सेक्स बीएफ एचडी में

छवि स्रोत,ट्रिपल ट्रिपल एक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

मुझे चोदा सेक्सी वीडियो: सेक्स बीएफ एचडी में, फिर 3 दिन के बाद मुझे खबर मिली कि रानी के बाप ने उसकी शादी तय कर दी है.

हिंदी बीऐफ वीडियो

मैं उसकी चड्डी को हटाकर उसकी चूत को बाहर निकाल कर चूत के दर्शन करने लगा. रंडी को जंगल में चोदाउसने मुझे नीचे गिरा लिया और मेरे लंड को हाथ में लेकर उसकी मुठ मारनी शुरू कर दी.

दोस्तो, आपको मेरी यह स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी राय जरूर दें. ಕನ್ನಡ ಚೆಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋ ಎಚ್ ಡಿफ्री का इंटरनेट हो गया था और मैं सारा दिन अपने फोन पर लड़कियों से चैट करता रहता था.

मेरी मामी के चुचे आम की तरह बहुत ही रसीले हैं, चूसने में मज़ा आ जाता है.सेक्स बीएफ एचडी में: मैं सिर्फ उनकी जिस्मानी भूख को एक सामान्य भूख समझ कर चुप रहना उचित समझता था.

जब हम दोनों की वासना मिलन के चरम पर पहुंच गईं, तो हम लोग मिलने का मौका देखने लगे.मैंने उसका लंड अपने मुझ में लिया और तुरंत उसके लंड ने मेरे मुख को मरदाना रस से भर दिया.

मालकिन ने नौकर से चुदवाया - सेक्स बीएफ एचडी में

एक दिन मेरा मन हुआ कि दिन में तो मैं तो काफी जगह घूम चुका हूँ, किसी रात को घूमने का रखा जाए.अगले दिन मेरी चुत दर्द कर रही थी, लेकिन रात के मजे के आगे यह दर्द कुछ नहीं था.

मुझे इस दौरान भाभी जी की नजरें कुछ इस तरह से दिखने लगी थीं, जैसे वो मुझे देख कर शरमा रही हों. सेक्स बीएफ एचडी में आखिरकार एक समय आया जब इंस्पेक्टर ने मुझे कस कर बांहों में जकड़ लिया.

इतनी खूबसूरत सी महिला मेरे सामने थी और मेरे पास मानो जवाब देने के लिए ही कुछ नहीं था.

सेक्स बीएफ एचडी में?

दो तीन दिन में ही ये स्थिति हो गई कि हम दोनों काफी काफी देर तक चैट करने लगे. चूत में लंड जाते ही भाभी के मुंह से आह्ह … करके एक चीख सी निकल गयी. प्रशांत चुपचाप अन्दर आया और उसने मम्मी को पीछे से पकड़ लिया और उनके गाल पर किस करके बोला- मम्मी हैप्पी बर्थ डे.

फिर भी लड़कियों को बताने के लिए लिख रहा हूँ कि मेरा लंड 7″ लम्बा और 4″ मोटा है. मैंने आंखों को हल्के से खोल के देखा, तो मोनिया की आँखों में बहुत ही वासना दिख रही थी. उसके बूब्स पर मुंह रखे हुए ही मैंने उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया.

उसके बाद उसकी जड़ को हाथ से थाम लिया और उसको सीधा कुतुबमीनार की तरह खड़ा कर लिया. मेरा लंड औसत साइज का है लेकिन एक औरत को संतुष्ट करने के लिए काफी है. यह सुन कर मैंने मामी की चूत में और जोर जोर से धक्के लगाने शुरू कर दिए.

कॉलेज के दोस्तों से मुझे पता लगा कि कॉलेज के काफी लड़के पॉकेट मनी के लिए वीर्य बैंक में वीर्य देने जाते हैं. उसने झट से चुत के ऊपर का खून साफ़ किया और लेगिंग्स ऊपर करके रानी को अपनी गोद में लेकर रूम में चला गया.

