बीएफ कैसे बनाते हैं

छवि स्रोत,ભાવનગર સેકસ

तस्वीर का शीर्षक ,

दिल्ली व्हिडिओ सेक्सी: बीएफ कैसे बनाते हैं, मैं तुरंत समझ गया कि ये आंटी चुदक्कड़ टाइप की हैं और इनकी वासना भड़क उठी है, ये मुझसे चुदवाना चाहती हैं।फिर उन्होंने मुझे अपने घर पर बुलाया.

शक्ति की सेक्सी

मैंने उनकी गांड पर थूक लगाकर झटके से पूरा लौड़ा घुसाया और ताबड़तोड़ चुदाई शुरू कर दी. सेक्सी बिना कपड़े वालीयह कहते ही उसका रिप्लाई आया- रिकॉर्डिंग सेंड करने की क्या जरूरत है, मैं तुम्हें अपनी आवाज कॉल पर ही सुना देती हूं ना!इतना कहते ही उन्होंने मेरा नंबर मांगा.

दोनों का ही रंग बहुत ज्यादा साफ नहीं था लेकिन देखने में दोनों की दोनों बहुत सुंदर लगती थी. हीदी बीयफ सेक्सी विडियोरचना- मेरी जवानी आपके लिए है मेरी जान … जी भरकर इस जवानी के मज़े ले लो.

और जब वो चलती है तो उसकी मोटी गांड एकदम तराजू की तरह ऊपर नीचे होती है.बीएफ कैसे बनाते हैं: वो हमेशा साड़ी ही पहनती हैं और साड़ी में उनकी उठी हुई गांड बड़ी मस्त लगती है.

मैंने जल्दी जल्दी उसका ब्लॉउज खोला और उसकी एक चूची को मुँह में ले लिया.मैंने आंटी की पैंटी के अन्दर जैसे ही हाथ डाला, तो झांटों का बहुत बड़ा जंगल था.

సెక్స్ వీడియో తెలుగు లో దెన్గులాట - बीएफ कैसे बनाते हैं

’‘साली जब उंगली डालती है, तब दर्द नहीं होता नहीं होता है?’‘आपका लंड बहुत मोटा है ना.मैकेनिक अब्दुल गाडी चेक करके बोला- नया रेडिएटर पाइप लाना पड़ेगा जो यहां से पांच किलोमीटर दूर की बस्ती में मिलेगा.

आजकल ऑन लाइन ऐस प्लग मिल जाता है, पहले छोटा वाला ऐस प्लग बीवी की गांड में लगाकर जितनी देर हो सके, पेले रखना, आस प्लग लगाकर चलने में मजा आता है, ऐसा मैंने पढ़ा है. बीएफ कैसे बनाते हैं उसके स्तन इतने अच्छे आकार के हैं, जिन्हें देखकर कोई भी उन्हें हाथों में भरना चाहे.

मैं ये सोच कर चला गया कि उसके घरवालों से मुलाकात हो जाएगी तो आना जाना शुरू हो जाएगा.

बीएफ कैसे बनाते हैं?

इस बात को कभी आप गौर करना, जब आप ड्राइव करते हुए बहुत उत्तेजित अवस्था में होते हो या गुस्सा होते हो, तो गाड़ी की स्पीड तेज करने लगते हो और आपको पता भी नहीं चलता. फिर मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया रखा, जिससे उसकी चूत का छेद सही तरीके से खुल जाए और लंड सैट हो जाए. बुआ की गांड में लंड घुसा तो उनकी ‘ऊईई … मर गई … आंह बचाओ कोई इस राक्षस से … आंह बचाओ …’ आवाज निकल गई और वो दर्द से कराहने लगीं.

वो पूरी ताकत से धक्के मारते थे और मेरे बदन के सारे पुर्जे हिला डालते थे. नीना उत्तेजना में मेरे होंठ चूमकर मुझे आलिंगन में लेकर कहा- थैंक्यू रवि, तुमने मेरा गांड में दर्द का डर निकाल दिया. जैसे ही मैंने उसके पूरे दूध को हाथ से भर कर दबाया, उसने हल्की सी आह भरी और मेरे कान में बोली- प्लीज़ ऐसा मत करो.

