हिंदी बीएफ आजा

छवि स्रोत,अमेरिका बीपी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

जूही चावला की बीएफ फिल्म: हिंदी बीएफ आजा, हमने पता लगा कि यहाँ सब लड़के लड़कियां खुल कर आपस में चुदाई करते हैं होली पर!अब आगे लेस्बियन सिस डर्टी मस्ती:आयेशा के मुंह से उसकी चुदाई की कहानी सुनकर मेरी चूत ने भी पानी छोड़ना शुरू कर दिया.

হিন্দি অ্যাডাল্ট

आप लोगों को पता ही होगा कि गांव में सभी लोग जल्दी सो जाते हैं और जल्दी ही उठ जाते हैं. वीडियो.डाउनलोड.करें.2020फिर एक पल मैंने उसकी आंखों में झांका और उसकी पैंटी को उतार कर थोड़ा नीचे खिसका दिया.

चाय पीने के बाद हवलदार अपने काम में व्यस्त हो गया और मैं उसकी नजर बचा कर फिर से अन्दर की तरफ गया. रेखा के सेक्सी फोटोअब तक वैसी ही सात आठ पिचकारियां मेरे बदन पर और मेरी आँखों पर पड़ी थीं.

उसने अरुणिमा को फिर से गाड़ी से बाहर निकाला और सीट पर कोहनी रख कर झुक कर खड़े होने को बोला.हिंदी बीएफ आजा: मुझसे पूछा गया- ट्रुथ या डेयर?तो मैंने इस बार कहा- ट्रुथ!ये सुनकर रिया ने कहा- सोच ले मेरी जान अगर सच चुना है, तो सच बोलना भी पड़ेगा.

उसे अपार दर्द हो रहा था मगर वो अपने दर्द को दबाए हुए मेरे लंड को झेल रही थी.उस वक़्त रात के दो बज रहे थे और नींद तो किसी भोसड़ी वाले की आंखों में थी ही नहीं.

लड़की का अंडरवियर - हिंदी बीएफ आजा

उसका यह रिप्लाई देख कर मैं भी थोड़ा खुल गया और हम अब सेक्स की भी बातें करने लगे थे.जब वो आई तो मैं उसे लेने बस स्टैंड गया और उसको एक कैफे में ले गयाउधर उसे कुछ नाश्ता करवाया, फिर कमरे पर ले गया.

पढ़ाई के बीच, मैं उसके शरीर को किसी न किसी बहाने से छूने की कोशिश करता. हिंदी बीएफ आजा साथ ही पाठिकाएं अपने मन में सोचने लगें कि आसपास कोई भी मर्द मिल जाए.

एक बार और … मैं ये भी जानती हूं कि तुम्हारे सेक्स संबंध निकिता के साथ भी हैं, फिर भी तुम मुझे बहुत अच्छे लगते हो.

हिंदी बीएफ आजा?

छह पतियों के लाड़ प्यार और हर पति के साथ अलग अलग दिन यौन क्रीड़ा से मैं बहुत खुश थी. टाइमिंग भी बताईं, लेकिन सारी ट्रेन्स एकदम पैक थींमैं- ट्रेन तो हैं मॉम लेकिन सब पैक हैं. मैंने आसिफा को घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में लंड पेलना शुरू कर दिया.

मैंने अपने साथ दो कंडोम के पैक रख लिए थे और साथ ही सेक्स की गोलियां भी रख ली थीं. मैंने पूछा- तू उसके साथ कितनी बार कर चुकी है?वो बोली- अभी सिर्फ एक ही बार अन्दर लिया है. हॉट मामी Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं काफी दिन बाद अपनी मामी से मिला तो हम दोनों अच्छे से मिले.

इस बार खड़ा होने पर फहीमा ने मुझे सीधा लिटाया और मेरे लौड़े पर चढ़ कर अपनी चूत को फैला कर मेरे लौड़े पर सैट करके धक्के मारने लगी. मैं घर पहुंच गया और सारे गेट खोल कर उन दोनों के आने आ इंतजार करने लगा. ये पोर्न स्टार लड़कियां जो तरह तरह की चुदाई में दर्द सहती हैं, वो सब कैसे होता होगा.

