तेलुगु में सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,चुनरी जयपुर वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी मूवी देसी चुदाई: तेलुगु में सेक्सी बीएफ, जब वो नीचे झुकती, तो मुझे उसकी गांड की दरार चूत तक दिखाई दे रही थी.

चूत लंड चूत लंड चूत लंड

मुझे इस समय ढेरों कहानियां मिल रही हैं लेकिन ज्यादातर कहानियां पढ़ने से ही पता चल जाती हैं कि ये बनाई हुई हैं. सनी लियोन फुल सेक्स वीडियोबुआ मस्ती से मेरे लंड पर उछल उछल कर अपनी गांड पटकने लगी और थप थप थप थप थप की आवाज़ आने लगी.

कुछ देर बाद मैंने उसके पैर कन्धे पर ले लिए और खुद झुक कर उसे चोदने लगा. ब्लू फिल्में एक्सप्रेसउसने अपने पड़ोस के लड़के से दोस्ती करके पहले सेक्स का रास्ता साफ़ किया.

मैंने भी कोई ज्यादा विरोध नहीं किया; उल्टा मैं ही उसे छेड़ देती, कभी आंख मार देती, कभी हाथ भींच देती.तेलुगु में सेक्सी बीएफ: और तभी एक जोरदार धक्का लगाया जिससे पूरा लंड पिंकू की चूत की गहराई में समा गया।हॉट डिफ्लोरेशन सेक्स में दर्द के कारण पिंकू फिर से उछल पड़ी.

आंटी बोलीं- हम्म … अमेरिका जैसे देश में होता है कि औरत किसी के साथ भी संभोग के आनन्द ले लेती है.अब आप देसी माल लड़की Xxx कहानी में आगे पढ़िए कि किस तरह से मुझे एक मौका मिल गया, जिससे लच्छो को मैंने चोद लिया और वो मुझे हर तरह का सुख देने लगी.

भाभी को होटल में चोदा - तेलुगु में सेक्सी बीएफ

[emailprotected]होटल रूम चुदाई स्टोरी का अगला भाग:बहन की चुदक्कड़ जेठानी को खूब पेला- 3.जब मैंने और राजीव ने मिलकर सनी से मजे ले लिए तो सनी ने हॉल में ही वहीं राजीव के सामने मुझे सोफे पर झुका कर मेरी ढंग से गांड मारी और पूरा स्पर्म मेरी गांड में डाल दिया.

रेशमा ने भी लौड़ा अपने हाथ में लेकर ऊपर थूक दिया और जोर जोर मुठ मारने लगी. तेलुगु में सेक्सी बीएफ दोस्तो, बारिश का मौसम … खुला रास्ता … तेज रफ्तार से चलती बाइक और पीछे अंजान जवान लौंडिया लंड सहलाती हुई चूचियां पीठ से रगड़ रही हो, तो क्या मुकाम हासिल होगा, ये आप अंदाजा लगा सकते हैं.

दोस्तो, मेरी कहानी में पहले प्यार हुआ, फिर इकरार हुआ और अब इससे आगे का मजा मैं अगले भाग में लिखूंगा.

तेलुगु में सेक्सी बीएफ?

मैंने कहा- क्या कह रहा है बे?अली बोला- अरे कुछ नहीं, तू बस अपना हथियार दिखा. मैंने अंकिता से कहा- तुम्हारे पैरों को भी लोशन लगा दूँ? मगर लोअर में लोशन लग जाएगा. तो दूसरी तरफ पारो और शबनम शर्त लगा रही थीं कि फ़ज़लू मियां ने शीरीं को घोड़ी बनाया होगा या कुतिया.

वैसे तो मेरे मन में भी लड्डू फूट रहे थे कि ऐसी मलाई को कौन पागल ऐसे ही छोड़ देगा, पर बोलना पड़ता है न तो मैंने बोल दिया. हफ्ते भर की चुदाई के बाद फ़ज़लू को शीरीं से इश्क़ हो गया, तो उसने शीरीं से निकाह करने का फैसला कर लिया. कई बार काम की वजह से हम शहर से बाहर भी घूमने जाते, वहां पर रेशमा बिल्कुल मुझसे सटकर ऐसे चलती, जैसे कि मैं ही उसका शौहर हूँ.

