नेपाली में बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,ब्लू बीपी ब्लू सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

टैटू बनाने वाला: नेपाली में बीएफ वीडियो, दीदी ज़ोर ज़ोर से कराह रही थीं- आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह आह फ़क मी… ओह…दीदी से अब बर्दाश्त नहीं हो रहा था.

सेक्सी वीडियो फौजी में

रुचिका मुझसे चिपक कर काफी रोई और बोली- सर मैं कालेज को और आपको हमेशा मिस करूँगी. मराठी सेक्सी व्हिडियोउसी समय मेरे पति को सर्दी और बुखार हो गया, इस वजह से उन्होंने और मैंने सेक्स से थोड़ा दूरी बना ली.

वह बूब्स को जोर-जोर से खींच कर जम के मसलने लगा और बोला- मादरचोदी, बहुत टाइट और जबरदस्त दूध हैं रे वन्द्या तेरे!इधर आशीष का लन्ड मेरे मुंह में घुसा था जिसे मैं चूस रही थी. सेक्सी वीडियो कार्टूंसजैसे ही मैं उसकी चुत को सक करता था, वो एक फिंगर से अपनी चुत के दाने को ऊपर से रगड़ते हुए भड़कने लगती- आह.

एक तो मेरा शरीर पहले से ही एकदम चिकना हो गया था, उस पर से वो तेल गजब ढा रहा था.नेपाली में बीएफ वीडियो: अगर मेरी इस स्टोरी को अच्छा रिस्पॉन्स मिलेगा तो मैं इस स्टोरी का सेकेंड पार्ट भी पोस्ट करूँगी कि जब एक बार चुत चुद जाती है तो क्या होता है.

प्रिया के होंठ चूमें, गालों पर, आँखों पर, माथे पर दर्ज़नों चुम्बन लिए, दोनों कानों की लौ चूसी, कानों के पीछे, गर्दन पर अपनी जीभ फेरी.थप्प-थप्प… थप्प-थप्प… थप्प-थप्प…!! नीचे कबीरदास की चक्की पूरे यौवन पर चल रही थी.

सेक्सी चमारी - नेपाली में बीएफ वीडियो

भाभी बोली- तुम भी पेंट उतार दो!मैंने जल्दी से पैन्ट और चड्डी उतार दी, मेरा 7 इंच का लंड देख कर बोली- मस्त है तुम्हारा हथियार… आज मजा आएगा!फिर हम लोग बेड से नीचे आ गए, कालीन बिछी हुई थी तो कोई प्रॉब्लम नहीं हुई.उसने कुछ नहीं बोला, बस मुझे अपनी ओर खींचा और मेरे होंठों पे अपने होंठ रख दिए.

फिर मैंने उसकी जांघों की मालिश की और कूल्हों को छोड़कर सीधे पीठ पर चला गया, मैंने अब कंधों से मालिश करना शुरू किया. नेपाली में बीएफ वीडियो रानी में भी वासना का आवेश बढ़ता जा रहा था, वो बड़े उत्साह से मुंह उचका उचका के अपने होंठ चुसवा रही थी.

जब उसका लंड पानी छोड़ने को हुआ तो वो बोला- अपना मुँह खोलो, उसमें पानी डालूँगा क्योंकि चुदाई करने से पहले मैंने कोई सावधानी नहीं ली.

नेपाली में बीएफ वीडियो?

सुबह जल्दी ही हमारी नींद खुल गई, जब हम गोवा पहुंचे, उस समय सुबह बज रहे थे. वैसे तो आज तक अमित ने, गांव में उस लड़के ने या सैम ने भी नहीं दबाई थीं, लेकिन मुझे अच्छा लग रहा था. फिर विनय ने मेरे हाथ पर अपने हाथ में ले लिया और अपनी जांघों पर रख दिया.

घर पर दीदी की सैंडिल वगैरह तो होती ही थीं, जो मुझे बिल्कुल फिट आ जाती थीं, तो मैं वही पहन लेता था और एकदम लड़की बन कर घर में घूमने लगता. कयामत तो तब बरपा हुई जब प्रिया ने अपनी बायीं टांग उठा कर मेरे ऊपर रख दी. वह काफी शरमा रही थी लेकिन नशे की हालत में उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था और मैं उसे अपनी बांहों में भर कर नाचने लगा.

पर डर लगता था कि एक तो मैं लड़की नहीं हूँ, उस पर से उसका लंड कितना मोटा होगा, ये मालूम नहीं था. ”” और आज जब हम वापिस आये थे तो क्या हुआ था तुझे? तू क्यों अपने कमरे में बंद हो गयी थी और कहने पर भी दरवाज़ा क्यों नहीं खोला तुम ने?”आप समझे नहीं? पिछले तीन महीने से आप का इम्तिहान चल रहा था. उस दिन मैंने जानबूझ कर ढीले कपड़े पहने हुए थे, जिसमें से उसको मैं मम्मों की दूधिया घाटी और अपनी चड्डी की झलक भी दिखा सकूँ.

