लेते हुए बीएफ

छवि स्रोत,xxxxवीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

एसएस वीडियो एसएस वीडियो: लेते हुए बीएफ, अब वो अपनी कमर को आगे पीछे करती हुई हिलाने लगी और लंड उसकी चूत में अन्दर बाहर होने लगा.

গ্রুপ সেক্স

उसके चेहरे पर मुस्कान थी।कुछ देर बाद वो उठकर बैठ गयी और मेरे कंधे पर सर रखकर सो गई. हिंदी वीडियो ब्लूकैसे हो, क्या कर रहे हो?मैं- कुछ नहीं आज रविवार था तो सोचा कि आपसे घर के बारे में पूछ लूं.

भाभी से मेरी अभी ज्यादा बात तो नहीं बनी है, पर वो मुझसे काफी अच्छे से बात कर रही थीं. बीवी की चूतइससे पहले मैंने कैमरे को अपने फोन से कनेक्ट कर लिया ताकि वहां जाने के बाद भी मैं अपने घर के बारे में जान सकूं.

अब मैं फिर से उसके ऊपर लेट गया और उसकी बुर को पैंटी के ऊपर से चाटने लगा.लेते हुए बीएफ: बेगम ने मुझे आसिफ का कमरे के दरवाजे पर ला कर कहा- जाओ फातिमा … अन्दर तुम्हारे एक रात के शौहर इंतज़ार कर रहे हैं.

मैंने भी हाथ पीछे करके उसका लौड़ा बाहर निकाल लिया और उसको मसलने लगी.मैंने कहा- गीता, तुम्हारे पति तुम्हें पूरी तरह से संतुष्ट नहीं कर पाते हैं क्या?इस पर गीता बोली- मेरे पति अच्छे हैं, उन्होंने बहुत धन दौलत कमाई है, लेकिन उनके पास मेरे लिए समय नहीं है.

जीजा साली की चुदाई की वीडियो - लेते हुए बीएफ

जो मैडम हमको पढ़ाती थीं, वो भी पहले मुझसे ही पूछती थीं कि आपको समझ आया या नहीं.कुछ देर बाद मुझे ऐसा लगा कि मेरा पानी निकलने वाला है तो मैंने जल्दी से लंड को बाहर निकाला और अपनी बहन के मुँह पर सारा पानी निकाल दिया.

मैं- तो क्या हुआ, पहले तो अपने हसबैंड से कर चुकी हो ना!वो- हां की हूँ लेकिन उनका इतना बड़ा और मोटा नहीं है. लेते हुए बीएफ वो बोली- मैं नींद में इतनी भी बेसुध नहीं हूँ, जो मुझे पता नहीं चल रहा कि आप क्या कर रहे हो.

उस वक्त मुझे ऐसा नजारा दिख रहा था, जैसे किसी विदेशी लड़की के ऊपर कोई अफ्रीका का लंबा चौड़ा मर्द चढ़ा हो.

लेते हुए बीएफ?

मैंने साउंड सिस्टम में अच्छा सा गाना शुरू किया और रूपा को नंगी नाचने के लिए कहा. तभी उसके मुंह से सीत्कार छूट गई और वो एकदम उत्तेजित हो गई और लेट गई. वो आंख बंद करके मजा ले रही थी।कुछ देर बाद उसकी चूत ने गर्म पानी की धार छोड़ दी.

इसलिए मैं मान गया और उसके मुँह में बिना कंडोम के लंड घुसा कर उसे चोदने लगा. जल्द ही बॉस ने अपनी कमर हिलाना शुरू कर दिया और मेघना के मुँह को ही चोदने लगा. मैं उसका एक निप्पल अपने होंठों में पकड़ कर खींचा तो उसकी मदभरी आह निकली और वो खुद अपने हाथ से अपने दूध को पकड़ कर मुझे पिलाने लगी.

