कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,वीडियो कॉल सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

देहाती लड़की का बीएफ: कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी, धीरे धीरे लंड गांड में अन्दर बाहर करते करते अब मेरा तीन चौथाई लौड़ा अन्दर जा चुका था.

सेक्सी वाला सेक्सी बीएफ

मेरी इस हरकत ने उसे बेड पर लेटने को मजबूर कर दिया और वो दोनों टांगें खोल कर लेट गयी. बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्सहॉट चाची सेक्स स्टोरी मेरी पत्नी की चाची की गरम चूत की चुदाई की है.

मैंने उसकी गर्दन के पीछे से पकड़ा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. गावरान सेक्सी बीएफथोड़ी देर उछलने के बाद जब भाभी थक गयी तो फिर मैंने डॉगी स्टाइल में पीछे से लन्ड घुसाया और चोदने लगा.

आपने कोई जीव या सांड को देखा हो तो बताइए कि क्या वो अपनी मां या बहन देखता है, तो बस चोदने के लिए ही चढ़ जाता है या नहीं! ये सारे नियम हम लोगों ने ही बना लिए हैं.कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी: हम जब भी लॉज में जाते तब हमारे बीच सेक्स कम और उसकी शादी की या शादी के बाद की बातें ही होतीं.

भाभी ने मुझे कस कर हग कर लिया और हम दोनों एक दूसरे की बांहों में खो गए.फिर उन्होंने मुझे बालों से पकड़कर मेरे चेहरे को ऊपर उठाया और जोर से मेरे होंठों पर काट लिया.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी में बीएफ - कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी

फिर बिना कुछ कहे मेरे होंठ उसके प्यारे लाल सुर्ख होंठों से टकरा गए और हम दोनों एक दूसरे को ऐसे चूमने लगे जैसे कि ये पहली और आखिरी बार का प्यार हो.मेरी सौतेली मां की गर्म चूत की प्यासमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी सौतेली मां मेरे साथ चुदाई में गर्म हो गई थी और वो तकिया के सहारे से उठ कर मेरे लंड को चूत में घुसते निकलते देखने लगी थी.

अपने हाथों से उसने मेरी पैंटी को उतार दिया और मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया. कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी जब मैं लुल्ली को हिलाता हूं तो कुछ ही सेकेण्ड्स में मेरा पानी निकल जाता है.

उसकी चूत को देख कर ही मुझे पता चल गया कि ये चुदना तो दूर … इसने कभी चुत में उंगली तक नहीं की होगी.

कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी?

मैंने उसके ब्राउन कलर के निप्पलों को काट काट कर लाल कर दिया और उसके मोटे मोटे मम्मों के ऊपर अपने प्यार के निशान बना दिए. मुझे उसकी चूचियां मेरे सीने पर महसूस हुईं और मैंने उसको कस कर अपनी बांहों में भींच लिया. कुछ ही पलों में वो बहुत ही ज्यादा गर्म हो गई और अपने पैर और चूतड़ों को पटकने लगी.

आँटी बोली- नहीं, अब तुम जाओ, मुझे खाना बनाना है, बच्चे स्कूल से आने वाले हैं. पहले झटके में आधा और दूसरे झटके में पूरा लण्ड मामी की चूत में समा गया. किसी तरह से हमारा घर चल रहा था और जैसे तैसे करके मेरी पढ़ाई पूरी हुई.

शायरा एक पहेली सी बन गयी थी जो कि जितना हल करने का सोच रहा था … वो उतना उलझ रही थी. मैंने एक बार उसकी दोनों चूचियों को मसला और एक बूब को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. मगर अब मेरे लंड में कड़कपन इतना बढ़ गया था कि मेरा लावा किसी भी वक्त फूट सकता था.

आआ आआहह … आअहह … हाआय यइईई … बस्स … अब कुछ आगे भी करऊओ ओह आग लग गई है. जब मैं थक जाता, तो उसके ऊपर ही लेट जाता और फिर से पूरी ताकत से चोदने लगता.