मैं भी अपनी चाची को जमकर चोद रहा था और थप्प थप्प की आवाज के साथ अब मेरी सिसकारियां निकलने लगी थीं. उसने मेरा कमर का बेल्ट खोला और मेरे पैंट के हुक निकाल कर मेरी ज़िप खोल दी. ऐसा करने से जवानी चढ़ते ही उनको चुदाई करने मिल जाती थी और मेरी तरह दौरे नहीं पड़ते थे.

और भाभी ने पिंक कलर की ब्रा और पैंटी पहनी हुई थी जिसमें वे एकदम कड़क माल लग रही थी. डैड मॉम को उठाकर अपने बेडरूम की तरफ ले आने लगे लेकिन वो अकेले मॉम को संभाल नहीं पा रहे थे.

उन्होंने दोनों हाथों से बालों का जंगल हटाया और मेरी गुच्छी को जोर से सूंघा और बोले- जिन्न की खुशबू आ रही है.

फिर चाचा और पापा को पास के गांव में किसी काम से जाना पड़ गया, रात को तेज बारिश शुरू हो गई तो पापा और चाचा वहीं रूक गए.

आगे की सेक्स कहानी अगले भाग में लिखूँगी कि कैसे मैं भैया की शादी के फंक्शन में गई और शादी वाले दिन तक उनसे चुदाई करवाई. अलग अलग आसनों में चोदते हुए हम दोनों को करीब एक घंटा हो चुका था और अधिकतर पोजीशन में मैं ही मेहनत कर रहा था. उन्हें मैंने लंड चूसने के लिए कहा तो चाची ने लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगीं.

उसके हर दबाव के साथ मेरे बदन पर जैसे हजारों चीटियां रेंग जाती थीं।जल्दी ही मेरे बदन की गर्मी बढ़ने लगी और मैं गर्म होने लगी. ऐसा लग रहा था कि कोई एक्सपर्ट रांड लंड की मालिश कर रही हो क्योंकि जो मज़ा किसी औरत से लंड पर तेल लगवा कर मालिश करवाने और मुठ मरवाने में आता है, वो मज़ा तो सील पैक गांड फाड़ने में भी नहीं आता. मैंने निशा से कान में कहा- गरिमा कंडोम तो लाई होगी सेफ्टी जरूरी में करनी चाहिए उसे!ये बात मैंने जानबूझ कर कही थी, जिससे निशा की सोच वहां तक चली जाए और वो सोचे कि ये दोनों क्या क्या करेंगे.

कोमल के निप्पलों से खेलते हुए ही मैंने एक हाथ को कोमल की चूत में डाल दिया और अन्दर ही अन्दर घुमा कर भट्टी सी तपती चूत को ठंडा करने की कोशिश करने लगा.

मैंने पीठ के बल लेटकर अपने पांव छाती की तरफ करके अपने घुटने पकड़ लिए. मैंने कोशिश जारी रखी और रिमोट लेने के बहाने से मैं अब सिर्फ उनके मम्मों को दबा रहा था. जैसे ही आंटी ने अपना हाथ मेरी ज़िप के ऊपर किया, मैंने भी शॉल के अन्दर से अपना हाथ उनके मम्मों पर रख दिया और एक को सहलाने लगा.

कॉलेज के हॉस्टल में आकर मुझे आजादी मिली तो मैंने अपना यह शौक पूरा किया. बात तब की है जब मैं उन्नीस साल से 2-3 महीने कम की थी और मेरे घर वालों ने मेरा रिश्ता पक्का कर दिया था. इस बीच हम बहुत रिक्वेस्ट के बाद अजमेर में एक डोमिनोज पिज्जा में तीस मिनट के लिए मिले.

जैसे ही मैंने उसके पूरे दूध को हाथ से भर कर दबाया, उसने हल्की सी आह भरी और मेरे कान में बोली- प्लीज़ ऐसा मत करो.

कुछ पांच मिनट में ही हम लोग थक गए थे क्योंकि हलासन में पीठ पर पूरा खिंचाव होता है और पेट पूरा दबा हुआ होता है. मैंने चाची से कहा- चाची आप काम तो हर रोज़ करती हो, क्यों ना आज थोड़ी मौज मस्ती कर ली जाए.

