18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई

छवि स्रोत,एरोप्लेन कैसे उड़ता है

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी पिक्चर बिहारी में: 18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई, उसकी चूत भले ही चुद गई थी मगर अभी वो पूरी तरह से खुली नहीं थी।उसके गांड उचकाने से मुझे लग गया था कि ये चुदाई में मस्त मजा देने वाली है।मैंने देर न करते हुए अपनी चड्डी भी उतार फेंकी.

एक्स वीडियो 18 साल

मैं धीरे से उनकी चुत को चाटने लगा, तो उन्हें इससे बहुत मजा आने लगा. लड़की का नंबर दो नामैं मन ही मन में प्रार्थना कर रहा था कि दीदी पैंटी खुलवाने के लिए मान जाए.

फिर दस मिनट मेम की गांड बजाने के बाद मेरे लंड का रस निकलने ही वाला हो गया था. सेक्सी वीडियो करीना कपूर केवो बोलीं- सच्ची में अभी तक कोरा है रे तू … तो इस मोटे गुलाबी लंड को मैं अपनी चुत के रस से भिगो के सवारी करूंगी … खूब रगडूंगी और फिर चूस चूस कर इसका माल अपने मुँह में ले लूंगी.

उसमें एक बहुत अच्छी ड्रेस थी विद पैंटी … इस ड्रेस में ब्रा नहीं पहनते थे, इसलिए ब्रा नहीं थी.18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई: तभी उसने चुदास के चलते अपने ब्लाउज के चटकनी बटन एक झटके में खोल दिए और मेरे सामने उसके बिना ब्रा के चूचे फुदकने लगे.

इसके बाद मैंने लौड़े को हल्का हल्का अन्दर बाहर करना शुरू किया, जिससे उसकी गांड के छेद का रास्ता खुल गया.मैंने पूछा- इतना गैप क्यों?उसने बताया- मेरे ससुर पिछले 6 महीनों से बीमार चल रहे थे.

स्थानीय सेक्स - 18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई

खासकर वैसी महिलाओं को, जिनके पति बिजनेस के सिलसिले में शहर या देश से बाहर रहते हैं.वहां से हमारा सिलेक्शन हुआ और हम तहसील के लिए गए, जिसमें हम चार लड़के और चार लड़कियां थीं.

खुद की भावनाओं को कंट्रोल करते हुए मैंने शॉवर लिया और इस बार अपनी नाइट ड्रेस टॉप पजामा पहना. 18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई अब तो उससे वीडियो चैट करके लंड हिलाने का भी मौका नहीं मिल पा रहा था.

हम दोनों बहनें अब कण्ट्रोल में नहीं थी लेकिन मेरी निगाह बस सोनम और बॉस पर थी.

18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई?

उन्होंने धीरे से मेरी बनियान को निकाला और मेरे सीने पर किस करते हुए मेरी छाती की घुंडियों को चाटने लगीं. उस समय मेरी उम्र 21 साल की थी जब मैं दो दो लौड़े एक साथ मेरी चूत ओर गांड में ले लेती थी. मैंने नीरू की चूत पर लन्ड सेट किया और एक जोरदार झटके से अंदर पेल दिया.

दरअसल ये क्रीम का कमाल था जो कि बवासीर वाले डॉक्टर मरीज की गांड में उंगली डालने से पहले लगा कर गांड में होने वाले दर्द को खत्म कर देते हैं और मरीज की गांड का सही से चैकअप हो जाता है. अब आप ये सोच रहे होंगे कि शिल्पा दीदी की शादी से मुझे क्या फायदा होने वाला था. उस दिन हमने 4 बार सेक्स किया और जाने से पहले मैंने ज़ायरा की गांड भी मारी, जिसमें उसको चक्कर भी आ गया था.

मुझे ऐसा लगता था कि वो उस दिन मुझसे चुदने के लिए ही मुझे रोक रहीं थीं. वो समझ गई कि यही वो रणभूमि है, जिधर लंड चूत की कुश्ती होने वाली है. वो तीन दिन तक हमारे घर में रहीं और तीनों दिन मेरा ही गुणगान करती रहीं.