वो कभी सुपारे पर जीभ फेर देती थी तो कभी उसको गोली जैसा पकड़ कर सुट्टा मारने लगती थी.

मैं उसके होंठों को चूसने लगा तो वो कुछ देर में बिल्कुल नॉर्मल हो गयी.

दोनों का ही पहली बार वाला मामला था, पर थोड़ी ही देर में हम एक दूसरे के होंठों को बेताबी से चूसने लगे. उसने मेरे हाथ पैर के … और चूत के बाल निकाल कर मुझे एकदम चिकना कर दिया. मैंने भी एक कदम आगे बढ़ कर कहा- बस भाभी इत्ती सी बात … लाओ मैं ठीक कर देता हूँ आपका दर्द.

मैंने जैसे ही मैसेज खोलकर देखा तो शशि का मैसेज था जिसमें लिखा था- मैं कम से कम एक घंटा नहीं आऊंगी. मैं उसकी तरफ देखकर मुस्कराने लगी और उससे कहा- अगर कुछ गलत हुआ तो लोग मुझे ही दोषी ठहरायेंगे. उसी समय विक्रम ने पीछे से अपनी एक उंगली को संजू की चूत में घुसा दिया.

अब दोबारा से चिकना करने की जरूरत थी वर्ना साबुन के सूखा होने से त्वचा में जलन हो सकती थी.

मैंने पूछा- क्या हुआ?राकेश ने कहा- मेरा इस महीना कुछ भी नहीं हुआ और शायद कम्पनी से मुझे अगले महीने से निकाल दिया जाएगा. तो चर्चा करते हुए मुझे मालूम़ हुआ कि तीनों भाई बहन को यहीं छोड़ कर अगले शनिवार को सगाई में शामिल होने के लिए मामी के गांव में, मामा-मामीजी दोनों ही जाने वाले थे. पूछने पर मां ने बताया कि जब तक वो आंटी नहीं आ जाती तब तक यही काम करने आया करेगी.

इस पर उन्होंने मुझे फिर से किस किया और कहा- नहीं मेरी जान, तुम्हें आगे से कभी दर्द नहीं होगा, यह पहली बार ही होता है … तुम्हें आगे अपने आप मजा आएगा. मैं भी डॉक्टर के यहां से बीमा प्रीमियम का चेक लाने जाने के लिए तैयार होने लगी. दोनों बचपन में साथ नहाती भी थीं और हमेशा एक दूसरे के सामने कपड़े बदलना इनके लिए आम बात थी.

वो खुद मदहोश सी होने लगी थी और मेरे जिस्म को अपने बाहुपाश में कसे हुए थी.

इधर मुझे बड़ी बुआ का फोन आया, तो मैंने उन्हें रात में हुई चुदाई की कहानी को सिलसिलेवार बता दिया. उसकी चूत तो एकदम गर्म थी ही मगर लंड लेते ही वो दर्द से छटपटाने लगी और मुझे धकेलने लगी.

कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी आंसू पौंछने के बाद जब मैं उनके साइड में बैठा तो उन्होंने मेरी जांघ पर हाथ रखा और सहलाने लगीं. ममता के ऊपर लेटकर मैंने एक बार फिर से अपना सिर उनकी जांघों के बीच घुसा दिया और उनकी चुत को‌ चाटने लगा.

कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी पांच मिनट की चुदाई में ही मेरी चूत ने ढेर सारा कामरस निकाल कर राज के लंड को भिगो दिया. महिला की टांगें युवक की कमर पर लिपटी थीं और उसकी योनि में युवक के लिंग के धक्कों के साथ उसके पैरों की पायल छन छन की आवाज करती हुई बता रही थी कि दोनों चुदाई में पूरी तरह से डूबे हुए हैं.

भाभी की उम्र 25 साल, हाईट 5 फिट 10 इंच है। उनके चूचे 32 के, कमर 28 की और गांड 36 की है.

