बीएफ में सेक्स

छवि स्रोत,राजस्थान के सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

अरे ब्लू फिल्म सेक्सी: बीएफ में सेक्स, दोस्तो, गुलशन जी को पता चल गया है कि फ्लॉरा उनकी सग़ी भांजी है, वो अपनीभांजी की चिकनी चूतचोद चुका है.

सेक्सी वीडियो इंडियन बिहार

मैं तुरंत झुक कर झाड़ियों की आड़ में होते हुए पहले लहंगा पहना और जब चोली पहन कर उसकी डोरी बाँधने लगी तो पाया कि पहले दिन की तरह वह उलझी हुई थी. बिग सेक्सी बीपीमैंने अपनी बहन को नंगी होने को कहा तो वो झट से नंगी हो गई और मुझे पैंटी दिखाने लगी.

हम दोनों के होंठ ही नहीं, जीभ भी एक दूसरे से टकरा रही थीं, चुम्मी ले रही थीं. www.com देसी सेक्सी वीडियोउसकी बात को सुन कर मैंने कुछ बोलना सही नहीं समझा और चुप चाप खाना बनाती रही.

प्लीज़ मान जाओ ना… उसका भी बहुत दिल है बड़े लंड से चुदाई करने का… इसी लिए मैं बोल रही हूँ.बीएफ में सेक्स: लगता है तेरे लौड़े को मेरी गर्म चूत में झड़ कर इस चुदाई की निशानी छोड़नी है.

मैं गेम पॉज़ करके दरवाज़ा खोलने गया तो देखा कि एक औरत हाथ में बैग लिए खड़ी है.फिर भी कभी कभी वह मेरे कमरे पर आ जाती थी या मैं उसके फ्लैट पर जा कर उससे लंड चुसवा लेता था.

सेक्सी पिक्चर दीजिए सेक्स - बीएफ में सेक्स

मैं अन्तर्वासना की दैनिक पाठिका हूँ, मुझे इसके बारे में मेरी एक फ्रेंड अंजलि ने मुझे बताया था.बात लगभग 2 साल पुरानी है, अचानक मुझे बिजनेस के सिलसिले में हैदराबाद जाना पड़ गया, प्रोजेक्ट बड़ा था और एक्सपोज़र भी अच्छा था इसलिए मुझे उसी शाम निकलना पड़ा, वो भी स्लीपर बस से.

अपने पैर घुटनों में मोड़ कर पप्पू पैरों की उंगलियों से रूपा के मम्मे मसलने लगा. बीएफ में सेक्स जब उसने हमेशा की तरह डोर बंद करते समय मेरे मम्मों पर अपनी कोहनी टच की, तब हम दोनों को ही शॉक लगा.

गाँव में रहने का अनुभव लेने एवं छुट्टियाँ के कुछ दिन सरिता के साथ बिताने के लिए मैंने घर जाने के कार्यक्रम में बदलाव किया तथा रूड़की से डौसनी की गाड़ी पकड़ कर उसके घर पहुँच गयी.

बीएफ में सेक्स?

उसके इतना कहने पर मैंने भी उसकी चूत में रस छोड़ दिया और हम दोनों का एक साथ स्खलन हुआ. ऐसा करते-करते अभी 5 मिनट हुए होंगे कि वह बहुत ही गरम हो गई और मुझसे लिपट गई. बाद में जब मैं उसकी बुर को चाटने लगा तो उसे इतना मजा आने लगा की वह बुरी तरह से सिसकारियां लेने लगी। फिर कुछ देर में ही वह झड़ गई.

तब दिखा देना मगर अभी तो चूसने दो और हाँ अबकी बार लास्ट तक चुसवाना मुझे ढेर सारा रस पीना है. तभी मैंने उसके होंठ को काट लिया और उसने चिल्लाते और मुझे दूर धक्का दे दिया. मैं अन्तर्वासना की दैनिक पाठिका हूँ, मुझे इसके बारे में मेरी एक फ्रेंड अंजलि ने मुझे बताया था.

मैंने उसे कहा कि आपकी आवाज बहुत प्यारी है, क्या मैं आपसे फोन पर बात कर सकता हूँ? उसने हां बोल दिया और इस तरह से मैंने उससे एस एम एस पर और फोन पर बातचीत कर के उससे दोस्ती कर ली. मैं- हद है चाची, इसमें ऐसा क्या है, इतना रोमांटिक सीन और किस वगैरह तो आजकल बिल्कुल कॉमन है. मुझे धीरे से लिटाकर मेरी बगल में लेट कर आधे मेरे ऊपर आ गए, उनकी मज़बूत जाँघे आधी मेरे ऊपर थी.

मैंने उसे बताया कि मैं भी एमबीए हूँ तो वह बड़ी खुश हुई और कहने लगी- फिर तो आप मेरे बड़े काम आ सकते हो. ये कह कर मैंने एक ही झटके उसकी गीली चूत में अपना पूरा लंड पेल दिया.