वो तड़फने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मुझसे बाहर निकालने को कहने लगी. उसके बाद से ही मेरी मां के जानने वाले घर में आते रहते हैं लेकिन वो सब मेरी मां के साथ रंगरेलियां मनाते हैं मुझे इसके बारे में कोई खबर नहीं है.

फिर वन्दना ने मेरा वी शेप का अंडरवियर उतार कर मेरा लन्ड अपने पेग में डुबो दिया.

अब मैंने उठ कर उन्हें अपनी गोद में ले लिया और पीछे से उनकी ब्रा के हुक को खोल दिया.

मैंने मासी के दोनों मम्मों को दीवानगी की हद तक चूसा और लाल करके ही छोड़ा. सच कहूँ तो उनकी छेड़खानी से मेरी चूत भी गीली हो जाती थी, पर मैं ऐसे ही कहीं भी अपनी जवानी तो नहीं लुटा सकती ना!लेकिन अब मैंने उनके गाने बंद कराने के लिए काजल लगाना शुरू कर दिया. कुछ देर बातें करने के बाद श्वेता दीदी बोली- ठीक है आप दोनों बातें कीजिए … मैं सोने जा रही हूं.

अब तो स्थिति ये हो गई थी कि जब तक हम दोनों एक दूसरे को टच नहीं कर लेते थे, जी ही नहीं भरता था. तुम बोलो क्या बात करनी थी?कुमार मेरे हाथ को पकड़ कर बोला- आई लव यू तन्नू. तुम्हें एक विडियो दिखाती हूँ, इंडियन है, नाम है ‘सैटरडे क्लब’ यहाँ दोस्तों का एक ग्रुप है और वो हमारी तरह हर सैटरडे को किसी होटल के स्वीट में इकट्ठे होते हैं.

बुआ ने अपने पेटीकोट को अपनी जांघों तक कर लिया और चूत के पास ले जाकर छोड़ दिया.

काफी देर तक मैंने भाई का लंड चूसा और फिर भाई ने अपनी निक्कर को उतार दिया और नीचे से पूरा नंगा हो गया. मैंने उंगलियाँ बाहर निकाली, मेरा पूरा हाथ उसके चूत के पानी से गीला हो गया था. आज एक राउंड हो जाए?मैंने सोचा कि पहले एक बार राज से बात कर लेता हूं कि कहां है.

इससे हमारे घर वाले भी हम दोनों के बारे में जानने लगे थे कि हम दोनों एक साथ काम करते हैं … इसलिए मिलना जुलना स्वाभाविक है. नशे के कारण उसके पैर लड़खड़ा रहे थे। मैंने उसकी कमर को थामते हुए उसे सम्हाला।उसके जिस्म की मादक खुशबू पाकर मेरा मोटा लंड एक झटके में खड़ा हो गया। उसने लोवर और टीशर्ट पहनी हुई थी।मैंने उसे कहा- देखो, आज रात तुम मेरी हो और मैं तुम्हारा! तुम अपने दिल से निकाल दो कि हम दोनों की उम्र क्या है, बस बिना शर्म के मेरा साथ दो. मौका देख कर सुनील ने भी दीपा के पैर अपनी गोदी से हटाये और खुद सरककर आगे हो गया और अब सीधे अपने हाथ दीपा कि नंगी जाँघों पर फिराते फिराते उसकी शॉर्ट्स के मुहाने तक पहुँच गया.

मैंने तुरंत राज को फोन करके पूछा- राज, तू कहाँ है?राज बोला- वसूली में 2 घंटे तक लग जाएंगे.

फिर महेश ने ज्योति के चूतड़ों को पकड़ कर चौड़ा किया और अपनी बेटी की गांड के छेद के चारों ओर जीभ फेरने लगा. ठंड लग रही थी लेकिन गर्म चूत को छूने से चुदास उतनी ही तेजी से बढ़ती जा रही थी.

18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई मैंने दोनों को जगाया फिर हम तीनों साथ में नहाये और तैयार होकर घूमने चले गए. जैसे ही उसकी वासना की चिंगारी सुलगती है वह निहायत ही बेशर्म बन जाती है.