हाँ वो बीमार हैं तो उन्हें देखने आयी थी।”ठीक है, देख लिया हो तो अब आ जाओ!” पूजा बोली. उनकी टाईट होती जींस और गहरे गले का टॉप, जो उनकी चूचियों को लगभग आधा दिखाने लगा था.

अब भाभी ने मेरे सर पर हाथ फेरा और प्यार से बोला- चाटता ही रहेगा या लंड भी डालेगा?फिर मैंने भाभी को चुम्मा लिया और उनकी टांगें फैला दीं.

मेरे समझाने पर उसने लंड मुँह में लिया और जल्द ही वो मेरे लंड को किसी कुल्फी की तरह चूसने लगी.

अब दोनों हाथों से उसके आमों को पकड़ा और उसके एक निप्पल को मुंह में ले कर चूसने लगा. मैंने एक और जोरदार धक्का लगाया और उसके मुँह को दबाया ताकि चिल्ला न दे, लेकिन इस बार उसे इतना दर्द नहीं हुआ, जितना पहले हुआ था. इसके बाद मैं घर आ गई और इस बारे में सोचने लगी कि सर ने मुझे अपने घर क्यों बुलाया होगा.

तुम एक एक कपड़ा उतारते हुए डांस करो और फिर चुत को बिना हाथ लगाए, उसका जलवा दिखाओ. मुझे पता था कि मॉम नीचे कुछ नहीं पहनती हैं, तो मैंने मॉम की मैक्सी धीरे धीरे ऊपर करना शुरू की और उनकी गांड से ऊपर तक उठा दी. लेटर में लिखा था कि डार्लिंग, जो मैंने लिखा है उसे पढ़ कर क्या घबरा गईं? तुम फिक्र मत करना, मैं अपना लंड तब तक किसी चुत में नहीं डालूँगा सिर्फ तुम्हारी चूत छोड़ कर, जब तक इस इंक का रंग खत्म नहीं हो जाता.

ये कह कर वो मॉम के ऊपर झुक गया और मॉम के मम्मों को अपने मुठ्ठी में पकड़ कर मॉम को किसी कुतिया की तरह चोदने लगा.

पति महोदय के पास काम के चलते समय की तंगी थी और सारा दिन काम के बाद उनकी थकान के चलते सेक्स लाइफ बड़ी बोरिंग चल रही थी. तभी रेहाना बोली- नहीं, आज मैं पीयूँगी वीशु जी के लंड का बीज… क्योंकि पायल दीदी, आप तो लगभग रोज ही इनके लंड से चुदती रहती हो और लंड का बीज भी पीती रहती हो! इसलिये पायल दीदी, प्लीज आज मुझे पी लेने दो!तो पायल थोड़ा मुरझा सी गई. मैंने अपने जूते उतारे दिए ताकि कोई आवाज न हो और अपना मोबाइल एयरोप्लेन मोड में रख दिया ताकि गलती से भी उसकी आवाज न हो.

उसकी चुदाई की पिक्चर याद करके मुझे भी कुछ कुछ होने लगा मगर मैंने दिल को मजबूत करके अपने आप को सम्भाल लिया. वो बोली- तुम भी अपना शर्ट उतारो ना… नंगे जिस्म से चिपकाने में मजा आयेगा. वो मुझे रोज की तरह लेकर रूम में आया और मुझे लिटा कर और खुद भी वहीं मेरे बाजू में लेट गया.

आह… सख्त से दिखने वाले मम्मे कितने नर्म थे यार… मानो कोई रुई के गोले हों.

विवेक ने कामिनी को गेंद की तरह गोदी में उठा लिया और बेड पर लिटा दिया, मेरी बीवी कामिनी ने अपनी बांहें खोल दी और उसको अपने आगोश में लेने के लिये विवेक जैसे ही झुका, कामिनी ने उसको अपने ऊपर खींच लिया, बोली- जानू, तुमने नशा चढ़ा दिया है अपना!विवेक बोला- तुमने भी मुझे पाल कर रखा हुआ है, मुझे!अपनी बीवी के साथ सोना अच्छा नहीं लगता?” मेरी बीवी बोली. वो अपने मम्मे हिलाते हुए बोलीं- मुझे तो नहीं… और किसी चीज को देख कर मस्त बोल रहे थे.

नेपाली में बीएफ वीडियो भाभी बोलीं- फिर भी साथ में हो?मैंने बोला कि हां जीएफ ने बोला, जब तक साथ रह सकते हैं… रहते हैं. भाभी की गांड दीवार से सटी हुई थी और नीचे टाँगें लेफ्ट राइट मुड़ कर खड़ी हुई थीं.

