पहुंच पाए. पति के पास जाकर भी मैं क्या करती, मैं तो उनसे चुदाने ही जा रही थी, मेरा काम पहले ही हो गया और ज्यादा मजेदार तरीके से!दोस्तो, मेरी सामूहिक चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, मुझे मेरी ईमेल आईडी पर बताना.

स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी आशा है कि आप सभी को पसंद आएगी कि कैसे मैंने घमंडी ललिता को चोद कर उसका घमंड तोड़ा. उसके बाद उसने जो जोरदार धक्के लगाने शुरू किये, वो मज़े मैं बता नहीं सकता.

स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी और उसको उल्टा करके उसके चूतड़ों पे हाथ फेरते हुए जोर जोर से मारने लगे, इस बार मुझे थोड़ा गुस्सा आ गया, पर मैंने देखा मेरी बीवी ने आंखें बंद कर ली हैं और वो मजे ले रही है. वो मेरे ऊपर ही लेट गया और बोला- आंटी, तुम बहुत गजब की माल हो इस उम्र में भी … जानेमन मैं तुमसे शादी करना चाहता हूँ.

जब वह मेरे होंठों को चूसने लगा तो मन कर रहा था कि बस यहीं चुदवा लूं अपनी निगोड़ी चूत को।इसके बाद अगले भाग में बताऊंगी कि कैसे मैंने राहुल से अपनी चूत का उद्घाटन करवाया। आप सभी लोग अपने विचार मुझे यहाँ बताएं।[emailprotected]कहानी का अगला भाग:देवर जी को ही पतिदेव मान लिया-2.

बीएफ बीएफ सेक्सी में बीएफ

और 9 इंच का मूसल जैसा लंड मेरी चूत में सेट किया और ज़ोर से धक्का मारा. और हम मजा ले रहे थे … मैं अब उसकी मस्त चूचियों को उसके काँधे के ऊपर से हाथ डाल कर कसके मसल रहा था और वो मेरे लंड को … और फिर सबके सामने खुली भीड़ में ऐसे आनन्द लेने में बड़ा मजा भी आ रहा था. जब मेरा लंड उसकी चूत में जा रहा था तो वह थोड़ी सी आवाज़ करने लगी क्योंकि मेरा लंड काफी मोटा था और उसकी चूत में फंसता हुआ जा रहा था.

लेकिन मैं उससे अपने दिल की बात न कह सका क्योंकि मुझे अजीब सा डर लगता था. जगत अंकल के बगल से दो ठाकुर लोग बैठे थे, उधर बिल्कुल मेरे सामने आगे की सीट में मम्मी और राज अंकल बैठे थे. मैं तो इंतज़ार ही कर रहा था उनके काम खत्म होने का, इसलिए मैं तुरन्त उनके बगल में खटिया पर बैठ गया और उनके खीरे से मस्त लंड की चमड़ी को पीछे की ओर खींचते हुए गहरे लाल सुपारे को बेपर्दा कर दिया और अपने दूसरे हाथ से उनकी मज़बूत बालों वाली छाती को सहलाने लगा.

मगर मुझे नींद नहीं आ रही थी तो मैंने डरते डरते भाभी के ऊपर अपना एक हाथ रख दिया.

उसने मेरा पूरा मेनू किचन में लिखवा दिया और फिर शाम को बाहर जाने का प्लान बनाया. जब तू यहां से जाएगी, तो हम दोनों भाई दबा दबा के तेरे दूध बहुत मस्त कर देंगे. अनु की चूत ने भी करण के लंड को अपने अन्दर सैट कर लिया था, जिससे उसका दर्द खत्म होने लगा.

हम दोनों का पानी बिस्तर पर गिरा था और इसके पहले सोफे पर भी गिरा था. कुछ ही देर में एक बॉटल दूध और निकालने के बाद मैंने देखा कि उसको आराम मिल रहा है और उसके चेहरे पर हल्की हल्की सुकून की मुस्कान लग रही थी. उन्होंने कहा- मैं किसी से कुछ नहीं कहूँगी और तुम जो कहोगे वो करूँगी.

