बीएफ नंगी सीन देहाती

छवि स्रोत,पंजाबी सेक्सी वीडियो चंडीगढ़

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी बीएफ वीडियो फिल्म: बीएफ नंगी सीन देहाती, मैंने कहा- आपसे कैसे?वो बोली- तो क्या हुआ … अब देखो मुझे जब पैसों की जरूरत होती है तब कुछ पैसे तो चुपचाप अल्मारी से निकाल लेती हूँ … क्योंकि घरवालों को मेरा ज्यादा खर्चा करना पसंद नहीं है.

वडाला सेक्सी

काफी देर मस्ती करने के बाद हम लोग पूल से बाहर आए और खाना पीना किया. मनीषा पटेल सेक्सी वीडियोरविवार को दिन में दोपहर एक बजे मैं और आयुषी मेरे दूसरे फ्लैट पर चले गए.

उसने पूछा- हैलो कौन!मैं बोला- आप कौन बोल रही हैं और आपको यह नंबर किसने दिया!उसने कहा- मुझको ये सिम मेरी एक सहेली ने दी थी, आप कौन बोल रहे हैं?मैंने उससे कहा- मैडम, ये मेरा सिम कार्ड है … आप प्लीज़ मुझे वापस कर दो. पैलवान सेक्सी व्हिडीओदीदी को मस्ती तो चढ़ रही थी मगर वो आवाज़ नहीं निकाल सकती थीं क्योंकि सब जाग रहे थे.

नीतू बहुत देर तक झड़ती रही और मैं उसी तरह उसका रस कई घूंट गटकता गया।थोड़ी देर बाद नीतू पूरी तरह झड़ कर बेसुध हो गई।मैंने भी उसकी जांघों के बीच से अपना सर निकाला और उसकी चूत के पास सर रख कर लेट गया।अब आगे देसी आंटी सेक्स कहानी:वैसे ही लेट कर मैं अपनी सांसों को काबू करने लगा।फिर मैंने उसकी चूत को देखा तो उसमें से कुछ रस की कुछ बूंदें उसकी चूत के बाहर आकर रुक गई थी.बीएफ नंगी सीन देहाती: अब मेरी बहूरानी के मायके में शादी थी तो उनके मामा (वधू के पापा) हमारे घर आकर भी निमंत्रण दे गए और सपरिवार आने का बारम्बार आग्रह कर गए.

इसके बाद सेक्स चैट और फिर चुदाई तक कैसे पहुंचे हम!नमस्कार दोस्तो, मैं आपका अपना प्रकाश सिंह, मेरी पिछली कहानी थी:देवर से लेकर वर की भूमिका तकअब मैं सेक्स विद हॉट सिस्टर स्टोरी के साथ हाजिर हूँ.मैं खुद उसके नाम से कई बार लंड हिला चुका था, पर मैं शब्बो को उसकी मर्जी से ही चोदना चाहता था.

सेक्सी वीडियो नंगी देहाती - बीएफ नंगी सीन देहाती

हमारी तेज आवाजों से मस्ती गूंजने लगी थी जिसका डर हम दोनों को ही नहीं था.मैं उसकी चूचियों को मसलने लगा और उसकी चूत में लंड घुसा कर उसे चोदने लगा.

तभी मेरे लंड ने माल छोड़ना शुरू कर दिया और वो उसकी बच्चेदानी को नहलाने लगा. बीएफ नंगी सीन देहाती कभी आंख पर पट्टी बांध कर चुदाई का अहसास करना … लंड और चुत को सिर्फ अपने मजे से मतलब होता है.

मैंने उसे छेड़ा- क्या रात वाली बात याद आ रही है अफ़रोज़?अफ़रोज़- आपा रात की तो बात ही मत करो.

बीएफ नंगी सीन देहाती?

टहलने तो क्या, ये मान लो कि रात की चुदाई के लिए कंडोम लेने चला गया था क्योंकि कल मैंने अपना माल चूत के अन्दर ही गिरा दिया था इसलिए मैं आज कोई खतरा नहीं उठाना चाहता था. मैंने सीधी बात करने के लिए कहा- कभी उसकी लेने का मन करता है!अफ़रोज़- आपा आप कैसी बात करती हैं!वह शर्मा गया था तो मैं बोली- इसमें शर्माने की क्या बात है. लूडो खेलते समय वो प्राची की गोटी के पीछे पड़ गया था और उसकी तीन गोटिया आउट कर दीं.

