कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,काजल का एक्स एक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

छत्तीसगढ़िया गाना: कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो, वो मोनिंग कर रही ‘और ज़ोर से… ज़ोर से…’फिर मैं नीचे आया और पेंटी निकाली तो देखा एकदम क्लीन और पिंक चूत… मैं सीधा चूसने लगा, ज़ोर ज़ोर से काटने लगा, चची तड़प रही थी.

माता की चुदाई

मैंने अब थोड़ा स्पीड से दो तीन झटके लगाए और अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया और मैंने आगे से उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और किस करने लगा. मिया खलीपाअभी मैं आपको अपनी एक नई स्टोरी के साथ!जैसा कि आप सभी जानते हो कि मेरा वाइफ स्वैपिंग क्लब है जिसमें बहुत सारे कपल हैं जो वाइफ स्वैपिंग का मज़ा लेते हैं.

तुम कहो तो बात करूँ?मैंने मना कर दिया लेकिन अब रोज़ चुदाई के वक़्त वो ये सब कहते और मैं कुछ नहीं कहती. गर्ल्स हस्तमैथुनरात के 10:30 बजे थे कि मेरे फ़ोन की घण्टी बजी।मैंने फोन उठाया- हलो!‘मेमसाब सो गई क्या, दरवाजा खोलिये!’अब यह कौन है? यही सोच रहे हैं ना, शहर के फ्लैट में क्या गुल खिल रहा है।यह बात पड़ोसियों को भी नहीं पता चलती, लेकिन कोई होता है जिसे सब पता होता कि किसके यहाँ क्या हो रहा है, वो होता अपार्टमेंट का सेक्युरिटी गार्ड!मेरी चुत तो चुलबुला उठी, मैं सोचने लगी क्या करूँ.

आप तो थी नहीं इसलिए अकेले मुझे डर लग रहा था, बस इसीलिए देर से आँख खुली।निर्मला- हा हा हा तुम शहर की लड़कियां भी ना कमजोर होती हो, जाओ ये बर्तन बाहर रख दो.कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो: अच्छी तरह से छेदों को अपनी जीभ से नर्म करने के बाद, राजू ने अपनी दो-2 उँगलियों को अपने भाई की पत्नी की गांड में घुसेड़ कर उसे रवां किया और फिर पहली बार भाभी की प्यासी चूत में अपना फनफनाता हुआ लंड घुसेड़ कर चोदना चालू कर दिया.

मैंने कहा- तो मैं अपना पानी कहाँ छुड़वाऊँ?वो बोली- तेरे सामने लेटी हूँ, जहां मर्ज़ी गिरा दे.नीचे कोई सुन लेगा तो पता है क्या होगा?पूजा ने संजय का हाथ हटाया और सॉरी कहा।संजय- सॉरी कहने से क्या होगा.

तमन्ना के नंगे फोटो - कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो

इतना कह कर वो खुद मेरी चुत को मुँह में भरकर चूसने लगे। मुझे इस सब में बहुत बहुत मज़ा आया।इनके चारों दोस्तों के लंड बहुत मस्त थे एक का लंड 6 इंच का, जॉन का 9 इंच का, अजय का 8 इंच का और शाकिर का 5 इंच का था.मैंने भी अचानक से अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाला और तेजी से फिर उसकी चूत में डालकर 3-4 जोरदार धक्के लगा दिए, जिससे उसकी चीख निकल गई और वो मुझसे और कस के लिपट कर जोर जोर से चुदने लगी कि तभी अचानक दरवाजे पर घंटी की आवाज आई.

ले तेरी घोड़ी तैयार है आजा चढ़ जा!काका खड़ा हुआ और मोना के पीछे जाकर लंड को चुत पे सैट किया फिर मोना की कमर को कस के पकड़ के एक जोरदार धक्का मारा तो पूरा लंड एक हे बार में मोना की चुत में जड़ तक समा गया।मोना- आआईइ काका मार डाला रे. कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो मगर आपको ऐसे सूखा-सूखा मज़ा नहीं आ रहा होगा तो चलो थोड़ा सा गीला-गीला कर देती हूँ।सुबह के 8 बजे मुंबई के ही एक अलग घर में क्या चल रहा है उस पर निगाह डालते हैं।‘मोना कहाँ हो यार… मैं आ गया।’यह गोपाल है, उम्र 23 साल एकदम फिट इसकी शादी को अभी एक ही साल हुआ है। अब ये इस सेक्स स्टोरी में कहाँ से आया है.

कुछ देर उन दोनों से बातें करने के बाद मैंने पायल से कहा- मैं आपको तो दीदी बोलने लगी हूँ तो नीलेश जी को अब मैं क्या बुलाऊँ?तो पायल ने कहा- मैं तुम्हारी दीदी हुई तो ये तुम्हारे जीजू हुए… तुम इन्हें जीजू कह कर बुलाओ!तो उतने में ही नीलेश ने भी कहा- हाँ, तुम मुझे जीजू ही बोलो क्योंकि मेरी कोई साली नहीं है तो आज से पायल तुम्हारी दीदी और तुम मेरी साली हुई!थोड़ी बहुत और बात करने के बाद में अपने घर गई.

कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो?

ये मैं नहीं कह रही, ये सब संजय ने इस बुक में लिखा है। अब लास्ट बार बोलो करना है या मैं वापस जाऊं… फिर तुम ही कल संजय को जवाब दे देना।सुमन- नहीं. कह कर गीता मेरे पास आई, मुझे उठा कर खड़ा किया और मेरी पैन्ट की ज़िप खोल कर मेरा लंड बाहर निकाल कर मैडम को दिखाया. लगता था कि आज तो ये सख्त हुए चूचे थोड़े तो मुलायम हो ही जायेंगे, निप्पल भी हवस की तेज़ी में ऐंठ गए थे जैसे राजे का लौड़ा ऐंठा हुआ मेरी चूत की खबर ले रहा था.

मगर मेरी एक बात समझ नहीं आ रही वो मेरे सामने तो शायद वो सब कर दे जो तुमने बताया है मगर तुम्हारे सामने कैसे करेगी?संजय- तेरी समझ मेरी समझ से बहुत कम है. मैंने बिजली की तेज़ी के साथ उसकी चूत अपने होंठों में भर ली और अपनी जीभ को उसकी चूत में घुसाना शुरू कर दिया. मैं अपने एक हाथ से उसकी चुचियों को टटोलने लगा और अपना दूसरा हाथ उसकी स्कर्ट में डाल कर उसकी गांड की लकीर को सहलाने लगा.

