बीएफ फुल वीडियो में

छवि स्रोत,बॉयज फैशन

तस्वीर का शीर्षक ,

चाइनीस की सेक्सी फिल्म: बीएफ फुल वीडियो में, उसकी हंसी तब भी बंद नहीं हुई, पर वह अपनी टांगों को सिकोड़ कर बुर को छिपाने की कोशिश करने लगी.

हिंदी फुल सेक्सी वीडियो

प्रिया ने भी मेरे जींस के अन्दर हाथ डाले और मेरे नितंब पर हाथ फिराने लगी. बेंगलुरु सेक्सी मूवीवो बोली- सेक्स कैसे करते हैं?मैंने कहा- क्यों मुझसे मजाक कर रही है.

बस फिर क्या था, मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और धीरे धीरे चूसने लगा. छोटी उम्र कीमैं मस्ती से भाभी के मुँह को चोदने लगा और वो भी मेरा पूरा साथ देने लगीं.

पोली शीत बिछी होने के कारण मेरा पूरा बदन मेरे ही पेशाब से भर गया जिसके कारण मेरी चीखें निकलने लगी.बीएफ फुल वीडियो में: पाँच मिनट ऐसे ही रहने के बाद कल्पना का दर्द कम हुआ, तो मैं लंड धीरे से आगे पीछे करने लगा.

कुछ देर बाद हम दोनों सेक्स करते करते झड़ गए और हम दोनों का पानी निकल गया.मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी हथेली पर रख दिया, मेरे मुंह से निकल पड़ा- ठीक है, हम दोस्त हैं अमित जी.

पंजाबी सेक्सी डाउनलोड - बीएफ फुल वीडियो में

कुछ ही देर में फिर से वासना का झंझावात उठा और हम दोनों उस काम के दरिया में गोते लगाने लगे.बस उनके कहते ही मुझे लगा, जैसे बदन से मेरी जान मेरे लंड के रास्ते बाहर निकल रही है। मैंने एक झटके से अपना लंड अपनी मॉम की चूत से निकाला और जैसे ही लंड बाहर निकला एक गाढ़े सफ़ेद पानी की धार बड़े ज़ोर से बाहर को निकली और मॉम के मुंह तक जा गिरी.

फ़िर वाणी ने भी बात ना खींचते हुए बताया- तुम सही बोल रहे हो, यह मेरी सहेली है और इसके और मेरे पति दोनों साथ में काम करते हैं इस वक्त दोनों साथ में टूर पर गये हैं. बीएफ फुल वीडियो में क्यों ज्यादातर मर्द मुझे इस तरह के कपड़े उपहार में देते हैं और क्यों इन परिधानों में मुझे देखना चाहते हैं.

मेरी कल्पना से आप ज्यादा सुन्दर और मोटे तगड़े हो, नाइस टू मीट यू सर.

बीएफ फुल वीडियो में?

रात को हम जैसे रोज़ करते हैं, वैसे ही चुदाई कर रहे थे और चुदाई करते समय आवाजें निकालने की मेरी आदत है, क्योंकि उसके बगैर हम दोनों को ही मज़ा नहीं आता था. मिसेज रॉय का परिचयमैं अपनी पिछली कहानी में बता चुका हूँ, जो हमें क्लब में मिली थीं. वह एक गंदा लव लेटर था। मैंने देखा कुछ अश्लील बातें उसमें लिखी हुई थी। नीचे मेरा नाम भी लिखा था.

इन सब के बीच में उसके रसीले होंठों को भी चूमता, कभी उसकी अर्धविकसित चूचियों को मुँह में भर कर चूसने लगता. मैं पीछे जाकर खड़ी हुई तो वहां लेडीज के पीछे फिर जेन्टस और लड़के खड़े थे. इस बात का एहसास होते ही देर न करते हुए प्रशांत ने उसे अपनी बांहों में लपेट लिया.

ले मैं पहली बार इतनी जल्दी मेरा लंड लावा उगलने को तैयार हो गया वन्द्या. अचानक से उसने मेरी पैंट को खोला और मेरे अंडरवियर में से मेरा लंड निकाल कर अपने हाथ से हिलाने लगी। फिर अचानक से उसने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया। उसकी छुअन बहुत ही सुंदर प्रतीत हुई और मुझे अपार आनंद देने लगी। उसने मेरे लंड को मुंह में लेकर वहीं पर चूसना शुरू कर दिया. दोनों चिल्लाने लगीं- आआआ … उईईईई … मादरचोद लम्बी रेस के घोड़े … यू फक सो गुड …वे दोनों तरह तरह की आवाजें निकाल रही थीं.

