एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो

छवि स्रोत,अंटी सेकस

तस्वीर का शीर्षक ,

रियल चुदाई वीडियो: एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो, तू थोड़ा आराम कर ले उसके बाद चुदाई करूँगा और वैसे तूने मेरा लंड रस भी नहीं पिया तो मैं अबकी बार तेरे मुँह में रस डालूँगा।मोना- समझ गई काका.

बीएफ मेवाती

कमला अपने मुँह से दबी आवाज में बड़ी ही मादक आवाज निकाल रही थी।मैंने एक हाथ से उसके बोबे का मसलना चालू रखा और दूसरे हाथ को धीरे से नीचे खिसकाते हुए उसके पेट और नाभि पर हल्का-हल्का फिराने लगा। कमला पैरों की दोनों एड़ियों को आपस में रगड़ते हुए पैर पटक रही थी. तालिबानी बीएफदोनों के कपड़ों में रेत चिपटा था तो दोनों बाथ टब में घुस गए, शावर खोल दिया.

यह पोज मुझे बहुत पसंद है, इसमें लंड भी अच्छा टाइट जाता है चूत में और धक्के मारने मेंलड़की के हिप्स का सपोर्ट भी मिलता है जिससे आनन्द और बढ़ जाता है. बीपी मराठी सेक्सी व्हिडिओमुझसे लिपटी जा रही थी और मैं भीउसे अपनी बांहों में समा लेना चाहता था.

उसने झट से लंड को चूसना शुरू कर दिया। वो उसे ऐसे चूस रही थी, जैसे ना जाने आज के बाद कभी लंड मिलेगा ही नहीं। उसने अपनी लार से लंड को तार कर दिया था।काका- बस राधा बस.एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो: मेरी जानेमन की बच्चेदानी में कुछ हैवी शॉट्स मारने के बाद उसने अपना आग उगलने को तैयार लंड चूत से बाहर निकाल लिया और मेरी बीवी का सिर पकड़ कर उसके मुंह में ठूंस दिया.

जीना हेज़ की ट्रिपल एक्स पॉर्न मूवी डाल दीं और ‘द ट्रेन’ मूवी की गीता बसरा और इमरान हाशमी के स्मूचिंग वाले सीन्स डाल कर उसको फोन दे दिया.अम्मा की बात सुन कर मैंने हाथ मुंह धोये और बैठक में बैठ गया जहाँ अम्मा मुझे चाय दे कर फिर काम में लग गई.

नंगी फिल्म बताइए हिंदी में - एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो

मेरा भी बहुत मन कर रहा था कि मैं भी नंगी हो जाऊँ पर डर लग रहा कहीं कोई देख ना ले.ऐसा करने में जितना आनन्द मुझे आ रहा था शायद उस से कहीं ज्यादा मामी को आ रहा था.

रात को करीब दस बजे आंटी ख़ुशी के कमरे से बाहर निकल कर उसका कमरा बाहर से बन्द करके मेरे यानि मयंक के कमरे में आ गई, मेरी आँख लग गई थी. एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो जोर-जोर से करो।फिर मैंने धक्कों की स्पीड तेज की और पूरी स्पीड में सोनू को चोदने लगा। पूरा कमरा ‘छाप.

फिर मैंने और आंटी ने बहुत बातें की तो बातों बातों में आंटी से जान लिया कि पिछली काफ़ी दिनों से अंकल और उनके बीच सेक्स नहीं हुआ तो मेरे मन में आंटी को चोदने का ख्याल आने लग गया लेकिन सोच रहा था आंटी को चोदूं कैसे?तभी मैंने आंटी को रूम में पड़ी वाइन ऑफर की और कहा- आंटी, आप 2 पेग ले लीजिए, आपकी चिंता ख़त्म हो जाएगी!पहले तो आंटी ने मना किया फिर वो मान गई.

एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो?

तो मैंने भी उनको किस करते करते उनको दीवार की तरफ लेकर गया और शॉवर चालू कर दिया।तो आंटी एकदम से पानी गिरने की वजह से डर के मुझे जोर से गले लकर दबाने लगीं और उनके कुछ भी कहने से पहले ही मैंने उनके मुँह में अपना मुँह घुसेड़ दिया। अब मैं अपने हाथों से उनके एक पैर को उठाकर अपनी कमर पर रख लिया। इस वजह से उनकी चूत का मुँह खुला गया था. इतने में दरवाजा खुलने की आवाज़ आई तो मैंने देखा बिमलेश ने गुलाबी रंग की नाइटी पहनी हुई थी और बाल खुले हुए थे। मुझे तो इस समय बिमलेश बिल्कुल कामदेवी लग रही थी।मैंने टीवी चला रखा था. ये कहते हुए वो पलट गई।गुप्ता जी ने पहले संजू की चूत को देखा जो काफी चिकनी थी.

बिमलेश- जल्दी से शादी कर लो और दोस्ती करना छोड़ो।राजेश- शादी करने से क्या दोस्त छूट जाते हैं?बिमलेश- जब शादी कर लोगे तब पता चल जायेगा।राजेश- क्या आपके पति के भी अब दोस्त नहीं हैं?बिमलेश- हाँ हैं ना, क्यों?राजेश- अभी आप कह रही थी कि शादी के बाद दोस्ती को भूल जाओगे, जब आपके पति के दोस्त है तो मेरी भी दोस्ती रहेगी।बिमलेश हँस कर- मेरा मतलब वो नहीं था, मेरा मतलब लेडीज दोस्त से था. !’मैंने भी लंड चुत पर रखकर धक्का मार दिया।फ़च करता हुए मेरा लंड उसकी सील तोड़ता अन्दर चला गया।‘आह मर गई. मैंने देखा कि रूम का दरवाजा थोड़ा सा खुला हुआ था तो मैंने सोचा कि शायद मैडम जाग रही है तो इसलिए मैं रूम के बहुत करीब गया और जैसे ही मैंने अंदर देखा तो देखकर मेरे होश उड़ गये और मेरी दोनों आँखें फैल गई, क्योंकि उस समय मेरी बॉस मेक्सी के ऊपर से ही अपनी चूत को सहला रही थी और आअहह उउफफफ्फ़ हनमम्म कर रही थी.