और मुझे नींद भी आ रही है।मैं बोला- ठीक है।फिर हम दोनों एक-दूसरे की बांहों में बाँहें डाल कर सो गए।अगली सुबह वो स्कूल ड्रेस पहन कर स्कूल जाने के लिए रेडी हो गई थी। उसने मुझे 6. वो दर्द से कराहने लगीं।कुछ देर तक धक्कों का सिलसिला चला और जैसे-जैसे मैं ऊपर-नीचे होता गया. मैं करीब 10 बजे तक आऊँगा।रात में 10:30 तक मैं घर पहुँचा, मैं सीधे दूसरे माले पर चला गया। मैंने एक घंटे तक टीवी देखा फिर मैं बिस्तर पर लेट गया।रात 12 बजे से मेरे भटिंडा के दोस्तो के बर्थडे गुड विश मैसेज आने लगे।फिर देखा तो भाभी का भी मैसेज आया, मैसेज में लिखा था, ‘जल्दी से नीचे आ जाओ.

सुबह होने पर माँ पहले उठी तो वो अपने बेटे को नंगा सोया हुआ देख कर बोली- अब उठ जा, क्लिनिक नहीं जाना क्या?मैं उठा और तैयार हो कर क्लिनिक निकल गया. पहली बात तो यह है कि दोस्तो, मैं अपने जज्बात और अपने लंड पर काबू नहीं रख रख सकता.

मैं बता नहीं सकता। भाभी ने भी चुत चटवाने में कोई उज्र नहीं किया। कई मिनट तक मैं भाभी की चूत चाटता रहा। उनकी चूत से इतना पानी निकला कि मेरा पूरा मुँह गीला हो गया।अब मैंने अपना लंड बाहर निकाला और भाभी की चूत में पेल दिया। मैं काफी देर तक भाभी की चूत को चोदता रहा, मैंने भी गोली खाई हुई थी.

दोनों एक घंटे बाद किचन में मिले तो ऋषिका उससे चिपट गई और थैंक्स बोला… उसे कोई पश्चाताप नहीं था तो अब रयान भी रिलैक्स्ड था.

वो लड़की- सर, मेरा नाम रीना है, आपके यहाँ पे ऑफिस असिस्टेंट की पोस्ट निकली है, मुझे नौकरी की अति आवश्यकता है क्या मुझे ये नौकरी मिल पायेगी?विक्रम- हाँ जी, क्यों नहीं, आप तो काफी पढ़ी लिखी लगती हो. पर वो मुझे देख रही थी। वो चारपाई से खड़ी हुई और नीचे चली गई।फिर अगले दिन वो मेरे घर पर आई. इतना मोटा लंड भला ऐसे कैसे जाता…मैंने भाभी को बोला- भाभी आप कुछ मदद करो!भाभी तो एक्सपर्ट थी, वो बोली- अब रुक ही जाओ देवर जी, ज़रा तुम्हारे लंड को मैं अपने हाथो से भी मजा देती हूँ.

अपने बाएँ हाथ से मेरी पत्नी के दाएं चूतड़ को पकड़े हुए राजू का लोहा-लाट लंड कठोरता के साथ, खूब भिंच-2 कर संकरे गुदामार्ग को छिन्न-भिन्न करता हुआ अन्दर-बाहर हो रहा था. फिर उसने चाट चाट के मेरा लंड, अंडे, झांटें वगैरा की सफाई की और उसके पश्चात् उसने सुल्लू रानी की चूत, झांटें और जांघों का ऊपरी भाग जहाँ जहाँ मेरा वीर्य और उसका चूत रस बह बह के आ गया था, वहां वहां चाट के साफ किया. उसने उसके दोनों पैर फैला कर लौडे को चूत पर सेट किया और चूत के मुख पर लौडा रगड़ने लगा और हाथ से लंड को जोर जोर से उसकी चूत पर थपकियाँ देने लगा.

उसके नर्म गुलाबी होंठ मेरे लिंग पर लग चुके थे, उसने हल्का हल्का चूसना शुरू किया, फिर उसे मज़ा आने लगा तो जोर जोर से चूसने लगी और मेरे अंडकोष को भी चाट चाट कर मुझे एकदम मदमस्त कर दिया.

वो एकदम गोरी थी।फिर मेरे मन में ख्याल आया कि ‘नहीं सूरज, तुम इन भोले भाले लोगों के साथ धोखा नहीं कर सकते. वो बैठ गई, मैं लीड लगा कर गाने सुन रहा था और उसकी तरफ देखने लगा या यों कहो उस पर लाइन मारने लगा. दारू के नशे में वो मुझे किसी अप्सरा सी लगी, मैंने बैठे बैठे अपनी कमीज़ और बनियान उतार दी, बेल्ट खोली, बूट भी उतार दिये, और जब खड़ा होकर अपनी पैन्ट उतारी तो मेरी चड्डी में से उभरे हुये मेरे लंड को देख कर गीता बोली- ये क्या लिए घूम रहा है, चड्डी में हमें भी तो दिखा!मैं उसे गोद में उठा कर बिस्तर पे ले गया और अपनी चड्डी उतार कर उसके ऊपर लेट गया.

पर अब तक नाकाम ही रहा।फिर मेरी नज़र मेरी छोटी बहन नीलू पर पड़ी। नीलू दिखने में मस्त है. आप से मैं नाराज़ हूँ आपने मुझे तो नहीं बताया रात की पार्टी के बारे में?गायत्री- हाँ टीना. तो थोड़ी देर में बाद सुनयना भाभी वापस आईं और उन्होंने कहा- मैं दस मिनट में आती हूँ.

पर तुम अपने भाई और बहनों को कैसे समझाओगी?वो बोली- वो मेरी परेशानी है।मैंने कहा- ठीक है।मैं आपको बता दूँ कि कोमल के बहन और भाई अभी छोटे ही थे इसलिए उनका कोई खास डर नहीं था।रात को 11 बजे उसकी कॉल आई कि आ जाओ। मैंने तुरंत अपना बैक डोर खोला और उसके घर पर जा पहुँचा। उसने गेट ओपन किया। मैंने देखा कि कोमल क्या कमाल का माल लग रही थी।उसने एक बस टी-शर्ट पहन रखी थी.

