हिंदी में बीएफ अंग्रेजी

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी आ जाए

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वीडियो होली का: हिंदी में बीएफ अंग्रेजी, सभी दोस्तो भाभियों और आंटियों को मेरा प्यार भरा नमस्कार, मैं शेखर शर्मा आपके सामने मेरी एक और सेक्स स्टोरी भाभी की चुदाई की पेश करने जा रहा हूँ.

बीएफ एचडी हॉट

अब आप लोग समझ सकते है कि मुझ पर क्या खुमार छाया था, कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि ये गलत है या सही है और इससे आगे क्या प्रभाव पड़ेगा. एक्स एक्स बीएफ दोफिर भी किसी लड़की को चोदना चाहते हो तो पहले उससे दोस्ती करो, उसका दिल जीतो.

मैंने होश में आकर देखा, आकाश बिल्कुल नंगा मेरे ऊपर लेटा हुआ है और उसका लंड मेरी चुत से टच हुआ पड़ा है. बीएफ कुंवारी लड़की का बीएफमगर मंजरी का भी यह पहला मौका था, किसी लंड को चूसने का, तो वो सिर्फ पुलकित के लंड को अपने मुँह में लेकर बैठी रही तो पुलकित बोला- सिर्फ मुँह में मत लो, इसे चूसो, जैसे मैंने तुम्हारी चूची पी थी, और अपनी जीभ से इस को चाटो भी.

अवी डर गया और उठ कर खड़ा हो गया और उसने मुझसे कहा कि यार पापा बाहर हैं.हिंदी में बीएफ अंग्रेजी: इस पर वो थोड़ा मुस्कुराए, उनकी मुस्कराहट इतनी प्यारी थी कि मुझसे रहा नहीं गया.

वो बस मस्ती से चीखती जा रही थी- आह… ज़ोर से… आह… करते रहो… आह…करीब 15 मिनट बाद मैं जब झड़ने के करीब पहुँचने वाला था तो मैंने जल्दी से अपना लंड उनके मुँह में डाल दिया और मुँह को चोदने लगा.और ऐसे ही अपनी योनि में मेरा लिंग घुसाये सदियों की समाधि में खो जाओ। मैं ये लिंग तुम्हारी योनि से एक पल के लिए भी जन्मों जन्मों तक नहीं निकलना चाहता, ओहह तनु करती रहो तनु… बस करती रहो!हाँ संदीप, मत निकालना, कभी मत निकालना.

मुसलमानी बीएफ बीएफ - हिंदी में बीएफ अंग्रेजी

करीब 5 मिनट बाद ही गीतांजलि भी आ गई तो उसने जब मुझे सोफे पर बैठा हुआ देखा तो उसने मुझसे हाय कहा और वो मेरे गले लग गई और इस तरह से लगी कि उसकी चूत मेरे लंड को टच करने लगी, इसी वजह से मेरा लंड मेरे पजामे में ही खड़ा होने लगा.वो मुझसे उस कज़िन के बारे में पूछ रही थीं कि वो राहुल कहां है?मैंने बोला- मॉम, वो तो नशे में घूम रहा था.

वो नीचे की तरफ देखने लगी और फिर कहने लगी- मेरी चुत में बहुत दर्द हो रहा है!यह कह कर अपनी चूत से मेरे लंड को दबाने लगी. हिंदी में बीएफ अंग्रेजी मेरी आँखें गर्म और सुर्ख होने लगी, होंठ कामुकता से सूखने लगे और मेरी प्यासी चुत में पानी उतरने लगा.

करीब 2 महीने बाद अमित मुझसे मिलने आया और मुझे गले लगाया और बताया कि आज तुमको एक पार्टी ज्वाइन करनी है तो तैयार हो जाओ.

हिंदी में बीएफ अंग्रेजी?

जब सिसकारियों की आवाज माला ने सुनी तो उसने मेरी तरफ देख कर थोड़ी परेशानी दिखाई और विकास की ओर देखकर उसे थोड़ा कण्ट्रोल करने के लिए मुझे इशारा किया. मैंने ऊपर देखा तो आरजू विनीत के ऊपर लेटी हुई है और विनीत को किस कर रही है. हाँ जब तुम्हारा लंड लड़की या औरत की चूत या गांड में पूरा घुस जाए, तब थोड़ा रुकना चाहिए लेकिन लंड फिर भी बाहर मत निकालना ओके.

धीरे धीरे मैं अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा, अब उसे भी अच्छा लग रहा था. मैंने एक हाथ से तो दूध का गिलास पकड़ रखा था और दूसरे हाथ से उसके दूध को दबा रहा था. तो रवि ने कहा- अच्छा तो विवेक के साथ ग़लत नहीं है?मैंने कहा- मैं और विवेक एक दूसरे से प्यार करते हैं.

