सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली

छवि स्रोत,छोटी छोटी लड़कियों के गाने

तस्वीर का शीर्षक ,

लुकिंग सेक्सी: सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली, मैं तो आपकी दोस्त हूँ ही! फिर क्या?वो कुछ रुक कर बोले- मैं तुम्हारे साथ वो सब करना चाहता हूँ जो एक पति पत्नी करते हैं।मेरा दिल तो पहले से ही जानता था कि वो यही कुछ बोलेंगे मगर मैं चौंकते हुए बोली- यह आप क्या कह रहे हैं, आप मेरे अच्छे दोस्त हैं और हम दोनों की उम्र में भी काफी फासला है।वो मेरे हाथों को अपने हाथों में लेते हुए बोले- जैसा कह रही हो, वो तो सच है.

से पिक्चर

बात कुछ लंबी ना हो जाए, इसलिए फिलहाल इस सेक्स कहानी पर लौट आते हैं. आदिवासी सेक्सी वीडियो देनाचुदक्कड़ तो मैं थी ही, शादी के बाद अशोक ने मेरी चुत खूब अच्छी तरह से बजाई और वो हर बार मेरी चुत में अपने लंड का रस भरता रहा.

मैं भी उसके कहे हुए वाक्य को अच्छी तरह समझ गई और उसके सामने देख कर मुस्कुरा दी. हिंदी में सेक्सी फिल्म देखने वालीमैंने उसके होंठों से अपने होंठ सटा कर एक जोरदार धक्का मारा और मेरा लंबा और मोटा लंड पूरा अन्दर चला गया.

चूंकि दरवाजे की झलक कैमरे से नहीं दिख रही थी, तो मैं शिल्पा और आगंतुक के अन्दर आने का इन्तजार करने लगा.सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली: कभी विक्रम संजू के मुँह में अपनी जीभ को डाल देता, जिसे संजू जोर जोर से चुभलाने लगती.

मैं एकदम से सिसकार उठी- आह्ह … प्रीत … स्स्स … क्या कर रहे हो … आह्हह!वो बोला- भाभी, यहीं तो मर्द की जन्नत होती है.लेकिन उसकी जुबान बयाँ कर रही थी कि मदिरा ने अपना काम करना शुरु कर दिया है.

मराठी सेक्सी पिक्चर फिल्म - सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली

पोर्न देखने का शौक तो मुझे था ही इसलिए कई बार पोर्न देखते हुए मैं अपनी साली के बदन की कल्पना कर लिया करता था.वो कुछ नहीं बोली और मैं अपने लंड पर कंडोम चढ़ा कर उसकी चुदाई के लिए तैयार हो गया.

इसलिए मैं तुम्हारी जवानी के रस का एक एक कतरा निचोड़ कर पी लेना चाहता हूँ. सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली कभी मैं छत पर जाकर टहलने लगता, तो कभी मोबाइल पर मूवी देखने लगता, पर मेरा ध्यान बस रंगोली की तरफ ही था.

मैंने उसे थोड़ी देर आराम करने को कहा तो वो भी मेरी बगल में लेट गया और मुझे चूमने लगा.

सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली?

उसने उस क्रीम को ले लिया और कुछ देर बाद मुझे छत से वो नीचे दूसरी क्लास में ले आया. सुगंधा भाभी मुझे होंठों पर चूमते हुए वासना से भरी आवाज में शरारत करते हुए बोलीं- आह कैसी परमिशन. मैं घर की पिछली साइड से नीचे उतरा और भैसों के कमरे के पास सीढ़ी लगाई और मौनी के घर की छत के पास चढ़ गया.

तो नीरू दर्द के कारण आगे को हो गई और उसकी गांड में से मेरी उंगली निकल गयी. कुछ देर उसकी चूत से चिपके रहने के बाद जैसे ही लौड़ा निकाला तो बिन्नी की चूत से लावा बह निकला और बिन्नी के चूतड़ों के छेद को भिगोते हुए स्लैब पर गिरता रहा. जैसे ही सुपारा उसकी चूत में घुसा, उसके मुँह से निकला- ऊऊई ईईईई मम्मई ईईईई! अंकल आराम से आआआ आह!मैंने धीरे धीरे पूरा लंड उसकी चूत की गहराई तक उतार दिया।फिर हल्के हल्के धक्के देना शुरू किया.

वहां आने के बाद फोन पर जीजा कहने लगे- बंध्या हम लोग 10 बजे तक आ जायेंगे. तभी उन दोनों की नजर मुझ पर गई, तो विक्रम बोल उठा- यार, मैं तुम्हारा और भाभी जी का ये उपकार जिंदगी भर नहीं चुका पाऊंगा. उनके हाथ को सहलाते सहलाते मैं अपने हाथों को उनके कन्धों तक ले गया और वहां से उनकी गर्दन तक.