पायल- ओह मैं तो डर ही गयी थी। अकेले रहने की आदत सी जो हो गयी है … वैसे तुम्हें इतनी हार्ड कोर …राहुल पायल की चूत को सहलाते हुए- हाँ … हाँ … क्या हार्ड कोर??पायल हल्के दर्द के साथ मुस्कुराती हुई- मेरा मतलब, हार्ड कोर मेहनत के बाद भी नींद नहीं आयी क्या?राहुल पायल की सूजी चूत को एक नज़र देखते हुए- बस तेरी इसी अदा ने तो मुझे दीवाना बना दिया है जानेमन. फिर जैसे ही मैंने केक काटा, भैया ने उसमें से एक टुकड़ा लेकर मेरे चेहरे एवं से लेकर मेरे गर्दन के आगे कुछ नीचे तक और पीछे भी लगा दिया. अब मैं चुदाई का तरीका बदलते हुए अपने घुटनों पर हो गया और रूना के दोनों पैरों को कमर में डालकर मैंने लंड चूत में डाल दिया.

अब आगे देसी गर्लफ्रेंड रोमांटिक कहानी:सोनी तो मेरे घर में आ गयी थी पर अभी भी मेरा दिल धक धक कर रहा था. तभी उसने मेरे मम्मों को कसके पकड़ा और एक जोर का धक्का देकर सुपारे को मेरी बच्चेदानी में घुसा दिया.

लेकिन उसने ऐसा करना जारी रखा जिससे मैं कुछ देर में झड़ गयी और मेरा सारा पानी उसके हाथ में लग गया.

मैं जानना चाहता था कि क्या वो अपने पति से सिर्फ कम चुदाई की वजह से दुखी है या उसका पति उसकी कोख भर पाने में असमर्थ है.

उसने मेरा हाथ पकड़ा और बोली- चल मेरे साथ अन्दर!मैंने कुछ नहीं कहा और चुपचाप सर झुका कर अन्दर चला गया. स्टूल एकदम सही जगह पर लगा हुआ था, मैं रात को लाइव ब्लूफिल्म देखने के लिए काफी उत्सुक हो गया था. मैंने लंड को चूत में रखकर जोर से धक्का लगाया और फिर से अन्दर बाहर करने लगा.

देसी गर्लफ्रेंड रोमांटिक कहानी में पढ़ें कि हल्के फुल्के चुम्बन के बाद हम दोनों की कामेच्छा सर उठाने लगी थी. फिर उसने अपना सर उठाया और मुँह नजदीक लाकर किस करने की कोशिश करने लगी. इस घटना के कुछ दिन बाद मेरा बर्थडे था और सोनी ने मेरा बर्थडे स्पेशल बनाने के लिए मुझे किसी ऐसी जगह का इंतजाम करने को बोला जहां हम दोनों के सिवाए और कोई ना हो.

उसे सोने दो, उस बेचारी ने पहली बार तुम्हारा मूसल लिया था, तो उसे दर्द हो रहा है.

शेखर का बदन अब पहले से ज़्यादा अकड़ रहा था … शायद धारा के गांड के छेद की ख्वाहिश ने उसका जोश और बढ़ा दिया था. कुल मिलाकर शेखर के होश उड़ाने के लिए धारा का ये रूप काफ़ी साबित हो रहा था. मैंने बंगलुरु से चंडीगढ़ की टिकट जल्दी वाली देखी और दूसरे दिन की तत्काल में बुक करा दीं.

मैंने गाड़ी को किनारे लगा दिया और अपने होंठों से उसके होंठों पर चुम्बन का ताला लगा दिया. तब तक आप मुझे मेल करें मेरी देसी गर्ल पोर्न स्टोरी पर कमेंट्स करें. मैं दबे पांव बाथरूम पहुंचकर गेट से ही उसकी चूत को निहारकर सीसी की मधुर आवाज को सुनने लगा.

मैंने उनसे कहा- मोहन जी, प्लीज़ एक बाल्टी पानी दे दीजिए, मेरे बाथरूम में पानी खत्म हो गया है.

मतलब धारा अब धीरे-धीरे सरकती हुई पहले शेखर के पेट फिर शेखर की छाती तक आ चुकी थी. मैंने कई लड़कियों को चोदा था पर आज मेरी मॉम मेरे लंड को सपर सपर करके चूस रही थीं तो मुझको कुछ ज़्यादा ही अच्छा लग रहा था.