18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई कुमार- अन्दर मत जाओ, मैं तुम्हें लेने आ रहा हूँ … हम दोनों कहीं घूमने चलते हैं. फिर नीता प्रिन्स का 7 इंची लंड चूसने लगी तो मैं उसकी पुसी को चाटने और जीभ से चोदने लगा.

जब सब लोग खेलने के लिए चले गये तो उसने रूम का दरवाजा बंद कर दिया और वो मुझे किस करने लगा.

दर्जी वाली सेक्सी बीएफ

फिर मैंने धीरे धीरे गौर किया कि मेरे मकान मालिक मुझे छुप छुप कर देखा करते हैं. अब अंकल ने भी समझ लिया कि मेरा दर्द कम हो गया है तो वे लंड को मेरी कसी चूत के अन्दर बाहर करने लगे. ये बोल कर मैं कपड़ों के ऊपर से ही उनकी गांड में धक्के मारने लगा और झुक कर उनके चुचे भी दबाने लगा.

अब बॉस ने मुझे अपने पास बिठा लिया और मेरी कमर में हाथ डाल कर मुझे पैग बनाने को बोला. धीरे धीरे हमारी रोज बात होने लगी और हम एक दूसरे से घंटों बातें करने लगे. एक देसी जवान सेक्सी भाभी से कुछ दिन सेक्स चैट और विडियो चैट होने के बाद उसने मुझ मिलने एक रेस्तरां में बुलाया.

इतने में मेरा दोस्त भी खड़ा हुआ और उसने भी कहा- सर, मेरा नाम भी लिख लो.

वहां पर सर्दी ज्यादा होने की वजह से मैंने और मेरी साली ने शराब के नशे में बरसों की अपनी दबी हुई वासना को शांत कर लिया. मैं तुम्हें बताऊँगी कि जब औरत अपने पर आती है तो वह क्या कर सकती है!” नीलम ने मुस्कराते हुए कहा और अपने कपड़ों को लेकर बाथरूम में चली गयी।ख़ाना डार्लिंग!” नीलम कुछ देर में ही बाथरूम से निकलकर किचन से खाना ले आई और उसे अपने पति के सामने रखते हुए कहा।क्यों आज तुम नहीं खाओगी?” समीर ने नीलम की तरफ देखते हुए कहा।डार्लिंग, मैंने अपनी हर भूख को तुम्हारे बिना ही मिटाने का बंदोबस्त कर लिया है. अब वो दिन भी आ गया, जब कॉलेज में वार्षिक उत्सव (एनुअल फंक्शन) मनाना था.

भाभी की चूत को ऊपर से नीचे की ओर चाटने के क्रम में मैंने अपनी जीभ भाभी की चूत में डाल दी. हमने एक दूसरे को बांहों में भर लिया और होंठों को सटा करके स्मूच करने लगे. इसी के चलते बार बार लंड चूत के छेद में न जाकर इधर उधर फिसला जा रहा था.

अब मैंने उसकी चूत पर किस किया क्योंकि मुझे शराब के नशे में चूत चाटने में मजा आता है. शबनम तो बेशर्म है, वो अंदर नंगी ही खड़ी थी … नायरा ने भी हँसते हुए अपने कपड़े उतार दिये.

ऐसे भी परमीत अपने झगड़ालू स्वभाव के कारण चैलेंज वाली चीजों में पीछे नहीं रहती थी, लेकिन आज की शर्त थी कि हारने वाले को एक बार में ही बीयर की बोतल पूरी पी कर खाली करनी होगी और परमीत ने खाना खाने के बाद भी ये शर्त मान ली थी. मेरा पूरा वीर्य चूत में गिरने के बाद पांच मिनट तक मैंने लंड को अपनी प्यारी बीवी की चूत में ही रखा. अभी मैंने केला तो नहीं उठाया था, पर मैं अपनी दो उंगलियों में चूत के दाने को मसलते हुए सहलाने लगी थी.

दीपा ने माइक्रो शॉर्ट्स पहनी थी यानि जरा सी ऊपर सरकाओ तो सीधे चूत के मुंहाने पर.

