देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी लड़कियों की हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

एलीफेंट सेक्सी: देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो, मॉम खुश हो गईं और मेरे दो ऐसे दोस्तों से चुद गईं, जो अपनी मॉम को चोदते थे.

बीएफ वीडियो दिखा

अभी के लिए इतना ही, आपको मेरी ये अन्तर्वासना मस्तराम कहानी अगर पसंद आयी हो, तो मुझे मेरी मेल आईडी पर अपने मेल जरूर भेजें. सेक्सी हॉट बीएफ इंग्लिशदूसरे दिन मैंने अम्मी को प्रोत्साहित किया- आप अपनी तरफ ध्यान ही नहीं देतीं.

मैं ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को चूसे जा रहा था और एक हाथ से उसकी चूत को सहला रहा था. मराठी सेक्स बीएफ बीएफमामी जल्दी से कमोड पर बैठ कर टट्टी करने लगीं और मैं अपना लंड मामी के मुँह में डालकर उनके मुँह चोदता रहा.

मैंने उस रात पहली बार एक रात में 5 बार मुठ मारी थी … लेकिन तब भी मेरा लंड शीला दीदी की चुदाई के बिना शांत नहीं होने वाला था.देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो: जब अपने गंतव्य पर पहुंचकर हम सब कार से निकले, तो दीदी ने फिर से साड़ी लपेट ली और सुशील महिला बन गईं.

मेरा लंड तो पिछली राइड के कारण खड़ा ही था, मैं आंटी के पीछे से एकदम चिपक कर खड़ा हो गया जिससे मेरा खड़ा लंड आंटी की गांड की दरार पर जा लगा.नशे में उन्होंने मुझसे कहा कि राजीव (मेरे फ़ौजी चाचा का बदल हुआ नाम) ने मुझे तेरे बारे में कुछ बताया था.

हिंदी बीएफ अच्छी - देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो

बिलाल के अब्बू दुबई में जॉब करते हैं और करीब दो साल में एक बार भारत आ पाते हैं … वो भी केवल एक महीने के लिए ही.इस नए फ्लैट में हमारी पहली रात थी, तो मैंने ऑफिस से आते समय कुछ फल ले लिए थे क्योंकि मैं जानता था कि अगर मोनिका की जमकर चुदाई करनी है … तो पेट बहुत भरा हुआ नहीं होना चाहिए.

’अपनी आई का कहना मानते हुए सोनू बाजूवाले काउच पर बैठ गयी और माधवी एक बार फिर से भिड़े के लंड पर बैठ गयी. देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो उसके सामान्य होते ही मैंने दूसरा झटका लगा दिया … इस बार लंड कुछ और अन्दर चला गया था.

उस दिन के बाद से मैं भाभी को खुश रखने के लिए उन्हें तरह तरह के जोक सुना कर हंसाने की कोशिश करता रहता था.

देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो?

मैंने पूछा- और ऑफिस?वो बोली कि मैंने ऑफिस से भी दो दिन की छुट्टी ले रखी है. अब वो मेरे नीचे थे और मैं उनके ऊपर!इस बार वो मेरी चूत के साथ-साथ गांड पर भी जीभ चला रहे थे और साथ ही अपनी उंगली उसके अन्दर डाल रहे थे।एक बार फिर वे पलटे और फिर मेरी टांगों के बीच आकर लंड को चूत पर रगड़ने लगे. मैं भी उसका साथ देने लगी और उसके सिर को पीछे से पकड़ कर मस्ती से उसके होंठ चूसने लगी.

मैंने आंटी की पकौड़ी सी फूली हुई चिकनी चुत को किस किया और जीभ से चाटने लगा. कुछ देर के बाद मुझे अपनी छाती पर कुछ गीला सा महसूस हुआ, तो देखा कि उसकी चुत का पानी मेरी छाती से लग रहा था. ये वाली राइड करीब 15 मिनट की राइड थी और इसमें लोग भी ज्यादा थे, तो अपना नम्बर आने तक के लिए हम दोनों को वेट करना पड़ा.

