बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर वीडियो हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

ऐश्वर्या राय porn pic: बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ, दीक्षा- आप नाराज़ हो गए न… इसीलिए मैं नहीं बता रही थी… प्लीज नाराज़ मत हो ना।उसकी बच्चों सी मासूमियत ने मेरे अंदर तूफान ला दिया था। एक तरफ मैं उससे प्यार करने लगा था तो दूसरी तरफ मेरी वासना बढ़ती जा रही थी। मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूँ। जिसके कारण मेरा ग़ुस्सा बढ़ता चला गया और मैं उस पर बरस पड़ा- दीक्षा जाओ यहाँ से… वरना मैं कुछ कर बैठूँगा.

इंडियन भाभी की चुदाई सेक्सी

भाईजान लपर लपर करते हुए मेरी चुत को चाट रहे थे और मैं अपनी चुत से रस को निकाले जा रही थी. पंजाबी मोटी औरत सेक्सी वीडियोवो बोलीं- ठीक है, चलो देखते हैं।तो इस प्रकार मेरी कहानी का एक भाग और ख़त्म होता है, लेकिन अभी बात बाकी है.

मैं चाची को चुदाई करते वक्त कहता हूँ कि आपके मम्मों में जो दूध आएगा, वो आधा मेरा होगा. सेक्सी वीडियो दिखाते होअपने लंड पर शानदार रूसी लड़की के हाथों का स्पर्श पाते ही आर्थर को मानो करंट सा लगा हो, वो उठ कर खड़ा हो गया और उसने बिजली की तेजी से अपनी पैन्ट उतार फेंकी.

ऐसा कुछ देर करने के बाद मैंने उन्हें सीधा लेटाया और मैं उनके दोनों पैरों के बीच में आ गया.बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ: खेल शुरू ही होने वाला था … नाश्ता करते हुए मैंने उनसे पूछा- दोबारा सोच लो, चुदाई के प्लान में कोई बदलाव है या वैसा ही होगा?मेरा इशारा सुकन्या रानी समझ गयीं और होंठ चबाते हुए बोली- क्यों? नहीं होगा क्या आपसे?इतना सुनते ही मैं सुकन्या को एकटक देखने लगा और वो उसी तरह होंठ चबाते हुए मुस्कुरा रही थी.

मंजू घबरा कर मेरी तरफ पलटी, बोली- राज, क्या कर रहे हो? संजू आ जायेगा प्लीज़ छोड़ो मुझे!लेकिन संजू का डर था किसे? मैंने उसको समझाया कि रिचार्ज की दुकान पास में नहीं है उसके लिए उसे थोड़ा आगे बाजार में जाना होगा, उसको आधा घन्टा लग जायेगा! तुम चिंता न करो और उसके स्तनों को दबाने लगा.ऐसे हर मकाम पे, जहाँ नौकरियों के लिये लोग जाते हैं, उनकी जिस्म की ज़रूरतों के मद्देनज़र इंतजामात रहते ही हैं लेकिन पीछे औरतों के लिये कोई इंतजाम नहीं।उनकी ज़रूरतों को समझता ही कौन है.

देहाती सेक्सी मूवीज - बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ

इस तरह से 10-15 मिनट के बाद जब उसका वीर्य लंड से निकलने वाला था, तो लंड और ज्यादा अकड़ गया.मैं चौंक गया कि मॉम तो बड़ी सुबह नहा लेती थीं, आज इस वक्त बाथरूम में कैसे.

जैसा कि मैंने बताया कि मेरा उनके घर आना जाना था, लेकिन एक साल तक मेरी उनसे कभी बात नहीं हुई. बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ यहाँ मैं आपको बताना चाहूँगा, कि मैंने हाल ही में अपने फ्लैट में कैपिटल रिपेयर करवाई थी और हाई ग्रेड सीमेंट के साथ री ग्राउटिंग भी, खास तौर पर अपने घर को साउंड प्रूफ करने के लिए! क्योंकि पहले जब सेक्स के समय नताशा चिल्लाती थी तो उसकी आवाज किसी रेल के इंजन की तरह सारे घर में गूंजती थी और अवश्य ही पड़ोसियों को भी सुनाई देती थी.

फिर बापू बोला- बेटी, तेरी चूत अभी भी दर्द कर रही है क्या?पद्मिनी बोली- जी बापू, अभी भी हल्का दर्द है.

बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ?

बेटी टॉवल हटा के नंगी हो गई थी तो माँ भी ब्रा और पेंटी निकाल कर चुत में उंगली कर रही थी. मैं तो कई महीनों से परेशान हूँ कि काश कोई मुझे चोद कर कली से फूल बना दे, पर मैंने बदनामी के डर से कभी किसी लड़के को लिफ्ट नहीं दी. यहाँ होटल में ही किसी को पटा लो, और कोई ना पटे तो यहाँ के स्टाफ के किसी लड़के के साथ अपनी प्यास बुझा लो!तब अंकुश के एक मित्र ने मुझे कहा कि भाभी आप खीरा, गाजर, मूली या केला लेकर उससे अपनी कामुकता को शांत कर लो।तब मैं पूरी नग्न थी लेकिन जैसे उन तीनों दोस्तों के लिये तो मेरा कोई वजूद ही नहीं था वहां… इससे अधिक मेरा अपमान और क्या हो सकता था.