मैंने जब देखा कि वो पूरी तरह से गर्म हो गई है, तब मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया, जिससे उसकी चूत और उभरकर सामने आ गई. मेरी सहमति के बाद भैया ने मुझे एक तगड़ा स्मूच दिया और मुझे चित लिटा कर मेरी चूत के नीचे तकिया लगा दिया. मेरी गांड फटी की फटी रह गई और मुझको बहुत तेज दर्द हुआ- हाय मर गया अम्मी अम्मी अम्मी छोड़ दे अम्मी छोड़ दे फट गई!लेकिन उसने मेरे चूतड़ों को कस के पकड़ लिया.

बाहर लिविंग रूम में आज मुझे चाय वसुंधरा भाभी ने लाकर दी और मेरी ओर देखकर दिलकश मुस्कुराट दे दी. हम तीनों नीचे आए तो नीता बोली- तुम दोनों आराम करो, मैं नाश्ता बनाती हूँ.

कुछ देर ऐसे ही वो एक दूसरे को चूमते रहे; एक दूसरे के शरीर को सहलाते रहे.

वंदना ने कहा- जब भैया बात करेंगे तो मुझसे तो कैसे देखा जाएगा … पता नहीं क्या होगा.

मैंने इस बार उसकी तारीफ नहीं की, बस उसके साथ खड़ा होकर बस का इंतजार करने लगा. वे उसकी गांड मार रहे थे और मैं उसकी चूत!मैं विराज आपको सेक्स कहानी का मजा देने फिर से हाजिर हूँ. [emailprotected]Xxx गर्ल ओरल सेक्स कहानी का अगला भाग:बड़े भाई ने मेरी बुर की सीलतोड़ चुदाई की- 3.

और मैंने उसे भरोसा दिलाया- तुम चिंता न करो, मैं ध्यान रखूँगा और अगर तुम चाहो तो मैं आंखें बंद कर लेता हूँ. जब उससे यह नहीं हो पाया, तब वह बोलने लगा कि पानी का कनेक्शन ही बंद करना पड़ेगा. मैं उसके चूचे की बिटनिया को जब भी काटता, तब वो मेरे सर को पकड़ कर अपने दूध पर टिकाए रखती.

मैंने लंड निकला तो कुणाल ने अपने लंड का पानी स्नेहा के मुँह में छोड़ दिया.

मैंने उससे कहा- यार, हम अच्छे दोस्त हैं, अपनी दोस्ती को क्यों खराब कर रही हो. थोड़ी देर बाद पापा ने अपना हाथ बढ़ाया और मम्मी की चादर के अन्दर हाथ सरकाकर मम्मी की बड़ी गोल मांसल गदरायी हुई गांड पर रख दिया और हल्के हल्के सहलाने लगे. पर मैं खुद ही एकदम से झैंप गई और अपने आपको कंट्रोल करने की कोशिश करने लगी थी.

वो बोलीं- नहीं, अभी पहले चोदो … अभी तू झड़ जाएगा तो मैं प्यासी रह जाऊंगी. उसने झट से मेरी नाइटी ऊपर की और अपने लोअर से लंड बाहर निकाल कर मेरी चूत में पेल दिया. एक हाथ से मैंने उसका चूचा पकड़ लिया और दूसरे हाथ की उंगलियों से जोर जोर से उसकी चूत चोदने लगा.

चुदाई के इस खेल में रीना भी अब बुरी तरह से गर्मा चुकी थी और उसकी भोसड़ी लौड़े की चुदाई के लिए तरस उठी.

चाची बोलीं- क्या करना है?मैंने कहा- मैं नीचे बैठता हूँ, आप मेरे ऊपर पेशाब करो. मैंने उससे कहा- घड़ी देखो, हम जिस काम से आए हैं, पहले वो काम कर लेते हैं.

तेलुगु में सेक्सी बीएफ मैं बोली- साले तुम दोनों ने रात में मेरी मिडी फाड़ दी थी ना!ये याद करते ही मंयक बोला- हां यार, ये तो बड़ी दिक्कत हो गयी. कभी कभी मजाक में उसको जानेमन, जान और गुलबदन जैसे शब्द से संबोधित करता, तो वो शरमा कर मुस्कुरा देती.