मैंने उसके चेहरे को अपने दोनों हाथों में लेकर उसके होंठों पर चुम्बन किया और उसे अपने बदन के ऊपर लिटा लिया. तो कभी उसके निप्पल को खींचता।कुछ देर दोनों का प्यार चलता रहा। इस दौरान गोपाल ने मोना की नाईटी अलग कर दी थी। उसने चुदास के चलते अन्दर कुछ नहीं पहना था।मोना के चूचे एकदम गोल थे. रयान भी ये सुन कर बेचैन हो उठा… निष्ठा ने उसे शाम को बता दिया था कि कुशल उसे डिनर पर ले जा रहा है तो उसने तो उसे उकसाते हुए कहा था- कुशल बढ़िया लड़का है, उससे दोस्ती कर लो, तुम्हारा वक़्त भी अच्छा निकल जायेगा.

देती भी क्यूँ ना मुझे अपनी जान से ज्यदा जो प्यार करती थी और धीरे-धीरे हम चूमते हुए होंठों पर आ गए. इससे पहले ऐसी चुत मैंने सिर्फ ब्लू-फिल्म में देखी थी।मैं कई लड़कियों को चोद चुका हूँ मगर भाभी की चुत जैसी अब तक नहीं मिली थी। एकदम पिंक कलर की बुर थी। मैं पागल सा हो रहा था। मैंने उनकी दोनों टांगों को फैलाया और अपना मुँह उनकी चुत पर ले गया। जैसे ही मैंने अपनी ज़ुबान उनकी चुत पर लगाई.

तुमने भी मुझे नहीं बताया।फिर मैंने दीदी से पूछा- तुम्हारी बात कहाँ तक पहुँच गई है? मतलब किस-विस हुआ कि नहीं?तो दीदी ने कहा- अभी तो सिर्फ़ किस और बूब्स रबिंग तक ही सीमित रहा.

रानी का दारू से भी ज़्यादा नशीला और ज़ायकेदार चूतरस पीकर मेरी हवस यूँ भड़क उठी जैसे सुलगती आग में कोई तेल झोंक दे.

उसकी आँखों से आंसू टपक रहे थे और मेरी दोनों उंगलियाँ उसके खून से लाल हो गई थी. तभी आंटी सब्जी वाले पे गुस्सा होने लगी, वो प्याज़ के रेट बहुत ज़्यादा बोल रहा था, तभी मैंने आंटी से झूठ बोला, मैंने आंटी से कहा- अरे आंटी, आप प्याज़ क्यों खरीद रही हैं, मेरे एक अंकल हैं जो प्याज़ की खेती करते हैं, वो अक्सर हमारे घर पर प्याज़ भेजते हैं, काफ़ी तो घर पर खराब होकर जाते हैं, मैं उनमें से कुछ आपको दे दूँगा. इसलिए मैं भी उससे ज़्यादा बात नहीं करता था बस काम से ही बात करता था.

फिर वो बहुत आराम से मेरे लंड से खेलने लगी और मैं उनके एक बूब्स को दबाने तो दूसरे को चूसने लगा. उसके सामने एक लम्बा सा आदमी खड़ा था, उसका भी लंड भी तुम्हारे और साहिल की तरह लम्बा था, लड़की उंगली चाटते हुए बोले जा रही थी- come on Darling, why are you waiting, come and fuck me, my pussy is waiting for you. जल्दी कपड़े बदल और सो जा।मोना- बाहर बहुत अंधेरा है काका, मुझे डर लगता है.

‘फिर तुमने अपने सारे कपड़े उतार के अपनी उंगली से इस अंग को छेड़ा होगा, रगड़ा होगा, मुट्ठी में भर कर दबाया होगा, इसके बाल भी खींचे होंगे और इस पर चिकोटी भी काटी होगी, साथ में अपने ये भी मसले और दबाये होंगे.

उसकी बगल से बांहें डाल कर चिपक गया। उसके कान के पास अपना मुँह ले जाकर बोला- अरे यार गांड मराने के पहले थोड़ी लगती है, फिर मजा आता है।मैंने उसका एक चुम्बन लिया. इनकी एज करीब 45 की होगी।ममता- अपनी लाड़ली को देखो, पीकर आई है, ये सब आपकी वजह से हुआ है। मैंने कितनी बार कहा कि ये बुरी आदत इसे मत सिख़ाओ।फ्लॉरा- पापा प्लीज़. माँ ज़ोर से चीख पड़ी ‘आआईयईई… निकाल इसे… बहुत बड़ा है’‘क्यों कैसी रही, मजा आया साली रांड?’ और लंड बाहर निकाल लिया.

क्या करूँ?’मैं- आपसे क्यों नहीं रहा जा रहा?‘जब से मैंने आपके साथ सेक्स किया है. अपने दोस्त की मम्मी यानि आंटी के साथ सेक्स को हिंदी स्टोरी के रूप में पेश कर रहा हूँ, पढ़ कर मजा लीजिये. तभी बिजली आ गई, मैं थक गया था और नींद आ गई थी और आंटी को भी!साढ़े पांच बजे आँख खुली तो देखा कि आंटी ने नाइटी पहन ली थी, मुझे जागा देख कर बोली- कपड़े पहने ले, ख़ुशी आती होगी.

अच्छा ठीक है मैं माँ के पास जाती हूँ मॉंटी तुम अच्छे से दीदी का इलाज करना हाँ.

मैं बिस्तर के कोने से सो रही थी… अन्नू बीच में थी और रोहन दूसरे कोने पर!मुझे नींद नहीं आ रही थी… मैं तो बस यही सोच रही थी ‘जाने रोहित क्या सोच रहा होगा…उसे भी खुद पर ग्लानि हो रही होगी?’वैसे रोहन और रोहित हर बात आपस मे शेयर करते है तो मैंने सोचा कि कल में रोहन से इस घटना के बारे में बात करुँगी. मैं करीब 10 बजे तक आऊँगा।रात में 10:30 तक मैं घर पहुँचा, मैं सीधे दूसरे माले पर चला गया। मैंने एक घंटे तक टीवी देखा फिर मैं बिस्तर पर लेट गया।रात 12 बजे से मेरे भटिंडा के दोस्तो के बर्थडे गुड विश मैसेज आने लगे।फिर देखा तो भाभी का भी मैसेज आया, मैसेज में लिखा था, ‘जल्दी से नीचे आ जाओ.

एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो उसको अपने मुँह में लेकर चुभलाने लगे।संजू बेतहाशा सिर को कामुकता से इधर-उधर कर रही थी। एकाएक उसका शरीर अकड़ने लगा और वो बेतहाशा झड़ने लगी और पूरा पानी छोड़ने लगी।गुप्ता जी अब भी पूरी स्पीड से उसकी क्लिट को चूसे जा रहे थे।अचानक संजू बोली- प्लीज बाबा. मैं सोचता था कि फर्स्ट टाइम सेक्स करूं तो मेरा फर्स्ट पोस्चर खड़े होकर सेक्स करने वाला हो.

एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो आ जा मालिश कर देती हूँ।फिर क्या था, मैं जल्दी ही भाग कर बेड पर लेट गया।ये देख कर आंटी फिर हंसने लगीं और कहा- अरे पागल टी-शर्ट तो निकाल. ’ कहने लगीं। मुझे समझ में आ गया कि वो फिर छूटने वाली हैं। मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी। थोड़ी देर बाद उनकी चूत के अन्दर ही माल डाल दिया और उनके ऊपर ही पड़ा रहा।फिर मैंने उन्हें थोड़ी देर बाद अपने ऊपर ले लिया और उनके मम्मों को चूसने लगा। थोड़ी देर बाद मेरा लंड अपने आप ही बाहर आ गया तो वो उठ कर बाथरूम में जाने लगीं।मैंने कहा- रुको ना.

क्योंकि मैं पहले भी कई बार चुद चुकी थी। उन्होंने मेरी चूत में लंड डाला और अन्दर-बाहर करने लगे। मैं भी कामुक सिसकारियां भरने लगी और चुत चुदाई के मजे लेने लगे।हम दोनों बिल्कुल नंगे एक-दूसरे से लिपटे हुए थे.

हीरोइन सेक्सी फोटोxxx

वो झड़ चुकी थी।मैं भी चरमचीमा पर पहुँचने वाला था इसलिए लंड को जोरों से अन्दर-बाहर कर रहा था। करीब दो मिनट के बाद मैं जोर से हाँफने के साथ चीख के साथ लंड को चुत से बाहर निकाल लिया और तभी मेरे लंड से पिचकारी फूट पड़ी। लंड का सारा माल मैंने कमला की पीठ पर बिखेर दिया। हम दोनों पसीने से तरबतर हो चुके थे. अजय ने रूबी की दोनों टाँगें ऊपर उठा कर चुदाई शुरू की, तभी विला की घंटी बज गई. रयान ने उसे समझाया कि वो अपना फ्रेंड सर्किल बढ़ाये और मस्त रहे… दोनों के बीच यह तय हुआ कि हर पंद्रह दिनों के बाद दो दिन के लिए रयान यहाँ आयेगा और तीन दिनों के लिए निष्ठा वहाँ रहेगी.

हमारी गांड चुदाई की बात सुनकर उन दोनों के चेहरे की ख़ुशी देखते ही बनती थी. दोनों बिल्कुल सेम।मैं मुस्कुराया।फिर वे मुस्कुराते बोले- आपके लिए एक खुशखबरी है. [emailprotected]मेरी सेक्सी कहानी : जिस्म की वासना-2रवि स्मार्ट की सभी कहानियाँ.

माँ बोली- आह्ह आह… अरे दोनों ने तो मेरी चूत में बाढ़ ला दी है… चूत पूरी भर गई है.

जुलाई का महीना था, हल्की बारिश होने लगी थी, बस स्टॉप पर हम उतरे, हम दोनों के पास छतरी नहीं थी तो बारिश में भीगते हुए हम घर की ओर चल दिए. मैंने सोचा यहाँ से निकल जाना चाहिए वरना सुबह सब उठ गए और चेहरा पहचान लिया तो मारे जाएंगे।फिर हम दोनों दोस्त वहाँ से रवाना हो गए।इसके बाद फिर कभी उस गांव की ओर नहीं गए।मैंने जो मेरे साथ रात में घटना हुई इसे आज तक किसी को नहीं बताया है. इस 4-5 सेकंड की किस के मैंने उसको धीरे से मेरी बांहों में जकड़ लिया.

कुछ देर हम तीनों यूँ ही पड़े हुए अपनी सांसों को काबू करने के लिए आराम करते रहे. उन्होंने कहा कि वो भी मेरे शहर में रहती है और मुझे और मेरे दोस्त चिंटू को भी जानती है. शादी से पहले कितनों से चूत मरवाई है?’मेरी बात पर वह मुदस्सर का लंड मुँह से निकालकर सिसक सिसक कर रोने लगी.

अब आगे:कुछ देर बाद मैंने भी लंड बाहर निकाल लिया और नताशा ने आराम करने कि गर्ज से अपने पैर थोड़ा फैला दिए. अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि जवान लड़की की चूत संजय के लंड से चुदाई के लिए गर्म होने लगी थी और खाने के बाद डांस के दौरान वो और ज्यादा गर्म हो उठी थी।अब आगे.

उस पर झांट का एक बाल भी नहीं था।यह देखकर मेरा लंड एकदम कड़क हो गया था और नाग की तरह फुंफकार रहा था।मैंने उसको लंड मुँह में लेने को बोला. रानी भाभी की शादी को अभी सिर्फ सवा साल ही हुआ और वो न के बराबर चुदी है. तब सुलेखा की नज़र उसके नंगे जिस्म पर पड़ी, और वो बोली- रीना तू यहाँ क्या कर रही है… तेरे कपड़े कहाँ हैं?मैंने गुर्राते हुए कहा- सुन कमीनी रांड, ये तेरी बेटी माँ की लौड़ी डेढ़ साल से मुझसे चुद रही है… इसलिए परेशान होने की कोई ज़रूरत नहीं है… अब दोनों माँ बेटी आराम से चुदो और एक दूसरी की चुदाई का दृश्य देख के मज़ा लो… सच तो ये है तेरी चूत लेने के लिए तेरी ये बदमाश बेटी ने ही मुझ पर दबाव डाल रखा था.