परमीत लाल रंग की शॉर्ट स्कर्ट और काले रंग की गहरे गले वाले टॉप में आई थी. फिर वो बोला- भाभीजी आपके सामने मसाज का पूरा आनंद ना ले पाएँगी, आप दूसरे रूम में चले जाएँगे क्या?मैं बोला- ठीक है!फिर नीता और प्रिन्स को बोला- मैं बेडरूम में जा के सोता हूँ. मैं ट्रेन में बैठा और मैंने सारिका को फोन किया- मैं ट्रेन में बैठ गया हूँ.

फिर मेरे उन चारों यारों ने मुझे खूब चोदा और मैं अपनी गीली चूत लेकर सीधी ही वहां से स्टाफ रूम में चली गयी. श्वेता दीदी- आंटी डॉक्टर के यहां कब जाएंगी?दीदी- पता नहीं … हो सकता है कल जाएं.

मैं गुटखा और उसकी जवानी दोनों को मजे ले कर खाने लगा … साथ साथ में मैं सरोज भाभी की चूत का भुर्ता भी बना रहा था. फिर मैंने अपने लंड पर वोड्का गिराई और उसके टोपे को उसकी गांड के उस भूरे छेद पे टिका दिया. दोस्तो, यह मनमोहक और शानदार चुदाई की कहानी मैं आप लोगों के साथ शेयर करने जा रहा हूं.

मुसलमानी बीएफ वीडियो एचडी

बिना रुके पांच मिनट तक उसने मुझे हर खुले अंग पर चूमा … मेरे होंठों को चूसा.

हम सभी वहां पहुंचे, तो यशिमा ने मुझे सोफे पर बैठाया और पानी लेने अन्दर चली गई. भाभी ने उसे हौसला देते हुए कहा- अब बस थोड़ा और …उसने फिर सहमति में सर हिलाया और भाभी उसके मम्मों को दबाने लगीं. अभी कुछ दिन पहले ही उसका फोन आया था और उसकी डिमांड पर मैंने उसे फिर से चोद दिया.

अब मेरी चूत में आगे से बाप का लंड घुसा हुआ था और पीछे से भाई का लंड था. इसके पहले उसने अपनी गांड में लंड को नहीं लिया था इसलिए उसकी गांड को अभी लंड के मजे का अहसास नहीं था. चोदने वाला वीडियो हिंदी मेंइस पर मैंने कुछ नहीं बोला तो उसने लन्ड मेरी बुर में डालना शुरू कर दिया.

वो बोला- अब हम लोगों के जिस्म पर ज्यादा कपड़े हैं भी तो नहीं, वैसे भी अब हम लगभग नंगे ही हैं. अब वो मेरी टांगों के बीच में आ गया और अपने लंड का सुपारा मेरी चूत पर रगड़ने लगा.

नेहा अपने घुटनों के बल मेरे सामने बैठ गयी और मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी. संजय की गोलियां भी एकदम फूली हुई थीं, गुच्छेदार झांटे और फूली हुई गोलियों के साथ तो लंड का आकर्षण गजब ढाने लगा. मैं ऑफिस में जीन्स और टॉप पहन कर जाती हूँ और अधिकतर मॉडर्न कपड़े ही पहनती हूँ.

मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने भाभी की ब्रा में ही वीर्य छोड़ दिया. मैं- आप टी-शर्ट शॉर्ट्स भी पहनती हो?हिना- ये मेरे नहीं, आलिया के हैं. मैंने कैमरे को उनकी चूचियों की क्लीवेज में सैट किया और दनादन कई शॉट्स ले लिए.

पच-पच की आवाज के साथ दो मिनट बाद तक वो मेरी गीली चूत को चोदते रहे और फिर वो भी मेरी चूत में पिचकारी मारते हुए मेरे ऊपर निढाल हो गये.

मैंने सर झुका कर माँ से कहा- मम्मी शान को जाने दीजिए प्लीज़ … उसकी कोई गलती नहीं थी. हमारा किस इतना लम्बा चला कि हम दोनों के मुँह से लार तक टपकने लगी थी और मैं चाची की सारी लार चाट गया.

मुझसे मिलते ही मेरी वाईफ मुझसे लिपट गयी, बेटी भी आकर मेरे गले लग गयी. दोस्तो, कैसी लगी आपको दीपा की मस्ती!यह कहानी बिल्कुल सच्ची और एक हफ्ते पुरानी है. हम सभी वहां पहुंचे, तो यशिमा ने मुझे सोफे पर बैठाया और पानी लेने अन्दर चली गई.

