बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ

छवि स्रोत,नेपाली चुदाई फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

हाथी वाली बीएफ: बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ, करीब 15 मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गए और एक दूसरे के साथ लेट गए.

पोर्न ब्लू फिल्में

तो मैंने कह दिया कि शहर में किसी से करवाऊंगा तो मुझे ब्लैकमेल करने लगेगा, लेकिन उनके जान पहचान का होगा तो मेरे लिए सेफ रहेगा. ఇండియన్సెక్స్अगर आपके पास वक्त है तो एक बार हम कैसुअल मीटिंग कर लें?मैंने उन्हें आने के लिए बोल दिया.

आपको मेरी देसी भाभी चुदाई कहानी कैसी लग रही है, प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं. बीएफ हॉट सेक्सीउसने मुझे हल्के से बेड पर रखा और मेरी दोनों टांगों को हवा में उठा दिया.

नेहा को यह समझ में नहीं आ रहा था कि बात की शुरुआत कहां से की जाए और क्या पता विकास के मन में क्या चल रहा हो.बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ: अब मैं सोचने लगा कि ये अपनी चूत में उंगली करे भी क्यों नहीं, उसकी शादी को अभी कुछ ही महीने हुए थे और उसके बाद उसका पति नौकरी पर गुजरात चला गया था.

मैंने उसको कहा- तुम्हारे अब्बू की उन गोलियों की शीशी अपने पार्लर में रख लो, रोज आऊंगा.कामुकता से भरा हुआ जिस्म, 34-डी की छातियाँ और लम्बा कद … देखने में ऐसे लगती थी जैसे साक्षात काम की देवी धरती पर उतर आई हो!एक पल के लिए मेरी आँखें पथरा सी गयीं.

बीएफ सेक्सी दिखाओ - बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ

मेरे मुँह से उतना खुला खुला सुनकर वो मेरी तरफ बड़े प्यार से देख रही थी.’ कहता जा रहा था और वो मुझसे फ़ोन छीनकर दूर भागने की कोशिश में लगी थी.

ये मेरी फंतासी थी और कमाल की बात ये है कि तेरी बीवी को ये सब करवाने में मजा आ रहा है. बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ मैंने गर्दन पर किस करते हुए अपनी निक्कर और अंडरवियर एक साथ अपनी टांगों से नीचे सरका दी और चाची की साड़ी पेटीकोट कमर से उठा दी.

तुम जगे ही नहीं, तुम काफी गहरी नींद में सो रहे थे, तो मैंने सोचा कि अब कुछ भी कर सकती हूँ.

बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ?

अरुणिमा थोड़ा हिचकिचाई तो फोटोग्राफर ने उसे बताया कि अब वो उसे चोदेगा और उसकी वीडियो रिकॉर्डिंग होगी. उसकी बीवी के मायके जाने के बाद हम दोनों को ज़्यादा इंतज़ार नहीं करना पड़ा. मैंने उसे बिस्तर पर पेट के बल लेटा दिया और उसकी दोनों टांगें फैला दीं.

मैंने उसके पेपर देखे तो पता चला कि उसको लेप्रोसी की बीमारी थी और उसके शरीर पर कुछ दाग़ आ गए थे जो पहले डॉक्टर की दवाई से ठीक हो गए थे. मेरे चुम्बन के बाद उन्होंने कोई रिस्पांस नहीं दिया लेकिन मैं किस करते करते गाउन के ऊपर से ही अम्मी के निप्पलों को बारी बारी से चूसने लगा. मैं कोई लेखक नहीं हूँ फिर भी अपनी सेक्स कहानी का हर लम्हा आपके सामने लाने की कोशिश कर रहा हूँ ताकि आप लोग भी इसका मजा ले सकें.

गर्ल गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि हम चार लड़कियाँ अपने चोदू यारों की गांड मारना चाह रही थी डिल्डो से! लेकिन उससे पहले हमने आपस में लेस्बियन सेक्स का मजा लिया. पहले भागब्यूटीशियन की चूत की गर्मीमें अब तक आपने पढ़ा था कि नूर नाम की एक ब्यूटीशियन मेरे साथ चुदने के लिए तैयार हो गई थी और उसने मुझे देर तक चुदाई करने वाली दवा खिला दी थी. मैंने बोला- कहां छोड़ना है?जया बोली- ये मेरी पहली चुदाई है, मैं पहला रस अपनी बुर में ही लूंगी.