’भाबी पागलों की तरह वासना की हवस में अंधी होकर बातें बोले जा रही थीं. हम दोनों पसीने से लथपथ एक-दूसरे से चिपक कर ऐसे ही लेटे हुए थे।थोड़ी देर बाद मैंने आंटी के मुंह में लंड डाल दिया,वो गपागप गपागप चूसने लगी और लंड को एकदम साफ कर दिया।थोड़ी देर बाद फिर हम दोनों बातें करने लगे. उसके मम्मे उसकी फिगर के हिसाब काफी बड़े दिखे वो दिखती तो नाजुक सी थी लेकिन उसके स्तन बड़े ही दिलकश थे.

ये बारिश इतनी अचानक से हुई थी कि हमें कहीं सर छुपाने की जगह ही नहीं मिली. मेरी मॉम ने अपने दूध हिलाए और विकी की आंखों में आंखें डालकर पूछा- सिर्फ अच्छी ही लग रही हूँ या …?विकी ने लौड़े को हिलाया और बोला- अरे मामी, आप बहुत सेक्सी और हॉट लग रही हो.

अगली सुबह 4 बजे ही फोन आया ‘फ्रेश होकर आ जाओ, मैं भी फ्रेश होकर आती हूं.

लेकिन तभी मेरे दो दोस्त आ गए और मुझे ना चाहते हुए भी उनके साथ जाना पड़ा.

मैंने कहा- तो बताओ कब लेना है और मुझसे ही क्यों लेना है … साफ़ साफ़ कहो!शाजिया ने अब खुल कर कहा- सुधीर, मुझे तुम पसंद आ गए हो और मुझे तुम्हारा लंड अपनी चुत में लेना है. उसने अपने हाथों में तेल मला और मेरी बीवी के पैरों के निचले हिस्से पर मलने लगा. कुछ टाइम तक तो सब नार्मल ही चल रहा था, पर फिर मुझे चुदाई की इच्छा होने लगी और मैं रोज बाथरूम में अपना लंड हिलाने लगा.

मैंने भी देर न लगाते हुए कहा- मेरी डार्लिंग सुमोना … आज मैं तुझे नहीं छोडूंगा. भाभी ने नीचे ब्यूटी पार्लर भी खोला हुआ था इसलिए वो अपने आपको भी बहुत मेंटेन रखती थीं. उन्हें मजा आने लगा और वो अब अपने हाथ से मेरे सिर को अपनी चुत पर दबा रही थीं.

इस बमपिलाट झटके से मैं चीख पड़ी- आह मादरचोद मर गई … आह भोसड़ी फाड़ दी कमीन ने आह!मैं चीख रही थी और काशिफ मजे से मेरी चुत लिए जा रहा था.

मैंने उन्हें गले से लगा कर रखा था, गाल पर चुंबन करता रहा, वो भी मुझे चूमती रहीं. मैंने उसके मुँह से चोदो शब्द सुना तो अब स्वाति की बुर में अपनी एक एक करके दो उंगलियां भी डाल दीं और फिंगर फक करने लगा. बस इतना बोलते ही उसने मेरी साड़ी का पल्लू हटा दिया और मेरी गर्दन पर किस करने लगा.

आप मेरी इस इंडियन हॉट भाभी सेक्स कहानी के लिए अपने कमेंट्स और मेल करना न भूलें. मैं नीचे लेट गया और मैंने शिवानी को खींच कर उससे मेरा लंड चूसने के कहा. मेरा मन तो कर रहा था कि पूर्णिमा दीदी के नाजुक से बदन के सारे रस को चूस जाऊं.

उसने भी अपना मोबाइल सुधरने के लिए दिया और मेरे पास पड़ी कुर्सी पर बैठ गई.

उन्होंने बहुत दारू पी रखी थी तो उनका पानी निकलने बहुत टाइम लग रहा था. उसकी गीली उंगली को भिड़े अपने मुँह में लेकर उसकी चुदी-चुदाई चूत के गीलेपन का रसपान करने लगा.

देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो जैसा कि एक भाभी को केवल तारीफ सुनना अच्छा लगता है, ये मैं जानता था … तो बस अपने तीर चलाने लगा. [emailprotected]Xxx सुहागरात की सेक्सी कहानी का अगला भाग:चुदी चुदाई बीवी संग चुदाई का मजा- 2.

देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो उनके परिवार वाले गांव में रहते थे और दीदी इधर शहर में हमारे साथ ही रहती थीं. मैं उनके नीचे को होकर बैठा और उनकी नाभि पर किस करता हुआ नीचे चूत का मुआयना करने लगा.

एक मिनट बाद उन दोनों की आंखों में कुछ इशारा हुआ … और विकी उठ कर मॉम के सामने पड़ी कुर्सी पर बैठ गया.

सेक्स टाइम बढ़ाने के लिए क्या करें

दरअसल मामला ये था कि कम्पनी को एक बहुत बड़ा ऑर्डर मिला था, जो सिर्फ मैं हैंडल कर सकता था. मैंने उस दिन घुटनों तक की स्कर्ट पहनी और ऊपर टी-शर्ट पहन कर रेडी हो गई. मैंने अपने एक पांव का अंगूठा उसके लोअर के ऊपर से उसकी चूत पर दबा दिया.

अम्मी के मुँह से कामुक आवाजें निकलने लगीं- आहह आआह आह आआह ह्ह उम्म … साले कितने दिन लगा दिए. मैंने कहा- अरे फिर?दीदी- हां यार … और मैं चूंकि अपने नीचे के बाल बिल्कुल साफ करके रखती हूँ, तो मुझे अपनी चुत पर स्टिक सनसनी देने लगी. काफी देर बाद जब मैं झड़ने लगा तो जल्दी से लंड निकाला और उसके मुँह में डाल दिया.

मेघा भी बार बार एक ही रट लगाए हुए थी कि आह रात भर चोदते रहो … पहले क्यों नहीं मिले … आज मेरी चूत की सारी प्यास बुझा दो … और 7 दिन तक इतना चोदो कि सारी पुरानी कसर निकल जाए.

मेरा दोस्त थका हुआ था और उसने काफी विह्स्की पी रखी थी तो वो एकदम सो गया था. उनके जाते ही मैंने इधर उधर देखा और उसी जगह पर गया, जहां भाभी ने कुछ फैंका था. अब 12 बज चुके थे और अम्मी ने मेरे रूम का दरवाजा लॉक कर दिया था ताकि मैं बाहर ना आ पाऊं.

शोनाली भाभी मेरी पत्नी की सहेली थी और इस नाते से वह घर पर अक्सर आती जाती रहती थी. नफीसा आंटी की चूत खुली हुई थी, तो उनको दर्द नहीं हो रहा था और वो मज़े से लंड ले रही थीं. फिर काम पूरा होने के बाद हम दोनों को भूख लगने लगी तो वो चाय बनाने लगी और मैं पलंग पर लेट कर आराम करने लगा.

स्टेशन पर पहुंच कर जिस डिब्बे में मेरा रिजर्वेशन था, प्लेटफार्म पर उस नम्बर की बोगी के आने के स्थान के सामने बैठ गया. दोस्तो, शालिनी भाभी की मदमस्त जवानी को देख कर मेरा लंड चुदाई के लिए मचल उठा था.

भारत में आप कैसे भी हों, उससे फर्क नहीं पड़ता लेकिन रूम का रेंट सही समय पर मिल जाना चाहिए, नहीं तो मकान मालिक या मालकिन आंख दिखाना शुरू कर देते हैं. उसने मुस्कान बिखेरी तो मैंने फिर से जीभ से उसकी चूत की फांकों को सहला दिया. दोनों बार बार यही बोल रहे थे कि क्या मस्त माल हैं … दोनों रंडियां बड़ी मादरचोद माल हैं.

सासू मां ने कुछ देर सोच कर कहा- दामाद जी … आज रात आपके कमरे में … या मेरे कमरे में!मैं समझ गया कि सासू मां किस बारे में बात कर रही हैं.

फिर नवीन ने मेरी अम्मी की गांड पर थप्पड़ लगाया और बोला- साली मस्त गांड है मादरचोदी की. यदि भाभी ज़िंदा होतीं, तो शायद इस कहानी को भी शेयर नहीं करता मगर उनके प्यार को आप सभी के साथ साझा करने का बहुत मन किया … तो मैंने इस घटना को लिख दिया है. इसलिए फ्री समय होने के कारण में अपनी एक गर्लफ्रेंड की कहानी लिख रहा हूं.