फिर आंटी ने कहा कि अब मैं धीरे धीरे से रानी की चूत में लंड को धकेलना शुरू करूं.

तभी एकदम से उमेश मेरे पीछे आया और बोला- आप अपनी प्लेट मुझे दीजिए, मैं निकाल देता हूँ.

कामिनी अब नशे और सेक्स के मजे के कारण सातवें आसमान पर पहुंच चुकी थी. क्या तुम अकेली हो घर पर?तो बोली- नहीं … अभी भैया और उनके भाई यही हैं. वो पूछने लगा- ऐसे क्या देख रही हो?मैं बोली- मुझे तो यकीन नहीं हो रहा है.

मेरा मुंह उसकी योनि के पास पहुंच गया और मेरा लंड उसके मुंह के करीब पहुंच गया. स्वरा ने पूछा- चाचा, मैं कहां पर सोऊं?चूंकि कमरे में एक ही बेड था, तो मैंने उससे कहा- बेटा, तू एक साइड सो जा … दूसरी साइड मैं सो जाता हूँ. यदि मेरे पति को इस बारे में पता चल गया तो वो मुझे घर से निकाल देगा.

मुझे अपने घर में अकेले रहने में कोई दिक्कत नहीं होती थी क्योंकि दीपा के घर में मेरे खाने का प्रबंध हो जाता था.

उसने मेरी बीवी को चोदा कैसे?मेरी चालू बीवी की मदमस्त सेक्स कहानी के पिछले भागहनीमून में चालू बीवी के कारनामे-2में आपने पढ़ा था कि मैनेजर ब्रून हम दोनों को ब्रेकफास्ट के लिए बुलाने आया था. मैं भाग कर पीछे पीछे आया, मैंने मैम से पूछा- क्या आपको मुझसे कोई और काम है?मैम ने मुस्कुराते हुए मुझे ऊपर से नीचे तक देखा और बोलीं- हां करन, मेरा सामान शाम तक आ जाएगा, तो तुम मेरे सामान को मेरे क्वार्टर में शिफ़्ट करवा दोगे?मैंने तुरन्त हां कर दी. आपको पता ही है कि कॉलेज वाली उम्र में चाची भाभियों पर सबसे ज्यादा क्रश आता है और लौड़ा उनको देखते ही सलाम मारने लगता है.

वो मेरे मम्मों को बारी बारी से चूसने लगा और निप्पलों को भी चूसने लगा. मैंने देर न करते हुए अपनी जीभ वहां पर थोड़ी सी घुमाई तो सोनल मचल उठी. मैंने उसको बांहों में ले लिया और अच्छी तरह से उसके गालों को चूमने लगा.

बहन की चूत चुदाई में बड़ा मजा आ रहा था … मजा तो चूत में आता ही है … मगर जब लंड अपनी बहन की चुत में घुसा हो, तो मजा दुगना हो जाता है.

मेरी माँ के उरोज देखकर अजय अंकल कहने लगे- अरे वाह सुहासिनी, तुम्हारे तो बहुत बड़े हो गए हैं. पहले मेरी जान सोनल ने अपने नाजुक होंठों को मेरे टोपे पर लगाए … आह … मैं तो जैसे जन्नत में पहुंच गया था.

सेक्स बीएफ एचडी में मैं- प्यार और हमारे बीच? क्या तुम नहीं जानती हो कि हम दोनों भाई बहन हैं!सोनल- तो क्या हुआ? हम सगे तो नहीं हैं ना!मैं- पर हम सिर्फ प्यार कर सकते हैं … शादी नहीं. मैं बीच बीच में कभी एक कभी दो या कभी तीन उंगलियां उसकी चूत में डालते हुए चुत चाट रहा था.

सेक्स बीएफ एचडी में उसकी खासी लंबाई, पर उसके नागिन से लहराते लम्बे घने काले बाल, किसी नागिन की तरह थे. एक दिन मेरे पास भाभी का फोन आया- तुम्हारे भैया बहुत बीमार हैं और उनको इलाज के लिए दिल्ली ला रहे हैं.

