नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ हिंदी में एक्स एक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

लवली सेक्सी फिल्म: नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ, रास्ते भर हम अपने इस नए ‘बिज़नेस’ के बारे में बातें करते रहे कि कैसे ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाए जाएँ.

फुल एचडी में बीएफ हिंदी

मैंने कहा- मेरा निकलने वाला है।उसने कहा- मुँह में निकाल दो।मैंने अपना सारा माल उसके मुँह में डाल दिया. देवर भाभी बीएफ सेक्समित्रो, आगे की कहानी भी बहुत मस्त लगेगी आपको कि कैसे स्नेहा ने मुझे कसम दे दे के भोपाल बुलाया और खुद भी चुदी और किसी और को भी मुझसे चुदवाया.

उनकी चूत इतनी गर्म थी कि मुझे लग रहा था कि मेरा लंड किसी ज्वालामुखी में घुस गया हो. सेक्सी हिंदी बीएफ हिंदी बीएफबस में भीड़ थी और हम लास्ट सीट पर थे, मेरा लंड पूरा खड़ा हुआ था, बस भी हिल रही थी.

घर से काम पर जाना और काम से घर आना। इसके अलावा मैंने कभी किसी का जिक्र ही नहीं सुना।काका- है मोना.नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ: उसकी चूत ने कोई पानी नहीं छोड़ा, पता नहीं उसको मज़ा नहीं आ रहा था, या उसको पता ही नहीं था कि क्या हो रहा था.

ऐसा करने से उसको बहुत जल्दी नींद आ जाती है और एक बार वो सो जाए तो ढोल नगाड़े भी बजा दो.अब तो मैंने आँखें खोल दी और बॉस से चिपट गई यह कहते हुए कि ‘जल्दी से चोद दो, कहीं संजय आ गया तो मेरा सपना ही टूट जायेगा.

सेक्सी बीएफ दिखाओ बढ़िया - नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ

‘जोर-जोर से चोद मेरे राजा… जोर-जोर से…’मैं उन्हें जोर-जोर से चोद रहा था.खाना लगा दूँ बेटा?संजय- हाँ जोरों की भूख लगी है और बाकी सब कहाँ गए.

अब उसे भी मज़ा आ रहा था।कुछ देर के धक्कों के बाद वो झड़ गई और उसकी चूत रस से गीली हो गई। अब मैंने उसे चोदने की स्पीड बढ़ा दी और उसके झड़ने के कुछ मिनट बाद मैं भी झड़ने लगा।मैंने उससे पूछा- मेरा निकालने वाला है. नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ पर मुझे मत भूलना।मैंने भाभी के माथे पर चूमते हुए कहा- तुम्हें तो मैं जिंदगी भर नहीं भूलूंगा जान।फिर मैं वहाँ से निकल कर घर जा के सो गया।अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे पिंकी को पटा कर मैंने उसकी सील तोड़ी।मेरी देसी भाभी सेक्स स्टोरी कैसी लगी, मुझे बताएं![emailprotected].

संजय- मेरी जान तुम्हें कितना भी चोद लूँ मगर तुम थकती नहीं हो, ऐसा क्या है तुम्हारे अन्दर.

नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ?

विवाह के सभी कार्य सम्पन्न हो चुके थे पर सभी जने बुरी तरह से थके हुए थे इसलिए एक रूम साफ करके जमीन पर ही बिस्तर लगा कर मैं, मेरी मौसी की बेटी, बुआ की बेटी और स्मृति सोने लगे, मम्मी, मौसी, बुआ सब बाहर चारपाइयों पर सो गई थी. मैं गेट से बाहर आया तो वो लोग अपनी काली स्विफ्ट डिजायर कार के पास खड़े थे. एक दिन मैंने देखा तो मेरी दोस्त और एक लड़का नंगे बिस्तर पर लेटे थे और वो लड़का मेरी रूम मेट के शरीर को चूम रहा था और चूस रहा था.

कमसिन कली स्नेहा का नंगा जिस्म मेरे नंगे जिस्म के आगोश में होगा, अगर सब कुछ ठीक ठाक रहा तो!अगले दिन मैं स्नेहा से मिलने को तैयार हुआ. अब तेरी बुर में लौड़ा डालने का टाइम आ गया है समझी मेरी जान!संजय वापस बिस्तर पे आया तो टी-शर्ट के साथ पानी की बोतल भी उठा लाया और बोतल को साइड में रख कर टी-शर्ट को पूजा की गांड के नीचे लगा कर पूजा के पैरों को मोड़ दिया, अब संजय के सामने पूजा की बुर थी और बस एक तगड़े झटके लगने भर की देर थी. दूध वाला भी मुझे बांहों में लेते हुए उससे बोला- अरे यार तू कब आया?मैंने दूध वाले की छाती में अपने मम्मे छुपा लिए तो दूध वाला मुझसे बोला- चलो भाभी जी आज तो दो लंड हैं.

तब उन कपल के एक और कपल दोस्त से मेरी स्काइप और फोन पर बात हुई और उनको मैं और मेरा मस्ताना बहुत पसन्द आया और हमने स्काइप पर कैम सेक्स भी किया था. ऐसा एक साल चलता रहा, पर एक दिन मेरे पापा पता चल गया कि यह दोनों गलत काम करते हैं. दीदी ने कहा- अभी लेट हो रहे हैं, फिर मौका मिलेगा तो करेंगे!और उसके बाद हम नहा धोकर तैयार होकर शादी में चले गये.