मैं न्यासा की चुत पर अपना लंड घिसने में लगा था, पर अन्दर नहीं डाल रहा था. तो मैंने कुछ ना बोलने का निर्णय किया और बस दोनों लड़कियों के मजे लेने लगा.

वो दोनों हिचकने लगीं तो मैंने कहा- देखो, अगर आप मेरे हर अंग को नंगा देखोगी, और हम सभी चुदाई की बातें करते हैं, तो अब इसमें क्या परेशानी है? वैसे भी तो हम सभी चुदाई की सीधी बातें करते ही हैं.

कुछ दिन तो चूत में डिल्डो, खीरा, मूली, बैंगन और पता नहीं क्या क्या डालकर चूत की आग शांत करने के नाकाम कोशिश करती रही.

तब मैंने धीरे से लंड बाहर निकाला और पूरा जोर से धक्का देकर उसकी चूत में डाल दिया. धीरे धीरे जब हमारी बातें होने लगेंगी, तो आपके मन की सारी दुविधाएं दूर हो जाएंगी. हुआ यों कि कॉलेज खत्म होने के बाद में एक कॉम्पटीशन का एग्जाम देने अजमेर गया था.

अगर तू पहले ही हाँ बोल देती तो!भाभी, दूसरों के पसंद का लण्ड लेने में और खुद पसंद करके लण्ड लेने में बहुत फर्क होता है. पहली बार मैंने किसी लड़के के मुंह का स्पर्श अपनी चूचियों पर करवाया था. वह भी मुझे अपनी सारी बातें बताता था।अब वह पहले से भी ज्यादा खुल कर बात करने लगा था।जब मैं दीदी के यहाँ जाती तो वह मुझे किस करता.

पिता जी अपना ‘वो’ डाल दो ना!” ज्योति ने फिर से तड़पते हुए कहा।वो क्या बेटी? मुझे तो कुछ समझ में नहीं आ रहा है?” महेश ने फिर से अपनी बेटी की चूत पर अपना लंड घिसते हुए कहा। ज्योति अपने पिता के मोटे लंड को अपनी चूत में लेने के तप रही थी और महेश उसको तड़पाने में लगा था.

साड़ी उतारने के बाद जूली ने अपनी कमर मटकाते हुए अपने ब्लाउज के बटन चटका दिए और उसका ब्लाउज उसके मम्मों पर लटक गया. मेरा लंड जब चूत की गहराई में जाता, तो शायरा की चूत में कसाव आ जाता और चूत की दीवारें मेरे लंड से रगड़ने लगतीं. कुछ लड़कियाँ अनजाने में या धोखे से, कुछ मजबूरी में और कुछ तो सिर्फ मज़े के लिए अपनी चूत की सील तुड़वा लेती हैं।आजकल के समय में तो लड़कियों की सील कम उम्र में ही टूट जाती है और शादी होने से पहले ही चूत भोसड़ा बन जाती है.

मेरी लैगी को नीचे कर दिया और मेरी चूत को छूने लगे तो उनको पता लगा कि मैं पहले से ही गर्म थी. मैंने पूछा- क्या हुआ मैडम?वो बोली- कुछ नहीं, तुम काफी मोटे दिख रहे हो. हमें एक दूसरे से किसी बात ने बांधे रखा था, तो वो हमारी बेटी की चाहत ने.

वो मेरी चूचियों को बहुत ही बेदर्दी से मसले जा रहा था और बीच-बीच में अपने हाथ को पीछे करके मेरी चूत के अन्दर उंगली चला रहा था.

असल में बात ये थी कि रमेश अब आरिषा भाभी की चुदाई नहीं करता था और अगर कभी करता भी था, तो आरिषा भाभी उसकी चुदाई से संतुष्ट नहीं हो पाती थीं. दोस्तो, आपको मेरा नंगा सेक्स कैसा लगा? आप मुझे जरूर प्रतिक्रिया के रूप में या मेरी ईमेल आईडी पर जरूर बताना.

सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली मैंने जगह देख कर पेशाब करने के बहाने से बाइक को रोका और उसी समय उसको शैतान के दर्शन करा दिए. थोड़ी देर मेरी गांड दबाने के बाद वो मेरे बूब्स दबाने लगे और मेरी टॉप को उठाने लगे.

सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली फिर मैंने बैग से तीन बियर निकाल कर उसको दे दीं कि इसे फ्रिज में रख दो. मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा तो लंड पर बैठे-बैठे ही घूम गयी और अपने हाथ टिकाकर झुकने लगी तो मैं भी साथ ही साथ उठ गया.