नेपाली में बीएफ वीडियो मैंने खुद उसका लंड अपनी चुत में रखवा कर धक्का देने का इशारा किया तो उसने करारा धक्का दे मारा. अगर आप लोग का प्यार मिलता रहेगा तो ऐसे ही कहानियां मैं भेजता रहूंगा।आपका दोस्त बैड मैन[emailprotected]आगे की कहानी:गर्लफ्रेंड की सहेली की प्यासी चूत और गांड.

उन्होंने स्लीबलैस ब्लाउज पहना हुआ था, जिसमें से उनके मम्मे बाहर निकल भागने को आतुर लग रहे थे.

ब्लू फिल्म सेक्सी लड़कियों की

वो बोली- क्या गिफ्ट है?उसने पूछा- कहां हैं?मैंने उसे अलमारी की तरफ इशारा किया और बोला- उसे जाकर खोलो. बस फिर थोड़ी ही देर में साली साहिबा दरवाजे पर आई, क्या कमाल की माल लग रही थी, बिखरे हुए बाल, अस्त व्यस्त कमीज, जिसे वो ठीक करने की कोशिश कर रही थी. मैंने देखा कि कामिनी को उस बन्दे ने चिपका रखा है और वो उसको किस कर रहा है, कामिनी भी उसको किस कर रही है, और दोनों लिपटे हुए थे.

पर मैंने जब ज़ोर दिया तो बोली कि आज मेरी शादी की सालगिरह है और मेरा पति साथ नहीं है, इसलिए मूड खराब है. मैंने अब उसकी नाइटी निकाल कर अपने भी सभी कपड़े निकाल दिए और पूजा पर चढ़ बैठा. मैं अभी 22 साल की उम्र का हूँ और एक लेडी डॉक्टर के क्लिनिक में काम करता हूँ.

उनकी चुत के छेद पे चने जैसा दाना उभरा हुआ था, जो सीएफएल की रोशनी में चमक रहा था.

ये बात तब की है, जब मैं लखनऊ में अपनी चाची के घर में था, उनके घर में तीन लोग हैं. मैं शरमाते हुए- क्या तुम सच में देखना चाहती हो?स्वाति- बेशक… तुम्हारे लोअर में यह अच्छा लग रहा है और मैं तड़प रही हूँ इसे देखने के लिए. वो अब मस्त हो चुकी थी और लंड के स्वाद से अपनी चुत को मजा दिला रही थी.

आंटी इतनी बार चुदी होने के बाद भी जोर से चिल्लाईं- उई ममाँ मर गई रे. प्रिया का मंगेतर 10 नवंबर को आने वाला था और शादी 19 नवंबर की फ़िक्स थी. मैं बोली- छोड़ कुत्ते कमीने, मत कर साले, घटिया जीजा, मादरचोद छोड़!जो गालियां आती थी, सब दे डाली और रो भी बहुत रही थी पर जीजा को कोई भी फर्क नहीं पड़ रहा था, वो फिर से अपना लन्ड घुसाने में लग गए.

बीवी मुश्किल से ही दस दिन में एक बार ही चोदने देती है और भाभी के साथ चुदाई का सैटिंग बहुत ही कम हो पाती है. मैं अंजान बनती हुई बोली- ओह… चलो कहीं बैठ कर चाय पीते हैं अगर तुमको कोई काम ना हो तो!वो बोला- मुझे कोई काम नहीं है.

वो रोज़ मुझे नई नई ब्लू फ़िल्में दिखाती थी, जिसका असर ये हुआ कि मुझ पर जवानी की चुदास उम्र से पहले ही चढ़ गई. यह कहकर उसने मेरे घी को, जिसे वीर्य कहते हैं, अपनी छाती पर मलना शुरू कर दिया था. लेकिन इस बार मैं काम-क्रीड़ा से पहले अपनी उंगलियों से योनि के छेद को ख़ुला करने के मूड में हरगिज़ भी नहीं था.

हां वो वाली स्पेशल वॉच ज़रूर पहन लेना, जिसमें कैमरा और ऑडियो फिट हो, ताकि पूरी रेकॉर्डिंग की जा सके.

बाहर निकलने पर भाईसाहब मुस्कुरा कर पूछने लगे- कैसा रहा पाठा का लंड. आपने तो अपने आने की कोई खबर ही नहीं दी?उसने एक वफादार नौकर की तरह मेरा सामान मेरे हाथों से ले लिया और मुझे अन्दर ले गया. अगले दिन फ़ोन लगाया तो उसने रिसीव नहीं किया और अगले कुछ दिन नम्बर बंद बताता रहा और फिर और कुछ दिन बाद उसका नम्बर गलत बताने लगा.