मैंने भाभी की चूचियों को मसलते हुए नीचे से झटके लगाना शुरू कर दिया. कुछ देर की चुसाई के बाद वो बोली- मेरी जान, अब मुझे चोद दो, अब मुझसे रहा नहीं जाता.

मैंने सोचा ये तो गड़बड़ हो गई, जिस काम के लिए 400 रुपए लगा कर गांव आया, वो तो हुआ ही नहीं.

ढीला पोला माल है, या कुछ मजेदार भी है?अम्मी ने ऊपर से जरा सी अपनी कुर्ती के बटन खोले और उन दोनों को अपने मम्मे ऐसे दिखाए, जैसे वो एक पेशेवर रंडी हो.

इसमें आप सबको सेक्सी लड़की का नंगा बदन कितना मजा दे रहा है, ये आप मुझे मेल और कमेंट्स से जरूर बताएं. मेरे लंड पर झांटों के नाम पर तो बिल्कुल भी बाल नहीं थे इसलिए उसका मन लगा रहा. मेरे मन में ‘दिल सम्भल जा ज़रा …’ गाना बजने लगा, एक साथ दिमाग़ में कई सवाल घूमने लगे.

करीब 5 मिनट उसके गालों पर किस करने के बाद मैं उसके गले को किस करने लगा, फिर माथे पर और धीरे धीरे मैं उसके मम्मों पर वापिस आ गया. अब हम तीनों एक साथ बाथरूम में गए, वहां से फ्रेश होकर वापस बिस्तर पर आ गए. मामा मामी बाहर के रूम में और हम सब लोग घर के अन्दर बने कमरों में सो रहे थे.

सच में दोस्तो, उसको देखने के बाद मेरे मन में उसके प्रति बस गंदे से गंदे ख्याल ही आ रहे थे.

चाची बोलीं- हां, मुझे याद करके बाथरूम में मुठ मारता था न, मैं सब देखती थी. मैंने भी फ़ोन में दोबारा गेम चलाया और फ़ोन को सामने रखने के लिए आगे हुआ. मेरा पूरा मेकअप करके उसने मेरे लंड पर हाथ फेर दिया और बोली- अब तुम जा सकते हो.

मैंने थोड़ा सा दरवाजा खोल दिया और कपड़े लेते समय पूरा दरवाजा खोल दिया. ” वह पलट कर बोली।ठीक है, जैसा तुम चाहो।” मैंने सारी शर्तें मान ली।उसके बाद वह चली गयी।रात को खाना वाना खाकर मैं अपने कमरे में बैठा रूपा का इंतजार कर रहा था।करीब दो घंटे बाद रूपा आयी।चले?” उसके आते ही मैं उठ खड़ा हुआ।पट्टी बांधनी है. फिर उसने ए बी सी डी के सारे अक्षर लिखे और जिस अक्षर को अपनी चूत पर लिखवाने में मजा आता, मैं उससे कहती तुमने ये अक्षर गलत लिखा, फिर से लिखो.

फिर जैसे ही तेरे भैया ऑफिस जाते और मेरी सास कहीं जातीं, तो मैं पिंकी को बुला लेती.

फिर मोहित मेरे पास आया और मुझे किस करने को हुआ तो मैंने उसे रोककर कहा- डेयर सिर्फ बूब्स चूसने का हुआ है, किस करने का नहीं. मैंने कहा- मदन जी और चौधरी जी के आने के बाद हम सामूहिक चुदाई नहीं करेंगे.

बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ हम दोनों रूम के गेट पर थे, तभी उसने मेरी ब्रा निकाल कर हॉल में फैंक दी और मेरे मम्मों पर टूट पड़ा. मैंने भी उनकी बात को मानते हुए उनकी भावनाओं को समझा और खड़ा हो गया.

बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ अब वहां की क्या परिस्थिति है, इस बात का अवलोकन और अनुमान लगाने के लिए मैंने ड्राइवर से पूछताछ करने का निर्णय लिया. तभी मौका देख मैंने उसका मुँह किस से बंद किया और एक तेज झटके से चूत में लंड पेल मारा.