पंजाबी ब्लू फिल्म वीडियो में

इसलिए आप लोगों से विनती है कि इस तरह की रिक्वेस्ट के मेल मुझे न भेजें. मैं हेलीमा की चुत चाटता तो गुलजान की चुत में अपनी दो उंगलियां ज़ोर जोर से अन्दर बाहर करने लगता. मैं किचन में चाय बनाने के लिए गयी तो अंकल मेरे पीछे पीछे किचन में आ गए और एकदम मेरे पीछे खड़े होकर मुझसे बात करने लगे.

हम दोनों ने बहुत देर तक बातें की, फिर मुझे नींद आने लगी … तो सो गया. दारू के साथ कुछ साथ लाए चिप्स का मजा लेना था इसलिए मैंने पहले अपने कपड़े बदल लिए. मैंने उसके चूतड़ों को चूमना जारी रखा, साथ ही मैं उसकी जांघों को भी किस करता रहा.

फ्रेंड्स, ये मेरी पहली गांड चुदाई की कहानी है, जो मैंने सचमुच में की थी.

मैंने वहां खड़ा रहना ठीक न समझा और अपने तने हुए लंड को जिप के अंदर ही ठूंस लिया. मैंने उससे अपनी प्यास के बारे में बताया है तो उसने वादा किया है कि उसकी समस्या हल होने के बाद वह मुझे अपने उम्र के साथी दोस्तो से मिलाएगी और मुझे उनकी प्यास बुझाने का मौका देगी. और ऐसा कह कर मैंने उसके लौड़े को दोबारा से अपने मुंह में भर लिया और जोर-जोर से चूसने लग गई।उसका लौड़ा पूरा फूल चुका था.

सुधा ने तो पहले ही अपनी आंखें बंद कर रखी थीं इसलिए उसने लंड को देखा ही नहीं. मुझे तेरी चुदाई करनी है अभी,तो मैंने उन्हें और ज्यादा तड़पाने के लिए बोला- मुझे अब आप के साथ कोई चुदाई नहीं करवानी. मुझे इससे कुछ फील हुआ कि भाभी को चोदने के लिए जितनी आग मेरे अन्दर लगी है, भाभी के अन्दर भाभी उतनी आग लगी है.

मैंने फिर से पूछा- लग तो नहीं रहा है?वो बोले- यार कितनी बार पूछोगे? तुम पेलते रहो, मजा आ रहा है. मैंने कहा- अरे नहीं मम्मी, आप नयी हैं हमारे घर में, आपको अभी काम करने में परेशानी होगी.

अब वो मेरे सीने पर हाथ घुमाने लगी और मेरे एक निप्पल को जीभ से कुरेदती हुई चूसने लगी. उससे ये होगा कि वो अंकल अब पूरा दिन तड़पेंगे और रात को सारी हवस मेरी चूत में निकालेंगे जिससे मुझे तो बहुत मज़ा आएगा।खैर मैंने भी थोड़ी देर डिल्डो डालकर अपना पानी निकला और जाकर वर्क फ्रॉम होम के लिए तैयार हो गयी।फिर सारा दिन अपना काम ख़त्म किया. मैंने रात की 9 की बस में स्लीपर की पीछे तरफ की एक पूरी सीट बुक कर ली.

मैं उसकी गांड के छेद में जीभ डालने के कोशिश कर रहा था लेकिन छेद इतना टाइट था कि अन्दर ही जीभ नहीं जा रही थी.

डोरी खुलते ही वो नाइटी मेरे बदन से फिसलते हुए नीचे मेरे कदमो में जा गिरी।मैं बस ब्रा और चड्डी में ही रह गई. दोस्तो, कैसी लगी बड़ी बहन चुदाई कहानी हिंदी में?मुझे ईमेल करके जरूर बताना. [emailprotected]देसी अंकल सेक्स स्टोरी का अगला भाग:कोरोना काल में मिला अंकल के लंड का सहारा- 4.

ये बस सेक्स KLPD स्टोरी आज से पांच वर्ष पहले की उस समय की है जब मैं चेन्नई में पढ़ाई कर रहा था. मेरा लंबा मोटा लौड़ा आँटी की बड़ी और फूली हुई गांड में, उनकी स्कर्ट के ऊपर से धंस गया.