माँ मेरी चूचियों को सहला रही थीं और शान मेरी नंगी माँ की गांड पर चमाट देते हुए मुझे धकापेल चोदने में लगा था. जैसे ही लंड अंदर गया वो छूटने की कोशिश करने लगी लेकिन मैं उसकी पीठ पर चूमने लगा. मैंने भाभी जी से चुदाई के लिए इशारे से पूछा, तो उन्होंने हां में सर हिला दिया.

18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई इस वक्त साधना भाभी नीचे को हुईं और एक धक्का देते हुए मेरे खड़े लंड को पूरा अन्दर ले लिया. दोस्तो, जैसा कि आपने कहानी के पिछले भागउत्तेजना की चाहत बन गयी शामत-1में पढ़ा कि हम दोनों मर्दों (मुझे और मेरे डॉक्टर दोस्त) को एक दूसरे की बीवियों के बदन के साथ मजे लेने का मन कर रहा था.

पोर्न बीएफ सेक्स वीडियो

उस दिन मैं अपनी छोटी बहन श्वेता के बेटे का पहला जन्मदिन मनाने के लिए उसके ससुराल में गई हुई थी. मेरे चेहरे को अभय अपने हाथ से पकड़ कर मेरे मुंह में अपना मुंह रख कर मेरे होंठों को चाटने लगा. यार क्या मस्त माल थी वो … मैं आपको बताना भूल गया उसकी 36 साइज की चूचियां बड़ी ग़दर हैं.

मैं भी उसकी गाली सुनकर जोश में आ गया और एक ही झटके में 3 इंच लंड चुत के अन्दर डाल दिया. मैं भाभी की बात सुन कर वापस झोपड़ी में आ गया, पर वो दोनों वहीं पर खड़ी होकर खुसुर फुसर करके हँसती रहीं. गुजराती नु पेपरमुझे भी सेक्स, पोर्न और न्यूडिटी की तलाश रहती थी और ऐसा ही कुछ विचार उनके पतिदेव का भी रहता था.

मैं उन्हें ताकता ही रह गया, क्योंकि वो इतनी ज्यादा हॉट लग रही थीं कि मस्त माल की सही परिभाषा दिख रही थीं.

इतना सुनकर तो मैं संदीप पर मर ही मिटी, क्योंकि आप भी जानते ही हैं कि एक लड़की चुदना तो बहुत बुरी तरीके से और किसी खिलाड़ी से ही चाहती है, पर जब भी प्यार का मामला आता है, तो उसकी पहली पसंद कोई अनाड़ी और शरीफ इंसान ही होता है. कुछ देर बाद उन्होंने अपना लंड मेरे मुँह से बाहर निकला और भाबी को बोला- चल साली रांड … अब इसे चाट कर दिखा कि कैसे माल का मजा लिया जाता है.

जैसा मैंने बताया कि ये बस मेरी प्लानिंग है कि मैं ऐसा करूंगा, वैसा करूंगा. कुछ मिनट बाद जब हम दोनों अलग हुए, तो मैं अपनी भाभी से आंखें नहीं मिला पाया. वो समझ गई कि यही वो रणभूमि है, जिधर लंड चूत की कुश्ती होने वाली है.

फिर भी उनकी धीमी और सेक्सी आवाजों से मैं शिखा मामी के यौवन में डूबता चला जाऊंगा और उनके मालदार मम्मों को कपड़े के ऊपर से ही, खासतौर पर अपने हाथ से दबा दबा कर खूब मज़े लूंगा.

अब मैंने उसकी व्यस्तता का फायदा उठाते हुए उसकी गांड पर भी जीभ को चलाना शुरू कर दिया. मैं सोचने लगा कि साला लंड बड़ा हरामी है, सोते में भी पिटवाने की कोशिश कर रहा है. मुझे नहीं पता था फोन पर बात करके भी झड़ने में भी इतना ज्यादा मजा आ सकता है.

