सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी

छवि स्रोत,एचडी बीएफ सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

ચાઇના સેકસી વીડીયો: सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी, तब तक पड़ोसन घर में घुस गई और मेरी तरफ़ देख कर बोली- आजकल जमाना ख़राब है और कोई भी किसी का ध्यान नहीं रखता है.

सेक्सी चोदा चोदी बीएफ सेक्सी चोदा चोदी

वो मुझसे बोला- अगर तू गाड़ी से नीचे भी उतरा, तो फिर तेरी जीएफ की खैर नहीं … अभी तो हम आराम से चुदाई करेंगे … तूने चूँ-चपड़ की तो चुदाई के साथ ठुकाई भी करेंगे. भोजपुरी बीएफ वीडियो में सेक्सीउसने भी लंड निकाल कर अपना रस मेरे पेट पर निकाला और वो मेरी चूत चाटने लगा.

तीन बार धीरे से दरवाजा खटखटाना, मैं खोल दूंगा पर देख लेना, कोई तुझे देख न रहा हो. चूत लंड वाली बीएफ सेक्सीलंड की टोपी को पीछे करके उसने अपना मुँह लंड पर लगाया और मेरे सुपारे में दांत चुभोने लगी.

मैंने उनको अपने लंड की सवारी करवाई, जिससे उनकी कमर की मालिश भी होती रहे और चूत चुदाई भी होती रहे.सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी: मामी- राहुल मेरे शरीर में हल्की सी थकान महसूस हो रही है और गांड में भी दर्द हो रहा है.

मेरा भी हाल कुछ ऐसा ही था- मेरे सपनों की रानी … मैं तो दीवाना हो गया हूँ.मैं पढ़ने में बहुत अच्छा रहा हूँ और देखने में एथलेटिक बॉडी है क्यूंकि मैं जिम, स्विमिंग, ट्रैकिंग, रनिंग इत्यादि सब करता हूँ.

हिंदी सेक्स बीएफ एचडी वीडियो - सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी

सच में ये मेरे जीवन का पहला अनुभव था, जब कोई महिला मेरा लंड चूस रही थी.और वो धीरे धीरे लंड के ऊपर नीचे होकर चुदने लगी और आह आहहह उहहह उहह उफ उफफ करने लगी.

वो जाने लगी तो एकदम से मेरा शैतानी दिमाग जाग गया और मैंने उसको बोला- रुको. सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी कुछ देर उसी पोजीशन में चोदने के बाद मैंने भाभी को घोड़ी बनने के लिए कहा.

दीदी की सासू बोल रही थी- एक बात बताऊं बेटे … घर की बात घर में ही रहनी चाहिये, चौराहे में लाने का कोई मतलब नहीं होता है.

सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी?

फिर एक ही झटके में भैया ने भाभी की चड्डी निकाल फेंकी और भाभी की चुत पर भी रंग मल दिया. मैंने कहा- कोई बात नहीं, मैं आपको वहां पर छोड़ देता हूँ।उसके बाद मैंने उसको वहाँ उस दुकान पर ले जाकर छोड़ दिया। उसने बाइक से नीचे उतर कर मुझे थैंक्स बोला और फिर मेरा नम्बर मांगने लगी. उनमें जो ख़ास बात थी वह यह थी कि उनकी नशीली आंखें और जब भी वह बाहर जाती थीं तो आंखों के ऊपर बहुत ही सुंदर गॉगल्स लगाकर जाती थी.

हमारे होंठ जैसे ही एक हुए, मैंने उसे कसना और पीठ पर से हाथ फिराना शुरू कर दिया. मैंने उससे पूछा- ऐसा क्यों करती है?वो बोली- लड़के बहुत परेशान करते हैं. मैंने उसे सुझाव दिया कि ये सब कुछ करने से पहले अपने पति से खुल के बात करो और अपनी इच्छाएं बताओ.

मामी जी ने भी मस्ती में आकर अपनी जांघों को थोड़ा सा खोल कर दीवार पर अपनी हथेलियों को जमा दिया. भाभी- अच्छा प्रणय, तुमने अभी तक कोई जीएफ पटाई या नहीं?मैं- हां भाभी पटाई है न. वो बोली- हां मुझे तो चुदाई की भूख है, तुम्हारे अंकल को सुगर होने के कारण वे अब मुझे मजा नहीं दे पाते हैं.