तभी मैं मीरा के बारे में सोचने लगा कि 50 साल की उम्र में भी ठसकदार माल है.

பிஎஃப் செக் வீடியோ

अगर मेरी योजना सफल होगी तो मैं वो कहानी आपके सामने जरूर लाऊंगा।मेरी टीचर एंड स्टूडेंट सेक्स स्टोरी पर आपकी प्रतिक्रियाओं का इन्तजार रहेगा।मेरी मेल आईडी है[emailprotected]आप मुझे https://www. जिसका मतलब साफ था कि अब मेरी प्लानिंग कामयाब हो चुकी थी और मौका पाकर मैं रकुल के होंठों का रस पीने लग जाता था. क्योंकि इतने समय में आप अनुमान लगा सकते हैं कि मैंने कितने नए लोगों को अपनी चूत के महासमुद्र में गोते लगाने दिए होंगे?और कितने ही नए-नए ताजा-ताजा कड़क लौड़ों का अमृत पिया होगा।मेरी कहानियों को पढ़कर मेरे चाहने वालों के हजारों मेल और मैसेज आते हैं, मैं सब का रिप्लाई नहीं दे पाती.

जिससे उनको थोड़ी दिक्कत तो हुई लेकिन सुगंधा भाभी मुझसे दूर जा नहीं सकती थीं, तो वो मुझे कुछ नहीं बोलीं. मेरी धमकी से वो डर गया और बोला- सर मम्मी को मत बोलना, वो बहुत मारेंगी. दीपा ने उसको थैंक्स बोला तो सुनील बोला- सिर्फ सूखा थैंक्स?हँसते हुए दीपा ने उसे एक किस भी कर दिया और बोली- थैंक्स.

पता चला कि कम से कम 15-20 दिन अस्पताल में रहना पड़ेगा, उसके बाद तीन महीने का कम्पलीट बेडरेस्ट होगा.

मेरा होम टाउन मध्यप्रदेश के ग्वालियर-चम्बल संभाग में एक तहसील स्तर का कस्बा है. मैं अपने लंड पर कंडोम लगाने लगा तो न्यासा ने मुझे बिना कंडोम के चुदाई करने को कहा. जैसे ही उसने पैर फैलाए, उसकी चुत थोड़ी सी फैल गई और हल्की सी पानी पानी सी गुलाबी रंग की दिखी.

कोई और भी है इस रूम में!हम एक दूसरे से अलग हुए और बैठ गए।मैं- नीरू, वैसे तुमने ये प्लान कैसे सोचा और इसमें वंदना को कैसे शामिल किया?नीरू- जिस दिन मैंने तुम्हें यहां आने के लिए फ़ोन किया, उसके थोड़ी देर बाद मुझे याद आया कि वंदना का पति साहिल भी टूर पर 3 दिन के लिए गया हुआ है. तो मेरा वहां रहना उनके लिए सेफ भी था और पूरे परिवार के लिए भी सुरक्षित।मैंने बिना देर किए विजय को बोला- विजय, सुमन भाभी ने और सबने मुझे तुम्हारे साथ तुम्हारे घर पर रहने को बोला है जब तक मेरी तबीयत सही नहीं हो जाए।विजय तो यह सुनकर जैसे खुशी के मारे उछल ही पड़ा!वह तुरंत मेरा हाथ पकड़ कर बोला- तो शालू, चलो मेरे ही घर पर चलते हैं। और मैं तुम्हारी ऐसी सेवा करूंगा कि तुम मुझे जिंदगी भर भूल नहीं पाओगी. अनिल ने एक ही धक्के में अन्दर तक लंड पेला और उसका पिंकी के साथ ही रस निकल गया.

मैं घर पर जब भी रहता, छत से उसे ही देखता रहता कि वो क्या कर रही है … कैसी है. अंदर दाखिल होकर नवीन ने कहा- यस मैडम!सबसे पहले मैंने उसको आंखें बंद करने के लिए कह दिया.

मैं तो जैसे इस वक्त का इंतजार ही कर रहा था कब से।शाम को मैं छिपते छिपाते उसके घर गया. अब तक आपने जाना था कि मैं शायरा की चुत झाड़ दी थी और उसकी चुत का रस पीता चला गया था. उसने बोला- आप बस नीता को मसाज लेने के लिए तैयार करो, बाकी काम मैं कर दूँगा.

अब ऐसे में मैं अगर अपना झंडा शायरा की चूत में गाड़ देता, तो चूत कभी भी मेरा साथ नहीं देती.

