हॉट भाभी सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,रक्षा बंधन कौन से दिन का है

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी xxx: हॉट भाभी सेक्सी बीएफ, दीदी- अच्छा …दीदी की सहेली ने मुझसे पूछा- क्या नाम है तुम्हारा?मैं- अर्णव.

बिहार के सेक्सी वीडियो फुल एचडी

मैं कभी शायरा का … तो कभी उस सेल्सगर्ल का‌ मुँह ताकने लगा, जिसे देख अब शायरा को हंसने लगी. sexy हिंदीमैंने इस तरह लम्बी चुदाई के बाद महसूस किया कि मैं अब झड़ने की कगार पर आ गया हूँ.

मैं भी बिना किसी डर के अब चुदवा सकती थी।हम दोनों ने एक दूसरे को अपनी सारे राज बताए कि किस किस को चोदा है या चुदी हूं. इंडियन होली सेक्सफिर आंटी ने दीदी से पापा का मोबाइल नंबर लिया और पापा को कॉल करने लगीं.

मुझे नितम्बों पर उसके लिंग का अहसास और ज्यादा कामुकता की ओर धकेल रहा था.हॉट भाभी सेक्सी बीएफ: हरियाणा सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे घर के बगल में एक सांवली लड़की रहती थी.

इसके लिए मैं शायरा के रसीले होंठों का रस पी रहा था ताकि अपने लंड को एक्सट्रा एनर्जी दे सकूँ.जब मुझे आराम मिला, तब मैं चूत को लंड में ऊपर नीचे करने लगी और आवाजें निकालते हुए मचल रही थी.

सेक्सी जोरदार - हॉट भाभी सेक्सी बीएफ

डिनर पर राजीव ने आइडिया दिया कि अगले वीकेंड पर सब लोग दो दिनों के लिए बाहर चलते हैं … मस्ती होगी.चलो उसकी सोच खराब थी, पर जितना प्यार रवि ने उसे दिया और उसके हर शौक पूरे किये, उसके बदले उसे क्या मिला.

फिर साल 2015 में हमारे यहां मेरे मामा जी आए और जब मेरी मां ने उनसे मेरी शादी के लिए कहा तो उन्होंने भोपाल में ही दो लड़कियां बताईं. हॉट भाभी सेक्सी बीएफ यह सब पता नहीं कब से इन दोनों के बीच चल रहा है … और वैसे भी अब तक तो वो साला कइयों बार मेरी बीवी शिल्पा की चुत पेल चुका होगा.

तो बताओ क्या करें अब?तो सपना ने सभी को एकदम नंगे होने को बोला- सभी अपने अपने कपड़े खुद ही उतार लो ताकि हमें कम समय लगे।सभी अपने अपने कपड़े उतारने लगे.

हॉट भाभी सेक्सी बीएफ?

जब से मैं और पिंकी पकड़े गये थे तब से मैं उनके घर नहीं जाता था, मगर अब तो मैंने उनके घर भी जाना शुरु कर दिया। हालांकि पिंकी की मम्मी यानि स्वाति भाभी की सास मुझे अब भी पसंद नहीं करती थी. मुठ मारने के बाद जब हम दोनों ठंडे हो गए, तो वो मुझसे बोला- यार तेरी मौज है. हमारे स्कूल की बिल्डिंग उस इलाके में सबसे ऊंची थी और उसकी दीवारें भी काफी ऊंची थीं, तो हम लोग नंगे छत पर क्या कर रहे हैं, इसे कोई नहीं देख सकता था.

मैंने इस तरह लम्बी चुदाई के बाद महसूस किया कि मैं अब झड़ने की कगार पर आ गया हूँ. पिछले भागसहेली के बॉयफ्रेंड की गोद में बैठीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी सहेली का ब्वॉयफ्रेंड अभिषेक मुझे अपनी बांहों में लेकर चूमने लगा था और मैं भी उसका साथ देने लगी थी. इस बार चूत को लंड के हिसाब से थोड़ा ज़्यादा अड्जस्ट करना पड़ा, जिससे शायरा को ज्यादा दर्द हुआ.

कुछ देर उसकी चूत से चिपके रहने के बाद जैसे ही लौड़ा निकाला तो बिन्नी की चूत से लावा बह निकला और बिन्नी के चूतड़ों के छेद को भिगोते हुए स्लैब पर गिरता रहा. तो मैंने अनु उर्फ अनिता की मौसी सास वीणा को दो दिन के लिए मुंबई आकर रुकने का बोला. अब मैं रोज रात को सोने या सेक्स के पहले उसको मसाज देता और तरह तरह की मसाज से उसको मस्त कर देता.