कुछ देर थोड़ा-2, हौले-2 लंड को दुबली-पतली लड़की की गांड में अन्दर-बाहर करते रहने के बाद स्वान ने रफ़्तार पकड़ ली और तेज गति से अपने गर्दभ लंड को मेरी बेचारी बीवी की गांड में घुसाने लगा.

तू समझा कर, सही मौका आएगा तब तुझे बता दूँगा। फिलहाल तू कपड़े निकाल लंड में दर्द होने लगा है।टीना- ही ही ऐसा क्या हो गया. अभी कुछ ही पल हुए थे उसका लंड चूसते हुए मुझे कि इतने में उसने मेरे मुँह से अपना लंड निकाला और बेड पर लेट गया. तो उसने झट से टॉप निकाल दिया और चुची मेरे मुंह में दे दी, मैंने दोनों चुची बारी बारी चूसी, बहुत मजा आया, सुजाता की दोनों चुची दूध से भरी हुई थी, खाली कर दी मैंने!मेरी बीवी की सहेली बहुत गर्म हो चुकी थी लेकिन टाईम नहीं था, मैंने उसको बोला- तुम चाय बनाओ, मैं तब तक नहा लेता हूँ.

’मैंने ऊपर नीचे होना शुरू किया, वो नया कुछ भी नहीं कर रहा था, फिर मैंने उसके छाती पे हाथ रखकर स्पीड बढ़ाई और उसने मेरे स्तनों को कस से पकड़ा और नीचे से धक्के देना शुरू कर दिया. उस पर भी लगाई। फिर शीशी बन्द करके बगल में रख दी और अपने लंड की मालिश करते रहे।फिर बोले- हां तैयार हो.

मुझे वो बोली- मुठ मार मार के कितना मोटा किया हुआ है तूने इस लंड को!मैं हंसा और कहा- देखता हूँ आज तू इसे और कितना मोटा करती है?ग़ज़ब का मज़ा आ रहा था. सो मेरी कामकेलि से स्नेहा जल्दी ही चुदासी हो उठी और उसने अपने पैर जो आपस में भींच रखे थे, खोल दिए और अपनी जांघें दायें बाएं फैला कर अपनी चूत को जैसे कैद से आजाद कर दिया. मामी की चुदाई का मजा लेकर मैं वापस अपने घर लौटा तो हालात कुछ ऐसे बने कि चाची हमारे घर आई और मुझे चाची की चुदाई का मजा भी मिला.

fm रेडियो की सेक्सी वीडियो

फिर अंश मुझे किस करने लगा, थोड़ी देर के बाद मेरा दर्द कम हुआ तो उसने पूरा दम लगाकर एक और धक्का मारा उसका लन्ड मेरी बुर को फाड़ते हुए अन्दर तक घुस गया.

फिर जैसे ही माला ने मेरा लोअर पकड़ कर नीचे खींचा और मेरे शरीर के निचले भाग को नग्न किया मैंने भी अपनी टी-शर्ट उतार कर माला को उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया. जूसी के सो जाने के बाद राजे ने मुझे भी लव बेंच पर चुदाई ट्राई करने का पूछा. मैं तो बस ऊपर खुली हवा में टहलने गई थी।काका- अच्छा ये बात है तो वो राजू को वहाँ क्या आरती उतारने को बुलाया था तुमने? और उसके बाद जो किया मुझे तो बोलते हुए भी शर्म आ रही है।मोना समझ गई कि काका ने सब कुछ देख लिया है अब झूठ बोलने से कोई फायदा नहीं.

तो वो मेरे लंड को हाथ में ले कर खड़ा करने लगीं।मैंने उन्हें घोड़ी बनने को बोला और वो बन गईं। मैंने थोड़ा सा आयिल अपने लंड पे लगाया और उनकी गांड में हल्का सा डाल दिया तो भाभी को डर सा हुआ।मैंने कुछ नहीं सुना. मैं कुछ नहीं करूँगा बस उंगली तक ही रहेगा।लेकिन मैं कहां हार मानने वाला था तो मैंने अपने दोनों हाथों की स्पीड तेज कर दी और वो बहुत ज्यादा गर्म हो गई। मैंने उसको किस करके इतना गर्म कर दिया था कि अब वो मेरा लंड खाकर ही मानने वाली थी।तभी मेरे दोस्त का कॉल आया और बोला- किसी सेफ चीज की जरूरत हो तो अलमारी में है।तो मैंने जाकर देखा. हरियाणवी बीएफ चुदाईऔर मेरे ऊपर अपना पैर लाद दिया, फिर मेरे कान को काटते हुए थैंक्स कहा और मेरे सीने को सहलाते हुए नजर नीची कर के धीरे से मेरी गांड में डिल्डो पेलने के लिए सॉरी कहा.

सुधीर- आप कौन हो और मुझे कैसे जानती हो? मैं कुछ कनफ्यूज सा हो रहा हूँ. मैं अपने सेंटर के टीचर के साथ काफ़ी फ्रेंक था इसलिए मैंने उसे बता दिया कि मैं उसे लाइक करता हूँ लेकिन वो बोला- ये ठीक नहीं है, ज़्यादा भाव खाएगी क्योंकि वो काफ़ी सुंदर थी.

!’‘आआ आह्ह… स्स स्साआअह्ह… म्म म्म्माआआह्ह…’सिर्फ आवाजें और सिर्फ सिसकारी… और बाहर टीवी पर बजता सॉफ्ट म्यूजिक…‘अय्य… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आईईई ईईईई, ऊऊऊ युयुयु ऊऊऊयू हाआआ अहा हह औय्या शहस हेहः ओह आह आहः’करीब दस मिनट तक की एक दूसरे को चूसने के बाद मैंने उसको पीठ के बल लिटा दिया- अंजलि, तुमको थोड़ा दर्द होगा, हो सकता है कि ब्लड भी आये, तुमको बर्दाश्त करना होगा. जीजू का लंड तना हुआ और चूत फाड़ने के लिए बिल्कुल सटीक पोजीशन में था. यह मेरे घर पर नई आई कामवाली बाई की चूत चुदाई की कहानी है कि कैसे मैंने पैसे का लालच देकर उसकी चूत की चुदाई का सौदा किया.

