बीएफ सेक्सी वीडियो दे

छवि स्रोत,हॉट सेक्सी वीडियो फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडया: बीएफ सेक्सी वीडियो दे, उसके बड़े बड़े बूब्स देखकर मेरे मन में भी चुदाई का कीड़ा कुलबुलाने लगा.

सेक्सी पिक्चर पंजाब

अनजान जगह में तो किसी से भी गांड मरवा लो, कोई डर नहीं लगता लेकिन अपनी सिटी में किसी से भी सैट हो जाने में डर लगता है. सेक्सी फिल्म दिखाएं सेक्सी पिक्चरतो मैंने सोचा कि क्यों न अपने चोदू दोस्तों, चुदक्कड़ लड़कियों और भाभियों को अपनी भी दास्तान सुनाई जाए.

यह पोर्न कज़िन्स सेक्स कहानी तब की है, जब मैं गर्मियों की छुट्टी में गांव गया था. नितंबों का आकारमैंने सरिता को अपनी बांहों में उठाकर बेडपर लिटा दिया और उसकी जांघों के बीच घुटने के बल बैठ गया.

उसकी कसी हुई चूचियां मेरे सीने पर रगड़ रही थीं, उसके निपल्स मेरे सीने में चुभ रहे थे.बीएफ सेक्सी वीडियो दे: मैंने फांकों में लंड का सुपारा सैट किया और एक जोर का झटका लगा दिया.

फिर अंकल मुझे अपने बिस्तर पर ले गए और उन्होंने एक एक करके मेरे सारे कपड़े उतार दिए और अपने भी सारे कपड़े उतार दिए.कुछ देर बाद पूजा बोली- मुझे तुम्हारा लंड अपनी गांड में लेकर तुम्हारे ऊपर बैठना है.

किसी को जलाने वाली शायरी फोटो - बीएफ सेक्सी वीडियो दे

सलोनी- जी नहीं, ऐसा कुछ नहीं होगा और हां अब यदि आपने अब न बताया तो शायद वैसा ही हो सकता है जो आपने कहा.अब रितेश ने अपने हाथ से क्रीम के ट्यूब से क्रीम ली और मीरा की कमर में पर लगाना शुरू कर दी.

पहली बार आज हाथ से लंड को पकड़े हुए थी, मैं बता नहीं सकती उस पल मुझे क्या फील हो रहा था. बीएफ सेक्सी वीडियो दे फिर मैंने दूसरे हाथ से धीरे से उसकी ब्रा के हुक खोल दिए और उसके बूब्स को ब्रा से बाहर निकाल दिया.

उसकी चुत से कुछ अलग सी खुशबू आ रही थी, जो मुझे और भी ज्यादा पागल कर रही थी.

बीएफ सेक्सी वीडियो दे?

बाद में मैं जब उठी, तो देखा कि मेरी सहेली का भाई मेरी चूत को चाट रहा था. कहानी सुनाते हुए मैं डॉक्टर के पास जाने की और सूजे हुए लंड की बात गोल कर गया. लेकिन लाजवश मैं उनसे ऐसा कहा नहीं सकती थी और मैं दिखावे के लिए उनका विरोध कर रही थी.

फिर जैसे ही मुझे लगा कि वो गहरी नींद में सो गईं, तो मैं उनके पैर को अपने पैरों से रगड़ने लगा और चाची की प्रतिक्रिया देखने लगा. तू किसी से कुछ मत कहना नहीं तो मैं किसी को मुंह दिखाने के लायक नहीं रहूंगी. मैं साड़ी में अच्छी नहीं लग रही हूँ?मैंने कहा- आप तो साड़ी में और भी ज्यादा हॉट और सेक्सी दिख रही हो.

कल्पना ने अंजान बनते हुए पूछा- किसकी सिकाई?मैं- जहां आपको दर्द कर रहा है. पूजा के चूचों को अपने हाथों से भींचा और धक्कों का जोर बढ़ता चला गया. मगर मिनी ने गाउन नहीं उतारा; वो गाउन पहनी हुई ही मेरे बगल में लेट गई.

मैंने उसको किस करते हुए ही उठाया और अपनी कमर के आस पास उसके दोनों पैर करा दिए. बशर्तें कि अगर चुदाई करने से पहले औरत को अच्छी तरह से गर्म कर दिया जाए.