अब मैंने घर से ब्लू कलर का टॉप और ब्लैक कलर की फुल स्कर्ट पहनी हुई थी. मेरे भैया ने चौंक कर कहा- सर आपकी बहन है?उन्होंने कहा- वो मेरी बहन है उसकी जवानी नहीं. भरी हुई!मैं तो उसकी जांघें ही चाटने लगा, इससे वो और भी गर्म हो गयी और मेरा सिर कस के पकड़ लिया.

मैं एक हाथ से सिगरेट पी रहा था और दूसरे हाथ से लंड को सहलाते हुए उनके मदमस्त शरीर को निहार रहा था. तभी मेरी 18 साल की भांजी पिंकी ने जिद करना शुरू कर दिया कि वो भी मेरे साथ मामी को लेने जाएगी.

इस बारे में मैंने अपने बेटे से बात की तो उसने मना कर दिया कि उसे छुट्टी नहीं मिल रही.

वो इधर उधर देख रही थी तो उसकी नजर मुझ पर पड़ी, मुझे उसकी ओर देखते हुए देख कर वो मुझ से बोली- मेरे फोन में नेटवर्क नहीं आ रहा… आप मेरी मदद करेंगे क्या?मैंने कहा- कोई जरूरी फोन करना है तो मेरे फोन से कर लो.

मैं खिड़की के पास बैठी, मौसी ने अपने पैर लम्बे करके अपना सर मौसा की गोद में रख लिया और कंबल ओढ़ लिया. जब उसकी चूत खुलने लगी तो मैं ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा और अप्पी का भी अब दर्द जा चुका था और उसे भी मज़ा आने लगा था!अब वो मुझे सइयां कह कर बुला रही थी- चोदो मेरे सइयां… आजशादी से पहले मेरी सुहागरातहै!और कुछ देर चोदने के बाद वो झड़ गयी और मैं भी झड़ने वाला था तो मैंने अपना पूरा वीर्य अपनी बहन की चूत में ही छोड़ दिया!मैं उसी के पास लेटा रहा. शाम को 5 बजे वापस आया तो देखा उसने मुझे देखते ही कंप्यूटर में कुछ किया और नॉर्मली काम करने लगी.

मैं सलमा से बोली- अरे सलमा, तुम क्या हम लोगों को ब्लू फिल्म की तरह देख रही हो? अरे क्यों मजा खराब कर रही हो. उसकी चूचियां कड़क हो गई थीं, मैं आपको बता नहीं सकता दोस्तो कि मुझे इस खेल में कितना मजा आ रहा था. मैंने जींस के अंदर पैंटी के ऊपर से उसकी चूत सहलाई और दो मिनट बाद ही मैं उसकी जींस उतारने लगा.

हम दोनों ने उस रात तो बस 2 बार हीचुदाई का खेलखेला क्योंकि मुझे दर्द बहुत हो रहा था.

कामुकता से भरी लंड को खड़ा करने वाली और चूत में उंगली करने को विवश कर देने वाली कामुक चोदन कहानियां इस साईट पर पढ़ने और लिखने को मिल जाती हैं. इसके बाद आकाश ने अपनी कार से एक कोल्ड ड्रिंक की बोतल निकाली और दो गिलास भी निकाले. पायल भाभी हैरानी से बोलीं- क्या मतलब है तुम्हारा…? आज रात क्या करने वाले हो?मैं ज़ोर से हंसते हुए बोला- वो तुम आज रात को ही देखना… मैं क्या करता हूँ तुम्हारे साथ… आज की रात तुम हमेशा याद रखोगी क्योंकि मेरे पास केवल एक ही रात है… कल तो भैया वापिस आ जाएंगे.

शादी जयपुर में थी क्योंकि भैया जयपुर में सेटल थे, उनकी शादी को मैंने अटेंड किया जोकि किसी मैरिज गार्डन से थी. हमने एक ही तरफ अपना मुँह कर लिया और एक दूसरे को बाँहों में भरकर सो गए. मैं- तो क्या सोचा है क्या करोगे? सैटिंग करवाओगे कि नहीं?अमित- मैं क्या बताऊँ तुम जो भी कहो, जैसे बताओ.

मंजरी को बाहर आते देख, पुलकित उठ कर बाथरूम में चला गया, और वो भी नहा कर बाहर आया.

मैंने भैया को देखा तो मैंने उन्हें आवाज दी, वो आए तो मैंने उनको नमस्ते की. उसने मेरी बेक पर किस की, तब मुझे ऐसा एहसास हुआ कि मैं जन्नत में आ गया हूँ।अब उसने मुझे सीधा कमर के बल लिटा दिया और अंडर वियर के ऊपर से ही मेरे लोड़े पर किस करने लगी, फिर उसने धीरे से मेरा अंडरवियर भी उतार दिया और मेरे लोड़े का सुपारा मुँह में भर लिया.