मुखर्जी की सेक्सी वीडियोमैंने परमीत को एक बार फिर पीछे हटने को कहा, लेकिन परमीत पर बीयर का नशा हावी हो चुका था और सरदारनी का अपने चैलेंज से पीछे हट जाना असंभव था. आखिरकार चाची का सच सामने आ ही गया था और उन पर सेक्स हावी हो ही गया था.

भूत का बीएफ

इस जगह का एक फायदा और था कि यदि कोई हमारी तरफ आता तो हमें दूर से ही दिख सकता था. उन्होंने मेरे को अपने ऊपर खींच लिया और गुर्रा कर बोलीं- मैं सारी रात तेरी हूँ … बाद में तुझे जो मर्जी कर लेना … परंतु अब मेरे से बर्दाश्त नहीं हो रहा है … मेरे को चुत में लंड चाहिए. लंड बहुत ही ज्यादा टाईट जा रहा था, मैं बिल्कुल मछली जैसी मचल रही थी- आअह्ह्ह नहीई ईईई आअह्ह्ह ऊऊऊईईईई आआआअह्ह ऊऊऊईईई छोड़ोओओ ओह्ह्ह ओओओ नहीईईईई ईईईईई बस्स करो!मगर वो धीरे धीरे ही मुझे चोदे जा रहे थे.

नशा मुझपे हावी हो चला था … ऊपर से वासना का रंग भी मुझे चुदासी किए हुए था. कहानी के प्रथम भाग में आपने पढ़ा था कि मुझे अपने साढ़ू के इलाज के लिए अमेरिका में अपनी साली के साथ जाना पड़ा. तभी आंटी ने चिल्लाते हुए मेरे मुँह को ढेर सारे रस से भर दिया और हांफने लगीं.

इस कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि वो मुझे कहां पर मिली और कैसे मैंने उसकी चूत की प्यास को पहचाना और फिर उसकी चूत को चोद कर उसे अपने लंड का सुख दिया. चाची बोलीं- ठीक है उसे भी जल्दी ही पटा ले … नहीं तो कुतिया जाने किधर किधर भौंक आएगी. मैं गर्माहट महसूस नहीं कर पाया और मैंने उसकी गांड को पकड़ लिया और मेरे लंड से निकल रहा लावा उसकी चूत में भरने लगा.

कुछ ही देर में मेरी चूत में पानी आ गया और हम दोनों लोग एक दूसरे से बात करते हुए सेक्स करने लगे थे. नमस्ते दोस्तो, मैं आपका दोस्त आज फिर आपके लिए एक न्यू सेक्स स्टोरी लेकर आया हूँ, जो कि मेरी और मेरी सगी छोटी मासी के बीच की है.

जब पहली बार चाची ने मेरे लंड की टोपी अपने मुँह में ली, उस टाइम तो मैं समझो स्वर्ग में पहुंच गया था.

जब मैंने उनकी इस तड़फ को और भी बढ़ाने का प्रयास किया, तो मोसी से सहन नहीं हुआ और वो मुझे पलटते हुए मेरे ऊपर चढ़ गईं. लड़का लड़की कैसेमेघा मुझे अपना दूध पिलाओ!”पी लीजिये सर!” मैंने अपने बूब्स सर के मुँह में दे दिए. श्रद्धा कपूर की सेक्सी फिल्ममैं उनके पैर के अंगूठे को मुँह ले कर चूसने लगा, जिससे चाची तिलमिला उठीं. मैंने भी अपने एक हाथ का घेरा बनाकर जेठजी के गले में डाल दिया, ताकि मैं भी अपना बैलेंस बनाकर चुदाई का मज़ा ले सकूँ.

मेरे दांए हाथ की उंगलियों की हरकत चूत पर बढ़ गई और बांए हाथ की हरकत निप्पल, उरोज और पूरे जिस्म पर बढ़ने लगी.

हकीकत तो यह है कि आपकी खूबसूरती को बयान करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं. बाहर जब पिंकी और सीमा को होश आया कि ये दोनों क्या कर रही हैं तो उन्होंने शोर मचाया कि हमें भी नहाना है. पिता जी जाइये न प्लीज!” नीलम ने अपने ससुर को वहां से जाने के लिए मिन्नत की.