फिर अपना मुँह पप्पू की गांड से हटा कर रूपा बोली- देखो पप्पू, हम दोनों ने ये अनुभव पहली बार किया है.

सैफिना ने बोला कि वो दूसरे बेडरूम में सो जाती है तो शहज़ाद ने बोला कि दूसरे क्यों हमारे ही बेडरूम में हमारे साथ सो जाओ.

तो चलो ये भी जान लो आप मगर आज नहीं अगले पार्ट में पूरा खुलासा करूँगी. अब मैं गौर से देख रहा था, तभी पता नहीं कब प्रिया आंटी अपनी छत पर आ गईं और वहां फिर से उजाला हो गया. मैं दिन में चूल्हा-बर्तन, झोंपड़ी की सफाई करती और खाली समय में खेतों की रखवाली करने में तरुण की सहायता करती थी.

कुछ देर के बाद उसे भी मजा आने लगा और वह अपनी गांड हिला हिला कर बुर चुदाई करवाने लगी। मुझे गुड़िया को चोदने में इतना मजा आ रहा था कि जितना लाइफ में मुझे आज तक किसी के साथ मजा नहीं आया था. मैंने तुरंत उसके होंठों को अपने होंठों से दबा दिया और थोड़ी देर रुकने के बाद दुबारा मैंने एक और ज़ोरदार धक्का दिया. अब मैं जब भी घर जाता तो अपनी चाची को वासना भरी निगाहों से देखा करता था.

लेकिन फ्लॉरा की टाईट चुत के कारण जॉन का लंड भी छिल गया था जिससे उसने लंड बाहर निकाल लिया था.

फिर नाश्ता करने के बाद हम दोनों बाथरूम में जाकर शावर चला कर नहाने लगे. उसने मेरी शर्ट निकाल दी, मेरी बॉडी देख कर बोली- यार, क्या तुम मॉडलिंग करते हो??मैंने कहा- ठीक पहचाना. वो लड़के लोग तो यह भी कहते हैं कि इस नवरात्रि में हम माँ-बेटी उनके मोहल्ले में जा कर उनके डाँडिया लेकर डाँडिया खेलें.

उसके बाद मुझे और अंकित को जब भी मौका मिलता था हमदोनों खूब चुदाई करते थेकभी मेरे घर तो कभी अंकित के घर, तो कभी होटल में चुदाई करने जाते थे. फ्लॉरा- आपकी बात सही है अंकल मगर करीब के रिश्तों में मेरा झुकाव ज़्यादा रहा है, अब आप कुछ भी समझो. 30 पर वैशाली का फ़ोन आया; मैं विस्की के पेग लगा रहा था; पूछने लगी- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- तुम्हें ही याद कर रहा था, कहो कैसी हो?उसने बताया कि दोपहर को खाना खा कर वह सो गई थी, 7 बजे उठ कर हस्बैंड के लिए डिनर बनाया, वे खा कर चले गए हैं.

इतना कह कर मैंने उनके होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और उन्हें किस करने लगा.

तब रुस्लान ने लंड को अपनी पूरी लम्बाई के साथ मेरी भार्या के चूतड़ों के बीच घुसेड़ना चालू कर दिया, जिससे मेरी धर्मपत्नी का मुंह खुल गया और वो भारी-भारी कराहों के साथ मजबूत लंड को अपनी छोटी सी गांड में जगह देने को मजबूर हो गई. थोड़ी देर में उन्होंने पोजीशन बदलने का निर्णय किया और बाद में आया चगेज़ कमर के बल सोफे पर लेट गया, नताशा किसी मंजी हुई खिलाड़िन की तरह बिल्कुल सही पोजीशन में आकर चंगेज़ के ऊपर, उसके लंड को अपनी चिकनी-गुलाबी चूत में लेती हुई सवार हो गई, पीछे खड़ा हुआ रुस्लान एकदम फिट पोजीशन में हिरोइन की गांड मारने लगा.

बीएफ में सेक्स वो लंड अन्दर लिए बगैर ही चुत जोर-जोर से रगड़ने लगी, तो मैंने उसकी कमर पकड़ कर उसे अपने नीचे लेटा लिया और उसके ऊपर आ गया. शो का टाइमिंग 9-50 शाम का था और मेरे सीट लास्ट रो में कॉर्नर की थी.

बीएफ में सेक्स और सबको तुम अपनी जैसी रंडी मत समझो मेरा और उसका रिश्ता सेक्स का नहीं प्यार का है. मैंने जोर देकर पूछा- पहले बता?तो बोली- जो चीज़ मिल ही नहीं सकती उसकी पसंद और न पसंद का क्या मतलब?मैं बोली कि अगर उसकी इच्छा हो तो मिल भी सकती है.