सोनू बोली- आप उनके साथ पिक्चर देखने क्यों गए थे?मैंने सोनू से कहा- वह तो भाभी अकेली थी इसलिए उन्होंने मुझसे कहा कि आप मेरे साथ चल पड़ो तो मैं चला गया था, ऐसी कोई बात नहीं है. दस मिनट के लंबे चुम्बन और अधर रसपान के बाद मैंने अपनी टी-शर्ट उतारी और लोवर भी निकाल दिया.

मैं उसके निप्पल को छोड़ पेट को चाटता हुआ जांघों पर पहुंचा तो मैंने देखा नंगी बुर को देखा. चुदाई के नाजुक मोड़ पर प्रशांत नीना की मंशा समझ गया और उसे एक ऐसी सलाह दी, जिससे चुदाई में वह नीना से अपने किराए की मुकम्मल वसूली कर सके. मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी के ऊपर से ही चूत पर रखा, उसकी गर्म चूत का रस मेरी उंगलियों पर लगा.

रेखा- कुछ काम में बिजी हो क्या?मैं- नहीं … बताओ क्या कोई काम था क्या?रेखा- मेरे घर आ सकते हो क्या?मैं- अभी आता हूं … दस मिनट में.

गांड सिर्फ़ दो बार मारने मिली थी, पर उसमें मुझे बदबू के कारण मज़ा नहीं आया था. जैसे ही मालती का मुँह मेरी चूत पर पड़ा, तो मैंने उसके सर को बहुत जोर से दबा दिया और मैं तो अब मानो असके सर को चूत से हटाना ही नहीं चाहती थी. जिससे हम दोनों एक दूसरे से गंदी चैट भी करते और फोटो और ब्लू फिल्मों के क्लिप भी देखते.

मेरी बहन औंधी लेट गई तो उस आदमी ने अपना काला भुजंग सा मोटा लंड मेरी बहन की चुत में डाल दिया और रगड़ने लगा. सभी 5 आदमियों में से 3 आदमी मेरी बहन को चोद कर आगे वाली सीट पर नंगे बैठ गए थे.

क्या होंठ थे, इतने दिनों बाद किसी स्त्री के बांहों में होना मुझे तरन्नुम दे रहा था. मैंने लगा उठ कर देखा, तो कंचन मैम ने फिर से मेरा लंड मुँह में ले लिया था और वो लंड चूसने में लगी थीं. मैं बोला- आप चिंता मत करो और आज के बाद आपका जब भी मन करे, मुझे कॉल कर देना.

बीएफ फुल मूव्ही

ऊषा ने मेरे लंड को साफ किया जोकि मेरे वीर्य और उसके चूत के रस से सना हुआ था.

तुम्हारे साथ बिताया एक एक पल जब मुझे याद आता है, तो मेरे तन बदन में आग लग जाती है. उन्होंने फिर मुझे अपने ऊपर आने को कहा और मैं उनके ऊपर आकर उनकी टांगों को उठाकर चूत पर लंड रगड़ने लगा. मैंने तुरंत उसका यूजर नाम पढ़ लिया और आंटी को थैंक्यू बोल कर सिलिंडर लेकर घर आ गया.

मैं हां कर दी तो उसने तुरंत अपने पति को फोन लगाया जो ओमान में किसी कंपनी में काम करता था. कुछ देर बाद जब मुझे लंड को सम्भालना मुश्किल हो गया तो मैंने अपनी बहन को बोला- मुझे नहाने जाना है, गर्म पानी का क्या है?इस पर बहन ने कहा- हां तो नहा ले न … बाथरूम में ही गर्म पानी है. डब्लू डब्लू डॉट कॉम सेक्सी फिल्मेंआखिरकार सुमन लगभग 40 मिनट की चूत चटाई के बाद बड़ी जोर से चिल्लाई- हाय भाभी … मैं गयी … मैं झड़ने वाली हूँ! और जोर से तेज तेज चाटो भाभी!और उसने मेरा सर पकड़कर अपनी चूत में दबा लिया और बड़ी तेजी के साथ अपनी कमर उछालते हुये मेरे मुँह में अपनी चूत का सारा गर्म लेसदार पानी फच्च से भर दिया.

