नंगी नंगी बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,बिहार का सेक्सी वीडियो जंगल में

तस्वीर का शीर्षक ,

फनी सेक्सी व्हिडिओ: नंगी नंगी बीएफ सेक्सी, सच कहूँ तो प्यार का अहसास उस पल जो हुआ वो तो शायद किस्मत वालों को ही नसीब होता है पर उस प्यार को हम पक्की दोस्ती ही समझ बैठे.

सेक्सी साड़ी वाली बाई

तुझे भी बहुत मजा आएगा।मैंने अन्तर्वासना की कहानियों की चुदाई को याद किया. सेक्सी बिलु फिल्ममैं समझ गया कि मेघा मेरे सामने किसी और से चुदना चाहती है और मुझे भी चोदते देखना चाहती है.

मामा जी भी मेरी कान में बोले- तुम भी आज शाम से रात की चुदाई तक सू सू रोक कर रखना. मराठी भाभी सेक्सी झवाझवीमल्लिका ए आलिया का हुक्म मतलब पत्थर पर लकीर, कोई किन्तु परन्तु की गुंजाइश ही नहीं.

मैं मन ही मन मुस्कुरा रहा था कि जैसा हमने सोचा था, सब वैसा ही हुआ बल्कि उससे भी अच्छा हुआ क्योंकि पैसों के साथ साथ पूजा ने मेरा लंड भी चूसा और अपनी चूत भी चुसवाई.नंगी नंगी बीएफ सेक्सी: फिर भी डरते डरते कई बार उसे कोचिंग के टाइम बाइक पर बैठा कर दूर जंगल में ले जा के या पास में बांध की तलहटी में चोद कर उसकी प्यास बुझाई भी!इसके लिए मैंने उसे टिप्स दीं थी कि वो सिर्फ सलवार कुर्ता पहन के आयेगी और इनके नीचे ब्रा या पेंटी नहीं पहनेगी साथ में मैंने उसे ये भी सिखाया कि चूत के सामने जो सलवार का हिस्सा होता है वो वहाँ की सिलाई उधेड़ दे जिससे बिना कपड़े उतारे उसकी चूत में मैं लंड पेल सकूं.

फिर 4 राहुल की में मार के चोदता।अब मेरा टाइम भी होने वाला था। मैंने राहुल को तेजी से चोदना शुरू किया.उधर शायद फूफा जी के लंड पर भी मेरे होंठों का नशा चढ़ने लगा… फूफा जी का लंड धीरे धीरे अकड़ना शुरू हो गया था और 7 इंच से 8 इंच और फिर 9 इंच का हो गया.

ई-मेल सेक्सी लड़की - नंगी नंगी बीएफ सेक्सी

वो रिंग लेकर उस शराबी के पास जाकर बैठ गई। सुमन को कुछ भी समझ नहीं आ रहा था।सुमन- ये आप क्या कर रही हो.टीना बहुत पहले वहां आ गई थी, वो बस मॉंटी की बातें सुन रही थी और जो हाल सुमन का था, उसे भी वो देख रही थी.

मैंने उनकी साड़ी निकाल दी और उनका ब्लाउज भी निकाल दिया, अब वो सिर्फ ब्रा में थी, उनका पेटीकोट भी मैंने निकाल दिया. नंगी नंगी बीएफ सेक्सी ऐसा मैं कई बार किया और मेरा लंड और उसकी चूत बिल्कुल ड्राई हो गई, तो मैंने फिर से अपना लंड थोड़ा थूक लगा कर उसकी चूत में डाला.

मैंने चूत को अच्छे से धोया और सूखे कपड़े से पौंछ डाली, फिर भी मेरी चूत से खुशबू आ रही थी.

नंगी नंगी बीएफ सेक्सी?

तभी उन्होंने कहा- कहाँ खोए हुए हो?तो मैंने कहा- कहीं नहीं… सॉरी!और चाबी लेकर चला गया. वो वहाँ से मुझे अपने घर ले गई, वहाँ उनके घर की एक नौकरानी भी थी, थोड़ी अधिक उम्र थी उस नौकरानी की… करीब 50 होगी. अब मैं पीछे से साइड में हो गया और एक हाथ से कोमल के कंधों और पीठ की मालिश करने लगा और दूसरे हाथ से ढेर सारा तेल कोमल के चूतड़ों पर डाला और एक हाथ से कोमल की गान्ड के छेद तक तेल रगड़ने लगा और दूसरे हाथ से उसकी पीठ पर… फिर मैं तेल कोमल की गान्ड के छेद पर गिरा कर उंगली से अंदर करने लगा.

तब अम्मा ने एक और बात कही- साहिब, मेरा मंझला बेटा दुबई में काम करता है इसलिए मंझली बहू मेरे साथ रहती है. माला के बदन से चिपकी साड़ी में से उसका हर अंग मुझे दिख रहा था जिस कारण मेरा लिंग एक नाग की तरह अपना सिर उठाने लगा था. पूजा- हाँ मामू मैंने भी गौर किया ये… और मेरे स्कूल के लड़के भी मुझे अब घूरने लगे हैं, पता है एक क्या बोला?संजय- क्या बोला बता तो मुझे भी?पूजा- वो बोला देख तो यार दिन पे दिन ये तो खिलती ही जा रही है.