मेरे प्यारे दोस्तो और भाभियो, आप सभी को मेरा प्यार भरा कामुक नमस्कार. चाची- अब ये मास्टरबेशन क्या है?मैं- ओहो … चाची ये मैं कैसे बताऊं?चाची- वैसे ही, जैसे मैंने तेरा गीलापन देखा था. मैंने वीर्य निकलने के बाद भी अंकल के लंड को चाटा और उनका लंड चाट चाटकर साफ कर दिया.

मुझे भी दीदी की मुँह की गर्मी ने बेहाल कर दिया और मैंने उनकी एक चूची पकड़ कर मसलते हुए उनकी जीभ को चूसना शुरू कर दी. अब मैंने उन्हें पेट के बल किया और दोनों घुटने मोड़ दिए जिससे उनकी गांड उभर आई और गांड का छेद साफ दिखने लगा. शहजाद ने सबा का हाथ पकड़ कर उसे अपनी गोद में खींच लिया और उसके लब चूमते हुए कहा- तो इसमें धमकी देने की क्या बात है मेरी सब्बो रानी.

कुछ 15 मिनट की चुदाई के बाद उसकी आवाजें तेज हो गईं, उसने अपनी गति बढ़ा दी. फिर मैंने उससे पूछा- ये बताओ आप तो इतनी बार सेक्स कर चुकी हो, तो आज आपको इतना दर्द क्यों हुआ!तब उसने बताया- एक तो अभी मेरे पीरियड अभी नहीं हुए हैं … और दूसरा कारण, अभी जो भी बॉयफ्रेंड बने हैं, मैं बस उनसे पैसों के लिए सेक्स करती हूँ.

मैंने पूरी मस्ती से अपनी भाभी के मम्मे करीब 15 मिनट तक चूसे और भाभी का दूध पी लिया.

कुछ ही देर कि मस्ती भरी चुदाई के बाद मैं भी अपनी आखिरी दौर में आ गया था और झड़ने के करीब था.

फिर बहूरानी ने अपने पांव मेरी कमर के ऊपर से हटा लिए और अपनी कमर उठा कर चोदने का संकेत किया. मैंने पहले पढ़ा- अरे राजा … मेरी चूचियों का रस तो तुमने बहुत पी लिया … अब अपना बनाना (केला) शेक भी तो टेस्ट कराओ. मेरा एक हाथ दीदी की चूचियों पर चल रहा था और दूसरा हाथ उनकी चुत को टटोल रहा था.

जब पूरा लंड अन्दर हो गया तो मैं बोली- आहहह मामा जी आपने तो मेरी जान निकाल दी आह!उन्होंने चुदाई शुरू कर दी और मैं सिसयाने लगी- आहह ओह इस्स आह प्लीज़ धीरे आह ओहह इस्स मजाहह आ रहा है. पूनम बुआ का रंग यूँ तो साफ़ था … तो छोटे से गोरे चुचे पर हल्के भूरे रंग का उनका निप्पल तन्नाया सा खड़ा था. अब मैंने उसे व्हॉट्सैप्प मैसेज किया- आप ही ने फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी न … मैंने आपकी फ्रेंड्स रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली है.

फिर उन्होंने मेरे लोवर को उतार दिया और अपने शॉर्ट्स को भी उतार दिया.

तो इस बार थोड़ी सी हिम्मत जुटा कर मैं अपना हाथ उसकी गांड के पास ले गया. मैं ही छोड़कर आ जाऊंगा बहू को!ससुर बोले- गोरी बेटा, कल मैं तुझे बस में बिठाकर आ जाऊंगा. मां की गांड को मैंने तेल से भर दी और अपने लंड को मां की गांड पर मसलने लगा.

दीदी मुझसे अपने मम्मे मसलवा रही थीं और उन औरतों से बातें भी कर रही थीं. उसके मांसल चूतड़ों को मसलते हुए मैंने कहा- आह … क्या संगमरमरी हुस्न है. फिर मैंने अपने लंड का सुपारा गांड में डालने की कोशिश की पर लंड अन्दर नहीं जा रहा था.

जब आधा लंड गांड में घुस गया तो उन्होंने धीरे धीरे गांड मारनी शुरू कर दी.

वो मेरे ऊपर लेट गया और हाँफने लगा।हम दोनों ने चरमोत्कर्ष प्राप्त किया और मंजिल को पार कर गये।दस मिनट बाद भाई मेरे ऊपर से उठ गया और नीचे मेरी चूत को देखने लगा।चूत में से खून और वीर्य दोनों बह रहे थे।वो बोला- दीदी, आपकी चूत से खून निकल गया. एक दिन हम दोनों को कंपनी के काम से दो दिन के लिए हैदराबाद जाना पड़ा.