मैं उसके लंड पर बैठता चला गया और अपनी गांड में उसका पूरा लंड ले लिया. उसे देख कर मेरी नियत खराब हो जाती थी क्योंकि वो साली थी ही इतनी सुंदर और कड़क माल.

मैं अपनी आंखें नीचे करके बड़े भोलेपन के साथ धीरे धीरे लोवर नीचे कर रहा था. इंडियन गर्लफ्रेंड सेक्स कहानी मुझे फेसबुक पर मिली एक लड़की से दोस्ती और उसके बाद चुदाई की है. वो- अन्दर की खुजली भी शांत करवाना चाहती हो?मैं हंस कर बोली- तुम सिर्फ उतना करो, जितना कहा है.

गुजराती सेक्स वीडियो दिखाइए

मैं- बेबी, तुम इतना क्यों शर्मा रही हो, बाकी सारी लड़कियां भी तो बिकनी में घूम रही हैं.

मैं समझ गया कि शायद भाभी भी घर पर नहीं हैं … वो भी अपनी तैयारी करने गई होंगी. जब मैं उससे पहली बार मिला था, तो मैंने तभी उसकी बॉडी का सारा नाप ले लिया था. तने हुए मम्मे और गठीली गांड की थिरकन मेरे लंड को तन्नाने के लिए काफी से भी अधिक थी.

मेरी पिछली कहानी थी:टाकीज़ में मिली चुदक्कड़ आंटीमैं आपको सास दामाद Xxx कहानी के किरदारों के बारे में बताता हूं. कुछ मिनट बाद मैं झड़ने वाला हो गया था, तो मैंने उसकी चुत से अपना लंड बाहर निकाला और बगल में गिर कर लंड हिलाते हुए सारा माल बाहर गिरा दिया. बीएफ सेक्सी हिंदी भाई बहन कीमैंने भी सोच लिया था कि आज मेघना की चुत कार्लोस से चुदवा कर ही रहूँगा.

तभी अचानक दीदी और मैं काम निद्रा से जागृत हुए और दीदी अचानक कार से नीचे उतर गईं. मैंने उसकी बात को अनसुना कर एक बार फिर से उसे मिशनरी पोज में कर दिया.

वो मुझसे अलग हो गयी और मुझे बोली- बस अब खुश हो जीजा जी?सब हंसने लगे. कुछ देर बाद मैंने भी झड़ने वाले था, तो मैंने कहा- स्वाति मैं झड़ने वाला हूं. कुछ समय बाद रात के करीब 8:00 बजे काले सूट में भाभी गली के बाहर आईं और कुछ फैंक कर मेरी तरफ देख कर मुस्कुराती हुई चली गईं.

कुछ ही देर में धकापेल चुदाई होने लगी और पूरा कमरा फच फच की आवाज़ से गूँजने लगा. मैंने लंड बाहर निकाला और कंडोम उतार दिया, अपने लंड में थूक लगाया और चुत में घुसा दिया. अब भाभी के दोनों पैरों को ऊपर की ओर करके खोल दिया, जिससे उसकी चूत पूरी तरह से खुल गई थी.

अब मैं भी उसके साथ रंग में रंग गई और उसका हाथ पकड़ कर अपनी गांड पर ले गई।हम दोनों एक दूसरे के अंगों से खेलने लगे।थोड़ी देर बाद दोनों नंगे हो गए और 69 की पोजीशन में आ गए।रोहित आज मुझे पूरी तरह से खुश करके चोदने को तैयार हो गया और उसने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और मेरी चूत में लन्ड घुसा दिया और तेज़ तेज़ चोदने लगा.

दीदी- ओहहो … कौन है वो?राजेश- और कौन … तुम ही हो वो!दीदी- अच्छा मजाक करते हो आप. अब मैं थोड़ा रुक और मैम की चूत से लंड निकाल कर मैम को बैठा दिया और खड़े खड़े उनके मुंह में लंड डाल दिया.

उसने मेरे सामने अम्मी को बहुत ज़ोरदार किस दिया और वह अम्मी को लेकर चला गया. वो बोली- मुझे नहीं पता, मुझे लंड चुत में लेना है, नहीं तो मैं इस तड़प से पागल हो जाऊंगी. फिर न जाने क्यों मुझे उसका यूं चूमना पसंद आने लगा और मैंने उसकी चूमाचाटी का मजा लेना शुरू कर दिया.