ना मैंने कहा।काका- ही ही मोना रानी तभी कहूँ ये गुलाबी छेद ऐसे बंद क्यों है. मैं सीधा नीचे भाग गया, मैंने किसी से कुछ बात नहीं की और नहाने के लिए बाथरूम में घुस गया. आज आपके पति के साथ ड्रिंक करके मूड बनाने का मन था।दुशाली- तो क्या हुआ.

पर हम दोनों की गांड अभी तक कुंवारी थी, और उंगली से चोदने पर ही दर्द होने लगता था.

मैंने कहा- भाभी थोड़ा मुझे भी दो!जैसे ही भाभी जूस ग्लास में डालने लगी तो जूस एकदम से उनके हाथ से फिसल गया और उनके बदन पर गिर गया. एक बार जनवरी के महीने में मैं कुछ काम से दिल्ली जा रहा था, मैंने देहरादून से वोल्वो ली और पीछे की तरफ खिड़की की तरफ वाली सीट पर बैठ गया.

अब तुम रोज शाम को यहाँ आना और एकनई लड़की की चुदाई करना, इस बहाने उनकी भी चूत खुल जायेगी और फिल्म में आसानी से चुदाई का सीन होगा. उनकी पत्नी जिसका नाम मेघा था, उनकी उम्र करीब 30-31 की थी लेकिन वो अपने सुंदर चेहरे, सेक्सी बदन से दिखने पर ऐसी बिल्कुल भी लगती ही नहीं थी कि वो इतनी उम्र की भी हो सकती है, वो बहुत ही हॉट और सेक्सी औरत थी, उनकी एक बेटी भी थी. उससे मेरा लंड बहुत ही टाइट हो रहा था।थोड़ी देर के बाद मैंने जानबूझ कर ब्रेक लगाया क्योंकि भाभी के चूचे जब मेरी पीठ पर टकराते थे तभी मुझे मजा आता था.

भाभी ने अपना कुरता उतारा… कसम से लाल ब्रा में से उनके झांकते हुए बोबे क्या लग रहे थे. सहेला हूँ।इस पर भाभी भी हँसने लगीं और उन्होंने कहा- तुम तो पागल हो. ‘लेकिन क्या अंकल जी? आप कहते कहते रुक क्यों गये?’‘स्नेहा, तुम्हारे चेहरे पर ये फुंसियाँ सी कैसी हैं.

एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो शरीर के हर छेद में चलती चुदाई और चूचुक निचोड़े जाने से सुल्लू रानी बौरा गई. कोई देख लेगा!’यह हिंदी चूत की चुदाई की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!मैं टॉयलेट चली गई.

ब्लू हिंदी फिल्म ब्लू सेक्सी

मैंने नीचे नजरें करके बैठ गया, हिम्मत नहीं हुई कि उनकी तरफ देखूं!तब वो बोली- क्या अभी तो कह रहा था मुझसे क्या शर्माना… और खुद ही नीचे नजरें करके बैठा है… देख ले मुझे… उन किताबों की लड़कियों से अच्छी नहीं हूँ क्या?मैंने आंटी की तरफ देखा. ’उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी तो मैंने उसे रोका और नीचे पीठ के बल लेट गई, वो अपने जंगली तरीके से मुझको चोदने लगा और मेरी चूत के अंदर ही पिचकारी मार दी, उसके साथ ही मैं भी फिर से झड़ गई. फिर मैंने मैडम की पेंटी को उतारा और उनकी चूत को अपनी एक उंगली से सहलाने लगा, फिर मैंने अपनी उंगली को चूत में घुसा दिया, जिसकी वजह से मैडम सिसकारियाँ लेने लगी और आअहह उफ्फ्फ्फ़ करने लगी.

सगे भाई ने चोदा अपनी कुंवारी बहन को… जी हाँ… मैंने चोदा अपनी बहन को… मेरा नाम राकेश है. तब बताऊंगा।मैं मान गई क्योंकि मैं उसे बहुत चाहती थी और उसका दिल दुखाना नहीं चाहती थी।अगले दिन मैं उसके घर गई। पहली बार मम्मी-पापा से झूठ बोल कर किसी लड़के से मिलने उसके घर गई थी। मुझे बहुत बुरा भी लग रहा था और अच्छा भी।खैर मैं उसके घर पहुँच गई। आकाश ने दरवाजा खोला. राजस्थानी लड़कियों की नंगी फोटोतो उन्होंने मुझे अपनी मौसी के यहाँ छोड़ दिया।मैं बहुत खुश थी और जल्दी से चूत चुदवाने का मौका तलाश रही थी। लेकिन हमें मौका नहीं मिल पा रहा था। हम बस एक-दूसरे के अंगों को छू कर ही काम चला रहे थे। मेरी चूत की खुजली दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही थी।तभी एक दिन हमें मौका मिल गया.

अब मैं थोड़ा उस लड़की के बारे में बताना चाहूँगा, उसका नाम जेसिका (बदला हुआ है, जो कि उसके कहने पर ही मैंने आपको बताया), आयु 25 वर्ष, रंग गोरा, हाइट 5.

इसके बाद अम्मा ने बताया मुझे निम्नलिखित बातें बताई:उसके मंझले बेटे की शादी माला से तीन वर्ष पहले हुई थी और उनमें से पहले एक वर्ष उसका बेटा यहीं रहा तथा उसके बहुत कोशिश करने के बावजूद भी माला गर्भवती नहीं हुई. प्लीज निकाल लो!’पर मै वैसे ही उसकी चुची चूसता या फिर उसके होंठों को चूसता रहा, अंजलि कराहती रही और मैं चूसता रहा.