लेते हुए बीएफ कभी मैं उसके सुपारे के छेद को अपनी जीभ से कुरेदने लगती, तो कभी उसके अंडकोष चूसने लगती. कितना अच्छा चूसती हो तुम!तो देविका भी जोश में आकर लंड मुँह में लेने लगी थी.

लेते हुए बीएफ फ्रेंड्स, मैं विराज आपको अपनी पर्सनल सेकेट्री बन चुकी रेशमा को मुंबई लाकर उसकी गांड चुदाई की कहानी सुना रहा था. मैं इस कहानी की नायिका की बात करूं तो उनका नाम सपना भाभी (बदला हुआ) है.

साबिरा की चूत ने मेरे लौड़े को कसके चिपका लिया था और मेरे लौड़े को चूत के मुँह में फंसा रखा था.

साउथ इंडियन बीएफ सेक्सी

कुछ पल बाद मेघना उठी और अपनी टांगें चौड़ी करते हुए बॉस के लंड के ऊपर बैठ गई. उन्होंने लाल रंग की साड़ी पहनी और मैचिंग का ब्लाउज मम्मों पर फंसाया. मेरे ऑफिस में कुछ दिन बाद काम बढ़ जाने से मुझे समय की किल्लत होने लगी.

वो धीमी आवाज में बोली- मजा ले ले बेटा … किसी को बताना, मत बाकी का काम हम रात को करेंगे. अब आगे Xxx मास्टर सेक्स कहानी:अब तक मैं भी अपनी उखड़ती सांसों में डूब गई थी और कामुक आवाज़ों के साथ कराहने लगी. फिर भाभी को बिना बताए मैंने अपना लंड उनकी गांड पर टिकाया और एक भरपूर शॉट लगा दिया.

मेरे मुँह से बस ‘आह … आईईइ उई … नहीं … आह्ह बहुत दर्द हो रहा है … उईई उइ … रूको … आह्ह … निकाल लो.

साबिरा भी उसे देख रही थी कि कैसे उसका सगा छोटा भाई अपने ही बड़ी बहन की चुदाई देख कर मजे ले रहा है. मैंने उससे पूछा- तुम्हारे हज़्बेंड कहां हैं?उसने बताया- वो आउट ऑफ जयपुर हैं और 2 दिन बाद वापस आएंगे. मैं अब घबरा भी रही थी क्योंकि मेरे बच्चों के आने का टाइम हो गया था.

कुछ देर बाद संजीव भैया मेरे लिए केक, चॉकलेट्स, नाश्ते के लिए भी बहुत कुछ लेकर आ गए. मैंने हामी भर दी और उस रात उनकी गांड को सिर्फ उंगलियों से चोद कर उन्हें 3 बार चोदा. मैंने चूसा और हमने बहुत फोरप्ले किया पर उसका लंड टस से मस नहीं हुआ।मैं गर्म थी और लंड मेरे सामने होते हुए भी मेरे अंदर नहीं जा रहा था.

शेखर को लगा जैसे अब उसके आज़ाद होने का वक्त आ गया है, धारा अब उसे आज़ाद करेगी और फिर वो बेदर्दी से धारा को चोद चोद कर उसकी चूत की धज्जियाँ उड़ा देगा!लेकिन धारा के दिमाग़ में कुछ और ही चल रहा था. कुछ देर बाद मैंने आंटी को फिर से घोड़ी बना दिया और गांड में लंड डालकर चोदने लगा.

उसकी शादी के बाद से ही हम दोनों में खूब जमती थी क्योंकि आपको तो पता ही है कि सलहज और जीजा में कुछ ना कुछ तो चलता ही रहता है. उसने थोड़ा सा पानी पीकर गिलास मुझे पकड़ा दिया और बाकी बचा पानी मैं पी गया. मैं कान लगाकर ध्यान से सुनने लगा तो ऐसा लगा कि मॉम अपनी चूत में उंगली कर रही थीं क्योंकि उनकी आवाजों में कुछ कामुक स्वर शामिल थे.

गांड में लौड़े से चुदाई और चूत की उंगलियों ने रेशमा को जल्द ही रंडी बनाने में मदद कर दी.