तेलुगु में सेक्सी बीएफ मुझे फैमिली सेक्स स्टोरीज और गैंगबैंग सेक्स स्टोरीज पढ़ना बहुत पसंद हैं. मूवी शुरू हुयी और जैसे ही अंधेरा हुआ, मैंने रीमा को पकड़ कर उसके गालों को किस कर लिया.

अब तक मेरे हाथ भी फिसल कर उसकी शर्ट के अन्दर से उसकी नंगी कमर में चलने लगे थे.

सेक्सी नंगी पिक्चर भेजिए

रेशमा के झड़ने के बाद भी हम दोनों ने उसकी चूत और गांड का भुर्ता बनाना नहीं रोका. स्नेहा भी जोर जोर से सिसकारियां मार रही थी- आआह उन्ह कुणाल … कितने मजे से चूस रहे हो मेरी चूत … आंह आज मेरे साथ पूरी रात मजे करो. अम्मी ने अपने हाथ से मेरे गाल को छुआ और बोली- बेटा, तू अभी इतना बड़ा नहीं हुआ कि ये सब बात समझ सके.

अर्णव ने पहले कई चुम्बन बंद चूत पर लिए, फिर वो चूत के इर्द गिर्द चूमने लगा. कुल मिलाकर कहा जाए तो मेरे ब्वॉयफ्रेंड के मुताबिक मैं एकदम पोर्न स्टार केडन क्रॉस के जैसी लगती हूं. तभी उसने मुझे नीचे लेटने को कहा और मेरे ऊपर बैठकर पूरे लंड को धीरे से अपनी चूत में घुसा लिया.

मैंने बड़े ही प्यार से दोनों के चुचों होंठों और जिस्म को मस्ती से चूसा और चूमा.

थोड़ी देर मैं वैसे ही शान्त रहा और उससे कहा- अब और दर्द नहीं होगा नीता … गांड फक़ में पहली बार ऐसा ही दर्द होता है. हम सभी में अब एक दूसरे की तरह देख कर मुस्कुराना या हाय-हैलो करना आदि सब होने लगा था. मैंने कहा- अबे यार, तूने कभी नल्ले नहीं चूसे क्या … या लेग पीस नहीं चचोरा.

मैंने तुरंत मन बना लिया कि इस न्यू चूत की सील तो मैं ही तोड़ूँगा चाहे कुछ भी करना पड़े. मैं हूं कि एकदम बेवकूफ अपने मजे लेने के बजाए बार बार चूत की इज्जत की सोच रही थी. कुछ देर पॉल से गांड साफ़ करवाने के बाद मैं लंड को बाहर की तरफ खींचने लगा तो पॉल स्फूर्ति से अपना मुँह खोलकर मेरे वीर्य का स्वाद लेने के लिए आगे खिसक आया.

मेरी इस मॉम डैड सेक्स कहानी में मैंने अपनी मम्मी पापा की मस्त चुदाई अच्छे से देखी थी. पर अब मैं कर भी क्या सकती थी, अब तो मैं इन दरिंदों के हाथ में पड़ चुकी थी.

सेक्स मुझे इतना पसंद है कि इसके लिए मैंने अब तक कई लड़कियों पर लाखों रुपये खर्च कर दिए. फिर मैं मम्मी पापा के रूम में चली गई और बाथरूम के पास गई, तो अन्दर पापा नहा रहे थे. अब आगे Xxx फर्स्ट ऐनल सेक्स कहानी:तीसरे दिन भी मैं देर तक सोता रहा.

खटिया की चैंक चैंक की आवाजें और जोर से आने लगीं और पूरे कमरे में गूंजने लगी थीं.

पर ऑफिस का काम ज्यादा हो जाने के कारण मैं सुदिति को ज्यादा समय नहीं दे पा रहा था. मैंने उसके हाथ से फोन लेने की कोशिश की और कहा- आंटी को अभी फोन मत करो प्लीज़. भैया मेरे वापस आते ही बोल पड़े कि सौम्या तुम्हारी फ्रॉक पीछे से खुली हुई है.