हिंदी में बीएफ अंग्रेजी कुछ मिनट बाद ही मौसा मेरी शर्ट के बटन को खोलने लगे और ऊपर के बटन खोल अंदर हाथ डाल कर मेरे चूचों को सहलाने लगे. लगभग 3-4 मिनट बाद प्लानिंग की तरह सॉरी बोलते हुए दूर हुआ और कहने लगा- सॉरी मिनी, मुझे लगा दिव्या है.

हिंदी में बीएफ अंग्रेजी अब मैं उसके बाजू में आ गया और वापस उसको गर्म करने की कोशिश करता रहा. सभी लोगों के मन में सिर्फ़ ये ही बात रहती कि मुझसे दोस्ती कैसे की जाए, लेकिन उस टाइम में बहुत घमंड में रहती थी और गर्ल्स के अलावा किसी लड़के से बात करना तो दूर उनकी तरफ देखती भी नहीं थी, लड़कों को मेरा ये घमंड बिल्कुल पसंद नहीं था.

तभी मेरी सास बोली- मेरी निशा रानी, बहुत मजा आया, इतना मजा तो तेरे ससुर ने भी मुझे कभी नहीं दिया.

हॉट भाभी की सेक्सी बीएफ

मैंने उस की टांगों से उसकी पेंटी को अलग कर दिया तो जो गुलाबी नजारा सामने था. कुछ देर बाद सरिता की चुत लंड खाने की अभ्यस्त हो गई और धकापेल शुरू हो गई. फिर मैंने बरमुडा पहना और बाहर आ गया, उसके बाद तो मैंने उसे पूरे दिन अपनी गोद में उठा उठा कर चूमा और बूब्ज दबाये और चूसे पर उसने चूत को टच नहीं करने दिया.

फिर मैंने कुछ देर रुक कर एक और ज़ोर का धक्का दिया और साथ ही साथ उसको किस करता रहा और वो ज़ोर ज़ोर से सिसकारियाँ लेती रही और चीखती चिल्लाती रही- आह्ह आईईई इईई! लेकिन मैंने लगातार धक्के मारने चालू किए. खैर मैं शादी अटेंड करके सीधा आगरा लौट आया और अपनी पढ़ाई पर लग गया क्योंकि मेरे एग्जाम जो थे. मैंने उससे कहा- घबराओ मत, मैं आज तुम्हें सारा सुख दूंगा जो तुम्हें आज से पहले कभी नहीं मिला होगा.

आनन्द के मारे मेरे तो होश उड़ चुके थे, अंजलि दीदी को चोदने का जो सपना मैं कुछ देर पहले ख्यालों में देख रहा था, वो अब साकार जो होने को था!अंजलि मेरे लंड के चुस्से लगाती रही और मैंने दीदी की गोरी चूत को चाट कर लाल कर दिया था.

मैंने कहा- पूनम हमारी शादी तो होनी ही है लेकिन दिल में जो आग अभी लगी हुई है उसे कैसे बुझाएं?इतना कहते ही मैं पूनम को लिप किस करने लगा और पूनम के कूल्हों को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा. उसके मुँह से आवाजें निकल रही थीं- प्लीज़ अमित सक इट ओह उउउफ्फ़ अमित कम ऑन. पर कोई भी भाई ऐसा नहीं होगा कि लड़की सामने नंगी हो, तो उसे चोदे ना.

चचा जान कुछ बोले बिना मुझे देखे जा रहे थे और मैं उनसे नजरें नहीं मिला पा रही थी. उसने हाथ से आंटी की चूत की इशारा किया और ऐसे जाहिर किया जैसे आंटी की गोद में रखी जलेबी के लिए कह रहा हो. इस वक्त मेरा ध्यान ऊपर था, तभी शिवानी भाभी ने मेरा लंड बाहर निकाल लिया.

कल तो 6 इंच का लग रहा था, अब लगभग 7 इंच का है और मोटा भी हो गया है. वो एक लय बद्ध तरीके से लन्ड चुदाई कर थी जैसे कि लस्सी से मक्खन निकाल रही हो.

वहाँ पहुंच कर बीवी ने फ़ोन पर बताया कि माँ ठीक हैं, मैं कल शाम तक आ जाऊँगी. दस बारह मिनट की मिशनरी पोजीशन की चुदाई के बाद मेरे दोस्त में मेरी बीवी को घोड़ी बनाने को कहा. उन्होंने पूछा कि क्या हुआ इतनी सुबह क्यों बुलाया है आपने? क्या काम है?मैंने कहा- प्यार करना है आपको.

पर मुझे दुख उसकी थप्पड़ वाली बात का था, जिसका मुझे हर हाल में बदला लेना था.