शायद उसको सेक्स की बहुत जरूरत थी इसलिए उसने अपनी चूचियां खुद से दबा दबा बड़ी कर ली थीं.

एक्स एक्स ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ

पूरा लंड अंदर ले लेने के बाद वो अपने बालों को हाथों से पकड़ के सिसकारियां लेते हुए धीरे धीरे धक्के लगाने लगी. मैं क्या आज की रात तुम्हें संगीता के नाम से बुला सकता हूँ?मैं बोली- आप मुझे आज रात संगीता के नाम से ही बुलाएं, इसमें इस खेल में मजा आएगा. बस इतना बोलते ही वो उठ गई और मेरे पास आकर मेरी गर्दन को पकड़ कर किस करने लगी.

खैर … उनके मुस्कुराने से एक बात तो साफ़ हो गई थी कि वो इस बात को किसी से कहने वाली नहीं थीं. हमारे बीच किस इतनी जोरों से हो रही थी कि आवाज और हमारी हवस को निमंत्रण दे रही थी. मैं तुरंत उठकर बाथरूम में गया और मुझसे रहा न गया तो मैं अपना लंड निकलकर मुठ मारने लगा.

उस रात हैरी ने मुझे 4 बार लंबे लंबे शॉट के साथ जम कर चोदा जिसमें मैंने भी उसका साथ दिया.

मेरा लंड चड्डी में पूरी तरह से उभरा हुआ था तो पिंकी भाभी ने उसे भी निकाल दिया. मेरी यह लेस्बियन्ज़ लव स्टोरी आपको कैसी लग रही है?मुझे मेल जरूर करें. मेरा दावा है कि Www Xxx Hindi Chudai कहानी पढ़कर मर्दों के लौड़ों का पानी निकल जाएगा और जनानियों की पिक्की में से रस बहने लगेगा.

दोस्तो, मैं शालिनी आपको अपनी चूत गांड की चुदाई की कहानी में अगले भाग में मिलूंगी. मैं मीनू को सहारा देकर अपने कमरे में लेकर आ गया और उसको बेड पर लिटा दिया. उसके कमर के बगल में दोनों हाथ टिका कर उसके चूतड़ों पर फट फट फट धक्के लगाने लगा.

किचन में अरुणिमा अकेली नहीं थी, जो लोग शराब पी रहे थे, उनमें से एक नजर बचा कर या विश्वेश्वर जी की मर्जी से अन्दर था. अब तक वाइब्रेटर की बैटरी भी खत्म होने वाली थी, तो उसे बंद करके गांड के अन्दर ही रहने दिया.

अब मैं सबसे निचली सीढ़ी पर बैठ कर दीपक का लौड़ा चूसने लगी।धीरज ने भी तब तक अपनी टांगें सीट पर फैला कर लौड़ा बाहर निकाल लिया था और रोशनी दो सीटों के बीच नीचे बैठी धीरज का लौड़ा चूस रही थी।ऐसा लग रहा था मानो सामने पोर्न चल रहा हो।मैं चूसते हुए आँखें उठा के दीपक के चेहरे की ओर देख रही थी. मैं बहुत खुश हो गया और अपनी शॉप से एक उत्तेजना बढ़ाने वाली दवा खा ली. मैंने कहा- भाभी कहां रख दूँ?वो बाथरूम से ही बोली- वहीं पट्टी पर रख दो.

‘कैसा लगा कविता?’कविता मेरी तरफ देख कर बोली- आज आपने इतने दिनों की प्यास बुझा दी.

अब तक आंखों आंखों में क्रोध से, याचना से, निमंत्रण से, समर्पण तक का सफर तय हो गया. मैं अनजान बन कर बोला- किससे करवा दूँ, लड़का कौन है?तब अम्मी ने कार्तिक और अनुपम के बारे में बताया. मैंने बेडरूम में जाकर संगीता के जैसी साड़ी और खुले गले वाला ब्लाउज पहन लिया.

मैं समझ गया और लंड चूत से खींच कर एकदम से उठा और ऊपर आकर उनके मुँह में अपना लंड डाल दिया. अम्मी की उम्र 41 साल लेकिन उन्होंने अपने फिगर को काफी मेंटेन कर रखा है, जिस वजह से वो 32 साल की मादक माल लगती हैं.