पर वो मेरे दोस्त की मम्मी थी इसलिए मेरे मन में कभी गलत इरादा नहीं आया. पर एक बार बकार्डी की कोल्ड ड्रिंक कभी पी थी तो सोचा लिम्का शिमका से उतना इम्प्रेशन नहीं पड़ेगा जितना बकार्डी से!मैं नहीं जानती थी कि बकार्डी की हार्ड ड्रिंक भी आती है.

उसकी माँ बहुत बीमार है, तो ये कह रही थी उससे मिलने जाऊं, मगर मैंने कहा ऐसे रात को जाना ठीक नहीं.

चाची जल्द ही मेरा लंड पकड़ के चूत पर रगड़ने लगीं और धीरे से कान के पास काटते हुए बोलीं- अब डाल भी दो बेटा, और इन्तजार नहीं होता.

रुचिका की ऐसी चुदाई से मेरे टट्टे अब जवाब दे रहे थे, मैंने देखा कि रुचिका की चूत की धार बह रही है, उसने मेरे ट्टटों से लेकर नीचे तक सब कुछ भिगो दिया था. वो मुझसे बेतहाशा लिपटने लगी, उसकी चूत में लहरें उठने लगी और उसकी चूत ने मुँह फ़ाड़ कर पानी उगल दिया. अभी मार्च महीने में होली पर जब वो छुट्टी पर घर आया तो मेरे मन में एक आईडिया आया.

शादी के 2 महीने पहले गोपाल का उससे झगड़ा हुआ था, बस तब से वो लापता है।मोना- लापता. मैं एक छोटे से गाँव की रहने वाली हूँ, मैं अपनी पढ़ाई और नौकरी के चक्कर में शहर में आ गई थी लेकिन मेरे माँ-बाप अभी भी वहीं गाँव में रहते हैं, वो शहर आते नहीं है और मैं गाँव जाती नहीं हूँ. डिनर में मैं पूरी सज धज के साथ शिफान की नीले रंग की साड़ी पहन कर गई.

नेहा ने हमारी पहचान उनसे करवाई तो वो तीनों हम दोनों को आँखें फाड़ फाड़ कर देखने लगे.

लेकिन थोड़ी देर बाद भैया न समझा कि मैं सो चुकी हूँ तो वो मेरे पेट को सहलाने लगे।मुझे उस टाइम अजीब सी फीलिंग होने लगी, लेकिन मैंने उन्हें कुछ नहीं कहा।फिर थोड़ी देर बाद उन्होंने अपना एक हाथ मेरे चूचे पर रखा और दबाने लगे। मुझे ये अच्छा तो लग रहा था लेकिन डर भी लग रहा था। मैंने सोचा इससे अगर ज़्यादा हुआ तो में भैया का विरोध करूँगी।जबकि हुआ इसका उल्टा, उनके चूचे सहलाने से मैं मस्ती में आ गई. मैंने कुछ सेकेन्ड्स बाद देखा तो लड़की ने उसके लंड पर हाथ रखा हुआ है और लड़के की टांगें पहले की अपेक्षा थोड़ी फैल गईं थी और हवस के कारण उसके होंठ खुले हुए थे. रफीक सबीना की चूत से मुँह हटाकर चीखते हुए- बहन की लौड़ी सबीना, क्यों अपने भाई की गांड के चीथड़े इस हब्शी लण्ड मस्ताना से करवाना चाहती है, फाड़ दी मेरी गांड मादरचोद भोसड़ी वाले अहःहःहः…जमीला- देखा तेरी चुदक्कड़ बहन को कैसे भाई की गांड फड़वा रही है, अब गण्डवे तुम भीअपनी बहन की गांडको फड़वाने के लिए तैयार करो.

जैसे ही केक काटा गया, मैंने केक की एक बाईट उठाई और सुलेखा की ब्रा के अंदर डाल दी. पर फिर हमने सोचा कि इतने दिन बाद मिले हैं तो क्यों ना साथ ही रुक जायें, ढेर सारी बातें करेंगे क्योंकि हम दोनों के पास एक दूसरे को बताने के लिए बहुत सारी बातें थी. मैंने उनसे पूछा- क्या बात है भाभी, आज आप अभी तक नहाई नहीं हो?तो उन्होंने कहा- आज मैं ब्यूटी पार्लर जाने की सोच रही हूँ.

लेकिन हर एक नई चुदाई का अपना एक अलग मज़ा होता है। आज मैं आपको बताउंगी कि मैंने कैसे अपने देवर से चुदवाया।वैसे देवर भाभी का रिश्ता तो बहुत प्यारा होता है। अगर साली आधी घरवाली हो सकती है.

उस के बिस्तर में घुस कर मैंने अपनी हरकत करनी शुरु की, मैं उस की कमर पर हाथ रखा कर सहलाने लगा, वो नींद में थी पर तब भी उसने मेरे हाथ को अपने हाथ से हटा दिया. उसने मुझे थोड़ा रुकने का इशारा किया और टांगों को थोड़ा आगे पीछे करके मुझे चोदने के लिए अपनी गर्दन से इशारा किया.

नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ मेरी सिसकारियों की आवाज़ से सी ए, जो बॉस के बाद चोदने आने वाला था, खुद को रोक नहीं पाया और वो भी आ गया. अंधेरा इतना था कि कुछ दिखाई नहीं दे रहा था बस अंदर जाकर दरवाजा बंद किया और बस दोनों ने एक दूसरे को चूमना शुरू कर दिया, होंठों में होंठ… कभी वो मेरी ज़ुबान को चूसती तो कभी मैं!करीब करीब उसका दम घुटने लगा क्योंकि मैं तो उसके होंठों को छोड़ ही नहीं रहा था, चूसे जा रहा था.

नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ बातों के दौरान गुलफाम कली ने अपनी साड़ी उतार फेंकी थी और अब सिर्फ स्लीव लेस ब्लाउज और पेटीकोट में थी, बातों ही बातों में उसने अपना पेटीकोट भी उतर दिया, उसकी काले रंग की पेंटी आगे से दिख रही थी लेकिन पीछे की तरफ पैंटी उसके मोटे चूतड़ों में बिल्कुल घुस गई थी. मैंने देखा तो पाया कि मेरी बहन ने अपनी चुत के बालों को साफ़ कर लिया था.

मैंने धीरे से धक्का लगा कर अपना पूरा लिंग उनकी योनि में डाल दिया और नीचे झुक कर उनके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूमने लगा.

काम सेक्स

मीना- अब वो तेरी मर्ज़ी है तू इसे क्या दिलाती है, चल मुझे बाहर तक छोड़ दे. रयान को तो डबल बेडरूम फ्लैट चाहिए था जिससे आज नहीं तो कल निष्ठा आ ही जाएगी वो आराम से रह सकें. और यह सब सोचते हुए मैं पटरी से नीचे उतरने ही वाला था कि पीछे से एक मजबूत हाथ ने मेरी टी-शर्ट का कॉलर पकड़ लिया…मैं आगे की तरफ और ज़ोर लगाने लगा और चंगुल से छूटने की कोशिश में टी-शर्ट का बटन टूट गया और गला घुटने लगा.

आज मैं अपनी आँखों देखी मॉम की चुदाई का हाल बताने जा रहा हूँ।हम लोग गुजरात के रहने वाले हैं। मेरी मॉम का नाम चंपा है, उनकी उम्र 39 साल है। मेरी मॉम काफी सुन्दर हैं और अभी भी जवान दिखती हैं।मेरे पापा का एक जिगरी दोस्त हैं. वो बस कुछ पूछने ही वाली थी कि काका ने खुद उसके सवाल का जवाब दे दिया।काका- ज़्यादा सोच मत बहू रानी. फिर उन्होंने बोला- अगर अपने पापा की मार से बचना है, तो जैसा मैं बोलती हूँ तुम वैसा ही करो.

लंड की खाज मिटाने के लिए किसी पुरानी लौंडिया को तू ही बुला सकता है।वीरू- हाँ यार संजय, किसी को जाने दे.

पूजा ने अपना हाथ बढ़ा कर मेरे लंड को ऊपर से पकड़ लिया और धीरे धीरे ऊपर नींचे करने लगी. लेकिन अब सभी कुछ-कुछ समय के अंतराल में झड़ने लगे, जिसने जहाँ लंड पेल रखा वो वहीं झड़ने लगा और उनके प्रेम रस की धार बहुत तेज और ज्यादा थी।मैं उनके अमृत में सराबोर होने लगी. वास्तव में मुझे जमीला और सबीना का लेस्बियन सेक्स सम्बन्ध के बारे में पता है लेकिन सबीना यह नहीं जानती कि मुझे ये सब पता है कि जब भी कोई हम दोनों के साथ मस्ती करने आता है उससे सबीना चुदवाती है.

मेरा मुँह उनकी चुत में लगते ही उन्होंने अपना सर तकिया में दबा लिया. कुछ देर बाद वे दोनों कार के पास आ गए, मेरे फ्रेंड ने मुझसे बोला- चलो अब मेरे फार्महाउस पर चलते हैं. उसका पति होली पर नहीं आया था इसलिए वो फ्री भी थी, शाम को ही आ गई, मेरी ही उम्र की है.

पीटर ने भी मन्त्र मुग्ध सी शक्ल बना कर व्हिस्की की बोतल उसे पकड़ा दी. फिर मैंने उसे छत पर लगी लोहे की रेलिंग पर झुका दिया और पीछे से ही उसकी चूत में एक ही बार में लंड पेल दिया.

हम दोनों की उत्तेजना बढ़ती ही जा रही थी और ऐसा लग रहा था कि किसी भी पल मेरे लौड़े से गरम लावा निकल पड़ेगा. मैं भी मुस्कुराते हुए बोली- चलो… क्या यहीं पर मनाओगे?आकाश मुझे एक बड़े से घर में ले गया. ‘अंकल जी, उससे मुहाँसे पक्का मिट जायेंगे न?’ वो थोड़ी अनिश्चितता से बोली.

इस पर ललचाए रुस्लान ने अपने भसंड लंड से चंगेज़ के लंड से ठसाठस भारी नताशा की गांड को कुरेदना चालू कर दिया!सारे क्रू मेम्बर्स सांसें रोक कर फिर से डबल एनल एक्शन का इंतजार करने लगे.

जमीला आँख मारते हुए- राजेश जी, ऐसा क्या इमरजेंसी काम पड़ गया?जमीला ने एक हाथ से स्टेयरिंग सम्भाल के एक हाथ को मेरी जांघ पर फिराते हुए पूछा. उसकी फैलती हुई टाँगें बता रही थीं कि लड़का उसकी चूत को सहला रहा है, वो होठों को दबाती हुई इस क्रिया का आनन्द ले रही थी. मैंने उसे तुरंत मना कर दिया कि मैं शादीशुदा हूँ और मैं इन सब चक्कर में नहीं पड़ती, अब मेरा पीछा छोड़ दो, अब मेरे पीछे मत आना!मगर वो माना नहीं- भाभी, जी मुझे पता है आप शादीशुदा हैं, पर कौन से पंडित ने कहा है कि शादी के बाद आप किसी से दोस्ती नहीं कर सकती.