गुलाब की पंखुड़ी जैसे उसके रसीले होंठ, बलखाती कमर, उभरे हुए चूतड़ … गहरे गले के ब्लाउज से छलकते हुए दूधिया स्तन उसकी झीनी साड़ी के पल्लू से साफ़ झलक रहे थे. एक दिन हमेशा की तरह मकान मालिक और उनकी बीवी के जाने के बाद मैं और ऊषा घर में अकेले बचे.

तभी मैंने महसूस किया कि आंटी का हाथ अपने आप मेरे ट्रैक पैंट के ऊपर से मेरे लंड को सहलाने लगा था. उसकी पीड़ा जान कर मैं कुछ देर रुक गया और उसके ऊपर लेटे रह कर फिर से उसके होंठों को चूसने लगा. मैंने उसे तुरन्त ही अब अपने मुँह में भर लिया और जोरों से चूसने लगा.

झड़ने के बाद जैसे जैसे वो आगे पलंग पर लेटती गयी, मैं उसके ऊपर लेट गया और फ़िर साइड में लुढ़क गया. उन्होंने मुझे अपनी उसी छाती चौड़ी से चिपका लिया … वो भी एकदम कस के. तभी उन्होंने धीरे से मेरे कान में कहा कि यहां ज्यादा नहीं … सब देख रहे हैं.

कभी जयपुर बुला कर तो कभी उसके घर हैदराबाद जाकर भैया की गैरमौजूदगी में चुदाई हो जाती.

ये मुझे थोड़ा अजीब लगा, पर मैंने सोचा जाने दो, सबकी अपनी अपनी जिंन्दगी है … अपना अपना स्वाद है. मैंने अब कसके अनवर को बांहों में पकड़ लिया और अपनी कमर आगे पीछे करने लगी.

अब मैं उस के ऊपर आ गया और उसके पैरों को मैंने अपनी कमर पर लपेट लिया और अपने लण्ड को चूत में रखा और चूत पर पटकने लगा. अन्दर पूरा अंधेरा था, तो उसने एक खिड़की खोली, पर जैसे ही धक्का दिया खिड़की का दरवाजा सड़े होने की वजह से एक तरफ से टूट गया. हमारा हॉस्टल करीब 16 किलोमीटर दूर था वहाँ से, तो हम हाईवे से आ रहे थे.

मैंने उसे बोल दिया कि मैं जिस दिन फ्री रहूंगा उस दिन उसके घर पर आकर उसका कम्प्यूटर ठीक कर दूंगा. जब तक मैं रिक्शे वाले को पैसे दे रहा था, तब तक उसने एक कमरा अपने नाम पर बुक कर लिया. हो गयी तसल्ली? कर आया अपनी मर्जी? या और भी कुछ बाकी है …” उसने गुस्से से मेरी तरफ देखते हुए कहा और वहां से जाने लगी.

स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी उसने इशारे से पास बुलाया और बोला- कोई जगह है क्या? कहाँ पीओगे मेरा दूध?मुझसे वहां खड़े होते नहीं बन रहा था, बहुत बदबू आ रही थी. कुछ देर बाद राहुल ने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरे हाथ पर किस किया लेकिन मैंने कोई उत्तर नहीं दिया.

स्वामी की बीएफ

अब मैंने फिर से एक हल्का धक्का दिया, तो मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुस गया. अगले दिन जब मैं ऑफिस से घर आया तो मैंने देखा कि अनु और करण पाल एक कमरे में पास पास बैठे थे और बातें कर रहे थे. न कोई कलाकार परमपिता की बराबरी कर सकता है और न ही कोई कंप्यूटर उसके बराबर रचना कर सकता है.