मैं खाली हाथ जाना नहीं चाहता था, सो उसके घर के नजदीक वाली शॉप के पास वेट करने लगा. मेरे मन में अभी एक ही ख्याल चल रहा था कि काश एक बार सुगंधा भाभी के साथ सेक्स करने का मौका मिल जाए तो मजा आ जाए.

उन दोनों ने भी मोनोकिनी पहनने में ज्यादा रुचि नहीं दिखाई और फिर सब सामान को समेट कर एक तरफ रख दिया.

अब उसकी स्पीड सच में तेज हो गयी थी और मुझे मेरी गांड में दर्द सा होने लगा था.

मकान मालकिन- तो क्या हुआ? अब पढ़ना है तो इतना तो करना ही पड़ेगा! और घरवालों की याद किसको नहीं आती. उन्होंने कहा- अरे सैटल तो ही जाओगे … अभी कम उम्र है तुम्हारी, तुम ये बताओ कि अगर गर्लफ्रेंड होती … तो क्या करते?मैं सोच में पड़ गया. मैं बोली- तुम दोनों कहां चले? बीयर नहीं पीनी है क्या मेरे साथ तुम्हें?ये कहते हुए मैंने उन दोनों के सामने अपनी जांघें खोल दीं.

उसने मेरे झटके खा रहे लंड को देख कर कहा- अगर तुमको परेशानी हो रही हो तो लोअर निकाल दो. दो अनुभवी बदन जैसे जैसे प्यास बुझाते रहे, त्यों त्यों प्यास भी बढ़ती चली गई. चाय बनाते वक़्त मैंने उससे कहा- तुम जबसे दिल्ली गई हो, बहुत खूबसूरत हो गई हो.

मैंने उसके गले में बांहों का हार डाल दिया और उसके सर को खींच कर अपने उरोजों तक ले आई.

मेरा अभी चुदाई करने का मूड तो था लेकिन मैं अभी कोई बात तय नहीं कर पा रहा था क्योंकि भाभी का मूड मुझे नहीं मालूम था कि वो क्या चाहती है. तब तक‌ मुझे शायरा के बारे में कॉलेज के कुछ लड़कों से व मकान मालकिन से सारी जानकारी मिल‌ गयी. इस बार मेरा पूरा लंड अन्दर घुस गया, चाची की चुत को चीरते हुए लंड अन्दर चला गया.

यह बात मैंने भाभी को बताई तो बोलीं, विजय तुम हमारे साथ चल सकते हो?कैसी बात करती हो, भाभी? क्यों नहीं चल सकता? गोपाल अस्वस्थ है तो क्या हुआ, सीमा मेरी भी तो बेटी है. मुझे मालूम था कि आप किस ट्रेन से आ रहे हैं, तो मैं आपकी ट्रेन की लोकेशन अपने मोबाइल से चैक कर रही थी. एक दिन मौका देखकर जब रोहित बाहर साइकिल चला रहा था और आंटी और पूजा पड़ोस में गयी थीं.

मैंने भी शायरा की बात मानते हुए अपनी गति बढ़ा दी और जोरदार तरीके से शायरा की चूत का बाजा बजाने लगा.

इसलिए इस बार मैंने शायरा के मम्मों पर बस एक किस करके डाइरेक्ट चुत पर जाने की सोची. इतने में मालविका अपनी अलमारी से डिल्डो निकाल कर लाई जो कि 9 इंच लंबा और 3 इंच मोटा होगा। उसने उसे अपनी कमर पे बांध लिया.

हॉट भाभी सेक्सी बीएफ तब छोटी होने के कारण में मामला संभाल नहीं पाई।जिसके कारण मेरे माता पिता जल्दी से मेरी शादी कराने में लग गए. उस समय स्मार्टफोन तो होता नहीं था, मेरे पास में सिंपल की-पैड वाला फ़ोन था.

हॉट भाभी सेक्सी बीएफ जैसे ही तुम रूम में दाखिल होगे तु्म्हें अपने घुटनों पर ही आना होगा. 20-30 मिनट तक उसने मेरे लंड को चूसा और फिर मैंने अपना माल उसके मुंह में ही गिरा दिया.

काफी देर तक मालिश करने के बाद डॉक्टर ने मुझे नहाने के लिए कहा और इशारे से बाथरूम का रास्ता बता दिया.