बीएफ नंगी सीन देहाती अगले ही पल हरीश ने सुम्मी के होंठों पर अपने होंठ लगा दिए और चुम्बन करने लगा. मुझे पता था कि अगर बुआ ने लंड को पूरा निगला, तो ये उनके गले में जाकर टक्कर मारेगा और उनको ठसका भी लगेगा.

बीएफ नंगी सीन देहाती मैंने जब मामी जी को ऐसे गांड उछाल कर मेरा लंड अपनी चूत में लेते देखा तो मैं और पागल हो गया. वहां से लौटे तो …अब आगे फादर इन ला सेक्स कहानी:हम दोनों ससुर बहू ने कुछ देर आराम किया फिर नहाने के इरादे से मैंने कपड़े उतार दिए.

अबकी बार मुझे कुछ अलग ही फीलिंग्स आ रही थी पर मैंने इग्नोर करते हुए उर्वशी को अपने ऊपर ले लिया और उसकी चूत पर अपना लंड सैट करते हुए उसे अपने लंड पर बिठा दिया.

देहाती सेक्स गांव का

डैड- हां चुद ले यार … अगर तूने सच में अपने यार से चुदवाया तो मैं तुम दोनों का गुलाम बन जाऊंगा. मैं कृति की चूत में अपना लंड फंसाए पूजा के चुम्बनों का मजा लेने लगा. पहले मैंने मीना की चुत से टपकते हुए योनिरस से अपने लंड को फिर से गीला किया.

उसका मस्त और गठीला शरीर मुझे पागल किए जा रहा था और मैं मस्त होकर कभी उसके होंठों को तो कभी चूची को, तो कभी पेट को पागलों की भांति चूम रहा था. ऐसे ही उसके मुँह से निकलने वाले, न जाने कितने अनगिनत अश्लील शब्दों ने मेरे खून में हवस को खौलाने का काम किया. कहां से सीखा?मैं- भाभी ये भी कोई सीखने की चीज है! जब सामने आप जैसी परी हो, तो अपने आप हो जाता है.

क्या हो गया उसको?”कुछ नहीं, हुआ कुछ नहीं है, वो आजकल बहुत परेशान है.

तभी लवली उठ गई और बोली- साहिल जी, ये आप क्या कर रहे हैं?मैं- लवली जी मजा तो आ रहा है ना!वो शर्मा कर बोली- हां जी, मजा तो आ रहा है. ऐसा लग रहा था कि वह मेरी बात ही नहीं सुन रहा था … बस अपनी कहे जा रहा था. मैंने अपनी स्पीड पकड़ ली और पूरे रूम में ‘ठप ठप …’ और ‘अहह उहह उईईहह …’ की आवाज़ गूंजने लगी.

अभय ने देखा तो देखता रह गया, ममता की चूत से पानी बह रहा था, जो उसकी जांघों तक बह कर आ गया था. नीतू अपने हाथों से मेरी पीठ को सहलाने लगी।कुछ देर बाद नीतू ने अपने नाख़ून मेरी पीठ पर गड़ाते हुए कहा- हाँ ऐसे ही चोदो अपनी नई बीवी को … अब रुकना नहीं. फिर जब जीजाजी नाईट डयूटी में जाते थे तो मैं दीदी के कमरे में जाने लगा था.

उसकी चूत फिर से मेरे लंड को खा गई और मैंने उसकी एक चूची पर अपना मुँह लगा दिया. वो बिल्कुल चुप हो गई थी।अब मेरा लौड़ा तो सुपरफास्ट ट्रेन के जैसे गपागप गपागप दौड़ रहा था।मैंने लंड निकाल कर उसे उठाकर बिस्तर के किनारे पर लिटा दिया उसकी टांगों को चौड़ा कर लंड घुसा दिया.

मैंने उनको याद दिलाया कि मैंने उनके कमरे को बाहर से बंद कर रखा है और वो यहां नहीं आ सकता. थोड़ी देर बाद मैंने शन्नो को लंड से उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चूत में लंड घुसा कर गपागप गपागप अन्दर बाहर करने लगा. बहुत प्यासी नजर से उसको देखती और सास का भी ख्याल रखती कि कहीं वो देख ना ले।वो भी जब मुझे देखता तो बिना नजर हटाए देखता रहता.

करीब आधा घंटे का रास्ता तय करके हम दोनों मंजिल पर पहुंच गए जहां शब्बो अपनी गीली चूत लिए कुच्ची के खड़े लंड का इंतज़ार कर रही थी.