मैं कल ऑफिस आते ही कोई बहन बना कर घर चली जाऊँगी और तुम कुछ देर बाद मेरे घर पर आ जाना. होटल में साकेत भैया ने दीदी की जाँघों पर हाथ डरते हुए उनकी बुर को अपनी उंगलियों से सहलाया था. मेरे एक फ्रेंड की 19 वर्षीया सिस्टर है, उसने अभी 12 वीं का एग्जाम दिया है.

मैंने उसे अपने मोबाइल में वीडियो दिखाया और समझाया कि ऐसा कुछ नहीं होता. मेरी माशूका मेरे साथ सुहागरात मना कर मेरी बीवी होने का अहसास लेना चाहती थी.

मैं ब्रा से बिना खोले ही उसके दोनों चुचों को बाहर निकाल कर चूसने लगा. फिर मैंने अपने कपड़े पहन लिए।तभी दरवाजे पर खटखटाने की आवाज़ हुई रोहित ने जाकर दरवाजा खोला. मैंने कहा- हां मैं पूरा ले लूंगी … पर जरा आराम से चोदो अपनी माँ को … अपनी माँ को आज ही मार दोगे, तो कल कैसे चोद सकोगे?इतना सुनते ही वो मेरे मम्मे दबाने लगा और अपना बाकी का लंड मेरी चूत में उतार दिया.

बड़ा भोसड़ा

आपको मेरी पड़ोसन कोमल भाभी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं.

तब छोटी होने के कारण में मामला संभाल नहीं पाई।जिसके कारण मेरे माता पिता जल्दी से मेरी शादी कराने में लग गए. मैं उसके एक चूचे को प्रेस कर रहा था और दूसरे को मुँह में लेकर चूसने में लग गया. मैंने उससे पूछा कि उसे मज़ा आया या नहीं?न्यासा बोली- राज कसम से बोलूं … तो मेरी ऐसी चुदाई कभी हुई ही नहीं … तुम लोग इतनी लम्बी चुदाई कैसे कर लेते हो … ओह माय गॉड.

वो- वो क्यों?मैं- मूवी देखना और वो भी तुम्हारी जैसी हॉट लड़की के साथ, फिर तो कॉर्नर की सीट ही लेनी पड़ेगी ना, इतना अच्छा चांस कोई कैसे मिस करेगा!वो- अच्छा तो ये चल रहा है तुम्हारे दिमाग़ में!मैं- अरे नहीं … मैं तो‌ मजाक कर रहा हूँ. फिर मैंने उसे घोड़ी बना दिया और चोदते वक़्त उसके चूतड़ों को झापड़ मार मार कर इतने लाल कर दिए कि अब उसको वहां हाथ लगाने में भी दर्द हो रहा था. romantic सेक्ससंगीता- आप क्या चोदोगे, वो तो पहले से ही मेरे बाबूजी से चुदी चुदाई है.

वो तेज स्वर में कह रहा था- साली मेरा निकलने वाला है … जल्दी से अपना मुँह खोल. वह सेक्सी चुटकुले भी बोल देता, सेक्स की बातें भी करता था।मैं उससे बात करती हूँ ये बात मम्मी को नहीं पता थी.

इन दस सालों में मैंने नीरू को इतनी बार चोदा है कि इतनी बार तो वो अपने पति से भी नहीं चुदी होगी. उसने मेरी चुत के आस पास जहां भी झांटें उगी हुई थीं, वहां पर गर्म पानी से उस पूरी जगह को गीला करके फिर बहुत सारी क्रीम लगा दी. उसने अब हकलाते हुए बड़ी ही मुश्किल से कहा और मैं शायरा की हलात देखकर मुस्कुराता रहा.

मेरी आग फिर जल उठी थी।मैं अपने चूत में ठंडा खीरा डाल कर अपनी चूत की आग बुझाती थी और अपनी चूचियों को मसलती थी. मगर अंकल मेरे हाथ हटाकर मेरे सीने को दबाने लगे। ब्रा के ऊपर से ही मेरी चूची के निप्पल चूसने की कोशिश करने लगे।आवेश में आकर अंकल ने मेरी ब्रा पकड़ के खींच दी जिसकी वजह से मेरी ब्रा टूट गई. मुझको भी सच में काफी थकान हो रही थी, तो मैं मान गया और हम सब सो गए.

पता नहीं क्या समझती थी वो अपने आपको … किसी से बात ही नहीं‌ करना चाहती थी.

अंजू पूछना क्या, पता तो हमें है ही कि क्या हो रहा होगा। दोनों शराब के नशे में होंगे। बिस्तर पे फूल मसले जा रहे होंगे, उपिन्दर का लण्ड मस्त खड़ा होगा। मेरी माँ नंगी या तो टांगें चौड़ी कर के लेटी होगी, या घोड़ी बनी होगी। लौड़ा उसकी भोसड़ी में होगा, उपिन्दर पेल रहा होगा, मेरी माँ चुद रही होगी। कमरे में फचाक फचाक की आवाज़ आ रही होगी. काफी देर तक ट्राई करने के बाद मैंने सोचा कि शायद इसने भी मुझे चूतिया बना दिया.