फिर दीदी ने मुँह घुमा कर मेरे लंड को देखा और बोली- ओह माय लव, सच में तुमने मुझे बहुत सुख दिया. जो कि मेरे घुटनों से काफ़ी ऊपर उठा था और गाउन के नीचे ब्रा पेंटी भी नहीं पहनी थी।मैं दरवाज़े की तरफ़ गई और गेट खोला।जैसे ही डिलीवरी बॉय अन्दर आया, उसने आते ही मुझे हग कर लिया और ज़ोर से मेरे मम्मों को दबा दिया। मेरे मुँह से ‘आह. मैं जाने से दो सप्ताह पहले ही उसे रोज़ अपने साथ ले कर आऊंगी और उन दो सप्ताह में घर का सभी काम सिखा दूंगी.

अब कैसे नहीं जाएगा कोशिश कर, बैठ जा आराम से।पूजा ने बहुत धीरे-धीरे बैठना शुरू किया। उसको दर्द हुआ मगर वो सहन कर गई और पूरा लौड़ा चुत में घुस गया।पूजा- आह आह. मोना मेरी बहू है, इसको रूलाऊंगा तो भगवान नाराज़ होंगे। इसको तो बड़े प्यार से चोदूंगा जैसे राधा की सील तोड़ी है.

साले ने कुत्ते की तरह मेरे चूत प्रदेश को खूब चाटा और भली भांति साफ कर दिया.

आज पूजा की बुर की खुजली मिटाने के लिए संजय ने कॉलेज जाना कैंसिल किया है.

बेचारी ने एक साल बाद आज चुदाई की है। एक साल में चुत चिपक कर सील बंद हो जाती है। फिर तुम सब के लंड है भी भारी-भरकम. यह सब कैसे संभव हुआ वह मोना रानी अपने ही शब्दों में बयान कर रही है. मगर इतना पढ़ा-लिखा आदमी और चाय की दुकान?काका- अरे उसी ने बताया था और बताया क्या.

मेरी सिसकारियों की आवाज़ से सी ए, जो बॉस के बाद चोदने आने वाला था, खुद को रोक नहीं पाया और वो भी आ गया. अब माँ नोर्मल हो गई- अरे अशोक क्या कह रहे हो… भूल जाओ, मैंने कुछ नहीं देखा है… पापा से कुछ मत कहना!मैं- ठीक है, नहीं कहूँगा!मैं चाय पीने लगा. सुमन- अरे मॉंटी ये दोबारा कैसे खड़ा हो गया, अभी तो इसका रस निकला था?मॉंटी- पता नहीं दीदी.

वहां दोनों ने साथ में सफ़ाई की, फिर गुलशन ने कमरे में आकर बेड को ठीक किया, चादर बदली और अनिता के साथ लेट गए.

उसने कोई रिएक्शन नहीं दिया और पानी वाले के पास पानी की बोतल लेने लगा. ‘मेरी प्यारी बुलबुल, असली लंड ही है ये, और तू डर मत कौन सा तेरी चूत में घुसने वाला है ये?’ मैंने उसके गाल पर चिकोटी काटी और उसे मेरे सामने फर्श पर बैठने को बोला. वो सोने के बाद जल्दी से नहीं जागती।वो लगातार मेरी बुर पर लंड घिस रहा था।वो मुझसे बोला- आपने पहले भी सेक्स किया है क्या?तो मैंने कहा- पहली बार कर रही हूँ।तो वो मुझसे बोला- आपको बहुत दर्द होगा.

मैं मना करने लगी और बोली- आज बहुत मोटा और लंबा है, मुँह में नहीं जा पाएगा. सुधीर- आपके घर तो आ जाऊंगा मगर आपको दिक्कत होगी और शायद गोपाल को भी ये बात अच्छी ना लगे. वो मानती तो ठीक नहीं ज़बरदस्ती करके ले आता। बस वो पागल सा हो गया था, इसी कारण मेरी उससे कम पटने लगी थी।मोना- अच्छा ये बात है.

सुलेखा ने मेरे गले में बाहें डाल दी थीं एवं बड़े प्यार भरी नज़रों से वो मेरे चेहरे को देख रही थी.

सुमन के तो होश उड़ गए, मॉंटी उसे परोक्ष धमकी दे रहा था और उसके मुँह से एक शब्द नहीं निकल पा रहा था. वो कभी उसको किस करता तो कभी कपड़ों के ऊपर से अनिता के मम्मों को दबाते.

नंगी नंगी बीएफ सेक्सी हम बात कर ही रहे थे कि इसी बीच वेटर ने नोक किया और पूछा- सर कुछ चाहिए?मैंने उसको 2 कॉफ़ी लाने का बोला एक इस रूम में और दूसरी दूसरे रूम में!लगभग 10 मिनट बाद उसने कॉफ़ी सर्व की फिर में अपने कमरे में चला गया और लैपटॉप पर अपना काम करने लगा. मुझे महसूस हो रहा था कि चूत में बहुत अधिक मात्रा में जूस फुव्वारे की तरह निकल रहा है.

नंगी नंगी बीएफ सेक्सी तो याद है उस दिन तो तू मेरे सामने नंगी होने में कैसे शर्मा रही थी और आज मॉंटी के सामने आराम से नंगी घूम रही है. अब हम दोनों मिल कर पीटर का लंड खाने लगी, कभी मैं चूसती तो रिया उसके टट्टे चूसती, तो कभी मैं उसके टट्टे चबाती और रिया उसका मूसल हिलाती.