मेरे मुँह से गालियां सुनके उसने गर्दन ऊपर की और हंसकर मेरे तरफ देखते हुए मेरा लंड किसी रंडी की तरह चूसने लगी. कशिश दीदी ने रुखसार भाभी का कुर्ता उतारा और उनकी सिल्की ब्रा खोल कर दूर फैंक दी. रात तो मैंने उसके साथ जाने से पहले अपनी अलमारी से नकली लंड जो कमर पर बांधा जाता है, उसे अपने पर्स में डाल लिया और उसके साथ उसके घर चली आई.

बीएफ सेक्सी एक्स बीएफ

मेरी गांड पीछे से और उठ गयी ताकि राज का लंड मेरी गांड में और अंदर तक रगड़ सके.

वो गांड मरवाने की आदी थी तो कुछ ही देर की पीड़ा के बाद उसने लंड को अपनी गांड में झेल लिया. मैंने फटाफट भाग कर दरवाज़ा खोला, तो परीक्षित की वाइफ निर्मला जी खड़ी थीं. जब उसने फोन काट दिया तो मैंने पूछा- कौन था?उसने कहा- वो दोस्त का खेत है गन्ने का … तो वहां कोई आता नहीं है क्योंकि सारी खेतीबाड़ी वही देखता है.

वो करता तो है मगर तेरे जैसे बिल्कुल भी नहीं … बस अन्दर पेला और पुल्ल पुल्ल करके खत्म हो जाता है. मैंने उनकी तरफ देखा और कहा- अंकल हो गया, और मत डालो बस इतना ही रहने दो. बीएफ सेक्सी सेक्सी ब्लू फिल्मउसका लंड चूत में सरसराता हुआ घुस गया और एक मीठी आह के साथ मेरी गांड ऊपर नीचे होने लगी.

फिर मैंने उसकी साड़ी का पल्लू हटा दिया और उसके बड़े बड़े स्तनों को दबाना और चूमना शुरू कर दिया था. देखना कुछ ही मिनट में फिर से तुम्हारी चुत में जाने के लिए तैयार हो जाएगा.

महीने, पन्द्रह दिन में एक बार आता है और दरवाजा खटखटाकर चला जाता है. मैं बाथरूम में गया और बाथरूम का दरवाज़ा सिर्फ़ चिपका कर पूरी तरह नग्न होकर नहाने लगा. फिर उसने वहीं से मेरी चूचियों को मुंह में भर लिया और मैं उसके ऊपर लेटी हुई उसको अपनी चूचियां पिलाने लगी.

फिर वो रिश्ता बाइक से लेकर सेक्स तक कैसे पहुंचा और हम दोनों अपनी इच्छा एक दूसरे से कैसे पूरी की, यह इस सेक्स कहानी में पढ़ें. मैं हांफते हुए संजीव के बदन पर लेट गयी और बोली- तुम बहुत अच्छे सेवक हो, अब तुम्हें मैं तुम्हारी जॉब दिलवा दूंगी. अब मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी थी और धीरे धीरे से अब मैं जल्दी जल्दी धक्के मारने लगा.

भाभी पूरी तरह तिलमिलाने लगी और मैं किस करते करते ऊपर की तरफ आने लगा।मैंने उनकी पैंटी के ऊपर से ही उनकी चूत पर किस किया और देखा कि भाभी की चूत से धीरे धीरे पानी आ रहा है.

जब वो मेरे सीने पर मेरी घुंडियों को भी चूमने लगी, तब मेरी आंख खुली. बस कुछ देर में गुड़गांव से निकल पड़ी और दिल्ली जयपुर नेशनल हाईवे पर चलने लगी.

मैंने फिर से आंटी की चूत में लंड पेल दिया और उसको वहीं बाथरूम में चोद दिया. मेरी बेटी की चुत की कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने घर में अपने दोस्त से अपनी सगी बेटी की चुदाई होती देखी. मैंने बोतल हाथ में पकड़ कर उसकी तरफ सिर्फ इशारा किया कि क्या वो पीना चाहती है?तो उसने गुस्से से मेरी तरफ देखते हुए मना कर दिया.