अब बीवी का जो पैर जमीन पर था, वो दर्द कर रहा था, उसने बेड पर का पैर जमीन पर रखा और जो पैर जमीन पर था वो पैर उसने बेड पर रख दिया. एक बार फिर सलोनी ने अपनी पोजिशन बदली, इस बार उसने मुझे जमीन पर लेटने को कहा और मेरे लंड को अपनी गुफा के अन्दर ले लिया, उसके बाद उछलने लगी, कभी वो लंड को चूत में लेती तो कभी अपनी गांड के अन्दर, कभी उसका मुंह मेरे सामने होता तो कभी उसकी पीठ मेरे सामने होती. माँ मेरे लंड की ओर देख रही थी, मैं लंड को सहला कर नजारे का मज़ा ले रहा था.

मेरी चची की चुदाई की इस कहानी पर अपने विचार मुझे निम्न इमेल पर भेजें![emailprotected].

मैंने उसकी चूत में उंगली हल्के हल्के अंदर बाहर करना शुरू किया तो उसकी चूत में से पानी निकल गया, उसने मेरे लंड को ज़ोर ज़ोर से ऊपर नीचे करना शुरू किया, मैंने उसको मुँह से करने को बोला तो शाल के अंदर घुस कर उसने मेरे लंड पर मुँह लगाकर मेरा पानी निकाल दिया और पी गई. अभी तो गांड मारने पे ध्यान देता हूँ। मैं जोर-जोर से धक्के देने लगा. एक सप्ताह तक ऐसे ही चलता रहा, एक दिन रानी के पास परीक्षित का कॉल आया, उसने मुझे बताया कि दोनों कहीं जा रहे हैं और घूमने का प्रोग्राम भी बनाना चाहते हैं.

बीएफ में सेक्सी वीडियोजल्दी आना।और मैं घर से निकल गई!फिर ऑटो में बैठकर मैंने अक्षय को कॉल लगाई- हां. ‘और सुना गुड़िया, तेरी स्टडी कैसी चल रही है और यहाँ कोई परेशानी तो नहीं है न तुझे?’ मैंने यूं ही बात शुरू की.

पंजाबी आंटी की सेक्सी मूवी

उसने चूस चूस कर ही मेरी प्यासी चूत का कामरस निकाल दिया और फिर अपने तनतनाते हुए लंड को मेरे मुख के करीब ले आया. इनका तो इससे काफी छोटा है और पतला भी!मैं समझ गया कि आज मुझे कुंवारी चुत जैसा मजा आने वाला है. और मेरे साथ मेरी ही एक और सहेली की भी सील तुड़वाई थी और अभी भी मौका मिलने पर चुदवा लेती हैं.

उसके मुख से मादक आवाजें आने लगी ‘आह ऊह उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओएह ओ याह…’ और उसकी चूत से पानी बहने लगा. मैं बर्थ छोड़ दूंगा।मैंने जानकारी कि तो मालूम हुआ कि मिड्ल वाली बर्थ उसकी थी।फिर मैंने खिड़की बंद कर दी और बैठ गई। एक घंटे बाद मैंने डिनर कर लिया. मैंने नीचे नजरें करके बैठ गया, हिम्मत नहीं हुई कि उनकी तरफ देखूं!तब वो बोली- क्या अभी तो कह रहा था मुझसे क्या शर्माना… और खुद ही नीचे नजरें करके बैठा है… देख ले मुझे… उन किताबों की लड़कियों से अच्छी नहीं हूँ क्या?मैंने आंटी की तरफ देखा.

’‘पर मुझे अंदर लेने में मजा आएगा, ऐसे करो अंदर ही पिचकारी मार दो!’‘पर कुछ हुआ तो?’‘कुछ नहीं होगा, मैं गोली खा लूँगी. पर हर बार वो दोनों हमारी गांड को चोदने की बात करने लगते, यहाँ तक कि दोनों सेक्स के समय हमारी गांड को उंगली से चोदते भी थे, और चाटते भी थे. तो मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को कॉलेज से पिक किया और अपने घर ले आया। वो भी बिना मना किए मेरे साथ आ गई। शायद उसे भी पता था कि आज उसे मेरा लंड चोदने वाला है।मैंने उसे घर लाकर बैठने को कहा और उसके लिए कोल्डड्रिंक लाया। उसने ठंडा पिया और मेरी तरफ देखने लगी।मैंने भी देर ना करते हुए उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसे चूमने लगा। वो भी मेरा साथ देने लगी.

बहुत देर तक उन यादों में खोये रहने के बाद मुझे पता ही नहीं चला कब नींद आ गई और अगला दिन शनिवार होने के कारण मैं देर तक सोता रहा. एक ने इशारा किया उसका लंड चूसने के लिए… मैंने झुक कर उसका लंड अपने मुँह में ले लिया सिर्फ उसका टोपा ही मेरे मुंह में जा पा रहा था.

तो वो बोला- आ जा ना गांडू… क्यों नखरे कर रहा है, मैं तुझे खुश कर दूंगा.

चियर्स से शुरू हुआ कार्यक्रम… कुछ तीन पेग पीने के बाद मैंने देखा कि दुशाली हल्के नशे में आ गई थी।मैंने कहा- क्या हुआ भाभी. चुदाई भाई बहन कीजैसे उनको कोई तकलीफ़ हो रही ही और वो दर्द से कराह रही हों। ओह गॉड यानि वो सेक्स की आवाजें थीं शिट अब समझ आया मुझे।टीना- क्या समझ आया. ब्लू बीएफ मूवीउसके हाथ चादर को मुट्ठी में भींचे तड़प रहे थे और पूरा शरीर जैसे चिल्ला चिल्ला कर मुझे अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकालने को कह रहा था. तो रंडी ही बन जाती है। मगर मोना ने अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए रंडी बनना मंजूर कर लिया। अब वो रात के बारे में सोचने लगी।दोस्तो, रात की बात रात को देखेंगे.

उसकी आँखों से आंसू टपक रहे थे और मेरी दोनों उंगलियाँ उसके खून से लाल हो गई थी.