अब हम दोनों को दारू चढ़ी हुई थी और उसी समय हम दोनों के बीच बात होते होते सेक्स लाइफ को लेकर बातचीत होने लगी.

चाची और भतीजे का सेक्स

मेरा नाम अविनाश है और मैं 38 साल का हूँ। मैं मेरठ में रहता हूँ। मेरी बीवी एक स्कूल में टीचर है और मेरा बेटा भी उसकी स्कूल में पढ़ता है. नीतू बिना किसी हिचकिचाहट के मेरे बरामदे में मेरे करीब कुर्सी सरका कर बैठ गयी. तब उसकी मम्मी ने कहा- यहाँ पास में कहाँ कोई अच्छा कॉलेज है।मैंने उसकी मम्मी से कहा- पीहू को बाहर भेज दो पढ़ने के लिए!तो वो बोली- अकेली लड़की को कैसे बाहर भेज सकते हैं।मैंने उसकी मम्मी से कहा- आप परेशान क्यों हो रही हो? आप पीहू को वाराणसी भेज दीजिये.

मगर उससे मैंने कई बार ये बात जाहिर की थी कि कोई सेक्सी औरत या लड़की हो तो मेरे साथ सेट करवा दे. मेरे छोटे छोटे नुकीले चूचे और टाइट चूत वास्तव में मुझे बड़ी मजबूती देती है. मैंने कहा- फिर देर किस बात की पापाजी? अब घुसा दो ये मोटा मूसल लंड मेरे चूत में!फिर पापाजी ने अपना लंड मेरी चूत घुसा दिया और हल्के हल्के धक्के लगाने लगे.

तो जवाब में मैं बोला- किसने रोका है, आओ और उतार दो मेरे कपड़े!यह सुनते ही वो मेरे पास आई और झट से मेरे कपड़े उतार दिए और मैं सिर्फ अंडरवियर में रह गया.

मैंने उसे पकड़ लिया और उसके होंठों को चूसने लगा, वो भी मेरे होंठो को चूसने लगी।कुछ देर बाद मैंने पीहू से कहा- मैं अपनी प्यारी बहन को चोद कर दीपावली मनाना चाहता हूँ. जैसे जैसे भैया का लंड मेरे अन्दर जा रहा था, वैसे ही मेरी जान निकली जा रही थी. पूजा भाभी से मेरी नार्मल बातें होती थीं, उनके हस्बैंड कोई सीमेंट फैक्ट्री में काम करते हैं.

मैंने तुरन्त आगे की तरफ सरकते हुए उसे हां कह दिया और वह स्लीपर में आ गई. मैंने उत्तेजना में उनकी कमर को अपने पैरों की कैंची में जोर से जकड़ लिया. मैंने अपनी बहन को चित लिटाया और उसके पैरों को फैला कर अपना लंड बहन की चुत पर सैट कर दिया.

लेकिन लंड बाहर निकालते समय वो अपनी गांड उठा देती, जिससे चुदाई का मजा बहुत ज्यादा आने लगा. उनकी चूचियां लगभग नंगी थीं, सिर्फ ब्रा ने उनको नीचे से सपोर्ट देते हुए उठाने के काम किया था.

मेरे बहुत कहने पर उन्होंने धीरे से जीभ निकाल कर सुपारा चाटा … और जीभ हटा ली. मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?उसने बताया कि उसके भैया ने उसे, उसके बीएफ को एक साथ में देख लिया और भैया ने उस लड़के की बहुत पिटाई कर दी. फिर मैंने उसके सिर को पकड़ लिया और अपने लंड पर उसके मुंह को दबाने लगा.

जब मैं उस लड़की का इंतजार कर रहा था तो वहां पर एक दूसरी लड़की आती हुई मुझे दिखाई दी.