अब उसी चूत को राखी के दिन कैसे चोदा, उस हॉट कजिन सेक्स कहानी को पढ़ें!पिछली चुदाई के कुछ दिन बाद ही मेरा लंड फिर से विनी से मिलने की जिद करने लगा. कुछ देर बाद भाभी उठीं, लेकिन जैसे ही भाभी उठीं और मैंने अपना बदन दूध से गीला पाया, मैं भाभी के चूचों पर टूट पड़ा. मेरी सेक्स कहानी दो साल पहले उस समय की है जब मैं अपनी भतीजी के बुलंदशहर घर गई थी.

याक्स याक्स याक्स बीएफ

मेरा दिमाग भी कहने लगा कि क्या सोच रहा है विक्की … माल खुद चुदने को मचल रहा है.

इसी तरह से हम दोनों बातें करते रहे और अब खाने का समय हो गया था तो हमने एक होटल में खाना खाया और मन्दिर की तरफ चल दिए. बिग ऐस सेक्स स्टोरी पिछले साल की उस समय की है जब मुझे अपनी जॉब के चक्कर में बहुत घूमना पड़ता था. मैं पूरी जान लगाकर उन्हें चोदने लगा और वो मेरे ऊपर चढ़ कर मेरा पूरा लंड अपनी चूत में लेने लगीं.

तब उसने ही मुझे एक सलाह देते हुए कहा- क्यों न आज हम चारों लोग शाम को तेरे घर पर दारू पीते हैं और अपनी अपनी नौकरानियों को चोदते हैं. दीपक ने जाने कहां से 3 इंच की मोटी मोमबत्ती निकाली और मेरी गांड में डाल दी।अब मेरा बदन चर्म सुख की परिकाष्ठा पर था।आआ आआ ह्हह दीपक … आआआ आअह्ह …. शिल्पा शेट्टी की बीएफअब मैं हवा में झूला झूल रही थी लेकिन यहां मजा झूले का नहीं, उसके लंड का मिल रहा था.

लेकिन मेरे बूब्स पर रंग लगा हुआ था, तो उसने बूब्स चूसे नहीं, बस मेरे बूब्स दबा कर शॉर्ट्स के ऊपर से मेरी चूत सहलाने लगा. मगर उस वक़्त मैंने मेरे गुस्से पर काबू रखा और नार्मल होकर बाहर आ गयी.

मैंने उस नर्स से पूछा कि क्या हुआ, अब वो ठीक हो गई?नर्स ने कहा- आपकी दवाई से उसकी सब बीमारी ठीक हो गई है लेकिन वो आपसे मिलना चाहती है क्योंकि उसको डर है कि पिछली बार जैसा फिर ना हो जाए. उन्होंने नाईटी नहीं पहनी, वो बस ब्रा पैंटी में ही मेरे पास आकर सो गईं. अब मैंने अपने लंड में भी बहुत सारा शैम्पू लगा लिया और संजना की गांड में दुबारा से शैम्पू भर दिया.

इससे उसके मन में भी विकास के प्रति चुदाई की भावनाएं अपने आप भड़कने लगीं और उफान मारने लगीं. उसकी चूत को देखते ही पता चल रहा था कि वो न जाने कितने मर्दों का लंड ले चुकी थी, जिससे उसकी चूत का भोसड़ा बन चुका था. मैंने झुक कर उसकी गर्दन पकड़ ली और कहा- तेरे पति का क्या इतना बड़ा मूसल नहीं है.

फिर वो एकदम से मेरे ऊपर स्प्रिंग की तरह कूद कर चढ़ा और अपना प्यारा गुलाबी सुपारे वाला लंड, मेरी गुलाबी चूत के सुराख में टिका दिया.

आयेशा ने कहा- यार फ़हमी, ये क्या बकचोदी है? नोक करके आना चाहिए था ना!तो मैंने कहा- अब कुछ नहीं, जल्दी से कपड़े पहनो और बाहर आ जाओ. मुझे अपने से दोगुनी उम्र के या उससे भी बड़े मर्द बेहद पसंद हैं।मैं उसके बारे में सोच अपनी चूत सहलाने लगी.