थोड़ी देर बाद गुलशन जी ने अनिता को कहा- अब तू खड़ी होकर ये गाउन निकाल दे.

बिहार की सेक्सी मूवी बीएफ

एकदम चुदास भड़काने वाली अदा!बोली- अब ये काम भी मैं करूंगी राजे बाबू? तुम ही कर लो न, जो करना चाहते… मुझे तो जल्दी से अपना लिंग दिखाओ. दूसरी बात, एंट्री के लिए या तो आप इस क्लब के मेम्बर हों, मैम्बरशिप फीस है 25000 या फिर सिंगल एंट्री 2200 रुपये, जिसमे एंट्री और 2 गिलास बीयर के मिलेंगे. अब तक की भयानक चुदाई से नताशा की चूत पानी छोड़-छोड़ कर अपने आस-पास की जगह को कीचड़युक्त कर चुकी थी और मेरा साधारण साइज़ का लंड बाहर निकलने के बाद अन्दर जाने के बजाए साइड में फिसल जाता था.

‘और किसी को इस बारे में बताओगे भी नहीं कभी, ये भी वादा करो?’ वो बोली. जान!वो भी ‘ऊऊ ऊउऊ ऊऊ’ की आवाज के साथ चूसती जा रही थी, मेरे लंड में खिंचाव आने लगा था, वो अंतिम छोर तक खड़ा हो चुका था. लड़कियों की तो आदत ही होती है ऐसे अपनेपन से शिकायत और प्यार जताने की!मित्रो, उसी साल नवम्बर के दूसरे हफ्ते में दीवाली थी; मुझे याद है कि फर्स्ट वीक में उसका फोन आया था.

रफीक के पास फ्लैट की दूसरी चाबी थी तो उसके आने पर दरवाजा कौन खोलेगा, उसकी दिक्कत भी नहीं थी.

मगर रात को तुम ऐसे कैसे सोती हो जो कमरे का ये हाल हो जाता है?मोना- तुम कहना क्या चाहते हो रात को कोई और यहाँ आता है क्या. बेगम जान का हुक्म बजाने अंजलि रानी का ये गुलाम कानपुर रीना रानी के घर जा पहुंचा. बीच में ही वह मेरे मदनमणि को अपने दांतों से हल्का सा काटती तो मेरी सिसकारी छूट जाती.

मैं अपने कमरे में आ गई और शीशे के सामने खड़ी होकर खुद को देख देख कर यही सोचती रही कि ‘हाय… किसी तरह इस जवान बॉस का लंड खाने को मिलता तो जवानी का आनन्द आ जाता. मगर मुझे थोड़ी शर्म सी आ रही है खुल के बोलने में, न जाने आप मेरे विषय में क्या सोचेंगे. मैं तुम्हें अपनी सहेलियों की भी गांड दिलवाऊंगी और तुम्हें पैसे भी मिलेंगे.

उसने स्पीड से मुख चोदन शुरू किया और अगले ही पल उसके लंड का सारा रस फ्लॉरा के हलक में उतर गया।फ्लॉरा- आह. पटना से मेरे गाँव के बीच बस ही चलती है और कोई दस घंटे का रास्ता हैं.

हमारे बिल्कुल सामने मनोज ने सुलेखा की ब्रा की डोर खींच दी थी और सुलेखा की अधखुली ब्रा में से झांक रहे मम्मों को सहला रहा था और एक हाथ से उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से सहला रहा था. फलस्वरूप अब वो खुल कर, पूरे लंड को नताशा की गांड में अन्दर-बाहर करने लग गया!अब दोनों ही लड़के बारी-बारी से अपने लंड को बाहर निकाल कर दूसरे को चोदने देते और दुबारा अपना लंड घुसा कर मेरी सुन्दर बीवी की गांड में फचर-फचर की आवाज के साथ चोद मचाना चालू कर देते!हमारी हिरोइन भी अब तक काफी अभ्यस्त हो चुकी थी और आराम के साथ दोनों लंडों को अपनी गांड में गहरे घुसवाने में दिक्कत महसूस नहीं कर रही थी. हिंदी में फ्री सेक्स स्टोरी की बेस्ट साईट अन्तर्वासना के सभी पाठकों को नमस्कार.

मैं- फिर कल दिन में सबीना की चुदाई रफीक के सामने ही करूँगा और वो भी रफीक की गोदी में लिटा कर.

और फिर उसके दोनों मम्में मुट्ठी में दबोच के लंड को धकेल दिया उसकी चूत में. मेरा दिल तो कर रहा था कि उठ कर मैं भी मौसी के चूचे दबा दूँ, मगर दूसरे बिस्तर पे माँ सो रही थी, और पिताजी भी, तो मैं हिम्मत नहीं कर पाया. राजे कितना बड़ा बदमाश है इसका अंदाज़ इस बात से लगता है कि हरामज़ादे ने वहीं के वहीं दरवाज़े पे ही मुझे उठा लिया और कस के जकड़ते हुए मेरे होंठ से होंठ चिपका दिए.