दोनों के जिस्म नंगे थे और दोनों के अंदर ही सेक्स की आग की गर्मी अलग से दिखाई दे रही थी. मैडम ने वापसी को लेकर मेरे पीजी में कुछ नहीं कहा था, तो मैं भी बिना कुछ कहे निकल आया.

कुछ देर तक मैं सोनू के नंगे शरीर के ऊपर लेट गया उसके दोनों गालों को अपने हाथों में लेकर उसके होंठों पर प्यार किया.

इतना उसने कहा, मैं बाहर तरफ आ गई और मेरे थोड़ी देर बाद मामा भी निकले.

उसकी चूत इतनी गर्म हो चुकी थी उसने उसकी पैंटी को भी सुखाना शुरू कर दिया था. मैंने जल्दी से अपनी सलवार को ऊपर किया, झट से कमरे के दरवाजे की कुंडी को खोलकर बिस्तर पर जाकर लेट गई. मैंने हल्की सी आवाज में ‘आई लव यू गुलाबो’ कहा और बोला- आपको मालूम नहीं है कि मेरी क्या हालत है.

मगर वो जानते थे कि फिर मैं उन्हें नहीं करने दूँगी तो उन्होंने मुझे एक हाथ से पकड़ लिया और मेरे निप्पल को चूसने लगे. पति से ज्यादा सवाल भी नहीं कर सकती थी और साइट पर दूसरों को देखने सुनने की बीमारी सी जैसे लग गयी थी. और न ही आपके जैसे चूचे हैं उसके …भाभी- ये तो आपके भैया के झूठे हैं, कही और मुँह मारो.

अगले दिन मैं भाभी के घर के बाहर खड़ा था, तो सामने वाले घर में एक औरत अपने घर में चारपाई पे लेटकर ऊंची आवाज में फ़ोन पर सेक्स वीडियो देख रही थी.

एक बार तो लगा कि मैं ज्यादा देर तक उसके मुंह में टिक नहीं पाऊंगा लेकिन मैंने कंट्रोल बनाए रखा. धीरे-धीरे मेरी कमर की रफ़्तार बढ़ने लगी और जोश में मैंने भाभी के सिर को पकड़ लिया और उसे अपनी ओर खींचने लगा. थोड़ी देर बाद रूपा आई और टेबल पर पड़ी प्लेट को उठा कर किचन में ले गयी.

तू पलंग पर बैठी होगी औऱ तेरा पति तेरा पास आएगा और तेरा घूंघट उठाएगा, तेरा गाल चूमेगा. कुछ देर बाद उनको अच्छा लगने लगा और दोनों ने लिप किसिंग करके मेरे लंड की क्रीम को बड़े मज़े से चाटना शुरू कर दिया था. मिसेज पाटिल बोलीं- ये तुम्हारे औजार के लिए हैं, इसका ध्यान रखना, बड़ा मस्त टूल है.

मैं ग्रेजुएशन के पहले साल की परीक्षा के बाद गर्मियों में मामा के घर छुट्टियां बिताने पहुंचा था.

माथे पर किस करने के बाद धीरे धीरे नीचे आते हुए मेरे आंखों पर और नाक पर किस करने लगे. बुआजी का हम सबके साथ बहुत लगाव था, उनका घर हमारे घर से आगे कुछ दूरी पर था, बुआ जी का एक ही लड़का था जिसका नाम था विनय.

सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी किसी को कुछ बता तो नहीं देगी ना?” सर ने मेरी चूचियों को घूरते हुए पूछा. मैंने उसको बताया- मेरे दोस्त का नौ इंच का लंड है, ऐसा मूली जैसा ही लगेगा जब वो तेरी चुत में जाएगा.

सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी इसके अलावा कार आगे वाले गांव जा रही थी और खेत उधर रास्ते में ही है. अब मुझे उसकी चूत मारने में मज़ा नहीं आ रहा था इसलिए मैंने उसकी गांड में उंगली करना शुरू कर दिया.