इसी कहानी के पहले भाग में अपने पढ़ा था कि दिनेश ने अपने दोस्त विक्रांत के ऑफिस में पर्सनल सेक्रेटरी की पोस्ट के लिए एक सेक्सी लड़की भेजने की बात की थी. इधर राजेंद्र अंकल मेरे पीठ के हर हिस्से में अपनी जीभ से चाटने लगे और अपना हाथ मेरे दोनों कूल्हों में चला रहे थे और बीच बीच में उंगली मेरी गांड में डालने की कोशिश कर रहे थे. उसकी पेंटी और ब्रा दोनों इम्पोर्टेड थी, गोर रंग पर काले रंग की ब्रा पेंटी बड़ी ही अच्छी लग रही थी.

पर मैं तो रिश्ते लाइफ टाइम के लिए ही बनाता हूँ, मैंने कहा- मैं कौन सा तुझे छोड़ रहा हूँ. मैं चुपके से जाकर मॉम की चारपाई पर लेट कर उनके साथ रज़ाई में घुस गया और उनको अपनी बांहों में ले लिया.

हमेशा उनकी बात सुनो, उसकी इज़्ज़त करो, झूठ मूठ ही सही, और जिस दिन पिटारी में बंद हो जाए जी भर के खाओ. लेकिन इसके बाद जब भी मैं उससे मिलता और उसके दूध को हाथ लगाता, तो वो मना कर देती थी. यही सोचते सोचते 11:00 बज गए और वो मुझे आती हुई दिखी, तो मेरी जान में जान आ गई.

बीएफ सी पिक्चर

इस प्रकार हमारे बीच बातों का हल्का फुल्का दौर चला और मैंने बताया कि मैं क्यों मॉल आया और क्यों पार्किंग में टाइम पास कर रहा था.

जलेबी आदि रख दिया और बोलीं- बेटा ये घर की बनी जलेबी है, बाजार की नहीं हैं. अपने अपने स्पीड बढ़ा दी और थोड़ी ही देर में उसकी चुत को मेरे दही (वीर्य) का अभिषेक कर दिया. फिर कुछ सोचते हुए रमेश ने कहा- मतलब कि आप रिश्ते में हमारे पापा भी हो सकते है और जीजा भी.

कि ना मैं बस में संदीप के लंड की तरफ आकर्षित हुआ होता… ना उससे बात होती… और ना ही वो मेरी मजबूरी का फायदा उठाता. थोड़ी देर में उसने गांड से लंड को छुलाया, एक हाथ मेरी कमर तक बढ़ा कर उसने मेरी कमर पकड़ी और धक्का लगा दिया. बोलती हुई बीएफउसने अपनी दोनों टाँगों से मेरी कमर पकड़ ली और कह रही थी- मुझे चोदो… और चोदो… उम्म्ह… अहह… हय… याह… और अंदर तक डालो!अब मेरा लंड आसानी से अंदर बाहर हो रहा था, छप छप की आवाज़ से पूरा कमरा गूँज रहा था.

वो मेरे पड़ोस में रहती थी, दिखने में वो एकदम हीरोइन काजोल जैसी है और उसका शरीर तो ऐसा मस्त था कि बस देखते ही जान निकाल लेती थी. तभी एकाएक दरवाजा खुल गया और मैंने देखा कि रवि बिल्कुल नंगा था और अपने लंड को सहलाते हुए अन्दर चला आया.

मयूरी ये बात सुनकर अपने होंठ और जुबान को सुरेश के होंठों से अलग करते हुए बोली- एकदम सही कहा काजल. मूवी देखते टाइम मैं उसके हाथों को सहलाने लगा और उसके कंधे पर हाथ रखे, उसको हौले से प्रेस किया, उसने मुझे देखा और एक प्यारी सी स्माइल दे दी. मैंने फोन को चूमा और किचिन में जा के रानी को दे दिया और उसे अपना बंगलौर और दिल्ली जाने का प्रोग्राम बता दिया.

अमित ने आज पहली बार मेरे मोबाइल पर गुड मॉर्निंग का बहुत ही रोमांटिक एसएमएस किया था, जिसे मैंने पढ़ा तो अच्छा लगा. भी बहन की जांघों के आपस में टकराने से कमरे में फच फच पट पट की आवाजें अंजलि दीदी और मेरी चुदासी आवाजों से मिक्स हो रही थी. अब तक आपने मेरी चुदाई की पोर्न कहानी के पिछले भागअंकल ने मेरी चूत और गांड मारी जम केमें पढ़ा था कि मैं अंकल से चुदवा कर बीस हजार रूपए कमा लाई थी और अपनीचुदाई की कमाईको पा कर बहुत खुश हो रही थी.

मैं भी तंग हो गया कि साली मिलती ही नहीं है, मैंने उसे इग्नोर करना शुरू कर दिया.