मैंने अरुणिमा को दो दिन आराम करने दिया और तीसरे दिन अरुणिमा अपनी ठरक के चलते खुद मुझे उकसाने लगी और हमने चुदाई कर ली. अब उनका पारा सातवें आसमान पर था; उन्होंने मुझे फोन करके तुरंत आने का कहा. उस पर वो बोली- मैं अब पहले वाली जगह नहीं रहती हूँ, तुम्हारे लिए दूर पड़ेगा.

मुझे बाहर निकलने पर पुरुषों के कपड़े पहने पड़ते, सभी को मेरे बड़े चूचे न दिखें इसलिए मैं ढीली जैकेट पहन कर निकलती. मगर चाची ने उसको हॉस्टल में रखा और हॉस्टल भी ऐसा कि बिना अनुमति कोई नहीं मिल सकता … और तो और कोई फोन भी नहीं रख सकता था. अब बुआ की कमर पकड़कर मैंने उन्हें घोड़ी बना दिया और लंड उनकी गांड में घुसेड़ दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ जब वो मेरी चूत पर जरा सा हाथ लगाती, तो मेरा मन भी करता कि वो मेरी कच्छी में हाथ डालकर मेरी चूत को सहलाए लेकिन मैं बस झूठा दिखावा करती रहती. पर तीसरी बार झल्ला कर उठाया, उन्होंने कड़क कर पूछा- क्या हुआ भड़वे?मैंने आवाज में नर्मी लाते हुए कहा- आप मुझसे इतना क्यों नाराज हैं? अरुणिमा को आप चारों ने चोद लिया.

वीडियो बीएफ एचडी फिल्म

तब तक रोशनी नहा धोकर आ गई।वो तैयार होने लगी तो मैंने उससे पूछा- वो सब क्या था, धीरज के पास कमरे की चाबी कैसे आई, वो अंदर कैसे आया?तुम्हें क्या कुछ नहीं याद? कल रात भी धीरज हमारे कमरे में आया था, तुम जब आई कमरे में, तब दीपक और धीरज दोनों यहां थे. गुरबचन जी से बचने के लिए मैंने अरुणिमा को निर्देश दे दिया कि अब वो अकेले बाहर ना जाए. विकास ने खुशी से कहा- क्या सही में तुम्हें इस बात से कोई आपत्ति नहीं है? क्या तुम मुझे खुलकर स्वीकार करोगी.

मॉम ने स्वीटी से कहा- इसका आधा पानी तू पी लेना और आधा मुझे पीने देना. लगभग एक घंटे बाद मेरे फ्लैट की डोरबेल बजी तो मैं गेट खोलने जा ही रही थी कि मुझे याद आया कि मैं उस वक़्त नंगी थी. मेलानी हिक्सये कह कर बाबा चला गया और अम्मी तब से और ज्यादा टेंशन में रहने लगीं.

उसके मम्मी पापा के आने के कुछ दिन पहले मैंने दोनों बहनों को एक साथ एक ही पलंग पर चोदा था.

जैसे ही ड्राइंग रूम में पहुंचा तो देखा अरुणिमा एकदम नंगी सोफा टेबल पर पड़ी हुई है. वो मेरे मुंह में ऐसे डिलडो डाल रही थी जैसे मैं उसके लिए कोई रंडी थी और वो मेरी क्लाइंट!फिर आयेशा ने वो डिलडो मेरे मुंह से निकलकर मेरे मुंह पर मारना शुरू कर दिया.

मैं- हां वो तो देखा है, ब्वॉयफ्रेंड आज मंदिर के पीछे वो सब भी कर रहा था. फिर कुछ देख लेटे रहने के बाद आंटी उठीं और मेरा लंड चाट कर साफ करने लगीं. ‘आ … आ … आह …’ कराहती हुई उसने अपनी कमर ऊपर उठायी और सिर पीछे को झुका लिया.

मैंने कहा- हां तुझ जैसे बहुत आए!हम दोनों हंस दिए और जाकर सबके साथ होली खेलने लगे.

भाभी जाग गईं और मेरा हाथ पकड़ कर हटाती हुई बोलीं- आप मान क्यों नहीं रहे हो?मैंने कहा- भाभी एक बार करने दो. मैंने कहा- जानेमन, मेरी रंडी बीवी, अपने इस लंड को कहां छोड़ कर जा रही हो?वो हंस दी और हम दोनों फिर से नंगे हो गए. मैं एक लंबे कद का और वजनी शरीर का आदमी हूँ और आज भी मेरे बदन में इतनी ताकत है कि बिस्तर पर किसी भी औरत के आंसू निकाल देता हूँ.