[emailprotected]गे गे सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरा छठा पति बड़े लंड वाला निकला. अमित का लंड रिया, नेहा और मैंने तो देखा था मगर आयेशा ने अमित का लंड पहली बार देखा था.

जब सब हो गया तो एक फोटोग्राफर ने दूसरे को अपना कैमरा पकड़ा दिया और कपड़े उतार कर बिस्तर पर चढ़ गया.

उसके बाद कविता पूरे एक हफ्ते तक मेरे साथ रही और हम दोनों ने एक दूसरे को अच्छे से खुश किया.

वो बोला- अच्छा चल चुदाई बाद में करेंगे मगर पहले तू मेरा लंड चूस दे!मैंने हार मान ली. पहले मैंने उसको जोर से होंठों पर किस किया और हल्के से नीचे से उसकी चूत में धक्का दे मारा. वह अपनी सहेलियों से चुदाई की कहानी सुनकर इतना व्याकुल हो चुकी थी और इस तरह से लंड चूस रही थी कि लग ही नहीं रहा था कि यह उसका पहली बार है.

विश्वेश्वर जी बोले- भड़वे तुझे चोदना है … तो घर में चोद लेना, हमारे लंड को क्यों इंतज़ार करवा रहा. उनकी फोटो देखने के बाद मेरा मन बन गया और मैंने उनसे बात करना शुरू कर दी. वो सेक्स कहानी मैं अगली बार में लिखूँगा कि कैसे मुझसे चुद चुद कर वो पेट से हो गई थी और उस मुश्किल से कैसे निजात मिली.

मेरा एक हाथ ज्योति का बायाँ मम्मा सहला रहा था, उसका दूसरा मम्मा रोहित का हाथ सहला रहा था.

मैंने कहा- साली जी, सही से चूसो ना … ब्लूफिल्म में लंड चुसाई नहीं देखी है क्या?वो मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखने लगी- आपको सब मालूम है?मैंने कहा- हां बेबी, मैंने तुम्हारा मोबाइल देखा है, मैं तुम्हारी सारी बातें जानता हूँ. मैंने उसकी सलवार का नाड़ा खोला और उसकी सलवार को उसके घुटनों से नीचे कर दिया. मैंने सबको सिर्फ ब्रा पैंटी पहनने को कहा और ये भी कहा कि लड़कों को जितना हो सके उतना ज्यादा तड़पाना है मगर कुछ भी हो जाए, आज उन्हें चूत मारने नहीं देनी है.

एक वक्त पे मेरी चोली में करीब आठ नौ हाथ थे।हाथ निकले तो चोली भी साथ ही निकल गई. मेरी नजर उनके गाउन में तने उनके मम्मों पर टिक गई थी और मेरे सर पर सेक्स चढ़ने लगा था. अगर मैं आपको सिम लाकर दूंगा, तो मुझे क्या मिलेगा!मेरी बात के जबाव में उन्होंने जो शब्द बोले, मैं तो सुन कर दंग रह गया.

वो उठ कर मुझ पर चढ़ गईं और मेरी चड्डी फाड़ कर मेरा लौड़ा बाहर निकाल कर मुँह में भर लिया.

मैं बहुत जोर जोर से शॉट लगाने लगा था और उसके चूतड़ों पर थप्पड़ मारने लगा था. क्योंकि मैं जानती हूँ कि मर्दों की कामुक निगाहें सबसे पहले लड़कियों के मम्मों पर ही पड़ती हैं.

हिंदी बीएफ आजा मैंने उसे सब कुछ बताया कि मेरे और कविता के बीच चुदाई का सिलसिला शुरू हो गया है. मोनू मुझसे इस तरह से लिपटा हुआ था कि उसका लंड मेरे चूतड़ों के नीचे से मेरी गांड के छेद से टकराता हुआ मेरी चूत तक जा रहा था और वो जानबूझकर लंड को छेद में रगड़ रहा था.

हिंदी बीएफ आजा मैंने अपने लंड का सुपारा उसकी चूत की फांकों में रखा और हल्का सा धक्का देकर अन्दर पेल दिया. वह आखरी दिन था जब मैं लड़कों के लिबास में संजय का अकॉउंट बंद करने बैंक गयी थी.