फिर मेरे भाई ने मुझे चोदकर अपने लौड़े का सारा माल मेरी चूत में टपका दिया और मेरे ऊपर ही ढेर हो गए. घर में किसी को भी टॉयलेट या नहाने जाने के लिए गेट भी बंद नहीं करने पड़ें, सब कुछ खुला हो. वो बारिश का मौसम था तो मेरे लिए बोनस सा था कि मैं ऊपर से बरसाती पहन सकती थी इसलिए मैंने कानों में भी चांद जैसी बालियां भी डाल लीं.

बॉस एक बार फिर से मेघना के नंगे बदन को चूमने चाटने लगा और दूध को जोर जोर से मसलने लगा. वो भी अपनी रफ़्तार से गांड आगे पीछे करके पूरी मस्ती में आकर साथ देने लगी थीं.

जैसे ही वो अन्दर आयी, नंदा ने टॉवेल हटा कर अंडरवियर को नीचे करके वन्दना के हाथ में मेरा लंड देकर कहा- देख, ऐसा तेरे किसी फ्रेन्ड्स के पास है क्या?इस समय मेरा लंड फनफना रहा था. आगे मैंने उसको किस तरह चोदा, वो आपको इस मादक टाइट चूत की चुदाई कहानी के अगले भाग में लिखूँगा. मेरे मुँह से ‘गु उंगगु …’ की आवाज आने लगी पर उसने मुझे नहीं छोड़ा और उसके सुपारे ने पिचकारियों की बौछार मेरे हलक में छोड़ दी.

हिंदी बीएफ फिल्म चुदाई की

हम दोनों रात के अंधेरे में धीरे-धीरे बातें कर रहे थे और सिगरेट पी रहे थे.

अब लड़के अपने लौड़े हिलाने को … और लड़कियां अपनी चूत में उंगली करने को तैयार हो जाएं. पर असल में मेरी लड़कियों से बात करने में भी फटती थी।उन सभी लड़कों की बाते सुन कर मेरा भी सेक्स करने का बहुत मन होता था … पर मैं कचोट के रह जाता था और मुठ मार के ही काम चलाता था।एक दिन की बात है, मैं अपने रूम में लेटकर सेक्स के सपनों में डूबा हुआ ख्याली पुलाव पका रहा था. पांच मिनट तक चोदने के बाद उसने अपना मुँह मेरी चूत में घुसा दिया और जोर जोर से चूत चाटने लगा.

पाठिकाओं की जानकारी के लिए बता दूँ कि मेरे शहजादे का साइज साढ़े छह इंच है और उसकी मोटाई ढाई इंच है. ’मैंने पूछा- पहली बार उसी लौंडे ने पेला था न?वो हंस कर बोली- हां … मगर उसका वो छोटा सा था. चूत में लंड से चुदाईइस पर मैं बोली- मम्मी इतनी बारिश में मैं कैसे जा पाऊंगी?मम्मी बोलीं- तो सर से फ़ोन करके पूछ लो कि अगर आज ज़रूरी न हो, तो एक दो दिन बाद चली जाना.

उसका बस चलता तो अपने हाथों से धारा की चूत को पूरी तरह से खोल कर अपना पूरा मुँह अंदर डाल देता और सारा रस पी कर अपनी प्यास बुझा लेता. क्यों रेशमा रांड … बोल चुदेगी उस हिजड़े सलमान के सामने भोसड़ीवाली?रेशमा का मुँह तो मेरे गांड के नीचे दबा था इसीलिए वो तो कुछ बोल नहीं सकी पर किरण ने अपना मुँह पाटिल जी की गांड से बाहर निकाला और मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखने लगी.

वो मुझे इस तरह से पकड़ कर अपने ऊपर खींचने लगी, जैसे वो मुझे अपने में समा लेना चाहती हो. पहली बार का मामला था तो ये चुदाई 10 मिनट ही चली और मेरा लंड पानी छोड़ने को हो गया. यह Xxx लड़की की चुदाई की बात तब की है, जब मेरे दोस्त की बहन की शादी थी और उसके यहां शादी का बहुत सारा काम करना था.

मैंने सोचा भी नहीं था कि मेरी चूत तुम्हारा मूसल जैसा लंड अन्दर ले लेगी. मैंने लंड निकाला और चूत में डाल दिया और आंटी की चोटी पकड़ कर चोदने लगा. आंटी ने भी हां कहा कि इसमें गलत क्या है, यदि तुम भी उनको चाहती हो, तो खुल कर देख कि मोहन बाबू कहां तक बढ़ते हैं.