वो अपने हाथों से मेरे दोनों मोटे मोटे 36 इंच के चूचों को दबाने लगे. फिर हुआ यूँ कि एक दिन उसकी मां की तबीयत ठीक नहीं थी, वो अपनी मां की कहकर जल्दी चली गई.

मेरे होंठों को भी चूमने लगे और मेरा पल्लू गिरा कर मेरा ब्लाउज खोल दिया. कुल मिलाकर अब ऐसा सीन हो गया था कि हम सभी छह लोग एक दूसरे से बहुत ही अच्छे तरीके से बात किया करते थे और एक दूसरे को हाय हैलो भी अच्छे से किया करते थे. उसकी कमर करीब 30 इंच की रही होगी और उसकी गांड लगभग अड़तीस साइज की थी.

सेक्सी फोटो वीडियो फिल्म

फिर मैंने हफ्ज़ा 38 इंच के चुचों को पकड़कर उसे अपनी ओर खींचा और उसके होंठों में अपने होंठ मिलाकर उसे चूमने लगा.

घर पर कोरोना के कारण लड़कियां कम्पनी का काम घर पर करती थीं और मैं कहीं मुँह मार नहीं सकती थी. वो अपने मुँह से लगातार आवाजें निकाल रही थीं- आह अह आह …मामी की काली झांटें काफी बड़ी थीं, शायद उन्होंने काफी दिन से बनाई नहीं थीं. इसलिए मैंने अभी फिलहाल अपने काम से काम रखने में ज्यादा समझदारी समझी.

कुछ देर बाद मैंने अपनी जीभ को बुर के मध्य कड़क हो चुके भगनासे पर फिराना शुरू कर दिया और साथ ही अपनी एक उंगली को बुर के छेद में घुसा दिया. मैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोली- क्या इतना बड़ा और लम्बा भी आदमी का होता है?मैंने फिर से पूछा- क्या कभी इस तरह के लंड को देखा नहीं?वो बोली- अगर देखा होता तो उठती ही क्यों?मैं चुप रहा. सेक्सी फिल्म 2000 कीअंकल धीरे-धीरे और करीब आ गए और वह भी फोटो देख कर बोलने लगे- यह वाला देखो, कितना जबरदस्त है.

मेरे घर वालों ने कभी भी मुझे किसी बात की रोक-टोक नहीं की; ना ही मेरे पापा ने और ना ही मेरी मम्मी ने. यार मैं क्या करूं, उसके पास कोई छोटा पैक था ही नहीं और न ही उसके पास खुले पीस थे.

देखते ही देखते उनके लंड से तेज सफेद माल की धार छूटी और मेरा पूरा चेहरा और बूब्स भर गए, मेरे पूरे शरीर पर उनका गाढ़ा माल गिर गया. मेरा लंड मेरे काबू में नहीं था वो तो बुआ की चूत में अन्दर तक जाने लगा था. मैं- हां सिमी, बस ऐसे ही!करीब 5-7 मिनट की जबरदस्त लंड चुसाई के बाद जब मुझे लगा कि मैं झड़ जाऊंगा तो मैंने अपना लंड उसके मुँह के निकाल लिया था.

पॉल के बालों को खींचती हुई वो उसका मुँह उस वीर्य के पास ले गयी और पॉल का सर बिस्तर पर दबा दिया, जहां उसका वीर्य जमा हुआ था. मैं भी एकदम से जोश में आ गयी थी और उसके लंड को और जोर जोर से चूसने और हिलाने लगी थी. उनके जाने के दो दिन बाद मेरे घर का पाइप टूट गया, मेरे पूरे बाथरूम से पानी बाहर निकलने लगा.

अब मैंने अपने लंड को उसकी चूत के छेद के पास रखकर धीरे से धक्का दिया, तो मेरा सुपारा सटाक से उसकी चूत में चला गया.

वह अपना लौड़ा चुसवा कर मुझे और भी गर्म कर देना चाहता था ताकि मैं उन तीनों का लौड़ा आराम से झेल सकूं. इस समय रास्ता पूरा सुनसान हो गया था, तो मैंने अपने पैंट की चैन खोल कर अपना लंड उसके हाथों में दे दिया.