जब मेरी बीवी से अपनी कामुकता बर्दाश्त नहीं हुई तो उसने अमित को गाली देते हुए कहा- मादरचोद, अब घुसा भी दे अपने डंडे को मेरे छेद में!लेकिन अमित अब भी अपना लंड मेरी बीवी की कलित पर और चूत की दरार में ही रगड़ रहा था. मोनिका की मम्मी को रात में फ़ोन की लाइट बार बार जलने से शक हो गया था.

उसके लिए जो भी करना पड़े, मैं कर जाती और इसमें तो मज़ा मुझे भी आ रहा था. वो माया का जूनियर था और माया को शायद मीटिंग के लिए याद दिलाने आया था. बस अब मैंने मन में ही सोच लिया था कि लाइफ में दुबारा शायद ऐसा मौका पता नहीं कब आए.

मैं अपनी मॉम की कामुकता और चुदक्कड़पन देख कर हैरान थी कि कितनी चुदास भरी पड़ी है मेरी माँ की चूत में कि मेरी मां ने अपने बेटे की उम्र के लड़के से अपनी चुत चुदाई करवा ली. मुँह में लंड होने की वजह से मैं चीख भी नहीं पायी। तब तक सिराज ने दूसरा धक्का मारा तो उसका आधा लंड मेरी चुत में घुस गया. मैं कब तक बाहर खड़ी रहती तो मैंने अवी को कॉल किया और पूछा- कहां हो?उसने कहा- मैं घर पर हूँ क्यों कोई काम है क्या?मैंने कहा कि मेरी चाभी खो गई है मैं घर के बाहर खड़ी हूँ, किसी को बुला लाओ वो ताले को तोड़ दे.

हिंदी में बीएफ अंग्रेजी शादी तो दस दिसम्बर की है न!”अदिति बेटा, कोई ऐसी ट्रेन देख न जिसमें छप्पन घंटे लगते हों दिल्ली पहुँचने में!” मैंने कहा. मैं उसका नीचे का होंठ चूस रहा था और वो मेरा ऊपर का होंठ चूस रही थी.

बीएफ चुदाई दिखाएं वीडियो में

इधर सुनील मेरी चुत में अपने मोटे लम्बे लंड को पुक्क पुक्क अन्दर बाहर कर रहा था और मैं हर धक्के के साथ सिसक रही थी. दोस्तो चूत रस से भीगी हुई पाव रोटी की तरह फूली हुई गुलाबी रंग की चूत, जिस पर हल्के हल्के से सुनहरे बाल मखमल की तरह लग रहे थे. अब मैंने उससे कहा कि अब उसकी बारी है, वो मुझे बेड पर चित लिटाकर मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

उस पूरे घर में बस हम दोनों ही अकेले थे और मेरा शायद सालों का सपना अब पूरा होने वाला था. पहले वो मेरी तरफ गुस्से से देखती रहीं और फिर भीड़ के कारण मेरे पास आकर खड़ी हो गईं. इंडियन लड़की बीएफ सेक्सीकरीब 2 मिनट बाद तेज़ी से चिल्लाते हुए दीदी की चूत ने पानी छोड़ दिया और मेरे लंड ने भी दीदी की गांड को स्पर्म की पिचकारियों से भर दिया, मैं हांफता हुआ बेड पर गिर गया और दीदी ऐसे ही अपने नीचे पड़े पिल्लो पर पेट टिका कर गिर गई.

वो जोर से चिल्लाई- भाभी ये क्या हो रहा है?रश्मि भाभी डर गईं और डर के मारे उन्हें पसीना आ गया.

मेरा नाम विशाल (बदला हुआ) है, उम्र 22 साल, कद 6 फुट और मैं भंडारा (महाराष्ट्र) से हूँ. उसने धीरे से एक और झटका लगाया और इस बार उसका लंड काजल की चूत में पूरा घुस गया.

तो उसका दोस्त पिज़्ज़ा और बर्गर ले आया और फिर रेफ्रिजरेटर से 2 बियर की बॉटल ले कर आ गया. मैं मौका देखकर उनके कमरे में चला गया और जाकर भाभी जी के बेड पर बैठ गया. मैंने उसकी गद्देदार गांड पर अपना हाथ लगाया और उसे सहलाना शुरू कर दिया.

मैं मूर्ख उनके मम्मों में ही डूबा रहा जबकि जन्नत मेरा इंतजार कर रही थी.

फिर कुछ देर बाद मैं उसके बेड पर बैठ कर उस के साथ टीवी देखने लगा और उस की जांघ पे फिर से हाथ रख दिया. इससे पहले मेरी पिछली कहानी आई थीसाले की बीवी की गांड में रंगवो कहानी भी सब पाठकों ने पसंद की थी. एक दिन सुबह मेरा और इरफान का किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया, बात इतनी बढ़ गई कि मुझे इरफान ने अनाप शनाप बातें सुनाईं और एक चांटा भी जड़ दिया.