सामने वही खूबसूरत सा चेहरा दिखा लेकिन चेहरे पे थकान और आँखों में लालिमा साफ दिख रही थी. अब पद्मिनी साधारण परिवार की लड़की थी, तो रात को नाइटी नहीं पहनती थी बल्कि वैसी ही सो जाती थी, जिस ड्रेस में रहती थी, यानि वही छोटा स्कर्ट और छोटी सी तंग चोली में सो जाती थी. फिर साड़ी का सिरा पकड़ कर धीरे-धीरे खींचने लगा, वो गोल गोल घूमने लगीं.

उसे ये बात शायद समझ में नहीं आई थी, वो बोला- मेमसाब… हाँ तो ड्राइवर ही हूँ ना. दोनों ही आह्ह्ह्ह… ऊउईई… यू सक गुड… सक माय पुसी… उम्म्ह… अहह… हय… याह… कम ऑन फास्ट…”उनकी मादक आवाजें निकलने लगीं. लेकिन फिर भी मेरी शर्म, मेरी अना, मेरा गुरूर मुझे बेपर्दा होने से रोक रहा था।पर मेरी मुश्किल अहाना ने आसान कर दी.

तो मैंने कहा- इनके भूत के साथ कहीं आपकी चुड़ैल तो नहीं जागेगी ना?मैडम बोलीं- नहीं, अभी तो नहीं! बस देखते हैं कि कब तक शांत रहती है. तब मम्मी ने पापा से कहा कि लाइट तो ऑफ कर लिया करो वरना कभी लड़की जाग गई तो उसे नज़र आ जाएगा.

तभी कविता ने ज्योति से पूछा- ज्योति ये बता कि तुझे चुदाई में कितना मजा आया?ज्योति ने जवाब दिया- दीदी मुझे बहुत मजा आया, आप दोनों का बहुत बहुत धन्यवाद.

मैंने बहू की चूत को मुग्ध भाव से निहारा; बहूरानी की चूत के दर्शन मुझे सदा से ही अत्यंत प्रिय रहे हैं.

हल्के गुलाबी रंग की अपनी चुत को देख मस्त होकर मैं अपने भाईजान से बोली- ओह. मैंने जैसे ही उसकी नजरों से नजरें मिलाईं, वो बोली- अब पास आये तो मैं पापा से सब कह दूँगी. पद्मिनी बोली- आप माँ की भी गांड मारते थे?पापा- हाँ बेटी, वो तो बहुत मज़े से अपनी गांड में लंड करवाती थी.

अब मैंने धीरे धीरे धक्का मारना शुरू किया, तो वो भी मेरे पीठ को सहलाने लगी और कमर को दबाने लगी. फिर एक दिन भाभी जी मोबाइल पर एक मिस्ड कॉल आया जो कि एक अज्ञात नंबर था. थोड़ी देर बाद वो बोली- क्या आप मुझे खिड़की की तरफ बैठने दे सकते हैं?तो मैं तुरंत बोला- ठीक है, आप आ जाओ.

एक दूसरा लड़का बोला- हमें तो तुम्हारी मैडम ने बताया था, तुम बहुत अच्छा डांस भी करती हो और मुर्दे लंड में भी जान डाल देती हो.

गरमी के दिन थे मेरी बीबी बच्चे लेकर 15 दिन के लिेए छुट्टी बिताने मायके चली गई. फिर वो बोला- जानेमन, वो लंड मेरे जितना लंबा मोटा नहीं है और वो कुछ ज़्यादा जानता भी नहीं है. फिर दूसरे दिन सुबह सुबह ही पापा ने नींद में ही मुझे चोदना शुरु कर दिया.

यह सुन कर मैं बिल्कुल चुप हो गई क्योंकि अब कुछ बोलने को बाकी ही नहीं बचा था. आते ही मेरे पास बैठ गये और शादी, चढ़ावे के सामन वगैरह की बातें करने लगे. कुछ कदम जाने के बाद वो फिर से मुड़ीं और हाथ के इशारे से दिखाते हुए बोलीं कि वहां नीबू-पानी का गिलास रखा है, पी लो और चूल्हे पे चाय पक रही है, हो जाए तो पी लेना.

भाभी के होंठ चूसने के लिए मैं कब से तरस रहा था और आज वो मेरे सामने पड़ी थीं.

पद्मिनी बोली- आप माँ की भी गांड मारते थे?पापा- हाँ बेटी, वो तो बहुत मज़े से अपनी गांड में लंड करवाती थी. हालाँकि वो बड़े रफ तरीके से मेरी धर्मपत्नी की चूत मारने में लगा हुआ था लेकिन क्योंकि नताशा को भी नशा चढ़ा हुआ था, इसलिए उसे मजा आ रहा था और वो भी खूब जोर-जोर से चिल्लाते हुए आर्थर के लंड को अपनी चूत में पिलवा रही थी.

बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ वो टिफिन लेकर किचन में गईं तो अंकल के ड्यूटी जाने और बच्चों के स्कूल चले जाने के कारण, घर में उनको अकेली देख मेरा साहस बढ़ गया. और बिमारी के कारण सुहागरात भी नहीं मनी और निकाह के कुछ दिन बाद ही वे चल बसे और तुम्हारी ये नूरी खाला शादी कर के भी कुंवारी रह गयी.

बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ मेरे हाथ उनके कन्धों पर थे और वह मुझको अपनी ओर खींच रही थी और उसी बीच मेरे हाथ उनके चोली पर से होते हुए खाला की पीठ कमर पर होते हुए उनके स्तनों पर पहुँच गये. मेरे इतना कहते ही भाईजान ने स्पीड तेज़ की तो मुझे असली चुदाई का मज़ा मिलने लगा.

3-4 मिनट चाटने के बाद मैं उठा और उसी पोज़िशन में ही अपना लंड सामने से ही मम्मी की चूत में डाल दिया और हल्का हल्का शावर भी चला दिया.

बीएफ पिक्चर ओपन दिखाओ

भाभी की मटकती गांड को देख कर हर कोई उनकी चुत चोदने को तैयार हो जाए. वो कार से बाहर निकली, सर्दी की वजह से ओवर कोट में थी। वो उस समय गज़ब की हूर लग रही थी … एक कुछ पल तो मैं उसे देखता ही रह गया. यह देख वो एकदम घबरा गयी और मुझे उसने दूर झिड़क दिया और अपने होठों को हाथ से पोंछती हुए बोली- चूतिया हो का बे…मैंने उसके मुख से ये सुना तो सच बोलूं तो मेरी गांड फट गयी.

लेकिन थकान की वजह से ऑफिस में बहाना करके छुट्टी ले ली।दोपहर में नूतन का फ़ोन आया- भाई, मैं तेरे गेट के बाहर हूं, मम्मी और दी कल आएंगे क्यूंकि उन्हें उन लोगों ने रोक लिया।वो मेरे कमरे पर आई. प्रिय अन्तर्वासना पाठकोमई 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…मैं आप सब पाठकों को अपनी आप बीती बता रही हूँ. फिर मैं उसको ऊपर वाले कमरे से से नीचे लाया क्योंकि मुझे लाइट ऑन करके चुदाई करने का मन था.

पूजा अपने चूतड़ उठा उठा कर धक्के दे रही थी, मैं भी नीचे से अपनी गांड उठा के धक्के देने लगा.

मेरी मौसी की चुत चुदाई कहानी के पहले भाग में आपने पढ़ा कि मौसी हमारे घर रहने आई थी एक सप्ताह के लिए क्योंकि मेरे घर में कोई नहीं था. लालजी को अभी कुछ पता नहीं था, तो मैंने सोचा कि इसे कैसे पटाया जाए कि ये भी चुदाई के खेल के लिए तैयार हो जाए. मैं उनके बाथरूम की किसी दरार से उनको देखने की सोच ही रहा था, तभी पीछे से छोटी चाची ने मुझे देख लिया और बोलीं कि यहां क्या कर रहे हो? तुम्हारी माँ तुम्हें बुला रही है.

मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागमेरा नौकर राजू और मेरी बहन-4में आपने पढ़ा कि मेरी छोटी बहन सीमा अपने नौकर के साथ पहली बार सेक्स करने जा रही थी. मैंने कभी किसी को फ्रिन्च किस तो किया नहीं था पर धूम-2 में देखा जरूर था तो मैंने ठीक वैसे ही करने की कोशिश की और लगभग 15 से 20 मिनट या शायद उससे भी ज्यादा देर तक हमने किस किया. लेकिन जैसा मैंने आपको बताया कि चाची को गर्मी बहुत लगती है, इसलिए वो कहने लगीं कि मैं तो ऊपर छत पर ही लेटूँगी चाहे मच्छर काटें या कुछ भी हो… गर्मी मुझसे बर्दाश्त नहीं होती.

मेरी तकलीफ असहनीय थी, मैं मन ही मन सोच रही थी कि मैं यहाँ क्यों आयी. मेरी पत्नी ने मेरे होंठों को चाट लिया और अपनी सुगन्धित, गुलाबी जीभ मेरे मुंह में घुसेड़ दी.

भाभी की मटकती गांड को देख कर हर कोई उनकी चुत चोदने को तैयार हो जाए. मगर एक दिन रात को मैं सो रही थी तो माँ की कुछ बोलने की आवाजें मेरे कान में पड़ गईं. मैं हैरान होकर बोला- मैम, आपकी बेटी इतनी बड़ी है, फिर भी आप आज भी उसकी सिस्टर लग रही हैं.

मेरी एक ही गांड है भोसड़ी के मेरी गांड फाड़ोगे क्या?एकता ये बोलती हुई गालियां निकालने लगी और जोर जोर से गुर्राने लगी.