भाभी साड़ी को निकालते हुए बोलीं- हाँ बात तो सही है मैं ब्लाउज भी उतार देती हूँ. मैं ऊपर होती थी तब मेरे पति ने कभी भी नीचे से धक्के नहीं दिए थे, यह नई बात मुझे मोहन पेंटर से पता चली, मुझे इस आसन में अजीब सा मजा मिल रहा था, मेरा ऊपर नीचे होना और उसका नीचे से जोरदार धक्कों की वजह से मैं जोरदार तरीके से झड़ गई.

कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो थोड़ी देर बाद मुझे याद आया अगर कुछ मीठा इसकी चूत पर लगा होता तो मजा आ जाता।मैंने उन्हें दो मिनट रुकने को कहा और फ्रीज़ में खोजने से हनी की बॉटल मिल गई। बस फिर क्या था, मैंने उनके मम्मों पर पहले हनी लगाया. देसी भाभी की चूत की चुदाई का मजा लिया-1आपने अब तक की इस रंगीन और मस्त चुदाई की कहानी में पढ़ा था कि पड़ोस की रेहाना भाभी जिनका निकनेम सोनू भाभी था, वे मुझसे पट चुकी थीं और मैंने उनके मम्मों को भी सहला लिया था।अब आगे.

कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो ’ कह कर मुझे सुला दिया।टीना- यही बात है तेरी वजह से वो लोग खुलकर सेक्स नहीं कर पाते थे और धीरे-धीरे तेरी मॉम के अन्दर सेक्स की फीलींग्स कम होने लगी और अब शायद वो करती ही नहीं होंगी. हम दोनों ने फ्रेश होने के बाद एक और राउंड लगाया और फिर हम एक दूसरे की बाँहों में सो गए.

ये मेरी भाभी की चुदाई की कहानी है, कैसी लगी, मुझे बताना![emailprotected].

सेक्सी पिक्चर 5 साल

नहीं तो मर जाऊंगी।मैंने उसके मुँह पर अपना मुँह रखा और बोला- नीलू एक मिनट सह लो. स्नेहा ने मेरे हाथ से खाली प्लेट ले के पास के डब्बे में डाल दी और हिरनी जैसे कुलांचे भरती हुई चल दी मैं पीछे से उसके नितम्बों का उतार चढ़ाव देखता रह गया. मैं लंच ले कर आती हूँ। फिर हम दोनों पढ़ाई स्टार्ट कर देंगे।मैंने कहा- ठीक है।मैं आंटी के रूम में जाकर बैठ गया। आंटी थोड़ी ही देर में आ गईं और कहने लगीं- अंकित तुम पहले नहा लो.

आंटी सेक्स, आंटी की चुदाई की यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!चूत चाटने के बाद मैं आंटी के सामने आ गया और अपना लंड आंटी की चूत में सेट किया. अमृत को वेस्ट कर दिया, ये रस किसी-किसी को ही नसीब होता है। तू ज़्यादा सोच मत, यहाँ बैठ आराम से और बता असली लंड चूस कर मज़ा आया ना?सुमन ने मुस्कुराते हुए ‘हाँ’ में सर हिला दिया और टीना से लिपट गई।टीना- क्या बात है मेरी जान. ‘तू स्पीड कम मत कर!’ मुझे बोल कर उसने नीचे से जोरदार धक्के देने शुरू कर दिए.

रूबी वैसे समझदार थी, होटल पहुंचकर उसने विवेक को किस किया और गाड़ी से उतर कर गेट बंद करके लॉबी में साराह का इन्तजार किया.

इधर अंजलि भी पीछे नहीं थी, उसके हाथ में मेरा लंड था, वो उसको मसल रही थी, आगे पीछे कर रही थी, लंड पूरा तना हुआ खड़ा था अपनी ड्यूटी को निभाने को तत्पर!अंजलि- आपका ये तो बहुत मस्त है लगता नहीं कि आपकी उम्र हो गई है!मैं- क्यों तुमने पहले किसी का देखा है?‘हाँ, पिक्स में और पोर्न में देखा है. मेरे विवाह की अजब गजब हिंदी चुदाई स्टोरी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे मेरा विवाह अजब हालातों में होने जा रहा था. मैंने अपनी जीभ उनके पावरोटी जैसी चूत पर लगा दी और वो शराब को धीरे-धीरे से अपनी चूत पर गिराने लगी.

अब मैं तुम्हें घोड़े की तरह चोदूंगा।मैंने अपनी पोज़िशन मजबूत करने के लिए उनकी चुची को ज़ोर से पकड़ लिया और धक्का देने लगा। दीदी भी अपनी गांड को पीछे कर-कर के मेरा पूरा लंड लीलना चाह रही थीं।मैं भी ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा। दीदी के गोल-गोल चूतड़ों को धक्के देने में मजा आ रहा था।वो मस्ती में बोल रही थीं- अह. मैंने विरोध किया और बोली- मैं फ्रेश होने जा रही हूँ, 10 मिनट में मैं नहा कर निकलती हूँ।साहिल बोले- ना… अभी तुमने वादा किया था कि तुम मेरी नजरों से एक पल के लिये भी ओझल नहीं होगी!मैंने उनके गालों को प्यार से थपथपाते हुए और चुम्बन लेते हुए कहा- जानू, मैं केवल 10 मिनट में बाहर आ जाऊंगी. टीना ने उसको कोई टास्क भी नहीं दिया क्योंकि उसकी माँ की तबीयत ज़्यादा खराब हो गई थी, तो वो कॉलेज भी नहीं गई.

ये कहते हुए वो पलट गई।गुप्ता जी ने पहले संजू की चूत को देखा जो काफी चिकनी थी. पीते पीते हम बातें करने लगे कि कैसे हम बचपन में नीलिमा और रीता पे लाइन मारा करते थे.

मैं जितना अच्छा चूम सकता था, उसके नीचे वाले होंठों को पूरा मुँह में भर कर चूसा और उसने भी मुझे खूब चूमा. मैं और नहीं सह सकती।मैंने अपने लंड का निशाना सीधा अपनी बहन की चुत पर लगाया और एक ही बार में अपना लंड का टोपा सीधा उसकी चुत के अन्दर डाल दिया।लंड घुसते ही वो चीख उठी- ओह भैया. फिर हम एक दूसरे को बाहों में लेकर नंगे ही लेट गये और सुनीता अपनी पुरानी चुदाई की सेक्सी कहानी सुनाने लगी.