मुझे मेहता का लंड भी बहुत पसंद आ गया था इसलिए मैं आज भी उसके घर जा कर उससे खूब जम कर चुदवाती हूँ और मजा लेती हूँ.

माँ का बलात्कार

मुझे लंड का टेस्ट बड़ा अजीब सा लगा लेकिन उसके लिए मैं ये सब करने को रेडी थी. थोड़ी देर रुकने के बाद विवेक मेरी चुत में धक्के पर धक्के देने लगा और मेरी चुदाई करने लगा. शहज़ाद ने सैफिना को बोला कि मैं तुम्हें गाड़ी में तुम्हारे घर छोड़ आता हूँ.

बीच पे जगह जगह जो बार डेक लगाए थे वहां से भरपूर ड्रिंक लेकर हम उस बीच का ही एक हिस्सा हो गयी. नहा कर दोनों थक गयी थी तो डिनर पास के रेस्तराँ से आर्डर पर मंगवा लिया और खा पीकर नंगी ही चिपट कर सो गयीं. मेरी फिगर है 36-30-38मेरी पहली कहानीचुत चुदाई से मेरा प्रमोशनपढ़ कर आप सबने मुझे मेल किया, उसके लिए थैंक्स.

मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए,उसने बोला- तुम भी तो अपने कपड़े उतारो.

दोस्तो, मैं रसिया बालम आपके लिए एक और कहानी लेकर हाजिर हुआ हूँ।जैसा मैंने पिछली कहानीसजा के बाद बुर की चुदाई का मजामें आपको बताया कि मैंने किस प्रकार रचना की चुदाई की और वहाँ की सारी बातें मीरा को पता चल गई थी।अब मेरा टारगेट मीरा थी. मैंने उसे बोला कि वो थोड़ा इंतज़ार करे, मैं तब तक बाथरूम से हो कर आती हूँ. वह दर्द से चिल्लाने लगी तो मैंने उसका मुंह दबा दिया और धीरे-धीरे धक्का लगाने लगा।5 मिनट के बाद ही वह शांत हो गई, अब उसे भी मजा आने लगा था, मैं काफी देर तक गुड़िया बेटी की गांड मारता रहा फिर मैं उसकी गांड में ही झड़ गया.

आप अपनी राय ज़रूर बताएं… मेरी अगली चुदाई की कहानी में मैं आपको बताता हूँ कि कैसे उसके घर जाकर उसकी ही मॉम को चोदा, तक तक के लिए बाई. साली और मुझे दोनों को बहुत मज़ा आ रहा था, मैंने साली का एक मम्मा अपने मुंह में ले लिया और उसे चूसना शुरू कर दिया, मम्मा चूसकर चुदाई करने में और भी मज़ा आ रहा था. जागने के बाद फिर वही बीते हुए पल सताने लगे; तरह तरह के ख्याल मन को कचोटने लगे.

आशा करता हूँ सभी लड़कियों की चूत में पानी तो आ ही गया होगा और लड़के भी एक बार झड़ गए होंगे. टीना का बाँध भी टूट गया और सुमन ने उसका भी रस गटक लिया, मगर जब आखिरी बार उसने चुत को चूसा तो फ्लॉरा ने जल्दी से सुमन को अलग किया और उसको किस करने लगी.

मगर उसे थोड़ा शक हुआ अगर गुलशन जी ने लंड ना चुसवाया तो फिर उसने भी दिमाग़ दौड़ाया और फिर बोली- वाओ पापा, ये गेम तो बहुत मस्त सोचा आपने, मगर फ़्रीज़ में क्या-क्या है ये तो मुझे पता है. फिर चाची ने पूछा- एक बात पूछूँ?मैंने कहा- हां पूछिये?चाची ने बोला- तुझे मेरा हग क्यों चाहिए?मैं- सही बताऊं तो ये मेरी तमन्ना है चाची कि मैं आपको हग करूँ, वो भी एक टाइट सा हग करूँ. बाकी दो लड़कियों का भी क्रिकेट में इतना इंटरेस्ट नहीं था, वो तो मजबूरी में टीम में आ गई थीं क्योंकि तीन लड़कियों को रखना जरूरी था.

जो पीछे वाला लड़का होता वो अपना लंड मुझसे सटा के रख कर पूछता था कि कैसा है मेरा लंड नीता? तो मैं भी जवाब देती थी कि बाहर निकाल कर दिखा तो सही… काला है कि गोरा.

मैंने चाची को थोड़ा सा नीचे की तरफ खींचा और उल्टा होकर चाची के ऊपर चढ़ गया. उनकी उम्र 24 साल है और वो दिखने में बिल्कुल प्रियंका चोपड़ा की ट्रू कॉपी हैं. कुछ मिनट तक ऊपर से मेरी चूत चुदाई करने के बाद उसने मुझे कुतिया स्टाइल में खड़ा होने को कहा और मेरे पीछे आकर कर के मेरे दोनों चूतड़ चौड़े करके अपना लंड मेरी चूत में घुसा दिया और जोर जोर से चोदने लगा.