कुछ मिनट बाद मैंने उसे नीचे लेटाया और उसकी टांगें फैला कर लंड उसकी चूत पर सैट कर दिया. ‘यह बात हुई न मेरे शेर!’ माधवी ने अपना हाथ भिड़े के कंधे पर हल्के से मारती हुई उसको शाबाशी देती हुई बोली. फिर वो मुझसे लिपट कर ऐसे लिप किस करने लगी, जैसे काफ़ी दिनों बाद प्रेमी लोग मिलते हैं.

देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो इस तरह से हम दोनों मस्ती भरी बातें करते रहे और दूसरे राउंड की गर्मी बढ़ गई. धीरे से मैंने उसका हाथ अपने हाथ में लिया और अपने लंड पर रख दिया और उसको वापिस नहीं हटाने दिया.

सूरत के सेक्सी वीडियो

एक बार फिर से उन्होंने मुझे ‘आई लव यू रवि …’ कहा और मेरे होंठों को अपने होंठों में दबा कर किस करने लगीं. अब मैंने अपनी सासू मां को बेड पर लेटा दिया औऱ उनकी चूत को चाटने लगा. शीला दीदी दर्द से चिल्ला उठीं … तो मैंने उनका गला पकड़ लिया और धक्के मारता रहा.

दीदी ने मेरा लंड पकड़ कर अपने पूरे चेहरे पर फेरा, फिर मेरे लंड का टोपा होंठ गोल करके अपने मुँह में ले लिया. जैसे ही वो रसोई घर में जाने के लिए मुड़ीं, तभी मेरी नजर उसकी मस्त गांड पर पड़ी. बीएफ भोजपुरी वीडियो बीएफउन्होंने थोड़ा सोचा, फिर बोलीं कि पहली बार मिल रहे हैं और आपके साथ रात ऐसे गुजरेगी!मैंने कहा- कोई बात नहीं यार … इट्स ओके.

जब मैं वापस आया तो देखा कि मैडम ने मेरी शर्ट पहन ली थी और वो बेड के किनारे पर बैठी थीं.

मैं भाभी को इस हाल में देख कर थोड़ा रुक गया और भाभी के होंठों को चूसने लगा. स्वाति नशीली आवाज में बोली- अब तो चोद दो मुझे!मैंने सही मौक़ा देखा और कहा- स्वाति तूने इतनी देर तक अपनी बुर चटवा ली अपने भाई से … उसका लंड नहीं चूसेगी क्या?इतना सुन कर स्वाति उठी और मुझे बेड पर धक्का देकर मेरे ऊपर आकर बैठ गई.

मैं ऊपर को उठा तो उसने झट से मेरा चेहरा पकड़ लिया और किस करना शुरू कर दिया. उन्होंने अपने लाल लाल होंठ दांतों से दबा लिए और मादक आवाजें निकालने लगीं- उम्मंह हहह अह्ह जगप्रीत … तुमने मुझे इतना क्यों तरसाया … आह आज मेरी चूत को लाल कर दो … सुजा दो. मेरी ये बात सुनकर मेरे गाल को मसलती हुई बोलीं- वाह रे मेरे वीरू, चल चाय पीकर मैं रेडी हो जाती हूँ और कार सीखने चलती हूँ.

मैंने सावी भाभी को सीधा करके लौड़ा चुत में डाला और उनकी चुत को जोर जोर से चोदने लगा.

मैंने उनकी गांड के छेद पर अपनी उंगली घुसा दी और अन्दर-बाहर करने लगा. दो घंटे बाद हम सभी लोग घूम कर वापस आए और घर में बैठ कर बात कर रहे थे. मैंने अपने लौड़े की रफ्तार तेज कर दी और लौड़े को अन्दर-बाहर करने लगा.

भोजपुरी में बीएफ एचडी मेंसुनील ने मुस्कराकर पूछा- मज़ा आ रहा है?मैंने कहा- बहुत!मैंने सुनील से पूछा- और तुमको?उसने कहा- बहुत मज़ा आ रहा है।फिर सुनील ने मुझे पेट के बल लिटा दिया।मैंने अपने नितंबों को अपने हाथों से फैला दिया. उस वक्त मैंने हां बोल दिया मगर मेरी समझ में नहीं आया कि आंटी क्या तोहफा देंगी.

