सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ बहन

तस्वीर का शीर्षक ,

बीपी पिक्चर सेक्सी चुदाई: सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ, तभी बेबी रानी ने ज़ोर की चीख़ लगायी और मेरे पैर का अंगूठा रस से तर बतर हो गया.

सेक्स बीएफ पिक्चर सेक्स बीएफ

इससे पहले के भागछोटी बहन ने मस्तराम कहानी पढ़ते पकड़ लिया-1में आपने पढ़ा कि मामा के घर ममेरी छोटी बहन शुभ्रा के साथ मेरा रोज झगड़ा होता था. विदाई बीएफमुझे चाची ने कहा- अब इसकी भी ठुकाई कर!मैंने अपना लंड कंचन की गांड के छेद डाल दिया, वो हटने लगी तो चाची ने उसे कस कर पकड़ लिया, मैंने उसे पेलना चालू कर दिया। वो आवाज करने लगी तो चाची ने अपनी चुत उसके मुंह में घुसा दी।फिर मैं झड़ गया.

जब उसने बेडरूम का दरवाजा खोला तो मैं मनीषा को पलंग की साइड में लेटा कर उसके ऊपर लेट गया. सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी एचडीइससे पहले मैं आजतक नहीं चुदी थी और मन में थोड़ी ख़ुशी थी कि आज पति अपने मोटे लंड से चोद-चोदकर जन्नत का मजा दे देगा.

इतना क्यों इतराती है बहनचोद?तभी मैंने देखा कि सतीश ने अपना लौड़ा मुस्कान की चूत से निकाल दिया था और उसकी जगह मोनू ने अपना लंड मुस्कान की गीली चूत में डाल दिया और वो मुस्कान को चोदने लगा.सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ: मैं फिर बोला- लेकिन तुम तो शादीशुदा हो … इस पर तो तुम्हारे पति का हक है.

वह घुटनों के बल बैठ गई और उसके सिर को पकड़ कर मैंने लंड को उसके मुंह में दे दिया। वो बहुत मजे से मेरे लंड को चूसने लगी.मैंने हैरत से देखते हुए ऐसे इजहार किया जैसे उसका लंड को बड़ा लम्बा समझ आया था.

सेक्सी बीपी हिंदी बीएफ - सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ

मेरा गोमती नगर में एक शानदार रिटेल स्टोर है, जिसमें महिलाओं और जनरल उपभोग की सभी वस्तुएं मिलती हैं.पहली बार की चुदाई के समय तो कुछ समझ में भी नहीं आया था।मैंने उसकी चूत की फांकों को फैलाया.

तब मुझे याद आया कि कल रात पिताजी ने माँ की चुत से इसी पसीने को चाटा था. सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ नेहा ने प्यार से आंखें बंद कर ली और बोली- मैंने सोचा चलो अपने थैंक्यू को ‘गीला’ कर दूँ.

मैं, सीमा और प्रियंका एक साइड बैठे थे और हमारे सामने सतीश, मोनू और मुस्कान बैठे थे।हम सभी आपस में बातें करने लगे और अपने आप को आया मज़ा शेयर करने लगे।मैंने प्रियंका को कहा- साली तू क्यों हमसे जल रही थी?वो मुस्कराते हुए बोली- जल मैं नहीं, तुम्हारी ये साली चुदकड़ कुतिया सीमा जल रही थी, ये मुझे बार बार छेड़ रही थी.

सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ?

इतनी बात सुनते ही प्रियंका बोली- तू अपनी चूत चुदा ले पहले साली! आज के लिए मैंने तुझे अपना चोदू यार गिफ्ट किया हुआ है. ओह हाय क्या बताऊं … क्या नज़ारा था कितनी मुलायम रबड़ी सी चूत भाभी बिल्कुल खुली पड़ी थी. लगता है मुझको तो निचोड़ ही डालोगे … और ठरकी कहीं के! निशा कोई लड़की नहीं है.

फक मी नाउ … सारी रात प्यार करो मुझे!” मैंने कहा और उनका लण्ड पैंट के ऊपर से ही सहलाने लगी. मैंने उसकी चूची जोर से मसली, तो उसका मुँह खुल गया, तभी मैंने अपना लंड अपनी बहन के मुँह में ठूंस दिया. लण्ड गुप्ताइन की चूत में डालकर मैं उसकी चूचियों से खेलने लगा तो गुप्ताइन चूत को अन्दर की तरफ सिकोड़ने लगी.