कमरे की लाईट आफ थी नाईट लैंप की थोड़ी रोशनी में हम मम्मी पापा की चुदाई का खेल देख रही थी. वो बहुत अलग ही तरीके से मेरे होंठों में अपनी जीभ को धीरे धीरे ऐसे चला रहा था कि मेरी हालत उसकी हरकत से बिगड़ रही थी. नंगी सेक्सी चोदते हुए वीडियोमीनाक्षी इस पर चुपचाप मेरे पास बैठ गई और कहने लगी- हां भाई आपकी बात बिल्कुल सही है … हमारी सैटिंग हो गई है और मैं उससे प्यार करती हूँ.

मुझे तुझसे कुछ मतलब नहीं है, मैं मर रही हूं, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

यह देखकर मुझे बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगा, लेकिन मैं क्या कर सकता था. और उसको भेजा भी तुमने ही होगा?” नेहा ने अब शरारत से मुस्कुराते हुए कहा.

बिना कुछ सोचे समझे मैं तुरंत ही खड़ा हो गया और अपने दोनों पैर एक ही तरफ के पैरदान पर रखते हुए बाजू से अपनी मुंडी उनके हैंडल पकड़े हुए हाथ के ऊपर से होते हुए मोटे लंड के मशरूम से सुपारे को अपने मुँह में भर लिया. उस रात सुखबीर से बातें करते हुए सुबह के 4 बज गए और हमने लगभग एक दूसरे की पसंद, नापसन्द सब जान लिए. तुम मेरी छोड़ो … अपनी बताओ कितनी गर्ल फ्रेंड हैं तुम्हारी?मदन ने कहा- सर मुझे लड़कियों में कुछ खास इंटरेस्ट नहीं है, पता नहीं क्यों पर मुझे परिपक्व आदमियों से बात करना अच्छा लगता है … जैसे आप! मैं एक होमोसेक्सुअल हूँ.

पर जबसे तुम्हें देखा था एक साल पहले तब से मैं तुम्हारी बनकर रह गयी.

मैंने बोला- दो लास्ट प्रश्न … क्या आपका मन नहीं करता सेक्स का?तो उत्तर आया- हां करता है!और लास्ट सवाल था- आपको कैसा लंड पसंद है. धीरे-धीरे मैंने भाभी को बेड पर लेटा लिया और फिर उसकी साड़ी को खोलना शुरू कर दिया. मुझे डर था कि कहीं वंदना अपने नीचे खून देकर डर ना जाए, इसीलिए मैं उसको किस करने लगा.

सिर्फ लड़कियों की सेक्सीइस बीच नीना दो बार झड़ी भी, मगर प्रशांत का कड़क लंड तो ठंडा पड़ने का नाम ही नहीं ले रहा था. पहले शायद वो डरती‌ थी, मगर अब प्रिया के बारे में पता लगने‌ के बाद इसमें हिम्मत आ गयी थी.

भोजपुरी में बीएफ दिखाइए वीडियो में

मुझे मालूम था कि मेरी बहन की पहली चुदाई घर के नौकर ने की थी, जो 40 साल का था. इस चोदन कहानी के पहले भाग में आपने पढ़ा कि चंढ़ीगढ़ में मैंने एक रूम किराये पर लिया मगर साथ में ही मिली दो गर्म भाभियां, दोनों ही हुस्न की मल्लिकाएँ थीं और शायद एक दूसरी से जलती थीं. ईई … ईईई …” सिसयाते हुए उसने‌ मुझे रोकने की कोशिश तो की, मगर तब तक मैंने उसको बिस्तर पर गिरा लिया था.