‘अंकल जी सब सोचा है मैंने और रानी भाभी ने… शाम को उसके पति और ससुर छह बजे दूकान चले जायेंगे.

झड़ने के बाद मैं भी निढाल हो गया और बिस्तर पर पसर गया… न जाने कब नींद लग गई. यह पोज मुझे बहुत पसंद है, इसमें लंड भी अच्छा टाइट जाता है चूत में और धक्के मारने मेंलड़की के हिप्स का सपोर्ट भी मिलता है जिससे आनन्द और बढ़ जाता है. और उस पर एक भी बाल नहीं था।अब गुप्ता जी ने अपने मुँह को संजना की चूत के पास ले गए और उसकी चुत को सूंघा.

ना मैंने कहा।काका- ही ही मोना रानी तभी कहूँ ये गुलाबी छेद ऐसे बंद क्यों है. उसकी वो भी मस्त है, कसी हुई है मेरे ही जैसी, वो कौन से ज्यादा चुदी है जिंदगी में.

सो वो ज्यादा पैसे नहीं भेज पाते थे।एक दिन अचानक मेरी मुलाकात मेरी दूर की दीदी के बेटे से हुई। मैं पहले उससे एक-दो बार मिली थी और हमारी उम्र भी एक जैसी थी. थोड़ा दम ले लूं।दो पल बाद उसके धक्के जोरदार हो गए ‘दे दनदना दन दन धच्च धच्च फच्च फच्च. दूसरी तरफ रानी की गांड का छेद भी चिंटू ने खोल दिया था और वो भी मेरी तरह दर्द से तड़प रही थी और उनसे छूटने की कोशिश कर रही थी और दर्द से उसके भी आँसू निकल रहे थे.

गूगल सेक्सी वीडियो भेजिए

सुबह की एयर इंडिया की फ्लाइट से दोनों जोड़े माले पहुंचे और वहाँ स्पीड बोट से एक बहुत खूबसूरत आईलेंड पर…रिसोर्ट में उनकी विला साथ साथ थीं.

उम्म्ह… अहह… हय… याह… ‘ की हल्की-हल्की आवाजें आने लगीं।ये सब देख कर मैं बहुत गरम हो गई थी। मेरा हाथ मेरी चुत पर कब चला गया. वो मुझे चुदाई ज्ञान सिखाने लगा, उसने मुझे पीठ पे लेटाया, अपना लंड मेरी चूत पर सेट किया और पूरी ताकत से अंदर डाला. लंबा कद छरहरा शरीर, दूधिया गोरा रंग और 34-28-36 की फिगर में वो बहुत सेक्सी दिखती थी और सलवार सूट में तो वो बला की सेक्सी लगती थी। वो ऑफिस के दूसरे मर्दों का आकर्षण केन्द्र भी थी। उनके पति देव भी सरकारी सर्विस में थे.

मगर कोई और पंगा ना खड़ा हो जाए इसका आप ख्याल रखना बस।काका- उसकी चिंता मत कर. भाभी तो बहुत छटपटाते हुए मेरे सर को हाथ से दबोचते हुए मेरे बाल खींचे जा रही थीं. रोशनी भाभी की चुदाईइसके दूसरे ही पल मैंने उनके ब्लाउज़ को भी उतार दिया। उन्होंने अन्दर भी ब्लैक कलर की ब्रा पहनी थी जोकि जालीदार थी। मैं उनके गोरे स्तनों को ऊपर से ही किस करने लगा।फिर मैंने एक हाथ पीछे ले जाकर उनकी ब्रा खोल कर स्तनों को आज़ाद कर दिया। उनके निप्पलों को जो कि एकदम पिंक थे.

पर अंत में वो जीत गई। जैसा कि हर खेल में होता है, हारने वाली टीम को जीतने वाला टीम का कहा मानना पड़ता है. बाद में साथ में ही खाना खाते हैं।खाना खाते वक्त हम दोनों ने बहुत बातें की।भाभी ने मुझसे पूछा- क्या आपकी शादी हो गई है?तो मैंने ‘हाँ’ कह दिया, तो में भाभी ने पूछा- कोई बच्चा भी है?तो मैंने ‘नहीं’ बोल कर दूसरी बात करने लगा।उस दिन भाभी मुझसे बहुत खुल कर बात कर रही थीं।खाना के कुछ देर बाद मैं अपने फ्लैट में चला गया।रात 1 बजे मेरी घर की फ़ोन की घंटी बजी। मैंने ‘हैलो.

बस इससे ये हुआ कि किसी की ज़्यादा कुछ करने की हिम्मत ही नहीं हुई।टीना- अच्छा तेरी कोई सहेली तो होगी उनके तो ब्वॉयफ्रेंड होंगे?सुमन- दीदी जिनके ब्वॉयफ्रेंड थे. मेरे होंठ चूसते वक्त उन्होंने अपने हाथ मेरी पीठ पर गाड़ते हुए मुझे कसना चालू किया ‘मुउउः पुकघ पच्छ. हम इस हिंदी सेक्सी स्टोरी की ओर अपना पहला कदम ले चलते हैं।सुबह के 6 बजे मुंबई के एक साधारण से परिवार में हलचल थी।‘हेमा ओ हेमा.

उसका लंड तो पहले से चूत के रस से गीला था, उसने धीमे से गांड के अंदर घुसाना चालू किया, मुझे असहनीय दर्द हो रहा था इस तगड़े लौड़े के गांड में जाने से, मैंने दोनों हाथ से पलंग की किनारे पकड़ रखे थे जिसे मैं जोर से दबा कर गांड मरवाने के दर्द को झेलने की कोशिश करने लगी. तब मैंने संजय से कहा- सब तो नंगे हैं, आपने क्यूँ नहीं कपड़े उतारे?तो उन्होंने कहा- मैं बाद में उतारूंगा, तुम लोग शुरू हो जाओ!तभी पांच आदमी मेरे पास आ गए और मुझे अपना अपना लंड पकड़ाने लगे. मैं कहाँ भाभी की कुछ सुनने वाला था, मैं तो एकदम मूड में था।इसी बीच भाभी ने भी 69 में होकर मेरे लंड को खूब चूसा।भाभी बोल रही थीं- जानू पेल भी दो ना अपना हथियार.