मेरी चूत से इतना चिपचिपा पदार्थ निकलने लगा था कि बेड भी गीला हो रहा था। मैं जीजू का लन्ड खींच कर अपनी चूत में सेट करने लगी.

सेक्सी हिंदी में मस्त

मैं झूठ मूठ का दुखी चेहरा करके बोला- मामी जी जवान हैं, अगर उनकी मामा जी जैसे बड़े उम्र के व्यक्ति से शादी ना होती, तो शायद मुझे ये सब करने की जरूरत ना पड़ती. मैंने पूनम से पूछा- तुम्हें क्या लेना है?तो उसने कहा- मुझे तुम्हारे साथ बस दिन बिताना था तो सामान का बहाना करना पड़ा. वह बिल्कुल डंडे की तरह खड़ा हुआ और कम से भी कम 7 इंच लम्बा और ढाई इंच मोटा।मैं डर गयी और चाचा से कहने लगी- चाचा जी, प्लीज मुझे छोड़ दे … ये बहुत बड़ा है.

उसका साइज़ 34-28-36 होगा। उसको देख कर ही चोदने का मन करने लगा। मगर आज तो मेरा पहला ही दिन था. दरवाजा खुलते ही एक 26-27 साल की बहुत ही खूबसूरत औरत मेरे सामने खड़ी थी जिसको देख कर मैं कहीं खो सा गया. आहना बच्चे को स्तनपान करती रही और अपनी योनि को मेरे लिंग पे चलाती रही.

मुझे तो एकदम से धक्का लगा, मेरा सर चकराने लगा, कुछ देर के लिए तो मैं पागल सा हो गया.

मेरे हिसाब वो चुदी नहीं होंगी, इसलिए अंकल भी जल्दी में उनके साथ चले गए. वह बोली- इतना बड़ा?मैंने कहा- क्यूँ, इससे पहले तुमने लंड नहीं देखा क्या?वह बोली- मैंने तुम्हें बताया तो था कि मैं वर्जिन हूँ. मेरी इस हरकत पर वह कामुक होकर अह्ह्ह ह्ह्ह अह्ह ह्ह्ह्ह हाह्हाह अहहः ऊउम्म जैसी आवाज़ें करने लगी.

फिर शर्ट के एक एक बटन खोलना शुरू करती, बटन निकालते वक्त ही स्तनों को हो रहे स्पर्श से ही मेरे निप्पल्स कड़क हो जाते थे. दोनों के जिस्म नंगे थे और दोनों के अंदर ही सेक्स की आग की गर्मी अलग से दिखाई दे रही थी. अगले दिन शाम में हम नहीं मिले लेकिन हमारी चैट पे बात हुई और उसने बताया कि उसका पति पिछली रात को फ़ोन न उठाने के लिए डाँट रहा था.

आपने मेरी स्टोरीदेसी भाभी ने सोते देवर का लंड चूसाको पढ़ कर जो मेल किए, उसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद. दोस्तो, मैं अब तक इतना कामुक लड़का हो चुका था कि अब तक मैं लगभग 20 लड़कियों भाभियों और आंटियों के साथ सेक्स कर चुका था.

उसको चूत के पास किस करने से मुझे पता चला कि उसको इस जगह पर भी काफी मजा आ रहा है. उसने उठ कर पहले अपना मंगलसूत्र उतारा और बोली- लो, अब मैं तुम्हारी पहले वाली मोनिका हूँ. मैंने देखा कि वो बहुत मज़े से चुद रही थी, उससे बोलती जा रही थी- हां जानू … और जोर से धक्के मार … हां और जोर से!उसकी चुदाई देखकर मुझे इतना तो पता लग गया कि यह कमीनी आरती किसी और लंड से भी चुदाई करवाती होगी.

पहले तो उसने मेरे लंड को सूंघा, फिर अपना जीभ निकाल कर मेरे लंड के सुपारे पर फिराने लगी.