मैं अपनी चूत की चुदाई करवा कर बहुत खुश थी क्योंकि मुझे अपनी चूत में लंड लिए बहुत दिन हो गए थे. मगर फिर सुमन को सब पता लग जाता, उसके बाद ममता और गुलशन जी अभी ये बिल्कुल नहीं चाहते थे कि उनकी बहन से उनका सामना हो.

अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था सुमन ने एक सेक्सी नाइटी पहनी हुई थी और उसके पापा गुलशन उसके मम्मों को चूस कर उसकी खुजली मिटाने का खेल खेल रहे थे. मैंने उनकी चुत और लंड को कपड़े से साफ़ करके अपना लंड फिर उनके मुँह में दे दिया और जब लंड पूरी तरह तन कर खड़ा हो गया तो मैं मॉम से बोला- मॉम आपकी मोटी-मोटी पिछाड़ी देख कर मेरी बड़ी इच्छा हो रही है कि एक बार आपकी गांड मारूं, अगर आपको बुरा ना लगे तो क्या मैं आपकी गांड मार लूँ?मॉम बोलीं- दीनू सारा काम क्या दिन में पूरा करोगे. अब मुझसे रहा नहीं गया, मैंने उसकी ब्रा उतार दी और उसके मम्मों को चूसने लगा.

हाइट बढ़ाने वाली दवा

उसने कुछ नहीं कहा, उसको भी अच्छा लग रहा था, उसके निप्पल बहुत ही कड़े हो गए थे.

सोनिया बोली- अरे यार सम्भल कर जरा, बस बस इतना आगे मत बढ़ो… चलो अब उठो मेरे ऊपर से…तभी मैंने देखा, मुझे पता भी नहीं चला कि कब नेहा वाशरूम से निकल कर हमारे पास आकर खड़ी हो गई थी. मैं एक हाथ की दो उंगलियाँ उसकी चूत के अन्दर-बाहर कर रहा था और आज मैं हरमीत की गांड भी मारना चाहता था. सब नीचे पार्किंग में आएंगे पैसे देने!इतना सुनते ही मैं तपाक से बोला- अरे भाभी! भैया तो ऑफिस में रहेंगे 4 बजे… भाई आप तो मेरा नम्बर ले लो, मुझे फोन लगा देना, मैं ले आऊंगा पैसे नीचे…भाभी ने भी हामी भरी तो मैंने अपने नम्बर उसे दे दिए।वह ‘ठीक है’ बोल कर वहां से अपनी चौड़ी टाँगें करते हुए मर्दानी चाल में एक हाथ में दूध की टंकी लेकर सीढ़ियाँ उतरने लगा और मेरी नज़र अब भी उसी पर टिकी हुई थी.

मैंने रोस्टन से मेरे ऊपर माल निकालने से मना कर दिया था तो वो उसके लंड को सिंडी के मुँह के पास ले गया और कंडोम कुछ ही देर में उसने उसका सारा माल सिंडी के मुँह में गिरा दिया. एकदम स्पंजी बॉल्स थे, मैंने कड़क निप्पलों को देखते ही मुँह लगा दिया, मेरी गर्लफ्रेंड की माँ मेरे बाल पकड़ कर मादक आहें भर रही थी. हॉट सेक्सी वीडियो रोमांसमैं उठ कर वापस उनकी गांड की तरफ आके बैठ गया तो देखा उनकी चूत पीछे की तरफ खुली हुई थी.

जब मैंने महसूस किया कि लंड बुर के छेद में सही जगह पर लग गया है, तब मैंने पिंकी का मुँह बंद किया और गच्च से लंड को धक्का लगाया. साली के मम्मे फिर से काफी सख्त हो चुके थे और मैं अब एक हाथ से उसके मम्मों को सहला रहा था और लौड़े को उसकी गांड में आगे पीछे कर रहा था, साली जोर जोर से कामुकता भरी आवाजें निकाल रही थी.

मेरे दिल में अन्तर्वासना की कई सारी कहानियों के फ़्लैश बैक चलने लगे, मेरे जिस्म में एक गर्मी सी भरने लगी, तनाव सा आ गया, चूचियों में भारीपन आ गया, जांघों के बीच कुछ गीलापन भी आ गया. उसके बाद तो बस वो जैसे मुझसे चुदने का मौका ढूंढती थी और वक़्त के साथ हम दोनों इस चुदाई के खेल में एकदम मस्त परिपक्क्व चुदक्कड़ हो गए थे. लगभग 3 बजे के करीब राहुल उनके बताए घर पर पहुँच गया और दरवाजे की बेल बजाई तो थोड़ी देर में एक खूबसूरत सी लड़की ने दरवाजा खोला.