दोनों रंडियां बड़े मजे से एक दूसरे को चूम रही थीं, मेरे वीर्य को एक दूसरे को खिला रही थीं.

मेरे बाद भाभी जी भी फ्रेश होकर आईं और हम दोनों ने एक दूसरे को बांहों में भर कर प्यार की बोहनी की. सेक्सी हॉट गर्ल फर्स्ट सेक्स स्टोरी मेरे भाई की साली की बुर चुदाई की है.

ऐसे ही उसने दो बार और किया और अब तक मेरा सारा वीर्य खत्म हो चुका था. रेशमा को बालों से खींचते हुए मैं उसको लगभग घसीटते हुए बिस्तर पर ले गया और उसको बिस्तर पर लिटा दिया. मैं खुश हो गया और कहा- मेरी जान, मैं आज तुमको जम कर चोद कर मजा दूंगा.

उसने अपने दोनों हाथ मेरे गले में डाल दिए थे और उसके दोनों दूध मेरे सीने से चिपककर दबे जा रहे थे. मैं- ऐसी कोई बात नही, बस हो गया?श्वेता- चलो फिर करके दिखाओ।उसने अपने सारे कपड़े उतार दिए. मैंने उसकी चूत में अपनी जीभ डाल दी और चूसने लगा; उसकी चूत के दाने को जुबान से लिकलिक करने लगा, जीभ की नोक से दाने को हिलाने लगा.

लेते हुए बीएफ कुछ देर के बाद बोली- भैया, आपने कितनी लड़कियों के साथ सेक्स किया है और उनकी उम्र क्या थी?मैंने बताया- वो सब 22-23 साल की उम्र की लड़कियां थीं. फिर मौसी बोलीं- हां वही, अब तू दोबारा डाल और कुछ भी हो जाए, बाहर मत निकालना.

सेक्सी बीएफ चुदाई एक्स एक्स

आधा घंटा के बाद मैं जब उसके घर पंहुचा और कार को साइड में लगाकर मैंने दरवाजे की घंटी बजा दी. शिराज का सर पकड़ कर मैंने मेरे गोटों पर दबाया तो उसने भी अपनी जुबान बाहर निकाल दी और मेरे दोनों टट्टे चाटने लगा. केक काटने और खाने खिलाने के बाद एक बार फिर से चूमाचाटी का दौर शुरू हो गया.

मैंने रेशमा को ये बात बताई भी थी, लेकिन उसने ही मेरी बात को टाल दिया. शिराज की लुल्ली पूरी तरह से खड़ी थी, पर उसका आकार तीन इंच से ज्यादा बड़ा नहीं था. पाकिस्तानी ब्लू सेक्सी वीडियोचूंकि मैं फिजिक्स में बहुत होशियार था तो मैम मुझे पसंद करने लगी थीं.

लंड उसकी गांड में कसा-कसा जा रहा था, गांड के अंदर की दीवार लंड की उभरी नसों से छिल रही थी.

मैंने हंस कर उसकी चूत की गुलाबी फांकों को फैलाया और चूत में जीभ डाल दी. मैंने उसे अपनी दोनों बांहों भर लिया और उसे बेतहाशा गर्दन पर चूमने लगा.

वो मेरे लंड को अंडरवियर से निकाल कर सहलाने लगी जिससे मेरी भी आह निकल गयी. धारा को शायद शेखर की इस हालत पे तरस आ गया … उसने एक बार उसकी आँखों में देखा और फिर धीरे-धीरे अपना सर नीचे झुकाती चली गयी. उसकी शर्ट में बटन आराम से खुलने वाले थे, तो जरा सी कोशिश में ही उसके दो बटन खुल गए.

वो बोला- ओह मनीष यार, बहुत मन था तुमसे मिलने का, मुझे तुम्हें बाहों में लेकर मज़ा आ रहा है.