मैं गाड़ी के एकदम नजदीक पहुंच गया और गाड़ी के शीशे में देखने की कोशिश करने लगा. मैं चेहरा इधर-उधर झटक रही थी कि वह अपने होठों से मुझे चूम ना पायें, पर जीजा एकदम से पकड़ के मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए, उनके बहुत गर्म होंठ मेरे होंठों को चूमने लगे और उनकी गर्म सांसें मेरी नाक में समाने लगी.

वो अब मजे ले रही थीं और आंटी के मुँह से चुदास की मस्ती में आवाजें निकल रही थीं- आह चोद मुझे और जोर से चोद. वो सब कैसे हुआ, ये मैं मेरी अगली पोर्न कहानी में आपको जरूर बताऊंगा. उस दिन मॉर्निंग में शॉपिंग के लिए निकलने के हिसाब से बहुत सर्दी थी.

सेक्सी वीडियो गांड मार दी

अब मैं जोर जोर से सेजल भाभी की चूत चूसने लगा और जीभ को नुकीला करके उनकी चूत की फांकों में घुसाकर मुँह से उनकी चुत चोदने लगा.

मैंने उसकी चूत की लकीर को दोनों अंगूठों से फैलाया, फिर अपनी उंगली से ऊपर की परत को अलग किया. जहां से मैं निकलती थी, लोगों की पैन्ट फूल जाती थी… और लोग मुझ पर लाइन मारते नहीं थकते थे. कई एक लड़कियां, जो अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुद के प्रेगनेन्ट होने के संदेह में दोपहर में चुपके से पिछले दरवाजे से आती हैं, उन्हें मैं उनका झूठा ही अल्ट्रा साउंड करके बोल देता हूँ कि बच्चा रुक गया है.

मैं बियर की 3 बोतल के साथ एक व्हिस्की का हाफ और सिगरेट का पैकेट ले आया था. इस बात पर भैया बोले- अरे मनन, तुमसे कैसी शर्म, तुम तो हमारी काफी बातें जानते हो. जानवरों वाली सेक्सी जानवरों वालीमैंने सोचा कि लोहा गरम है, इस पर अभी ही अपनी जवानी का गरम हथौड़ा मार देना चाहिए.

खैर अगले दस मिनट तक वो अपना लंड मेरी चुत में हिलाता रहा और फिर से खलास हो गया. उसका एक हाथ मेरी साली के चूचे सहला रहा था और एक हाथ से उसने मेरी साली की सलवार का नाड़ा खोल दिया.

उसकी बातें सुन कर मैं रोने लगी और रो रो कर सब कुछ बता दिया कि मेरे साथ क्या क्या हुआ. ”क्यों मैं सुंदर नहीं हूँ क्या आप लोगों ने तो तारीफ ही नहीं की!”अरे भाभी वो जिनेन्द्र को शायद अच्छा नहीं लगे इसलिए…”अरे चिंता मत करो, उनको बुरा नहीं लगेगा. मैं आशा करता हूँ कि आपको मेरीबहन की बुर चुदाईकी कहानी अच्छी लगी होगी.

आप मेरे जीवन के प्रथम-पुरुष हैं, मैं मन ही मन आप को पूजती हूँ और मेरे दिल में हमेशा आप की एक ऊंची और ख़ास जगह है और हमेशा रहेगी। इस के साथ ही यह भी सच है कि आप का और मेरा साथ किसी भी सूरत संभव नहीं. मैंने सोचा कि इससे अच्छा मौका और क्या मिल सकता है… मैंने अंजलि से पूछा- कब चलना है?तो उसने कहा- शनिवार सुबह में चलना है. भाभी ने लंड को चूसने की स्पीड बढ़ा दी, जिससे मेरे शरीर मे करंट सा दौड़ने लगा.

फिर 20 मिनट बाद मुझे लगा कि अब मैं झड़ने वाला हूँ तो मैंने उससे कहा- मैं छूटने वाला हूँ.

परवीन करीब 10 मिनट तक लंड चूसती रही, फिर वह बोली- सैफ अब बर्दाश्त नहीं होता. शाम को मेरे दीपक भैया आते और मुझे उनके साथ अपने घर जाना पड़ा।पूरी रात ठीक से नींद नहीं आई, बस वही सब दिमाग में चल रहा था, कैसे भी रात कटी, ऐसे ही दूसरा दिन कटा!पर शाम को 6:30 बजे ठीक भाभी के पापा, वही राजेंद्र अंकल और उनके साथ एक बहुत हट्टा कट्टा आदमी था, आये.

बड़े भाई के चले जाने के बाद से हमारे घर में अब मैं और मेरी माँ हम दोनों ही रहते थे. आंटी की कामुक सिसकारियां मुझे और मजे दे रही थीं और मैं भी पूरा होश खोकर उसका बन चुका था. मैडम पढ़ा रही थीं कि लंड खड़ा कर रही थीं, किसी को कुछ समझ ही नहीं आ रहा था.