चूंकि भाभी की बहन की शादी भाटापारा में हुई थी, इसलिए रायपुर से ही व्यापार चलता है. कसम खा कर कहता हूं दोस्तो, उस वक़्त मेरे दिमाग ने काम करना बंद कर दिया था.

राहुल ने मेरी दोनों टाँगों को फैला दिया और बड़ी गौर से मेरी चूत को देखने लगे.

उन्होंने बताया कि मेरा एक लड़का है, जो अभी बारहवीं में है, हॉस्टल में ही रहता है.

एक ही दिन में दो नयी बीवियां … एक कटरीना जैसी और दूसरी ज़रीन खान जैसी. उसने अपनी आंखें बंद कर लीं, मैंने उसकी लिप्स पर एक जोरदार किस की और वह मुस्कुराने लगा. मैंने अपने हाथ अपने सर के नीचे रखे और आराम से उनकी चूत और चूत के दाने को बारी बारी से चाटने लगा.

करीब 2 से 5 मिनट होने चले थे और सुखबीर के शरीर से पसीना बहने लगा था. जब बच्चे स्कूल से आ गए, तो उनको खाना खिलाया और उसके बाद वो लोग टीवी देखने लगे. उनको देखकर मैंने अचानक से बोला- सरप्राइज …भाभी अचानक से मुझे देख कर शॉक में थी और मैं शॉक में होने का नाटक कर रहा था.

कल्पना- आप कब फ्री हो?मैं- आप जब बोलेंगी, तब मैं मैनेज कर लूंगा, बस आप ये बताइए कि आपको कब और कहां मिलना है और कितने टाइम के लिए?कल्पना- आप परसों दोपहर में मिल सकते हैं?मैं- दोपहर में कब और कहां?कल्पना- दोपहर में 3 बजे तक.

इधर मेरा कॉन्ट्रैक्ट ख़त्म हो गया था लेकिन मुझे छुट्टी नहीं मिल रही थी क्योंकि मेरे रिलीवर की फ्लाइट मिस हो गई थी. जब से सीमा हमारे घर पर आई थी हम दोनों में खूब सारी बातें होना शुरू हो गई थीं. तो मैंने कहा- फिर स्माइल क्यों कर रहे हो?वह बोला- तुझे मेरी स्माइल अच्छी लगती है ना.

लंड चिकना हो गया और सीमा ने दोबारा से मेरे लंड की मुट्ठ मारना शुरू कर दिया. वैसे भी गांव में आसपास के एरिया में मम्मी के कारण मेरा घर बदनाम था. तेरे पास तगड़ा लंड ज़रूर है, लेकिन जिगर नहीं कि मुझे पाने की पहल कर सके.

इनके अब्बू और अम्मी भी शरम से बेहाल थे और मुझे मेरी हालत देखकर मुझे कुछ समय के लिए अपने घर जाने को कहा ताकि शायद वो कुछ कर सकें.

मेरी चूची को चूस कर और मेरे निप्पल्स को बाईट करके वो मुझे चोद रहा था. क्योंकि देविका और मेरे सम्बन्धों के बारे में सिर्फ शंकर जानता था, साले ने जरूर इसे बता दिया होगा.

बीएफ फुल वीडियो में मेहरा जी की बीवी से कोई लड़का अक्सर मेहरा जी के जाने के बाद मिलने आता है. मैं अपने हाथों से नामित के लंड को सहला रही थी क्योंकि वहां पर एक वही लंड था, जो मुझे अपना सा लग रहा था.

बीएफ फुल वीडियो में उसकी पैंटी को हाथ से सहलाया तो पता चला वह पहले से ही गीली हो चुकी थी. उसे भी मज़ा आया और अबकी बार उसने घूंट भरा और मुझे अपने मुँह से पिलाने लगी.

फिर वो अपनी योनि खुजा कर सो गई लेकिन उससे मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने उसको करीब खींचा तो वो भी करीब आ गई।मैंने अपना एक हाथ थोड़ा नीचे करते हुए उसकी गाण्ड पर रखा और आहिस्ता से उसका एक पैर मेरे पैर पर चढ़ा लिया। अब तक वो भी जाग चुकी थी.