’‘नहीं सलोनी, ब्लू फिल्म का सीन याद आ गया तो उसी स्टाईल में कोशिश कर रहा था.

फिर हमने खाना ख़त्म किया और मैंने उनको अपनी गोद में उठाया और बेड पर फिर से उनकी चूत चाटने लगा और फिर से मैंने आंटी की चूत को चोदा और मज़ा लिया।आपको मेरी आंटी की चुदाई स्टोरी कैसी लगी प्लीज़ ईमेल करके बताइएगा।[emailprotected]. उसने मेरे हाथ पीछे अपने मजबूत हाथों में बांध दिए और सौरभ मेरी पैंट को खींचने लगा.

’ की आवाज़ कर रही थी।मैंने कहा- थोड़ा धीरे आवाज़ करो।आंटी ने कहा- तुम्हारा लंड बहुत मोटा और कड़क है. उनकी चीख निकली ‘आआआआआअ…’तभी मैंने उनके होंठों पे अपने होंठ रख कर उनकी चीख को दबा दिया और रुक गया. अतः लंड पर थूक लगाया। फिर थोड़ा सा थूक और उंगलियों पर लिया और सुकांत की गांड पर लगा दिया।मैंने लंड गांड पर टिकाया और धक्का दे दिया। एक-दो धक्के और लगाए.

कुच्छ ही देर में सुनीता की चूत से उसकी जवानी का झरना फूट पड़ा और मेरे मुंह में उसकी जवानी का जोश पानी बन कर बरसने लगा और उसने मेरा सर वहाँ पे जोर से दबा दिया, मैंने वो सारा पानी अपने मुंह में ले लिया और उसकी चूत को जोर जोर से चाटने लगा ताकि सुनीता इन यादगारी पलों का आनन्द ले सके. मैंने सोचा मर गए!मयंक को और डांट पड़ी और मुझसे पूछा गया- क्या तुम्हें मालूम था इसका और मयंक यह सब कहाँ से लाता है?मैंने कहा- मुझे मालूम नहीं, मैं तो पढ़ाई पर ध्यान देता हूँ, आप नंबर देख लो!आंटी ने कहा- मयंक को समझा… और इसको पढ़ा!यह कहते हुए आंटी किताब लेकर चल गई. उसे अपने लंड से चोदने की लालसा ने मुझे एक बार झड़ने के बाद भी उतनी ही थी।जब उसने मुझे बाथरूम आने का इशारा किया तो मैं गदगद हो गया.

कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो हरियाणा में रहता हूँ। मुझे मेरी गर्लफ्रेंड फेसबुक पर मिली थी। कुछ दिन बातें करने के बाद मैंने उसे प्रपोज कर दिया और उसने थोड़ा सोचकर हाँ कर दी।इससे मैं बहुत खुश हुआ।मेरी गर्लफ्रेंड का फिगर 34-30-34 का है। मुझे हमेशा से अपनी गर्लफ्रेंड को चोदने का मन करता था। मेरी गर्लफ्रेंड को बारिश बहुत पसंद है। हम अभी तक एक बार भी नहीं मिले थे. रजनी के पति विदेश में रहते हैं, उसकी फिगर एकदम सेक्सी और कमर पतली है.

सेक्सी हिंदी वीडियो बीपी सेक्सी

रात भर साहब की चुदाई का मंजर याद करता रहा।अब साहब लंड पर तेल लगा रहे होंगे. भाभी जोर जोर से चूस रही थी और 5 मिनट बाद मेरे लौड़े ने एक प्यारी मुठ की धार सीधे भाभी की होंठों पर छोड़ दी।मैं थोड़ी देर लेट गया, फिर भाभी दोबारा मेरा लंड चूसने लगी और मैंने भाभी की चूत में उंगली करना शुरू कर दिया. फिर…‘अंकल जी, इसका मतलब मेरे मुहाँसे भी शादी के बाद ही जायेंगे? पर मेरी उमर तो अभी बहुत छोटी है मेरी शादी तो कई सालों बाद होगी!’ वो चिंतित स्वर में बोली.

हर लड़का ऐसे शरीर से प्यार करना चाहेगा।मैंने कहा- क्या तुम भी मुझसे प्यार करना चाहते हो?उसने कहा- कौन तुम्हें प्यार नहीं करना चाहेगा. बिल्कुल प्रेमी जोड़ों की तरह…डिनर लेकर दोनों इंडिया गेट पर घूमते रहे. होळी फोटोमैंने लाइफ में हमेशा लड़कियों की इज्जत की है, मैं नहीं चाहता मेरी वजह से उसकी पर्सनल लाइफ में प्रॉब्लम हो या उसकी प्रिवेसी लीक हो.

इसलिए उसने आगे बात करना ठीक नहीं समझा और चुपचाप कपड़े पहन कर बिस्तर पर लेट गई।संजय- क्या हुआ मेरी जान क्या मुझसे नाराज़ हो गई?पूजा- नहीं मामू आपसे कैसे नाराज़ हो सकती हूँ.

एक तो नई शादी हुई थी और ऊपर से रिसोर्ट का माहौल ही एसा था… रिसेप्शन से अपनी विला तक आते ही उन्हें कई जोड़े सिर्फ नाम के कपड़ों में चिपटे चिपटाते मिले… किसी को किसी की कोई परवाह नहीं थी. तभी वो आदमी आया और उसके मुंह के पास अपने लंड को हिलाते हुए बोला- yhe baby, lick my dick, please me, I will fuck you hard.

’‘पर मुझे अंदर लेने में मजा आएगा, ऐसे करो अंदर ही पिचकारी मार दो!’‘पर कुछ हुआ तो?’‘कुछ नहीं होगा, मैं गोली खा लूँगी. दिन में मैं अपने दोस्त के साथ होता, तब मैं बात करता था और रात को मेरा दोस्त मेरी बात आगे जारी रखता था. मैं दिखने में कुछ खास नहीं हूँ और ना ही इतना खराब हूँ, कहने का मतलब यह कि ठीक-ठाक हूँ.

आपको माँ बेटा सेक्स कहानी पसंद आ रही है?[emailprotected]कहानी जारी रहेगी.