मैंने पास में ही होटल देखा और कमरा ले लिया। इस दरमियान हमारे बीच ज्यादा बात नहीं हुई। मैंने खाना आर्डर किया और तब तक हम दोनों फ्रेश हो गए. अचानक से मुझे याद आई कि रात की चुदाई के बाद मैं बिना चूत धोये सो गयी थी.

थोड़ी देर बाद मेरा देवर चीखने लगा, मैं समझ गई कि देवर अपने अंतिम पड़ाव पर है, मैंने कहा- आदी, मेरी चूत में अपना रस मत निकालना, तुम्हारे भैया ने अभी मुझे प्रेग्नेंट करने से मना किया है. यह हिंदी चुत की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!उन्होंने पीठ से और ऊपर आने को कहा ब्लाउज होने के कारण मैं बिना तेल के दबाने लगा तो उन्होंने कहा- एक मिनट रुक!और पीछे घूमकर अपना ब्लाउज और ब्रा भी उतार दी और मेरी ओऱ पीठ करके लेट गईं, मैं तेल लगाने लगा. ‘अंकल जी मेरा मन इस बात को मानने को तैयार नहीं होता कि कोई उसे सच में चाट सकता है?!’ वो अनिश्चितता से बोली.

बीएफ पिक्चर वीडियो पंजाबी

मैं भी यही चाहती थी क्योंकि मैंने कहीं पढ़ा था कि मर्दों में सुबह नींद खुलने के बाद सबसे ज़्यादा चुदाई की इच्छा होती है और बहुत ही प्यार और कामुकता भरी चुदाई करते हैं.

कीकू ने खुद ही उसका हुक खोल दिया और उसके दोनों गुलाबी बोबे आज़ाद हो गए. फिर मैंने पैंट में से दिखाई देती उसकी चूत को हाथ से दबाया तो वह मजे से चीख पड़ी. मैंने उसकी एक चूची को मुंह में लिया और दूसरा हाथ उसकी पीठ पे ले जा कर उसकी पीठ को हल्का हल्का सहलाने लगा जिससे वो रोमांचित होने लगी.

थोड़ी देर मेरी चुत को और चाट लेते।संजय- चुत चाटने से इसका दर्द नहीं जाएगा. वो बोलीं- मैंने कब मना किया? तुम बिल्कुल फ्री हो, जो चाहो करो!फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में होकर एक-दूसरे का आइटम चूस रहे थे. राजस्थानी ओपन सेक्सी बीपीरात को करीब 11 बजे फ्लॉरा एकदम गहरी नींद में थी और जॉन बियर की बोतल पीकर उसके पास आकर बैठ गया.

मैं और सासू माँ अपने अपने कमरे में सोने चली गई मगर फूफा जी इतने टाइट हो गये कि उनसे चल पाना भी मुश्किल था. मैं शालू के रूम में जा ही रहा था कि शालू की सिसकारी की आवाजें आने लगीं.

मैं बोला- क्या हुआ, दर्द किया क्या?‘अरे बाबू, अब कोई मुझे नहीं चोदता, चूत सिकुड़ गयी है, थोड़ा धीरे धीरे चोदो, तुम्हारा लंड एडजस्ट हो जायेगा. तभी मैं उसके पास गया और धीरे धीरे उसके शरीर में हाथ फेरने लगा और उसके साथ ही बेड पर लेट गया. मेरे हाथ पीछे उसकी गांड पर चले गए और वो मेरी कमर को पकड़ के खड़ी हुई थी.

मेरे तैयार होकर ऑफिस जाने के बाद वह दूसरे फ्लैट में काम निपटा कर फिर मेरे घर की सफाई आदि करती तथा मेरे कपड़े आदि धो कर सुखाने डाल देती. जमीला बोली- सबीना एक काम करते है!सबीना- बोलो भाभी?जमीला- राजेश तुम नीचे लेटो. दोस्तो, कैसा चल रहा है? आनन्द ले रहे हैं मेरी चुदाई स्टोरी का…आज की चुदाई स्टोरी रयान की है जिसकी शादी अभी दो साल पहले ही हुई है, उसकी बीवी निष्ठा बहुत स्मार्ट और सेक्सी है.

‘ओ माय गॉड… अंकल जी लंड ऐसा होता है? ये तो चार सेल वाली मोटी टॉर्च की तरह लगता है देखने में.

पिछले शनिवार को हुई घटना के कारण मुझे माला की बात सुन कोई संकोच नहीं हुआ और मैंने भी मुस्कराते हुए झट से अपना लिंग निकाल कर मूतने लगा. शक्ल से भिखारी लग रहा था। उसने फटा हुआ कुर्ता और पजामा पहना हुआ था।सुमन- दीदी क्या कर रही हो आप हटो वहां से.

आपका तो मेरे गर्भाशय के अंदर भी घुस गया है तभी तो बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है. मैंने उसकी छाती पर टी-शर्ट के बटनों में अपनी नाक को ले जाकर गहरी सांस भरते हुए उसको सूंघा और अपना सिर उसके सीने पर रख दिया और उसकी छाती को चूमने लगा. अब उसके हाथ मेरे सिर पर पकड़ बना रहे थे, उसको अच्छा लग रहा था और वो अपनी गांड आगे धकेलता हुआ मुझे अपने आँड चुसवा रहा था.