मेरी प्यारी आंटी सेक्स की भूखी लड़कियों की चूत को मेरे लंड का सलाम! मेरी पहली कहानी एक आंटी की चुदाई की है, यह मेरी पहली चुदाई है. मैं कुछ समझी नहीं?टीना- सब्र कर जानेमन बताती हूँ, पहले मेरे कुछ सवालों के जबाव तो दे।सुमन- ओके दीदी आप पूछो ना?टीना- सबसे पहले ये बता. रजनी ने भी मुस्करा कर बधाई स्वीकार की और मैंने दोनों को एक एक किस की.

वो निष्ठा के अकेलेपन का कोई फायदा नहीं उठाना चाहता था, उसने एक घूँट में कॉफ़ी ख़त्म की और तेज चलकर बाहर निकल गया. कैसे किया और कितनी बार किया?सुमन शर्मा रही थी मगर टीना ने जोर दिया तो रात की सारी दास्तान उसने टीना को सुना दी और साथ में ये भी बता दिया कि आज से वो ये गंदी कहानी नहीं पढ़ेगी, इससे उसको रात बहुत परेशानी हुई।टीना- वाउ यार पहली बार में ही ऐसी स्पीड. जैसे उनकी चुत मेरे लंड को भींच रही हो और कुछ पानी सा छोड़ रही हो। भाभी की चुत के ऐसा करने से मैं अपने आपको नहीं रोक सका और मेरे लंड ने भी पानी छोड़ दिया।मैं भाभी के ऊपर ही लेटा था.

सेक्सी टीचर चुदाई

पर मैं उसकी गिरफ्त से छूट नहीं पा रहा था। वो मुझसे ऐसे ही अपना लंड चुसवाता रहा। अब मुझे भी इसमें कुछ-कुछ मजा आने लगा।उसने मुझे बेड पर गिराया और 69 की पोजीशन में आ गया। अब वो मेरा लंड चूस रहा था और मैं उसका। ऐसे ही एक मिनट तक चूसते हुए उसने मुझे एक वैसलीन की डिब्बी लाने को कहा।मैं उठ कर वो ले आया और उसे दे दी। उसने अपनी एक उंगली में वैसलीन की और मेरी गांड पर लगा दी. कोई बात नहीं मुझे चोदोगे क्या?पहले तो मैं एकदम से घबरा गया कि यह क्या बोल रहे हैं। फिर मैंने भी सोचा कि इसी के लिए तो हम दोस्त बने हैं तो मैंने ‘हाँ’ बोल दिया।फिर मैंने पूछा- लेकिन हम ये सब करेंगे कहाँ?तो अंकल बोले- मेरा रूम सुबह 10 बजे तक खाली रहता है. मैंने भाभी को चोदना शुरू कर दिया, मैं उसको तेज तेज चोद रहा था और भाभी आवाजें कर रही थी.

उस रात तो मैं ऐसे ही बहक गया था इसलिए आपके लंड को चूस लिया था लेकिन मैं रवि के सिवा किसी के साथ खुश नहीं रह पाऊँगा.

मैं नहीं माना और लंड पे तेल लगा कर उको पीछे से पकड़ कर उसकी गांड में लंड डालने लगा.

तो उसने फिर अपनी दो उंगलियों को गीला किया और चुत में घुसाने लगा।अबकी बार पूजा को ज़्यादा दर्द हुआ उसने चादर कसके पकड़ ली मगर कोई आवाज़ मुँह से नहीं निकाली। बड़ी मुश्किल से संजय ने दो उंगली अन्दर घुसाईं. मेल कीजिएगा।[emailprotected]कहानी जारी है।चूत की चुदाई करवा ली एक अजनबी से-2. xesi वीडियो’ इतना कहने के साथ ही उन्होंने मेरे सर पर हल्का सा दबाव दिया और बोली- दारू की एक बूंद जमीन में नहीं गिरनी चाहिये.

उसकी चूत जैसे चू रही थी, रानी की जाँघें भी भीग गई थीं उसके रस के बहाव से… साफ था कि रानी बेहद उत्तेजित हो चुकी थी और चुदने चूदाने को बिल्कुल तैयार थी. बस डाल दो!’‘उफ्फ्फ जल्दी करो, बर्दाश्त नहीं हो रहा है!’पर मैं आराम से उसकी बुर चाट कर उसमे एक उंगली डाल कर फिंगर फ़क करने लगा. मेरी बाईक में रात को पंचर हो गया था।कमला बोली- ठीक है।अब मैं और कमला चल दिए।झोपड़े के पीछे से आकर उसने लाकर पंप बाइक के पास रख दिया।मैंने अब विकास को उठाया और टायर में हवा भरने का बोला। उसने उठ कर हवा भर दी।साढ़े पांच हो चुके थे.

मेरा कोचिंग का टाइम हो गया, सर जी डांटेंगे अगर लेट हो गई तो!’ वो जल्दी से बोली. ’आगे से राहुल राहुल के अधखुले कच्छे से उसका लौड़ा माँ के मुँह से निकल गया तो माँ ने राहुल का लंड हाथ में ले लिया। पवन अंकल झटके मारते रहे ओर माँ ‘म्मा.

उसकी चड्डी जब मैं अपने दांतों से खींच कर निकालता था तब वो हमेशा कहती- मुझे इस तरह से नंगी होना अच्छा लगता है.

हम अब भी 69 अवस्था में थे तो मैं अपने लंड को उसके मुँह के आगे ले गया और उसको चूसने के लिए बोला. मामू कब से चूस रही हूँ आज आपका रस क्यों नहीं निकल रहा है, मेरा मुँह दुखने लगा है।संजय- मेरी जान ये ऐसे नहीं निकलेगा. उसने एक लंबी साँस ली और शांत हो गई।मैंने धीरे से उसकी नाइटी को उलटकर उसके गर्दन तक पहुँचा दिया। अब बिजली की रोशनी में उसका नंगा और प्यासी चुत जोकि एकदम चिकनी और साफ थी.

मराठी चुदाई चुदाई उस दिन से मुझे मेरी तनहाई को मिटाकर प्यार और सेक्स का आनन्द देने वाला साथी मिल गया. मैंने उससे कहा- मुझे थोड़ी थकान सी लग रही है, तू किसी और को साथ ले जा ना.