उसी समय मैंने एक बार जोर से आहह … भरी और मेरी चूत ने फच्छ फच्छ करके झड़ना शुरू कर दिया. ललिता भाभी की चूत में मेरा लंड बड़ी तेजी से गपागप गपागप अन्दर बाहर हो रहा था. वो लंड को अंदर तक ले रही थी और मजे से चूस रही थी।अब उसकी चूत से अचानक पिचकारी निकल पड़ी और आह्ह … आह्ह … की सिसकारियों के साथ उसकी चूत ने काफी सारा पानी छोड़ दिया.

कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी अगर आपके पास मैरिड गर्लफ्रेंड वांट सेक्स से संबंधित कोई सुझाव या सलाह हो, तो आप मेरे ईमेल पर बता सकते हैं. सुरेश अब सोनी का पिछवाड़ा चाट रहा था और अपने मुंह से उसकी जांघों के बीच में खुदाई जैसा कुछ कर रहा था.

बीएफ सकसी

अगर आपने मेरी पिछली कहानी नहीं पढ़ी है तो आपको बता दूं कि आप इस कहानी को बेहतर ढंग से समझने के लिए मेरी यह कहानी पढ़ें. उनकी बेटी की शादी हो चुकी है और बेटा और बाप यानि मेरे फूफा जी अक्सर शहर से बाहर रहते हैं. भाभी को इस चरम सुख ने इतना मदहोश कर दिया था कि वो मेरे लंड से चुदते चुदते एक बार झड़ गईं.

मैंने उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके टॉप को उतार दिया और इसी के साथ उसकी ब्रा को भी उतार दिया. मैंने उनकी आंखों में आंखें डालकर कहा- जब तक आप दोनों बात करो, मैं ऊपर टॉयलेट से होकर आता हूँ. सनी लियोन की बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्सदर्द तो मुझे भी हुआ, पर उस फुद्दी के रस की चाहत में मैं अपना दर्द भूल गया.

मैंने सीधा सीधा ही ये कहा ताकि बहाने से ही सही, मगर उसे भी तो पता चले कि मैं उसके बारे में क्या सोचता हूँ.

यामिना बस अपनी पियोन वाली ग्रे यूनिफॉर्म की वजह से मेरा ध्यान आकर्षित नहीं कर सकी थी. देसी मेड ने मुझे इस हालत में देखा तो एकदम से शर्म के मारे नजर नीचे कर ली और मुस्कराने लगी.

रेशमा का सर मेरे लौड़े पर धीरे धीरे दबाते हुए मैं उस पूरा लंड मुँह में लेकर चूसने का इशारा किया. इसी तरह से कुछ देर तक हम दोनों के बीच चुदाई चली और आंटी फिर से झड़ गईं. मैंने उसके ब्राउन कलर के निप्पलों को काट काट कर लाल कर दिया और उसके मोटे मोटे मम्मों के ऊपर अपने प्यार के निशान बना दिए.

उसने मुझे जय हिन्द बोला तो मैं देखकर चौंक गया और मेरे मुंह से निकला- भूरा!वो बोला- मैं बड़ी देर से आपको देख रहा था.

अगर आप मुझसे चैट पर अपनी बी डी एस एम फैंटेसी और अनुभव बताना चाहते हैं या साधारण बातचीत करना चाहते हैं तो आपयहाँ क्लिक करकेमुझसे बात कर सकते हैं. फिर थोड़ा लोशन उसकी चूचियों पर गिराया और उसकी एक चूची को हल्के हल्के मसलने सा लगा. हाथ बढ़ाकर मामी की नाइटी थोड़ा ऊपर खिसकाई तो मामी की गोरी गोरी मांसल जांघें ऊपर तक दिखने लगीं.

फुल नंगी बीएफरात में भाभी का दर्द बढ़ गया तो मैं भाभी और मां को गाड़ी में बिठा कर शहर के अस्पताल की ओर निकल पड़ा. मां बोली- अब मैं रात में तुम लोगों के पास तुम्हारे पापा के सोने के बाद आ जाऊंगी.