इंग्लिश पिक्चर बीएफ चुदाई वालीबाथरूम से आकर दोनों ने अपने अपने कपडे पहने और तब फिर राहुल ने अंजना भाभी को पकड़ लिया और उसके होंठों पे होंठ रख कर चूमने लगा. कैसी लगी मेरी रियल चुदाई की स्टोरी, मुझे मेल करके अपने विचार जरूर बताना.

भोजपुरी सेक्सी बीएफ वीडियो देहाती

माया के मोटे मोटे मम्मे उस्मान के सीने से रगड़ने लगे, लेकिन इससे बेखबर माया तो बस कैमरा छीनना चाहती थी. उन्होंने मुझे लिटा दिया, औंधा कर दिया, अपनी भी पैन्ट और अंडरवियर उतार कर खूंटी पर टांग दिये. इसके बाद आकाश ने अपनी कार से एक कोल्ड ड्रिंक की बोतल निकाली और दो गिलास भी निकाले.

आंटी- तुम्हारे अंकल नीचे सो जाएंगे, दोनों बेटी और बेटा ऊपर बर्थ पे सो जाएगा. उसने मुझे सीधा किया और अपने लंड का जो वीर्य बचा था, वो उसने मेरी क्लीवेज में भर दिया. अब धीरे धीरे मुझे भी लग रहा था कि मैं अच्छी हूँ, किसी को भी दीवाना बना सकती हूँ.

ऐसे करते करते मैंने पूनम से पूछा- पूनम तुम्हारा फिगर क्या है?तो पूनम ने हंसते हुए बोला- आपने अभी नापा नहीं क्या. कहानी का पहला भाग:ननद को अपने पति से चुदवाया-1अब तक आपने इस चुदाई की कहानी में पढ़ा कि मेरी ननद मुझे अपने पति सागर के बड़े लंड से चुदते हुए देख रही थी. तभी चाचा मेरे सामने आकर खड़े हो गए और बोलने लगे- चोदो… क्या मस्त चूत है, 3 – 3 लंड ले रही है.

लेकिन दीदी ने ज़ोर लगाया और मेरे से छूट कर बेड पर आगे की तरफ हो गई तो मैंने भी जल्दी से खुद को दीदी के ऊपर गिरा दिया और लंड को पकड़ कर चूत में घुसा दिया और दीदी के हाथों को पकड़ कर बेड से लगा लिया. वो मान गई पर मैंने उससे बोला- मैं तुम्हें अब रूम में मिलना चाहता हूँ.

विनीत उठा और उसने हमें देखा लेकिन कुछ नहीं बोला और ऐसे ही नीचे आ गया.

इस बारे में मैंने अपने बेटे से बात की तो उसने मना कर दिया कि उसे छुट्टी नहीं मिल रही. एचडी बीएफ भेजिएकोई भी लेखक अपनी लेखनी से कुछ भी लिखने को स्वतंत्र होता है या कोई भी कलाकार या मूर्तिकार अपनी पसन्द से अपनी कला को रच सकता है. सेक्सी बीएफ वीडियो बिहार काजब से आपको मैंने देखा है, तब से यही सोच रहा हूँ कि कैसे बात करूँ?मैं चुप रही. मगर गांड के दूसरे छल्ले ने जैसे ही मेरा सुपारा निगला, उसने आराम की साँस ली.

शादी एक बड़े होटल में थी तो हम तीनों सीधे होटल में ही पहुँचे, जहाँ पहले से लगभग सभी लोग आ चुके थे.

मेरे लंड ने भी लावा उगलना शुरू कर दिया उधर रानी की चूत तीसरी बार झड़ने लगी. मैंने पूछा- तो और क्या करना चाहिए था?अरे तुम साइंस पढ़ने वाले लड़के हो. मैं चेंजरूम से बाहर आई तो विक्की ने देखा और कहा- हाँ, अब हुस्न की परी लग रही हो.

मेरी सेक्सी कहानी पढ़ कर मजा लें!मेरा नाम राहुल है, मैं धनबाद झारखण्ड का रहने वाला हूँ।पिछले कुछ सालों से मैं अन्तर्वासना कहानियों से बहुत मज़े करता आ रहा हूँ और मैंने कहानियाँ बहुत पढ़ी और लिखी भी… आपने मेरी कहानियों को काफी सराहा।दोस्त की बहन की दिल खोलकर चुदाईअतृप्त पंजाबन भाभी को चोदाकुछ दोस्तों ने मुझे फेसबुक और इंस्टा पर भी ऐड किया है। आप मुझे इंस्टाग्राम पर ऐड कर सकते हैं – its. फिर मैं उसके धड़ाम से गिर गया, गीतांजलि भी मुझसे चिपक गई और उसने मेरे ऊपर चुम्बनों के अम्बार लगा दिये, फिर मैं गीतांजलि के ऊपर से हट गया और वापस हम तीनों ही नंगे सोफे पर आकर बैठ गए, आपस मैं इधर उधर की बात करने लगे. नशे में धुत्त पार्टी में कोई भी लड़का मुझे लाइन देता, मैं बहाना करके उसके साथ कभी कार में, तो कभी वाशरूम में चली जाती.