मैंने भी मौका ना गँवाते हुए कहा- चलिए आप कभी मेरे काम आ जाना, सिंपल!और हंस दिया. आप सबको नमस्कार, मेरा नाम कृष्णा है और मैं नागपुर महाराष्ट्र से हूँ.

लंच तो बाहर से ही आता बैंक में, पर डिनर उन दोनों ने मिलकर बनाना शुरू कर दिया. मेरा तो मन कर रहा था कि इसको अभी पकड़ कर इसके सारे जिस्म को भंभोड़ डालूँ. उसके जाने के बाद मैं उठी और दोस्त से सब के बारे में पूछा; तो हंसने लगी और बोली- कल सुबह बात करुँगी.

नंगी वाली ब्लू

मैं समझ गया था कि आग दोनों तरफ लगी है और अब ये दीवार गिराए बिना आगे नहीं बढ़ा जा सकता.

उसकी उठी हुई छाती पसीने से भीग रही थी, एक हाथ उसकी कमर पर था और दूसरे हाथ से वो अपने लौड़े की मुट्ठ मार रहा था. आज मैं अपनी आँखों देखी मॉम की चुदाई का हाल बताने जा रहा हूँ।हम लोग गुजरात के रहने वाले हैं। मेरी मॉम का नाम चंपा है, उनकी उम्र 39 साल है। मेरी मॉम काफी सुन्दर हैं और अभी भी जवान दिखती हैं।मेरे पापा का एक जिगरी दोस्त हैं. लंड चुसवा रहे स्वान की आँखें तो नताशा की गांड में घुस रहे एंड्रयू संग हमारे लंडों पर ही लगी थी और अत्यधिक उत्तेजनावश स्वान का लंड मेरी बीवी की नर्म-गर्म-गुलाबी-रसेदार जीभ के सानिध्य में और भी ज्यादा फूल गया, और अब नताशा उसे मुश्किल ही अपने मुंह के अन्दर घुसेड़ पा रही थी.

पानी से जलन ठीक हो जाएगी।आंटी मुझे हाथ से पकड़कर बाथरूम में ले गईं और शावर ऑन कर दिया। मैं पूरा भीग गया लेकिन जलन ठीक नहीं हो रही थी।आंटी बोली- चलो थोड़ा बर्फ लगाती हूँ. 10 मिनट के बाद मेरा उसके मुख में निकल गया, मेरा पहली बार था लेकिन मुझे भी पता था. हिंदी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियोपर मैं अपनी कमर रोक ही नहीं पाया। मैं धकाधक 8-10 धक्के मार के झड़ गया और उन पर पसर गया।भाभी- हो गया ठंडा.

हम दोनों की बातों का सिलसिला करीब एक साल चला और फिर वो मौका आया जिसका हम दोनों को ही बेसब्री से इंतज़ार था. मैं चल भी नहीं पा रही हूँ, मुझे चुत में बहुत दर्द हो रहा है और पैर भी दुख रहे हैं.

अब वो क्या करे, बस इसी उधेड़बुन में वो चाय बना कर ले आई और गुलशन जी को दे दी. वो एक और देना वीरू और प्लीज़ वो साथ में फ्रेंच फ्राइ भी देना।सब एक-दूसरे से हँसी-मजाक कर रहे थे और बियर पी रहे थे। अब फ्लॉरा पे भी नशा चढ़ने लगा था. उसका लंड और मेरी चूत दोनों काफी चिकने थे, तो 2-3 जोरदार धक्कों के बाद मेरी चूत में उसका पूरा लंड समा गया.

इतने में ही राहुल नीचे से चीख उठा- नेहा… नेहा… मैं मर गया… मेरा तो निकला… निकला गयाऽऽऽऔर मेरे से लिपट गया, उसने मुझे अपने ऊपर ही छाती पर लिटा लिया, मुझे जोर से अपनी बाहों में कस लिया, उसने जोर लगा कर अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में दबा दिया. तो उसी दौरान एक लड़के से मेरी मुलाकात हुई और धीरे-धीरे हमारी मित्रता बढ़ती गई. फिर दोनों ने अपने लंड मेरी चूत से निकाल लिए पर मेरी चूत की हालत ख़राब हो चुकी थी.

मैंने उनकी चूत को देखा बिल्कुल क्लीन शेव, एक भी बाल नहीं था, मैं चूत को चूसने लगा, आंटी को बहुत मजा आ रहा था, वो मेरा लंड भी अच्छी तरह चूस रही थी.

उसको शुरू में चूत का टेस्ट थोड़ा अजीब लगा, मगर बाद में पता नहीं उसको क्या हुआ. कुछ देर तक होंठों एवम् जीभ के इस आदान प्रदान के बाद मैंने माला को अपनी बाजुओं में उठा कर अपने कमरे में ले जा कर बिस्तर पर लिटा कर पास में लेट गया.

सबसे अजीब बात थी कि सिंसिअर सी रहने वाली लड़की आज इस रूप में?उस दिन मुझे पता चला कि लड़की का सामान्य व्यव्हार और सेक्स की फंतासी दोनों में बहुत अंतर भी हो सकता है. पहले दरवाजा तो लॉक करो।मैंने झट से दरवाजा लॉक किया और आंटी को उठाकर बेड पर लिटा दिया। अब तक शाम के 7 बज गए थे. मेरी बीवी तो इतनी गर्म है और मुझे खाने के लिए बोल रही है। मेरी जान अभी खाने के बाद कोई दूसरा काम नहीं.