उन्हीं दिनों एक दिन वो सफेद रंग का सूट पहनकर आयी और अन्दर उसने पिंक कलर की ब्रा और पेंटी पहन रखी थी. और हाथ से उन्होंने मेरे तम्बू को टच कर लिया और अंदर चली गयी।मैं भी दरवाजा बंद कर के भाभीजी के पीछे-पीछे अंदर आ गया।पीछे से जाकर भाभी से चिपक गया और कहा- भाभी प्लीज आज तो मेरी मन्नत पूरी कर दो … मुझे अपने दूध पिला दो।भाभी- आपका लंड मेरे चूतड़ों में घुसा जा रहा है. उससे चला नहीं जा रहा था, तो मैं उसे अपनी गोद में उठाकर बाथरूम ले गया.

सोनू अपने हाथों से फटाफट मेरी मुट्ठ मारने लगी, लंड अकड़ता गया और कुछ ही देर में जैसे ही मेरे लंड ने पिचकारियां मारनी शुरू की वैसे ही मैंने सोनू को एकदम धक्का देकर बेड पर लिटा दिया और अपने लंड की पिचकारियां उसके मुंह, चूचियों, पेट और उसकी चूत पर छोड़ना शुरू कर दिया. मैंने एक दिन उससे उसके बॉयफ्रेंड के बारे में पूछा, तो उसने मना कर दिया.

वह लंड चूसते हुए मेरी ओर देख रही थी और मैं उसकी तरफ … पता नहीं क्यों लेकिन आज मुझे लंड चुसवाने में बड़ा मज़ा आ रहा था. मैंने कहा- बेटा, तूने मेरे बोबे नहीं देखे हैं न? क्या तू मेरे बोबों को देखना चाहता है? क्या तू मुझे नंगी देखना चाहता है?उसने कहा- नहीं मां, बाद में देख लूंगा. उसने कॉन्डम को मेरे हाथ से ले लिया और बोली कि मैं अपने हाथों से इसको पहनाऊंगी.

सेक्सी वीडियो देसी ब्लू फिल्म

सांवला रंग, काली आंखें, लंबी गर्दन, तने हुए स्तन, पतली कमर, बाहर निकले हुए नितम्ब.

यह नखरा देखकर प्रशांत हंसने लगा और बोला- ना मैडम, मेरी लैंड लेडी … गुस्सा नहीं होते. मैंने अब उनकी गर्दन को बांहों में भर लिया और अब मैं भी गर्म होने लगी. इसी समय मेरे दिल का पुराना कीड़ा फिर से ज़िंदा हुआ और फिर से दिल उनके मस्त लंड का स्वाद चखने और उनके जिस्म का आनन्द लेने के लिए मचलने लगा.

मुझे लगा कि मैं सच में ही मैं सिर्फ किसी एक लड़के का नहीं मगर सभी के लंड का दीवाना हूँ. दोस्तो, कभी बीवी को घोड़ी बना के चोदना हो, तो शीशे के सामने चोदना और देखना तुम्हारी नंगी बीवी या गर्ल फ्रेंड कितनी हॉट लगेगी. हिंदी सेक्सी फिल्म बीएफ हिंदी मेंचार दिन के बाद मैंने दुकान खुली देखी, तो दूध वहीं लेने चली गयी क्योंकि बगल से लेती, तो शायद सुखबीर बुरा मान जाता.

मेरी हालत में सुधार लाने के लिए उसने मुझे एक दूसरी लड़की का नंबर दे दिया. जैसे ही मैंने अपने होंठ उसकी गर्दन पे लगाए, उसने एक आह भरी और मुझे और जोर से पकड़ लिया.

जब वो दोनों नंगे हो गये तो आरती ने मुझसे कहा- देख पुन्नी, इस कमरे में सभी के सभी नंगे होकर ही रहेंगे. मेरे मुंह में मलाई छोड़ने के बाद वो नीचे लेट गया और मैं उसके पूरे बदन को चाटने लगा. लंड को मुंह में देने के बाद अब बात उसके काबू से बाहर हो गई और उसने मेरे मुंह में अपने लंड को अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया.

उनके वक्ष पर हाथ रखते ही मैंने किस करना बंद कर दिया और अपना चेहरा ठीक उनके चेहरे के सामने करके रुक गया. अब मैं उसकी चुत को चाटते हुए उसकी गांड पे उंगली भी घुमा रहा था, जिससे वो और उत्तेजना में आ गयी. मेरी बॉटल देख के पायल बोली- क्या जीजू आज भी? लेकिन चलो अच्छी बात है, आपके वो कमीने, गुंडे दोस्त तो नहीं है आज.