अंकल ने चुपके से मुझे और गोलियां लाकर दीं, जिसे मैं दो दिन छुप छुप कर लेती रही. उसने मुझे कॉल करके बताया कि उसने डॉटेड वाले कंडोम का पैकेट खरीद लिया है. उसने मेरा लंड चूत में डालने से पहले पूछा- सर कंडोम लगाना है क्या?मैंने उसकी नशीली आंखों में देखकर कहा- मुझे तो बिना किसी रूकावट के तुम्हें पाना है, तुम अगर मुझे बुरका (कंडोम) पहनाना चाहो, तो मेरे बैग में रखा है.

इसी बीच कब मेरी साड़ी का पल्लू नीचे सरक गया और कब मेरी 36″ की बड़ी-बड़ी रसीली चूचियां बॉस को दिखने लगी मुझे पता नहीं चला. वो अब थोड़ा कम ऊपर नीचे हो रही थी क्योंकि वो झड़ गयी थीं … लेकिन मैं चालू था.

मेरा काम है कि जो क्लेम आते हैं, उन्हें जाचूं और सही होने पर उसका क्लेम अपने ग्राहक को दिलाऊं.

इतनी देर में उसके मोबाइल पर मीरा का संदेश आ गया कि आ जाओ निखिल सो गया है.

शायद वह अपने शरीर पर बॉडी लोशन लगा रही थी। मेरे अंदर आने की आहट को उसने समझा कि मैं राजवीर हूं. इसके बाद उसने वे दोनों कटोरियां रीमा और निखिल को दे दीं और रितेश को आंख मार दी. उन्होंने अपना हाथ मेरी ब्रा के अन्दर डाल दिया और मेरे स्तन दबाने लगे.

तब मुझे एहसास हुआ कि अपनी बीवी भले ही हूर की परी ही क्यों ना हो, लेकिन मर्दों को हमेशा दूसरे की बीवी ही अच्छी लगती है. मैंने दिन में अपने बॉयफ्रेंड को कॉल करके बता दिया कि मैं अभी घर पर अकेली हूँ. जैसे ही मैंने जीजा का लंड मुंह में लिया तो वो उछलने लगे और बोले- आह्ह … ऐसे तो तुम्हारी दीदी भी नहीं करती है.

बस भाभी ने इतना ही बोला था कि मैं उठ कर उनकी चारपाई पर पहुँच गया और उनके ऊपर चढ़ गया.

अपने पहने हुए कपड़े उतार कर जैसे ही खूंटी पर टांगने लगा तो खूँटी पर पहले से ही टंगा वसुन्धरा का नाईट-गाउन नीचे गिर गया और नाईट-गाउन के नीचे टंगी कल की पहन कर उतारी हुई वसुन्धरा की काली ब्रा और साटन की जाली वाली काली पेंटी नुमाया हो गयी. मैंने कहा- क्या यह सब करना तुम्हें अच्छा लगता है?बिन्दू ने मेरी तरफ देखा और हाँ में अपना सिर हिलाया. मैं निढाल सा उसके बगल में लेट गया और साली जी मेरे सिर को प्यार से सहलाती रहीं, सहलातीं रही.

बस फिर क्या था, लंड महराज ने नम्रता की गांड की घिसाई करना शुरू कर दिया. मैं समझ गया कि मौसी खुद से कुछ नहीं करने वाली हैं, मुझे ही पहल करनी पड़ेगी. एक तो चाची की जवानी मस्त और ऊपर से वे बड़े ही चुस्त कपड़े पहन कर अपने जिस्म की नुमाइश कुछ इस तरह से करती थीं कि उनको देखने वाला आदमी अपने लंड को हिलाए बिना रह ही नहीं पाता था.

कुछ देर में मीना अचानक मुझे नीचे पटककर मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और उसे अपनी जीभ से चुभलाने लगी.

मैं- उससे मिलने का मन तो करता होगा ना?दीपाली- हां, वो तो बहुत करता है. दीपिका के मुँह से- आ … आ… की आवाज निकलती रही और मैंने धीरे धीरे आधे से ज्यादा लण्ड चूत में उतार दिया.

सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ पर खुशी सिर्फ दिखावे के लिए बिंदास है, असल में खुशी भावुक और संस्कारी लड़की है. मैं भी अपने एक हाथ से सारा की चूत में उंगली काने लगा और दूसरे हाथ से दिलिया की चूत में उंगली करने लगा.

सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ मैंने भाभी की चूत को देखा, वाह क्या गोरी चूत थी, एकदम मस्त पकौड़ा सी फूली हुई गोरी बुर मेरे सामने खुली पड़ी थी. इस 6-8 घंटे में ही मेरी जिंदगी कितनी बदल गयी है, जहां मैं अपने आदमी से खुलकर सेक्स शब्द नहीं बोल सकती थी, वहीं आज मैंने एक रंडी की तरह बुर, लौड़ा, गांड, एक से एक गंदी गाली तुम्हारे साथ शेयर की और चूत को कुतिया की तरह चुदवायी.