सेक्सी मूवी बाप बेटी की

मैंने कहा- हां मैं पूरा ले लूंगी … पर जरा आराम से चोदो अपनी माँ को … अपनी माँ को आज ही मार दोगे, तो कल कैसे चोद सकोगे?इतना सुनते ही वो मेरे मम्मे दबाने लगा और अपना बाकी का लंड मेरी चूत में उतार दिया. घर आकर मैंने वो दवाई सीधा शायरा को नहीं दी बल्कि मकान मालकिन को देना उचित समझा. फिर उसने हाथ हटा दिया, मगर अब भी एक हाथ उसने मेरी चूत के पास ही रहने दिया.

चूँकि उसका वीर्य एक बार तो निकल चुका था इसलिए इस बार अधिक समय लग रहा था. कभी-कभी दोस्तों से मस्त चुदाई वाली मूवीज मिल जातीं, तो बस उसे देखकर बाथरूम में जाकर लंड को मुठ मार कर माल निकाल देता था. मार्केट में और कहीं नहीं मिलेगा और हम‌ 20% डिस्काउंट भी दे रहे हैं.

पर मैं इस सब से बची रही थी।यहाँ तक कि मेरी सहेली आरुषि की भी एक लड़के से सेटिंग हो गयी थी और वो मुझे बताती रहती थी कि क्या क्या हरकतें होती रहती हैं उसके और उसके बॉयफ्रेंड के बीच में!पर वो ज्यादा विस्तार में नहीं बताती थी लेकिन मुझमें उत्सुकता रहती थी जानने की।सचिन मुझे ज़्यादातर उनकी बातें बता देता था क्योंकि मेरी सहेली का बॉयफ्रेंड उसका दोस्त था.

कुछ देर बाद वो अपनी जांघों के बीच मेरे चेहरे को दबाते हुए बोली- अब बर्दाश्त नहीं हो रहा यार. क्योंकि मैंने भी अपनी फोटो उनको भेजी हुई थी, तो उनको भी मुझे पहचानने में देर ना लगी. तभी रोहित ने कमरे का दरवाजा बन्द कर दिया और ऊपर की चटकनी (कुंडी) लगा दी.

”मम्मी शरमा गयी।फिर मम्मी ने लाल जोड़ा पहना, लिपस्टिक, बिंदी, नई चूड़ियां, पूरी सज के तैयार हो गयीं।उपिन्दर आया, बड़े प्यार से मम्मी का हाथ पकड़ा और गाड़ी में बिठा लिया।अरे कामिनी, अंजू तुम लोग नहीं चलोगे?”मम्मी हमारा वहां क्या काम?”वे दोनों चले गए।हम दोनों बैठ गए, बोतल खुल गयी, पेग शुरू हो गए।अंजू ने कहा- अब तक तो सब ठीक हो रहा है. उसने मुझसे सुबह की बात पूछी, पर मैंने उसे इग्नोर कर दिया और अपना पूरा ध्यान अपनी पढ़ाई और अपने प्यारे डॉक्टर पर लगा लिया. मैं भी जोश में आ गया और उसके एक स्तन को उसकी ब्रा के ऊपर से ही अपने मुँह में दबोचकर उस पर अपने दांत गड़ा दिए.

अब मेरी स्पीड बढ़ भी रही थी, मैं तेजी से मॉम की चुत चुदाई कर रहा था. दिन में मैं और छाया बात कर रहे थे कि अचानक छोटे भैया आ गये। सच तो यह है कि आज मैं भी देवर जी का इंतज़ार कर रही थी क्योंकि मैं जानना चाहती थी सूसू मतलब स्खलित क्या होता है?क्योंकि छाया को सब कुछ पता ही था तो छाया बाहर चली गयी और किसी से फ़ोन पर बात करने लगी।कहानी जारी रहेगी.

तभी विक्रम ने संजू के दोनों बाजुओं को पकड़कर उसे बड़े प्यार से बेड से नीचे खड़ा किया और अपने आगोश में भर लिया. मैंने पूछा- इतना जल्दी … मैं आपको न जानता हूं … ना मैंने आपको देखा है. मैंने उनसे लंड गांड में लेने को बोला, तो वो कहने लगीं- यार … मैं इस पहले राउंड में बुरी तरह से थक चुकी हूँ.

मैं तो सोच रहा था कि शायरा के ब्रा पैंटी पर दो सौ अढ़ाई सौ रुपए खर्च करके उसके साथ काफी हंसी मजाक कर लूंगा मगर ये तो बाजी ही उल्टी पड़ गयी थी.