इसलिए आज मैं अभी हाल ही में हुई एक लाजवाब सेक्स कहानी के बारे में सुनाता हूं. शायद मेरी किस्मत का ताला खुल जाए और मुझे मेरी मामी के साथ सेक्स करने का मौका मिल जाए. अब मेरा मन सातवें आसमान पर पहुंच गया, लंड चूसते हुए पिंकू बहुत खूबसूरत लग रही थी।अब मैं कंट्रोल से बाहर होने लगा इसलिए मैं उसे ऊपर उठा कर जोर जोर से किस करने लगा.

जॉन सुदिति से 6 साल छोटा था तो ये बात मुझे नहीं जमती थी कि उन दोनों में कोई चक्कर हो सकता है. जब मेरी नजर उन पर पड़ी तो मैंने देखा कि वो दोनों हट्टे-कट्टे मर्द मेरी तरफ ललचाई नजरों से देख रहे थे. एक बार रूमी को फिर से दर्द हुआ, उसने मुझको हटाने की कोशिश करते हुए कहा- साले भड़वे … तूने मेरी मां चोद दी.

तेलुगु में सेक्सी बीएफ [emailprotected]हॉट गर्ल फक़ मी कहानी का अगला भाग:चढ़ती जवानी में सेक्स की चाह- 3. हमारी जोरदार चुदाई का अंत उस वक्त आ गया, जब हम दोनों एक साथ स्खलित हुए.

सेक्सी दे सेक्सी वीडियो सेक्सी

कुछ पन्द्रह मिनट की धुंआधार चुदाई के बाद हम दोनों भी मादक सिसकारियां लेते हुए झड़ने लगे थे. उसके बाद राकेश अपने रूम पर वापस चला गया और मैं जल्दी से दरवाजा बंद करके अन्दर आ गई. उनके जाने के दो दिन बाद मेरे घर का पाइप टूट गया, मेरे पूरे बाथरूम से पानी बाहर निकलने लगा.

उसे निर्देश थे कि वो मेरी गांड नहीं मार सकता क्योंकि वो सिर्फ और सिर्फ पीटर ही मार सकता है।चूत में बोतल घुसा के उसने फिर तस्वीर ली और पीटर को भेज दी।उस बीयर की बोतल ने मुझे 2 बार झाड़ा. वह हमारे घर रहने आई। उसके सामान में मुझे डिल्डो दिखा। मैं समझ गया कि इसकी चूत मिल जायेगी. अटको मटकोएक औरत बांझ शब्द को सुन कर रह सकती है मगर एक आदमी के लिए ये एक मरने जैसा होगा कि वो कभी बाप नहीं बन सकता.

मैं- बेबी, दर्द हो रहा है?सोनी लगभग डांटती हुई बोली- नहीं, तुम्हें जो करना है, जल्दी करो.

मैं तो उसके इस रुख से एक बार को तो डर ही गई कि उसने ऐसा क्यों किया. मैं पापा को पकड़ कर बाथरूम से बाहर आ रही थी कि पापा की टॉवल निकल गई और पापा मेरे सामने नंगे हो गए.

वो गुस्से में बोली- आने दो आंटी अंकल को, मैं उनसे तेरी शिकायत करूंगी. ’सुहानी का ईमेल पढ़ कर मैंने उसको रिप्लाई दिया- मैं आशा करता हूँ कि मैं तुम्हारे भरोसे पर पूरा उतरूं, जो भी तुम्हारी इच्छा है … वो मैं पूरी करूं. यह कहानी है सुहानी (काल्पनिक नाम) की, जो मुझे मिली या बोलो तो मैं उससे मिला.

उसने अपना दूसरा हाथ अपनी चूत में डाला हुआ है; वो जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी ‘आह आह …’मैंने भी मौके का फायदा उठाते हुए अपना हाथ उसकी मस्त नारंगियों पर रख दिया और दबाने लगा.