उन दोनो ने पहली बात तो झट से मान ली पर पाँच हजार का नाम सुनकर बोले कि ये तो बहुत ज्यादा है, वो फिर कभी कर लेंगे. फिर मैंने पूछा- माँ सीमा नजर नहीं आ रही है?माँ गुस्से से बोली- क्यों सीमा फिर चाहिए, पाप करते समय शर्म नहीं आती है… तुम्हारे चाचा आये थे वो उसे शहर ले गए. स्वान तो काफी पहले से मुठ मारने में लगा हुआ था और सबसे पहले वही झड़ गया.

नंगी नंगी बीएफ सेक्सी जमीला आँख मारते हुए- राजेश जी, ऐसा क्या इमरजेंसी काम पड़ गया?जमीला ने एक हाथ से स्टेयरिंग सम्भाल के एक हाथ को मेरी जांघ पर फिराते हुए पूछा. अब वो क्या करे, बस इसी उधेड़बुन में वो चाय बना कर ले आई और गुलशन जी को दे दी.

बीएफ खुला फिल्म

हर बार चुदाई में मामा जी एक अलग सा अहसास दिला रहे थेमैं गर्म हो गयी थी, मेरी चूत से पानी निकलने लगा था, मैं बड़बड़ाने सी लगी थी- मामा जी, जल्दी से चोदिये, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है. उसके बाद अब भाभी मुझे अपनी बड़ी बहन को चोदने का मौका दे रही हैं क्योंकि उनकी बहन भी अपने पति से संतुष्ट नहीं हैं. साब तुझे खूब मजा देंगे।पर मैं मन ही मन प्रार्थना कर रही थी कि कैसे भी इस चुदाई से बच जाऊँ।वो मुझे एक सुनसान गेस्ट हाउस में ले गई और मुझसे बोली- चल अच्छे से नहा ले।मैं उसको कातर भाव से देखने लगी।वो मुझे रेज़र देकर बोली- नीचे के बाल साफ कर लेना.

वो आजकल की लड़कियों जैसी सींकिया नहीं थी बल्कि अच्छी मांसल बदन वाली थी. मुझे क्या हुआ है जो आप गोली दे रहे हो?जॉन- अरे बेबी तुम बारिश में भीगी थी. सेक्सी xx2023?? जन्मदिन तो शाम को मनाते हैं, फिर तू इतनी सुबह से जाके क्या करेगी।अब मैं हड़बड़ा गई- माँ व्व्व्वो उसके घर पर पूजा भी है ना, तो मुझे अभी से बुलाया है।माँ ने अच्छा कहते हुए सर हिलाया फिर कहा- सुबह बुलाया है तो दस, ग्यारह बजे तक चली जाना, घड़ी देख अभी आठ ही बजे हैं। इतनी सुबह कोई पूजा नहीं करवाता। अब चल सैंडल निकाल के आ जा, मेरे पास काम में हाथ बंटा.

गोरी, चिकनी जांघें, कोई मोटी, कोई पतली, गोरी, चिकनी बाहें, कोई गदराई, कोई सूखी सूखी.

मेरी बात सुन कर वह उठते हुए बोली- हाँ, यह ठीक रहेगा सभी समझेंगे कि तुम अपने कमरे में सो रहे हो. शुरुआत ही 150 रुपये से है और 1000 तक की होगी।मोना- ओह अच्छा समझ गई काका.

मैं पहले ही बता चुकी हूँ कि उसने यह शर्त रख दी थी कि जब वो मेरे साथ हो तब सुमित सिर्फ देखेगा, न तो छुएगा और न ही नज़दीक आने की चेष्टा करेगा. आप मेरी चीख तो दबा दोगे मगर वहाँ बहुत दर्द होगा और मेरी चाल भी बदल जाएगी, इससे कहीं मेरी मॉम को पता ना लगा जाए. पर जैसे-जैसे मैं चाटता रहा, वो ढीली पड़ने लगीं। फिर मैंने दुबारा लंड चुत में डाला और उसकी एक टांग उठा कर अपने कंधे पर रखी और ताबड़तोड़ लंड पेलने लगा।भाभी- आहह उउफ्फ़.

एल गर्लफ्रेंड से मन भर गया तो छह महीने बाद दूसरी गर्ल फ्रेंड बना लेते हैं और उसे चोदने लगते हैं.

तो थानेदार के साथ सोना पड़ेगा, नहीं तो तेरे पति की वो धुलाई करेंगे कि जिंदगी भर तुझे चोद नहीं पाएगा. नर्म और गोल, जिस पर बड़ा सारा निप्पल खड़ा था, मैंने उसका निपल छुआ तो उसने अपने हाथ से अपना बोबा पकड़ कर मेरे मुँह से लगा दिया, मैं किसी छोटे बच्चे की तरह उसका बोबापीने लगा. एक के बाद एक करके तीन बार चोदने से सुमित थका हुआ महसूस करने लगा था और थोड़ी ही देर में सो भी गया.

देसी वीडियो सेक्सी वीडियो देसीअचानक उनके हाथ मेरे सर पर आ गए और वो भी मुझे किस करने लगी, मैंने देखा कि वो पूरी तरह जग चुकी थी. मैंने उत्तर में कुछ नहीं कहा और अपने लिंग को चाची के मुंह के पास कर दिया जिसे उन्होंने चूस एवं चाट कर साफ़ कर दिया.