बीएफ कैसे बनाते हैं मोहित ने उससे वो पट्टियां लेकर सबको एक एक दे दी और उसने कहा- अब हम ये पट्टी तुम सबकी आंखों में पहना देंगे. उसने ज्यादा नखरे नहीं दिखाए और सीधा मेरा लौड़ा अपने मुख में भर लिया।‘अहह उफ्फ!’मैं बोलने लगा- उफ्फ अर्चना … और जोर से चूसो! उफ्फ … बहुत मस्त चूसती हो तुम!वो भी गुप्प गुप्प करके लौड़ा मुख में लेकर चूसने लगी.

बीएफ कैसे बनाते हैं मैंने उससे पूछा- आमिरा, पीछे से मजा आ रहा है न!वो बोली- हां यार … मगर तू न बहुत बड़ा कमीना है. मैंने उससे एक रिक्वेस्ट की- क्या मैं आपका मोबाईल नंबर जान सकता हूँ?कोमल ने एकदम से मेरे हाथ से मेरा फोन छीना और अपना नंबर डायल कर दिया.

थोड़ी देर में मैडम भी दोबारा झड़ गयी।कुछ देर तक मम्मी और मैडम एक दूसरे से चिपक की बैठी रही.

सेक्सी वीडियो सोना

मैं साक्षी के ऊपर चढ़ा था और उसकी गांड में लंड पेल का उसके नंगे बदन को रौंद रहा था. अमन- यार तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा है और मेरी वाइफ को बहुत पसंद आया है. मैंने बहुत सारा तेल उसकी गांड के छेद पर गिरा दिया, जो उसकी चूत तक पहुंच गया.

कोई गलत कर दिया क्या?चाची- मुझे क्या … मगर नशा करना अच्छी बात नहीं होती है. जैसे ही मैंने उनके बूब्स को हाथ लगाया, वे एकदम से मेरे सीने से लिपट गई. मैं उनके पीछे से जाकर उनके साइड में खड़ा हो गया और उनसे बातें करने लगा.

आपको ये सेक्सी सिस्टर की सेक्स कहानी कैसी लगी, ये आप मेल करके बता सकते हैं.

तभी मेरा बदन झटके खाने लगा और जलालुद्दीन भी मुझे भद्दी भद्दी गालियां देते हुए अचानक झटके खाने लगे. आप भी जाने कि चुदाई के वक़्त मर्द को जब कोई लड़की औरत किस करती है या उसके लंड को मसलती है, उसके सीने के निप्पलों को चूसती है, उसके लंड के नीचे की गोटियां दबाती है, तो किसी भी मर्द के मुँह से मादक आवाजें निकलना स्वाभाविक होता है. खाला की चीख निकल गई- आह मर गई … उई अम्मी रे मर गई … आंह निकालो जल्दी सुलेमान … मैं अपने हाथ जोड़ती हूँ … आह निकाल लो जल्दी से वर्ना मैं मर जाऊंगी.

अब वो अपने लंड को मेरी बुर की गहराई तक पूरी जोश से पेल कर वर्जिन सिस्टर Xxx मजा लेने लगा. मैंने उसे थोड़ा सा अलग करके किस करना शुरू कर दिया और जोर जोर से किस करने लगा. मेरी पिछली कहानी थी:बुआ को उनकी सहेली के साथ चोदाआज मैंने अपनी सगी हॉट चाची की चुदाई की मनोरंजक सेक्स कहानी लेकर आया हूँ.

वो- ये तम्बू लिए घूम रहे हो और बोल रहे हो सब ठीक है?मुझे थोड़ा अजीब लगा और मैं अपना लंड छुपा कर एडजस्ट करने लगा मगर वो फिर भी तिरछी नजरों से देखे जा रही थी. उसी वजह से बात बढ़ गई थी और अब उन्हें ये दुकान तीन महीने में छोड़नी थी क्योंकि वैसा ही उस दुकान के ओनर से अग्रीमेंट भी था और कुछ वजह झगड़ा भी हो गया था.

चाची का शरीर इतना मुलायम और बेदाग़ था कि जैसे किसी ने अब तक छुआ ही न हो. बुआ ‘आहह आहह ओह राज चोद दे मुझे …’ चिल्लाने लगीं और मैं झटके पर झटके लगाने लगा. एक दिन मैं उसके बराबर में लेट कर हल्के हल्के से अपना लंड उसकी गांड पर लगा कर कपड़ों में ही मज़े ले रहा था.

कुछ देर बाद मैंने कहा- चाची, कीड़े तो सारे मर गए अब खुजली बाकी रह गई होगी.

