औरत वाला बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ एक्स एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

कुमारी बीएफ सेक्सी: औरत वाला बीएफ, खाला पूरी ताकत लगा रही थीं कि किसी तरह वो अब्बू की पकड़ से छूट जाएं पर अब्बू पुराने सीलतोड़ खिलाड़ी रहे हैं, तो खाला कहां बच सकती थीं.

बीएफ हिंदी देसी एचडी

चाची के एडमिट हो जाने और तबियत में कुछ सुधार होने पर 3 लोगों को देख-रेख करने के लिए छोड़ कर रात के करीब बारह बजे अब्बू और उनके फ्रेंड फहीम अंकल घर आ गए. बिहार का सेक्सी बीएफ वीडियो मेंनफीसा आहह आहहह आहह करके धीरे धीरे लंड पर उछल उछल कर गांड़ पटकने लगी.

सुबह प्रिया ने मुझे किस करके जगाया और हम दोनों ने फिर से चुदाई शुरू कर दी. फुल एचडी में बीएफ फुल एचडी में बीएफपहला दिन था और मेरी छवि जिस तरह की बन गई थी, उससे तो मेरी गांड ही फट गई कि आंटी अपने शौहर को बोल कर मेरी शिकायत करेगी.

हॉट चाची सेक्सी कहानी में मैंने अपनी मस्त गर्म चाची की चूत की चुदाई की.औरत वाला बीएफ: मस्तराम की किताबों से और नग्न फोटो वाली किताबों को देख देख कर मैं उन सब आसनों को मीना मंजू और अंजू पर आजमा रहा था.

मैं हाथ पीछे किये आंखें बंद करके उस अलौकिक आनंद को अनुभव करने लगी।उसने मेरे घुटने पकड़ लिये थे और पहले तो कुछ धीरे-धीरे धक्के लगाये.उसकी फ्रेंड ऑफिस चली गई थी लेकिन प्रिया को वो कमरे की चाभी की व्यवस्था करके गई थी.

बीएफ इंग्लिश पिक्चर बीएफ इंग्लिश पिक्चर - औरत वाला बीएफ

जीजू बोले- मैंने अपना पानी तेरी चूत में छोड़ दिया … कल एक गोली दे दूँगा, उसे खा लेना.मैंने उसका सलवार फाड़ कर उसे नंगी कर दीया और उससे बोला- जब तक मैं उसके साथ हूं, हम दोनों नंगे रहेंगे, कोई कपड़ा नहीं पहनेगा।सुमन इस बात के लिए तैयार हो गई।अब सुमन को मैंने कुतिया बनने को बोला.

उनको भी लगने लगा था कि मेरा मन अपनी सांवली दीदी की चूत चुदाई का था. औरत वाला बीएफ उधर प्रकाश मीना की झांटदार चुत में उंगली घुसाने का नाकाम प्रयत्न कर रहा था.

उसी समय मैंने ऐसा एंगल बनाया कि मेरी जींस की ज़िप का खुला हिस्सा भाभीजी को दिख जाए.

औरत वाला बीएफ?

मैंने पापा को आंख मार कर इशारा किया कि मुझे इस लड़के की गांड मारना है. मेरा गर्म गर्म लंड अपने हाथ में पाकर दीदी ने तुरंत अपना अपना हाथ लंड से हटा दिया. काफी बार तो मैं उनके साथ रात में उनके बिस्तर पर भी सोया था लेकिन अब तक हमारे बीच मामी भांजे के रिश्ते के अलावा और कुछ नहीं था.

पर संजू को कुछ न हो इसीलिए मेरी सांस रुकने तक मैंने पूरा लंड मुँह में ले लिया. मैंने उससे और पूछा, तो उसने बताया कि इस बारे में बाद में बात करते हैं … अभी नहीं. वो व्यक्ति बोला- चाहें तो आप अपने भाई के साथ रात को यहां रूक सकती हैं.

उत्तेजना के मारे मामी ने बेडशीट को अपनी मुट्ठियों में जकड़ लिया और अपनी चूत बार बार ऊपर उछालने का प्रयास करने लगीं. भाभी ने मेरे सर पर प्यार से हाथ फेरा और बोलीं- अब सो जाओ बेबी … मैं बहुत थक गई हूँ. जब उनकी टांगें मुझसे चिपकीं, तो मेरे तो तनबदन में मानो आग सी लग गई.

मैं जब इंदौर एडमिशन लेने आया था तब मैं चाचा के घर खाना खाने गया था. मैंने कहा- आई लव यू टू भाभी जी!चुदाई की थकान की वजह से मुझे नींद आ गई.