ब्लू ब्लू बीएफ ब्लू

उसके कपड़े उतारने लगा। थोड़ी ही देर में वो मेरे सामने पूरी नंगी थी। उसकी चूत एकदम चिकनी थी. ऋतु बोली कि उसने भी एक-दो लड़कियों से बात की है पर किसी ने अभी तक पक्का नहीं किया है. मैं अपने दोनों हाथ फूफा जी की कमर के नीचे ले गई और उनको कस के अपनी बाहों में ले लिया और ज़ोर ज़ोर से गांड हिलाने लगी.

उसने अपनी बनियान भी निकालकर एक तरफ रख दी उसकी जिप अभी भी खुली हुई थी लेकिन बैठने की वजह से लंड अंदर चला गया था. मैं बाहर से आया था और पसीने पसीने हो गया था इसलिये बाथरूम में नहाने चला गया. उसकी उठी हुई छाती पसीने से भीग रही थी, एक हाथ उसकी कमर पर था और दूसरे हाथ से वो अपने लौड़े की मुट्ठ मार रहा था.

आदी को बहुत मजा आने लगा, वो कहने लगा- यस प्रमिला भाभी, आज मेरी लंड की भूख को मिटा दो।मैंने कहा- हाँ क्यों नहीं देवर जी, आज आपके लंड की भूख मैं मिटा दूंगी और तुम मेरी चूत की प्यास बुझा देना!आदी ने कहा- हा क्यों नहीं भाभी, आज आप जो बोलोगी, वो मैं करूँगा।मेरे देवर आदी ने मेरा सर पकड़ा और अपने लंड को मेरे मुँह में अंदर बाहर करने लगा. बस गांड भी फट रही थी और रही सही हिम्मत करके मैंने अपने पैर का अंगूठा और उंगलियाँ हिलानी शुरू कर दी और उसकी चूत की गर्मी पैर पर महसूस कर रहा था. पीटर ने मुझे कुतिया की तरह खड़ा किया और बीना किसी वार्निंग सीधा अपना लंड मेरी गांड के छेद में डाला। मैं जोर से चीख उठी ‘आआआह्ह ह्ह्ह्ह आआईईई… मार डाला मादरचोद ने… उफ्फ्फ निकाल उसे कुत्ते!मेरा बदन पसीना पसीना हो गया, दर्द के मारे मेरी पेशानी पे बल पड़ गए.

तभी मरियम बोली- भोसड़ी के, चूत ही देखेगा कि चाटेगा भी?मैं सोच नहीं पा रहा था कि क्या करूं कि तभी मरियम ने मेरे सर को थोड़ा सा पुश किया और अपनी चूत से सटाते हुए बोली- भोसड़ी के, अब अपनी जीभ चला कर मेरी चूत को चाट!इतना कहने के साथ ही अपने कमर के हिस्से को हल्के सा हिलाई डुलाई. सॉरी मोना मगर बात क्या है आप समझ रही हो ना!मोना ने एकदम से खुलते हुए कहा- हाँ पता है लड़की की बात है। अब लड़की होगी तो चुदाई भी हुई होगी.

मैडम ने अब मेरे मुँह से जीभ बाहर खींच ली और मेरी पैन्ट और शर्ट निकाल दिया और चड्डी भी.

छोटी सी मगर फूली हुई बुर थी और हाँ पूजा की जांघें भरी और मोटी थीं, गांड बाहर को निकली हुई थी. सेक्सी हिंदी मराठी मेंशक्ल से भिखारी लग रहा था। उसने फटा हुआ कुर्ता और पजामा पहना हुआ था।सुमन- दीदी क्या कर रही हो आप हटो वहां से. नौकरानी का सेक्सी पिक्चर‘मेरे पास आ के बैठो न स्नेहा!’ मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने नजदीक सटा लिया और उसके गले में बांह डाल कर हौले से उसका बायाँ गाल चूम लिया. आंटी ने कहा- तुम अपना लंड अन्दर ही डाले रखो लेकिन थोड़ा रुक कर दुबारा चुदाई कर लेना मेरे गबरू जवान लौंडे.

अनिता- कुछ लोगे या आपका सीधे मुझे ही खाने का मूड है?गुलशन- नहीं मेरी रानी, खाना-पीना सब हो गया, अब तो बस मैं तुम्हें प्यार ही करूँगा.

मगर पूजा की बुर इतनी टाइट थी कि संजय को बहुत ताक़त लगानी पड़ रही थी. अब तो हालत ये हो गई थी कि रोज ही खाते पीते वक्त भी उसी को याद किए जा रहा था. मुझे मौका मिल गया, मैं जल्दी से सीमा को अपने कमरे में ले गया और जल्दी से नंगी करकेhttps://www.

मगर मैं उसके सामने सिर्फ मुस्कुरा देती थी।देवर को मेरी यह बात पता थी कि मैं बहुत खुशमिजाज़ हूँ और मैं हर वक्त खुश रहती हूँ। लेकिन आजकल मैं बिल्कुल मुरझाए हुए फूल की तरह दिख रही हूँ। यह बात मेरा देवर जान चुका था।फिर थोड़ी बहुत बात करने के बाद वे लोग अपने घर चले गए।कुछ दिनों बाद अचानक मेरा देवर घर आया. जब कुछ समय बाद वो थोड़ी नार्मल हुई, तब मैंने फिर आराम से धक्के लगाना शुरु किया. मैंने कहा- तुम्हारी सहेली है ही इतनी पटाखा!यह सुनकर ऋतु जल उठी और मुझे नीचे धक्का देकर मेरे ऊपर आ गई और जोर जोर से मेरे लंड के ऊपर कूदने लगी.