ललिता से मिलने के बाद मैं कहता हूँ कि…चैत में चिड़ियाकातक में कुतियामाघ में बिलाई औरशादी में लुगाईरिफली रिफली हांडा करती है. जितनी तेजी से मैं धक्के लगा रहा था, उतनी ही तेजी से अब नेहा भी नीचे से अपने कूल्हों को उचका कर मेरे धक्के का जवाब दे रही थी. फिर मैं भी यही सोचता था कि अभी यह नई-नई लंड की शौकीन है इसलिए इसके साथ ज्यादा जोर-जबरदस्ती करना भी ठीक नहीं है.

मैंने दरवाजा तो बन्द किया हुआ था मगर शायद प्रिया ने हमें खिड़की से देख लिया था. मैंने शिवा से आवाज लगाते हुए कहा- ज़रा नयी मैडम को कहो कि वो मुझे रिपोर्ट करें. मैंने भी एक पीछे की तरफ गांड का जोर का धक्का दिया तो पुनीत का पूरा लंड सट से मेरी गांड में अन्दर तक घुस गया.

आंटी के जाने के बाद मालिनी गुस्से में मेरे पास आई और बोली कि ये बहुत दखल दे रही है, ऐसे तो मुझे सच में तुम्हारी पत्नी बनकर रहना होगा. मैडम ने लंड चूस कर बाहर निकालते हुए कहा- आपका लंड तो बहुत बड़ा और मोटा है … मेरे पति से दोगुना है … आप थोड़ा आराम से अन्दर कीजिएगा … मुझे आपके लंड से थोड़ा डर लग रहा है.

सुबह में फिर से एक बार मस्ती भरी चुदाई हुई और मैं फिर हॉस्टल में वापस चली गई.

पुनीत ने मेरे कूल्हों की तरफ जो लंड रस लगा था, उसे अपने हाथों से गांड की छेद पर लगाया और फिर अपने लंड का सुपाड़ा जैसे ही मेरी गांड में रखा, मैं उछल पड़ी और उसके थोड़े से ही दबाने पर आधा लंड मेरी गांड में घुस गया. छोटी लड़कियों की ब्लू फिल्म सेक्सीउसकी चूची को चूसते हुए मेरा एक हाथ अब भी उसकी दूसरी चूची पर ही था, जिससे मैं उसकी चूची को मसल भी रहा था. मुसलमान की लड़कियों का सेक्सी वीडियोफिर मेरी किस्मत चमकी और सोहन ने मुझे कॉल किया और कहा कि हेमा की जवानी और सेक्स के मज़े लेने हो तो तुरंत आ जाओ. अगर एक बार जिसने इसकी सेवा ले ली, वो कभी दूसरा लंड लेने की नहीं सोचेगी इतना मुझे खुद पर पूरा भरोसा है.

उसने मुझे बताया कि मेरी बहन का एक ब्वॉयफ्रेंड तो हमारे घर भी आता है और मेरी बहन मेरे घर वालों से बोलती है कि वो उसका दोस्त है.

मेरे प्रिय दोस्तो, आप सभी पाठक पाठिकाओं को मेरा और मेरे खड़े लंड का सलाम. मेरी फट गई कि पक्का कुछ हुआ है, मैं डरते हुए मम्मी के पास गया और उनसे पूछा कि जी मम्मी जी. फिर उसने धीरे से मेरा लौड़ा अपनी चूत में डाला और खुद उछल उछल कर झटके मारने लगी.

आपको मुझमें क्या मिलेगा?मैं सरिता के मुंह से ऐसी बेबाक बातें सुनकर उसका मुंह ताकता रह गया. मैं अभी अभी दो बार स्खलित होकर आया था, इसलिए मैं इतनी जल्दी तैयार तो नहीं हो सकता था. उसे देख कर मेरे दोस्त उसे देख कर आपस में बात करने लगे थे कि मस्त माल है … यार चुदाई के लिए मिल जाए तो सारी रात चोदेंगे.