थोड़ी देर बाद संजय वापिस आया तब तक कुछ बहाना स बनाकर सी ए साब मेरी दायीं ओर बैठ चुके थे. शाम को चाचा घर आए और मुझे और रवि को चाची के पास ही सोने का बोल के खुद बाहर चले गए. सर्दियों का मौसम शुरू हो रहा था हवा में हल्की सी सिहरन महसूस होने लगी थी.

नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ गुलशन ने अनीता को बांहों में भर लिया और उसके बाल खींच कर एक जोरदार किस किया. दीदी रोते रोते भीख माँगने लगी- प्लीज़ अशोक मेरा भाई, छोड़ दो मुझे अब और नही सहा जाता.

इंडियन एचडी ब्लू फिल्म

और ये दोनों दूसरे ही दिन आ पाएंगी, यह मैं जानता था जिससे मैं पूरी रात पूजा के साथ बिता सकता था. ‘आअह्ह्ह… ओह्ह्ह्ह… मर गई!’ मैंने आदी से कहा- आराम से चूसो ना…आदी ने कहा- भाभी, आराम से ही तो चूस रहा हूँ!और जोर से मेरी चूत को काट लिया और मेरी चीख निकल पड़ी।मेरी आँखों से आँसू निकल आये मगर मेरा देवर नहीं मानने वाला था। वो अपने काम में लगा रहा. जिसे देखकर सुमन डर गई।टीना- अरे डर मत उसको होश कहाँ है, नशे में धुत पड़ा है।टीना उसके पास गई उसको हिलाया मगर वो तो बेसुध पड़ा था। वो कोई 40 साल का आदमी था.

शाम को भी नहीं मिलता और कॉलेज भी देरी से आता है।संजय- अरे कुछ खास नहीं, पापा ने काम में उलझा रखा है यार!सुमन- गुड मॉर्निंग फ्रेंड्स. तो मेरी दोनों सालियां बैठ कर टीवी देख रही थीं। फिर हम तीनों ने बाहर जाकर चिकन तंदूरी और रूमाली रोटी खाई और वापस आ गए। मेरी बड़ी साली सोने चली गईं और छोटी साली जो 18 साल की है. वीडियो सेक्सी बीएफ मराठीपानी से जलन ठीक हो जाएगी।आंटी मुझे हाथ से पकड़कर बाथरूम में ले गईं और शावर ऑन कर दिया। मैं पूरा भीग गया लेकिन जलन ठीक नहीं हो रही थी।आंटी बोली- चलो थोड़ा बर्फ लगाती हूँ.

आप जाग रहे हो।मैंने जोर-जोर से उसकी चूचियाँ मसलनी शुरू कर दीं और उसकी नाईटी उतार कर उसे नंगी कर दिया। फिर मैं उसके निपल्स को चूसने लगा।वो बोल रही थी- आह.

फिर घोड़ी बन गईं। मैंने भाभी की चुत पर लंड रखा और एक दमदार झटके से पूरा लंड भाभी की चुत के अन्दर गाड़ दिया।भाभी- हाइईइ क्या एंट्री है. नीतू ने धीरे-धीरे हाथ ऊपर की तरफ़ किया और अब उसका हाथ गोपाल के लंड पर था.

इसको तू चाहे तो फ्लॉरा की तरह कब का तैयार करके चोद सकता है, मगर तूने ये टास्क-वास्क का क्या नया चक्कर चलाया. वो एक हाथ से उसकी चूचियों को मसल रहा था और दूसरा हाथ लड़की के सिर के पीछे रखकर उसको किस कर रहा था. क्यों ना प्यार से चुदूँ। बस मैंने अपना मुँह खोल लिया और उसका लंड मुँह में चला गया। तब तक पहले वाले ने मेरी टांगें चौड़ी कीं और अपना लंड मेरी बुर पर रगड़ने लगा। फिर रगड़ते-रगड़ते कब उसने झटका मार दिया.

मेरे जीवन में घटी घटनाओं पर आधारित रचनाओं की शृंखला को जारी रखते हुए मैं अपनी अगली रचना वहाँ से शुरू कर रहा हूँ, जहाँ मेरी उपरोक्त रचना का अंत हुआ था.

तो कभी मुँह में भर के चूसने लगती।इसी दौरान मैं एक बार मैं उसके मुँह में झड़ गया. मैंने फिर चुप्पी तोड़ी और पूछा- क्या तुम अब तक मुझसे शाम के लिए नाराज़ हो?मानसी- नहीं जस्सी, पर हमें ऐसा नहीं करना चाहिए. सुधीर बोलता हुआ रुक गया क्योंकि उसे बाद में अहसास हुआ वो कुछ ज़्यादा ही बोल गया।मोना- हा हा हा तुम भी ना बड़े मजाकिया हो.

मारवाड़ी भाभी का बीएफफिर चंगेज़ ने अपने लंड को बाहर निकाला तो गर्ल फ्रेंड को थोड़ा सा विश्राम देते हुए रुस्लान ने भी अपना बाहर निकाल लिया और चंगेज़ नीचे की ओर झुक कर मेरी प्राणप्यारी पत्नि की चूत को चाटने लगा. सुमित ने फोन पर राजे से बोल दिया- राज जी, आपकी सभी शर्तें हम मानते हैं.