बीवी नम्बर वन

इतना कहकर उसने मेरी टांग को फैलाया और देखते देखते अपने होंठों को मेरी चुत पर रख दिए. करीब 10 मिनट की चुदाई के बाद अब्दुल तो अपने लंड को पूरा एक साथ बाहर निकाल के अन्दर करता हुआ मजा ले रहा था. तुझे रंडी बाजी करने का छिनाल बनने का इतना शौक है, तो हमारे घर के लड़कों को क्यों फंसाया.

उसे पीछे खींच कर उसके होंठों को चूसने लगा और बोला कि चल अब तेरी बारात निकालता हूँ साली. मैंने पूछा कि क्या बात है?तो उसने कहा कि मेरे घर की इमरजेंसी लाइट नहीं मिल रही है. फिर मामी ने मुझसे कहा कि तुम्हारे कंधे पर जो टैटू बना है वो मुझे बहुत पसंद है.

उसने एक हाथ मेरी पीठ पे रख दिया- न न … तेरी जगह मेरे पैरों में नहीं है.

रमीज ने मेरे बाल खींचकर कूल्हों में थप्पड़ मारते हुए बहुत जोर जोर से चोदने लगा. अब मैं भी चलता हूं … इस रंडी को कभी मेरे को अकेले में देना … साली को दिल से खुश करूँगा. कुछ देर बाद हम दोनों लोग ओरल सेक्स करने के बाद झड़ गए और अब वो मुझे किस करने लगा.

उसने अपने जिम ट्रेनर को बोल कर अपनी गांड को बड़ी, गोल और सुडौल करने वाली एक्सर्साइज़ करनी शुरू कर दी थी. हम दोनों के होंठ आपस में एक दूसरे के होंठों को चूसने में लगे हुए थे. ऐसे ही करते करते हम दोनों का पानी निकल गया, जिसे हम दोनों ने पी लिया.

शंकर जी- नहीं बाबा … ये गांड का छेद आपको ही मुबारक, मुझे इन सब चक्करों में नहीं फंसना है. मैं उत्तराखंड के एक छोटे से शहर से हूँ और उसी शहर से मैंने अपनी पढ़ाई पूरी की है.

मुश्किल से डेढ़ इंच ही अन्दर गया होगा कि मेरी चूत में दर्द होने लगा और चूत से खून भी निकलने लगा. मैं मस्ती से इतनी भर गई कि झड़ते हुए मैंने उसके अंडों को कस के दबाए रखा और लिंग पर दांत गड़ाए रखे. मैंने उसके साथ अभी तक किस के अलावा और कुछ नहीं किया था, रात को जब वो सभी के सो जाने के बाद मेरी बुलाई जगह पर आई तो हम दोनों में बातें होने लगीं.

उफ्फ़ … अहह … हाँ … और चोदो, अपनी भाभी की चूत … अंदर तक घुसेड़ दो राहुल … अपने लण्ड को … उफ्फ … अह्ह … आह … चोदो.

मैं- तकलीफ कैसी, वो बच्चे पार्टी एन्जॉय कर रहे थे, तो मैं उनका मजा किरकिरा करना नहीं चाहता था और चलो इसी बहाने आपसे मुलाकात भी हो गई, वरना तो अक्सर फोन पर ही बात होती थी, अच्छा मैं चलता हूँ. उन्होंने हंसते हुए कहा- बस पानी?वो गांड मटकाते हुए अन्दर चली गईं, उनका मस्त फिगर देख कर तो जी मचल रहा था, मन कर रहा था कि पकड़ कर गोद में बिठा लूँ. यहां पर एक तरफ ऐसी बिल्डिंग खड़ी हुई दिखाई देती हैं कि लगता है कहीं विदेश में घूम रहे हैं और दूसरी तरफ बीच-बीच में छोटे-छोटे पुराने गांव बसे हैं जो केवल नाम के ही गांव रह गए हैं.

शायद मेरी झिल्ली फट चुकी थी और इधर मेरी बहन की चूत से भी खून बह रहा था. रात को करीब 2 बजे मुझे एहसास हुआ जैसे कोई मेरे लंड को आगे पीछे कर रहा है.

उसने उंगली से मेरी गांड में थूक लगा कर कुछ चिकना सा किया और कमर पकड़ के जोर से लंड दबा दिया. फिर हम दोनों ही झड़ने को आए तो हम लोग संध्या के मुंह पर आकर झड़ने लगे. अब भैया की शादी थी, तो हम किराए वाले भी एक फैमिली टाइप ही हो गए थे.