मेरी जीभ ने भाभी की चुत पर एक पेशेवर चोदू की कला का मुजाहिरा किया था. उस पूरे पीरियड उसने मुझे हचक कर चोदा और माल मेरी चुत में ही गिरा दिया. चाची मेरे लंड को झट से हटा दिया और चॉकलेट सीरप को लंड के ऊपर डालने लगीं … फिर धीरे से लंड को एक बार मुँह में ले लिया.

दोस्तो, कैसे मैंने सील पैक चूत को चोदा ये चुदाई की आग की कहानी मैं अगले भाग में विस्तार से लिखूंगा. मैंने झड़ता लौड़ा उसके मुंह से निकाला तो दूसरी धार उसके मम्मों पे गिरी.

मेरा लंड सात इंच लंबा व दो इंच मोटा है, जो किसी औरत को पूरी तरह से संतुष्टि दिला सकता है. डॉक्टर साहब की गांड मारने में मैं ऐसा मस्त हुआ कि मैं उनकी चूमा चाटी भूल गया. मगर जैसे ही मैंने उन्हें पकड़ा स्वाति भाभी ने तुरन्त अपना एक हाथ मेरे हाथ पर रख दिया.

बिहार सेक्सी फिल्म वीडियो

अब उन्होंने अपनी गांड में टूथब्रश घुसेड़ लिया था और तेजी से टूथब्रश से अपनी गांड घिस रही थीं.

मैं- अरे नहीं, वे सर हम लौंडों की बार बार मारते थे … कई बार रगड़ी थी, तो अन्दर गुस्सा था. एक दिन जब उसका लंड पूरे शवाब पर था तो मैंने उससे कहा- इसका कोई पक्का इलाज करो. मैंने उसकी चुत से निकलने वाले खून को साफ़ करने के लिए सैवलॉन और कॉटन का इंतजाम करके रखा.

भाभी न तो मुझे रोकना चाहती थीं और न ही मुझे चोदने के लिए आगे बढ़ने दे रही थीं. जब वो मेरे सीने पर आई, तब हर बार की तरह कामुक हरकत करते हुए मेरे सीने की घुंडियों को बारी बारी से चूसने लगी. सेक्सी पिक्चर राजस्थान कीमल्लिका शेरावत भी अब काफी उत्तेजित लग रही थी मगर फिर भी वो इमरान हाशमी को ‘नहीं‌ नहीं.

अब विक्रम संजू की गर्दन पर, कभी उसके कानों पर, कभी चेहरे पर किस करने लगा. कुछ मिनट तक लंड चुसवाने के बाद मैंने उनको सोफे पर लिटा दिया और उनका एक पैर ऊपर करके उनकी झांट रहित चूत में थूक लगा दिया.

उसे कितना भी दर्द हो, वो चुत चूसने के बीच में मुँह हटा नहीं सकता था. तभी अनुवादक ने कहा- भाभी जी मैं आपके लिए दवाई लेकर आता हूं वरना आपकी तबियत खराब हो जायेगी. वो लंड चूसने में इतनी एक्सपर्ट थी कि 6 – 7 मिनट में ही मुझे लगा मेरा निकलने वाला है.

इस पर वो तड़प कर रह गये और पास आकर गिड़गिड़ाते हुए बोले- जान, ऐसा मत कर! बहुत दिनों का प्यासा हूँ. ’ की कराह निकल‌ गयी और एक मस्त सी सिहरन मुझे उसके जिस्म से उठती सी महसूस हुई. मैंने भी पीछे से हाथ ले जाकर उसकी जीन्स को टटोलते हुए उसकी पैंट के अन्दर हाथ डाला तो मैंने पाया कि उसने पैंटी भी नहीं पहनी हुई थी.

उसने मुझे पूरी नंगी करके रखा हुआ था और गोद में बिठा कर अपने लंड को मेरी चुत में डाल कर बोला- अभी तो इसका इलाज तुम्हारी चुत ही कर देगी.

अरे भाई जाने‌ दे इसे … इसकी शुरूआत तो कल अपनी‌ शायरा ने ही कर दी थी … हाहाहा. उस लड़की पर गिरने से मैं नीचे गिरने से तो बच गया मगर वो लड़की मुझ पर बुरी तरह भड़क गयी‌ और तमाशा खड़ा हो गया.

अनिल ने उसकी चूत में ढेर सारा थूक डाला, जिससे वो बहकर पिंकी की गांड तक आ रहा था. मैं अपनी सास की चूचियां देख कर मदहोश हो गया था और बस उनके दूध देखता ही रह गया. मैं भी अपनी उंगली को तेजी से अंदर बाहर करने लगा।मीना मज़े में अपनी चूची दबा रही थी और उसकी आंखें बंद थीं.