इनमें दी गई टिप्स से मुझे अपनी बहन को पटा कर चोदने में एक साल लग गया था. )उस समय सोनल की उम्र 19 साल थी उसका 30-26-32 का बड़ा ही सेक्सी फिगर था. धीरे-धीरे मुझे भी भाभी के साथ बातें करना और टाइम बिताना अच्छा लगने लगा.

मैंने तुरंत अपना हाथ उसके मम्मों से हटाकर उसकी सलवार के नाड़े को खोल दिया और अपना हाथ उसकी रसभरी चूत पर रख दिया, जिस पर छोटे छोटे बाल थे और बालों के बीच में गुलाब की पंखुड़ी की तरह उसकी चूत नम हो चुकी थी. पिछली बार की तरह उसने इस बार भी थैंक्यू लिख कर भेजा, जिसके जवाब में मैंने उससे कुछ पूछ लिया.

कुछ देर के दर्द के बाद उसकी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम … उम … आह!’ की मदभरी आवाज निकलने लगी. मैंने देखा तो उसे आते समय भी था, लेकिन तब मेरी नजरों में उसकी ये छवि नहीं बन सकी थी. मेरा नाम साहिल खान है मेरी बीवी का नाम सना खान है हम लोग कपल है 23 और 25 साल के!मेरी बीवी के जिस्म का साइज 34 30 36 है.

ट्रिपल एक्स हिंदी ब्ल्यू फिल्म

मैं एक प्राइवेट कंपनी में काम करता हूँ और उसी कंपनी की तरफ से कॉर्पोरेट क्रिकेट खेलता हूँ.

मैंने एक हाथ से धीरे से अपने चड्डी को उतारा और दूसरी चड्डी को पहना. उसने अपनी साड़ी और ब्लाउज तो ठीक कर लिया था लेकिन उसकी पैंटी कहीं गुम हो गयी थी. करीब 5 मिनट तक वह मुझे होंठों और गले पर किस करता रहा और मैं उसका साथ देती रही थी.

जितनी तेजी से मैं झड़ रही थी, अंकल उतनी ही तेजी से मेरी चुत के रस को पीने लगे थे. उस दिन हम तीनों यानि कि मैं, रोहित और ममता तीनों ही थियेटर में मूवी देखने के लिए गये. क्सक्सक्स sexमन तो कर रहा था कि मुठ मार कर यहीं वीर्य निकाल दूं लेकिन अभी बहुत खतरा था.

मैंने कहा- तो फिर मेरे ख्याल से उनको मनोज जी की उपस्थिति में ही आना चाहिए था. उसके गीले बाल और उसकी तनी हुई चूचियां देख कर मैंने उसको खा जाना चाह रहा था.

घर जाकर मैंने अपने पति और सास को भी इस बारे में बताया कि बाबा के यहां दस दिन तक पूजा चलेगी. पहले तो वो घबरा रही थी, मगर जब मैंने उसे भरोसा दिलाया कि किसी तरह की कोई समस्या नहीं होगी. वो मेरी चूत को कभी हाथ से सहलाता, तो कभी चूत की फांकों में उंगली डाल कर मुझे गर्म करने लगता.

फिर उसने बोला- आप कल शादी में नहीं जाओगी?मैं बोली- जाना तो चाहती हूँ … लेकिन मैं अपनी परेशानी तो आपको बता चुकी हूँ. मैंने लंड बाहर निकाल कर टोपे पर थूक लगाया और इस बार जोश में आकर कर फिर से जोरदार धक्का दे मारा. ऊपर से हिमानी की जवानी की खुशबू मुझे पागल किए जा रही थी और वो भी हिमानी के ही घर में.

वो बोली- ये कहने में तुमको बड़ी देर लग गई … अगर आज तुम मुझे प्रपोज़ नहीं करते, तो मैं तुम्हें प्रपोज़ कर देती.

और सुबह जब मेरी नींद खुली तो देखा अमरीश सोया पडा था पूरा नंगा … उसका लंड जिसने रात भर मेरी चूत मारी थी और गांड फाड़ी थी, अब एक मरियल चुहिया जैसे उसके टट्टों से चिपका पड़ा था. मैंने अपनी आंखें बंद कर लीं और नीतू के मुँह के रस और उसकी लपलपाती हुई जीभ की अठखेलियों को अपने लंड पर महसूस करने लगा.