मैंने उससे कहा- हां वो तो सब मालूम है बेबी … मगर पहले तुम जैकेट की चैन लगाओ. और मैं यह सोचकर आगबबूला हो उठा था।मेरे पास चैट्स थी लेकिन उसको दिमाग से निकालने के लिए मैंने न जाने कितनी पोर्न साइट्स देख डालीं।पोर्न देखने से कोई फायदा नहीं हुआ। ऐसे ही करते-करते मैं अन्तर्वासना3. मैं ये सब बातें सोच भी नहीं सकता था कि पहली मुलाक़ात में ही हमारे बीच इतना कुछ होगा.

तामिळ सेक्सी व्हिडीओमेरे घर की दूसरी तरफ एक पुराना खंडहर सा मकान था, जिसके रास्ते मैं रात को चुपके से घर से बाहर आती जाती थी. फिर मैंने अपने एक हाथ में लंड पकड़कर लंड का चिकना सुपारा गीता की गीली चूत पर टिका दिया और ऊपर से नीचे रगड़ने लगा.

बीएफ सेक्सी राजस्थानी बीएफ

एक दिन दिल्ली से एक सर आए, उनकी कम्पनी से मैंने अपनी ब्रांच जोड़ी हुई थी. मैंने मस्ती से कहा- अब कहां चोदोगे भाईजान?आसिफ बोला- मेरी बहना, अब तेरी गांड मारने की बारी है. पूरा बदन बिल्कुल पीला नजर आ रहा था, इतनी गोरी थी वो!उसकी चड्डी के ऊपर से ही उसकी फूली हुई चूत झलक रही थी.

क्या मस्त स्वाद है तुम्हारे अमृत का … मैं जिंदगी भर नहीं भूल पाऊंगी हर्षद … जी भर गया मेरा. अबकी बार मेरा फिर से बारहवीं का एग्जाम होना था जिसका बस मुझे पेपर देने जाना था. मेरे भरे हुए बूब ही किसी भी मर्द को पानी निकालने के लिए मजबूर कर सकते हैं.

उन्होंने अचानक ही मुझे पलटा दिया और मुझे कुतिया पोजीशन में चोदने लगे. मैंने कहा- तुमको रोका किसने है श्याम?मेरा इतना बोलना था कि उस मास्टर श्याम ने मेरी दोनों चूचियां अपने दोनों हाथों में ले लीं और ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा. धीरे धीरे दोस्त की मॉम और बहन के साथ मेरा काफी अच्छा रिश्ता बन गया.

इधर बॉस ने उसकी चूत को दोनों हाथों से फैला दिया और उसमे अपनी जीभ चलाने लगा. फिर उनको चूत में जलन होने लगी तो मुझे बोली- अब थोड़ी देर बाद में करते हैं.

आंटी की आंखों में आंसू निकल रहे थे और वो ऊईई ऊईई आह आहहह करके चिल्ला रही थीं.

लेकिन लंड महाराज ने अंगड़ाई लेते हुए समझाया कि बेटा रास्ता एकदम साफ़ है … जाओ और पूनम की सुलगती जवानी का भोग लगा आओ. राजस्थानी सेक्सी वीडियो एक्स एक्सभाभी के बड़े बड़े मम्मे मैं कभी दबाता और कभी मुंह में लेकर चूसने लगा।वे भी पूरी ताकत से अपने बड़े मम्मों को मेरे मुंह में ठूंस देना चाहती थीं।अब मैं भाभी की फूली हुई चूत में एक उंगली से अंदर बाहर करने लगा. चूत में लंडमेरे हर धक्के के साथ मेरी अंडगोटियां गीता की गांड के गीले छेद पर ठोकरें दे रही थीं. उसने मुस्कुरा कर कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- मजा आया जान?उसने बोला- बहुत … अब सो जाओ कल ऑफिस भी जाना है.

मेरा लंड आधा मुरझाया था, इसलिए नीता ने पूरा लंड मुँह में लेकर चूसकर साफ चिकना कर दिया था.

नेहा ने वो भी मेरे लौड़ा के ऊपर इस तरह से चिपका दिया कि जैसे मेरे पास लौड़ा ना हो बल्कि मुझे पैदाइशी चूत ही मिली हो. मैं फिर से कराहने लगी- आहह ओह्ह ओह्ह मां मर गईईई … आह … कोई तो बचाओ आहह … इस जालिम से. फिर उसने अपनी टांगों को थोड़ा सा फैला लिया और अपनी चिकनी गुलाबी चूत को अपनी उंगलियों से धीरे धीरे रगड़ने लगी.