इससे मंजू का हमारे साथ खेलने आना लगभग बंद ही था, जिसके कारण मैं बेचैन रहने लगा.

करीब 5 मिनट तक यूं ही लंड की सवारी करने के बाद मैं हांफने लगी तो उसने मुझे उठने का इशारा किया.

मामी मुँह में से लंड निकाल कर बोलीं- तुम सो रहे थे, तो तुम्हें उठाने का मन नहीं हुआ. कोई उनसे पूछे कि सत्तर के दशक से नब्बे के दशक तक किसी लड़की को पटाना कितना मुश्किल काम था. अन्दर से खाला की मादक आवाज बदस्तूर आ रही थी- आ ओ ऊऊ ई ई धीरे आ आ ईईईई उफ उ दर्द हो रहा धीरे से कीजिए.

वह बिल्कुल पालतू जानवर की तरह व्यवहार करती एवं मेरी हर आज्ञा का पालन करती।हमारा घर शहर से बाहर की तरफ था. एकदम से किस कर देने से मेरी चाची गुस्सा हो गईं और उन्होंने मुझे एक थप्पड़ मार दिया. मैंने खुश होते हुए बोला- चचा, आपने सही फरमाया है, मेरी गांड बहुत कमसिन है.

इस बीच आंटी मुझसे काफी खुल गई थीं और मैं भी उनसे जब तब उनके हुस्न को दिखाने के लिए कहता रहता था.

मैंने दीदी से उनके दर्द के बारे में काफी सारे बातें की और उनको एक सलाह दी कि दीदी मैं आपकी कमर की मालिश कर दूंगा जिससे आपका दर्द कम हो जाएगा. सोनाली ने अपनी दोनों आंखें बंद कर रखी थी और अपने कान में इयरफोन लगा रखे थे. ‘आह मामी आपकी चूत कितनी गर्म है … ये मेरे लंड को पिघला रही है … ह्हम्म आह्हम्म …’हमारे होंठ फिर से एक दूसरे से चिपक गए.

‘आह … ओह्ह आऊच … आशु तू बहुत अच्छा है … आह्ह्ह मैं मर गयी ईईई … आह्ह्ह उफ्फ … तू तो बहुत ही मस्त है रे … ओह्ह आह्ह …’हम दोनों आज कुछ ज्यादा ही उत्तेजित थे. उसकी सिसकारियां निकलने लगी।मैं उसे स्पीड बढ़ा कर चोदने लगा। अब लंड गांड में अंदर तक आराम से जाने लगा। अब नफीसा खुद अपनी गांड को आगे पीछे करके लंड लेने लगी।मैंने उसकी कमर पकड़कर अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और तेज़ी से अंदर-बाहर गपागप गपागप चोदने लगा।तब मेरा शरीर अकड़ने लगा और झटकों के साथ लंड ने वीर्य की धार छोड़ दी. जो सेक्सी दीदी Xxx कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूं, वह मेरी दूर की बुआ की बेटी शिल्पा दीदी की चुदाई की है.

देखोगी तो लेने का मन करेगा।”दिखाइये पापा?”उन्होंने दुकान के अन्दर डमी में लगी एक ड्रेस की तरफ इशारा किया।वो एक शार्ट स्कर्ट और टॉप थी जिसमें से स्कर्ट तो बिल्कुल ही शार्ट थी जो केवल मेरी गांड को ही छिपा सकती थी.

जिनमें अंतिम थीलॉकडाउन के बाद फिर चुदी आंटीयह कहानी आपको पसंद आई होगी,आज मैं उससे आगे की Xxx सेक्सी गर्ल की चुदाई कहानी लेकर आया हूं।हमारी बिल्डिंग में एक नई फैमिली आई उसमें एक अंकल, आंटी उनकी एक बहन और एक बेटा था. मुझे जैसे और आत्मविश्वास आ गया और मैं बोली- उस बेचारे का भी भला हो जाता।मेरे पति ने चौंक कर कहा- क्या मतलब?मैं बोली- मेरी गांड को याद करके वो अपना लंड तो हिला ही लेता।ये कहकर मैं फिर से ज़ोर से हंस पड़ी.

औरत वाला बीएफ मैं भी धकापेल चुदाई करते हुए उसे गाली देने लगा- ले भैन की लौड़ी … साली लंड खा मां की लौड़ी … तू बस चुत देती रहना … मैं तेरा गुलाम बन जाऊंगा. पर कुछ साल बाद समझ में आ गया कि लड़कियां जिसको चाहती हैं, उसकी छोटी सी छोटी बात और हरकत पर नजर रखती हैं.