तभी श्रेया मैडम मेरी तरफ मुड़ीं और कहने लगीं- और बताओ … कैसा लगा कॉलेज?मैंने कहा- बढ़िया है मैडम. वो रोज मेरी तरफ ऐसे देखता था जैसे अक्सर लड़की को पटाने वाले लड़के देखते हैं. मैं एक हाथ से उसके बूब्स के साथ खेल रहा था और एक हाथ से उसकी पीठ और पिछवाड़े को सहला रहा था.

फिर मैंने उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया जो उसकी चिकनी टांगों से फिसलता हुआ नीचे जमीन पर गिर गया. अपने जीवन में पहली बार मैंने किसी दूसरे मर्द का लंड अपने हाथ में पकड़ा था और वो भी अपनी बीवी की चूत में डालने के लिए. फिर मैंने उनसे पूछा- बताइए कैसे फोन किया?पहले तो उन्होंने भी मेरा हाल समाचार पूछा और हिचकिचाते हुए बोला- जब से आपकी कहानी पढ़ी है, पता नहीं क्यों आपके बारे में ही सोच रही हूं.

सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली काटने से हमें दर्द हो रहा था … मगर वो दर्द हमारा जोश और अधिक बढ़ा रहा था. मैं उसके पीछे पीछे साथ गया और वहां उसे दीवार से सटा कर लिप लॉक किया.

ऐश्वर्या राय की सेक्सी वीडियो

उसका लंड लोहे की गर्म रॉड सा मेरी चुत को चीरता हुआ अन्दर घुसता जा रहा था. मैंने मॉम को थैंक्स बोलकर उन्हें ‘आई लव यू मॉम …’ कहा और जोर से हग कर लिया. मैंने पूछा- बोल खुश है ना!वो बोला- जी, आपने इसे पता नहीं क्या खिला दिया है.

दोस्तो, अगले भाग में न्यूड इंडियन वाइफ सेक्स कहानी का और मजा दूंगा, बस आप मेल करके मेरा उत्साह बढ़ाइएगा. मैंने बोला- अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है … प्लीज अपना लंड जल्दी से अन्दर डाल दो. सेक्सी मूवी एंड वीडियोशादी के बाद आज पहली बार ऐसा हुआ था कि संजू किसिंग के दौरान ही झड़ गई थी.

मां के हमेशा कहने के बावजूद भी मैंने दूसरी शादी नहीं की क्योंकि मेरी वासना यूं ही पूरी हो रही थी, तो मैं शादी करने पर ज्यादा ध्यान भी नहीं देता था.

मॉम ये बोल ही रही थीं कि अंकल ने बचा हुआ लंड भी मॉम के चूत में पेल दिया. आज मैंने मन बना लिया था कि मैं शायरा की ऐसी चुदाई करूंगा कि उसे मुझसे जो चाहिए, वो सब मिल जाए.

उस सब चुदाई की कहानी के बारे में भी मैं अगली सेक्स कहानी में लिखना जारी रखूंगी. आप एनर्जी ड्रिंक रख लीजिए और अब मुझे जाने की आज्ञा दें … मैं चलता हूँ. मैंने अपनी जीभ उसकी चुत की फांक के अन्दर डाल कर चूसना शुरू कर दिया.

लंड घुसाइए आप अपने हाथों से जल्दी अब!ओह्ह … मेरे पूरे शरीर ने एक झटका खाया और मैं अपनी रण्डी बीवी की बुर में अपने हाथ से ग़ैर मर्द का लंड पकड़ कर घुसाने के लिए आगे बढ़ा.

वो साथ ही मेरी वाइफ संजू की गर्दन, कान, चेहरे आदि पर किस भी करता जा रहा था. वह भी मान जाता था।वह मुझे पकड़ कर पाँच दस मिनट तक फ्रेन्च किस करता, होंट चूसता, जीभ से जीभ लड़ाता।दोस्तो, आप ही बताइए कि अगर आप किसी को लगातार पाँच-दस मिनट तक किस करोगे तो क्या होगा?मैं उससे कहती थी कि मुझे कुछ कुछ हो रहा है और मैं अलग हो जाती. मॉम ये बोल ही रही थीं कि अंकल ने बचा हुआ लंड भी मॉम के चूत में पेल दिया.