उसके बाल छोड़ कर मैंने अब साबिरा का कुरता ब्रा समेत पूरी तरह से निकाल दिया. अब मैंने अपना दूसरा पैर लंबा करके सामने बैठी सरिता के पैर पर रख दिया तो सरिता मेरी तरफ देखकर शर्मा गई. तो सुची ने हाथ से लंड पकड़ लिया और उंगली से उसकी गांड का सुराख में रगड़ने लगी.

भाभी वाली बीएफ

अब तीर कमान से निकल चुका था तो रोकते भी कैसे!मैं उसको गर्दन से चूमते हुए उसके बूब्स तक आ गया था. आज मैं बहुत खुश था क्योंकि मैंने हमेशा से मॉम को डैड से चुदते देखा था. गीता समझ गई और मुस्कुराती हुई बोली- मतलब?मैंने कहा- मतलब अभी समझा देता हूँ.

साले ने ज़रा भी नहीं सोचा कि अगर किसी को पता चलेगा, तो ख़ानदान की इज्जत का क्या होगा.

पैसे की बात हुई तो मैंने साड़ी का दाम बताने वाले से कहा- भइया साड़ी का सही रेट लगा लो.

उसकी चीखों को नजरअंदाज करते हुए मैंने एक हाथ से उसकी पीठ पर दबाव बनाया और दूसरे हाथ से उसके बिखरे हुए बाल अपनी मुट्ठी में भर लिए. तभी पाटिल जी ने एक जोरदार तमाचा किरण की गांड पर मार दिया और उसको रेशमा की चूत पीने को बोला. ব্লু সেক্স ব্লু সেক্সशिराज को लौड़ा चुसवाते मैंने कहा- चूस मादरचोद … अपनी बहन की चूत का रस चाट ले … तेरे जीजा के लौड़े से रस चूस ले हिजड़े की औलाद.

मेरा हाथ अपने हाथ में पकड़ कर उसने अपनी चड्डी पर रखा और खुद मेरा हाथ अपनी गर्म चूत पर रगड़वाने लगी. पोर्न अंकल सेक्स कहानी मैंने अपनी अन्तर्वासना के कारण एक गैर मर्द से अपनी चूत चुदाई पर लिखी है. मैं उसके दोनों चूचकों को अपने दोनों हाथों की उंगली अंगूठे के बीच लेकर दबाते हुए चूचकों को खींचते हुए रगड़ने लगा.

चूत के पानी की मदद से मेरा लंड लौड़ा अब साबिरा की फुद्दी की तंग दीवारों से रगड़ने लगा और पहली बार चुदाई का मजा लेती साबिरा की चूत ने भी अब खुलना चालू कर दिया. कहानी के पिछले भागदोस्त की बहन ने मेरा लंड चूसामें आपने पढ़ा कि मैं अपने दोस्त की शादीशुदा बहन के घर में उसके साथ सेक्स का मजा ले रहा था.

अब मैं ऊपर की तरफ बढ़ते हुए उसकी नाभि पर, पेट पर चूमने लगा और जल्द ही उसके अमरूद जैसे छोटे छोटे दूध तक जा पहुंचा.

ह्म्म्म … ओह्ह … धारा … ” शेखर के मुँह से बस सिसकारियाँ ही निकल रही थीं. रूपा ने लंड अपने नाजुक हाथों में लिया और उसे आहिस्ते आहिस्ते हिलाने लगी. घर पहुंचते ही मैंने विलास और सरिता भाभी को फोन करके बताया कि हम सभी आराम से घर पहुंच गए हैं.

लड़कियों के बड़े बड़े दूध एक दिन जब मैं ताऊ जी के घर गया तो मैंने भाभी को पहले ही देख लिया था कि भाभी बैठी हुई है. ट्रेन अपनी रफ्तार में थी और मैं अपनी अब हाथ उसके गले से कमीज में डालकर उसके निप्पल को मसलने लगा.