अपनी मां की इतनी लम्बी चुदाई देख कर मेरा लंड भी दो बार अपना पानी छोड़ चुका था. थोड़ी देर ऐसे चोदने के बाद वो अब मुझे सामान्य लगीं तो मैंने उनको खोल दिया. ट्रेन सुबह, 10 बजे की थी तो मैं आराम से स्टेशन पहुंच कर वेट करने लगा.

नेपाली में बीएफ वीडियो तो कुछ देर बाद ही मैंने रेहाना के मुँह से अपना लंड निकाल लिया और पायल की चूत पर लगा कर एक जोरदार धक्का लगा दिया जिससे मेरा लंड सरसराता हुआ पायल की चूत में जड़ तक घुस गया तो पायल की एक हल्की सी एक सिसकारी निकल गई. उसी तरह कब हम दोनों अपने अपार्टमेंन्ट पहुँच गए, पता ही नहीं चला और वही मुद्रा आपके सीसीटीवी में कैद हो गई.

सेक्सी वीडियो बताइए इंग्लिश में

चूंकि डैड घर में नहीं थे… इसलिए मैंने माँ को रात लगभग दस बजे ये गिफ्ट दिया और उन्हें हैप्पी बर्थ डे कहा. तब वो बोली- अरी उसका नाम नहीं बोल सकती, जिसको लेने की तुम बोल रही हो कि लिया जाता है. अचानक ही प्रिया ने झुक कर अपने दोनों हाथों से मेरे पैर छू कर अपना दायाँ हाथ अपनी मांग में ऐसे फेरा जैसे सिन्दूर लगाते हैं.

प्रिया के दोनों हाथ मेरी पीठ पर कस कर जमे थे; प्रिया की योनि के अंदर का उत्ताप मेरे लिंग को जलाने पर उतारू था जैसे. मैंने कहा- क्या आज बिजली गिराने का इरादा है?वो इठला कर बोली- सब आपके लिए है जीजू. कुत्ते के साथ में सेक्सी फिल्मजैसे मेरे हाथों के नीचे का हिस्सा पूरा खुला था, हाथों पर ही कुछ दूर तक आ रही थी.

भैया ने जब भाभी की चुचियां मसली थीं, तब उनका पल्लू हट गया था, जो अब भी हटा हुआ था और भाभी ने अपने पल्लू को ठीक करने की जगह उसको एक तरफ कर दिया था और वो अपनी चूचियां तान कर दारू का मजा ले रही थीं.

वहां मेरी दोस्ती फेसबुक चलाते समय एक लड़की से हो गई, जिसका नाम रिया था. कोई 5 मिनट उसका फोन आया- बोलो डार्लिंग क्या सोचा फिर?मैंने जवाब दिया- आपने कुछ सोचने के लायक ही नहीं छोड़ा मुझको.

तभी चिंटू ने परीक्षित से कहा- मुझे भी तो इसकी गांड का मजा लेने दो, तुम अकेले ही इसकी गांड का मजा ले रहे हो. वो बोली- प्लीज़ अब सहा नहीं जा रहा है, लगता है जैसे बेहोश हो जाऊंगी. आंटी ने भी मदमस्त होते हुए कहा- ओह्ह्ह… वाव्व… कितना बड़ा लंड है यार ये!उसने मेरे लंड को अपने हाथों में पकड़ लिया और उस दिन मेरे लंड पर पहली बार किसी औरत का हाथ मैंने महसूस किया.

मैंने उसे अपने पलंग पर लिटा दिया और उसके होंठों को बेतहाशा खाने लगा.

उस नाइट मॉम ने मुझे अपने रूम में भी एंट्री नहीं दी, मैं दूसरे रूम में सोया. मैं- मैं गुस्सा क्यों करूँगा? आपकी लाइफ है, जैसे आपको अच्छा लगे, वैसे एंजाय करो. हालांकि इस दौरान इन्होंने काम पर जाना बन्द नहीं किया था क्योंकि वो भी बहुत जरूरी है.

देवर और भाभी की सेक्सी पिक्चर हिंदीमैं उनके पास गया तो वो बोलीं- बेटा, जरा वो डिब्बा उतार देना, काफी ऊपर है. मैं थोड़ा अचकचाया।आप को मेरी कसम… अब के जो तरसाया तो…!” प्रिया के लफ़्ज़ों में मनुहार के साथ साथ आदेशात्मक गूंज थी.