कुछ देर यूं ही चोदने के बाद मैंने लंड निकाल लिया और शन्नो को लिटा कर उसके ऊपर चढ़कर चोदने लगा. भाभी अब भी कुणाल से ही प्यार करती थी।आगे भाभी ने बताया कि वो अपनी सहेली की शादी में अकेले ही आना चाहती थी. नीचे मेरी चूत की मस्त चुसाई चल रही थी जिससे मेरी दोनों टागें विपरीत दिशा में फैली हुई हवा में थीं.

आज हिना भी अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ कहीं जा रही है, इसलिए तुम अभी ही आ जाओ भोसड़ी के. मैं- मतलब शादी अभी के अभी करनी पड़ेगी?मामी मुस्कुरा दीं और बोलीं- यदि मजा लेना है तो अभी करनी ही पड़ेगी.

लगभग 10 बजकर 15 मिनट पर एक लड़का कार से आया और शीला आंटी के घर में चला गया. मीना की चुदाई से पहले पूजा मुझसे चुदना चाहती थी क्योंकि मंझली वो ही थी. इसके बाद मैंने बहार को लिटा दिया और उसके चूतड़ों के नीचे तकिया रख दिया.

हॉलीवुड में सेक्सी वीडियो

कृति- आह … मेरे सरताज … अब मत तड़पाओ … उम्मह … मेरी चूत चोद दो … आह … मेरी कुंवारी चूत की सील तोड़ दो … आह.

अरे बेटा, पहेलियां मत बुझा … अभी तो तू ही मेरी संगिनी है, चल करके दिखा कैसे करती है!” मैंने उसका दायां चूचा दबा कर कहा. मगन का नंबर भी नहीं था क्योंकि फोन मुझे इन्होंने लेकर दिया था।टाइमपास के लिए टीवी देख लेती।सासू मां को इल्म था कि उनका बेटा शराबी है और बहू बेहद जवान है। इसलिए वो मुझे दायरे में रखती थी।शादी के बाद एक रात ऐसी नहीं थी जब इनके लंड से मैं झड़ी होऊं।4-5 महीनों बाद सासूजी बोलने लगीं- बहू … पोते का मुंह दिखा दे।तब तक मैं भी सलीके से रहने लगी थी. उसने मेरे गाल और टाइटली पकड़ लिए और जोरदार झटका देकर लंड इतना अन्दर घुसा दिया कि मेरी आंखों से पानी निकलने लगा.

लगातार मेरी चुत की चुदाई होने की वजह से मुझे चलने में दिक्कत हो रही थी. मेरी आवाज निकल गई- आह धीरे करो न!अंकल ने उसी समय अपना एक हाथ मेरे दूध पर रख दिया और उसे दबा दिया. मोटी गांड वाली भाभी सेक्सी वीडियोवो सिसकार रही थी- आह हह … मम्मम्म … और जोर से जान आह हह … चोदो मुझे आह हहह … बस आज की रात मुझे चोदते जाओ ओऊऊऊ … बहुत दिनों से अच्छे से चुदी नहीं! आज मुझे रगड़ रगड़ के चोद दो हह!मैं उसे लगातार चोदे जा रहा था।फिर मैंने उसे घोड़ी बनने को बोला.

मैं ये सवाल करते समय ऊपर से नीचे उसके जिस्म को चोदने वाली नजर से देख रहा था. उसका रिप्लाई आया- एक घंटे बाद आना प्लीज!इधर आपको गीत के बारे में बताने का समय आ गया है.

घुड़सवारी करने वाली लड़की जोया उस लड़के हरीश के ऊपर अब पूरी तरह से लेट गई थी. फिर नीचे ले जाते हुए उन्होंने अपने हाथ को मेरी पैंट में घुसेड़ा और कच्छे के अन्दर डाल दिया. वो पलंग की तरफ मुँह करके बोले- शबनम, लगता है तेरे भतीजे सोहेल ने अपनी चुदाई की पूरी फिल्म देख ली है.

चाची से सब कुछ बता देने के बाद से मैंने भी उनके मम्मों को देखना बंद कर दिया था. हमने दूध खत्म किया और बेड पर लेट गए और एक दूसरे को बांहों में भरकर चूमने लगे. फिर दो मिनट के बाद मैं उठ कर नगमा के पास आ गया और बोला- हिना उठे तो बोलना मैं आया था … अभी मैं जाता हूँ.