कुछ देर के बाद गाड़ी मुझे किसी अज्ञात गंतव्य की ओर ले कर चल पड़ी और मैं अपने बेटे को छाती से लगाये खिड़की से बाहर भागते हुए खेत-खलिहान, पेड़-पौधे, घर-इमारतें तथा सड़कों-गलियों को देखती रही. यह पहला मौका था कि हम दोनों एक दूसरे को टच कर रहे थे, उनका दूसरा हाथ भी मेरे हाथ को सहलाने लगा, मैं पिघलने लगी. फिर मैंने कुछ ही देर में उसको घुमा दिया और उसकी पीठ को भी चूमने और चाटने लगा.

बाद में मुझे भी मजा आने लगा और मैं अंकित का लंड अपनी चूत में लेकर उछल उछल कर सिसकारियां ले ले कर चुदवाने लगी और हम दोनों चुदाई करते करते एक बार झड गए.

फिर मैंने दीदी को ब्रा अपने हाथों से पहनाई और दीदी अब अपने कमरे में जाने लगीं. लड़की दरवाज़ा खोलती है और दोनों एक दूसरे को बांहों में लेकर एक दूसरे का चुम्मा लेने लगते हैं.

हैलो दोस्तो, आपकी दोस्त पिंकी आपके मनोरंजन का सेक्स से भरा हुआ पार्ट लेकर आ गई. वो मेरे रूम पर चूड़ीदार सलवार और कुर्ता पहनकर आई थी, जिसमें उसके चूचे और मस्त गांड उभर आई थी. तब मैं भी वहीं थी और वो लड़की सबको बता रही थी कि उसका पति उससे लंड पकड़वाता है.

उसने आँखें बंद की, इसके बाद मैंने हनी की बोतल उठाई और धीरे-धीरे उसके जिस्म पर हनी डालता गया. ”तभी वही लड़का पानी ले आया, वो सिर्फ तौलिया लपेटे था, जिससे उसके अन्दर का माल पूरा उभार लिए दिखने लगा. इसलिए वो भी मेरे पीछे-पीछे एग्जाम हॉल से निकल कर मेरे पास आ जाती थी.

बीएफ में सेक्स उसने भी अपने पैर को हटाने की कोशिश नहीं की और एक बार मेरी और देख कर आगे देखने लगी. फिर मैंने सोनिया को कहा- डार्लिंग, हम दोनों मिल कर साली को थोड़ा ओपन करते हैं.

भाभी का दूध

मेरे हाथ उसके मोटे गद्देदार चूतड़ों पर जाकर रुक गए और मैं उसकी मोटी गांड को दबाता हुआ उसके अंडरवियर की गंध लेने लगा. हमें दूसरे दिन सुबह ही पहुँचना था तो हमने रात को निकलने का डिसाइड किया. हम 3 दिन गोआ रुके और तीनों ही दिन चुदाई की लेकिन उन तीनों ने सिंडी का हाल बेहाल कर दिया.

मैं उठी और गेट बन्द किया और उसका लंड निकाल कर चूसने लगी, उसका लंड लगभग 8 इंच का था. टीना- एक बात बताओ अतुल, बरखा ने तुम्हें आज पूरी आज़ादी दे दी है, अगर यही बात बरखा चाहे कि आज वो भी किसी और से चुदाई करे तो क्या तुम्हें मंजूर होगा. पंजाबी सेक्सी प्रिंटमैंने उनकी पेंटी को खींचते हुए अलग कर दिया और चूत पर एक जोरदार चुम्मा ले लिया.

मेरे बर्दाश्त के बाहर था माहौल, मैं बस आँखें बंद कर के हर पल का आनन्द ले रही थी.

मैंने, चाची और मम्मी ने लगभग 10 बजे तक बातें की और फिर मम्मी को नींद आ गई. वहां कई सारे केबिन बने थे, हम एक केबिन में जा बैठी। सामने जो कांच लगी थी उसके पार हमने जो देखा तो विस्मय से मेरी और रिया की आँखें चौड़ी हो गयी.

मैं वहीं से बैठा हुआ उन्हें या यूं कहें कि उनकी उछलती गांड को देख देख रहा था. वो कमरे से बाहर गई और जब उसे तसल्ली हो गई कि सुमन चली गई, तब उसने मेन डोर लॉक किया फिर वापस आ गई. अब अंकल से पूरी बात बताने का निश्चय करते हुए वो पप्पू का मुँह अपने निप्पल पे दबाती हुई बोली- वेल अंकल… मुझे शरम आती है बोलने में पर फिर भी बताती हूँ.

तभी अमन ने धीरे से सविता भाभी के चूचुक मसलते हुए उनके कान में कहा- भाभी तुम बड़ी चालू हो.