कुछ देर बाद उसने जोर जोर से धक्के देने शुरू किए तो मैं समझ गई कि अब इसकी तोप दगने वाली है.

जंगल में मंगल सेक्स बीएफ

चाची बोलीं- क्या हो रहा है!मैं चुप … गला सूख गया, जुबान हलक में जाम हो गई. पानी की बूंदें और लंड की चुसाई से मस्ती चढ़ने लगी और जल्द ही लंड खड़ा हो गया. उसका ब्लाउज नेट वाला था और उसके अन्दर सीमा ने सेक्सी लाल रंग की ब्रा पहनी हुई थी.

लंड हाथ में लेते ही वो बोली- साले तेरा तो बहुत बड़ा है!मैंने कहा- हां और इसमें कांटे भी लगे हैं. मैंने कहा- नहीं, रुको मत … रुकने को किसने कहा है और यार मुझे मजे लेना है, तुम बस पेलते रहो. अरुणिमा बीच वाली सीट पर घोड़ी की तरह बनी थी और वो ड्राइवर उसको पीछे से चोद रहा था.

मैं बोला- ठीक है, मैं चैक करता हूं, फिर देखते हैं क्या ट्रीटमेंट देना है.

चुदाई की समस्या के अलावा मुझे बच्चा नहीं हो रहा था तो मैंने और मीहांक ने एक फर्टिलिटी क्लिनिक में अपना टेस्ट करवाया. मैंने अपना लोअर नीचे किया और आसिफा की अम्मी को टेबल पर लिटाकर चुदाई की पोजीशन में कर लिया. धीरज बोला- हां आंटी हैं तो!अम्मी बोलीं- यार धीरज, तू जानता है कि नवीन आता था, तब तक पैसों की दिक्कत नहीं थी.

फिर उसने मेरे चूतड़ फैला कर मेरी गांड के छेद में जीभ डाल दी और मेरी गांड चाटनी शुरू कर दी. इतने दिन से इंतजार कर रहा था कि कब मौका मिले और तेरी जवानी को मसलूं. पंद्रह बीस मिनट बाद मैं उधर से घर के लिए निकलने लगा तो चाची बोलीं- आज तो रुक जा, कब कब तो आता है.

चौधरी जी बोले- सजनी जब बाहर निकलेगी तो उसका परिचय पहचान कर लोग पूछेंगे. इस बीच दाहिने हाथ से उनकी कमर पर सहलाते हुए उनकी बायीं चूची पकड़ ली और उनके निप्पल से खेलने लगा.

मेरे लम्बे बाल, बड़े बूब्स देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाता है, चाहे वो जवान मर्द हो या बुड्ढा आदमी हो. बेशक हम सभी एक दूसरे की फोटो देख चुके थे परन्तु फिर भी पहली मीटिंग में एक अलग ही एक्साईट्मैंट रहती है कि वो कैसे होंगे और क्या होगा. सुबह की यात्रा की वजह से मैं बहुत थका हुआ था तो मैं फ्रेश होने के लिए सारे कपड़े निकाल कर बाथरूम में चला गया.

सामान्य औपचारिकताओं के बाद हम दोनों सेक्स में लग गए और उन्होंने मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया था.

बीच बीच में एक बात की चर्चा होती है कि यदि किसी बड़ी बीमारी के कारण से मुझे हस्पताल में भर्ती होना पड़ा, वहां मैं लड़का हूँ, यह मालूम होने का खतरा है. कुछ देर बाद वो भी अपनी गांड हिलाने लगीं और जोर जोर गाली देने लगीं- आंह चोद भोसड़ी के … आज मुझे रंडी बना कर चोद … बहुत दिनों से तेरा लौड़ा लेना चाह रही … अअअअ उफ़्फ़ आआआ ईई!चाची मेरा लौड़ा गपागप लेने लगी थीं. बगल में बैठ कर अपना लंड कभी मेरे गालों पर घुमाता, कभी मेरे होंठों पर.