हिंदी आवाज में सेक्सी बीएफअरुणिमा की चूत में एक लंड, मुँह में दूसरा और दो लड़के उसके निप्पल्स को चूस रहे थे. अब चूँकि दवा का असर भी होने लगा था तो मैंने जोर जोर से अपनी चूत उसके मुँह पर मारनी शुरू कर दी.

बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर बीएफ बीएफ

जांघें जांघों में रगड़ खा रही थीं और लंड चूत एक दूसरे को निहारते हुए कभी कभी एक दूसरे को छू रहे थे. वो भी किसी रांड की तरह मेरे लंड का पूरा पानी पी गयी और उसने मेरे लौड़े को अच्छे से चाट कर साफ कर दिया. मैंने उधर अपने लैपटॉप पर एक ब्लू-फिल्म चला कर छोड़ दी थी और लैपटॉप को बंद कर दिया था.

मैंने उसके मर्दाना जिस्म को ऊपर से नीचे तक निहारा और कहा- अंडरवियर नहीं भीगी है क्या?उसने मेरी नजरों को पढ़ते हुए बड़े ही मादक अंदाज में कहा- मेरा सब कुछ भीग गया है जान. आप सभी जानते हैं कि मैं और आयेशा कितनी बार लेस्बियन सेक्स कर चुके हैं. जब मैं उसके सामने औंधी लेटी हुई थी तो अनुष्का बोली- यार, मैं पानी ले आती हूँ.

सुलेमान के जाने के बाद मैं बुत बनी बैठी रही … न ही उठ कर दरवाजे बंद करने की कोशिश की और न ही सुलेमान को अपने ख्यालों से निकाल पाई. उस रात को जब तुम अपना लंड हिला कर मुठ मार रहे थे, तब मैं तुम्हारे कमरे में ही यही देखने के लिए चुपचाप कोने में खड़ी थी. वो दिन 15 अगस्त 2014 का था, जब संजना दिन में रायपुर पहुंचने वाली थी.

मेरी चुदाई करने की क्षमता इतनी है कि अच्छी से अच्छी चुदक्कड़ औरत भी हाथ जोड़ लेती है. फिर मैंने अपनी उंगली उसकी चूत से निकाली और इस बार दो उंगलियां उसकी चूत के मुहाने पर रखकर दाने को सहलाया.

वो जिस तरह से मेरे लौड़े को चूस रहा था, उससे मुझे लग रहा था कि कोई कमसिन लड़की मेरे लंड को चूस रही है.

इस बात का अहसास मुझे ज्योति की गीली होती जा रही पैंटी से हो रहा था. सेक्सी चुदाई का व्हिडिओअब मैं और ज्यादा पागल होने लगी और उसका सिर अपने चूचों पर दबाने लगी. रंडी का बीएफ सेक्सीविकास जब तुम्हें मेरी ऐसे ही गर्लफ्रेंड चाहिए और मुझे भी तुम्हारे जैसा ही कोई बॉयफ्रेंड चाहिए तो क्यों ना हम एक दूसरे को ही स्वीकार कर लें, एक दूसरे के साथ मजे करें. खैर … उसका फैसला जो भी होता, मैं उसको और परेशान नहीं करने वाला था और ये सब बात किसी को नहीं बताने वाला था.

दस मिनट बाद उसने मेरे दोनों चूतड़ों पर जोर से अपने हाथ बजाए और मसलने लगा.

वो चला गया और जाते जाते फिर कह गया- तब तक हम भी तैयार होते हैं।इधर मैं अच्छे से साबुन लगा कर नहाया, नीचे काला अंडरवियर, उसके ऊपर नाईट लोअर पहना और ऊपर काली टी-शर्ट पहनी; परफ्यूम लगाया. हैलो फ्रेंड्स मैं फेहमिना अपनी सेक्स कहानी के अगले भाग के साथ पुन: हाजिर हूँ. हाफ गर्लफ्रेंड का अनुभव ही मिला मुझे … मेरी कोई गर्लफ्रेंड ऐसी नहीं रही जिसके साथ मैं सेक्स कर पाया.