नॉनवेज जोक्स

उसके बाद पंकज ने मुझे फिर से नीचे गिरा लिया और मेरे होंठों को चूसने लगा.

उस टाइम डॉक्टर का अड्रेस लेने के बहाने उसका व्हाटसैप नंबर मुझसे शेयर हो गया. मेरे अन्दर की इच्छाएं जाग चुकी थीं, दिल से एक टीस आ रही थी कि बस इनका ये हाथ रुके न. तो रंजना दीदी बोली- अरे नहीं पगली, तेरे लिए थोड़ा बहुत तेरे सुकून के लिए तो मैं कुछ भी कर सकती हूं.

मेरा आधा लंड बहन की गांड को चीरता हुआ उसकी गांड में घुस गया और साथ ही साथ नीरू का सिर सामने दीवार पर जाकर लगा. मेरे मोबाइल की स्क्रीन पर कल्पना के साइड का कुछ भी नहीं दिख रहा था, शायद उसने फ्रंट कैमरा पर अपनी उंगली रखी थी ताकि वो मुझे तो देख सकें, लेकिन मैं उन्हें न देख सकूं. सेक्सी फुल एचडी व्हिडिओअन्नू और डोली के यहाँ इससे रोज़ गांड मरवाई, तो अब तू इसका लंड गांड में लेने को मना नहीं कर सकती.

उसने तब एक पत्थर मारा, तो दोनों एक दूसरे को खींचते हुए बिल्डिंग के दरवाजों के पास से थोड़ा दूर हुए. वो इस बार बड़ी देर में, बड़ी लम्बी चीख के साथ झड़ी, और काफी देर तक झड़ती रही.

उसकी तनी हुई चुचियों का साइज 34 इंच का है तथा उसकी गांड का साइज 36 इंच के करीब है. अब तक कुल छ: मर्दों ने मुझे चोदा था, पर अब्दुल ने अब जाकर मेरी चूत से पानी निकाल पाया था. अब तुम इसे भी एक बार पकड़ कर ज़रूर चोद दो, वर्ना यह कहीं भी हमारी बात बता सकती है.

उन दोनों ने मुझसे अलग अलग चैट में कहा कि उन्हें मेरा लंड वीडियो कॉल में देखना है. वो बेडरूम की तरफ चल पड़ी उसकी कॅट्वाक देख कर रवि का लंड और खड़ा हो गया. मैं अपने बॉयफ्रेंड को बहुत प्यार करती थी, क्योंकि वो मेरी सारी परेशानी समझता था.

मुझे उससे चुदवाने में बहुत अच्छा महसूस हो रहा था और वो मुझे बहुत अच्छे से चोद रहा था.

जब वो नीचे हो रही थी, तो मेरे लंड पर उसकी चूत ऐसे फिसली कि मत पूछो … मैं तो उस रगड़ से सातवें आसमान पे पहुंच चुका था. मेरे बूब्ज़ बिल्कुल तने हुए रहते हैं और मेरे हिप्स मेरा पॉइंट ऑफ़ अट्रैक्शन हैं एकदम गोल और पीछे को निकले हुए, बिल्कुल शेप में! इन्हें देख के बहुत सारे लोग मुझे लाइन मारते हैं और पटाने की कोशिश करते रहते हैं.

उसने काफी देर तक भिन्न भिन्न आसानों में मेरी फुद्दी का भोसड़ा बनाने की पूरी क्रियाविधि को अंजाम दिया. योनि में पहली बार एक हलचल थी कि आज बस उसे शौहर के होंठ चूम लें और उनका लिंग मेरी योनि के आगोश में समा जाए. हम दोनों ने खाना खाया और उसके बाद हम दुबारा एक दूसरे को किस करने लगे.

जब उसने मेरा देखा तो घबरा गई, मैंने अपना लण्ड उसके हाथ में दिया और उसे मुँह में लेने को कहा. उसने पूछा- राज, तुम इस प्रोफेशन में कितने दिनों से हो?मैंने कहा- मेरी तो आप पहली कस्टमर हो मैडम. एक दिन शाम को जब मैं ऑफिस से निकल रहा था तो तभी सुषी का कॉल आ गया और वह फोन पर मुझसे मेरा हाल पूछने लगी.