अनुपम और कार्तिक बोले- अरे आंटी, तो उसे भी अपनी चूत के मजे दे दो, वो भी खुश हो जाएगा. उसने कहा- क्यों घर में कोई नहीं है क्या जो तुम चाय बनाओगे?मैंने कहा- हां यार, आज मैं घर में अकेला रहने वाला था … तो बोर न होऊं, इसलिए तुझे बुला लिया था.

पुलिस सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी को बाजार से ही थानेदार जी थाणे में ले गए. आयेशा ने कहा- देखो इन मादरचोदों को, कैसे गांड मरवाने के लिए तड़प रहे हैं. प्रिया ने चौंक कर मेरी तरफ़ देखा और बोली- ये आप क्या बोल रहे हैं, मैं ऐसा कैसे कर सकती हूं?मैं- क्यों नहीं कर सकती, तुम चाहो तो जरूर कर सकती हो.

2022 के सेक्सी बीएफ वीडियो

मैंने उसका दूसरा दूध चूसना शुरू किया तो वो आह आह करती हुई मुझे अपने दूध का रस चुसाने लगी.

फिर वो दोनों बोले- करेंगे कहां?तब अम्मी बोलीं- मेरे साथ चलो, रूम है. मैंने मन बना लिया था कि ड्रामा करती रहूँगी और दोनों के लंड का मजा भी लेती रहूँगी. तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्स कहानी, उम्मीद करती हूं आप सभी को ये कहानी बहुत पसंद आई होगी.

इस समय मेरा लंड उसकी चूत में पूरा घुस गया था और संजना उस पल के मीठे दर्द का इजहार अपने होंठ दबा कर कर रही थी. [emailprotected]गे बॉयज सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोसन की चूत के चक्कर में गांड मरवायी- 2. सेक्स होतेहम दोनों अपने जॉब से फ्री होकर शॉपिंग करते, सिनेमा देखते, कभी रात का डिनर बाहर किसी रेस्तरां में करते.

उनके लंड से भी पानी निकल रहा था जिससे उनकी चड्डी सामने से गीली हो गई थी. हालांकि मैं उस वक़्त बहुत गुस्से में थी मगर मैंने पूरी हवस के साथ मोहित का लंड चूसा.

मैंने देखा तो उसने अपनी ऊपर की टी-शर्ट निकाल दी थी और बस एक स्पोर्ट ब्रा में ही गाड़ी धोने में लगी थी. मैंने प्रिया के कमरे की तरफ देखा तो दरवाजा आधा खुला हुआ था और प्रिया का बिस्तर मुझे साफ साफ दिख रहा था मगर प्रिया वहां पर नहीं थी. एकदम से भाभी अपनी चूत की पकड़ तेज करने लगीं, मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और लंड जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करने लगा.

वो मेरे मुंह में ऐसे डिलडो डाल रही थी जैसे मैं उसके लिए कोई रंडी थी और वो मेरी क्लाइंट!फिर आयेशा ने वो डिलडो मेरे मुंह से निकलकर मेरे मुंह पर मारना शुरू कर दिया. मैंने बोला- ये क्या कर रही हो … सब देख रहे हैं?वो बोली- मुझे दुनिया से कुछ लेना देना नहीं है. उसकी आवाजें इतनी तेज आ रही थीं जिससे साफ समझ आ रहा था कि भाभी घर में अकेली है.

मुझे अपने आप पर गर्व महसूस हुआ क्योंकि मैं दुबला पतला सा लौंडा, रोमा जितनी मस्त लड़की मुझसे चुद रही थी और रो रही थी.

फिर जैसे ही वो नीग्रो सेक्स के बाद मेरे ऊपर से उठा, मैं उठ कर बाथरूम में चली गई और अपने आप को साफ करने लगी. मैं तुम्हें जितना जान रहा हूं, तुम्हारी ओर उतनी ही तेजी से आकर्षित होता जा रहा हूं.

नहीं यार, गया ही नहीं, बहुत टाइट है इसकी, गांड से कुंवारी है!” दीपक बोला. थोड़ी देर किस करने के बाद नेहा मादक अंदाज में बोली- मैं तुम्हें बहनचोद बनाना चाहती हूं. नमस्कार दोस्तो, मैं विक्की एक बार फिर से इस चुदाई की साइट पर एक और कामुक और उत्तेजित सेक्स कहानी के साथ आपका स्वागत करता हूं.