वो मुस्कुराती हुई देखने लगी- उनके सामने इस रूप में मत चली जाना … नहीं तो …मंजू ने झट से साड़ी उठा कर अपना नंगा शरीर छुपाती हुई बोली- नहीं तो से तेरा क्या मतलब?ममता गेट खोल कर अन्दर आ गई और बात पलट कर बोली- कैसी लगी मां, अपने बेटे की पसंद?मंजू ने शर्माते हुए कहा- तू यहां क्या कर रही है … और तू कब आई यहां?ममता- कुछ नहीं मां, मैं इधर से जा रही थी.

मैंने कहा- शन्नो चूस ले मेरा लौड़ा … फिर तो तुझे साहिल का लंड भी चूसना है. अब आगे भाई बहन की सेक्सी स्टोरी :अफ़रोज़- तो फिर आपा … आज रात का प्रोग्राम पक्का?मैं- चल हट … केवल अपने बारे में ही सोचता है, ये नहीं पूछता कि मेरी हालत कैसी है.

वैसे तो सारी सुविधाएं अपने अपने रूम थीं, लेकिन पीने का पानी रीना के रूम के पास में आता था. रमेश की तो आज चांदी थी, उसको मेरी बहन के मस्त मम्मों को सहलाने का मौक़ा मिल रहा था. मामी जी के आंखों में देखते हुए मैं अपनी कमर चला कर धीरे धीरे लंड को चूत के अन्दर-बाहर करने लगा.

मॉम फोन पर बोलीं- अपने यार से चुदवाने आई हूँ, आप तो अब मुझे चोद ही नहीं सकते ना. फिर मैंने भी देर न करते हुए उसके मुँह में अपने लंड का पानी छोड़ दिया. सुहागरात में शौहर से होने वाली मेरी चुदाई में बताने जैसा कुछ खास नहीं है.

बीएफ नंगी सीन देहाती कभी वो अकेले ही घूमने चली जाती, अकेले ही फ़िल्म देखने चली जाती, घर में किताबें पढ़ती रहती … लेकिन उसके अन्दर की आग उसे चैन से जीने नहीं दे रही थी. जैसे ही मैं मुठ मारने लगा तो चाची बोली- अरे केदार, तू फिर से चालू हो गया?मैं खुद को संभालते हुए बोला- अरे चाची आप गयी नहीं?तब मैं पैंट की जिप बंद करते हुए बोला- हां चलो चाची.

रसोई चिमनी

वो मानी नहीं और मुझसे बोली- मुझे पता है कि मैं तुमको पसंद नहीं हूँ. लाल होंठ, गोरा रंग, आंखों का काजल और नशीली नजरें देख कर मैं अपनी मादक मौसी पर फिदा हो गया था. तो मैंने उसकी चूत पर हल्का सा तेल लगाया और थोड़ा अपने लौड़े पर भी लगा लिया.

अब मेरी दीदी ने धीरे-धीरे झुक कर अपनी पैंटी उतारना शुरू किया तो रमेश भी पीछे से झुकता गया और वो मेरी सेक्सी दीदी की खुली गांड पर अपना फूला हुआ लंड रगड़ कर मजा लेने लगा. फिर सागर ने अपना हाथ मेरे चूचे पर रखा और उसे दबाने लगा।मेरी सिसकारी निकल गई।फिर वो उठा और मेरी नाइटी को निकाल दिया। मैं अब बस ब्रा और कच्छी में उस के सामने लेटी हुई थी।मेरे शरीर को वो देखता ही रह गया और बोला- भाभी सच में आप कयामत हैं। मैंने ऐसा शरीर आज तक नहीं देखा। आपके चूचे आपकी ब्रा को फाड़ के बाहर आ रहे हैं. सेक्सी वीडियो छोटी लड़की वालीअब रात हो चुकी थी, इसलिए रात का खाना हमने होटल में खाया और घर आ गए.

मैंने उससे पूछा- तुम अपनी फ्रेंड के साथ लेस्बियन में क्या क्या करती थीं?उसने बताया- हम दोनों किस करती थी और एक दूसरे के बूब्स चूसती थी, चुत चाटती थी.

राजेश ने बिंदु से बोला- यार बिंदु क्या तुम गोविंद से चुदवा सकती हो?बिंदु बोली- राजेश मुझे कोई आपत्ति नहीं है … तुम को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. कोई पांच मिनट तक ऐसे ही पड़े रहने के बाद वो बोले- तुम्हारी चूत को मैं कल होटल में ही खोलूंगा.