बीएफ फुल वीडियो में वो भी मेरा लंड अपने हाथों में लेकर मसलने लगी और मेरी गोटियों को सहलाने लगी. फिर मैंने पूछा- उसने तुम्हारी जैसी खूबसूरत बला को तलाक़ कैसे दे दिया?सारा बोली- मेरा उससे झगड़ा होता था.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो हिंदी

मुझे लगा कहीं ये लोग सबको बता देंगे, तो मैं किसी को मुँह कैसे दिखाऊंगी. वह बोला- मैं तुम्हारे साथ गुस्सा तो पहले भी नहीं था, अगर तुम चाहो तो कर सकते हो, अगर नहीं चाहते तो सेक्स नहीं करो. फिर दूसरे शॉट में मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर एक जोरदार झटका दिया और मेरा आधा लंड अन्दर जा चुका था.

उन्होंने मुझसे पूछा- कब से हो इनके साथ?मैंने कहा- चार साल हो गए हैं. आज अपने लंड का पूरा जलवा उसको दिखा कर ज़रा भी सांस ना लेने देना ताकि सुबह उसे लंगड़ा के चलना पड़े. सेक्सी वीडियो फिल्म हिंदी मूवीक्या बोलूँ … इतनी सॉफ्ट स्किन और टेस्टी थी कि बस मैं उसे चूमता चला गया.

मेरा जब जी करे उन्हें चोद लेता था, दिन में देविका जी, तो रात में मोहिनी जी.

मैं दोनों हाथों से उसके चूतड़ दबा रहा था और कभी कभी उसके चूतड़ों पे थपकी भी मार देता था. और उसके हाथों और होंठों के जादू से मैं भी चरमोत्कर्ष पर पहुंच चुका था.

सुषी ने जो गोली मुझे खिलाई थी उसके असर से लग रहा था कि मेरा लिंग आज जैसे फट ही जाएगा. मैं उसके मुंह पर अपनी योनि रगड़ूं, वह जीभ से खुरच दे मेरे दाने को, खींच डाले मेरी कलिकाओं को और मैं उसके मुंह पर स्क्वर्ट करूँ. उस दिन मेरी सहेली ने भी अपने एक दूसरे बॉयफ्रेंड को चुदाई के लिए बुला लिया था.

मैं- ठीक है, पर कितने टाइम के लिए मिलना है आपको?कल्पना- पता नहीं, सिचुएशन पर डिपेंड करेगा.

मैं- अरे भाभी तुम 15 मिनट रुको, फिर मजे करते हैं ठीक है!भाभी- हां ठीक है … अच्छा मैं तुमको शाम को बोल रही थी, तुम यहाँ मेरे घर पे किराये पे रह सकते हो? तुम अगर चाहो तो?मैं- रह तो सकता हूँ … लेकिन मैंने यहाँ किराया दे दिया है यार, तो मैं अभी कैसे आ सकता हूँ. मैं धीरे धीरे उस नवयौवना की कुंवारी चूत में उंगली अन्दर डालने लगा, और फिर पूरी उंगली मैंने मीशा की छोटी सी चूत में घुसा दी. फिर जब मैंने अपना मुँह हटाया तो वो भूखी शेरनी की तरह उठी, उसने मुझे नीचे गिराया और मेरे ऊपर चढ़ गयी.

छक्का सेक्सी वीडियोउसने फिर पूछा- बताइये न रीना जी? मैं आपके जवाब का इंतजार कर रहा हूँ. तभी मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी ब्रा निकाल दी और मेरे रसीले मम्मों को दबाने लगा.

हिंदी में ओपन सेक्सी

कुछ देर बाद गोली ने असर दिखाया और पापा मेरी तरफ़ देख कर मुस्कुराने लगे. मैंने अपने हाथ उसकी टांगों के नीचे से निकाले और उसके ऊपर ही लेट गया. भगवान का शुक्र और सर की मेहरबानी से मैं परीक्षा में फर्स्ट क्लास से पास हुई। घरवाले बहुत खुश थे। पिंकी भी सेकेंड क्लास से पास हुई थी। मेरी अधिकतर सहेलियाँ जल भुन गई थीं.