जोर से धक्के लगाते हुए एकदम से मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी उसकी चिकनी चूत के अंदर ही गिरने लगी. फिर भी मैं सोने की कोशिश कर रहा था और मेरी बाजू में मेरी चाची आराम से सो रही थी. दूसरा लड़का दारू पीने का शौकीन था … तो एक बार उन दोनों लड़कियों के माँ बाप बाहर गांव गए थे.

मेरे पड़ोस में एक आंटी को बेटे की शादी के बाद पोते का सुख नहीं मिल पाया. धीरे धीरे वो फिर गर्म होने लगी … तो मैंने भी अपनी कमर हिलाना शुरू कर दिया. इधर झाड़ियों में वे दोनों लड़के मेरे बाल पकड़ कर मुझसे बारी बारी से अपने अपने लंड चुसाने लगे.

सेक्स बीएफ एचडी में अब वो मुझे जोर जोर से गालियां देने लगी और बोलने लगी- आह मादरचोद … फाड़ दे मेरी चुत को … आह … आज इस चुत का भोसड़ा बना दे … साली बड़ी परेशान करती है मुझे … उन्ह सचिन … साले जोर लगा कर चोद भैन के लौड़े. उनकी शादी को चार हो गए थे और दो साल की एक बेटी है … यही सब बातें चलती रहीं.

ब्लू सेक्स फिल्म दिखाओ

मुझे सेक्स इतना पसंद है कि मैं दूसरे लंड तेती हूँ पति की जानकारी में. वो मेरे घुटनों के बीच में बैठ गयी और मेरे लंड को उसने मुंह में भर लिया. मैं उसे और तड़पाना चाहता था … इसलिए मैंने उसे चित लेटाया और उसकी पिकी चाटने लगा.

लेकिन शालू …आंटी बोली- बस अब ना-नुकर मत कर, मैं टोनी को बोल देती हूं कि तुझे ये रिश्ता पसंद है. और सुबह जब मेरी नींद खुली तो देखा अमरीश सोया पडा था पूरा नंगा … उसका लंड जिसने रात भर मेरी चूत मारी थी और गांड फाड़ी थी, अब एक मरियल चुहिया जैसे उसके टट्टों से चिपका पड़ा था. एक्स वीडियो गांव कीउसके बाद मैंने फिर से उसकी चूत को रगड़ना शुरू कर दिया और दोबारा से उसकी चूत को जमकर चोदा.

मैंने पूछा- प्रिया कहां है?तो नेहा बोली- प्रिया नीचे फूलगोभी लेने गयी है.

मैंने पापा से पूछा कि आप लोग कहां जा रहे हो?उन्होंने बताया कि हम दोनों तुम्हारे मामा के यहां जा रहे हैं. शाम में उसने मुझे मैसेज पर बताया कि उसकी एक और सहेली शालिनी वहां रात ग्यारह बजे आ पाएगी.

वह मेरी ओर देखते हुए मुस्करा रही थी।ऐसा लगा जैसे चाची मेरे द्वारा की गयी चुदाई से काफी संतुष्ट हो गयी है. तभी अचानक मेरी सेक्सी सना ने एक ही झटके में पेटीकोट का नाड़ा खींच दिया और पेटीकोट एकदम उसकी जांघों से सरक कर नीचे गिर गया. मेरा पति तो रोमांटिक नहीं था लेकिन मेरा भाई मेरा बहुत ख्याल रखता था.

उसके बाद हम दोनों ने करीब 3 बार चुदाई का मज़ा लिया और बहुत ज्यादा फॉरप्ले का आनंद लिया.