भाभी भी मेरे लंड को अपने चूतड़ों में दबा रही थी।भाभी बोली- राज, मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ!और मेरे होंठ चूम लिये. इस बार रजनी की गांड में मेरी पत्नी ने एक डिल्डो यानि नकली लंड डाल रखा था और मैंने आगे से उसक चूत में अपना लौड़ा डाला हुआ था, ऐसे में रजनी को भी खूब मजा आया. फिर उसने मेरा लंड निकाला और मेरे 6 इंच के लवडे को देखते रही, फिर उसे चूसने लगी, उसकी चूसने के अंदाज से मुझे और जोश आ गया और मैंने सारा माल उसके मुँह में छोड़ दिया जिसे वो पी गई.

सेक्स करने की गोलीकमरे में हल्की सी रोशनी, पर्फ्यूम की खुश्बू और बेड पे रज़ाई पड़ी हुई थी. तो उसने मेरे पजामे के अन्दर हाथ डालकर मेरा लंड पकड़ लिया और चूमने लगी।तब मैं उठा और उसे खींच कर बेड पर लिटा दिया और उसको चूमने लगा, उसके बालों से खेलने लगा। हम दोनों प्यार करने लगे थे और इसके बाद से अब तो वो मेरी जान बन गई थी।एक दिन उसकी माँ काम करके जल्दी किसी काम से चली गई और उसको कहा- तुम स्कूल का काम करो.

छात्रों के सेक्सी वीडियो

फिर धीरे-धीरे हम सेक्स की बातें भी करने लगे, वह बहुत ही जल्दी कामुक हो जाती थी. रयान भी ये सुन कर बेचैन हो उठा… निष्ठा ने उसे शाम को बता दिया था कि कुशल उसे डिनर पर ले जा रहा है तो उसने तो उसे उकसाते हुए कहा था- कुशल बढ़िया लड़का है, उससे दोस्ती कर लो, तुम्हारा वक़्त भी अच्छा निकल जायेगा. और ऐसा ही कुछ जीजू के साथ भी हुआ, वो आह आह करके मीठी आहें भरने लगा.

आंटी ने सारी पहनी हुई थी, वो बड़ी सेक्सी लग रही थी, मैं आज उन्हें किसी भी कीमत पर चोदना कहता था. वो अहसास इतना लाजवाब था कि मैं भी खुद को उसमें समाते महसूस करने लगा और मेरे मुँह से आवाज़ आई- आअह्हह्ह… मानसी, आई लव यू…और मेरे लंड ने अपना बीज सीधा मानसी की बच्चेदानी में गिरा दिया. पर अगले ही पल मेरी साँसे अटक गई क्यूंकि जिस चूचे को मैंने अभी प्यार से जोर से दबाया था वो मेरी मामी का नहीं था बल्कि मामी की छोटी लड़की सोनाली (काल्पनिक नाम) का था.

मैंने कबर्ड में से एक टॉवल निकाला और अंजलि की बुर के नीचे एक तकिया लगा कर उस पर बिछा दिया. मेरा नाम सबा है, मैं उत्तर प्रदेश की रहने वाली हूं, मेरी उम्र 24 साल है, मेरी शादी हो चुकी है. उसमें से एकदम आर-पार दिखता था। वो गाउन मैंने ब्रा-पैंटी के ऊपर पहन लिया.

अब मैं कहानी पर आती हूँ, बात इसी साल जनवरी महीने की है, मुझे और मेरी सहेली रानी (बदला हुआ नाम) को परीक्षित और चिंटू से चुदते हुए 3-4 महीने हो चुके थे और जब मैंने उन दोनों से दूसरी बार चुदवाया था तब रानी भी उस चुदाई में साथ थी और हम आपस में बहुत खुल चुकी थीं और बिना किसी शर्म के कोई भी बात कर देती थीं, यहाँ तक कि गालियों में तक बात कर देती थीं और अब भी करती हैं पर जब चारों साथ में होते हैं तभी. उसकी मुट्ठियाँ अपने आप ही खुल गईं थीं और अब वो एक लाश की तरह मेरे नीचे पड़ी थी.

राजे ने झपट के मुझे अपने पास घसीटा और मेरे मुंह से मुंह चिपका दिया.

मुझे लड़की होने का मजा दे!इतना सुनते ही उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और एक झटके में ही मेरी चूत के अन्दर अपना लण्ड पेल दिया।झटके के कारण मेरी चूत में बहुत दर्द हुआ और मैं दर्द के मारे चिल्ला उठी. सेक्स ऐप्सतो लिप किस देकर लंड को छू कर भाग गई।उसी दिन भैया को मुबंई जॉब पर से अचानक बुलावा आया. रिंगटोन गाना वीडियोमुझे तो यही पता था। अब आप बता दो क्या होता है?टीना- अच्छा जब तू नहाती है. मैं रीना के कहे अनुसार फर्श पर घुटनों के बल बैठ गया और रीना रानी बेड पर ठीक मेरे सामने आकर उकड़ूँ बैठ गई.

अब मैं नीचे से और हिम्मत ऊपर से चुदाई की ताल मिलाने लगे और बिमलेश ने एक हाथ पीछे हिम्मत के सिर पर और एक हाथ मेरे सीने पर रख कर दोहरी चुदाई का आनन्द ले रही थी.

घर आकर पता चला कि मेरी चुदाई की वीडियो बनी है, अब सब लोग आते हैं और मुझे रात भर मेरी गांड और चूत की चुदाई करते हैं. अब झांसी केवल डेढ़ घंटे की दूरी पर है। हम सब मेरे रिश्तेदार की सब्जी बाड़ी में बैठकर नाश्ता करेंगे, और यहीं से झांसी जाकर सीधे घूमने निकलेंगे। लेकिन उससे पहले पास की नदी में नहा कर आयेंगे। पानी भी साफ है और प्रकृति का भी पूरा आनंद उठाना है। सभी अपने बैगों से नहाने के कपड़े निकाल कर साथ रख लें।यह आवाज एक सर की थी, यहाँ पर उनकी बहन का ससुराल था, हम मेन रोड से एक कि. मैंने मेरे मित्र चिंटू से भी इस बारे में बात की, पर समझ नहीं पा रहा था कि यह कौन हो सकती है?फिर एक दिन उसने ही मुझे मिलने के लिये बोला, पर मैंने फिर मना कर दिया.