हैप्पी बीएफ

परन्तु चार पांच दिन बाद जब वह बाजार में मिली तो उन्होंने मुझे कहा कि मेरे क्लिनिक पर आकर दिखाओ नहीं तो दोबारा दर्द हो जाएगा और पेशाब बंद हो जाएगा. उन्होंने मेरे हाथों को और पीछे की तरफ खींचा और अब दोनों के लंड आपस में सटे हुए पूरे के पूरे मेरी गांड में आ फंसे. मैं बहुत डर गया और मैंने उससे कहा कि अगर उसने ऐसा किया तो मैं उसका वीडियो इंटरनेट पर डाल दूँगा और उसे वीडियो दिखाने लगा.

लंड को अन्दर और अन्दर करने के लिए वो मेरी बहन की कमर को पकड़ के जोर-जोर से झटके मार कर अन्दर करता जा रहा था. फिर हाथ से लंड को पकड़ कर सहलाते हुए बोली- बड़ा है लंड तुम्हारा बाबू. वैसे तो हम सेक्स के विषय पर कभी-कभी बात करते थे लेकिन एक-दूसरे के बारे में कुछ गलत नहीं सोचा था.

फिर भी डरते डरते कई बार उसे कोचिंग के टाइम बाइक पर बैठा कर दूर जंगल में ले जा के या पास में बांध की तलहटी में चोद कर उसकी प्यास बुझाई भी!इसके लिए मैंने उसे टिप्स दीं थी कि वो सिर्फ सलवार कुर्ता पहन के आयेगी और इनके नीचे ब्रा या पेंटी नहीं पहनेगी साथ में मैंने उसे ये भी सिखाया कि चूत के सामने जो सलवार का हिस्सा होता है वो वहाँ की सिलाई उधेड़ दे जिससे बिना कपड़े उतारे उसकी चूत में मैं लंड पेल सकूं. टीना- अरे वो तो अभी छोटा है, कभी किसी असली मर्द का चूस कर देख, फिर कहना तुझे कैसा मज़ा मिलता है. डॉक्टर को भी अच्छा लगा, वह उचक उचक कर मेरे लंड की सवारी करती रही और एक बार और झड़ गई.

वो उठकर जाना चाहती थी मगर मैंने उसे फिर से दबोच लिया और उसकी गर्दन व गालों पर चुम्बनों की झड़ी लगा दी।पिंकी कसमसाने लगी और ‘ओय… अब…बस्सस… बहुत हो गया… ह्हाँ…! प्लीज… छोड़ मुझे… अब जाने दे…’ कहते हुए अपने आप को छुड़ाने का प्रयास करने लगी मगर मैं कहाँ मानने वाला था अभी तक जो सुख मैंने उसको दिया था आज उसे सूद समेत वापस भी तो लेना था।कहानी जारी रहेगी. पहली बार किसी मर्द से मैं अपनी बुर को चटवा रही थी। मजा मिलने लगा तो मैंने अपने दोनों पैर फैला दिए और अंकल ने मस्त होकर बुर को पीना शुरू कर दिया।उनकी उंगली मेरे मम्मों की ढिबरी को मसलने लगी और तभी लाईट आ गई।मैंने देखा मेरे बदन के कपड़े खुल चुके थे वो और मैं बिना कपड़ों के थे। अंकल के हाथ मेरी समीज के अन्दर से होता हुआ बटले को दबा-दबा कर मस्त करने लगे। मेरी आँखें बंद हो चुकी थीं.

इतने में पीछे से वो आ गई, वैसे उसका नाम श्वेता था, और मूवी को देखने लगी.

और कब तक अपने लंड के अरमानों पर पानी डालता रहूँगा इसलिए अब तो रात को अपने कमरे के बजाए बाहर सोने लगा था. बीएफ एचडी में सेक्सी वीडियोमैं सिर्फ उसी को देता हूँ। तू चिंता ना कर दवा खा लेने से कुछ नहीं होगा, मैं तेरे लिए दवा ले आऊंगा फिर तू कहाँ से माँ बनेगी। फिर तो बस तू अपनी जवानी के मज़े ले।राधा जब बैठने लगी तो उसको चुत में थोड़ा दर्द हुआ और खून सूख कर उसकी चुत पर जम गया।राधा- आह. हिंदी बीएफ पिक्चर वीडियो एचडीउसने हरे रंग की सूती साड़ी में अपना पूरा बदन छुपा रखा था और घर में घुसते ही मुझे बैठक में अख़बार पढ़ते हुए देख कर दोनों हाथ जोड़ कर प्रणाम किया. तभी जमीला का फोन बजा, उसने फोन उठाया और बोली- हेलो, हाँ आ रहे है वापिस, बस 5 मिनट में घर पहुंच जाएंगे.

मैंने कहा- जरूर, क्यों नहीं!तो उन्होंने मेरे गले के आसपास अपने हाथ डाले और मेरे होंटों अपने होंठ रख दिए और किस करने लगी.

आकाश ने मेरी साड़ी का पल्लू हटा दिया और मेरी चुचियों को ब्लाउज के ऊपर से मसलने लगा. इसी उधेड़बुन में मैं घर वापस आया तो मौसी ने पूछा- अरे तू कहाँ चला गया था?मैंने अपनी भावनाओं को सीने में दफन करते हुए आँसुओं को आँखों के अंदर ही कैद रखकर कहा- नहर तक टहलने चला गया था…मौसी ने कहा- ये भी कोई टहलने का वक्त है, दोपहर होने को आई है. पर मैं अपनी कमर रोक ही नहीं पाया। मैं धकाधक 8-10 धक्के मार के झड़ गया और उन पर पसर गया।भाभी- हो गया ठंडा.