औरत वाला बीएफ एक दिन खेलते समय मैंने ध्यान दिया कि अमित बार बार मेरे चूचों की तरफ देख रहा है … और वो बार बार चिड़िया को मेरे सीने में मारने की कोशिश कर रहा था. आंटी ने घर के काम कर लिए थे तो मैंने आंटी से कहा- चलो चुदाई करते हैं.

शिल्पा दीदी सीत्कारती हुई आवाज निकालने लगीं- आह … उह … अरे यार प्लीज़ … आह!थोड़ी देर के बाद शिल्पा दीदी की चूत ने पानी छोड़ दिया।कुछ पल बाद दीदी ने उस लड़के का लंड अपने मुँह में लिया और अन्दर बाहर करने लगीं.

बीएफ हिंदी पिक्चर मूवी

कई दिनों से मैंने हस्तमैथुन भी नहीं किया था और सेक्स तो मैंने केवल ब्लू फिल्म में ही देखा था. तभी राजेश ने पीछे से मेरी मम्मी की चुत में अपना मूसल सा लंड पेल दिया और उन्हें चोदने लगे. सनी काफी देर से ऋतु के ऊपर पड़ा हुआ था, जिस कारण उसके भारी भरकम शरीर के नीचे ऋतु का फूल जैसा नाजुक जिस्म दबा हुआ था.

चुदाई मेरे ऊपर इतनी अधिक हावी हो गई थी कि मैं पढ़ाई करना ही भूल गया. भाभी ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा- पढ़ाई कैसी चल रही है?मैंने बोला- ठीक चल रही है भाभी. चाची की कमर तेज़ तेज़ हिल रही थी और वो आह आह करती हुई निढाल हो गईं, उनकी चुत ने रस छोड़ दिया था.

इस बार मैं दीदी के होठों को और ज्यादा तेज तेज चूस रहा था और जीभ से चाट भी रहा था.

चाची ने किचन से आवाज देकर मुझसे पूछा- तुम दूधे पियोगे या चाय?मैंने मन में मुस्कुरा कर सोचा कि चाची मुझे आपका दूध ही पीना है. थोड़ी देर मैं मैंने अपना नशा हल्का होता महसूस किया और बार पर जाकर एक पटियाला पैग बना कर उसमें कुछ आइस क्यूब डाल कर एक सिप लिया. उसने बताया कि मैं जयपुर आकर कोई काम ढूंढना चाह रही हूँ और आप मेरी मदद करें.

वहां लड़कों को फांस कर उन्हें जिगोलो/प्लेबॉय का रजिस्ट्रेशन करवाने लगी थी. इंडियन स्वैप पोर्न के पहले भागपति से असंतुष्ट लड़की ने बुलायामें अब तक आपने पढ़ा था कि सपना मेरे लंड को चूस रही थी और उसका पति प्रदीप मेरी प्रिया को चोदते हुए सपना को आवाज दे रहा था. वो कसमसा उठी और बोली- आह साले मार देगा क्या … आराम से पेल और जल्दी कर.

अब पीछे खड़े लड़के का एक हाथ जो पहले मुँह पर था, वह गालों पर होंठों पर बड़ी नर्मी से फिसलने लगा. तो क्लास के बाद मैं रूम में पढ़ रही थी, भैया बाहर से आये तो उनके हाथ में 2 बैग्स थे।एक में से उन्होंने एक कप केक, एक कैंडल और कुछ खाने के सामान निकाले.

मैंने उनके पैर पर स्प्रे मार कर थोड़ी मालिश कर दी पर उनका दर्द कम होने का नाम नहीं ले रहा था।उन्होंने कहा- दवाखाने जाना पड़ेगा. मैं एक जोर का धक्का मारा तो मेरा आधा लंड चुत फाड़ता हुआ अन्दर घुस गया. मीना- ओह आशु … ये क्या कर दिया उफ्फ!इस बीच मीना ने पैंटी खुद ही उतार दी और कमर उचका कर अपनी बुर को मेरे लंड पर रगड़ने लगी.

हमारा घर ऐसा है कि मम्मी को अपने कमरे में मेरे रूम से होकर जाना पड़ता था.

आज जो लोग 50 साल की उम्र के आस-पास हैं, उनको जीवन में बहुत से अनुभव होते हैं और उन्हीं अनुभवों में से एक अनुभव होता है सेक्स … या सेक्स लाइफ. हम दोनों ने दिन रात एक कर दिया और मैंने अपनी देसी दीदी की चूत गांड हर तरह से ली. जबकि वास्तव में उसने वहां मौजूद सभी का लंड खड़ा करवा दिया था, उन सभी को मजा आया होगा.