सपना चौधरी सेक्सी सीन

चाय गिरते ही जूही ने मेरी पैन्ट और अंडरवियर उतार दी, अब मैं जूही और नाज़ के सामने नंगा था, जूही मेरे लंड को पकड़ कर नाज़ से बोली- तेरे को यही चाहिए था न? ले पकड़ ले!नाज़ शरमा रही थी तो मैं उठ कर उसके मुंह के सामने लंड कर के खड़ा हो गया और हाथ उसके शर्ट के अन्दर डाल कर उसकी चुची दबाने लगा. मैंने उससे पूछा- सब लोग कहां गए?वह बोली- कोई खत्म हो गया है, सब वहां गए हैं. बस इसके बाद एक के बाद एक झटके देता रहा और उसकी आवाज मेरे मनोबल को बढ़ाती रही.

थोड़ी देर बाद मैं तेजी सेपूजा की गांड चोदने लगाऔर पीछे से मम्मों को पकड़ के मसलने लगा. तेरी मेरी दोस्ती यहीं तक… चल बाय…ये बोल कर दीदी झूट मूठ का खामोश हो गईं. भाभी ने काफी टाइम पहले ही सोच रखा था कि वो भी लंड चूस कर देखेगी, आज उनकी हर ख्वाहिश पूरी हो रही थी और मैं तो एकदम हवा में उड़ने लगा मेरी भी सेक्सी भाभी को चोदने की इच्छा पूरी होने वाली है, मैं बहुत ही प्यार से भाभी की चुत चाटने लगा और भाभी मेरा लंड मजे से चूस रही थी जैसे कि कितने सालों बाद मिला है.

मैंने उसे पहले कुर्सी पे बिठाया, उसकी जीन्स और पेंटी घुटनों तक उतरी हुई थी, पर चूत झांटों से छिपी हुई थी. लेकिन मैंने उनको कभी मौका नहीं दिया था।अब मैं थोड़ा पछता रही थी। मुझे पता था कि गांड चूत से कई गुना टाइट होती है।फिर उसी शाम को मेरा भतीजा आ गया, मैंने उसे खाना खिलाया और वो टीवी पर वीडियो गेम खेलने लगा।मैंने सोचा कि वो आदमी तो 35 साल का होगा. मैंने अपने जूते उतारे दिए ताकि कोई आवाज न हो और अपना मोबाइल एयरोप्लेन मोड में रख दिया ताकि गलती से भी उसकी आवाज न हो.

दो मिनट बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत में से निकाला तो उस पर खून लगा हुआ था. सबसे पहले हम रूम पर पहुंचे जो चिंटू के ही दोस्त का था और जहाँ मैं पहले भी बहुत बार आई हूँ और चुदी भी हूँ.

20-25 मिनट बीत गए, कामिनी नहीं आई, मुझको बहुत तेज गुस्सा आ रहा था, मैं बाहर के कमरे में जाने के लिये निकला तो उन दोनों की हंसने की आवाज आ रही थी, मैं चुपचाप देखना चाहता था कि क्या हो रहा है.

वो अब मजे ले रही थीं और आंटी के मुँह से चुदास की मस्ती में आवाजें निकल रही थीं- आह चोद मुझे और जोर से चोद. राजस्थानी सेक्सी देवर भाभी काइसी तरह से हम दोनों ने बहुत दिन तक एंजाय किया पर किसी बंधन में न बंधने की कसम खा ली, हम सिर्फ़ चुदाई का मजा लूटने के लिए एक दूसरे का साथ देने लगे. किन्नर की सेक्सी व्हिडीओमैं- तो मैं पूछ रहा था कि तुमको मर्द के शरीर का कौन सा हिस्सा पसंद है?स्वाति- अरे… इसमें पूछने वाली क्या बात है… मेरे जैसे जवान और सेक्सी लड़की को आप जैसे जवान मर्द में सबसे ज्यादा क्या पसंद आयेगा? बेशक आपक लिंग। मुझे लगता है कि यह काफी बड़ा और मजबूत है. उसने मेरे पीछे से अपने हाथों को मेरे मम्मों पर रख दिया और उन्हें दबाने लगा.

पर सच बताऊँ दोस्तो, उसके पास जाने की मेरी हिम्मत ही नहीं हुई, बात करना तो बहुत दूर की बात है.

बिस्तर पर मेरी आँख खुली तो मम्मी मुझसे पूछने लगीं कि बेटा ये सब कैसे हुआ?पापा डॉक्टर साहब से बात कर रहे थे. अभी भाभी कुछ समझ पातीं कि मैंने जल्दी से अपना लंड उनकी चूत में ठेल दिया. मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाल कर उसके मुंह में दे दिया और उसके मुँह में वीर्य छोड़ दिया.

मैंने अपनी चुदाई की जो कहानियां कुंवारी उम्र में सोची थीं, आज वो आस इस लोहे के लंड से पूरी होने वाली थी. सबसे पहले मैंने दोबारा अपना फ़ोन चैक किया कि वीडियो रिकॉर्डिंग चालू है कि नहीं, रिकॉर्डिंग चालू थी, सब कुछ ठीक चल रहा था. कपड़ों के ऊपर से ही प्रिया की उतप्त योनि का ताप मेरे कठोर लिंग को जैसे जलाने पर आमादा था.