जैसे ही भाभी ने चाय का पानी स्टोव पे रखा, मैंने उसे पीछे से छूना शुरू कर दिया.

चाची ने अपनी एक फोटो भेजी, जिसमें वो लाल नेट वाली ब्रा और पेंटी में थीं. पूरी बात जानने के लिए पढ़ें मेरी कहानीभाई की कुंवारी साली की सील तोड़ीआशीष का शक सही था, पर मैंने उससे सब छुपा लिया.

भाभी बोली- आराम से करना राहुल, मैंने एक महीने से सेक्स नहीं किया है. निकुंज ने अब मेरे मुंह में लंड दे कर अपना वीर्य मुझे पिला दिया और अब आदिल मुझे पेलने लगा. उन्होंने अपने ज़िप को खोल कर अपना लंड बाहर निकाल कर मेरे हाथ में रख दिया.

उसकी बातें सुनकर मैं बहुत खुश हो गई और उससे बोली- आशीष तू बहुत मस्त है. चूंकि हमारी दोस्ती अभी नई थी, इसलिये वो मेरे पे भरोसा नहीं करते थे. रमेश- वो छोटे मालिक जरा देखिए तो छोटी बहू को चलने में शायद कुछ तकलीफ हो रही है? देखिए ना कैसे पैरों को पसार के चल रही हैं.

सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी यहां बैठकर खाने की व्यवस्था थी, तो जहां मैं बैठी थी, आशीष हर सामान मीठा खीर सब मेरी थाली पर ज्यादा ज्यादा डाल रहा था. थोड़ी देर चूत पर लंड रगड़ने के बाद वो अब लंड लेने को बेकाबू होने लगी.

शबाना सेक्सी वीडियो

मैं उसकी बताई हुई जगह पर पहुंच गया और जैसे ही मैं वहां पहुंचा, तो मैं उसे फिर से देखता ही रह गया. हम दोनों थोड़ी मस्ती रास्ते में करते रहे, फिर नौ बजे घर आए और सब लोग खाना खा कर बैठ गए. वो मेरी नाभि को चूमने लगा और बोला- बंध्या तुझे मैं गाली दूंगा और रंडी छिनाल बोलूंगा, तुम बुरा तो नहीं मानोगी?मैं बोली- नहीं आशीष, जिससे तुम्हें मजा आए, सब बोलो.

सिर्फ नथ में गुलाबो बहुत सेक्सी लग रही थीफिर मैं उसके होंठो को चूमने लगा और वह भी मेरा साथ देने लगी फिर मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डाल दी और वह मेरी जीभ को चूसने लगी. मेरा उनको दबा के शांत करना बहुत जरूरी हो गया था और मैंने भी वही किया. बीएफ के लिएफिर मैंने दोबारा से उसके होंठों को अपने होंठों में लेकर जोर से किस करना शुरू कर दिया.

मैं भी बेशरम होकर बोला- तुझे तो मैं जिस दिन यहाँ आया था उसी दिन से चोदने की फिराक में था पर रिश्तों का लिहाज कर रहा था.

मैं उसके चूचों को पूरा ज़ोर लगाकर दबा रहा था जिससे उसके जवान चूचे जल्दी ही तनकर टाइट हो गए थे और उसके मुंह से कामुक आवाज़ें निकलने लगी थीं. मुझे भाला इस बात पर क्या ऐतराज हो सकता था, मैंने भी हाँ कर दी और तय किये गए समय पर उसे ऋषिकेश बस स्टैंड पर लेने चला गया.

मैंने एक चूची हाथ से सहलाते हुए निपल्स दबाना शुरू किया और दूसरे को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. ये बोल कर मैंने अपनी कैपरी की जेब से रंग का पाउच निकाला और हाथ में रंग और पानी ले कर भाभी को जोर से पकड़ा. उसने अपनी जवान बेटी की खातिर मीना को दोबारा समझाया लेकिन मीना अपनी दुराचारी हरकतों से बाज नहीं आई.