” उसने थोड़ी निराशा से उत्तर दिया क्योंकि मैंने उसके साथ खेलना बंद कर दिया था।उस पल मैं बस यही सोच सकता था कि वो कितनी सेक्सी लग रही थी और मैं कितना खुशनसीब था कि वह मेरी पत्नी थी।जानेमन, तुम बहुत सुंदर हो. मुझे काटो तो खून नहीं!उसने दोबारा पूछा- राजसी मैं तुम्हारी मर्ज़ी के बिना कुछ नहीं करूंगा.

उसके वीर्य छोड़ देने से मैं उस पर गुस्सा हुई और उसको धक्का भी दे मारा. शादी के कुछ दिन बाद ही मुझे पता चला था कि ऋतु को उसका पड़ोसी सनी प्यार करता था. ये तो मैं उनके लंड चूसने के तरीके से ही समझ गया था इसलिए मुझे लंड पेलने में जरा भी दिक्कत नहीं हुई.

बीएफ भाभी देवर का

उसके बाद तो जब तक आंटी के हसबैंड दिल्ली से लौट कर नहीं आ गए, दिन में 3 से 4 बार चुदाई हो ही जाती थी.

उसने मेरे पैंट में बने हुए तंबू के बंबू को पकड़ लिया और बोली- देख रही हूँ कि ये साला कब से टनटना रहा है. ये गाँव की लड़की की चूत चुदाई की सच्ची कहानी है मैंने इसमें कोई मसाला नहीं मिलाया है, जस का तस लिख दिया है. ये रिश्ते में मेरी बुआ लगती थी लेकिन हम उम्र होने के कारण मैं उसे दीदी ही कहता था.

जब तक मैं दीदी के घर रही, जीजू ने मौके मिलते ही चौका लगा दिया और मेरी चुत चुदाई करते रहे. मैंने आंटी की चुत पर जैसे ही अपने होंठों को रखा, आंटी ने एकदम से सीत्कार भर कर मेरे सर को अपने दोनों हाथों से अपनी चुत पर दबा लिया. देसी रंडी सेक्सी बीएफउसके बाद मेरा मोहित से ऑफिस में मिलना हुआ, पर हम दोनों ऐसा व्यवहार कर रहे थे कि जैसे कुछ हुआ ही नहीं हो.

मेरे बाजू में मौसी की जो लड़की लेटी थी उसको मैं पहले ही चोद चुका हूँ. मैंने इस बार प्रकाश को बुलाया और अपना लंड उसके मुँह से गीला करने को कहा.

बुआ ने मुझे एक अजीब सी बात पूछी- तेरा किसी लड़की से चक्कर तो जरूर होगा बाबू?मैं चौंक गया और बोला- अरे नहीं बुआ … ऐसा कुछ नहीं है. फ़िर मैं चाची की टांगों को चूमते हुए उनकी चूत तक आ गया और उनकी चूत चाटने लगा. मम्मी ने कहा- चल अन्दर हाथ सेंक ले … बहुत ठंड है और जल्दी से सो जा!मैं कहां टिक कर रहने वाला था.

अब भी जब भी मौका मिलता है, मैं नेहा और छवि के साथ थ्रीसम सेक्स कर लेता हूँ. जानबूझकर मैं अपना हाथ दीदी के टीशर्ट पर लगा रहा था और कभी-कभी उनके पजामे पर भी हाथ लगा दे रहा था. मासी से मैंने उनकी तबीयत पूछी तो उन्होंने कहा कि वो थोड़ी देर आराम करने अपने कमरे में जा रही हैं।मैं अपने काम करने लगा, मासी सो रही थी।कुछ देर बाद करीब बारह बजे मासी उठीं और मेरे कमरे में आई और मेरा हालचाल पूछा.

भाभी की मादक आवाजें आने लगीं तो मैं पूरी ताकत से पिल पड़ा और उनको चोदता रहा.

सनी बार बार लंड चुत से पूरा बाहर निकालता और जोर से अन्दर डाल देता हैं. मैंने ऐसी एक्टिंग की कि मुझे पता नहीं चल रहा है और मैं गहरी नींद में हूँ.

मैंने अब दो उंगलियां उनकी गांड में डाल दीं … उन्हें दर्द हो रहा था तो मैंने अपना लंड उनके मुँह में दे दिया. इतनी देर से ब्लू-फिल्म देखने के कारण मेरी चुत लंड के लिए तरसने लगी थी. उसकी हल्की सी आह निकली और मैंने पापा के हाथ से तेल की शीशी लेकर लंड और गांड के जोड़ पर तेल टपकाना शुरू कर दिया.