फिर भी मैंने डरते हुए उसे सॉरी का मैसेज भेज दिया और अपना मोबाइल बंद करके सो गया. फिर सब लोग रात की ट्रेन से निकल गए और खाला और मैं घर पर अकेले रह गए. फिर एक दिन आंटी ने बताया कि उनकी सास बीमार हैं जिस वजह से उनके पति रात में और वो दिन में हॉस्पिटल में रहेंगी.

डिंपी- फिर भी देखो मेरी किस्मत में कोई नहीं है, क्या फायदा ऐसी हॉटनेस का?मैं- फिर तो सिंगल रह कर ही मजे करो. दोस्तो, कभी अनुभव करना कि जिस वक्त लंड चूत में हो, उसी वक्त जीभ आपस में एक दूसरे से लड़ रही हों, तो कितना ज्यादा जोश बढ़ता है.

फिर उन्होंने मैडम से कहा- आपको इसे जो सजा देनी है दे दीजिये।तब मैडम ने मुझे कुछ सवाल करने को दिए और कहा कि अगर मैं इन्हें हल कर दूँ तो वे मेरे इतने नंबर बढ़ा देंगी कि मैं पास हो जाऊं।जब मैं सवाल हल कर रहा था तो मैडम खिड़की के पास खड़ी होकर मम्मी से बातें कर रही थी. इसी क्रिया से वो दोनों मदहोश होकर ऐसे स्वर में अपनी कामुकता से आहा आआह की आवाजों से वातावरण को मस्त करते हैं. वो बोली- जब मैं 10+2 में थी, तब एक बार एक दोस्त के साथ उसके बर्थडे पर उसके रूम पर रुकी थी.

माधुरी दीक्षित की सेक्सी फिल्म

मैं जल्दी से बाइक पार्क करके अन्दर चला गया और अपनी जगह पर जाकर काम करने लगा.

अक्सर मेरा मन होने पर मेरे पति मेरे साथ फोन पर ही सेक्स किया करते थे. दोनों ने फल के बाग और बकरी पालन का प्रशिक्षण लिया था और अपने फार्म हाउस में रहने चले गए थे. मैंने अपनी धोती को फर्श पर फेंक दिया और एक हाथ में अपना लंड पकड़ कर एक बार हिला दिया.

मेरा नाम राहुल, मेरे लंड का साइज 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है।मेरी चचेरी बहन का नाम अर्चना है. इतने में Xxx भाभी जी ने अपनी ही पेंटी को फाड़ डाला और मेरा मुंह अपनी चूत पर रख दिया, बोली- मैं बहुत प्यासी हूं. डायमंड जैक्सनयह सुनकर मेरी आपा हंस पड़ीं और मेरे सर पर हाथ फेरते हुए बोलीं- नहीं रे पगली, शादी के बाद तो मियां बीवी में यह सब होता ही है.

डिंपी- अब भी आप आप करते रहोगे क्या?मैं धीरे धीरे उसकी जांघ को सहलाने लगा, उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. मैंने उनकी गांड के छेद के अन्दर ही अपना पूरा माल गिरा दिया और 10 मिनट उनके ऊपर लेटा रहा.

हम दोनों ने साथ बैठकर कॉफी पी और उसी बीच मैंने होटल में ऑर्डर किया हुआ खाना भेजने का फोन कर दिया. अब आगे हॉट गांड Xxx कहानी:आलिम साहब मेरे मम्मों को निचोड़ते रहे और निप्पल चूसते रहे. ये सब इतनी जल्दी शायद इसलिए हो गया था क्योंकि एक तो साक्षी छह महीने बाद चुदाई कर रही थी और दूसरी तरफ मैं उसकी चूची को जोर जोर से चूस रहा था.

व्हिस्की के नशे में बीवी भी जोश में आ गयी और उसने फटाक से ब्लाउज उतार कर फेंक दिया. हैलो फ्रेंड्स, मैं रॉकी आपका अपनी कुंवारी गर्लफ्रेंड की चुदाई की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ. उसमें मुझे एक मेल आई हुई थी और उस मेल में लिखा था- हाय राहुल, आपकी स्टोरी मुझे और मेरी वाइफ को बहुत ज़्यादा पसंद आई.

शाम को मैंने बाथरूम में छोटी पिचकारी में पानी भरकर, पानी गांड के छेद में डाला, थोड़ी देर बाद पानी निकाल दिया.