हल्के भूरे बालों में छुपी हुई उसकी चुत, उसके अन्दर का उसका चुत का दाना, उसके दाने का थरथराना, उसकी चुत का खुल के बंद होना, यह सब मेरे कुछ ही इंच सामने देख सकती थी.

दीदी मुझे पकड़ कर चूमने लगीं और मुझे संतोष की नज़रों से देखने लगीं. मैं उससे उसकी पसंद नापसंद के बारे में पूछने लगा, तो बोली- तुम्हें मेरी पसंद और नापसंद सभी के बारे पहले से ही मालूम है. मुझे पता चल चुका था कि चुदाई से पहले लड़की को कैसे ज्यादा गर्म किया जाता है और उसको कैसे ज्यादा मजा दिया जाता है.

बीएफ बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो” पिंकी ने मायूस होकर कहा।ऐसा कर … तू जा, मैं थोड़ी देर बाद आऊँगी”. अपने होंठों में उन्होंने मेरे टाइट निप्पल को दबा लिया था और किसी बच्चे की तरह उसको चूसने लगे.

वीडियो सेक्सी लड़कियों की

वो अपने साथ एक क्रीम की शीशी लिए हुए था, उसने उसमें से बहुत सी क्रीम निकाल कर मेरी बुर के अंदर अपनी उंगली डाल कर अच्छी तरह से लगा दी. उसके जाने के बाद मैं पायल को और उसके बदन को बहुत ही ज्यादा मिस कर रहा था. दबे पाँव मैंने बाहर की कुंडी लगाई, और घर में जाते ही इंदु को जोर से अपने बांहों में भर लिया.

बहरहाल बहुत ही नजाकत और अदा के साथ प्रशांत के सीने से अपनी चूचियां रगड़ते हुए नीना जब चूत को लंड के टोपे पर रखी तो प्रशांत ने भी अपने दोनों हाथों को नीना के चूतड़ों पर टिका दिया. दोस्तो, इस बार इस कहानी का नायक दिलदार सिंह है कहानी उसी की जुबानी सुनिये. गुलाबो तो मेरे होंठों में ही गुम थी कि अचानक से एक ‘चटाक …’ से गुलाबो के चूतड़ों पर एक चपत लगी.

”वैसे भी दिन के समय सभी या तो आराम के लिए सोये होते हैं या डयूटी पर होते हैं. मैं- आज नहीं चाची, कल की तरह अगर चाचा उठ गए तो?चाची- नहीं उठेंगे, मैंने रात को नींद की गोली दे दी थी उनको. उसने तुरंत आने घर फ़ोन किया और बोली- मैं आज अपनी एक सहेली के घर रुकूँगी.

थोड़ी देर बाद जब मेरा लंड सिकुड़ने लगा, तो मैंने उसपे से कंडोम निकाल कर साइड में रख दिया और हर्षिता के बगल में आकर लेट गया. जब इंदु ने मेरे बालों को पूरा साफ कर दिया तो मुझे खड़ा करवा के खुद घुटनों में बल बैठ के मेरे मेरे लंड को लगी चूसने! अम्म्ह … महह … हहह चप चप … की आवाजों के साथ मुझे बहुत मजा आ रहा था.

मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी उसकी चूत में लगने लगी और सुलेखा की चूत भी दोबारा पानी छोड़ने लगी.

जब मैंने अंदर की तरफ दोबारा देखा तो विनय ने अपना लंड कुसुम दीदी के मुंह में डाल रखा था. ओपन एचडी बीएफअब चुदाई का पोज बदला गया तो प्रशांत बेड पर नीचे की ओर पैर लटका कर बैठ गया और नीना उसकी ओर पीठ करके लंड पर बैठी. बीएफ सेक्सी ब्लू वीडियो हिंदीमैंने उसे बताया कि जब पति की इच्छा हो, तो तुम अपनी इच्छा उसे बढ़कर दिखाना. फिर मैंने उसकी चूत की चुदाई तेज कर दी और वह उछल-उछल कर मेरा साथ देने लगी.

मैंने शादी की पहली रात के लिए जो सपने देखे थे वह सब धरे के धरे रह गए.