मैंने कहा- तुम दोनों के चुचे और चूतड़ इतने सेक्सी हैं कि किसी बुड्डे का लंड भी खड़ा हो जाए, बेवक़ूफ़ हैं वो जिन्होंने तुम दोनों से शादी नहीं की, विधवा हुई तो क्या हुआ, इतना मादक बदन हर किसी का नहीं होता, देखो मेरा लंड आज पहली बार खड़ा हुआ है. चूत चिकनी हो चुकी थी और तीन-चार धक्कों के बाद मेरा लावा भी उसकी चूत में फूट पड़ा. भाभी ने नीचे बैठ कर मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया और फिर से लंड ने अपना भीमकाय रूप धर लिया.

मेरी शादी कम उम्र में ही हो गई थी, पर मेरा कमजोर पति मुझे सुख नहीं दे पाता था. थोड़ी देर ऐसा करने के बाद लंड अब पूरा अन्दर बाहर होने लगा और प्रमिला को भी अब कम दर्द और ज्यादा मजा आने लगा. मैंने उसके कच्छे को भी उतरवा दिया और उसका बड़ा और लम्बा, मोटा लंड उछल कर बाहर आ गया.

ऐसा कहकर उन्होंने अपने लंड को आहिस्ता आहिस्ता मेरी चूत में पेलना शुरू किया. पीछे आंगन या टॉयलेट की ओर कोई आने वाला था नहीं, शायद यही सोचकर प्रशांत ने घर की ओर अपनी बाइक मोड़ दी.

रमेश ने सिगरेट सुलगाते हुए एक ठहाका लगाया और बोला- और तू क्या सूखी सूखी होली खेलेगी? चल एक और बना.

जीवन ने ऐसा खेल खेला कि पहले तो सब कुछ ले लिया और रोष या मजबूरी में जब वासना की चौखट लाँघी, तो एक अलग ही दुनिया में पहुँच गयी. सेक्सी पिक्चर देखने कामैंने अपनी दोनों टांगों के बीच में सोनू की दोनों टांगों को जकड़ लिया और एक हाथ से उसके एक मम्मे को पीने लगा और दूसरे हाथ से उसकी कमर को सहलाता रहा. सेक्सी पिक्चर फुल एचडी इंग्लिशदूसरे लंड की चाहत में जब मुझसे बिल्कुल भी कंट्रोल नहीं हुआ, तो मैंने नेट पर एक कॉलब्वॉय को सर्च किया. दो पल तक उसका इंतजार करने के बाद मैं उसको पीछे से पकड़ने के लिए अपने हाथ आगे बढ़ाने ही वाला था कि निहारिका ने मेरी पैंट के ऊपर से मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

फिर मैं अगले दिन अपने टाइम से पहले ही ऑफिस छोड़ कर उसके घर के नीचे आ गया.

अब मैं जोश ने आकर बोल रही थी कि आह फाड़ दे मेरी आज गांड … मैं रंडी बन चुकी हूँ. यह कहते हुए उस ने अपना टॉप उतार दिया और एकदम नंगी हो कर मेरे सामने खड़े हो गयी. हैलो बोलते ही कान में आवाज आई- लव यू प्रिंस!मेरी मुस्कुराहट खुद-ब-खुद होठों पर आ गई.

उन्होंने मेरे माथे पे चूमा और खड़े हो गए, फिर मम्मी से बोले- इस बेचारी को पलंग पर सुलाओ. निप्पल चूसते चूसते पद्मा बोली- तू सही कह रही थी, दिल करता है कि अपने सैयां का लंड चूसते रहें और मज़ा लेते रहें. सबसे सुंदर सबसे प्यारी और सबसे सेक्सी यह तुम्हारी खूबसूरत नाक है, इससे सुंदर नाक मैंने अपनी जिंदगी में नहीं देखी.

बाबा सेक्स व्हिडीओ

मैं लोवर में था और भाभी मैक्सी में अन्दर ब्लैक कलर की ब्रा पेंटी पहने हुई थीं. ऊफ्फ़ कितना टेस्टी रस था … सच में दोस्तो, कभी ऐसी गुलाबी चूत को टेस्ट करना, फिर बोलना. उसने भी अपनी सफेद ब्रा पे मेरा नाम लिख कर फोटो निकाल कर मुझे भेज दी.

नैना ने फ़ोन काटा और मुझसे बोली- रमित …वो कुछ कहने ही वाली थी कि फ़ोन दोबारा बजने लगा, नैना ने फ़ोन उठाया तो बोली- ओह शिट …मैंने पूछा- क्या हुआ?तो बोली- हस्बैंड का फ़ोन है.