लेकिन मुझे अब लग रहा था कि ये शादीशुदा है इसलिए मुझे नहीं मिलने वाली है. वो पेशाब कर रही थी तो साथ में खून और लण्ड का बहुत सारा माल बाहर आ रहा था।वो हैरानी से बोली- क्या राजू! कितने दिनों से दबाकर रखा था ये वीर्य? जो इतना सारा माल मेरी चूत में भर दिया है?उसने अपनी चूत को साफ किया. अगर आप दोनों जाने के लिए एकदम रेडी हों, तो मैं अभी व्यवस्था करवा देता हूँ.

पूजा की चूतजब उसने देखा कि मैं भी उसको भाव नहीं दे रहा हूं तो उसने एक दिन खुद ही अपनी नंगी फोटो मुझे भेज दी. बुआ ने मुझसे खाने के लिए पूछा, तो मैंने मना कर दिया और टीवी देखने लगा.

भोजपुरी एक्स व्हिडीओ

मैंने उससे पूछा- जल्दी क्या है?तो उसने बताया- पिछले 5 महीने से मैंने सेक्स नहीं किया है. उससे मैंने पानी के लिए पूछा, तो उसने मना कर दिया, वो बोली- पहले दरवाजे की कुण्डी लगा दो. कुछ मिनट के किस करने के बाद मैंने वक़्त खराब न करते हुए भाभी को खड़ा किया और उनकी साड़ी और पेटीकोट उतार दिया.

मैं एक घर में गया और बेल बजाई थोड़े देर में एक 65-70 साल अंकल आए और पूछा- क्या काम है?मैंने कहा- सर में रूम की तलाश कर रहा हूँ. अब बस आज रात के सहवास से लड़की हुई, तो शायद अभिशाप से मुक्त हो सकते थे. मैं उससे बोला- बुर में दर्द हो रहा हो … तो बोलो, तुम्हारी गांड में लंड डाल दूं?वो डरते हुए बोली- आज नहीं बाबू, फिर कभी कर लेना.

ऐसी चुदक्कड़ लेडी डॉक्टर मुझे यूं मिल जायेगी मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था. अब मैंने मेरा बॉक्सर नीचे करके अपना पूरा खड़ा लंड बाहर निकाल लिया था. उसने चुत खोल कर अपनी जीभ को अन्दर डाल दी और जीभ से चुत को चोदने लगा.

वो भी उसी गांव में पढ़ाने जाती थी जहाँ मैं भी जाता था। चूँकि मैं बिजली विभाग में था तो उस गांव के पावर हाउस पर मेरी ड्यूटी थी। इस तरह से हम दोनों रोज ही लगभग एक ही समय पर मिलते थे और वो अक्सर मेरे साथ बाइक पर बैठ कर जाती थी. उनकी हाइट 6 फिट की होगी, चौड़ी छाती भरा हुआ जिस्म … सच में क्या मस्त लगते थे.

बड़े, मोटे, छोटे और लम्बे हर तरह के लंड का स्वाद लेती होंगी यहां की औरतें.

तो जब मैं पहुंचा तो मैंने देखा कि चाची नंगी ही बाथरूम के बाहर नहा रही थी. नेपाली बीपी सेक्सीजब मुझसे रहा न गया तो मैंने भाभी को लिटा दिया और उसकी टांगों को फैला दिया. डॉक्टर एक्स वीडियोदो-तीन दिन तक मैं अपने भैया के घर में रहा और हम दोनों ने खूब मजे किये. माँ लंड निकालने की कोशिश कर रही थी लेकिन अजय अंकल ने उनके मुंह से लंड को निकलने नहीं दिया और आगे पीछे होने लगे.

जब मैं तीन दिन बिस्तर पर चाची के बगल में सोया, तो मैंने कथा बांचना शुरू की.

कृति ने भगवान को हाथ जोड़कर प्रार्थना की और उसके बाद मेरे पैरों में बैठ गई. मैंने जैसे ही कोल्डड्रिंक को पीना शुरू किया, तो उन्होंने मुझसे कहा- मैं देख रही हूँ … तुम आजकल बहुत बदमाश होते जा रहे हो. उन्होंने इसका मतलब हाँ समझ लिया और अपना चैन खोल कर अपना लण्ड बाहर निकाल लिया।उनका लण्ड देख कर मेरे मुँह से निकल गया- इतना बड़ा!उनका लण्ड बहुत बड़ा था.