भाभी भी सिर्फ लाल कलर ब्रा और काले कलर की पैंटी में बड़ी गज़ब की माल लग रही थीं. दोनों ने बड़ी तारीफ की और खाने के बाद कोने में बैठकर एक-एक बीड़ी पीने लगे. नीता के मम्मे पप्पू के चौड़े सीने पर पूरी तरह दब गए थे और नीता का हाथ अब भी पप्पू के लौड़े पर था.

बॉलीवुड हीरोइनों की सेक्सी मूवीमैंने गांड में उंगली लगाई तो हरमीत भी यह समझ गई और बोली- साले,गांड में उंगलीक्यों डाल रहा है. यूं तो सारे ही पहलवान मर्दाना जिस्म के मालिक थे लेकिन रवि उनमें सबसे अलग ही दिख रहा था.

बीपी देखने का

जागने के बाद फिर वही बीते हुए पल सताने लगे; तरह तरह के ख्याल मन को कचोटने लगे. कविता ने रीना को फोन करके ये सब बताया और समझाया कि पिता के आने की स्थिति में उसका अपने फ्लैट पर रहना ही ठीक होगा. मैंने सोचा पहले इसे तबियत से चोद लूँ फिर दुनिया भर की बकवास करूँगा.

फिर उसने मेरे पैरों को फैला कर मेरी चूत को सभी जगह टच किया और चूसने लगा. तब एक दिन पूजा ने ड्राइविंग सीखने के लिए पापा को बोला, तो पापा ने अपने ड्राईवर कमल को बोला- कमल, तुम बेबी को ड्राइविंग सिखा देना. अब मैं कोशिश कर रहा था कि किसी तरह उसके लंड को छू सकूँ, यही सोच कर मैं थोड़ा साईड में हुआ ताकि मेरा हाथ उसके लंड के नज़दीक आ सके.

फिर मैंने उसकी बुर को चूसना चालू कर दिया और कई मिनट तक बुर चुसाई की, वो इतनी मस्त बुर चुसाई से 2 बार झड़ चुकी थी. मेरी चाची ने मुझे कई मैडमों के साथ सेक्स करवाया और उनको सन्तुष्टि दिलवाई. ये भी मस्त है अगर कोई ना मिले, तो हम दोनों आपस में भी चुत रगड़वाने का मज़ा ले सकते हैं.

उसने हमें बैड रूम में बैठा लिया।मुझसे कहने लगी- आज दोनों नौकरों को छुट्टी कर दी है। पूरे घर में टीचर जी और हम दोनों ही हैं। दो मिनट बैठो, मैं अभी नहा कर आती हूं।वो बैडरूम से जुड़े बाथरूम में नहाने चली गई थी।करीब पांच मिनट के अंदर महकती हुई डॉली बाथरूम से निकली। मैं उसे देखती ही रह गई. एक बार जब मैं अपने रूम से ड्यूटी के लिए निकला तो मेरी नज़र भाभी के ऊपर पड़ी, मैं तो कुछ मिनट यूं बुत बना उन्हें देखता ही रह गया मानो किसी परी के दर्शन हो गए हों.

टीना ने झट से नीचे बैठ कर अतुल के लंड को मुँह में भर लिया और चूसने लगी.

मै थोड़ा भारी हूँ या यूँ कहूँ कि भरा पूरा हूँ। मेरे सेक्सी बदन को देखकर लड़कियाँ मुझे पसंद करती हैं। और मैं बी ए के सेकंड ईयर में पढ़ता हूँ. एक्स एक्स एक्स रोमांटिक सेक्सीमॉम के शरीर पर केवल खुला हुआ ब्लाउज और ब्रा ही थी, साड़ी और पेटीकोट एक तरफ उतरे हुए पड़े थे. इंग्लैंड सेक्सी डाउनलोडतो मैं घर के लिए वापस मुड़ा और घर पहुँच कर डोर बेल बजाई, पर कुछ रेस्पॉन्स नहीं मिला. रूपा पप्पू के बाल संवारते हुए झड़ने के करीब होने से अपना जिस्म पप्पू के बदन से रगड़ते हुए बोली- ठीक है भोसड़ी वाले! तुझे मैं अपनी बेटी को चोदने दूँगी में.

ट्रेक्टर ट्राली में अतिरिक्त सामान देख कर मैंने तरुण से पूछा- मैं इतना सामान तो बाँध कर नहीं आई थी फिर यह बाकी का इतना सब समान कहाँ से ले आये?”उसने छोटा सा उत्तर दिया- हवेली से ले कर आया हूँ.

मॉम नाराज़ हो गईं और उठने लगीं, पर मैंने उन पर अपना भार रख दिया और उनको उठने से रोकने लगा. अब वो हर झटके पर अपनी तरफ से अपने सिर से उनके नर्म गर्म और मुलायम चूचों को दबा देता. मतलब जो भी उसके जिस्म से मैं खेल रहा था, वो खेल उसकी चुत पर असर कर रहा था.