भाभी भी मजे में मेरे सिर पर हाथ फेरने लगीं और मादक सिसकारियां लेने लगीं; भाभी कहने लगीं- बहुत दिनों बाद लल्ला से मुलाकात हुई है. मैं राजी नहीं हुई क्योंकि 6 लोगों के एक साथ चुदाई से मुझे डर लगता था और चौधरी जी का इतना बड़ा और मोटा लंड देखकर बाक़ी पांच पतियों को कुंठा भी हो सकती थी. मैंने सपने में देखा कि फहीमा रात में बाथरूम गयी और वापिस आते में मेरा लंड चूसने लगी.

हिंदी बीएफ आजा फिर उसका पजामा भी उतार दिया और उसके बाद ब्रा और पैंटी भी उतार दी मगर हैरानी की बात ये थी कि अमन का लंड में जरा सा भी उभार नहीं आया. भैया भाभी की उम्र में अंतर इसलिए है क्योंकि भैया की ये दूसरी शादी है.

चुदाई वाली पिक्चर चुदाई वाली बीएफ

अब मैं चुदाई के बिना रह ही नहीं सकती थी क्योंकि मुझे इसकी बुरी आदत सी लग गई थी. मैंने कहा- वो तो मुझे भी पता है मगर ऐसा सेक्स तो सब रोज ही करते होंगे. नेहा के लिए विकास का इतना सब नाकाफी था; वह चाहती थी कि विकास खुलकर पहल करे.

फिर देसी गर्लफ्रेंड फक़ का एक दौर फिर शुरू हुआ, इस बार मैंने उसे अपनीगोद में बैठा कर चोदा. उसको यह अच्छा लगा, बोली- आज मेरे शौहर बन जाओ, मेरे साथ जैसे मर्जी, जो मर्जी करो मेरे सरताज … मैं तैयार हूं. कैसे करते हैं सेक्सवो रिया और नेहा को अपने सामने देखकर बोली- अरे बहनचोद तुम लोग इतनी सुबह सुबह … क्या हुआ है?नेहा ने कहा- बहनचोदी उठ जा साली, 11 बज रहे हैं.

… आज तूने मुझे जन्नत दिखा दी … साले तेरी कहानियाँ पढ़ कर भी ऐसे ही मस्त हो जाती हूँ … आज तो तू खुद साक्षात मेरी फुद्दी चूस रहा है … मेरे राजा … ले तेरी रांड तेरे … मुँह में अपनी … जवानी का रस छोड़ रही है.

पिछली कहानीसब्जी वाले की बीवी बन कर गांड का उद्घाटन करायामें अब तक आपने पढ़ा था कि मदन जी पुणे में सब्जी की दुकान चलाते थे. मेरी स्पीड को देख कर भाभी समझ गईं कि मैं थक गया हूँ, तो वो मुझे लिटा कर खुद मेरे ऊपर लेट गईं और आगे पीछे होने लगीं.

उसका बेबी थोड़ा बड़ा हो गया था, इसलिए वो तेजी से दूध खींच रहा था और मुझे भी मजे आ रहे थे तो मैंने भी कुछ नहीं किया. फिर भी आपकी कोई शिकायत या सुझाव हो तो आप[emailprotected]पर सम्पर्क कर सकते हैं. अन्तर्वासना पर ये मेरी पहली लेकिन सच्ची सेक्स कहानी है फेसबुक फ्रेंड सेक्स की!वैसे तो मैं शादीशुदा आदमी हूँ.

ऑनलाइन सॉफ्टवेयर्स की मदद से मैंने थोड़ी बहुत एडिटिंग की और कुछ फोटो और वीडियो को मोबाइल में कॉपी कर लिए.

मेरी बहन की शादी 15 तारीख को थी तो मैं अपने गांव के लिए 5 तारीख को ही निकल गया. कुछ देर बाद मैंने उसे बिस्तर पर ऊपर ले लिया और उसकी टांगों के बीच में बैठ गया. मैं- यदि मैं झेल नहीं पायी तो मैं कोड वाक्य ‘सोमवार …’ बोलूंगी, तब सब रुक जाना.