मैं उससे बोली- यार नीलू कहते हैं कि मर्द के साथ सोने से पेट में बच्चा आ जाता है.

मैंने उसकी जांघों पर किस करते हुए उसकी क्लीन चूत को जैसे ही हाथ से मसला तो वो और जोर से सिसकारियां लेने लगी।मैं धीरे से उसकी चूत के दोनों फलकों को अलग करके अपनी जीभ को अंदर डाल कर उसकी चूत को जोर से चूसने लगा। मैं उसकी पूरी गीली हो चुकी चूत के रस को चाट रहा था.

मैंने सोचा कि अभी यह गांड में नहीं करवाएगी इसलिए मैंने उसकी बात मान ली. दूसरे दौर में मैं उनके ऊपर चढ़ कर खूब उछली और उन्होंने मेरे मम्में थाम कर नीचे से वो रेल चलाई कि मैं निहाल हो गयी. अब मेरे खुराफाती दिमाग की करामात की बारी थी जिसके अंतर्गत मैंने रीना को नंगी करके बेड से उसके हाथों और पैरों को फैला कर बांध दिया था.

मर्दों की नजर ज्यादातर मेरे बड़े बड़े मम्मों, मोटी गांड तथा पतली कमर को निहारती हैं. मैंने भी अपनी पैंट की जिप खोली और लंड को बाहर निकाल कर सुपाड़े के ऊपर अंगूठा फेरा और अंगूठा निकाल कर उसके पास ले गया. पर डर भी बहुत लग रहा है, कुछ हो गया तो?मैं- अरे कुछ नहीं होगा, तुम आंख बंद करो और अपनी चूत रगड़ाई का मजा लो.

मैंने मम्मी के एक दूध को अपने मुँह में लेकर हाथ ऊपर की तरफ करके उनकी पट्टी को हटा दिया.

सर ने मम्मी की चूत को चाटना नहीं छोड़ा, तो मम्मी ने सर से कहा- अब चोद भी डाल साले. पांचवे दिन चहकते हुए और मुस्कुराते हुए चेहरे के साथ नम्रता दिखाई दी. मैं छत पर पहुंच कर देखने लगी तो हैरान रह गयी कि वह छत पर भी नहीं था.

अब मैं करवट लेकर अपनी बीवी की तरफ मुँह करके हो गया अपना दांया पैर पूजा की कमर के बाजू में रख दिया. शीतल भाभी ने मुझसे पूछा कि तुमने मुझसे तो मेरे बारे में सब पूछ लिया, पर अपने बारे में कुछ नहीं बताया. सुबह के आठ बजे के लगभग मेरी आंख खुली तो मैं अपने कमरे से बाहर गयी और रोहित के कमरे में जा कर देखा तो वह सो रहा था.

हालांकि मैं भी सेक्स का मजा लेना चाहती थी लेकिन पहली बार के होने वाले दर्द से डरती थी.

मगर मेरे हाथ कब उठकर उसकी चूचियों पर जा पहुंचे मुझे तो इसका अंदाजा भी नहीं लगा. मेरी भी जांघें सरिता की जांघों से सटी हुई थीं तो मेरी जांघें भी गीली हो गयी थीं.

बीएफ सेक्सी वीडियो दे मेरे मुँह से आह आह निकल रहा था- आह चूसो भाभी … आह चूसो इसे! बहुत परेशान करता है ये लंड।भाभी- चिंता न कर, आज इसे ठीक करती हूँ मैं!और मुँह में लेकर चूसने लगी।मैंने भाभी की ब्रा तेज़ी से निकालने के चक्कर में फ़ाड़ ही दी. जैसे जैसे भाभी मालिश करते हुए ऊपर को आईं, तो भाभी ने भी मेरा खड़ा लंड देख लिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो दे इसलिए यहाँ के अधिकतर पुरूष, या तो महिला की नीरसता के शिकार हो जाते हैं या फिर महिलाएं पुरूषों की नीरसता का बोझ उम्र भर अपनी वासना के कंधों पर ढोती रहती हैं. एक दिन मैं स्कूल जाने के लिए निकला और बस स्टॉप पर अपने कंप्यूटर की टीचर से बात कर रहा था.