तभी उसने मेरे हाथ पकड़ लिये और बोली- अगर आपने चीटिंग की तो मैं आपकी शर्त पूरी नहीं करूंगी. साली ने पूछा- क्या हुआ, किसका फोन था?मैंने कह दिया- मेरे मित्र का मुंबई से फोन आया था. हम घर से निकल चुके हैं … और अर्णव कैसा है?दीदी- वो भी ठीक यहीं पर हैं.

हॉट भाभी सेक्सी बीएफ अनीता खूब जोर से जीभ को जीभ लड़ा कर चूसने लगी … साथ ही अपनी तरह से वहशियाना तरीके से मेरे एक हाथ सर के पीछे दूसरा हाथ मेरे सीने पर रस कर सख्ती से मेरी एक घुंडी को मसलने लगी. मनोज के जाने के बाद दीपा ने सुनील से आराम से कपड़े ढीले करके लेटने को कहा और उसे उसका रूम दिखा दिया ताकि वो रसोई समेट ले.

कैटरीना कैफ की सेक्सी कैटरीना कैफ

वो बोलीं- मुझे आपसे सेक्स करना है … इसीलिए मुझे आपका कुछ टाइम चाहिए. मेरे वीर्य की हर एक बूंद उसकी चुत में समा गयी और मैं उसके मम्मों को मसलते हुए निढाल हो गया. वो आहें भरने लगी- आह … जान … तेज करो … आह … उह …!कुछ ही देर में उसने मुझे बांहों में कसा और पलट गयी.

ऐसी पोजीशन्स ट्राई करें कि लंड को भी बाहर ना निकालना पड़े और पोजीशन भी बदल जाये. हम मिल दूसरी बार रहे थे, एक बार हम इस से पहले एक मॉल में मिले थे।हम घर के अंदर चले गए। उसने मुझे ड्राइंग रूम में बिठाया और चाय पानी के बाद मुझसे बातें करने लगी. रेटिंग अर्थमैं धीरे धीरे उससे चैट करने लगा और बात बढ़ते-बढ़ते अब दिन रात होने लगी।अब फ़ोन पर भी बात शुरू हो गयी।एक हफ्ते बाद मैंने उससे कहा- चलो कहीं चलते हैं।उसने कहा- ठीक है.

मैं चुदते हुए पूछने लगी- आपने मेरे साथ ऐसा क्यों किया?वो मुझसे कहने लगे- बेबी … बस मैं तुम्हें किसी और से चुदते हुए देखना चाहता था.

ये तो तय था कि उन सभी के होंठ चिपके हुए होंगे और हाथ भी इधर उधर हो रहे होंगे. अपनी एक उंगली पर मैंने लोशन लगाया और थोड़ा उसकी चूत पर लगा दिया और एक उंगली उसकी चूत में डाल दी.

मैंने उससे ऐसे जवाब की उम्मीद नहीं की थी, लेकिन इतने में वो औरत बोली कि तू भी 500 रुपए देगा, तो मजे कर सकता है. तभी उन्होंने अचानक फिर से अपने हब्शी लंड का एक जोरदार धक्का और दे दिया. मगर बीवी की चूत खुली हुई थी इसलिए सोफिया की कुंवारी चूत वाला मजा कल्पना में भी नहीं मिल पा रहा था.

राहुल के पास सीमा आ गयी, धीरज के पास नायरा, पिंकी खुद ही मुश्ताक की बाँहों में झूल गयी और शबनम राजीव के पास.

उसने मेरा मूत गिरता देखकर आंखें बंद कर लीं और मैंने उसका चेहरा भिगो दिया. चुत को तो चोद करके इस तरह से चूसा था कि चुत पूरी तरह से खुली हुई दिखने लगी थी. कुछ ही देर में वो कामुक आवाजों में आह आह की मधुर ध्वनि निकालने लगा.

बुद्धि सेक्सी वीडियोयह सब देख कर मैंने कहा- क्या तुम मुझे यह सब दिखाने के लिए यहां पर लाए हो. उस वक्त मेरी उम्र 41 वर्ष की थी और उस हिसाब से वो 30-32 वर्ष की लड़की ही ठीक लग रही थी.

सेक्सी युट्युब

मैंने न्यासा की गांड में लंड आगे पीछे करना चालू किया, तो कुछ ही झटकों में उसकी गांड ने मेरे लंड के हिसाब से अपनी जगह बना दी और एक साथ गांड और चुत में लंड चलने लगे. सबसे पहले मेरे पति को कोरोना हो गया और मेरे पति से मेरे सास और ससुर को भी कोरोना हो गया. वो मोटे लंड से हुए दर्द से एकदम से चिल्ला उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ उसे ज्यादा पेन हो रहा था, लेकिन बुर पूरी तरह से चिकनी हो गई थी, तो आराम से अन्दर जा रहा था.