सबसे ज्यादा मजा देने वाला कंडोमजब मैं उन्हें लेकर वापस आ रहा था तो उन्होंने बताया कि उन्हें पहले अपने मायके जाना है, जो उनके ऑफ़िस से दो किमी दूर एक गांव में है. हम दोनों अपने जॉब से फ्री होकर शॉपिंग करते, सिनेमा देखते, कभी रात का डिनर बाहर किसी रेस्तरां में करते.

पोर्न वीडियो बीएफ सेक्स

उनकी इस हल्की फुल्की ना में मुझे हां नजर आ रही थी और अब मैं भी कहां कुछ सुनने वाला था. उस समय उसका सारा बोझ मेरे ऊपर था, इसलिए उसके बेडरूम में ले जाकर मैंने उसे बेड पर बिठा दिया. अनुराधा कुछ ज्यादा ही पागल सी हो जाती थी, वो मुझसे लिपटकर मेरी चूचियों को दबाती और उन्हें नंगी करके अपने मुँह से पीने लग जाती थी.

इसका भी लंड गुरबचन जी की तरह लम्बा और मोटा था और अरुणिमा को गांड मराने में परेशानी हो रही थी. उसके गोरे बदन पर जगह जगह मेरी उंगलियों के निशान पड़े हुए थे क्योंकि जोश में आकर मैं कई बार मैं उसे जकड़ लिया था. उसकी नजरें मुझ पर ही टिक गई थीं, मेरा पूरा नंगा बदन उसने देख लिया था.

जैसे जैसे मेरी उंगली उसकी चूत में गयी, वैसे वैसे उसकी आंखें बड़ी होने लगीं और अन्दर जाते ही वो कराहने लगी ‘आह ह ह … आह मर गई आह …’ये कहते हुए ही उसने मेरा लंड हाथों से जकड़ लिया. मैंने नर्स से पूछा- ये कौन है?उसने कहा- सर ये गोवा के उस गांव की है, जहां मैं पिछले हफ्ते काम कर रही थी. रिया ने कहा- जितनी लार टपकानी है, टपका लो मगर आज तो तुम लोगों को चूत मिलेगी नहीं.

उसने कहा- ओ! कितना बड़ा है।फिर मैंने उसे अपनी गोदी में बिठाया और वह मेरा लिंग अपने हाथों से चलाने लगी. इस बार दोस्त का कमरा नहीं मिल रहा था क्योंकि उसने कमरा बदल लिया था और नए कमरे में मिलना एक समस्या थी.

आपको मेरी देसी गर्लफ्रेंड फक़ स्टोरी कैसी लगी, जरूर बताइएगा!आपका अर्जुन[emailprotected].

थोड़ी देर आराम करने के बाद मैं बाथरूम जाने को उठी तो मैं ब्रा पैंटी ढूँढने लगी. सुंदर रंगोली बनानाफिर कुछ ऐसा हुआ कि खुद मुझे भी पता नहीं चला कि ऐसी लड़की मुझे मिल जाएगी. सेकसबीडियोफिर हम दोनों वहीं सब साफ़ करके बाहर आ गए और नंगे ही बैठ कर बातें करने लगे. एक बार फिर से उन्होंने आंखें बंद करके चुम्बन के लिए सहमति प्रदान की.

मैंने उसकी स्थिति देखते हुए उसे इशारे से घोड़ी बनने को कहा और उसकी गांड में ही जोर जोर से धक्के लगाने लगा.

मदन जी ने मुझको पेट के बल लिटाकर मेरे चूतड़ों की मालिश की, दोनों चूतड़ों को बारी बारी से चूमा. तभी उसने पूछ लिया- आपका ब्वॉयफ्रेंड है क्या?तो मैंने उससे झूठ कह दिया- हां मेरा ब्वॉयफ्रेंड है. हम लड़कियां जोर देकर कहने लगीं तो मोहित बोला- ओके मार लो गांड बहन की लौड़ियो, हम भी तो देखे तुम हमारी गांड कैसे मारोगी?इस पर नेहा ने कहा- ठीक है.