मेरे लिंग पर वसुन्धरा की योनि का रह-रह कर स्पंदन हो रहा था जैसे कोई नर्म-गर्म मख़मल अपने हाथ में लपेट कर मेरे लिंग की सख़्ती की थाह ले रहा हो.

वीडियो बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ

अब मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने अपना चेहरा उसके चेहरे के पास ले जाकर हल्की सी किस करके हट गया। फिर भी उसका कोई रिएक्शन नहीं था. मेरी इस हरकत से वो अपना कंट्रोल खो बैठीं और जोर जोर से अपनी कमर ऊपर नीचे करने लगीं. घर पहुंचने के बाद मैं बाहर जाकर एक रेज़र लाया, क्योंकि मेरे लंड पर झांटों का एक बहुत बड़ा जंगल उगा हुआ था और कल की घटना के बाद मैं चाची को साफ़ सुथरा लंड दिखाना चाहता था.

फिर बातें करते-करते दोनों नीचे चली गईं और मुझे (बाथरूम में कमोड पर बैठे हुए) वहाँ से मुक्ति मिल गई. तब दिलिया ने खुद को ढीला छोड़ दिया और मुझे बोली- मुझे ढीला छोड़ दो!और उसने पैर भी ऊपर उठा लिए. नितिन को शरीर पर बाल बिल्कुल अच्छे नहीं लगते थे, इसलिए मैं अपनी चुत और बग़लों को साफ रखती थी.

अंकल ने मेरे लंड पर बहुत सारा तेल लगाया और अपनी गांड पर भी बहुत सारा तेल लगा लिया.

उस दिन रात को बार-बार उसी के ख्याल आ रहे थे और मेरा लंड मेरी पैंट में बार-बार खड़ा हो जाता था. वैसे मैं एक बात आपको बताना भूल ही गया कि अमर की पिंकी के साथ बहुत अच्छी बनती थी. अब मेरे खुराफाती दिमाग की करामात की बारी थी जिसके अंतर्गत मैंने रीना को नंगी करके बेड से उसके हाथों और पैरों को फैला कर बांध दिया था.

चिकनी चुत में अमर का मोटा लंड फांकों को चीरता हुआ घुसा तो पिंकी भाभी की एक तेज चीख निकल पड़ी. तो उसने हंसते हुए कहा- हर्षद, तुम परेशान मत हो, इस उम्र में ऐसा होता है. तब भी मैं आदतों को पसंद नहीं करती थी, बाकी उसके अन्दर सब कुछ ठीक था.

’कुछ देर बाद उसे भी मजा आने लगा और हम दोनों जोर जोर से चोदन में लग गए. एक दिन मैंने फिर आगे बढ़ने को सोचा और उसे बोला- चल सरिता आज फिर कुछ नया करते हैं.

तभी अचानक से पति महोदय ने मेरी चुत चोदते चोदते अपना पूरा लंड मेरी चुत से सुपारे तक बाहर निकाला और फिर घचाक से मेरी चुत में अपना मूसल लंड अन्दर तक घुसेड़ दिया. आशीष बोला- बंध्या, आज पहली बार मैं तेरी बहुत ही मस्त चुत की चुदाई करने वाला हूं, तू भी आज पहली बार मेरे से चुदवाएगी. उसके बदन की हरकतों से मुझे साफ पता लगने लगा था कि मोनी अब मेरे लंड की चुदाई का आनंद लेने लगी है.

जब से मैंने धीरज से चुदवाना शुरू किया मेरी चुदाई की भूख बढ़ती ही जाती थी.

उसने फिर कहा- अगर तुम चाहो तो मैं भी तुम्हारे लिए कोई नया लंड ढूँढ कर दिलवा दूँगा. पांच मिनट ऐसे ही पड़े रहने के बाद चाची उठ कर अपने कपड़े पहनते हुए बोली- जो मजा चीखते-चिल्लाते हुए चुदाई करवाने में है वो कहीं और नहीं है. मैं जाने को हुआ, तो उसने मेरा हाथ पकड़ के खींचते हुए कहा- चुपचाप चलो.