ब्लू वीडियो दिखाइए ब्लू वीडियो

चूत के अन्दर की दीवारें उंगलियों के घर्षण से बेहाल होने लगीं और रेशमा की गांड अब पूरी ऊपर उठ कर मेरे मुँह में टक्कर देने लगी थी. मैंने कहा- मैं भी उधर ही जा रहा हूँ, अगर आपको चलना है, तो आप मेरे साथ आ जाओ. मेरे खाने का खर्च ही बहुत ज्यादा हो गया था और ऊपर से होटल के रूम का खर्च तो आप जानते ही हैं.

सबके निकल जाने के बाद मैंने दरवाज़ा भेड़ा और लैब वाले रूम में अन्दर आकर साइड में होकर मैं अपने कपड़े बदलने लगी. कुछ ही देर में भाभी की चूत में पच पच की आवाज होने लगी क्योंकि मेरे लंड से भी काफी कामरस निकल रहा था और भाभी की चूत भी लगातार पानी छोड़ रही थी. थोड़ी ही देर में अचानक से मेरे लंड ने 5-6 पिचकारियों के साथ अंकिता के चेहरे पर हमला बोल दिया और सारा माल उसके मुँह पर निकाल दिया.

शायरा के लिए ये एक बड़ा झटका था, इसलिए उसकी आंखों में आंसू भर आए थे. आँटी की चूचियाँ मेरी छाती में गड़ गईं, उनका नर्म पेट मेरे पेट पर था और मेरा लण्ड उनकी स्कर्ट के ऊपर से ही उनकी जाँघों के बीच चूत में अड़ा था. मैंने तो उससे सुझाव दिया था कि उसे भी अपने खेल में इन्वॉल्व कर लो … थ्री-सम सेक्स करते हैं.

मेरा स्टैमिना भी बहुत ज्यादा है क्योंकि मैं हस्तमैथुन नहीं करता हूँ. मुझे आपके प्यार भरे मेल मिले, जिसके लिए आपका राज दिल से धन्यवाद करता है.

भर्ती के समय हम सब लड़कों के साथ गए। पहले कई बार लड़के बैठे, उनके मां बाप रुपऐ लेकर जाते, बड़ी सिफारिश लगवाते, पर बगल के गांव से एक हो पाया.

खास कर जयपुर की कामुक महिलाओं और सेक्स में नया चाहने वाली चुत वालियों को राज का सलाम. दीपिका पादुकोण सेक्सी बीएफमेरे सारे अंडरवियर्स मेरे दागों से बेकार हो गए हैं, अब तो मैंने पहनना भी छोड़ दिया है. उर्मिला का बीएफआंटी की चूत मेरे वीर्य से भर गई।मैं आंटी के ऊपर वहीं पर निढाल हो गया. मेरे जैसे चुदक्कड़ आदमी के लिए ऐसी चूत का मिलना बहुत किस्मत की बात थी.

दोनों अपने अपने रूम जाकर फटाफट फ्रेश हुए और नीचे खाने की टेबल आ गए.

उन्होंने मुझसे मेरी पढ़ाई के बारे में थोड़ी बहुत बातें की और कहने लगी- ठीक है. आप लोग मुझे बताएं कि मैं अपनी मॉम को पकड़ कर चोद दूँ या उनके सामने ही किसी लौंडिया को लाकर चोदूं, जिससे मैं भी अपनी मॉम की तरह घर में बिंदास मजा ले सकूँ. मैंने कम से कम दस बार प्रयास किया लेकिन सिर्फ लंड का सुपारा ही अन्दर जा पा रहा था.

मेरी चुदास देख कर अब सब मुझ पर एक साथ टूट पड़े और अगले ही कुछ सेकंड में उन लोगों में से एक ने एक झटके में मुझे नंगी कर दिया और सोफे पर बिठा दिया. फिर मैं काफी देर तक उसकी चूचियों के साथ अपने लंड से चोदते हुए खेलता रहा. मेरे धक्के लगाने से ममता को अब मज़ा आ‌ रहा था … इसलिए मेरे धक्कों की ताल से ताल मिलाकर वो भी नीचे से अपने कूल्हों को उचका रही थीं.