भाई बहन का सेक्सी बीएफ हिंदी आवाज में

मैं धीमे-2 लंड को गांड की पूरी लम्बाई में चोदने लगा जबकि नताशा का मुंह पूरे मनोयोग से स्वान के लंड को पुचकारने में लगा रहा. इधर मम्मी अपने काम में व्यस्त रहती थीं तो पूरा दिन हम दोनों साथ रहते थे और बातें करते थे. फिर थोड़ी देर में उनका बदन अकड़ा और वो झड़ गईं। मैंने भी और 8-10 धक्के लगा कर उनकी चुत की गहराई में माल झाड़ दिया और आवेश में आकर जी भर के भाभी की चूची चूसी।हम दोनों की साँसें फूली हुई थीं, भाभी आँखें बंद किए एक मुस्कान लिए लेटी थीं और मैं उनके वक्ष पर सिर पटक कर हाँफ रहा था।वो मेरे बालों में उंगली फिरा रही थीं। भाभी- आई लव यू सओ मच अक्की.

वैसे ही सोया रहा।टीना- देख कुछ हुआ? चल अब दोबारा डालती हूँ, तू चुपचाप आकर निकाल ले।सुमन के तो पैर काँपने लगे थे। टीना ने रिंग वापस डाल दी और वहीं खड़ी मुस्कुराने लगी।सुमन के पसीने निकल रहे थे, वो चुपचाप धीरे से आगे बढ़ी और भिखारी के पास बैठ गई।दोस्तो, आप मुझे मेरी इस सेक्स स्टोरी पर कमेंट्स संयमित भाषा में करें।[emailprotected]सेक्स स्टोरी जारी है।.

मैं बोली- लाखों में है और मुझे सिर्फ दस हज़ार?तो वो सीधा पचास हज़ार पे आ गया और बोला- इससे ज्यादा नहीं दे सकता.

ऐसा एक साल चलता रहा, पर एक दिन मेरे पापा पता चल गया कि यह दोनों गलत काम करते हैं. हमने अपनी सहमति बताई फिर कुछ देर और बातें हुई और मैं घर चली आई।रात में मैंने अपने पति के साथ जम कर चुदाई कराई लेकिन मेरे दिमाग में पण्डित का लंड ही नाच रहा था, ऐसा लगा जैसे मैं अपने पति से नहीं बल्कि पण्डित से चुद रही हूँ।मेरी हिन्दी सेक्सी स्टोरी जारी रहेगी. फुल्ल सेक्सी व्हिडिओसअब उससे भी नहीं रहा गया, वो भी चिल्ला उठी- बाबू जी और तेज, और तेज, आह… आह… मैं गईईईए… गईईईए… गईईईए… गईईई…उसका जिस्म अकड़ गया और चूत लंड से चिपक गई.

जो होगा उसको होने दे, उसी में सबकी भलाई है। आज पूरी कर ले अपनी इच्छा, नहीं तो जिंदगी भर पछताएगी।मोना ने काका के लंड को पकड़ लिया और धीरे-धीरे सहलाने लगी- काका, किसी को पता चल गया तो क्या होगा?काका- अरे रानी घर में कोई नहीं है. वो सुधीर को सीधे अपने बेडरूम में ले गई।मोना- आप यहाँ बैठो, मैं कुछ खाने को ले आती हूँ।सुधीर- अरे नहीं नहीं. मैं उसके मम्मों को मसलने लगा और वो मेरा लंड अपनी चुत के अन्दर करने लगी.

ये क्या कर रहे हो!इतना सुन कर वो बोला- टीवी में चुदाई के सीन और तुम्हारी इस चिकनी चुत को देखने के बाद मेरे लंड को बर्दाश्त नहीं हो रहा था. तभी इसी सुहाने आनन्द को उठाते हुये मेरा वीर्य भी उसकी चूत में भरने लगा.

इस तरह उछाल-उछाल कर चुदाई की कि उसके बाद मैं थक कर वहीं घास पर लेट गई.

वो कहने लगी- अब मुझसे सब्र नहीं हो रहा है, मेरी चूत में लंड को डाल दो. उसके पास जाकर मैं झुका और उसकी टांगों पर हाथ रखकर उन्हें ऊपर उठाया और उसे पीछे की तरफ धक्का दिया. पीछे मुड़कर देखने की हिम्मत तो नहीं हो रही थी लेकिन फिर भी मैंने हौसला रखते हुए पीछे मुड़कर देखा तो वो दोनों मेरे पीछे ही आ रहे थे.

सेक्सी तमिल सेक्सी तमिल सेक्सी मैडम घर में पजामा और कुरता पहनती है, और क्लिनिक में साड़ी पहन कर जाती है. उसकी उठी हुई छाती पसीने से भीग रही थी, एक हाथ उसकी कमर पर था और दूसरे हाथ से वो अपने लौड़े की मुट्ठ मार रहा था.