हम दोनों साथ में ही झड़ गये थे और मुझे अपने लंड पर चाची का गर्म पानी महसूस हो रहा था.

मुठ मारते हुए सेक्सी

मैं नम्रता की पीठ से चिपक गया और उसके मम्मों को लेकर हौले-हौले मसलने लगा और फिर धीरे-धीरे उन मम्मों को भींचने की स्पीड तेज हो गयी. वो बोले- अरे यार … तुम तो ऐसे नाटक कर रही हो जैसे आज तक तुमने अभी तक ऐसा कुछ किया ही नहीं, तुम्हारे पति के साथ भी तो तुम ये सब कर ही चुकी हो, तो फिर मेरे सामने एक बार कर लोगी तो क्या फर्क हो जायेगा, चलो इतना मत सोचो, जल्दी से अपनी पजामी को खोलो मेरी जान।रोते रोते मैंने अपनी पजामी को खोलना शुरू कर दिया. ”मुझे तो नितिन पर चिढ़ आने लगी थी, मुझे ऐशो आराम में जीने की आदत थी, पर इसलिए मेरा पति मुझे अपने बॉस को अर्पण कर रहा था.

मैं अपनी मस्ती में उनकी चूचियों को पी रहा था और मेरी प्यासी चाची तो जैसे मेरे गर्म लंड से चुदने के लिए मरी ही जा रही थी. मैंने भाभी को बताया कि उनके पति के जाने के बाद वह मेरे फोन पर कॉल करे,भाभी ने पति के जाने के बाद कॉल किया तो मैंने भाभी से कहा कि वह नीचे मेरी गाड़ी में आकर बैठ जाए. दीपाली मुझसे दया की भीख मांगने लगी- नहीं समीर प्लीज ऐसा मत करो, छोड़ दो मुझे … नहीं तो मैं चिल्लाऊँगी … देख लेना.

नम्रता थोड़ा पीछे हटते हुए बोली- ऐसे क्या देख रहे हो?मैं- कुछ नहीं यार, तुम्हारी चूत को चोदने और गांड मारने में इस कदर खो गया कि इस सेक्सी जिस्म को ध्यान से देख ही नहीं पाया.

”मैं- मैं क्या करूं?मेरी आंखों में देख मेरे गाल पर प्यार से थप्पड़ मार कर बोली- कुछ नहीं. बहनचोद बेबी रानी के चूतड़ जकड़ के मैंने बिजली की रफ़्तार से दे धक्के पे धक्का दे धक्के पे धक्का जो ठोका तो गुड्डी रानी स्खलित हो गयी. कुछ ही पल के बाद भाभी ने मेरे कपड़े भी उतार दिये और मुझे भी पूरा नंगा कर दिया.

वो मुस्कराने लगी और अपने डैड के गले में हाथ डालकर उसने एक किस कर दिया।रमेश- अब सूसू करो. लंड को परदे में करते ही मीना उसे अपने हाथों में लेकर उसका टोपा ऊपर नीचे करने लगी और मैं ज़न्नत में पहुंचने लगा. जैसे ही भैया जोर से कमर से शॉट मारते, लंड घप से भाभी की चूत में घुस जाता और भाभी के मुँह से जोरदार आह निकलती और पायल की आवाज़ आती.

स्वतः ही मेरा मुंह खुल गया और रानी ने अपने मुंह में ली हुई वाइन मेरे मुंह में छोड़ दी. वंश कुछ ही देर में आलू परांठा काजू-करी, सलाद पापड़ और बिरयानी ले आया.

सूजा हुआ लण्ड देख सारा और दिलिया घबरा गयी और बोली- हय अल्ला … ये क्या हो गया तुम्हारे लण्ड को?मैंने दिलिया से कहा- थोड़ा गर्म पानी ले आओ, सिकाई करूंगा तो ठीक हो जाएगा. हम दोनों ही सुध बुध खो कर पूरी तल्लीनता से चुदाई का मजा लेने में लगे थे. उसने अपना पिछवाड़ा मेरी तरफ कर रखा था, मेरी जब नजर उधर गयी, तो मैं उसके नाजुक और मुलायम कूल्हे को सहलाने लगा.

इस कहानी का वास्तविकता से कोई लेना-देना नहीं है। एक बार फिर मैं आपसे प्रार्थना करता हूं कि इसे एक कहानी की ही तरह पढ़ें।अब मैं कहानी शुरू करता हूं.