मैं यूनिवर्सिटी जाने के लिए तैयार हो ही रहा था कि मेरे दरवाजे पर दस्तखत हुई. मीना ने भी अपना हाथ मेरी कमर में लपेट लिया और सर मेरी जांघों में रख कर लेटी रही. अब पहले की तरह वापस हफ्ते में तीन चार बार मैं मामा मामी से मिलता हूँ.

इससे पहले कि मैं कुछ भी बोल पाती, उसने मुझसे पूछा- क्या ढूँढ रही हो?मैंने कहा- कुछ भी नहीं. वे मेरी चूत से टपकते रस को चाटते हुए बोले- बंध्या तेरी चुत तो बह चली है, बहुत स्वादिष्ट मस्त रस आ रहा है. तब धीरज ने कहा- तुम कोई चिंता ना करो, अभी तुम्हें पूरा मज़ा मिलना शुरू हो जाएगा, फिर तुम खुद ही लंड को माँगोगी.

नोट सेक्सी वीडियो हिंदी

मैं उसके एक मम्मे को दबा रहा था और एक को चूस रहा था। वो मेरे सिर पर अपना हाथ घुमाने लगी और एक हाथ पीठ पर फिराने लगी।थोड़ी देर बाद वो मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड को चूसने लगी. फिर मैंने उनकी ब्रा का भी हुक खोल दिया और उनके उछलते मम्मों को चूसने लगा. रूपा खाना बनाने चली गई और भूरिया के साथ रमेश काका खाद लेने गांव चले गए.

फिर हम दोनों सो गये, रात को करीब 3 बजे जब मेरी नींद खुली तो मैंने महसूस किया कि इंदु मेरे लंड से खेल रही है.

नीतू, किस के बहुत प्रकार है और मुझे सब ट्राय कर के देखने है, यह काम एक दिन में खत्म नहीं होने वाला.

फिर उसने आसपास के मकानों की छत की ओर देखा, कहीं पर कोई नहीं था तो वो पास वाली दीवार से अटककर खड़ा हो गया और अपनी बांहें फैला कर मुझे आने का इशारा किया. क्या हुआ नीतू?”मैं उन्हें बोली- अंकल, मुझे ठीक से पकड़े रखो, नहीं तो मैं गिर जाऊंगी. इंडियन बीएफ इंडियन बीएफ बीएफउस दिन चिन्टू के जाने के पश्चात मीना काफी देर तक चिन्टू के बारे में ही सोचती रही कि आखिर चिन्टू क्या चाह रहा है.

करीब 10 मिनट बाद उसका शरीर अकड़ने लगा और उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया, जिससे मेरा लंड पूरी तरह से भीग गया और बिस्तर भी गीला हो गया. जब मैंने मोनिका से पूछा कि वो तुम्हारे साथ बेड पर कैसा है?तब उसने बताया- साला झड़ने में बहुत टाइम लेता है. मैंने थोड़ा सा पानी पीकर गिलास उसे वापस देते हुए थैंक्स बोला और घर में रखी हुई चीजों को देखने लगा.

मैं भी उनसे ज्यादा नहीं बातें करती थी क्योंकि जब कोई बात छिड़े, तो किसी न किसी की बुराई या बढ़ाई के अलावा कुछ नहीं था. उसकी आँखों से आंसू आ गए, उसकी चूत बिल्कुल फट गयी थी और उसकी सील टूट गयी। उसकी चूत में से खून आने लगा.

मैंने कहा- मैं आपके लिए कुछ भी करने के लिए तैयार हूँ मैडम मगर आप मुझे नौकरी से मत निकालना.

भाभी के यहां एक फायदा तो था, साला बॉथरूम जाकर आराम से मुठ मारो, पता नहीं चलेगा कि ये गया क्यों है. हालांकि मुझे दर्द सा हो रहा था लेकिन चुदने की चाहत से मुझे इस दर्द में भी आनन्द मिल रहा था. मीरा- ऋषभ हमारी कंपनी के रूल तो पता ही होगा जॉब छोड़ने से एक महीने पहले रिजाइन लेटर देना होता है और उसके 75 दिन बाद तुम्हारी सैलरी मिलेगी.

मराठी बीएफ पिक्चर बीएफ कमरे में जाकर मैं बेड पर बैठ गया और मैंने रीतिका को अपने पास बुलाया. दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैं जॉब तलाश करने के लिए दिल्ली में पी.