उस रात मैंने सारा आपा या सारा बेगम, जो भी कह लो, लगातार 4 बार चोदा, जब मैं आखरी बार उसकी गांड में लंड डाल कर चोद रहा था तो फजर का टाइम हो गया और मामू ने डोर नॉक कर के हमें आवाज़ दी. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने हिम्मत करके अपना एक हाथ उसके पेट पर रख दिया और धीरे-धीरे उसके बूब्स की तरफ बढ़ाने लगा.

अमर समझ चुका था कि रास्ता एकदम साफ़ है, बस एक मौका मिलने का इंतजार करना बाकी है. नीतू तुमने पूछा था ना मैं चॉकलेट खाता हूं कि नहीं, अब देखो मैं ये दो चॉकलेट खाने वाला हूँ. मैंने प्रिया की चुदाई फुल स्पीड पर कर दी … और प्रिया की चूत को अपने पानी से भर दिया.

अंग्रेज के बीएफ वीडियो में

वह एक गुदगुदा माल है। मेरे कहने का मतलब थोड़ी मोटी सी है। उसकी गांड बाहर निकली हुई है। भावना का फिगर तो ऐसा है जैसे 3-4 महीने के बच्चे की माँ का हो.

उसके सोने के बाद मैं उसके सामने की तरफ मुंह करके लेट गया।फिर अपना हाथ धीरे-धीरे भावना के पेट पर रख दिया. फिर क्या था, मेरी ऐसी बातें उसके कानों में किसी वियाग्रा की गोली की तरह काम कर गयी. अब मुझे भी चूत चुदवाने में मजा आने लगा था तो मैंने जीजू को इशारा किया और कहा- जीजू, अपनी रफ्तार बढ़ाओ ना थोड़ी … अब दर्द कम है!जीजू- अब कैसा लग रहा है शिवांगी? मजा आ रहा है ना चूत चुदवाने में?मैं- हां जीजू, अब बहुत मजा आ रहा है, बस आप ऐसे ही अपनी साली को चोदते रहो.

भाभी ने एक लम्बी आह भर कर कहा- मेरी जैसी लड़की के भाग्य में शौहर का सुख ही नहीं है. फिर अचानक एक धक्के में पूरा 8 इंच का मोटा लंड शारदा चाची की छोटी सी बुर में घुसेड़ दिया. डीएसपी संगम मटकाताई के मुँह से हल्की हल्की आवाजें निकलने लगीं- पूरा गिलास दूध पी तो लिया है … अब क्या पी रहे हो?ताऊ हंसे और बोले- तेरे दूध चूसे बिना मेरा खड़ा नहीं होता.

आप सब मेल करके जरूर बताएं कि जवान भाभी की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी. तभी बाहर से सोनू हंसते हुए बोली- धीरे भैया … झंडा गाड़ना है … कोई पिलर नहीं … ही ही ही.

मैंने मालिक को थैंक्यू किया कि जिस चूत को चोदने के नाम पर इतनी मुठ मारी थी, आज वो खुद ही चूत मसल रही है और मुझे आमंत्रित कर रही है. अब आगे की कहानी:मैंने पूछा- तुम कहाँ देखती हो ब्लू फिल्म?वह बोली- मैं तो अपने लैपटॉप पर देख लेती हूँ इंटरनेट चला कर. फिर मैंने सुषी की चूचियों को पकड़ लिया और उसकी चूत में फिर से जोरदार धक्के देना शुरू कर दिया.

जरूरत से ज्यादा चुदाई करने के कारण मेरा लंड और भी ज्यादा मोटा और लंबा हो गया था. मैं राधिका की ओर देखकर बोला- आ जा मेरी जानेमन … अपनी कैरियों का रस निकालने के लिए मेरी जांघ पर बैठ जा. मैंने शर्माकर कहा- नहीं भाभी सिर्फ लड़के दोस्त हैं और वैसे भी मुझे लड़कियों से ज्यादा भाभियों में इंटरेस्ट रहता है.

आंखें बंद करते ही वही सब आंखों के सामने किसी फिल्म की तरह दिखने लगा था.

उसकी बातों में अब ये बातें भी स्थान लेने लगी थीं कि मुझे किस तरह का ब्वॉयफ्रेंड पसंद है वगैरह वगैरह. हम जैसे ही उसके घर के अन्दर गए, तो उसने मुझे पीछे से कस के पकड़ लिया.