தமிழ் செஸ் ஆடியோ” महेश ने अपनी नाक को ठीक अपनी बेटी की चूत के क़रीब करते हुए कहा।आहहह पिता जी, आप यह क्या कर रहे हैं …” ज्योति भी अपने पिता के मुंह से निकलती हुई गर्म साँसों को अपनी चूत पर महसूस करके आराम सा पाने लगी।कुछ नहीं बेटी, मैं तुम्हारी चूत को अपनी जीभ से चाट कर साफ़ कर देता हूँ ताकि अगर कोई ज़ख़्म वगैरह हो तो वह ज्यादा न बढ़े. मेरे एक मित्र ने मुझे एक ऑनलाइन सेक्स वेबसाइट के बारे में बताया, वहां पर मैंने अपना अकाउंट बना लिया.

करिश्मा सेक्स

उसके मुँह से बड़े लंड की सुनकर मेरी गांड कुलबुलाई- यार, मुझे भी मिलवाओ उससे. कुछ ही देर में रेखा गाऊन पहनकर अपने बाल झटककर सुखाने की कोशिश करते हुए आई. बाहर आते ही कमल चैन लगाता हुआ बोला- थैंक्स फूफाजी, आपका अहसान कभी नहीं भूलूंगा.

मामी बोलीं- नहीं राजा, मैं गांड में नहीं लूंगी … तुम्हारा लंड बहुत मोटा है मेरी तो गांड ही फट जाएगी. मैं पहनने के लिए अपने कपड़े उठाने लगी, तो अभिषेक बोला- इससे क्या फायदा … वैसे भी अभी कपड़े गीले हैं और ऊपर भीगना ही है. मुझे चाची की चीखों से मजा आ रहा था- अब बोल चाची भैन की लौड़ी … अपनी दोनों बहनों की चूत मुझको कब दिलाओगी.

थोड़ी देर बाद मॉम ने मेरा लंड अपने मुँह में लेकर पूरा साफ कर दिया और मुझे कपड़े पहना दिए. मैंने शॉवर चला दिया, उसने अपनी ब्रा पैंटी नहीं निकाली थी, वो उन्हें अब भी पहने हुए ही भीग रही थी. अब उस दिन के बाद फिर मैं विवेक से अक्सर चुदने लगी और धीरे धीरे उसकी रखैल ही बन गयी.

उधर से मस्त महक आ रही थी, उसकी बगलें साफ़ नहीं थीं … थोड़े से छोटे छोटे बाल थे. मैं बगल में गया तो उसने अपना मुंह आगे करके मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया.

उस लंड से मेरी चूत और उसके वीर्य की मादक खुशबू आ रही थी।मैं नशे में थी या पता नहीं कैसे … मुझे उसके लंड को चूसने में बहुत मजा आ रहा था।उसके लंड को मैं पूरा अपने मुंह में डालने लगी और उसको चाट चाट कर एकदम साफ कर दिया.

जब उसका बेटा स्कूल जाता, तब हम दोनों खुल कर लंड चुत चुदाई की बात करते. हिंदी हीरोइन सेक्सी पिक्चरबिन्नी- आप तो कह रहे थे कि रोहन अभी जवान नहीं हुआ है?मैं हँसते हुए बोला- और कब जवान होगा? मैं जब उस उम्र का था तो मेरा लण्ड इतना ही बड़ा और मोटा हो चुका था जितना आज है. ओपन सेक्सी वीडियो हिंदी मेंमैडम ने उन सभी कागजों को देखा और उनका एक सैट बना कर मुझे प्रिन्सिपल के कमरे में भेज दिया. उसने मेरी गर्दन को पकड़ कर मेरे मुँह को अपने दोनों मम्मों के बीच खींच लिया और मेरे मुँह को दबाने लगी.

कुछ देर बाद जब राजेश अंकल को लगा कि मॉम झड़ने वाली हैं, तो अंकल ने अपने झटके तेज कर दिए और करीब दो मिनट के बाद दोनों चिल्लाते हुए झड़ गए.

हम तीनों ने चाय पी और वापस आते समय मैंने भाभी और अपने लिए नाश्ता और पानी की बोतल ले ली. वो थक कर फर्श पर बिछे कालीन पर ही लेट गई और मैं भी उसके बाजू में लेट गया. इस समय अनीता ने अपने एक हाथ को मेरी गर्दन के पीछे रखा हुआ था और दूसरा हाथ मेरी पीठ पर सहला रही थी.

उसका लंड लोहे की गर्म रॉड सा मेरी चुत को चीरता हुआ अन्दर घुसता जा रहा था. पाठकों से मेरा आग्रह है कि इस कहानी को आप भी मनोरंजन की दृष्टि से ही पढ़ें. ” यह कहते कहते मैंने मल्लिका की पैन्टी नीचे खिसकाकर उसकी चूत पर हाथ फेरा तो उसकी चूत के लब गीले थे.