[emailprotected]टीनएज गर्ल की चुदाई की कहानी का अगला भाग:सावधानी हटी, दुर्घटना घटी-2. मैं भी इस चुदाई की मस्ती में अपने पापा से ना जाने क्या क्या बोल रही थी. वो बोली- कोई बात नहीं जान … वो 60 साल का बुड्डा है … उसका तो लंड भी नहीं खड़ा होता होगा.

ब्लू पिक्चर दिखाइए हिंदी में

मैंने क्रीम की शीशी व कॉण्डोम का पैकेट लिया और उसकी चूत की चुदाई की तैयारी कर दी. अब मैंने उसको दोबारा बैड पे लिटाया और उसकी पूरी बॉडी को बेतहाशा प्यार से चूमने लगा और उसकी अंडरआर्म को चाटने लगा. जैसे जैसे सेक्स के लिए जोश बढ़ रहा था वैसे ही हमारी गतिविधियां भी तेज हो रही थीं.

मैं लंड के सुपारे को चुत की फांकों में लगा कर उसके ऊपर पूरा लेट गया और किस करने लगा.

आखिरी बस होने के कारण मुझे मजबूरी में दोगुणा किराया देना पड़ा और मैं स्लीपर में आकर लेट गया.

मैंने उसके होंठों पर होंठों को रख दिया और मेरा माल उसकी चूत में जाने लगा. भीगी साड़ी के नीचे पानी की बूंदों से सजी नाभि बहुत ही उत्तेजक लग रही थी. मैंने उत्तेजना में उनकी कमर को अपने पैरों की कैंची में जोर से जकड़ लियाफिर मुझे ख्याल आया कि लिख कर ये घटना साझा की जा सकती है क्योंकि कुछ बातें ऐसी होती हैं जो हम अपने जहन में ज्यादा दिन तक दबाकर नहीं रख पाते.

रोहित ने बेड पर आकर ममता की पीठ और कमर पर हाथ लगाया तो ममता चौंक सी गई. मैं अब अगले दिन का इंतजार कर रहा था जब मुझे अपने किरायेदार की बीवी की चूत चोदने का मौका मिलने वाला था. मेरा नहीं हुआ था, तो मैंने टीचर को घोड़ी बनाया और पीछे से उनकी चूत में लंड घुसाने लगा.

उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थीं- आह्ह… आऊऊ… ओह्ह… उफ्फ… चोदो मेरे राजा।करीबन 15 मिनट तक मैं उसकी चूत को फाड़ता रहा और वो चुदती रही. शाम को मैं उनके क्वार्टर के पास से गुजर रहा था तो उन्होंने मुझे बुलाया.

मां बहुत तेजी से चीखी ज़रूर … लेकिन सोनू रुका नहीं और वह मेरी मां की चूत के अंदर अपना लंड अंदर बाहर करता रहा.

मैं ये सेक्स कहानी आप सबके साथ बहुत दिनों से शेयर करना चाहता था, मगर मैं संकोच की वजह से कर नहीं सका था. पिछले 6 महीनों से मैं इस बात को लिखने के लिए मेहनत कर रहा था कि कैसे मैं अन्तर्वासना पर भाभी के संग अपनी चुदाई की कहानी लिखूँ. मैं उसकी चूत में धक्के लगा रहा था और चुदक्कड़ भाभी नीचे से अपनी गांड उठा कर मेरे लंड की तरफ चूत को धकेल रही थी.

आंटी वीडियो सेक्सी उससे बातचीत आगे बढ़ी, तो उसने बताया कि उसकी एक बेटी भी है, जो अपनी नानी के साथ उज्बेकिस्तान में रहती है. उसकी चुत की रगड़न मुझे महसूस हुई, तो मैं समझ गया कि रिया को मस्ती चढ़ने लगी है.