उस समय नई नई जवानी चढ़ी थी तो हम दोनों लेस्बियन सेक्स करके मजे करते थे क्योंकि हमारे पास लंड तो था नहीं. मैंने 15-20 धक्के लगाने के बाद अपना लंड बाहर निकाल लिया और कपड़े पहनने लगा. मैंने तुरंत अपनी जेब से फ़ोन निकाला और उन दोनों का वीडियो बनाने लगा.

सेक्सी पिक्चर गाने वाली सेक्सी पिक्चरमैंने पूछा- मतलब?उन्होंने कहा- मैं भी तुमसे प्यार करती हूं, पर कह नहीं पाई. वो भी अपने घर से इसी भवन में रहने आ गया था जबकि उसका घर इसी गांव में था.

बॉलीवुड की सेक्सी चुदाई

मुझे ये कुछ अजीब सा लगा पर मैं जब भी अपनी पैंटी देखती, वो ज्यों की त्यों मिलती. उसी दिन शाम को उसके घर के सभी लोगों को पार्टी में जाना था, मुझसे भी साथ चलने के लिए कहा गया. क्या आप मेरे साथ बाजार चल सकते हैं?मैंने कहा- हां, तुम दोपहर तक इंतजार करो.

मेरा लौड़ा अपनी बीवी के मुँह में देते हुए पॉल ने मेरा कच्छा पूरा नीचे खिसका दिया तो मैंने भी पैर ऊपर करके कच्छे को पूरी तरह से निकाल कर कोने में सरका दिया. आगे क्या हुआ … वो मैं अपनी सौतेली मां सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूंगा. उसके देखने पर प्लान के हिसाब से मैंने डरने का बहाना किया और उसी अवस्था में वहां से निकलकर बाहर की तरफ आ गई, जहां भैया और मैनेजर पहले से ही मौजूद थे.

शालिनी का दर्द हम दोनों ही नहीं देख रहे थे, मैं बस उसकी चूत में झटके लगाए जा रहा था. उनकी मादक आवाज निकल रही थी- आंह और चूसो … कसके चूसो … सारा दूध पी लो आज … आह और दबाओ इन्हें … साले बहुत मचलते हैं. फिर कुछ दिन हमारी ऐसे ही दोस्त की तरह बातें चलती रही और हम और भी ज्यादा क्लोज हो गए.

साड़ी में से झांकता उसका सपाट पेट और नाभि से नीचे बंधी साड़ी में मोहिनी आज सच में काम देवी लग रही थी. उसने एक बार फिर से पेटीकोट उठाया और अपनी चूत के अन्दर कपड़ा डाल कर अच्छी तरह से साफ किया.

फिर उसे समझाया कि ये रामायण या महाभारत वाला युग नहीं है जो किसी के छूने या गले लगाने से या चूमने से लड़की प्रेग्नेंट हो जाती है.

मैंने भी अब उन तीनों का फायदा लेने का सोचा, जिससे मैं अपने अन्दर की वो आग मिटा सकूं, जो मेरा ब्वॉयफ्रेंड इतनी दूर रहने के बाद सॉल्व नहीं कर सकता था. रानी मुखर्जी के सेक्सी वीडियोमैंने दीदी की दोनों टांगें फैला दीं और एक अनुभवी गोताखोर की तरह अपनी जीभ को दीदी के चूत में कुदा दी. बीपी फिल्म बीपी फिल्ममहाबलेश्वर के होटल में चेक-इन करते ही हमने खाने का आर्डर दिया और साथ में नहाने चल दिए. जब बटन खुल गया तो नंदा ने एक पैर को ऊंचा किया और मेरी पैंट को नीचे कर दिया.

मैं अम्मी के सामने जाता तो लंड खड़ा करके ही जाता और डबल मीनिंग बात करता.

मैंने उनके दोनों हाथों को कसके बेड पर दबा दिया और उनको थोड़ा रोक कर चूमना शुरू कर दिया. मेरा लंड मेरे काबू में नहीं था वो तो बुआ की चूत में अन्दर तक जाने लगा था. करिश्मा वाशरूम में जाकर अपनी नाईटी पहन कर आ गई और मैं ट्रेकसूट में.