मैंने बोला- नहीं यार, अब आराम से ही दबाऊंगा … अपनी प्यारी भाभी को मैं दर्द नहीं होने दूंगा. आंटी- आह चोद साले और चोद चोदरा साले … फाड़ दे भोसड़ी वाले … आज आह आह आज मेरी चुत फाड़ ही दे … आंह लंड की ताकत दिखा लवड़े. शीमेल सेक्स कहानी में पढ़ें कि दवाइयों के साइड इफ़ेक्ट से एक जवान हैण्डसम लड़के में लड़कियों के गुण आने लगे.

औरत वाला बीएफ मीना का घर पूरे मोहल्ले में सबसे बड़ा था … या ये कहिए कि सबसे ऊंचा था. करीब आठ बजे छोटी बहन ने मुझे जगाया- खाना नहीं खाएगा क्या?मैं उठा और बाहर आ गया.

बीएफ वीडियो भोजपुरी गाना

वो बिस्तर पर टांग फैला कर लेट गई और बोली- अब डाल भी दो रॉकी डार्लिंग … बर्दाश्त नहीं हो रहा. मैंने कहा- भाभी मेरी एक बात सुनो ना!भाभी- क्या?मैंने कहा- क्या आप मेरे साथ ये वीडियो देखना पसंद करेंगी?भाभी मुस्कुरा दीं और बोलीं- ओके. फिर भी मैंने अनजान सा बन कर पूछा- किस दिन दीदी?मीना- ज्यादा बन मत … उस रात मंजू के साथ, कब से चल रहा है ये सब?मैं- जी जी वो वो …मीना- ये क्या जी जी लगा रखा है, ठीक से बता.

नफीसा भी बहुत खुश थी क्योंकि आज उसका ही बेटा उसे चोद रहा था।अब मैंने उसके मुंह के पास आ कर अपना लन्ड होंठों पर रख दिया वो गपागप गपागप चूसने लगी और सलीम उसे रंडी के जैसे बिना रूके गपागप गपागप चोद रहा था।मैं समझ गया था कि बहुत दिनों बाद या पहली बार इसे चूत मिली है।अब सलीम ने कहा- अम्मी घोड़ी बन जाओ!नफीसा घोड़ी बन गई और सलीम ने चोदना शुरू कर दिया. करीब 12 बजे भाभी उठीं और मेरे पास आकर बोलीं- अरे अभी तक सोये नहीं!मैंने कहा- मुझे गर्मी लग रही है. गाने के साथ बीएफ वीडियोवो किसी न किसी बहाने से मुझे अपने क्लीवेज के दर्शन कराने लगी और यहां मेरे बॉक्सर में लंड को सम्भालना मुश्किल हो गया.

समता- आप सोने के लिए अपने रूम में जाएंगे या यहीं प्लानिंग करनी है?विकास- मैं यहीं रुकता हूँ, आप सो जाइए.

अब तो लौड़ा निकाल लो … अब क्या इरादा है?मैं- जान आपकी गांड भी बहुत मस्त है … सोच रहा हूँ कि अबकी बार गांड ही मार लूं … साली क्या मक्खन जैसी चिकनी गांड है. पिंकू बहुत ही गर्म होने लगी और अपने हाथों से मेरा सिर अपनी चूत पर दबाने लगी.

पहले शॉट में ही मैंने अपना आधे से ज्यादा लंड भाभी की चूत में पेल दिया. इसके बाद से भाभी मेरे लंड की मुरीद हो गई थीं उन्हें अब भैया के लंड की कोई जरूरत नहीं रह गई थी. प्रकाश- सुन धारा, प्रकाश दो दिन पहले ही कह रहा था कि यार ये धारा बड़ी कमाल लगती है, सुडौल मांसल बांहें, बेहद गुदाज बदन, तरबूज के जैसी बड़ी बड़ी चूचियां, कमर पतली पर केले के खम्भों जैसी मोटी भरी भरी मांसल जांघें, भारी बड़े बड़े उभरे हुए नितंब, उसकी मनमोहक गांड.

उसने अपना सारा माल गांड में ही गिरा दिया और लंड निकाल कर अपने कपड़े ठीक करने लगा.

दोस्तो, ये मेरी सच्ची सेक्स कहानी है आपको कजिन सिस्टर की चुदाई कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करना न भूलें. अब आगे मेरी बहेन की चुदाई की कहानी:सुबह सब रोज की तरह ही नॉर्मल था, मेरी बहेन ने मुझे रात की किसी भी बात के लिए कुछ नहीं कहा. साले की जब से टांग टूटी है, तब से वो न तो मुझे सेक्स का सुख देता है और न लेने देता है.