मैं अब ज्योति के कानों को किस करने लगा और चूसने लगा, जिससे ज्योति गर्म होती जा रही थी. कई बार मैंने उसकी चूचियां वीडियो कॉल करके देखी थीं और अकेले में उसकी चूचियों को चूसा भी था. मैंने जोर से ‘अअअह मर गई …’ कहा और मेरे आंखों की पुतलियां कुछ ज्यादा ही फ़ैल गईं.

सेक्सी बीएफ चुदाई सुहागरात की

फिर वो मुझसे एक बात बोले कि भले फोटोग्राफर उनके पहचान वाले हैं, पर अरुणिमा जैसे लड़की की नंगी फोटो खींचने के बाद उसे चोदे बिना तो छोड़ेंगे नहीं. हालांकि ये उसकी पहली चुदाई नहीं थी क्योंकि पहले भी वो एक बार अपने दोस्त से चुद चुकी थी लेकिन वो लड़का कोई अनुभवहीन ही था जो प्रिया की चूत तक नहीं खोल पाया था या फिर उसके लंड में इतना दम ही नहीं रहा होगा. मंजू मस्ती से बोली कि देखो बुआ तुमको देख कर लंड महाराज भी सर उठा रहे हैं.

आप मुझे बताएं कि आपको न्यूड आंटी Xxx कहानी कैसी लगी?[emailprotected].

कुछ मिनट के बाद मुझे लगा कि अब शायद उसका पानी निकालने वाला है तो मैंने मुँह से लंड बाहर निकाल दिया और उसे बिस्तर से उठा कर सीधा बाथरूम में ले गया.

तभी जया ने मुझसे पूछा- तुमने कोई गर्लफ्रेंड बनाई है या नहीं?मैं उसके इस सवाल से एकदम से चौंक गया. मगर झांटों के बीच चूत की मस्त झांकी मेरे लंड की हालत खराब कर रही थी. देहात की ब्लू पिक्चरतैयार होने के बाद वो ऐसी मस्त माल लगती थी कि अच्छे अच्छों के लंड से पानी निकल जाए.

मैं तुम्हें जितना जान रहा हूं, तुम्हारी ओर उतनी ही तेजी से आकर्षित होता जा रहा हूं. जल्द ही नितिन ने उसकी चूत में अपना लंड पेल दिया और उसे जोर जोर से चोदने लगा. मैं अब पूरा नंगा हो चुका था, उसने थोड़ा चेहरा घुमा कर पूछा- हो गया?मैंने बोला- हां.

पूरा रूम सिर्फ आह आह आ आह हआह आह आह … उह उह उह आउच यस फ्क फ्क्फच फच फच की आवाजों से ही गूंजता रहा. वो मेरे पास आया और मैंने अपने हाथ से एक चूची रोहित के मुंह में दे दी.

ये सुनकर मामी ने कहा- कुत्ते, भड़वे, हरामज़ादे, बहुत बड़ा हरामी है तू!मैंने कहा- बस तेरे लिए सब कुछ हूं.

तय दिन पर मैं सुबह 10 बजे पैसिफिक मॉल पहुंच गया, वो मुझसे पहले वहाँ पहुँच गयी थी. मैं गले में पट्टा, जिस पर रस्सी बंधी होती, पहनकर, सिर्फ ब्रा पैंटी में आंख पर पट्टी बांधकर, घुटने के बल एक तकिये पर खड़ी चौधरी जी के आने का इंतजार करती. आयेशा को नेहा की आवाज सुनकर कुछ होश आया तो उसने अपनी आंखें खोल दीं.

विडमेट फोल्डर इस अचानक हुए हमले के लिए मैं भी तैयार नहीं था, मतलब मामी के अन्दर भी इतनी उत्तेजना हो जाएगी, ये नहीं पता था. मैंने- छोटे बड़े होने की बात नहीं होती है भाभी … बात एक दूसरे को संतुष्ट करने की होती है.