जागृति मेम देखने में बीस साल की लड़की सी लगती थीं और देखने में बहुत खूबसूरत और हॉट माल लगती थीं. मुझे तो बहुत शर्म आ रही थी, पर मन में अलग ही उत्तेजना पैदा हो रही थी. उसकी चूत देखते ही उसमें घुसने की जिद करता, पर करूँ क्या … लौंडिया सील पैक कमसिन माल थी और अभी पूरी तरह पकी भी नहीं थी.

उसने मेरी लोअर को नीचे सरका दिया और मेरे अंडरवियर में तने हुए मेरे लंड को चूमने लगी. हालांकि मैं भी सेक्स का मजा लेना चाहती थी लेकिन पहली बार के होने वाले दर्द से डरती थी. वासना के नशे में आकर उसने मेरा लंड अपने मुँह से निकाल के मुझसे चोदने को कहा.

बीएफ सेक्सी वीडियो दे बुर के भीतर जीभ जाते ही वो सिसकारी भरने लगी आह … ओह … ओह … उम्म्ह… अहह… हय… याह… की आवाजें करने लगी. मैंने एक टाइट लोवर पहना जिसमें मेरी गांड उभर कर आ रही थी और टी-शर्ट डाल कर उनका वेट करने लगा.

खूबसूरत लड़की की सेक्सी बीएफ

अगले दिन मैं फिर मैंने जैसे ही अंकल जी को आते देखा और मैं अपने घर के सामने सिर झुका कर किसी अपराधी की भांति समर्पण की मुद्रा में खड़ी हो गयी और अपना दुपट्टा अपनी उँगलियों में लपेटने लगी. मैंने किसी तरह से उसको मनाया और वह संडे को सुबह 10:00 से 10:30 के बीच मेरे कमरे पर आने को राजी हो गई. उसके बाद मेरे पति रोहन आए और उन्होंने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया.

वे बोलीं- मैं भी देखूं क्या पढ़ता है तू?मम्मी ने नाइटी के ऊपर स्वेटर पहना हुआ था. मैंने धीरे से अपना मुंह उसके कान के पास ले जाकर कहा- आप बहुत सुंदर हैं. मद्रासी सेक्सी विडिओकहानी के पिछले भागचलती बस में अंग्रेज टूरिस्ट के साथ मजामें आपने पढ़ा कि मैं अपने मायके से लौटते हुए एक टूरिस्ट बस में थी.

मैंने उनसे ऊंची आवाज में पूछा- क्या हुआ चाची?उनके मोबाइल में कुछ समस्या आ गई थी, जिसे वो मुझे दिखाना चाहती थीं.

कमलेश सर मम्मी से मिलने अक्सर आया करते थे और वहीं मेरे स्कूल में टीचर भी थे. रोहन की यह बात सुनकर मैं तो शॉक हो गयी क्योंकि रोहन बहुत कम शॉपिंग पर जाते हैं.

फिर उसने मुझे नीचे लेटा दिया और मेरे बदन को चूमती हुई नीचे की तरफ जाने लगी. तो दोस्तो, यह थी मेरी सच्ची आपबीती मेरे मामा की बेटी के साथ सेक्स की कहानी … मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को काफ़ी पसंद आई होगी. अगले दिन जब सोने की बारी आई तो सब रात को 1:30 बजे तक बातें करते रहे.

आह … सोनम बेटा, शाबाश … बस ऐसे ही चाटती रहो और फिर चूसो इसे!” अंकल जी खुश होकर बोले.

इसलिए पहले मैं उसकी तरफ से इस बात को पक्का कर देना चाहता था कि यह भी गांड मरवाने में रूचि रखती है या नहीं. हुआ कुछ ऐसा कि एक दिन हम दोनों भाई बहन पढ़ाई करने के बाद खाना खाकर अपने अपने बेड पर सोने चले गए. मैंने कहा- चाची, आपको शर्म नहीं आती कि आप अपने से उम्र में इतने छोटे लड़के के साथ ऐसी गन्दी हरकत कर रही हैं? आप मेरे भाई को फंसाना चाहती हैं?इतने में रोहित बोल पड़ा- दीदी, प्लीज आप चली जाओ.