साड़ी वाली भाभी की चुदाई बीएफ

वहां पर ट्रैफिक काफी होता है इसलिए कार से चलने में काफी समय लग जाता है। हम लोग ड्राइव करते हुए आ रहे थे. मैंने उसे पूछा- अपना माल कहां निकालूं?उसने कहा- मेरे राजा, मेरी गांड पर ही निकालो और अपने माल से मेरी गांड के छेद और गोलाइयों पर अपनी उपस्थिति दर्ज कर दो।उसकी बात मानते हुए मैं उसकी गांड की गोलाइयों को दबाते हुए उसे चोदने लगा. मैंने अपने लंड एक दो बार और आगे पीछे करके सारा माल प्रियंका की नाभि में भर दिया और खाली पड़े दीवान में जाकर आंख बन्द करके लेट गया.

कुछ तो महसूस भी होना चाहिए।फिर मैंने धीरे धीरे झटके लगाने शुरू कर दिए और पूछा- अब कैसा लग रहा है भाभी?उन्होंने कहा- अब पहले से कुछ ठीक लग रहा है।फिर धीरे धीरे मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और उनके होंठों को चूसने लगा.

किसी भी मर्द का उसे देख कर ही पानी निकल जाए, वो इतनी कामुक दिख रही थी.

दोस्तो, मैं कान्हा साहू आपको अपने दोस्त की मदमस्त बहन पीहू की चुदाई की कहानी सुना रहा था. भरे हुए बदन की औरत को सहलाना कितना कामुक और आवेश भरा होता है, ये तो आप सभी जानते हैं. चोदने वाला बीएफ वीडियो दिखाइए[emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी थी:अपने चाचा से चुदवाई अपनी ननद की चूत.

उसके मुँह से लगातार सिसकारियां निकल रही थीं जो बस की आवाज में ज्यादा नहीं महसूस हो रही थीं. मैंने आँटी को बेड पर लिटाया और उनके दोनों घुटनों को मोड़कर उनकी चूत को देखा. मैं उसके गालों पर किस करने को जैसे ही पास गया, उसने मुँह पीछे कर दिया और हमारे होंठ एक दूसरे से मिल गए.

तो मैंने उससे कहा- ओ मैडम ये बस है आपका घर नहीं … ज्यादा ऊ आ की आवाज मत निकालो. वह जब बिल्कुल शांत हो गई तो मैंने धीरे से अपनी कमर ऊपर उठाई ताकि लंड को अन्दर बाहर कर सकूं.

वैसे तो दिल्ली में इस तरह के होटल भी मिल‌ जाते हैं … मगर इसके लिए ममता जी तैयार नहीं थीं.

अब मेरा मन कर रहा था कि आज पूरी रात विजय को इसी तरह अलग अलग हरकतों से तड़पाया जाए और उसकी परीक्षा ली जाए. इसमें मुझको शर्म भी आ रही थी और दिल ही दिल ही उत्तेजना भी बढ़ रही थी. इससे आंटी को बेहद चुदास चढ़ गई थी और वो मेरे लंड को हाथ से सहलाने लगी थीं.

बीएफ सेक्सी वीडियो कम अब मैं और कशिश दीदी खड़े खड़े ही एक दूसरे को ज़ोर ज़ोर से चोदने लगे थे. मेरा लंड उसकी गांड में घुसने को तैयार हो गया था, जिसको वो बहुत अच्छे से फील कर रही थी और पूरे मज़े भी ले रही थी.

तीनों के लौड़े से बढ़कर एक थे लेकिन सरदार का लंड कुछ ज़्यादा ही लंबा और मोटा था. शायरा अब भी वहीं थी मगर वो शायद अपनी चूत पर हाथ घुमाने के सिवा कुछ नहीं कर पा रही थी. 12 बजे के करीब मौनी ने कॉल किया और पूछा- कित है?? (कहां है)मैं बोला- यहीं पास के पार्क में बैठा हूं.