मैंने उसकी चूत की फांकों को फैला कर उसकी गहराई में अपनी जीभ पेल दी और उसे चोदने लगा. दूसरी ओर सिमरन मेरे लौड़े को पूरा मुँह में ले रही थी, जो उसके गले तक जाता हुआ लग रहा था. अब ये तुम्हारी जिम्मेदारी है … तुम इस मोटी भाभी की टाइट चुत की चुदाई करके इसका भोसड़ा बना दो.

बीएफ चाइनीस वीडियो

कुछ देर बाद अनुपम और कार्तिक ने अम्मी और बहन के कपड़े उतार दिए और दोनों को नंगी कर दिया. वो गांव का इलाका था इसलिए उधर ये सब इतना आसान नहीं था जितना हम दोनों समझ रहे थे. मैंने नीचे से 2 धक्के लगा दिए तो वो मेरी छाती पे हल्का सा मुक्का मारते हुए बोली- मैंने कहा ना कि मुझे तुम्हें चोदना हैं, तो चुपचाप लेटे रहो!मैं चुप होकर उसके धक्कों के मज़े लेने लगा.

मैंने कंडोम को साइड में रख दिया और पिंकी भाभी की चूत पर रगड़ने लगा.

उसको खोलने के बाद मैं उसे सहारा देकर बाहर लाया और उसके कपड़े के बारे में पूछा.

नेहा ने उसको जाकर किस किया और बोली- तू सच में हरामी है साले!फिर नेहा जाकर नंगी ही बैठ गयी. कंडोम तो था नहीं … इसलिए मैंने अपना रस मीनू की चूत के बाहर टपका दिया. सेक्स बीपी सेक्सी बीपी सेक्सी बीपीफिर कुछ दिन बाद अम्मी ने बाबा नाजिर को फोन किया और सब बोलीं- बाबा, मुझे ऐसा लगता है कि नींद में कोई साया आता है.

मैंने झट से उन्हें कंडोम का पैकेट दे दिया और मन में सोचा कि आंटी की आज तो लगने वाली है. वो चला गया और जाते जाते फिर कह गया- तब तक हम भी तैयार होते हैं।इधर मैं अच्छे से साबुन लगा कर नहाया, नीचे काला अंडरवियर, उसके ऊपर नाईट लोअर पहना और ऊपर काली टी-शर्ट पहनी; परफ्यूम लगाया. मम्मी की चूचियों के निप्पल्स एकदम टाइट हो गए थे और किसी कड़क अंगूर की तरह रसभरे दिख रहे थे.

वो भी चुदाई का आनन्द लेने लगीं और बोलने लगीं- सच में बहुत मजा आ रहा है. मेरे दिमाग़ के सारे तार ढीले हो गए, ये सोच कर कि अब इनके दिमाग़ में क्या पक रहा है.

मैंने भी सही समय देख कर उनके पैरों के बीच आकर अपना लंड उनकी चूत पर सैट कर दिया.

तभी दीपक अपने हाथों में गुलाल लिए मेरे पास आए- क्या इजाजत है?मन मन में मैं सोचने लगी, रात को तो आपको इजाजत की जरूरत नहीं पड़ी, जब मुझे रगड़ के चोद दिया। और अब गालों को छूने की इजाजत मांग रहे हैं।मैंने शरमा के हामी भर दी. उसने आगे पूछा कि क्या कारण है कि सविता अशोक को धोखा देकर ऐसी महिला बन गई।सविता ने अपनी सहेली को बताना शुरू किया कि उसने पहली बार विवाहित जीवन की सीमा क्यों और कब लांघी. मैंने कुछ नहीं कहा, तो जिसका लंड अरुणिमा के मुँह में था, उसने दोबारा अपना लंड अरुणिमा के मुँह में डाल दिया और चोदने लगा.

मराठी कामवाली बाई मैं भी उनके तने हुए चूचे देख कर एक पल के लिए भी नहीं रुका और उन्हें फिर से पीने लगा. उसने मुझे थैंक्यू बोला और मैंने भी मुस्कुराते हुए सिर हिलाकर जवाब दिया.