मैंने नीचे से एक जोर का धक्का दिया और पूरा लण्ड पूजा की चूत में…मैंने उसकी दोनों चूचियां अपने हाथ में पकड़ी और पूजा धक्के देने लगी. श्लोक- नहीं यार जीजू, आप झूठ बोल रहे हो। मैं नहीं मानता कि रीना दीदी…मैं- अरे भाई श्लोक, तुम्हारी कसम… तुम्हारी रीना दीदी की कसम… हमने यह लड्डू बड़े मजे के साथ खाया है. थोड़ी देर बाद मैंने अपनी जींस और अंडरवियर उतार दिए और अपने नंगे लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगा.

उन्होंने कसमसाते हुए मुझसे छूटने का ड्रामा किया और अंततः मेरा साथ देने लगीं. ’मुझे अभी भी डर था कि कहीं ये मेरा चेहरा देख अपना मूड न बदल दे तो मैंने अपना चेहरा घुमा कर अपनी गांड उसके लिए खोल दी.

फिर उसने पीछे हाथ करके अपनी ब्रा भी खोल दी और दूसरी ब्रा पहनने लगी. शायद वो भी जान गया था कि मैं क्या चाहती हूँ इसलिए वो भी हवस भरी निगाहों से मेरी ओर देखने लगा।एक दिन वहां बाहर बालकनी में मेरे कपड़े सूख रहे थे तो मैंने देखा कि खिड़की में से वह मेरी पैंटी और ब्रा को हाथ में लेकर सूंघ रहा था और फिर चला गया।फिर एक दो दिन बाद मैंने देखा कि मेरी ब्रा और पेंटी कोई चुरा ले गया. मैंने उससे मुझे छोड़ने को कहा, जिस पर उसने मुझे बिंदु को अपने के लिए बुलाने की हां कर दी.

सेक्स वीडियो बीएफ सुहागरात

जब तक मेरा वीर्य नहीं निकल गया, तब तक भाभी मेरे लंड को चूसती रहीं और फिर पूरा पानी पी गईं.

भाभी भी अब उनका पूरा साथ दे रही थी।भैया ने फिर भाभी को खड़ा किया और उनकी ब्रा पैंटी, अपना अंडरवियर निकाल कर फेंक दिया, अब भैया भाभी दोनों लोग मेरे सामने पूरे नंगे थे. थोड़े देर में बापू आह आह करने लगा और बोला- आह बेटी, तुम तो बहुत मज़ा दे रही हो. तो नूरी खाला ने कहा- आमिर, मेरे दूल्हे, धीरे करो, बहुत दर्द होता है.

उसकी ख़ुशी देख कर मुझे भी बहुत ही अच्छा लगा कि मैंने किसी को खुश किया. इस बीच उसके हाथ मेरे बालों को लगातार सहला रहे थे, मेरा एक हाथ उसके बालों को!तब हम लोग एक दूसरे से अलग हुए और एक दूसरे की तरफ मुस्करा कर देखने लगे. सेक्सी चुदाइउसने किया तो मनोरमा ने देखा कि उसने चूत पूरी तरह से सफाचट की हुई थी.

मेरे परिवार में मेरे पापा-मम्मी, बड़े चाचा-बड़ी चाची, छोटे चाचा-छोटी चाची और उनके बच्चे सब साथ में रहते हैं. अंदर गयी तो देखा कि मेरी सखी मधु अपने प्रेमी राज को अपने निप्पल चुसाने में व्यस्त थी, गोल गोल टाईट चूचियां थी मधु की… राज उन्हें बारी बारी से अपने मुंह में लेकर चूस रहा था और उसका एक हाथ दूसरी चुची को दबा रहा था.

जिस समय दीदी नहाती थी, उस समय हमें और पापा को बाहर आना पड़ता था या जब उसे कपड़े पहन बदलना होता था तो वो हमें बाहर जाने को कहती थी और दरवाजा बंद करके कपड़े बदलती थी. उनकी गरम बातें सुनकर मेरा रॉकेट भी खड़ा हो गया, मुझे चुदाई की बातें सुनने में मजा आ रहा था. तभी ऑडियन्स से आवाजें आती है, इतनी खूबसूरत पत्नी से नाराज नहीं होते है, उनको लग रहा था कि मैं उससे नाराज हूं और इसलिये मैं उसको अपनी बांहों में नहीं ले रहा हूं जबकि यह मेरा संकोच था कि कैसे उसे मैं अपनी बांहों के घेरे में लूं।इधर उसके चिपकने से उसके जिस्म की गर्मी भी मुझे आह्लादित कर रही थी.

उसने कुछ नीचे गिरा दिया और उठाने का बहाना करते हुए कुछ ज्यादा ही झुक कर मुझे अपनी लगभग आधे से अधिक चूचों की झलक दिखाई और कहा- मुझे खुद भी ज्यादा ध्यान रखना है ताकि आपके इलाज से मुझे चैन मिल जाए. माधुरी ने हंसते हुऐ कहा- वैसे आप कितने बजे उठे थे, जो इतनी सुबह आ गए?मैं भी हंसते हुए बोला- यार याद बहुत आ रही थी. लोग कहते हैं कि पुलिस वाले बहुत गंदे होते हैं, मगर सभी को एक ही तराजू में तौलना ठीक नहीं है.