कुछ देर बाद जॉन ने लंड चूत से निकाला और सुदिति की गांड में चपत मारकर उसे चौपाया बनने का कहा. वो सब कैसे हुआ, मैं पोर्न चूत की चुदाई कहानी के अगले भाग में लिखूंगी. जल्द ही मैंने उसकी ब्रा को भी निकाल दिया और अब हम दोनों ही केवल चड्डी में रह गए.

सेक्सी चुदाई देहाती चुदाई

राजीव ने सनी को मेरी शादी से पहले की कहानी बताई कि किस तरह उसने मुझसे इंस्टीट्यूट में मजे लिए. उसका मेकअप देख कर लग रहा था कि उसने इससे पहले आज तक इतना ज्यादा मेकअप नहीं किया होगा. थोड़ी देर बाद मैं अम्मी के पास आया और अम्मी का नाम लेकर बोला- नगमा, तुम मेरी बात का बुरा मत मानो … मैं तुमको बहुत प्यार करता हूँ और खुश देखना चाहता हूँ.

एक दिन की बात है, जब दीदी नहा रही थी तो मैंने उसे नंगी नहाते हुए देख लिया.

अब आगे देसी GF सेक्स कहानी:मैंने सोनी के हाथ हटाने की कोशिश की तो सोनी ने और मजबूती के साथ अपना हाथ जमा लिया.

अब गीता मेरी तरफ गांड करके नीचे झुककर अपने घुटनों और पैरों को साबुन लगाने लगी तो मेरा तना हुआ लंड उसकी गांड के छेद पर रगड़ने लगा. हालांकि मैं जानता हूं कि मम्मी की चूत में बहुत आग है और उन्हें हफ्ते में 3-4 बार चुदने के लिए लंड तो चाहिए ही होता था. एक्स एक्स डाउनलोडमैंने छुड़ाना चाहा, तो कस कर पकड़ लिया व बाहर निकाल कर हाथ से चालू हो गया.

साथ में दो उंगली उसकी चूत में डाल कर उसके दाने को रगड़ते हुए अन्दर बाहर करनी शुरू कर दी. किरण- आअहह मालिक मादरचोद फाड़ ही दे तू मेरी गांड … कुत्ते उफ्फ् दर्द हो रहा है मालिक. इधर इन दोनों रंडियों में मां बेटी का रोल प्ले शुरू हो गया था और उधर मैंने देखा कि सामने पाटिल जी अपने माल को मेरे लौड़े से चुदवाते हुए देख कर दारू गटक रहे थे.

मैंने फिर से अपने सीने को उसके सीने से चिपका दिया और उसके लंड को फूलता हुआ सा महसूस करने लगी. उसने मुझे आवाज दी- चाची क्या आप मेरा तौलिया ले आएंगी?मैंने कहा- ठीक है, मैं अभी लेकर आती हूँ.

और रेखा को तो मैंने उस दिन नंगी होकर अपने चुचों और चूत से खेलते देखा था.

मम्मी की शादी चूंकि कम उम्र में ही हो गयी थी तो उनकी उम्र अभी 43 साल की है. मैं तो उसके इस रुख से एक बार को तो डर ही गई कि उसने ऐसा क्यों किया. फिर मैं सीधी समीर भैया के कमरे की तरफ बढ़ गई और उनके कमरे के गेट के बाहर खड़े होकर चुपके से देखा.

लखनऊ चारबाग मेरे झुक जाने से मेरी गांड अब पॉल के लिए ख़ुल गयी तो उसने भी अपने हाथों से मेरे चूतड़ फ़ैलाते हुए अपना मुँह बिना किसी हिचक के मेरी गांड में घुसा दिया और अपनी जीभ बाहर निकाल कर मेरी गांड का छेद चाटने लगा. अब मैंने धीरे धीरे रेखा के कपड़े उतारे, तो हफ्ज़ा ने भी अपने कपड़े उतार दिए.

मुझे ऐसा लगने लगा था कि मैं कभी किसी लड़की के साथ सेक्स नहीं कर पाऊंगा क्योंकि मेरी कोई गर्लफ्रेंड भी नहीं थी. रास्ते में मैं उनके बदन से एकदम चिपक कर बैठी थी, जिसका मज़ा उन्होंने रास्ते भर लिया. कर लेना … मैं राजी हूँ पर जरा रुको तो!पर … फ़ज़लू के नीचे दबी 5 फ़ीट कद और 40 किलो वजन की कमसिन लड़की एक 6 फ़ीट 2 इंच लम्बे और 75 किलो के आदमी के सामने क्या कर सकती थी.