मैं बस उसकी चुदाई कर देना चाह रहा था अब मगर उसकी मर्जी से।किसी तरह से रात के 10 बजे. उससे बात करने के बाद मैंने सोचा कि ऐसा तो है नहीं कि मैंने पहले इतनी उम्र के बुड्ढों के साथ सेक्स नहीं किया था. अब आगे की हॉट बुर हिंदी कहानी:मैं- प्रोग्राम कैसा रहा?बिन्नी- ए-वन प्रोग्राम था.

दोनों पसीने में भीग गए थे।मैंने उसे उठाकर बिस्तर से नीचे किया और नीचे लेट गया. मैं बच्चों से शैक्षणिक व सांस्कृतिक गतिविधियां करवाता रहता था, जिसका मुझे बहुत अच्छा रिस्पांस मिला था. मैं तो नहीं पहचान पाया किंतु वो मुझे देखते ही पहचान गयी।उसने खुद सामने से बोला- अरे … तुम सनी हो न? कैसे हो? इतने दिनों बाद दिखे हो.

” ज्योति ने इस बार पूरी बेशर्मी से अपने पिता को देख कर सिसकते हुए कहा।” लो आआह … अपने पिता के मोटे लंड को अपनी चूत में महसूस करो!” महेश ने एक ज़ोर का धक्का मार कर अपने लंड को आधे से ज्यादा अपनी बेटी की चूत में घुसा दिया।उईई माँ… बहुत मोटा है आपका पिताजी, आह … दर्द हो रहा है. वो चारों एक कमरे में चले गए और कमरे का दरवाजा अन्दर से बंद कर लिया.

अब जो करना होगा करेंगे।”उसकी तरफ से मुझे अब पूरी छूट मिल चुकी थी; अब मुझे किसी बात का डर नहीं था।मुझे अपनी जिंदगी में एक बेहद ही खूबसूरत जवान और सेक्सी लड़की मिल चुकी थी।अब मैं उसका पूरा मजा लेना चाहता था; उसे हर तरह से चोदना चाहता था।वो अब मेरी थी।उस रात मैंने केवल एक बार ही उसकी चुदाई की क्योंकि रात ज्यादा हो चुकी थी.

मैं- भाभी आप अपना नंबर तो दो, मैं आपको गर्भ निरोधक टेबलेट्स पहुंचा दूंगा. सेक्सी वीडियो असली वालीअब उसने जोर लगाकर पूरा डिल्डो मेरी गांड में डाल दिया।मैं दर्द के मारे छटपटाने लगा जैसे कि मछली पानी से बाहर निकाले जाने पर छटपटाने लगती है. मां और बेटाइस समय भाभी को आराम करने की जरूरत थी और मैं उनको ज्यादा तंग करना नहीं चाहता था. क्या मैं इसे हाथ लगा कर देख लूं!मैं बोला- हां, जो तुम्हारा मन करे, कर सकती हो.

(उंगली करना जारी रखो)कुछ देर बाद उसने मुझसे पूछा- तुम क्या कर रहे हो.

खैर … इन सबके चलते अब ऐसे ही एक दिन जब मैं कॉलेज से घर आया, तो‌ मकान मालकिन और शायरा बाहर बैठकर चाय पी रही थीं. उधर ड्राइवर भी उस रांड के एक बूब के साथ खेल रहा था और एक के साथ में लगा हुआ था. मैंने फिर उसको जोर देकर नहीं कहा क्योंकि मैं आखिर में उसकी चूत ही तो मारना चाहता था.

मैंने उसे हाथ मुंह धोने के लिए बाथरूम में भेजा, मैं टेबल पर इंतजार करने लगी।वह आया. गोली हम दोनों पर असर कर रही थी।जैसे ही बियर खत्म हुई हम दोनों एक दूसरे पर टूट पड़े और बुरी तरह एक दूसरे को चूमने लगे।मैं चाहता था कि मीना खुद ही मेरा लन्ड अपनी चूत में डाले, यही सोच कर मैंने उसको गर्म करना शुरू कर दिया. मैं ऊपर से उसकी चुत बजा रहा था, तो नीचे से वो भी अपनी चुत को उचका उचकाकर मेरे लंड को अपनी चुत में उतारने की कोशिश कर रही थी.