रात में दो से तीन बार मुठ मारकर इसको शांत करता हूँ, तभी तो ये थोड़ा शांत होकर मुझे सोने देता है वरना सोने ही नहीं देता. मैंने सहारा देकर भाभी को उठाया, भाभी अपने घर चली गई।उस दिन के बाद तो मैंने उस देसी भाभी को इतना चोदा, शायद ही उसके पति ने चोदा होगा।दोस्तो, एक बात मुझसे मेरे गांव का नाम और भाभी से दोस्ती के विषय में मेल ना करें।देसी भाभी की गांड चुदाई की सेक्सी कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करें![emailprotected]. लेकिन जंगली हो चुके राजू के लिए ये कोई दुःख की बात साबित नहीं हुई, उसने मेरे लंड के ऊपर से अपना भीषण लंड उसी गांड में पेल दिया!अब राजू ऊपर खड़ा होकर गांड पर पूरा अधिकार जमाए हुए था, मेरा लंड कमजोर पड़ कर सांझी गांड से फिसल पड़ रहा था जिसे मैं दोबारा मशक्कत कर किसी तरह गांड में फिट कर पा रहा था.

शिल्पा शेट्टी के पति की सेक्सी वीडियो

वो अचानक हुए हमले से थोड़ा कसमसाई पर बहुत जल्दी मेरा प्रतिउत्तर देने लगी, जिससे मुझे लगा कि शायद वो भी यही चाहती थी।उसने मेरे बाल नोचने शुरू कर दिये. हमने एक दूसरे को हग किया, मैंने उसको कान के पास किस किया, उसने भी मुझे किस की. कल से मैं घर पर अकेला हूँ। आप बताओ कुछ घर का माहौल चेंज करना है?तो भाभी ने कहा- मुझे जल्दी से जल्दी माँ बनना है.

डैडी की जगह मम्मी को बैंक में नौकरी मिल गई थी तो मम्मी ने जैसे तैसे पाला पोसा हम दोनों भाई बहन को…मैं और मेरा भाई कॉलेज जाते हैं.

फिर वो बोली- वैसे जो तुम चाहते हो, मैं भी वो चाह रही हूँ, अगर तुम मुझे कुछ बोलना चाहते हो तो बोल दो, आज घर में कोई नहीं है.

लेकिन आज वो अपनी यूज्ड ब्रा-पेंटी को बाथरूम में वैसे ही पड़ा छोड़ गई थी। ये देख कर मैं बहुत खुश हुआ कि मेरा प्लान सही तरह से काम कर रहा था।मैं भी जल्दबाज़ी नहीं करना चाहता था. तो अजय बोला- भाई साहब, आप गुस्सा हो रहे हो, हम तो बस यह बोल रहे थे कि आप बड़े खुशनसीब हो कि इतनी खूबसूरत बीवी मिली है, बस थोड़ा वक्त हमारे साथ बिता ले तो क्या बुरा है? इतना कहते अजय मेरे और पास आ गया और मेरी मम्मे को दबा दिया. मां दुर्गा के भजननमस्कार दोस्तो, आपका संदीप साहू कहानी का अगला भाग लेकर एक बार फिर हाजिर है। आप लोगों के ईमेल मुझे लगातार प्राप्त हो रहे हैं, सभी का जवाब दे पाना संभव नहीं है, इसलिए इस कहानी में मैंने सभी को एक साथ जवाब देने का प्रयत्न किया है।अब तक आपने मेरी दिनचर्या, मेरे दुकान में ग्राहकों का आना-जाना, मेरे दोस्तों के हंसी मजाक, और इसी बीच एक भाभी के साथ हो रहे नोक-झोंक को पढ़ा।अब आगे.

उनके चहेरे देख लग रहा था कुछ बड़ा प्लान किया है उन दोनों ने!तभी दीपा ने शरारत में कहा- सब औरतें तो दिन में भी सब सबके साथ चुदाने को तैयार हैं. वो बोला- कोई बात नहीं… मैं कौन सा अपना लंड तुझे मुंह में लेने को कह रहा हूँ. ’मैंने कहा- मैं उसे चोद कर बड़ा बना दूँगा।काफ़ी देर बाद आंटी ऋतु की चुदाई के लिए राज़ी हो गईं।लेकिन मैंने उनसे धीरे से कहा- उसको केवल मैं ही चोदूँगा.

फिर मैं उठकर नहाने चली गई।तो मेरे दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी यह कहानी. मैं एकदम से चौंक गया, मैंने उनसे पूछा- क्या हुआ भाभी?उन्होंने मुझे कहा कि वो मुझे बहुत पसंद करती हैं, मैं उन्हें बहुत अच्छा लगता हूँ! वो मेरे भईया से ‌प्यार नहीं करती और वो मेरे साथ रहना चाहती हैं!यह कहते हुए उन्होंने मुझे कस के पकड़ लिया, मेरे होठों को चूमना शुरु कर दिया.

मानसी का इतना कहना था कि मैंने धीरे धीरे अपने धक्कों की गति बढ़ा दी और उसकी जोरदार चुदाई करने लगा.

मैं झड़ने लगा, मेरे लंड से निकलने वाले वीर्य ने नताशा का चेहरा ढक दिया, कुछ बूंदें उसके मुंह के अन्दर भी नजर आ रही थी. मेरी गांड तृप्त हो गई। गांड कुछ गरम भी हो गई थी और चिनमिना रही थी।फिर उसने दुबारा पेला. कहानी रूबी और साराह की है जो बचपन की सहेलियाँ हैं और बचपन से शादी तक एक साथ एक ही स्कूल में पढ़ी हैं और कॉलेज में भी हॉस्टल में रूम मेट रहीं… दोनों आपस में खूब खुली रहीं पर कभी किसी लड़के को छूने नहीं दिया अपने को.

बिहारी चोदा चोदी अभी मैं जाग रहा था, मुझे भी नींद नहीं आ रही थी।‘क्या हम लोग मिल कर थोड़ी देर बात कर सकते हैं?’‘ओके भाभी, आप मेरे रूम में आ जाओ, यहीं गपशप करते हैं।’भाभी ने एक पल तो कुछ नहीं कहा. आह्ह ह्हह्हह’हम तीनों बेड पर मशीन बने हुए थे, अमिता मेरे ऊपर थी, मुदस्सर ऊपर से उसकी गांड ले रहा था.