नई फसल का काम था तो खेत में ही रुकने के लिए एक कमरे का घर बनाया था. थोड़ी देर में केक काटा गया, नेहा ने केक अपने पति को खिलाया और फिर उसने नेहा को खिलाया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:चुदासी जवान मौसी ने दिया मुझे सेक्स का ज्ञान-2.

राजस्थानी लड़कियों की फोटो

साली की चूत पूरी गीली थी, अब उसने पानी छोड़ना शुरू कर दिया था, साली की चूत में अब मैं अपनी उंगलियाँ तेज तेज चला रहा था और उसकी गांड को भी अपने लौड़े से जोर जोर से बजा रहा था. मॉम तो पूरी मस्ती में आ चुकी थीं और चुदाई का मज़ा ले रही थीं, मॉम बोलीं- दीनू ज़रा जोर-जोर से गांड उठा-उठा कर चोदो मुझे. दस मिनट भी नहीं बीते थे कि मैंने उसके लंड को मुँह में लिया और चूसने लगी.

शाम को खेलने के बाद मैं घर आ गया और सीधे मौसी के पास जाकर बोला- मौसी मैं खेल कर आ गया हूँ.

अब मैंने उसकी नाभि को चूसना शुरू किया, उसकी नाभि पर अपनी जीभ गड़ा दी और फिर उसकी नाभि के आस पास चूसते हुए साली की ब्लैक पैंटी को अपने दांतों में फंसाया और साली ने मदद के लिए अपने चूतड़ों को ऊपर उठाया, मैंने अपने दोनों हाथ साली के मम्मों पर रखकर उसकी पैंटी को अपने दांतों की मदद से उसकी टांगों से बाहर कर दी.

आह… उसके मुख की गर्माहट को अपने लंड पर महसूस करके मैं तो जैसे जन्नत में पहुँच गया था. पूरा लंड घुसते ही वो रोने लगी और दर्द से तड़फ कर बोली- उई माँ मर गई. सेक्सी वीडियो खतरनाक फोटोरिया तो जैसे बेहोशी की हालत में पहुँच गई, मैंने उस वाइब्रेटर को पकड़ कर रखा और आगे बढ़ कर उसके होंठ चूसे, मम्मे चूसे एक हाथ से उसके मम्मे मसले… वो थोड़ा सा होश में आई.

कुछ ही पलों में मेरी चुत ने भरभरा कर पानी छोड़ दिया, मैं वैसे ही निढाल सी किसी की बाहों में झूल गयी. फिर वो गुस्सा हो गया, बोला- साली रण्डी, अगर तेरी जैसी बहन हो तो दिन रात चोदता. फिर आगे की तरफ उसे घुमा कर स्कर्ट उठाकर अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया.

जब मैं नई नई इस घर में आई थी तो डर लग रहा था मगर कुछ दिन बाद सब नार्मल हो गया. कैरम बोर्ड नहीं… तेरी माँ शादी के पहले मस्त माल थी, सीना तेरे जितना उभरा था… आज सीना ज्यादा बड़ा हुआ है पर उसके मम्मों में ज़रा भी झुकाव नहीं है.

एक दिन जॉय ने उसको बड़े प्यार से समझाया कि जो वो चाहती है, वैसा कभी नहीं हो सकता.

दूसरे पैग को पीने के बाद श्वेता को हल्का नशा हो गया और वो बोली- मैं तो डांस करूँगी. आप अपने मेल मुझे भेज कर अपने विचार मुझे बता कर मेरा हौसला अफजाई कीजिएगा. फिर थोड़े देर बाद मैंने नोटिस किया कि वो अपने पर्स से निकाल कर कुछ पी रही थी, पता नहीं क्या था मगर स्मेल वाइन जैसी आ रही थी.

सेक्सी वीडियो उड़िया में एक दिन मैं लंच में दोस्तों के साथ घूम रहा था तो पता नहीं कहाँ से एक केले का छिलका मेरे पैर के नीचे आ गया और मैं बराबर में चल रही उस नई क्लासमेट से टकरा गया और बस फिर उसने मुझे सॉरी बोला और मैंने उसे!और हमारी बातों का सिलसिला शुरु हो गया।उसकी एक सहेली से मेरा दोस्त फ्रेंडशिप करना चाहता था तो मैंने सपना से बात की और उन दोनों को मिलवा दिया. रूपा की इस बात पे पप्पू ने भी जोश में आकर उसकी कमर में हाथ डाल कर एक ज़ोरदार धक्का दिया, जिससे उसका मोटा लंड रूपा की चूत फ़ैलाते हुए करीब-करीब आधा घुस गया.