उसने अपने भाई के कमरे को ऐसा सजाया था, ऐसा लग रहा था जैसे कि हम लोगों की सुहागरात हो. चाची बोलीं- वाह सोहेल, तू तो अपने अहमद चाचा से आगे निकला, इतनी देर तो तेरे चाचा चोद ही नहीं पाते हैं. उसके बाद दीदी ने रमेश से मादक आवाज में कहा- रमेश … अब तुम अपने एक हाथ को मेरे नीचे को लाओ … ताकि मैं अपने मुनिया को छुपा सकूं.

दोस्तो … इस सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि भाभी की चूत चुदवाने की भूख किस तरह से शांत हुई.

बिंदु बोली- राजेश मुझे कोई आपत्ति नहीं है, तुम अरिश्का को चोदकर प्रेगनेन्ट कर दो. इससे मेरा लंड खड़ा हो गया था और मेरे लोवर में उभरकर साफ दिख रहा था. बहार की चूची दबोचकर मैं उसके होंठ चूसने लगा जबकि बहार पूरी शिद्दत से मेरे लण्ड से अपनी बुर के मुखद्वार की मालिश कर रही थी.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी के साथवो नहाकर तौलिया लपेट कर जैसे ही बाहर निकली, मैंने उसको खींच लिया और वहीं छोटी बैंच टाइप की टेबल लेटा दिया. इस तरह सगाई के बाद मैं पहली बार अपने होने वाली बीवी से मिलने अपनी ससुराल गया.

कमर दर्द के लिए सबसे अच्छा योग

मैंने हल्के धक्के के साथ अपने लन्ड के टोपे को उसकी बुर में एंट्री करवा दी. शादी के बाद मेरे बदन में बहुत विकास हुआ है, मेरा जिस्म एकदम सांचे में ढल गया है. उधर पार्क में भी बहुत सारे लोग थे इसलिए हम चुदाई की बात ही नहीं कर पाए.

कुछ ही देर में शीना गर्म हो गयी उसकी पीठ बलखाने लगी- अंकल प्लीज … अब और मत तड़पाओ. उसको दूध दबवाने में दर्द हो रहा था, इसलिए वह बोली- यार, जोर से मत दबाओ ना … दर्द हो रहा है. यह देखते ही मेरे मुँह से निकल गया- बाप रे रज्जी … तू तो माल है यार, कितनी हॉट है तू.

लेकिन जिस समय मैं मूड में होती, उस समय जो भी मुझे लाइन मारता और मुझे वो अच्छा लग जाता … तो फिर उसके साथ मैं बेड पर ही होती थी. मेरी तमाम कोशिश के बाद भी जब लण्ड अन्दर नहीं जा पाया तो मैं समझ गया कि इसकी सील नहीं टूटी है. मैं पहले दिन साफ सफाई के लिए जब ऑफिस में गई थी, उस वक़्त अंकल कुर्सी पर बैठे थे.

सर ने लंड चुत से निकाला और चाची को पलट कर बोले- सोहेल, वो तेल की शीशी ले आओ … आज तेरी चाची की मैं गोरी गांड मारूंगा. मैंने नीतू को आश्वासन दिया कि इस बार आराम से करूंगा और तुमको कम से कम दर्द होगा तो नीतू मान गई।तब मैंने थोड़ा सा अपनी कमर को धक्का लगाया तो मेरा लंड थोड़ा अंदर जा कर रुक गया.

मैं इस बार फुल स्पीड में 5 या 6 धक्के मारकर पूरा लंड चुत से निकाल देता, जैसे पोर्न मूवी में स्कर्टिंग चुदाई में करते है.

प्रिंसेस सेक्स कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं कहानी के पात्रों का परिचय दे देता हूँ. सेक्सी पिक्चर के सीनमां की चुत से पानी निकलने की वजह से मेरी और मां की चुत का इलाका पूरा भीग गया था. सेक्सी जबरदस्त मूवीराजकुमारी कृति की चूत में मेरी जीभ चल रही थी और मेरे दोनों हाथ उसके मम्मों के उभार नाप रहे थे. हालांकि मैं जानता था कि पूनम बुआ बहुत देर तक मेरी इस बेदर्दी को नहीं सह सकेंगी, तो मैंने उनके सिर को छोड़ दिया.

वह बोला- आपा नफ़ीसा तो मेरी इन सब बातों का कोई बुरा नहीं मानती जबकि मैंने कभी ये सोचकर नहीं किया था.

तभी उसके मुँह से निकला- ये इतना मोटा होता है?उसका पूरा मुँह खुला का खुला रह गया. अब ये सब बातें मेरी कहानी का विषय तो हैं नहीं तो चलो मुद्दे की बात पर आते हैं. लेकिन सच में उसने अपने कूल्हे नचा कर समूचा लंड अपनी गीली चूत में लील लिया.