उसने मुझे पूरी बेदर्दी से चोदा, आज उसकी चुदाई से मुझे भी मजा आ रहा था.

बिल्कुल कर सकती हूँ… लेकिन वहां स्टूडियो में सब कुछ रियल नहीं होता, एक-एक शॉट के दस दस रीटेक होते हैं, फैसिलिटी ही अलग होती हैं… और मैं तो आज बिल्कुल ही तैयार नहीं थी एनल सेक्स के लिए… और वो भी ऐसे मोटे ढपाल लंड के साथ!”प्रत्युत्तर में आर्थर सिर्फ हंसने लगा और उसने अपने कंधे उचका दिए. मैंने मुस्कराते हुए कहा- फूफा जी क्या करूँ, आपका लंड है ही ऐसा… मेरी चूत आपके लंड की दीवानी हो गयी है और चाहती है कि ऐसा लंड रोज उसके अंदर घुसे.

उसके जाने के बाद मैं बाथरूम में गई और अपनी चूत को और अपनी गांड को साफ़ किया और नहा कर अपने कपड़े बदल लिए और घर का काम करने लगी. मैं अंदर ही अंदर मुस्कुरा उठा क्योंकि हम दोनों ही इलाहाबाद से हैं इसलिए अगले ही दिन आज़ाद पार्क (कंपनी बाग़) में मिलने का प्लान बना लिया गया. फिर हमने इसके सुर ताल (स्टेप) तैयार किए व एक्शन (भंगिमाएं) भी सोचे.

सफ़ेद पजामा और हल्के नीले रंग का ढील ढाला स्लीवलेस टॉप जो उसके बदन पर खूब फब रहा था. कितना सेक्सी है, इस्स्स… इसकी छाती, आह्ह्ह्ह… इसके निप्पल, ओह्ह्ह्ह… इसके तो होठों को चूस लूं, हाय रे क्या जिस्म है इसका, और कैसे चोद रहा है, इस्स्स… आह्ह्ह्ह… कैसे मज़े से चुदवा रहा है. तो स्पीड बढ़ाऊँ?तो उसने हाँ बोला और फिर उसे उसे थोड़ा जोर से चोदने लगा और लंड भी अन्दर डालता गया.

बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ मैं आँखों को बंद करके अंकल और आंटी की चुदाई की कल्पना कर रोमांचित हो गया. मेरी उम्र 26 साल है मैंने बी एस सी नर्सिंग की हुई है मेरा कद 5’7″ इंच है, मेरा रंग दूध जैसे गोरा है मेरी छाती 38″ और कमर 34″ है.

बीएफ सेक्सी यूपी की

आज राज ने मुझे अच्छे से चोद कर शांत कर दिया था, मैं उसकी चुदाई का मजा ले रही थी और कुछ ही पल में उसने चोदने की स्पीड बढ़ा दी और राज अब मेरी चूत में खाली होने लगा और फिर शांत होकर कर मेरे बदन में लिपट गया।आज मेरी चुदाई की तमन्ना पूरी हो चुकी थी, मेरा मन शांत हो चुका था।कुछ देर बाद हम दोनों उठे और अपने कपड़े पहनने लगे. इस बार उनके साथ मैं भी उनकी चुत में झड़ गया और हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर वैसे ही लेटे रहे. दूसरे दिन का नजारा, प्यार भरा दिन और रात में दमदार चूत की चुदाई हुई.

दीदी को लगा कि मैं सोने चला गया हूँ, जबकि मैं दूर होकर उनकी बातें सुनने लगा. यह कहानी बिल्कुल सच्ची है और जिसके साथ घटित हुआ है, उसे मैं जानती हूँ… और क्योंकि उसकी पहचान को पूरी तरह से छुपाना था, इसलिए मैंने खुद पूनम को (मेरा अपना नाम) इस कहानी की नायिका बनाना ही उचित समझा ताकि यही समझा जाए कि यह मेरी कहानी है. देवर भाभी का राजस्थानी सेक्सी वीडियोमेरे इन झटकों से उसे कितनी खुशी मिल रही थी, यह उसकी आह भरी सिसकारियों में महसूस कर रहा था.

मगर उसने कहा- मुझे सभी दोस्तो ने बता दिया था कि जब पहली बार चूत में लंड जाएगा तो उसमें से खून निकलेगा मगर थोड़ी देर बाद दोनों को पूरा मज़ा आएगा.

आंटी धीरे से मेरे कान में बोली- प्रशांत डाल दे अब… बर्दाश्त नहीं हो रहा…मैं आंटी के ऊपर आ गया, मैंने अपना लंड उनकी चूत में रखा और झटका दिया पर मेरा लंड फिसल गया, अंदर नहीं घुसा. मेरी कहानी के पहले भाग में अब तक आपने पढ़ा कि मेरी सहेली तबस्सुम मुझे खुल कर जीने के लिए अपनी चूत का इस्तेमाल करने के बारे में बता रही थी.