मीनू नाटक करती हुई कहने लगी- अरे अंकल ये आप क्या कर रहे हो? छोड़ो मुझे!अंकल- छोड़ दूंगा, पहले कुछ मज़ा तो कर लेने दे. अभी से ये सब करने लगी है यार बेबी … मैं ऐसा क्या करूं कि ये ठीक हो जाए. मैंने लंड निकाल कर चूत में शॉवर से पानी का प्रेशर दे दिया और उंगली डाल कर चूत साफ कर दी.

बीएफ फिल्म जानवर

जल्दी से मैंने दरवाजा खोला और सामने कविता एक सुंदर सी साड़ी पहने हाथ में एक बैग लिए खड़ी थी. [emailprotected]हॉट लड़की की पहली चुदाई कहानी का अगला भाग:लूडो का खेल चुदाई में तब्दील हो गया- 3. वो मुझे डांटने लगी थीं मगर न तो उन्होंने अपनी सलवार सही करने की कोशिश की थी और न ही मेरा लंड चुत से हटाने की कोशिश की थी.

” वह मेरी पीठ थपथपाते हुये बोली।आय नो!” कहते हुये मैंने उसके गाल को चूमा।वह सरसरायी और मुझे जोर से कस लिया।क्या यह दुबारा हो सकता है?” मैंने पूछा।उससे पूछना पड़ेगा।” वह अभी भी चालाकी दिखा रही थी।ठीक है, उससे पूछो. चौधरी जी बात करते करते मेरे एक चूचे पर हाथ फेर रहे थे और मेरा बदन सहला रहे थे.

आह सच में क्या चूचे थे … कसम से उसके चूचों को देखकर किसी बुड्ढे का लंड भी खड़ा हो जाए.

वो धक्के भी काफी ज़ोर से लगा रहा था जिससे अरुणिमा कराह रही थी मगर उसके चेहरे पर दर्द की शिकन भी नहीं थी. वो अपनी गोटी बहुत संभाल कर चला रही थी और मैं गोटी को आगे नहीं जाने दे रहा था. अगले तीन घंटे में चार बार मैंने घर जाकर झांका और अरुणिमा को लगातार चुदवाते हुए पाया.

मैंने आपको बताया था कि उस घर में मेरी मकान मालकिन फहीमा के अलावा सिर्फ मैं ही एक अकेला किराएदार था. जो मेरी गोपनीयता का पूरा ध्यान रखे और मुझे उसके साथ किसी भी प्रकार की जोखिम न हो. उसके बाद चाची मेरा लौड़ा फिर से अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं.

शाम को चाय पीते समय विक्रम ने कहा- कल भी दुकान बंद रहेगी, हमें रोज सुबह 5 बजे जाना पड़ता है.

बीएफ सेक्सी वीडियो में दिखाओ: हालांकि उस समय सभी होटल बंद थे लेकिन मैंने जुगाड़ लगा कर कमरा सैट कर लिया था. मेरा लंड इस दौरान उनके पैर के अंगूठे के पास था, वो पैर की उंगलियों से मेरा लंड पकड़ने का प्रयास करने लगीं.

मैं फिर भी रोता रहा तो सांत्वना देने के लिए मेरा सर अपने हाथों से खींच कर अपने ऊपर कस लिया. कुछ समय बाद अम्मी का बिजनेस फिर से चलने लगा और जब बिजनेस चलने लगा तो आमदनी भी होने लगी जिसकी वजह से घर के हालात ठीक होने लगे. थोड़ी देर के बाद भाभी मुझे चूमने लगीं और उन्होंने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी.

उधर जाकर देखा तो वो एक बला की खूबसूरत 24-25 वर्ष की शादीशुदा औरत, अपनी खराब हो चुकी कार की डिग्गी को ओपन किए हुए आधी भीगी हुई अपनी गाड़ी में बैठी हुई थी.

उनकी चूत उनके मुँह से ज्यादा गर्म थी और मुझे तो जैसे उनकी चूत में जाते ही एक अलग ही दुनिया का अहसास हुआ. मैं उठकर उसके लिए पानी लेने गई तो उसने रसोई में आकर पीछे से मेरी कोली भर ली और मेरे शॉर्ट निक्कर में अपना हाथ डाल दिया. हम लड़कियां भी कम नहीं थीं, मौका देखकर कभी किसी का, तो कभी किसी का लंड दबा देती थीं.