मेरी हाइट 5 फुट 10 इंच है और मैं मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले का रहने वाला हूं. मैंने कहा- तो क्या सील नहीं टूट पाई थी?मेरी इस बात को काटती हुई अलफिया बोली- पर तुम्हें कैसे पता कि मैं वर्जिन नहीं हूं. वो लंड देखने लगी और बोली- एक बात बताओ, तुम लगते तो पतले से हो लेकिन ये इतना बड़ा और मोटा कैसे है?मैंने कहा- कभी कभी मुझे जैसी किस्मत वालों को ही ऐसा लंड मिलता है.

बीएफ पिक्चर सेक्स में

अब आगे फ्री में चुदाई की कहानी:अगले दिन हमारी नींद गेट पर डोरबेल की आवाज से खुली. भाभी एकदम से पूरी हिल गईं और उन्होंने वाइब्रेटर को धीमा करने को कहा. कुछ दिन के इन्तजार के बाद एक दिन हम दोनों को मिलने का मौका मिल ही गया.

मैंने चुदाई नहीं रोकी और साली के पैर ऊपर करके चूत में लंड पेल दिया. वो बहुत तड़फ रही थी, बोली- बस करो … अब क्यों सता रहे हो, जल्दी से डाल दो अपने लंड को मेरी चूत में और फाड़ दो मेरी चूत को.

उन्होंने बताया कि वो आज ही की रात यहाँ हैं और कल वो यहाँ से अपना काम निपटायेंगे और कल शाम तक वापिस चले जायेंगे.

मैंने सोचा कि शायद ये उसकी कोई सहेली ही होगी, जो उसके साथ साथ ही है. सुनील- हां फिर?चौधरी जी- फिर क्या … दूसरी बीवी के साथ सुहागरात को मैंने पहले उसकी चूत का उद्घाटन किया. संजना की चूत मेरा लंड लेने लगी थी पर उसकी चूत में कसावट अभी भी बहुत थी.

अब मैं चुदाई के बिना रह ही नहीं सकती थी क्योंकि मुझे इसकी बुरी आदत सी लग गई थी. कुछ देर बाद मैंने अपनी चूत में लंड को झेल लिया था और मादक आवाजें निकालती हुई अपनी ब्लू-फिल्म बनवाने लगी. उसे देख कर मैं रुक गया और गर्दन पर किस करता हुआ उसके स्तन को सहलाने लगा, जिससे उसका दर्द थोड़ा कम हो.

वो नौकरी करती थी इसलिए मिलने के लिए हमने रविवार का दिन निश्चित किया.

हिंदी बीएफ आजा: मेरा फिगर देख कर हैरी नाम का वो अफ्रीकन पागल हो गया था जिसने मुझे मनाली के होटल में सारी रात में कई बार चोदा था. मैं बरामदे से अन्दर ड्राइंग रूम में जा रहा था कि मुझे अरुणिमा की आवाज सुनाई दी.

वो मस्त होकर कह रही थी- आंह क्या कर रहे हो … मेरे पति ने कभी ऐसे नहीं किया. पांच दिनों के बाद अरुणिमा की चूत में फिर से चींटियां रेंगने लगीं और उसने खुद मुझसे अपनी चूत चटवाई और बाद में मेरे लौड़े पर सवार होकर चुदवाना चालू कर दिया. यह देखकर अमित ने मेरी गांड में उंगली करनी शुरू कर दी, तो मैंने पलटकर उसे देखा और इशारे से उसे ऐसा ना करने को कहा.

करीब तीन बज चुके थे, तभी बुआ आकर बोलीं- अब तुम दोनों कपड़े पहन लो ….

मैंने कहा- क्यों क्या हुआ … वो भाग गया क्या?वो रोने लगी और उसने कहा- तुम क्यों मुझे और रुला रहे हो … मैं तुमसे प्यार करती हूँ. मैं समझ गया कि लड़की की चूत से पानी निकलता है क्योंकि हो सकता है कि वो अपने बॉयफ्रेंड से फोन पर गर्म बातें करती हो या फोन पर कुछ गंदी वीडियो देखती हो. उसके गोल गोल मम्मों को जकड़ कर उसे उठाया और हाथों से पकड़ कर उसकी गर्दन में किस करने लगा.