मैं कोमल कान की लौ पर चूमता हुआ नीचे अपने हाथ को उसकी मंजिल पर पहुंचाने का काम कर रहा था. सोचो दोस्तो, आपको पढ़ कर जितना मजा आ रहा है, तो करने में मुझे कितना मजा आया होगा.

उस समय मैं सही में सातवें आसमान पर था क्योंकि माधुरी की चूत में मेरा लंड बिल्कुल सीधा घुस रहा था. मैं अपने बारे में बताऊं, मैं किसी भी लड़की को देख कर अपने दिमाग में उसकी स्कैनिंग कर लेता हूं कि उसमें कैसे बदलाव किए जाएं तो वो कैसी माल दिखेगी. उसने मुझे धक्का दिया और एक पैर मेरे कंधे पर रख दिया, जिससे उसका स्कर्ट थोड़ा ऊपर को हो गया.

उस दिन वे बहुत गुस्से में थी, उन्होंने मेरे घर का नंबर माँगा।फिर उन्होंने मेरी मम्मी को फ़ोन करके स्कूल आने को कहा।उन दिनों नोकिआ 1100 चलता था, मैडम के पास भी वही था।2:30 बजे मम्मी स्कूल आयी. मेरे पास आकर बैठा और मेरे पैरों पर हाथ फिराने लगा,फिर उसने मुझे पकड़ा और मेरे होंठों पर किस करने लगा. थोड़ी देर में मैडम भी दोबारा झड़ गयी।कुछ देर तक मम्मी और मैडम एक दूसरे से चिपक की बैठी रही.

बीएफ कैसे बनाते हैं वो मेरे चूचे चूसने लगा तो मोहित ने मुझे पुलकित की तरफ झुका दिया और पीछे से मेरी गांड में लंड डालकर मेरी चुदाई करने लगा. लेकिन फिर गेट बंद करकर वापिस बेड पर लेट गयी आकर!मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसकी गर्दन चूमने चाटने लगा, उसके कान पर जोर जोर से किस करने लगा और अपना लंड उसके बदन पर रगड़ने लगा।वो मना करने लगी, मैं फिर भी उसे चूमता रहा.

ब्लू पिक्चर ब्लू सेक्सी ब्लू सेक्सी

मुझे उसकी गांड तो मारनी थी जिसे वो साली मुझे दिखाकर मटका मटका कर चलती थी. एकदम लाल लंड देख कर मीनू मुस्कुराने लगी और अपनी ननद से बोली- खुल गई तेरी चूत की मोरी!कोमल भी हंसने लगी. मेरी गुच्छी के ऊपर कुछ बाल उग आये थे, जलालुद्दीन आलिम ने उन बालों पर हाथ फिराया और बोले- हरामजादा जिन्न बालों में छुपना चाहता है.

कुछ देर बाद जब सब सामन्य हो गया तो उसके बाद धीरे धीरे दोनों तरफ से चुदाई के झटके लगने शुरू हो गए. मैंने मॉम की चूत से अपनी दोनों उंगलियां निकालीं और देखा कि मेरी दोनों उंगलियां मॉम की चूत के पानी से पूरी तरह गीली हो चुकी थीं. जानवर के साथ सेक्सीसच में इस मैक्सी में वह बहुत ही जबरदस्त माल लग रही थी और उसके दूध हिल हिल कर मेरे लंड की मां चोदने पर तुले हुए थे.

उसने उस समय बस ऊपर कमीज़ ही पहनी थी, जिससे उसके बूब्स के बीच की लाइन काफ़ी अन्दर तक दिख रही थी.

अपनी गांड मरवाने से बेखबर आंटी दर्द से चीख उठीं- हाय रे …मेरी गांड फट गई. जलालुद्दीन आलिम ने मेरी नब्ज टटोली और बताया कि इस लड़की की ख़ूबसूरती देखकर किसी पुराने जिन्न ने इस पर कब्ज़ा कर लिया है.

मुझे अपनी वाइफ को किसी और लंड से चुदते हुए देखना है और वो भी मेरे सामने. चाची ने पूछा- कितना घुसा है अब तक?मैंने कहा कि सिर्फ़ एक इंच बचा है. ऐनल फक गे सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं रात को सुनसान सड़क पर बाईक पर था कि एक युवक ने मुझसे लिफ़्ट ली.