गोपी की सेक्सी फिल्म

वो कामवासना से भरी हुई आंखों से मुस्कुराने लगी क्योंकि मेरी चड्डी भी पूरी गीली हो चुकी थी और मेरे खड़े लंड से एकदम फटी जा रही थी. अब मैं पिछली कहानी की बात करूं, तो मैं प्यासी भाभी से सैट हो गया था. उसने कहा कि घर किस तरफ से होकर जाना है?तो मैंने उसे बताया कि अम्बाला से ट्रेन पकड़ कर जाना है.

मैंने अपने रूम की खिड़की थोड़ी सी खोल ली ताकि मम्मी जब बेडरूम में घुसें तो मैं उन्हें देख सकूँ. उसे भी यह अच्छा लग रहा था लेकिन वो मेरे लंड को अपनी चूत में लेने के लिए बेकरार हो रही थी.

दोपहर को उसके घर के पास जाकर मैंने उसको कॉल किया- अंजलि बाहर आ जाओ.

रात भर की घमासान चुदाई के बाद रीना ने अपने पति को मेरे पट्टे से बांधकर कमरे के एक कोने में नंगा ही सुला दिया और रात भर वो नंगी होकर मेरे साथ चिपक कर सोती रही. दोस्तो, जब से मैंने नई बिल्डिंग में किराए पर कमरा लिया है, मुझ पर तो जैसे कामदेव की कृपा हो गई थी. मैं सवालिया नजरों से पूछा कि वो कैसे?भैया बोले- तुम्हारी गांड भी इतनी मस्त है और अगर उसकी सील मैंने न तोड़ी … और इसका मज़ा तुमने ना लिया, तो हमेशा तुम चुदाई में अधूरी रहोगी.

अगर तुम मेरी परीक्षा में खरे उतरे, तो दो मेरी दोनों लड़कियां, जो अभी कली हैं, तुम उन्हें फूल बना लेना. हम दोनों जल्दी से उठे, फिर थोड़ा ड्रामा करते हुए मैंने कहा- ठीक है आप जीत गईं. मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागकार में चूत में उंगली करके मजा दियामें आपने पढ़ा था कि मैं मिडी उतार कर अपने भाई सनी ….

कम से कम चालीस इंच की गांड थी साली की … और इसीलिए बुरका पहनती थी कि कहीं सड़क चलते आदमियों के लौड़े खड़े ना हो जाएं.

तेलुगु में सेक्सी बीएफ: किसी तरह एयरपोर्ट के बाहर आकर टैक्सी पकड़ी, सामान रख कर किसी अच्छे होटल चलने को बोला. रीना मेरी आंखों में देख रही थी और तभी मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ भिड़ा दिए.

उसके बाद हम दोनों थककर एक दूसरे की तरफ मुँह करके, एक दूसरे के टांगों में टांगें फंसाकर, एक दूसरे की बांहों में लिपट कर सो गए. बुलूपिकचर. उसने टी-शर्ट को खोलने के लिए ऊपर उठाया, लेकिन मैंने मना कर दिया क्योंकि दोनों में से किसी के घर से कोई भी ऊपर आ सकता था.

मैंने भाभी को जल्दी से घोड़ी बनाया और एक झटके में लंड को उनकी चूत में पेल दिया.

इस बार जब उन्होंने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाली, तो मैंने उनकी जीभ अपने होंठों के बीच में दबा ली. इधर स्नेहा को जरा सा भी आराम का मौका न देते हुए मैंने अपना लंड पीछे से स्नेहा की चूत में डाल दिया और स्नेहा की कमर पकड़ कर चुदाई शुरू कर दी. मैंने किरण का मुँह रेशमा के मुँह पर दबाकर फिर से अपना लौड़ा रेशमा के मुँह में ठूंस दिया और किरण की गांड फ़ैलाकर उसकी चूत को अपनी उंगलियों से चोदने लगा.