एक दिन मैं बाजार कुछ सब्जी वगैरह लेने गया था तब वहाँ मुझे मेडम मिलीं. जैसे ही अंगूरी और सक्सेना दोनों अन्दर की ओर बढ़े, गुलफाम कली भी अपने रूम में जाने के लिए बढ़ी, वे दोनों उनके पीछे चले. इसलिए अभी सूरत जा रहा हूँ, सुबह जल्दी उनसे मिलना है।गुलशन जी जल्दी में थे मगर हेमा ने उनको खाना खिलाया और सुमन ने उनका बैग पैक किया और वो निकल गए।ठीक 9 बजे टीना उनके घर आई, सुमन की माँ से मिली, फिर वो सुमन के कमरे में चली गई।सुमन- मैं आपका ही वेट कर रही थी दीदी, और बताओ आज आप क्या टास्क दोगी?टीना- बताऊंगी मेरी जान.

धोनी सेक्स

भाड़ में गई कसम… मैं वापस लेती हूँ अपनी कसम… भगवान् से माफ़ी मांग लूंगी. मैं पागल हुए जा रही थी तो उसने मुझे अपनी गोद मैं उठाया और मुझे मेरे ही बैडरूम में लेकर चला गया।आदी ने मुझे बेड पर लिटाया और मेरे पूरे शरीर पर फिर से किस करने लगा।थोड़ी देर बाद आदी ने भी अपने कपड़े उतार दिए और पूरा नंगा मेरे सामने खड़ा हो गया. मैं स्ट्रेचर पर लेट गया, डॉक्टर ने मेरा अंडरवियर भी खींचकर नीचे कर दिया और मेरे लंड को पकड़ कर देखने लगी.

कुछ दिन पहले ही अभिनव ने उस घटना को एक रचना के रूप में लिख कर मुझे भेजा था जिसे मैं संपादित करने के पश्चात अन्तर्वासना पर प्रकाशित करने के लिए प्रेषित कर रहा हूँ.

आपको मेरी चुत की कहानी पसंद हो तो अपने कमेंट और सुझाव मुझे मेल कर सकते हैं[emailprotected]पर!.

खैर अब क्या कर सकते थे, मैंने उसको थॅंक्स बोला और वहाँ से अपने घर चला आया, लेकिन हूँ तो मैं भी हरामी… जानबूझ कर उसके घर के सामने हॉर्न बजा कर निकलता था. आगे की पढ़ाई के लिए उसके घर वालों ने उसे पास के शहर भोपाल भेज दिया क्योंकि यहाँ ललितपुर में उसकी पसन्द का कोई भी कॉलेज नहीं था. बीएफ सेक्सी बुर्का वालीफिर मैंने वही चिकनाहट अपने सुपारे पर चुपड़ ली और लंड को उसकी चूत की दरार में लम्बवत रख के रगड़े लगाने लगा.

ये सोचकर कोई इसे छेड़ता नहीं था। काका भी इसे देखकर मन ही मन इसे चोदने के सपने देखता था मगर कभी ऐसा मौका ही नहीं मिला कि राधा को चोद सके। आज जब काका और राजू बात कर रहे थे, तब राजू ने यही राज बताया था. कुछ देर मेरी चुत सहलाने के बाद आकाश ने मेरी ब्रा और पेंटी उतार कर मुझे नंगी कर दिया और खुद भी सारे कपड़े उतार कर नंगा हो गया!जब आकाश ने अपने कपड़े उतारे तो उसका लंड देख कर हैरान हो गई उसका लंड भी दीपक के लंड की तरह खूब बड़ा और मोटा था. मैंने पूछा- क्या वो हमारे सामने हस्तमैथुन कर सकता है क्योंकि हमने कभी भी असली में ऐसा नहीं देखा.

मैं तो जैसे किसी दूसरी दुनिया में ही पहुँच गया।मैं उसका एक निप्पल अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और दूसरे हाथ से दूसरे कबूतर को दबोच लिया। प्रिया के मुँह से धीरे-धीरे बस ‘आहा. खाना खा कर मैं बेड पे लेट गया क्योंकि अब दो दिन बाद पेपर था तो मैं पेपर की तैयारी अगले दिन भी कर सकता था.

उसके माथे पे पसीने की बूंदें आ गईं और उसको कुछ समझ ही नहीं आया अब वो करे तो क्या करे, कैसे मॉंटी को पता लग गया.

उसे हम पांच दोस्तों ने पूरी रात मैंने बार-बार चोदा और कई बार गांड मारी. वो मेरे कितने करीब है, ये आपको उसके साथ हुई इस सेक्स स्टोरी में पता चल जाएगा. इसके बाद पूजा भाभी ने मुझसे कहा- चल पायल, तू अभी इस समय चल बाथरूम में… मैं तेरी भी मदद कर देती हूँ.

एचडी में बीएफ एचडी में मैंने फिर से ट्राइ किया और अबकी बार एक ही झटके में अपना आधा लण्ड उसकी बुर में पेल दिया. इतने में ही राहुल नीचे से चीख उठा- नेहा… नेहा… मैं मर गया… मेरा तो निकला… निकला गयाऽऽऽऔर मेरे से लिपट गया, उसने मुझे अपने ऊपर ही छाती पर लिटा लिया, मुझे जोर से अपनी बाहों में कस लिया, उसने जोर लगा कर अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में दबा दिया.