देहाती ब्लू सेक्सी देहाती ब्लू सेक्सी

अगले दिन सुबह जब मैं अपनी ड्यूटी जा रहा था तो मेरी मकान मालक़िन अपनी लड़की नेहा को कुछ बोल रही थीं. चोर को चोरी करते रंगे हाथ पकड़ लिया ज़ारा ने!मेरी प्यार सेक्स की कहानी पर अपने विचार लिखें. मुझे और भाई को तो घर से निकलने में कोई परेशानी नहीं थी क्योंकि भाई और मेरा रिश्ता तो भाई-बहन का था.

मैं मिन्नत करने लगी और बोली- जीजा, बस एक बार डाल दो, अगर भाई आने लगे तो वापस अंदर कर लेना.

तो उसने काफी की जगह अगर ड्रिंक संभव हो तो उसकी इच्छा जताई।मैंने फ्रिज खोलकर देखा तो उसमें कुछ व्हिस्की रखी हुई थी। मैंने लाकर योगेश के लिए पेग बना दिया और उसके सामने बैठ गई।योगेश ने मुझसे भी ड्रिंक लेने का अनुरोध किया।अब मैं समझ गई कि यह आज भी मेरे साथ संभोग करना चाहता है.

वो मुझे देख कर मुस्कुरा कर हाथ हिलती हुई मेरी तरफ आती है और आकर मुझे बांहों में भर लेती है, मैं उसे देख कर हैरान हो जाता हूँ।क्या माल लग रही थी वो … उसने एक सफेद रंग की फ्रॉक पहनी थी जिस पर गुलाबी रंग के फूल प्रिंट थे, जिसकी लम्बाई उसके घुटनों से थोड़ा ऊपर थी जिस कारण उसकी चिकनी सफेद जांघें दिख रही थी. मैंने उस मूवी को अब लगा तो लिया मगर कुछ देर बाद ही उस मूवी में किसिंग और लिपटने चिपटने के सीन आना शुरू हो गए. सेक्सी मराठी शॉटमुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि राहुल शिल्पा की गांड भी मारने वाला है.

मैंने पूछा- जब आप कॉलेज आ जाती हैं तो बिटिया को कौन देखता है?उन्होंने बताया कि मैंने एक नौकरानी रखी हुई है, जो दिन दिन में घर का काम करती है तथा बच्ची को भी देखती है. पिता जी अपना ‘वो’ डाल दो ना!” ज्योति ने फिर से तड़पते हुए कहा।वो क्या बेटी? मुझे तो कुछ समझ में नहीं आ रहा है?” महेश ने फिर से अपनी बेटी की चूत पर अपना लंड घिसते हुए कहा। ज्योति अपने पिता के मोटे लंड को अपनी चूत में लेने के तप रही थी और महेश उसको तड़पाने में लगा था. शायरा को कुछ लेना तो था नहीं, इसलिए वो वैसे तो दुकान के बाहर वहीं स्कूटी के पास ही खड़ी हो गयी थी.

मगर मेरे पति मुझे किस करने लगे और प्रीत मेरी कमर पर मुझे किस करने लगा. मगर जैसे ही मैंने उसकी साड़ी के पल्लू को उस कील से निकालकर अलग किया.

मैंने बोला- आरव काम क्यों नहीं किया तुमने!आरव जबाव में कुछ नहीं बोला, बस रोने लग गया.

भाभी के कातिलाना मम्मों को देखकर मेरा मन उनके मम्मों को अभी के अभी दबाने का कर रहा था. मैंने उनमें एक को कैसे गर्म करके चुदाई के लिए मनाया?अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम अर्जुन है और ये मेरी अन्तर्वासना पर पहली कहानी है. मैं नया नया था इसलिए कॉलेज में रैगिंग के नाम पर सीनियर लड़कों ने थोड़ा बहुत परेशान तो किया, मगर फिर भी सब कुछ ठीक ही रहा.

देसी सेकसी फोटो जैसे ही उस लड़की‌ ने मेरे बैग को‌ नीचे पटका, मेरा पारा और भी चढ़ गया. ज़ारा मेरे होंठों पर टूट पड़ी! मैं एक हाथ से उसकी चूचीयां दबाने लगा तो वो सिसकारियां लेने लगी और मेरी बनियान निकाल दी.

संजू बोली- क्या यार … अभी कुछ देर पहले ही तो तुमने मुझे चोदा था ना. उईई आह्ह्ह्ह पिता जी … अपना लंड डाल दो ना … अपनी बेटी की चूत में!” ज्योति ने इस बार अपने चूतडों को उछाल कर ज़ोर से सिसकारी भरते हुए सारी शर्म को त्याग दिया. मैंने उसकी चूत को सहलाया तो प्रीति बोली- अभी ही तुम्हारे लिए साफ़ की है.