मैंने भाभी की गांड को अपनी तरफ घुमा लिया और मैं भाभी की चूत को चाटने लगा. मुझे पता लगा कि पहले भी कई लड़कियाँ यहाँ काम कर चुकी हैं मगर ज्यादा दिन कोई टिक नहीं सकी. कहीं बात बनती भी थी, तो समय ना देने के कारण कोई भी ज़्यादा दिन तक साथ नहीं रहती.

वो बोली- भोसड़ी के! सारी रात बुर ही चाटेगा कि लंड भी चूत में डालेगा?मैं- जानेमन बस तेरी चूत को तैयार कर रहा हूं. मेरे कड़क हो चुके निप्पल मेरे सिल्की गाउन से साफ़ अपने होने का अहसास करा रहे थे.

अभी तक तुम्हारे अन्दर की गर्मी शांत नहीं हुई है क्या? जो फिर से मुझे उकसाने के लिए मेरे पीछे पड़ी हो. मैं पागलों की तरह दीदी की चूची दबाने लगा जिससे उन्हें बहुत मजा आ रहा था और मुझे भी. मेरी भी लाज शर्म अब उतार गई थी, तो मैंने भी अपनी उंगलियों से मेरी चुत की पंखुड़ियां खोल कर अन्दर की गुलाबी गुहा उनको दिखाने लगी.

अच्छी बढ़िया सेक्सी फिल्म

उसने मुझे अपनी गोद में बिठा लिया और साड़ी के पल्लू को नीचे सरका दिया.

लकी मैन! ऐसा बेलौस, बिना शर्त का प्यार कहाँ नसीब होता है हर किसी को? वैसे था कौन … वो खुशनसीब?”आपको सच में नहीं पता?”कसम ले लो. मैंने एक हाथ से लंड पकड़ कर उसकी टांगें फैलाकर लंड को निशाने पर रखा और उसके होंठों से होंठ मिलाकर एक हल्का सा झटका मारा तो लंड का टोपा अन्दर घुस गया था, पर वो छटपटाने लगी. दीपाली- तो तुझे टाइम कब है? और हम लोग कहां मिलेंगे?मैं- आज का लेक्चर बहुत बोरिंग था, तो कल हम छुट्टी कर लेते हैं … चलेगा तुम्हें?दीपाली- हां ठीक है … कल तेरे घर पर मिलेंगे.

कुछ ही देर बाद हम दोनों लोग की चुदाई से पूरा रूम में आवाजें गूँज रही थीं. हम तीनों लटक कर एक दूर से उलटे घूम कर चूत में पेंच की तरह लण्ड को कस और ढीला कर रहे थे. सेक्स वीडियो सेक्सी बीएफ सेक्सीमैंने भी नम्रता को अपनी तरफ खींचकर अपने से चिपकाते हुए कहा- जान, पहले तुम्हारी झांट ही बनाता हूं, उसके बाद तुम्हारी चिकनी चूत के रस के साथ बियर पीयूंगा.

वो बोले- दीपिका क्या तुमने कभी वो किया है?नही जी!” मैंने नजरें झुकाकर कहा।देखो चुदाई वुदाई कोई अच्छी बात नहीं होती है. मैंने कहा- इसमें तो पता नहीं कितना टाइम लग जाए और घर पर ये सब करना जरा रिस्की भी है.

फिर मैंने उसे अपने नीचे लिटाया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी फुद्दी पर अपना लंड घिसने लगा. पर ये गलत था … सरासर गलत! जिंदगी में … हादसे हो जाते हैं लेकिन इस का ये मतलब तो हर्गिज़ नहीं है कि कोई जीना ही बंद कर दे? मेरे लिए … मेरे कारण वसुन्धरा ने खुद को फ़ना के धारे तक पहुंचा लिया था. उन्होंने इतनी जल्दी मेरे सारे कपड़े उतार दिए कि मुझे कुछ पता ही ना चला.

फिर वो भी वक्त आया कि रेखा के सब्र का बांध के टूटने का असर मेरे लंड पर पड़ने लगा था कि तभी मेरे लंड ने भी मुझे चेतावनी देनी शुरू कर दी. रिया- पैंटी को निकाल दो डैडी।रमेश- ये लो अभी निकाल देता हूँ।पीछे से जाकर पैंटी रमेश ने पैंटी निकाल दी. मैं और मेरा बॉयफ्रेंड हम दोनों लोग जब भी मौका मिलता था, तो एक दूसरे से अकेले में मिल लेते थे.