जब हम उठे तो मेरा लंड उसके मोटे मोटे बूब्स देखकर फिर से तन गया और आबिदा का भी मन फिर से चुदने का हो रहा था तो हमने फिर एक बार और चुदाई की और आबिदा मेरी चुदाई से बहुत खुश हुई. बातों के दौरान गुलफाम कली ने अपनी साड़ी उतार फेंकी थी और अब सिर्फ स्लीव लेस ब्लाउज और पेटीकोट में थी, बातों ही बातों में उसने अपना पेटीकोट भी उतर दिया, उसकी काले रंग की पेंटी आगे से दिख रही थी लेकिन पीछे की तरफ पैंटी उसके मोटे चूतड़ों में बिल्कुल घुस गई थी. सुपारा अन्दर जाते ही गर्लफ्रेंड की चूत ने खून छोड़ दिया और वो दर्द के मारे चिल्लाने ही वाली थी कि मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ जमा दिए और किस करने लगा.

बंगाली नंगी फोटो

शिवानी ने नाइटी पहनी हुई थी, जिसमें से उसके 34 के चूचे 40 के माफिक दिख रहे थे और गांड 50 की. मैं मान गयी और मामा जी का लंड चूसने लगी, मामा जी का लंड इतना मोटा था कि सिर्फ़ टोपा ही मेरे मुँह में जा पा रहा था. राजे के संपर्क में आने के बाद मैं चुदाई के हर पहलू की माहिर हो ही चुकी थी.

कहाँ खो गए और ऐसे क्या देख रहे हो?मैंने कहा- भाभी, आप इतनी सुन्दर और सेक्सी लग रही हो कि मेरा मन कुछ और ही करने लगा था. मोना ने कुछ कपड़े पसंद किए और कुछ जरूरत का सामान लिया फिर वो नीतू को लेकर घर आ गई.

शायद वो इस तरह से मुझे शुक्रिया कहना चाहती थी पर मैंने पूछा- तुम्हारा कब निकला?कहने लगी- तुझसे बस थोड़ी सी पहले मेरा हो चुका था, तेरा नहीं हुआ था इसलिए लेती रही लंड को अंदर… पर सच बोलूँ तो मजा आया बहुत और मेरे कान के पास आकर मुझे ‘आई लव यू’ बोला और कहने लगी- आज असली मजा मिला है.

उसने आँखें बंद ही रखी तो मैंने दुबारा थोड़ा जोर का झटका दे कर लगभग आधा लंड उसकी चूत में घुसेड़ दिया. हालांकि भाई बहन के बीच ये सब पाप की नजर से देखा जाता है पर ना जाने क्यों ये पाप करना मुझे अच्छा लग रहा था. फूफा जी ने फिर से मेरी चुदाई शुरू कर दी थी… वो अपना पूरा लंड मेरी चूत में से बाहर निकालते और फिर एक ही झटके में वापिस अंदर डाल देते… सच में बड़ी जबरदस्त चुदाई कर रहे थे फूफा जी मेरी… मेरी दोनों टांगे ऊपर उठी हुई हवा में झूल रही थी और इतनी ताबड़तोड़ चुदाई से मेरा मन चिल्लाने को कर रहा था… मैं अपने ऊपर कंट्रोल रखने की कोशिश कर रही थी मगर फिर भी कभी कभी मेरे मुँह से आअहह औउच की आवाज़ें निकल जाती.

उसने भैंसों के चारा डालने वाली जगह पर बंधीं बेलों को दोनों भैंसों के गले में डालते हुए उनको खूंटे से बांध दिया. हेल्थी हूँ और मेरे लंड की लम्बाई साढ़े पांच है जो औरतों और लड़कियों को पूरी तरह से संतुष्ट कर देता है।दोस्तो, सम्भोग करना एक कला है. मैं दीदी की चुत चाटते जा रहा था और वो चुदास के चलते अजीब-अजीब सा मुँह बना रही थीं.

मैं- आप चित लेट जाइये… मैं चेक कर के देखता हूँ, दर्द कैसे हो रहा है.

नेपाली सेक्सी बीएफ बीएफ: और फिर हाथ को सीट के ऊपर से जमीला के कंधे और थोड़ा नीचे खुली शर्ट से जमीला के बूब्स सहलाने लगा. साला तन कर फड़फड़ा रहा था। मुझे फिर से किसी को चोदने की तलब लग रही थी। मेरे पास जिनके मोबाइल नंबर थे.

हमेशा की भांति सुलेखा ने मुझ पर लाइन मारना शुरू कर दिया, वो मेरे इर्द गिर्द मंडराती रहती, बार बार मेरी नज़रों से नज़रें टिकटिकी लगा कर मिला लेती. मेरे छूने मात्र से ही उसकी चूत गीली रसीली होने लगी और मेरी उंगलियाँ चूत रस से भीग गईं. मैं तो इसी मौके के इंतज़ार में था, मैंने झट से अपना हाथ उसकी दोनों जाँघों के बीच घुसा दिया, उसे शायद इस बात का अहसास हो गया था इसलिए फिर से अपनी टांगों को सिकोड़ने की कोशिश की… लेकिन अब बहुत देर हो चुकी थी… सेंध लग चुकी थी.

ऊपर आया तो मैडम सीधी होकर लेटी हुई थी, ऊपर से चूची के कुछ भाग नजर आ रहा था.

खैर मैंने चाची को बोला- हो गया, कपड़े ठीक कर लीजिए!और मैंने दवा सीमा के रूम में रख दी. वो उन्होंने नोटिस कर लिया।मैं- आंटी आपके हाथ की चाय तो बहुत टेस्टी है।आंटी- थैंक्यू. मुझे दर्द होने लगा क्योंकि मेरी चूत अभी भी बहुत कसी हुई थी, मामा आधा लंड ही अंदर बाहर करने लगे.