फिर रात को खाना खाने के बाद हम सब लोग एक साथ बैठ कर टीवी देख रहे थे. वहाँ मामी को चरण-स्पर्श कर मैं वहीं सोफे पर बैठ गया। मामी ने मेरे जाने पर मेरे घर का कुशल मंगल का समाचार पूछा. तभी मैंने अपने गाउन की डोरी खोल दी और में उनके सामने पूरी नंगी हो गयी.

सेक्स मूव्ही

डॉक्टर साहिबा बार बार अपनी बुर को अन्दर की ओर सिकोड़ रही थीं जिससे मेरा लण्ड टनटनाता जा रहा था. जब तक शादी का दिन नहीं आ गया, तब तक सुबह से शाम तक उससे दो तीन बार इस तरह का मजाक न हो जाए, तब तक न मुझे चैन पड़ता और न उसका मुझे छेड़े बिना मन लगता. उसके बाद मेरी सेक्सी बीवी अपनी नाइटी को ऊपर उठाती और अपनी गांड के ऊपर तक खींचती तो मेरी बीवी की नीले रंग की पैंटी दिखती जो उसे और आकर्षक बनाती.

मैंने भाभी को चोदा! कैसे?अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार. और जब वो मटक मटक कर चलती है, तो उसकी भरी हुई गोल मटोल चूचियों को देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

जब से पापाजी चल बसे हैं, शायद तभी से हम दोनों बहुत क्लोज़ हो गए थे.

वो बड़बड़ाने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… जीत … अश्स् … आ्हह … मजा आ रहा है. वो बोलीं- हां … चोद दे बेटा … आह आज अपनी मॉम की आग को भी ठंडा कर दे … अहहह. दुकान तो बगल में थी, लेकिन मैंने मन में कहा कि ये इनसे दोस्ती करने का सही वक्त है.

मैंने गिड़गिडा़ते हुए कहा- इंस्पेक्टर साब! अंदर नहीं निकलना, मैं प्रेग्नेन्ट हो जाऊंगी. मुझे लगता था कि लड़कियां अच्छी बॉडी वाले लड़कों की तरफ आकर्षित होती हैं. कमरे में एसी चल रहा था, मगर दो जवान जिस्मों की गर्मी के आगे एसी भी फेल हो गया था.

मेरे पास से जाने के बाद उसने शायद पता नहीं कितनी बार ही अपनी चूत चुदवायी होगी.

सेक्स बीएफ एचडी में: उसने अपने काले से लंड को मेरे मुंह में दे दिया और मुझे अपना लंड चुसवाने लगा. Chalu Padosan Ki Chudaiफिर वो पलटी तो मैंने उसके चेहरे को ऊपर करके होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

मेरी गाड़ी की डिक्क़ी में मेरी एक टी-शर्ट पड़ी रहती है, अगर भीगी ना होगी, तो मैं ले आता हूँ. मैं उनकी पीठ को अपनी हाथों से सहलाते हुए नीचे से कमर उठाकर उनके धक्कों से ताल मिलने लग गयी. प्लीज पापाजी!काफी बार कोशिश करने पर भी पापाजी ने दरवाजा नहीं खोला तो मैं रोने लगी.

मैं जानता था कि वो मुझे घर बुलाना चाह रही थी और जब मैं नहीं गया तो उसके आत्म सम्मान पर एक चोट सी लगी थी.

वो फीता काटने वाली बात से हंस पड़ी और उसने मुझे एक फ़्लाइंग किस उछाल दिया. मेरी कामुकता भरी आवाजें कमरे में गूंज रही थी- ऊम्म्म्म अमरीश … आह धीरे!अमरीश- सुकृति यार, तुझे चोदने में मजा आ गया. बाबा ने पास में रखे कुंडल में से थोडा़ सा जल एक मिट्टी के गिलास में निकाला और मेरी ओर बढ़ाते हुए बोले- यह मंत्रित जल है.