मैंने कहा- मम्मी जी, एक ट्रिप तो मारने ही दो क्योंकि फिर पता नहीं कब टाइम मिलेगा. उसने गुस्से से चोकोलेट फेंक दिया और कहा- मैंने ये नहीं लाने को कहा था. वह हंस दी और मना करने लगी, तब मैं उससे विनती करने लगा- दीदी प्लीज़ दीदी…तब दीदी बोली- ओके, मैं कपड़े बदल रही हूं, जितना दिखेगा सो देख लेना.

वो मेरे ऊपर आ गई और उसकी नरम नरम, गरम गरम, गोल गोल चूचियाँ मेरे लंड को बीच में लेकर लंड को मसलने लगीं.

मेरी मम्मी और चाचा तो मुझे फेसबुक के लिए भी मना करते थे लेकिन मैं चोरी छिपे फेसबुक पर उस लड़के से बात कर ही लेती थी. क्या अपने पिता का प्यार स्वीकार करेगी? क्या एक पढ़ने जाने वाली लड़की पढ़ी लिखी ऐसे बेहूदा बात को मानेगी? बग़ावत कर बैठी तो?? क्या करेगा बापू तब? उसको हमेशा के लिए खो देगा. उनके मुस्कुरा कर देखने से मुझे कुछ मामला चुदाई का सा लगा, लेकिन भाभी जब तक कोई इशारा नहीं देतीं, कुछ भी करने का मतलब था कि इज्जत की फजीहत करवा लेना.

सनी लियोन की 2020 की सेक्सीमेरी माँ धीरे धीरे अपने कूल्हे उछाल उछाल कर चुत चुदाई का मजा लगातार ले रही थी. मैं अभी सोच ही रहा था कि कैसे चैक करूँ कि ये सो रही है या गाने सुन रही है कि तभी शबाना का सिर मेरे कंधे पर आ कर टिक गया.

छठ वाला बीएफ

मेरी इस बात से उसे हँसी आ गयी और वो चुप हो गयी लेकिन हम दोनों एक दूसरे से चिपके ही थे. तो उसने मुझे बताया कि वह ग्रेजुयेशन कर रही है और साथ ही सिविल सर्विसेज़ की तैयारी भी कर रही है. कुछ देर सहलाने के बाद मैंने अपनी उंगली उसकी चुत में डाल दी, लेकिन उसने नाराज होकर उंगली बाहर निकलवा दी.

”पूजा फिर रमेश का चुदाई पूरा साथ देने लगी, वो रमेश के ऊपर चढ़ के उसके सारे बदन को प्यार करने लगी. कोई और साधन नहीं है?भाभी ने कहा- किस लिए?मैंने- प्यास बुझाने के लिए?तो भाभी ने गहरी सांस लेते हुए कहा- कौन मेरा सहारा बनेगा?मैंने कहा- भाभी मैंने आपको एक बात बोली थी. तो कभी दूसरा मसलता तो पहला चूसता और मॉम आँखें मूंदें चूची चुसाई का मज़ा ले रही थीं.

इतने में धीरे से उसने अपना हाथ पेटीकोट के ऊपर से ही मेरी चूत के ऊपर रख दिया और पेटीकोट के ऊपर से, जहां मेरी चूत थी, उस जगह को ज़ोर से दबाने लगा और वहीं अपना हाथ रगड़ने लगा. और राशिद दोनों हाथों से उसे नीचे से ऊपर सहला रहा था, उसके दूध दबा रहा था और बारी-बारी एक-एक दूध पी रहा था।फिर दोनों के चेहरे मिले और दोनों एक दूसरे के होंठ चूसने लगे. मेरी पिछली कहानीदोस्त की गर्लफ्रेंड को जम कर चोदामें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने दोस्त की गर्लफ्रेंड को चोदा तो उसे बहुत मजा आया और वो मुझसे चुदाने के लिए उतावली रहने लगी.

मेरी जीवनसाथी अभी तक आर्थर का लंड चूस रही थी और अब एरिक ने भी अपना लंड उसकी ओर बढ़ा दिया. सिसकारियाँ लेते हुए रेखा रानी ने इसी प्रकार प्रसन्नतापूर्वक अपने दोनों पैर चटवाये.

कुछ वक़्त इंतजार करने के बाद मैं फिर से अपने पैरो को बढ़ाने लगा और धीरे धीरे मेरा पैर उनकी जांघ के बीच में आ गया.

मेरी मेल आईडी है[emailprotected]आप मुझे फेसबुक पर भी ढूंढ सकते हैं. सबसे लंबा लैंड वाली सेक्सीबहूरानी ने अपने पैर सीधे कर लिए थे और अब एड़ियों पर से उचक उचक कर मेरा लंड अपने चूत में दम से लील रही थी और मेरे धक्कों के साथ ताल में ताल मिलाती हुई अपनी जवानी मुझ पर लुटा रही थी. 15 साल का सेक्सीफिर गीता ने पूछा कि सारी रात को एक ही करेगा या कोई और भी होगा?उसने कहा- अगर कोई और हुआ तो पैसे भी ज़्यादा मिलेंगे. वैसे हर रोज़ तो पद्मिनी उसी ड्रेस को गुसलखाने से पहन कर निकलती थी, मगर उस वक़्त कभी भी बापू घर पर नहीं हुआ करता था.