बीएफ सेक्सी जंगल काअब मेरे कपड़े में उनकी पसंद ज्यादा होने लगी।कभी गहरे गले की ड्रेस, तो कभी टाईट ड्रेस!और जब ये ड्रेस पहनकर उनके सामने जाती, तो अब ससुर जी बहुत खूबसूरत बेटा कहकर मुझे अपने सीने से चिपका लेते और मेरी पीठ सहलाते!लेकिन ध्यान रखते थे कि मेरी सास आसपास न हो।मैं भी लगातार ससुर जी को ढील देती जा रही थी।एक दिन मैं उनके साथ नाईट गाउन खरीदने गयी. अब मैं क्या करूं?मैंने मानवता के नाते मेरे एक फ्लैट, जहां मैं कभी कभी अपने दोस्तों के साथ दारू पीने का प्रोग्राम करता हूं, उधर पर उसको रुकवा दिया.

देहाती बीएफ एक्स एक्स एक्स वीडियो

बस इतना लिख रही हूँ कि संजय का साथ जबसे मिला था तबसे मेरी जवानी की आग भड़क उठी थी और मुझे अपनी चुत के लिए मजबूत लंड की तलाश थी. उसकी कमसिन जवानी, उभरी हुई गांड और गांड की लकीर देख कर मैं गर्म हो गया. मम्मी मीठी आवाज में सिस्कारती हुई बोलीं- लीजिये चूसिए बाबूजी … आंह मेरी चूत आपकी भी है.

आप कभी भी उसके भविष्य का प्लान इत्यादि ऐसी बातें ना करें, ना ही अपनी राम कहानी सुनाने बैठ जाएं क्योंकि लड़की को आपमें उत्सुकता है कि आप कैसे दिखते हैं, कितने पैसे वाले हैं या भविष्य में क्या करेंगे. 2 बार चूसने के बाद मैंने लंड मुंह से निकाल दिया।मैं उनको तड़पाना चाहती थी ताकि वो अपना लंड चुसवाने के लिए मेरी हर बात मानें. तभी तो भाभी मेरी खातिरदारी कुछ ज्यादा करने लगी थीं और भाभी खुद ही अपनी तरफ से शुरुआत करेंगी.

समता ने कहा- मुझे फ्रेश होना था, मैं अभी फ्रेश होकर आपके साथ चलती हूँ. वैसे मैं भी भगवान में अटूट आस्था रखता हूं और रोज़ सुबह दो घंटे तक मेरी पूजा चलती है. मैंने फिर से उसे उकसाया- तो डिल्डो से कैसे करती हो आप?वो भी मूड में आने लगी.

मैंने भी हरे कलर की साड़ी पहनी थी और इसमें मैं भी बहुत ही सेक्सी लग रही थी. और मैंने भी दोपहर तक बार-बार किसी न किसी काम से उन्हें भरपूर नजारा कराया।दोपहर में जब पहली बार मूतने गये तो दोनों के सामान थोड़े सख्त थे और रमेश का तो मेरी हलक सुखा रहा था।दोनों ने दोपहर खाने के बाद रोज की तरह थोड़ी देर आराम किया.

यह देसी गांड चुदाई कहानी मेरे पहले सेक्स की पर गांड मारने की कहानी है.

वो फाइल बहुत जरूरी थी, मैंने सोचा चलो कोई बात नहीं, जब ऑफिस का लंच होगा … तब मैं ले आऊंगा. हॉट सेक्सी बीएफ चुदाई वालीतो कैसी लगी मेरी चूतिया कहानी? मैं बस कुछ भी लिख देती हूँ जो मेरे मन में आ जाता है. एक्स एक्स एक्स बीएफ सेक्सी मूवीसचिपका हुआ गाउन था तो आंटी के जिस्म का एक एक कटाव साफ़ नुमायां हो रहा था और मेरे लंड में आग सी लग रही थी. वो पागलों के जैसे मेरे लंड को चूस-चूस कर कह रही थीं- अमित मेरी जान, मेरे राजा … तुम मेरे सपनों के राजकुमार हो.

मेरा लंड मामा के लंड से बड़ा और मोटा था तो मामी की चूत फैल गयी थी; लंड चूत में फंस सा गया था.

एक दिन मेरे दोस्त ने बताया कि उसकी पूरी फैमिली शादी में जा रही है; सिर्फ भाभी ही घर पर रहेंगी. भाभी की मादक आवाजें आने लगीं तो मैं पूरी ताकत से पिल पड़ा और उनको चोदता रहा. वो मेरे सर को अपने दूध पर दबाती हुई सिसकारने लगी- आंह चूस लो आंह भाई … बड़ा मजा आ रहा है.