बीएफ सेक्सी वीडियो 2019

कुछ ही देर में एक बॉटल दूध और निकालने के बाद मैंने देखा कि उसको आराम मिल रहा है और उसके चेहरे पर हल्की हल्की सुकून की मुस्कान लग रही थी. वैसे भी भाभी का अभी उसके ब्वॉयफ्रेंड से ब्रेकअप हो गया है, तब तक तो ये मुस्टंडा ही काम में आएगा. मैंने इधर बीच उसके बोलने पर उसकी एक सहेली को भी होटल ले जा कर पेला था.

अनु मस्त होकर बोल रही थी- हाय जानू चोदते रहो … मुझे खूब मजा आता है … तुम ऐसे चोदते हो तो चूत गर्म हो जाती है.

हमारी बातें अब तक सिर्फ़ फोन से ही होती थी, मिलना तो मुमकिन नहीं था पर एक दूसरे को आमने सामने आना भी नसीब नहीं होता, बस कभी फोन और वीडियो कॉल हो जाती थी.

फिर तुमने कहा कि जान तुम्हारे लिए ही तो आयी हूँ, मेरा पहली बार है, जरा धीरे धीरे करो ना?तुम्हारी इस मासूम अदा पर मैं फ़िदा हो गया. जब पहले लहंगा उठा कर टांगें पौंछी, तब कुछ नहीं बोली, तो अब क्यों बोल रही है?वो बोली- मेमसाब आने वाली होंगी. भूमिका सेक्सी मूवीमैंने फ़ेसबुक खोली तो देखा फ़ोटो सीन हो चुका था और आंटी का मैसेज था कि विक्रम तुम बहुत गंदे हो.

वे ये कह कर सोने चली गईं … क्योंकि कल रात की उनकी नींद बाकी थी और आज रात भी उन्हें मजे करने थे. लगभग बीस मिनट बाद वह तौलिया लपेटकर निकली और मुझे देखते हुये मुस्कुराई. मैंने उन्हें प्लान समझा दिया और अब प्लान के मुताबिक घर पर सिर्फ मॉम और नामित ही रह गए.

करीब 5 मिनट की चुदाई के बाद मैं नीरू की चूत में अपना माल छोड़ दिया और मैं भी शांत पड़ गया और अपनी पत्नी को मैंने जीभ से चाट कर शांत किया. मैंने पैन्ट उतार कर फर्श पर फेंक दी और वंदना पर टूट पड़ा, उसको किस करने लगा.

मैंने देवी को बेड पे लिटा दिया और उससे लिपट कर उसके रसीले होंठों का रसपान करने लगा.

पचास हजार की बात सुनकर मुझे समझ आ गया कि ये सब रईसजादे हैं और मेरी बहन को चोदने का सौदा किया है. नेहा बेड से उतरने वाली थी कि मैंने उसको बेड पर खींच लिया और सुबह से ही उसे चोदना शुरू कर दिया. सुमन ने मुझे देखा तो वो मेरे से चिपक गई और मैं भी उससे चिपक गई और हम दोनों एक-दूसरी को किस करने लगी.

सानिया लियोन का सेक्सी कुछ देर में लता ने अपनी टांगों को थोड़ा चौड़ा किया तो मैंने अपना हाथ उनकी चूत तक पहुंचा दिया, लता ने पैंटी नहीं पहनी थी. उसने ऊपर की तरफ देखा और कहा- गिफ्ट चाहिए तुझे?मैंने हाँ में सिर हिलाया.

घर में अन्दर पहुंचते ही हम दोनों ने एक दूसरे को गले से लगाया और कुछ देर चिपके रहे. मैं अभी भी उसे देख रहा था कि अचानक उसने कहा- कहां खो गए?उसने मुझे बाहर आने के लिए कहा. मैं बाजार से जो फूल आया था, उसमें से एक फूल मैंने वन्दना के बालों में लगा दिया और उसे पकड़ कर उसको जोरदार किस करने लगा.