मैंने कहा- भाभी, आपके जैसी असंतुष्ट महिलाओं के लिये भगवान ने मुझे भेजा है!और वो ख़ुश होकर मुझसे लिपट गई, फिर वो बोली- चलो बेड पे!मैं उनके पीछे चल दिया, वहाँ पहुँचते ही मैंने अपने सारे कपड़े निकाल दिये. उसके गले में पहनी हुई पतली सी सोने की चेन उसके मम्मों के बीच जाकर छुप गई थी. पर वो इस दर्द का मजा लेने लगी और मुझे तेज करने को उकसाते हुए कहने लगी- और जोर से करो.

हिंदी सेक्सी फिल्म बढ़िया वाला

फिर माँ के पैर फैला कर अपना लंड माँ की चूत पे रख एक ज़ोरदार झटका दिया, उसका लंड चीरते हुए पूरामेरी माँ की चूतमें घुस गया. मैं कुछ नहीं करूँगा बस उंगली तक ही रहेगा।लेकिन मैं कहां हार मानने वाला था तो मैंने अपने दोनों हाथों की स्पीड तेज कर दी और वो बहुत ज्यादा गर्म हो गई। मैंने उसको किस करके इतना गर्म कर दिया था कि अब वो मेरा लंड खाकर ही मानने वाली थी।तभी मेरे दोस्त का कॉल आया और बोला- किसी सेफ चीज की जरूरत हो तो अलमारी में है।तो मैंने जाकर देखा. तब तक मैं भी कपड़े पहन लूँ।इतना कहकर संजय कपड़े पहनने लगा और पूजा का मुँह पहले ही दुख रहा था और 2 बार झड़ने के बाद उसको नींद भी बहुत आ रही थी.

उसके बाद वह मेरी ओर मुड़ कर मेरे सिर को अपनी गोदी में ले लिया और अपने हाथ में स्तन को लेकर उसकी चूचुक मेरे मुंह में डाल दी. रोहित तो दस बजे से सो रहा है और भईया को हम पूरी बोतल दारू की पिला के सुला आए हैं।मैंने अपना मोबाइल निकाला और वीडियो बनाने लगा। इतने में पवन अंकल ने अपने लौड़े पर थूक लगाया और माँ की गांड के छेद में लगाकर एक झटका मार कर कहा- बोल कितना अन्दर गया सरिता रानी?माँ थोड़ी दबी आवाज में बोलीं- पता नहीं, खुद ही देख लो।फ़िर उन्होंने एक और करारा झटका मारा तो माँ के मुँह से ‘आआ.

अब तू भी जा ऊपर और रात भर चुदवा अपने अंकल से!’ रानी स्नेहा का बूब मसलते हुए बोली.

सब अच्छा ही होगा। चल अब तू निकल तुझे देर हो जाएगी और संजय से कह देना कि मुझे शाम को मिले. तभी सुधा बोली- देख नया लड़का है, उसके बारे में तू ठीक से जानती नहीं है, कहीं ऐसा न हो कि लेने के देने पड़ जाये?‘उसकीमां की चूत!’ मरियम की आवाज आई. मैंने हाथ हटाना चाहा तो वो बोला- क्या हुआ? पकड़ ले ना डंडा… तुझे गिरने नहीं देगा ये!मैंने कहा- भैया, आप गलत मत समझना लेकिन मेरे मन में अब ऐसा कुछ नहीं है.

हल्का गुलाबीपन लिए सफ़ेद से मलाई जैसी उभरी और दो लिप्स के बीच हल्की से दरार और उसमें से बहता हल्का सा लिसलिसा पानी. मैंने फिर हिम्मत को कॉल किया और कहा- भाई, 10 बजे हमारी चुदाई शुरू होगी।बिमलेश से भी बात की तो वो बोली- यहाँ से लौटते समय हमारे यहाँ रुकना, आपके योगिराज की बहुत याद आ रही है।कोमल 9. यश ने अब मम्मी को वहीं नीचे खेत में लिटा दिया और दोनों टाँगें खड़ी करके मेरी माँ चोदने लगा.

पर बोला- एक शर्त है, वो ही पहने रहना होगा जो अभी पहने हो…निष्ठा बोली- धत्त…क्योंकि वो तो शार्ट नाइटी में थी.

कुंवारी लड़की की बीएफ सेक्सी वीडियो: रोहन का लण्ड मेरे मुंह के सामने था तो मैंने भी रोहन के लण्ड को अपने मुंह मे भर लिया और उसे चूसने लगी. भूखी शेरनी की भांति जूसी ने राजे को चोदा और राजे केवल उसके चूचों से खेलता रहा.

बस देवर जी अब अपने लंड को मेरी चुत में डाल दो।रसीली भाभी का ऐसा खुलकर बोलना था और मैं खड़ा हो गया। भाभी ने फिर से एक बार लंड को मुँह में ले कर गीला किया।मैंने कंडोम निकाला तो भाभी ने ना में मुंडी हिलाकर आँख मारी।रसीली भाभी ने बिना कंडोम के चुदाई का सिगनल दिया। मैंने एक बार चुत चाटी और दोनों पैर के बीच बैठकर लंड को भाभी की चुत पर घुमाकर लंड का टोपा चुत में धीरे से ढकेला। भाभी के मुँह से ‘उह उम्म. दोनों सोफे पर ही चिपट गये… कब उनके कपड़े उतर गए, कब दो शरीर एक हो गए… दोनों के चेहरे एक दूसरे के थूक से चमक रहे थे… दोनों की जीभें पूरे चेहरे पर घूम रहीं थी. पहले ललितपुर के बारे में बता दूं, ललितपुर शहर दक्षिणी यू पी के छोर पर बसा जिला मुख्यालय है जो तीन तरफ से मध्य प्रदेश से घिरा हुआ है.

30 बजे उठता था। मंगलवार को शाम को मैंने उसको देखा तो वो थोड़ी नर्वस सी दिखी.

बस कृपा बनी रहे।वे मेरा लंड हाथ में ही लिए थे।मैंने कहा- इसकी भी जहां जरूरत हो, यह भी सेवा करेगा. रयान तो निष्ठा के मम्मों का पहले ही दीवाना था तो आज तो वो उन्हें खा ही जाना चाहता था. रानी के बारे में भी उसने एक बार फोन पर बताया था कि उसे जुड़वां बेटे हुए थे और उसने अपने नाकारा पति से तलाक लेकर एक प्रतिष्ठित बैंक में जॉब करनी शुरू कर दी थी और अब दूसरी शादी भी कर ली है और बहुत खुश है.