बीएफ फिल्म एचडी में हिंदी में

वो लोग लगभग 20 मिनट मेरी गांड और चूत को चोदते रहे, तभी ड्राइवर को बोले- गाड़ी खड़ी कर दे, आगे ढाबा है. इसके बाद आकाश की और मेरी दोस्ती हो गई, लेकिन मेरा घमंड अब भी वैसा ही था, बिल्कुल भी बदला नहीं था. उस समय वो क्या माल लग रही थी दोस्तो! मेरा दिल कर रहा था कि साली को यहीं पटक कर चोद दूँ, पर डर भी लग रहा था.

मैंने लंड उसकी चूत के अन्दर डालने की कोशिश की, लेकिन वो जा ही नहीं रहा था.

देखने वालों को ऐसा ही लगता था कि काश ये मखमली होंठ चूसने को मिल जाएं.

कविता दिल्ली में पढ़ती है और एक कमरे का फ्लैट किराये पर लेकर रहती है. मैं अन्तर्वासना को तब से पढ़ता हूँ, जब मैं स्कूल में था और मैं आज भी इसकी सारी कहानियां बड़े चाव से पढ़ता हूँ. बीएफ सेक्सी वीडियो जबरदस्तीअब अगला दिन शुरू हुआ, सुबह जब मैं सोकर उठा, तब तक मॉम शायद नहा कर तैयार हो चुकी थीं, उन्होंने नीले रंग का सूट पहना था जो मम्मों और पेट पर थोड़ा टाइट था.

उसकी चुत के पानी से उंगली गीली करके उसकी गांड में धीरे धीरे डालने लगा और दूसरी उंगली से उसकी चुत के दाने को सहलाने लगा. अभी भी मेरा लंड आरजू की चूत में था और आरजू का मुँह रीनू मामी की चूत पर था. ये सब मैं जानता था क्योंकि मोनिका को मैं अब अपनी इज्जत समझने लगा था और उसके बारे में उसके भाइयों से सब जानने लगा.

उसके जाने के बाद मुझे मेरी ग़लती का एहसास हुआ और मैंने उसे पीछे से आवाज़ देकर वापिस बुलाया और उसे सॉरी बोला. तभी चाचा ने बोला- यार बृजेश, तू आ जा और आरती की चूत में डाल दे लंड… मैं तो झड़ गया, यह बहुत प्यासी है, अभी इसका पानी नहीं निकला!तब जो अंकल मेरे मुंह में लंड डाले थे, वह आ गए और मेरी टांग ऊपर कर के मेरी चूत में लंड फंसा कर जोर से धक्का दिया.

ये सब इस घर में मेरे लिए अनएक्सपेक्टेड था इसलिए मैं सोच में पड़ गई थी.

झीनी जॉर्जेट की सफ़ेद साड़ी में अंजलि की बॉडी का पूरा शेप समझना आसान था. मैंने इस बीच भाभी के मम्मों को मसलता रहा और उनका ब्लाउज खोल कर दूध चूसता रहा. मैं बार बार अपने हाथ को पीछे से ही उसकी कमर के पास ले जाकर सहलाने लगा.

बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाएं सेक्सी खैर दो दिन तो मुझे काम में निकल गए और तीसरे दिन मैंने शाम को किसी स्ट्रिप क्लब जाने का प्लान किया क्योंकि अमेरिका के न्यूड क्लब काफी मशहूर हैं. मैंने जब से मामी को देखा है, तब से लेकर मामी को चोदने तक रोज उसके नाम की मुठ मारी है.

यह हिंदी एडल्ट स्टोरी मेरी जिन्दगी से संबंधित है मैंने अपनी जिन्दगी में न जाने कितनी ही बार चुदाई की मगर किस्मत की मार से मेरी मुहब्बत अधूरी रह गई. ’उन्होंने मेरी गांड को काफी देर तक बजाया साथ ही मेरी चूत के दाने को भी मींजते रहे. वो बार बार मेरे लंड की तरफ देख रहे थे, जो तन के मेरी पैन्ट के ऊपर से स्पष्ट उभरा हुआ दिख रहा था.