खुला चुदाई वीडियो सेक्सी

मगर काफी आवाज देने पर भी किसी ने कोई जवाब नहीं दिया।जब बाहर से किसी ने जवाब नहीं दिया तो मैंने अब उनके ड्राईंगरूम के दरवाजे थोड़ा धकेलकर देखा. क्योंकि मैंने भी अपनी फोटो उनको भेजी हुई थी, तो उनको भी मुझे पहचानने में देर ना लगी. मैं अपनी चूचियों को दबा कर मस्त हो रही थी ‘हम्म्म … आह अह …’ की आवाजें मुंह से निकलने लगी थी।फिर मैं उसके लन्ड की तरफ मुड़ गई। लेट के मैं उसकी जींस की हुक खोलने लगी.

मेरी बीवी को राहुल बेरहमी से पेल रहा था और में इधर लैपटॉप पर उन दोनों की लाइव चुदाई देख रहा था. उसने अमित के बाल पकड़ कर ऊपर अपनी तरफ खींचा और उसे लन्ड डालने के लिए कहने लगी!अमित ने भी देर न करते हुए जोर के एक झटके से ही पूजा की चूत में अपना लन्ड घुसेड़ दिया.

मैंने अपनी पोजिशन ले ली और अपने खड़े लंड को भाभी की मखमल जैसी चुत पर सैट कर दिया.

उसने आधा वीर्य मुँह के अन्दर छोड़ दिया और आधा मेरे मुँह के ऊपर छोड़ दिया. ज़ल्द ही मैंने अपना लंड अंजू के मुंह में दे दिया और तीसरी धार अंजू के मुंह में गिर गयी. वो हंसने लगी और बोली- इधर खुले में तो पूरी इज्जत का फालूदा बन जाएगा.

अगर तू पहले ही हाँ बोल देती तो!भाभी, दूसरों के पसंद का लण्ड लेने में और खुद पसंद करके लण्ड लेने में बहुत फर्क होता है. तभी मेरा फोन बजा!मैंने सुना!मैं- यार, मुझे एक बार पारुल के पास जाना पड़ेगा!ज़ारा- क्यों?मैं- अब, बुलाया है!ज़ारा- अर्जेंट है?मैं- हां!सुनते ही उसका चेहरा उतर गया!मैं- क्या हुआ?ज़ारा- कुछ नहीं … मैं खाना बनाती हूं!कहते हुये वो उठी और किचन में चली गयी. जब उसकी चुत बर्फ के पानी से गीली हो गई, तो मैंने अपना मुँह पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत पर लगा दिया और बर्फ का बचा हुआ टुकड़ा उसकी चूत के छेद में लगा दिया.

वो झल्ला गई और उसकी गालियां बढ़ने लगीं- डाल दे मादरचोद … क्यों तड़फा रहा है हरामी.

हॉट भाभी सेक्सी बीएफ: तभी मैंने संजना को अपने ऊपर से हटाया और सीना की चूत में जोर जोर से अपना लौड़ा घुसाने लगा. वह सेक्सी चुटकुले भी बोल देता, सेक्स की बातें भी करता था।मैं उससे बात करती हूँ ये बात मम्मी को नहीं पता थी.

सेक्सी चूत की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी सहेली के बॉयफ्रेंड को अपनी सेक्सी अदाओं से पता कर उससे अपनी कुंवारी बुर की सील तुड़वा ली. ” छाया ने बात काटते हुए कहा जो सही भी था।छाया ने जो कपड़े पहने थे, वो ही पहन लिए और मैंने भी अपने कपड़े पहने. दोनों ही एक दूसरे के जिस्मों अपने में समाने की कोशिश करते हुए एक दूसरे से लिपटते हुए चूमा-चाटी में लग गये.

आज तक जितनी चूत मुझे चोदने को मिली थीं, सबको मेरा लंड हमेशा के लिए चाहिये था.

कुछ देर सर ने मेरे चूचों को चोदा, फिर उन्होंने मुझे उल्टा कर मुझे डॉगी बनने को बोला. मैं प्रीति के अन्दर उस गहरायी में हो रहे उस अनुभव को लेकर बहुत आश्चर्यकित था. मैं मुंबई में अपनी खूबसूरत और हॉट बीवी शिल्पा के साथ एक आलीशान अपार्टमेंट के एक शानदार फ्लैट में रहता हूं.