2022 की सेक्स वीडियोजल्दी ही राशि ने पानी छोड़ दिया और फिर उसने लंड अपनी चूत में घुसा कर उस पर कूदने लगी, उसकी उछलती चूचियों और सिसकारी मारती आँखों को देख-देख कर लंड में और उत्तेजना आ रही थी और राशि मेरे तीन बार झड़ने तक खुद को चुदवाती रही और फिर हम दोबारा वहीं नंगे सो गए. दोस्तो, मैं अन्तर्वासना साईट पर हिंदी सेक्स कहानियां पिछले 2010 से पढ़ रहा हूं.

बीएफ सेक्सी कुत्ता लड़की की

जैसे ही उसकी चूत की गर्माहट मेरे हाथ को महसूस हुई, तो मेरे अन्दर आग भड़क गई. मादक सीत्कारें भरते हुए अपने दांतों को भींच कर और चूतड़ों को उचकाते हुए वो झड़ने लगी. मैंने देखा एक बहुत ही खूबसूरत से अंकल, जिनकी उमर 50-52 साल के आस-पास होगी, पार्क में टहल रहे थे.

प्रिया ने मेरी तरफ देखा और हंसती हुई बोली- क्या चाहते हैं आप मुझसे?मैं- वो जो तुम्हारी पैंटी में है. मैंने उसकी चूत को सहलाया तो गुलाबो बोली- अभी साफ़ की है तुम्हारे लिए!और मैंने अपनी उंगली पर थूक लगाया और उंगली चूत के छेद पर रखी और चूत को गीली करने लगा। फिर मैंने गुलाबो की अनछुई चूत में अपनी एक उंगली डाल दी. रिया- आह हआआ … उहह अन्दर करो रोहन … जल्दी से अन्दर करो अहआ आआआ!मैंने लंड को चूत में सैट किया औऱ सुपारे को जोर जोर से उसकी चूत पर घिसने लगा.

अब तक आपने पिछले भाग में पढ़ा कि मेरे बर्थ डे के अगले दिन जैसा हमने तय किया था, मैं अमीषी के पास पहुंच गया था. मैंने उसके सिर को पकड़ कर पूरा दबा दिया तो लंड उसके गले तक पहुंच गया और उसको खांसी आ गयी. हाँ, उसकी चूत मार कर मन को कुछ शांति तो मिल गई थी लेकिन उसके प्रति जो मेरे मन में भावनाएँ जगी थीं उनके कारण मैं उसको अपनी आंखों के सामने नंगी देखना चाहता था.

बस फिर मैंने अपने हाथ उसके मम्मों पे रखकर थोड़ा सा धक्का मारा, तो मेरे लंड का टोपा उसकी चुत में घुस गया था. मुझे देख कर उन्होंने एक तौलिया लपेट ली और बोलीं- मैं तुम्हारे भाईजान से बोल दूंगी कि तुम मेरे साथ गलत कर रहे थे.

रिया ने मुझसे हंसते हुए कहा- बस यूं ही हंस रही हूँ यार … और हां तुम जोकर ही लग रहे हो.

एक मिनट के बाद चाची मेरे लिए कुछ तेल जैसा लेकर आईं, जो कि शायद अंकल काम में लिया करते थे. ఎక్స్ ఎక్స్ ఎక్స్ వీడియోస్मौसी ने मुझसे कहा- मौका है, घुस जा!और मैं पिंकी के रूम में जाकर सो गया. सेक्सी वीडियो लुधियानाआपने पढ़ा कि मेरे दोस्त की मदद से मुझे एक कुंवारी चूत चोदने को मिली. मेरी बहन ग्रेजुएशन के पहले साल में थी। मैं अपने घर कभी-कभी जाता था। मेरा और मेरी उस चचेरी बहन का घर थोड़ी दूरी पर ही था।मैं घर जाता तो मेरे घर पर मन नहीं लगता था, तो मैं अपने घर से ज्यादा उसके घर पर ही रहता था। मैं उसको देखकर बहुत खुश हो जाता और मैं उसको अपनी बाँहों में भर लेता था।एक दिन ऐसे ही जब मैं उसके घर पर गया तो मैंने उसको जाते ही हग कर लिया और उसको अपनी बांहों में कस कर भर लिया.