बीएफ फर्स्ट ईयर

मैं जयपुर का रहने वाला हूँ और मेरे घर वालों की इच्छा थी कि उनके लिए एक ऐसी बहू आए जो घर में उनकी दिन रात सेवा करे. कभी कभी किसी कुएं के पास के पेड़ पर चढ़ कर पत्तों में छिप कर पानी भरती, कपड़े धोती या नहाती लड़कियों को देखते हुए मूठ मारने का जो लुत्फ़ था मज़ा था उसकी बात ही अलग थी. उनका पानी निकल गया था, मैंने लंड को चूत से निकाला, उस पर फिर से थूक लगा कर उनकी गांड में घुसाने लगा.

मैं पूरा दिन घर में लेटा हुआ बार बार उनको याद करते हुए मुठ मारता रहा. फिर मैंने दोनों को अपने आगे बैठा दिया और अपना लंड पिंकी के मुँह में घुसा कर अपना बीज गिराने लगा.

फू! गन्दा काम!!लेकिन मेरी काफी समय की मिन्नतों के बाद उसने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया था, परन्तु ज्यादा देर तक नहीं चूस पाती थी… लंड बाहर निकाल अपने जबड़े चलते हुए शिकायती स्वर में कहने लगती- ओ गॉड! कितना बड़ा है तुम्हारा!! मैं इसे और अपने मुंह में नहीं रख सकती!!! और अब क्या हो रहा था.

एक दिन मैं उसी के घर पर उसे पढ़ा रहा था तो अचानक से उसका दुपट्टा नीचे सरक गया और उसकी वक्षरेखा मुझे साफ नज़र आ रही थी. उसका फिगर भी कुछ खास तो नहीं है, पर फिर भी बता दूँ कि 28 के चुचे, 26 की कमर और 28 इंच की गांड है. दोनों ड्रेस मुझे बहुत अच्छी लगीं और पसंद भी आईं, पर इन किसी भी ड्रेस में ब्रा नहीं पहनी जा सकती थी.

ये मेरी पहली पोर्न कहानी थी, इसलिए कुछ कम ज्यादा हो गया हो तो माफ़ कीजियेगा. फिर मैंने उसको अपनी तरफ घुमाया तो उसकी नज़र नीचे की ओर थी, उसके होंठ बिल्कुल गुलाबी रंग के थे, मैंने धीरे से उन पर अपने होंठ रखे तो उसने भी मुझे रेस्पोन्स दिया और वो मेरे होंठ चूसने लगी. घर में एक तस्वीर लगी थी, जिसमें मेम, एक आदमी और एक 10 साल का लड़का साथ में खड़े थे.

शाम को मेरे भैया मुझे स्टेशन छोड़ने गए और कहा कि अच्छी तरह से पढ़ना और जब पहुँच जाओ तो कॉल कर देना.

हिंदी में बीएफ अंग्रेजी: मेरे दिमाग़ में बत्ती जली कि इसका कोई और प्लान तो नहीं है?थोड़ी देर में उसने कॉल किया- कोई देख नहीं रहा, आ जाओ. फिर बातों ही बातों में कुछ ऐसी मजाकिया बात की कि मेरे मुँह से हंसी निकल पड़ी मगर मेरे गाल पे आंसू की धारा बह रही थी.

मैंने भी अपने भाई से चुदने का फ़ैसला कर लिया क्योंकि अगर भाई मान गया तो रोज रात में मस्त चुदाई होगी और नींद भी अच्छी आएगी. मैं दरवाजा बंद करके निकली तो अमित बहुत ही गौर से मेरी टांगों को और मेरे खुली हुई बैक यानि नंगी पीठ को, चूची के ऊपर के हिस्से को. कुछ देर के बाद मैंने सोचा कि बस अब बह्बुत हो गया ये चूसना चाटना… अब असली काम पर आते हैं… मैंने आंटी को बिस्तर पर चित लिटाया और लण्ड उनकी चूत पर रगड़ने लगा.

उसने एक पिंक और एक रेड कलर की ब्रा निकाली और मुझसे बोली- इसी कलर की पैन्टी भी निकाल दो.

गर्मी की छुट्टियों में नाना के गाँव जाना तो होता ही था तो गाँव के लड़कों के साथ पेड़ पर चढ़ कर मुठ मारने में जो मज़ा आता था और अपने वीर्य की पिचकारी दूर तक फेंकने में जो हम बालकों में प्रतिस्पर्धा चलती थी उस दुनिया का आनन्द ही अलग था. इसके कुछ देर बाद फिर से दो दो पैग लगाए और फिर से लंड चूत की कुश्ती शुरू हो गई. सच में माया मुझे तुम सब कुछ देने को तैयार हो?”अमित के बात करने के तरीके से माया को सब समझ आ गया कि ये चोदने के चक्कर में है लेकिन इस वक्त उसे वो फाइल चाहिए थी जो कि कंपनी के लिए बहुत महत्वपूर्ण थी.