हिन्दी विडियो सेकसी

आंटी का नाम रूपाली था, वो इस उम्र में भी 36-37 से ज्यादा की नहीं लगती थीं. सुनील ने मेरे छेद में बोरोलीन को अंदर तक लगा दिया उंगली से और बोला- अब चलो सो जाते हैं. उसी वक्त कार्लोस ने पूछा- मैडम, ये पैंटी बीच में आ रही है और मालिश ठीक से नहीं हो पा रही है.

मैम- समीर साहब … अगर आपकी नींद पूरी हो गई हो … तो क्लास शुरू करें?मैं हड़बड़ाते हुए उठा और मैम से पूछ कर मुंह धोकर आ गया. फ्रेंड्स, मुझे लंड चूसना बहुत पसंद है … इतना ज्यादा पसंद है कि मैं हमेशा उसी के बारे में सोचती रहती हूँ. तो मैंने उनको सोफे पर लेटने को कहा और उनको ऐसे लेटाया कि अब उनका सिर सोफे के एकदम बीचों बीच था और उनकी गांड सोफे के हाथ रखने वाले हिस्से पर टिकी थी.

पर मुझे इस बात का डर भी था कि कहीं मेरी अम्मी न देख लें, इसलिए मैंने अपने आप पर काबू बनाए रखा. कुछ देर बाद भाभी बोलीं- रवि, अब मत तड़पाओ … मैं 4 महीने से प्यासी हूँ. वो एकदम से खुश हो गया और बोला- अरे यार, उनको तो मैं अपनी बीवी जैसे ही सुख दूँगा.

मैं मनमसोस कर शिवानी के ऊपर से उठा और शिवानी ने भी जल्दी से उठकर सलवार पहनकर नाड़ा बांध लिया. मैंने सोचा कि इससे पूछना चाहिए कि इन सबसे कबसे चुदाई करा रही है?मगर सामने से मैंने पूछा- सेक्स की शुरुआत किसने की … और पहली बार कितनी उम्र में तेरी पहली चुदाई हुई!वो चुप रही तो मैंने फिर से कहा कि मैं तो जब कॉलेज में आया था … तब सेक्स किया था, तुम्हारी शुरुआत कब हुई थी!वह बोली- ये लंबी कहानी है, बाद में बात करेंगे.

वो हंस पड़ीं और बोलीं- क्या हुआ जानेमन … नशा टूट गया था क्या?मैं कुछ नहीं बोला और बस भाभी के पैरों से किस करते करते उनकी संगमरमरी जांघों पर आ गया.

तो उसने मुझे सलवार कमीज ब्रा पैंटी और मम्मे फुलाने के लिए बॉल लाकर दे दिए. बीएफ फिल्म नंगी फिल्मफिर जैसे तैसे करके फरीना ने पैंट खोल दी और चुन्नी को कमर पर लपेट ली. इंडियन बीएफ न्यूमैंने उसे कैसे चोदा?दोस्तो, मेरा नाम समीर सिंह है, मैं भोपाल का रहने वाला हूं। मेरी उम्र 28 साल है। मेरी लम्बाई 5 फीट 9 इंच है. अगले दिन से भाभी ने अधिकतर समय जालीदार नाईट सूट पहनना शुरू कर दिया, जिसमें से उनका सब कुछ साफ साफ दिखता था.

मम्मी ने अपनी आंखें बंद कर ली थीं और मजे से हम दोनों से अपने दोनों मम्मे एक साथ चुसवा रही थीं.

मुस्कान की टी-शर्ट के ऊपर से उसकी चूचियों के निप्पल साफ़ झलक रहे थे. मैंने अपने लंड को घी में डुबोया और मामी की गांड के छेद में लगा दिया. पर मैं शादी से खुश नहीं था क्योंकि अब मुझे लड़कों और आदमियों में इंटरेस्ट आने लगा था.