सुहागरात मनाने वाली

सबसे पहले हम लोग ने महमानों को स्टेशन छोड़ा और फिर वापस जल्दी से गांव की तरफ आ गए. मैंने अपना लंड ताई के मुँह में दे दिया, ओह्ह … क्या आनन्द आ रहा था. अब वो जब भी कपड़े सुखाने छत पर आती, तब मैं खाली पीली फ़ोन में ऐसे बात करता … जैसे उसको लगता कि मैं कोई ज्योतिषी हूँ.

मेरी निगाहें मंडप पर थीं और मेरा ध्यान अपने बगल में खड़ी ब्यूटी पर था।ब्यूटी मुझसे इस कदर चिपक कर खड़ी थी कि उसकी गर्म गर्म साँसें मुझे अपने कंधे पर महसूस हो रही थी।मैंने हिम्मत करके अपनी कोहनी से उसके चूचों को हल्का हल्का दबाना शुरू कर दिया. अब आगे हिंदी सेक्स सेक्स Xxx कहानी:इस कहानी को लड़की की सेक्सी आवाज में सुनें.

भाभी के जाने के बाद मैं रागिनी से बोला- तुमने रात में भी उनको क्यों बुलाया? मैं तो रात में अपनी रागी को ही चोदना चाहता हूँ.

मैंने उसकी ब्रा उतार कर फेंक दी और उसके बूब्स मसलने लगा।अब उसके हाथ मेरे लौड़े पर आ गए. आप सच बात बताओ कि आपको प्राब्लम क्या है?वो मेरी तरफ गुमसुम होकर देखने लगीं. जब उसके लंड का टोपा मेरी बेटी के कोमल से मुंह में जाता तो उसके गाल फूलकर गुब्बारा हो जाते थे.

दो उंगलियों पर क्रीम लगा कर उनकी गांड में डाली व अंदर बाहर करने लगा. फिर मुझे आयोजक के द्वारा संचालन के लिए बुलवाया गया और मैं मंच से इवेंट के संचालन में मशगूल हो गया. अंकल उठ कर गए, उन्होंने शेल्फ से तेल की शीशी निकाली और आकर बिस्तर पर बैठ गए.

मगर वो योनि की संतुष्टि चाहती थी। मेरे हर धक्के पर वो आह-आह और कामुक सीत्कार निकाल रही थी।उसे योनि के अंतिम पड़ाव पर लिंग का टकराना मदहोश कर रहा था.

कुत्ता वाली बीएफ सेक्सी: वह मस्त होकर सिसकारने लगा- अरे सर … आह्ह … वाह … सर … आप तो लौंडों को गर्म कर देते हो. मेरे मुँह से आह निकलती गई- आह आह अंकल … सीईई अंकल … मेरी गांड फट गई आह अंकल मुझे दर्द हो रहा है … अंकल छोड़ दो अंकल.

मैं उनके होंठों पर चुंबन लेती थी, यही मेरा उनके प्रति के प्यार का सबूत था. मैं अन्दर गयी और उसको खोला तो वो उसने एक वन पीस था, जो कि आगे से काफी डीप गले का और बिना बांह का था. मुझे ये विश्वास नहीं हो पा रहा था कि इतनी सुन्दर लड़की मेरे सामने कभी इस तरह से अपने आपको मेरे हवाले कर देगी.

दोस्तो, मैं राज आपको अपनी पत्नी की सुहागरात में हुई उसकी चूत गांड चुदाई की कहानी सुना रहा था.

मैं सिर्फ अंडरवियर में बैठा अन्तर्वासना पर सेक्स स्टोरी पढ़ रहा था और अपना लंड हिला रहा था. मैंने उसकी गांड को पकड़ लिया और तेजी से उसके चूतड़ आगे पीछे करवाने लगा. वहां जाकर मैंने उसको सामने से देखा तो वो बंदा काफी हैंडसम दिख रहा था.