वो बोली- नहीं यार, कभी न कभी तो ये दर्द सहना ही है … तो आज क्यों नहीं … और फिर मैं तुमसे ही ये दर्द लेना चाहती हूँ.

मुझे अंदेशा हो रहा था कि वसुन्धरा जरूर कुछ नाक़ाबिले-यक़ीन कहने वाली थी. फिर मैंने कुछ देर बाद उसे मेरे ऊपर से उतरकर घोड़ी बनने को कहा और वो तुरंत मेरे सामने घोड़ी बन गई.

बल्कि यूं कहूँ कि उसके आते ही मैं उसे अपने कमरे में ले जाती थी, जहां हम दोनों ही अकेले रह जाते थे. उसकी चूत के रस चूसने के मजे लेने के साथ-साथ उसकी चूत से निकलती हुई महक का भी मैं मजे ले रहा था. उसने नाईटी के ऊपर से ही मेरे चुचे मसले और मेरे पैरों के बीच में आकर अपना 4 इंच का लंड मेरी चूत में पेल दिया.

मेरे मुंह से जोर जोर की कामुक आवाजें निकलने लगीं- आह्ह … मर गयी … ओह्ह सर … आह्ह … मैं तो गयी. मेरी इन सब हरकतों की वजह से मौसी की हालत खराब होने लगी, मतलब उनका खुद को कंट्रोल कर पाना मुश्किल हो रहा था. मैंने दस लम्बे लम्बे शॉट मार कर उसकी बुर में ही सारा वीर्य डाल दिया.

सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ मेरे बदन पर सिर्फ समीज बचा था जिसमें से मेरे उठे हुए दूध दिख रहे थे. रात को नींद लेने के बाद अब सेक्स करने के लिए फिर से नई ताकत आ गयी थी.

यूपी चुदाई सेक्सी वीडियो

अगर तेरे यार ने सुन लिया तो वो समझेगा कि तू अपने जीजा से चुद रही है. लंड तो मैंने पोर्न फिल्मों में भी बहुत देखे हैं लेकिन तुम्हारे औजार की बात ही कुछ अलग है. कुछ ही देर ये खेल चला होगा कि भैया को अब बस झड़ना था … क्योंकि जैली की वजह से उन्हें ज्यादा मजा नहीं आ रहा था.

उन्होंने अपना ब्लाउज मेरे सामने ही खोल दिया। मैं उनके बूब्स देख कर दंग रह गया। वो इतने बड़े थे कि ब्रा से भी बाहर झांक रहे थे। उन्होंने मुझे बाथरूम में पानी लाने को कहा और खुद बाथरूम में चली गयी। उनकी भीगी ब्रा को देख कर मेरा लंड पहले ही मेरे अंडरवियर में तन चुका था. जैसे धार टूटती, नम्रता अपनी जीभ निकालती और सुपाड़े के चारों ओर अपनी जीभ चला कर लंड को मजा देती. बीएफ से ब्रेकअप कैसे करेंवसुन्धरा ‘न’ नहीं कहेगी, ऐसा मुझे पता था लेकिन यही तो मेरे सब्र, मेरी शराफत, मेरे सदाचार की सबसे बड़ी परीक्षा थी जिसमें मैंने सफल हो कर दिखाना ही था.

मौका पाते ही वो लंड को छोड़ कर खड़ी हुई और मेरे होंठों को ज़ोर से चूमकर बोली- प्लीज़ अब जाने दो.

वो मेरे बाल को पकड़ कर मुझे अपनी तरफ खींच कर मेरी चूची को मेरी कमीज के ऊपर से दबा रहा था. तो हुआ यूं कि एक दिन में बाहर गया था और पापा को उस दिन काम से छुट्टी थी तो वो घर पर थे.

मैं- अरे यार क्या हुआ?वो- नहीं प्लीज़ … अब बस मुझे जाने दो मैं इतनी देर से यहां हूँ … घर में अगर किसी को भनक लग गयी, तो बड़ी मुश्किल खड़ी हो जाएगी. जरा भी रहम ना दिखाते हुए मैंने और दो-चार धक्के लगा दिए और उसके बाद मैंने धक्के लगाने थोड़ा धीरे कर दिये लेकिन बंद नहीं किया. मैं बिस्तर के पास घुटनों पर बैठ गया और गुड्डी रानी आकर मेरे सामने बिस्तर पर उकडूं बैठ गयी.

जैसे ही नम्रता लेटी, मैंने उसकी बुर में जीभ लगा दी और उसके उस कैसेले स्वाद से भरी हुई चूत को चाटने लगा.