पोर्न भाभी फक करने का मौक़ा मुझे मिला जब मैं एक घर में पेस्ट कण्ट्रोल करने गया.

हम दोनों एक-दूसरे के होंठों को चूसने लगे और मेरा हाथ चाची की चूत में था और चाची के हाथों में मेरा लंड खेल रहा था. अब मैं खुद चाहने लगी थी कि निखिल मेरी चूचियों को और जोर देकर भींचे. अब हम दोनों ने पास में एक होटल में रूम बुक किया और होटल के वेटर को खाना लाने का बोल दिया.

മുല ചപ്പൽमैंने सोचा कि क्यों न अपनी सेक्सी सिस्टर की सेक्स कहानी भी आपको बता ही दूँ. उसकी चूचियों को चूसते चूसते अब मैं उसकी नाभि को चूसने लगा तो वो बेकाबू हो गई और उसने अपने नाखून मेरी कमर में गड़ा दिए.

सेक्सी वीडियो बाथरूम में नहाते हुए

मैंने भी अपनी टी-शर्ट और जीन्स निकाल दी और अपनी बनियान और अंडरवियर को भी निकाल दिया. अपनी गांड मरवाने से बेखबर आंटी दर्द से चीख उठीं- हाय रे …मेरी गांड फट गई. मैंने कहा- अरे उसमें क्या है … मैं कर देता हूँ न!कुछ देर की मान मनौव्वल के बाद उन्होंने हां कर दिया.

अब मैं नीचे से साक्षी के दोनों कूल्हों को थोड़ा ऊपर उठा कर नीचे से जोर से अपने लंड को चूत अन्दर पेलने लगा था. साक्षी भी मेरे बालों में हाथ घुमाती हुई मुझे अपना दूध पिला रही थी और धीरे धीरे फिर से उत्तेजित होकर अपनी कमर मेरे लंड पर उछाल रही थी. आपने जैसे मेरे लिए ड्रिंक बनाया था, वैसा ही एक ड्रिंक मेरी भतीजी के लिए भी बना दो.

हम दोनों पागलों की तरह एक दूसरे को चूम रहे थे, चूस रहे थे।दोनों ही बहुत प्यासे थे. दोस्त की बीवी की गांड में एस प्लग घुसाकर मैंने उसे गांड खुली की और उसे गांड मरवाने का मजा दिया. जब तक सुषमा भाभी कुछ समझ पाती, तब तक मैं और शबाना दोनों उस पर टूट पड़े.

कुछ देर तक घिसने के बाद उन्होंने धीरे धीरे जोर लगाया और लण्ड मेरी गांड के अंदर दबाने लगे. ऐसे ही हमारे दिन मज़े में कट रहे थे, पर हमें पूरी चुदाई करने का मौक़ा नहीं मिल रहा था.

उसकी वह जरूरत अगर पूरी ना हो, तो इंसान कुछ भी करने को तैयार हो जाता है.

उसके बाद दो रातों तक उनकी याद में मैंने मुठ मारी, सारी रात यहीं सोचा कि क्या चेहरा था आंटी का, रसमलाई के जैसा, एकदम मीठा रसगुल्ला. विशाखा मधु का सेक्सी वीडियोमैंने और सोनी ने अलग जाकर आपस में बात की और तापोश को बता दिया कि एक महीने में कमरा बन जाएगा. सविता भाभी का सेक्सी पिक्चरमैंने जैसे ही गांड मटकाना शुरू किया, वो मुझ पर दारू और पैसा उड़ाने लगे थे. भाभी मस्ती में आह उह उम्म्ह हाह ऊह … चोदो मुझे … चोदो मुझे प्लीज़ … फक़ मी अआह अह ह्म्म्ह! अमन प्लीज मुझे चोदो.

तभी मैंने उसे कमर से पकड़ा और नीचे से एक जोर का झटका उसकी चूत में लगा दिया.

मैंने मोहित से कहा- क्या हुआ मेरी जान … अभी तो सिर्फ डिल्डो का टोपा ही अन्दर गया है. जैसे ही मेरे होंठ उसके होंठों को छुए, उसकी टॉप निकालने की गति मंद पड़ गयी. मेरे दिल में भी हलचल मच गई थी इसलिए मैंने भी उनके जिस्म पर हाथ फेरना शुरू कर दिया.