सेक्सी वीडियो land

फोन लेते हुए बोलीं- किसी ने दिल तोड़ा है क्या?मैं- आपको ऐसा क्यों लगता है?वो- गानों का कलेक्शन बता रहा है. उसी रूम को पापा ने एक खिड़की भी बनवाई थी, जिससे बाहर वालों को घर के अन्दर का सब साफ़ दिखाई देता था. ड्राईवर बोला- दरवाजा खोल कर मेमसाहब अन्दर चलिए, साहिब आप का इंतज़ार कर रहे हैं.

थोड़ी देर में मैं झड़ गया और उसने मेरे लंड से निकला पूरा रस अंदर गटक लिया.

कॉलेज मेरे गाउन से करीब 10 किलोमीटर पड़ता है और रोड से 4 किलोमीटर अन्दर मेरा कॉलेज आबादी से काफ़ी दूर है.

लेकिन मेरे मुँह पर आसपास उसकी चूत का रस लगा था, वो छोटी चाची ने देख लिया. लगभग 10 बज चुके थे अंजलि ने पारुल से कहा- पारुल, बियर ले लेते हैं और गाड़ी में ही पी लेंगे. भोजपुरी सुपरहिट सेक्सी गानाऔर हाँ लोगों को खुद कार चलना आज कल ट्रॅफिक को देखते हुए बहुत मुश्किल होती है.

पर तभी मुझे ख़याल आया कि अभी उन दोनों को रंगे हाथ पकड़ता हूँ, पर मैंने सोचा मैं पकडूँगा और बाद में घर में ये बताऊंगा तो बहुत काम लोग मेरा यकीन करेंगे क्योंकि मेरी साली की छवि ही इतनी उजली थी कि हर कोई यही सोचता कि वो ये नहीं कर सकती. मुझे सब्र ही नहीं था, मैं जल्दी से उसके पीछे पीछे किचन में गया और उसको पीछे से पकड़ कर अपना लंड उसकी गांड में टच करने लगा. इसे मिटा दोगे?वो- हाँ चाची उसी के फेर में मैं इतनी देर से हूँ।मैं- तो ठीक है.

मैंने अपनी बीवी से पूछा- क्या हुआ यार, मज़ा नहीं आ रहा क्या?वो बोली- हां यार, मजा नहीं आ रहा है चुत चुदाई का…मैंने पूछा- क्यों क्या हुआ?मेरी बीवी बोली- मैं नहीं जानती. तभी उनके जिस्म ने एक झटका सा खाया, मुँह से एक खुशी की किलकारी निकली और सेजल भाभी मेरे मेरे मुँह में झड़ने लगीं.

वैसे तो मैं कानपुर से हूँ लेकिन मैं लखनऊ अपनी चाची के घर जन्माष्टमी मनाने गया था.

शुरू में तो मुझे भी खराब सा लगा, पर न जाने क्या हुआ कि मेरा मन भी वासना से भर गया. बुआ भी गरम हो गई थीं, बुआ झट से बोलीं- पहले दरवाजा बंद कर दो, आते जाते किसकी नज़र पड़ गई तो गलत लगेगा. गाँव देहात के मजबूत जानदार लड़के, मजबूत कड़क हाथ, शर्ट की खुली बटन… वाह क्या नज़ारा था… अब बस मैंने तो सोच ही लिया था कि आज यहाँ मैं किसी ना किसी गाँव वाले लन्ड का स्वाद तो आज जरूर चखूँगा.

भाई बहन की सेक्सी दिखाओ मेरी हाइट 5 फुट 11 इंच है तथा मैं फेयर कलर वाला अच्छा दिखने वाला एक आकर्षक बन्दा हूँ. भाभी के मुँह से भी धीमी धीमी आवाज़ आने लगी, उनकी सांसें एकदम तेज होने लगीं.

सेक्स करने में हम दोनों नए थे इसलिए जैसे जैसे हम आगे बढ़े… हम दोनों को और ज़्यादा मजा आने लगा. तो सबसे पहले मैं अपना परिचय आपसे करवा देता हूँ, मैं 22 साल का स्मार्ट, इंटेलीजेंट और दिल का एकदम साफ़ इंसान हूँ, जो हमेशा सबको खुश रखना चाहता है. तभी मैंने देखा कि अंकल का एक दोस्त दुबारा से फ्री हो गया, फिर तीसरा दोस्त आ गया.