वो कलप कर बोली- थोड़ा दर्द होता तो मैं सह लेती, पर तुमने तो मेरी जान ही निकाल दी, थोड़ा धीरे चोदो, बुर भी तुम्हारी है और मैं भी तुम्हारी ही हूँ, एक रात में ही सारी जान निकाल दोगे, तो बाकी दो चार रातों तक चुदवाने के लायक भी नहीं रहूँगी, फ़िर अपना लंड पकड़ कर बैठे रहना.

नम्रता भी मस्त फटका आईटम लगती थी, बिल्कुल मेरी दोनों इन्हीं माल की तरह. मेरा पड़ोसी लौंडा मेरे पीछे आ गया और मेरी गर्दन को किस करते हुए मेरी चूची को दबाने लगा. सेक्सी हिंदी देसीकरीब 5 मिनट तक चूत चाटने के बाद मैंने सीधा होकर अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया और उसकी चूत वाले भाग को अपने लिंग की टोपी से रगड़ने लगा.

उसने मेरे सिर को पकड़ लिया और अपने लंड को मेरे मुंह में घुसा दिया और मेरे मुंह को चोदना शुरू कर दिया. वह जैसे मेरे करीब आया, मैंने झपट कर उसके काले लंड को पकड़ लिया और सुपारे पर ज़ुबान फेर दी. दलअसल जिस बिल्डिंग में हम रहते थे, उसी में दो फ्लोर ऊपर एक ऐसा फ्लैट था, जिसमें हमारे ही ससुराली रिश्तेदार रहते थे लेकिन नौकरी के चलते वह दो साल से आउट ऑफ कंट्री रह रहे थे.

मैं कराहते सिसकते छटपटाने लगी, पर उसने भी कोई रहम नहीं दिखाया, मेरे पूरी तरह झड़ के शांत होने के बाद भी वो उंगली भीतर बाहर करता ही रहा. मम्मी 38 साल की, पापा 44 साल के और मेरा छोटा भाई 19 साल का… हम लोग मिडल क्लास लोगों में आते हैं और फैमिली का गुजारा खेती में ही होता है.

जब उनके घर पहुँचे, तो मैं बाहर से ही बोला- अच्छा आंटी, अब मैं चलता हूँ.

मैंने कहा- कहो तो मैं नहला दूं?तो वाणी बोली- नेकी और पूछ पूछ … चलो. साथ ही बॉस मेरी बीवी की चूत लगातार चोद रहा था और हर शॉट के साथ मेरी बीवी की दोनों मदमस्त चूचियां हिल रही थीं. उसने पूछा- क्या बात है?मैं उसको जवाब देने ही वाला था तभी अंदर से वह दीदी आ गई जिससे पहले दिन मेरी बात हुई थी.

डॉग मेटिंग उनके पति जो सरकारी अफसर हैं उनको दौरे आते हैं और उनकी तबियत अक्सर खराब ही रहती है। जब भी उन्हें ऐसे दौरे आते थे तो उन्हें आंटी दवाइयाँ देकर सुलाया करती थी।आंटी का शरीर उम्र के हिसाब से काफी सुडौल और काफी फिट है।मैं अपने आख़िरी साल के एग्ज़ाम खत्म करके घर आया हुआ था. मैं भी गाने से जोश में आ गयी थी और डेविड ने अपना लंड मेरे मुँह में घुसेड़ दिया.

रात को खाना खाने के बाद उसका रिप्लाई आया, उस वक्त लगभग 9 बजे होंगे. मेरे तलाक़शुदा होने की बात कुछ साथ काम करने वालों को पता चली, तो मौका पाने पे उन्होंने मुझमें दिलचस्पी लेना शुरू कर दिया. आगे बढ़ने से पहले मैं यह जानने की कोशिश कर रहा था कि यह खुलकर सेक्स क्यों नहीं करना चाहती है.

सटका मटका कुर्ला डे

तुमको तो उससे नहीं चुदना है न? प्रशांत से चुदवाना हो, तो बताओ, साले का लंड पकड़कर तुम्हारी चूत में डाल दूं. उसने मेरे हाथ हटाते हुए कहा- इतनी भी जल्दी क्या है? कर लेंगे आराम से!कहकर वह मेरे होंठों को फिर से चूसने लगी. मैं- तो मैंने यही तो कहा है कि मेरी पूरी कोशिश रहेगी कि आपको परेशानी न हो.