मुझे चुत चोदने का मन तो बहुत कर रहा था, लेकिन कोई चुत नहीं मिल रही थी.

दीदी ने गिलास उठाया और जीजा के मुँह से लगा कर कहा- लो राजा तुम दारू पियो और मुझे सिगरेट दो. जब आर्थर अपनी सबसे प्रिय नताशा की गांड को अपने ढपाल लंड से टहोकने लग गया. मैं जैसे ही आंगन में नहा कर आई, सुरेंद्र जीजा सामने आ गये और उस समय अगल बगल कोई नहीं था तो मुझे बोले- वन्द्या जी, तुम्हारा सब कुछ दिख रहा है, मेरी नियत मत खराब करो नहीं अच्छा नहीं होगा.

जीजा ने दीदी को उठा कर चित लिटा दिया और लंड को दीदी की फुद्दी में ठोकते हुए उनके ऊपर चढ़ गया. वैसे तो यह मेरी पहली चुदाई की कहानी है लेकिन अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ना और मुठ मारना मेरा शगल रहा है. चलते चलते एक बहुत लम्बी चुम्मी ली, रानी की चूचियां थोड़ी सी निचोड़ी और थोड़े से नितम्ब दबाये.

महिला सेक्स बीएफ

फिर मैंने एक मूली उठाई और उसे उनकी गांड में डाल दी और उन्हें सीधा करके अपना लंड उनकी चूत में पेल दिया. मैं उसने होंठों को खा जाना चाहता था और वह मेरे होंठों को काटना चाहती थी. उसने मुझे कहा- तुम को थोड़ा ज्यादा दर्द होगा जो तुमको सहन करना होगा.

इस पोज़ में वो बड़े तगड़े तगड़े धक्के मार सकती थी और वैसा ही कर रही थी.

खास तौर पर मुझे शादीशुदा लेडीज ज्यादा पसंद हैं और उनमें भी मोटी औरतें मुझे बहुत ज्यादा आकर्षित करती हैं.

वो तो एकदम से मेरे बदन से चिपट गई और जोर जोर से चुम्बन करने लगी- पापा, मैं तो कब से इंतज़ार कर रही हूँ, वहां दिन रात हम दोनों चुदाई करेंगे. टोपा डालने से ही चूत की फांकें चौड़ा गईं, इससे वो डर गई और उसने अपने पैरों से मेरी गांड को जकड़ लिया. भारतीय सेक्सी वीडियो साड़ी मेंफिर मैंने मम्मी को बताया कि गाड़ी गिर गई थी और गाड़ी बनवाने में लेट हो गया.

और फिर कुछ देर बाद मेरा पूरा माल निकल गया, जिसे वो पी गईं और फिर थोड़ी देर चूसकर उन्होंने मेरा लंड वापस से खड़ा कर दिया. अपन तीनों गुड्डा गुड्डी के खेल को खेलेंगे, बता लालजी तुम्हें कोई दिक्कत तो नहीं है ना?लालजी बोला- नहीं वन्द्या मुझे बहुत पसंद है. धीरे-धीरे उनकी स्पीड बढ़ती ही जा रही थी और वो लगातार धक्के लगा रहे थे.

3-4 मिनट चाटने के बाद मैं उठा और उसी पोज़िशन में ही अपना लंड सामने से ही मम्मी की चूत में डाल दिया और हल्का हल्का शावर भी चला दिया. मेरी वाइफ गर्भवती होने के कारण नहीं जा सकी लेकिन उसने मुझे कहा- मम्मी घर पर अकेली होंगी तो आप जाओ!तो मैं वहाँ चला गया.

उसे देखते ही मेरे मन में कुछ कुछ होने लगता, पर जानता था कि वह मेरी बहन है.

जिस तरह से उसने मुझे भौंचक्का कर दिया था, ठीक उसी तरह मैंने भी उसको अपने आपको संभालने का भी मौका नहीं दिया. अचानक एकता ने स्पीड बढ़ा दी और अब वो जोर जोर से लंड के ऊपर कूद रही थी. उन्होंने ही मुझसे धमकी देकर कहा था कि अगर जान सलामत चाहते हो तो सुबह आकर बीवी को ले जाना.

नि शुल्क सेक्सी वीडियो अब मैं माधुरी के 32 इंच के दूधों को मसलने लगा, वो भी मेरे लंड को दबाने लगी. डॉली का हमेशा ज्यादा ही पानी निकलता है, जो डॉली की चुत से होते हुए हिप्स पर होते हुए एकता की चूत पर आ गया.

हटो जल्दी से कपड़े पहनो!बहूरानी बेसब्री से बोलीं और बेड से उतर कर खड़ी हो गयी, उसकी चूत से मेरे वीर्य और उनके रज का मिश्रण उनकी जांघों पर से बह निकला जिसे उसने जल्दी से अपने घाघरे से पौंछ डाला और अपना घाघरा चोली पहनने लगी. उसकी चूत पर उंगली रखी और ऊपर से उसे सहलाया तो वो फिर से चिंहुक उठी. मैंने आंटी की सलवार उतारी, उन्होंने अपने चूतड़ उठाकर सलवार उतारने में मेरी मदद की.