वे मेरी गर्दन के पास आकर अपनी गर्म सांसें मेरी गर्दन पर छोड़ रही थीं. अब दादाजी ने मम्मी के पेटीकोट को खींचा और उसे मम्मी के बदन से अलग कर दिया. उसके आने के बाद करीब 6 महीने हो चुके थे, हम सब सोच रहे थे कि कुछ करके उसका सामान वापिस लाया जाए.

सेक्सी बीएफ चोदा चोदी सेक्सी बीएफ

सुबह प्रिया ने मुझे किस करके जगाया और हम दोनों ने फिर से चुदाई शुरू कर दी. मैंने कहा- भाभी मेरी एक बात सुनो ना!भाभी- क्या?मैंने कहा- क्या आप मेरे साथ ये वीडियो देखना पसंद करेंगी?भाभी मुस्कुरा दीं और बोलीं- ओके. मुझे दर्द भी हुआ पर मैं कुछ नहीं बोली क्योंकि मैं जानती थी हर लड़की की किस्मत ही ऐसी होती है कि पहली बार चाहे चुत हो या गांड, पहली बार दर्द सहना ही पड़ता है.

जैसे चाचा मम्मी के सलवार में हाथ डालते थे, वैसे ही मेरा हाथ भी दीदी की सलवार पर चला गया.

आज मैं आपके साथ अपने जीवन से जुड़ी एक मस्त सेक्स कहानी शेयर करने जा रहा हूँ.

और मैं निढाल सी भाई पर गिर गयी।भाई ने मुझे नीचे उतारा और खुद उठ गए।फिर मेरे सर के पास आकर अपना लंड मेरे हाथो में दे दिया और कहा- किस करो इसे!मैंने भाई के लंड को पकड़ा और उसे किस किया, फिर हल्का सा चाटा. मैं टीवी के सामने सोफे पर बैठी और जॉन मुझे देख कर बोला- विप्स नाम है आपका राइट! यू आर वैरी प्रिटी एंड हॉट … क्या करती हो?मैं- थैंक्यू जॉन … यू आर हैंडसम गई एज वेल … मैं थर्ड इयर में पढ़ रही हूँ. बेटी के बीएफ वीडियोप्रिया मेरे लंड के ऊपर उचकने लगी और उसके मुँह से मस्ती भरी आवाजें निकलने लगीं- आह आआह आंह उईई!प्रदीप ये देख रहा था.

मैं बोला- चलो, तुम कोशिश करना कि तुम्हारी शादी होने से पहले हम फिर से चुदाई कर सकेन. मर्द या लड़के को पता ही नहीं चलेगा कि उसको मौका उस लड़की ने खुद दिलवाया है और हम लड़के इस बात पर खुश होते हैं कि मैंने उस लड़की को पटा लिया. इतनी ही देर में डोरबेल बजी और मैंने दरवाजा खोला तो देखा कि आंटी की सहेली प्रीति थी, जिसकी उम्र करीब 28 साल थी.

शादी के 2 साल होने के बाद भाभी जी आज भी कुंवारी माल की तरह दिख रही थीं. जब मैंने मना कर दिया तो अभिषेक ने कहा- ठीक है, तुम मेरे कंधे पर खड़े हो जाओ और खिड़की से देखो कि कौन है.

मामी खुले विचारों की पढ़ी-लिखी महिला हैं और हमारे बीच उम्र का ज्यादा अंतर ना होने की वजह से उनसे मेरी बहुत अच्छी बनती है.

कुछ देर बाद मेरी मां भी मान गईं और हम तीनों ने एक साथ थ्री-सम सेक्स करना शुरू कर दिया. राजधानी एक्सप्रेस की तरह मैं धक्के पर धक्के लगा रहा था- आह मामी मेरी जान बस मेरा भी होने वाला है. फिर मैं उठकर में बाथरूम में गया और अपनी हवस को शांत करके 5 मिनट बाद बाहर निकल आया.

एक्स एक्स बीएफ हिंदी एचडी वैसे तो दीदी के बूब्स के ऊपर उनके बाल थे … पर फिर भी किनारे से उनके बूब्स आराम से नजर आ रहे थे. मैंने खड़े होकर सपना को अपनी बांहों में कसकर जकड़ा और उसे चूमते हुए कहा- सपना आज तुम बड़े लंड के मजे ले लो.

उसकी गर्म सांसें मेरी चुत को एक अजब सा नशा दे रही थीं और मैं उसके सर पर हाथ रखे हुए उसे सहला रही थी. क्या आग का गोला थी वो … आह!मैंने कहा- रचना, लगता है तुम्हारे पति ने कभी तुम्हें ढंग से भोगा ही नहीं है. दीदी ने कहा- पागल हो क्या? मेरे मुंह में झड़ना, मुझे भी तुम्हारे लंड का रस पीना है! एक बूंद भी वेस्ट मत करना वरना बहुत मारूंगी.