भाई बहन की चुदाई वाला सेक्सी वीडियो

आहह… क्या मजा आ रहा है… मेरी चूत में उंगली भी करते रहो न… हाँ ऐसे ही… आहह…”उन्होंने मुझे पूरा नंगा कर दिया और मेरी चूत को पूरी फैला आकर चूसना शुरू किया. दो मिनट बाद जब वो मेरे गले पर गई तो मानो मुझे लगा कि मैं झड़ ही गया लेकिन नहीं… वो एक खूबसूरत अहसास था, जो मुझे मिल रहा था. मैंने अपना काम शुरू ही किया था कि लगभग आधे घंटे के बाद उसकी कामवाली बाई भी आ गई थी। दोस्तो, वह एक 19-20 साल की और 32-28-34 के फिगर साइज़ की लड़की थी, और वह दिखने में भी बहुत ही मस्त थी.

उन्होंने मुझे कस कर पकड़ लिया उनकी सांस तेज हो गई और उनकी चूत से कामरस की धारा बहने लगी. मीशा मेरे लंड की गोटियां सहलाते हुएलंड को चूस चूस कर मजा दे रही थी.

वो कभी मेरा एक चुचा दबाता तो दूसरा चूसता और अगर दूसरा दबाता तो पहला चूसता.

”अच्छा अपना हाथ लाओ और नाभि पर छूके बताओ कि मेरी नाभि तुमको कहां से अच्छी लगी?”उहह… स्सस्स… इधर से बड़ी मस्त लगी. मैं- अच्छा और लंड शांत नहीं हुआ तो?विनय- यही तो सबसे बड़े दुख की बात है कि मेरे पास कोई नहीं है. जब मेरा मन उनके बोबों से भर गया तो मैं अपना मुंह उनकी योनि पर ले गया और उनके तड़पते देखते हुए उनका पानी निकलवाया और बिना कुछ बोले बताए मैंने अपने लिंग को उनकी रिसती हुई योनि में डाल दिया जिससे उन्हें थोड़ी तकलीफ हुई.

जहां से मैं निकलती थी, लोगों की पैन्ट फूल जाती थी… और लोग मुझ पर लाइन मारते नहीं थकते थे. मैं तुरंत नीचे गया देखा वो पूरा क्रीम पाउडर लगा कर रूम में बैठी हुई थी. जैसे मैंने उसके मम्मों को हाथ लगाया, वो फिर से सिहर उठी और मुझसे जोर से गले से लग गई.

हाय मेरी माँ मैं भोले राजा पर सड़के जॉन… राजे देख यह मिस्टर तो तन तना गए… फूल के कुप्पा हुए पड़े हैं महाशय… पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च पुच्च.

नेपाली में बीएफ वीडियो: मैं बोली- अरे मम्मी ऐसे ही कुण्डी दे गई होगी, कहीं कोई और आ गया तो?बालू बोले- आने दो… अब हम मियां बीवी बनने वाले हैं। क्यूं डरें किसी से?वो नहीं गये बंद करने गेट अंदर से!और अब सीधे मेरे चूत को फैला कर अपनी जीभ से चाटने लगे; जोर जोर से चूसने लगे और दोनों हाथों से मेरे दूध दबाने लगे. वैसे और भी लड़के हैं, जो मेरी चुत में डालने के लिए अपना लंड खड़ा किए रहते हैं मगर वो कम पैसे देते हैं, इसलिए मैं उनसे नहीं चुदवाती हूँ.

एकदम मुलायम और उनमें से आने वाली खुशबू तो जैसे मोगरे के फूल की सुगंध थी… शायद उसने इत्र लगाया हुआ था. अब मुझे लगा कि लड़की राजी है, तो मैंने उसको होंठों को चूसना चालू कर दिया और वो मेरा साथ देने लग गई. और फिर मैंने भाभी की ब्रा खोल दी और उनके मस्त दूध से खेलने लगा। एक बात बता दूँ दोस्तो, भाभी के दूध ज्यादा बड़े तो नहीं थे क्योंकि भाभी की शादी कम उम्र में हुई थी और अभी शादी हुए भी ज्यादा वक्त नहीं बीता था.

जैसे हर एक लड़के को लगता है कि उसकी कोई गर्लफ्रेंड हो, मुझे भी यही लगता था और मैं भी यही चाहता था कि वो मुझसे बहुत प्यार करे और मैं हमेशा उसके ही साथ अपने आपको खुश रखूं और उसे भी ख़ुशी दूँ.

पारुल के चुचे थोड़े भारी थे और गांड भी थोड़ी मोटी थी, कुल मिला कर जो भी उसको देखता, लन्ड सलामी देने लगता. फिर वो कमरे से अपनी ड्रेस में चली गई और उधर से दो मिनट बाद ही सेक्सी सा लाल गाउन पहन कर बेडरूम में आ गई. अभी मेरे लंड का सुपारा ही अन्दर जा पाया था कि वो दर्द से चिल्लाते हुए आगे को हो गई और मना करने लगी.