बीपी सेक्सी बीएफ सेक्सी

वह थोड़ा कसमसाने लगी तो मैंने उसके कन्धों को पकड़ कर जोर लगा कर एक ही झटके में पूरा लण्ड अन्दर ठोक दिया. उसने खिड़की के पास बैठते हुए मुझे मुस्कुराते हुए ‘सॉरी’ कहामैं समझा नहीं कि इसने सॉरी क्यों कहा. मैं तो उसे चोदने का चान्स ढूँढ रहा था, पर एक दिन अचानक खुद उसी ने मुझे अपने घर बुला लिया.

छोटी चाची बोलीं- तेरी गर्लफ्रेंड की तो चुत फाड़ दी होगी तूने?वे दोनों हंसने लगीं. मैं भी बोला- ठीक है, चलो!वो अंदर गए, एक तेल की शीशी लाये और मेरे लन्ड पर लगा दिया और उन्होंने अपनी गांड पर भी लगा लिया और बेड पर ऊपर पैर करके लेट गए।फिर मैंने उनकी गांड में पहले उंगली करके छेद देखा और अपना लन्ड लगा दिया, धीरे से अंदर धक्का दिया लेकिन लन्ड अंदर गया ही नहीं… दो तीन बार कोशिश की, फिर नहीं गया.

प्रतिक्रिया में आंटी ने भी मुझे गले लगा लिया, मैं मन ही मन बहुत खुश हुआ, मैंने आंटी को गिरा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया सूट के ऊपर से ही उनकी चूची दबाने लगा.

ऊपर से होंठों पर लगायी हुयी लिपस्टिक उस नूर पर चार चाँद लगा रही थी. दोस्तों की संगत में मैं काफी पहले से ही मुठ मार रहा हूँ और पॉर्न देखना भी शुरू कर दिया था, जिसके प्रताप से मेरा लौड़ा काफी बड़ा हो गया है. मैं अपना मुँह उनके कान के पास ले गया और धीरे से बोला- भाभी, आज आप मेरी सील तोड़ने वाली हो.

यह कह कर वो मुझसे आकर लिपट गया और मेरे होंठों को उसने पहली बार किस किया. फिर थोड़ी देर तक हम वैसे ही लेटे रहे क्योंकि उनका पानी निकल चुका था. हमारी लुगाई साड़ी खोल कर लेट जाती है और हम अपना लंड झट से पेल के शुरू हो जाते हैं.

कुछ जोरदार झटकों के साथ हमारा दोनों का एक साथ ही निकला और हम ऐसे ही पड़े रहे.

बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ: मैंने धक्के तेज कर दिए अंदर बाहर… अंदर बाहर… धच्च फच्च धच्चफच्च!उससे मैंने पूछा- लग तो नहीं रही?वह चुप रहा. इधर पीछे पीठ तरफ मेरे सुरेंद्र जीजा मेरी पूरी पीठ को अपनी जीभ से चाटने लगे, किस करने लगे, साथ में कूल्हों पर अपना हाथ भी चला रहे थे.

सुकन्या ने होटल में जाने से मना कर दिया था कुछ व्यक्तिगत कारणों से, मैंने ज्यादा दबाव नहीं डाला इसलिए जगह का चुनाव थोड़ा मुश्किल हो रहा था. उसने अब खुद से अपनी टॉप निकाल दी, वो सिसकारी मार मार कर मेरे चूसने का मज़ा लेने लगी. तभी मेरी नजर उसके छाती पर पड़ी, जहाँ पर उसके तने हुए निप्पल उसकी साड़ी से दिखाई पड़ रहे थे।मैंने उसके हाथ को हटाते हुए कहा- तुम सो जाओ, मैं यहीं सो जाऊँगा।वो बोली- नहीं भईया, बेड बहुत बड़ा है, उस किनारे आप लेट जाओ और मैं इस किनारे लेट जाऊंगी। सुबह से आप इस सिंगल सोफे पर लेटे हुए हो, आपकी पीठ दर्द कर रही होगी।ठीक है, लाईट बुझा दो!” कहकर मैं बेड के दूसरे किनारे पर दूसरी तरफ करवट बदल कर लेट गया.

रमेश नंगा हुआ और बाथरूम में घुस गया- हाय सेक्सी बेबी!और उसने पूजा को अपनी बांहों में जकड़ लिया.

बुड्ढे को अब नीचे लेटा कर मैडम उसके मुंह पर अपनी योनि रख कर बैठ गई और खुद ही आगे पीछे ऊपर नीचे हिलने लगी यूं कहें कि मस्ताने लगी।करीब 5-7 मिनट वह दोनों इसी अवस्था में रहे, उसके बाद मालिक ने मैडम को नीचे लिटा दिया. ये सुन कर मैं डर गई और बोली- तुम दोनों को शर्म नहीं आती, मैं अभी अपने हज़्बेंड को बताती हूँ. वो पूरे पागलों की तरह मेरे लंड को चूसे जा रही थी, उसने लंड चूसने की स्पीड और बढ़ा दी और मैं उस बीच झर गया, वो मेरे वीर्य को चाट चाट कर पूरा पी गयी.