लेडी सेक्सी फोटो

कैसे? मैं अपनी चूचियां बड़ी करवाने डॉक्टर के पास गयी तो उसने मेरे जिस्म से खेल कर मेरी वासना जगाई और मेरी बुर खोल दी. पापा दीदी से बोले- तुम लोगों के एग्जाम कब तक हैं?दीदी- दो दिन बाद हैं. मैंने इंटर पास करने के बाद सीपीएमटी की परीक्षा पास की और मुझे करीब के ही एक मेडिकल कालेज में एडमिशन मिल गया था.

’फिर हम दोनों उठाकर वॉश लेने चले गए, जहां और एक बार अपने प्यार का इजहार कराते हुए डीप स्मूच किया.

उसने अपनी जांघें भींच लीं लेकिन फिर भी उसकी छोटी सी कमसिन चूत मुझे दिख रही थी.

मेरा लंड भी मुरझाया हुआ था, पर शायरा के ऐसे देखने से उसमें अब फिर से जान आ गयी. एक बार की चुदाई के बाद तो हम दोनों ने बहुत बार सेक्स किया और बहुत मजा लिया. फुल रोमांटिक सेक्सउन दोनों ने भी मोनोकिनी पहनने में ज्यादा रुचि नहीं दिखाई और फिर सब सामान को समेट कर एक तरफ रख दिया.

मैंने बीच की दो उंगलियों को चूत में डाला और थोड़ा ऊपर करके उसके जी-स्पॉट पर प्रेशर दिया. चूंकि दरवाजे की झलक कैमरे से नहीं दिख रही थी, तो मैं शिल्पा और आगंतुक के अन्दर आने का इन्तजार करने लगा. मुझे तो वो शादीशुदा भी लगता है, जब घर में कोई नहीं होता तो नीतू उसे यहीं बुला कर अपनी चुदाई करवाती है.

मैं- वैसे आप अहमदाबाद में कहां रहती हैं?सुगंधा भाभी- देख, कल रात जो हुआ … वो हम दोनों की मर्जी से हुआ. फिर लंड फुदी पर रखकर थोड़ा अंदर डाला और फिर एक जोर का धक्का मारा और लंड फुदी के अंदर था।मैं थोड़ा पीछे हटता फिर जोर का झटका देता और लंड फुदी में पेल देता।जब मैं लंड फुदी से निकालता, यास्मीन की फुदी मेरे लंड से चिपक कर थोड़ा बाहर आती।टाइट फुदी मारने का अलग मजा है.

अक्सर‌ तो स्वाति भाभी की सास मुझे ड्राईंगरूम‌ में ही मिल‌ जाती थी और वो मुझे वही से वापस कर देती थी मगर आज वो भी नजर नहीं आ रही थी।‘भाभी …’‘भाभी…’‘स्वाति भाभी …’उनके ड्राईंगरूम में आकर मैंने अब एक बार फिर से स्वाति भाभी को ही आवाज लगाई.

संजू ऊपर से सिर्फ केलविन क्लेन की महंगी ब्रा में थी, जिससे उसके आधे से ज्यादा मम्मे साफ़ दिख रहे थे. मौनी का छोटा भाई सोनीपत में एक अकेडमी में था और वो वहीं पर रहता था. इस शादी से उसके परिवार के लोग भी काफी खुश थे और मैं भी बहुत खुश था कि सुधा के जैसी लड़की मेरे जीवन में आई.

सेक्सी वीडियो मराठी ओपन वो भी कुछ देर बाद मूवी से ध्यान हटा कर मुझसे अच्छे से बात करने लगी. उसके बाद दिव्या ने भी मेरी पैंट में हाथ डालकर देखा तो मैंने भी पैंटी नहीं पहनी हुई थी.

शायरा मुझसे चिढ़ी हुई तो थी ही … इसलिए बाहर आते ही वो मेरी तरफ दांत पीसते हुए कहने लगी- क्या ड्रामा था ये सब?मैं- इसमें ड्रामा क्या है, तुम्हें गिफ्ट दिला रहा था बस!वो- अच्छा … गिफ्ट में ये सब देते हैं और गिफ्ट ही दिला रहा था, तो अपने पैसे से दिलाना था ना!मैं- अब मुझे क्या पता कि तुम ब्रा पैंटी ही इतनी मंहगी मंहगी पहनती हो? वो तो मैं सही रहा कि कपड़े लेने नहीं गया. ये सीन देख कर मैं सोचने पर मजबूर ही गया कि मेरी बीवी मानना पड़ेगा, साली की चुत में क्या आग थी. गोद में न भी आएं तब भी मुझे इतना तो यकीन हो गया था कि वो मुझ पर गुस्सा नहीं होंगी.