यहां पर आकर मेरी दीदी से मेरी बात हुई और बीच में मौका पाकर वो भी कर बात लेती थीं. मैं बोला- तो अब धक्का लगाऊं?संगीता कमर हिलाती हुई बोली- हां रोका किसने है … दो साल से मैं इसी दिन का तो इंतजार कर रही थी. मेरा इतना अधिक पानी निकला कि ऊपर से नीचे जाने वाली सीढ़ियों पर पिचकारी दूर तक फिंकी.

प्रेगनेंट कैसे पता चलता

उसकी मादक सीत्कार मुझे उत्तेजना के शिखर पर पहुंचाने में मदद कर रही थी. उसकी आंखों में चुदास थी और अपनी चुत उठा कर मुझे चुदाई का मूक आमंत्रण दे रही थी. उन्होंने मेरी तरह स्लो मोशन में काम करने की जगह सीधे केले पर अटैक किया था.

पीयूष मेरी अम्मी की चूत चाटने लगा और अम्मी उसके लंड को मुँह में लेकर चूसने लगीं.

उसी समय मेरा मुठ भी निकलने लगा और मैंने पापा की तरफ देखा तो उन्होंने हां में इशारा कर दिया.

नमस्कार दोस्तो, मैं राज ठाकुर आपको अपनी हॉट सिस्टर सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ. मैं उनके करीब गया और उनके घूंघट उठा कर उनके रूप सौंदर्य में खो गया. तमिल भाषा में बीएफअब आंटी पूरी मस्ती से लंड चूसने लगी थी और अपनी चूत को मेरे मुंह में दबाए जा रही थी।5 मिनट में आंटी की चूत ने नमकीन पानी छोड़ दिया जिसे मैं चप चप करके चाट गया.

मैं कार की चाबी हाथ में घुमाते हुए कार की ड्राइविंग सीट पर बैठ गया और दीदी मेरे बाजू वाली सीट पर बैठ गईं. तब भी मैंने अपनी तरफ से मैडम को वैसे टच नहीं किया जैसे किसी औरत को चोदने के लिए किया जाता है. कुछ टाइम बाद मुझे अपने दोस्तों से बातों में पता चला कि निक्की का कई लोगों से अफेयर था और वो बहन की लौड़ी मेरे सामने सती सावित्री बनती थी.

उसे एक हुस्न की परी तो नहीं कह सकते थे … मगर वो उससे कम भी नहीं थी. मैंने काफी कोशिशों के बाद आंटी की गांड मार ली और उनसे अपना लंड भी चुसवाया.

उनकी इच्छा के बाद साथ मैंने अपने दोस्त को बुला कर भाभी के साथ थ्री-सम भी किया.

‘सोनू बेटा, तुम जैसा सोच रही हो, वैसा बिल्कुल कुछ भी नहीं हो रहा है. मेरा मन भाभी की गांड मारने का भी था … लेकिन वो अब बैठ नहीं पा रही थीं, इसीलिए मैंने भी ज्यादा जोर नहीं दिया क्योंकि उनके लड़के को स्कूल से लेने जाने का टाइम हो गया थाभाभी मरी सी आवाज में मुझसे बोलीं- युवी को लेने जाना स्कूल से!मैंने कहा- ठीक है भाभी … आप ऐसे रोज़ मजा देती रहिए मैं आपको सब खुशियां दूंगा. मैं दीदी के पास गया और धीरे से कहा- लेग पीस खिलाएंगी क्या?मैं हंसने लगा, वो होंठों पर उंगली रखती हुई बोलीं- शश … चुप.

उत्तराखंड की बीएफ सेक्सी मेरी गांड मारी बड़े भैया ने … पहले उसने मेरा लंड चूसकर मुझे गे सेक्स सिखाया। एक दिन भैया ने मुझसे गांड मरवायी. मैं अब बिल्कुल भी डर नहीं रहा था, लेकिन फिर भी मैं बहुत सतर्क था कि कहीं मुझसे कोई ग़लती ना हो जाए.

दोस्तो, मैं आपको बताना चाहता हूं कि मुझे चूत चाटना दीदी ने सिखाया है. मैंने दोनों लड़कियों को एक एक करके उठाया और उधर पड़े एक बड़े बेड पर सुला दिया. मैंने उससे ब्राइडल मेकअप के लिए कहा, तो उसने सारा कुछ दुल्हन के जैसे कर दिया.