उसकी हल्की गुलाबी त्वचा पर लम्बे काले बाल किसी भी औरत को जलने के लिए मजबूर कर सकते थे. फिर मैं अपने एक हाथ के अंगूठे से उनकी सलवार के ऊपर से ही उनकी चूत रगड़ने भी लगूंगा. तो चाची बोलीं- क्या बात है लाड़ले … अभी भी दिल नहीं भरा क्या? इतनी जबरदस्त चुदाई करने के बाद भी तू जोर लगा रहा है … मेरा तो एक एक अंग डोल गया है.

बीएफ सुहागरात देसी

चोदन क्रिया में मैं सामान्य मर्दों से थोड़ा ज्यादा स्टेमिना रखता हूं इसलिए आप मुझे लम्बी रेस का घोड़ा समझ सकते हैं. एक दो बात करने के बाद मेम ने उनसे पूछा- आप कब तक आने वाले हो?पति ने बोला- मुझे 2 दिन और लग जाएंगे. वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैं अपनी जीभ को नुकीली करके उसकी चूत के दाने को छेड़ने लगा.

फिर एक दिन मैंने उसे किसी और लड़की के साथ किस करते हुए देख लिया तो मैं उससे वहीं जाकर लड़ी.

फिर वो मुझे कपड़े दिलवाने के बहाने मेरी मां से पूछ कर मुझे सतना ले गये.

ये सुनते ही मेरी चाची कातिलाना नजरों से मेरी तरफ देखने लगीं और बोलीं- बेटा, चाची के साथ फ़्लर्ट कर रहा है. मैंने शालिनी भाभी की कमर के नीचे से तकिया को निकाला और उनको अपनी बांहों में लेकर ताबड़तोड़ चुदाई करने में लग गया. रानी पद्मावती फोटोमैं उसकी चूत को अपनी जीभ से पूरा ऊपर से नीचे तक फेरते हुए चाट रहा था.

समीप आने के बाद भाभी ने मेरे होंठों को पहले सूंघा और अगले ही पल अपने होंठ रख कर मेरे होंठों को चूसना चालू कर दिया. उसके पिता और भाई तो घर पर नहीं रहते हैं और उसकी मां के पास बहुत से मर्दों का आना-जाना लगा रहता है. ” नीलम ने अपने ससुर को जवाब देते हुए कहा।बेटी जब तुम्हें मेरा छूना अच्छा लगता है, मेरे क़रीब आने को दिल करता है तो फिर तुम्हें किस चीज़ की चिंता है.

पर मैं कहां सुनने वाला था … मैंने उसके ऊपर 69 में आकर उसके मुँह में अपना लंड दे दिया, जिसे वो लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. चूंकि हम वहां खड़े रह कर बातें नहीं कर सकते थे, इसलिए मैंने उसे ऑटो में बिठाया और मैं उसे नजदीक के ही अपने पसंदीदा रेस्टोरेंट में ले गई.

मैं- आंटी आपको ये सब सामान कहां से मिला?हिना- ऑनलाइन से मंगवाया है … मैं किसी न किसी दिन इन सबको इस्तेमाल करने का मौका ढूंढ रही थी.

मेरा दिल कर रहा था कि अभी जाकर चाची को पीछे से पकड़ लूं और अपना लंड निकाल कर वहींचाची की गांडमें एक झटके में ही पूरा बैठा दूं. एक मर्द की जीभ को अपनी चूत पर पाते ही मेरी सीत्कारें निकलने लगीं- आहाह … अअहह … ऊऊम्म …विराट की चूत चटाई में मुझे बहुत आनन्द आने लगा. राखी उठ कर पैग बनाने लगी और मैंने डॉक्टर को बेड पर पीठ के बल सीधी लेटा दिया.

ई का मतलब बताएँ मैं भी उसके चूचे देखने के लिए एक्साइटेड हो रहा था लेकिन उसके लिए मुझे उसको पहले गर्म करना था. जब वो मुझे अकेले दिख जाएंगी, तो मैं सबकी नजर बचा कर उन्हें पीछे से पकड़ लूंगा.