मैंने हंसते हुए कहा- अरे बहनचोद … इन चूतियों में तो दर्द बर्दाश्त करने की गजब की क्षमता है. फिर भी मुझे उनका कहा तो मानना ही था, मैं मन ही मन सलीम को अपना पति मान चुकी थी. दो दिन बाद सोनी ने मोटी मोमबत्ती तेल लगाकर मेरी गांड में डालकर काफी देर तक अन्दर बाहर की.

सेक्सी वीडियो आज की ताजा

मैंने बोला- अब मुझे क्या पता कि किधर कौन सा कीड़ा घुसा है?चाची ने कहा- चल मैं कपड़े उतार देती हूँ. उसकी चूचियां ऐसे ऊपर नीचे हो रही थीं मानो कोई सिपाही जंग में खड़ा ललकार रहा हो. उस दिन से मैंने उस दिन से उसका आना जाना, देखना शुरू किया और कुछ ही समय में उसके क्लास शुरू होने व खत्म होने का टाइम नोट कर लिया.

मेरा मन तो किया कि उसी समय कमर के साथ खेलने लग जाऊं, लेकिन अभी तो समय किसी और खेल का था.

मुझे कुछ गन्दा सा लग रहा था फिर भी वासना में मैं शेखर के लंड को चूसने लगी.

मगर अगले ही पल मैंने सोचा कि मामी ने उस समय कुछ नहीं कहा, तो इस बात की सम्भावना कम ही है कि वो मामले को आगे किसी से कहें. मैं उनके नंगे बदन को अपने दिमाग की छवि में उतारने लगा और उनको बिना कपड़ों के एक दूसरे में आलिंगन पाते हुए सोचकर अपने लंड को सहलाने लगा।खैर थोड़ी देर बाद सब लोग जागने लगे और अपने अपने काम में व्यस्त हो गए. सरधा कपूर की सेक्सी वीडियोमैं अर्चना की याद में मुठ मारा करता था।मैंने बहुत बार कोशिश की अर्चना को पटाने की … पर असफल रहा।मैं उसे व्हाट्सएप्प पर गंदे मीम भी भेजा करता था.

दोस्तो, मैं सागर एक बार फिर से पानीपत में मैदान में चूत की चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ. फिर रवि ने दीदी के होंठो पर अपने होंठ रख दिए और अपने एक हाथ से दीदी के बूब्स और एक हाथ से दीदी की चूत मसलने लगे थे. वैसे तो मेरी चड्डी भी आगे से गीली हो चुकी थी जिसको छुपाने की मैं कोई कोशिश नहीं कर रही थी.

काफी देर तक मैं जलालुद्दीन साहब के लण्ड पर उछलती रही तो जलालुद्दीन साहब ने अब पोजीशन बदलने को कहा. तो ये तय हुआ था कि चाचा, मैं, चाची और उनका छोटा बेटा बारात में चले जाएंगे.

मैं पूरे जोश में आकर बुआ की चूचियों को मसलने लगा और अपनी रफ़्तार बढ़ाने लगा.

हमने आपस में असली सेक्स कैसे किया?दोस्तो, मैं आप सबकी कोमल मिश्रा अपनी एक और सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. जिन्दगी में पहली बार गांड में लंड लिया था तो मेरी आंखों में आंसू आ गए. फिर जैसे उसके पेटीकोट का नाड़ा खुला, उसका पेटीकोट उसकी कमर से नीचे गिर गया.

आम्रपाली दुबे की सेक्सी उधर नेहा को मोहित चोद रहा था … और आयेशा और रिया दोनों अबला का तबला अमित बजा रहा था. मेरी गांड दुःख रही थी लेकिन इसघमासान चुदाईमें बहुत जबरदस्त मजा भी आया था और मेरे हर छेद में वीर्य के दरिये बह चुके थे जिसके बारे में सोच सोच कर मुझे बहुत मजा आ रहा था.