तमिलनाडु का सेक्सी वीडियो

गर्म वीर्य की पिचकारियां आंटी की चुत में गिरना शुरू हुईं तो मेरी आंखें मदहोशी में बंद हो गईं और लंड के स्खलन का सुख मिलने लगा. कुछ ही देर में मेघना एकदम से चुदासी हो गई और उसने मुझसे चुदाई के लिए कहा. जीजा जी- मादरचोद रंडी कितनी गर्मी है तेरी चूत में … तेरा पति तुझे सही से नहीं चोद पाता है … इसीलिए तू सबको गांड दिखा कर गर्म करती है.

मैंने बाक़ी की रात सिर्फ़ ये सोच कर ही निकाली कि उमैय्या के साथ और क्या क्या हो सकता था. मैंने नीचे झुक कर उसकी चूत की फांकों को अलग किया और उंगली डालने के साथ साथ चुत चाटने भी लगा.

मैंने कहा- मैं यही तो चाहता था वरना आज के बाद आप मुझे हाथ भी नहीं रखने देतीं.

गांड चुदाई सेक्स स्टोरी मेरी गांड में पहली बार मेरे भाई के लंड घुसने की है. मेरी बहन हंस कर बोली- अबे चूतिए … वो ट्रक का गोदाम है … मैं तो अभी पतली सी गली हूँ. अब मेरा लंड धीरे-धीरे खड़ा होने लगा और शरीर में जैसे चीटियां चलने लगीं.

हॉट सिस स्टोरी में पढ़ें कि मेरी तलाकशुदा दीदी मेरे पास रहने के लिए आ गयी. उसकी आवाज निकल ही नहीं पा रही थी तो मैंने भाभी के मुँह से अपना मुँह हटा दिया. मैं और चाचा की बेटी, जिसका नाम नीतू है, हम दोनों एक ही कमरे में सोते हैं।जब हम सोने लगे तो दीदी मेरे पास आयी और मुझे चूमने लगी.

भाभी की चुदाई के बारे में सोच सोचकर मन में लड्डू फूट रहे थे।मैंने पूछा- तो फिर कब और कैसे?वो बोली- मैं थोड़ी देर के बाद बताती हूं।कुछ देर बाद भाभी का कॉल आया और वो बोली- राज, मेरा पास एक प्लान है। आज रात को तुम सबके सोने के बाद साइड वाले गेट से नीचे उतरकर मेरे घर आ जाना। मैं दरवाजा खुला रखूंगी, मगर आराम से आना.

देहाती भोजपुरी बीएफ वीडियो: पैर खोलते ही सामने उनकी रस से भरी … रस बहाती रसीली चूत नज़रों के सामने आ गयी. ‘इस वक़्त की सबसे बड़ी खबर आपको बता दें कि बॉलीवुड की गायिका कनिका कपूर कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं.

शिवानी मेरे प्यासे होंठों को चूसने की कोशिश कर रही थी लेकिन अभी वो नई नवेली खिलाड़ी थी इसलिए उसे ज्यादा कुछ समझ में नहीं आ रहा था. भाभी ने हल्के गुस्से से मुझे देखा और बोलीं- यार, मुझे इसके कारण से दर्द होने लगता है. फिर उन्होंने टीवी पर म्यूजिक चैनल लगा दिया और दीदी को डांस के लिए बुला लिया.

कोई 10-15 मिनट बाद वो अपने हाथों में एक कैरी बैग लिए वो दुकान से बाहर आई और कार में बैठते हुए मुझसे बोली- पता नहीं आपको पसंद भी आएगी या नहीं?ये बोलते हुए उसने वो बैग मुझे पकड़ा दिया.

ये दोनों लड़कियां पूरी तरह शराब के नशे में धुत्त थी और मुझे इन्होंने इसलिए पकड़ लिया कि उस जगह पर मैं ही अकेला खड़ा था. मनीषा ने इठलाते हुए कहा- क्या आपका इतना बड़ा है, ये मैं नहीं मानती. अब काशिफ अंडरवियर में था और जैसे ही मैंने उसकी अंडरवियर खींचनी चाहि, काशिफ ने मुझे उठाकर अपने सीने से लगा लिया.