जब उसकी चूत के अंदर मेरा पूरा लंड चला गया तब मैंने उसे नीचे लिटा लिया और उसकी एक टाँग को घुटने से मोड़ कर उठाया और फिर मैं अपना घोड़ा उसके सपाट मैदान में पूरी स्पीड से सरपट दौड़ाने लगा।जहां तक मुझे लग रहा था कि मेरे मकान मालिक यानि कि उसके पति का लंड न तो ज्यादा लंबा था और न ही ज्यादा मोटा था. उधर दूसरी तरफ- मेरी रानी आह-आह, क्या आह-आह खूब खूब गांड है तुम्हारी. लेकिन मुझे मजा नहीं आ रहा था, इसलिए मैंने कुप्पी को झटके से बाहर निकाला, तो पेशाब छलकते हुए बाहर आ निकली और थोड़ी बहुत पेशाब, जो उसकी बुर के अन्दर थी, वो भी बाहर आ गयी.

बीएफ वीडियो दिखाया जाएकुछ देर तक उसकी टांग उठा कर उसकी गांड चोदने के बाद मैंने उसको डॉगी पोज में कर लिया और फिर से उसकी गांड की चुदाई की. उसकी ये बात सुन कर मैं बोला- अरे सीमा ने भी तो तुझे अपना यार बदले में दिया ही है.

सेक्सी चुदाई चूत वाली

उसकी सीत्कारों की वजह से पंद्रह-बीस मिनट में ही मेरे लंड ने उसकी गांड में थूक दिया. करीब आधा घंटे में वो वापिस आ गयी, बोली- अच्छी तरह हिला कर देखा, गहरी नींद में थी. मैंने आँख खोल कर मां को देखा, तो पाया कि उनकी नजरें मेरी लुंगी में बने हुए तंबू पर थीं.

फिर तेरी ऐसी चुदाई करूँगा कि तूने कभी सोचा भी न होगी … और मैं भी वैसा कभी कर नहीं पाया होऊंगा. दोनों रानियों के लिए खीरा टमाटर मशरूम सैंडविच, फ़्रेश लाइम सोडा नमक वाला और मैंने मेरे लिए चिकन सैंडविच और बियर का रूम सर्विस में फोन करके आर्डर दे दिया. पांच सात मिनट बाद बोली- आप का तो हुआ ही नहीं?मैं बोला- अब तेरा मुंह किस काम आएगा? आज से पहले किसी का पानी पिया है?मंजू बोली- मुझे इसका स्वाद अच्छा नहीं लगता.

”तभी मेरी मम्मी ने आवाज़ लगाई- विपुल, तेरा फोन बज रहा है … देख कौन से दोस्त ने फ़ोन किया है. पर मुझे यह नहीं पता था कि मेरी इस पोजीशन का अंकल को फायदा ही होने वाला है. पांच-सात मिनट तक वो मेरे लंड को बिना रुके चूसती रही और मेरे लंड ने फिर से उसके मुंह में ही गर्दन उठानी शुरू कर दी.

फिर नम्रता ने मुझे आंख मारी, मैं भी समझ गया और कंधा उचकाकर मैंने सहमति दी और पीछे आकर उसके कूल्हे को पकड़कर फैला कर नाक ले जाकर छेद पर टिका दी और एक लम्बी सांस ली. मेरी पड़ोस में बहुत सारी सहेलियां हैं और वो लोग भी मुझे पसंद करती हैं.

ऐसा कहने पर उसने करवट ले ली और मुझे फिर उसकी बगल में लेटने के लिए कहा.

फिर तुम्हारा प्रोटीन भी आ जायेगा इस मीठे मसाले में और फिर ये डिश तैयार हो जायेगी. बीएफ सेक्सी गांव की वीडियोतब तक मैं थोड़ा सहज हो गया, जूली डॉक्टर को समस्या बताई तो डॉक्टर ने पैंट उतारने को कहा. साड़ी ब्लाउज वाली बीएफअब खेल शुरू हो गया है, अब मैं आप लोगों को एक एक करके सभी के कमरे में हुई चुदाई की दास्तान सुनाऊंगा जैसा कि मुझे मेरे दोस्तों ने बाद में बताया था. अंकल जी मेरी पीठ पर हाथ से सहलाने लगे; मेरी चिकनी पीठ पर उनके हाथ निर्विघ्न फिसल रहे थे क्योंकि ब्रा तो मैंने पहनी ही नहीं थी.

जब एक बार वीर्य निकालने के बाद भी लंड शांत नहीं हुआ तो दूसरी बार लगातार मुट्ठ मारी तब जाकर मुझे नींद आई.