सेक्सी बीपी बीएफ फिल्म

वो नीचे से अपनी कमर उठा-उठाकर चिल्ला रही थीं और बड़बड़ा रही थीं- आहहह और चोदो मेरी चूत को … आज मत छोड़ना … इसे भोसड़ा बना देना. मुझे बड़ा बुरा लग रहा था कि मैं अपने पति को गांड चोदने का मौका नहीं दे पा रही थी. 30 बज गए थे और मैंने गैस चूल्हे पर कुकर रख दिया। फटाफट सब्जी छोंक दी और आंटा गूँथकर रख दिया। 6.

आप ऐसा कीजिये कि आज रात तक यहीं पर ठहर जाइए, सुबह होते ही आप बस में बैठ कर चली जाना. यह कहते हुए अंकल मेरे बाल पकड़कर सीधे अपने लंड तरफ मेरा मुँह करने लगे.

मैंने सब उत्तर देने के बाद फ़ोन रखने की बात कही, पर उसने और बातें बनानी शुरू कर दीं.

दस मिनट के बाद मैंने प्रमिला को नीचे लाते हुए सीधा खड़ा किया और घुटनों पर बिठा लिया. दोस्तो, जो मजा 35 के पार की आंटियों के साथ सेक्स करने में आता है वह जवान औरतों में नहीं मिलता मुझे. तुम एकदम अलर्ट हो गईं और तुमने कहा- गाली तो मत दो यार!लेकिन तुम्हारी बातों से मुझे कोई फर्क पड़ने वाला नहीं था.

तब मैंने वंदना को बताया और मैं और वंदना के बीच में बातचीत शुरू हुई. उसका ध्यान भी शायद चाय पर कम और मेरी जांघों के मध्य में हो रहे लंड के उभार पर ज़्यादा था, जिसकी वजह से उसने मुझे चाय देते वक्त मेरे ऊपर चाय गिरा दी. अबकी बार उसका धक्का काफी ज़ोरदार था जिससे लंड पूरा मेरी चूत में समा गया और मुझे मज़ा आने लगा.

अब नीरू और मेरी पत्नी दोनों ने उसकी टांगों को चौड़ा किया और उसकी कुंवारी बुर की दरार को खोल कर मुझे दिखा कर बोली- देखो राजा जी, बिनचुदी बुर के दर्शन करो … कितनी मस्त लग रही है पायल की बुर … हम आपके लंड के लिए बंद और नई बुर लेकर आए हैं.

स्कूल वाली लड़कियों की बीएफ सेक्सी: मैंने उसकी पजामी के ऊपर से ही उसकी चूत को रगड़ना और मसलना शुरू कर दिया. तब महेश बोला- और चिल्ला मादरचोदी बहुत गंडमरी है … तुझे तो आज बहुत चोद दूंगा.

हाय राम राजू अब ऐसे क्या देख रहा है साले बदमाश इतना सब कुछ तो देख चुका है. कुछ ही देर में उसने मेरी पेंटी को खींच कर निकाल दिया और मुझे पूरी नंगी कर दिया. उनका ड्राइवर मुझे घूरने लगा तो महेश बोला- अबे घूर क्या रहा है हम लोगों का जब काम हो जाएगा, तब तू भी आकर कुछ शॉट मार लेना.

वो भी मुझसे अलग हो गई और फिर हमने अलग होकर अपने कपड़े पहने और वहीं सो गए।जब मैं सुबह उठा तब तक वो जा चुकी थी.

मैं तुम्हारी उस गुलाबी चुत को पीना चाहता था … लेकिन तुम अपना हाथ वहां से हटाने को तैयार ही नहीं थीं. हर्षिल सोफ़े पर बैठा था और मेरा इंतज़ार कर रहा था। मुझे खुद को इस हालत में देख के शर्म सी आ रही थी।हर्षिल बोला- यार, कितनी खूबसूरत हो तुम! जब से तुम कॉलेज में आई हो, मैं तो तुम्हें ही देखता हूँ। बैठो न।मैं सामने बैठ गयी. इस वक्त उसके छोटे से ब्लाउज में से उसके बड़े बड़े मम्मे काफी बाहर को आए हुए थे.