नंगी पिक्चर वीडियो में दिखाइए

लेकिन गोपाल की स्थिति थोड़ी अलग है क्योंकि उसकी बेटी सीमा करीब 28 साल की हो गई है. थोड़ी देर में एक मैसेज आया, ये श्रेया का मैसेज था … उसने लिखा था- कहां हो. अनीता और अविना बोलीं- ये सब क्या था फूफाजी?मैंने कहा- एनर्जी ड्रिंक … बहुत ही शानदार चीज है.

जब तक ज्योति झड़ती रही महेश उसकी चूत में वैसे ही धक्के मारता रहा।पूरी तरह से झड़ने के बाद ज्योति ने अपनी आंखें खोल दीं और हांफते हुए अपने पिता के चेहरे को देख कर बोली- पिता जी, इतना मजा तो मुझे समीर के लंड से चुद कर झड़ते हुए भी नहीं मिला. जिस तरह से लंड को वो चूत के अन्दर डाल रहा था, उससे ऐसा लग रहा था कि चूत के अन्दर आरी चल रही है.

तब तक वो मार्केट भी आ गया था इसलिए मैंने पहली ही दुकान‌ पर स्कूटी को रोक दिया और जल्दी से स्कूटी को खड़ा करके दुकान में घुस गया.

मेरी लंबाई कम थी, तो मेरे लिए ये आसान था कि मैं उस कामुक स्थान तक आसानी से पहुंच सका. शायरा की चुत में मैंने अपने प्यार का झंडा गाड़ दिया था और मेरा लंड अब उसकी चूत की गहराई में जाकर वहां से पानी निकालने के लिए तैयार था. सीमा की चूचियां मेरे हाथों में थीं और उसकी माँ मीरा मेरे लण्ड को गीला करके सीमा की चूत में जाने के लिए तैयार कर रही थी.

मै तो सोच रहा था कि शायरा का दो बार रस निकल गया है और वो इस लम्बी चुदाई से थक भी गयी होगी. शायरा को अब गुस्सा आ गया- तुम पागल …इससे पहले शायरा कुछ कहती, मैं बीच में ही बोल पड़ा- इसमें गुस्सा होने वाली क्या बात है. दोस्तो, उसका लन्ड चूसना भी क्या लाजवाब था। वो जीभ से सुपारे को छूती और फिर गले में पूरा अंदर तक डाल लेती।लन्ड मुंह में डालते वक़्त सावधानी रखती कि कहीं रगड़ न लग जाये।ये सब बातें मैं उसे बताता जा रहा था।2 मिनट में ही मुझे वह आनंद आने लगा जिसके लिए मैं 1 घण्टे से मेहनत कर रहा था।मैं चरम पर पहुंच गया और मेरा माल निकलने को हो गया.

तभी डॉक्टर हांफते हुए मेरे ऊपर निढाल हो गया और मेरी चूत के ऊपर उसका गर्म गर्म वीर्य गिरने लगा.

सेक्सी पिक्चर बीएफ देखने वाली: तो दोस्तो, मेरी कॉलेज गर्ल को डॉक्टर ने चोदा सेक्स कहानी आपको कैसी लगी. तो मार्च के महीने में हमारे यहाँ भी बकचोदी शुरू हो गयी और सब अपने अपने घरों में क़ैद हो गए.

फिर मैंने उसे घोड़ी बना दिया और चोदते वक़्त उसके चूतड़ों को झापड़ मार मार कर इतने लाल कर दिए कि अब उसको वहां हाथ लगाने में भी दर्द हो रहा था. मैं अब फुल मस्ती में आ गया था और भाभी के गुलाबी होंठों को चूमते हुए उसके एक भरे हुए दूध को सहलाने लगा, जिससे वो फिर से गर्म होने लगी थीं. उसी समय इत्तेफाक से एक फोन आ जाने के कारण मुझे कुछ जरूरी काम निकल आया.

विक्रम का मूसल लंड संजू की चूत को फाड़ते हुए पूरा टाईटली चुत के अन्दर जिस तेजी से जा रहा था … उसी तेजी से बाहर आ रहा था.

मैं बोला- फिर मैं धीरे धीरे अपने हाथ तुम्हारे बूब्स पर लेकर उन्हें धीरे से सहलाता. अनिल बोला- जानू मेरा निकलने वाला है, तुम हट जाओ वर्ना अन्दर हो जाएगा. तभी राहुल ने शिल्पा की बांह पकड़कर उसको अपनी ऊपर खींच लिया और शिल्पा बेशर्म छिनाल रांड सी बनकर उसकी गोद में आ गई.