हम जब अपने दिल्ली वाले घर में थे तो एक दिन जब मैं नहाने के लिए तौलिया लपेट कर बाथरूम में घुसने ही वाला था कि उसी वक्त जूली घर आ पहुंची. मेरे सिवाए उनके साथ बातें करने के लिए कोई नहीं था क्योंकि पिताजी उन्हें ज्यादा समय नहीं दे पाते थे. जब मैंने एक घूंट ले लिया तो उसने गिलास मेज पर रख दिया और अचानक मुझे अपनी बांहों में जकड़ कर मेरे होंठों से अपने होंठ मिलाकर चूसने लगा.

उस मकान की जो तीसरी मंजिल थी उसकी खिड़की में एक बहुत बड़ा शीशा लगा हुआ था जिस पर कई बार पर्दा लगा होता था और कई बार नहीं लगा होता था. पहले मैंने चुंबन करने वाली को बांहों में भर लिया और बिस्तर पर लिटाते हुए उसके चेहरे पर नजर गड़ा कर आंखें खोलीं, तो मेरी बांहों में प्रतिभा ही थी, जिसे देखते ही पहली नजर में ही मैंने ख्वाब बुनने शुरू कर दिए थे. साथ ही उसके बूब्स भी दबाने लग गया। उस के बूब्स बहुत बड़े और काफी नर्म भी थे और मुझे बहुत मजा आ रहा था.

सेक्सी वीडियो सुहागरात एचडी

संतोष जी लगातार बिना मेरी दर्द की परवाह किये, अपने लंड को चूत में अन्दर बाहर करने लगे. वो आगे बताने लगी- पर मुझे क्या मालूम था … एक महीना बाद यही चूत फिर से लण्ड मांगने लगी. यह मैंने तब जाना जब राज मेरे नंगे जिस्म से लिपट कर मुझे चूम रहा था.

थोड़ी देर बाद उसने अपना पूरा लंड मेरी गांड में डाल दिया … और अन्दर बाहर करते हुए मेरी गांड मारता रहा.

तो मैंने उसके कहे अनुसार अगले दिन काली घाट पहुंच गया मेट्रो से और उसका इन्तज़ार करने लगा.

कमरे में सिर्फ सांसें, आहें और कामुक कराहें ही गूंज रहीं थीं या साली जी की चूत से निकलती चुदाई की हल्की सी सरसराहट जैसी ध्वनि सुनाई दे रही थी. मैंने अपनी गांड हिलाते हुए उसके लंड को अपनी चूत में आने का इशारा किया।कहानी जारी रहेगी. फिल्म बीएफ एचडी वीडियोमैंने स्कर्ट को पकड़े रख कर विरोध करने लगी, पर अंकल मुझसे ज्यादा ताक़तवर थे.

मैंने अपना काम चालू रखा। अब मैं धीरे-धीरे अपने लंड को आगे-पीछे करने लगा और धक्के की स्पीड भी धीरे-धीरे बढ़ाने लगा।एक जैसी पोजिशन में धक्के मारते-मारते मैं थकने लगा तो मैं चित लेट गया और जूली को अपने ऊपर कर लिया और फिर उसकी चूत में लंड डालकर नीचे से अपनी कमर उठा-उठाकर उसको चोदने लगा।जूली भी अब समझ चुकी थी. तो दोस्तो, मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी, आप सभी के मेल के इंतजार में आपका अपना शरद सक्सेना. फिर मैंने उसकी चूत पर लंड रखा और उसकी चूत में लंड को अंदर धकेल दिया.

ऊपर चढ़ाते समय मैंने शलाका के चूतड़ों को अपने हाथों से कस कर भींच दिया था. योनिमार्ग के साथ मेरा दाना भी रगड़ खाने की वजह से मेरी चुत फुरफुराने लगी थी.

बहनचोद ब्लू फिल्मे देख कर के रंडी के दिमाग में ऊटपटांग चुदाई के स्टाइल आ रहे थे.

तब मैं उन्हें दीदी बुलाता था, मगर अब 5 साल बाद उनकी शादी पड़ोस के फ्लैट वाले भैया से हो गई है, इसलिए वे मेरी बहन कम भाभी बन गई हैं. उतने में ही उनका जवाब आया- सर जी, मैं भी आपको बोलने वाली ही थी कि आप बहुत हैंडसम लग रहे हो. आखिरी आसन आमने सामने होकर मेरी छाती से छाती मिला कर वो मेरे लण्ड के ऊपर बैठ गयी.

देवर भाभी सेक्सी बीएफ चुदाई मेरे नंगे बदन को देखकर उसने मुझे अपनी बांहों में ले लिया और अपनी गोद में बिठाकर मेरे मम्मों को दबाने लगा. ’ की कामुक आवाजों के साथ हमारी ताबड़तोड़ चुदाई तेज और बहुत तेज होती चली गई.