यह सेक्स स्टोरी मेरे एक प्रशंसक की है, उसने कैसे एक साथ दो स्कूल गर्ल के साथ सेक्स किया. लेकिन जाते जाते पूजा ने अग्रवाल साहब का एक बार फिर लंड चूसा और माल पिया, बोली- मेरी शर्त याद रखना!तो अग्रवाल साहब बोले- ठीक है!दोस्तो, आपको मेरी स्टोरी कैसी लगी जिसमें एक भाई ने बहन को चोदा? मुझे मेल करके ज़रूर बतायें, मुझे आपके मेल्स का इंतज़ार रहेगा. मुझे तुम्हें देखना है तुम कैसे दूसरे मर्द से चुदवाती हो!मैंने कहा- आप बर्दाश्त कर लेंगे जब कोई आपके सामने आपकी बीवी को चोदेगा?उन्होंने कहा- उस दिन का मुझे बहुत दिनों से इंतज़ार है!मैंने कहा- जब आपकी यही तमन्ना है तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है!सच कहूँ तो मैंने जब से वो लंड देखा था, मेरी चूत लगातार पानी छोड़ रही थी.

खुद का सेक्सी वीडियो

एक बार जनवरी के महीने में मैं कुछ काम से दिल्ली जा रहा था, मैंने देहरादून से वोल्वो ली और पीछे की तरफ खिड़की की तरफ वाली सीट पर बैठ गया. इतना तो मैं समझ गया था कि अब ये बहुत जल्दी चुद जायेगी मुझसे लेकिन मुझे हर कदम फूंक फूंक कर रखना था. ’‘सॉरी यार गलती हो गई!’ मैंने नंगी हो चुकी अमिता को खींच कर मुदस्सर की तरफ कर दिया.

मैं भाभी के ऊपर के हिस्से की मालिश करने लगा तो उसी वक्त अचानक उन्होंने मेरा लंड पकड़ कर दबोच लिया, मैं ज़ोर से चीख पड़ा और भाभी की गांड पर एक जोरदार चांटा मार दिया. चाचा ने कहा- भाईजान को पता है कि तुम्हें उनके पूरे कारनामें पता हैं?तो अम्मी ने कहा- हाँ पता है!फिर चाचा ने कहा- फिर तो उनको तुम्हारे बारे में भी पता होगा?अम्मी ने कहा- फरहान को अब तक मेरी चुदाइयों के बारे में नहीं पता है पर सुहागरात की रात को चोदते वक्त उन्हें शक तो हुआ था पर मैंने बहाना बना दिया था.

तब की बात है। मैं 6वें सेमेस्टर के लिए कॉलेज जा रही थी। वहाँ मैं हॉस्टल में रहती थी। मैंने रिज़र्वेशन करवा लिया था और मैं शाम 7 बजे वाली ट्रेन में बैठ गई। मेरी ऊपर वाली बर्थ थी.

मैं दिखने में कुछ खास नहीं हूँ और ना ही इतना खराब हूँ, कहने का मतलब यह कि ठीक-ठाक हूँ. वह खुश हो गया था।मैं खड़े होकर उसका मुँह चूमने लगा और थूक से भीगी उंगली उसकी गांड में डाल दी।लौंडा थोड़ा उछला. ‘अगर तुमने वादा कर ही दिया है तो कोई बात नहीं लेकिन फिर भी एक बार और गहराई से सोच लो.

तब पिताजी, पवन अंकल और पड़ोस के कुछ लोग घर के बाहर वाले रूम में बैठकर बातें कर रहे थ। मेरी माँ, जिनकी उम्र 37 साल है. कल्पना ने भी रस बहा दिया।मैंने अपने लंड पर एक गर्म लावे के भण्डार को महसूस किया, वही कल्पना का यौवन रस था, कल्पना अब किसी मासूम बच्चे जैसी हल्की और शांत होने लगी, पर मेरा स्खलन अभी बाकी था. ऋषिका ने कल और आज में पूरा घर चमका दिया था और उसका बेड रूम भी अच्छे से सेट कर दिया था.

उसकी बात सुनकर मैंने लंड को उसकी चूत से बाहर निकाला और पेटीकोट से उसकी चूत को और अपने लंड को अच्छे से पोंछा फिर लंड को उसके मुंह के आगे कर दिया.

एक्स एक्स एक्स बीएफ का वीडियो: शहर से बाहर निकल कर उसने बाइक की स्पीड बढ़ा दी और बाइक हवा से बातें करने लगी लेकिन जब भी स्पीड ब्रेकर आता मैं एक फीट तक ऊपर उछल जाता और बड़ी मुश्किल से बैलेंस संभालता. वो मेरे साथ बातें करते करते ही अपनीचूत में उंगलीकरती रहती और अपनी चूत को उंगली से चोदती और चोद कर शांत कर लेती थी.

मगर वो जानती थी कि यहाँ ज़्यादा सोना ठीक नहीं तो वो उठी और नहा-धो कर रेडी हो गई। फिर अपनी सास के पास चली गई।निर्मला- उठ गई बहू. मेरे शरीर में जैसे करंट लग रहा था, मैं तो मस्त होती जा रही थी!फिर वरुण ने अपना लंड निकाल कर मेरे हाथ मे पकड़ा दिया. ‘ऐसे ही चुद रही थी न अपने पति से? अब मैं दिखाता हूँ इस पोजीशन में कैसे चुदाई करते हैं.

फिर मेरे फोन में किसी के मेसेज की घंटी बजी तो कुछ रोशनी हो गई और आवाज भी… तो मैंने अपना हाथ जल्दी से वापिस खींच लिया.

बचपन की इच्छा आज पूरी हो गई।अंकल बोले- कैसे?मैं बोला- अंकल मुझे बचपन से ही आप जैसे बड़ी उम्र के लोगों को नंगा देखना बहुत अच्छा लगता था. तेरी चूत देखी तो मैं रह नहीं पाया, बस हो गई ग़लती!अब मैंने कुछ भी नहीं सोचा, बस झट से उसका लंड पकड़ा और अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगी. उन्होंने मुझे एक और राऊंड के लिए पूछा तो मैंने भी हाँ कर दी और एक राउंड और चुदाई का खेल लिया.