मैंने भी समय न गंवाते हुए भाभी को चुदाई के पोज में लिटाया और अपने लंड को उनकी चुत पर सैट कर दिया. दूधवाले के बमपिलाट झटके से तो मानो मेरी जान ही निकल गई, फिर उसने मुझे बड़ी तेजी से चोदना शुरू किया. आगे की कहानी जस्सी से सुनते हैं:दोस्तो, मैं जस्सी, चंडीगढ़ के पास रहता हूँ और 29 साल का हूँ.

मुस्लिम औरत की बीएफ

हमारी पहली मुलाकात एक झप्पी के साथ शुरू हुई जिसके दौरान मुझे उसके भरे चुचों का अनुमान हुआ. अगले दिन शाम को ऋतु ने बताया की पूजा की चार सहेलियाँ तैयार हो गई हैं अपनी चूत चटवाने के लिए… और वो इसके लिए दो-दो हजार रूपए देने को भी तैयार हैं. फिर मौसी ने मेरे हाथ का अंगूठा अपनी दोनों टाँगों के बीच में ले लिया, वहाँ पे कोई गीली सी मगर गर्म जगह थी.

मैंने अपना लंड पेट पर लिटा लिया और इसे पकड़े रहा ताकि उछल कर खड़ा न हो जाए. क्या तुम्हें आनन्द एवम् संतुष्टि मिली या नहीं?माला भी उठते हुए बोली- हाँ, यह पहली बार है जो मुझे बहुत अच्छा एवम् एकदम नया अनुभव मिला है और साथ में आनन्द और संतुष्टि किसे कहते है यह भी पता चल गया है.

अगर मेरी ये चाहत पूरी हुई तो जरूर लिखूँगा, पर जो मैं अभी सेक्स स्टोरी लेकर आया हूँ उसका मजा लीजिएगा.

थोड़ी देर में मैंने सारा माल पेंटी में छोड़ दिया और पेंटी को साफ़ करके टाँग दी, थोड़ी देर बाद में नहाकर बाहर आ गया. इसके बाद पूजा भाभी ने मुझसे कहा- चल पायल, तू अभी इस समय चल बाथरूम में… मैं तेरी भी मदद कर देती हूँ. आप भी देख देख के उस दूसरी वाली रंडी को चोदना… चल माँ की लौड़ी रंडी मोना रानी, हो जा तैयार… तेरी चूत का कचूमर बनेगा आज कि साली चार दिन खड़ी न हो पाएगी.

सुमित तो इतना ज़्यादा उत्तेजित हो गया था कि फिर से साले ने मेरी चुदाई कर डाली. उसकी हवस इतनी बढ़ गई थी मानो वह कह रहा हो कि मैं आज तुझे अपना लंड खिला ही दूंगा. साधु बाबा तो चले गए मगर मोना को असमंजस में डाल गए।सॉरी दोस्तो, बीच में आने के लिए ये साधु वाला किस्सा काल्पनिक है.

उसने कहा कि मैंने पहले कभी लंड चूत में नहीं लिया है, अतः धीरे करना.

नंगी नंगी बीएफ सेक्सी: दूसरे दिन मैं अंदर गया तो वो चाय बना रही थी, मुझसे बोलीं- बाहर नोटिस नहीं देखा? आज छुट्टी है, तुम्हारे सर बाहर गए हैं. मैं उसके जीभ को छोड़ कर होंठों को चूमते हुये उसके निचले भाग की तरफ़ बढ़ने लगा.

उसकी आँखें ऐसी कातिल थीं कि जब भी वो जब नजर उठा के किसी को देखे, तो कामवासना को आमंत्रित करने जैसा महसूस होता था. फिर हम दोनों अलग हुए, मामा जी फ्रेश होने बाथरूम चले गये, मैं पूरे कपड़े पहन कर किचन में चाय नाश्ता बनाने लगी. !मित्रो, आपसे एक इल्तिजा है कि आप मेरी सेक्स स्टोरी पर मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें.

मेरी चूत में बिल्कुल जगह नहीं थी फिर भी वो मेरी चूत में अपना लंड घुसाने में तुला हुआ था.

चोद डालो, खोद डालो मेरी बुर को अच्छी तरह से बहुत सताया है इसने मुझे!’मैं भी पूरे तैश में था, मुझे भी झड़ जाने की जल्दी थी तो मैंने उसकी चूत में लंड से चक्की चलानी शुरू की, पहले क्लॉक वाइज फिर एंटी क्लॉक वाइज… फिर आड़े तिरछे शॉट्स मारे…‘अंकल. फिर दोबारा झटके से चुत में डाल लेतीं, जिससे और भी मज़ा आ रहा था।अब मैंने आंटी को ज़मीन पर लिटा दिया, उनकी दोनों टांगें अपने कंधे पर रख कर आंटी को धकापेल चोदा। साथ ही मैं अपने हाथ से आंटी के मम्मों को निचोड़ भी रहा था।आंटी की चुत पूरी गीली हो कर बहने लगी थी। शायद आंटी दो बार झड़ चुकी थीं. पर मैं चुप रहा।सविता मेरे पास आई और बोली- दिव्या तुमसे बात करना चाहती है।सविता वहाँ से दूर चली गई.