बीएफ व्हिडिओ बिहार

करीब पांच मिनट बाद मैं वापस आई और जैसे ही अपना पैग बार से उठाया तो नेहा की दर्द और मज़े से मिली जुली चीख सुनाई दी. उस उम्र में हर नौजवान और नवयुवती को विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण जरूर होता है. मैं बोला- पिंकू देख … तेरी और मेरी दोनों की जरूरत घर में ही पूरी हो जाएगी तो बाहर मुंह मारने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी।फिर मैं चुप हो गया.

अब सफिया कहने लगी- फिरोज चोदो ना … अब बर्दाश्त नहीं होता!पर फिरोज उसे थोड़ा और तड़पाना चाहता था. मेरा पूरा बदन अकड़ने लगा, मैंने रेणु को कसके पकड़ लिया और उसके अन्दर ही अपना पानी छोड़ दिया.

चाची ने अपने गाउन के अन्दर शायद कुछ भी नहीं पहना हुआ था, जिस वजह से उनके बड़े बड़े मम्मे साफ़ नुमाया हो रहे थे.

अगर आप मुझे देखेंगे तो आपको मैं कुंवारा लड़का लगूंगा, लेकिन मैं चुत चुदाई का खेल इंटरस्टेट तक खेल चुका हूँ. आज मैंने पैसे भी कमा लिए है और हुस्न भी!फिर भी पता नहीं क्यों मुझे आज भी संजू की तलाश है. उस समय शायद इतनी डिज़ाइनर ब्रा पैंटी नहीं आती थीं या ये कहो जो मां ने खरीद के दे दी, वो पहन ली.

उसे चुदाई का अनुभव हो, तो आपको चुदाई का आनन्द कुछ ज्यादा ही मिलेगा. इतनी चुदाई की कि खड़ा होना तो दूर की बात थी मैं लेटी हुई थी और मेरे पैर कांप रहे थे. मैं उसे रोज़ देखता और सोचता एक दिन मेरी रानी जरूर बनाउंगा।एक दिन मैं कम्पनी से घर आया तो बुआ आंटी के रूम में थी और दोनों हंस कर बातें कर रही थी।मैं अपने रूम में आ गया और लन्ड पकड़ कर बैठ गया.

मैंने धीरे से अपना हाथ उनकी चूत की तरफ बढ़ा दिया और चूत पर हाथ फेरने लगा.

औरत वाला बीएफ: मैंने सोचा था कि अभी घर पर कोई नहीं होगा, तो मैं किताब देख लेता हूँ. अगले दिन भाभी जी भैया के ऑफिस जाने के बाद नहायी लेकिन आज भाभी बाथरूम में पूरे दरवाजे खोल कर नहा रही थीं.

सेक्स की कहानी आज से 2 साल पहले की उन भाभी की है जो दो बच्चों की मां थीं लेकिन भाभी को देखकर कोई भी ये नहीं बोल सकता था कि इनके दो बच्चे होंगे. फिर मैंने अपने एक हाथ को भाभी की पैंटी के अन्दर डाला और उनकी चिकनी चूत की दरार में एक उंगली डाल दी. मेरी शादी को 8 महीने हो गए हैं और मैं अपने पति के साथ इंदौर में ही रहती हूं.

भाभी मेरे नीचे बिल्कुल बिन पानी की मछली की तरफ छटपटाने लगीं, पर मैंने बिल्कुल ध्यान ना देते हुए धक्के जारी रखे.

मैंने ब्रा को बिना खोले ही ऊपर सरका दिया और उसके बूब्स मेरे आगे पूरी तरह नंगे हो गए. फाड़ डालूँगा तेरी बुर मादरचोद!हाय मेरे राजा … मुझे अपनी बीवी समझ कर चोदो … पूरा लौड़ा पेल पेल के चोदो … मर्दों की तरह चोदो … भोसड़ी के लौड़ा पूरा पूरा निकाल निकाल कर घुसेड़ो!तुझे चोदना भी नहीं आता … अगली बार अपनी माँ चोद कर आना!हाय रे क्यामस्त लौड़ा है तेरा… यार तुम तो बिलकुल रॉबर्ट की तरह चोद रहे हो. सुहागरात का सेक्स पहली बार गांडू लड़के ने अपनी लेस्बियन बीवी के साथ कैसे किया? वे दोनों आपस में बहुत प्यार करते थे पर सेक्स की इच्छा अलग अलग थी.