उसने मुझे देखा और कहा- जवाब सुनने के लिए इतना सज धज कर आये हो?मैंने उसे कहा- नहीं यार, ऐसी कोई बात नहीं है. मैंने धीरे से लण्ड निकाला तो वह और सूज चूका था और बड़ा दर्द हो रहा था. मैंने दीपिका को उल्टा घुमाया और अपना खड़ा लण्ड उसके चूतड़ों में फिट करके सामने से उसके दोंनों मम्मों को पकड़ लिया और जोर जोर से मसलने लगा.

सपना भाभी की सेक्सी फिल्में

भाभी भी चुपचाप लंड चूसने लगीं, वो लंड चूसने में बहुत ही एक्सपर्ट थीं, तो कुछ ही टाइम में उन्होंने मेरी आहें निकाल दीं. उसने भी मेरे बूब्स पर नजर गड़ाई और उनको ऊपर नीचे होते हुए देखने लगा और वो बोला- शालिनी जी, मैं दरवाजा और खिड़कियां बंद कर देता हूं. मैंने भी अंकल को कस कर गले लगाया हुआ था और अपने स्तन उनके सीने में गड़ा दिए थे.

मैं अपने मामा के बेटे के सामने एकदम नंगी थी और वो भी मेरे सामने एकदम नंगा था. बिना ये जाने कि लंड अन्दर नहीं गया है और 2 मिनट में ही झड़ कर सो जाता है.

थोड़ी देर बाद मैं उसे बाथरूम ले गया औऱ अच्छे से उसकी बुर गर्म पानी से साफ की ताकि उसकी बुर की अच्छी सिकाई हो सके.

कहता है कि मैं आपके साथ वाइफ स्वैपिंग करना चाहता हूं और उसके लिए कुछ भी कीमत चुकाने के लिए तैयार हूं. मैंने देखा कि उन्होंने शर्ट का एक बटन खुला रखा हुआ है ताकि वो जब भी झुकें तब मैं उनके बूब्स देख सकूँ. अपना पल्लू सही करो!!” रवि कहने लगा।ओह्ह!” मेरे मुंह से निकल गया, जब मैंने अपने दूध की तरफ देखा।करीब 15 मिनट से रवि बॉस मेरे गोल-गोल बड़े-बड़े कबूतर ताड़ रहा था.

मैंने एक पॉर्न मूवी में देखा था और बहुत दिनों से चाह रही थी कि कोई मेरे साथ ऐसे ही चुदाई करे. प्रिय पाठकगण, आपको बाप बेटी सेक्स की मेरी कहानी कैसी लगी? बताइये जरूर![emailprotected]. मैक-डी थोड़ा दूर था, रास्ते में बारिश आ गयी और हरजोत के कपड़े भीग गए.

बेबी रानी ने कहा- राजे तू कपड़े पहन ले … अभी वो आता होगा न रूम सर्विस वाला … हम दोनों तो नंगी रहेंगी.

सेक्सी बीएफ ब्लू बीएफ: कई बार तो जब मैं सोया हुआ होता था तो मेरे साथ आकर लेट जाती थी और लोअर में से मेरा लण्ड निकाल कर हाथ से सहलाने लग जाती या चूसने लग जाती थी. उस कमरे के सामने हमने लाइट की, तो देखा वहां पर बेड और उसके ऊपर एक पतला सा गद्दा पड़ा था.

मेरी बात सुनकर राधिका मेरी ओर देखने लगी तो मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा ताकि सोनल उसके चूतड़ों पर चपत लगा सके. अब मैं रोजाना माँ के सोने के बाद माँ की चुत भी चाटता हूँ और लंड भी डाल देता हूँ. मैं उसके गुलाबी होंठ चूसते निप्पल पर आया और एक निप्पल को अपने होंठों में दबा आकार चूसने लगा.

तभी वो ऊपर आ गयी और भैया को देखके जाने लगी, तो मैंने पकड़ लिया और रूम के अन्दर ले गया.

मैंने नोयडा में रह रहे अपने एक मित्र से बात की, संयोग से उसे भी एक फ्रेशर की जरूरत थी और इस तरह गोलू नोयडा चला गया. मैंने उन्हें जल्दी से पलट कर उन्हें बेड पर लेटा दिया और फिर से लंड को उनकी चूत पर सैट करके ज़ोर का धक्का दे दिया. मौसी की बात सही थी, अगर कोई उधर आ जाता, तो सच में प्रॉब्लम हो जाती.