शाम को उपिंदर ने मुझसे कहा- परसों डैडी का जन्मदिन है, अपनी बहन और मम्मी को जालंधर बुला ले.

पर इन ढाई साल में मैंने उसके साथ रूम में, कैफे में … और तो और दोस्त की मोबाईल शॉप में लगभग 150 बार सेक्स किया होगा. ज़्यादा बोली तो पता है ना?” उन्होंने कहा और झटके के साथ हुक खोल कर स्कर्ट को नीचे सरका दिया. आय हाय मेरी बन्नो, लगता है तुझे लण्ड की लत लग गयी है एक बार में ही.

चाची भी मुझसे कुछ भी नहीं बोलीं और मुझे भी उनके मम्मों के स्पर्श को पाकर बहुत मज़ा आ रहा था. कुछ पल बाद मैं अपने मुँह में सरिता एक चुची लेकर चूसने लगा और एक हाथ से दूसरी चुची मसलने लगा. मुझे उनकी हवस देख कर समझ आ गया कि ये खेली खाई हैं और इस वक्त मेम को अपनी चुत में मेरा लंड चाहिए.

चूत लंड वाली सेक्सी बीएफ

आप तो जानती हो कि मेरा काम ही है अपने पार्टनर को अच्छे से खुश करना. मैंने धक्का मारके अंकल से छूटने की कोशिश भी की, लेकिन मर्द की बांहों से छुटकारा पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होता है. तो अंकल राजी हो गए और कहा- चलो तो सुनो … और प्लीज तुम्हें बुरा लगे तो माफ कर देना.

अंकल जी ने मेरी चोटी पकड़ कर खींच ली जिससे मेरा मुंह ऊपर की ओर हो गया और वे मुझे पूरी शक्ति से चोदने लगे.

मुझे आपके मेल से पता चला कि मेरी कहानियों की कायल कुंवारी लड़कियां भी हैं.

उसने वैसा ही किया और हम दोनों के संयुक्त प्रयास से मेरे लंड का सुपारा उसकी चूत को चीरता हुआ अन्दर घुस गया. वो बोल पड़ी कि आह रितेश अब मेरे अन्दर आ जाओ, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है. दंगल लाइव टीवीअगले दिन मैंने सोचा क्यों ना मम्मी को किसी और से सेक्स करने दिया जाए.

बाथरूम में जाकर मैंने मिरर में देखा कि मेरे सीने पे उसके नाखूनों के और उसके पूरे जिस्म पे मेरे दांतों के निशान बने थे. भाई बहन Xxx स्टोरी के पहले भागमामा की बेटी की अन्तर्वासना जगाई, फिर चुदाईमें आपने अब तक पढ़ा था कि मेरी बहन प्रिया बाथरूम में मेरे साथ नंगी थी और चुदने के लिए मचल रही थी. झाड़ू लगाते लगाते जब वो सोफे के पास आईं तो मुझे उनकी ब्लाउज से उनके प्यारे सेक्सी दूध साफ़ दिख रहे थे और ललचा रहे थे.

मैं और विलियम बहुत ज्यादा डर गए कि अचानक बस क्यों रुक गई और लाइट ऑन क्यों हुई. इतनी बात हम दोनों के बीच हो पायी थी कि तभी दो-चार बच्चे कुछ सवाल लेकर नम्रता के पास आ गए.

मैंने भी अपनी पैंट की जिप खोली और लंड को बाहर निकाल कर सुपाड़े के ऊपर अंगूठा फेरा और अंगूठा निकाल कर उसके पास ले गया.

प्रिय मित्रो, आपने मेरी पिछली कहानीमम्मी को दीदी के ससुर ने चोदापढ़ी और पसंद की. उसने झड़ते ही अमर की कमर को अपने नाखूनों से नौंच लिया और अमर की टांगों से अपनी टांगें लपेट ली. उनका लंड उनके मर्दाना जिस्म जैसा ही था, देखने में काफी मोटा गोरा और हार्ड दिख रहा था.

डॉग सेक्स हिंदी मैंने ऐसा थोड़ी ही देर ही किया था कि कल्पना भाभी अपना सर इधर उधर झटकने लगीं. मायरा ने एक छोटी सी स्माइल दे दी और बोली- चाय अच्छी लगी या मेरी चुम्मी?मैं उसे कुछ कहने ही वाला था कि तभी स्नेहा आ गई.