पर मैं थोड़ा शर्मीला हूँ तो मैंने उनको डायरेक्ट नज़र करके नहीं देखा, बस साइड से देख रहा था. फिर उठकर अपने लंड को साफ किया और लोअर पहन कर अपनी जगह पे जाके सो गया. फिर नीचे चूत में लंड घुसा-घुसा कर रूपा को चोदते हुए पप्पू ने उसके मम्मे इतने चूसे कि उसके चबाने से रूपा के मम्मों से हल्का सा खून आ गया, जिसे पप्पू ने चाट लिया.

हैप्पी बर्थडे फोटो डाउनलोड

अब वो ज़्यादा से ज़्यादा लंड मुँह में लेना चाहती थी मगर वो कोई मॉंटी का लंड तो था नहीं, जो वो पूरा निगल जाती. अमन नेसविता भाभी की चूतमें इतनी अधिक उंगली करना शुरू कर दी, जिससे सविता भाभी एकदम से गरम हो उठीं. कुछ देर बाद आंटी ने कहा- राज थोड़ा रुको, पहले जाओ और मेन गेट पूरा बन्द कर दो.

अनु समझ गया और बोला- हिमानी तेरे को डर लग रहा है तो मैं नहीं करता यार. वो बोली- सिर्फ प्रोग्रामिंग ही करते हो या निकलना लगाना भी आता है? आई मीन टू से हार्डवेयर.

ये कहिये कि जिसके लंड से मैंने अपना कौमार्य खोया, उसको ही पति मान लिया था मैंने बिना शादी के!आखिरकार एक दिन आशीष ने मुझे शादी के लिए कहा तो मैंने सहर्ष स्वीकार कर लिया.

कहानी का पिछ्ला भाग:पोर्न स्टोरी : मेरी पहली चूत चुदाई के हसीन पल-1मेरी इस रियल पोर्न स्टोरी में आपने अब तक पढ़ा हमारे घर में इंजीनियरिंग का छात्र अर्जुन किराये पर रहता था. कई बार मैंने उन्हें छुप-छुप कर अपनी चुत में उंगली डालकर चोदते हुए देखा था. एक तरफ़ तुझे बिगाड़ रही है और दूसरी तरफ़ अपने भोले भाई को फास्ट बना रही है.

मैं बेटियों का लालच नहीं दे रही बल्कि इसमें तो मेरा ही स्वार्थ है, मुझे तेरे जैसे मर्द का मूसल जैसा लंड मिले. रिसेप्शन गर्ल ने हमें बड़े से हॉल जैसे कमरे में पहुंचा दिया, जहाँ पर फिल्म शूटिंग का सारा इंतजाम था. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर से थोड़ा पीछे हटाया और फिर उसकी गर्दन पकड़ कर एक जोर से झटका लगा दिया.

दोस्तो, पहले मैं आपको मीरा के बारे में बता दूँ। वह मेरे मोहल्ले की सबसे सुंदर लड़कियों में से एक थी.

बीएफ में सेक्स: मैंने कहा- नहीं मेरी माँ, तू यहीं हम दोनों के सामने मूत, नहीं जाना बाथरूम में !मॉम ने कहा- यहां कहां करूँ पागल लड़की?मैंने कहा- मेरे मुख में मूतो, भर दो मेरा मुंह अपने पेशाब से; मुझे सेक्स में हर तरह का मजा चाहिए. https://thumb-v9.xhcdn.com/a/f9JI1MLD0PlcvOCanz0hng/009/370/399/526x298.t.webm.

अचानक वो रुक गई… उसने मेरी आँखों में देखा और झटके से मेरे लंड पे बैठ गई. मैं तुरंत झुक कर झाड़ियों की आड़ में होते हुए पहले लहंगा पहना और जब चोली पहन कर उसकी डोरी बाँधने लगी तो पाया कि पहले दिन की तरह वह उलझी हुई थी. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर से थोड़ा पीछे हटाया और फिर उसकी गर्दन पकड़ कर एक जोर से झटका लगा दिया.

अब रोस्टन ने मुझे घोड़ी से सीधा बेड पर लेटाया और मेरी चूत को चोदने लगा.

आह… यू आर ग्रेट पापा; फक मी लाइक अ बिच… टिअर माय बोथ होल्स… फाड़ के रख दो मेरी गांड को और उंगलियां गहराई तक घुसा दो मेरी चूत में और चोदो मेरी गांड को!” बहूरानी अब अपने पे आ चुकी थी और मज़े के मारे बहकी बहकी बातें करने लगी थी. कार की खिड़की खुली और अंदर से एक लेडी की मधुर आवाज आई- किस का इंतजार कर रहे हो? आओ गाड़ी में बैठ जाओ!मैंने खिड़की से झाँक कर देखा तो गाड़ी में एक 35-40 साल की सुन्दर सी औरत बैठी थी. फिर मैंने दीदी की फुद्दी में अपनी जीभ डालनी शुरू की, तो वह अपने चूतड़ उठाकर मुझे प्रतिक्रिया दे रही थीं.