अब मैंने लंड को अच्छे से बाहर तक निकाल निकाल कर वापिस चूत में पेलना शुरू किया, तो कल्पना को भी मज़ा आने लगा और वो अपनी चूत उठा उठा कर मेरे लंड से ताल से ताल मिलाने लगीं. घर पर हर एक चीज़ बहुत अच्छे से सज़ा कर रखी हुई थी। जब मैंने सन्जना की तारीफ की तो वह थोड़ा शरमा गई।मैंने उनको और उनके बेटे को अच्छी तरह से सब पढ़ाई के बारे में बताया तो वो मुझे शुक्रिया कहने लगी कि मैंने उनके बेटे की हेल्प की और मुझसे बार-बार वापस आने की ज़िद करने लगी.

फिर मैंने एक हाथ से उसके बाल पकड़े और दूसरे हाथ से उसकी कमर को थामा.

जब वह खाना खत्म करके जाने लगी तो जाते हुए भी मेरी तरफ ही देख रही थी. उन्होंने मुझसे पूरी जानकारी ली जैसे- क्या नाम है, कहां से हो, क्या करते हो, तुम्हें रूम के बारे में किसने बताया, तुम्हारा बजट कितना है वगैरह-वगैरह। मैंने सब बताया और बजट के बारे में भी बता दिया. लेकिन इससे पहले कि मैं कुछ समझ पाता, उन्होंने मेरा हाथ पकड़ कर नाइटी के ऊपर से ही अपनी चुत के ऊपर रख दिया और दबाने लगी.

आप अन्तर्वासना की रसभरी चुदाई की कहानी पढ़ कर मेरी और प्रिया की चुदाई का मजा ले सकते हो. लगभग 4 साल से मैं कुंवारी की तरह से रह रही हूँ, हम तो सोते भी अलग-अलग हैं, प्रोफेसर साहब तो बच्चों को पढ़ाने के बाद ड्राइंग रूम में ही दीवान पर सो जाते हैं और मैं बच्चों के साथ बेड पर सोती हूँ. उसने मेरी चुनरी उतार फेंकी, जिस वजह से मेरे पहाड़ जैसे चूचे और उनके बीच का चीर … और चीर के बीच मेरा लॉकेट खेल रहा था.

मेरे घर वालों ने अपने हिसाब से लड़के वालों के बारे में पूरी जानकारी जुटाई.

बीएफ फुल वीडियो में: मुझे खुद पर बहुत भरोसा था कि मेरा गे होना किसी को पसंद हो न हो लेकिन मैं अपने आपको बहुत पसंद करता था. उन्होंने मुझे अपनी बांहों में जकड़ा तो मुझे उनके लंड की सख्ती महसूस हुई.

मैं कुछ भी समझ नहीं पा रही थी कि तभी उन्होंने मेरे पिछवाड़े में वही चीज बहुत सख्त सी, उनकी पैंट की जिप के पास से चुभने लगी और अब वह पीछे से हाथ मेरे आगे लाकर कुर्ता और समीज के अन्दर से मेरे पेट को सहलाने लगे. मेरी जैसी सेक्सी का आपने दो बार पानी छुड़ा दिया … अब आप मेरे हो गए हो, मैं कभी ना रोऊं … आपने ऐसा कर दिया है. मुझे इतना आनंद आ रहा था कि मैंने अपने चूतड़ों को आगे की तरफ धकेलते हुए उसके मुंह को चोदना शुरू कर दिया था, ऐसा लगा कि मैं सीधा झड़ ही जाऊंगा। दीदी मेरे लंड को मुंह में लेकर इतने प्यार से चूस रही थी जैसे उसके होंठ लंड को प्यार देने के लिए बनाए हैं ईश्वर ने.

मैं उनके सामने खड़ा हो गया और हमने एक दूसरे को सब कुछ भूल कर चूमना शुरू किया.

मैंने उसकी साड़ी ऊपर को खिसका दी और वाणी ने और आगे खिसक कर लंड को अपनी चुत में घुसा लिया. मैं अपने खड़े लंड को छिपाने के लिए एक तरफ घूम गया तो मामी ने पूछा- क्या बात हो गई मेरे प्यारे हैरी?मैंने कहा- आप मुझे मेरे प्यारे हैरी क्यों कह रही हो?मामी ने कहा- तुम मेरे एकलौते भान्जे जो हो. वर्षा बोली- दीदी किशोर को दिन में क्यों घर पर बुलाया था?मैं कुछ ना बोल ना सकी, मुझे गहरा सदमा लगा था.