मेरी चूत में दर्द होने के कारण मैं अपने भाई को चोदने नहीं दे रही थी मगर लग रहा था कि लंड फिर से ले ही लूं. पाटिल जी- चल आ जा हिजड़े की औलाद, मादरचोद बैठ मेरे लौड़े पर कुतिया … आज मेरे लौड़े पर बिठाकर तुझे जन्नत घुमा लाता हूँ छिनाल. उसने अपने पैरों की गिरफ्त से मुझे आजाद कर दिया और अपने पैर सीधे कर दिए.

सेक्सी बीएफ हिन्दी

मेरा लौड़ा भी पड़ोसन आंटी की टाइट चूत गांड का स्वाद ले चुका था और अब लौड़ा आंटी की चूत का शैदाई हो गया था. मैं खुद भी काफी गर्म हो गया था और मुझे अपने सामने एक चुदासी चूत दिखाई दे रही थी. क्योंकि हम पहली बार मिल रहे थे तो हम एक दूसरे से इतना खुले भी नहीं थे.

अब ये चूत तो थी नहीं कि लंड के झटकों के साथ अपना पानी निकल कर चिकनाई बढ़ा दे. मतलब वो मुझे सब कुछ करने देते थे मुझ पर किसी तरह की कोई रोक नहीं थी.

फिर कुछ दिन बाद ही मुझे कंपनी के द्वारा कंपनी के काम से कुछ दिनों के लिए दूसरे शहर जाने के लिए बोला गया.

जल्द ही हम दोनों 69 स्थिति में आते हुए एक दूसरे के लौड़ा और चूत चूसने लगे. खाना खाने के बाद मैं अपने रूम में आ गया और लच्छो का इंतजार करने लगा. साथ साथ उसको उसके भाई पर गुस्सा भी आने लगा कि कैसे उस गांडू ने किसी लड़के से अपनी गांड मरवा ली.

मुझे पता था कि मुझे नंगी देखने के बाद मेरा भाई भी रुकने वाला नहीं है. मैं- सूंघ मेरी गांड रंडी की औलाद, साली तेरी मां ने भी दस लौड़े ख़ाकर तुझे पैदा किया होगा. जिस नंबर से ये कॉल आई थी, वो नंबर मेरे फोन में पहले से ही सेव था तो मुझे लग ही रहा था कि कहीं फोन पर भाभी तो नहीं हैं.

अब मैंने उसे घुटनों पर लाते हुए घोड़ी बना दिया और उसके चूतड़ों को पकड़ कर तेज तेज धक्के मारने लगा.

लेते हुए बीएफ: बाद में मम्मी ने मुझे बताया कि ये लोग अपने पास घर बना रहे हैं और अविषा जी मुझसे बात करने के लिए आई हैं कि इनकी कोई जरूरत हो तो हम इनकी मदद करें. मैं मौसी को कुतिया बनाकर चोदने लगा और पांच मिनट में मौसी की चूत में ही झड़ गया.

अब मैं ऊपर की तरफ बढ़ते हुए उसकी नाभि पर, पेट पर चूमने लगा और जल्द ही उसके अमरूद जैसे छोटे छोटे दूध तक जा पहुंचा. जैसे जैसे मेरा लंड अन्दर जा रहा था, उसकी बुर की चमड़ी फैलती जा रही थी. मेरा लंड टेप से चिपके होने के कारण ढंग से खड़ा तो नहीं हो पा रहा था पर उसमें सुरसुरी हो रही थी और लंड झड़ने को होने लगा था.

आगे राजीव की जुबानी ही पढ़िए क्या हुआ, कैसे हुआ और जो हुआ, क्या वो सही हुआ?दोस्तो मैं राजीव कुमार, ये सेक्स कहानी मेरी और सोनी (काल्पनिक नाम) की है.

कुछ देर बाद मैंने उसे उठाया क्योंकि मेरे बच्चों के आने का टाइम हो गया था. आसिफ मेरे ऊपर आया और झुक कर मेरी आंखों में देखते हुए बोला- यार निखिल, तू लड़की के रूप में ही बहुत अच्छा लगता है, बहुत सुंदर लग रहा है. अगले दिन शादी थी तो तैयारियां बहुत जोरों से चल रही थीं, किसी के पास टाइम नहीं था.