मैं- ये तो इंग्लिश में हुआ, हिंदी में भी कुछ कहते ही होंगे या कुछ तो नाम होगा. दोस्तो, अपने इस मादक रूप में तो शीतल भाभी पूरी कामुकता की कोई देवी लग रही थीं. देखते ही देखते मेरा लंड बॉक्सर में ही खड़ा हो गया और साफ साफ दिखने लगा.

बीएफ फिल्म हिंदी दिखाएं

मैं दावे के साथ कह सकती हूँ कि वो कैसे चोदता होगा, उसका अंदाजा उसके बाप की चुदाई से लगा सकती हूं. कुछ देर बाद मैंने अपनी बहन की बुर में मुँह लगा दिया और उसकी चुत के जीभ अन्दर डाल दी. उसकी छाती ज्यादा मजबूत तो नहीं दिख रही थी लेकिन फिर भी अच्छी लग रही थी.

अमर ने पूछा- मतलब?पिंकी बोली- दीदी ने मुझे बताती थीं कि आप उनको काफी देर देर तक चोदते हो. हर कोई उन दोनों की चूचियों की गलियां देखने का अवसर खोजने में लगा रहता था.

थोड़ी देर बाद डोर बेल बजी और मैंने गेट खोला तो एलेक्स और जॉन आ गए थे.

एक तो वो अपने सास के साथ थ्री-सम करना चाहती है और दूसरा अपने सामाजिक पति के साथ चुदना चाहती है. मेरी इन हरकतों से उत्तेजित हो कर जूली एक बार फिर बोली- आमिर, खुजली और बढ़ रही है!मैं समझ चुका था कि अब उसे मेरे लंड के धक्के चाहिये. अब सुनो सरिता, मेरे जाने के बाद तुम विलास से हर रोज आठ दिन तक चुदवा लेना.

मैं वायदा करता हूं अगर तुम यह करने दोगी तो मैं लंड को तुम्हारी चूत में नहीं डालूंगामैं- जीजू यह भी नहीं कर सकती. तब तक आप लोगों के मेल का इंतजार रहेगा, जिसके जरिये आप मुझे अपने विचार भेज सकते हैं. ऊपर वाले की दुआ से अच्छा खासा लंबा-चौड़ा दिखता हूँ और मेरा लंड भी 6.

कल्पना ने फिर से खीझते हुए कहा- आपको जो कहना है, कह लो, जो नाम देना है, दे दो, मुझे नहीं पता.

बीएफ सेक्सी वीडियो दे: रात की चुदाई के बाद लंड में हल्की सी सूजन थी और बाकी दिनों की अपेक्षा थोड़ा मोटा भी लग रहा था. पिछले भाग में आपने पढ़ा था कि मेरी बहन को कुछ नया करने का मन था तो मैंने उसको अपने कमरे में ले जा कर नये तरीके से चोदा.

कहानी आपको कैसी लगी इसके बारे में आपकी प्रतिक्रियाओं का मुझे बेसब्री से इंतजार रहेगा. चार-पांच दिन के बाद की बात है कि उसके घर वाले सब लोग कहीं बाहर गये हुए थे. मैं- क्या और तेज!प्रिया- और तेज चोदिए मुझे … खूब तेज चोद दीजिए मुझे … आंह भैया इतना चोदिए कि मेरी चूत फट जाए.

मैं जोर से चिल्ला उठी ऊऊऊउई उमाआआ … आआ!उसने मुझे जोर से दबा लिया और दूसरे ही धक्के में पूरा का पूरा लंड मेरी चुत की गहराई में उतार दिया.

तीन महीना बीतने को हो रहा था और हम लोग एक-दूसरे से ज्यादा घुल मिल चुके थे. हां … चोदो जोर से चोदो!यह कहते हुए पूजा अपनी गांड बार बार ऊपर को उठा रही थी. जागृति मेम के जाने के बाद प्रियंका की शादी के एक महीना पहले मुझे उसकी चुत चोदने का मौका मिला, वो सेक्स कहानी मैं अगली बार लिखूँगा.