मैं ये सब सुनकर मस्त हो गई थी कि राजू का मजबूत लंड मेरी गांड में भी जाएगा. मैंने तुरंत उस रस बहाती नदी पर अपना मुँह रख दिया … और नदी में से बहता हुआ पानी पीने लगा. सोनिया भाभी बोलीं- अब से मुझे भाभी नहीं बोलना है … सिर्फ सोनिया बोलो.

सेक्स क्या

हमारी तेज आवाजों से मस्ती गूंजने लगी थी जिसका डर हम दोनों को ही नहीं था. करीब दस मिनट बाद मैं झड़ने को आया और अपना सारा माल मैंने मौसी की चूत में ही छोड़ दिया. मैंने बिस्तर पर आकर पल्लू हटाया और उसकी नथ को उतार दिया और उसके सारे गहने धीरे धीरे उतार कर पल्लू हटा दिया.

हमारे बीच ये सब कैसे हुआ?प्रिय पाठको, यह सेक्स विद क्यूट गर्लफ्रेंड की मेरी सच्ची सेक्स कहानी है.

कुछ देर तक यूं ही रसीली और हॉट करने के बाद हम दोनों ने किसी दिन फिर से मिलने का प्रोग्राम बनाया.

तभी सना की आवाज आई- बाजी, मैं भी आपके साथ ही भाईजान के लंड से खेलूंगी. ये एक प्यार का रिश्ता था … जिसे हम दोनों ने मन ही मन स्वीकार लिया था. गुजरात बीपी सेक्सीमैंने अपने लौड़े को तेजी से अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया।अब लंड ने चूत में जगह बना ली और अंदर तक जाने लगा.

उसकी चौड़ी छाती देख कर मेरे दिल में हेनू हेनू होने लगा और चुत में चींटियां रेंगने लगी. थोड़ी देर तक मैंने मामी जी के होंठों को चूसा, फिर अपने होंठों को अलग कर दिया. चुत पर लंड सैट करके मेरा गला पकड़ लिया और जोर का धक्का देकर चुत में लंड घुसा दिया.

मगर जब मैंने उसके मोबाइल में जो कुछ देखा … तो दंग रह गया कि कैसे उस लड़के ने मेरी गर्लफ्रेंड की चूत और गांड को चोदने के प्लान बनाए थे. चुत रसभरी हुई तो मेरा लंड फच्च फच्च फच्च करके अन्दर उसकी बच्चेदानी तक जाने लगा.

पूनम को ठसका लगने लगा और वो खांसने लगीं पर उनकी खांसी उनके ही गले में घुट कर रह गयी.

वो फिर से एक और ठोकर लगाता हुआ बोला- साली रंडी … चिल्ला तो ऐसे रही है माँ की लौड़ी जैसे पहली बार लंड ले रही हो. मामी जी भी पलट कर सीधी होकर पीठ के बल लेट गईं और उन्होंने अपने ब्लाउज़ के बटन खोल कर अपने बड़े बड़े स्तनों को आजाद कर दिया. सफर की थकान के कारण जल्दी ही उनको नींद आ गई।सुबह चाय नाश्ते से फ्री होने के बाद मैंने ससुर जी से कहा- पापा जी, क्या आप मेरे साथ मार्किट चल सकते हैं? मुझे रसोई का सामान और अपने लिए कुछ कपड़े लेने हैं.

सेक्सी बुर लंड वाली फिर एक बार बिजनेस के किसी काम से सुम्मी के पति को दो दिन के लिए मुम्बई जाना पड़ा. लंड के हमलों से शन्नो की चूत ने पानी छोड़ दिया और उसकी गीली चूत में लंड फच्च फच्च फच्च करके अन्दर बाहर होने लगा.

हम दोनों भाई बहन इस वक्त सेक्स की मस्ती में एक दूसरे को गर्म कर रहे थे. मैं आपको बता दूँ कि मेरी मौसी का तलाक उनकी शादी के पांच साल बाद ही हो गया था, तब से वह अपनी बेटी के साथ ही रहती हैं. कुछ देर बाद उसने एकदम से बेड पर शहज़ाद के ऊपर गिर कर उसका लौड़ा बेसब्री से चूसने लगी.