मैंने कहा- सारी गर्मी निकल गयी क्या कुतिया … मादरचोद रंडी और ले लौड़ा खा साली. तब मैंने देखा कि चाची ने एक छोटी सी ब्रा पहन रखी है और उसमें से चाची के आधे दूध बाहर निकलने को बेताब दिख रहे हैं. वो पहले मेरी क्लास लेती हैं फिर उसके बाद मम्मी की साथ लेस्बियन गर्ल्स सेक्स करती हैं।यह सब लम्बे समय तक चला इसके बाद मैडम ने दूसरा स्कूल ज्वाइन कर लिया।लेकिन मेरी मम्मी को अब लेस्बियन सेक्स की लत लग चुकी है और उन्होंने कैसे मेरे एक दोस्त की मम्मी के साथ सेक्स किया यह मैं फिर कभी बताऊंगा।दोस्तो, आपको गर्ल्स सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected].

ব্লু ফিল্ম কলকাতা

मैं इधर आपको बता दूँ कि आधा घंटा पहले मैंने सेक्स की एक गोली ले ली थी. वह मज़ाक़ में निशा से बोली- तू तो मना कर रही थी, अब क्या हुआ?हम तीनों हंसने लगे. बहन की जोर चीख निकली पड़ी और मैंने उसए होंठ दबा कर लंड चूत में पेल दिया.

जैसे ही मैंने चड्डी उतारी तो शेखर का बड़ा सा लंड मेरे मुंह से टकरा गया. उस दौरान जाने अंजाने में मैंने पड़ोस में रह रही भाभी के साथ अपनी फंतासी पूरी किस तरह से की थी, यह उसकी सेक्स कहानी है.

मैंने मुँह बना दिया तो गुस्से में उठकर भैया ने कपड़े पहन लिए और बाहर जाने लगे.

मेरा तो कुछ टाइम बाद फिर से रस निकल गया और मुझे दर्द भी होने लगा था. उन्हें बेड के किनारे लाकर मैं खुद फर्श पर खड़ा हो गया और भाभी की एक टांग उठा कर उनकी चूत के निशाने पर लंड रख दिया. मैं संदर्श दिल्ली का रहने वाला हूँ और मैं अन्तर्वासना का पिछले सात साल से नियमित पाठक हूँ.

पर जब नाड़ा नहीं खुला तो कुछ तक यूं ही सलवार के ऊपर से भाभी की फुद्दी के मजे लिए और उठ कर सलवार के ऊपर से ही उनकी फुद्दी को किस भी किया. सुधा तो देखने में 25-27 साल की लड़की लगती थी जबकि रम्भा का बदन थोड़ा सा भरा पूरा था. जब भी वह मुझे भोजन के साथ भोजन परोसने के लिए झुकती थी, वह मुझे अपने मदमस्त स्तनों का एक दृश्य भी परोस दे रही थी.

मैंने कायदे से जाकर गाड़ी का गेट खोला और कोमल को अन्दर बैठने का इशारा किया.

बीएफ कैसे बनाते हैं: मैं अपनी दोनों उंगलियां मॉम के मुँह में डालकर उन्हें उन्हीं की चूत का पानी चटवाने लगा. Xx भाभी की हॉट कहानी के दूसरे भागबुटीक वाली भाभी की चूत की आस टूट गयीमें अब तक अपने पढ़ा था कि मैं माधुरी को काफी पसंद करने लगा था और उसे चोदना चाहता था.

मैं- यार, तुम्हारी चूचियां कितनी मस्त हैं, इन्हें तो दबाने और चूसने का मन कर रहा है. खाते समय मैंने महसूस किया कि उस समय में शबाना और भाभीजी का अंदाज बदल चुका था. उससे ऐसा लगा मानो मेरा लंड माधुरी की गर्म गर्म सांसों में ही अपने लावा छोड़ देगा.

तो मेरे मुंह से स्वत: ही सिसकारियां फूटने लगी थीं- आह्ह … उम्म … आह्ह … हाह … ओओ … ओह्ह!वो बस मुझे चोदे जा रहा था.

मैंने मुँह हटाया तो मॉम ने पूछा- क्या हुआ?मैंने कहा- आपकी चूत जैसा स्वाद नहीं है. शेखर बोला- ऐसा कैसे हो सकता है? तुम तो इतनी स्मार्ट और सुन्दर हो, फिर तुम्हारा बॉयफ्रेंड कैसे नहीं है?मैंने कहा- मैं लड़कियों के स्कूल में पढ़ती थी और इसी साल कॉलेज में आई हूँ इसलिए कभी लड़कों से घुलने मिलने का समय ही नहीं मिला. तभी मैंने अपना लंड जो तम्बू बना खड़ा था, निशा की टांगों के बीच में लगा दिया.