मैंने बुर्का पहन रखा था और अंदर हरा टॉप और सफ़ेद लेगी पहनी थी, हम काफी दूर ऐसी जगह पर गए जहां कोई देखने वाला नहीं था।गाड़ी को स्टैंड पे लगा के मैं सीट पे बैठी थी, वो मेरे करीब था. हम खुले आसमान में पूरी तरह नग्न हो सकते हैं! ऐसा मौका फिर जिंदगी में दोबारा नहीं मिलेगा. अब बॉस और विनय ने लंड घुसाए ही मुझे बाथरूम में ले गए और फिर गप की आवाज के साथ दोनों का लंड बाहर निकला.

एक्स एक्स सेक्सी बीएफ सेक्सी वीडियो

इन्हीं दूधों को देख कर उसके जीजा अपनी साली की चूत चुदाई की जिद पर अड़ गये थे, ये बात अब मुझे अच्छी तरह समझ आ गयी थी. इससे पहले मैं उसको बाहर निकालने के लिए हाथ बढ़ाती, मैं बेड पर पटकी जा चुकी थी. मेरी बहन ने भी हम दोनों के लंड हाथ में ले लिए और आगे पीछे करने लगीं.

दोस्तो, आपकी अपनी प्यारी सी मुस्कान सिंह मेरी सैक्सी स्टोरीगैर मर्द के लंड का सुख-1का अगला भाग लेकर हाज़िर है।अभी तक आपने पढ़ा कि मैं शादी के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए एक गाँव में आई और कैसे मेरी सेटिंग किशोर से हो गई. उसने अपनी चूत पर मेरी उंगली का स्पर्श पाते ही अपनी टांगों को फैला दिया था.

उसने भी मस्ती में कहा- आपका ये दीवाना थोड़ी देर में आपकी खिदमत में हाजिर हो जाएगा जानेमन.

किचन में आते ही सबसे पहले तो मैं मामी को अपनी बांहों में भर लूंगा और अपने दोनों हाथों से उनकी पीठ और गांड को रगड़ूंगा. ” (काम की देवी)ये सब तो उसने नशे में कहा … लेकिन नशे में अकसर लोग मन की बातें कह जाते हैं. इस पोज़ की अच्छी बात ये थी कि इसमें लंड चूत के दाने को रगड़कर अन्दर बाहर हो रहा था, जिससे और भी मज़ा आ रहा था.

मैंने माँ से कहा- मैं अपनी सहेली के घर जा रही हूँ और अभी अभी रात में भी खाना खाने का प्लान बना है, तो मैं रात का खाना खाकर ही आऊंगी. उसी बीच मेरी दीदी के देवर सुरेंद्र जीजा ने मुझे अपनी बातों में फंसा लिया था. ऐसा कहते हुए वो अब जोर जोर से अपना लौड़ा मेरी चूत में घुसा घुसा कर धक्के मारने लगा.

पीछे से उसकी फुटबाल जैसी मटकती गांड क्या मस्त लग रही थी … मैं बयान नहीं कर सकता.

18 साल की लड़की की बीएफ चुदाई: हाथ से मुठ मारने से तो तेरी तलैया में गोता लगाना ज्यादा सुकून दे रहा है. अब मैं मदारजात नंगी थी उसके सामने और मैं उससे अपनी बुर छुपा रही थी.

खैर हमें उससे कोई लेना-देना नहीं था, हम तो बस उन लोगों के झुंड से पीछा छुड़ाना चाहते थे. उसके मुँह में जॉली का लंड बड़ा होता महसूस हो रहा था, वहीं उसकी मोटाई भी रिया के मुँह में जैसे तैसे समा रही थी. हमें भी चलने को कहा गया, पर हमने कभी पी नहीं थी और ना ही पीने का कोई इरादा था, तो हमने उनकी बात को नकार दिया.

हम उनसे विनती करने लगे- सर हमें छोड़ दो! हम दोबारा ऐसी गलती नहीं करेंगे.

सोनिया- हां आता तो है, लेकिन मैंने सोचा इस टाइम का फायदा उठाया जाए. उसने काले रंग की थोंग (एक तरह की पेंटी) डाली थी जो नीरू भी देख रही थी. ”रस्म, कैसी रस्म?”अभी पता चल जाएगा, पहले मैं तेरे चूतड़ों के बीच में लिपस्टिक का निशान तो दे दूं.