मैंने फिर से तीन-चार बार बेल बजाई मगर दरवाजा कोई खोल ही नहीं रहा था. अब मैंने दुबारा चॉकलेट उसकी बॉडी और चूत पर लगाया और उसको पूरी बॉडी को चाटने लगा. वो कामवासना में कह रही थी- आह … मेरी योनि को मसलो … उसे प्यार करो …लेकिन मैं उसे और तड़पाना चाहता था.

सेक्सी चुटकुले सेक्सी वीडियो

उसके बाद रीना ने मेरे लंड को आधी लंबाई तक अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगी. मैं थोड़ा कम नशे में था, तो मैं भाभी की ओर लपका और थोड़ी सी भागा-भागी के बाद मैंने उन्हें पकड़ लिया. वो बोलीं- जो करना है कर लो … मेरे उनको तो ड्रिंक से फुर्सत ही नहीं है.

मैं और सोनम चारपाई पर बैठे थे, तभी आशीष सामने खड़ा हो गया, तो सोनम बोली- यह मेरे भैया हैं, मेरी बुआ के बेटे हैं. मेरा जवाब सुनकर मैनेजर सर बोले- तुम्हारी उम्र में तो मैंने बहुत सारी गर्लफ्रेंड्स बनाई थीं.

नंगी फोटो डेलीट करने के बाद उसने आरती की चूत पर हाथ रखा और उसके मम्मों को मुँह में लिया.

उसका लिंग मेरे पति से बहुत बड़ा था और मैं उसके लिंग की चुदाई का आनंद लेने लगी. मेरी चाची थोड़ी मोटी, पर बहुत सेक्सी हैं, उनके बड़े बड़े चूचे किसी भी आदमी का लंड खड़ा करने में पूरी तरह से सक्षम हैं. तो मैंने मन में ठान लिया कि आज तो पलंग तोड़ परफॉरमेंस दूंगा और इसकी चूत फाड़ दूंगा.

मामी ने अपने दांतों से होंठों को दबा दिया, आंखें बन्द कर दीं और मेरी पीठ पर नाखून रगड़ने लगीं. इन आँसुओं की वजह से वो इतनी गीली हो चुकी थी कि लंड कैसे अंदर फिसल गया कुछ पता ही नहीं लगा. अभी तो इसकी सफाई ताजी ताजी हुई है, बोलो क्या करना है?उसने कहा- मैं 2 बजे एक मस्त लंड को बुला कर तुम्हारी चुदवाई करवा दूँगी.

मैंने फिर उनको किस करना चालू कर दिया और अपने दोनों हाथ से उनके दोनों मम्मों को दबाने लगा.

सेक्सी बीएफ देहाती सेक्सी: सोनू अपनी रात वाली कहानी बताते हुए कहने लगी- जब उनका काम खत्म हो जाता था तो मैं बेड पर भाई के साथ आ कर लेट जाती थी और भाई से चिपकने की कोशिश करती थी. किसी ने सच ही कहा है जब देने वाला देता है तो छप्पड़ फाड़ कर देता है.

पहली बार किसी ने मेरी गांड चाटी थी और मुझे काफ़ी अच्छा भी लग रहा था. एक दिन आफिस में कुछ ज्यादा काम की वजह से हम दोनों को घर जाने में देर हो गई. मैं आशा करती हूं कि मेरी इस कहानी को पढ़ कर मजा आप सभी को आएगा, क्योंकि ये कहानी भी पहले के जैसी आम जीवन की है मगर सबसे छुपी थी.

वह जब सब बता रही थी, तो आपको क्या बताऊं … मेरी चूत का क्या बुरा हाल हो गया था.

इसके बाद भाभी मेरे लंड से खेलने लगी और लंड चूस कर उसे फिर से खड़ा करने लगी. मैं लगातार पर धीमे धीमे हल्के हाथ से अपनी बिटिया की चूत की दरार सहला रहा था. एक दिन में अपने मेल चैक कर रहा था कि मुझे अपने मेल बॉक्स में एक मेल दिखा, जो आहना नाम से दिखा रहा था.