आर्केस्ट्रा डांस

उसने अपने मुँह को पता नहीं किस अंदाज में खोला था कि पूरा का पूरा लंड अन्दर जा घुसा. मैं- इसका मतलब आपने पिछले कई सालों से सेक्स नहीं किया? और आप इस जवानी को कैसे काट रही हो?पूनम बुआ ने हंसी में बात को टालते हुए कहा- कौन सी जवानी? कोई समझता ही कहां है इस बात को? कोई नहीं समझता कि एक औरत की भी जरूरत हो सकती है. बस दीदी के ब्वॉयफ्रेंड ने उन्हें घोड़ी स्टाइल में खड़ा किया और दीदी के पीछे से लंड चुत में पेल दिया.

मुस्कुराते हुए हुर्रेम के गुलाबी होंठ देख कर मैं अपने आप पर काबू नहीं कर पा रहा था. मेरी टांगें हवा में उठ गई थीं और मैं उसे और तेज तेज चोदने के लिए बोल रही थी.

मैंने उसे नज़र अंदाज़ करते हुए अपना पूरा ध्यान शन्नो पर लाते हुए चोदना शुरू कर दिया और गपागप गपागप चोदने लगा.

वो मुझे अपने घर में अन्दर ले गयी और मुझसे ड्राइंग रूम में बैठने को कह कर खुद अन्दर चली गई. सफ़ेद रंग की ब्रा में चाची की भरी हुई गजब की चूचियां, ऐसे तनी हुई दिख रही थीं मानो पर्वत चोटियां हों. इस बार वो अपनी झांटें रिमूव करके आयीं थीं तो उसकी सफाचट चूत दमक रही थी और उसके बदन से उठती शावर जैल की महक से रूम रूमानी हो उठा था.

सर ने चाची के पेटीकोट का नाड़ा खोला और बोले- शबनम, ब्लाउज़ भी उतार दे. दीपा हाँफने लगी थी।मनीष का भी लावा फूटने को था; उसने दीपा से हाँफते हुए पूछा- मेरा होने वाला है, कहाँ निकालूँ?दीपा हँसती और हाँफती हुई बोली- अंदर ही निकाल दो, कोई बात नहीं मैं तेरे बच्चे की माँ बन जाऊँगी।जब तक मनीष कुछ समझता तब तक दीपा ने उसे कस कर भींच लिया और चिपट कर उसकी छाती पर निढाल हो गयी. उसका मोटा लंड तैयार था।सुरजन साईड पर लेट मस्ती में खोया हुआ था कि सुन्दर ने मेरी टाँगें उठा कर पहले चूत पर लंड रगड़ा और मुझे पूरी रोमांचित किया और प्यार से प्रवेश करते हुए तेज़ झटका दिया.

कहकर मैं तेज़ी से उधर गई। गेट को खटखटाया। एक गबरू जवान ने दरवाज़ा खोला.

बीएफ नंगी सीन देहाती: प्रभा- आह … आह … मर गई मम्मी … मैं तो आज मर ही जाऊंगी आह प्लीज प्रवीण आराम से करो … आह मेरी फट गई!मैं- आराम से ही कर रहा हूँ यार, जितना दर्द तुम्हें हो रहा है, उतना तुमको दर्द में देखकर मुझे भी हो रहा है. मैं- अपना रस आप खुद पीना चाहोगी?चाची कराहते हुए मीठी आवाज में बोलीं- हां पी लूंगी हरामी … मगर जल्दी से मेरी प्यासी चुत में अपना मुँह फिर से लगा.

हॉट कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी के पिछले भागजवान लड़की ने मम्मी की सेक्स वीडियो देखीमें आपने पढ़ा कि अपनी मम्मी की चुदाई के वीडियो देख लड़की खुद अपनी बुर की पहली चुदाई के लिए मचल गयी. विवेक ने अपना समूचा लंड उस लड़की जोया के मुँह में देने के बाद उसको देखा, तो वो किसी पोर्नस्टार के जैसे एकदम मजे से लंड को सक कर रही थी. मैंने जैसे ही उसके लंड को अपने हाथ में लिया तो वो तो पहले से ही कड़क था लेकिन मेरे हाथ लगने से वो एकदम कड़क रॉड हो गया.

उसने हरीश को याद करके अपनी चुत में उंगली करना शुरू कर दी और कुछ ही समय में वो झड़ गई.

वो कुछ नहीं पापा … ऐसे ही कह दिया, चलो यहां से तो निकलें, ट्रेन का टाइम हो रहा है. फिर मेरे ऊपर से उठ कर वो बेड पर चित लेट गयी और जोर जोर से सांस लेने लगी. पढ़ें कि कैसे एक रियासत की 3 राजकुमारियों से विवाह करके तीनों कुंवारी लड़कियों के साथ एक एक करके सुहागरात मनायी.